प्रदेश में भारी बारिश के चलते शहडोल के स्कूलों में दो दिन अवकाश, नर्मदा और चंबल उफान पर

भोपाल प्रदेश में हो रही भारी बारिश। जबलपुर-कटनी रेलवे ट्रैक पर पानी के साथ मिट्‌टी...

प्रदेश में भारी बारिश के चलते शहडोल के स्कूलों में दो दिन अवकाश, नर्मदा और चंबल उफान पर

भोपाल

प्रदेश में हो रही भारी बारिश। जबलपुर-कटनी रेलवे ट्रैक पर पानी के साथ मिट्‌टी बहकर आ गई। इस वजह से इंदौर-बिलासपुर ट्रेन का रूट डायवर्ट करना पड़ा। ट्रेन भोपाल से इटारसी पहुंची और यहां दो घंटे खड़ी रही। इसके बाद इसे नागपुर रूट से डायवर्ट कर चलाया गया। सुबह 4.30 बजे इटारसी से चलने वाली इटारसी-कटनी मेमू ट्रेन को रद्द करना पड़ा। रेलवे अफसरों के मुताबिक, ट्रैक क्लीयर कर लिया गया है।

शहडोल में दो दिन से हो रही बारिश के कारण प्री प्राइमरी से 12वीं तक के स्कूल में अवकाश घोषित कर दिया गया है। कलेक्टर वंदना वैद्य ने 3 और 4 अगस्त को अवकाश रखने के आदेश जारी किए हैं। नर्मदा, चंबल और दूसरी नदियों में जलस्तर बढ़ रहा है।

सीनियर मौसम वैज्ञानिक एचएस पांडे ने बताया कि ट्रफ लाइन और कम दबाव का एरिया बनने से पूर्वी मध्यप्रदेश में 5 अगस्त तक तेज बारिश होने का अनुमान है। प्रदेश के पश्चिमी हिस्से में हल्की बारिश होगी या फिर मौसम साफ रहेगा।

नर्मदा का जलस्तर बढ़ा, चंबल भी डरा रही

डिंडौरी में नर्मदा नदी में उफान आ गया है। घाट डूब गए हैं। सुबह से लगातार जलस्तर बढ़ रहा है। दोपहर 1 बजे नर्मदा नदी के जोगी टिकरिया घाट के पुल पर पानी आ गया है। इससे डिंडौरी-जबलपुर मुख्य मार्ग बंद हो गया है। यातायात पुलिस थाना प्रभारी गिरवर सिंह उइके ने बताया कि आवागमन बंद कर दिया गया है। अब वाहन जबलपुर जाने के लिए नगर के अंदर बने पुल से घूम कर जाएंगे।

उधर, मुरैना में चंबल नदी जलस्तर गुरुवार सुबह 122.60 मीटर पर आ गया है। नदी का डेंजर लेवल 138 मीटर है। राजस्थान के कोटा बैराज से नदी में पानी छोड़ा जा रहा है। इस वजह से जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। मुरैना जिला प्रशासन ने नदी किनारे के गांवों के लोगों को ऊपरी स्थानों पर जाने की सलाह दी है।