COVID-19 :

Confirmed :

Recovered :

Deaths :

Maharashtra / 1282963 Andhra Pradesh / 654385 Tamil Nadu / 563691 Karnataka / 548557 Uttar Pradesh / 374277 Delhi / 260623 West Bengal / 237869 Odisha / 196888 Telangana / 179246 Bihar / 174266 Assam / 165582 Kerala / 154458 Gujarat / 128949 Rajasthan / 122720 Haryana / 118554 Madhya Pradesh / 115361 Punjab / 105220 Chhattisgarh / 93351 Jharkhand / 76438 Jammu and Kashmir / 68614 Uttarakhand / 43720 Goa / 30552 Puducherry / 24895 Tripura / 23786 Himachal Pradesh / 13386 Chandigarh / 10968 Manipur / 9537 Arunachal Pradesh / 8133 Nagaland / 5730 Meghalaya / 4961 Ladakh / 3969 Andaman and Nicobar Islands / 3712 Dadra and Nagar Haveli and Daman and Diu / 2978 Sikkim / 2548 Mizoram / 1759 State Unassigned / 0 Lakshadweep / 0

   BIG BREAKING : प्रदेश में आज 2272 नए कोरोना संक्रमितों की हुई पहचान, 10 कोरोना मरीजों की हुई मौत    |    सोशल मिडिया में वायरल हो रहे निजी अस्पताल में निशुल्क कोरोना इलाज वाले समाचार की क्या है सच्चाई, पढ़े ये खबर    |    कोतवाली थाना क्षेत्र के काली बाड़ी में शराब एवं सट्टा का कारोबार करने वाले 05 आरोपी गिरफ्तार, पढ़ें पूरी खबर    |    BIG BREAKING : राजधानी रायपुर में कार से IPL क्रिकेट में सट्टा खिलवा रहे 7 सटोरी हुए गिरफ्तार, आरोपियों से 10 करोड़ का सट्टा पट्टी जब्त    |    आईपीएल 2020: बैंगलोर के खिलाफ पंजाब कर सकता है बड़ा बदलाव, शामिल होगा विस्फोटक बल्लेबाज    |    किसानों को मजदूर बनाने की साजिश: सीएम भूपेश बघेल    |    Rafale पर CAG की रिपोर्ट, कांग्रेस बोली- अब समझ में आई डील की क्रोनोलॉजी    |    बड़ी खबर: ड्रग्स केस में एनसीबी की रडार पर 50 फिल्मी कलाकार, कई ए-लिस्टर्स एक्टर्स भी शामिल    |    शर्लिन चोपड़ा का बड़ा दावा- बड़े क्रिकेटर्स की बीवियां लेती हैं ड्रग्स    |    कोरोना अपडेट : कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा पहुंचा 57 लाख के पार, पिछले 24 घंटे में 1,129 लोगो की हुई मौत    |
Previous123Next
आईपीएल में 200 छक्के लगाने वाले बल्लेबाज़ों की लिस्ट में शामिल हुए रोहित शर्मा

आईपीएल में 200 छक्के लगाने वाले बल्लेबाज़ों की लिस्ट में शामिल हुए रोहित शर्मा

KKR vs MI: आईपीएल 2020 के पांचवें मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने 54 गेंदो में 80 रनों की पारी खेली. इस सीजन में रोहित का यह पहला अर्धशतक है. अपनी इस पारी में रोहित ने तीन चौके और छह छक्के लगाए. इसके साथ ही रोहित के नाम आईपीएल में अब 200 छक्के हो गए.


इस मैच के शुरू होने से पहले रोहित के नाम आईपीएल में 194 छक्के थे. ऐसे में छठा छक्के लगाते ही रोहित ने अब आईपीएल में 200 छक्के पूरे कर लिए. रोहित आईपीएल में 200 छक्के लगाने वाले चौथे बल्लेबाज़ बन गए हैं. रोहित से पहले क्रिस गेल, एबी डिविलियर्स और एमएस धोनी ये कारनामा कर चुके हैं.


आईपीएल में क्रिस गेल ने अब तक 125 मैच में 151 की स्ट्राइक रेट के साथ 4484 रन बनाए हैं. इस दौरान उनके बल्ले से 326 छक्के निकले हैं. इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर मौजूद एबी डिविलियर्स के नाम आईपीएल में 155 मैच में 40.5 की एवरेज के साथ 4446 रन हैं. एबी के नाम लीग में 214 छक्के हैं. वहीं एमएस धोनी ने आईपीएल के 192 मैचों में 42 की औसत से 4461 रन बनाए हैं. आईपीएल में धोनी के नाम 212 छक्के हैं. 

7 साल बाद मैदान में फिर नजर आयेंगे तेज गेंदबाज श्रीसंत, हटा प्रतिबन्ध

7 साल बाद मैदान में फिर नजर आयेंगे तेज गेंदबाज श्रीसंत, हटा प्रतिबन्ध

नई दिल्ली | भारतीय तेज गेंदबाज एस श्रीसंत पर कथित तौर पर स्पॉट फिक्सिंग के लिए लगा 7 साल का प्रतिबंध रविवार को खत्म हो गया। इस तेज गेंदबाज को शुरुआत में आजीवन प्रतिबंधित किया गया था लेकिन उन्होंने इस फैसले के खिलाफ कानूनी लड़ाई लड़ी। 37 साल के श्रीसंत ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि प्रतिबंध खत्म होने पर उनका कम से कम घरेलू करियर को दोबारा शुरू करने का इरादा है और उनके घरेलू राज्य केरल ने वादा किया है कि अगर यह तेज गेंदबाज अपनी फिटनेस साबित कर दे तो वे उसके नाम पर विचार करेंगे। श्रीसंत ने प्रतिबंध समाप्त होने से कुछ दिन पहले शुक्रवार को ट्वीट किया, ''मैं अब किसी भी तरह के आरोपों से पूरी तरह मुक्त हूं और अब उस खेल का प्रतिनिधित्व करूंगा जो मुझे सबसे अधिक पसंद है। मैं प्रत्येक गेंद पर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास करूंगा फिर चाहे यह अभ्यास ही क्यों न हो। उन्होंने कहा, ''मेरे पास अधिकतम 5 से 7 साल का समय बचा है और मैं जिस भी टीम की ओर से खेलूंगा उसके लिए सर्वश्रेष्ठ प्रयास करूंगा। कोरोना वायरस महामारी के कारण भारतीय घरेलू सत्र स्थगित होने के कारण यह देखना होगा कि अगर केरल उन्हें मौका देने का फैसला करता है तो वह कब वापसी कर पाएंगे। भारत का घरेलू सत्र अगस्त में शुरू होता है लेकिन महामारी के कारण पूरा कार्यक्रम अस्त-व्यस्त हो गया है। आईपीएल के 2013 सत्र में कथित स्पॉट फिक्सिंग के लिए श्रीसंत पर आजीवन प्रतिबंध लगा था लेकिन पिछले साल भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के लोकपाल ने उन पर लगे प्रतिबंध को घटाकर 7 साल का कर दिया था।

 

 
 क्रिकेटर हरभजन सिंह हुए ठगी का शिकार, लगा चार करोड़ रुपए का चूना

क्रिकेटर हरभजन सिंह हुए ठगी का शिकार, लगा चार करोड़ रुपए का चूना

नईदिल्ली। भारत के पूर्व दिग्गज स्पिनर हरभजन सिंह ठगी का शिकार हो गए हैं। उनके साथ 1-2 लाख रुपये की नहीं बल्कि पूरे 4 करोड़ रुपये की ठगी की गई है। ग्रेटर चेन्नई पुलिस ने भारतीय ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह द्वारा एक पार्टनरशिप फर्म के खिलाफ चार करोड़ रुपये का भुगतान न करने की शिकायत को लेकर जांच शुरू कर दी है। एक पुलिस अधिकारी ने इस बात की जानकारी दी। 
 
 
जानकारी के अनुसार पुलिस अधिकारी ने कहा, एफआईआर दर्ज कर ली गई है। केस सीनियर पुलिस अधिकारी को सौंप दिया गया है यह मामला तब सामने आया जब बुधवार को एक साझेदार, जी. महेश जो एक रियल्टर है, ने पुलिस द्वारा समन भेजे जाने परे मद्रास उच्च न्यायालय में अग्रिम जमानत के लिए अर्जी दाखिल की थी। 
 
 
बताया जा रहा हैं की 26 अगस्त को हरभजन सिंह ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उन्होंने ऑरा मेगा नाम की फर्म को 2015 में चार करोड़ रुपये दिए थे। लोन के ब्याज के लिए दिया गया चेक बाउंस हो गया। यह फर्म रियल स्टेट व्यापार में है। महेश ने कहा कि उन्हें हरभजन से लोन तब मिला था जब उन्होंने जमानत के तौर पर जमीन रखी थी और उन्होंने कहा कि सारे पैसा चुका दिया गया है।

 
बता दें कि हरभजन सिंह इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन में हिस्सा नहीं ले रहे हैं। हरभजन सिंह दुबई पहुंचने वाली चेन्नई सुपर किंग्स टीम का हिस्सा नहीं थे। हालांकि माना जा रहा था कि भज्जी बाद में टीम के साथ जुड़ सकते हैं। लेकिन स्टार स्पिनर ने निजी कारणों से इस सीजन से दूर रहने का एलान किया।
IPL 2020 के नए शेड्यूल का हुआ एलान, इन टीमो के बीच खेला जाएगा पहला मैच

IPL 2020 के नए शेड्यूल का हुआ एलान, इन टीमो के बीच खेला जाएगा पहला मैच

नई दिल्ली, इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 13वें सीज़न का नया शेड्यूल जारी कर दिया गया है. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के अनुसार, लीग का पहला मैच चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) और मुंबई इंडियंस (MI) के बीच 19 सितंबर को अबुधाबी में खेला जाएगा. भारतीय समय के हिसाब से यह मैच शाम 7:30 बजे से खेला जाएगा.


इस सीज़न खेले जाएंगे 10 डबल हेडर्स

नए शेूड्यूल के मुताबिक, IPL 2020 में कुल 10 डबल हेडर्स खेले जाने हैं और जिस दिन दो मैच खेले जाएंगे, उस दिन पहला मैच भारतीय समयानुसार दोपहर 03:30 बजे से शुरु होगा. लीग स्टेज के सबसे ज्यादा 24 मैच दुबई में खेले जाएंगे. इसके अलावा अबू धाबी में 20 और शारजांह में कुल 12 मैच खेले जाएंगे. हालांकि, प्ले-ऑफ और फाइनल मैच के लिए मैदानों का चयन नहीं किया गया है.


कॉमेंट्री टीम भी हुई घोषित

BCCI ने आईपीएल 2020 के लिए सात कॉमेंटेटर्स के नाम भी फाइनल कर दिए हैं. इसमें सुनील गावसकर, लक्ष्मण शिवरामाकृष्णन, मुरली कार्तिक, दीप दासगुप्ता, अंजुम चोपड़ा, रोहन गावसकर और हर्षा भोगले शामिल हैं. ये सभी दिग्गज 10 सितंबर को यूएई के लिए रवाना होंगे. इन्हें दो पैनल में बांटा गया है. पहला पैनल दुबई और शारजाह बेस्ड होगा, वहीं दूसरा पैनल अबू धाबी बेस्ड होगा.

 

IPL 2020: CSK को लगा दूसरा बड़ा झटका, रैना के बाद ये बड़ा खिलाडी भी हटा

IPL 2020: CSK को लगा दूसरा बड़ा झटका, रैना के बाद ये बड़ा खिलाडी भी हटा

नई दिल्ली: इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की फ्रेंचाइजी टीम चेन्नई सुपर किंग्स को सुरेश रैना के बाद एक और बड़ा झटका लगा है. दरअसल, हरभजन सिंह ने निजी कारणों से आईपीएल-13 से हटने का फैसला किया है. उन्होंने खुद ट्वीट कर बात की जानकारी दी है.


हरभजन ने ट्वीट कर लिखा, ''मैं व्यक्तिगत कारणों से इस साल आईपीएल नहीं खेल पाऊंगा. ये मुश्किल समय हैं और मैं कुछ गोपनीयता की उम्मीद करूंगा क्योंकि मैं अपने परिवार के साथ समय बिताऊंगा. @ChennaiIPL सीएसके प्रबंधन बेहद सहायक रहा है और मैं उनके शानदार आईपीएल की कामना करता हूं.सुरक्षित रहें और जय हिंद.''

 

 टेस्ट क्रिकेट से संन्यास के बाद पूरी रात जर्सी पहने रोए थे धोनी: रविचंद्रन अश्विन

टेस्ट क्रिकेट से संन्यास के बाद पूरी रात जर्सी पहने रोए थे धोनी: रविचंद्रन अश्विन

नई दिल्ली। भारतीय टीम के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने खुलासा करते हुए कहा है कि टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने 2014 में जब टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लिया था तो उस दिन वह पूरी रात जर्सी पहने थे और उनकी आंखों में आंसू थे। धोनी ने दिसंबर 2014 में ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर टेस्ट सीरीज के बीच में ही टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। उन्होंने हाल ही में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की है। अश्विन ने अपने यू-ट्यूब चैनल पर वीडियो पोस्ट करते हुए 2014 में भारत के ऑस्ट्रेलियाई दौरे को याद किया। दौरे के दूसरे टेस्ट मैच के बाद धोनी ने अचानक से टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की थी।

उन्होंने कहा कि धोनी इस फैसले के बाद थोड़े भावुक हो गए थे। अश्विन ने कहा, मुझे याद है जब धोनी ने 2014 में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लिया था। मैं उनके साथ मेलबोर्न में टेस्ट मैच बचाने के लिए बल्लेबाजी कर रहा था। उन्होंने कहा, लेकिन जैसे ही हम वो मैच हारे, धोनी ने स्टंप्स उठाया और वह वहां से चले गए। उस समय ऐसा लगा जैसे उन्होंने कहा कि अब उनका खेल हो गया। यह उनके लिए काफी भावुक पल था। अश्विन ने कहा, उस दिन शाम को मैं, इशांत शर्मा और सुरेश रैना उनके साथ कमरे में थे। वह उस समय भी जर्सी पहने हुए थे और पूरी रात जर्सी पहने रहे थे। उनकी आंखों में उस समय़ आंसू भी थे। 

धोनी के साथ अपनी पहली मुलाकात पर उन्होंने कहा, मेरी पहली बार चेपक में भारत और वेस्टइंडीज के बीच वनडे में नेट गेंदबाज के तौर पर उनसे मुलाकात हुई थी। इसके बाद 2008 में मैं चेन्नई सुपर किंग्स से जुड़ा। मुझे उनके साथ काम करने का मौका मिला और मैंने उनसे काफी कुछ सीखा। जब मैं शुरुआत में उनसे मिला तो उनके बाल लंबे थे लेकिन धोनी के साथ समय बिताने के बाद मुझे एहसास हुआ कि वह परिपच् लीडर हैं। 
महेन्द्र सिंह धोनी का फ़ेयरवेल मैच रांची में हो जिसका गवाह पूरा विश्व बने- हेमन्त सोरेन

महेन्द्र सिंह धोनी का फ़ेयरवेल मैच रांची में हो जिसका गवाह पूरा विश्व बने- हेमन्त सोरेन

रांची , मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी द्वारा अंतराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा के बाद कहा कि देश और झारखण्ड को गर्व और उत्साह के अनेक क्षण देने वाले माही ने आज अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। हम सबके चहेते झारखण्ड का लाल माही को नीली जर्सी पहने अब नहीं देख पायेंगे। लेकिन देशवासियों का दिल अभी भरा नहीं। मैं मानता हूँ। हमारे माही का एक फ़ेयरवेल मैच रांची में हो जिसका गवाह पूरा विश्व बने। बीसीसीआई से अपील करना चाहूँगा। माही का एक फेयरवेल मैच कराया जाये, जिसकी मेजबानी पूरा झारखण्ड करेगा। 

भारतीय हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह समेत चार खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव

भारतीय हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह समेत चार खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव

बेंगलुरू। भारतीय पुरुष हॉकी टीम के कप्तान मनप्रीत सिंह, सुरेंद्र कुमार, जसकरण सिंह, वरुण कुमार और कृष्ण पाठक बेंगलुरू में राष्ट्रीय शिविर से पहले कोरोना वायरस जांच में पॉजिटिव पाए गए हैं। ये खिलाड़ी भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) के नेशनल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस (एनसीओई) में टीम के साथ रिपोर्ट करने के बाद कोरोना पॉजिटिव पाए गए।
 
 
सभी चारों खिलाडिय़ों को रैपिड टेस्ट में नेगेटिव पाया गया था। लेकिन मनप्रीत और सुरेंद्र में बाद में कुछ कोविड-19 के लक्षण दिखाई दिए तो उन्हें और उनके साथ यात्रा करने वाले अन्य 10 खिलाडिय़ों के साथ गुरुवार का आरटी- पीसीआर परीक्षण कराया गया जिसमें ये चार कोविड-19 पॉजिटिव निकले।
 
 
साई ने सभी एथलीटों के लिए इसे अनिवार्य कर दिया था, जिन्होंने आगमन के बाद कोविड-19 टेस्ट के लिए कैम्प में रिपोर्ट की थी। चूंकि टेस्ट में पॉजिटिव पाने वाले सभी एथलीटों ने एक साथ यात्रा की थी, इसलिए इस बात की ज्यादा आशंका है कि उन्होंने अपने गृहनगर बेंगलुरू से यात्रा करते समय वायरस को संक्रमित किया था।
 
 
उनके नतीजे हालांकि अभी साई को सौंपे नहीं गए हैं, लेकिन राज्य सरकार ने साई अधिकारियों को इनके बारे में बता दिया और कुछ परीक्षण के नतीजों का अब भी इंतजार है। शिविर के लिए रिपोर्ट करने वाले मनप्रीत सहित सभी खिलाड़ी स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशानिर्देशों के अनुसार पृथकवास में रह रहे हैं और वायरस के संक्रमण की संभावना को रोकने के लिए उन्हें एहतियाती कदम के अनुसार अलग रखा गया था।
 
 
मनप्रीत ने कहा,  मैं साई परिसर में अकेला पृथकवास में हूं और जिस तरह से साई अधिकारियों ने हालात को संभाला, उससे खुश हूं। मैं खुश हूं कि उन्होंने सभी खिलाडिय़ों का परीक्षण अनिवार्य किया है। इस कदम से सही समय पर वायरस से संक्रमण का पता चल जाएगा। मैं ठीक हूं और जल्द ही उबरने की उम्मीद है।
धोनी की टीम का चेन्नै में होगा कोरोना टेस्ट, फिर सबसे पहले यूएई जाने की तैयारी : सीएसके अधिकारी

धोनी की टीम का चेन्नै में होगा कोरोना टेस्ट, फिर सबसे पहले यूएई जाने की तैयारी : सीएसके अधिकारी

नईदिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की फ्रैंचाइजी चेन्नै सुपर किंग्स के खिलाड़ी सबसे पहले संयुक्त अरब अमीरात जाने की तैयारी में हैं। उनका कोरोना वायरस टेस्ट चेन्नै में होगा। यह जानकारी फ्रैंचाइजी से जुड़े एक अधिकारी ने दी।

सीएसके ने मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) और अन्य चीजों को लेकर लीग की गवर्निंग काउंसिल से संपर्क किया था और उसे इस संबंध में आश्वासन मिल गया है। आईपीएल टीम से साथ ही कहा गया है कि आईपीएल और फ्रैंचाइजियों के बीच बैठक इस सप्ताह होगी। सुपर किंग्स के एक अधिकारी ने कहा कि शीर्ष प्रबंधन रविवार को हुई बैठक के बाद से ही आईपीएल गर्वनिंग काउंसिल के संपर्क में है और उनसे कहा गया है कि आईपीएल टीमों के लिए एसओपी अगले कुछ दिनों में उन्हें दे दी जाएंगी।

सुपर किंग्स के सबसे पहले संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) जाने की उम्मीद है, लेकिन जीसी ने साफ कर दिया है कि टीमें 20 अगस्त के बाद ही यूएई जा सकेंगी। अधिकारी ने कहा कि प्रोटोकॉल तोडऩे का सवाल ही नहीं है, और सुपर किंग्स फिर भी सबसे पहले यूएई जाने की कोशिश करेगी।

अधिकारी ने कहा, 'नियमों को तोडऩे का कोई सवाल नहीं है लेकिन हम फिर भी सबसे पहले वहां जाने के बारे में सोच रहे हैं, 20 अगस्त से पहले नहीं। देखते हैं कि आईपीएल जीसी हमारे साथ होने वाली बैठक में क्या कहती है। इसके बाद ही हम उसके मुताबिक काम करेंगे। हमें यह भी फैसला लेना कि यूएई जाने से पहले क्या हम एक छोटा कैम्प लगा पाएंगे या नहीं, यह फैसला बोर्ड के साथ होने वाली बैठक के बाद लिया जाएगा। भारत में कैंप लगाने की संभावना हालांकि कम है।

खिलाड़ी कैसे आएंगे और किस तरह से टेस्टिंग की जाएगी? इस पर अधिकारी ने कहा कि टीम के खिलाड़ी कोरोना वायरस टेस्ट कराएंगे और फिर चेन्नै आएंगे और फिर 48 घंटे के भीतर यूएई के लिए उड़ान भरने की योजना है।
गांगुली का ऐलान, महिला आईपीएल का भी होगा आयोजन

गांगुली का ऐलान, महिला आईपीएल का भी होगा आयोजन

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने रविवार को कहा कि महिला इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आयोजन की पूरी योजना है। इससे उन अटकलों पर भी विराम लग गया है कि देश में क्रिकेट की संचालन संस्था के पास हरमनप्रीत कौर की अगुआई वाली टीम के लिए कोई योजना नहीं है। महिला आईपीएल को चैलेंजर सीरीज के नाम से जाना जाता है।
भारत में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए पुरुष आईपीएल का आयोजन 19 सितंबर से 8 या 10 नवंबर (अंतिम तारीख अभी तय नहीं) के बीच यूएई में किया जाना है। बीसीसीआई प्रमुख के अनुसार महिला आईपीएल को भी कार्यक्रम में जगह दी जाएगी।

रविवार को आईपीएल संचालन परिषद की बैठक से पहले गांगुली ने पीटीआई से कहा, ‘‘मैं आपको पुष्टि कर सकता हूं कि महिला आईपीएल की पूरी योजना है और राष्ट्रीय टीम के लिए भी हमारे पास योजना है।’’

गांगुली ने महिला आईपीएल को लेकर विस्तृत जानकारी नहीं दी लेकिन इस मामले की जानकारी रखने वाले एक अन्य वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि महिला चैलेंजर का आयोजन पिछले साल की तरह आईपीएल के अंतिम चरण में होगा।

सूत्र ने कहा, ‘महिला चैलेंजर सीरीज का आयोजन एक से 10 नवंबर के बीच किए जाने की योजना है और इससे पहले शिविर का आयोजन किया जा सकता है।‘
 

30 जुलाई को होने वाली ओलंपिक संघ की बैठक अब 8 अगस्त को होगी

30 जुलाई को होने वाली ओलंपिक संघ की बैठक अब 8 अगस्त को होगी

रायपुर, छत्तीसगढ़ ओलंपिक एसोसिएशन की 30 जुलाई को होने वाली आमसभा और चुनाव को स्थगित कर दिया गया है। अब यह बैठक 8 अगस्त को आयोजित की जाएगी। बताया जा रहा है कि इसी दिन कोषाध्यक्ष पद के लिए चुनाव कराया जाएगा। प्रदेश के कई जिलों में लॉकडाउन की स्थिति निर्मित होने के कारण बैठक की तिथि को एक बार फिर आगे बढ़ाई गई है। यह बैठक 8 अगस्त को रायपुर के वीआईपी रोड स्थित एक निजी होटल में सुबह 11 बजे बैठक बुलाई गई है। 

 धोनी जमीन से जुड़े इंसान हैं: इमरान ताहिर

धोनी जमीन से जुड़े इंसान हैं: इमरान ताहिर

नईदिल्ली। चेन्नई सुपर किंग्स के दक्षिण अफ्रीकी लेग स्पिनर इमरान ताहिर ने टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की सराहना करते हुए कहा है कि धोनी जमीन से जुड़े इंसान हैं। ताहिर ने कहा कि उन्होंने धोनी को टीवी में देखा था लेकिन निजी तौर उन्हें उनसे मिलने का मौका नहीं मिला था। उन्होंने बताया कि उनकी धोनी से मुलाकात 2016 में आईपीएल के दौरान हुई थी जब वह पुणे के खिलाड़ी थे।

उन्होंने धोनी के साथ अपनी पहली मुलाकात को याद करते हुए कहा, पुणे के तत्कालीन कप्तान ने हमारे बीच दूरी को तोड़ा और कहा कि मैं कभी भी उनके कमरे में आ सकता हूं। ताहिर ने बताया कि वह और चेन्नई के साथी खिलाड़ी धोनी के कमरे में समय बिताना बेहद पसंद करते हैं। ताहिर ने कहा, मैंने धोनी को टीवी पर देखा था लेकिन कभी निजी तौर पर नहीं मिला था। मेरी उनसे पहली मुलाकात तब हुई जब मुझे पुणे के लिए चुना गया। मैं थोड़ा बैचेन था, मुझे समझ नहीं आ रहा था कि कैसे विचार प्रकट करुं।
 
उन्होंने कहा, लेकिन मुझे बेहद खुशी हुई थी। मैं अपने कमरे के बाहर खड़ा था और धोनी अपने कमरे में जाने के लिए वहां आए और उन्होंने मुझसे कहा कि यह मेरा कमरा है इमरान भाई और आप कभी भी यहां आ सकते हैं। ताहिर ने कहा, धोनी जैसे लीजेंड खिलाड़ी के मुंह से यह शब्द सुनना मेरे लिए सुखद है। वह जमीन से जुड़े व्यक्ति हैं। मैंने सोचा कि अगर आप मुझे अपने कमरे में बुलाने का प्रस्ताव दे रहे हैं तो मैं जरुर अपने कमरे में आऊंगा।
संन्यास के बाद कपिल देव की सलाह काम आई: द्रविड़

संन्यास के बाद कपिल देव की सलाह काम आई: द्रविड़

नई दिल्ली। पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ ने कहा कि महान ऑलराउंडर कपिल देव की सलाह ने उन्हें संन्यास के बाद विकल्प तलाशने में मदद की। कपिल की सलाह के के बाद उन्होंने भारत ए और अंडर-19 टीमों के कोचिंग पद की जिम्मेदारी संभाली। द्रविड़ ने कहा कि वह थोड़े भाग्यशाली भी रहे कि अपने करियर के अंत में वह इंडियन प्रीमियर लीग की टीम राजस्थान रायल्स (क्रक्र) में कप्तान-सह-कोच की भूमिका निभा रहे थे।

 

द्रविड़ ने कहा, खेलना बंद करने के बाद बहुत ही कम विकल्प थे और मुझे पता नहीं चल रहा था कि क्या करना चाहिए। तो कपिल देव ही थे जिन्होंने मुझे सलाह दी और ऐसा मेरे करियर के अंत के दौरान ही हुआ था। 
 
उन्होंने कहा, मैं उनसे कहीं मिला और उन्होंने कहा, राहुल सीधे जाकर कुछ भी मत करो, पहले कुछ समय सिर्फ देखो और अलग अलग चीजें करो और फिर देखो कि तुम्हें वास्तव में क्या पसंद है। मुझे लगा कि यह अच्छी सलाह है। इस महान क्रिकेटर ने कहा कि शुरू में उन्हें कॉमेंटरी करना पसंद आया था, लेकिन बाद में उन्हें लगा कि वह खेल से थोड़े दूर हैं।

द्रविड़ ने कहा, मुझे जो चीज सबसे ज्यादा संतोषजनक लगती है वो खेल से जुड़े रहना है और खिलाडिय़ों के साथ संपर्क में रहना थी। मुझे कोचिंग जैसी चीज बहुत पसंद थी और जब मेरे पास मौका आया तो मैं भारत ए और अंडर-19 टीमों के साथ जुड़ गया। उन्होंने कहा, मुझे लगा यह शुरुआत करने के लिए अच्छी जगह थी और मैंने इसे स्वीकार कर लिया और मैंने अब तक इसका काफी लुत्फ उठाया है। मुझे कोचिंग करना काफी ज्यादा संतोषजनक लगता है। 

भारत के लिए 1996 से 2012 के बीच 164 टेस्ट में 13,288 रन बनाने वाले इस महान बल्लेबाज ने कहा, विशेषकर कोचिंग का विकास करने में मदद करने वाला हिस्सा, भले ही इसमें भारत ए टीम हो, अंडर-19 टीम या फिर एनसीए (राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी)। इससे मुझे काफी सारे खिलाडिय़ों से काम करने का मौका मिला और इसमें मुझे तुरंत नतीजे की चिंता भी नहीं थी जो मुझे लगता है कि मेरे लिए काम करने के लिये अच्छा था।
 विराट को उनके खेल को अलग स्तर में ले जाने पर सलाह दी थी: कस्टर्न

विराट को उनके खेल को अलग स्तर में ले जाने पर सलाह दी थी: कस्टर्न

नईदिल्ली। टीम इंडिया के पूर्व कोच गैरी कस्टर्न ने कहा है कि उन्होंने भारतीय कप्तान विराट कोहली के करियर के शुरुआती दिनों में उनके खेल को अलग स्तर में ले जाने पर सलाह दी थी। कस्टर्न टीम इंडिया के सबसे सफल कोच में से एक रहे हैं। उनके नेतृत्व में ही भारतीय टीम ने 2011 में एकदिवसीय विश्वकप का खिताब जीता था और विराट ने भी उनके ही नेतृत्व में अपना करियर 2008 में शुरू किया था। कस्टर्न ने विराट के करियर के शुरुआती दिनों को याद करते हुए द आरके शो में कहा, जब मैं विराट से पहली बार मिला तो मुझे उनमें बेहतरीन कौशल नजर आया, वह नौजवान थे। लेकिन मुझे पता था कि वह अपने खेल को सही तरीके से नहीं खेल रहे हैं इसलिए मैंने उनके साथ चर्चा की। उन्होंने कहा, मैं वो दिन नहीं भूलूंगा जब हम श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज खेल रहे थे और विराट शानदार बल्लेबाज कर रहे थे। वह 30 रन पर नाबाद थे और तब उन्होंने फैसला लिया कि वह गेंदबाज के ऊपर से लांग-आन पर छक्का मारेंगे लेकिन वह आउट हो गए थे।

कस्टर्न ने कहा, मैंने उनसे कहा कि अगर तुम्हें अपने खेल को अलग स्तर में ले जाना है तो आपको गेंद पर लांग-आन की तरफ जमीनी शॉट लगाना होगा। आपको पता है कि आप गेंद पर हवा में शॉट मार सकते हैं लेकिन इसमें खतरा भी रहता है। मुझे लगता है कि उन्होंने उसे थोड़ा समझा और कोलकाता में हुए अगले मैच में शतक जड़ा।
 सचिन मानेंगे नहीं लेकिन वह शोएब अख्तर से डरते थे: शाहिद अफरीदी

सचिन मानेंगे नहीं लेकिन वह शोएब अख्तर से डरते थे: शाहिद अफरीदी

नईदिल्ली। पाकिस्तान के पूर्व ऑलराउंडर शाहिद अफरीदी ने एक बार फिर सचिन तेंडुलकर के बारे में विवादास्पद बयान दिया है। अफरीदी ने नौ साल पहले कहा था कि महान बल्लेबाज को पाकिस्तानी तेज गेंदबाज शोएब अख्तर की गेंदबाजी का सामना करने से डर लगता था। अफरीदी ने एक बार फिर इस विवादास्पद बात को दोहराया है। अफरीदी ने कहा कि सचिन इस बात को मानेंगे नहीं लेकिन वह अख्तर से डरते थे। हालांकि खुद शोएब अख्तर कह चुके हैं कि ऐसी कोई बात नहीं है।

अफरीदी ने अपनी किताब ने कहा था, सचिन शोएब से डरते थे। मैंने खुद देखा है। मैं स्केवर लेग पर खड़ा होता था। जब अख्तर गेंदबाजी करने आते थे तो सचिन के पांव कांपते थे।

उन्होंने कहा, देखिए सचिन तेंडुलकर अपने मुंह से तो कहेगा नहीं कि मैं डर रहा हूं। शोएब अख्तर के ऐसे कई स्पेल होते थे जिसमें सिर्फ सचिन ही नहीं दुनिया के कई सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों को डराया। 

अख्तर ने कहा, जब आप मिड-ऑफ या कवर्स पर फील्डिंग करते हैं तो आप इसे देख सकते हैं। आपको किसी खिलाड़ी की बॉडी लैंग्वेज के बारे में पता चल जाता है। आप आसानी से समझ जाते हैं कि बल्लेबाज दबाव में है और वह अपना सर्वश्रेष्ठ नहीं दे पा रहा है। मैं यह नहीं कह रहा हूं कि शोएब ने सचिन को डरा दिया लेकिन शोएब के ऐसे कुछ स्पेल थे जिन्होंने दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों, जिनमें सचिन मभी शामिल हैं, को बैकफुट पर रखा। 

अफरीदी ने यह भी कहा कि सचिन को मिस्ट्री बोलर सई अजमल से भी डर लगता था। अख्तर शायद 2011 के वर्ल्ड कप का जिक्र कर रहे थे जब एक विवादास्पद फैसले में ऑनफील्ड अंपायर ने सचिन को अजमल की गेंद पर एलबीडब्ल्यू दे दिया था लेकिन तीसरे अंपायर के नतीजे से साफ हुआ कि गेंद लेग स्टंप के बाहर जा रही है। 
 
अफरीदी ने यह भी कहा, वर्ल्ड कप के दौरान सचिन सईद अजमल से डरते हुए नजर आए। यह कोई बड़ी बात नहीं है। खिलाड़ी कई बार दबाव महसूस करते हैं और यह उनके लिए चुनौतीपूर्ण हो जाता है। हाल के दिनों में शाहिद ने कई विवादास्पद बयान दिए हैं। उन्होंने हाल ही में कहा था कि पाकिस्तान की टीम भारतीय टीम को इतना हराती थी कि टीम इंडिया उनसे माफी मांगती थी।
विराट कोहली शांत नहीं रह सकते:नासिर हुसैन

विराट कोहली शांत नहीं रह सकते:नासिर हुसैन

नई दिल्ली। नासिर हुसैन ने भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली की तारीफ की है। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान ने एक कप्तान के रूप में कोहली की प्रगति को लेकर अपनी राय रखी है। 

नासिर ने कहा, सबसे पहली बात मैं कहना चाहूंगा कि विराट कोहली एक अलग इनसान हैं। महेंद्र सिंह धोनी के बाद कप्तानी संभालने के बाद यह काफी आसान था कि वह यह सोचते कि मुझे धोनी जैसा बनना है। मुझे शांत रहता है, मुझे फिनिशर बनना है, मुझे बर्फ की तरह ठंडा रहना है। विराट कोहली कभी शांत नहीं रह सकते। वह अपनी भावनाओं का खुलकर इजहार करते हैं।

नासिर ने कहा, अगर आप विराट कोहली को सुबह फुटबॉल खेलते हुए देखें तो आपको अहसास होगा। मुझे खुद उनकी टीम के खिलाडिय़ों के लिए चिंता होती है। वह जीतने को लेकर बहुत जुनूनी हैं। इसलिए अगर आप सीमित ओवरों के क्रिकेट में मुझसे रन-चेज में किसी एक खिलाड़ी के बारे में पूछें तो मैं कोहली का नाम लूंगा चूंकि वह लक्ष्य पर नजर रखते हैं और उनका पूरा ध्यान उस पर ही होता है। 

क्रिकेटर से कॉमेंटेटर बने नासिर हुसैन ने कहा, कोहली अपनी तरह के ही इनसान हैं। वह कई क्षेत्रों में बेहतर हुए हैं और कुछ क्षेत्र ऐसे हैं जिनमें मैं उन्हें बेहतर होते देखना चाहूंगा। वह काफी सोचते हैं। हर ओर में वह फील्डिंग में बदलाव करते हैं। वह चीजों को बदलने के लिए इधर-उधर दौड़ते हैं। मुझे लगता है कि वह कुछ ज्यादा ही सोचते हैं। 

नासिर हुसैन ने कोहली के सिलेक्शन के तरीके से भी थोड़ा असहमत नजर आए। उन्होंने कहा, मैं जानता हूं कि लोग कहेंगे कि यह कोहली का फैसला है। लेकिन आपके पास एक सिलेक्शन प्लान होना चाहिए। मुझे लगता है कि भारत ने कई चीजें अच्छी की हैं, लेकिन मुझे नहीं लगता कि सिलेक्शन उसमें से एक है। वर्ल्ड कप की ही बात करें आपको यही पता नहीं था कि नंबर चार पर कौन बल्लेबाजी करेगा। वह भी तब जब भारत में कई बड़े बल्लेबाज हैं। उन्हें सिलेक्शन की समस्या का हल तलाशन होगा लेकिन कप्तान का मूल काम मैच जीतना होता है और अगर आप कोहली के रेकॉर्ड को इस नजर से देखें तो वह दुनिया के सर्वश्रेष्ठ में शामिल होते है।
सौरभ गांगुली को एक और बड़ी जिम्मेदारी, एटीके-मोहन बागान के निदेशक नामित

सौरभ गांगुली को एक और बड़ी जिम्मेदारी, एटीके-मोहन बागान के निदेशक नामित

कोलकाता। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) अध्यक्ष सौरभ गांगुली को एटीके और मोहन बागान को विलय कर बनी इंडियन सुपर लीग की नयी टीम का एक निदेशक नामित किया गया है। मोहन बागान क्लब में 80 प्रतिशत की हिस्सा हासिल करने वाले चेयरमैन संजीव गोयनका के नेतृत्व में 10 जुलाई को बोर्ड की बैठक होगी जिसमें क्लब के नाम, जर्सी और लोगो (प्रतीक चिन्ह) को अंतिम रूप दिया जाएगा।

टीम के सह-मालिक और एक निदेशक उत्सव पारेख ने बताया कि गांगुली टीम के सह-मालिकों में से एक हैं और निदेशक बनने के शत प्रतिशत पात्र हैं। हम टीम का नाम, जर्सी और लोगो को अंतिम रूप देने के लिए पहली बार 10 जुलाई को मिलेंगे।

पिछले महीने कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय के साथ पंजीकरण के समय, एटीके-मोहन बागान प्राइवेट लिमिटेड ने पांच सदस्यों का नाम दिया था जिसमें एटीके के सह-मालिक उत्सव पारेख, मोहन बागान के श्रीनॉय बोस एवं देबाशीष दत्ता और दो अन्य सदस्यों गौतम रे और संजीव मेहरा का नाम था। 

पारेख ने रविवार को कहा, यह केवल औपचारिकता थी जो आधिकारिक तौर पर उद्यम शुरू करने के लिए एक कागजी कार्रवाई है। हमने उस समय गोयनका (टीम के प्रमुख मालिक) को भी बोर्ड का हिस्सा नहीं बनाया था। हमने अब गोयनका और गांगुली को इसमें शामिल किया है। इस विलय से पहले, एटीके ने तीन बार आईएसएल खिताब जीता था जबकि मोहन बागान ने दो बार आई-लीग चैंपियन रही है।
विराट को ट्रोल करने की कोशिश पीटरसन को पड़ी भारी, जानिए क्या हुआ ऐसा

विराट को ट्रोल करने की कोशिश पीटरसन को पड़ी भारी, जानिए क्या हुआ ऐसा

नईदिल्ली। दुनिया के दिग्गज बल्लेबाजों में शुमार टीम इंडिया के कैप्टन विराट कोहली अपनी फिटनेस को लेकर भी काफी सजग रहते हैं। कोरोना वायरस के कारण भले ही क्रिकेट संबंधी गतिविधियों पर ब्रेक लगा है लेकिन विराट लगातार जिम में पसीना बहा रहे हैं। उन्होंने एक्सरसाइज करते हुए एक वीडियो क्लिप शुक्रवार को शेयर किया। कैप्टन कोहली ने वेटलिफ्टिंग का एक वीडियो क्लिप शेयर किया, जिसमें वह कड़ी मेहनत करते दिख रहे हैं। इस पर इंग्लैंड के पूर्व कप्तान केविन पीटरसन ने उन्हें ट्रोल करने की कोशिश की लेकिन विराट की हाजिरजवाबी के सामने उनकी बोलती बंद हो गई।
विराट ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा, अगर मुझे मौका मिले रोज एक एक्सरसाइज को चुनने का तो यह ही होगी। लव द पावर स्नैच। इस वीडियो पर कॉमेंट करते हुए 40 वर्षीय पूर्व क्रिकेटर पीटरसन ने लिखा, बाइक पर चढ़ जाइए। विराट ने इसके रिप्लाई में जवाब में लिखा, रिटायरमेंट के बाद। विराट सोशल मीडिया पर काफी ऐक्टिव रहते हैं और फैंस के लिए फोटो-वीडियो शेयर करते हैं। इंटरनैशनल क्रिकेट में 20 हजार से ज्यादा रन बना चुके विराट कोहली आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की कप्तानी संभालते हैं। कोरोना वायरस के कारण आईपीएल को भी अनिश्चितकाल के लिए स्थगित किया गया है।
 मौजूदा गेंदबाजों के सामने शायद बेहतर बल्लेबाज: महेला जयर्वधने

मौजूदा गेंदबाजों के सामने शायद बेहतर बल्लेबाज: महेला जयर्वधने

मुंबई। श्रीलंका के पूर्व कप्तान महेला जयवर्धने ने कहा है कि मौजूदा गेंदबाजों की तुलना पूर्व खिलाडिय़ों से करना गलत होगा, क्योंकि जसप्रीत बुमराह और कागिसो रबादा के सामने शायद पहले से बेहतर बल्लेबाज हैं। 

उन्होंने कहा, 'अगर आप आज के दौर के सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले शीर्ष 10 गेंदबाजों को देखेंगे तो उन्होंने अपना शुरुआती करियर उस दौर में बिताया है। मैंने कपिल देव और कर्टनी वॉल्श को नहीं खेला क्योंकि मैंने उनके बाद क्रिकेट शुरू की।

जयवर्धने ने ईएसपीएनक्रिकइंफो पर संजय मांजरेकर से बात करते हुए कहा, 'तब मुथैया मुरलीधरन, शेन वार्न, ग्लैन मैक्ग्रा, अनिल कुंबले, भज्जी (हरभजन सिंह), सकलैन मुश्ताक, वसीम अकरम, वकार यूनिस थे। इनके आंकड़े इनके बारे में बताते हैं।

उन्होंने कहा, 'हमें अभी देखना है कि मौजूदा गेंदबाजों की पौध उन आंकड़ों तक पहुंचती है या नहीं। मौजूदा गेंदबाज शायद बेहतर बल्लेबाजी ईकाई के सामने खेल रहे हैं।' जयवर्धने ने सभी प्रारूपों में श्रीलंका के लिए कुल 652 मैच खेले हैं और वह दुनिया के महान बल्लेबाजों में गिने जाते हैं।
बीते 50 साल में कौन है बेस्ट भारतीय टेस्ट बल्लेबाज, द्रविड़ ने सचिन को पछाड़ा

बीते 50 साल में कौन है बेस्ट भारतीय टेस्ट बल्लेबाज, द्रविड़ ने सचिन को पछाड़ा

नईदिल्ली। भारतीय क्रिकेट में बल्लेबाजों की एक लंबी परंपरा रही है। चाहे प्रारूप कोई भी हो भारतीय बल्लेबाजों ने हर बार अपना असर दिखाया है। सचिन तेंडुलकर को भारत ही नहीं दुनिया का महानतम बल्लेबाजों में गिना जाता है। लेकिन विजडन इंडिया द्वारा करवाए गए एक ऑनलाइन पोल में मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंडुलकर राहुल द्रविड़ से पिछड़ गए। विजडन ने पूछा था कि इन दोनों भारतीयों में बीते 50 साल में कौन बेहतर टेस्ट बल्लेबाज रहा है। 

द्रविड़ और तेंडुलकर के बीच मुकाबला कड़ा था लेकिन आखिर में द्रविड़ को सचिन से ज्यादा वोट मिले। और उन्हें बीते 50 साल में बेहतर भारतीय टेस्ट बल्लेबाज का खिताब मिला। 

इस पोल में कुल 11400 लोगों ने वोटिंग दी। इसमें द्रविड़ को 52 और तेंडुलकर को 48 फीसदी वोट मिले। द वॉल के नाम से मशहूर राहुल द्रविड़ पोल के शुरुआती दौर में सचिन से पिछड़ रहे थे लेकिन धीरे-धीरे वह सचिन से आगे निकल गए। 

पोल के शुरुआती दौर में सुनील गावसकर और विराट कोहली को भी शामिल किया गया था। तेंडुलकर ने जहां विराट कोहली को पीछे छोड़ा था वहीं राहुल द्रविड़ को लोगों ने सुनील गावसकर से बेहतर बल्लेबाज माना था।

इसके बाद तीसरे स्थान के लिए कोहली और सुनील गावसकर के बीच भी पोलिंग हुई। इसमें लिटिल मास्टर ने भारतीय टीम के मौजूदा कप्तान को पीछे छोड़ते हुए तीसरा स्थान हासिल किया।

गावसकर, कोहली, द्रविड़ और तेंडुलकर सभी ने क्रिकेट के इस सबसे लंबे प्रारूप में शानदार प्रदर्शन किया है। सचिन इस प्रारूप में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। उन्होंने 15921 रन बनाए हैं। वहीं द्रविड़ के नाम 13288 रन हैं। गावसकर टेस्ट क्रिकेट में 10 हजार रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज थे। उन्होंने 10122 रन बनाए। कोहली की बात करें उनका करियर भी काफी बाकी है और उम्मीद की जा रही है कि वह कई रेकॉर्ड अपने नाम करेंगे।
Previous123Next