कोरोना अपडेट : 24 घंटे में 41 हजार नए मामले, 541 लोगों की मौत    |    बड़ी खबर : इस BJP सांसद को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जाने क्या है मामला...    |    CG कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज रायपुर में मिले सर्वाधिक मरीज, 203 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, देखें जिलेवार आंकड़े    |    आईसीएमआर अपडेट : आज शाम तक मिले इतने कोरोना पॉजिटिव, देखे जिलेवार आकड़े    |    बड़ी खबर : जेल में बैरक की दीवार ढही, 22 कैदी गंभीर रूप से घायल    |    CG कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज एक्टिव मरीजो की संख्या हुई 2 हजार से कम, 243 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, देखें जिलेवार आंकड़े    |    बड़ी खबर: पान मसाला कंपनी पर आयकर का शिकंजा, 400 करोड़ रुपए के काले कारोबार का हुआ खुलासा    |    आईसीएमआर अपडेट : आज शाम तक मिले इतने कोरोना पॉजिटिव, आकडों में आज रायपुर से मिले सर्वाधिक    |    जज की संदिग्ध मौत पर सुप्रीम कोर्ट ने लिया संज्ञान, सरकार से एक हफ्ते में मांगा जवाब    |    CG कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज मिले सिर्फ इतने ही मरीज, 270 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, नही हुई किसी की मृत्यु, देखें जिलेवार आंकड़े    |

बड़ी खबर: झोलाछाप डॉक्टरों के क्लिनिक्स पर स्वास्थ्य विभाग ने मारा छापा

 बड़ी खबर: झोलाछाप डॉक्टरों के क्लिनिक्स पर स्वास्थ्य विभाग ने मारा छापा
Share

रायपुर। प्रदेश में झोलाछाप डॉक्टरों की बढ़ती संख्या जहां प्रदेश की आम जनता के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रही है वहीं आज अवैध डिग्रीधारी लगभग आधा दर्जन डॉक्टरों पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने छापा मार कार्रवाई कर उनके अस्पतालों की जांच की। 

मिली जानकारी के अनुसार सिमगा, नांदघाट क्षेत्र के चिकित्सालयों यथा मुस्कान होमियोपैथिक, शिवनाथ क्लिनिक, विनायक क्लिनिक , वर्मा दवाखाना, जेपी मेडिकल स्टोर आयुष हास्पिटल एवं शिवनाथ हास्पिटल समेत अन्य अस्पतालों में छापामारी के दौरान स्वास्थ्य विभाग की टीम को नर्सिंग होम एक्ट के तहत अनियमितताएं मिली। 

स्वास्थ्य विभाग की टीम के संजीवनी हास्पिटल पहुंचने पर वहां भी डॉक्टर नदारत मिले वहीं पंजीयन के कागजात भी नहीं मिले। सूत्रों के अनुसार स्वास्थ्य विभाग की टीम को विनायक क्लिनिक में ओपीडी में बैठे डॉक्टर बृजमोहन निषाद की डिग्री नहीं मिली। इसके अलावा आयुष हास्पिटल में भी नर्सिंग होम एक्ट के तहत पंजीयन के बाद भी अनियमितताएं मिली जिन्हें सुधारने के तत्काल निर्देश अस्पताल प्रबंधन को दिये गये हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार आगामी दिनों में भी छापामार कार्रवाई जारी रहेगी। जिन अस्पतालों में अनियमितताएं मिलेंगी उनके खिलाफ स्वास्थ्य मंत्री के निर्देशानुसार सख्त कार्रवाई की जाएगी। 


Share

Leave a Reply