कोरोना अपडेट : छत्तीसगढ़ में जारी है कोरोना से मौत का तांडव, प्रदेश में आज 15 हजार के करीब मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से मिले सर्वाधिक मरीज    |    बंगाल चुनाव: EC की नई गाइडलाइंस जारी, प्रचार का समय कम करने से लेकर आपराधिक मामला दर्ज करने तक का आदेश    |    BIG BREAKING : केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर भी आये कोरोना की चपेट में, सोशल मीडिया में दी जानकारी    |    ICMR कोरोना अपडेट: राज्य में आज शाम तक 12079 कोरोना मरीजो की हुई पुष्टि, अकेले रायपुर से 2921 समेत बाकी इन जिलो से...    |    इस राज्य में सरकार ने लागू किया वीकेंड लॉकडाउन, मास्क नहीं पहनने पर लगेगा बड़ा जुर्माना    |    BIG BREAKING : नहीं होगी ऑक्सीजन की कमी, पीएम केयर्स फंड से अस्पतालों में लगेंगे प्लांट    |    कोरोना की चपेट में सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस शाह का पूरा स्टाफ...    |    कोरोना अपडेट : देश में 24 घंटे में सामने आए 2.16 लाख मामले, 1184 मौतें    |    BIG BREAKING : प्रदेश में कोरोना से मौत ने लगाई शतक, प्रदेश में आज 15 हजार से अधिक नए मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से इतने    |    कोरोना अपडेट: ICMR के मुताबिक आज प्रदेश में शाम तक 11819 मरीज मिले, अकेले रायपुर जिले से 2870 समेत बाकी इन जिलो से    |

बड़ी खबर: फर्जी दस्तावेज पेश कर पति पत्नी ने किया बैंक से 50 लाख की ठगी, 4 के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज

 बड़ी खबर: फर्जी दस्तावेज पेश कर पति पत्नी ने किया बैंक से 50 लाख की ठगी, 4 के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज
Share

भिलाई। फर्जी दस्तावेज पेश कर पति-पत्नी ने बैंक से 50 लाख रुपये लोन निकालकर ठगी कर लिया। घटना की शिकायत के बाद पुलिस ने चार आरोपियों के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है। बैंक से ऋृण के नाम पर ठगी करने वाले दो पुरुष व दो महिलाओं के खिलाफ अपराध कायम किया गया है। 

भिलाई नगर पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सहायक महाप्रबंधक बैंक ऑफ इंडिया,शाखा सिविक सेन्टर भिलाई के राजेश कुमार बैंस ने शिकायत किया है कि वर्ष 2016-17 में नेहरु नगर रायल ग्रीन जुनवानी 9 भिलाई निवासी श्रीमती अनु सिंघल ,नीरज ङ्क्षसघल,श्रीमती सरिता सिंघल,गौरव सिंघल के द्वारा संपत्ती बंधक ऋण योजना के तहत संयुक्त रुप से 17 दिसंबर 2016 को छत्तीस लाख रुपये उक्त बैंक ऋण योजना के तहत ऋण प्राप्त किया था। 8 फरवरी 2017 को आवास ऋण योजना के तहत 14 लाख 40 हजार रुपये बैंक ऑफ इंडिया सिविक सेंटर शाखा से कुल 50 लाख 40 हजार रुपये ऋण प्राप्त किये थेे। प्रतिभूति स्वरुपआरोपियों द्वारा प्लाट नंबर 03 ब्लॉक नंबर 63 मौजा मौजा मोतीलाल नेहरु नगर में स्थित आवासीय मकान रकबा 216 वर्ग मीटर का साम्यिक बंधक 17 दिसंबर 2016,10 दिसंबर 2017 के आवास ऋण के लिये किया था। निर्धारित अवधि किस्तों एवं ब्याज के भुगतान प्राप्त न होने पर आरोपियों  के विरुद्ध वसुली कार्रवाही आरंभ करने पता चला कि उक्त साम्यिक बंधक मकान पूर्व से ही युकों बैंक सिविक सेंटर में बंधक रखा रखा हुआ है। इस प्रकार आरोपियों द्वारा संयुक्त रुप से बंधक मकान को बैंक ऑफ इंडिया में प्रतिभुति स्वरुप देकर धोखाधड़ी कर रकम प्राप्त किया गया है। घटना की शिकायत के बाद पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ धारा फर्जी दस्तावेज प्रस्तुत कर बैंक से ऋण प्राप्त किया। मामले में चारों आरोपी फरार है। 


Share

Leave a Reply