कोरोना अपडेट: प्रदेश में आज 12665 ने जीती कोरोना से जंग, कुल 6577 नए मरीज मिले 149 मृत्यु भी, देखे जिलेवार आकड़े    |    लॉन्च हुई 2डीजी दवा, कोरोना संक्रमण से जंग में कैसे करेगी मदद? जानिए सब कुछ    |    आईसीएमआर अपडेट : राज्य में मिले 5294 कोरोना पॉजिटिव, 21 जिलों में सौ से अधिक मिले मरीज, देखे जिलेवार आकड़े    |    सेक्स रैकेट : पुलिस ने छापा मारकर देह व्यपार का किया खुलासा, मौके से दो युवक और दो युवती गिरफ्तार    |    दो पक्षों के बीच विवाद में गोली लगने से एक महिला की मौत, तीन अन्य घायल    |    चक्रवाती तूफान तौकते हुआ विनाशकारी, 5 राज्यों में अब तक 11 लोगों की मौत    |    बड़ी खबर: जानिए आखिर किस मामले में सीबीआई ने 4 नेताओं को किया गिरफ्तार    |    ममता बनर्जी के मंत्रियों-नेताओं पर सीबीआई ने कसा शिंकजा, यहां जानें क्या है मामला    |    रक्षा मंत्री व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने लॉन्च की कोरोना की स्वदेशी दवा 2DG    |    कोरोना अपडेट: देश में 24 घंटों में 2 लाख 81 हजार नए मामले आए, 4106 लोगों की हुई मौत    |

उन्होंने भारतीय खिलाड़ियों को लिफ्ट के अंदर जाने की अनुमति नहीं दी : जाने क्या है मामला

उन्होंने भारतीय खिलाड़ियों को लिफ्ट के अंदर जाने की अनुमति नहीं दी : जाने क्या है मामला
Share

 भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने खुलासा किया है कि हाल ही में ऑस्ट्रेलिया में समाप्त हुई बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के दौरान सिडनी में उन्हें मेजबान टीम के खिलाड़ियों के साथ लिफ्ट में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी गई.

 

अश्विन ने भारतीय क्रिकेट टीम के फील्डिंग कोच आर श्रीधर के साथ यूटयूब चैनल पर बातचीत के दौरान कहा, "सिडनी पहुंचने के बाद उन्होंने हमें कड़े प्रतिबंधों के साथ बंद कर दिया. सिडनी में एक अनोखी घटना हुई. ईमानदारी से कहूं तो यह अजीब था. भारत और ऑस्ट्रेलिया दोनों एक ही बायोबबल में थे, लेकिन जब ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी लिफ्ट में थे, तो उन्होंने भारतीय खिलाड़ियों को लिफ्ट के अंदर जाने की अनुमति नहीं दी."

अश्विन ने आगे कहा, "वाकई, उस समय हमें यह बहुत बुरा लगा. हम एक ही बायो बबल में हैं. लेकिन आप लिफ्ट में बैठ जाते हैं और आप एक ही बबल में रहने वाले किसी अन्य व्यक्ति के साथ लिफ्ट साझा नहीं कर सकते. हमारे लिए इसे पचाना बहुत मुश्किल था."

 

अश्विन ने ऑस्ट्रेलिया दौरे पर खेली गई चार मैचों की टेस्ट सीरीज में बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए 12 विकेट लिए थे. उन्होंने गेंद के साथ-साथ सिडनी टेस्ट में हनुमा विहारी के साथ मिलकर भारत को हार से भी बचाया था. हालांकि, पीठ में दर्द के कारण वह सीरीज के चौथे टेस्ट में टीम इंडिया का हिस्सा नहीं थे.


Share

Leave a Reply