कोरोना अपडेट : फिर बढे राजधानी में कोरोना संक्रमित, जानिए प्रदेश सहित जिलों के आकड़े...    |    भारत बायोटेक ने जारी किए कोवैक्सिन के तीसरे चरण के आंकड़े, इतने प्रतिशत प्रभावी होने का दावा    |    तापसी पन्नु, अनुराग कश्यप समेत 22 ठिकानो पर आयकर विभाग ने मारे छापे…    |    राज्य की सभी जेलों में एक साथ छापेमारी: डीएम-एसपी कर रहे लीड    |    स्कूली छात्रा का अपहरण कर किया खंडहर में दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार    |    BIG BREAKING : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ली कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक    |    बड़ी खबर : पत्नी कोई निजी संपत्ति या गुलाम नहीं है, साथ रहने को मजबूर नहीं किया जा सकता: सुप्रीम कोर्ट    |    INCOME TAX RAID: अभिनेत्री तापसी पन्नू और फिल्म निर्देशक अनुराग कश्यप के घर पर इनकम टैक्स का छापा    |    नोटबंदी जैसे गलत फैसले के चलते देश में बढ़ी बेरोजगारी: मनमोहन सिंह    |    BIG BREAKING : आज फिर राजधानी रायपुर सहित प्रदेश में इतने कोरोना मरीजों की हुई पहचान, 2 मरीजों की मौत    |
 बड़ी खबर छत्तीसगढ़: मंत्री की मौजूदगी में आपस में ही भिड़े कांग्रेस नेता, फिर कांग्रेस और बीजेपी कार्यकर्ता भी आपस में उलझे

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: मंत्री की मौजूदगी में आपस में ही भिड़े कांग्रेस नेता, फिर कांग्रेस और बीजेपी कार्यकर्ता भी आपस में उलझे

राजनांदगांव। डोंगरगढ़ से एक बड़ी खबर सामने आ रही है जहां, डोंगरगढ़ में प्रसाद योजना कार्यक्रम में आज खूब बवाल मचा। पहले कांग्रेस नेता आपस में ही भिड़ गये बाद में विवाद कांग्रेस और बीजेपी कार्यकर्ता भी आपस में उलझ गये। ये पूरा तमाशा गृह व पर्यटन मंत्री ताम्रध्वज साहू की मौजूदगी में हुआ। मंच से ताम्रध्वज साहू चिल्लाते रह गये, लेकिन ना तो कांग्रेसी माने और ना ही बीजेपी नेता समझे। पूरा कार्यक्रम हंगामे की भेंट चढ़ गया। जिसके बाद मंत्री ताम्रध्वज साहू भी नाराज हो गये। पुलिस भी नेताओं को समझाती रही, लेकिन हंगामा थमने के बजाय और बढ़ गया।

पढ़िए पूरी खबर-
दरअसल आज से डोंगरगढ़ में प्रसाद योजना कार्यक्रम की शुरूआत हो रही थी, इस कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद पटेल भी आनलाइन जुड़े हुए थे, वहीं मंत्री ताम्रध्वज साहू कार्यक्रम को लेकर मंच पर मौजूद थे। वहीं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और प्रभारी मोहम्मद अकबर को भी वर्चुअल कार्यक्रम में शामिल होना था। कार्यक्रम शुरुआती वक्त में ही था और स्वागत का कार्यक्रम चल रहा था, तभी बवाल मच गया।

ये है पूरा मामला-
डोंगरगढ़ में कांग्रेस के दो गुट भिड़े गये, एक गुट में डोंगरगढ़ विधायक भुनेश्वर बघेल और वरीष्ठ कांग्रेस नेता नवाज खान शामिल हैं, जबकि दूसरे गुट में महिला कांग्रेस की प्रदेश महासचिव संध्या देशपांडे और ब्लाक अध्यक्ष संजीव गुमास्ता हैं। कांग्रेसी आपस में इसलिए आपस में भिड़ गये क्योंकि अतिथियों के स्वागत में संध्या देशपांडे और संजीव गुमास्ता के लोगों का नाम नहीं है। बाद में बीजेपी ने सांसद संतोष पांडेय के ठीक से स्वागत नहीं होने का आरोप लगाकर बवाल शुरू कर दिया। काफी देर तक कांग्रेसी और बीजेपी कार्यकर्ता बवाल करते रहे। मंत्री ताम्रध्वज साहू ने जब अपने सामने बवाल होते देखा तो उनसे रहा नहीं गया और फिर वो नाराजगी जताते हुए माइक थामा और मंच से ही फटकार लगाना शुरू कर दिया। लेकिन ना तो कांग्रेस के लोग सुनने को तैयार थे, और ना ही बीजेपी के लोग मानने को तैयार थे। काफी देर तक बोलने और केंद्रीय मंत्री के कार्यक्रम में मौजूद रहने की दुहाई देने के बाद भी हंगामा नहीं था तो ताम्रध्वज साहू मंच पर ही नाराज हो गये।

आज डोंगरगढ़ में ‘प्रसाद’ योजना के तहत पर्यटन सुविधाओं के विकास के लिए लगभग 40 करोड़ 33 लाख रूपए के कार्यों का भूमिपूजन होना था। केन्द्रीय पर्यटन राज्य मंत्री प्रहलाद पटेल वीडियो कांफ्रेंसिंग से कार्यक्रम में शामिल थे।  पर्यटन मंत्री ताम्रध्वज साहू, वन एवं राजनांदगांव के प्रभारी मंत्री मोहम्मद अकबर, संसदीय सचिव चिंतामणि महराज और पर्यटन मंत्रालय की अतिरिक्त महानिदेशक रुपिंदर बरार भी कार्यक्रम में शामिल होने वाले थे।आपको बता दें कि भारत सरकार के पर्यटन मंत्रालय की ‘प्रसाद’ योजना के तहत पर्यटन सुविधाओं के विकास के लिए देशभर में 31 स्थलों का चयन किया गया है, जिनमें से डोंगरगढ़ भी एक है। परियोजना के अंतर्गत डोंगरगढ़ में मां बम्लेश्वरी देवी मंदिर की पहाड़ी और प्रज्ञा गिरी पहाड़ी पर पर्यटन सुविधाएं विकसित की जाएंगी। साथ ही यहां साढ़े नौ एकड़ भूमि पर पिलग्रिम फैसिलिटेशन सेंटर बनाया जाएगा। श्रीयंत्र के आकार में निर्मित होने वाला यह भवन पूरी परियोजना का विशेष आकर्षण होगा। पिलग्रिम फैसिलिटेशन सेंटर में ध्यान केंद्र, विश्राम कक्ष, प्रसाद कक्ष, सांस्कृतिक मंच, क्लॉक रूम, सत्संग कक्ष, प्रदर्शनी गैलरी, टॉयलेट, पेयजल, लैंडस्कैपिंग, सोलर लाईट और पार्किंग स्थल आदि निर्मित किए जाएंगे।
 मां बम्लेश्वरी: प्रसाद योजना के तहत मां बम्लेश्वरी देवी मंदिर डोंगरगढ़ का विकास के 43 करोड़ 33 लाख रूपए का होगा भूमि पूजन

मां बम्लेश्वरी: प्रसाद योजना के तहत मां बम्लेश्वरी देवी मंदिर डोंगरगढ़ का विकास के 43 करोड़ 33 लाख रूपए का होगा भूमि पूजन

राजनांदगांव। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज 2 मार्च को डोंगरगढ़ प्रसाद योजना के तहत छीरपानी परिसर डोंगरगढ़ में भूमि पूजन कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल होंगे। भारत सरकार पर्यटन मंत्रालय की प्रसाद योजना के अंतर्गत स्वीकृत मां बम्लेश्वरी देवी मंदिर डोंगरगढ़ के विकास परियोजना के 43 करोड़ 33 लाख रूपए का भूमि पूजन होगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता केन्द्रीय पर्यटन एवं संस्कृति राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) भारत सरकार  प्रहलाद सिंह पटेल करेंगे।


लोक निर्माण, गृह, जेल, धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व, पर्यटन मंत्री  ताम्रध्वज साहू, वन, परिवहन, आवास एवं पर्यावरण, विधि-विधायी विभाग एवं प्रभारी मंत्री  मोहम्मद अकबर, विधायक राजनांदगांव डॉ. रमन सिंह, सांसद राजनांदगांव  संतोष पाण्डेय, संसदीय सचिव पर्यटन विभाग एवं विधायक सामरी  चिन्तामणि महाराज, संसदीय सचिव पर्यटन विभाग एवं विधायक रायपुर पश्चिम  विकास उपाध्याय, संसदीय सचिव एवं विधायक मोहला-मानपुर  इन्द्रशाह मण्डावी, अध्यक्ष छत्तीसगढ़ अनुसूचित जाति विकास प्राधिकरण एवं विधायक डोंगरगढ़  भुनेश्वर बघेल, अध्यक्ष छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण एवं अन्य पिछड़ा वर्ग क्षेत्र विकास प्राधिकरण एवं विधायक डोंगरगांव  दलेश्वर साहू, विधायक खैरागढ़  देवव्रत सिंह, विधायक खुज्जी श्रीमती छन्नी साहू, अध्यक्ष छत्तीसगढ़ राज्य अंत्यावसायी सहकारी वित्त एवं विकास निगम  धनेश पाटिला तथा अध्यक्ष नगर पालिका परिषद डोंगरगढ़  सुदेश मेश्राम समारोह में विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहेंगे।

प्रसाद योजना के अंतर्गत मां बम्लेश्वरी देवी मंदिर डोंगरगढ़ का विकास परियोजना स्वीकृत कराई गई है। जिसकी लागत 43 करोड़ 33 लाख रूपए है। परियोजना के अंतर्गत मां बम्लेश्वरी देवी मंदिर की पहाड़ी तथा प्रज्ञागिरी पहाड़ी पर पर्यटक सुविधाएं विकसित की जाएगी तथा 9.5 एकड़ भूमि पर पिल्ग्रीम फेसीलिटेशन सेंटर का विकास किया जाना प्रस्तावित है, जो इस पूरे प्रोजेक्ट का विशेष आकर्षण होगा। इस भवन का आकार ऊपर से देखने पर यंत्र के जैसा दिखेगा। इस परियोजना की स्वीकृति से डोंगरगढ़ देश के पर्यटन नक्शे पर एक महत्वपूर्ण धार्मिक पर्यटन स्थल के रूप में जुड़ गया है।

परियोजना में प्रस्तावित कार्य -
मां बम्लेश्वरी देवी मंदिर की पहाड़ी में 7 करोड़ 47 लाख 16 हजार रूपए की लागत से सीढिय़ों का जीर्णोद्धार, सीढिय़ों पर रेलिंग एवं शेड, पेयजल सुविधा, पगोड़ा, सोलर प्रकाशीकरण, पार्किंग, सीसी टीवी, तालाब का सौंदर्यीकरण, बायो टायलेट, मेडिकल रूम एवं साइनेज सहित अन्य निर्माण कार्य किया जाएगा।

प्रज्ञागिरी पहाड़ी-
प्रज्ञागिरी पहाड़ी पर 5 करोड़ 41 लाख 98 हजार रूपए की लागत से ध्यान केन्द्र, कैफेटेरिया, पार्किंग, सीढिय़ों का जीर्णोद्धार, सोलर प्रकाशीकरण, पेयजल एवं साइनेज सहित अन्य निर्माण कार्य किया जाएगा।

पिल्ग्रीम फेसीलिटेशन सेंटर-
पिल्ग्रीम फेसीलिटेशन सेंटर में 28 करोड़ 37 लाख 60 हजार रूपए की लागत से ध्यान केन्द्र, विश्राम कक्ष, प्रसाद कक्ष, सांस्कृतिक मंच, क्लाक रूम, सत्संग कक्ष, प्रदर्शनी गैलरी, टायलेट, पेयजल, लैंडस्केपिंग, सोलर प्रकाशीकरण, पार्किंग सहित अन्य निर्माण किया जाएगा। 
आबकारी विभाग की बड़ी कार्यवाही, मध्यप्रदेश निर्मित 46 पेटी मदिरा जप्त

आबकारी विभाग की बड़ी कार्यवाही, मध्यप्रदेश निर्मित 46 पेटी मदिरा जप्त

राजनांदगांवसचिव सह आबकारी आयुक्त निरंजन दास और प्रबंध संचालक ऐपी त्रिपाठी के द्वारा दिए गए निर्देश के तारतम्य में और कलेक्टर टीके वर्मा तथा सहायक आयुक्त आबकारी नवीन प्रताप सिंह तोमर के मार्गदर्शन में 28 फरवरी को आबकारी विभाग राजनांदगांव के पाटेकोहरा आबकारी जांच चौकी द्वारा प्राप्त सूचना के आधार पर पाटेकोहरा से कुबराडीह के पास सुबह नाका लगाकर वाहन चेकिंग के दौरान संदिग्ध मोटर साइकिल होंडा लीवो सीजी 08 - एएफ 5321 को रुकवाकर जांच करने पर ग्राम मुरमुंदा निवासी बरातू पटेल तथा ग्राम तुमडीलेवा निवासी रेमचंद पटेल के आधिपत्य से दो बोरियों में रखे 300 नग पाव गोवा व्हिस्की, प्रत्येक में 180 एमएल भरा, कुल 54 बल्क लीटर बरामद किया गया।

गिरफ्तार आरोपियों के बताए अनुसार संदिग्ध स्विफ्ट डिजायर कार सीजी 08-के-1820 का पीछा करने पर कार चिचोला से छुरिया रोड में चली गई। जिसे रुकवाने की कोशिश करने पर कार द्वारा आबकारी के वाहन बोलेरो सीजी 08-एपी 9604 को तेज रफ्तार से ठोकर मारा गया। जिससे बोलेरो मौके पर ही पलट गया तथा कार भी क्षतिग्रस्त हो गया है। बोलेरो में बैठे आबकारी उपनिरीक्षक जितेन्द्र कुमार उइके, आबकारी आरक्षक राकेश दुबे, वाहन चालक नोमेश साहू घायल हो गये है। मौके का फायदा उठाकर कार से आरोपी भाग रहा था जिसे आबकारी उपनिरीक्षक जितेन्द्र कुमार उइके ने दौड़ाकर आरोपी समोदा थाना जेवरा सिरसा जिला- दुर्ग निवासी प्रवीण देशमुख को पकड़ा। स्विफ्ट डिजायर कार को खोलकर देखने पर 40 पेटी मध्यप्रदेश निर्मित गोवा व्हिस्की, प्रत्येक में 180 एमएल कुल 360 बल्क लीटर बरामद किया गया। आरोपियों के विरुद्ध आबकारी अधिनियम की धारा 34 (2), 36, 59 (क) का प्रकरण दर्ज कर विवेचना किया जा रहा है।


वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर प्रकरण में आबकारी टीम पर जानलेवा हमले को दृष्टिगत रखते हुए आईपीसी की अन्य धाराओं विशेषकर ऑन ड्यूटी सरकारी आधिकारी एवं कर्मचारियों पर जानलेवा हमले के लिए एफआईआर करने के लिए पुलिस चौकी प्रभारी चिचोला को अग्रिम कार्रवाई के लिए पत्र भी प्रेषित किया गया है। रेड कार्रवाई के दौरान सहायक जिला आबकारी अधिकारी (ब) निरूपमा लोन्हारे और आबकारी उपनिरीक्षक जितेन्द्र उइके तथा आरक्षक में राकेश दुबे, सुरेंद्र झारिया, ओमप्रकाश सिन्हा, निजाम शाह, भृत्य अनिल सिन्हा, वाहन चालक नोमेश साहू, महेश्वर साहू उपस्थित थे। आबकारी वाहन बोलेरो सीपी 08-एपी 9604 के पलटने से वाहन चालक नोमेश साहू का दोनों पैर फ्रेक्चर हो गया है।

बड़ी खबर:  मां बम्लेश्वरी की नगरी डोंगरगढ़ का 2 मार्च को केंद्रीय पर्यटन मंत्री और मुख्यमंत्री भूपेश करेंगे कायाकल्प का शिलान्यास

बड़ी खबर: मां बम्लेश्वरी की नगरी डोंगरगढ़ का 2 मार्च को केंद्रीय पर्यटन मंत्री और मुख्यमंत्री भूपेश करेंगे कायाकल्प का शिलान्यास

डोंगरगढ़: छत्तीसगढ़ की धार्मिक स्थलों में से एक डोंगरगढ़ में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए केंद्र की प्रसाद योजना में शामिल किया गया है। जिसके कायाकल्प का शिलान्यास 2 मार्च को केंद्रीय पर्यटन मंत्री प्रह्लाद पटेल और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल करेंगे। प्रसाद योजना से डोंगरगढ़ में मां बम्लेश्वरी मंदिर, प्रज्ञा गिरी, चंद्र गिरी का सौंदर्यीकरण किया जाएगा।

पढ़िए पूरी खबर-
बता दें ये छत्तीसगढ़ का एकमात्र प्रोजेक्ट है जिसे प्रसाद योजना में शामिल किया गया है। इस योजना के तहत डोंगरगढ़ में भव्य इमारत बनाई जाएगी। जिसके भूतल में प्रसादी और खानपान की व्यवस्था होगी। तो प्रथम तल में तीर्थयात्रियों के ठहरने का पूरा इंतजाम होगा। साथ ही धार्मिक ग्रंथों की लाइब्रेरी होगी।

दूसरे तल में ध्यान केंद्र बनाया जाएगा, जहां पर एक हजार से ज्यादा लोग एक साथ बैठकर ध्यान कर सकेंगे। सबसे ऊपर श्रीयंत्र नुमा आकृति होगी। वहीं, मां बम्लेश्वरी की सीढ़ियों, पार्किंग और तालाबों का भी सौंदर्यीकरण किया जाएगा। इसके लिए केंद्र सरकार ने 43 करोड़ 33 लाख रुपए की स्वीकृति भी दे दी है। बता दें योजना के तहत केंद्र सरकार देश के 26 धार्मिक तीर्थ स्थलों का चयन किया है।
 बड़ी खबर छत्तीसगढ़: 8 शिक्षक और उनके परिजन पाए गए कोरोना पॉजिटिव, जारी हुआ स्कूल को बंद रखने का निर्देश

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: 8 शिक्षक और उनके परिजन पाए गए कोरोना पॉजिटिव, जारी हुआ स्कूल को बंद रखने का निर्देश

राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ की संस्कारधानी राजनांदगांव में स्कूल खुलने से पहले ही सबसे बड़े प्राइवेट स्कूल में कोरोना विस्फोट हुआ है। बुधवार को 2 बच्चे समेत 11 स्टॉफ कोरोना पॉजिटिव मिले थे, उसके बाद आज गुरुवार को भी 8 शिक्षक और उनके परिजन संक्रमित पाए गए हैं। कोरोना संक्रमित मिले सभी स्टॉफ होम आइसोलेशन में है। इसके साथ ही स्कूल को बंद रखने के निर्देश दिए गए हैं।
 
बड़ी खबर छत्तीसगढ़: स्कूल खुलते ही शिक्षक और छात्र समेत स्कूल के एक दर्जन लोग कोरोना संक्रमित, मचा हड़कंप

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: स्कूल खुलते ही शिक्षक और छात्र समेत स्कूल के एक दर्जन लोग कोरोना संक्रमित, मचा हड़कंप

राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले के एक  स्कूल खुलते ही कोरोना का खतरा भी बढऩे लगा है। हालांकि मोहल्ला क्लास के दौरान भी कई जगहों से स्कूली बच्चों और शिक्षकों के कोरोना पॉजेटिव आने की खबरें आयी थी, लेकिन स्कूल खुलते ही आशंका फिर से गहराने लगी है। इसी बीच राजनांदगांव से खबर आयी है कि एक ही स्कूल के 11 शिक्षक और 2 बच्चों कोरोना पॉजेटिव आ गये हैं। 

जानकारी के मुताबिक राजनांदगांव के युगांतर पब्लिक स्कूल में 13 लोगों के कोरोना पॉजेटिव आने की खबर आयी है। जिनमें से 11 शिक्षक और 2 बच्चे शामिल हैं। सभी शिक्षक और बच्चे स्कूल में ही रेसिडेंसियल सुविधा के तहत रहते हैं। इनमें से पहले एक शिक्षक को कोरोना के संदिग्ध लक्षण मिले थे, जिसके बाद ऐहितियातन रेसिंडेंसियल में रह रहे अन्य शिक्षक व बच्चों का भी कोरोना टेस्ट कराया गया। कोरोना टेस्ट में 11 शिक्षक की रिपोर्ट पॉजेटिव आयी है, जबकि 2 बच्चे भी संक्रमित मिले हैं।

बड़ा हादसा छत्तीसगढ़: मां बमलेश्वरी देवी पहाड़ी पर रोपवे टूट कर 300 फिट नीचे गिरा, रोपवे पर व्यक्ति था सवार

बड़ा हादसा छत्तीसगढ़: मां बमलेश्वरी देवी पहाड़ी पर रोपवे टूट कर 300 फिट नीचे गिरा, रोपवे पर व्यक्ति था सवार

डोंगरगढ़, अभी अभी सूचना प्राप्त हुई है मां बमलेश्वरी देवी मंदिर में स्थित रोपवे की ट्राली टूट कर 300 फीट नीचे गिर गई है, बताया जा रहा है इस रोपवे की ट्रॉली में सामान लेकर ऊपर पहाड़ी की ओर जा रहे थे ट्राली में एक आदमी भी था जिसे रेस्क्यू कर बचाया गया और उसे तुरंत अस्पताल भेज दिया गया. 

राजस्व वसूली अभियान में वसूले गए 10 लाख 30 हजार रूपए

राजस्व वसूली अभियान में वसूले गए 10 लाख 30 हजार रूपए

राजनांदगांव/कवर्धा । छत्तीसगढ़ स्टेट पाॅवर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी द्वारा बकायेदार उपभोक्ताओं से बकाया राजस्व वसूली के लिए संयुक्त अभियान चलाया जा रहा है। इस परिपेक्ष्य में क्षेत्रीय एवं स्थानीय स्तर पर गठित अधिकारियों की टीमों द्वारा कवर्धा जिले में बकाया वसूली अभियान चलाकर 84 बकायादार उपभोक्ताओं से 10 लाख 30 हजार रूपए की बकाया राषि वसूल की गई है तथा बकाया राशि भुगतान नहीं करने वाले 276 उपभोक्ताओं के विद्युत कनेक्शन भी विच्छेदित किये गए। जिसमें कवर्धा संभाग में 12 बकायेदार उपभाक्ताओं से 6 लाख 50 हजार रूपए तथा पंडरिया संभाग में 72 उपभोक्ताओं से 3 लाख 80 हजार रूपये की बकाया राशि वसूल की गई। बिजली विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार राजनांदगांव एवं कवर्धा जिले के अधिकारियों की टीमों द्वारा संयुक्त अभियान चलाया जा रहा हैं।
इस अभियान के अन्तर्गत बकाया राशि भुगतान नहीं करने क्रमशः कवर्धा से 40 एवं पंडरिया से 236 बकायेदार उपभोक्ताओं के विद्युत कनेक्शनों को विच्छेदित किया गया। विद्युत विभाग के अधिकारियों ने उपभोक्ताओं से अपील की है कि लंबित देयकों का अविलंब भुगतान करें, ताकि विद्युत कनेक्शन विच्छेदन जैसी अप्रिय स्थिति का सामना ना करना पड़े।
क्षेत्रीय एवं स्थानीय स्तर पर गठित अधिकारियों की टीमों ने 8 उपभोक्ताओं को बिजली की चोरी एवं 50 उपभोक्ताओं को विद्युत मीटर से छेड़छाड करते हुए पकड़ा। जिस पर संयुक्त टीमों ने विद्युत अधिनियम की धारा 135 138 के तहत कार्यवाही की है।

बिजली से जुड़े अपराध के संबंध में विद्युत अधिनियम 2003 की धारा 135, 136, 137 एवं 138 के तहत मामले दर्ज किये जाते हैं। इसमें धारा 135 में बिजली चोरी, धारा 136 में बिजली लाइनों एवं सामग्री की चोरी, धारा 137 में चुराई गई संपत्ति प्राप्त करने के लिए दण्ड और धारा 138 में विद्युत मीटरों से छेड़छाड़ के मामले दर्ज होते हैै। विद्युत अधिनियम 2003 के तहत दर्ज मामलों में तीन वर्श का कारावास या जुर्माना दोनों लगाया जाता है। 

 छत्तीसगढ़: पत्नी की हत्या कर पति ने लगाई फांसी, मर्ग कायम कर जाँच में जुटी पुलिस

छत्तीसगढ़: पत्नी की हत्या कर पति ने लगाई फांसी, मर्ग कायम कर जाँच में जुटी पुलिस

राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले के डोंगरगांव में एक किसान ने अपनी पत्नी की हत्या करने के बाद खुद भी फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना रविवार को डोंगरगांव थाने अंतर्गत आने वाले ग्राम तुर्रेगढ़ की है। 
 

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार जिस वक्त ये घटना हुई उस वक्त घर में कोई नहीं था। मृतक का जवान बेटा गांव से बाहर गया था। वहीं बेटी गांव में चल रहे रामायण सम्मेलन देखने गई थी। जब दोनों घर पहुंचे तो पिता फंदे पर लटका मिला वहीं मां लहूलुहान हालत में मरी हुई पड़ी मिली। ग्रामीणों ने घटना की सूचना पुलिस थाने में दी। 
 

पुलिस ने बताया कि पत्नी का रक्तरंजीत शव एक कमरे में और दूसरे में पति का शव मिला। ग्रामीणों के अनुसार ग्राम में रामचरित मानस समेलन का आयोजन किया गया है। जहां मृतक की पुत्री शाम लगभग पांच बजे कार्यक्रम स्थल से घर पहुंची तो देखा कि उसकी मां रूपकुमारी पति मदन भुआर्य 40 वर्ष लहूलुहान कमरे में पड़ी थी। पिता मदनलाल भुआर्य पिता स्व.सावत भुआर्य 45 वर्ष एक अन्य कमरे में फंदा लगाकर झूल गए था। पति-पत्नी के बीच हुए इस खूनी संघर्ष का कारण फिलहाल अज्ञात है। पुलिस मर्ग कायम कर जांच में जुटी है।
 

घटना की सूचना मिलते ही ग्रामीण शाम 7 बजे दोनों को निजी वाहन से डोंगरगांव सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लेकर पहुंचे। जहां डॉक्टर ने जांच उपरांत दोनों को मृत घोषित कर दिया है। ग्रामीणों ने बताया कि घटना के समय घर पर कोई भी नहीं था और मृतक मदन पेशे से कृषक है। उसकी तीन संतानें हैं, जिसमें से छोटी लड़की का विवाह आगामी माह में तय था। जिसका निमंत्रण कार्ड देने के लिए मृतक का पुत्र गांव से बाहर गया था।
 छत्तीसगढ़: अब इस जिले के कलेक्टर ने स्वीमिंग पुल, वाटर पार्क संचालन के संबंध में जारी किए आवश्यक दिशा-निर्देश

छत्तीसगढ़: अब इस जिले के कलेक्टर ने स्वीमिंग पुल, वाटर पार्क संचालन के संबंध में जारी किए आवश्यक दिशा-निर्देश

राजनांदगांव। कलेक्टर ने जिले में संचालित स्वीमिंग पुल और वाटर पार्क को संचालित करने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए है। आदेश में कहा कि स्वीमिंग पुल और वाटर पार्क स्थल की क्षमता का 50 प्रतिशत ही सम्मिलित होगा। स्वीमिंग पुल और वाटर पार्क स्थल में प्रवेश द्वार, निकासी द्वार पृथक-पृथक हो यह सुनिश्चित किया जाए। प्रवेश व निकासी द्वार टच फ्री मोड में हो। श्वसन शिष्टाचार का कड़ाई से पालन सुनिश्चित किया जाए। स्वीमिंग पुल और वाटर पार्क स्थल में उपस्थित व्यक्ति खांसते, छींकते समय टिशु पेपर, रूमाल या मुढ़ी हुई कोहनी का अनिवार्यत: उपयोग करें। 
 
स्वीमिंग पुल, वाटर पार्क के संचालक यह सुनिश्चित करें कि उपयोग में लाए गए सामग्री का ठीक से निपटारा किया जाए। स्वीमिंग पुल, वाटर पार्क स्थल पर संचालक और व्यक्तियों से साबुन, तौलिया आदि का आदान-प्रदान नहीं किया जाए। स्वयं का साबुन, तौलिया आदि का उपयोग किया जाए। स्वीमिंग पुल और वाटर पार्क स्थल में रखे पीने का पानी स्थल, हाथ धोने का स्थल, वॉश रूम, कुर्सी टेबल, बेंच 70 प्रतिशत एल्कोहल बेस्ड सैनेटाईजर से साफ करना होगा। स्वीमिंग पुल और वाटर पार्क स्थल में सीसीटीवी कैमरे लगाया जाएं ताकि कोई व्यक्ति कोरोना संक्रमित होने पर कान्टेक्ट ट्रेसिंग किया जा सके। पार्क में उपयोग में लाए जाने वाले पानी को समय-समय पर फिल्टेरेशन और क्लोरोनाईजेशन करना होगा।
 
आदेश में कहा कि छोटे बच्चों, अधिक उम्र के बुजुर्ग व्यक्तियों, गर्भवती माताओं व दवाईयां, दवाईयों का सेवन करने वाले व्यक्तियों को पार्क स्थल में जाने की अनुमति नहीं होगी। 
 
 बड़ी खबर: पत्नी की कोरोना रिपोर्ट सुनकर पति को आया हार्ट अटैक, हुई मौत

बड़ी खबर: पत्नी की कोरोना रिपोर्ट सुनकर पति को आया हार्ट अटैक, हुई मौत

राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले के खैरागढ़ में पत्नी की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव देखकर पति को इतना गहरा सदमा लगा कि उसकी हार्ट अटैक से मौत हो गई। 

मृतक के पीएम के लिए जब उसका टेस्ट किया गया तो उसकी भी रिपोर्ट कोरेाना पॉजिटिव आई। जिसके बाद आनन-फानन में मृतक का अंतिम संस्कार कोरोना प्रोटोकाल के तहत किया गया। 

मामला खैरागढ़ के बरेठपारा का है। यहां के निवासी अशोक सोनी को सोमवार सुबह दिल का दौरा पड़ा। परिजन आनन-फानन में उन्हें राजनांदगांव जिला चिकित्सालय ले गए। वहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। मौत के बाद उनका कोरोना टेस्ट पॉजिटिव पाया गया। उनकी पत्नी भी 19 जनवरी को कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था।
नक्सलयों ने दो ग्रामीणों को उतारा मौत के घाट, इलाके में दशहत है माहौल

नक्सलयों ने दो ग्रामीणों को उतारा मौत के घाट, इलाके में दशहत है माहौल

मानपुर। राजनांदगांव जिले के मानपुर इलाके में नक्सलियों ने यहां एक ही थाना क्षेत्र में दो अलग-अलग गांवों के दो ग्रामीणों की हत्या कर दी। कामखेड़ा गांव में उप सरपंच के पति धनसाय घावड़े को मार दिया। हत्या करने के बाद लाशों के पास पर्चे फेंककर हत्या का कारण पुलिस की तथाकथित मुखबीरी को बताया है। घटना के बाद से इलाके में दहशत का माहौल है।
 

कामखेड़ा में हत्या की घटना को अंजाम देने के बाद नक्सलियों ने कुछ दूरी पर मौजूद ग्राम मुरारपानी का रुख किया। दो घंटे बाद करीब साढ़े 9 बजे नक्सलियों ने 40 वर्षीय ग्रामीण धनसाय घावड़े को भी उसके घर से बुलाकर गांव से करीब 50 मीटर बाहर उसे ले जाकर निर्मम हत्या कर दी।
 
 
जानकारी के अनुसार 25 जनवरी की रात करीब साढ़े सात के मध्य हथियारबंद सशस्त्र नक्सलियों की टुकड़ी जत्था कोहका थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम कामखेड़ा पहुंची। यहां पहुंचे नक्सलियों ने स्थानीय महिला सरपंच के ससुर करीब 60 वर्षीय इंदलशाय को उसके घर से बुलाकर उसे गांव के मध्य स्थित प्राथमिक शाला भवन के पास ले गए। लाठी-डंडे से उसे पीटते हुए उसके सिर के पीछे निचले हिस्से को धारदार हथियार से गोद कर उसे मौत के घाट उतार दिया।

 
दोनों ही घटनास्थल में शव के पास माओवादियों ने बड़ी संख्या में पर्चे छोड़ रखे थे जिनमें हत्या का कारण पुलिस मुखबिरी को बताया गया है। वहीं आमजनों को मुखबिरी नहीं करने की हिदायत दी गई है। इसके अलावा भारत की कम्युनिष्ट पार्टी माओवादी के हवाले से जारी उक्त पर्चों में मुखबिरी पर कटाक्ष करते हुए आमजनों को मुखबिरी छोड़ स्वालंबन व आत्मसम्मान की जिंदगी जिओ, अपना गांव, अपनी जल, जंगल, जमीन मत छोड़ों समेत कई नक्सल आह्वानों का उल्लेख है।

 
कामखेड़ा गांव में ग्रामीण की स्कूल के सामने हत्या के बाद माओवादियों ने स्कूल परिसर और स्कूल के सामने सड़क में बड़ी संख्या में पर्चे फेके थे। दूसरे दिन यानी गणतंत्र दिवस के रोज सुबह आलम ऐसा था कि एक ओर स्कूल में नक्सल पर्चे ख़ौफ़ फैला रहे थे, वहीं दूसरी तरफ शाला में ध्वजारोहण की तैयारी चल रही थी। पुलिस यहां नहीं पहुंची न ही पर्चे हटाए गए। आखिरकार नक्सल पर्चो के बीच शाला में तिरंगा फहराया गया।

मुखबिर के शक पर 27 दिन में 4 लोगों की हत्या-
29 दिसंबर : मानपुर थाने से महज 4 किमी दूर टांगापानी गांव में एक युवक महेश कचलाम की गोली मारकर हत्या कर दी थी। उसके ऊपर भी नक्सलियों ने पुलिस का मुखबिर होने का आरोप लगाया था।

13 जनवरी : मानपुर थाने से ही करीब 4 किमी के ही दायरे में परदोनी में सरपंच के पति मैनू राम सलाम से नक्सलियों ने मारपीट की और फिर उसे अपने साथ गांव से बाहर ले गए। इसके बाद उनकी गला रेतकर हत्या कर दी और शव को गांव के पास ही फेंक दिया था. मैनु राम पर भी मुखबिरी का लाल आरोप लगा था।

25 जनवरी : मानपुर ब्लॉक के ही काम खेड़ा गांव में महिला सरपंच के ससुर इंदल शाह मंडावी और पड़ोसी गांव मोरारपानी की उप सरपंच के पति धनसाय घावड़े को मार दिया और लाश फेंक गए. इन दोनों पर भी मुखबिरी का ही आरोप लगा।
 
बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : जिले के इस क्षेत्र में नक्सलियों ने की सरपंच पति समेत 2 लोगों की हत्या, पढ़ें पूरी खबर

बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : जिले के इस क्षेत्र में नक्सलियों ने की सरपंच पति समेत 2 लोगों की हत्या, पढ़ें पूरी खबर

राजनांदगांव | छत्तीसगढ़ प्रदेश के राजनांदगांव जिले से एक बड़ी खबर सामने आई है | खबर मिली है कि जिले के कोहका थाना क्षेत्र के ग्राम कन्दाडी में नक्सलियों ने सरपंच पति समेत दो लोगों की बेरहमी से हत्या कर दी है । जानकारी के अनुसार मुखबिर के शक में नक्सलियों ने वारदात को अंजाम दिया है। 

पढ़ें : बड़ी खबर : महिला के साथ 3 लोगों ने की दरिंदगी, रेप के बाद महिला के प्राइवेट पार्ट में डाला बोतल 

जानकारी के मुताबिक नक्सलियों ने मोरारपानी गांव के सरपंच पति धानसाय गावड़े और उसके ससुर इंदर साई मंडावी की हत्या कर दी। पुलिस ने बताया कि बीती रात हथियार बंद नक्सलियों ने जंगल में ले जाकर मुखबिर का आरोप लगाकर हत्या कर दी। आज परिजनों की शिकायत के बाद पुलिस ने केस दर्ज किया। इधर नक्सलियों घटना के बाद गांव दहशत का माहौल है।

एकलव्य आदर्श विद्यालयों में शिक्षकीय पद के लिए पात्र-अपात्र की सूची जारी

एकलव्य आदर्श विद्यालयों में शिक्षकीय पद के लिए पात्र-अपात्र की सूची जारी

रायपुर । राजनांदगांव जिले में संचालित एकलव्य आदर्श विद्यालयों में व्याख्याता, शिक्षक (पीजीटी, टीजीटी) के रिक्त पदों के भर्ती के लिए ऑनलाईन प्राप्त मेरिट सूची से प्राप्त आवेदन पत्रों का परीक्षण कर पात्र और अपात्र सूची का प्रकाशन कर दिया गया है।

पढ़ें : बड़ी खबर रायपुर : वाहन की ठोकर से बाइक सवार 2 युवकों की मौत

सूची में किसी भी प्रकार की दावा-आपत्ति हो तो सप्रमाण दावा-आपत्ति 28 जनवरी को शाम 5 बजे तक सहायक आयुक्त आदिवासी विकास राजनांदगांव के कार्यालय में प्रस्तुत कर सकते हैं। दावा-आपत्ति में पद का नाम विषय पात्र और अपात्र सूची में सरल क्रमांक तथा पंजीयन क्रमांक का उल्लेख अनिवार्य रूप से करना होगा। इसके लिए पदवार आवेदक की सूची जिले की वेबसाईट www.Rajnandgaon.nic.in पर अवलोकन किया जा सकता है। इस सूची का अवलोकन कार्यालयीन अवधि में कार्यालय में भी किया जा सकता है।

पढ़ें : बड़ी खबर : राजधानी रायपुर के इस क्षेत्र में सरफिरे युवक ने 4 गाड़ियों को किया आग के हवाले

उल्लेखनीय है कि शासन के निर्देशानुसार एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों जिला राजनांदगांव में स्वीकृत सेटअप अनुसार शिक्षकीय पद के लिए प्रतिनियुक्ति पर पदों की भर्ती के लिए कार्यालय आयुक्त, पदेन सचिव, छत्तीसगढ़ राज्य स्तरीय आदिम जाति कल्याण आवासीय एवं आश्रम शैक्षणिक संस्थान समिति, अटल नगर नवा रायपुर के पत्र अनुसार 7 अक्टूबर 2020 तक ऑनलाईन आवेदन पत्र आमंत्रित किए गए थे।
 

आरक्षक ने किया नाबालिग से दुष्कर्म, आक्रोशित ग्रामीणों ने जमकर पीटा, पढ़ें पूरी खबर

आरक्षक ने किया नाबालिग से दुष्कर्म, आक्रोशित ग्रामीणों ने जमकर पीटा, पढ़ें पूरी खबर

राजनांदगांवजिले के चिल्हाटी थाना क्षेत्र के ग्राम मोहगांव में एक पुलिस आरक्षक ने नाबालिग लड़की को बहला फुसलाकर उसके साथ दुष्कर्म के वारदात को अंजाम दिया है। ग्रामीणों को जानकारी होने पर आरक्षक की जमकर पिटाई की गई और पुलिस के हवाले किया गया।

 आरोपी आरक्षक रमेश बंजारे ने नाबालिग को अपने प्रेमजाल में फंसाया और उसे सूनसान में जगह में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया। घटना की जानकारी ग्रामीणों के पास आते ही ग्रामीणों ने आरक्षक की जमकर धुनाई की। मामले में पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेकर धारा 363, 376, पास्को एक्ट के तहत 4, 6 के तहत कार्रवाइ्र्र की है।
 
 बड़ी खबर: मुखबिर के शक में नक्सलियों ने की सरपंच पति की हत्या, ग्रामीणों में दहशत

बड़ी खबर: मुखबिर के शक में नक्सलियों ने की सरपंच पति की हत्या, ग्रामीणों में दहशत

राजनांदगांव। मानपुर में नक्सलिसों ने सरपंच पति की बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया। उसकी लाश जंगल में मिली है। मामले की सूचना के बाद पुलिस ने शव को बरामद किया है। इस घटना से ग्रामीणों में दहशत है।

जानकारी के अनुसार नक्सलियों ने मुखबिर के शक में मानपुर के परदोनी ग्राम के सरपंच पति की हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि बंदूक धारी नक्सली युवक को अगवा कर जंगल ले गए। जहां उसकी पीट-पीटकर हत्या कर दी।

इसके बाद शव को लावारिश हालात में छोड़कर फरार हो गए। मामले की सूचना के बाद पुलिस ने नक्सलियों के खिलाफ केस दर्ज किया है। दूसरी ओर नक्सली वारदात से लोगों में जबरदस्त दहशत फैल गई।
 
 महिला समूह की जागरूकता व सहभागिता से अवैध शराब जप्त

महिला समूह की जागरूकता व सहभागिता से अवैध शराब जप्त

राजनांदगांव। डोंगरगढ़ विकासखंड के ग्राम चिखलाकसा की महिला समूह ने जागरूकता और सामुहिक सहभागिता का परिचय देते हुए 23 ड्रमों में रखे हुए 560 किलोग्राम महुआ लाहन लावारिस मिलने की सूचना कलेक्टर और आबकारी विभाग को दी। जिसे नदी किनारे जमीन में गड़ा कर रखा गया था और मौके पर ही आबकारी विभाग की टीम तथा महिला समूह की सहायता से इसे नष्ट किया गया। 

कलेक्टर व जिला दंडाधिकारी टोपेश्वर वर्मा नेग्राम चिखलाकसा की महिला समूह के जनसहयोग से किए गए कार्य की सराहना की है। उन्होंने कहा कि जनता की ओर से अपील करते हुए अवैध मदिरा निर्माण के लिए कड़ी कार्रवाई करने की जो पहल की की गई है, वह एक अच्छा उदाहरण है। जिससे अवैध मदिरा का निर्माण करने वालों पर बेहतर नियंत्रण किया जा सकता है। उल्लेखनीय है कि कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा के निर्देशन में सहायक आयुक्त आबकारी नवीन प्रताप सिंह तोमर के मार्गदर्शन में आबकारी विभाग की टीम की ओर से अवैध मदिरा निर्माण करने वालों पर निरंतर कार्रवाई की जा रही है।

सहायक आयुक्त आबकारी नवीन प्रताप सिंह तोमर ने बताया कि आबकारी विभाग राजनांदगांव द्वारा ग्राम मरकाकसा चिखलाकसा थाना डोंगरगांव में दबिश देकर कार्रवाई करने पर आरोपी बिंझवार मंङावी के रिहायशी मकान से 5-5 लीटर के तीन जरिकेन में 13 लीटर महुआ शराब बरामद किया गया। रमेश सिन्हा के रिहायशी मकान से 5-5 लीटर के तीन जरिकेन मे भरा 12 लीटर महुआ शराब बरामद किया गया। भुनेश्वर प्रसाद के रिहायशी मकान से प्लास्टिक के 20 लीटर क्षमता के जरिकेन में भरा 15 लीटर महुआ शराब बरामद किया गया। हमीद खान के रिहायशी मकान से एक 5 लीटर क्षमता के जरिकेन में भरा 3.5 लीटर महुआ शराब बरामद किया गया। यशोदा बाई के रिहायशी मकान से 5 लीटर क्षमता वाले जरिकेन में भरा 4 लीटर महुआ शराब बरामद किया गया।

आरोपियों के विरूद्ध आबकारी अधिनियम की धारा 34(2), 36, 59 (क) तथा 34 (1)(क) का प्रकरण दर्ज कर विवेचना किया जा रहा है। रेड कार्रवाई के दौरान निरूपमा लोन्हारे, सहायक जिला आबकारी अधिकारी वृत्त डोंगरगांव सीपी सिंह, आबकारी उपनिरीक्षक वृत राजनांदगांव (अ) जितेन्द्र उइके, आबकारी उपनिरीक्षक वृत्त अम्बागढ़ चौकी सविता वर्मा, आबकारी उपनिरीक्षक वृत्त खैरागढ़, जीतेश्वरी आलेन्द्र, आबकारी उपनिरीक्षक वृत्त घुमका तथा आबकारी आरक्षक निजाम शाह, राकेश दुबे, संतोष अहिरवार, कमल मेश्राम, लालसिंह राजपूत, मुख्य आबकारी आरक्षक दीपक गुप्ता, सहायक भोजनारायण उइके उपस्थित रहे।
छत्तीसगढ़ के इस जिले में गिरा एक कौआ, बर्ड फ्लू की आशंका

छत्तीसगढ़ के इस जिले में गिरा एक कौआ, बर्ड फ्लू की आशंका

राजनांदगांव । राजनांदगाव जिले के छुरिया रेस्ट हाउस के पीछे आहता के अंदर एक कौआ उड़ान भरते हुए ऊपर से गिर गया और थोडी देर तड़प कर मर गया।

आपको बता दे कौवे की मौत को देश के राजस्थान और मध्यप्रदेश में फैले बार्ड फ्लू से जोड़ कर देखा जा रहा है। कौएं की हुई अचानक मौत से क्षेत्र में बर्ड फ्लू को लेकर दहशत का माहौल है। 

बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : आरक्षक ने सर्विस रिवाल्वर से खुद को मारी गोली, मौके पर हुई मौत, पढ़ें पूरी खबर

बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : आरक्षक ने सर्विस रिवाल्वर से खुद को मारी गोली, मौके पर हुई मौत, पढ़ें पूरी खबर

राजनांदगांव | 2007 बैच के आरक्षक ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। बताया जा रहा है कि देर रात गोली चलने की आवाज सुनकर जब अन्य पुलिसकर्मी आरक्षक के कमरे में पहुंचे तो आत्महत्या के बारे में पता चला। जवान के सुसाइड करने के कारणों का पता नहीं चल सका है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पढ़ें : युवती ने दो बच्चों को पिलाया कीटनाशक, बच्चों की हुई मौत व युवती की हालत गंभीर, जाने कहाँ की है यह खबर 

जानकारी के मुताबिक, रविवार देर रात करीब 10 बजे जीई रोड स्थित पीटीएस में अचानक गोली चलने की आवाज सुनाई दी। देर रात गोली चलने से पीटीएस में हड़कंप मच गया। अन्य पुलिसकर्मी दौड़कर मौके पर पहुंचे तो देखा कि कांस्टेबल विनोद साहू का खून से लथपथ शव पड़ा था।
 
 
वहीं शव के पास ही उसकी बंदूक और मोबाइल भी मिले। जवान उसे लेकर मेडिकल कॉलेज पहुंचे, वहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। जवान विनोद 2007 बैच का सिपाही था और क्वार्टर में अकेले रहता था। उसने अपनी सर्विस बंदूक से ही गोली मारी है। जवान के बारे में अभी ज्यादा जानकारी सामने नहीं आ सकी है। माना जा रहा है कि किसी मानसिक परेशानी के चलते उसने कदम उठाया है।
हादसा: निर्माणाधीन अस्पताल का छज्जा गिरने से  कई  श्रमिक दबे एक महिला श्रमिक की हुई मौत

हादसा: निर्माणाधीन अस्पताल का छज्जा गिरने से कई श्रमिक दबे एक महिला श्रमिक की हुई मौत

राजनांदगांव, राजनांदगांव बसंतपुर रोड पर बन रहे एक नर्सिंग होम का छज्जा गिर गया। इसके ऊपर और नीचे मजदूर काम कर रहे थे। अब तक सामने आई जानकारी के मुताबिक छज्जा गिरने की वजह से तीन मजदूर इसके नीचे दब गए। एक महिला श्रमिक की इस हादसे में मौत हो गई। रेस्क्यू के काम में जुटी टीम का अंदेशा है कि मलबे में और भी लोग दबे हो सकते हैं।

ठेकेदार हुआ फरार

शहर की बसंतपुर रोड पर तुलसी नर्सिंग होम नाम का अस्पताल निर्माणाधीन है। इसके पोर्च में यह हादसा हुआ है। ढलाई का काम आखिरी दौर पर था तभी भरभरा कर छज्जा नीचे गिर गया।
घटना के बाद से ही इस काम का ठेकेदार फरार हो गया है। महापौर हेमा देशमुख, निगम आयुक्त चंद्रकांत कौशिक, सीएसपी एमएस चंद्रा और नगर निगम के साथ ही होमगार्ड की टीम मौके पर पहुंची। मलबे में दबे मजदूरों को निकालने और जांच कार्य जारी है।
 

बड़ी खबर : धान खरीदी केंद्र में धान लेने से किया मना, सदमे में किसान की हार्ट अटैक से हुई मौत, केंद्र में मचा हड़कंप

बड़ी खबर : धान खरीदी केंद्र में धान लेने से किया मना, सदमे में किसान की हार्ट अटैक से हुई मौत, केंद्र में मचा हड़कंप

राजनांदगांवप्रदेश में इस समय धान खरीदी चल रही है। इस बीच छत्तीसगढ़ के धान खरीदी केंद्र में एक किसान की हार्ट अटैक से मौत हो गई। बताया जा रहा है कि धान खरीदी केंद्र पहुंचे किसान के धान को खराब बताकर तौलाई करने से इंकार कर दिया, जिसके बाद किसान को दिल का दौरा पड़ गया और मौके पर ही उसकी मौत हो गई।

पढ़ें : BIG BREAKING : अब इस फ़िल्मी सितारे ने फांसी लगा कर की आत्महत्या, फिल्म इंडस्ट्री में शोक की लहर

यह मामला राजनांदगांव जिले के घुमका खरीदी केंद्र का है। जानकारी के अनुसार गिधवा निवासी किसान मंगलवार को यहां धान बेचने पहुंचा था। इस दौरान धान की तुलाई के लिए पैसा लिया जा रहा था। बताया जा रहा है कि मृत किसान ने इसका विरोध किया तो धान की तुलाई करने से मना कर दिया।

पढ़ें : BIG BREAKING : भारतीय टीम के पूर्व विकेटकीपर-बल्लेबाज पार्थिव पटेल ने क्रिकेट से लिया सन्यास, जाने ट्विट कर क्या कहा उन्होंने
यह सुनकर किसान को वहीं हार्ट अटैक आ गया। मौके पर ही उसकी मौत होने से धान खरीदी केंद्र में हड़कंप मच गया। कलेक्टर मामले की जांच कर रहे हैं। परिजनों ने घुमका थाने में शिकायत दर्ज कराई है।

बच्चों के साथ होने वाले मानसिक व शारीरिक आघात के प्रति हों सचेत, बच्चों को दें 'गुड टच व बैड टच' की जानकारी

बच्चों के साथ होने वाले मानसिक व शारीरिक आघात के प्रति हों सचेत, बच्चों को दें 'गुड टच व बैड टच' की जानकारी

राजनांदगांव | कोरोना संक्रमण के संकटकाल का व्यापक असर बच्चों के शारीरिक व मानसिक स्वास्थ्य पर पड़ा है. लॉकडाउन के कारण  लगातार घर में रहने व स्कूलों व कोचिंग संस्थानों के नियमित नहीं खुलने के कारण उनकी दिनचर्या पर असर पड़ा है. उनके जीवनशैली में अचानक हुए इस बदलाव के कारण उनका मानसिक स्वास्थ्य प्रभावित हुआ है. ऐसे में बच्चों में कई नकारात्मक सोच उभरने की आशंका भी बढ़ी है. इस परिस्थिति में उन्हें भावनात्मक मदद मिलनी जरूरी है अन्यथा वह किसी बड़े शारीरिक व मानसिक आघात का शिकार हो सकते हैं. बच्चों को इस संकट से उबारने के लिए 'दी ब्लू ब्रिगेड', 'राष्ट्रीय सेवा योजना' एवं 'यूनिसेफ' ने मिलकर लोगों को इसके प्रति जागरूक करने व उन्हें बच्चों के प्रति उनकी नैतिक जिम्मेदारियों के प्रति सजग बनाने के उद्देश्य से एक मार्गदर्शिका जारी की है. 

पढ़ें : BIG BREAKING : रायपुर के गुढ़ियारी इलाके में नाबालिग के साथ हुए गैंगरेप का तीसरा आरोपी हुआ गिरफ्तार, पढ़ें पूरी खबर 

मार्गदर्शिका के अनुसार बच्चों के साथ किसी प्रकार की भी ऐसी घटना जिसमें शारीरिक शोषण, बच्चें की पिटाई, किसी वस्तु से चोट पहुंचाना, घर से निकालना, काटना, जलाना या ज्यादा ही सख्ती से पेश आना, उपयुक्त भोजन एवं सुरक्षा प्रदान नहीं करना, अपमानित करना, अनुचित भाषा का प्रयोग करना, यौन शोषण करना व उपेक्षा करना आदि शामिल हों, इसकी सूचना चाइल्ड लाइन को 1098 पर कॉल कर देनी है. 
 
आवश्यक टीकाकरण को भी दी गई है तरजीह: 
कोविड 19 संक्रमण के असर के मद्देनजर बच्चों के आवश्यक टीकाकरण को भी तरजीह दी गयी है. बच्चों को आंगनबाड़ी केंद्र, जिला अस्पताल सहित सामुदायिक व प्राथमिक व उप स्वास्थ्य केंद्रों पर जाकर टीकाकरण जरूर दिलाया जाना चाहिए. बच्चों को दिये जाने वाले टीकाकरण में विशेषतौर पर हेपेटाइटिस बी, काली खांसी, टीबी, हिब इंफेक्शन, दिमागी बुखार, पोलियो, खसरा व रूबेला, डिप्थेरिया व टिटनेस शामिल हैं. ये टीकाकरण बच्चों को जानलेवा बीमारियों से रक्षा करने के साथ उनके रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाने का काम करती हैं. 
 
गर्भस्थ शिशु का भी रखा गया है पूरी तरह ध्यान:
मार्गदर्शिका में कोविड 19 संकटकाल में गर्भस्थ शिशु के भी स्वास्थ्य का संपूर्ण ध्यान रखते हुए गर्भवती महिलाओं से प्रसव के लिए सरकारी या निजी स्वास्थ्य केंद्रों का चयन करने के लिए कहा गया है. इस बात पर बल दिया गया है कि स्वास्थ्य केंद्र में प्रसव के क्या फायदे हैं और इसकी तैयारी किस प्रकार होनी चाहिए. साथ ही जननी सुरक्षा योजना, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना तथा भगिनी प्रसूति सहायता योजना आदि की भी जानकारी दी गयी है. गर्भवती महिलाओं में कोविड 19 के भय को दूर करने, तथा गर्भवती को आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व आशा या नर्स से मिलवाना व सरपंच या पंचायत प्रतिनिधियों से सहयोग दिलावाने के लिए लोगों से अपील की गयी है. 
 
'गुड टच, बैड टच' व्यवहार के प्रति भी जागरूकता:
जारी मार्गदर्शिका में बच्चों को शारीरिक स्पर्श के बारे में भी सजग व जागरूक बनाने के लिए कहा गया है. बच्चों को यह बताने की अपील की गयी है कि यदि कोई उन्हें अनुचित ढंग से छुए तो उसे रोकें और मदद के लिए जोर से चिल्लाए. ऐसे व्यवहार जिनमें वे स्वयं को सहज महसूस नहीं करते उन्हें बैड टच के रूप में देखा जाता है. पैर के बीच, नितंब व जांघों के बीच, छाती व चेहरा को छूना या ऐसे कोई भी स्पर्श जिससे बच्चा असहज होता है बैड टच की श्रेणी में आता है. ऐसी बातों को मां, पिता, दादा दादी व शिक्षक आदि से बताने के लिए कहा गया है.  
 
कोविड के दौरान घर पर ही सीखने की प्रक्रिया पर बल: 
कोविड के दौरान इस बात पर जोर दिया गया है कि बच्चों के घर पर सीखना जारी रहे. कोविड-19 के कारण बच्चों के सामने शिक्षा को लेकर कई चुनौतियां हैं. ऐसी चुनौतियों के बीच बच्चे घर पर रहते हुए सीखना जारी रखें. स्वयं को सीखने की प्रक्रिया में व्यस्त रख इस महामारी में तनाव से निपटन में मदद मिलेगी. सीखने की प्रक्रिया में उनके भाई बहन, माता पिता, या चाचा चाची अपनी जिम्मेदारी निभा सकते हैं. उनके साथ पंसदीदा कहानियां पढऩे या खेलने सहित अन्य रचनात्मक कार्य में मदद कर सकते हैं।
 
 बड़ी खबर छत्तीसगढ़: हॉस्पिटल में गैस रिसाव होने से मचा हड़कंप, एक मरीज की हुई मौत

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: हॉस्पिटल में गैस रिसाव होने से मचा हड़कंप, एक मरीज की हुई मौत

राजनांदगांव। राजनांदगांव स्थित मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में ऑक्सीजन सिलेंडर का रिसाव होने से अफरा तफरी मच गई। आईसीयु में 9 मरीज गंभीर हालात में भर्ती थें, जिनमे एक मरीज की मौत हो गई। जानकारी के अनुसार मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में बीती रात करीब डेढ़ बजे के आसपास ऑक्सीजन सिलेंडर में लीकेज हो गया था। 

गैस का रिसाव होने के बाद अस्पताल में हड़कंप मच गया।मामले की सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस के जवानों ने स्थिति पर काबू पाई। अभी ICU में भर्ती मरीजों को रेस्क्यू कर बाहर निकाला जा रहा है। 

वहीं मेडिकल कॉलेज अस्पताल में हुए गैस के रिसाव से एक मरीज के मौत की खबर मिल रही है। जानकारी के अनुसार ICU वार्ड में 9 अति गंभीर मरीज भर्ती थे। इस दौरान गैस का रिसाव होने से एक की मौत की खबर है। हालांकि अभी तक मौत के कारणों का पता नहीं चल पाया है। जल्द ही अस्पताल प्रबंधन इस पर मीडिया को बयान देगी। 
 बड़ी खबर: महाराष्ट्र छत्तीसगढ़ बॉर्डर पर बेरियर पाटेकोहरा में टोकन के नाम पर अवैध वसूली का खुलासा, पढ़े पूरी खबर

बड़ी खबर: महाराष्ट्र छत्तीसगढ़ बॉर्डर पर बेरियर पाटेकोहरा में टोकन के नाम पर अवैध वसूली का खुलासा, पढ़े पूरी खबर

राजनांदगांव। महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ बॉर्डर नेशनल हाइवे पर स्थित प्रदेश के सबसे बड़े परिवहन चेकपोस्ट जो कि पूर्व की सरकार में भी विवादित रहा है। जिसे बन्द करवा दिया गया था,अभी कुछ ही महीनों पहले इसकी फिर से शुरुआत वर्तमान में सरकार ने की है। जहाँ वाहनों का परमिट,पी.ओ.सी प्रमाणपत्र, लोडिंग, अन्य सभी प्रकार के करो के तहत जांच की जाती है। इस चेक पोस्ट में वर्तमान में कुल 16 पद स्वीकृत है और वर्तमान में अभी 14 लोग पदस्थ है। जिसमे 2 परिवहन निरीक्षक , 2 निरीक्षक, 5 परिवहन प्रधान आरक्षक, 5 आरक्षक कार्यरत है। जिस तरह की शिकायत अगर प्रार्थी ने थाना चिचोला में की गई है की उसे टोकन लेने के लिए लम्बे समय मजबूर किया जा रहा था।

सूत्रों की माने तो लगातार अवैध उगाही की खबरे ट्रक मालिको ने की परन्तु किसी भी ट्रक मालिक ने परिवहन विभाग से बैर नही करने के डर से लिखित शिकायत नही की थी। आज इसका प्रमाण सामने आ गया है कि परिवहन विभाग के इतने अधिकारी कर्मचारी तैनात होने के बावजूद इनके नाक के नीचे तीन आरोपियों ने इस अवैध उगाही की घटना को अंजाम दिया जा रहा था। आरोपी अनिल वर्गीस पिता के.एस.वर्गीस उम्र 54 निवासी चिचोला, आरोपी राम कुमार सिन्हा पिता रामसुख सिन्हा उम्र 41 वर्ष निवासी चिचोला, आरोपी लखन साहू पिता भिखारी साहू उम्र 37 निवासी पाटेकोहरा, इन तीनो आरोपियों के विरुद्ध आई.पी.सी. की धारा 420,341,384,34 के तहत अपराध पंजीबद्ध चिचोला थाने में शिकायतकर्ता अनिरुद्ध सुभाष मड़ावी पिता सुभाष मड़ावी उम्र 21 वर्ष किया गया है। निवासी देवरी,थाना देवरी,जिला गोंदिया की शिकायत पर अपराध पंजीबद्ध कर लिया गया है।

जानिए बेरियर में पदस्थ अधिकारी क्या कहते है- मैं बाहर था मुझे इस बारे में जानकारी नही है आप चिचोला थाने में पता कर ले।

प्रभारी निरीक्षक- शिकायत लंबे समय से प्राप्त हो रही थी परन्तु सबूत नही मिल रहे थे। यह पहली बार लिखित शिकायत प्राप्त हुई है तीनो आरोपियों के ऊपर अपराध पंजीबद्ध कर लिया गया है।प्रभारी चिचोला थाना राजनांदगाँव क्षेत्रिय परिवहन अधिकारी प्रभारी ने फोन तक उठाना जरूरी नही समझा।
 
 लिफ्ट लेकर पैसे व बाइक लूटने वाले को पुलिस ने दबोचा, पैसे व बाइक बरामद

लिफ्ट लेकर पैसे व बाइक लूटने वाले को पुलिस ने दबोचा, पैसे व बाइक बरामद

राजनांदगांव। लिफ्ट लेने के बाद युवक से पैसे व बाइक लूटने वाले आरोपी पिंटू उर्फ़ अनिमेष तिवारी को अगले दिन गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी के पास से लूट के बचे हुए 2000 रूपए व मोटरसायकिल बरामद कर ली गई। 

पुलिस से मिली जानकर के अनुसार प्रार्थी मृणेन्द्र चौबे, निवासी शांतिनगर वार्ड नंबर 10 चौकी चिखली ने चौकी चिखली में लिखित शिकायत दर्ज की थी कि 19 नवंबर को शाम 7 बजे आरोपी पिंटू उर्फ अनिमेष तिवारी (पिता राजू तिवारी उम्र 24 साल) निवासी वार्ड नंबर 7 भोचीपारा शंकरपुर, चौकी चिखली, जिला राजनांदगांव, लिफ्ट मांगी व सुनसान जगह पर बाथरूम के बहाने से प्रार्थी को गाड़ी रोकने कहा। सुनसान जगह को देखकर आरोपी ने प्रार्थी से मारपीट, गाली-गलौच कर प्रार्थी के जेब में रखे 5000-6000 हजार रूपये छीन कर व मोटर सायकिल यामहा एफजेड क्रमांक सीजी 08, एएच 0420 को लेकर भाग गया। रिपोर्ट पर चौकी चिखली थाना कोतवाली राजनांदगांव में अपराध क्रमांक 601/20 धारा 394, 29, 323 भादंवि कायम कर विवेचना में लिया गया। मामले की जानकारी तत्काल वरिष्ठ अधिकारियों को दूरभाष के माध्यम से दिया गया।

 पुलिस अधीक्षक जिला राजनांदगांव डी. श्रवण, अति. पुलिस अधीक्षक कविलाश टंडन, नगर पुलिस अधीक्षक मणीशंकर चंद्रा, निरीक्षक विरेन्द्र चतुर्वेदी के दिये दिशा निर्देश एवं मार्ग दर्शन से आरोपी को पकड़ने तत्काल एक टीम चौकी प्रभारी के नेतृत्व में गठित कर आरोपी को पता तलाश किया गया। आरोपी भागने के फिराक में था, जिसे घटना घटित होने के 12 घंटा के भीतर पकड़ लिया गया। आरोपी के कब्जे से लुटे हुए पैसे 2000 रूपये एवं मोटर सायकिल यामहा एफजेड क्रमांक सीजी 08, एएच 0420 को बरामद किया गया। उक्त आरोपी को न्यायिक रिमांड पर आज दिनांक के भेजा जाता है। उपरोक्त कार्यवाही में चौकी प्रभारी चेतन चंद्राकर, सउनि रविशंकर पैकरा, प्रधान आरक्षक नंदकुमार फरदिया, आर. गिरजाशंकर देवांगन, आर. प्रियशील जागृत, आर. रामचंद्र चंद्रवंशी, आर. चंद्रशेखर प्रेमी, आरक्षक क्षत्रपाल वर्मा का महत्वपूर्ण योगदान एवं सराहनीय भूमिका रही।
+ Load More