कोरोना अपडेट : प्रदेश के इस जिले में कोरोना ने ढाया कहर, छत्तीसगढ़ में कल के मुकाबले आज बढ़ी नए कोरोना मरीजों की संख्या    |    बड़ा हादसा: खाई में गिरी मेटाडोर ,10 की मौत व 15 घायल, पीएम मोदी ने जताया शोक    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज 2 की हुई मृत्यु, आज इतने मरीजों की हुई पहचान, देखे जिलेवार आकड़े    |    मौसम अलर्ट: उत्तर-पूर्वी मानसून की आहट से इन राज्यों पर मंडराया बारिश का खतरा    |    बड़ी खबर: पटाखे की गोदाम में लगी भयानक आग से 5 की गई जान, 9 लोग घायल    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में फिर पैर पसारने लगा है कोरोना, छत्तीसगढ़ में आज इतने मरीजों की हुई पहचान    |    बदल गए पेंशन के नियम, 30 नवंबर तक ये काम ना किया तो रुक जाएगी पेंशन    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश के इस जिले में हुआ कोरोना विस्फोट, धीरे धीरे फिर से बढ़ रहे है एक्टिव मरीजो की संख्या, देखें जिलेवार आंकड़े    |    बड़ी खबर: राज्यपाल की बिगड़ी तबियत, दिल्ली AIIMS में भर्ती    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश के इन दो जिलों में हुआ कोरोना विस्फोट, आज प्रदेश में मिले इतने नए मरीज, देखें जिलेवार आंकड़े    |
बड़ी खबर: तालाब में नहाने गए भाई बहन की गहरे पानी में डुबने से हुई मौत, गांव में पसरा मातम

बड़ी खबर: तालाब में नहाने गए भाई बहन की गहरे पानी में डुबने से हुई मौत, गांव में पसरा मातम

मुंगेली। छत्तीसगढ़ के बिलासपुर संभाग के मुंगेली जिले से एक दु:खद समाचार मिली है। जिले के पथरिया थानाक्षेत्र अंतर्गत एक ग्राम में स्थित तालाब में स्नान करने गए भाई बहन की गहरे पानी में डूबने से मौत हो गई। घटना के बाद गांव में मातम पसरा हुआ है। 


मिली जानकारी के अनुसार पथरिया थानाक्षेत्र के ग्राम चंद्रगढ़ी में स्थित तालाब में गुरूवार सुबह सूरज (4वर्ष) अपनी बहन मंजू के साथ नहाने गया। नहाते नहाते दोनों गहरे पानी में डूबने लगे। उन्हें डूबते देख आसपास के लोगों ने उन्हें बचाने की कोशिश की लेकिन गहरे पानी ने उन्हें अपने आगोश में ले लिया। जैसे-तैसे ग्रामीणों ने उन्हें तालाब से निकालकर स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया। जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। स्थानीय ग्रामीणों ने आरएनएस को बताया कि मृतकों के माता-पिता दोनों ही बाहर मजदूरी करने का काम करते हैं और उनकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है। कुछ दिनों पहले दोनों बच्चे अपने मां के साथ गांव आए थे और यहीं रह रहे थे। आज हुए इस हृदय विदारक घटना के बाद ग्रामीणों में शोक की स्थिति है और गांव में मातम पसरा है। 
CG NEWS: पुरानी रंजिश के चलते पत्नी के सामने युवक को पीट-पीटकर मार डाला

CG NEWS: पुरानी रंजिश के चलते पत्नी के सामने युवक को पीट-पीटकर मार डाला

छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले से पुरानी रंजिश के चलते हत्या का मामला सामने आया है, जेल से छूटे एक व्यक्ति ने अपने भाई और पिता के साथ मिलकर एक युवक को पीट-पीटकर मार डाला। दो साल पहले वह इस युवक की नाबालिग बेटी को भगा ले गया था। उसने FIR कराई तो पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार करके लड़की को बरामद किया था। जमानत पर छूटने के बाद आरोपियों ने उससे बदला लेने के लिए उसकी जान ले ली।
विवाद दिसंबर 2019 से शुरू हुआ था। लोरमी थाना के बोड़तरा गांव निवासी रोहित साहू की नाबालिग बच्ची को भागवत जायसवाल भगाकर ले गया था। पुलिस ने भागवत को गिरफ्तार करके जेल भेजा था। कुछ महीने बाद भागवत जेल से जमानत पर छूटकर आ गया था। उसने रोहित के परिवार से बदला लेने की योजना बनाई।


सोमवार को गांव में गणेश विसर्जन हो रहा था, दोपहर को उस विसर्जन में रोहित साहू का भतीजा छोटू भी शामिल था। सभी नाचने गाने में व्यस्त थे, इसी दौरान भागवत, कुंभकरण और उसके पिता शिव प्रसाद जायसवाल विसर्जन में पहुंच गए और छोटू को पीट दिया। छोटू की पिटाई की बात जैसी ही रोहित को पता चली रोहित शाम को अपनी पत्नी के साथ शिव प्रसाद के घर पहुंच गया और उसने भतीजे के साथ हुई मारपीट का विरोध जताया।


भागवत ने अपने पिता शिवप्रसाद और भाई कुंभकरण जायसवाल के साथ मिलकर रोहित को घेर लिया और उसे पीटना शुरू कर दिया। रोहित को टंगिया और लाठी से पिटता देख उसकी पत्नी बीच-बचाव के लिए आई। वह हाथ जोड़कर उसे छोड़ने के लिए मिन्नतें करती रही, लेकिन आरोपियों ने रोहित के साथ उसकी पत्नी को भी पीट दिया। तीनों मिलकर रोहित को तब तक पीटते रहे, जब तक उसकी मौत नहीं हो गई। उसकी पत्नी भी पिटाई में गंभीर रूप से घायल हुई है।


घटना के बाद शाम को ही आसपास के लोग मौके पर पहुंच गए और इस बात की शिकायत लोरमी थाने में दर्ज कराई गई। लोरमी थाना प्रभारी राजकुमार साहू ने बताया कि पुलिस आरोपियों की तलाश के लिए उनके कई ठिकानों पर छापामार कार्रवाई कर रही है। पुलिस ने बताया कि रोहित के तीन बच्चे थे, जिसमें एक बच्चे की मौत हो चुकी है। फिलहाल मामले की जांच जारी है।

CG BREAKING: दहेज में बाइक न मिलने से परेशान पति ने पत्नी की कर दी निर्मम हत्या

CG BREAKING: दहेज में बाइक न मिलने से परेशान पति ने पत्नी की कर दी निर्मम हत्या

छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले से एक शर्मनाक खबर सामने आ रही है, शुक्रवार को एक नवविवाहिता की हत्या का मामला सामने आया है। महिला को उसके पति ने इसलिए मारा डाला, क्योंकि शादी में दहेज में बाइक नहीं दी थी। इस बात को लेकर दोनों में आए दिन विवाद होता था। मामला इतना बढ़ गया कि युवक ने पत्नी का गला घोंटकर मौत के घाट उतार दिया है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। मामला फास्टरपुर थाना क्षेत्र का है।


बताया गया है कि सिंघनपुरी गांव में रहने वाले राहुल साहू की शादी 7 महीने पहले कवर्धा जिले के पूसेरा गांव की आरती के साथ हुई थी। दोनों के बीच शुरुआत में सब कुछ ठीक चला रहा था, लेकिन कुछ दिन बाद राहुल का आरती से दहेज में बाइक नहीं देने को लेकर विवाद शुरू हो गया।
इसके चलते राहुल आए दिन आरती को गाली देता और उसके साथ मारपीट करता था। पति के मारपीट की जानकारी आरती ने परिजनों को भी दी थी। इसी बीच 15 सितंबर को राहुल ने आरती की हत्या कर दी। हत्या के बाद राहुल ने आरती के घरवालों को बताया कि आरती की मौत चाय बनाते वक्त हीटर में करंट की चपेट में आने से हुई है।


आरती के गले में मिले निशान
हत्या के बाद आरती के घरवालों को राहुल पर शंका थी। यही वजह थी कि उसके घरवालों ने अंतिम संस्कार से पहले आरती के शरीर को पूरी तरह से अच्छे से देखा। उन्हें आरती के गले में चोट के निशान मिले। परिजनों ने आशंका जताई कि किसी चीज से आरती का गला घोंटा गया है। इसके बाद परिजनों ने इस बात की शिकायत फास्टरपुर पुलिस से की थी। पुलिस ने राहुल को हिरासत में लिया, पूछताछ में राहुल ने आरती की हत्या गला घोंटकर करने की बात कबूल की है। फिलहाल पुलिस अब पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है।

 CG में बड़ा हादसा: एनीकेट पार करते तेज़ पानी बहाव में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत

CG में बड़ा हादसा: एनीकेट पार करते तेज़ पानी बहाव में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत

मुंगेली। छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले में एनीकट पार करते समय नदी में डूब जाने से एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई है, मृतकों में पति, पत्नी और उनकी 9 वर्षीय बच्ची शामिल है। मिली जानकारी के अनुसार मामला जिले के पथरिया थाना क्षेत्र का है।
 
पथरिया इलाके के बगबुड़वा गांव में रहने वाले उतरा मरावी (45 वर्ष), रामेश्वरी मरावी (40 वर्ष) और अन्नपूर्णा मरावी आगर नदी पर बने एनीकट पार कर रहे थे, इस दौरान हादसे का शिकार हो गए है. माना जा रहा है कि तेज पानी के बहाव के बीच एनीकट पार करते समय हादसा का शिकार हो गए. सूचना पर पहुंची पुलिस को पत्नी का शव तो मिल गया है, वहीं पति और बच्ची के शव की तलाश की जा रही है। हादसे के बाद लोगो मे मातम पसरा है।
CG NEWS: घर से घूमने निकला था शख्स, एक दिन बाद खेत में मिली युवक की लाश

CG NEWS: घर से घूमने निकला था शख्स, एक दिन बाद खेत में मिली युवक की लाश

छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले से एक हैरान कर देने वाली खबर सामने आई है, युवक की लाश खेत में पड़ी मिली है। युवक 15 अगस्त की शाम को घर से घूमने के लिए निकला था, लेकिन फिर वापस नहीं लौट सका है। मंगलवार सुबह उसकी लाश गांव के ही खेत में मिली है। मृतक के शरीर और चेहरे पर चोट के निशान हैं। इससे ये आशंका जताई जा रही है कि युवक की हत्या कर उसके शव को खेत में फेंका गया है। पूरा मामला लोरमी थाना क्षेत्र का है।


स्वतंत्रता दिवस के दिन चरनीटोला निवासी महेंद्र (19) घर से ये कहकर निकला की वो घूमने जा रहा है। इस बीच वो देर रात तक घर वापस ही नहीं लौटा। परिजन ने आसपास पता लगाया पर मेंद्र का कुछ पता नहीं चला। इसके बाद परिजन उसे सुबह भी तलाशते रहे। फिर भी महेंद्र का कुछ पता नहीं चला रहा था, जिससे परेशान होकर सोमवार को परिजनों ने महेंद्र के लापता होने की रिपोर्ट लोरमी थाना में दर्ज करा दी। जिस पर पुलिस उसका पता चला रही थी।


मंगलवार की सुबह गांव का ही एक शख्स अपने खेत पर काम करने गया था, जहां उसने देखा कि महेंद्र की लाश बिल्कुल फसलों की बीचों बीच पड़ी हुई है। इसके बाद उसने महेंद्र के घर वालों को इस बात की जानकारी दी। तब जाकर परिजन मौके पर पहुंचे और महेंद्र की लाश देखकर दंग रह गए। परिजनों ने बताया है कि महेंद्र के शरीर और चेहरे पर चोट के निशान हैं। इसी से चलते उन्हें ये आशंका है कि महेंद्र की हत्या कर उसके शव को खेत में फेंका गया है।


10वीं के बाद पढ़ाई छोड़ दी थी
शव मिलने के बाद इस बात की जानकारी लोरमी पुलिस को भी दी गई है। इसके बाद पुलिस ने शव को बरामद कर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। फिलहाल पुलिस इस मामले में हर एंगल से जांच कर रही है। यह भी पता लगाया जा रहा है कि युवक की किसी से पुरानी रंजिश तो नहीं थी। बताया गया है कि युवक ने 2 साल पहले ही 10वीं तक पढ़ाई करने के बाद पढ़ाई छोड़ दी थी।

 बड़ी खबर: छत्तीसगढ़ के इस जिले में बाप-बेटा और बेटी को लाठी-डंडे से पीट-पीटकर उतारा मौत के घाट

बड़ी खबर: छत्तीसगढ़ के इस जिले में बाप-बेटा और बेटी को लाठी-डंडे से पीट-पीटकर उतारा मौत के घाट

मुंगेली। छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले के पथरिया इलाका आज ट्रिपल मर्डर से थर्रा उठा है, जमीन विवाद को लेकर दो पक्षों में हुआ विवाद आज तड़के 3 लोगों की हत्या के बाद समाप्त हुआ। आरोपियों ने बाप-बेटा और उसकी बेटी को लाठी-डंडे से पीट-पीटकर मार डाला। घटना पथरिया थाना क्षेत्र के जरेली गांव की है।

मुंगेली जिले के पथरिया थाना क्षेत्र के जरेली गांव में आज सुबह लोचन उसके पुत्र गणेश और पुत्री सविता का गांव के तेजराम बंजारे,पुत्र मुकुंद सहित 5 लोग से विवाद हुआ। पुलिस कप्तान अरविंद कुजूर ने बताया कि पुरानी रंजिश व जमीन विवाद के चलते दोनो पक्षो में आज सुबह जमकर विवाद हुआ। जिसके बाद तेजराम बंजारे उसके पुत्र मुकुंद सहित अन्य लोगों ने लोचन उसके बेटे व बेटी पर लाठी डंडे से इस कदर जानलेवा हमला किया, कि मौके पर ही तीनो की मौत हो गई है। घटना की सूचना पाकर एसपी अरविंद कुजूर, एसडीपीओ साधना सिंह समेत पुलिस अधिकारियों की टीम घटना स्थल पर पहुंची, मौके का मुआयना कर आरोपी तेजराम, पुत्र मुकुंद समेत 5 लोगो को पुलिस ने हिरासत में लेकर आगे की कार्यवाही कर रही है।
 बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : कोविड केयर सेंटर से 4 संक्रमित फरार, मचा हड़कंप

बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : कोविड केयर सेंटर से 4 संक्रमित फरार, मचा हड़कंप

मुंगेली। कोरोना के बढ़ते प्रकोप ने एक ओर लोगों का जीना दूभर कर दिया है, वहीं अब एक और समस्या खड़ी हो गई है। खबर आई है कि मुंगेली जिले के कोविड केयर सेंटर से 4 मरीज फरार हो गए है। इस खबर के मिलते ही स्वास्थ्य विभाग से लेकर प्रशासन में हड़कंप मच गया है।ज्ञातव्य है कि इन चारों संक्रमितों का मुंगेली के क्रिश्चन हॉस्पिटल में इलाज चल रहा था।

कोविड सेंटर से चार कोरोना मरीज फरार होने के बाद से स्वास्थ्य विभाग अमला और प्रशासन के कान खड़े हो गए हैं। जानकारी के मुताबिक चारों मरीज एक ही परिवार के हैं। मरीजों को आज ही अस्पताल में भर्ती कराया गया था। मिली जानकारी के मुताबिक फोन से संपर्क करने पर अस्पताल प्रबंधन को मरीजों ने जमकर गाली-गलौज की।

कोविड नियम उल्लंघन के तहत चारों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। अस्पताल प्रबंधन ने थाने में लिखित शिकायत की है। कोरोना उपचार के लिए हाल ही में मिशन हॉस्पिटल को मान्यता दी गई है। इसी बीच इतनी बड़ी लापरवाही अस्पताल प्रबंधन पर भी सवाल उठ रहे हैं। मुंगेली में शुक्रवार को 364 कोरोना केस मिले हैं।
 
नौकरी लगाने के नाम पर धोखाधड़ी और ब्लैकमेलिंग के फरार पांच आरोपी गिरफ्तार, रायपुर सहित प्रदेश के कई थानों दर्ज हैं इनके मामले

नौकरी लगाने के नाम पर धोखाधड़ी और ब्लैकमेलिंग के फरार पांच आरोपी गिरफ्तार, रायपुर सहित प्रदेश के कई थानों दर्ज हैं इनके मामले

मुंगेली। जिले के जरहागांव थाना में धोखाधड़ी के मामले में कई महीनों से फरार चल रहे आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। जिले के पुलिस अधीक्षक अरविंद कुजूर के निर्देश तथा अति.पुलिस अधीक्षक अनिल सोनी एवं उप पुलिस अधीक्षक साधना सिंह के मार्गदर्शन में जरहागांव थाना प्रभारी राजकुमार साहू के नेतृत्व में टीम गठित कर फरार आरोपियों की पतासाजी में जुटी और आरोपियों के ठिकानों पर लगातार दबिश दी जा रही थी। इसी दौरान पुलिस टीम के द्वारा इंदौर मध्यप्रदेश में पहुंचकर आरोपियों की मदद करने वाले अभिषेक राठौर से पूछताछ करने पर आरोपियों को पकडऩे में सफलता मिली है। जिले के जरहागांव थाना क्षेत्र में 2 माह पूर्व धोखाधड़ी का दर्ज यह मामला सुलझाने में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। मामले में जरहागांव पुलिस के द्वारा कार्यवाही करते हुए फरार 5 आरोपियों को इंदौर मध्यप्रदेश प्रदेश से गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार किए गए आरोपियों में 3 युवक सहित 2 महिलाएं भी शामिल हैं।
अति.पुलिस अधीक्षक अनिल सोनी ने बताया कि जिले के थाना जरहागांव में 6 जनवरी 2021 को प्रार्थी पीयूष तिवारी के द्वारा मामला दर्ज कराया गया था कि प्रियंका लहरे, शशि लहरे, शैलेंद्र लहरे जो जरहागांव थाना अंतर्गत आने वाले ग्राम खमरिया के निवासी हैं तथा अतुल राठौर जो कि इंदौर मध्यप्रदेश का निवासी है, के द्वारा धोखाधड़ी करते हुए प्रार्थी से 3 लाख रुपये नगद एवं प्रार्थी के जानकार दुकानदार से फर्नीचर ले लिए तथा प्रार्थी के द्वारा अपने रुपयों की मांग करने पर लगातार टालमटोल कर रहे। जिसके बाद पीयूष तिवारी द्वारा आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया था। इसी तरह उक्त आरोपियों के द्वारा ही एक अन्य व्यक्ति अभिषेक गाजलवार को वन विभाग में नौकरी दिलाने का झांसा देकर उससे 1 लाख 20 हजार की राशि लेकर उसे फर्जी नियुक्ति पत्र देकर उसके साथ भी धोखाधड़ी की घटना को अंजाम दिया गया था। धोखाधड़ी के शिकार अभिषेक गाजलवार द्वारा 27 फरवरी 2021 को थाना जरहागांव आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया था। दोनों मामलों के दर्ज होते ही सभी आरोपी फरार हो गए थे इस दौरान जरहागांव पुलिस के द्वारा आरोपियों के पतासाजी करते हुए अम्बिकापुर से आरोपियों के मदद करने वाले एक अन्य सहयोगी अनुज गुप्ता को 14 मार्च को गिरफ्तार किया जो कि अभी न्यायिक हिरासत में मुंगेली उप जेल में बंद है।पुलिस ने बताया कि आरोपियों गिरफ्तार करने के बाद जरहागांव पुलिस के द्वारा आरोपियों को न्यायालय में पेश किया गया जहाँ से सभी आरोपियों को जेल दाखिल कर दिया गया है। आरोपियों के द्वारा प्रदेश के रायपुर तथा दुर्ग जिले में भी धोखाधड़ी के अन्य मामलों में संलिप्तता रही है जिसके बारे में भी जानकारी ली जा रही है।
पुलिस ने बताया कि बेरोजगारों को ठगने गिरोह चलाने वाली प्रियंका लहरे के खिलाफ प्रदेश के कई थानों में मामले दर्ज हैं। रोजगार की चाह रखने वाले पढ़े लिखे नौजवानों को शिकार बनाते हुए प्रियंका लहरे द्वारा उन्हें सरकारी नौकरी लगवाने के झांसा दिया जाता था तथा उन लोगों से मोटी रकम वसूल कर फर्जी नियुक्त पत्र दे दिया जाता था। प्रियंका के इस कृत्य में उसके पति,भाई एवँ माँ भी साथ देती थी जिनके द्वारा ऐसे ही कई कारनामे प्रदेश के कई जिलों पर किये हैं। जिसमें ठगी के शिकार हुए लोगों ने उनके खिलाफ मामले दर्ज कराए हैं। कई थानों में इनके खिलाफ नौकरी लगाने के नाम पर पैसा लेने एवं ब्लैकमेलिंग के मामले दर्ज होते चले गए, यही नहीं कुछ शिकायतें ऐसी है जिस पर जांच जारी है और भविष्य में मामले दर्ज हो सकते है।
अब तक मिली जानकारी के मुताबिक इन आरोपियों के खिलाफ मौदहापारा, रायपुर में धारा 384,120बी,201,389,67 आईटी एक्ट के तहत, थाना कुम्हारी में 420,34 के तहत, थाना भिलाई 3 में धारा 384,354,67 आईटी एक्ट के तहत, थाना जरहागांव में 420,120बी 212 आईपीसी के तहत, थाना जरहागांव में 420,468,120 बी आईपीसी के तहत जुर्म दर्ज है।
 

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: सड़क हादसे में हुई 3 दोस्तों की मौत, नदी पुल से टकराई तेज रफ्तार बाइक

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: सड़क हादसे में हुई 3 दोस्तों की मौत, नदी पुल से टकराई तेज रफ्तार बाइक

 मुंगेली। छत्तीसगढ़ के मुंगेली में हुए दर्दनाक हादसे में आज सुबह 3 युवकों की दुखद मौत हो गई। बताया जाता हैं कि बाइक सवार 3 रिश्तेदार दोस्त सड़क हादसे का शिकार हो गए, आगर नदी के पुल से टकराकर उनकी बाइक अनियंत्रित हो गई, सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने हादसे में गंभीर तीनों युवकों को हॉस्पिटल पहुंचाया, जहां तीनों ने दम तोड़ दिया। पुलिस मर्ग कायम कर मामले की जांच में जुटी है। शनिवार सुबह फुलवारी गांव से भूटर कुंडी जा रहे तीन दोस्तों को तनिक भी आभास नहीं था, कि यह उनका अंतिम सफर साबित होगा। मोटरसाइकिल में सवार होकर जा रहे तीनों दोस्त सड़क हादसे का शिकार हो गए। निराला सोनवानी, विष्णु भास्कर और मथुरा बंजारा तीनों आपस में मित्र और रिश्तेदार भी है। यह सभी होंडा शाइन में सवार होकर फुलवारी गांव से भुटर कुंडी की ओर जा रहे थे, तीनों लोरमी के चिल्फी चौकी अंतर्गत आगर पुल पर पहुंचे ही थे, कि इनकी मोटरसाइकिल अनियंत्रित हो गई, और पुल के किनारे से जा टकराई, जिससे तीनों ही गंभीर रूप से जख्मी हो गए और वहीं सड़क पर पड़े तड़पते दिखे । इसकी जानकारी मिलते ही चिल्फी चौकी प्रभारी मनोज शर्मा मौके पर पहुंचे और उन्हें प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया, लेकिन डॉक्टरों ने जांच के बाद तीनों को ही मृत घोषित कर दिया।


मिली जानकारी के अनुसार मृतक जरहागांव फुलवारी निवासी निराला सोनवानी, सबनडीह पंडरिया निवासी विष्णु भास्कर और फास्टरपुर मनसापुर निवासी मथुरा बंजारा आपस में रिश्तेदार भी थे। जिनकी मौत से पूरे परिवार में मातम पसर गया। इन लोगों ने नियम तोड़ते हुए मोटरसाइकिल पर ट्रिपल सवारी की, और किसी ने भी हेलमेट तक नहीं लगाया था, जिस कारण से यह दुर्घटना के शिकार हुए और दुर्घटना में किसी की भी जान नहीं बच सकी।
 बड़ी खबर छत्तीसगढ़: अब साइंस कॉलेज में एक छात्र निकला कोरोना पॉजिटिव, कॉलेज में मचा हड़कंप

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: अब साइंस कॉलेज में एक छात्र निकला कोरोना पॉजिटिव, कॉलेज में मचा हड़कंप

मुंगेली। छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले में एसएनजी कॉलेज का छात्र कोरोना पॉजिटिव आया है। इससे कॉलेज में हड़कंप मच गया है। पॉजिटिव छात्र एमएससी भौतिक शास्त्र का है। पॉजिटिव मिलने के बाद कॉलेज को 27 फरवरी तक बंद कर दिया गया है। अब ऑनलाइन के माध्यम से कक्षाएं संचालित होगी। बताया जा रहा है कि कॉलेज में कोविड-19 नियमों का भारी उल्लंघन हुआ है।
 
 बड़ी खबर: फॉरेस्ट अफसर से ब्लैकमेलिंग कर करोड़ो रूपये की वसूली करते दो कथित पत्रकार गिरफ्तार

बड़ी खबर: फॉरेस्ट अफसर से ब्लैकमेलिंग कर करोड़ो रूपये की वसूली करते दो कथित पत्रकार गिरफ्तार

मुंगेली। छत्तीसगढ़ के मुंगेली से इस वक्त एक बड़ी खबर सामने आ रही है जहां, फॉरेस्ट अफसर से ब्लैकमेलिंग कर 1.25 करोड़ की रकम वसूलने वाले दो कथित पत्रकार को पुलिस ने हिरासत में लिया है। मुंगेली रेंजर सीआर नेताम की शिकायत पर पुलिस ने दोनों को पकड़ा है। 

पढ़िए पूरी खबर-
आरोप है कि अफसर को घोटाले में फंसाने व CBI जांच के नाम पर पत्रकार और उसकी कथित महिला मित्र ब्लैकमेल कर रही थी। बताया जा रहा है कि सवा करोड़ की डिमांड में से 95 लाख रुपये की वसूली कर ली भी गयी थी, आखिरी किश्त लेने के दौरान मुंगेली रेंजर सीआर नेताम ने इसकी सूचना पुलिस को दे दी, जिसके बाद मुंगेली की कोतवाली पुलिस ने रंगे हाथों दोनों कथित पत्रकारों को पकड़ लिया।

दोनों पत्रकार वेब पोर्टल का करते है संचालन- 
दोनों पत्रकार बिलासपुर में लोकल वेब पोर्टल का संचालन करते ङैं। वेबपोर्टल का संचालक परमवीर मरहास और उसकी महिला मित्र वर्षा तिवारी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। जानकारी के मुताबिक मुंगेली वन मंडल में कुछ गड़बड़ियां हुई थी। इसकी जानकारी रेंजर सीआर नेताम के कुछ करीबियों को भी थी। उन्ही में से सरताज ईरानी ने परमवीर मरहास के साथ मिलकर रेंजर को ब्लैकमेल करने का ये पूरा प्लान बनाया है। हालांकि अभी तक ये जानकारी सामने नहीं आयी है कि आखिरकार मरहास और वर्षा तिवारी किस घोटाले के नाम पर रेंजर को ब्लैकमेल कर रहे थे और इसके एवज में रेंजर ने सवा करोड़ की राशि तक देने को राजी हो गया था।

पूछताछ में पता चला है कि सरताज ईरानी ने परमवीर और वर्षा से कहा था कि जितनी भी रकम की वसूली की जायेगी, उसकी 60 प्रतिशत राशि वो खुद रखेगा, जबकि 40 फीसदी रकम पत्रकारों को मिलेगा। पुलिस ने दोनों कथित पत्रकारों को पकड़ने के बाद पुलिस ने सरताज ईरानी को भी दबोचने का प्लान बनाया था, लेकिन ऐन मौके पर वो फरार हो गया। पुलिस ने दोनों कथित पत्रकार से पास से 7.50 लाख रुपये बरामद भी किये हैं।
 बड़ी खबर छत्तीसगढ़: एनीकट में मिली लापता युवती की लाश, मौके पर पहुंची पुलिस

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: एनीकट में मिली लापता युवती की लाश, मौके पर पहुंची पुलिस

मुंगेली। छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले के लोरमी थाना अंतर्गत से एक मामला सामने आ रहा है जहां, एक लापता युवती की लाश एनीकट में मिली है। चना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने लाश को बाहर निकलवाकर पोस्ट मार्टम के लिए भेजवा दी है। 

पढ़िए पूरी खबर-
 मुंगेली जिले के लोरमी थाना अंतर्गत मनियारी नदी के आसपास आज सुबह उस वक्त सनसनी फैल गई, जब एक 24 वर्षीय युवती की लाश एनीकट के पास पानी के तेज बहाव में फंसी मिली। सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने लाश को बाहर निकलवाकर पोस्ट मार्टम के लिए भेजा। 

इस पूरे मामले में लोरमी थाना प्रभारी ने कहा कि प्रथम दृष्टया मामला आत्महत्या का प्रतीत हो गया है। मामला लोरमी थाना क्षेत्र का है। आज सुबह मनियारी नदी के पास घूम रहे कुछ लोगों को एनीकट में एक युवती की लाश फंसी दिखी। इसकी सूचना लोरमी थाने में देते ही थाना स्टाफ मौके पर पहुँची। मृतिका की पहचान अंकिता पिता अशोक उपाध्याय के रूप से हुई है, जो एक रात तकरीबन 2 बजे अपने घर से बिना किसी को बताए निकल गई थी। परिजनों ने मामले में शनिवार को लोरमी थाना में गुमशुदगी रिपोर्ट दर्ज कराई थी।
 
बड़ी खबर : मुुंगेली की जिला एवं सत्र न्यायाधीश की फांसी पर झूलती मिली लाश, पुलिस कर रही मामले की जाँच

बड़ी खबर : मुुंगेली की जिला एवं सत्र न्यायाधीश की फांसी पर झूलती मिली लाश, पुलिस कर रही मामले की जाँच

मुंगेली | मुंंगेली की जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्रीमती कांता मार्टिन ने अपने शयनकक्ष में साड़ी का फंदा बनाकर पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली। उक्त घटना की जानकारी मिलते ही पूरे मुंगेली जिले में सनसनी फैल गई है।

पढ़ें : बस्तर से नक्सलवाद को समाप्त करने के सम्बन्ध में सीएम बघेल ने केंद्रीय गृहमंत्री को लिखा पत्र, पढ़ें पूरी खबर

मिली जानकारी के अनुसार सुबह जिला एवं सत्र न्यायाधीश का भृत्य रविवार को बंगले पहुंचा लगातार दरवाजा खटखटाने पर भी मुख्यद्वार नहीं खुलने पर उन्होंने पड़ोस में स्थित मुंगेली के सीजेएम को सूचना दी जिस पर सीजेएम ने पुलिस अधीक्षक अरविंद कुजुर को सूचना दी। सुबह 11 बजे कुजुर दलबल के साथ जिला न्यायाधीश आवास पहुंचे। शयनकक्ष की खिड़की से झांकने पर पुलिस को श्रीमती मार्टिन की पंखे पर झूलती हुई लाश मिली। तत्काल खिड़की तोड़कर पुलिस ने शयनकक्ष में पंखे में लटकती लाश को निकालकर तत्काल प्रभाव से पंचनामा किया। ज्ञातव्य है कि श्रीमती मार्टिन के पति की डेढ़ वर्ष पहले मृत्यु हो गई थी। बंगले में वे अकेली रहती थी। श्रीमती मार्टिन के सुपुत्र रायपुर में निजी कंपनी में कार्यरत हैं। ज्ञात हो कि श्रीमती मार्टिन ने सन् 1994 में न्यायिक सेवा से अपना कैरियर प्रारंभ किया था। जिला एवं सत्र न्यायाधीश द्वारा की गई आत्महत्या के क्षेत्र में जमकर चर्चा है। 
 
 
गौरतलब है कि वर्षों पूर्व उक्त बंगले में मुंगेली जिला बनने के पहले अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश अमृता लाल ने भी मिट्टी तेल छिड़ककर अपने शरीर पर आत्महत्या कर ली थी। पुलिस उक्त मामले को संदिग्ध मृत्यु का मामला मानकर सूक्ष्म विवेचना कर रही है। उच्च न्यायालय बिलासपुर में भी घटना की जानकारी पुलिस अधीक्षक मुंगेली द्वारा दी गई है। उक्त घटना के चलते बिलासपुर हाईकोर्ट में भी शोक का माहौल बना हुआ है। 
 
पुलिस विभाग में हुआ बड़ा फेरबदल, 2 थाना प्रभारी समेत 8 पुलिसकर्मी का हुआ तबादला

पुलिस विभाग में हुआ बड़ा फेरबदल, 2 थाना प्रभारी समेत 8 पुलिसकर्मी का हुआ तबादला

मुंगेली, पुलिस विभाग में हुआ बड़ा फेरबदल मुंगेली जिले में प्रशासनिक कसावट लाने के लिए दो थाना प्रभारी समेत कुल 8 पुलिसकर्मियों का तबादला आदेश जिले के एसपी अरविंद कुजूर ने जारी किया|
देखे आदेश:-
 

झाडिय़ों के बीच मिली युवक की लाश, हत्या की आशंका, जाने कहा की है यह खबर

झाडिय़ों के बीच मिली युवक की लाश, हत्या की आशंका, जाने कहा की है यह खबर

मुंगेली | मुंगेली लोरमी रोड पर जमकोर और उमरिया के बीच सुनसान इलाके में झाडिय़ों के बीच युवक की लाश मिली है। मृतक युवक के गले में निशान है, जिससे हत्या की आशंका जताई जा रही है, पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

पढ़ें : बड़ी खबर : राजधानी रायपुर में जुआ खेलते व सट्टा पट्टी लिखते 14 गिरफ्तार, हजारों रुपयें नगदी जब्त, पढ़ें पूरी खबर

मंगलवार सुबह ग्रामीणों ने सड़क किनारे झाडिय़ों में युवक की लाश को देख पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची, मृत युवक के गले के पास कुछ ऐसे निशान मिले जिससे प्रथम दृष्टया मामला हत्या का जान पड़ रहा है।
 
 
जानकारी के अनुसार मृतक बेमेतरा नवागांव घोघरा निवासी राम गोपाल दुबे का पुत्र सौरभ दुबे है। नवागांव से युवक जमकोर कैसे पहुंचा, या फिर उसकी हत्या कर लाश को यहां फेंक दी गई है, पुलिस इसका पता लगाने की कोशिश कर रही है।
 
12 साल की मासूम भतीजी को चाचा ने बनाया अपने हवस का शिकार, मासूम हो गई प्रेग्नेंट

12 साल की मासूम भतीजी को चाचा ने बनाया अपने हवस का शिकार, मासूम हो गई प्रेग्नेंट

मुंगेली। एक बार फिर से रिश्ते को शर्मसार कर देने वाली खबर छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले से आ रही है जहां सगे चाचा ने 12 साल की मासूम भतीजी से कई बार रेप किया। उसे भगाकर मदकू द्वीप ले गया। वहां एक मंदिर में रखकर मासूम के साथ संबंध बनाए। लौटने के बाद जब माता-पिता पुलिस के पास पहुंचे और मेडिकल टेस्ट की रिपोर्ट देखकर डॉक्टर और पुलिस अधिकारी भी हैरान रह गए।
 
 
12 साल की मासूम के गर्भ में 7 हफ्ते का बच्चा था। इसकी पुष्टि के लिए सोनोग्राफी कराई गई। पुलिस ने आरोपी चाचा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है, लेकिन मासूम का गर्भपात कराने के लिए पुलिस अस्पताल के चक्कर काट रही है। घटना मुुंगेली जिले के सरगांव थाना क्षेत्र की है। इस मामले में पुलिस ने 20 अक्टूबर को अपराध दर्ज किया।
 
 
बेहद गरीब परिवार की अबोध बच्ची के साथ जो घटना हुई, उसमें मानवीय दृष्टिकोण अपनाते हुए सरगांव पुलिस ने बेहद सावधानी से सारी कानूनी प्रक्रिया पूरी की, जिससे मासूम को न्याय मिले। इसके विपरीत मुंगेली जिला अस्पताल से बिलासपुर सिम्स तक भटकते हफ्तेभर बीत गए हैं, लेकिन गर्भपात कराने के लिए जरूरी अनुमति नहीं मिल सकी है।

पढ़िए पूरी खबर-
पुलिस ने आरोपी चाचा के खिलाफ पाक्सो एक्ट, 376-क, ख, 363 और 366 के तहत अपराध दर्ज किया है। 12 वर्ष से कम उम्र की मासूम से रेप के मामले में फांसी की सजा का प्रावधान है। हालांकि केस को पुख्ता करने के लिए पुलिस एक्स-रे करा रही है, जिससे उम्र का सही आंकलन किया जा सके। ऐसा इसलिए क्योंकि कोटवार या नगर पालिका में उम्र के संबंध में कोई स्पष्ट रिकॉर्ड नहीं है।

 
इस मामले में गर्भपात कराने के बाद भ्रूण और आरोपी का ब्लड सैंपल लेकर डीएनए टेस्ट कराया जाएगा, जिससे इस बात की भी पुष्टि हो सके कि चाचा की वजह से ही मासूम गर्भवती हुई है। इस पूरे घटनाक्रम को लेकर डॉक्टर भी चौंक गए हैं, क्योंकि 12 साल की उम्र में गर्भ धारण करने की घटना पहली है। मेडिकल साइंस में इस उम्र को गर्भ के लिए पर्याप्त नहीं माना जाता है। इसलिए भी उम्र का सही आंकलन करने के लिए अतिरिक्त कवायद की जा रही है।

इस मामले में मुंगेली के पुलिस अधीक्षक अरबिंद कुजूर का कहना है, पुलिस पीड़ित की आयु को ध्यान में रखकर कार्यवाही कर रही है। कानूनी पहलुओं के साथ-साथ स्वास्थ्य की भी चिंता है। जिला न्यायालय और बाल संरक्षण अधिकारी के बीच समन्वय बनाकर कार्यवाही की जा रही है।
 लिविंग रिलेशन के नाम पर दैहिक शोषण करने वाला गिरफ्तार, शादी का झांसा देकर पांच साल से बनाता रहा शारीरिक संबंध

लिविंग रिलेशन के नाम पर दैहिक शोषण करने वाला गिरफ्तार, शादी का झांसा देकर पांच साल से बनाता रहा शारीरिक संबंध

मुंगेली। पांच साल से लिविंग रिलेशन के नाम पर दैहिक शोषण करने वाले बलात्कारी को सिविल लाइन पुलिस ने पकडऩे में सफलता हासिल की। सिविल लाइन थाना से मिली जानकारी के अनुसार युवती थाना में शिकायत दर्ज कराई की मुंगेली जिला के फास्टरपुर के अंतर्गत ग्राम नारायणपुर का रहने वाला पंकज बंजारा पिता राम कृष्ण बंजारा 31 वर्ष जो वर्तमान में रायपुर के वाल मार्ट में सेल्स मेंन का काम करने वाला मेरे साथ लिविंग में रिलेशन में 5 वर्ष रहा और मुझसे शादी का झांसा देकर मेरे साथ शारीरिक संबंध बनाता रहा लेकिन वह बिना बताए किसी और से शादी कर लिया और उसके बाद भी मेरे साथ जबरन शारीरिक संबंध बनाता था इस शिकयत पर सीविल लाइन पुलिस ने बलात्कार का मामला कायम कर टीम गठित की जो रायपुर के वाल मार्ट बेस्ट प्राइज भनपुरी गई जहाँ आरोपी पंकज बंजारा पुलिस को देखकर भागने का प्रयास करने लगा।वही पुलिस टीम उसे दौड़ कर पकड़ी और बिलासपुर थाना लेकर हिरासत में ले लिया।
 दोहरा हत्याकांड: पत्नी और मासूम बच्चे की हत्या कर फरार हुआ आरोपी, इलाक़े में फैली सनसनी

दोहरा हत्याकांड: पत्नी और मासूम बच्चे की हत्या कर फरार हुआ आरोपी, इलाक़े में फैली सनसनी

मुंगेली। छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. एक शख्स ने अपनी पत्नी और दूध मुंहे बच्चे की धारदार हथियार से निर्ममता पूर्वक हत्या कर दी | मामला जिले के फास्टरपुर थाना क्षेत्र के लगरा गांव का है | आरोपी बसंत चंद्राकर ने अपनी पत्नी लता चंद्राकर और 10 माह के ऋषभ चंद्राकर की धारदार हथियार से सोमवार देर रात हत्या कर फरार हो गया |
 
 
एसडीओपी तेजराम पटेल ने बताया कि फिलहाल घटना के कारणों का पता नहीं चल पाया है | पुलिस मौके पर पहुंचकर घटना की जांच में जुटी है | वारदात की सूचना के बाद एडिशनल एसपी से लेकर स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची | पुलिस परिवार व ग्रामीणों से हत्या के बारे में पूछताछ कर रही हैं | इसके अलावा फरार आरोपी की तलाश की जा रही है | बताया जा रहा है कि मृतक ने अपने 8 वें नंबर के बच्चे की हत्या किया है | बसंत चंद्राकर और लता चंद्राकर के आठ बच्चे हैं, और मारा गया दो वर्षीय बच्चा सबसे छोटा था |
 
 
फि़लहाल तक संदेही और फरार बसंत चंद्राकर के पिता इतवारी ने बताया "रात को घर के सभी सदस्य खाना खाने के बाद अपने अपने कमरे में सोने चले गए | सात बच्चे हमारे घर पर ही थे, जबकि सबसे छोटा पोता बड़ी बहू और बेटा के साथ था.. सुबह खेत जाने को तैयार हो रहे थे तब पता चला कि बहू और पोते की लाश पड़ी है और बसंत ग़ायब है, तो पुलिस को सूचना दिए हैं घटनास्थल पर पुलिस मौजुद है और विवेचना जारी है। पंक्तियों के लिखे जाने तक पति का कोई पता नहीं चल पाया था उसकी तलाश जारी थी। पुलिस अभी तक नृशंस हत्या का कारण भी नहीं तलाश पाई है।
कोरोना पॉजिटिव  वरिष्ठ कांग्रेसी नेता शीतल दूबे का निधन, पढ़ें पूरी खबर

कोरोना पॉजिटिव वरिष्ठ कांग्रेसी नेता शीतल दूबे का निधन, पढ़ें पूरी खबर

मुंगेली | मुंगेली के वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और एल्डरमैन शीतल दुबे का निधन शनिवार देर रात हो गया। उनकी मृत्यु हृदयाघात से हुई है, हालांकि वे कोरोना पॉजिटिव भी थे। 5 सितंबर को उनका कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया था, जिसके बाद उन्हें मुंगेली के जिला अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती किया गया था। वहां सही इलाज ना होने पर परिजन उन्हें बिलासपुर के निजी अस्पताल आर बी अस्पताल ले गए थे, जहां इलाज के दौरान शनिवार रात करीब 1:00 बजे उनकी सांसे थम गई ।शीतल दुबे 66 वर्ष के थे। कई दशकों तक उन्होंने कांग्रेस के लिए राजनीति की। उनके निधन से मुंगेली कांग्रेस में शोक का वातावरण है, तो वहीं उनके परिजनों ने उनकी मौत के लिए जिला अस्पताल की अव्यवस्था को जिम्मेदार बताया है । कोरोना संक्रमित होने के कारण सरकारी गाइडलाइन के तहत ही उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा ,जिसमें परिवार के गिनती के लोग शामिल होंगे।

 

 
 बड़ी खबर: कोरोना संक्रमित मरीज ने की अस्पताल में फांसी लगाकर आत्महत्या, मां की भी हुई मौत

बड़ी खबर: कोरोना संक्रमित मरीज ने की अस्पताल में फांसी लगाकर आत्महत्या, मां की भी हुई मौत

लोरमी। मुंगेली जिले से इस वक्त एक बड़ी खबर सामने आ रही है जहां एक युवक ने मातृ एवं शिशु अस्पताल लोरमी बीती रात फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। इधर सुबह उसकी मां की भी मौत हो गई है। जानकारी के मुताबिक बलौदाबाजार निवासी 47 वर्षीय अनिल जायसवाल लोरमी में किराए के मकान में रहते हुए धान भूसा सप्लाई करने का काम करता था। जो 50 बिस्तर अस्पताल में भर्ती था। जिनका उपचार पिछले तीन दिनों से चल रहा था. जो कल अचानक रात में फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया। 

पढ़िए पूरी खबर-
बड़ा सवाल यह भी खड़ा हो रहा है कि लोरमी के सरकारी अस्पताल में 24 घंटे इमरजेंसी सेवाएं दी जा रही है और 24 घंटे स्वास्थ्य कर्मचारी तैनात रहते हैं जिसके बाद भी फांसी के फंदे में युवक लटकते हुए आत्महत्या कर लिया। मृतक बीते 7 सितंबर को डायबिटीज शुगर और फीवर की शिकायत पर 50 बिस्तर अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जो आइसोलेशन वार्ड में अपने ही गमछे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया। एक तरफ बीमारी से पीड़ित युवक फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया, जिसका रेपिड टेस्ट में कोरोना जांच पॉजिटिव आया है। तो दूसरी तरफ मृतक के मां की मौत बलौदाबाजार में आज सुबह हो गई है। जिसका अंतिम संस्कार गृहग्राम में करने के बाद परिजन बेटे का शव को लेने लोरमी आएंगे।

इस संबंध में लोरमी के बीएमओ डॉ. जीएस दाऊ ने कहा कि युवक को डायबिटीज और शुगर की शिकायत पर अस्पताल में भर्ती किया गया था, जिनका आज कोरोना जांच होना था और रात में युवक ने आत्महत्या कर लिया। पुलिस टीम की मौजूदगी में पंचनामा के बाद कोरोना टेस्ट किया गया, जिसका रिपोर्ट पॉजिटिव आया है। थाना प्रभारी ने जांच के बाद आगे की कार्यवाही करने की बात कही है। 
मनियारी नदी के बाढ़ में फंसे 23 ग्रामीणों का प्रशासन ने किया रेस्क्यू

मनियारी नदी के बाढ़ में फंसे 23 ग्रामीणों का प्रशासन ने किया रेस्क्यू

मुंगेली | लगातार हो रही बारिश की वजह से आगर और मनियारी नदी उफान पर है, जिससे बाढ़ की स्थिति बनी हुई है | जिससे मुंगेली जिले के अमोरा रावनभाटा में 23 लोग फंस गए थे | शाम होने के कारण इन लोगों को निकाला नहीं जा सका | सभी लोग रात भर बाढ़ में फंसे थे | जिला प्रशासन ने आज सभी का सुरक्षित रेस्क्यू किया |

गौरतलब है कि अमोरा इलाके के रावणभाटा में लोग फंसे हुए थे, जो मनियारी नदी से चारो ओर से घिरा हुआ है | यहां पर लोग अपने खेतों में सब्जियों और धान की खेती करते हैं | वहां पर मंगलवार को अचानक अधिक पानी आ गया. लोग अपने जानवरों को बचाने के चक्कर में फंसे गए, सुबह 7 बजे रेस्क्यू कर 6 महिला, 4 बच्चे व 13 पुरुष कुल 23 लोगों को सुरक्षित निकाला गया। वहीं अमोरा से लगे आश्रित गांव नवागांव सहित अन्य कुछ और जगहों में लोग फंसे हुए हैं | सभी को निकालने के लिए रेस्क्यू टीम रवाना की गई है | ग्रामीणों के साथ एसपी, एडिशनल एसपी, पथरिया तहसीलदार व पुलिस प्रशासन की टीम मौके पर मौजूद हैं।
 
शराब पार्टी के बाद जुआ खेलकर घर लौटते वक्त हुई बहस, युवक ने कुल्हाड़ी मारकर दोस्त की कर दी हत्या

शराब पार्टी के बाद जुआ खेलकर घर लौटते वक्त हुई बहस, युवक ने कुल्हाड़ी मारकर दोस्त की कर दी हत्या

मुंगेली। मामूली बात पर युवक ने अपने दोस्त की कुल्हाड़ी मारकर हत्या कर दी, घटना पथरिया थाना इलाके के डीलवापारा की है। घटना के वाद आरोपी युवक ने पथरिया थाना में सरेंडर कर दिया, पुलिस आरोपी को गिरफ्तार जांच में जुटी है। मृतक हरिशंकर जायसवाल आरोपी दुर्गेश श्रीवास मिली जानकारी के मुताबिक आरोपी दुर्गेश श्रीवास और मृतक हरिशंकर जायसवाल दो अन्य साथियों के साथ बीती रात जुआ खेल रहे थे, इस दौरान चारों ने आपस में जमकर जाम भी छलकाई। इसके बाद जुआ खेलकर वापस लौटते वक्त हरिशंकर और दुर्गेश में किसी बात को लेकर विवाद हुआ, तो हरिशंकर ने दुर्गेश को थप्पड़ मार दिया, जिससे गुस्साए दुर्गेश ने घर से कुल्हाड़ी निकालकर हरिशंकर पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया, जिससे उसकी मौके पर मौत हो गई है। बहरहाल पथरिया पुलिस आरोपी दुर्गेश को गिरफ्तार कर मामले की विवेचना में जुट गई है।

 

लालपुर थाना क्षेत्र में जमानत में रिहा हुए युवक की हुई निर्मम हत्या, आरोपी ने युवक का सर किया धड़ से अलग, पढ़ें पूरी खबर

लालपुर थाना क्षेत्र में जमानत में रिहा हुए युवक की हुई निर्मम हत्या, आरोपी ने युवक का सर किया धड़ से अलग, पढ़ें पूरी खबर

मुंगेली | छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले से एक बड़ी खबर सामने आई है | खबर मिली है कि जिले के लालपुर थाना क्षेत्र के हरनाचाका गांव में जमानत में रिहा हुए युवक की हत्या कर दी गई | जानकारी के अनुसार जमानत पर रिहा हुए एक युवक की पुरानी रंजिश के चलते बेरहमी से हत्या कर दी है | हत्या इतनी निर्मम तरीके से की गई है की सर धड़ से अलग हो गया है | घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी ने खुद ही थाने में जाकर सरेंडर कर दिया | मिली जानकारी के मुताबिक मृतक कैलाश ठाकुर हत्या की कोशिश (धारा-307) के एक मामले में जेल में बंद था |

जानकारी के अनुसार मृतक जमानत में रिहा होकर कुछ दिनों पहले ही गांव लौटकर सामुदायिक भवन में रह रहा था, तभी बीती रात पुरानी रंजिश पर गांव के ही आरोपी खोरबहरा ठाकुर ने धारदार हथियार से उसकी हत्या कर दी |

SDOP कादिर खान ने बताया कि परिजनों ने मामले में अन्य आरोपियों की संलिप्तता की आंशका जाहिर की है | जिस पर डॉग स्क्वॉयड और फॉरेंसिक एक्सपर्ट की मदद भी ली जा रही है| पुलिस मौके पर पहुँचकर घटना की जांच में जुट गई है|

 

अमित जोगी का अभिनव पहल 10 वी और 12 वी में प्रथम आये छात्रो को सौपे 1-1 लाख रूपये

अमित जोगी का अभिनव पहल 10 वी और 12 वी में प्रथम आये छात्रो को सौपे 1-1 लाख रूपये

मुंगेली,अमित जोगी जी ने कहा आज मुंगेली की प्रज्ञा कश्यप & टिकेश वैष्णव ने छत्तीसगढ़ में 10वी & 12वी परीक्षा में टॉप करके पूरे प्रदेश का नाम रौशन किया है।उनके संघर्ष भरी सफलता में मुझे पापा की झलक दिखती है।
आज धरमजीत सिंह जी,श्रीमती रेनु जोगी जी के साथ उनके घर जाकर जनता कांग्रेस की ओर से प्रोत्साहन राशी के रूप में 1लाख रुपए दिए ।


 

 बड़ी खबर: 14 साल की नाबालिग से दुष्कर्म की कोशिश, नाकाम होने पर दरिंदे ने किया नाबालिग को आग के हवाले

बड़ी खबर: 14 साल की नाबालिग से दुष्कर्म की कोशिश, नाकाम होने पर दरिंदे ने किया नाबालिग को आग के हवाले

मुंगेली। छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले के ग्रामीण इलाके में दिल दहला देने वाली वारदात को अंजाम दिया गया है. घटना मुंगेली के समीप एक गांव की है, जहां मासूम बालिका (14 वर्षीय) घर पर अकेली थी और उसके परिजन किसी काम से बाहर गए थे. उसी वक्त गांव का ही एक पड़ोसी युवक बदनीयती से बालिका के घर मे घुस गया और नाबालिग से दुष्कर्म का प्रयास करने लगा, जिसका नाबालिग ने पुरजोर विरोध किया।

आग से जलती हुई मासूम चीखते चिल्लाते घर से बाहर निकली, जिससे आसपास मौजूद ग्रामीणों ने भारी मशक्कत के बाद आग बुझाया और 108 संजीवनी वाहन से उसे जिला अस्पताल पहुंचाया. अस्पताल में जिंदगी और मौत से लड़ती नाबालिग ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। मामले की जानकारी लगते ही मुंगेली पुलिस तत्काल हरकत में आई और आरोपी बबलू भास्कर को हिरासत में लिया गया हैं।

 पुलिस ने बताया कि नाबालिग ने मौत से पहले बयान भी दिया है। इसके आधार पर कार्रवाई की जा रही है. इस घटना से ग्रामीणों में आक्रोश है. वहीं, हफ्ते भर में मुंगेली में नाबालिगों से दुराचार की यह चौथी घटना है. इससे कुछ दिन पहले बेमेतरा में भी एक नाबालिग से खेत में रेप का प्रयास किया गया. विरोध करने पर उसे जिंदा जला दिया गया था। इस बच्ची की भी इलाज के दौरान रायपुर के एक अस्पताल में मौत हो गई थी। इस मामले में आरोपियों की संख्या एक से अधिक बताई गई है।
+ Load More