कारोबारी के यहां छापे से अधिकारियों के उड़े होश, इतने बड़े पैमाने पर कालेधन का खुलासा    |    लव जिहाद: उर्दू-अरबी न सीखने पर पति करता था पिटाई, पुलिस ने पति को किया गिरफ्तार    |    बड़ी खबर: मजहब छिपाकर की शादी, प्रेमी और उसके परिवार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज    |    बड़ी खबर: दर्ज हुआ शादी के लिए जबरन धर्म परिवर्तन कराने का पहला मामला, जारी हुआ आरोपी की गिरफ्तारी का फरमान    |    मन की बात में पीएम मोदी ने उदाहरण देकर किसानों को बताए नए कानूनों के फायदे, पढ़े पूरी खबर    |    बड़ी खबर: पिता ने पुत्र को मारी गोली, उपचार के दौरान बेटे की हुई मौत    |    बड़ी खबर: EOW ने 5 लाख रुपया रिश्वत लेते नगर निगम के सिटी प्लानर को किया गिरफ्तार    |    बड़ी खबर: माचिस न देने पर 2 युवकों ने पीट-पीटकर युवक को उतारा मौत के घाट    |    ओवैसी के क्षेत्र में गरजे योगी: कहा- हैदराबाद का नाम बदलकर फिर से होगा भाग्यनगर    |    BIG BREAKING : कोरबा जिले में हुआ कोरोना विस्फोट, प्रदेश में आज कुल 1890 नए मरीजों की हुई पहचान, 13 मरीजों की हुई मौत    |
 डीजीपी अवस्थी ने नक्सली हमले पर कहा, फायरिंग दोनों पक्षों से नही हुई

डीजीपी अवस्थी ने नक्सली हमले पर कहा, फायरिंग दोनों पक्षों से नही हुई

रायपुर। डीजीपी डीएम अवस्थी ने नक्सली घटना के संबंध में कहा कि जवान गश्त पर निकले थे और इंटेलिजेंट बेस ऑपरेशन था। यह ट्रिगर माइन था या फिर एंटी पर्सनल आईईडी थी इसकी जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि कल सभी वरिष्ठ अधिकारी बुर्कापाल के लिए रवाना होंगे वहां भी जांच की जाएगी। दोनों ओर से कोई फायरिंग नहीं हुई ये एक एंटी पर्सनल माइन है तो यह पहले से लगाई होगी। अभी इसकी जांच की जा रही है।

सीआरपीएफ डीजी ए.पी महेश्वरी ने बताय कि सीआरपीएफ एक बहादुर बल है। स्टेट पुलिस के साथ संयुक्त अब कार्रवाई और जोरो से की जा रही है। 

ज्ञात हो कि सुकमा के तालमेटला में नक्सलियों ने बड़ी घटना को अंजाम दिया है। जवानों को निशाना बनाकर नक्सलियों ने आईईडी ब्लास्ट कर दिया। इसमें 1असिस्टेंट कमांडर नितिन भालेराव शहीद हो गया और वहीं 9 जवान घायल हुए है। जिसमें 4 की हालत गंभीर बताई जा रही है घायल जवानों का इलाज अभी जारी है।
 शहीद जवान को सलामी देने पहुंचे गृहमंत्री साहू, तमाम अधिकारियों की मौजूदगी में जवानों की खुदकुशी पर कहा-

शहीद जवान को सलामी देने पहुंचे गृहमंत्री साहू, तमाम अधिकारियों की मौजूदगी में जवानों की खुदकुशी पर कहा-

रायपुर। नक्सलियों के आईईडी ब्लास्ट में शहीद सुकमा जिले के जवान नितिन भालेराव को अंतिम सलामी दी गई। माना के चौथी बटालियन परेड ग्राउंड में गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू,संसदीय सचिव विकास उपाध्याय, डीजीपी डीएम अवस्थी, एडीजी अशोक जुनेजा, आईजी आनद छाबड़ा समेत सीआरफईएफ के आला अधिकारियों ने सलामी दी। इसके बाद जवान का पार्थिव देह मुंबई की फ्लाइट से गृहग्राम ले गए।

ज्ञात हो कि सुकमा के तालमेटला में नक्सलियों ने बड़ी घटना को अंजाम दिया जिसमें जवानों को निशाना बनाकर नक्सलियों ने आईईडी ब्लास्ट किया है। इसमें एक असिस्टेंट कमांडर नितिन भालेराव शहीद हो गया है। वहीं 9 जवान घायल हो गए और4 की हालत गंभीर बताई जा रही है।

गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने सुकमा आईईडी ब्लास्ट को नक्सलियों का कायराना करतूत बताया। हम लगातार 22 महीनें से अभियान चला रहे हैं और इस के चलते सर्वाधिक नक्सली मारे गए और सरेंडर भी किए। इससे बौखलाहट प्रतीत होता है, हालांकि कभी जवानों से होता है या अन्य कोई कारण जिसके चलते घटना घटी है। इस घटना में 10 लोग घायल हुए और 8 लोगों को रायपुर लाया गया। 1 जवान शहीद हुए और घायल जवान खतरे से बाहर है।

नक्सलियों के खिलाफ अभियान को लेकर हुई बड़ी बैठक और उसके बाद इस प्रकार की घटना पर गृहमंत्री ने कहा कि दिल्ली से अधिकारी आते हैं सुरक्षा के अधिकारी के साथ सभी मिलकर चर्चा करते हैं। सूचनाओं का आदान-प्रदान भी करते हैं और उसके परिप्रेक्ष्य में ही निर्णय लेकर रणनीति तय की जाती है। हालांकि कभी-कभी चूक होती है जिसका यह परिणाम है।

जवानों की आत्महत्या पर गृहमंत्री का बयान कोशिश की जाती है कि जवान तनाव में ना आए इसके तहत स्पंदन कार्यक्रम भी चलाया जा रहा है। इसके तहत अधिकारी जवानों से मिल रहे हैं, उनकी समस्याओं से भी अवगत हो रहे हैं। व्यक्तिगत या पारिवारिक बात होती है जिसके चलते जवान इस प्रकार के निर्णय ले लेते हैं। सरकार की ओर से सभी अच्छी व्यवस्था दी जा रही है। निगरानी भी की जा रही है और चर्चा भी की जा रही है।
 मुख्यमंत्री का शिवरीनारायण मठ में छत्तीसगढ़ी व्यंजनों से किया गया स्वागत

मुख्यमंत्री का शिवरीनारायण मठ में छत्तीसगढ़ी व्यंजनों से किया गया स्वागत

रायपुर। छत्तीसगढ़ के प्रसिद्ध रामायणकालीन स्थल शिवरीनारायण में मुख्यमंत्री का स्वागत छत्तीसगढ़ी व्यंजनों से किया गया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शिवरीनारायण मंदिर में पहुंचकर पूजा-अर्चना की। उनके शिवरीनारायण मठ पहुंचने पर उन्हें ठेठरी, खुर्मी, पपची, अइरसा, मुरकु, खाजा, सलोनी स्वादिष्ट छत्तीसगढ़ी व्यंजनों से भी तौला गया। 

इस अवसर पर छत्तीसगढ़ राज्य गौसेवा आयोग के अध्यक्ष महंत रामसुंदर दास, स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव, नगरीय प्रशासन और श्रम मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया, राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल, उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल, राज्यसभा सांसद पी.एल. पुनिया और विधायक मोहन मरकाम भी उपस्थित थे। 
बड़ी खबर: रायपुर में देर रात कारोबारी के अपहरण मामले 5 आरोपी गिरफ्तार, इस वजह से आरोपियों ने दिया अपहरण की घटना को अंजाम

बड़ी खबर: रायपुर में देर रात कारोबारी के अपहरण मामले 5 आरोपी गिरफ्तार, इस वजह से आरोपियों ने दिया अपहरण की घटना को अंजाम

 रायपुर। शनिवार की रात राजधानी के गोलबाजार थाने में व्यवसायी के अपहरण की रिपोर्ट दर्ज की गई थी। व्यवसायी ने खुद थाने पहुँचकर अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। व्यवसायी के लिखित आवेदन के अनुसार उसका अपहरण 27 नवंबर को रात साढ़े ग्यारह बजे तब किया गया जबकि वह अपने कॉंपलेक्स के निवासियों का विवाद होते देख उन्हे छुड़ाने की कोशिश कर रहा था।

 


पुरानी बस्ती थाना क्षेत्र निवासी विवेक गुप्ता ने थाना गोलबाजार में सूचना दी कि, 27 नवंबर को जबकि वह रोज की तरह अपने कॉंपलेक्स को चेक करने पहुँचा तो उसने देखा कि, कॉम्प्लेक्स निवासी दो लोगों से स्विफ़्ट कार सवार युवक लड़ाई कर रहे हैं। उसने छुड़ाने की कोशिश की तो युवक उसे पीटते हुए अमलेश्वर की ओर ले गए, जहाँ एक घर में क़ैद कर यह कहने लगे कि, पचास हजार घर से मंगाओ तो ही छोड़ेंगे। इस दौरान युवक से मारपीट भी हुई।

 

आवेदन के अनुसार युवक विवेक गुप्ता ने बताया है कि नदी पार ढाबे पर युवक की बहन को पचास हजार के साथ बुलाया गया। अपहरणकर्ताओं ने युवक को ढाबे के पास खडा रखा था, भीड़ बढ़ने की वजह से अचानक अपहरणकर्ता ग़ायब हो गए। वहीं युवक अपनी बहन माँ और चचेरे भाई के ढाबा पहुँचने पर उनके साथ वापस आ गया। 

 


राजधानी के कारोबारी अपहरण मामले का खुलासा हो गया है। आपसी विवाद की वजह से प्रोपर्टी डीलर की किड्नेपिंग की गयी थी। राजधानी पुलिस ने इस मामले में सभी 5 आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। जिन 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, उनके नाम हिमांशु शर्मा, सार्थक डे, निखिल चंद्राकर, हर्ष शर्मा और रितेश शर्मा है। इन सभी आरोपी को घटना के कुछ घंटों बाद ही राजधानी पुलिस ने दबोच लिया।
 बड़ी खबर: 21 लाख 29 हजार 764 किसानों ने समर्थन मूल्य पर धान बेचने कराया पंजीयन

बड़ी खबर: 21 लाख 29 हजार 764 किसानों ने समर्थन मूल्य पर धान बेचने कराया पंजीयन

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य में समर्थन मूल्य पर धान खरीदी का महापर्व एक दिसम्बर से शुरू होने जा रहा है। राज्य में इस साल धान बेचने के लिए 21 लाख 29 हजार 764 किसानों ने पंजीयन कराया है, जिनके द्वारा बोये गए धान का रकबा 27 लाख 59 हजार 385 हेक्टेयर से अधिक है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की किसान हितैषी नीतियों के चलते दो सालों के दरमियान खेती-किसानी के रकबे और किसानों की संख्या में इजाफा हुआ है। दो सालों में धान बेचने वाले किसानों का रकबा 19.36 लाख हेक्टेयर से बढ़कर 22.68 लाख हेक्टेयर और किसानों की संख्या 12 लाख 6 हजार बढ़कर 18 लाख 38 हजार हो गई है। इस प्रकार देखा जाए तो रकबे में 3 लाख 32 हजार हेक्टेयर तथा किसानों की संख्या में 6.32 लाख बढ़ोत्तरी हुई है। इस साल धान बेचने के लिए पंजीयन कराने वाले किसानों की संख्या 21.29 लाख से अधिक और धान पंजीयन का रकबा 27.59 लाख हेक्टेयर के पार पहुंच गया है। 

वर्ष 2017-18 में छत्तीसगढ़ राज्य में समर्थन मूल्य पर 56.85 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी हुई थी। दो सालों के दौरान धान खरीदी का यह आंकड़ा 83.94 लाख मीट्रिक टन पहुंच गया। इस साल धान बेचने के लिए पंजीकृत किसानों की संख्या और धान की रकबे को देखते हुए समर्थन मूल्य पर बीते वर्ष की तुलना में ज्यादा खरीदी का अनुमान है। इसको लेकर राज्य शासन द्वारा हर संभव व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जा रही है। धान उपार्जन के लिए बारदाने की कमी के बावजूद भी सरकार इसके प्रबंध में जुटी है। धान उपार्जन केन्द्रों में किसानों की सहूलियत को लेकर सभी व्यवस्थाएं की जा रही है। 

छत्तीसगढ़ सरकार ने वर्ष 2018-19 में 15.71 लाख किसानों से 80.38 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी की गई थी। वर्ष 2019-20 में 18.38 लाख किसानों से 83.94 लाख मीट्रिक टन धान की रिकॉर्ड खरीदी की गई थी। राज्य में दो सालों में पंजीकृत किसानों की तुलना में धान बेचने वाले कृषकों के प्रतिशत में भी बढ़ोत्तरी हुई है। वर्ष 2017-18 में 76.47 प्रतिशत किसानों ने धान बेचा था। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा प्रदेश की बागडोर संभालते ही वर्ष 2018-19 में यह आंकड़ा 92.61 प्रतिशत हो गया है। बीते विपणन वर्ष 2019-20 में राज्य में 94.02 प्रतिशत किसानों ने समर्थन मूल्य पर धान बेचा था। 

छत्तीसगढ़ में किसानों के हित में लिए गए फैसलों से यहाँ खेती-किसानी और किसानों की खुशहाली का एक नया दौर शुरू हुआ है। मुख्यमंत्री ने सत्ता की बागडोर संभालते ही राज्य के 17 लाख 82 हजार किसनों का लगभग 9 हजार करोड़ रूपए का कृषि ऋण माफ कर किसानों से किए अपने वायदे को पूरा किया। राज्य के 17 लाख से अधिक किसानों पर वर्षों से बकाया 244.18 करोड़ रूपए का सिंचाई कर माफ करने के साथ ही कृषि भूमि के अधिग्रहण पर मुआवजा राशि को दोगुना से बढ़ाकर चार गुना कर दिया गया। राज्य के 5 लाख से अधिक किसानों को निःशुल्क एवं रियायती दर पर बिजली उपलब्ध कराकर सालाना लगभग 900 करोड़ रूपए की राहत दी जा रही है। 

छत्तीसगढ़ सरकार ने किसानों को उनका हक़ और उपज का वाजिब मूल्य दिलाने के लिए 21 मई 2020 से राजीव गांधी किसान न्याय योजना शुरू की। इस योजना के तहत राज्य के 19 लाख किसानों को 5750 करोड़ रूपए की चार किश्तों में दी जा रही है। अब तक तीन किश्तों में किसानों को 4500 करोड़ रूपए की सीधी मदद दी जा चुकी है। राज्य में गौपालन, गांवों में रोजगार और जैविक खेती को बढ़ावा देने के लिए 20 जुलाई 2020 को हरेली पर्व के दिन से छत्तीसगढ़ राज्य में गोधन न्याय योजना प्रारंभ की गई। इसके माध्यम से गांव के गौठानों में ग्रामीणों, किसानों और गौपालको से 2 रुपये किलो में गोबर क्रय किया जा रहा है। ग्रामीणों, किसानों और गौपालकों से अब तक 26 लाख 76 हजार क्विंटल गोबर की खरीदी और उन्हें 53.53 करोड़ की राशि का भुगतान किया गया है। छत्तीसगढ़ की चार चिन्हारी नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी को संरक्षित और संवर्धित करने के लिए राज्य में सुराजी गांव योजना का क्रियान्वयन किया जा रहा है। इसके तहत राज्य में 6 हजार 430 गौठानों का निर्माण और वहाँ महिला समूह के माध्यम से आय मूलक गतिविधियों को बढ़ावा दिया जा रहा है।
 बड़ी खबर रायपुर: सट्टा पट्टी लिखते और जुआ खेलते 8 पकड़ाए, नगदी हजारों रुपयें व सट्टा-पट्टी जब्त

बड़ी खबर रायपुर: सट्टा पट्टी लिखते और जुआ खेलते 8 पकड़ाए, नगदी हजारों रुपयें व सट्टा-पट्टी जब्त

रायपुर। गुढिय़ारी क्षेत्र में सट्टा-पट्टी लिखते 4 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर उनके पास से नगदी 30 हजार रुपयें और सट्टा-पट्टी जब्त की है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गुरुवार को गुढिय़ारी पुलिस ने मुखबीर की सूचना पर खालबाड़ा मिराज पेट्रोलपंप के पास सट्टा पट्टी लिखते रविन्द्र बंसोड 36 वर्ष पिता बावन बंसोड को सट्टा-पट्टी लिखते पाये जाने पर गिरफ्तार कर उसके पास से एक नग सट्टा पर्ची व नगदी 6650 रुपयें जब्त किया है,इसी तरह तेलघानी नाका खंडहर के पास मोहम्मद जुनेद 19 वर्ष पिता मोहम्मद शकील को सट्टा पट्टी लिखते पाये जाने पर घेराबंदी कर गिरफ्तार किया है। आरोपी के पास से नगदी 8350 रुपयें व सट्टा-पट्टी जब्त की है। गोगांव प्रकाश इण्डट्रीज के पास अविनाश साहु 29 वर्ष पिता गुलाब साहु  को सट्टा-पट्टी लिखते पाये जाने पर गिरफ्तार कर उसके पास से नगदी 9110 रुपयें व सट्टा-पट्टी जब्त किया है। बड़ा अशोकनगर गुढिय़ारी में सट्टा-पट्टी के साथ विनोद बंजारे 30 वर्ष पिता मेहतरु बंजारे के कब्जे से 5890 रुपयें एवं सट्टा-पट्टी जब्त की है। सभी आरोपियों के पास से कुल 30 हजार रुपयें नगद व सट्टा-पट्टी जब्त की गई है। आरोपियों के खिलाफ जुआ एक्ट की धारा 4(क)के तहत कानूनी कार्रवाही की गई है। 

इसी तरह जुआ खेलते पाए जाने पर पुलिस ने चार जुआरियों को पकड़ उनके पास से नगदी रुपयें एवं ताश की 52 पत्ती जब्त की है। 

खमतराई पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार शनिवार को 8.30 बजे मुखबीर की सूचना पर निषादपारा रावाभांठा में जुआ खेलने की सूचना पर पुलिस ने रेड की कार्रवाही के दौरान घेराबंदी कर 4 जुआरियें को जुआ खेलते पकड़ा है। पकड़े गए जुआरी राजेन्द्र कुमार साहु 24 वर्ष पिता गांधीराम साहु एवं अन्य तीन के पास से नगदी 23 हजार 6 सौ रुपयें एवं ताश की 52 पत्ती जब्त की गई है। सभी जुआरियों के खिलाफ जुआ एक्ट की धारा 13 के तहत कानूनी कार्रवाही कर जमानतीय मुचलका पर रिहा कर दिया गया है। 
 राजधानी में फिर शादी का झांसा देकर युवती से दुष्कर्म, मामला दर्ज

राजधानी में फिर शादी का झांसा देकर युवती से दुष्कर्म, मामला दर्ज

रायपुर। शादी का प्रलोभन देकर दुष्कर्म करने के बाद शादी से इंकार कर देने की रिपोर्ट खमतराई थाने में दर्ज की गई है। 

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार ग्राम कुरा धरसींवा निवासी पीडि़ता 30 वर्ष ने रिपोर्ट दर्ज करायी है कि  वेद प्रकाश देवांगन 32 वर्ष ने शादी का प्रलोभन देकर 27 जून 2019 से 03 जुलाई 2020 के मध्य शारीरिक संबंध बनाया व शादी से इंकार कर दिया। घटना की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 376 के तहत अपराध कायम कर बलात्कार का मामला दर्ज कर लिया है।
पुन्नी मेला के लिए जिला प्रशासन ने जारी की गाइडलाइन, जाने किन नियमों का करना है पालन

पुन्नी मेला के लिए जिला प्रशासन ने जारी की गाइडलाइन, जाने किन नियमों का करना है पालन

रायपुर। छत्तीसगढ शासन के सामान्य प्रशासन विभाग ने कंटेनमेंट जोन के बाहर धार्मिक और अन्य कार्यक्रम आयोजन के लिए गाइडलाइन जारी कर दी है। प्रशासन ने 30 नवंबर को लगने वाले कार्तिक पूर्णिमा पर मेला के लिए निर्देश भी जारी किये हैं।
विभाग से जारी गाइडलाइन के अनुसार कार्तिक पूर्णिमा पर्व 30 नवंबर को महादेवघाट में आयोजित होबे वाले सभी कार्यक्रम मंदिर परिसर के भीतर ही सम्पन्न होंगे। पूजा स्थल पर केवल पूजा करने वाले ही व्यक्ति शामिल होगे। अनावश्यक भीड एकत्रित न होने देने की जिम्मेदारी मेला प्रबंधन समिति/पूजा कमेटी की होगी। मंदिर में प्रवेश करने वाले श्रद्धालु पंक्तिवद्ध तरीके से लाईन में खडे होगे एवं उनके बीच एक श्रद्धालु रो दूसरे श्रद्धालु के बीच दो गज की दूरी होगी। श्रद्धालु के खडे होने के लिए मंदिर प्रबंधन मेला समिति,”नगर निगम के द्वारा सफेद गोले बनाया जावे।
कार्तिक पूर्णिमा के दौरान पूजा स्थल पर जुलसू, रैली, सभा, सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन नहीं करेगें। पूजा स्थल महादेवघाट में पान, गुटका इत्यादि खाकर थुकना प्रतिबंधित रहेगा। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, रायपुर द्वारा कार्तिक पूर्णिमा महादेवघाट रायपुर में आयोजित पर्व के दौरान एम्बुलेंस, डॉक्टर, चिकित्सकीय स्टाफ एवं दवाई की आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे।


कार्तिक पूर्णिमा स्थल महादेवघाट में किसी भी प्रकार के बाजार, मेला, दुकान लगाने की अनुमति नहीं होगी। महादेवघाट पूजा स्थल में ध्वनि विस्तारक यंत्रो के उपयोग एवं प्रसाद वितरण की अनुमति नही होगी। महादेवघाट पूजा स्थल में छोटे बच्चे एवं वृद्ध को जाने की अनुमति नहीं होगी। खारून नदी, महादेवघाट के गहरे पानी में जाकर पूजा,/स्नान करने की अनुमति नही होगी। नगर निगम रायपुर /गेला समिति, आने वाले श्रद्धालुओं के लिए पीने का पानी की व्यवस्था, गोताखोर एवं नाव की व्यवस्था सुनिश्चित करेगी तथा मेले के लिए पर्याप्त स्टाफ की व्यवस्था करेगें।
नगर निगम रायपुर/मेला प्रबंधन समिति महादेवघाट मे आयोजित कार्तिक पूर्णिमा पर्व में आने वाले श्रद्धालुओं एवं अन्य व्यक्तियों को सेनेटाईज करने की व्यवस्था सुनिश्चित करेगी एवं समय-समय पर सेनेटाईजर से मंदिर परिसर (मंदिर प्रबंधन समिति) को सेनेटाईज करना सुनिश्चित करेगें। आने वाले प्रत्येक व्यक्ति के लिए मास्क,/सोशल एवं फिजीकल डिस्टेसिंग का पालन एवं समय-समय पर सेनेटाईजर का उपयोग करना अनिवार्य होगा। मेला परिसर स्थित विभिन्नं सामाजिक भवनों /धर्मशालाओं में किसी व्यक्ति को ठहरने की अनुमति नहीं दी जावेगी। सामाजिक भवनों की साफ-सफाई एवं सेनेटाईज करने की जिम्मेदारी संबंधित समाज प्रमुखों की होगी।
नगर निगम रायपुर / मेला प्रबंधन समिति कोरोना वायरस के संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए भारत सरकार एवं स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, छत्तीसगढ शासन द्वारा समय-समय पर कोरोना महामारी से सुरक्षा के लिए दिये जा रहे निर्देशों का अनिवार्यतः कडाई से पालन करेगें।
 

धरमपुरा मामले में अमित जोगी ने कलेक्टर को बर्खास्त करने सहित सात मांग शासन से की

धरमपुरा मामले में अमित जोगी ने कलेक्टर को बर्खास्त करने सहित सात मांग शासन से की

रायपुर, छत्तीसगढ़ के कवर्धा जिले के ग्राम धरमपुरा में जैतखाम से लगे निर्माणाधीन सामाजिक धर्म-भवन को बलपूर्वक तोड़े जाने के मामले में जनता कांग्रेस छग के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी ने जिला कलेक्टर को बर्खास्त करने व दोषियों पर कार्रवाई सहित सात मांग शासन से की है।
जेसीसीजे के वरिष्ठ विधायक धर्मजीत सिंह और प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी धरमपुरा पहुंचे। यहां उन्होंने समाज के लोगों से मुलाकात की और कहा कि गांव में 5 एकड़ से अधिक जमीन पर अवैध कब्जा है लेकिन कारवाई सिर्फ समाज विशेष पर की जा रही है। यह सरकार एक वर्ग विशेष के अस्तित्व को खत्म करना चाहती है। इसके अलावा उन्होंने कलेक्टर को बर्खास्त करने और दोषियों पर कड़ी कारवाई की मांग की है।
अमित जोगी ने कहा कि परम पूज्य गुरु बाबा घासीदास किसी समाज विशेष के नहीं अपितु सभी समाज के पथ प्रदर्शक हैं। उनकी आस्था के केंद्र बिंदु सतनाम भवन और गुरुद्वारा को ध्वस्त कर न केवल सतनामी समाज बल्कि छत्तीसगढ़ के सभी समाज को आघात हुआ है। धरमपुरा जाने के पश्चात धर्मजीत सिंह और अमित जोगी कबीरधाम के मिनीमाता चौक में चक्का जाम में भी सम्मिलित हुए। अमित जोगी ने जनता कांग्रेस की ओर से प्रमुख रूप से राज्य सरकार से ये 7 मांग की हैं जिनमें क्रमश: जिला कलेक्टर को तत्काल बर्खास्त किया जाए, समाज को जमीन वापस की जाए, समाज के लोगों के खिलाफ दर्ज एफआईआर वापस ली जाए, कम से कम 5 करोड़ की लागत में नया सतनाम भवन बनाया जाए, लाठीचार्ज और सतनाम भवन धवस्तिकरण की उच्च स्तरीय न्यायिक जांच की जाए, दोषियों के खिलाफ तत्काल एफआईआर दर्ज की जाए एवं आरक्षण बहाल किया जाए।

 

रायपुर : मंत्री परिषद की बैठक में सेवानिवृत्त हो रहे मुख्य सचिव श्री आर.पी.मण्डल को दी गई बिदाई

रायपुर : मंत्री परिषद की बैठक में सेवानिवृत्त हो रहे मुख्य सचिव श्री आर.पी.मण्डल को दी गई बिदाई

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में आज यहां उनके निवास कार्यालय में आयोजित मंत्री परिषद की बैठक में 30 नवम्बर को सेवानिवृत्त हो रहे राज्य के मुख्य सचिव श्री आर.पी. मण्डल को बिदाई दी गई। मुख्यमंत्री श्री बघेल सहित मंत्री परिषद के सदस्यों ने श्री मण्डल को उनके स्वस्थ, सुदीर्घ और खुशहाल जीवन के लिए शुभकामनाएं दीं।
मुख्यमंत्री श्री बघेल ने इस अवसर पर कहा कि श्री मण्डल के मार्गदर्शन में राज्य ने विकास के अनेक महत्वपूर्ण सोपान तय किए। कोरोना संक्रमण से बचाव और रोकथाम के चुनौती भरे कार्य मे उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा, जिसके कारण छत्तीसगढ़ में संक्रमण की स्थिति अन्य राज्यों की तुलना में नियंत्रण में रही। 

मंत्री परिषद की बैठक में इन 14 विषयों पर हुई चर्चा, जाने क्या हुए निर्णय

मंत्री परिषद की बैठक में इन 14 विषयों पर हुई चर्चा, जाने क्या हुए निर्णय

रायपुर, मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में आज यहां उनके निवास कार्यालय में मंत्री परिषद की बैठक आयोजित की गई। छत्तीसगढ़ी राजभाषा दिवस के अवसर मंत्रिपरिषद की बैठक में प्रस्तुत समस्त प्रस्तावों पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सहित मंत्रीपरिषद के सभी सदस्यों ने छत्तीसगढ़ी में अपनी बात रखी। चर्चा की शुरूआत मुख्यसचिव ने छत्तीसगढ़ी में की। बैठक में निम्नानुसार महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए।
1- आई.टी.आई के अंतिम परीक्षा में सम्मिलित होने वाले प्रशिक्षणार्थियों को प्रायोगिक प्रशिक्षण पूर्ण कराने, औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थाओं को खोले जाने का निर्णय लिया गय, ताकि आई.टी.आई. के अंतिम वर्ष के प्रशिक्षणार्थी अखिल भारतीय व्यावसायिक परीक्षा में शामिल हो सकें।
2- कृषि विभाग ने गोधन न्याय योजना के तहत संचालित राज्य शासन के विभागों के शासकीय संस्थानों , गौठानों से उत्पादित जैविक खाद का शासन के अन्य विभागों में सीधे क्रय किया जा सकेगा।
3- छत्तीसगढ़ औद्योगिक भूमि प्रबंधन नियम 2015 में निरस्त भूखंड पुर्नस्थापना और अन्य सुसंगत प्रावधानों में संशोधन का अनुमोदन किया गया।
4- छत्तीसगढ़ राज्य में लघु वनोपजो के प्रसंस्करण के लिए दुर्ग जिले के पाटन विकासखंड के ग्राम जामगांव में लघुवनोपज की केन्द्रीय प्रसंस्करण इकाई की स्थापना का अनुमोदन किया गया। लघुवनोपज के अंतर्गत आयुर्वेदिक दवाएं, जड़ी बूटी, शहद , लाख, चिरौंजी, महुआ, बेल, इमली, बांस इत्यादि का प्रसंस्करण होगा।
5- छत्तीसगढ़ राज्य में लाख पालन को कृषि का दर्जा देने और लाख उत्पादन को कृषि फसलों के अनुरूप अल्प कालीन कृषि ऋण और ब्याज अनुदान दिए जाने का निर्णय लिया गया।
6- छत्तीसगढ़ कृषि उपज मंडी (संशोधन) विधेयक के प्रारूप का अनुमोदन किया गया।
7-खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में समर्थन मूल्य पर धान और मक्का के उपार्जन, कस्टम मिलिंग की नीति का अनुमोदन किया गया। धान की खरीदी नगद और लिंकिंग में 1 दिसंबर से 31 जनवरी 2021 तक , मक्का की खरीदी 1 दिसंबर से 31 मई 2021 तक की जाएगी।
8- छत्तीसगढ़ मोटरयान कराधान अधिनियम 1991 के नियम 7 के प्रावधानों के अनुसार वाहनों के निष्प्रयोज्य में रखे जाने के एवज में, अग्रिम देय मासिक कर जमा किए जाने की छूट अवधि को 31 मार्च 2021 तक बढ़ाने का निर्णय लिया गया।
9- छत्तीसगढ़ शासन वित्त विभाग के अंतर्गत स्थानीय निधि संपरीक्षा के स्थान पर अब राज्य संपरीक्षा किए जाने के सबंध में संशोधन करने की अनुसंशा की गई।
10- नगर पालिका निगम रायपुर को गोल बाजार स्थित पूर्व से पट्टे पर आबंटित भूमि को आबंटित किया जाए। दर का निर्धारण मुख्य सचिव की अध्यक्षता में गठित समिति से की जाएगी।
11- श्रम विभाग ने प्रस्तुत छत्तीसगढ़ राज्य प्रवासी श्रमिक नीति का अनुमोदन किया गया।
12- छत्तीसगढ़ नगर पालिक निगम अधिनियम 1956 और छत्तीसगढ़ नगर पालिका अधिनियम 1961 में संशोधन प्रारूप का अनुमोदन किया।
13- नवा रायपुर अटल नगर में रोजगार निवेश, बसाहट को प्रोत्साहन देने के लिए औद्योगिक क्षेत्र के भूखंडों की वर्तमान प्रीमियम दर को 50 प्रतिशत कम किए जाने का निर्णय लिया गया।
14- कोविड -19 के संक्रमण की स्थिति में प्रदेश के विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों में भौतिक रूप से शिक्षण प्रारंभ किए जाने के संबंध में, उच्च शिक्षा से स्नातकोत्तर कक्षाएं 10 दिसंबर, स्नातक कक्षाएं 15 दिसंबर से और समस्त कक्षाएं 1 जनवरी 2021 से प्रारंभ किए जाने के सुझाव पर चर्चा की गई।
 

BREAKING NEWS: विश्वविद्यालय व कॉलेज खोलने को लेकर छ ग सरकार ने लिया बड़ा फैसला, जानिए कब से खुलेंगे ...

BREAKING NEWS: विश्वविद्यालय व कॉलेज खोलने को लेकर छ ग सरकार ने लिया बड़ा फैसला, जानिए कब से खुलेंगे ...

रायपुर, मुख्यमंत्री भूपेश की कैबिनेट बैठक में छत्तीसगढ़ में यूनवर्सिटी और कॉलेज खोलने को लेकर बड़ा फैसला लिया है। प्रदेश के विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों में भौतिक रूप से शिक्षण प्रारंभ किए जाने के संबंध में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा जारी मार्गदर्शिका तथा छत्तीसगढ़ शासन के उच्च शिक्षा द्वारा स्नातकोत्तर कक्षाएं 10 दिसंबर तथा स्नातक कक्षाएं 15 दिसंबर 2020 से एवं समस्त कक्षाएं एक जनवरी 2021 से प्रारंभ किए जाने के सुझाव पर चर्चा की गई।

वहीं आईटीआई के अंतिम परीक्षा में सम्मिलित होने वाले प्रशिक्षणार्थियों को प्रायोगिक प्रशिक्षण पूर्ण कराने हेतु औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थाओं को खोले जाने का निर्णय लिया गया ताकि आईटीआई के अंतिम वर्ष के प्रशिक्षणार्थी अखिल भारतीय व्यावसायिक परीक्षा ( एन.सी.व्ही.टी.) में शामिल हो सकें।
हालांकि अभी स्कूल को खोलने को लेकर कोई निर्णय नहीं लिया गया है। राज्य सरकार पहले ही इस बात को स्पष्ट कर दिया है कि जब तक कोरोना को लेकर स्थिति सामान्य नहीं होगी, तब स्कूल की कक्षाएं नहीं शुरू होगी।

 

मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ी राजभाषा दिवस पर आयोजित गोष्ठी का किया वर्चुअल शुभारंभ

मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ी राजभाषा दिवस पर आयोजित गोष्ठी का किया वर्चुअल शुभारंभ

रायपुर, मुख्यमंत्री ने आज यहां अपने निवास कार्यालय से 8वें छत्तीसगढ़ी राजभाषा दिवस पर रायपुर के महंत घासीदास स्मारक संग्रहालय के सभागार में आयोजित गोष्ठी का वर्चुअल शुभारंभ किया।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ी राजभाषा के प्रचार-प्रसार, साहित्य सृजन और संवर्धन में महत्वपूर्ण योगदान के लिए प्रदेश की 9 विभूतियों को सम्मानित किया।
मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम को छत्तीसगढ़ी में सम्बोधित करते हुए कहा कि नई सरकार बनने के बाद छत्तीसगढ़ी राजभाषा, छत्तीसगढ़ी तीज-त्यौहारों का महत्व और अधिक बढ़ गया है। राज्य सरकार ने हरेली, तीजा-पोरा,करमा जयंती, विश्व आदिवासी दिवस की छुट्टी घोषित की है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि महंत घासीदास स्मारक संग्रहालय सभागार में राजभााषा दिवस पर आयोजित गोष्ठी में बहिनीमन छत्तीसगढ़ी वेशभूषा में आई हैं। पहले छत्तीसगढ़ी में बोलने में संकोच करते थे। अब जब छत्तीसगढ़ी लोग मिलते हैं, तो अपनी भाषा छत्तीसगढ़ी में गर्व से बात करते हैं। उन्होंने कहा की छत्तीसगढ़ी, हिंदी, अवधी और बृज भाषाएं समकालीन हैं, लेकिन अन्य भाषाओं में छत्तीसगढ़ी भाषा की तुलना में ज्यादा साहित्य सर्जन का काम हुआ है। छत्तीसगढ़ी भाषा के विकास और छत्तीसगढ़ी भाषा में साहित्य सृजन की काफी आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में गोंडी, हल्बी, कुड़ुख, सरगुजिया जैसी भाषाओं में भी बच्चों को शिक्षा दी जा रही है। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर प्रदेशवासियों को छत्तीसगढ़ी राजभाषा दिवस की बधाई दी।
मुख्यमंत्री इस अवसर पर जिन छत्तीसगढ़ी राजभाषा सेवियों को सम्मानित किया। उनमें नंदकिशोर शुक्ला बिलासपुर, वैभव पाण्डेय बेमेतरिहा, रायपुर, डॉ. चितरंजन कर रायपुर, डॉ. परदेशीराम वर्मा भिलाई, रामेश्वर वैष्णव रायपुर, संजीव तिवारी दुर्ग अधिवक्ता, डॉ. राजन यादव खैरागढ़, देवेश तिवारी रायपुर और सुधा वर्मा रायपुर शामिल हैं।
इस अवसर पर संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत, गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, महिला बाल विकास मंत्री अनिला भेंडिया, वनमंत्री मोहम्मद अकबर, लोकस्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री रुद्र गुरू, संसदीय सचिव शिशुपाल शोरी, संस्कृति विभाग के सचिव अंबलगन पी., संचालक अमृत विकास तोपनो इस अवसर पर उपस्थित थे।
 

बालको मेडिकल सेंटर ने रायपुर लेडीज सर्किल 90 के साथ मिलकर प्लाज्मा दान शिविर का आयोजन किया

बालको मेडिकल सेंटर ने रायपुर लेडीज सर्किल 90 के साथ मिलकर प्लाज्मा दान शिविर का आयोजन किया

रायपुर, कँवलेसेन्ट प्लाज्मा मध्यम लक्ष्णोंवाले कोविडरोगियों के लक्ष्णोंमें राहत लाने के लिए प्लाज्माथेरेपी काफी प्रभावी साबित हुई है। जब तक टीका जारी नहीं हो जाता, तब तक प्लाज्माथेरेपी से लाखों लोगों को लाभ होता रहेगा।मध्य भारत का सबसे बड़ा एवं आधुनिक कैंसर अस्पताल, बालकोमेडिकल सेंटर, जो कोविडपरीक्षण शुरू करने के लिए राज्य और एन ए बीएलकी अनुमति प्राप्त करने वाला छत्तीसगढ़ का पहला निजी अस्पताल भी था ने गैर-लाभकारी संगठनों, राउंडटेबल169 और रायपुर लेडीजसर्कल 90के साथ मिलकर एक "प्लाज्मा दान शिविर" का आयोजन करके कोविड के खिलाफ अपनी लड़ाई को सामुदायिक स्तर पर ले गए।बालकोमेडिकल सेंटर, छत्तीसगढ़ में पहला अस्पताल था, जहां पर प्लाज्माथेरेपी शुरू की गई थी और वर्तमान में, यह कोविड परीक्षण और उपचार का संपूर्ण सरगम प्रदान करता है।
बालको मेडिकल सेंटर छत्तीसगढ़ के कुछ अस्पतालों में से एक है जिनके पास एक उन्नत एफेरेसिस मशीन है और ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन के तकनीकी रूप से उन्नत विभाग ने अब तक सैकड़ों प्लाज्मा फेरेसिस दान का संचालन करके कोविडके खिलाफ युद्ध को मजबूती से लड़ा है।
डॉ. नीलेश जैन, कंसल्टेंटट्रांसफ्यूजन मेडिसिन और प्रभारी ब्लड बैंक, जिन्होंने पूरे प्लाज्मा फेरेसिस डोनेशन कैंप का नेतृत्व किया, ने बताया, “यह राउंडटेबल इंडिया 169 और रायपुर लेडीज़ सर्कल 90 द्वारा लोगों को प्लाज्मा दान करने के लिए प्रेरित करने के लिए वास्तव में एक बड़ी पहल है जिससे कोविड रोगी, जो अभी भी इस घातक संक्रमण से जूझ रहे हैं, उन्हें मदद मिलेगी। हम रायपुर के लोगों के शुक्रगुजार हैं, जो इस नेक काम के लिए दान देने के लिए बड़ी संख्या में आगे आए हैं। इसने एक बार फिर मानवता में विश्वास पैदा किया है।”
इसके अलावा डॉ जैन ने पात्रता मानदंड और प्लाज्मा दान प्रक्रिया के बारे में जानकारी दी है। कोई भी व्यक्ति जिसकी आयु 18 से 65 वर्ष के बीच है, हीमोग्लोबिन> 12.5 ग्राम, वजन> 55 किलोग्राम और उसे कोविड-19 संक्रमण था और अब कम से कम 28 दिनों के लिए लक्षण-रहित है, वह प्लाज्मा दान कर सकते है। प्लाज्मा दान किसी अन्य एफेरेसिस दान की तरह एक बहुत ही सरल प्रक्रिया है। यह प्रक्रिया एफेरेसिस / सेल सेपरेटर नामक मशीन द्वारा की जाती है और क्योंकि इसमें केवल प्लाज्मा एकत्र किया जाता है, इसे प्लास्मफेरेसिस कहा जाता है। एक दाता से कुल 400-500 मिलीलीटर प्लाज्मा एकत्र किया जाता है, जो एक ही बैठक में लिया जाता है। पहले दान के दो सप्ताह बाद इसे फिर से दान किया जा सकता है।
“कोरोना एक ऐसा वायरस है जो हम सभी को प्रभावित करता है। कोई भी सुरक्षित नहीं है, लेकिन अगर हम एक साथ आते हैं और एक-दूसरे के लिए निस्वार्थ भाव से काम करते हैं, तो हम इस महामारी को तेजी से पार कर सकते हैं।
मैं सभी से आग्रह करती हूँ की आगे आएं एवं दूसरों को वह दान करें जो अभी सिर्फ व्यक्तिगत रूप से हमारी रक्षा कर रहा है। दूसरों को भी हमारे एंटीबॉडी द्वारा संरक्षित किया जा सकता है। आगे आएं एवं निस्वार्थ भाव से प्लाज्मा दान करें”, श्रीमती अंकिता अग्रवाल, चेयरपर्सन, रायपुर लेडीज सर्कल 90 ने कहा।
आपको बता दे राउंडटेबल और लेडीज़ सर्कल इंडिया गैर -लाभकारी संगठन हैं। पिछले 22 वर्षों से, उनका प्रयास शिक्षा के माध्यम से सच्ची स्वतंत्रता लाना है। जून 2020 तक उन्होंने 78 लाख से अधिक वंचित बच्चों को शिक्षित करते हुए 7141 कक्षाओं का निर्माण किया है।उनके पूरे भारत में 4500+ सदस्य हैं जो समाज के उत्थान और जरूरतमंदों की मदद के लिए एक साझा उद्देश्य से बंधे हैं।लेडीजसर्कल रायपुर ने बालकोमेडिकल सेंटर में ब्लड कैंसर से पीड़ित छोटे बच्चों के इलाज के लिए भी अपना सहयोग दिया है।

 

 पूर्व आईएएस बाबूलाल अग्रवाल के पास 27 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति, ग्रामीणों के नाम पर मिले 400 से अधिक बैंक खाते: ईडी

पूर्व आईएएस बाबूलाल अग्रवाल के पास 27 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति, ग्रामीणों के नाम पर मिले 400 से अधिक बैंक खाते: ईडी

रायपुर। प्रवर्तन निदेशालयने द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, ईडी ने पूर्व आईएएस बाबूलाल अग्रवाल के खिलाफ कार्यवाई की है। कार्यवाई में ED ने 27.86 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की है। 


मनी लॉड्रिंग और भ्रष्टाचार का आरोप-
बाबूलाल अग्रवाल के खिलाफ आपराधिक कदाचार और धोखाधड़ी से संबंधित मामलों में धन शोधन निवारण अधिनियम, 2002 (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत कार्यवाई की गई है। पूर्व अधिकारी ने 13 फर्जी कंपनियां भी खोलकर पैसे के वारे-न्यारे किये। इस बार जो 27 करोड़ से ज्यादा की संप्ति अटैच की गयी है। उनमें 26 करोड़ 16 लाख रुपये प्लांट और मशीनरी, 20 लाख से ज्यादा रूपये 291 बैंक खाते के हैं सहित अन्य अलग-अलग एकांउट और जमीन को जब्त किया गया है।

छत्तीसगढ़ में एन्टी करप्शन ब्यूरो द्वारा बाबूलाल अग्रवाल के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम, 1988 के तहत अपराध दर्ज किया गया था। एफआईआर के आधार पर ईडी ने पीएमएलए के प्रावधानों के तहत जांच शुरू की थी, जिसमें बाबूलाल अग्रवाल और उनके परिवार के सदस्यों द्वारा अर्जित की गई अनुपातहीन संपत्ति का खुलासा किया गया

अग्रवाल के खिलाफ 3 और एफआईआर दर्ज-
आयकर विभाग द्वारा फरवरी 2010 में बाबूलाल अग्रवाल के परिसर में उनके सीए सुनील अग्रवाल और उनके परिवार के सदस्यों पर छापेमार कार्रवाई की थी। जिसके बाद ही सीबीआई द्वारा आरोप पत्र के बाद बाबूलाल अग्रवाल के खिलाफ 3 और एफआईआर दर्ज की ग थी।

पीएमएलए के तहत जांच से पता चला है कि बाबू लाल अग्रवाल ने अपने सीए सुनील अग्रवाल और उनके भाई अशोक अग्रवाल और पवन अग्रवाल के साथ मिलकर खरोरा और इसके आस-पास के गांवों के भोले भाले ग्रामीणों के नाम पर 400 से अधिक बैंक खाते खोले। इन खातों और कई अन्य खातों में नकदी जमा की गई थी।

इन्होंने कई शेल कंपनियों के माध्यम से अवैध कमाई को खपाया था। बाबूलाल अग्रवाल के परिवार के सदस्यों के स्वामित्व वाली और प्रबंधित कंपनी मैसर्स प्राइम इस्पात लिमिटेड (पीआईएल) का इस्तेमाल भ्रष्ट साधनों से एकत्रित नगदी के प्लेसमेंट और लेयरिंग में किया गया था। आरोपी पूर्व आईएएस अधिकारी बाबूलाल अग्रवाल को ईडी ने 09.11.2020 को गिरफ्तार किया था और वह 05.12.2020 तक न्यायिक हिरासत में है।
 बड़ी खबर रायपुर: बाईक सवार युवती की सड़क हादसे में मौत, जांच में जुटी पुलिस

बड़ी खबर रायपुर: बाईक सवार युवती की सड़क हादसे में मौत, जांच में जुटी पुलिस

रायपुर। मोटरसाइकिल सवार महिला की सड़क हादसे में मौत हो जाने पर टिकरापारा पुलिस ने अज्ञात वाहन चालक के खिलाफ मर्ग कायम कर धारा 304 ए का अपराध दर्ज कर मामले का जांच में लिया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 26 नवंबर को रात 11.25 बजे रायपुर शहर से पल्सर क्रमांक सीजी 04 डीएक्स 0805 मोटरसाइकिल सवार युवती रतिन बरई 24 वर्ष की सड़क हादसे में एनएच रोड देवपुरी गुरुद्वारा के पास वापस मानाकैम्प जाते समय मौत हो गई। पिता सुशांत बरई द्वारा गंभीर रुप से घायल अवस्था में उसे अस्पताल ले जाने पर डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। वार्ड व्वाय मेकाहारा अस्पताल मनोज कुमार की सूचना पर पुलिस ने मर्ग कायम कर पंचनामा कार्रवाही के बाद पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया। 
 आज राजधानी में निगम की टीम ने सड़क पर रेत रखने पर सम्बंधित से वसूला हजारों रुपये का जुर्माना

आज राजधानी में निगम की टीम ने सड़क पर रेत रखने पर सम्बंधित से वसूला हजारों रुपये का जुर्माना

रायपुर। आज नगर पालिका निगम विभाग की टीम ने जोन 7 के क्षेत्र में स्वामी आत्मानंद वार्ड क्रमांक 39 के क्षेत्र में सड़क पर रेत रखे जाने पर, 1000 रूपए सड़क बांधा शुल्क के रूप में लगाकर वसूला। इस प्रकार जोन 7 नगर निवेश विभाग की टीम ने जोन कमिश्नर विनोद पांडे और जोन नगर निवेश उप अभियंता नलिनी साहू की उपस्थिति में जनशिकायत मिलने पर कार्रवाही की गई।
फिर टुटा सूने मकान का ताला, नगदी व सोने,चांदी के जेवर पार

फिर टुटा सूने मकान का ताला, नगदी व सोने,चांदी के जेवर पार

 रायपुर। बेटी के घर गई महिला के घर का ताला तोड़कर किसी ने आलमारी में रखे सोने चांदी के जेवरात व नगदी रुपयें चोरी कर लिया। घटना की रिपोर्ट मुजगहन थाने में दर्ज की गई है। 


पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार ग्राम धनेली रायपुर निवासी प्रमिला पटेल 52 वर्ष पति स्व.बुधारु पटेल ने रिपोर्ट दर्ज करायी है कि प्रार्थिया मजदूरी का काम करती है।  26 नवंबर को शाम 5 बजे घर में ताला लगाकर अपनी बेटी के यहां ग्राम रुही गई हुई थी,दूसरे दिन 27 नवंबर को सुबह नाती ने फोन करके बताया की घर का ताला टुटा हुआ है व पूरा सामान इधर उधर बिखरा पड़ा है। घटना की जानकारी मिलने पर पीडि़ता ने वापस आकर मकान में रखे आलमारी को चेक किया तब अंदर रखे सोने का ईयर रिंग 1 जोड़ी,चांदी का एंठी 1 जोड़ी,चांदी का सांटी 2 जोड़ी एवं सिक्का सहित नगदी 2 हजार रुपयें को किसी ने चोरी कर लिया था। घटना की रिपोर्ट पर पुलिस ने अज्ञात चोर के खिलाफ धारा 380,457 के तहत अपराध कायम कर मामला दर्ज कर लिया है।




 
 आलू प्याज सहित विभिन्न खाद्य वस्तुओं के दामों में हुई जमकर वृद्धि, तौल में कम नापकर उपभोक्ताओं के साथ की जा रही धोखाधड़ी

आलू प्याज सहित विभिन्न खाद्य वस्तुओं के दामों में हुई जमकर वृद्धि, तौल में कम नापकर उपभोक्ताओं के साथ की जा रही धोखाधड़ी

रायपुर। लाकडाउन के बाद अनलॉक होने पर जहां पर आलू प्याज के दाम क्रमश: चिल्हर में 50 रुपये से 70रुपये के बीच में उपभोक्ताओं से प्रति किलो वसूले जा रहे हैं वहीं खाद्य वस्तुओं में जहां कम तोलकर ग्राहकों से दुकानदारों से पूरी वसूली की जा रही है। मिली जानकारी के अनुसार देश में लंबे समय के बाद आलू प्याज के दाम गरीबों की पहुंच से दूर हो गये हैं जहां दालों के भाव में जबर्दस्त वृद्धि देखी जा रही है वहीं साधारण आदमी जिसे खाने में आलू प्याज का सहारा था वह भी उसकी पहुंच से महंगाई के चलते दूर हो गया है। इधर निजी दूध आपूर्ति करने वाले डेयरी मालिकों से प्रतिदिन दूध लेने वाले ग्राहकों के अनुसार एक लीटर दूध में भी तीन पाव दूध नापकर धोखा देने की जानकारी दी गई है। विभिन्न खाद्य वस्तुओं में हुई वृद्धि के चलते महंगाई के कारण लोगों के घर का बजट एवं महिलाओं की रसोई का स्वाद बिगड़ चुका है। 

गौरतलब है कि बार-बार बारिश की आड़ लेकर आलू प्याज के मूल्य में वृद्धि करने वाले व्यापारियों के कोल्ड स्टोरेज में जमाखोरी करने की शिकायतें भी मीडिया को विभिन्न उपभोक्ताओं से मिली है। खाद्य विभाग के जिम्मेदारों की नाक के नीचे खुलेआम आलू प्याज खाद्य जिन्स आइटम एवं तेल मसालों में वृद्धि के रूप में वसूली जा रही अतिरिक्त राशि को लॉकडाउन में हुए नुकसान के नाम पर थोपकर उपभोक्ताओं को जमकर लूटा जा रहा है। जाग उपभोक्ता जाग मंच के अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री से आलू प्याज के व्यापारियों के कोल्ड स्टोरेज में खाद्य विभाग के अधिकारियों के माध्यम से जांच करवाकर लोगों को सस्ती दरों पर आलू प्याज की आपूर्ति किये जाने के संबंध में तत्काल कड़े निर्देश देने की मांग की है। उपभोक्ता मंच के सचिव के अनुसार पैक्ड सामाग्री में भी एक्सपायरी डेट को नई प्लास्टिक की चिट चिपकाकर नया सामान बनाकर बेचने की जानकारी विभिन्न माल्स में खरीदी करने वाले उपभोक्ताओं ने प्रतिनिधि को दी है। 
 बड़ी खबर: कैबिनेट की बैठक में सीएस ने छत्तीसगढ़ी में दी प्रस्तावों की जानकारी

बड़ी खबर: कैबिनेट की बैठक में सीएस ने छत्तीसगढ़ी में दी प्रस्तावों की जानकारी

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में आज यहां उनके निवास कार्यालय में मंत्री परिषद की बैठक आयोजित की गई। छत्तीसगढ़ी राजभाषा दिवस के अवसर पर मंत्रिपरिषद की बैठक के समस्त प्रस्तावों पर चर्चा छत्तीसगढ़ी राजभाषा में हुई। मुख्यसचिव ने मंत्रिपरिषद की बैठक में प्रस्तुत होने वाले प्रस्तावों की जानकारी छत्तीसगढ़ी भाषा में दी।
  राजधानी रायपुर सहित पूरे प्रदेश में फिर सुधरा मौसम, अब पड़ेगी कड़ाके की ठंड

राजधानी रायपुर सहित पूरे प्रदेश में फिर सुधरा मौसम, अब पड़ेगी कड़ाके की ठंड

रायपुर। चक्रवाती तूफान निवार के कमजोर पडऩे के साथ ही राजधानी रायपुर सहित पूरे प्रदेश में मौसम फिर से सुधर गया है। आज सुबह निकली चटख धूप ने लोगों को ठिठुरन से काफी राहत दी है। अब मौसम के मुख्य रूप से शुष्क बने रहने की संभावना जताई गई है। 

आसमान में छाए बादलों के छंटते ही ठंड ने एक बार फिर से अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। अभी तक बदली-बारिश ने ठंड के प्रभाव को काफी हद तक रोके रखा था। चक्रवाती तूफान निवार के कमजोर होने के बाद अब हवा की दिशा में फिर से बदलाव आना शुरू हो गया है। इधर उत्तर भारत में पड़ रही जोरदार सर्दी का असर जल्द ही प्रदेश के मौसम पर भी देखने को मिलेगा। 

उत्तर भारत में पड़ रही जोरदार ठंड के असर से प्रदेश में भी कड़ाके की सर्दी पडऩा तय माना जा रहा है। वर्तमान में हवा की दिशा में क्रमश: बदलाव दर्ज किया जा रहा है। हवा की दिशा उत्तरी होते ही प्रदेश के तापमान में गिरावट आनी तय है। इस लिहाज से यह कहना भी गलत नहीं है कि अब आने वाले एक सप्ताह के अंदर प्रदेश में कड़ाके की सर्दी शुरू हो जाएगी। वर्तमान में मौसम का मिलाजुला असर देखने को मिल रहा है। दिन में आज धूप निकलने से जरूर दिन के तापमान में वृद्धि आएगी लेकिन इसके बाद शाम ढलते ही ठंड भी अपना असर दिखाना शुरू कर देगी। 
जुआ के विरूद्ध रायपुर पुलिस को मिली बड़ी सफलता: जुआ खेलते 18 जुआरियों को गिरफ्तार कर लाखों रूपये नगदी जब्त

जुआ के विरूद्ध रायपुर पुलिस को मिली बड़ी सफलता: जुआ खेलते 18 जुआरियों को गिरफ्तार कर लाखों रूपये नगदी जब्त

 रायपुर। रायपुर जिले में जुआ एवं सट्टा पर प्रभावी रूप से अंकुश लगाने हेतु पुलिस उप महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय श्री अजय कुमार यादव द्वारा रायपुर पुलिस के समस्त पुलिस राजपत्रित अधिकारियों एवं थाना प्रभारियों को कार्य योजना तैयार कर इस पर अधिक से अधिक कार्यवाही करने के निर्देश दिये है। जिस पर समस्त पुलिस राजपत्रित अधिकारियों एवं थाना प्रभारियों द्वारा अपने-अपने थाना क्षेत्र में मुखबीर लगाकर लगातार पेट्रोलिंग व सूचना संकलन कर जुआ एवं सट्टा खेलने/खिलाने वालों के संबंध में सूचना एकत्रित की जा रही थी। 


इसी क्रम में दिनांक 27.11.2020 को मुखबीर से सूचना प्राप्त हुई कि थाना नेवरा क्षेत्रांतर्गत खण्डहरनुमा बाड़ा में कुछ व्यक्ति जुआ खेल रहे है। सूचना पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण श्री तारकेश्वर पटेल द्वारा कार्य योजना तैयार कर जुआरियों को रंगे हाथ पकड़ने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये जिस पर सुश्री पारूल अग्रवाल (परि. उप पुलिस अधीक्षक) एवं श्री प्रशांत खाण्डे (परि. उप पुलिस अधीक्षक) के नेतृत्व में थाना प्रभारी नेवरा सहित 20 सदस्यीय एक विशेष टीम का गठन किया गया। 

जिस पर टीम ने रेड कार्यवाही व घेराबंदी कर 18 जुआरियों को जुआ खेलते रंगे हाथ गिरफ्तार कर उनके कब्जे से नगदी 14,40,000/- (चौदह लाख चालीस हजार रूपये ) एवं ताश पत्ती जप्त किया गया। जुआरियों के विरूद्ध थाना मंदिर हसौद में अपराध क्रमांक 378/2020 धारा 13 जुआ एक्ट का अपराध पंजीबद्ध किया जाकर जुआरियों को गिरफ्तार कर अग्रिम कार्यवाही किया गया। जुआ एवं सट्टा खेलने/खिलाने वालों के विरूद्ध रायपुर पुलिस का यह अभियान लगातार जारी रहेगा। 

गिरफ्तार आरोपी-
01. रवि सेन पिता शंकर सेन उम्र 32 साल ।
02. राकेश चैबे उम्र 40 साल।
03. अमित अग्रवाल पिता सुरेश अग्रवाल उम्र 35 साल।
04. संजय महेश्वरी पिता गिरधारी महेश्वरी उम्र 28 साल।
05. तेजवंत पिता स्व0 प्रीतम सिंह उम्र 42 साल ।
06. ध्रुव गुप्ता पिता व्यास नारायण गुप्ता उम्र 36 साल।
07. संदीप शर्मा पिता पूरन लाल शर्मा उम्र 43 साल।
08. जाहिद बेग पिता हबीब बेग उम्र 36 साल ।
09. शशिकांत गुप्ता पिता सेवक गुप्ता उम्र 36 साल ।
10. सनत कुमार गुप्ता पिता एस एल गुप्ता उम्र 41 साल ।
11. जितेन्द्र पाल पिता स्व0 बाल कृष्ण पाल उम्र 43 साल ।
12. सनत सेन पिता स्व0 झुमुक लाल सेन उम्र 46 साल।
13. मनोहर गेहानी उम्र 47 साल।
14. पुरूषोत्तम अग्रवाल पिता श्याम सुंदर अग्रवाल उम्र 37 साल ।
15. राघवेन्द्र झा पिता चतुरानंद झा उम्र 47 साल।
16. राजू शर्मा पिता ब्रदी शर्मा उम्र 60 साल।
17. नवीन सलूजा पिता शरण सलूजा उम्र 40 साल।
18. महेश अग्रवाल पिता बृजमोहन अग्रवाल उम्र 45 साल ।
 आज से शुरू हो रही है 10वीं-12वीं की पूरक व डीएलएड की परीक्षाएं, कोरोना काल में परीक्षाओं के लिए शिक्षा विभाग ने किए पुख्ता इंतजाम

आज से शुरू हो रही है 10वीं-12वीं की पूरक व डीएलएड की परीक्षाएं, कोरोना काल में परीक्षाओं के लिए शिक्षा विभाग ने किए पुख्ता इंतजाम

रायपुर। कोरोना काल में पहली बार माध्यमिक शिक्षा मंडल आज से परीक्षा आयोजित कर रहा है। 10वीं और 12वीं की पूरक परीक्षा के साथ ही डीएलएड प्रथम वर्ष की परीक्षाएं भी ली जाएंगी। सभी परीक्षाओं में करीब 87 हजार छात्र शामिल होंगे।
 


 

कोरोना को ध्यान में रखते हुए शिक्षा विभाग ने व्यापक व्यवस्था की है। एक कमरे में केवल 10 छात्रों को ही बैठने की व्यवस्था की गई है। बिना मास्क परीक्षा केन्द्र में प्रवेश नहीं मिलेगा। इसके साथ ही परीक्षा देने पहुंचे कोरोना संक्रमित छात्रों को अलग कमरे में बैठाया जाएगा।10 वीं की दोपहर 1 से शाम 4 बजे तक और 12 वीं की सुबह 8:30 बजे से परीक्षा आयोजित की गई है।

 


 

परीक्षा को लेकर जेएन पाण्डेय स्कूल के प्राचार्य एमआर सावंत ने बताया कि इस महामारी में छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल का प्रयास है कि किसी बच्चे का साल खराब न हो, उस वजह से परीक्षाएं आवश्यक थी। हमने स्कूल में पूरी सावधानी के साथ में परीक्षा आयोजित की है। गेट पर बच्चों को सैनिटाइज किया गया है, सोशल डिस्टेंस के साथ बच्चों को बिठाया गया है। बच्चों को मास्क लगाकर परीक्षा देने का इंस्ट्रक्शन दिया गया, छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल ने केंद्रों की संख्या भी बढ़ा दी है।

 


बच्चा जिस स्कूल का है वो उसी स्कूल में परीक्षा दे सकता है, यदि बच्चा प्राइवेट स्कूल का है तो वो प्राइवेट स्कूल में परीक्षा दे रहे हैं ताकि भीड़ एक जगह पर एकत्रित ना हो। दो पालियो में परीक्षाएं आयोजित की गई हैं, 12वीं की परीक्षा का समय 8:30 से 11:30 तक निर्धारित किया गया है और दसवीं की परीक्षा का समय दोपहर 1:00 से 4:00 बजे तक निर्धारित किया गया है।
 बड़ी खबर: कैबिनेट की बैठक आज, कई अहम् मुद्दों पर होगी चर्चा

बड़ी खबर: कैबिनेट की बैठक आज, कई अहम् मुद्दों पर होगी चर्चा

रायपुर। भूपेश कैबिनेट की आज महत्वपूर्ण बैठक होने जा रही है। सीएम आवास पर होने वाली इस बैठक मैं दिसंबर सै शुरु होने वाली धान खरीदी, बढ़ रहे कोरोना संक्रमण, किसानों को धान खरीदी की चौथी किश्त देने, प्रदेश में हुई बारिश से फसलों को हुए नुकसान, मण्डी लोक विधेयक को राज्यपाल की अभी तक मंजूरी नहीं मिलने, सिंचाई परियोजनाओं के क्रियान्वयन और नए मुख्य सचिव की नियुक्ति पर भी चर्चा होने की संभावना है।
 छत्तीसगढ़ में 5 अतिरिक्त पुलिस अधीक्षकों का तबादला आदेश जारी, देखे पूरी लिस्ट

छत्तीसगढ़ में 5 अतिरिक्त पुलिस अधीक्षकों का तबादला आदेश जारी, देखे पूरी लिस्ट

रायपुर। 5 वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों का तबादला आदेश जारी किया गया है। इसमें जयंत वैष्णव को एएसपी पुलिस मुख्याल, ऋचा मिश्रा को एएसपी बीजापुर, सचिंद्र चौबे को एएसपी नक्सल ऑपरेशन सुकमा, कमलेश प्रसाद को एएसपी रेडियो भिलाई, वहीं नीरज कुमार चंद्राकर को एएसपी नारायणपुर बनाया गया है। ज्ञात हो कि आज ही डीजीपी डीएम अवस्थी ने कानून व्यवस्था की समीक्षा करते हुए, दुर्ग में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक की थी।
+ Load More