Corona Update 04 Oct : प्रदेश में आज इतने मरीजों की हुई पुष्टि, इस जिले से मिले सबसे ज्यादा मामले, देखिए जिलेवार आंकड़ें    |    Corona Update 3 Oct : राज्य में कोरोना से 1 की मौत...इस जिले से मिले सबसे ज्यादा मामलें...देखें जिलेवार आंकड़ें    |    Corona Update 2 Oct : प्रदेश में आज मिले कोरोना के इतने मरीज, फिर इस जिले से सामने आए सर्वाधिक मामलें...देखें जिलेवार आंकड़े    |    TRANSFER BREAKING : लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग में बड़ी फेरबदल, कई अधिकारी कर्मचारी इधर से उधर...देखें पूरी लिस्ट    |    Corona Update 30 Sept : प्रदेश में आज इतने मरीजों की हुई पुष्टि, इस जिले से मिले सबसे ज्यादा मामले, देखिए जिलेवार आंकड़ें    |    कोरोना को लेकर राहत की खबर...24 घंटे में मिले इतने नए कोरोना के मरीज...देखिए जिलेवार आकड़े    |    कोरोना को लेकर राहत की खबर...24 घंटे में मिले इतने नए कोरोना के मरीज...देखिए जिलेवार आकड़े    |    Corona Update 26 September : छत्तीसगढ़ में आज मिले कोरोना के इतने नए मरीज...देखें जिलेवार आंकड़े    |    कोरोना को लेकर राहत की खबर...24 घंटे में मिले इतने नए कोरोना के मरीज...देखिए जिलेवार आकड़े    |    Corona Update 24 September : छत्तीसगढ़ में आज मिले कोरोना के इतने नए मरीज...देखें जिलेवार आंकड़े    |
नक्सलियों ने ग्रामीण को उतारा मौत के घाट, पुलिस मुखबिरी का लगाया आरोप

नक्सलियों ने ग्रामीण को उतारा मौत के घाट, पुलिस मुखबिरी का लगाया आरोप

 नारायणपुर। जिले में नक्सलियों ने पुलिस मुखबिरी का आरोप लगाते हुए एक ग्रामीण की हत्या कर दी है। नक्सलियों ने ग्रामीण का पहले गला रेता, फिर पत्थर से सिर कुचल कर हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देने के बाद शव को गांव के ही नजदीक फेंक दिया। मामला फरसगांव थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, देर रात 10 से 15 की संख्या में हथियारबंद नक्सली जिले के कड़हागांव पहुंचे और गांव के ग्रामीण रामलाल पोटाई (27) को घर से उठाकर जंगल की तरफ ले गए। जहां पहले उसकी पिटाई की फिर धारदार हथियार से गला रेता और पत्थर से सिर कुचल दिया। देर रात ही माओवादियों ने ग्रामीण के शव को गांव में फेंक दिया। शव के पास पर्चे भी फेंके हैं। जिसमें ग्रामीणों के लिए लिखा है कि, जनविरोधी, जन दुश्मन और गद्दार मत बनो। अपने ही पैरों पर कुल्हाड़ी मत मारो और अपनी ही उंगलियों से अपनी आंखें मत फोड़ो। मुखबिर बन कर अपनी संपति लूटने वालों का साथ मत दो। लुटेरों का साथ छोड़ो और जल-जंगल-जमीन का मालिक बनकर जिओ। यदि मुखबिर बनोगे तो रामलाल जैसी सजा मिलेगी।

सुबह इस वारदात की जानकारी गांव के ग्रामीणों ने पुलिस दी। मौके पर पहुंचे जवानों ने शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवाया है। साथ ही इलाके की सर्चिंग की जा रही है। नक्सलियों की पूर्व बस्तर डिवीजन कमेटी ने हत्या की वारदात को अंजाम दिया है।

15 साल से फरार नक्सली अब हुआ गिरफ्तार, 8 अपराधों में रह चुका है शामिल

15 साल से फरार नक्सली अब हुआ गिरफ्तार, 8 अपराधों में रह चुका है शामिल

 नारायणपुर। एसपी सदानंद कुमार एवं पुष्कर शर्मा (अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, नक्सल ऑप्स) के निर्देशानुसार नारायणपुर पुलिस ने 8 नक्सल अपराधों में शामिल रहे करेलघाटी दलम के सक्रिय नक्सली सदस्य सुदराम सलाम को उसके गृहग्राम करमरी से गिरफ्तार किया है। मुखबीर से सूचना मिलने पर त्वरित कार्यवाही करते हुए आईपीएस सदानंद कुमार ने उप निरीक्षक मुकेश्वर ध्रुव के नेतृत्व में डीआरजी पार्टी निकाली थी। सक्रिय नक्सली सुदराम सलाम विगत 20 वर्षों से करेलघाटी दलम में सक्रिय रहकर पुलिस, सुरक्षा बलों के जानमाल और शासकीय संपत्तियों को नुकसान पहुचाने के लिए आईईडी लगाने का कार्य करता था। नक्सली सदस्य सुदराम सलाम के खिलाफ थाना नारायणपुर में 8 अपराधों में एफआईआर पंजीबद्ध है, जिसमें माननीय न्यायालय द्वारा वारंट जारी किया गया है।

थाना नारायणपुर के इन 08 नक्सल अपराधों में शामिल था सुदराम सलाम (01) अपराध क्रमांक 32/2008 धारा 341 आईपीसी, 4,5 विस्फोटक पदार्थ अधिनियम (02) अपराध क्रमांक 33/2008 धारा 427 आईपीसी, 3,4 लोक क्षति निवारण अधिनियम (03) अपराध क्रमांक 40/2008 धारा 302, 307 आईपीसी, 4,5 विस्फोटक पदार्थ अधिनियम (04) अपराध क्रमांक 44/2008 धारा 4,5 विस्फोटक पदार्थ अधिनियम (05) अपराध क्रमांक 55/2008 धारा 341, 307, 395 आईपीसी, 25, 27 आर्म्स एक्ट (06) अपराध क्रमांक 66/2008 धारा 307 आईपीसी, 4,5 विस्फोटक पदार्थ अधिनियम (07) अपराध क्रमांक 70/2008 धारा 4,5 विस्फोटक पदार्थ अधिनियम एवं (08) अपराध क्रमांक 73/2008 धारा 147, 148, 149, 307 आईपीसी, 25, 27 आर्म्स एक्ट 3,5 विस्फोटक पदार्थ अधिनियम।

सांप के काटने से 8 वर्षीय बच्ची की हुई मौत...

सांप के काटने से 8 वर्षीय बच्ची की हुई मौत...

नारायणपुर : जिले के ग्राम पंचायत बेनूर से 10 किलोमीटर दूर ग्राम बोरावंड में 08 वर्षीय बच्ची मंगोती को सांप ने डस लिया जिससे बच्ची की मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक बोरावंड निवासी बीतूराम मंडावी के पुत्री मंगोती और उसके साथ दो और बच्चे घर पास पेड़ के नीचे खेल रहे थे। इसी दौरान सांप ने अचानक बिल से निकलकर मंगोती को डस लिया।

सर्पदंश के बाद मंगोती जोर से चिल्लाकर अपने पिता को बताया कि सांप ने डसा है। सर्पदंश के बाद परिजनों ने अस्पताल ले जाना छोड़ देसी दवाई ढूंढऩे चले गए, 04 घंटे बीत गए फिर भी देसी दवाई नहीं मिली जिससे उसकी मौत हो गई। मृतिका के पिता बीतूराम की सूचना के आधार पर पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले की जांच कर रही है। 

कलेक्टर ने मनरेगा मजदूरों से की बातचीत,  दिये यह  निर्देश....

कलेक्टर ने मनरेगा मजदूरों से की बातचीत, दिये यह निर्देश....

नारायणपुर : कलेक्टर ऋतुराज रघुवंशी बुधवार को अपने ओरछा प्रवास के दौरान कोंगेरा पहुंचे। उन्होंने देखा की सड़क किनारे कुछ मजदूर काम कर रहे है, कलेक्टर ने रूककर वहां काम कर रहे मजदूरों के पास गये और मजदूरों से काम के बारे में पूछा। मजदूरों ने बताया कि वे सभी कोंगेरा गांव के रहने वाले हैं, और वे मनरेगा अंतर्गत संचालित तालाबा गहरीकरण का कार्य कर रहे हैं।

कलेक्टर रघुवंशी मजदूरों से मजदूरी भुगतान, कार्य के दौरान किसी प्रकार की परेशानी, कार्य करने का समय आदि के बारे में पूछा। मजदूरों ने बताया कि मजदूरी का भुगतान सीधे खाते में किया जाता है। कोंगेरा में बैंक संचालित नहीं होने के कारण उन्हें जिला मुख्यालय तक की दूरी तय करनी पड़ती है, जिससे उन्हें अनावश्यक समय एवं धन व्यय करना पड़ता है। कलेक्टर रघुवंशी ने इन मजदूरों की समस्याओं पर संवेदनशीलता से विचार करते हुए अधिकारियों को निर्देशित किया कि मजदूरों को मजदूरी का भुगतान गांव में किया जाये। इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत नारायणपुर घनश्याम जांगड़े उपस्थित थे।

कलेक्टर रघुवंशी ने कहा कि अमृत सरोवर मिशन के तहत् महत्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजनांतर्गत जिले में स्वीकृत सभी तालाबों में अधिक मजदूरों को लगाकर बरसात के पहले कार्य पूर्ण करें। उन्होंने मनरेगा अंतर्गत कोंगेरा में संचालित डबरी निर्माण एवं अन्य कार्यों का भी निरीक्षण किया।

 

वीडियो शेयर करने के बाद युवक ने लगाई फांसी, जांच में जुटी पुलिस....

वीडियो शेयर करने के बाद युवक ने लगाई फांसी, जांच में जुटी पुलिस....

बिलाईगढ़ : बिलाईगढ़ इलाके के ग्राम जुनवानी में एक 25 वर्षीय युवक ने अपने ही घर मे फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। बताया जा रहा युवक खुदकुशी करने से पहले सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल किया है। उस वायरल वीडियो में मृतक अपने मौत का जिम्मेदारों का जिक्र किया है।

इधर घटना की जानकारी मिलते ही भटगांव पुलिस की टीम ग्राम जुनवानी घटना स्थल पहुंची और युवक के शव पर मर्ग कायम कर पीएम के लिए बिलाईगढ़ रवाना किया। फिलहाल भटगांव पुलिस मृतक के वायरल वीडियो और पीएम रिपोर्ट के आने के बाद कार्रवाई करने की बात जरूर कर रही है। बहरहाल अब देखना होगा कि वाईरल वीडियो के आधार पर भटगांव पुलिस क्या.. मृत युवक को न्याय दिला पाएगी। 

नहाने गये 6 वर्षीय बालक के डूबने से हुई मौत...

नहाने गये 6 वर्षीय बालक के डूबने से हुई मौत...

नारायणपुर : जिले के बेनूर थाना से 05 किलोमीटर दूर ग्राम छेरीबेड़ा के बारदा नदी में नहाने गए 06 वर्षीय बच्चे की मौत हो गई। आज सुबह बच्चे का शव नदी में तैरता हुए दिखाई दिया। बेनूर थाना प्रभारी कृष्णप्रसाद जांगड़े ने बताया कि ग्राम पंचायत भाटपाल निवासी रामसिंग कोर्राम के 06 वर्षीय पुत्र करण कोर्राम अपने दोस्तों के साथ छेरीबेड़ा के बारदा नदीं मे नहाने गया हुआ था, शाम तक उसके पुत्र के घर वापस नहीं आने पर परिजनों ने उसके साथ गए, लड़कों से पूछताछ की तो उन्होंने नहाते वक्त नदी में डूबने की बात बताई।

इसके बाद परिजन तत्काल नदी में जाकर ढूंढा लेकिन रात होने से बच्चा नहीं मिल पाया। परिजनों द्वारा आज सुबह नदी में जाकर देखा तो करण का शव तैरता हुआ मिला। 

नक्सली पीडि़त महिला की हत्या कर जमीन में गाडऩे वाले 2 आरोपी गिरफ्तार..

नक्सली पीडि़त महिला की हत्या कर जमीन में गाडऩे वाले 2 आरोपी गिरफ्तार..

नारायणपुर : जिले के कोतवाली थाना क्षेत्र अंर्तगत ग्राम गोडरी के रहने वाले आयतू वाड्डे और गुड्डू कुमेटी ने नक्सली पीडि़त को मिले मुआवजे की राशि के लिए 06 बच्चों की मां मैनीबाई की हत्या कर जमीन में गाड़ दिया। इस खौफनाक मंजर को मृतिका मैनीबाई की 08 वर्ष की पुत्रि ने अपनी आंखों से देखा। जिसकी निशानदेही पर पुलिस ने मामले में जांच शुरू कर उक्त दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।


प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतिका मैनीबाई नक्सली पीडि़त होने से उसे मुआवजे की राशि मिली थी, जिसे लूटने के इरादे से हत्या के आरोपियों आयतू वाड्डे और गुड्डू कुमेटी ने हत्या के वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस का कहना है कि इस मामले की जांच के बाद ही इसका खुलासा होगा। ज्ञात हो कि मृतिका मैनीबाई अबूझमाड़ के ग्राम तुड़को की रहने वाली थी, चार वर्ष पहले नक्सलियों ने उनके परिवार को गांव से भगाया था, और उसके पति की हत्या कर दी थी। उसके बाद महिला अपने 06 बच्चों के साथ ग्राम गोडरी में रहती थी।


गौरतलब है कि नक्सली पीडि़तों को शासन-प्रशासन से मिलने वाले सहयोग की राशि लाखों में होती है, जिसके कारण नक्सल प्रभावित इलाकों में रहने वाले नक्सली पीडि़त परिवार के लोगों को हमेंशा खतरा बना होता है। नक्सली पीडि़त परिवार के सदस्य ठगी का शिकार भी बन चुके हैं। यही नहीं नक्सल प्रभावित इलाकों में नक्सली भी नक्सली पीडि़तों को मिली राशि की उगाही करने की बात सामने आती रही है।
 

CG CRIME NEWS :  खौफनाक मंजर 8 साल की बच्ची के आंखो के सामने आरोपियों ने मां को मौत के घाट उतारा, मामले की जाँच में जुटी पुलिस...

CG CRIME NEWS : खौफनाक मंजर 8 साल की बच्ची के आंखो के सामने आरोपियों ने मां को मौत के घाट उतारा, मामले की जाँच में जुटी पुलिस...

नारायणपुर : अबूझमाड़ से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। जहां आरोपियों ने 6 बच्चों की मां को मौत के घाट उतार दिया। इस पूरी घटना को 8 साल की बच्ची ने अपनी आंखो से देखा। जिसकी निशानदेही पर पुलिस ने मामले में जांच शुरू की। पूरा मामला नारायणपुर के कोतवाली थाना क्षेत्र का है। जानकारी के मुताबिक गोडरी गांव के रहने वाले आयतू वाड्डे और गुड्डू कुमेटी नाम के व्यक्तियों ने 6 बच्चों की मां मैनी बाई को मारकर जमीन में गाड़ दिया।

इस खौफनाक मंजर को मृतिका की 8 साल की बेटी ने अपनी आंखों से देखा। मुआवजे की राशि बनी मौत की वजह! मैनी बाई अबूझमाड़ के तुड़को की रहने वाली थी। 4 साल पहले नक्सलियों ने उनके परिवार को गांव से भगाया था और उसके पति की हत्या कर दी थी. उसके बाद महिला अपने 6 बच्चों के साथ गोडरी गांव में रहती थी।

मिली जानकारी के अनुसार नक्सली पीडि़त होने से महिला को मिली मुआवजे की राशि को लूटने के इरादे से आरोपियों ने इस वारदात को अंजाम दिया है।

 

 नक्सलियो और डीआरजी सैनिकों के बीच मुठभेड़ में डीआरजी का जवान शहीद....

नक्सलियो और डीआरजी सैनिकों के बीच मुठभेड़ में डीआरजी का जवान शहीद....

नारायणपुर : नारायणपुर में जवानों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हो गई है। इस घटना में एक जवान शहीद हो गया हैं। ये मुठभेड़ इरपानार के जंगल मे हुई है। शहीद जवान भानुप्रतापपुर के रहने वाले थे और डीआरजी में पदस्थ थे।जानकारी के अनुसार आज सुबह लगभग 8.15 बजे तुलारगुफा-मुंगरी जंगलों (पीएस छोटेडोंगर, जिला नारायणपुर) के पास नक्सलियों के नारायणपुर डीआरजी सैनिकों और पीएलजीए कोय नंबर 6 के बीच गोलीबारी हुई।

मुठभेड़ के दौरान डीआरजी हेड कांस्टेबल सालिकराम मरकाम को गोली लगी और बाद में उसने दम तोड़ दिया। फिलहाल गोलीबारी बंद हो गई है और अतिरिक्त बल के जवानों को मौके पर भेज दिया गया है।
 

CG NEWS : भैंस के हमले से महिला की मौत...

CG NEWS : भैंस के हमले से महिला की मौत...

नारायणपुर : जिला मुख्यालय से 43 किलोमीटर दूर छोटेडोंगर थाना अंतर्गत ग्राम बडग़ांव में जहां एक महिला पर भैंस ने अचानक पीछे से हमला कर दिया जिससे महिला लहुलुहान होकर जमीन पर गीर पड़ी। महिला को अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

मिली जानकारी अनुसार जयबत्ती पटेल पति सुखचंद उम्र 52 निवासी बडग़ांव अपने घर के सामने गोबर उठा रही थी। इसी दौरान भैंस ने अपने नुकिले सींगों से जयमति के ऊपर पीछे से हमला कर दिया। 

ब्रेकिंग : आईईडी ब्लास्ट में डीआरजी के 2 जवान घायल...

ब्रेकिंग : आईईडी ब्लास्ट में डीआरजी के 2 जवान घायल...

नारायणपुर : छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले में गश्त पर निकले सुरक्षाबलों को निशाना बनाते हुए नक्सलियों ने क्रमवार आईईडी विस्फोट किया, जिसमे 2 जवान घायल हो गए हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार नारायणपुर जिले के ग्राम कोडोली और झारवाही की ओर आईटीबीपी और डीआरजी की संयुक्त पार्टी एरिया डोमिनेशन पर निकली थी। लगभग 9 बजे नक्सलियों ने क्रमवार आईईडी ब्लास्ट किए, जिसमें डीआरजी के 2 जवान घायल हुए है।

घायल जवानों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है, और वे खतरे से बाहर हैं। घटना की विस्तृत जानकारी के लिए वीएनएस से जुड़े रहें। छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले में 

छत्तीसगढ़ : आईईडी बम की चपेट में बम की चपेट में आया जवान,  गंभीर रूप से घायल

छत्तीसगढ़ : आईईडी बम की चपेट में बम की चपेट में आया जवान, गंभीर रूप से घायल

नारायणपुर :  नारायणपुर जिला मुख्यालय 51 किमी दूर आमदई खदान से 500 मीटर दूरी ओरछा मार्ग पर दोपहर को नक्सलियों के द्वारा लगाए गए आईईडी बम की चपेट में आने से फिर एक जवान गंभीर रूप से घायल हुआ है। जिन्हें छोटेडोंगर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में प्राथमिक उपचार करने के बाद नारायणपुर लाया गया फिर वहां से हेलिकॉप्टर से रायपुर रेफर कर दिया गया है।

घटना की पुष्टि एएसपी नीरज चंद्राकर ने की है।मालूम हो कि आमदई घाटी के पास नक्सलियों द्वारा रविवार की रात को खदान के विरोध में पेड़ों पर दो बड़े बड़े पोस्टर लगाए व विधुत पोल व पेड़ डालकर मार्ग को अवरूद्ध कर दिया था। जिसकी सुचना मिलते ही छोटेडोंगर पुलिस मौके पर पहुंची और पोस्टर को अपने कब्जे में ले लिया और मार्ग से विद्युत पोल और पेड़ को हटाया।

इस घटना के बाद एरिया डेमिनेशन के लिए छोटेडोंगर व आमदई कैम्प से पुलिस की टीम आमदई घाटी में निकली थी। सवा बारह बजे के करीब आमदई खदान से लगभग 500 मीटर की दूरी पर जिस जगह पर नक्सलियों ने पोस्टर लगाया था आईईडी ब्लास्ट किया जिसकी चपेट में आने से आमदई कैम्प में तैनात सीएएफ के जवान स्वयं भीमा पिता गंगा भीमा 9ह्लद्ध बीएन निवासी एराबोर जिला सुकमा आईईडी की चपेट में आ गया है। घायल जवान को एम्बुलेंस की मदद से छोटेडोंगर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया जहां प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर उपचार के लिए रायपुर रैफर किया गया। जवान को दाये पैर पर चोट आई है।

आईईडी ब्लास्ट में एएसआई शहीद, एक जवान घायल...

आईईडी ब्लास्ट में एएसआई शहीद, एक जवान घायल...

नारायणपुर : नारायणपुर के सोनपुर इलाके में नक्सलियों ने आईईडी धमाका किया है, जिसकी चपेट में आने से आईटीबीपी 53 बटालियन की A कंपनी का एएसआई शहीद हो गया, वहीं एक जवान घायल हुआ है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार रोड सुरक्षा के लिए टुकड़ी रवाना हुई थी। रूटीन गश्त के दौरान जवानों को निशाना बनाते हुए नक्सलियों ने आईईडी ब्लास्ट किया। इस ब्लास्ट में एएसआई राजेन्द्र सिंह शहीद हो गए।

वहीं हेड कॉन्स्टेबल महेश घायल है। घायल जवान को बेहतर चिकित्सा के लिए एयरलिफ्ट किया गया है। इस घटना की पुष्टि नारायणपुर के एसपी सदानंद कुमार ने की है। 

अवकाश के दिनों में पंजीयन कार्यालय, कोषालय और संबंधित बैंक खोलने के निर्देश

अवकाश के दिनों में पंजीयन कार्यालय, कोषालय और संबंधित बैंक खोलने के निर्देश

नारायणपुर : वित्तीय वर्ष 2021-22 के समाप्त होने से कुछ ही दिन शेष रह गये हैं, जिसे दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर ने जन-सामान्य की सुविधा और शासकीय राजस्व की अनिवार्यता को देखते हुए अवकाश के दिनों में भी पंजीयन कार्यालय, कोषालय और संबंधित बैंक खोलने के निर्देश दिये हैं। अधिक पंजीयन की संभावनाओं को देखते हुए माह मार्च में 12 और 26 मार्च 13, 27 और सोमवार 28 मार्च भक्त माता कर्मा जयंती को शासकीय अवकाश के दिन भी उप पंजीयक कार्यालय को खोलने के निर्देश दिये हैं। 

मुखबधिर बालिका से दुष्कर्म , आरोपी गिरफ्तार

मुखबधिर बालिका से दुष्कर्म , आरोपी गिरफ्तार

 नारायणपुर : जिले के कोतवाली थाने क्षेत्र अंर्तगत शांति नगर में युवकों ने शराब का सेवन कर मुखबधिर बालिका से दुष्कर्म के मामले की रिपोर्ट दर्ज होने के बाद पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल दाखिल कर दिया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गुरुवार की दरम्यान रात्रि मुखबधिर बालिका के पड़ोस में रहने वाली विधि से संघर्षरत बालिका सहित 02 युवकों द्वारा गढ़बेंगाल शादी में ले जाने का बहाना कर अपने साथ शांति नगर स्थित रजनु वड्डे के कमरे में ले जाकर विधि से संघर्षरत बालिका रजनु वड्डे, संतलाल नाग के साथ शराब का सेवन कर लिया।

शराब के नशे में धुत होकर रजनु वड्डे, संतलाल नाग ने मुकबधिर बालिका के साथ जबरदस्ती बारी बारी से दुष्कर्म किया। इस घटना की जानकारी मुखबधिर बालिका का द्वारा अपने परिजनों को देने पर परिजनों ने कोतवाली थाने में मामले की रिपोर्ट दर्ज कराई। टीआई तोपसिंग नवरंग ने पीडि़त द्वारा बताए गए हुलिया एव मोबाईल लोकेशन की सहायता से आरोपी विधि से संघर्षरत बालक, संतलाल नाग, रजनु वड्डे को गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश कर जेल भेज दिया है।

छत्तीसगढ़ : जंगल में मुठभेड़, एक नक्सली ढेर

छत्तीसगढ़ : जंगल में मुठभेड़, एक नक्सली ढेर

नारायणपुर : रविवार की रात करीब डेढ़ बजे जिला नारायणपुर के थाना भरण्डा से 6 किमी. दक्षिण दिशा में पुल के पास डीआरजी नारायणपुर और माओवादियों के बीच मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ पश्चात् घटना स्थल की सर्चिंग के दौरान एक अज्ञात माओवादी का शव बरामद किया गया है साथ ही एक भरमार हथियार के साथ भारी मात्रा में नक्सल सामग्री बरामद हुई है। क्षेत्र में सर्चिंग जारी है। घटना की पुष्टि एसपी गिरिजा शंकर जायसवाल ने की है। मारे गए नक्सली के शव को पुलिस लाइन लाया गया है। 

CG NEWS : बस ब्लास्ट कर 5 जवानों की हत्या करते हुए 22 जवानों को गंभीर रूप से घायल करने वाले सक्रिय और हार्डकोर नक्सली पण्डरू पदामी गिरफ्तार...

CG NEWS : बस ब्लास्ट कर 5 जवानों की हत्या करते हुए 22 जवानों को गंभीर रूप से घायल करने वाले सक्रिय और हार्डकोर नक्सली पण्डरू पदामी गिरफ्तार...

नारायणपुर : बस्तर आईजी सुंदरराज पी के विशेष मार्गदर्शन में चलाये जा रहे नक्सल अभियान के तहत शनिवार को आईपीएस गिरिजा शंकर जायसवाल, पुलिस अधीक्षक, नारायणपुर के निर्देशानुसार हार्डकोर नक्सली पण्डरू पदामी को गिरफ्तार किया गया है। हार्डकोर नक्सली पण्डरू पदामी (पिता स्व0 सुखराम पदामी उम्र 20 वर्ष निवासी गुमटेर मुरियापारा) जो वर्तमान में पल्ली बारसूर निर्माणाधीन सड़क में कड़ेनार से कडेमेटा के बीच बड़ी नक्सल घटना को अंजाम देने के लिए लगातार रेकी करने तथा छोटेड़ोंगर थाना क्षेत्रांतर्गत ग्राम तोयामेटा में नक्सल गतिविधियों के विस्तार करने हेतु आया था। ये नक्सली आईटीबीपी के शहीद असिस्टेट कमाण्डेंट सुधाकर शिंदे और शहीद सहायक उप निरीक्षक गुरमुख सिंह की हत्या और षडय़न्त्र में शामिल था साथ ही बुकिनतोर बस ब्लास्ट में 5जवानों की हत्या करते हुए 22जवानों को गंभीर रूप से घायल करने की घटना को अंजाम देने देने में भी शामिल था।


उल्लेखनीय है कि उक्त नक्सली नक्सली संगठन में आदेरबेड़ा क्षेत्र का नक्सली सदस्य के रूप में सक्रिय होकर कार्य कर रहा था। शुक्रवार को पुलिस अधीक्षक गिरिजा शंकर जायसवाल को सूचना मिली कि उक्त घटना में सक्रिय रहने वाला हार्डकोर नक्सली वर्तमान में नक्सल विस्तार के लिये थाना छोटेड़ोंगर क्षेत्रांतर्गत ग्राम तोयामेटा आया है, प्राप्त सूचना पर त्वरित कार्यवाही करते हुए श्री जायसवाल ने एसडीओपी छोटेड़ोंगर अभिषेक पैकरा को निर्देशित करते हुए कैम्प कड़ेनार से डीआरजी टीम रवाना किया था। उक्त टीम ने सक्रियता से घेराबंदी कर पण्डरू पदामी को गिरफ्तार किया है। पूछताछ के दौरान गिरफ्तार नक्सली द्वारा दोनों मुख्य घटनाओं में अपनी सक्रियता सहित छोटे-बडे अनेको नक्सल गतिविधियों में सक्रिय रहने की बात को स्वीकार किया है। फलस्वरूप उक्त हार्डकोर नक्सली पण्डरू पदामी को माननीय सीजेएम महोदय, नारायणपुर के समक्ष प्रस्तुत करते हुए न्यायिक रिमाण्ड पर जेल भेज दिया गया है।


शहीद असिस्टेट कमाण्डेंट सुधाकर शिंदे और शहीद सहायक उप निरीक्षक गुरमुख सिंह की हत्या और षडय़न्त्र में शामिल था पण्डरू पदामी
गिरफ्तार हार्डकोर नक्सली पण्डरू पदामी 20.08.2021 को ग्राम कड़ेमेटा में घटित नक्सली घटना जिसमें असिस्टेट कमाण्डेंट सुधाकर सिंदे तथा सहायक उप निरीक्षक गुरमुख सिंह की गोली मारकर हत्या करने व एके-47 रायफल, मैग्जीन, राउण्ड और बीपी जैकट तथा मोटोरोला सेट लूटने की घटना का षडय़ंत्र करने, रैकी करने व घटना को अंजाम देने में शामिल था। गिरफ्तार नक्सली पण्डरू पदामी अमदईघाटी एरिया कमेटी सचिव सुरेश सलाम के करीबी और हार्डकोर सक्रिय नक्सली है।


बुकिनतोर बस ब्लास्ट में 5जवानों की हत्या और 22जवानों को घायल करने की घटना में भी शामिल रहा है, पण्डरू पदामी :
हाल ही में नारायणपुर पुलिस द्वारा मारा गया 10 लाख रूपये के ईनामी नक्सली (कंपनी नंबर-06 कमाण्डर) साकेत नुरेटी उर्फ भास्कर नुरेटी के साथ मिलकर दिनांक 23.03.2021 को कैम्प कड़ेनार एवं कन्हारगांव के मध्य बुकिनतोर पुलिया के पास बस ब्लास्ट कर 5जवानों की हत्या करने तथा 22जवानों को घायल करने की घटना में शामिल रहा है।


श्री जायसवाल ने बताया कि आईजी बस्तर के निर्देशानुसार सीमावर्ती जिला एवं सीमावर्ती राज्यों के पुलिस/फोर्स के मध्य बेहतर कम्युनिकेशन स्थापित होने से नक्सल विरोधी अभियान को गति मिली है।इसी का परिणाम है की कुछ ही समय मे बेहतर कम्युनिकेशन एवम आपरेशन के माध्यम से नारायणपुर पुलिस ने पिछले कुछ दिनों में दण्डकारण्य स्पेशल जोनल के अंतर्गत कंपनी न. 6 एवम अमदेई एरिया कमेटी को भारी क्षति पहुचाया है।


श्री जायसवाल ने मीडिया के माध्यम से अपील की है कि आम लोग नक्सलियों के झांसे में आकर मानव अधिकारों और विकास के विरोध में खड़ा होने को मजबूर न होकर पुलिस और प्रशासन का सहयोग करें। पुलिस को पता है कि नक्सलियों ने सुरक्षा कैम्प एवं विकास कार्यों के विरोध प्रदर्शन हेतु ग्रामवार समय-सारणी (चार्ट) तैयार की है, जिसके तहत् नक्सल आन्दोलन में शामिल नहीं होने वाले ग्रामीणों के विरूद्ध शारीरिक दण्ड एवं जुर्माना हेतु माओवादियों की एरिया कमेटी तथा डिवीजनल कमेटी स्तर की बैठकों में प्रस्ताव भी पारित किया गया है। यदि ऐसी कोई घटना अथवा कार्यवाही होने की संभावित जानकारी मिलती है तो आप उसकी सूचना पुलिस को दें ताकि ऐसे गतिविधियों पर अंकुश लगाते हुए हम आपकी बेहतर सुरक्षा और समूचित विकास सुनिश्चित कर सकें।
 

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: सड़क निर्माण के विरोध में सरपंच की हत्या, नक्सलियों ने जेसीबी भी फूंका

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: सड़क निर्माण के विरोध में सरपंच की हत्या, नक्सलियों ने जेसीबी भी फूंका

नारायणपुर: जिले में नक्सलियों ने सड़क निर्माण के विरोध में सरंपच की हत्या कर दी। वहीं निर्माण में लगे जेसीबी को आग के हवाले कर दिया। कुकराझोर थाना क्षेत्र का यह मामला है। बताया जा रहा है कि हथियारबंद नक्सलियों ने ग्राम पंचायत करमरी के सरपंच बिजु सलाम की बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया। इसके बाद सड़क निर्माण को प्रभावित करने जेसीबी मशीन को जला दिया और निर्माण कार्य बंद करने की सख्त चेतावनी दी। नक्सली घटना से पूरे गांव में दहशत का माहौल है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने सरपंच का शव बरामद किया है।

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: 10 लाख के ईनामी नक्सली कंपनी कमाण्डर को जवानों ने मार गिराया

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: 10 लाख के ईनामी नक्सली कंपनी कमाण्डर को जवानों ने मार गिराया

नारायणपुर: सोमवार को छोटेड़ोंगर से डीआरजी नारायणपुर की 02 टीम ग्राम बांहकेर की ओर एरिया डाॅमिनेशन के लिए रवाना की गई थी। इसी बीच करीबन 10.30 बजे ग्राम बांहकेर के जंगल में पुलिस पार्टी पहुंची तो साकेत नरेटी उर्फ भास्कर नुरेटी के नेतृत्व वाली कम्पनी नम्बर-06 के लगभग 35-40 सशस्त्र वर्दीधारी नक्सलियों ने पुलिस बल पर अंधाधुध फायरिंग शुरू कर दी, जिसके फलस्वरूप डीआरजी के जवानों ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए नक्सलियों पर फायरिंग की। पुलिस बल के जवाबी कार्रवाई को भारी पड़ता देखकर सशस्त्र नक्सली फरार हो गये। फायरिंग रुकने पर पुलिस बल के द्वारा क्षेत्र की सर्चिंग की गई, इस दौरान एक वर्दीधारी नक्सली का शव और एक ए.के.-47 रायफल बरामद किया गया। आत्मसमर्पित नक्सलियों और उपलब्ध प्रोफाईल फोटो के आधार पर नक्सली के शव की शिनाख्तगी की करवाई गई, जिसमें शव की पहचान कंपनी नंबर-6 के कमांडर साकेत नुरेटी उर्फ भास्कर नुरेटी के रूप में की गई।

उल्लेखनीय है कि साकेत नुरेटी उर्फ भास्कर नुरेटी, उम्र-40 वर्ष, साकिन बुढ़ाकुर्से थाना आमाबेड़ा जिला कांकेर का निवासी था। जो कि सीवायपीसी (कंपनी पार्टी कमेटी) कंपनी नंबर-06 का कम्पनी कमाण्डर था। साकेत नरेटी उर्फ भास्कर नुरेटी एके-47 रायफल, यूबीजीएल और मेनपैक सेट रखता था। इनके अधीन कम्पनी नंबर- 06 के करीबन 45-50 वर्दीधारी नक्सली शामिल थे। इनका मुख्य कार्यक्षेत्र, छोटेड़ोगर, धनोरा, बेनूर, फरसगांव, धौड़ाई, बारसूर, कुदूर, मर्दापाल, बयानार, झारा, बड़ेडोंगर और केशकाल का सम्पूर्ण क्षेत्र के साथ माड़िन नदी के किनारे से होकर बारसूर तक का क्षेत्र रहा है। राज्य सरकार के आदेश के तहत् इनके पदीय दायित्वों के आधार पर 10,00,000 (शब्दों में दस लाख) रूपये ईनाम था।

 BIG NEWS : नक्सलियों और पुलिस बीच हुई मुठभेड़ करीब आधे घंटे तक चली फायरिंग, जानिये क्या है पूरी ख़बर

BIG NEWS : नक्सलियों और पुलिस बीच हुई मुठभेड़ करीब आधे घंटे तक चली फायरिंग, जानिये क्या है पूरी ख़बर

जगदलपुर :पुलिस और नक्सलियों के बीच एक बार फिर  हुई  मुठभेड़ हई है। इस मुठभेड़ में एक वर्दीधारी नक्सली ढेर हो गया है। बताया गया है कि जवान जंगल की ओर एरिया डोमिनेशन पर निकले हुए थे, तभी नक्सलियों ने उन पर फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में जवानों ने एक 10 लाख का इनामी नक्सली को ढेर कर दिया। उसका शव भी बरामद कर लिया है। मामला छोटेडोंगर थाना क्षेत्र है।


जानकारी के मुताबिक, DRG के जवान सोमवार सुबह एरिया डोमिनेशन पर छोटेडोंगर जंगल की ओर निकले थे। इसी दौरान वहां पहले से कुछ नक्सली पहाड़ों के नीचे मौजूद थे। जवानों को देखकर उन्होंने फायरिंग शुरू कर दी। इस पर जवानों ने भी फायरिंग कर दी। पता चला है कि दोनों तरफ से करीब आधे घंटे फायरिंग चली, जिसमें नक्सली साकेत नरेटी (30) मारा गया है। साकेत कांकेर जिले का रहने वाला था। वह नक्सलियों के पी.पी.सी. प्लाटून नंबर 6 का सेक्शन कमांडर था। सरकार ने साकेत पर 10 लाख का इनाम रखा था। पुलिस ने मौके से एक AK 47 राइफल भी बरामद किया है। फिलहाल जवानों का मौके पर सर्च ऑपरेशन जारी है।
20 लाख के नक्सली ढेर हुए थे


बस्तर के दंतेवाड़ा जिले में पिछले 1 सप्ताह में जवानों ने दो अलग-अलग मुठभेड़ में कुल 4 माओवादियों को ढेर किया है। इनमें 3 महिला माओवादी भी शामिल हैं। इन चारों माओवादियों पर छत्तीसगढ़ शासन की तरफ से 5-5 लाख रुपए का इनाम घोषित था। जिन तीन महिला नक्सलियों को ढेर किया गया है वे कटेकल्याण एरिया कमेटी की हार्डकोर माओवादी थीं। तीनों कई बड़ी घटनाओं में भी शामिल रही हैं। इसके अलावा जिस पुरुष माओवादी को जवानों ने मारा है वो नक्सलियों के इंद्रावती एरिया कमेटी में सक्रिय था।

 

CG NEWS: मामूली विवाद पर एसपी ने की ड्राइवर की पिटाई

CG NEWS: मामूली विवाद पर एसपी ने की ड्राइवर की पिटाई

नारायणपुर: नए-नए विवादों से घिरे रहने वाले आईपीएस उदय किरण पर अब अपने ही ड्राइवर की बेरहमी से पिटाई का मामला सामने आया है। उदय किरण फिलहाल नारायणपुर जिले के एसपी हैं। उन्होंने अपने ड्राइवर आरक्षक जयलाल नेताम को बुरी तरह पीटा है, जिसके बाद नेताम को हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है। इस घटना के बाद आदिवासी समाज में काफी नाराजगी है। यह ऐसे समय में हो रहा है, जब मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बस्तर दौरे पर हैं। इस पूरे घटनाक्रम पर आदिवासी समाज के नेता व पूर्व सांसद सोहन पोटाई ने कहा कि उदय किरण ने लात-घूंसों से आरक्षक की पिटाई की है। वह चलने की स्थिति में नहीं है।

उसे हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है। पोटाई ने एसपी उदय किरण को तत्काल पद से हटाने और एट्रोसिटी एक्ट के तहत जुर्म दर्ज करने की मांग की है। इस मामले में आदिवासी समाज की बैठक बुलाई गई है, जिसके बाद यदि शासन की ओर से कार्रवाई नहीं की जाएगी तो आंदोलन शुरू किया जाएगा। पोटाई के मुताबिक उदय किरण पर यह पहला आरोप नहीं है। इससे पहले भी बर्बरतापूर्वक पिटाई के मामले सामने आ चुके हैं। यह सरकार की अक्षमता है या पुलिस-प्रशासन निरंकुश हो गया है। बता दें कि हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने महासमुंद की घटना पर आईपीएस उदय किरण के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए हैं। आईपीएस उदय किरण ने मारपीट की बात से साफ़ इंकार किया है। आईपीएस उदय किरण ने कहा-
`सरकारी गाड़ी की सफ़ाई नहीं थी, मैंने उसे डाँटा और कहा कि तुमसे गाड़ी की सफ़ाई नहीं होती तो तुम को लाइन भेज रहा हूँ`

 पत्नी और पिता के बीच अवैध संबंध के शक में युवक ने कुल्हाड़ी मारकर पिता को उतारा मौत के घाट

पत्नी और पिता के बीच अवैध संबंध के शक में युवक ने कुल्हाड़ी मारकर पिता को उतारा मौत के घाट

रायगढ़। रायगढ़ जिले के पुसौर ब्लाक के ग्राम बरदापुटी गांव में एक बेटे ने अपने पिता को कुल्हाड़ी से तबाड़तोड़ हमला कर मौत के घाट उतार दिया है। घटना के बाद से आरोपी युवक फरार हो गया है। 
 


जानकारी के अनुसार पुसौर थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले ग्राम बरदापुटी में 29 सितंबर सुबह करीब साढ़े 7 बजे आरोपी राम बिहारी सारथी 30 वर्ष ने अपने पिता मुखीराम सारथी 60 वर्ष को कुल्हाड़ी मारकर उसकी हत्या कर दी। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक आरोपी युवक को संदेह था कि उसकी पत्नी और उसके पिता का अवैध संबंध है। इस मामले को लेकर पहले पूर्व में ग्राम प्रधानों के बीच मीटिंग भी आयोजित हो चुकी थी।
बड़ी खबर छत्तीसगढ़: नक्सलियों के खिलाफ रिपोर्ट लिखाने पूरा गांव पहुंचा थाना

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: नक्सलियों के खिलाफ रिपोर्ट लिखाने पूरा गांव पहुंचा थाना

नारायणपुर: छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले के छोटेडोंगर थाना क्षेत्र के मढ़ोनार गांव में नक्सलियों के खिलाफ बगावत शुरू हो गई है। बस्तर का यह पहला मामला है जब नक्सलियों के खिलाफ थाने में रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए पूरा गांव उठ कर थाने पहुंचा। ग्रामीणों में आक्रोश की वजह यह है कि गुरुवार को नक्सलियों द्वारा पीएमजीएसवाई के पुलिया निर्माण में लगे मजदूरों के साथ मारपीट कर निर्माण कार्य करा रहे दल्लीराजहरा निवासी संदीप जाला की हत्या कर निर्माण कार्य में लगे एक जेसीबी, दो ट्रैक्टर व एक सीडी डान मोटरसाइकिल को आग के हवाले कर दिया था। इस घटना को लेकर ग्रामीणों में काफी आक्रोश है। शुक्रवार को मढ़ोनार व आसपास क्षेत्र के करीब 200 की संख्या में ग्रामीण पैदल आठ किमी चलकर छोटेडोंगर नक्सलियों के खिलाफ बेवजह महिला मजदूरों के साथ मारपीट, गांव के सड़क व पुलिया निर्माण को रोकने के विरोध में रिपोर्ट दर्ज कराई। ग्रामीणों का कहना है कि हम गरीब मजदूरी कर अपना और अपने परिवार का जीवनयापन करते हैं परंतु नक्सली बेवजह हमारे साथ मारपीट कर हमें धमकी देते हैं। नक्सली सड़क निर्माण व पुलिया निर्माण कार्य में अड़चन डाल कर गांव की विकास को रोक रहे हैं। सरकार सड़क हम गांव वालों के चलने के लिए बना रही है फिर नक्सली क्यो गांव के विकास कार्यों में बांधा डाल रहे हैं।

पुरूष के साथ ही गांव की महिलाएं भी अपने दुधमुंहे बच्चों को लेकर थाने पहुंची और नक्सलियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की। नक्सलियों के द्वारा महिला मजदूरों से बेवजह मारपीट करने के बाद गांव में काफी आक्रोश है। जिन महिलाओं के साथ नक्सलियों ने मारपीट किया उनका कहना है कि नक्सलियों ने अचानक मढोनार के पुलिया निर्माण के पास पहुंचकर मारपीट शुरू कर दी जब हमारे द्वारा मारपीट की वजह पूछी गई तो नक्सलियों ने कहा कि काम ना करने के लिए कहा गया था फिर क्यो काम किया जा रहा है। पुरे मामले में पुलिस का कहना है कि नक्सलियों द्वारा गांव के गरीब मजदूरों से मारपीट करना ग़लत है गांव के लोग नक्सलियों के आतंक से त्रस्त हो चुके हैं।


नक्सलियों को गांव आने से मना कर चुके हैं ग्रामीण
पिछले कई सालों से मढ़ोनार में नक्सलियों की मौजूदगी नहीं हो रही थी इसका कारण यह है कि गांव वाले नक्सलियों को अपने गांव में आने के लिए मना कर चुके हैं। गांव में नक्सली नहीं आते हैं। जब से सड़क निर्माण कार्य चल रहा है तभी से आ रहे हैं। गांव वाले नक्सलियों का दाना-पानी भी बंद कर चुके हैं किसी तरह का कोई मदद नहीं करते है।


मढ़ोनार में गुरुवार को नक्सलियों द्वारा करीब साढ़े तीन बजे दस्तक देकर पुलिया निर्माण कार्य में लगे वाहनों पर आगजनी कर मुंशी की हत्या की गई।साथ ही पुलिया निर्माण कार्य में कार्य कर रहे महिला मजदूरों के साथ मारपीट की गई, जिसे लेकर ग्रामीण काफी आक्रोशित हैं। ग्रामीणों ने नक्सलियों के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्यवाही की मांग की है।

 बड़ी खबर : बाइक में फंसा महिला का गमछा, हादसे में महिला की मौके पर ही मौत

बड़ी खबर : बाइक में फंसा महिला का गमछा, हादसे में महिला की मौके पर ही मौत

नारायणपुर। जिले के बेनूर थाना से 04 किलोमीटर दूर ग्राम नेतानार निवासी मसुराम नेताम अपनी मौसी को लेने बेनूर आया हुआ था। वह अपनी मौसी को लेकर अपने गृहग्राम नेतानार जा रहा था कि बेनूर से 01 किलोमीटर दूर ग्राम भीरागांव पटेलपारा के पास चलती मोटर साइकिल के चक्के में गमछा फंस जाने से मसुराम की मौसी गिर गई जिससे उसके सिर में गम्भीर चोट आई और मौके पर ही उसकी मौत हो गई। घटना की सूचना मिलते ही तत्काल बेनूर थाना प्रभारी निरीक्षक मनोज बंजारे अपने स्टाफ के साथ घटना स्थल पहुंचे और शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा गया।
 बड़ी खबर छत्तीसगढ़: नक्सली हमले में असिस्टेंट कमांडेंट और एएसआई शहीद

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: नक्सली हमले में असिस्टेंट कमांडेंट और एएसआई शहीद

नारायणपुर। छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिला मुख्यालय से 50 किमी दूर अति नक्सल प्रभावित कडेमेटा कैम्प से छह सौ मीटर की दूरी पर शुक्रवार को नक्सली हमले में आईटीबीपी 45 बटालियन के ई कंपनी के असिस्टेंट कमांडेंट और एएसआई शहीद हो गए है। 

घटना के बाद नक्सलियों ने जवानों के हथियार,वायरलेस सैट और बुलेटप्रूफ जैकेट भी लूटकर ले गए है। घटना की पुष्टि एएसपी नीरज चंद्राकर ने की गई।  मिली जानकारी के अनुसार कड़ेमेटा और कड़ेनार कैम्प के बीच कैम्प से निकले जवानो पर एम्बुस लगाकर नक्सलियो ने किया हमला किया है। आईटीबीपी 45 बटालियन के असिस्टेंट कमांडेंट सुधाकर शिंदे और एएसआई गुरुमुख सिंह नक्सल हमले में शहीद हुए है। सुधाकर शिंदे कडेमेटा कैम्प के प्रभारी थे। रायपुर में इनका परिवार रहता है। मूलत: वे महाराष्ट्र के रहने वाले थे। हाल के दिनों में प्रमोशन पाकर असिस्टेंट कमांडेंट बने थे। मौके पर सर्चिंग के लिए डीआरजी के जवानो को रवाना किया गया है। सूत्रों के मुताबिक जवानों से एक एके-47 हथियार, दो बुलेटप्रूफ जैकेट और वाकी टॉकी लूट कर ले गए है।

सूत्रों के मुताबिक कैम्प से कुछ ही दूरी पर बेचा गांव के पास  जियो मोबाइल का नेटवर्क देता है आईटीबीपी के जवान यही पर आकर मोबाइल से बात करते थे । नक्सलियों को इसकी खबर थी । शुक्रवार करीब तीन बजे आईटीबीपी के असिस्टेंट कमांडेंट और एएस आई बेचा में जियो नेटवर्क में  मोबाइल से बात करने गए हुए थे तभी नक्सलियों ने आईईडी ब्लास्ट कर दिया जिससे दोनों की मौके पर मौत हो गई है।
+ Load More