CG Corona Update: छत्तीसगढ़ में आज मिले कोरोना के इतने नए मरीज...देखें जिलेवार आंकड़े    |    CG Corona Update: छत्तीसगढ़ में आज मिले कोरोना के 213 नए मरीज...देखें जिलेवार आंकड़े    |    Corona update: प्रदेश में नहीं थम रहा कोरोना के बढ़ते मामले, आज फिर इतने नए मामले आए सामने…जानिए जिलेवार आकड़े    |    CG Corona Update: छत्तीसगढ़ में नहीं थम रहे कोरोना के मामले...आज मिले इतने नए मरीज... देखें जिलेवार आंकड़े    |    CG Corona Update: छत्तीसगढ़ में आज मिले कोरोना के इतने नए मरीज...देखें जिलेवार आंकड़े    |    CG Corona Update: छत्तीसगढ़ में आज मिले कोरोना के इतने नए मरीज...देखें जिलेवार आंकड़े    |    लगातार बढ़ रही है कोरोना की रफ्तार, 24 घंटे में आये इतने नए मामले... देखिए जिलेवार आंकड़े    |    नहीं थम रहे कोरोना के मामले, आज मिले इतने नए मरीज, देखें जिलेवार आंकड़े…    |    CG Corona Update: छत्तीसगढ़ में आज मिले कोरोना के इतने नए मरीज...देखें जिलेवार आंकड़े    |    CG Corona Update: छत्तीसगढ़ में नहीं थम रहे कोरोना के मामले...आज मिले इतने नए मरीज... देखें जिलेवार आंकड़े    |

लापता युवक की पावर प्लांट में 50 फीट ऊपर मिली लाश, परिजनों ने दिया था धरना

लापता युवक की पावर प्लांट में 50 फीट ऊपर मिली लाश, परिजनों ने दिया था धरना
Share

 जांजगीर-चांपा। जिले में डभरा के उचपिंडा में RKM पावर प्लांट के अंदर एक कर्मचारी का शव 50 फीट की ऊंचाई में मिला है। मृतक 3 अगस्त से लापता था। उसका पता नहीं चलने पर परिजनों ने गुरुवार को गेट के बाहर धरना भी दिया था। मामला डभरा थाना क्षेत्र का है।

पावर प्लांट के बॉयलर डिपार्टमेंट में मालखरौदा क्षेत्र का रहने वाला गजेंद्र मनहर(28) पिछले 6 साल से हेल्पर के रूप में काम करता था। रोज की तरह 3 अगस्त को भी सुबह ड्यूटी पर गया था लेकिन वापस घर नहीं लौटा था। जिसके बाद से उसकी तलाश की जा रही थी, देर शाम तक भी उसका कुछ पता नहीं चला था। 4 अगस्त को परिजनों ने गेट के बाहर जाकर धरना दे दिया था।

उनका कहना था कि युवक प्लांट से ही लापता हुआ और यहां ही किसी को पता नहीं चला। फिर दिन भर परिजन गेट के बाहर ही बैठे रहे थे। फोर्स को भी तैनात किया गया था। पुलिस से भी मामले की शिकायत की गई थी। जिसके बाद पुलिस ने प्लांट के अंदर भी उसकी तलाश की। देर शाम ही प्लांट के बॉयलर एरिया में निर्माणाधीन लिफ्ट में 50 फीट ऊपर उसका शव मिल गया। बाद में शव को पीएम के लिए भेज दिया गया था। अब शुक्रवार को शव का पीएम किया गया है। जिसके बाद अंतिम संस्कार भी कर दिया गया है।

गजेंद्र की मौत के बाद प्रबंधन ने उसके परिजनों को परिजनों को तत्काल 11 लाख रुपए की नगद सहायता राशि दी है। इसके अलावा परिवार के एक शख्स को नौकरी देने का ऐलान किया गया है। पुलिस का कहना है कि पीएम रिपोर्ट के बाद ही मौत के असल कारणों का पता चल सकेगा। फिलहाल मामले में जांच जारी है।



Share

Leave a Reply