छत्तीसगढ़ में कोरोना ने फिर दी दस्तक, स्वास्थ्य विभाग में मचा हड़कंप    |    CORONA IN INDIA : एक बार फिर भारत में कोरोना की एंट्री, ये दो नए वेरिएंट पसारने लगे पैर    |    छत्तीसगढ़ पर फिर पड़ा Corona का साया,एक ही दिन में इस जिले में मिले इतने कोरोना मरीज,जानिए किस जिले में कितने एक्टिव केस ?    |    CG CORONA UPDATE : छत्तीसगढ़ में कोरोना के मामलों में बढ़त जारी...जानें 24 घंटे में सामने आए कितने नए केस    |    छत्तीसगढ़ में आज कोरोना के 10 नए मरीज मिले, कहां कितने केस मिले, देखें सूची…    |    प्रदेश में थमी कोरोना की रफ्तार, आज इतने नए मामलों की पुष्टिं, प्रदेश में अब 91 एक्टिव केस    |    CG CORONA UPDATE : छत्तीसगढ़ में कोरोना के मामलों में बढ़त जारी...जानें 24 घंटे में सामने आए कितने नए केस    |    BREAKING : प्रदेश में आज 15 नए कोरोना मरीजों पुष्टि, देखें जिलेवार आकड़े    |    प्रदेश में कोरोना का कहर जारी...कल फिर मिले इतने से ज्यादा मरीज, एक्टिव मरीजों का आंकड़ा पहुंचा 100 के पार    |    छत्तीसगढ़ में मिले कोरोना के 14 नए मरीज...इस जिले में सबसे ज्यादा संक्रमित,कुल 111 एक्टिव केस    |
शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी…शहीद STF जवान भरत लाल साहू को रायपुर में CM साय, उपमुख्यमंत्री विजय शर्मा ने नम आंखों से दी श्रद्धांजलि

शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी…शहीद STF जवान भरत लाल साहू को रायपुर में CM साय, उपमुख्यमंत्री विजय शर्मा ने नम आंखों से दी श्रद्धांजलि

 रायपुर। शहीद STF जवान भरत लाल साहू को रायपुर में श्रद्धांजलि दी गई। माना में शहीद जवान भरत लाल साहू के पार्थिव शरीर पर पुष्प अर्पित कर नमन किया गया। सीएम साय, उपमुख्यमंत्री विजय शर्मा, वनमंत्री केदार कश्यप, राजस्व मंत्री टंकराम वर्मा ने भी शहीद जवान को श्रद्धांजलि अर्पित की।

बता दें कि बीजापुर में जहां पर नक्सलियों ने आईईडी बम रखा था। इसकी की चपेट में आने से 2 जवान 17 जुलाई की रात शहीद हो गए। शहीद भरत लाल साहू  राजधानी रायपुर के मोवा इलाके में रहने वाले हैं।भरत का 2 साल का बेटा है ओर दो बेटियां भी हैं। एक पांचवी में पढ़ती हैa और दूसरी तीसरी में पढ़ती है। कल मीडिया से बातचीत में परिवार वालों ने कहा कि, शहीद भारत साहू से उनकी बात 2 दिन पहले ही हुई थी। लेकिन तब किसी को यह नहीं पता था कि, वो इस तरह सभी को छोड़कर चला जाएगा। साथ ही कहा कि, 1 जुलाई को ही छुट्टी खत्म हुई थी

 
मुख्यमंत्री साय की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक आज, इन मुद्दों पर ले सकते हैं बड़े फैसले

मुख्यमंत्री साय की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक आज, इन मुद्दों पर ले सकते हैं बड़े फैसले

 रायपुर : मुख्यमंत्री विष्णु देव साय की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक आज नवा रायपुर में महानदी भवन स्थित मंत्रालय में होगी। बैठक का आयोजन दोपहर 3 बजे किया गया है। इस बैठक में कई अहम फैसले लिये जा सकते हैं।

विधानसभा के आगामी मानसून सत्र की तैयारियों पर चर्चा की जाएगी. साथ ही मानसून सत्र में पेश किए जाने वाले संशोधन विधेयकों के प्रारूप और चालू वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिए प्रथम अनुपूरक बजट के प्रस्ताव को मंजूरी दिए जाने की संभावना है.निकायों में महापौर, अध्यक्षों के सीधे चुनाव के लिए मानसून सत्र में लाए जाने वाले विधेयक के प्रारुप का भी अनुमोदन किया जा सकता है. प्रदेश में आगामी नगरीय निकाय चुनाव को देखते हुए शहरी क्षेत्रों में विकास कार्यों में तेजी लाने सहित अन्य महत्वपूर्ण निर्णय लिए जा सकते हैं. बैठक में चालू खरीफ सीजन में बारिश व फसलों की स्थिति और खाद-बीज की उपलब्धता की समीक्षा की जाएगी।
जागो प्रशासन जागो : जर्जर हो चुकी स्कूल की हालत… टूटी छत व दीवारों के दरार में फंसा 35 बच्चों का भविष्य

जागो प्रशासन जागो : जर्जर हो चुकी स्कूल की हालत… टूटी छत व दीवारों के दरार में फंसा 35 बच्चों का भविष्य

 सारंगढ़ :- छत्तीसगढ़ के सारंगढ़ जिले में दर्जनों ऐसे जर्जर स्कूल हैं. जहां जिन्दगी को ताक में रखकर बच्चे पढ़ाई करने को मजबूर हैं. टूटी छत, दीवारों में दरार, खिड़कियों के अंदर आता बारिश का पानी, यहां आम बात है. ऐसे स्कूल में बच्चों का पढ़ना खतरे से खाली नहीं है. बावजूद इसके बच्चे सुविधाओं के अभाव में ऐसे स्कूलों में पढ़ने आते हैं.दरअसल, हम बात कर रहे हैं सारंगढ़ के अंतर्गत पड़ने वाले कांदूरपाली गांव के प्राइमरी स्कूल की. इस स्कूल में कुल 35 बच्चे पढ़ाई कर रहे हैं.दो शिक्षक है यहां 1 से 5वीं तक के बच्चे पढ़ते हैं. जर्जर भवन के चलते प्राथमिक शाला के बच्चों को भेड़ बकरियों की तरह आंगनबाड़ी बच्चो को एक साथ कक्ष में बैठ कर पढ़ाई करने को मजबूर हैं. आंगनबाड़ी कक्ष में ही कक्षा पहली से पांचवीं तक की कक्षाएं लगाई जा रही है.।शासन से हो चुकी है स्वीकृति राशि पर भी नहीं हो रही जर्जर भवन की मरम्मत।

विद्यालय में तालाबंदी करने की चेतावनी दी

ग्रामीण और पालकों के पिछले दो तीन सालों में सैकड़ों शिकायत के बाद भी अब तक ना तो नया भवन बना और ना ही जर्जर भवन की मरम्मत की गई है. शासन प्रशासन की अनदेखी के चलते पिछले दो तीन सालों के शिकायत के बाद भी शिक्षा का मंदिर नहीं बन पाया है. हालात के अनदेखी और गैर जिम्मेदाराना रवैए के चलते विद्यालय समिति के पदाधिकारियों ने विद्यालय में तालाबंदी करने की चेतावनी दी है.जिला शिक्षा अधिकारी वर्षा बंसल ने बताया कि जिले के जिस भी स्कूल में असुविधा है. वहां की जानकारी मिली है सुधार कार्य करवाया जाएगा. बच्चों के जान को जोखिम में नहीं डाल सकते हैं.।

 माओवादियों के IED ब्लास्ट में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि, उप मुख्यमंत्री विजय शर्मा नही मनाएंगे अपना जन्मदिन

माओवादियों के IED ब्लास्ट में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि, उप मुख्यमंत्री विजय शर्मा नही मनाएंगे अपना जन्मदिन

रायपुर :- बस्तर के बीजापुर जिले के तर्रेम क्षेत्र में एक दुखद घटना में माओवादियों द्वारा किए गए आईईडी ब्लास्ट में एसटीएफ के 2 जवान भारत साहू व सतेर सिंह शहीद हो गए और 4 जवान घायल हो गए। इस हृदय विदारक घटना ने पूरे राज्य को स्तब्ध कर दिया है। उपमुख्यमंत्री  विजय शर्मा ने इस दर्दनाक घटना से आहत होकर अपना जन्मदिन नहीं मनाने का फैसला किया है। उन्होंने अपने सभी कार्यकर्ताओं और समर्थकों से भी अपील की है कि आज जब उनके भाई शहीद हुए है तब उनका मन आहत व व्यथित है वे उनका जन्मदिन न मनाए और इस कठिन समय में शहीद जवानों और उनके परिवारों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त करें।

 विजय शर्मा ने कहा कि शहीद जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा और समाज और सरकार उनके अमर बलिदान को स्मरणित रखेगी ! उन्होंने ईश्वर से प्रार्थना की कि शहीद जवानों की आत्मा को शांति मिले और घायल जवान जल्द से जल्द स्वस्थ हो जाएं। उन्होंने कहा कि इस दुखद व दुर्भाग्यपूर्ण घटना  हमें यह सोचने पर विवश कर दिया है कि बस्तर की सेवा के लिए हमारे जवान कितने कठिन परिस्थितियों में अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हैं।

उपमुख्यमंत्री ने इस अवसर पर सुरक्षा बलों की कड़ी मेहनत और समर्पण की सराहना की और उन्हें हर संभव सहायता और साथ देने का वचन दिया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार माओवादियों के खिलाफ अपनी कार्रवाई को और तेज करेगी ताकि भविष्य में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो सके।

 शर्मा ने कहा कि शहीद जवानों के परिवारों के साथ पूरा प्रदेश  खड़ा है। उन्होंने कहा कि शहीद जवानों का बलिदान देश के प्रति उनकी अटूट निष्ठा और समर्पण का प्रतीक है और हमें उनकी वीरता पर गर्व है।
CG - कलेक्ट्रेट आगजनी घटना में शामिल शिक्षक निलंबित...जानिए पूरा मामला...देखे आदेश…!!

CG - कलेक्ट्रेट आगजनी घटना में शामिल शिक्षक निलंबित...जानिए पूरा मामला...देखे आदेश…!!

 रायपुर :-  बलौदाबाजार में विगत 10 जून को संयुक्त जिला कार्यालय में हुई आगजनी घटना के अभियुक्त शिक्षक मोहन बंजारे को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। मोहन बंजारे व्याख्याता (एल.बी.) के रूप में शा.उ.मा.वि गोड़ा विकासखण्ड पलारी में पदस्थ थे। उनके विरूद्ध थाना सिटी कोतवाली बलौदाबाजार में अपराध कमांक 381/2024 धारा 147, 148, 149, 294, 506, 186, 353, 332, 307, 435, 120बी, 427 भादवि सार्वजनिक सम्पत्ति नुकसान निवारण अधिनियम 1984 की धारा 3,4 के अन्तर्गत दिनांक 15 जुलाई 2024  को गिरफ्तार कर विधिवत न्यायिक रिमाण्ड पर लिया गया है। उक्त कार्रवाई छत्तीसगढ़ सिविल सेवा (वर्गीकरण, नियंत्रण तथा अपील) नियम 1966 के नियम 9 के उपनियम (2) (क) के तहत किया गया है। निलंबन अवधि में सम्बंधित को नियमानुसार केवल जीवन निर्वाह भत्ता की पात्रता होगी।

BREAKING: पटवारियों की हड़ताल खत्म...राजस्व मंत्री से मिलने के बाद काम पर लौटने का ऐलान...इन मांगों पर बनी सहमति..!!

BREAKING: पटवारियों की हड़ताल खत्म...राजस्व मंत्री से मिलने के बाद काम पर लौटने का ऐलान...इन मांगों पर बनी सहमति..!!

 रायपुर :- छत्तीसगढ़ में 8 जुलाई से जारी पटवारियों की हड़ताल आज राजस्व मंत्री टंकराम वर्मा से मुलाकात के बाद खत्म हो गई । दरअसल, पटवारी अपनी 32 सूत्रीय मांगों को लेकर हड़ताल पर चले गए थे, ऐसे में पूरे प्रदेश में छात्रों के साथ आमजन को भी काफी समस्याएं का सामना करना पड़ रहा था । आज पटवारी संघ ने टंकराम वर्मा से मुलाकात की और ठोस आश्वासन मिलने के बाद अपनी हड़ताल खत्म कर दी । जानकारी के मुताबिक आज से ही सभी पटवारी काम पर वापस लौट जायेंगे।

आपको बता दें कि आज से काम पर पटवारी लौटेंगे। पिछले 11 दिनों से प्रदेश भर के पटवारी हड़ताल पर थे, जिसकी वजह से काम काफी प्रभावित हो रहा था। 32 बिंदुओं को लेकर पटवारी प्रदर्शन कर रहे थे। पटवारियों से मुलाकात के बाद राजस्व मंत्री टंकराम वर्मा ने कहा कि पटवारी अब काम पर लौटेंगे। पहले भी बताया है कोई बड़ी बात नहीं है,छोटी सी बात थी अब उस पर सहमति बन गई है और अब पटवारी संघ अपने काम पर वापस लौटेंगे। संसाधन भत्ता देने की मांग थी, जो पूर्ववर्ती सरकार ने कहा था इस पर बात नाराजगी थी। पहले भी चर्चा हुई थी पर सार्थक निर्णय नहीं आया था। अब सहमति बन गई है।

भुइंया पोर्टल में गड़बड़ी की बात

पटवारियों की सरकार से शिकायत है कि उन्हें जरूरी सुविधा नहीं दी जाती है । ऑनलाइन नक्शा बटांकन में संशोधन सीधे पटवारी की आईडी से होनी चाहिए, जो अभी नहीं होती है. जिला स्तर पर सहायक प्रोगामरों की पदस्थापना की जानी चाहिए । साथ ही, भूमि खरीद-बेच में रजिस्ट्री के साथ ही भुइंया पोर्टल पर भी इसे अपडेट किया जाना चाहिए. किसान की कर्ज लेने बैंक में काट लेने के बाद भी भुइंया पोर्टल में बंधक नहीं हटाया जाता है, उसे स्वतः हटाने का प्रावधान होना चाहिए ।

देह व्यापार का भंडाफोड़...पुलिस ने छापामार कार्रवाई में युवती और चार पुरुषों को पकड़ा

देह व्यापार का भंडाफोड़...पुलिस ने छापामार कार्रवाई में युवती और चार पुरुषों को पकड़ा

 रायपुर: छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में पुलिस ने एक सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है। इस छापेमारी में एक महिला और चार पुरुषों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस की संयुक्त टीम ने यह कार्रवाई की। सूचना के आधार पर, मुजगहन क्षेत्र के एक मकान में रेड की गई, जिसमें पांच लोगों को पकड़ा गया। पुलिस को खबर मिली थी कि मुजगहन क्षेत्र के एक मकान में देह व्यापार चल रहा है। इस पर कार्रवाई करते हुए आईयूसीए डब्ल्यू, टिकरापारा थाना, मुजगहन पुलिस और महिला रक्षा टीम ने संयुक्त रूप से छापा मारा। इस दौरान मुजगहन क्षेत्र के एक मकान से पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया, जिनमें एक महिला भी शामिल है।

 
गिरफ्तार किए गए आरोपी इस प्रकार हैं:
 
संचालिका - एक महिला
महेश व्यास, पिता गोविंद व्यास, उम्र 27 साल, निवासी गोकुल चंद्रमा मंदिर बुढापारा
तेजेन्दर सिंह, पिता जगदीश सिंह, उम्र 21 साल, निवासी शीतला मंदिर के पीछे, आमापारा थाना आजाद चौक, जिला रायपुर
शिवेन्द्र निषाद, पिता मनोज निषाद, उम्र 21 साल
डीसी कुमार देवदास, पिता व्यासनारायण देवदास, उम्र 24 साल, निवासी ग्राम कन्हेरा, थाना अभनपुर, जिला रायपुर
 
इन सभी के खिलाफ थाना मुजगहन में अपराध क्रमांक 187/2024 के तहत धारा 3, 4, 5, 7 अनैतिक व्यापार (निवारण) अधिनियम 1956 के तहत कार्रवाई की गई है। सभी आरोपियों को रिमांड पर न्यायालय भेजा गया है।
प्रदेश का राजस्व विभाग ठप्प पड़ा है : सुशील

प्रदेश का राजस्व विभाग ठप्प पड़ा है : सुशील

 रायपुर। कर्मचारियों के हड़ताल के कारण राजस्व विभाग ठप्प पड़ा हुआ है। आम आदमी पटवारी से लेकर तहसील ऑफिस के चक्कर काटने को मजबूर है। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के मंत्रियों की अनुभवहीनता और अदूरदर्शिता का खामियाजा प्रदेश की जनता भोगने मजबूर है। किसानी का समय है, खरीफ की बुवाई हो चुकी है, रोपा बियासी की तैयारी है। राजस्व अधिकारी कर्मचारियों के हड़ताल के चलते नामांतरण और बटवारा, हक़त्याग, त्रुटि सुधार, ऋण पुस्तिका जैसे काम के लिए आम जनता को तहसील कार्यालयों के चक्कर काटना पड़ रहा है, कोई काम नहीं हो रहा है। विष्णुदेव साय की सरकार का पूरा फोकस वसूली गैंग चलाने में है, भू माफियाओं को सरकारी संरक्षण है, खसरा लॉक करके मोटा रकम वसूला जा रहा है। आम जनता, किसानों, विद्यार्थियों और पालकों की परेशानी से भारतीय जनता पार्टी के नेताओं का कोई सरोकार नहीं है।


सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि पटवारी की ज्यादातर मांगे, आम जनता को हो रही परेशानियों को लेकर है। संशोधन और त्रुटि सुधार के अधिकार के लिए है। तहसीलदार संघ की मांग भारतीय जनता पार्टी के कुशासन में बढ़ते अपराध के खिलाफ है। जिस प्रकार से भारतीय जनता पार्टी की सरकार आने के बाद से दबंगई बढ़ गई है, अधिकारी कर्मचारियों को डराया जा रहा है, एक तहसीलदार से मारपीट और गाली-गलौज की गई थी, जिसके खिलाफ प्रदेश भर के तहसीलदार आंदोलित हैं, सरकार को इस मामले में संवाद तत्काल कार्यवाही करना चाहिए, लेकिन भारतीय जनता पार्टी के नेताओं को जनता की समस्या से कोई सरोकार नहीं है, जिसके चलते किसानों, छात्रों और उनके परिजनों को भटकना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का राजस्व पखवाड़ा सिर्फ राजनीतिक इवेंट बनकर रह गया है। पटवारी, तहसीलदार, हड़ताल पर हैं, ऐसे में राजस्व पखवाड़ा का औचित्य क्या है? एक तरफ सरकार राजस्व पखवाड़ा आयोजित कर जनता की समस्याओं को हल करने का झूठा दावा कर रही है, दूसरी तरफ छत्तीसगढ़ में तहसीलदार हड़ताल पर हैं, राजस्व की रीढ़ माने जाने वाला पटवारी अमला पूरे प्रदेश में आंदोलित है। प्रदेश भर के छात्र आय, जाति प्रमाण पत्र बनवाने के लिए भटक रहे हैं। विद्यार्थी और उनके पालक परेशान हैं लेकिन भारतीय जनता पार्टी की सरकार के कान में जूं तक नहीं रेंग रही हैं।

राज्य के हितों को दरकिनार कर साय सरकार ने राजस्थान को कोल उत्खनन की अनुमति दी : बैज

राज्य के हितों को दरकिनार कर साय सरकार ने राजस्थान को कोल उत्खनन की अनुमति दी : बैज

 रायपुर। राज्य के हितों को दरकिनार कर साय सरकार ने राजस्थान को कोल उत्खनन की अनुमति दे दी है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष दीपक बैज ने कहा कि हसदेव अरण्य कोल फील्ड में संचालित परसा ईस्ट एवं कांता बासन (पीईकेबी) कोल ब्लॉक की 91.21 हेक्टेयर वन भूमि का उपयोग उत्खनन के लिये दे दिया है। राजस्थान के मुख्यमंत्री भजन लाल शर्मा ने इस आशय की जानकारी सोशल मीडिया में दिया है। दलीय प्रतिबद्धता में भाजपा सरकार ने छत्तीसगढ़ के हितों तथा राज्य के पर्यावरण को अनदेखी किया है। पूर्ववर्ती कांग्रेस की भूपेश सरकार ने राज्य के हितों को देखते हुये यहां पर उत्खनन की अनुमति देने से मना कर दिया था जबकि उस समय राजस्थान में भी कांग्रेस की सरकार थी। उसके बावजूद कांग्रेस की सरकार ने राज्य के हितों से समझौता नहीं किया था। इस खदान को रद्द करने कांग्रेस की सरकार ने केंद्र सरकार के पास अनुशंसा भी भेजा था।


दीपक बैज ने कहा कि भाजपा की सरकार बनने के बाद भाजपा के राष्ट्रीय नेतृत्व के दबाव में राज्य के कोल उत्खनन की बंदरबांट शुरू हो गयी है। भाजपा सरकार अडानी के हितों को सवंर्धित करने के लिये राज्य के जल, जंगल, जमीन खनिज संपदा को अडानी को सौपना शुरू कर दिया गया है। जैसे ही भाजपा की सरकार बनी हसदेव अरण्य क्षेत्र में वनों की अंधाधुंध कटाई शुरू की जा चुकी है। 50 हजार से अधिक पेड़ काटे जा चुके है। यहां पर कटाई के लिये आदेश और पर्यावरण स्वीकृत केंद्र की मोदी सरकार ने दिया था तब कांग्रेस सरकार ने इस स्वीकृति को राज्य के स्तर पर निरस्त कर दिया था तथा केंद्र में भी इसे निरस्त करने के लिये पत्र लिखा था। 31.10.2022 को इस संबंध में छत्तीसगढ़ शासन के वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के अपर सचिव ने भारत सरकार के वन महानिरीक्षक को पत्र लिखकर परसा ओपन कास्ट कोल माईंस कोल उत्खनन पर प्रतिबंध लगाने तथा वन कटाई के प्रस्ताव को निरस्त करने को कहा था। विधानसभा से भी कांग्रेस सरकार ने इस आशय का प्रस्ताव पारित करवा कर केंद्र को भेजा था कि हसदेव अरण्य क्षेत्र की सभी कोल खदानों को निरस्त किया जाये।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने छत्तीसगढ़ विधानसभा में 27 जुलाई 2022 को प्रस्तावित प्रस्ताव पारित कर हसदेव अरण्य, तमोर पिंगला और कोरबा के हाथी रिजर्व क्षेत्र के वनों में कोल ब्लॉक आवंटन रद्द करने का संकल्प लिया था। इस दौरान मोदी सरकार के कोयला मंत्री ने रायपुर आकर यह भी कहा कि जहां पर कोल बेयरिंग एक्ट लागू होता है वहां पेसा कानून के प्रावधान लागू नहीं होते किसी के आपत्ति या सहमति से कोल खनन पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा मोदी सरकार उस क्षेत्र में भी कोयले का खनन जारी रखेगी। राज्य में भाजपा सरकार बनने के बाद अडानी को फायदा पहुंचाने पेड़ों की कटाई शुरू हो चुकी है।

 

CG : सरकार ने जारी की अधिसूचना...छत्‍तीसगढ़ के इन जिलों में होगी उपभोक्‍ता फोरम की स्‍थापना...देखे अधिसूचना…

CG : सरकार ने जारी की अधिसूचना...छत्‍तीसगढ़ के इन जिलों में होगी उपभोक्‍ता फोरम की स्‍थापना...देखे अधिसूचना…

 रायपुर। जिला उपभोक्‍ता विवाद प्रतितोष आयोग यानी उपभोक्‍ता फोरम की स्‍थापना के लिए राज्‍य सरकार ने अधिसूचना जारी कर दी है। इसके अनुसार राज्‍य के 3 जिलों में फोरम की स्‍थापना की जाएगी। इनमें मुंगेली, गरियाबंद और सूरजपुर शामिल है।

सरकार के इस फैसले ने इन जिलों के लोगों को बड़ी सुविधा होगी। अब उन्‍हें विवाद के लिए अपने पुराने जिलों की फोरम में नहीं जाना पड़ेगा बल्कि अपने ही जिला मुख्‍यालय में वे अपील कर सकेंगे। अभी राज्‍य के 20 जिलों में फोरम काम कर रहा है। अब इनकी संख्‍या 23 हो जाएगी।

CG NEWS: आज नई दिल्ली में छत्तीसगढ़ को मिलेंगे 5 राष्ट्रीय पुरस्कार

CG NEWS: आज नई दिल्ली में छत्तीसगढ़ को मिलेंगे 5 राष्ट्रीय पुरस्कार

 रायपुर :- छत्तीसगढ़ को दीनदयाल अंत्योदय योजना – राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन में उत्कृष्ट कार्यों के लिए नई दिल्ली में 18 जुलाई को पांच राष्ट्रीय पुरस्कारों से नवाजा जाएगा। भारत सरकार द्वारा राज्य शहरी विकास अभिकरण (सूडा) और प्रदेश के चार नगरीय निकायों बिलासपुर, रायगढ़, चांपा एवं भाटापारा का चयन प्रतिष्ठित ‘स्पार्क-2023-24’ पुरस्कारों के लिए किया गया है।

राज्य में शहरी गरीब परिवारों को सशक्त बनाने और उनकी आजीविका के अवसरों को बढ़ाने में उत्कृष्ट कार्यों के लिए ये पुरस्कार प्रदान किए जा रहे हैं। केन्द्रीय आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय द्वारा नई दिल्ली के इंडिया हैबिटॉट सेंटर में आयोजित समारोह में सूडा और चारों नगरीय निकायों को पुरस्कृत किया जाएगा। केन्द्रीय आवासन और शहरी कार्य मंत्री  मनोहर लाल और राज्य मंत्री  तोखन साहू ये पुरस्कार प्रदान करेंगे।

सूडा और चारों नगरीय निकायों की टीम को बधाई दी

भारत सरकार द्वारा ‘स्पार्क-2023-24’ पुरस्कार के लिए चयनित सूडा, बिलासपुर व रायगढ़ नगर निगम तथा चांपा व भाटापारा नगर पालिका के अधिकारियों और लाभार्थियों की कुल 20 सदस्यीय टीम छत्तीसगढ़ की ओर से नई दिल्ली में ये पुरस्कार ग्रहण करेगी। उप मुख्यमंत्री तथा नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री  अरुण साव ने राज्य को गौरवान्वित करने वाली इस उपलब्धि के लिए सूडा और चारों नगरीय निकायों की टीम को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के प्रभावी क्रियान्वयन से राज्य में शहरी आबादी के जीवन में उल्लेखनीय सुधार आया है। राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन और प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के अंतर्गत हितग्राहियों को लगातार लाभान्वित किया जा रहा है।

 
जब तक जिंदा हूं रायपुर दक्षिण से कोई अलग नही कर सकता: बृजमोहन अग्रवाल

जब तक जिंदा हूं रायपुर दक्षिण से कोई अलग नही कर सकता: बृजमोहन अग्रवाल

 रायपुर । भाजपा के गढ़ रायपुर दक्षिण में विधानसभा चुनाव में इतिहास रचने के बाद, रायपुर लोकसभा चुनाव में भी क्षेत्र के मतदाताओं ने बृजमोहन अग्रवाल को ऐतिहासिक जीत में 90 हजार से ज्यादा अंतर दिलाकर अपना बहुमूल्य योगदान दिया था।

अपनी ऐतिहासिक जीत के बाद सांसद  बृजमोहन अग्रवाल ने बुधवार को मतदाता अभिनंदन समारोह के अंतर्गत रायपुर दक्षिण विधानसभा क्षेत्र के मतदाताओं एवं कार्यकर्ताओं का अभिनंदन कर आभार जताया।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए  बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि, रायपुर दक्षिण कोई विधानसभा क्षेत्र नहीं बल्कि उनका घर है। जहां की जनता ने 8 बार उनको विधानसभा में प्रतिनिधित्व करने की जिम्मेदारी सौंपी और अब देश की सबसे बड़ी पंचायत लोकसभा में रायपुर की आवाज उठाने का मौका दिया है जिसके लिए मैं क्षेत्र की जनता और कार्यकर्ताओं का बहुत आभारी हूं।

आपने 36 साल तक मेरा साथ दिया है। यहां के मतदाताओं और कार्यकर्ताओं ने जिनको एक बार अपना लिया उनका जीवनभर साथ देते हैं। ऐसे भी मतदाता है जो तीन प पीढ़ियों से मेरे साथ है। मैं भी जब तक जीवित रहूंगा रायपुर दक्षिण से अलग नहीं हो सकता हूं।उन्होंने कहा कि ज्यादा से ज्यादा राज्य सरकार और केंद्र सरकार की योजनाओं को राजधानी में लागू करवाना उनकी प्राथमिकता होगी और आने वाले समय में रायपुर को महानगर बनाया जायेगा।उन्होंने कहा कि देश की जनता ने मोदी जी को तीसरी बार प्रधानमंत्री बनाया है। मोदी जी ने देश की तस्वीर और तकदीर दोनों बदल दी हैं। आज पूरी दुनिया में भारत का नाम हो रहा है। गरीबों के जीवन में खुशहाली लाने, युवाओं का सुनहरा भविष्य गढ़ने, गरीबों को घर दिलाने, मरीजों का 5 लाख तक का मुफ्त इलाज कराने, महिलाओं को ₹1000 महीना देने और देश की 60 करोड़ से ज्यादा लोगों का बैंक में अकाउंट खोलने का काम हमारे यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने किया है। जिनको तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने में रायपुर लोकसभा के मतदाताओं एवं कार्यकर्ताओं ने भी अहम भूमिका निभाई है।

वरिष्ठ कार्यकर्ताओं को शॉल और श्रीफल भेंटकर सम्मानित किया

बृजमोहन अग्रवाल ने पार्टी कार्यकर्ताओं से आह्वान किया कि, विधानसभा और लोकसभा चुनाव की तरह ही नगरीय निकाय चुनाव में शानदार प्रदर्शन करें और रायपुर के सभी 70 पार्षद समेत महापौर पद पर कमल का फूल खिलाए।
जिन लोगों ने विधानसभा और लोकसभा चुनाव में भाजपा को वोट नहीं दिया उनको भी समझ में आ जाना चाहिए कि, मोहल्ले का विकास तभी संभव है जब वहां पार्षद भी भाजपा का हो।
जिसके लिए उनको अभी से तैयारी शुरू कर देनी चाहिए।बृजमोहन अग्रवाल ने कार्यक्रम में वरिष्ठ कार्यकर्ताओं को शॉल और श्रीफल भेंटकर सम्मानित किया।

ये रहे उपस्थित 
कार्यक्रम में पूर्व सांसद सुनील सोनी, भाजपा रायपुर जिला अध्यक्ष जयंती पटेल, अशोक बजाज, देव जी भाई पटेल, मोहन एंटी, मीनल चौबे, रमेश सिंह ठाकुर, मंडल अध्यक्ष सालिक सिंह ठाकुर महेश शर्मा, प्रवीण देवड़ा, मुकेश पंजवानी, बृजेश पांडे, अनुराग अग्रवाल, तरल सोलंकी, सुमित शर्मा, युवा मोर्चा, महिला मोर्चा के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता तथा क्षेत्र के लोग उपस्थित रहे।

 
सगे भाइयों ने फोड़ा युवक का सिर, इलाज के दौरान मौत, जानिए क्या है पूरा मामला

सगे भाइयों ने फोड़ा युवक का सिर, इलाज के दौरान मौत, जानिए क्या है पूरा मामला

रायपुर :- राजधानी रायपुर में दो सगे भाइयों ने डंडे से युवक का सिर फोड़ दिया है। जिसे इलाज के दौरान युवक की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि भाइयों ने पहले साथ बैठकर जमकर शराब पी। फिर नशे में उनका युवक के साथ विवाद हो गया। उन्होंने गाली गलौज करते हुए युवक के साथ मारपीट चालू कर दी। ये पूरा मामला राजेंद्र नगर थाना क्षेत्र का है।

प्रार्थी शिव कुमार साहू ने राजेंद्र नगर पुलिस को बताया कि वह शारदा विहार कॉलोनी के निर्माणाधीन मकान में रहते हैं। वहां पर मजदूरी का काम करते हैं। 14 जुलाई को सालिक राम ध्रुव का उसी जगह के रहने वाले नानू और डिकेश से विवाद हो गया। नानू और डिकेश दोनों सगे भाई है। दोनों ने शराब के नशे में सालिक राम के सिर पर डंडे से वार कर दिया। जिससे वह लहूलुहान होकर जमीन पर गिर गया।

अस्पताल में मौत

सालिक राम को आसपास मौजूद अन्य लोगों ने अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसकी हालत लगातार गंभीर थी। घटना के दो दिन बाद सालिक राम की मौत हो गई। इस मामले में पुलिस ने दोनों आरोपिय नानू और डिकेश को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस में इन्हें हत्या के मामले में न्यायिक रिमांड में भेज दिया है।

CG ब्रेकिंग : छत्तीसगढ़ की यें चार प्रमुख रेल परियोजनाएं जल्द होगी शुरू...मुख्यमंत्री साय ने केंद्रीय रेल मंत्री से की चर्चा

CG ब्रेकिंग : छत्तीसगढ़ की यें चार प्रमुख रेल परियोजनाएं जल्द होगी शुरू...मुख्यमंत्री साय ने केंद्रीय रेल मंत्री से की चर्चा

 रायपुर :-  छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री विष्णु देव साय ने आज नई दिल्ली में रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से मुलाकात कर राज्य की विभिन्न नई रेल परियोजनाओं पर चर्चा की। रेल भवन में हुई बैठक में मुख्यमंत्री साय ने राज्य के सामाजिक और आर्थिक विकास के लिए रेल नेटवर्क के विस्तार की आवश्यकता पर जोर दिया। उन्होंने इस दौरान राज्य की चार प्रमुख रेल परियोजनाओं धर्मजयगढ़-पत्थलगांव-लोहरदगा नई लाइन परियोजना, अंबिकापुर-बरवाडीह नई लाइन परियोजना, खरसिया-नया रायपुर-परमलकसा नई रेल लाइन परियोजना और रावघाट-जगदलपुर नई रेल लाइन परियोजना को जल्द शुरू करने का आग्रह किया।

धर्मजयगढ़-पत्थलगांव-लोहरदगा नई लाइन परियोजना (240 किमी)

मुख्यमंत्री साय ने बताया कि यह परियोजना क्षेत्र के सामाजिक एवं आर्थिक विकास के लिए आवश्यक है। यह पत्थलगाँव, कुनकुरी, जशपुर नगर, गुमला आदि महत्वपूर्ण शहरों को जोड़ती है। यह उत्तरी छत्तीसगढ़ को झारखंड से जोड़ेगी। इस परियोजना के माध्यम से औद्योगिक (कोरबा) क्षेत्र को लोहरदगा से जोड़ने की योजना है। इसके अतिरिक्त, यह क्षेत्र को पूर्व में कोरबा और रांची के होकर मध्य भारत से जोड़ेगी। परियोजना की अनुमानित लागत लगभग 16,000 करोड़ रुपए है।

अंबिकापुर-बरवाडीह नई लाइन परियोजना (200 किमी)

इस परियोजना की मांग आजादी से पहले 1925 में की गई थी। हालांकि, 1948 में मंजूरी मिलने के बावजूद यह परियोजना अब तक अधूरी रही। मुख्यमंत्री ने बताया कि यह परियोजना अंबिकापुर (उत्तरी छत्तीसगढ़) को बरवाडीह (झारखंड) से जोड़ेगी और परसा, राजपुर, चंदनपुर आदि महत्वपूर्ण शहरों को कनेक्ट करेगी। इस परियोजना के माध्यम से देश के उत्तरी और पूर्वी हिस्से में कोयला और अन्य खनिजों के परिवहन के लिए वैकल्पिक मार्ग उपलब्ध होगा। परियोजना की अनुमानित लागत लगभग 9000 करोड़ रुपए है।

खरसिया-नया रायपुर-परमलकसा नई रेल लाइन परियोजना (277 किमी)

मुख्यमंत्री ने बताया कि यह परियोजना देश के पश्चिमी क्षेत्र में एसईसीएल और एमसीएल कोयला क्षेत्रों की निकासी के लिए एक वैकल्पिक मार्ग प्रदान करती है। यह बिलासपुर और रायपुर स्टेशनों को बायपास करते हुए बलौदाबाजार क्षेत्र को कनेक्टिविटी प्रदान करेगी। परियोजना की अनुमानित लागत लगभग 8000 करोड़ रुपए है।

रावघाट-जगदलपुर नई रेल लाइन परियोजना (140 किमी)

रेलवे पहले से ही दल्ली-राजहरा-रावघाट 95 किमी नई रेलवे लाइन का निर्माण कर रही है। मुख्यमंत्री साय ने सुझाव दिया कि इस लाइन को जगदलपुर तक बढ़ाया जाए, ताकि आदिवासी क्षेत्र का आर्थिक और सामाजिक विकास किया जा सके। यह परियोजना छत्तीसगढ़ के खनिज समृद्ध क्षेत्र से इस्पात उद्योगों तक लौह अयस्क की निकासी के कुशल और पर्यावरण अनुकूल साधन प्रदान करेगी। परियोजना की अनुमानित लागत लगभग 3500 करोड़ रुपए है।

बैठक के दौरान केंद्रीय रेल मंत्री श्री अश्विनी वैष्णव ने इन परियोजनाओं की संभावनाओं और लाभों को स्वीकार किया और इन पर तेजी से काम करने का आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा कि ये परियोजनाएँ राज्य के समग्र विकास के लिए महत्वपूर्ण हैं और रेलवे मंत्रालय इन्हें प्राथमिकता देगा।

BREAKING : राजधानी के आमानाका इलाके में मिली युवक की सड़ी-गली लाश, इलाके में फैली सनसनी

BREAKING : राजधानी के आमानाका इलाके में मिली युवक की सड़ी-गली लाश, इलाके में फैली सनसनी

 रायपुर : राजधानी रायपुर के आमानाका इलाके में अज्ञात युवक की सड़ी गली लाश मिली है, शव मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई है, युवक की उम्र करीब 35 से 40 साल बताया जा रहा है, मृतक के दाएं हाथ में गोदना से मां लिखा हुआ है. घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची आमानाका पुलिस मृतक की शिनाख्त करने में जुट गई है.

CG BREAKING: छत्तीसगढ़ शारीरिक शिक्षा व्यायाम संघ 22 जुलाई को करेंगे विधानसभा का घेराव...जानिए क्या है वजह..!!

CG BREAKING: छत्तीसगढ़ शारीरिक शिक्षा व्यायाम संघ 22 जुलाई को करेंगे विधानसभा का घेराव...जानिए क्या है वजह..!!

रायपुर  :छत्तीसगढ़ शारीरिक शिक्षा व्यायाम प्रशिक्षित संघ के आव्हान पर प्रदेश भर के बीएड, डीएड, , एमएड प्रशिक्षित अपनी मांग को लेकर 22 जुलाई को विधानसभा का घेराव और धरना प्रदर्शन करेंगे।संघ के प्रदेश अध्यक्ष हेमंत सार्वा ने कहा है कि 2023 के शिक्षक भर्ती में व्यायाम शिक्षक के एक भी पद नहीं दिया गया। पूर्व सीएम द्वारा व्यायाम शिक्षक के 1440 पदों पर भर्ती का वादा भी किया गया जो अभी तक पूर्ण नहीं हुआ ।

अभी 33000 शिक्षक भर्ती प्रस्तावित है जिसमें हम 5000 व्यायाम शिक्षक के भर्ती की मांग करते है। प्रदेश के स्कूलों में व्यायाम शिक्षक पदों पर भर्ती की मांग को लेकर पूरे छत्तीसगढ़ से बीएड, डीएड, एमएड प्रशिक्षित युवा 22 जुलाई को विधानसभा घेराव और धरना प्रदर्शन करेंगे। प्रदेशव्यापी प्रदर्शन में बड़ी संख्या में बीएड, डीएड,प्रशिक्षित विभिन्न जिलों से राजधानी रायपुर में जुटेंगे ।

 
 
BREAKING : सिटी बस और ट्रक की आमने सामने जोरदार भिड़ंत, 20 यात्री घायल, मची चीख पुकार

BREAKING : सिटी बस और ट्रक की आमने सामने जोरदार भिड़ंत, 20 यात्री घायल, मची चीख पुकार

रायपुर। राजधानी रायपुर में भीषण सड़क हादसे का मामला सामने आया है। तेज रफ्तार ट्रक और सिटी बस में आमने-सामने से भिड़ंत हो गई। हादसे में लगभग 20 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं। यह हादसा विधानसभा थाना क्षेत्र के सेमरिया गांव के पास हुआ है। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस और एंबुलेंस मौके पर पहुंची है। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल पहुंचाया गया है। घटना की सूचना मिलने पर विधानसभा थाना पुलिस समेत आलाधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं।

जानकारी के अनुसार, बस रायपुर से खरोरा की ओर जा रही थी। वहीं ट्रक सामने से आ रहा था। इस बीच सेमरिया गांव के पास तेज रफ्तार बस चला रहे ड्राइवर ने नियंत्रण खो दिया, जिससे बस की ट्रक से भिडंत हो गई। इसके बाद यात्रियों में चीख पुकार मच गई। बस में सवार कई यात्रियों को काफी चोटें आई है।

कांग्रेस का विधानसभा घेराव 24 को, नेताओं की मिली जिम्मेदारी

कांग्रेस का विधानसभा घेराव 24 को, नेताओं की मिली जिम्मेदारी

 रायपुर/बिलासपुर : छत्तीसगढ़ में कानून व्यवस्था को लेकर कांग्रेस का विधानसभा घेराव 25 जुलाई को होगा। इसके लिए कांग्रेस विधायकों एवं संगठन नेताओं को जिम्मेदारी दी गई है। प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी महामंत्री सुबोध हरितवाल ने जिले के कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बैठक लेकर 24 जुलाई को प्रस्तावित विधानसभा घेराव के कार्यक्रम की तैयारी की समीक्षा की।

 
बैठक में विधायक देवेंद्र यादव, अटल श्रीवास्तव, दिलीप लहरिया, जिसा ग्रामीण अध्यक्ष विजय केशरवानी, शहर जिला अध्यक्ष विजय पांडेय, महापौर रामशरण यादव सहित अनेक पदाधिकारी और कार्यकर्ता शामिल हुए।
 
केशरवानी ने बताया कि जिले से 5 हजार कार्यकर्ता इस प्रदर्शन में शामिल करने की तैयारी की जा रही है। बैठक में विधायक, पूर्व विधायक,प्रदेश पदाधिकारी, ब्लॉक कांग्रेस,नगर निगम पार्षद दल, महिला कांग्रेस, सेवादल, युवा कांग्रेस, ज़िला पंचायत सहित सभी मोर्चा संगठनों को जिम्मेदारी दी गई।

 

CG- भारी वर्षा की चेतावनी...आगामी 48 घंटों के लिए येलो अलर्ट जारी..!!

CG- भारी वर्षा की चेतावनी...आगामी 48 घंटों के लिए येलो अलर्ट जारी..!!

 रायपुर। भारी वर्षा की चेतावनी जारी की गई है। मौसम विभाग ने आगामी 24 और 48 घंटों के लिए येलो अलर्ट जारी किया है। आगामी 24 घंटों के लिए प्रदेश के कांकेर, नारायणपुर, बीजापुर, मोहला मानपुर अंबागढ़ चौकी व राजनांदगांव जिलों में एक दो स्थानों पर भारी वर्षा होने की संभावना है। आगामी 48 घंटों के लिए प्रदेश के सुकमा, बस्तर, कोंडागांव, दंतेवाड़ा व बीजापुर जिलों में एक दो स्थानों पर भारी वर्षा होने की संभावना है।

छत्तीसगढ़ में अब तक 278.7 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज

राज्य शासन के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा बनाए गए राज्य स्तरीय नियंत्रण कक्ष द्वारा संकलित जानकारी के मुताबिक एक जून 2024 से अब तक राज्य में 278.7 मिमी औसत वर्षा दर्ज की जा चुकी है। राज्य के विभिन्न जिलों में 01 जून 2024 से आज 17 जुलाई सवेरे तक रिकार्ड की गई वर्षा के अनुसार बीजापुर जिले में सर्वाधिक 520.2 मिमी और सरगुजा जिले में सबसे कम 136.7 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गयी है।

राज्य स्तरीय बाढ़ नियंत्रण कक्ष से प्राप्त जानकारी के अनुसार एक जून से अब तक सूरजपुर जिले में 197.5 मिमी, बलरामपुर में 336.5 मिमी, जशपुर में 239.8 मिमी, कोरिया में 247.8 मिमी, मनेन्द्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर में 204.8 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गयी। 

 इसी प्रकार, रायपुर जिले में 250.4 मिमी, बलौदाबाजार में 290.4 मिमी, गरियाबंद में 326.4 मिमी, महासमुंद में 217.8 मिमी, धमतरी में 279.1 मिमी, बिलासपुर में 326.2 मिमी, मुंगेली में 314.7 मिमी, रायगढ़ में 327.6 मिमी, सारंगढ़-बिलाईगढ़ में 190.4 मिमी, जांजगीर-चांपा में 291.3 मिमी, सक्ती में 253.9 कोरबा में 386.7 मिमी, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही में 340.7 मिमी, दुर्ग में 178.9 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गयी। कबीरधाम जिले में 252.4 मिमी, राजनांदगांव में 226.2 मिमी, मोहला-मानपुर-अंबागढ़चौकी में 241.8 मिमी, खैरागढ़-छुईखदान-गंडई में 185.6 मिमी, बालोद में 265.6 मिमी, बेमेतरा में 163.6 मिमी, बस्तर में 380.9 मिमी, कोण्डागांव में 282.7 मिमी, कांकेर में 270.7 मिमी, नारायणपुर में 311.3 मिमी, दंतेवाड़ा में 314.5 मिमी और सुकमा जिले में 444.7 मिमी औसत वर्षा एक जून से अब तक रिकार्ड की गई।

B.Ed अभ्यर्थियों को झटका, शिक्षकों की नियुक्ति निरस्त, जानिए सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा ?

B.Ed अभ्यर्थियों को झटका, शिक्षकों की नियुक्ति निरस्त, जानिए सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा ?

 रायपुर :- छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक के पद पर पदस्थ बीएड डिग्रीधारकों को सुप्रीम कोर्ट से झटका लगा है और डीएलएड अभ्यर्थियों को राहत मिली है। आपको बता दे की सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट के उस फैसले को सही ठहराया है जिसमें बीएड शिक्षकों की नियुक्तियों को निरस्त किया गया है।

दअसल हाईकोर्ट के फैसले का पालन नहीं होने पर डीएलएड अभ्यर्थियों ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई थी। इस पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने टिप्पणी कर कहा है कि बच्चों की क्वालिटी एजुकेशन के साथ भेदभाव नहीं किया जाए। साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने राज्य शासन को निर्देश दिया कि हाईकोर्ट के फैसले के मुताबिक ही कार्रवाई की जाए।

यही नहीं सुनवाई के बाद छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने अपने एक महत्वपूर्ण फैसले में बी.एड डिग्रीधारकों को सहायक शिक्षक भर्ती प्रक्रिया में शामिल करने को गलत मानकर प्राइमरी स्कूल में पदस्थ बी.एड डिग्रीधारक शिक्षकों की नियुक्तियों को निरस्त कर दिया था। वही अब कोर्ट ने राज्य शासन को नोटिस जारी कर 6 सप्ताह के अनादर संशोधित चयन सूची जारी करने का निर्देश दिया है। आदेश में कोर्ट ने यह भी कहा है कि, संशोधित चयन सूची में बीएलएड पास उम्मीदवारों को समुचित अवसर दिया जाए।

CG- कलयुगी बेटे ने फावड़े से पीट-पीटकर पिता की बेरहमी से हत्या...खून से लथपथ मिली लाश,हत्या की वजह जान हो जाएँगे हैरान…

CG- कलयुगी बेटे ने फावड़े से पीट-पीटकर पिता की बेरहमी से हत्या...खून से लथपथ मिली लाश,हत्या की वजह जान हो जाएँगे हैरान…

 गोबरा नवापारा :- युवक ने अपने पिता को घसीट-घसीटकर पीटा इसके बाद फावड़े से वार कर हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि पैसे को लेकर बाप-बेटे के बीच विवाद हुआ था। इस दौरान गुस्से में आकर बेटे ने वारदात को अंजाम दिया। घटना गोबरा नवापारा थाना क्षेत्र के जौंदी गांव की है।

जानकारी के मुताबिक जब बेटा अपने पिता को घर से बाहर घसीटकर लाया तो बीच बचाव करने आए अपने बड़े भाई पर भी हमला कर दिया। मामले में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है

जानकारी के मुताबिक इंद्र उर्फ रिंकू साहू मंगलवार की रात अपने घर पहुंचा। उसके पिता कमल नारायण साहू बिस्तर पर लेटे हुए थे। तभी उसने नशा करने के लिए पैसों की मांग की। कमल नारायण ने पैसे देने से मना कर दिया और उससे नशा छोड़ने के लिए कहा। इसी बात पर वो गुस्सा गया और विवाद करने लगा

आरोपी रिंकू ने बहसबाजी के बाद घर में रखे फावड़े से अपने पिता के सिर पर हमला कर दिया। हमला जोर से किया गया था लिहाजा, कमल नारायण के सिर से खून निकलने लगा। तड़पते हुए वह जमीन पर गिर गया। बताया जा रहा है कि आरोपी ने सिर पर दो से तीन वार किए हैं।

अपने छोटे भाई को रोकने के लिए बड़ा भाई रेखराज साहू भी कमरे के बाहर आया। आरोपी ने गुस्से में उस पर भी हमला किया। जिसमें रेखराज साहू भी घायल हो गया। घर वालों ने दौड़कर आसपास से मदद मांगी। इसके बाद घायल रेखराज को नवापारा स्थित अस्पताल ले जाया गया। इसके साथ ही पुलिस को भी सूचना दी गई।

Breaking : CM साय का 18 जुलाई को होने वाला जनदर्शन स्थगित, जानें वजह

Breaking : CM साय का 18 जुलाई को होने वाला जनदर्शन स्थगित, जानें वजह

 रायपुर : मुख्यमंत्री विष्णु देव साय का हर सप्ताह गुरुवार को होने वाला जनदर्शन इस गुरूवार 18 जुलाई को अपरिहार्य कारणों से नहीं होगा।

महतारी वंदन योजना पर मंत्री OP चौधरी ने भूपेश बघेल को दे डाला चैलेंज…

महतारी वंदन योजना पर मंत्री OP चौधरी ने भूपेश बघेल को दे डाला चैलेंज…

 रायपुर :- महतारी वंदन का पैसा प्रदेश की बहुत सी महिलाओं को नहीं मिल रहा है। यह दावा कांग्रेस लगातार कर रही है। सोशल मीडिया पर पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने योजना का पैसा न मिलने का दावा किया। मंगलवार को मीडिया के सामने आकर इस मामले में पूर्व मंत्री शिव डहरिया ने भी बयान दिया।

डहरिया ने कहा धीरे-धीरे सभी को पैसा मिलना बंद ही हो जाएगा। यह बयान सामने आने के बाद छत्तीसगढ़ के वित्त मंत्री ओपी चौधरी ने कांग्रेस के दोनों नेताओं को चैलेंज दे दिया है। उन्होंने कहा है कि मेरे साथ वह अपने ही गांव में चलें या मेरे गांव में चलें और चलकर महिलाओं से पूछ लें कि पैसा मिल रहा है या नहीं। दूध का दूध पानी का पानी हो जाएगा।

भूपेश बघेल की पोस्ट
सोशल मीडिया पोस्ट पर पूर्व CM भूपेश बघेल की ओर से लिखा गया- महतारी के नाम पर योजना शुरू की, फिर उस योजना में पैसा देने के लिए छत्तीसगढ़ की जनता से बिजली बिल के नाम पर वसूली शुरू की। जनता से वसूली करने के बाद भी महिलाओं को महतारी वंदन योजना की राशि क्यों नहीं मिल रही है? ये “वसूलीबाज” सरकार जवाब दे।

फिर डहरिया ने किया योजना बंद होने का दावा
मंगलवार को इस मामले में शिव डहरिया ने कहा- सरकार जिन लोगों को महतारी वंदन योजना की राशि दे रही है, उनकी सूची जारी करे। चुनाव के बाद बहुत सारे लोगों को पैसा नहीं मिल रहा है। शिकायत गांव में आ रही है हमारे यहां, लोग मुझको कल फोन किए थे बताए कि पैसा मिलना बंद हो गया। अब चुनाव संपन्न हो गया तो महतारी वंदन की राशि धीरे-धीरे लोगों को मिलना बंद हो जाएगी।

दूध का दूध पानी का पानी हो जाएगा
कांग्रेस नेताओं के दावों के बाद प्रदेश के वित्त मंत्री ने मंगलवार को इसका जवाब दिया, उन्होंने कहा- भूपेश बघेल जी ने जब मेनिफेस्टो जारी किया था अपने 2018 के चुनाव में तब उन्होंने कहा था कि हर महीने 500 रुपए छत्तीसगढ़ की महिलाओं को देंगे। पिछले 5 साल में किसी को 5 रुपए नहीं मिले।
वित्त मंत्री ने आगे कहा- आज 655 करोड़ की राशि हर महीने छत्तीसगढ़ की 70 लाख महिलाओं को दी जा रही है। लगातार ये राशि मिल रही है तो उनके पेट में दर्द हो रहा है। उनके गांव में भी हम चलने को तैयार हैं और वहां जाकर महिलाओं के हाथ खड़े करवाएंगे तो कितने महिलाओं के हाथ खड़े होते हैं, भूपेश बघेल खुद अपनी आंखों से जाकर देख सकते हैं।

ओपी चौधरी ने कहा कि मैं उन्हें अपने गांव में भी आमंत्रित करता हूं, जिस भी गांव में जाना चाहेंगे, वहां जाकर पूछ लेंगे कि महतारी वंदन का पैसा कितने लोगों को मिल रहा है। अपने आप महिलाओं के हाथ खड़े होंगे, दूध का दूध पानी का पानी हो जाएगा। उन्हें जवाब देना चाहिए कि अपने वादे के मुताबिक उन्होंने 500 रुपए महिलाओं को क्यों नहीं दिए।

छत्तीसगढ़ में गौ तस्करी पर अब होगी सख्त कार्रवाई, नहीं चलेगी पुलिस की सेटिंग, जानिए क्या है नए सर्कुलर में…

छत्तीसगढ़ में गौ तस्करी पर अब होगी सख्त कार्रवाई, नहीं चलेगी पुलिस की सेटिंग, जानिए क्या है नए सर्कुलर में…

 रायपुर :- छत्तीसगढ़ में गौ तस्करी करने वालों पर अब सख्त कार्रवाई होगी। इसे लेकर नया नियम जारी किया गया है। प्रदेश के गृहमंत्री विजय शर्मा ने बताया कि गौ-वंश के परिवहन के लिए अधिकारियों से लाइसेंस लेना होगा। गाड़ी पर फ्लैक्स लगाना होगा कि पशुओं का परिवहन हो रहा है।

अवैध परिवहन होने पर गाड़ी जब्त की जाएगी। अवैध परिवहन करवाने वाले की संपत्ति कुर्क होगी। गृहमंत्री ने ये भी कहा कि 7 साल की सजा और 50 हजार का जुर्माना लगेगा। हालांकि, कृषि पशु परिरक्षण अधिनियम 2004 में ये दोनों बातें पहले ही शामिल हैं।

लाइसेंस देने के लिए नोडल अधिकारी तय होंगे

मंत्री विजय शर्मा ने बताया कि, लाइसेंस देने के लिए नोडल अधिकारी तय होंगे। इनके नंबर हर थाने में सार्वजनिक जगहों पर दिए जाएंगे ताकि अवैध परिवहन की जानकारी लोग दे सकें। गृहमंत्री ने कहा कि नए नियमों के मुताबिक गौ-वंश का अवैध परिवहन करना एक संज्ञेय अपराध होगा, ये गैर जमानती होगा।

क्या है नए सर्कुलर में…

छत्तीसगढ़ के DGP अशोक जुनेजा के हस्ताक्षर से एक सर्कुलर सभी रेंज के IG, SP और SSP को भेजा गया है। इस सर्कुलर में बताया गया है कि हाल ही में गौ-वंश और दुधारू पशुओं के परिवहन तस्करी, वध या मांस बेचे जाने की वजह से कानून-व्यवस्था प्रभावित हुई है। ऐसे अवैध कामों में शामिल लोगों के खिलाफ विशेष अभियान चलाकर कार्रवाई करनी है।

इसमें कृषक पशु कैटेगरी के गौ-वंश शामिल

सरकार ने साफ कहा है कि गौ-वंश का अवैध परिवहन किया तो कार्रवाई होगी। कृषक पशु कैटेगरी में आने वाले पशुओं का अवैध परिवहन करने पर कार्रवाई होगी। इसमें गाय, बछड़ा, बछिया, भैंस के बच्चे, सांड, बैल, भैंसा और भैंस शामिल है। इनका कृषक पशु परिरक्षण अधिनियम 2004 के तहत इनका मांस रखना बेचना, इनका अवैध परिवहन करना पहले से ही प्रदेश में बैन है।

पुलिस की सेटिंग नहीं चलेगी

डीजीपी के सर्कुलर में कहा गया है कि सेटिंगबाज SP और थानेदार भी नहीं बचेंगे। कहा गया है कि जहां से पशु का परिवहन शुरू हुआ और जहां गाड़ी जब्त की गई उसके बीच में पड़ने वाले जिलों के SP और थाना प्रभारियों के सर्विस बुक में निगेटिव टिप लिखी जाएगी। ऐसा 5 बार से ज्यादा बार हुआ तो अनुशासनात्मक कार्रवाई भी होगी।

छत्तीसगढ़ में गौ तस्करी पर अब होगी सख्त कार्रवाई, नहीं चलेगी पुलिस की सेटिंग, जानिए क्या है नए सर्कुलर में…

छत्तीसगढ़ में गौ तस्करी पर अब होगी सख्त कार्रवाई, नहीं चलेगी पुलिस की सेटिंग, जानिए क्या है नए सर्कुलर में…

 रायपुर :- छत्तीसगढ़ में गौ तस्करी करने वालों पर अब सख्त कार्रवाई होगी। इसे लेकर नया नियम जारी किया गया है। प्रदेश के गृहमंत्री विजय शर्मा ने बताया कि गौ-वंश के परिवहन के लिए अधिकारियों से लाइसेंस लेना होगा। गाड़ी पर फ्लैक्स लगाना होगा कि पशुओं का परिवहन हो रहा है।

अवैध परिवहन होने पर गाड़ी जब्त की जाएगी। अवैध परिवहन करवाने वाले की संपत्ति कुर्क होगी। गृहमंत्री ने ये भी कहा कि 7 साल की सजा और 50 हजार का जुर्माना लगेगा। हालांकि, कृषि पशु परिरक्षण अधिनियम 2004 में ये दोनों बातें पहले ही शामिल हैं।

लाइसेंस देने के लिए नोडल अधिकारी तय होंगे

मंत्री विजय शर्मा ने बताया कि, लाइसेंस देने के लिए नोडल अधिकारी तय होंगे। इनके नंबर हर थाने में सार्वजनिक जगहों पर दिए जाएंगे ताकि अवैध परिवहन की जानकारी लोग दे सकें। गृहमंत्री ने कहा कि नए नियमों के मुताबिक गौ-वंश का अवैध परिवहन करना एक संज्ञेय अपराध होगा, ये गैर जमानती होगा।

क्या है नए सर्कुलर में…

छत्तीसगढ़ के DGP अशोक जुनेजा के हस्ताक्षर से एक सर्कुलर सभी रेंज के IG, SP और SSP को भेजा गया है। इस सर्कुलर में बताया गया है कि हाल ही में गौ-वंश और दुधारू पशुओं के परिवहन तस्करी, वध या मांस बेचे जाने की वजह से कानून-व्यवस्था प्रभावित हुई है। ऐसे अवैध कामों में शामिल लोगों के खिलाफ विशेष अभियान चलाकर कार्रवाई करनी है।

इसमें कृषक पशु कैटेगरी के गौ-वंश शामिल

सरकार ने साफ कहा है कि गौ-वंश का अवैध परिवहन किया तो कार्रवाई होगी। कृषक पशु कैटेगरी में आने वाले पशुओं का अवैध परिवहन करने पर कार्रवाई होगी। इसमें गाय, बछड़ा, बछिया, भैंस के बच्चे, सांड, बैल, भैंसा और भैंस शामिल है। इनका कृषक पशु परिरक्षण अधिनियम 2004 के तहत इनका मांस रखना बेचना, इनका अवैध परिवहन करना पहले से ही प्रदेश में बैन है।

पुलिस की सेटिंग नहीं चलेगी

डीजीपी के सर्कुलर में कहा गया है कि सेटिंगबाज SP और थानेदार भी नहीं बचेंगे। कहा गया है कि जहां से पशु का परिवहन शुरू हुआ और जहां गाड़ी जब्त की गई उसके बीच में पड़ने वाले जिलों के SP और थाना प्रभारियों के सर्विस बुक में निगेटिव टिप लिखी जाएगी। ऐसा 5 बार से ज्यादा बार हुआ तो अनुशासनात्मक कार्रवाई भी होगी।

+ Load More