कोरोना अपडेट : प्रदेश के इस जिले में कोरोना ने ढाया कहर, छत्तीसगढ़ में कल के मुकाबले आज बढ़ी नए कोरोना मरीजों की संख्या    |    बड़ा हादसा: खाई में गिरी मेटाडोर ,10 की मौत व 15 घायल, पीएम मोदी ने जताया शोक    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज 2 की हुई मृत्यु, आज इतने मरीजों की हुई पहचान, देखे जिलेवार आकड़े    |    मौसम अलर्ट: उत्तर-पूर्वी मानसून की आहट से इन राज्यों पर मंडराया बारिश का खतरा    |    बड़ी खबर: पटाखे की गोदाम में लगी भयानक आग से 5 की गई जान, 9 लोग घायल    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में फिर पैर पसारने लगा है कोरोना, छत्तीसगढ़ में आज इतने मरीजों की हुई पहचान    |    बदल गए पेंशन के नियम, 30 नवंबर तक ये काम ना किया तो रुक जाएगी पेंशन    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश के इस जिले में हुआ कोरोना विस्फोट, धीरे धीरे फिर से बढ़ रहे है एक्टिव मरीजो की संख्या, देखें जिलेवार आंकड़े    |    बड़ी खबर: राज्यपाल की बिगड़ी तबियत, दिल्ली AIIMS में भर्ती    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश के इन दो जिलों में हुआ कोरोना विस्फोट, आज प्रदेश में मिले इतने नए मरीज, देखें जिलेवार आंकड़े    |
बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : इस वर्ष छठ पूजा घाट में जाने की सिर्फ इन्हें होगी अनुमति, कलेक्टर ने दिए निर्देश

बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : इस वर्ष छठ पूजा घाट में जाने की सिर्फ इन्हें होगी अनुमति, कलेक्टर ने दिए निर्देश

अंबिकापुरकोरोना संक्रमण से बचाव को दृष्टिगत रखते हुए इस बार छठ पूजा में जिन्होंने कोरोना टीका लगवाया है, उन्हीं को छठ घाट जाने की अनुमति होगी, ताकि कोरोना संक्रमण का प्रभाव घातक न हो। छठ घाट में पूजा में शामिल होने जाने वालां को कोरोना टीकारण संबंधी मोबाइल मैसेज या टीकाकरण प्रमाण दिखाना होगा। इसके साथ ही कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए बुजुर्गों व बच्चों को छठ घाट साथ में नहीं ले जाने हर संभव प्रयास घर के लोगों को ही करना होगा। गुरुवार को कलेक्टर संजीव कुमार झा की अध्यक्षता में दीपावली व छठ पूजा मनाने पहली बार आयोजित शांति समिति की बैठक में यह यह निर्णय लिया गया। इसके साथ ही बैठक में दीपावली और छठ पूजा शांति पूर्वक व कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए मनाने का निर्णय समिति के सदस्यों की ओर से एकमत से लिया गया।

कलेक्टर संजीव कुमार झा ने कहा कि वर्तमान में जिले में कोविड का संक्रमण थमा है, लेकिन समाप्त नहीं हुआ है। इसे देखते हुए कोरोना गाइडलाइन का पालन करना जरूरी है, इसके लिए खुद को सावधानी बरतना होगा। उन्होंने छठ घाट में बिजली, पार्किंग, आपदा राहत आदि की टीम की पुख्ता व्यवस्था के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने सभी छठ घाटों में बिजली कर्मियों की तैनाती के साथ ही एक कंट्रोल रूम भी स्थापित कर कर्मचारियों की ड्यूटी लगाने के निर्देश दिए।


भीड़ नियंत्रण के लिए वालंटियर्स होंगे तैनात-
छठ घाटों में पूजा के बाद भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस के जवानों के साथ ही प्रत्येक घाट में 40-50 एनएसएस व एनसीसी के कैडेट की भी ड्यूटी लगाई जाएगी। घाट में क्रेन, फायर ब्रिगेड, गोताखोर, तैराक, एम्बुलेंस व मेडिकल टीम भी तैनात रहेगी।


सफाई के लिए तैनात रहेगी विशेष टीम-
छठ घाटों में साफ-सफाई के लिए नगर निगम व छठ घाट समिति की ओर से विशेष सफाई टीम रखी जाएगी। ग्रामीण क्षेत्रों के घाट की सफाई व्यवस्था के लिए ग्राम पंचायतों को जिम्मेदारी दी जाएगी। शंकर घाट व घुनघुट्टा नदी घाट में भीड़ को कम करने के लिए नए छठ व्रतियों को नए घाट में शामिल होने प्रोत्साहित किया जाएगा।


निर्धारित स्थल पर ही होगी पटाखों की बिक्री-
दीपावली में पटाखा जलाने के लिए शहर के पीजी कालेज ग्राउड में दुकान आवंटित की जाएगी। पटाखों की बिक्री इन्हीं निर्धारित दुकानों से ही करने की होगी अनुमति। धनतेरस के दिन सड़क में जाम की स्थिति को नियंत्रित करने के लिए वाहन पार्किंग निर्धारित की जाएगी तथा दुकानों से बाहर सामान निकालकर बिक्री करने की अनुमति नहीं होगी।
पुलिस अधीक्षक अमित तुकाराम कांबले ने कहा कि समिति की ओर से दिए गए सुझावों पर अमल की जाएगी। स्थल भ्रमण कर व्यवस्था को दुरूस्त करने का प्रयास किया जाएगा। महापौर डॉ अजय तिर्की ने कहा कि कोविड संक्रमण के देखते हुए बुजुर्ग व बच्चों को छठ घाट स्थल नहीं ले जाने पर जोर देना होगा। अगले 10 दिन में शहर में कोरोना की स्थिति के देखकर प्रशासनिक निर्णय लिया जाएं।
बैठक में नगर निगम के नेता प्रतिपक्ष प्रबोध मिंज, पार्षद आलोक दुबे, अमर विजय सिंह तोमर, जिला पंचायत सीईओ विनय कुमार लंगेह, अपर कलेक्टर एएल ध्रुव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला, एसडीएम प्रदीप साहू, नगर निगम आयुक्त प्रभाकर पांडेय, रामचन्द्र स्वर्णकार, कर्ताराम, कैलाश मिश्रा, अंजुमन कमेटी के सचिव इरफान सिद्धिकी सहित छठ घाट समिति के प्रतिनिधि, समिति के अन्य सदस्य सहित व विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

दिल्ली से लौटे स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव, प्रदेश पहुंचते ही कही ये बड़ी बात

दिल्ली से लौटे स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव, प्रदेश पहुंचते ही कही ये बड़ी बात

अंबिकापुरछत्तीसगढ़ शासन के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री ने रविवार को दिल्ली से चार्टर प्लेन ने अम्बिकापुर पहुंचे एवं यहां मातृ एवं शिशु अस्पताल के एसएनसीयू का निरीक्षण किया। उन्होंने अस्पताल में उपचार के दौरान विगत 36 घण्टे में हुए 5 नवजातों की मृत्यु के मामले में राजमाता देवेन्द्र कुमारी सिंहदेव शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल के वरिष्ठ अधिकारियों एवं चिकित्सकों से विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिस भी स्तर पर कमियां महसूस की जा रही है उसे दुरूस्त कर मरीजों को बेहतर चिकित्सा सुविधा उलब्ध कराएं। प्री मैच्योर बच्चों के जन्म के कारण तथा वजन में कमी के कारणों का गहन अध्ययन करें। गर्भवती महिलाओं में खून की कमी दूर करने की आवश्यकता है। इसके लिए गर्भधारण के समय से ही खून की कमी को दूर करने आवश्यक दवाईयां उपलब्ध कराएं।

सिंहदेव ने कहा कि नवजात शिशुओं के मृत्यु के मामले की जांच के लिए राज्य स्तरीय टीम गठित कर दी गई है जो कुछ ही दिनों में यहां जांच करने आएगी। टीम ने किसी स्तर पर लापरवाही या किसी अधिकारी कर्मचारी को देशी पाया जाता है तो उस पर तत्काल कार्यवाही की जाएगी। सिंहदेव ने कहा कि मरीजों एवं उनके परिजनों के प्रति सदभावपूर्ण व्यवहार करें। उन्होंने कहा कि जिन बच्चों का जन्म इसी अस्पताल में हुआ है उन बच्चों को बहुत दिनों तक उपचार की जरूरत नहीं पड़नी चाहिए। इसी प्रकार जो मरीज अन्य अस्पतालों से आते हैं उनके लिए भी उचित व्यवस्था उपलब्ध कराना होगा। सिंहदेव ने इस दौरान अस्पताल में भर्ती बच्चों के स्वजनों से भी चर्चा की और उन्हें बेहतर स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के आश्वासन दिए।
मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ आर मूर्ति ने बताया कि सभी मृत नवजातों का प्रीमैच्योर बर्थ हुआ था। सभी नवजातों में कई जन्मजात बीमारियों के लक्षण थे जैसे जन्मजात सांस लेने में तकलीफ, अपरिपक्व फेकडे, वजन कम, मां का दूध पीने में तकलीफ आदि लक्षण थे।
इस दौरान छत्तीसगढ़ वनौषधि पादप बोर्ड के अध्यक्ष बालकृष्ण पाठक, श्रम कल्याण मण्डल के अध्यक्ष शफी अहमद, लुण्ड्रा विधायक डॉ.प्रीतम राम, महापौर डॉ.अजय तिर्की, अपर कलेक्टर ए.एल. धु्रव, मेडिकल कॉलेज के अधीक्षक डॉ. लखन सिंह, सीएमएचओ डॉ.पी.एस. सिसोदिया सहित अन्य अधिकारी एवं स्थानीय जनप्रतिनिधि मौजूद थे।

CG BREAKING: मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत से हड़कंप, 4 घंटे में 4 नवजात की मौत, स्वास्थ्य मंत्री दिल्ली दौरा छोड़ कर लौटे

CG BREAKING: मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत से हड़कंप, 4 घंटे में 4 नवजात की मौत, स्वास्थ्य मंत्री दिल्ली दौरा छोड़ कर लौटे

अम्बिकापुर: सरगुजा संभाग के सबसे बड़े मेडिकल कॉलेज अस्पताल अंबिकापुर में अव्यवस्थाओं का आलम देखने को मिल रहा है मेडिकल कॉलेज अस्पताल के एमसीएच बिल्डिंग बच्चा वार्ड में एक ही दिन में 4 नवजात की मौत से हड़कंप मचा हुआ है जिसके बाद अस्पताल का निरीक्षण विपक्षी दल भाजपा और सत्तासीन दल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं के द्वारा किया जा रहा है 16 अक्टूबर को मेडिकल कॉलेज अस्पताल के मातृ शिशु वार्ड में 4 नवजात की मौत के बाद परिजनों ने प्रबंधक पर लापरवाही का आरोप लगाकर हंगामा शुरू कर दिया था देर सुबह परिजनों के द्वारा अस्पताल के सामने चक्का जाम भी किया गया था परिजनों के द्वारा अस्पताल प्रबंधक सहित अस्पताल स्टाप पर कई गंभीर आरोप लगाए थे इस बात की सूचना जैसे ही विपक्षी दल भाजपा को लगी बीते दिन देर शाम भाजपा का एक प्रतिनिधिमंडल निरीक्षण करने मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंचा आज कांग्रेस का एक प्रतिनिधि मंडल मेडिकल कॉलेज अस्पताल कर पूरे मामले की जानकारी ली श्रम कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष शफी अहमद व पादप बोर्ड के अध्यक्ष बालकृष्ण पाठक सहित प्रतिनिधिमंडल मेडिकल कॉलेज एमसीएच बिल्डिंग मातृ शिशु वार्ड पहुंचा और पूरे मामले की जानकारी ली गई कांग्रेस के प्रतिनिधि मंडल ने अस्पताल का निरीक्षण कर आईसीयू वार्ड का भी मुआयना किया,श्रम कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष शफी अहमद ने बताया जिन चार नवजात बच्चों की मौत हुई है प्रथम दृष्टा दूसरे जिलों से और बहुत देर से आने वाले बच्चे शामिल है साथ ही बताया कि जो अनमेच्योर बच्चे है जिनकी मौत हुई है, इसके साथ ही श्रम कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष सफी अहमद ने अस्पताल प्रबंधक का बचाव करते हुए अस्पताल की व्यवस्थाओं को दुरुस्त बताया है


इस मामले मेंसफीअहमद,अध्यक्षश्रम कल्याण बोर्ड ने बताया कि प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव दिल्ली दौरे पर है वही स्वास्थ्य मंत्री के गृह ग्राम अंबिकापुर के मेडिकल कॉलेज अस्पताल के मातृ शिशु वार्ड में 4 बच्चों की मौत की सूचना जैसे ही प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंह देव को मिली उसके बाद स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव दिल्ली के का सारे कार्यक्रमों को छोड़कर चार्टर्ड प्लेन से अंबिकापुर के लिए रवाना हो चुके हैं।


इधर देर शाम स्वास्थ्य मंत्री अंबिकापुर शहर के मां महामाया एयरपोर्ट दरिमा पहुंचेंगे जिसके बाद स्वास्थ्य मंत्री मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंचकर बच्चों की मौत के मामले में जानकारी एकत्रित करेंगे,बहरहाल परिजनों द्वारा लगाए गए आरोप सही है या नहीं यह आने वाला समय ही बताएगा और सत्तापक्ष कांग्रेस और विपक्षी दल भाजपा के द्वारा किया गया निरीक्षण ने क्या तथ्य सामने आते हैं यह देखने वाली बात होगी मगर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में 4 नवजात की हुई मौत से अंदाजा लगाया जा सकता है अस्पताल प्रबंधक के द्वारा किस प्रकार की व्यवस्था की जा रही है।

CG BREAKING: 1 करोड़ 10 लाख के ब्राउन शुगर और हेरोइन के साथ तीन गिरफ्तार

CG BREAKING: 1 करोड़ 10 लाख के ब्राउन शुगर और हेरोइन के साथ तीन गिरफ्तार

अंबिकापुर: सरगुजा में पुलिस को बड़ी सफलता हासिल हुई है। सरगुजा पुलिस ने एक करोड़ दस लाख क़ीमत के ब्राउन शूगर और हेरोइन के साथ तीन लोगों को पकड़ा है। आरोपियों में एक महिला भी शामिल है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर कार्यवाही करते हुए झारखंड के सासाराम निवासी मृत्युंजय गुप्ता और गीता सोनी को ब्राउन शुगर लाने और अंबिकापुर के रसेल एक्का को खऱीदने के मामले में गिरफ़्तार किया है। आरोपियों के पास से 625 ग्राम ब्राउन शूगर और 110 ग्राम हेरोइन बरामद किया गया है। इसकी क़ीमत एक करोड़ दस लाख आंकी गई है। वही तस्करो से पूछताछ जारी है।

छत्तीसगढ़ : बस दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल जवानों को हेलीकाप्टर से लाया गया रायपुर, पढ़ें पूरी खबर

छत्तीसगढ़ : बस दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल जवानों को हेलीकाप्टर से लाया गया रायपुर, पढ़ें पूरी खबर

अंबिकापुरमैनपाट में पुलिस कमिर्यों को ला रही एक बस शनिवार दोपहर को रास्ते में दुर्घटनाग्रस्त हो गई इस बस में 38 जवान सवार थे। गंभीर रूप से घायल तीन जवानों को जितेन्द्र धुर्वे, भास्कर प्रधान व कमलेश कोर्राम को बेहतर उपचार के लिए मां महामाया एयरपोर्ट से वायुसेना के हेलीकाप्टर द्वारा रायपुर ले जाया गया।

दुर्घटना की सूचना मिलने पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कलेक्टर संजीव कुमार झा को घायल जवानों को तत्काल उपचार सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। साथ ही गंभीर रूप से घायल जवानों को वायुसेना के हेलीकाप्टर द्वारा रायपुर ले जाने के निर्देश दिए थे। मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार कलेक्टर झा के द्वारा तत्काल घायलों को उपचार के लिए मेडिकल कालेज अस्पताल अम्बिकापुर में भर्ती कराया गया। गंभीर रूप से घायल तीन जवानों को बेहतर उपचार के लिए हेलीकाप्टर के द्वारा रायपुर ले जाने की व्यवस्था मेडिकल टीम के साथ की गई।

 छत्तीसगढ़ में बड़ा हादसा: जवानों से भरी बस पलटी, कई घायल...

छत्तीसगढ़ में बड़ा हादसा: जवानों से भरी बस पलटी, कई घायल...

अंबिकापुर। मैनपाट में हुए भीषण बस हादसे में ड्यूटी के लिए मुंगेली जा रहे मैनपाट पुलिस ट्रेनिंग स्कूल के जवान घायल हो गए हैं। गंभीर रूप से घायल 4 जवानों को जिला अस्पताल रेफर किया गया है। 

जानकारी के अनुसार, मैनपाट के कमलेश्वरपुर थाने में टर्निंग में मुड़ते समय बस बस सीजी 10 C 0198 अनियंत्रित होकर सीधे खाई में जा गिरी। बस में लगभग 38 पुलिस ट्रेनिंग स्कूल के जवान थे, जो मुंगेली में आयोजित मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे थे।
CG BREAKING: कुएं में डूबने से 30 वर्षीय युवक की मौत

CG BREAKING: कुएं में डूबने से 30 वर्षीय युवक की मौत

अम्बिकापुर: लखनपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम परसोड़ी कला में कुएं में डूबने से एक युवक की मौत हो गई। मृतक का नाम अर्जुन राम गोंड़ पिता भगवान गोंड़ उम्र 30 वर्ष ग्राम मैनपुर बजरा पौड़ी निवासी है, जो पिछले 5 माह से परिवार सहित ग्राम परसोली कला निवासी वेदसाय के घर में रहा रहा था। गुरुवार की तड़के सुबह लगभग 4:00 बजे अर्जुन गोंड़ को शौच लगने पर वह कुएं से पानी निकालने गया। उसी दौरान उसके पैर फिसल जाने से वह कुआं में गिर गया जिसके बाद पानी में डूबने अर्जुन राम की मौत हो गई। परिवारजनों ने घटना की सूचना गुरुवार की सुबह 11 बजे दी। शाम 4:00 बजे लखनपुर पुलिस मौके पर पहुंच शव का पंचनामा करवाया। 1 अक्टूबर दिन शुक्रवार की दोपहर शव का पीएम करा परिजनों को सुपुर्द कर मर्ग कायम कर मामले की जांच में जुटी है।

बड़ी खबर: ट्रक की टक्कर से बाइक सवार एक लड़की की दर्दनाक मौत

बड़ी खबर: ट्रक की टक्कर से बाइक सवार एक लड़की की दर्दनाक मौत

अंबिकापुर। अंबिकापुर में ट्रक की टक्कर से बाइक सवार एक लड़की की मौत हो गई। मामले की शिकायत पर पुलिस ने ट्रक चालक के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। 


मिली जानकारी के मुताबिक  अंबिकापुर के गांधीनगर थाना क्षेत्र में एक बाइक सवार लड़के -लड़की को तेज रफ्तार ट्रक ने ठोकर मार दिया जिससे बाइक के पीछे बैठी लड़की की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे के बाद लोग भड़क गए और उन्होंने ट्रक चालक को केबिन से नीचे खींच जमकर पिटाई कर दी। इस दौरान पुलिस ने किसी तरह से चालक को बचाया। इसके बाद गुस्साए लोगों ने मुआवजे की मांग को लेकर सड़क पर शव रख प्रदर्शन शुरू कर दिया। पुलिस के समझाने के बाद लोग शांत हुए। सीसी टीवी फूटेज में दिख रहा है कि हादसा बाइक सवार के ट्रक के सामने से गलत तरीके से ओवरटेक करने के चलते हुआ है। 

लुंड्रा निवासी रेशमा लकड़ा (17) अपने दोस्त लक्ष्मण केरकेट्टा के साथ अंबिकापुर घूमने के लिए आई थी। दोनों बनारस रोड से अंबिकापुर में एंट्री कर रहे थे, जबकि एक ट्रक गांधी चौक से अंबेडकर चौक की ओर जा रहा था। अभी ट्रक अंबेडकर चौक पर पहुंचा था कि बाइक सवार लक्ष्मण ने बाएं साइड से ओवरटेक करते हुए ट्रक के सामने से राइट टर्न लिया। इससे बाइक ट्रक से टकराई और दोनों नीचे गिर गए। तभी ट्रक लड़की को कुचलता हुआ आगे निकल गया।
बड़ी खबर छत्तीसगढ़: ज्वेलर्स दुकान में सेंध लगाकर 50 लाख के सोने,चांदी के गहने व नगदी चोरी, मामला दर्ज

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: ज्वेलर्स दुकान में सेंध लगाकर 50 लाख के सोने,चांदी के गहने व नगदी चोरी, मामला दर्ज

अंबिकापुर। अंबिकापुर में थाने से कुछ ही दूरी पर सत्यम ज्वेलर्स में सेंध लगाकर चोर करीब 50 लाख रुपए के गहने ले गए। चोरों ने इसके लिए दुकान के पीछे बांस की चाली बांधी और बाहर लगे मीटर से कनेक्शन लिया। इसके बाद कटर से करीब 7 फीट ऊपर दीवार काटकर अंदर घुसे और नगदी-गहने ले गए। खास बात यह है कि चोर 4 घंटे तक दीवार को काटते रहे, लेकिन पुलिस को पता नहीं चला। जबकि ये दुकान कोतवाली के ठीक सामने से दिखाई देती है।


मिली जानकारी के मुताबिक कंपनी बाजार निवासी अशोक सोनी का गुरुद्वारा चौक पर सत्यम ज्वेलर्स के नाम से शोरूम है। वह रोज की तरह गुरुवार सुबह भी करीब 10 बजे दुकान खोलने पहुंचे तो हैरान रह गए। दुकान में रखे सारे गहने गायब हो चुके थे। सूचना मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस की नाक के नीचे इतनी बड़ी चोरी ने सवाल खड़े कर दिए। जांच शुरू हुई तो पुलिस भी चोरी के तरीके से हैरान रह गई। पूरी वारदात दुकान के अंदर और बाहर लगे सीसी टीवी कैमरों में कैद हो गई थी।

मोटी ढलाई इसीलिए कि कोई सेंध न लगा सके। इसी के चलते चोर ने 7 फीट ऊपर से दीवार काटी। जांच में पता चला कि बुधवार देर रात करीब 12.30 बजे चोरों ने दीवार को काटना शुरू किया। जो सुबह करीब 4.30 बजे तक चलता रहा। इसके बाद चोर दुकान में अंदर दाखिल हो गए। इसके बाद आराम से दुकान के शो केस में रखे सोने के नौ सौ ग्राम और चांदी के आठ किलो जेवर व काउंटर में रखे 1 लाख रुपए लेकर उसी रास्ते से भाग निकले। फुटेज में एक चोर दिख रहा जो चेहरे पर मास्क के आलावा बारिश से बचने रेनकोट पहने हुए है। उसने हाथ में दस्ताने भी पहन रखे थे। आशंका है कि दुकान में चोरी करने वाला इस बात को अच्छे से जानता था। शोरूम में इससे पहले भी 15 जुलाई और 24 जुलाई को सेंध लगाने की कोशिश हो चुकी है, लेकिन चोर कामयाब नहीं हो सके थे। अशोक सोनी ने बताया कि थाने में शिकायत की तो उन्होंने सीसी टीवी बढ़ाने की सलाह दे दी थी।

महिला मंडल कॉम्प्लेक्स में ज्वेलर्स शोरूम है। इसके पीछे महिला मंडल और गल्र्स स्कूल का परिसर है। दुकान में सेंध भी पीछे की दीवार में लगाई गई है। आशंका जताई जा रही है कि गल्र्स स्कूल परिसर से चोर आया होगा और दुकान के पीछे वाले हिस्से में आराम से सेंध लगाई होगी। वहीं चोरी की घटना से सर्राफा कारोबारियों में डर है। घटना के बाद एसपी को ज्ञापन सौंपकर इसकी जानकारी दी गई है।
बड़ी खबर छत्तीसगढ़: कोतवाली के ठीक सामने ज्वेलरी शॉप में हुई चोरी, चोर 900 ग्राम सोने और 8 किलो चांदी के गहने ले भागे

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: कोतवाली के ठीक सामने ज्वेलरी शॉप में हुई चोरी, चोर 900 ग्राम सोने और 8 किलो चांदी के गहने ले भागे

छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर में थाने से महज 100 मीटर दूर सत्यम ज्वेलर्स में घुसकर चोर 50 लाख रुपए के गहने उड़ा ले गए। चोरों ने इसके लिए दुकान के पीछे बांस की चाली बांधी और बाहर लगे मीटर से कनेक्शन लिया। इसके बाद कटर से करीब 7 फीट ऊपर दीवार काटकर अंदर घुसे और नगदी-गहने ले गए। खास बात यह है कि चोर 4 घंटे तक दीवार को काटते रहे, लेकिन पुलिस को पता नहीं चला। जबकि ये दुकान कोतवाली के ठीक सामने से दिखाई देती है। इतनी बड़ी चोरी दशकों में पहली बार हुई है।


कंपनी बाजार निवासी अशोक सोनी का गुरुद्वारा चौक पर सत्यम ज्वेलर्स के नाम से शोरूम है। वह रोज की तरह गुरुवार सुबह भी करीब 10 बजे दुकान खोलने पहुंचे तो हैरान रह गए। दुकान में रखे सारे गहने गायब हो चुके थे। सूचना मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस की नाक के नीचे इतनी बड़ी चोरी ने सवाल खड़े कर दिए। जांच शुरू हुई तो पुलिस भी चोरी के तरीके से हैरान रह गई। पूरी वारदात दुकान के अंदर और बाहर लगे CCTV कैमरों में कैद हो गई थी।


4 घंटे तक दीवार काटते रहे चोर, एक घंटे में समेट ले गए सबकुछ
जांच में पता चला कि बुधवार देर रात करीब 12.30 बजे चोरों ने दीवार को काटना शुरू किया। जो सुबह करीब 4.30 बजे तक चलता रहा। इसके बाद चोर दुकान में अंदर दाखिल हो गए। इसके बाद आराम से दुकान के शो केस में रखे सोने के 900 ग्राम और चांदी के 8 किलो जेवर व काउंटर में रखे 1 लाख रुपए लेकर उसी रास्ते से करीब 5 बजे भाग निकले। फुटेज में एक चोर दिख रहा जो चेहरे पर मास्क के आलावा बारिश से बचने रेनकोट पहने हुए है। उसने हाथ में दस्ताने भी पहन रखे थे।

दुकान की दीवार 7 फीट तक RCC की, दो बार पहले भी हुई चोरी की कोशिश
दुकान की दीवार को चारों ओर से 7 फीट की ऊंचाई तक RCC से ढाला गया है। मोटी ढलाई इसीलिए कि कोई सेंध न लगा सके। इसी के चलते चोर ने 7 फीट ऊपर से दीवार काटी, फिर भी उसे 4 घंटे लग गए। ऐसे में आशंका है कि दुकान में चोरी करने वाला इस बात को अच्छे से जानता था। शोरूम में इससे पहले भी 15 जुलाई और 24 जुलाई को सेंध लगाने की कोशिश हो चुकी है, लेकिन चोर कामयाब नहीं हो सके थे। अशोक सोनी ने बताया कि थाने में शिकायत की तो उन्होंने CCTV बढ़ाने की सलाह दे दी थी।

गर्ल्स स्कूल परिसर के अंदर से चोरों के आने की संभावना
महिला मंडल कॉम्प्लेक्स में ज्वेलर्स शोरूम है। इसके पीछे महिला मंडल और गर्ल्स स्कूल का परिसर है। दुकान में सेंध भी पीछे की दीवार में लगाई गई है। आशंका जताई जा रही है कि गर्ल्स स्कूल परिसर से चोर आया होगा और दुकान के पीछे वाले हिस्से में आराम से सेंध लगाई होगी। वहीं चोरी की घटना से सर्राफा कारोबारियों में डर है। घटना के बाद SP को ज्ञापन सौंपकर इसकी जानकारी दी गई है। जिसमें पहले की घटनाओं का भी जिक्र किया गया है और बताया गया है कि पुलिस की कार्रवाई संतोषजनक नहीं थी ।

BIG BREAKING: महिला से बनाना चाहता था प्रेम संबंध, मना करने पर कर दी हत्या, बच्चे और ससुर को भी नहीं छोड़ा

BIG BREAKING: महिला से बनाना चाहता था प्रेम संबंध, मना करने पर कर दी हत्या, बच्चे और ससुर को भी नहीं छोड़ा

छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर से एक बड़ी खबर सामने आ रही है, बुधवार देर रात एक ही परिवार के 3 सदस्यों की हत्या करने के आरोप में पुलिस ने पड़ोसी को गिरफ्तार कर लिया है। पकड़ा गया आरोपी 3 बच्चों का बाप है। वह महिला से प्रेम संबंध बनाना चाहता था, लेकिन उसने इनकार कर दिया। इस पर आरोपी ने घर में घुसकर चाकू से महिला का गला रेत दिया। इस दौरान महिला के 10 साल के बच्चे और ससुर ने बीच-बचाव किया तो उन दोनों की भी निर्ममता से हत्या कर दी।


दरअसल, गुरुवार सुबह उदयपुर क्षेत्र के लैंगा गांव निवासी कलावती सिरदार (27) पत्नी सव. भजन सिदार का शव घर में पड़ा मिला था। उसके 10 साल के बेटे चंद्रिका का शव घर से करीब 50 मीटर दूर सड़क किनारे और ससुर मेघूराम सिरदार (50) का शव वहीं से थोड़ी दूर मिला। महिला अपने बेटे के साथ रहती थी, जबकि मेघूराम पड़ोस के मकान में रहता था। तीनों की गला रेत कर हत्या की गई थी। बच्चे के पेट में भी चाकू से वार किया गया था।


शरीर पर मिले खून के धब्बों से पकड़ा गया आरोपी
पुलिस ने इस संबंध में ग्रामीणों से पूछताछ शुरू की। करीब 100 लोगों से पूछताछ के दौरान अवैध संबंधों की बात सामने आ रही थी। इस बीच पुलिस ने महिला के पड़ोसी अरविंद सिरदार को संदिग्ध मान हिरासत में लिया। उसके चेहरे और शरीर पर खून के धब्बे मिले थे। ग्रामीणों से उसको लेकर जानकारी मिली थी। पुलिस ने पूछताछ की तो अरविंद पहले तो गुमराह करता रहा, फिर सख्ती की गई तो हत्या करना स्वीकार कर लिया।


महिला पर चाकू से वार किया, बचने की कोशिश में बच्चे को लगा
अरविंद ने पुलिस को बताया कि वह कलावती से प्रेम संबंध बनाना चाहता था, लेकिन वह बार-बार मना कर देती थी। इस बीच एक अन्य युवक को उसके घर आते देखा तो भड़क गया। बुधवार रात करीब 12 बजे अरविंद कलावती के घर पहुंचा। उसके दरवाजा खोलने के बाद कलावती गुस्से में चिल्लाने लगी कि इतनी रात को क्यों आए हो। इस पर अरविंद ने चाकू से कलावती पर वार कर दिया, लेकिन बचने की कोशिश में उसके बेटे चंद्रिका के पेट में लग गया।


चीख-पुकार सुनकर ससुर पहुंचा तो उसका भी गला रेत दिया
पेट में चाकू लगते ही चंद्रिका निकल कर घर से बाहर भागा, लेकिन कुछ दूर जाकर गिर गया। इसके बाद अरविंद ने पहले कलावती का गला रेत दिया, फिर चंद्रिका का भी गला काट दिया। शोर और चीख-पुकार सुनकर ससुर मेघूराम पहुंचे तो आरोपी ने उनको भी मार डाला। इसके बाद चाकू खेत में छिपा दिया, जबकि खून से सने कपड़े और कलावती का मोबाइल जला दिया। पुलिस ने चाकू और जले हुए कपड़े व मोबाइल बरामद कर लिए हैं।


कलावती के पति ने की थी खुदकुशी, फिर बेचने लगी शराब
ग्रामीणों ने बताया कि मेघूराम के 4 बेटे हैं, लेकिन सब अलग-अलग रहते हैं। कलावती के पति भजन सिरदार की 3 साल पहले मौत हो चुकी है। उसने जहरीला पदार्थ पीकर जान दे दी थी। इसके बाद से कलावती घर में ही शराब बनाकर बेचने लगी। इसके चलते ग्रामीणों का भी घर में आना-जाना लगा रहता था। ग्रामीणों ने बताया कि देर रात बजे चिल्लाने की आवाज सुनी थी, लेकिन लगा कि कोई ऐसे ही शोर कर रहा होगा, इसलिए कोई गया नहीं।

CG NEWS: झाडिय़ों में मिली महिला की नग्न लाश, जांच में जुटी पुलिस

CG NEWS: झाडिय़ों में मिली महिला की नग्न लाश, जांच में जुटी पुलिस

अंबिकापुर: गांधीनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत एक गांव में नग्न हालत में महिला की लाश मिलने से सनसनी फैल गई है। इसकी सूचना देने पति बदहवास थाने पहुंचा। पुलिस जब मौके पर पहुंची और घटनास्थल तथा मृतिका के घर की जांच की। पुलिस को घर में ही खून के छींटे मिले। इससे पुलिस का शक उसके पति पर गहरा हो गया। पुलिस ने पति को हिरासत में ले लिया है, उससे पूछताछ की जा रही है।

गांधीनगर थाना क्षेत्र के ग्राम कोलडीहा निवासी मनबसिया पति पुरुषोत्तम पंडा 45 वर्ष की लाश बुधवार की दोपहर घर के पास ही झाडिय़ों के बीच मिली। महिला के शरीर पर कपड़े नहीं थे। पति को इसकी खबर लगी तो वह बदहवास गांधीनगर थाने पहुंच गया और बताया कि उसकी पत्नी को किसी ने मार डाला है। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और जांच शुरु की। पुलिस जब मृतिका के घर पहुंची तो वहां खून के निशान मिले। यह देख पुलिस का शक उसके पति के ऊपर गहरा हो गया। मृतिका के पति से पूछताछ कर रही है। मैं फिलहाल महिला के हत्या की थी नहीं सुलझ पाई है।

 छत्तीसगढ़ में जंगली हाथियों ने ली स्कूटी सवार परिवार की जान, युवक को कुचला और बेटे को फुटबॉल की तरह फेंका

छत्तीसगढ़ में जंगली हाथियों ने ली स्कूटी सवार परिवार की जान, युवक को कुचला और बेटे को फुटबॉल की तरह फेंका

अंबिकापुर। छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर में जंगली हाथियों ने बुधवार रात स्कूटी सवार परिवार की जान ले ली। हाथियों ने युवक को कुचल दिया, वहीं पत्नी और 4 साल के बेटे को फुटबॉल की तरह 100 मीटर दूर फेंक दिया। हाथियों के हमले की जानकारी मिलते ही ग्रामीण मौके पर पहुंच गए। वन विभाग को भी सूचना दी गई। इसके बाद हाथियों को जंगल की ओर खदेड़ दिया गया। हाथियों की दहशत से ग्रामीण रात भर आग जलाकर वहीं बैठे रहे। घटना उदयपुर क्षेत्र की है।


जानकारी के मुताबिक, कुन्नी निवासी गौतम दास (30) अपनी पत्नी रीना दास (28) और 4 साल के बेटे युवराज के साथ स्कूटी से उदयपुर गया था। वहां माइक्रोफाइनेंस कंपनी से 30 हजार रुपए निकालने के बाद तीनों बुधवार रात गांव लौट रहे थे। इसी दौरान अलकापुरी से मोहनपुर चौक के पास रास्ते मे खड़े हाथियों ने स्कूटी सवार परिवार पर हमला कर दिया। हाथियों ने महिला व बच्चे को उछालकर दूर फेंक दिया और गौतम को कुचल दिया। हाथियों को जंगल की ओर खदेड़ दिया गया। हाथियों की दहशत से ग्रामीण रात भर आग जलाकर वहीं बैठे रहे।

ग्रामीणों को हाथियों से दूर रहने की सलाह दी गई
घटना में तीनों की मौके पर ही मौत हो गई। जानकारी मिलते ही वन विभाग के अफसर मौके पर पहुंच गए। हाथियों को जंगल की ओर भगाने के बाद तीनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। परिवार की मौत से ग्रामीण भी भड़क गए। हालांकि जिला पंचायत सदस्य राजनाथ सिंह ने लोगों को समझाइश दी और हाथियों से दूर रहने की सलाह दी है। इसके बाद भी दहशत के चलते ग्रामीण सारी रात आग जलाकर वहीं बैठे रहे।

मृतकों के परिजलों को 75 हजार की सहायता राशि दी जाएगी
रेंजर सपना मुखर्जी ने बताया कि केदमा ट्रनिंग प्वाइंट पर स्कूटी सवार परिवार हाथी की चपेट में आ गया। पीडि़त परिवार को गुरुवार सुबह 75 हजार की तात्कालिक सहायता दी जाएगी। इस घटना से क्षेत्र में दहशत का माहौल है। वन अमला निगरानी में जुटा हुआ है। लोगों की भीड़ हाथियों को और उग्र कर रही है। बताया जा रहा है कि 8 हाथियों का दल था। जो क्षेत्र में कई दिनों से उत्पात मचा रहा है। इसके चलते लोगों को सावधान रहने की सलाह दी गई है।

हाथियों ने 2 मकान तोड़े, खेतों की फसल भी रौंदी
हाथियों ने रामनगर में दो लोगों के मकान को तोड़ दिया। इसके साथ ही कई ग्रामीणों की फसल रौंदकर बर्बाद कर दी। वन विभाग ने बताया कि अभी हाथियों का दल करमकथा घनघोर जंगल में मौजूद है। मंगलवार रात 1 बजे 8 हाथियों का दल, जिसमें एक बच्चा भी है, उसने प्रेमनगर से नारायणपुर होते हुए उदयपुर के जंगल में प्रवेश कर रामनगर गांव का रुख किया, जहां जंगल से 200 मीटर की दूरी पर बसे दुहनराम गोंड व नोहर बसोड के घर को क्षतिग्रस्त कर दिया।
 खौफनाक वारदात : छत्तीसगढ़ के इस जिले में मां-बेटे और ससुर की गला रेतकर हत्या, घटना से इलाके में फैली सनसनी

खौफनाक वारदात : छत्तीसगढ़ के इस जिले में मां-बेटे और ससुर की गला रेतकर हत्या, घटना से इलाके में फैली सनसनी

अम्बिकापुर। छत्तीसगढ़ के सरगुजा से खौफनाक वारदात की घटना सामने आई है। यहां तीन लोगों की हत्या कर दी गई है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार प्रारंभिक जानकारी के मुताबिक हत्या का ये मामला ग्राम लैंगा से सामने आया है। जिसमें मां, बेटे और ससुर की गला रेतकर हत्या किए जाने की बात सामने आई है। फिलहाल उदयपुर थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई है। घटना से इलाके में हड़कंप मच गया है। इस घटना के बाद उदयपुर थाना का पूरे मामले की जांच कर रही है। वहीं घटना स्थल पर थाना प्रभारी धीरेन्द्रनाथ दुबे समेत बड़ी संख्या में स्टॉफ मौजूद है और घटना स्थल पर लोगों से पूछताछ कर साक्ष्य जुटाने का प्रयास किया जा रहा है। मृतकों में 11 वर्षीय बच्चा, 29 वर्षीय महिला, और करीब 55 साल का बुजूर्ग है। हत्यारोपी कौन है,इसे लेकर अभी कोई जानकारी नहीं है।
BIG BREAKING: कलयुगी बेटे ने सो रही माँ पर चाकू से वार कर मार डाला, बचाने आई बड़ी बहन और भतीजे को भी नहीं बख्सा

BIG BREAKING: कलयुगी बेटे ने सो रही माँ पर चाकू से वार कर मार डाला, बचाने आई बड़ी बहन और भतीजे को भी नहीं बख्सा

छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर से एक दिल-देहला देने वाली खबर सामने आई है, एक युवक ने सोमवार देर रात अपनी सो रही मां पर चाकू से वार कर उसकी हत्या कर दी। इस दौरान बीच-बचाव करने आई बड़ी बहन और भतीजे पर भी चाकू से वार किया। दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। इसके बाद आरोपी भाग निकला। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने मंगलवार सुबह आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। वह मानसिक रूप से बीमार बताया जा रहा। मामला मैनपाट इलाके का है।

कमलेश्वरपुर थाना क्षेत्र निवासी हीरामणि (55) पत्नी चंदन मांझी सोमवार रात अपने सबसे छोटे बेटे अजय मांझी, बेटी शांति और पोते आशीष के साथ एक कमरे में सो रही थीं। परिवार के अन्य सदस्य दूसरे कमरों में सोए थे। रात करीब 11.30 बजे अजय उठा और किचन से चाकू ले आया। उसने चाकू से सबसे पहले अपनी मां पर वार किया। उनकी चीख सुनकर शांति और आशीष ने बचाने आए तो उन पर भी हमला कर दिया।

बड़े भाई ने पकड़ कर रस्सी से बांधा, लेकिन भाग निकला
चीख पुकार सुनकर दूसरे कमरे में सो रहे बीच वाले बेटे की नींद खुल गई। वह कमरे में पहुंचा और छोटे भाई अजय को किसी तरह पकड़ कर रस्सी से बांधा। इसके बाद पुलिस को सूचना दी। पुलिस के पहुंचने से पहले ही अजय रस्सी खोलकर भाग निकला। रात में ही सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां हीरामणि को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। जबकि शांति और आशीष की हालत गंभीर बनी हुई है।

परिजन बोले- आरोपी युवक को पड़ते हैं पागलपन के दौरे
पुलिस ने बताया कि सुबह वारदात की सूचना मिली थी। इसके बाद गांव में घेराबंदी कर आरोपी अजय को गिरफ्तार कर लिया गया है। घर के दोनों सदस्यों की हालत ठीक नहीं है। सभी लोग अस्पताल में हैं, ऐसे में ज्यादा पूछताछ नहीं हो सकी है। वहीं परिजनों का कहना है कि अजय की की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। पहले भी उसे पागलपन के दौरे पड़ते रहे हैं। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

तहसीलदार ने संयुक्त टीम बनाकर रेत का अवैध परिवहन कर रहे 3 वाहनों को किया जप्त

तहसीलदार ने संयुक्त टीम बनाकर रेत का अवैध परिवहन कर रहे 3 वाहनों को किया जप्त

उदयपुर: अनुविभागीय अधिकारी राजस्व अनिकेत साहू के निर्देश पर लखनपुर तहसीलदार डॉक्टर एजाज हाशमी व उदयपुर तहसीलदार सुभाष शुक्ला ने राजस्व विभाग की संयुक्त टीम बनाकर 31 अगस्त की शाम लगभग 6:00 बजे रेणुका नदी से अवैध रेत उत्खनन कर परिवहन कर रहे तीन वाहनों को जप्त कर कार्यवाही की गई है। मिली जानकारी के मुताबिक लखनपुर व उदयपुर थाना के बीचो बीच बहने वाले रेणुका नदी से निर्माणाधीन एनएच ठेकेदार डीवी कंपनी व अंबिकापुर के रेत माफियाओं की ओर से लगातार नदी से रेत का अवैध उत्खनन कर परिवहन किया जा रहा जिसकी सूचना मिलने पर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व अनिकेत साहू के निर्देश पर उदयपुर लखनपुर तहसीलदार ने संयुक्त टीम बनाकर लखनपुर आईटीआई कॉलेज के समीप अवैध रेत का परिवहन कर रहे डीवी कंपनी के हाईवा मिनी ट्रक सहित ट्रैक्टर वाहन को जप्त कर कार्यवाही करते हुए लखनपुर थाने को सुपुर्द किया गया है।

साथ ही अग्रिम कार्यवाही के लिए उदयपुर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व अनिकेत साहू को पत्र प्रेषित किया गया है। इस पूरी कार्यवाही में लखनपुर तहसीलदार डॉक्टर एजाज हाशमी उदयपुर तहसीलदार सुभाष शुक्ला आर आई रविंद्र पाठक फैयाज अंसारी पटवारी नरेंद्र सिंह सीतेश मिश्रा सहित राजस्व अमला की टीम मौजूद रहे।

CG BREAKING: नाबालिक बालिका का अपहरण कर किया दुष्कर्म व मारपीट, पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

CG BREAKING: नाबालिक बालिका का अपहरण कर किया दुष्कर्म व मारपीट, पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

उदयपुर: सरगुजा जिले के उदयपुर थाना क्षेत्र में एक 12 वर्षीय नाबालिग बालिका का अपहरण, बलात्कार व मारपीट का सनसनी खेज मामला सामने आया है। मामले की गंभीरता को देखते हुए उदयपुर पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुए घटना में शामिल दोनों ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।


घटना के बारे में जानकारी देते हुए उदयपुर थाना प्रभारी धीरेंद्र नाथ दुबे ने बताया कि 30 अगस्त को शाम 4:00 बजे करीब मोबाइल से 12 वर्षीय नाबालिग के अपहरण की सूचना प्राप्त हुई थी। घटना स्थल का निरीक्षण कर व परिजनों की रिपोर्ट पर 363 का अपराध पंजीबद्ध किया गया।

उच्चाधिकारियों को घटना से अवगत कराते हुए वरिष्ठ अधिकारियों पुलिस अधीक्षक अमित तुकाराम कांबले अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला के मार्गदर्शन में एसडीओपी अखिलेश कौशिक के नेतृत्व में उदयपुर पुलिस की टीम ने मामले की विवेचना शुरू की तथा पीडि़ता के परिजनों के बताये अनुसार संदेहियों की खोजबीन शुरू कर आरोपियों के घरों में दबिश दी परंतु आरोपी घर पर नहीं मिले। ग्राम लक्ष्मणगढ़ के रामकुमार से पूछताछ करने पर उसने राजेश सोनी ने नाबालिग को उठाकर बाईक से ले जाना बताया।

31 अगस्त की सुबह नाबालिग बालिका को मुख्य आरोपी उसे उसके गांव छोड़कर चला गया था। गांव से ही लड़की को बरामद कर घटना के बारे में पूछताछ की गई तथा उसका चिकित्सकीय परीक्षण भी कराया गया। जिसमें पीडि़ता के साथ दुष्कर्म व मारपीट का मामला भी सामने आया। इस दौरान पुलिस ने आरोपी की खोजबीन जारी रखी। काफी मशक्कत के बाद अन्तत: घटना के मुख्य आरोपी राजेश सोनी उर्फ फूल सिंह उर्फ बुतरू को ग्राम कुरमेन चौकी कुन्नी से 31 अगस्त को गिरफ्तार कर लिया गया। घटना में शामिल आरोपियों के विरुद्ध पुलिस ने पूर्व में दर्ज 363 के अपराध में 376 तथा पास्को एक्ट की धारा 4 जोड़कर 24 घंटे के भीतर ही उदयपुर पुलिस ने मामले के आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेज दिया है।

उक्त कार्यवाही में एसडीओपी अखिलेश कौशिक थाना प्रभारी धीरेंद्र नाथ दुबे सहायक उप निरीक्षक राजेंद्र प्रताप सिंह प्रधान आरक्षक संतोष गुप्ता, शत्रुघन सिंह, आरक्षक अमित विश्वकर्मा, सिकंदर आलम, सतीश चौहान महिला आरक्षक सुनीति राजवाड़े, अमरावती राजवाड़े व थाना के अन्य स्टाफ सक्रिय थे।

ग्रामीणों ने महिला सरपंच पर लगाया फर्जी मार्कशीट के इस्तेमाल का आरोप...

ग्रामीणों ने महिला सरपंच पर लगाया फर्जी मार्कशीट के इस्तेमाल का आरोप...

अंबिकापुर, अंबिकापुर जनपद पंचायत अंतर्गत ग्राम पंचायत भीठी कला के ग्रामीणों ने कलेक्टर को लिखित ज्ञापन सौंपा है। दरअसल ग्रामीणों का आरोप है कि ग्राम पंचायत के महिला सरपंच ने कक्षा 5वी की फर्जी मार्कशीट बनवा कर इस्तेमाल किया है और आदिवासी वर्ग का लाभ ले रही हैं। पंच-उप सरपंचों का आरोप है की महिला सरपंच किसान जाती की है, जिसे सामान्य वर्ग में रखा गया है ।और नगेसिया जाति का लाभ लेकर सरपंच पद पर आसीन है। ग्रामीणों ने सरपंच पर कई भ्रष्टाचार करने के आरोप भी लगाए हैं। दरअसल जाति को लेकर लंबे समय से ग्रामीणों एवम पंचायत प्रतिनिधियों ने एसडीएम न्यायालय में सरपंच के खिलाफ एक परिवाद दायर भी किया है। जिसका एसडीएम न्यायालय में प्रकरण प्रक्रियाधीन भी है। आरोप में यह भी जिक्र किया गया है। कि सरपंच ने ग्राम सभा के दौरान गांव के ही पत्रकार पर लाठी से हमला किया था।
ग्रामीणों ने कहा कि जिस कक्षा पांचवी के मार्कशीट को सरपंच ने एसडीएम न्यायालय में प्रस्तुत किया है, उसका गांव के ही व्यक्ति ने जिला शिक्षा अधिकारी से सत्यापन के लिए सूचना के अधिकार के तहत सत्यापित प्रतिलिपि मांग की थी। जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय से जो सत्यापित प्रति मिली है उसमें स्पष्ट उल्लेख किया गया है कि 1993 में न ही कोई इस नाम की कोई बालिका पढ़ी है, और न ही दाखिल खारिज पर नाम है। इतना ही नहीं वार्षिक अंकसूची पर ही नाम अंकित है। प्राथमिक शाला लमगांव की प्रभारी प्रधान पाठिका ने भी पूरे दस्तावेजों की जांच कर कहा कर कहां कि हमारे यहां इस संबंधित नाम की कोई बालिका का नाम नहीं दाखिल खारिज में अंकित है न ही वार्षिक प्रतिफल में ही अंकित है। ग्राम पंचायत के उपसरपंच पंच एवं ग्रामीणों ने कलेक्टर सरगुजा को ज्ञापन सरपंच को पद से पृथक कर मामले की निष्पक्षता पूर्वक जांच की जाए एवं सरपंच पर दंडात्मक कार्रवाई की मांग की गई।
 

 छत्तीसगढ़: देवर ने कुल्हाड़ी से ताबड़तोड़ वार कर की भाभी की हत्या, जानिए क्या है पूरा मामला

छत्तीसगढ़: देवर ने कुल्हाड़ी से ताबड़तोड़ वार कर की भाभी की हत्या, जानिए क्या है पूरा मामला

छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर शहर से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. जहां पर एक युवक ने कुल्हाड़ी से ताबड़तोड़ वार कर अपनी भाभी की हत्या कर दी. बताया जा रहा है कि बुधवार की रात देवर अपनी भाभी से रुपये मांग रहा था. मना करने के बावजूद देवर देर रात भाभी के कमरे में घुस आया और जबरन थैले में रखे रुपये निकालने लगा.भाभी ने देवर की चोरी पकड़ी और इसका विरोध शुरू कर दिया. बात को आगे बढ़ता देख देवर ने घर में रखी कुल्हाड़ी से भाभी पर हमला कर दिया.

देवर ने कुल्हाड़ी से काटकर कर दी भाभी की हत्या
घटना के दौरान महिला का पति उसी कमरे में था नशे की वजह से उसे इस हत्या की भनक तक नहीं लगी. पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 302 के तहत अपराध दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. घटना के दौरान मृतक महिला के 10 साल के भजीते इस घटना को देख लिया और वो डरकर कमरे में छुप गया.

रुपये न देने पर देवर ने की भाभी की हत्या
पुलिस का कहना है कि मृतक महिला के देवर ने अपनी भाभी को घर में रुपये रखते हुए देख लिया था. फिर उसने पैसे मांगने शुरू कर दिए. इस पर महिला ने जरूरी काम बताते हुए उसे पैसे देने से मना कर दिया. लेकिन रात करीब 2 बजे आरोपी महिला के कमरे में घुसा और पैसे निकालने लगा.

पुलिस आरोपी की तलाश में जुटी
इस दौरान देवर भारी में झगड़ा हुआ उसने घर में रखी कुल्हाड़ी से अपनी भाभी के सिर और शरीर के कई हिस्सों पर वार कर दिया. जिससे महिला की मौके पर ही मौत हो गई. इस घटना के बाद से इलाके में दहशत का माहौल है.
 
CG BREAKING: कोतवाली पुलिस की कारवाई, चोरी के 24 मोटरसाइकिल आरोपी व खरीदार सहित 11 लोग गिरफ्तार

CG BREAKING: कोतवाली पुलिस की कारवाई, चोरी के 24 मोटरसाइकिल आरोपी व खरीदार सहित 11 लोग गिरफ्तार

अंबिकापुर: अम्बिकापुर शहर की कोतवाली पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। कोतवाली पुलिस ने कार्यवाही करते हुए चोरी की 24 मोटरसाइकिल सहित चोरी के आरोपी व खरीदार सहित 11 लोगों को गिरफ्तार किया है।

अंबिकापुर शहर में बीते कुछ दिनों से बाइक चोरी की घटनाएं काफी बढ़ गई है। आए दिन थानों में बाइक चोरी होने के मामले दर्ज हो रहे हैं। चोरी की वारदात पर अंकुश लगाने पुलिस की ओर से टीम बनाकर कार्य किया जा रहा है। वहीं इसी दौरान पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी। सूचना मिली कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत असोला निवासी 26 वर्षीय आरोपी विद्याधर को हिरासत में लेकर पुलिस ने पूछताछ की शुरू की, जिस पर आरोपी ने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर बाइक चोरी करने का अपराध स्वीकार किया है। वहीं पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर बेची गई बाइक व छुपा कर रखी 24 बाइकों को जब किया है, घटना में शामिल तीन मुख्य आरोपीयो सहित 8 खरीदारों को पुलिस थाने ले आई है।

पुलिस ने बताया कि आरोपी बाइक चोरी कर घर की मजबूरी का बहाना बनाकर चोरों के द्वारा गाडिय़ों को बेचने जाता था और गिरवी रखा जाता था, गिरवी रखने के बाद आरोपियों की ओर से गाडिय़ों को छोड़ा नहीं जाता था। वहीं पुलिस अब सभी आरोपियों को नहीं श्रीमान पर भेजने की तैयारी में जुट गई है। साथ ही पुलिस ने बताया कि घटना का मुख्य आरोपी विद्याधर पूर्व में भी मोटरसाइकिल चोरी के मामले में जेल जा चुका है और वर्तमान में कोरोना का हाल में पैरोल पर जेल से छूटा हुआ है। छूटने के बाद आरोपी के द्वारा पूरा चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है। चोरों के द्वारा सरगुजा जिले सहित अन्य जिलों से भी बाइक चोरी की घटना को अंजाम दिया, बाइक चोरी की घटना को अंजाम दिया जा रहा था।

CG NEWS: शार्टकट तरीके से अमीर बनने के चक्कर में युवको ने की पेट्रोल पंप मालकिन की हत्या, आरोपी पुलिस की हिरासत में

CG NEWS: शार्टकट तरीके से अमीर बनने के चक्कर में युवको ने की पेट्रोल पंप मालकिन की हत्या, आरोपी पुलिस की हिरासत में

छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर में पुलिस को बड़ी कामयाबी हासिल हुई है, पेट्रोल पंप मालकिन शांति पटेल (60) की हत्या मामले में पुलिस ने नौकरानी के बेटे और उसके दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों शार्टकट तरीके से अमीर बनकर अय्याशी करना चाहते थे। इसके लिए आरोपी ने मां को काम से निकाले जाने के बाद लूट की साजिश रची। घर में घुसे और 5 घंटे आंगन में छिपकर इंतजार करते रहे। सुबह होने पर महिला के हाथ-पैर बांधकर धारदार हथियार से गला रेत दिया।


दरअसल, 2 दिन पहले शांति पटेल का शव सुभाषनगर स्थित उनके घर में मिला था। शव के हाथ गमछे से और पैर बेल्ट से बंध हुए थे। गले पर धारदार हथियार का घाव था और फर्श पर खून बिखरा पड़ा था। सामान बिखरा पड़ा था और उनकी कार भी गायब थी। इस पर पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला कि चोरी हुई कार को बस स्टैंड की ओर से विश्रामपुर की ओर जाते देखा गया है। इस पर पुलिस ने पीछा किया और घेराबंदी कर काली घाट के पास कार रुकवा ली।

CG NEWS: चोरी के मोटर सायकल व मोबाईल सहित 1 आरोपी गिरफ्तार

CG NEWS: चोरी के मोटर सायकल व मोबाईल सहित 1 आरोपी गिरफ्तार

सूरजपुर: पुलिस अधीक्षक भावना गुप्ता ने चोरी की घटनाओं पर रोक लगाने व प्रभावी पेट्रोलिंग के साथ रात्रि गश्त करने के निर्देश पुलिस अधिकारियों के दिए है। 22 अगस्त की रात में चौकी बसदेई की पुलिस ऊँचडीह रेल्वे स्टेशन के पास पेट्रोलिंग पर थी, इसी बीच राज 7.30 बजे सिलफिली थाना जयनगर निवासी संदेही आकाश सिंह पिता रामचंदर सिंह संदिग्ध हालत में घुमते दिखा, जिसे पूछताछ के लिए रोका गया तो पुलिस को देखकर भागने लगा, जिसे घेराबंदी कर पकड़ा गया, हिकमत अमली से पूछताछ करने पर उसने बताया कि अपने पास रखे 1 नग मोबाईल को सत्तीपारा अम्बिकापुर, दूसरे मोबाईल को अजबनगर तथा एक हीरो होंडा स्पलेंडर मोटर सायकल क्रमांक सीजी 15 सीआर 5954 को सूरजपुर के डीएफओ ऑफिस के सामने से चोरी करना बताया। मामले में मोटर सायकल व 2 नग मोबाईल कीमत 60 हजार रुपए जप्त कर आरोपी आकाश सिंह के विरूद्व धारा 41(1-4) जा.फौ./ 379 भादवि के तहत कार्यवाही करते हुए विधिवत गिरफ्तार किया गया।

इस कार्यवाही में चौकी प्रभारी बसदेई संजय सिंह, प्रधान आरक्षक राहुल गुप्ता, वरूण तिवारी, आरक्षक देवदत्त दुबे, जितेन्द्र पटेल, प्रदीप साहू, इसित बेहरा, प्रदीप साहू व अमित सिंह पटेल सक्रिय रहे। पुलिस ने बताया कि आरोपी पूर्व में थाना जयनगर व गांधीनगर अम्बिकापुर में चोरी के मामले में चालान हो चुका है और 15 दिन पहले ही जेल से छूटा है।

CG NEWS: पति के चिकन खाने से नाराज़ पत्नी ने की खुदकुशी, जानिए पूरा मामला

CG NEWS: पति के चिकन खाने से नाराज़ पत्नी ने की खुदकुशी, जानिए पूरा मामला

छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर से एक हैरान कर देने वाली खबर सामने आ रही है, पति के मुर्गा खाने पर पत्नी ने खुदकुशी कर ली। घटना रक्षाबंधन के दिन रविवार देर शाम की है। मायके से लौटी महिला ने पति को चाची के घर में चिकन खाते देखा तो उसे बर्दाश्त नहीं कर पाई। पति से हुए विवाद के बाद महिला घर गई और केरोसिन डालकर खुद को आग लगा ली। महिला को मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया। सोमवार सुबह इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।


सूरजपुर के भटगांव क्षेत्र के करौंदा गांव निवासी मनीषा सिंह (19) रक्षाबंधन के दिन रविवार को पति रामजन्म के साथ राखी बांधने के लिए मायके गई थी। वहां से शाम को दोनों घर लौट आए। इस बीच रामजन्म पड़ोस में रहने वाली अपनी चाची के घर पहुंचा और वहां चिकन पकाने लगा। थोड़ी देर बाद मनीषा पहुंची तो उसने रामजन्म को चिकन खाने से मना किया। इसके बाद भी वह नहीं माना और खा लिया।


गुस्से में निकली और घर जाकर खुद को लगा ली आग
मनीषा ने पति से कहा कि सावन के आखिरी दिन और रक्षाबंधन में मुर्गा खाकर गलती की है। इसके बाद वह गुस्से में वहां से निकल कर घर चली गई। थोड़ी देर बाद रामजन्म उसे समझाने के लिए घर जाने लगा तो चीख-पुकार की आवाज सुनाई देने लगी। इस पर अन्य लोग भी दौड़कर मौके पर पहुंचे तो देखा कि मनीषा आग की लपटों में घिरी थी। किसी तरह आग बुझाई गई, लेकिन तब तक गंभीर रूप से झुलस गई थी।


सावन का उपवास रखती थी, मुर्गा खाना बर्दाश्त नहीं हुआ
परिजन उसे भटगांव स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचे, लेकिन हालत गंभीर देख 108 एंबुलेंस से अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया। महिला के पति रामजन्म ने बताया कि मनीषा सावन में उपवास रहती थी। अंतिम दिन मुर्गा खाते देख उससे बर्दाश्त नहीं हुआ। घर में उसने खुद पर केरोसिन डालकर आग लगा ली। फिलहाल शव परिजनों को सौंप दिया गया है। जिसके बाद वे गांव लौट गए हैं।

बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : रक्षाबंधन के दिन घर से उठी 2 सगी बहनों की अर्थी, राखी की खुशियाँ बदली मातम में

बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : रक्षाबंधन के दिन घर से उठी 2 सगी बहनों की अर्थी, राखी की खुशियाँ बदली मातम में

अंबिकापुरबीती रात्रि के मध्य दो बजे सर्पदंश से गंभीर दो बहनों को गंभीर अवस्था में जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था, जहां उपचार के दौरान दोनों ने दम तोड़ दिया। दोनों सगी बहनों के मौत उपरांत घर में घर में खुशियों की जगह मातम पसर गया। दरअसल रात में सोने के दौरान 2 सगी बहनों को जहरीले सांप ने डस लिया था।

परिजनों ने सांप को मार डाला और सुबह उन्हें लेकर मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंचे। यहां डॉक्टरों ने जांच पश्चात उन्हें मृत घोषित कर दिया। पीएम पश्चात दोनों बहनों की अर्थी एक साथ उठीं, यह देख परिजनों सहित गांव वालों की आंखें नम हो गईं।
सूरजपुर जिले के लटोरी चौकी अंतर्गत ग्राम हरिपुर निवासी भारती 7 वर्ष व ज्योति 15 वर्ष पिता रामसाय सगी बहनें थीं। शनिवार की रात दोनों मां उर्मिला, पिता व दादी के साथ जमीन पर बिस्तर लगाकर सो रही थीं। रात करीब 2 बजे दोनों अचानक उठ गईं और परिजनों को बताया कि उन्हें किसी चीज ने काट लिया है। यह सुनकर परिजन हड़बड़ाकर उठे और शरीर पर देखा तो सांप डसने के निशान बने हुए हैं। उन्होंने कमरे में इधर-उधर देखा तो जहरीला सांप था। सांप को देखते ही सबके होश उड़ गए। उन्होंने तत्काल सांप को मार डाला। परिजनों की समझ में नहीं आ रहा था कि वे करें भी तो क्या करें। सुबह करीब 7 बजे दोनों को मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले जाया गया। यहां जांच पश्चात डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया।

ग्राम गिरवरगंज में मदिरा के साथ महुआ शराब बरामद

ग्राम गिरवरगंज में मदिरा के साथ महुआ शराब बरामद

सूरजपुर: कलेक्टर डॉ गौरव कुमार सिंह के निर्देशन में आबकारी अपराधों के रोकथाम के लिए जारी अभियान में गश्त के दौरान मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि ग्राम गिरवरगंज थाना सूरजपुर में कुछ व्यक्तियों ने अन्य प्रांत की मदिरा का विक्रय किया जा रहा है। पी.एल. नायक जिला आबकारी अधिकारी संभागीय उड़नदस्ता सरगुजा एवं सहायक जिला आबकारी अधिकारी सूरजपुर के मार्गदर्शन में आबकारी उपनिरीक्षक ने ग्राम गिरवरगंज में चंद्रमणि के घर से मध्यप्रदेश में विक्रय योग्य मदिरा गोआ 31 पाव (5.58 लीटर) एवं 25 लीटर हाथ भट्टी महुआ शराब जप्त की गई, आरोपिया को अभिरक्षा में लेकर दोनों के विरुद्ध दो प्रकरण धारा 34(2) 59क, 36 के तहत गैर जमानती प्रकरण कायम किया।

उक्त कार्यवाही में आबकारी उप निरीक्षक टी. आर. केहरी, धर्मेंद्र शुक्ला एवं हेडकांस्टेबल कुमारू राम खैरवार, रमेश दुबे, कॉन्स्टेबल गिरजाशंकर शुक्ला, नरेंद्र राजवाड़े, छक्के लाल गुप्ता, श्याम सिंह, द्वारिका प्रसाद गुप्ता, रमेश गुप्ता, दिनेश जायसवाल, नगर सैनिक सविता रजवाड़े का योगदान रहा।

+ Load More