Corona Update 04 Oct : प्रदेश में आज इतने मरीजों की हुई पुष्टि, इस जिले से मिले सबसे ज्यादा मामले, देखिए जिलेवार आंकड़ें    |    Corona Update 3 Oct : राज्य में कोरोना से 1 की मौत...इस जिले से मिले सबसे ज्यादा मामलें...देखें जिलेवार आंकड़ें    |    Corona Update 2 Oct : प्रदेश में आज मिले कोरोना के इतने मरीज, फिर इस जिले से सामने आए सर्वाधिक मामलें...देखें जिलेवार आंकड़े    |    TRANSFER BREAKING : लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग में बड़ी फेरबदल, कई अधिकारी कर्मचारी इधर से उधर...देखें पूरी लिस्ट    |    Corona Update 30 Sept : प्रदेश में आज इतने मरीजों की हुई पुष्टि, इस जिले से मिले सबसे ज्यादा मामले, देखिए जिलेवार आंकड़ें    |    कोरोना को लेकर राहत की खबर...24 घंटे में मिले इतने नए कोरोना के मरीज...देखिए जिलेवार आकड़े    |    कोरोना को लेकर राहत की खबर...24 घंटे में मिले इतने नए कोरोना के मरीज...देखिए जिलेवार आकड़े    |    Corona Update 26 September : छत्तीसगढ़ में आज मिले कोरोना के इतने नए मरीज...देखें जिलेवार आंकड़े    |    कोरोना को लेकर राहत की खबर...24 घंटे में मिले इतने नए कोरोना के मरीज...देखिए जिलेवार आकड़े    |    Corona Update 24 September : छत्तीसगढ़ में आज मिले कोरोना के इतने नए मरीज...देखें जिलेवार आंकड़े    |
महिला ने लगाया चोरी करने का आरोप, तो युवक ने मौत होने तक ब्लेड से काटा गला

महिला ने लगाया चोरी करने का आरोप, तो युवक ने मौत होने तक ब्लेड से काटा गला

 राजनांदगांव। जिले में एक युवक ने बुजुर्ग महिला की ब्लेड से गला काटकर हत्या (slit death) कर दी है। बताया गया कि महिला उस पर चोरी करने का शक करती थी। इसलिए युवक ने महिला की हत्या का प्लान बनाया। फिर हाथ से महिला का मुंह दबाया और ब्लेड से हमला कर उसकी जान ले ली थी। इस मामले में अब पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है। मामला डोंगरगांव थाना क्षेत्र का है।

कोकपुर निवासी कुंवर बाई(70) की लाश 28 अगस्त की सुबह मिली थी। उसके पड़ोसियों ने महिला की लाश देखी थी। महिला के शरीर में काफी चोट के निशान थे। पूरे शरीर से खून निकल रहा था। इसके बाद लोगों ने ही पुलिस को इस बात की सूचना दी थी। सूचना मिलने पर पुलिस की टीम मौके पर पहुंची थी। जिसके बाद से पुलिस मामले की जांच कर रही थी।

पुलिस ने जांच के दौरान गांव के लोगों से पूछताछ की थी। इसी कड़ी में पुलिस ने रोशन उईके(27) से भी पूछताछ की थी। पूछताछ में ही रोशन ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। रोशन ने बताया कि कुछ समय पहले महिला के घर चोरी हुई थी। वो उस चोरी के लिए मुझ पर शक करती थी। सब जगह इसने मुझे बदनाम कर दिया कि मैं चोर हूं। मगर मैंने ऐसा नहीं किया था। इसलिए 27 सितंबर की रात को मैं उसके घर पर गया और पहले तो मैंने महिला का मुंह दबाया। फिर ब्लेड से तब तक गला काटा,जब तक उसकी मौत नहीं हो गई।

जुर्म कबूल करने के बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पता चला है कि महिला घर पर अकेले रहती थी। उसके पति की मौत हो चुकी है। जबकि शादी के बास उसकी लड़कियों अपने ससुराल में रहती हैं। पुलिस ने शनिवार को पूरे मामला का खुलासा किया है।

नवरात्री पर डोंगरगढ़ पहुंचने वाले दर्शनार्थियों के लिए खास खबर...जल्दी पढ़े

नवरात्री पर डोंगरगढ़ पहुंचने वाले दर्शनार्थियों के लिए खास खबर...जल्दी पढ़े

 डोंगरगढ़: छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले से करीब 40 किमी की दुरी पर डोंगरगढ़ गांव के पहाड़ पर मां बम्लेश्वरी का दरबार स्तिथ है। यहां हर साल नवरात्री के अवसर पर लाखों के तादात में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ती है। वहीं कल से प्रारंभ होने वाले शारदीय नवरात्र पर्व के सफल संचालन एवं भीड़ नियंत्रण को लेकर प्रशासन ने ट्रेफिक व्यवस्था तथा दर्शनार्थियों की सुविधा के लिए मार्ग निर्धारण के आदेश जारी किए है।

इस दौरान प्रशासन ने शहर के गणमान्य तथा जनप्रतिनिधियों से चर्चा की तथा यातायात व्यवस्था एवं स्थानीय तथा बाहर से आने वाले दर्शनार्थियों के लिए मार्ग व्यवस्था पर सुझाव लिए। पार्किंग तथा असमाजिक तत्वों द्वारा दुकानों से अवैध वसूली की शिकायत तुरंत थाने में करने की बात कही।

प्रशासन ने मार्ग को लेकर आदेश में डोगरगढ़ से राजनांदगांव जाने के लिए चिचोला रोड में गाजमर्रा, राजकट्टा, चंद्रगिरी, गुरूद्वारा पर्किंग चौक से कुरुभांट मुरमुंदा चौक, पटपर, उरईडबरी, तुमड़ीबोड होते हुए राजनादगांव दुर्ग- रायपुर पहुंचा जायेगा। उसी तरह राजनांदगांव से डोगरगढ़ आने वाले यात्रियों के लिए -तुमड़ीबोड-मुरमुदा चौक, बधियाटोला नरेन्द्र सॉ मिल, रेल्वे पटरी होते हुये नीचे मंदिर- हॉस्पीटल रोड-गौ-शाला पार्किंग होते हुए डोगरगढ पहुंचेंगे।

नेशनल हाईवे में पुलिस आरक्षक की हत्या...गले पर मिले गहरे चोट के निशान, जताई जा रही यह आशंका

नेशनल हाईवे में पुलिस आरक्षक की हत्या...गले पर मिले गहरे चोट के निशान, जताई जा रही यह आशंका

 राजनांदगांव।  जिले के सोमनी थाना क्षेत्र में शनिवार को पुलिस आरक्षक की हत्या (murder of police constable) कर दी गई। यहां नागपुर नेशनल हाईवे- 53 पर सोमनी और ठाकुर टोला के बीच आरक्षक संतोष यादव (35 वर्ष) की लाश मिली। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची।

CSP गौरव राय ने बताया कि पुलिस आरक्षक संतोष यादव पुलिस लाइन में ड्राइवर था। पता चला है कि वो शुक्रवार रात अपने घर से खाना खाने के बाद टहलने के लिए निकला था, लेकिन फिर वापस नहीं लौटा। आज सुबह उसका शव हाईवे के किनारे मिला। उन्होंने कहा कि आरक्षक के गले पर गहरा निशान है, इसलिए शुरुआती जांच में हत्या की आशंका जताई जा रही है। शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है और रिपोर्ट आने के बाद मौत की सही वजहों का खुलासा हो सकेगा।

CSP गौरव राय ने बताया कि आरक्षक मूल रूप से उत्तर प्रदेश के वाराणसी का रहने वाला था और यहां पुलिस लाइन में अपनी पत्नी और बच्चे के साथ रहता था। आरक्षक संतोष यादव के पिता बीएन यादव कबीरधाम के कुंडा थाने में ASI हैं।

एसपी प्रफुल्ल ठाकुर पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे और घटनास्थल का जायजा लिया। डॉग स्क्वॉड और फॉरेंसिक विशेषज्ञों की मदद ली जा रही है। उन्होंने पुलिस टीम से जल्द आरोपियों को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि संतोष यादव के शरीर पर चोट के कई निशान पाए गए हैं। उन्होंने कहा कि आरक्षक संतोष यादव को लोगों ने कुछ युवकों के साथ घटनास्थल पर देखा था। आशंका जताई जा रही है कि विवाद के बाद आरक्षक की हत्या की गई है। हालांकि फिलहाल पुलिस पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है।

नाबालिग से दुष्कर्म कर दी जान से मारने की धमकी, गर्भवती होने पर हुआ मामले का खुलासा, आरोपी गिरफ्तार

नाबालिग से दुष्कर्म कर दी जान से मारने की धमकी, गर्भवती होने पर हुआ मामले का खुलासा, आरोपी गिरफ्तार

 राजनांदगांव। जिले में 16 साल की नाबालिग लड़की से रेप का मामला सामने आया है। आरोपी ने नाबालिग के घर में घुस कर उसके साथ दुष्कर्म को अंजाम दिया और जान से मारने की धमकी भी दी। जब लड़की की तबियत बिगड़ी तब मामला सामने आया है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। मामला चिचोला चौकी क्षेत्र का है।

मामला इसी साल जनवरी महीने का है। जब दोपहर के समय 12वीं में पढ़ने वाली छात्रा घर में अकेली थी। उसी दौरान उसी के गांव में ही रहने वाला सुरेश कुमार सवाई(33) लड़की के घर में घुस गया। इसके बाद उसने लड़की से रेप किया। आरोपी ने पीड़िता से कहा कि किसी को इस बारे में बताया तो जान से मार दूंगा। वारदात को अंजाम देकर आरोपी फरार हो गया था। लड़की ने भी इस घटना की जानकारी किसी को नहीं दी थी।

इस बीच बीते 18 सितंबर को नाबालिग की तबीयत बिगड़ गई। जिसके बाद परिजन उसे अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टर ने उसके गर्भवती होने की बात बताई। गर्भवती होने की जानकारी मिलते ही परिजन पुलिस के पास पहुंचे और उन्होंने पूरे मामले की शिकायत की। शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ रेप का मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बताया है कि आरोपी शादीशुदा है।

शराब का अवैध परिवहन करते 2 आरोपी गिरफ्तार, 9 पेटी अग्रेजी शराब और एक चार पहिया वाहन जब्त

शराब का अवैध परिवहन करते 2 आरोपी गिरफ्तार, 9 पेटी अग्रेजी शराब और एक चार पहिया वाहन जब्त

 राजनांदगांव/ जिले में पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल ठाकुर के दिशा निर्देश में लगातार अवैध शराब तस्करी एवं बिक्री के विरुद्ध प्रतिबंधात्मक कार्यवाही देखने को मिल रही है। इसी कड़ी में आज पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है, जहां पुलिस ने दो शराब तस्करों को गिरफ्तार किया है। मामला जिले के चिचोला पुलिस चौकी क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक पुलिस ने मध्यप्रदेश निर्मित शराब का अवैध परिवहन करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी भावेश पांडे और अखिल तिवारी के पास से 9 पेटी अग्रेजी शराब और एक चार पहिया वाहन जप्त किया है, वहीं आरोपियों के खिलाफ ने आबकारी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

शराब पिलाकर लड़की से गैंगरेप: झांकी दिखाने के बहाने ले गया युवक और 2 साथियो संग मिलकर किया दुष्कर्म

शराब पिलाकर लड़की से गैंगरेप: झांकी दिखाने के बहाने ले गया युवक और 2 साथियो संग मिलकर किया दुष्कर्म

 राजनांदगांव: छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले से नाबालिग लड़की के साथ गैंगरेप का एक मामला सामने आया है, जहां हैवानों ने शराब पिलाकर रेप की घटना को अंजाम दिया है वही पुलिस ने मामले में तीन आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। घटना 10 सितंबर की रात बसंतपुर थाना क्षेत्र में हुई है। आरोपियों में से एक युवक लड़की की पहचान का था।

झांकी दिखाने के बहाने बाइक पर बिठाया
बसंतपुर थाना प्रभारी सी आर चंद्रा ने कहा कि 15 साल की लड़की अपने घर वापस लौट रही थी। जीई रोड सिंधी कॉलोनी के पास उसकी पहचान का युवक सूरज यादव (20 वर्ष) उसे मिल गया। सूरज ने कहा कि वो डोंगरगढ़ में झांकी देखने जा रहा है, वो भी उसके साथ चले। बाद में वो उसे बाइक से उसे घर भी छोड़ देगा। तब लड़की झांकी देखने के नाम से उसकी बाइक पर बैठ गई। कुछ दूर जाने के बाद उसने अपने एक और साथी जितेंद्र रजक को भी मोटरसाइकिल पर लड़की के पीछे बिठा लिया।

चाकू की नोक पर नाबालिग को पिलाई शराब
नाबालिग ने इस बात का विरोध किया, लेकिन वे उसे तुमडीबोड मुरमंदा की ओर सुनसान इलाके में ले गए। वहां दोनों आरोपियों ने अपने तीसरे साथी सन्नी कुमार रजक को भी डोंगरगढ़ से बुला लिया। आरोपियों ने चाकू की नोक पर पीड़िता को शराब पिलाई और उसके साथ दुष्कर्म किया। तीनों आरोपी भी शराब के नशे में धुत थे। आरोपियों ने रेप के बाद पीड़िता को शहर के एक इलाके में छोड़ दिया और किसी से भी घटना के बारे में बताने पर जान से मारने की धमकी दी।

तीनों आरोपियों को न्यायिक हिरासत
हालांकि पीड़िता ने तुरंत घटना की जानकारी परिवार को दी। इसके बाद उन्होंने थाने में केस दर्ज कराया। बसंतपुर थाना पुलिस ने घटना की जानकारी SP प्रफुल्ल ठाकुर को दी। वारदात की गंभीरता को समझते हुए एसपी ने आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए तुरंत एक टीम तैयार की। पुलिस टीम ने घेराबंदी कर तीनों आरोपियों सूरज यादव (20 वर्ष), सन्नी कुमार रजक (25 वर्ष) और जितेंद्र रजक (30 वर्ष) को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के खिलाफ IPC की धारा 363, 376, 376 डी और पॉक्सो एक्ट 4, 6 के तहत केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने तीनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।

शहर में 4 दिन तक शाम चार बजे से रात 11 बजे भारी वाहनों का प्रवेश रहेगा प्रतिबंध

शहर में 4 दिन तक शाम चार बजे से रात 11 बजे भारी वाहनों का प्रवेश रहेगा प्रतिबंध

 राजनांदगांव में गणेशोत्सव को लेकर भारी वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। कलेक्टर डोमन सिंह ने 8 से 12 सितंबर तक प्रतिदिन शाम 4 बजे से रात 11 बजे तक भारी वाहनों के प्रवेश पर पूर्णता प्रतिबंद का आदेश दिया है।

बता दें कि राजनांदगांव में गणेशोत्सव के दौरान शहर समेत छत्तीसगढ़ राज्य, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र से भी बड़ी संख्या में श्रद्धालु दर्शन करने आते हैं। शाम के समय भारी वाहनों के प्रवेश से दुर्घटना की स्थिति निर्मित हो सकती है। इसे देखते हुए 8 से 12 सितंबर तक प्रतिदिन शाम 4 बजे से रात 11 बजे तक राजनांदगांव शहर में भारी वाहनों के प्रवेश पर रोक लगाई है।

एक नए प्रशासनिक इकाई के रूप में उभरेगा मोहला-मानपुर-चौकी जिला, कल मिलेगी नई पहचान

एक नए प्रशासनिक इकाई के रूप में उभरेगा मोहला-मानपुर-चौकी जिला, कल मिलेगी नई पहचान

 राजनांदगांव: मोहला-मानपुर अंबागढ़ चौकी जिला राजनांदगांव जिले से अलग होकर एक नये प्रशासनिक इकाई के रूप में पहचान बनाने जा रहा है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा इस क्षेत्र को जिला बनाने की ऐतिहासिक घोषणा के बाद मोहला-मानपुर-अंबागढ़ चौकी के सुदूर वनांचल क्षेत्रों तक हर्ष व्याप्त है। यह क्षेत्र लंबे समय तक नक्सल गतिविधियों से प्रभावित रहा है। नया जिला बन जाने से शासन-प्रशासन इन क्षेत्रों में और निकट तक पहुंचेगा और विकास कार्यों की गति बढ़ेगी। शासन के प्रयासों से इन क्षेत्रों में विकास कार्यों को प्राथमिकता देते हुए स्वास्थ्य, शिक्षा, खाद्यान्न, रोड कनेक्टिविटी के लिए विशेष कार्य किए जा रहे हैं। नया जिला बन जाने से इन क्षेत्रों की तस्वीर बदलेगी। यह क्षेत्र प्राकृतिक वन संपदा से परिपूर्ण है। यहां के सघन वनों में लघुवनोपज प्रचुर मात्रा में है। मोहला-मानपुर क्षेत्र जनजातीय बाहुल्य क्षेत्र है। मोहला-मानपुर-अंबागढ़ चौकी जिला एक नये नक्शे के साथ 2 सितंबर को आकार ले लेगा।

नवीन जिले की भौगोलिक सीमाएं उत्तर में जिला राजनांदगांव के तहसील छुरिया, दक्षिण में तहसील दुर्गकोंदल, पखांजुर जिला कांकेर, पूर्व में तहसील डौंडी, डौंडी लोहारा जिला बालोद एवं पश्चित में महाराष्ट्र की सीमा से लगी हुई है। नवीन जिला मोहला-मानपुर-अंबागढ़ चौकी दुर्ग संभाग के अंतर्गत होगा। नवीन गठित इस जिले में तहसीलों की संख्या 3 है जिसमें अम्बागढ़ चौकी, मोहला एवं मानपुर है। विकासखण्ड एवं जनपद पंचायत - अम्बागढ़ चौकी, मोहला एवं मानपुर है।नवीन जिले में कुल ग्रामों की संख्या 499 है। भौगोलिक क्षेत्रफल 2 लाख 14 हजार 667 हेक्टयर है। यहां कि कुल जनसंख्या 2 लाख 83 हजार 947 है जिसमें अनुसुचित जनजाति की कुल जनसंख्या 1 लाख 79 हजार 662 जो जिले कि कुल जनसंख्या का 63.27 प्रतिशत है। जिले में राजस्व निरीक्षक मंडल की संख्या 13 है, कुल पटवारी हल्का नम्बर 89 है, ग्राम पंचायत की संख्या 185 है। जिला मोहला-मानुपर-चौकी में थानों की कुल संख्या 9 है। विधानसभा क्षेत्र 2 तथा कुल मतदान केंद्र संख्या 497 है।

नवीन जिले मोहला-मानपुर- अंबागढ़ चौकी में अंबागढ़ चौकी में ग्रामों की संख्या-158, मोहला में ग्रामों की संख्या 171 एवं मानपुर में ग्रामों की संख्या 170 है। इस नवीन जिले में भौगोलिक क्षेत्रफल अंबागढ़ चौकी में 54 हजार 747 हेक्टेयर, मोहला में 70 हजार 301 हेक्टेयर एवं मानपुर में 89 हजार 619 हेक्टेयर है। अंबागढ़ चौकी की जनसंख्या 1 लाख 08 हजार 334, मोहला की जनसंख्या 86 हजार 994 एवं मानपुर की जनसंख्या 88 हजार 619 है। जहां अनुसूचित जनजाति की संख्या अंबागढ़ चौकी में 52 हजार 786, मोहला में 60 हजार 950 एवं मानपुर में 65 हजार 926 है। अनुसूचित जनजाति का प्रतिशत अंबागढ़ चौकी में 48.73, मोहला में 70.06 एवं मानपुर में 74.39 है।

नवीन जिले में राजस्व निरीक्षक मंडल की संख्या अंबागढ़ चौकी में 5, मोहला में 4 एवं मानपुर में 4 है। नवीन जिले में पटवारी हल्का नंबर अंबागढ़ चौकी में 33, मोहला में 28 एवं मानपुर में 28 है। अंबागढ़ चौकी में 69 ग्राम पंचायत, मोहला में 59 ग्राम पंचायत तथा मानपुर में 59 ग्राम पंचायत रहेंगे। राजनांदगांव जिले से अंबागढ़ चौकी की दूरी 50 किलो मीटर, मोहला की दूरी 75 किलो मीटर, मानपुर की दूरी 100 किलो मीटर है। गठित नवीन जिले में अंबागढ़ चौकी के अंतर्गत दो थाने अम्बागढ़ चौकी थाना एवं चिल्हाटी थाना है। मोहला के अंतर्गत मोहला थाना एवं मानपुर के अंतर्गत कुल 6 थाने खड़गांव थाना, मानपुर थाना, कोहका थाना, सीतागांव थाना, मदनवाड़ा थाना एवं औंधी थाना है।

मुख्यमंत्र भूपेश बघेल ने प्रशासनिक कार्यों में कसावट लाने एवं आम जनता को सहूलियत पहुंचाने के उद्देश्य से नए जिलों के गठन की घोषणा की थी और 2 सितंबर को मोहला-मानपुर-अंबागढ़ चौकी के रूप में प्रदेश के 29वें जिले के शुभारंभ के साथ ही गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ की संकल्पना को और बल मिलने जा रहा है|

CG में गणेश चतुर्थी के पहले दिन डबल मर्डर: दो युवकों पर चाकूओ से ताबड़तोड़ हमला

CG में गणेश चतुर्थी के पहले दिन डबल मर्डर: दो युवकों पर चाकूओ से ताबड़तोड़ हमला

 राजनांदगांव: छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव के बसंतपुर थाना क्षेत्र में आज में डबल मर्डर से सनसनी मच गई। घटना की सूचना के बाद मौके पर पुलिस के आला अधिकारी पहुंचे हुये है और आसपास के लोगों से पूछताछ जारी है।जानकारी के मुताबिक, नंदई चौक के पास आज सुबह साढ़े पांच बजे कुछ युवकों ने गौरी नगर निवासी 26 वर्षीय कन्हा सारथी और नंदई निवासी जितेंद्र साहू पर चाकूओं से ताबड़तोड़ हमला कर दिया। अचानक हुए हमले में कान्हा की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं जितेंद्र को लहूलुहान हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां पर इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। बताया जा रहा है दोनो मृतक आदतन अपराधी थे, जिन पर जिले के कई थानों में अपराध दर्ज था। वहीं वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपित मौके से भाग निकले। हत्या किसने और क्योंकि अभी स्पष्‍ट नहीं हो पाया है। पुलिस घटना स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाल रही है।

राजनांदगांव सीएसपी आईपीएस गौरव राय ने बताया कि कुछ संदेहियों को हिरासत में लिया गया है। आसपास के लोगों से भी पूछताछ की जा रही है। जल्द ही हत्या के मामले में फरार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। फिलहाल हत्या के कारनों का पता लगाया जा रहा है। 

लग्जरी कार से मिली 18 पेटी शराब, चालक छोड़कर जंगल में हुआ फरार, पुलिस जांच में जुटी…

लग्जरी कार से मिली 18 पेटी शराब, चालक छोड़कर जंगल में हुआ फरार, पुलिस जांच में जुटी…

 राजनांदगांव- जिले के बाघनदी पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर बागनदी बस स्टॉप पर वाहन चेकिंग के दौरान एक लग्जरी कार से शराब तस्करी करते हुए पुलिस वाहन को जब्त किया है। पुलिस को देखकर चालक वाहन छोड़कर भाग निकला। पुलिस ने वाहन से 18 पेटी गोवा व्हिस्की शराब जब्त किया है।बता दें कि पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि एक नीला कलर के रेनॉल्ट कार क्रमांक सीजी 08 एआर 4933 में भारी मात्रा में मध्यप्रदेश ब्रांड का शराब लेकर मध्य प्रदेश से देवरी होते बाघनदी तरफ आने वाली है।     सूचना पर बागनदी बस स्टॉप चौक के पास पुलिस ने नाकाबंदी कर वाहनों को चेक कर रही थी। तभी कार चालक अपने वाहन को तेज भगा कर स्टॉपर को ठोकर मार कर भागने लगा   पुलिस को पीछे आते देखकर एनएच-53 खैरबना जाने वाले रोड से लगभग 500 मीटर दूरी में ले जाकर वाहन को रोड किनारे खड़ी कर वाहन से उतरकर चालक जंगल में भाग निकला। जिससे पुलिस ने वाहन के अंदर तलाशी ली तो 18 पेटी गोवा व्हिस्की अंग्रेजी शराब मिला। जिसकी कीमत करीब 96,300 रूपए के आसपास है। वहीं पुलिस कार जब्त कर आरोपी की पतासाजी कर रही है।

राजनांदगांव के तीन व्यापारियों पर बड़ी कार्रवाई, करीब डेढ़ करोड़ कैश बरामद

राजनांदगांव के तीन व्यापारियों पर बड़ी कार्रवाई, करीब डेढ़ करोड़ कैश बरामद

 राजनांदगांव: शहर के तीन व्यापारियों के पास से 1 करोड़ 40 लाख से ज्यादा कैश बरामद हुआ है। इनके पास से 5 मोबाइल और एक कार भी जप्त की गई है। देवरी पुलिस इस मामले की जांच कर रही है।मंगलवार रात 8 से 9 बजे के बीच देवरी महाराष्ट्र पुलिस ने चेकिंग के दौरान गाड़ी नंबर सीजी जीरो आठ आर नौ जीरो जीरो जीरो को रोका। कार में बैठे तीन व्यापारियों के पास करीब डेढ़ करोड़ रुपए थे। व्यापारियों ने कैश का ब्योरा नहीं दिया, जिसके बाद पुलिस ने कैश जब्त कर जांच शुरू कर दी है। पकड़े गए व्यापारियों के नाम कमल गांधी, विनोद जैन और नेमचंद बघेल हैं।
बीती रात इस घटना के बाद राजनांदगांव के व्यापारियों में हड़कंप मचा हुआ है। फिलहाल देवरी पुलिस पूछताछ कर धन का स्त्रोत पता कर रही है।

CG में विचाराधीन बंदी की मौत: परिजनों ने जेल प्रबंधन पर लगाया लापरवाही का आरोप

CG में विचाराधीन बंदी की मौत: परिजनों ने जेल प्रबंधन पर लगाया लापरवाही का आरोप

 राजनांदगांव: छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जेल में एक कैदी की मौत हो गई है। कैदी की मौत के बाद परिजनों ने जेल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाया है। लड़की से रेप के मामले में उसे जेल में बंद किया गया था।

मोहित पटेल(20) को 4 महीने पहले चिखली पुलिस ने लड़की से रेप के मामले में गिरफ्तार किया था। जिसके बाद से उसका मामला कोर्ट में चल रहा है। उसे जिला जेल में बंद किया गया था। इस बीच 29 जुलाई को उसकी तबीयत बिगड़ी थी। जिस पर उसे शासकीय मेडिकल कॉलेज अस्पताल पेंड्री में भर्ती कराया गया था।

यहां पिछले 3 दिनों से उसका उपचार चल रहा था। इस दौरान मंगलवार को उसकी मौत हो गई। उसकी मौत के बाद परिजन भी अस्पताल पहुंचे थे। यहां पहुंचने के बाद परिजनों ने नाराजगी जताई है। परिजनों का कहना है कि पुलिस की लापरवाही और डॉक्टर की लापरवाही के चलते मोहित की मौत हुई है।

पेट दर्द की थी शिकायत
इधर, अभी तक ये पता नहीं चल सका है कि उसकी मौत किस कारण से हुई है। जेल अधीक्षक, एस.एल नेताम का कहना है कि मोहित ने पेट दर्द होने की शिकायत की थी। जिसके बाद उसे अस्पताल ले जाया गया था। पहले भी उसे अस्पताल में दिखा चुके थे।

सेंट्रल स्कूल की 9वीं की छात्रा का रेप के बाद रेता गला.. पहाड़ी पर मिला शव

सेंट्रल स्कूल की 9वीं की छात्रा का रेप के बाद रेता गला.. पहाड़ी पर मिला शव

 छत्तीसगढ़: राजनांदगांव के डोंगरगढ़ में केंद्रीय स्कूल की 9वीं क्लास की छात्रा की हत्या कर दी गई। छात्रा दो दिन पहले स्कूल जाने के बाद लापता हो गई थी। उसका शव गुरुवार को डोंगरगढ़ के आगे डंगोरा डैम की पहाड़ियों में मिला है। पुलिस की प्रारंभिक जांच में छात्रा से दुष्कर्म के बाद हत्या की पुष्टि हुई है। उसका गला रेता गया है। इस दौरान पुलिस को एक CCTV फुटेज मिला है। इसमें छात्रा एक युवक के साथ जाती दिखाई दे रही है।

जानकारी के मुताबिक, ग्राम कौतुलवाही की 14 साल की छात्रा को उसके परिजन स्कूल छोड़ने के लिए जाते थे। लौटते समय छात्रा बस से गांव आती थी। रोज की तरह 19 जुलाई को भी छात्रा को परिजन स्कूल छोड़ आए। फिर छुट्‌टी होने के काफी देर बाद भी छात्रा नहीं लौटी। दोपहर करीब 2.40 बजे तक छात्रा का पता नहीं चला तो परिजन तलाश के लिए निकले। जब छात्रा नहीं मिली तो परिजनों ने थाने में गुमशुदगी दर्ज करा दी।

बाइक का नंबर स्पष्ट नहीं होने के चलते अभी तक युवक की पहचान नहीं हो सकी।

बाइक का नंबर स्पष्ट नहीं होने के चलते अभी तक युवक की पहचान नहीं हो सकी।

चरवाहों ने शव देखा तो रात को सरपंच को बताया

इस बीच बुधवार दोपहर को डंगोरा गांव के कुछ चरवाहे जंगल में जानवर चराने के लिए पहुंचे। वहां उन्होंने एक लड़की का शव पड़ा देखा। पुलिस के मामले से डरकर उन्होंने इसकी जानकारी किसी को नहीं दी। हालांकि एक चरवाहे का मन नहीं माना तो वह सरपंच के पास पहुंचा और उन्हें सब बताया। इसके बाद सरपंच ने रात में पुलिस को इसकी सूचना दी। पुलिस ने देर रात ही मौके से शव को बरामद कर लिया।

बाइक का नंबर स्पष्ट नहीं होने से पहचान नहीं

पुलिस की प्रारंभिक जांच में यह पता चला है कि छात्रा से दुष्कर्म किया गया है। इसके बाद आरोपी ने छात्रा के गले पर धारदार हथियार से हमला कर उसकी हत्या कर दी। इस बीच पुलिस को रेलवे फाटक के पास ग्राउंड के पीछे लगे एक CCTV से छात्रा की फुटेज मिली। इसमें छात्रा बाइक पर एक युवक के साथ बैठकर जाती दिखाई दी। बाइक का नंबर स्पष्ट नहीं होने के चलते अभी तक युवक की पहचान नहीं हो सकी।

प्रेम प्रसंग की भी आशंका

पुलिस आरोपी युवक की तलाश कर रही है। उसके फोटो जारी किए गए हैं। हालांकि अब तक बाइक सवार का पता नहीं चल सका है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए मॉर्चुरी में रखवा दिया है। पंचनामा कार्रवाई के बाद परिजनों को सौंपा जाएगा। फुटेज देखने पर अंदेशा जताया जा रहा है कि छात्रा पहले से ही युवक को जानती थी। ऐसे में प्रेम प्रसंग की भी संभावना है। हालांकि पुलिस अभी कुछ स्पष्ट नहीं कर रही है।

घोर नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में शासन द्वारा सड़क निर्माण से खुली खुशहाली एवं उन्नति की राहें….40 ग्रामों को मिला लाभ

घोर नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में शासन द्वारा सड़क निर्माण से खुली खुशहाली एवं उन्नति की राहें….40 ग्रामों को मिला लाभ

 राजनांदगांव : राहें पहुंचाती हैं मंजिल तक। राहों से तकदीर बदलती है, जिन्दगी बदलती है। खासकर घोर नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में इन रास्तों के बहुत मायने हैं।

 

दूरस्थ घोर नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में शासन द्वारा सड़क निर्माण से खुशहाली एवं उन्नति की राहें खुली है। इन क्षेत्रों में नक्सली हिंसक गतिविधियों के कारण लंबे समय तक विकास अवरूद्ध रहा।

रोड कनेक्टीविटी से विकास के कई नये आयाम खुल रहे हैं। जिले के विधानसभा क्षेत्र मोहला-मानपुर में आरसीपीएलडब्ल्यूई आर.आर.पी.-2 योजनांतर्गत 24 करोड़ 37 लाख 59 हजार रूपए की लागत से कोहका-सीतागांव-औंधी-मुरूमगांव मार्ग का निर्माण किया गया है।

इस मार्ग की लंबाई 33.50 किलोमीटर है, जिसमें साथ ही पुल-पुलिया सहित सड़क निर्माण कार्य किया गया है। इस मार्ग के निर्माण होने से ग्राम कोहका, कन्दाड़ी, हलोरा, लेखेपाल, सीतागांव, सेन्डावाही, गढ़दोमी, डोंगरगांव, आलकन्हार, साल्हेभट्टी, औंधी के ग्रामवासियों को प्रत्यक्ष रूप से एवं आस-पास के लगभग 40 ग्रामों के लोगों को अप्रत्यक्ष रूप से सुगम यातायात की सुविधा प्राप्त हो रही है।

मार्ग के निर्माण से कृषि कार्य में कृषक लाभान्वित हो रहे हैं साथ ही महतारी एक्सप्रेस एवं दुर्घटना की स्थिति में 112 की गाड़ी शीघ्र ही पहुंच पा रही है

जिससे समय पर स्वास्थ्य लाभ उपलब्ध हो रहा है। यह मार्ग अंतर्राज्यीय मार्ग होने के कारण छत्तीसगढ़ प्रदेश को महाराष्ट्र से जोड़ता है।

नक्सल प्रभावित क्षेत्र में मार्ग निर्माण से क्षेत्र के ग्रामवासियों को ब्लाक मुख्यालय एवं जिला मुख्यालय आने-जाने में सुविधा हो रही है। अधोसंरचना मजबूत हुई

इसके साथ ही बुनियादी सुविधाएं शिक्षा, पेयजल, खाद्यान्न एवं सुविधाएं इन क्षेत्रों में पहुंच रही है। इसी तरह 11 करोड़ 89 लाख 47 हजार रूपए की लागत से पानाबरस-परवीडीह-मिस्प्री-भोजटोला मार्ग का निर्माण किया गया

है। जिसकी लंबाई 30.20 किलोमीटर तथा पुल-पुलिया सहित निर्माण कार्य किया गया है। इस कार्य को लोक निर्माण विभाग संभाग राजनांदगांव द्वारा 30 सितम्बर 2021 को पूर्ण किया गया है।

इस मार्ग के निर्माण होने से ग्राम पानाबरस, भैसबोड़, रामगढ़, पारडी, परवीडीह, हिड़कोटोला, मिस्प्री, मडियानवाड़वी, सांगली, भोजटोला के ग्रामवासियों को प्रत्यक्ष रूप से एवं आस-पास के लगभग 30 ग्रामों के ग्रामवासियों को अप्रत्यक्ष रूप से सुगम यातायात की सुविधा प्राप्त हो रही है। यह मार्ग अंतर्राज्यीय मार्ग होने के कारण छत्तीसगढ़ प्रदेश को महाराष्ट्र से जोड़ता है।

विकासखण्ड मानपुर के अंतर्गत 3 करोड़ 62 लाख 99 हजार रूपए की लागत से कोरकोट्टी जंक्शन से कनेली मार्ग का निर्माण किया गया है।

जिसकी लंबाई 7.30 किलोमीटर है साथ ही पुल-पुलिया सहित सड़क निर्माण कार्य किया गया है। इस मार्ग के निर्माण होने से ग्राम कोरकोट्टी, हनैकला, नागुटोला, चिखलाकसा, कनेली, चावांरगांव के ग्रामवासियों को प्रत्यक्ष रूप से एवं आस-पास के लगभग 10 ग्रामों के ग्रामवासियों को अप्रत्यक्ष रूप से सुगम यातायात की सुविधा प्राप्त हो रही है।

विकासखण्ड मानपुर के अंतर्गत 3 करोड़ 7 लाख 27 हजार रूपए की लागत से टोहे से परालझरी मार्ग का निर्माण किया गया है। जिसकी लंबाई 5.55 किलोमीटर है

तथा पुल-पुलिया सहित सड़क निर्माण कार्य किया गया है। इस मार्ग के निर्माण होने से ग्राम टोहे, घोटिया, परालझरी के ग्रामवासियों को प्रत्यक्ष रूप से एवं आस-पास के लगभग 25 ग्रामों के ग्रामवासियों को अप्रत्यक्ष रूप से सुगम यातायात की सुविधा प्राप्त हो रही है।

यह मार्ग जिला राजनांदगांव को कांकेर जिला से जोड़ता है। नक्सल प्रभावित क्षेत्र में मार्ग निर्माण से क्षेत्र के ग्रामवासियों को ब्लाक मुख्यालय एवं जिला मुख्यालय आने-जाने में सुविधा हो रही है, जो क्षेत्रवासियों के लिए महत्वपूर्ण है।

आये दिन विवाद से तंग पति ने की थी पत्नी की हत्या...पहले सिर धड़ से अलग किया...फिर कपड़े उतारकर किये शरीर के कई टुकड़े

आये दिन विवाद से तंग पति ने की थी पत्नी की हत्या...पहले सिर धड़ से अलग किया...फिर कपड़े उतारकर किये शरीर के कई टुकड़े

 राजनांदगाव। CG CRIME NEWS  जिले में हुए हत्याकांड (massacre) को पुलिस ने सुलझा दिया है। वहीँ महिला के हत्यारे पति को गिरफ्तार कर लिया गया है। पत्नी के साथ आये दिन विवाद की वजह से पति ने उसे मौत के घाट उतार दिया और पत्नी का सिर धड़ से अलग कर उसके सिर को शमशान घट में जला दिया। हत्यारे पति की दरिन्दगी यहीं नही थमी, उसने साक्ष्य छुपाने के लिए कटर से काटकर अपनी पत्नी के शरीर के तुकड़े कर दिये और उसे बांधकर तालाब में फेंक दिया। इस मामले में पुलिस ने हत्यारे पति को गिरफ्तार किया है।

बता दें कि बीते 14 जुलाई को राजनांदगांव जिले के अम्बागढ़ चौकी क्षेत्र (Ambagarh outpost area) के गुण्डरदेही निवासी जगदीश साहू (Jagdish Sahu) ने थाने में आकर रिपोर्ट कराई कि उसकी 32 वर्षीया पत्नी पद्मिनि साहू बिना बताये कही चली गई है। जिस पर अम्बागढ़ चौकी पुलिस ने गुम इंशान कायम करते हुए महिला की तलाश शुरू कर दी। इसी दौरान 18 जुलाई को जगदीश साहू ने थाने में सूचना दिया गया कि ग्राम गुंडरदेही में उसके घर के पास के तालाब में एक महिला का धड़ तालाब में देखा है। सूचना मिलने पर पुलिस घटना स्थल पहुंच कर अज्ञात महिला के शव को बाहर निकाला। जिसके दोनों हॉथ, दोनों पैर व सिर कटा हुआ था और पेट में लोहे का पाईप तार से बंधा था।

जिसके बाद सायबर सेल की टीम, फोरेंसिक टीम, गोताखोर एवं डॉग स्कार्ड के माध्यम से मामल की तफ्तीश शरू की गई। गोताखोर द्वारा तालाब से शव का एक हांथ और एक पैर तार से बंधा हुआ निकाला गया। वहीं फोरेंसिंक टीम द्वारा प्रार्थी जगदीश साहू के घर जांच की गई, जिसमें उन्हें खून के धब्बों को धोने जैसे साक्ष्य मिले और पुलिस को जगदीश साहू पर अपनी पत्नी को मारने का संदेह हुआ। पुलिस ने अपनी जांच इसी दिशा में बढ़ाई और संदेही जगदीश से पूछताछ शुरू की तो उसने उस शव को पहचानने से इंकार किया और पुलिस की जांच टीम ने जगदीश के घर एवं दुकान की तलाशी ली। इस दौरान पत्नी पद्मिनी के जेवरात उसके दूकान में मिले और कड़ई से पूछताछ करने पर आरोपी जगदीश साहू ने अपनी पत्नी की हत्या करना स्वीकार किया। आज प्रेस कान्फ्रेंस करने हुए राजनांदगांव पुलिस अधीक्षक प्रफृल्ल ठाकुर ने इस मामले का खुलासा किया।

पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने पुलिस को बताया कि बीते 12. जुलाई को बच्चों के स्कूल जाने के बाद पत्नी के साथ उसका विवाद हुआ और उसने अपनी पत्नी का गला दबाकर हत्या कर दिया। उसके बाद उसने अपनी पत्नी के शव को दुकान के गोदाम में छुपाकर रखा। बच्चे जब स्कूल से आये और पूछे कि मां कहां है तब बच्चों को बताया कि वह अपने मायके चली गई है। इसके बाद 12. जुलाई की रात्रि आरोपी ने स्वयं के पकड़े जाने के डर से अपनी पत्नी के शव को कंधे में लाद कर घर से पास तालाब के किनारे ले गया। जहां उसने शव से कपड़े व जेवरात उतार दिये और टंगिया एवं आरीब्लेड से दोनों हांथ, पैर व गर्दन को काट कर अलग कर दिया और धड़ में लोहे के पाईप डालकर और शरीर के अन्य अंगों को लोहे के तार से बांघकर तालाब के अंदर झाडियों में फेंक दिया।

वहीं उसने अपनी पत्नी के सिर को पास के शमशान में दूसरे की जलती चिता में डाल कर जला दिया। आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने मृतिका के पहने कपड़े, शरीर के अंग, घटना में प्रयुक्त टंगिया, आरीब्लेड बरामद कर लिया है और आरोपी के खिलाफ हत्या, साक्ष्य छुपाने सहित अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार किया है।

मदनवाड़ा नक्सली हमले की 13वीं बरसी पर शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि

मदनवाड़ा नक्सली हमले की 13वीं बरसी पर शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि

 राजनांदगांव। मदनवाड़ा कोरकोट्टी नक्सल हमले की 13वीं बरसी पर मंगलवार को नक्सल हमले में शहीद तत्कालीन एसपी विनोद चौबे और 29 जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। 12 जुलाई 2009 को कोरकोट्टी और मदनवाड़ा में घात लगाकर नक्सलियों ने फोर्स पर हमला कर दिया था

इस घटना में स्व. चौबे समेत पुलिस विभाग के 29 जवान वीरगति को प्राप्त हो गए थे। इस घटना के बाद हर साल पुलिस लाइन में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन होता है। स्थानीय पुलिस लाइन में आज शहर के गणमान्य नागरिकों की उपस्थिति में शहीदों को याद करते लोगों की आंखे भर आई। शहीदों के परिजन भी इस लोमहर्षक घटना को याद करते बिलख पड़े। आज पुलिस लाइन में शहीदों को नमन करते हुए राजनीतिक, गैर राजनीतिक व प्रशासनिक महकमे ने अपनी भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी। स्थानीय पुलिस लाइन में शहीदों की तस्वीर के सामने श्रद्धासुमन के फूल अर्पित किए गए

इस दौरान शहीदों की याद में देशभक्ति गीत-संगीत का भी आयोजन किया गया। शहीदों को स्मरण करने के दौरान परिजनों की आंखे भर गई। शहीदों के माता-पिता, पत्नी व रिश्तेदारों की आंखें नम हो गई। शहीदों के साथ बिताए वक्त को याद करते हुए वहां उपस्थित परिजनों और लोगों ने अपनी ओर से श्रद्धांजलि व्यक्त की।

पटरी से उतरा शिवनाथ एक्सप्रेस का डिब्बा…

पटरी से उतरा शिवनाथ एक्सप्रेस का डिब्बा…

डोंगरगढ़ : डोंगरगढ़ स्टेशन में बड़ा हादसा टल गया। यहां शिवनाथ एक्सप्रेस का गार्ड कोच पटरी से उतर गया। यह घटना रविवार देर रात की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार रात्रि 2 बजे डोंगरगढ़ स्टेशन में बिलासपुर से नागपुर की ओर जाने वाली शिवनाथ एक्सप्रेस का गार्ड का डिब्बा पटरी से उतर गया। घटना की सूचना मिलते ही रेलवे के आला अधिकारी और कर्मचारी तत्काल राहत कार्य में जुट गए। इस घटना में हुई हताहत नहीं हुआ। कड़ी मशक्कत के बाद गार्ड कोच को पटरी पर बैठाया गया और ट्रेन रवाना हुई। 

पत्नी के अवैध सम्बन्ध से परेशान पति ने की ख़ुदकुशी

पत्नी के अवैध सम्बन्ध से परेशान पति ने की ख़ुदकुशी

डोंगरगढ़ : डोंगरगढ़ पुलिस ने रेलवे कर्मचारी की मौत की गुत्थी सुलझा दी है। 6 मार्च को रेल्वे ट्रैक पर रेल्वे कर्मी तीरथ यादव का शव मिला था। पुलिस की जांच में पता चला कि मृत तीरथ की पत्नी का अवैध संबंध चल रहा था। जिसके चलते तीरथ मानसिक तौर से परेशान था।

पुलिस ने बताया की तीरथ की पत्नी अपने प्रेमी को पति के सामने घर बुलाया करती थी और तीरथ की बूआ भी उनका साथ दिया करती थी। तीरथ ये सब से इतना परेशान हो गया कि उसने ट्रेन से कटकर आत्महत्या कर ली। तीरथ इस प्रताड़ना और पत्नी के अवैध संबंध को पन्नो में लिखता था। जिसके चलते पूरे मामले का खुलासा हुआ। फिलहाल पुलिस ने मृतक की पत्नी उसका आशिक और बुआ को गिरफ्तार कर लिया है।

 

तेज रफ्तार कार पलटने से मासूम सहित 2 की मौत...

तेज रफ्तार कार पलटने से मासूम सहित 2 की मौत...

राजनांदगांव : छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ से खैरागढ़ मार्ग पर ग्राम ढारा के पास तेज रफ्तार कार टायर फटने से पलट गई। हादसे में कार सवार 5 साल के मासूम और 50 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई। वहीं दो लोग गंभीर रूप से घायल हैं। जिनका इलाज मेडिकल कॉलेज हास्पिटल में जारी है। जानकारी मुताबिक बलौदा बाजार जिले के ग्राम करमदा से करीब 8 से 10 लोग डोंगरगढ़ में मां बम्लेश्वरी के दर्शन के लिए पहुंचे थे। जहां मंदिर दर्शन के बाद भी अपने रिश्तेदार के घर जाने खैरागढ़ के लिए निकले।

उनकी कार क्रमांक सीजी 07 एम 4045 अभी ढारा के पास पहुंची थी कि कार के पिछले पहिए का टायर फट गया। इससे कार अनियंत्रित होकर सड़क किनारे पलट गई। हादसे के बाद एंबुलेंस की मदद से सभी घायलों को डोंगरगढ़ हॉस्पिटल लाया गया, जहां डॉक्टर ने 50 वर्षीय विश्राम वर्मा और 5 वर्षीय रोहन वर्मा को मृत घोषित कर दिया। वहीं दो महिलाओं को गंभीर हालात में मेडिकल कॉलेज हास्पिटल में दाखिल किया गया है। बताया गया कि कार सवार सभी दर्शनार्थी गांव के पड़ोसी हैं। इसमें कुछ लोग भिलाई के भी हैं। सभी आपस में रिश्तेदार और पड़ोसी हैं।

हत्या की कोशिश और मारपीट कोशिश करने वाले 5 आरोपी गिरफ्तार...

हत्या की कोशिश और मारपीट कोशिश करने वाले 5 आरोपी गिरफ्तार...

राजनांदगांव : छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव में मारपीट और हत्या की कोशिश करने के आरोप में 5 शातिर बदमाशों को गिरफ्तार किया गया है. इसमें पुलिस ने लीलाधर बम्बोडे, चंद्रप्रकाश साहू और मोह. आदिल समेत 5 लोगों को गिरफ्तार किया है, जबकि अन्य फरार आरोपियों की तलाश जारी है. सोमनी थाना क्षेत्र के ढ़ाबा में मारपीट, बलवा, हत्या के प्रयास की गई थी. पुलिस ने क्रिमिनल्स को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है।

दरअसल, स्कूटी और ट्रक के एक्सीडेंट की घटना के बाद मामूली वाद-विवाद पर घटना को अंजाम दिया गया था. मामूली बात पर स्कूटी चालकों ने ट्रक ड्राइवर से वाद-विवाद की. बाद-विवाद बढ़ता देख पास के हमारा ढ़ाबा संचालक दीपक यादव और गौरव यादव ने मामले को शांत कराया।

इस दौरान मौके पर करीब 10-15 लड़कों ने ढ़ाबा संचालक और ढ़ाबे में काम करने वाले कर्मचारियों के साथ लोहे के रॉड़, डंडा, चाकू से हमला कर मारपीट की. ढ़ाबा के टेबल, कुर्सी, काउंटर की तोड़-फोड़ की.
घटना के बाद तत्काल थाना सोमनी के पुलिस स्टॉफ और डायल 112 की टीम पहुंचकर माहौल शांत कराई, तब तक आरोपी फरार हो गए थे. घायल व्यक्तियों को मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया.

सोमनी थाने में अपराध क्रमांक- 147, 148, 149, 307, 427 भा.दं.वि. 25, 27 आम्र्स एक्ट पंजीबद्ध किया गया. घटना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह के निर्देश पर कार्रवाई की गई. वारदात में यूज सामान और हथियारों को जब्त किया गया. आऱोपियों को कोर्ट में पेश किया. जहां से कोर्ट ने आरोपियों को जेल भेज दिया है। गिरफ्तार आऱोपियों में दुर्ग निवासी लीलाधर बम्बोडे, दुर्ग निवासी चंद्रप्रकाश साहू, दुर्ग निवासी मोह. आदिल, दुर्ग निवासी शमीम अहमद औऱ मो. नूर हसन को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है. अन्य फरार आरोपियो की तलाश की जा रही है।
 

8 हजार करोड़ ऐंठने वाले चिटफंड कंपनी के 2 डायरेक्टर राजस्थान से गिरफ्तार…

8 हजार करोड़ ऐंठने वाले चिटफंड कंपनी के 2 डायरेक्टर राजस्थान से गिरफ्तार…

राजनांदगांव : छत्तीसगढ़ की राजनांदगांव पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। आरोपियों से छत्तीसगढ़ सहित देशभर से 8 हजार करोड़ रुपए ऐंठने के आरोप हैं। राजनांदगांव एसपी संतोष सिंह लगातार चिटफंड कंपनियों के खिलाफ सिलसिलेवार कार्रवाई कर रहे हैं। इसी कड़ी में कोतवाली पुलिस ने राजस्थान के सिरोही नामक शहर से आदर्श को-आपरेटिव सोसायटी के दो डॉयरेक्टर को गिरफ्तार किया है। उन पर राजनांदगांव जिले में फर्जी तरीके से निवेशकों को झांसा देकर 2 करोड़ 16 लाख रुपए डकारने का आरोप है।


सोसायटी के खिलाफ राजनांदगांव पुलिस से निवेशकों ने शिकायत की थी। इस आधार पर पुलिस ने जालसाजी के तहत मामला दर्ज किया और दो आरोपी राहुल मोदी और मुकेश मोदी को गिरफ्तार किया। फर्जी तरीके से दोनों के विरुद्ध अलग-अलग राज्यों में अपराध दर्ज है। कोतवाली पुलिस की एक विशेष टीम ने आरोपियों को राजस्थान से गिरफ्तार किया। अब उन्हें अदालत में पेश करने की तैयारी है।


सीएसपी गौरव राय और कोतवाली निरीक्षक अलेक्जेंडर किरो ने बताया कि आरोपियों को अदालत में पेश किया जाएगा। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।
 

शहद के चक्कर में शिकारियों के फंदे में फंसा भालू हुई मौत...

शहद के चक्कर में शिकारियों के फंदे में फंसा भालू हुई मौत...

राजनांदगांव : शहद के लिए पेड़ पर चढ़ रहे भालू की शिकारियों के फंदे पर फंसने से मौत हो गई। यह घटना मानपुर दक्षिण वन परिक्षेत्र के औंधी इलाके के शारदा-मुंदेली गांव के पास की है। इसकी पुष्टि प्रभारी रेंजर अय्यूब खान ने की है। प्रभारी रेंजर ने बताया कि मानपुर दक्षिण वन परिक्षेत्र के जंगल में शहद के लिए पेड़ पर चढ़ रहा भालू शिकारियों के फंदे में पेड़ के ऊपर बांधे गए तारों में फंस गया। भालू कुछ देर तड़पने के बाद दम तोड़ दिया।

वन अमले के सामने भालू का शव पेड़ से उतारने की बड़ी चुनौती है, क्योंकि मधु मक्खियों ने भालू के शव को घेर रखा है। भालू के शव को फंदे से निकालने में वन विभाग का अमला व ग्रामीण जुटे हुए हैं।
 

खाद्य विभाग ने की खाद्य तेल की कालाबाजारी करने वालों के विरूद्ध कार्रवाई...

खाद्य विभाग ने की खाद्य तेल की कालाबाजारी करने वालों के विरूद्ध कार्रवाई...

राजनांदगांव : कलेक्टर के निर्देशानुसार खाद्य विभाग की ओर से खाद्य तेल की कालाबाजारी करने वालों के विरूद्ध कारर्वाई की जा रही है। जिसके अंतर्गत डोंगरगढ़ विकासखंड के न्यू पटियाला ट्रेडर्स व मिश्रीलाल धमर्चंद चोपड़ा किराना स्टोर्स की जांच की गई। जहां भारत शासन से निर्धारित स्टॉक सीमा से अधिक खाद्य तेल का भंडारण रखा गया था। न्यू पटियाला ट्रेडर्स डोंगरगढ़ से 211 क्विंटल खाद्य तेल व मिश्रीलाल धमर्चंद किराना स्टोर्स से 67 क्विंटल खाद्य तेल की जब्ती की गई।

खाद्य तेल के स्टॉक को जब्ती कर प्रकरण दर्ज किया गया। जांच दल में खाद्य अधिकारी भूपेंद्र मिश्रा, सहायक खाद्य अधिकारी भुनेश्वर चेलक, सहायक खाद्य अधिकारी डोंगरगढ़ आशीष रामटेके व खाद्य निरीक्षक राजनांदगांव अंगद ठाकुर शामिल थे। 

दिग्विजय स्टेडियम : जहां बैडमिंटन प्रशिक्षण के नाम पर बच्चों से की जा रही फीस की उगाही...

दिग्विजय स्टेडियम : जहां बैडमिंटन प्रशिक्षण के नाम पर बच्चों से की जा रही फीस की उगाही...

राजनांदगांव : खेलों के माध्यम से बच्चों का शारीरिक मानसिक और खेल प्रतिभाओं का जन्म हो सके इसके उद्देश्य से राजनांदगांव में दो दो स्टेडियम बनाए गए हैं। एक अंतरराष्ट्रीय हॉकी स्टेडियम और एक महंत राजा दिग्विजय स्टेडियम। विभिन्न खेलों के माध्यम से राजनांदगांव के सबसे पुराने स्टेडियम दिग्विजय में प्रशिक्षण दिया जाता है।


बैडमिंटन टेबल टेनिस और साईं के माध्यम से भी बास्केटबॉल अन्य खेलों में क्रिकेट फुटबॉल आदि खेलो मे शहर व गांव के बच्चे शारीरिक मानसिक और खेलों की प्रतिभा के तहत जिले का नाम राष्ट्रीय ही नहीं अपितु अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ऊंचा करने के मकसद से खेलों के प्रशिक्षण आयोजन निरंतर किए जाते हैं पर दिग्विजय स्टेडियम में चलाए जा रहे हैं।

बैडमिंटन प्रशिक्षण में खेलने के लिए आने वाले बच्चों से 1000 की राशि ली जा रही है जो कि अत्यंत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि जिस प्रशिक्षक को राजनांदगांव स्टेडियम समिति द्वारा बाकायदा 15 हजार की राशि दी जा रही है बावजूद उसके बैडमिंटन खेल प्रशिक्षक बच्चों से पैसे की मांग कर महीने के ग्राहक तैयार कर धन उपार्जन में लगा हुआ है ऐसे प्रशिक्षक को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाना चाहिए ताकि समर्पित प्रशिक्षक बैडमिंटन खिलाड़ियों को और बच्चों को प्रशिक्षण प्रदान कर सके।


निश्चित रूप से खेल में भी इस तरह के भ्रष्टाचार सामने आने लगेंगे तो आखिर प्रतिभाओं का जन्म कहां से होगा और वो प्रतिभाएं जो आर्थिक संकट से गुजरती रहती हो उनके लिए फीस के रूप में राशि दिया जाना कहां तक संभव हो पाएगा !


दिग्विजय स्टेडियम के प्रबंधक रणविजय सिंह ने बताया की दिग्विजय स्टेडियम समिति के बैडमिंटन कोर्ट में पैसे या फीस लेने का कोई प्रावधान नहीं है हमारे स्टेडियम समिति द्वारा प्रशिक्षक को ₹15000 की राशि प्रतिमाह दी जा रही हैं। बावजूद इसके इस तरह की शिकायत गंभीर है, निश्चित रूप से इस तरह की शिकायत पर प्रशिक्षक को बुलाया जाएगा और इस मामले की पुनरावृत्ति होने पर प्रशिक्षक को निलंबित करने के लिए राजनांदगांव जिला कलेक्टर को भी अवगत कराया जाएगा ताकि भविष्य में इस तरह की चीजें दोबारा ना हो सके।
 

मंत्री अकबर से होकर गुजरा खैरागढ़ में यशोदा की जीत का रास्ता...

मंत्री अकबर से होकर गुजरा खैरागढ़ में यशोदा की जीत का रास्ता...

राजनांदगांव : छत्तीसगढ़ के 2018 में हुए विधानसभा चुनाव के नतीजों को देखें तो सबसे ज्यादा वोटों से जीतने का रिकॉर्ड कवर्धा विधायक व राज्य में मंत्री मोहम्मद अकबर के नाम रहा। वहीं 2022 के उप चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी यशोदा वर्मा की इस बड़ी जीत का रास्ता मंत्री मोहम्मद अकबर से होकर गुजरा।


कवर्धा विधानसभा सीट से विधायक व राजनांदगांव के प्रभारी मंत्री होने के कारण मंत्री अकबर खैरागढ़ की जनता का मन बहुत अच्छे से समझते थे। इसलिए उनका प्रभार जिला बदल जाने के बाद भी सीएम भूपेश बघेल ने मंत्री अकबर को खैरागढ़ सीट पर कार्यकर्ताओं को जोड़ने और जनता तक सरकार की योजनाओं और कार्यक्रमों को पहुंचाने की जिम्मेदारी दी।


सीएम की सौंपी गई जिम्मेदारी का निर्वहन करते हुए मंत्री अकबर ने न केवल शहरी बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों में लगातार कार्यकर्ताओं और जनता के साथ बैठक कर सरकार की योजनाओं और कार्यक्रमों को पहुंचाया। खैरागढ़ उपचुनाव जितने के बाद विधानसभा में कांग्रेस विधायकों की संख्या 71 हो जाएगी।
 

+ Load More