कोरोना अपडेट : 24 घंटे में 41 हजार नए मामले, 541 लोगों की मौत    |    बड़ी खबर : इस BJP सांसद को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जाने क्या है मामला...    |    CG कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज रायपुर में मिले सर्वाधिक मरीज, 203 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, देखें जिलेवार आंकड़े    |    आईसीएमआर अपडेट : आज शाम तक मिले इतने कोरोना पॉजिटिव, देखे जिलेवार आकड़े    |    बड़ी खबर : जेल में बैरक की दीवार ढही, 22 कैदी गंभीर रूप से घायल    |    CG कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज एक्टिव मरीजो की संख्या हुई 2 हजार से कम, 243 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, देखें जिलेवार आंकड़े    |    बड़ी खबर: पान मसाला कंपनी पर आयकर का शिकंजा, 400 करोड़ रुपए के काले कारोबार का हुआ खुलासा    |    आईसीएमआर अपडेट : आज शाम तक मिले इतने कोरोना पॉजिटिव, आकडों में आज रायपुर से मिले सर्वाधिक    |    जज की संदिग्ध मौत पर सुप्रीम कोर्ट ने लिया संज्ञान, सरकार से एक हफ्ते में मांगा जवाब    |    CG कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज मिले सिर्फ इतने ही मरीज, 270 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, नही हुई किसी की मृत्यु, देखें जिलेवार आंकड़े    |
जिले में पीटीएस परिसर कंटेनमेंट जोन घोषित, कलेक्टर ने बुलाई आपात बैठक...

जिले में पीटीएस परिसर कंटेनमेंट जोन घोषित, कलेक्टर ने बुलाई आपात बैठक...

राजनांदगांव । कुछ दिनों तक थमने के बाद कोरोना का कहर अब प्रदेश में धीरे-धीरे बढ़ रहा है। इसी बीच राजनांदगांव से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। यहां तैनात लगभग 35 पुलिस जवानों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। एक साथ इतनी संख्या में जवानों के संक्रमित होने से महकमे में हड़कंप मच गया है। आनन-फानन में कलेक्टर ने आपात बैठक बुलाई।
कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा ने राजनांदगांव में 35 जवानों के कोरोना पॉजिटिव होने पर उच्चस्तरीय आपात बैठक ली। उन्होंने राजनांदगांव पीटीएस परिसर को कंटेनमेंट जोन घोषित किया। इस क्षेत्र को तत्काल सील करने के निर्देश दिए।
उन्होंने कहा कि पीटीएस राजनांदगांव में पुलिस के जवानों के परीक्षण में 35 जवानों का कोरोना पॉजिटिव होना चिंताजनक है। ये जवान सुकमा, कोंडागांव एवं कबीरधाम से आए हैं। सभी संदिग्ध जवानों को भी निगरानी में रखें. स्टाफ सहित सभी का कोविड-19 परीक्षण करवाएं। उन्होंने जवानों का कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग करने के निर्देश दिए।
कलेक्टर ने कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को ध्यान में रखते हुए नागरिकों से सावधानी बरतने की अपील की है। स्वास्थ्य की सुरक्षा सर्वोपरि है। अपने और अपने परिजनों की सुरक्षा के लिए कोविड एप्रोप्रियेट बिहेवियर मास्क लगाने, हाथों को बार-बार धोने एवं सोशल डिस्टेसिंग का पालन करें।
इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ लोकेश चंद्राकर, नगर निगम आयुक्त आशुतोष चतुर्वेदी, पीटीएस राजनांदगांव के प्रभारी अधिकारी एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक इरफान खान, संयुक्त कलेक्टर विरेन्द्र सिंह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी, एसडीएम मुकेश रावटे, ई-जिला प्रबंधक श्री सौरभ मिश्रा, शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय के अविन चौधरी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
 

छत्तीसगढ़: कल से यहां ख़त्म हुआ लॉकडाउन, कलेक्टर ने दी अनुमति

छत्तीसगढ़: कल से यहां ख़त्म हुआ लॉकडाउन, कलेक्टर ने दी अनुमति

राजनांदगांव, कलेक्टर ने कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण के नियंत्रण एवं रोकथाम को दृष्टिगत रखते हुए जिले में सभी संबंधित उपाय एवं आवश्यक प्रतिबंध अधिरोपित किए थे। कलेक्टर तारण सिन्हा ने सार्वजनिक आवागमन एवं व्यवसायिक गतिविधियों में अधिरोपित समय-सीमा बंधन को समाप्त करते हुए सभी व्यावसायिक संस्थानों को अपने पूर्व प्रचलित समय पर कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए संचालन करने की अनुमति दी है।
आदेशानुसार सभी व्यवसायिक संस्थानों एवं सार्वजनिक स्थानों पर मास्क व सेनेटाईजर का उपयोग तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन अनिवार्य होगा। किसी दुकान, मॉल एवं हॉल को फिजिकल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करते हुए भीड़-भाड़ एकत्रित कर राज्य शासन या जिला प्रशासन द्वारा जारी निर्देशों का उल्लंघन करने पर नियमानुसार अर्थदण्ड अधिरोपित करने एवं 30 दिवस के लिए दुकान सील करने की कार्रवाई की जायेगी। साथ ही भारतीय दण्ड सहिता 1860 की धारा 188 एवं अन्य सुसंगत विधान के अधीन आपराधिक प्रकरण दर्ज कराया जायेगा। यह आदेश 14 जुलाई 2021 से प्रभावशील होगा।
 

बड़ा हादसा : अज्ञात वाहन ने 11 गौवंशियों को कुचला

बड़ा हादसा : अज्ञात वाहन ने 11 गौवंशियों को कुचला

बिलाईगढ़। एक तरफ सरकार गौ सेवक संघ के तहत गौरक्षा के लिए अभियान चला रही है, तो वहीं दूसरी ओर सड़कों पर घुमंतू पशुओं की जानें जा रही है। गांवों में गौठान बनने के बाद भी गौवंशी सड़कों पर घूमते रहते है, और दुर्घटना का शिकार होते हैं। ऐसे ही एक दर्दनाक हादसे में 11 गौवंशियों की मौत हो गई है।
बिलाईगढ़ के धोबनीडीह के सारंगढ़ व गिधौरी मुख्यमार्ग में एक दर्दनाक हादसे में 11 गौवंशियों की मौत हो गई है। जानकारी के अनुसार यह घटना आज सुबह की है। जैसे ही इस घटना की जानकारी आसपास के लोगों मिली, उन्होंने तत्काल इसकी जानकारी सरपंच को दी। बताया जा रहा 11 घुमंतू गौवंशियों को अज्ञात वाहन ने ठोकर मार दी, जिससे उनकी दर्दनाक मौत हो गई।
 

 बड़ी खबर: शादी शुदा प्रेमी जोड़े ने होटल में फांसी लगाकर की आत्महत्या

बड़ी खबर: शादी शुदा प्रेमी जोड़े ने होटल में फांसी लगाकर की आत्महत्या

डोगरगढ़। डोगरगढ़ के एक होटल में प्रेमी जोड़े ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मृतक महिला व पुरुष शादी -शुदा थे। दोनों आपस में रिश्तेदार थे। महिला गंडई की रहने वाली है व वह अपने पति के साथ भिलाई में रहती थी। वहीं उसका रिश्तेदार मुकेश से महिला की मुलाकात के बाद दोनों में प्रेम हो गया। इसकी जानकारी मिलने पर घर वालों ने दोनों को समझाया था जिसके बाद भिलाई के महिला थाने में सुलह भी करवाई गई थी। उसके बाद मृतक महिला लक्ष्मी अपने पति के पास वापस गंडई भी आ गई थी। लेकिन मंगलवार से ही लक्ष्मी और मुकेश लापता होने का पता चला। दोनों डोंगरगढ़ के एक होटल में रुके तथा वहीं फांसी लगा ली। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर उनके परिजनों को सूचना दी है। बरहाल दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। 
CG BREAKING: दो बहनों ने टंगिया मारकर कर दी पिता की हत्या, जानिए आखिर क्यों की हत्या

CG BREAKING: दो बहनों ने टंगिया मारकर कर दी पिता की हत्या, जानिए आखिर क्यों की हत्या

राजनांदगांव। अम्बागढ़ चौकी थाना क्षेत्र अंतर्गत आने वाले ग्राम भगवान टोला में दो नाबालिग बहनों ने अपने पिता को मौत के घाट उतार दिया, अंबागढ़ चौकी पुलिस द्वारा मामले की जांच की जा रही है।


अंबागढ़ चौकी थाना प्रभारी आशीर्वाद रहटगांवकर से मिली जानकारी के अनुसार बेलरगोंदी में एक अधेड़ की दो बहनों ने मिलकर हत्या कर दी, जिसकी सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचकर मृतक सहदेव नेताम का पंचनामा पश्चात शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।


अम्बागढ़ चौकी थाना प्रभारी आशीर्वाद रहटगांवकर ने बताया, परिजनों से मिली जानकारी के अनुसार मृतक सहदेव नेताम शराब का आदी था, जो शराब सेवन करने के बाद आए दिन अपनी पत्नी व बच्चों को मारता पीटता था, सहदेव नेताम अपनी पत्नी को मारने के लिए टंगिया उठाया था, जिसमें उसकी दोनो बेटियों ने बीच-बचाव कर अपनी मां को बचाया। उसके बाद दो नाबालिग बेटियों ने पिता से तंग आकर टंगिया से मारकर हत्या कर दी।

छत्तीसगढ़ अलर्ट: सीमावर्ती राज्यों में कोविड-19 के नये वेरियेंट डेल्टा प्लस मिलने से जिला प्रशासन अलर्ट

छत्तीसगढ़ अलर्ट: सीमावर्ती राज्यों में कोविड-19 के नये वेरियेंट डेल्टा प्लस मिलने से जिला प्रशासन अलर्ट

राजनांदगांव। कोविड-19 के नये डेल्टा प्लस वेरियेंट को ध्यान में रखते हुए जिला प्रशासन पूरी तरह अलर्ट है। जिले के सीमावर्ती राज्यों में कोविड-19 के नये वेरियेंट मिलने से सीमाक्षेत्रों में सतर्कता बढ़ा दी गई है। कलेक्टर तारन प्रकाश सिन्हा एवं पुलिस अधीक्षक डी श्रवण ने कोविड-19 की नये वेरियेंट को गंभीरता से लेते हुए महाराष्ट्र सीमा पाटेकोहरा चेकपोस्ट में कोविड-19 जांच केन्द्र का निरीक्षण किया। कलेक्टर सिन्हा ने कहा कि अन्य राज्यों से आने वाले सभी यात्रियों का सैम्पलिंग अनिवार्य रूप से होना चाहिए। सीमा में आने वाले प्रत्येक व्यक्तियों की कोविड-19 जांच होने से इसके फैलाव को रोका जा सकता है। उन्होंने वहां प्रतिदिन जांच कराने वाले यात्रियों की जानकारी ली। चेक पोस्ट में कोविड-19 सैम्पलिंग के लिए संधारित पंजी का निरीक्षण किया। उन्होंने कोविड-19 जांच केन्द्र में जागरूकता के लिए पोस्टर, बैनर लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सीमा क्षेत्रों के सभी चेक पोस्ट में कड़ी निगरानी रखी जाए।


कलेक्टर ने नागरिकों से अपील की है कि टीका सुरक्षा कवच है और कोविड-19 से बचाव का एकमात्र उपाय है। जिन लोगों ने टीका नहीं लगवाया है, उन्हें स्वयं की तथा परिवार की सुरक्षा के लिए टीका अवश्य लगवाना चाहिए। हमारी सावधानी ही कोरोना की तीसरी लहर को रोक सकती है। कोरोना से बचाव के लिए ऐप्रोप्रियेट बिहेवियर का पालन करें। पाटेकोहरा चेकपोस्ट में इस दौरान उनके साथ एसडीएम डोंगरगांव हितेश पिस्दा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी, जनपद सीईओ प्रतीक प्रधान सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

शहर में घुसा भालू, मचा हड़कंप...

शहर में घुसा भालू, मचा हड़कंप...

राजनांदगांव, शहर के मोहारा वार्ड के बजरंग नगर में भालू देखे जाने पर हड़कम्प मच गया। शहर में भालू घुसने की खबर से पुलिस व वन विभाग के कान खड़े हो गए। दोनों विभाग आनन-फानन में मौके पर पहुंचा, लेकिन भालू बस्ती की ओर निकल गया।  

बड़ी खबर: चाकू की नोक पर दो कार सवार व्यापारियों से लाखों की लूट, जांच में जुटी पुलिस

बड़ी खबर: चाकू की नोक पर दो कार सवार व्यापारियों से लाखों की लूट, जांच में जुटी पुलिस

डौंडीलोहारा। चाकू की नोंक पर दो मोबाइल व्यापारियों से लाखों रुपए की लूट करने का मामला सामने आया है। मिली जानकारी के अनुसार राजनांदगांव निवासी दो मोबाइल व्यापारी कार से घर जा रहे थे। व्यापारी पखांजूर से राजनांदगांव जा रहे थे तभी किसी अज्ञात शख्स ने जाटादाहा गांव के पास रोक लिया और चाकू की नोंक पर 13 लाख रुपए लूट लिये। मामले की रिपोर्ट डौंडीलोहारा थाने में दर्ज करायी गई है। थाना प्रभारी मनीष शर्मा ने कहा कि दो लोगों ने थाने में आकर शिकायत दर्ज करवाई है कि उनके पास रखे 13 लाख रुपए जाटादाहा गांव के पास किसी अज्ञात व्यक्ति ने लूट लिए हैं। शिकायत के आधार पर मामले की तस्दीक करने सीसीटीवी फुटेज देखा जा रहा है। इसके बाद आगे की कार्यवाही की जाएगी।

अब इस जिले में भी रविवार को खुली रहेंगी दुकानें, जाने कितने बजे तक की मिली छुट

अब इस जिले में भी रविवार को खुली रहेंगी दुकानें, जाने कितने बजे तक की मिली छुट

राजनांदगांव, कलेक्टर व जिला दंडाधिकारी सिन्हा ने एपिडेमिक एक्ट के अधीन जिले में सार्वजनिक आवागमन और अन्य गतिविधियों पर प्रतिबंध लगाए हंै, जिसमें आंशिक संशोधन किया है। आदेश के अनुसार प्रतिबंधित गतिविधियों को छोड़कर अन्य सभी प्रकार की स्थायी व अस्थायी दुकानें, शॉपिंग मॉल, व्यवसायिक प्रतिष्ठान, सुपर मॉर्केट, सुपर बाजार, फल, सब्जी मंडी, बाजार, अनाज मंडी, शो रूम, क्लब, मदिरा दुकान, ठेला, सेलून, ब्यूटी-पार्लर, स्पा, पार्क और जिम इत्यादि को रविवार को छोड़कर अन्य दिवस में उनके प्रचलित समय से शाम 8 बजे तक तथा रविवार को केवल दोपहर 2 बजे तक खोले जा सकते हंै। रविवार को ब्यूटी पार्लर एवं सेलून को शाम 7 बजे तक संचालन की अनुमति रहेगी।
प्रत्येक रविवार को दोपहर 2 बजे के बाद पूर्ण लॉकडाउन रहेगा। जिसके दौरान केवल अस्पताल, क्लिनिक, मेडिकल दुकान, पेट्रोल पंप और शासकीय उचित मूल्य की दुकान पूर्ववत निर्धारित समयावधि में संचालित किए जा सकेगें। दोपहर 2 बजे के बाद एलपीजी, पैट शॉप, न्यूज पेपर, दुग्ध, फल, सब्जी व अनुमति प्राप्त अन्य वस्तुओं व सेवाओं की होम डिलीवरी के संचालन की अनुमति होगी। केवल विवाह प्रयोजन के लिए मैरिज हॉल व होटल, रेस्टोरेंट्स, ब्यूटी पार्लर व सेलून पूर्व निर्धारित समयानुसार संचालन की अनुमति होगी। आदेश के अनुसार प्रावधानों का कड़ाई से पालन करने की शर्त पर विवाह प्रयोजन इन-हाऊस डायनिंग की सुविधा सहित मैरिज हॉल व होटल, रेस्टोरेंट रात 10 बजे तक खोले जा सकेंगे।
 

अब छत्तीसगढ़ से भी सामने आया कोरोना की दूसरी डोज लेने के बाद शरीर में लोहा चिपकने का मामला

अब छत्तीसगढ़ से भी सामने आया कोरोना की दूसरी डोज लेने के बाद शरीर में लोहा चिपकने का मामला

राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ में भी कोरोना की दूसरी डोज लेने के बाद शरीर में लोहा चिपकने का मामला सामने आया है। राजनांदगांव नगर निगम की चेयरमैन को टीका लगाने के बाद शरीर में लोहा, स्टील धातु चिपकने का दावा किया है।

चेयरमैन सुनीता फड़नवीस के पति अशोक फड़नवीस ने सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी दी है। बताया कि कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बाद पत्नी का शरीर चुंबक की तरह काम कर रहा है। बर्तन, लोहा समेत अन्य स्टील धातु आसानी से चिपक जा रहे हैं। बता दें कि अशोक की पत्नी सुनीता नगर निगम वार्ड नं 23 की पार्षद है।


इससे पहले नासिक में यह मामला सामने आया। नासिक के शिवाजी चौक इलाके में रहने वाले 71 वर्षीय अरविंद जगन्नाथ सोनार ने 2 जून को कोवीशील्ड की दोनों डोज पूरी की थी। इसके बाद बुजुर्ग का शरीर चुंबक की तरह काम कर रहा है। परिवार वालों ने दावा किया है कि कोरोना वैक्सीन लेने के बाद शरीर में यह पावर आई है। पहले परिवार को ऐसा लगा कि शायद पसीने की वजह से उनकी बॉडी में यह चिपक रहा है। लेकिन कई बार ऐसा होने पर उन्हें उनकी धारणा भी बदलने लगी फिलहाल महाराष्ट्र सरकार इस मामले में जांच कराने की बात कही है।

छत्तीसगढ़: अब इस जिले में भी दुकानें प्रचलित समय से रात्रि 8 बजे तक खोली जा सकेंगीं, लॉकडाउन का नया आदेश जारी

छत्तीसगढ़: अब इस जिले में भी दुकानें प्रचलित समय से रात्रि 8 बजे तक खोली जा सकेंगीं, लॉकडाउन का नया आदेश जारी

राजनांदगांव। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी तारन प्रकाश सिन्हा ने वर्तमान परिस्थितियों को दृष्टिगत रखते हुए सार्वजनिक आवागमन एवं अन्य गतिविधियों पर प्रतिबंध निरंतर जारी रखा है। आदेश में कहा गया है कि सभी स्विमिंग पूल, सिनेमा हॉल, थियेटर, वाटर पार्क, थीम पार्क तथा सामूहिक भीड़-भाड़ वाले स्थल जैसे चौपाटी एवं जिले में आयोजित होने वाले साप्ताहिक बाजार आगामी आदेश पर्यन्त पूर्णत: प्रतिबंधित रहेंगे। स्कूल एवं कालेज विद्यार्थियों के लिए बंद रहेंगे। छात्रावास में केवल परीक्षा देने वाले विद्यार्थियों को आवास की अनुमति होगी। शासन से अनुमति प्राप्त समस्त परीक्षाओं को छोड़कर कोचिंग क्लासेस एवं अन्य समस्त शैक्षणिक गतिविधियां बंद रहेंगी। सभी प्रकार की सभा, रैली, जुलूस, धरना, प्रदर्शन तथा सामाजिक, राजनैतिक, खेल, सांस्कृतिक एवं धार्मिक आयोजन पूर्णत: प्रतिबंधित रहेंगे।
सभी प्रकार की स्थायी एवं अस्थायी दुकानें, शॉपिंग मॉल, व्यवसायिक प्रतिष्ठान, सुपर मार्केट, सुपर बाजार, फल एवं सब्जी मंडी-बाजार, अनाज मंडी, शो-रूम, क्लब, मदिरा दुकानें, ठेला, सैलून, ब्यूटी पार्लर, स्पा, पार्क व जिम इत्यादि रविवार को छोड़कर अन्य दिवस में उनके प्रचलित समय से रात्रि 8 बजे तक खोले जा सकेंगे। होटल, रेस्टोरेंट, क्लब एवं बार रात्रि 10 बजे तक खुल सकेंगे। आउटसाइड डाइनिंग की भी अनुमति होगी किन्तु डायनिंग हॉल, रूम में उनकी बैठक क्षमता के 50 प्रतिशत से अधिक व्यक्तियों को अनुमति नहीं होगी। होटल, रेस्टोरेन्ट्स ऑनलाईन-टेलीफोनिक आर्डर पर होम डिलिवरी तथा टेक-अवे को प्राथमिकता देंगे। क्लब-रेस्टोरेंट्स, होटल एवं रेस्टोरेंट्स से डिलिवरी का समय रात्रि 9 बजे तक तथा आम जनता व ग्राहक के निवास तक डिलिवरी का अधिकतम समय रात्रि 10 बजे तक ही रहेगा। होटलों में इन हाऊस अतिथियों के लिए होटल किचन, स्वयं के रेस्टोरेंट के उपयोग की अनुमति रहेगी।
वैवाहिक कार्यक्रम वर अथवा वधू के निवास-गृह, होटल, मैरिज रिसार्ट, मैरिज हॉल, धर्मशाला इत्यादि में कोविड-प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करने की शर्त पर आयोजित किया जा सकेगा। जिसके लिए अनुमति संबंधित तहसीलदार से लिया जाना आवश्यक होगा। शासन के आदेशानुसार वैवाहिक कार्यक्रम आयोजन में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 50 रहेगी। इसी प्रकार अंत्येष्टि, दशगात्र इत्यादि मृत्यु संबंधी कार्यक्रम में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 20 रहेगी। होटल, मैरिज हॉल में किसी एक आयोजन के दौरान सभी पक्षों को मिलाकर मैरिज हॉल क्षमता के 50 प्रतिशत सीमा के अधीन अधिकतम 50 व्यक्ति ही शामिल हो सकेंगे। जिनकी सूची मैरिज हॉल संचालक द्वारा संधारित की जायेगी। आयोजन के दौरान मास्क लगाना तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन करना अनिवार्य होगा। राजनांदगांव जिला अंतर्गत सभी कार्यालय शत-प्रतिशत अधिकारियों व कर्मचारियों की उपस्थिति के साथ खुलेंगे। सभी अधिकारी-कर्मचारी कार्यालय में कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के लिए निर्धारित मापदंड जैसे मास्क लगाना, एक दूसरे से पर्याप्त दूरी बनाये रखना, सेनिटाईजर का समय-समय पर उपयोग करना इत्यादि का कड़ाई से पालन करेंगे। आम जनता के प्रवेश को कोविड-19 के लिए निर्धारित निर्देशों के पालन की शर्त पर शिथिल किया जाता है।
सभी अस्पताल, मेडिकल दुकानें, क्लिनिक एवं पशु चिकित्सालय को उनके निर्धारित समय में संचालन की अनुमति होगी। मेडिकल दुकान संचालक मरीजों के लिए दवाओं की होम डिलिवरी को प्राथमिकता देंगे। पेट्रोल पंप, गैस एजेंसी एवं मेडिकल दुकानें पूर्ण समयावधि तक खुल सकेंगे। किन्तु गैस एजेन्सियां टेलीफोनिक या ऑनलाईन आर्डर माध्यम से ग्राहकों को गैस सिलेण्डर की होम डिलिवरी को प्राथमिकता देंगे। शासकीय उचित मूल्य दुकानों को जिला खाद्य अधिकारी राजनांदगांव द्वारा निर्धारित समयावधि में मास्क, फिजिकल डिस्टेंसिंग, नियमित सेनिटाईजेशन एवं भीड़-भाड़ नहीं होने देने की शर्त का कड़ाई से पालन कराने के अधीन, टोकन व्यवस्था के साथ खोलने की अनुमति होगी। सभी संचालित दुकानों, स्थापनाओं में नि:शुल्क वितरण, विक्रय हेतु मास्क रखना तथा दुकान में कार्यरत कर्मचारियों एवं ग्राहकों के उपयोग हेतु सेनिटाईजर रखना अनिवार्य होगा। होम डिलिवरी व्यवस्था में संलग्न सभी व्यक्तियों को नियमित अंतराल में कोविड-19 जांच कराना आवश्यक होगा। साथ ही होम डिलिवरी के दौरान मास्क का उपयोग एवं फिजिकल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन करना अनिवार्य होगा।
प्रतिदिन रात्रि 8 बजे से सुबह 6 बजे तक रात्रिकालीन लॉकडाउन लागू रहेगा। जिसके दौरान होटल, रेस्टोरेंट्स से होम डिलिवरी तथा थोक माल, वेयर हाऊस, फल, सब्जी की लोडिंग व अनलोडिंग की अनुमति निर्धारित समयावधि में रहेगी। आपातकालीन आवागमन को छोड़कर अन्य समस्त गतिविधियों पर प्रतिबंध रहेगा। प्रत्येक रविवार को पूर्ण लॉकडाउन रखा जायेगा। जिसके दौरान केवल अस्पताल, क्लिनिक, मेडिकल दुकान, पेट्रोल पंप तथा निर्धारित समयावधि में शासकीय उचित मूल्य की दुकानें, एलपीजी, पेट शॉप, न्यूज पेपर, दुग्ध, फल, सब्जी तथा अनुमति प्राप्त अन्य वस्तुओं व सेवाओं की होम डिलिवरी के ही संचालन की अनुमति होगी। आपात स्थिति में यात्रा के दौरान 4 पहिया वाहनों में ड्रायव्हर सहित अधिकतम 3, ऑटो में ड्रायव्हर सहित अधिकतम 3 एवं 2 पहिया वाहनों में अधिकतम 2 व्यक्तियों को ही यात्रा की अनुमति होगी।
जिले के नागरिकों को निर्देश दिया गया है कि अतिआवश्यक होने पर ही घरों से बाहर निकले, सार्वजनिक स्थलों में अनिवार्य रूप से मास्क पहले तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान रखें। भीड़-भाड़ वाले क्षेत्रों में दोहरे मास्क का उपयोग किया जाना अपेक्षित है। मास्क तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन अनिवार्य है। किसी दुकान, मॉल, हॉल को फिजिकल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करते हुए भीड़-भाड़ एकत्रित कर या राज्य शासन, जिला प्रशासन द्वारा जारी निर्देशों का उल्लंघन करने पर नियमानुसार अर्थदण्ड अधिरोपित करने एवं 30 दिवस के लिए दुकान सील करने की कार्रवाई की जायेगी। साथ ही भारतीय दण्ड सहिता 1860 की धारा 188 एवं अन्य सुसंगत विधान के अधीन आपराधिक प्रकरण दर्ज कराया जायेगा।
कार्यालय पुलिस उप महानिरीक्षक, कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, उप पुलिस अधीक्षक (शहर, ग्रामीण, यातायात), मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय एवं उसके अधीनस्थ समस्त कार्यालय, अनुविभागीय दण्डाधिकारी, तहसील, अस्पताल, थाना एवं पुलिस चौकी पर आदेश लागू नहीं होगा। इसके अतिरिक्त कानून व्यवस्था एवं स्वास्थ्य सेवा से संबंधित अधिकारी, विद्युत, पेयजल आपूर्ति एवं नगर पालिका सेवाएं, जिसमें सफाई, सिवरेज एवं कचरे का डिस्पोजल इत्यादि भी शामिल हैं तथा अग्निशमन सेवाओं के संचालन हेतु संबंधित अधिकारियों-कर्मचारियों को कार्यालय संचालन एवं आवागमन की अनुमति होगी, किन्तु शासकीय कार्यालयों में अतिआवश्यक कार्यों को छोड़कर इस अवधि में आम जनता का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। राज्य शासन या कलेक्टर कार्यालय के विशेष आदेश द्वारा अनुमति प्राप्त किसी सेवा के संचालन की अनुमति होगी। आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति, प्रतिष्ठानों पर नियमानुसार कड़ी कार्रवाई की जायेगी।
 

 पेड़ से जा टकराई मजदूरों से भरी पिकअप वाहन, 4 महिलाओं की मौत एक दर्जन से अधिक घायल

पेड़ से जा टकराई मजदूरों से भरी पिकअप वाहन, 4 महिलाओं की मौत एक दर्जन से अधिक घायल

राजनांदगांव। राजनांदगांव जिले के डोंगरगांव में मजदूरों से भरी तेज रफ्तार पिकअप वाहन  अनियंत्रित होकर सड़क किनारे लगे पेड़ से टकरा जाने की वजह से 04 महिलाओं की मौत हो गई। वहीं करीब 1 दर्जन से अधिक लोगों हादसें में घायल हो गए है। 

रोड पर सड़क हादसे में 04 महिलाओं की मौत हो गई। करीब डेढ़ दर्जन मजदूर घायल हो गए। दरअसल एबीसस कंपनी का पिकअप वाहन पेड़ से टकरा जाने की वजह से बड़ा हादसा हुआ है। वाहन में करीब 20 से 22 लोग सवार थे। 

मिली जानकारी के अनुसार गुरुवार देर शाम एबीस कंपनी की फैक्ट्री में काम करके देर शाम मजदूर पिकअप वाहन से घर लौट रहे थे तभी वाहन अनियंत्रित होकर सड़क किनारे पेड़ से टकरा गई।  बताया जा रहा है कि पिकअप में करीब दो दर्जन लोग सवार थे। हादसा इतना भयानक था कि मौके पर ही तीन लोगों की मौत हो गई,व एक को अस्पताल ले जाते समय मौत हो गई। वहीं कई मजदूर घायल हो गए। घायलों को डोंगरगांव सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया है। जो गंभीर घायल है,उन्हें शासकीय मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया है। मरने वाली सभी 4 महिलाए रातापायली की रहने वाली है। जिसमें सरोज बाई 50 वर्ष,शिवकुमारी साहू 40 वर्ष ,जैन्त्री बाई 40 वर्ष और सुमित्रा ठाकुर 55 वर्ष शामिल है। 
नवविवाहिता ने की फांसी आत्महत्या से गांव में फैली सनसनी, मौके पर पहुंची पुलिस की टीम

नवविवाहिता ने की फांसी आत्महत्या से गांव में फैली सनसनी, मौके पर पहुंची पुलिस की टीम

राजनांदगांव। जिले के खैरागढ़ से लगे नवागांव कला में नवविवाहिता ने फांसी लगाकर खुदकुशी की, घटना की सूचना मिलते ही पूरे गांव में सनसनी फ़ैल गई। बताया गया कि करीबन 1 माह पहले ही मृतिका का विवाह हुआ था। बुधवार सुबह करीबन 6 बजे नवागांव कला की रहने वाली रुकमणी साहू पति राजेश साहू उम्र 20 वर्ष ने अपने कमरे के पंखे में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। परिजनों के अनुसार, सुबह उनको रुकमणी पंखे में झूलती मिली, रुक्मणी ने पंखे में फंदा बनाकर आत्महत्या कर ली। खैरागढ़ पुलिस को सूचना मिलने पर खैरागढ़ थाना प्रभारी मोहम्मद नासिर बाटी अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे।

 छत्तीसगढ़ में बढा सड़क हादसा: पेड़ से जा टकराई अनियंत्रित कार, हादसे में 2 की मौत

छत्तीसगढ़ में बढा सड़क हादसा: पेड़ से जा टकराई अनियंत्रित कार, हादसे में 2 की मौत

राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव-कवर्धा रोड पर सिंगारपुर-ठेलकाडीह के पास आज सुबह एक तेज रफ्तार आल्टो कार अनियंत्रित होकर सड़क किनारे एक पेड़ से टकरा गई, जिससे उसमें सवार दो युवकों की मौत हो गई। 

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार खैरागढ़ थानांतर्गत  आज सुबह करीब 7 बजे सिंगारपुर-ठेलकाडीह के पास एक तेज रफ्तार आल्टो कार अनियंत्रित होकर सड़क किनारे एक पेड़ से जा टकराई। कार की रफ्तार इतनी तेज थी कि उसमें सवार दोनों युवकों की मौके पर ही मौत हो गई। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंचकर शवों को कार से निकालकर पीएम के लिए भेज दिया है। समाचार लिखे जाने तक मृतकों के नाम व कहां के रहने वाले थे इसका पता नहीं चल पाया है। 
 बिजली विभाग के इंजीनियर पर लगा रेप का आरोप, पीडि़ता की शिकायत के बाद गिरफ्तार

बिजली विभाग के इंजीनियर पर लगा रेप का आरोप, पीडि़ता की शिकायत के बाद गिरफ्तार

राजनांदगांव। बिजली विभाग में पदस्थ असिस्टेंट इंजीनियर पर रेप का आरोप लगा है। पीडि़ता की शिकायत के बाद आरोपी इंजीनियर को पुलिस ने गिरफतार कर जेल भेज दिया है। आरोपी पर पीडि़ता नेे नौकरी से निकलवाने की धमकी देकर अश्लील वीडियों बनाकर शारीरिक संबंध बनाने का आरोप लगाया है।

जानकारी के मुताबिक घटना राजनांदगांव के छुईखदान पुलिस थाना क्षेत्र की है। आरोपी का नाम कुबेर सिंह मरकाम 42 वर्ष है, जो छुईखदान की शाखा सीएसपीडीसीएल में असिस्टेंट इंजीनियर है। पीडि़ता ने पुलिस में दी शिकायत में बताया कि वो भी उसी विभाग में पदस्थ है। आरोपी उसे नौकरी से निकालने की धमकी देकर घर बुलाया और उसके साथ जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाया। इस दौरान आरोपी ने पीडि़ता का एक अश्लील वीडियों भी बना लिया। साथ ही किसी को बताने पर उस वीडियो को सोशल मीडिया में वायरल करने की धमकी देने लगा। आरोपी ने ऐसे ही धमकी देकर उसके साथ तीन बार दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया।

पीडि़ता की शिकायत को गंभीरता से लेते हुये आरोपी इंजीनियर को पुलिस ने गिरफ्तार किया। साथ ही उसके खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कर जेल भी भेज दिया गया है।
CSPDCL का असिस्टेंट इंजीनियर युवती को घर बुलाकर बनाता था शारीरिक संबंध, हुआ गिरफ्तार

CSPDCL का असिस्टेंट इंजीनियर युवती को घर बुलाकर बनाता था शारीरिक संबंध, हुआ गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव में पुलिस ने छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड के असिस्टेंट इंजीनियर को रेप के आरोप में गिरफ्तार किया है। आरोपी पर युवती से जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाने,गली-गलौज और उसका अश्लील वीडियो बनाने का आरोप है। आरोपी को छुईखदान पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। आरोपी का नाम कुबेर सिंह मरकाम (42) बताया गया है जो CSPDCL की छुईखदान शाखा में पदस्थ है।
पीड़िता ने 24 मई को रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि कुबेर सिंह उसे नौकरी से निकलवाने की धमकी दे रहा था। इसके बाद कुबेर पीड़िता को धमकी देकर लगातार घर बुलाता रहा और उसके साथ 2 बार जबरदस्ती संबंध बनाया। इस बीच सोमवार को भी कुबेर ने पीड़िता को घर बुला लिया और उसके साथ गाली-गलौज करने लगा। इतना ही नहीं उसने फिर से पीड़िता को धमकी दी की तुझे नौकरी से निकलवा दूंगा। इसके बाद उसने पीड़िता के साथ तीसरी बार रेप किया और उसका अश्लील वीड़ियो वायरल करने की धमकी देने लगा। जिस पर पीड़िता ने छुईखदान में मामला दर्ज कर दिया और उसे मंगलवार को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है।
 

बड़ी खबर: अवैध वसूली मामले में 23 ट्रांसपोर्टर पर FIR

बड़ी खबर: अवैध वसूली मामले में 23 ट्रांसपोर्टर पर FIR

राजनादगांव। राजनादगांव जिले के पाटेकोहरा बैरियर में अवैध वसूली का मामला सामने आया है। उप निरीक्षक नरेश सोरी ने 3 जिलों के ट्रांसपोर्टरों के खिलाफ थाना में एफआईआर दर्ज कराई है। उन्होंने रविवार को 3 जिले रायपुर, दुर्ग और राजनांदगांव के ट्रांसपोर्टरों पर बगैर जांच के एक ट्रक बैरियर से निकालने और शासकीय कार्य में बाधा डालने की रिपोर्ट दर्ज कराई है। उनकी शिकायत के बाद छत्तीसगढ़ ट्रक एसोसिएशन में आक्रोश है। वहीं चिचोला पुलिस ने 23 ट्रांसपोटर्स के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। बीते चार दिन पहले पाटेकोहरा बैरियर में छपरा बिहार के रहने वाला ट्रक ड्राइवर राकेश पांडेय पिता सुदामा पांडेय ने चिचोला थाना में आवेदन दिया है कि वे ट्रक परिचालक के पद पर पदस्थ है। वह अपनी ट्रक पूणा से जमशेदपुर जा रहे थे। शाम साढ़े 7 बजे के आसपास पोटेकोहरा पर अपनी ट्रक लगाकर दस्तावेज जांच करवाने गया था। जहां मौजूद कर्मचारी द्वारा ओवर लोडिंग होने के चलते 2 हजार का चालान काटा, जिसे मैने पटा दिया और रसीद काटकर दिया गया। वहीं बैठे एक कर्मचारी द्वारा सौ रूपए का टोकन दिया गया। जिसका उसने अतिरिक्त सौ रूपए मांगा। मैने सौ रूपए किस बात का है कहा तो उक्त कर्मचारी ने मुझसे गाली गलौच की और मेरे साथ मारपीट की। जिससे मेरे सर पर चोंट आई। हाथ एवं अंगूठे पर चोट के निशान है। ड्राइवरों ने मुझे छुड़ाया और बैरियर के एक कर्मचारी द्वारा अपने शासकीय वाहन में ले जाकर इलाज कराया।

मुझे कहा कि तुम यहां से चले जाओ और पुलिस रिपोर्ट करने का प्रयास मत करना। जिसकी शिकायत चिचोला थाना में की गई है। 22 मई को बैरियर के कर्मचारी द्वारा ट्रक चालक राकेश पांडे की बेदम पिटाई की गई थी, जिससे नाराज छत्तीसगढ़ ट्रक एसोसिएशन ने चिचोला थाना में एफआईआर दर्ज कराई थी। इस दौरान बैरियर के उपनिरीक्षक एनएल सोरी ने इस बात को कबूला था कि दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी आकाश ने चालक की पिटाई की थी। चालक सहित ट्रांसपोर्टरों ने इस मामले में ही एफआईआर दर्ज कराई थी। रविवार को उपनिरीक्षक नरेश ने भी थाना में रिपोर्ट दर्ज कराई है। उपनिरीक्षक सोरी ने रिपोर्ट में कहा कि यूनियन द्वारा बगैर जांच किए ट्रक निकाले जाने के कारण राज्य शासन को राजस्व का नुकसान हुआ है। थाना छुरिया में पुलिस द्वारा यूनियन पर आधा दर्जन धारा का उपयोग कर एफआईआर दर्ज किया गया है और मामले की जांच की जा रही है।


चिचोला थाना प्रभारी आरएस सेंगर ने कहा कि विभिन्न धाराओं के तहत 23 ट्रांसपोर्टरो के खिलाफ चिचोला थाना में अपराध दर्ज किया गया है। बैरियर के उपनिरीक्षक नरेश सोरी के लिखित शिकायत की थी कि ट्रांसपोर्टरों के द्वारा जबर्दस्ती ट्रकों को निकलवाया गया, जिसके कारण शाशन को राजस्व का नुकसान हुआ है। साथ ही धारा 144 और महामारी एक्ट के उल्लंघन भी किया गया है। धारा 1860 के तहत 147,186,188, 294, 506, 269, 270 के तहत एफआईआर दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

 शादियों में निर्धारित संख्या से अधिक लोगों के उपस्थित होने पर करें कड़ी कार्रवाई : कलेक्टर

शादियों में निर्धारित संख्या से अधिक लोगों के उपस्थित होने पर करें कड़ी कार्रवाई : कलेक्टर

राजनांदगांव। कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने आज कलेक्टोरेट सभाकक्ष में कोविड-19 के संबंध में समीक्षा बैठक के दौरान कहा कि शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में होने वाली शादियोंं में कोरोना प्रोटोकाल का पालन सुनिश्चित करें। शादी के लिए अनुमति लेना अनिवार्य किया गया है। साथ ही शासन द्वारा जारी आदेश के तहत निर्धारित संख्या में लोग उपस्थित रहें। अधिकारी शादी घरों में जाकर आकस्मिक निरीक्षण करें और कोराना प्रोटोकाल का पालन नहीं करने तथा अधिक संख्या में लोगों के उपस्थित होने पर कड़ी कार्रवाई करें। उन्होंने सख्त निर्देश देते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों के लिए पंचायत स्तर पर मतदाता केन्द्रवार टीम गठित की गई है, वे सक्रिय होकर गांव का निरीक्षण करें। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं होनी चाहिए। उन्होंने जिले में सेम्पलिंग तथा डिस्चार्ज होने वाले मरीजों की जानकारी ली। साथ ही टीकाकरण के लिए अधिक से अधिक पंजीयन करने कहा।

कलेक्टर श्री वर्मा ने कहा कि सभी कोविड के पहले और दूसरे लहर से आने वाली समस्याओं से अवगत है। कोरोना अभी समाप्त नहीं हुआ है। आने वाली परिस्थितियों से निपटने के लिए पहले से तैयारी करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में ऑक्सीजन बेड की व्यवस्था होनी चाहिए। वहीं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में भी ऑक्सीजन सिलेण्डर की व्यवस्था रहें। कोविड संक्रमण की परिस्थितियों से लडऩे के लिए सही प्रबंधन बहुत जरूरी है। जिन स्थानों में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, हॉस्पिटल भवन रिक्त है, वहां सभी व्यवस्था कर लिए जाएं। मितानिन गांव में होम आईसोलेशन में रहने वाले मरीजों से संपर्क कर स्वास्थ्य की जानकारी लेते रहे। बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री अजीत वसंत, अपर कलेक्टर श्री सीएल मारकण्डेय, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमती प्रज्ञा मेश्राम, नगर निगम आयुक्त श्री आशुतोष चतुर्वेदी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी, एसडीएम श्री मुकेश रावटे, डिप्टी कलेक्टर श्री विरेन्द्र सिंह, श्री राहुल रजक, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. बीएल कुमरे, डीपीएम श्री गिरीश कुर्रे, ई-जिला प्रबंधक श्री सौरभ मिश्रा, शासकीय मेडिकल कालेज से श्री अविन चौधरी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
छत्तीसगढ़: अब ये जिला 31 मई रात्रि 10 बजे तक कन्टेनमेंट जोन घोषित हुआ, देखे क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद

छत्तीसगढ़: अब ये जिला 31 मई रात्रि 10 बजे तक कन्टेनमेंट जोन घोषित हुआ, देखे क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद

राजनांदगांव। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी ने जिले में कोरेाना वायरस (कोविड-19) पॉजिटिव प्रकरणों की संख्या में लगातार वृद्धि होने के कारण उत्पन्न परिस्थितियों को दृष्टिगत रखते हुए सम्पूर्ण राजनांदगांव जिले को 31 मई रात्रि 10 बजे तक पूर्ववत् कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। सार्वजनिक आवागमन एवं अन्य गतिविधियों के संबंध में प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किया गया है। इस अवधि में राजनांदगांव जिले की सभी सीमाएं पूर्णत: सील रहेगी।
कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने आदेश में कहा है कि प्रतिबंधों एवं सम्पूर्ण जिले को कंटेनमेंट जोन घोषित करने के बाद कोविड-19 पॉजिटिव प्रकरणों की संक्रमण दर एवं इससे होने वाली मौतों की संख्या में आंशिक रूप से कमी हुई है, परन्तु अभी भी जिले के शहरी क्षेत्र के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्रों में भी संक्रमण का विस्तार हो रहा है। वर्तमान में संक्रमण का पॉजिटिव दर लगभग 10 प्रतिशत बना हुआ है। ऐसी स्थिति में मुक्त आवागमन से आम जनता के जन स्वास्थ्य को गंभीर खतरा उत्पन्न होने की आशंका है। जिससे सम्पूर्ण जिले में कंटेनमेंट जोन की अवधि को बढ़ाया जाना आवश्यक है।
आदेश में कहा गया है कि आगामी आदेश तक प्रत्येक रविवार को दवा दुकानों, अस्पताल, क्लीनिक, पेट्रोल पंप, शासकीय उचित मूल्य की दुकान, दुध, एलपीजी गैस, न्यूज़ पेपर की होम डिलिवरी को छोड़कर शेष सारी गतिविधियां पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगी। सभी सुपर मार्केट, सुपर बाजार, सब्जी बाजार, मॉल, शो-रूम, मैरिज हाल, स्विमिंग पूल, क्लब, सिनेमा हॉल, सैलून, ब्यूटी पार्लर, स्पा, जिम तथा अन्य सार्वजनिक स्थल बंद रहेंगे। सभी पान-सिगरेट ठेला तथा चौपाटी, चाट, समोसा, चाय, गुपचुप, फास्ट-फूड इत्यादि के विक्रय के लिए ठेलों, दुकानों का संचालन पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगा। इस अवधि में केवल दवा दुकानों, अस्पताल, क्लीनिक एवं पशु चिकित्सालय को अपने निर्धरित समय पर खुलने की अनुमति होगी। दवा दुकान संचालक मरीजों के लिए दवाओं की होम डिलीवरी को प्राथमिकता देंगे। ऑक्सीजन सिलेण्डर की होम डिलिवरी की जा सकेगी। शासकीय उचित मूल्य की दुकानों को जिला खाद्य अधिकारी राजनांदगांव द्वारा निर्धारित समयावधि में खुलने की अनुमति होगी, किन्तु मास्क, फिजिकल डिस्टेंसिंग, नियमित सेनिटाईजेशन एवं क्यू मैनेजमेंट सिस्टम का कड़ाई से पालन कराया जाना आवश्यक होगा साथ ही टोकन व्यवस्था के साथ अलग-अलग निर्धारित तिथियों में उचित मूल्य दुकानों को खेलने हेतु जिला खाद्य अधिकारी द्वारा पृथक से आदेश जारी किया जायेगा, जिसका पालन आवश्यक होगा। कृषि संबंधी कार्यों के लिए जिले के कीटनाशक दवा-राासायनिक खाद विक्रेताओं एवं कृषि उपकरणों से संबंधित दुकान, छड़, सिमेंट, हार्डवेयर, चश्मा दुकान, मोबाईल रिचार्ज दुकान, धोबी (लांड्री, ड्रायक्लीनर्स) को दोपहर 3 बजे तक दुकान खोलने की अनुमति होगी, किन्तु सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क एवं सेनिटाइजर का उपयोग आवश्यक होगा। जिले के समस्त डाकघर, कोरियर सेवाओं को महत्वपूर्ण पत्र, पार्सल की प्राप्ति एवं वितरण के लिए कार्यालयीन समय में संचालन की अनुमति होगी। वनोपज से संबंधित कार्य संग्रहण, विपणन एवं परिवहन आदि की अनुमति होगी। सभी ऑनलाईन डिलीवरी जैसे अमेजान, फ्लिपकार्ट एवं अन्य द्वारा होम डिलीवरी की अनुमति रहेगी।
विश्वविद्यालय, महाविद्यालयीन परीक्षाओं को दृष्टिगत रखते हुए स्टेशनरी, फोटो कापी, कम्प्यूटर (ऑनलाईन सेंटर) से संबंधित दुकानों को प्रात: 8 बजे से दोपहर 3 बजे तक खोले जाने की अनुमति होगी। जोमेटो, स्वीगी आदि कंपनियों तथा रेस्टोरेंट एवं होटल द्वारा होम डिलिवरी रात्रि 9 बजे तक की
जा सकेगी। सीधे किसानों, उत्पादकों से सप्लाई की शर्त पर फल, सब्जी को गली मोहल्लों एवं कॉलोनियों में विक्रय की अनुमति केवल स्ट्रीट वेंडर्स अर्थात् ठेले वालों को प्रात: 6 बजे से अपरान्ह 3 बजे तक ही होगी। इसी अवधि में किराना सामग्री, पोल्ट्री, मटन, मछली, अण्डा की दुकानों को खोलने की छूट होगी, कोई भी व्यवसायी दुकान में तीन से अधिक कर्मचारी नहीं रख सकेगा। मास्क धारण करना एवं फिजिकल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन करना अनिवार्य होगा। संबंधित नगरीय निकाय के सक्षम प्राधिकारी इसकी निगरानी करेंगे एवं निर्देशों के उल्लंघन की दशा में ठेले को जब्त करने, अर्थदण्ड या चालान की कार्रवाई करेंगे। आटाचक्की प्रात: 6 बजे से दोपहर 3 बजे तक खोले जाने की अनुमति होगी, किन्तु दुकान पर ग्राहकों को एकत्रित नहीं किया जायेगा। आवश्यक वस्तुओं (किराना, फल, सब्जी, आलू, प्याज) थोक का परिवहन करने वाले वाहनों को ट्रांस्पोर्ट नगर से शहर के भीतर केवल रात्रि 10 बजे से प्रात: 6 बजे तक माल अनलोडिंग करने की छूट होगी। पेट्रोल पंप अपने निर्धारित समय पर सभी के लिए खुल सकेंगे। स्कूटर, मोटरसाइकल रिपेयरिंग व पंचर रिपेयरिंग व ऑटोपार्ट्स की दुकानों को शाम 3 बजे तक खोलने की अनुमति होगी। दुग्ध पार्लर व दुग्ध-वितरण तथा न्यूज पेपर हॉकर द्वारा समाचार पत्रों के वितरण की समयावधि प्रात: 6 बजे से प्रात: 8 बजे तक एवं संध्या 6 बजे से संध्या 7.30बजे तक ही होगी। साथ ही यह स्पष्ट किया गया है कि दुग्ध व्यवसाय के लिए कोई भी दुकान, पार्लर नहीं खोले जायेंगे। केवल दुकान, पार्लर के सामने फिजिकल डिस्टेंसिंग एवं मास्क संबंधी निर्देशों का पालन करते हुए समयावधि में केवल दुग्ध विक्रय की अनुमति होगी। पैट शॉप, एक्वेरियम को केवल पशुओं पशुचारा देने के लिए प्रात: 6 बजे से दोपहर 3 बजे तक खोलने की अनुमति होगी। एलपीजी गैस सिलेण्डर की एजेंसियां केवल टेलीफोनिक या ऑनलाईन ऑर्डर लेंगे तथा ग्राहक को सिलेण्डरों की घर पहुँच सेवा उपलब्ध करायेंगे। विद्युत उपकरणों (पंखा, कूलर, फ्रीज, एसी इत्यादि) के मरम्मत एवं प्लम्बर, सेनिटरी फिटिंग से संबंधित दुकानें, इलेक्ट्रानिक्स की दुकानें दोपहर 3 बजे तक खुली रह सकेंगे तथा घर पहुँच रिपेयरिंग सुविधा दे सकेंगे। छूट प्राप्त दुकानों के व्यवसायी के घर में यदि कोई भी सदस्य कोरोना पॉजिटिव पाया जाता है, तो उन्हें दुकान खोलने की अनुमति नहीं होगी। यदि मौके पर दुकान खुला पाया गया, तो दुकान सील कर अर्थदण्ड अधिरोपित की जायेगी।
औद्योगिक संस्थानों एवं निर्माण इकाईयों को अपने कैम्पस के भीतर मजदूरों को रखकर व अन्य आवश्यक व्यवस्था रखते हुए उद्योगों के संचालन व निर्माण कार्यों की अनुमति होगी। लोक निर्माण विभाग, सिंचाई विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, वन विभाग, ग्रामीण यांत्रिकी सेवा, मनरेगा आदि श्रममूलक कार्य संचालित हो सकेंगे। निजी भवन निर्माण, मरम्मत कार्य कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए दोपहर 3 बजे तक कर सकेंगे। इस अवधि के दौरान सम्पूर्ण जिला अंतर्गत संचालित समस्त शराब दुकानें बंद रहेंगी। ऑनलाईन होम डिलिवरी की अनुमति रहेगी। सभी धार्मिक, सांस्कृतिक एवं पर्यटन स्थल आम जनता के लिए पूर्णत: बंद रहेंगे। टेलीकॉम, रेल्वे के रख-रखाव से जुड़े कार्यालय, वर्कशॉप, रेक प्वाइंट पर लोडिंग-अनलोडिंग का कार्य, खाद्य सामग्री के थोक परिवहन, धान मिलिंग के लिए परिवहन एवं शासन से अनुमति प्राप्त समस्त परीक्षाओं को छोड़कर अन्य समस्त शैक्षणिक गतिविधियाँ बंद रहेगी किन्तु अस्पताल एवं एटीएम पूर्ववत् संचालित रहेंगे। बैंकों में समस्त प्रकार के लेन-देन दोपहर 3 बजे तक सम्पादित कर सकेंगे। लोक सेवा केन्द्र, च्वाईस सेन्टर दोपहर 3 बजे तक खुल सकेंगे। सभी प्रकार के सभा, जुलुस, सामाजिक, धार्मिक एवं राजनैतिक आयोजन इत्यादि पूर्णत: प्रतिबंधित रहेंगे। किन्तु विवाह कार्यक्रम वर अथवा वधू के निवास-गृह में ही आयोजित करने की शर्त के साथ आयोजन में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 10 निर्धारित की जाती है। इसी प्रकार अंत्येष्टि, दशगात्र, इत्यादि मृत्यु संबंधी कार्यक्रम में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 10 निर्धारित की जाती है। कोविड संक्रमण के रोकथाम के लिए जिले में समस्त कार्य जैसे कांटेक्ट ट्रेसिंग, एक्टिव सर्विलांस, होम आईसोलेशन, दवाई वितरण आदि पूर्वानुसार चलते रहेंगे। इन कार्य में संलग्न सभी कर्मचारियों की उपस्थिति पूर्वानुसार अनिवार्य होगी। कोविड सेंटर से डिस्चार्ज होने वाले मरीजों के परिवहन में संलग्न वाहन पूर्वानुसार संचालित रहेंगे। अपरिहार्य परिस्थितियों में राजनांदगांव जिले से अन्यत्र आने-जाने वाले यात्रियों को ई-पास के माध्यम से पूर्व अनुमति लिया जाना अनिवार्य होगा तथापि प्रतियोगी एवं अन्य परीक्षाओं में सम्मिलित होने वाले परीक्षार्थियों के लिए उनका एडमिट कार्ड तथा रेल्वे, टेलीकाम रख-रखाव कार्य या हास्पिटल या कोविड-19 ड्यूटी में संलग्न कर्मचारियों, चिकित्सकों की दशा में नियोक्ता द्वारा जारी आईडी कार्ड ई-पास के रूप में मान्य किया जायेगा। रेल, बस व हवाई यात्रा के लिए रेल्वे स्टेशन, बस स्टैण्ड आने जाने वाले यात्रियों को कोई पास की आवश्यकता नहीं होगी, इन यात्रियों को निवास, स्टेशन तक आने-जाने के लिए उनके पास उपलब्ध यात्रा टिकट ही इनका ई-पास मान्य किया जायेगा। कोविड-19 टीकाकरण के लिए पंजीयन, कोविड-19 जांच के लिए, मेडिकल दस्तावेज या आधार कार्ड, विधिमान्य परिचय-पत्र दिखाने पर कोविड-19 टीकाकरण केन्द्र अस्पताल पैथोलाजी लैब अथवा आने-जाने की अनुमति होगी, किन्तु अनावश्यक भ्रमण सख्त प्रतिबंधित रहेगा।
आपात स्थिति में यात्रा के दौरान 4 पहिया वाहन एवं ऑटो में ड्राइव्हर सहित अधिकतम 3 व्यक्तियों को यात्रा की अनुमति होगी। रेल्वे स्टेशन, बस स्टेंड, हॉस्पिटल आवागम के लिए ऑटो, टैक्सी परिचालन की अनुमति रहेगी, किन्तु अन्य प्रयोजन के लिए परिचालन पूर्णत: प्रतिबंध रहेगा। इस निर्देश का
उल्लंघन किये जाने पर 15 दिवस के लिए वाहन जप्त करते हुए चालानी व अन्य कानूनी कार्रवाई की जायेगी। मीडियाकर्मी यथासंभव वर्क फ्राम होम द्वारा कार्य सम्पादित करेंगे। अत्यावश्यक स्थिति में कार्य के लिए बाहर निकलने पर अपना आई कार्ड साथ रखेंगे तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग एवं मास्क संबंधी निर्देश का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करेंगे। जिले के समस्त शासकीय कार्यालय अपने निर्धारित समय पर 50 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ अतिआवश्यक कार्यों के लिए खुलेंगे, किन्तु इन शासकीय कार्यालयों में उपरोक्त अवधि में आम जनता का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। पंजीयन कार्यालय 50 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ खोले जाएंगे, जिसमें पंजीयन कार्य टोकन सिस्टम से किया जायेगा। राज्य शासन के विशेष आदेश द्वारा अनुमति प्राप्त किसी सेवा के संचालन की अनुमति होगी।
उपरोक्त को छोड़कर अन्य व्यवसायिक प्रतिष्ठानें, दुकान सप्ताह में सोमवार, बुधवार एवं शुक्रवार को प्रात: 6 बजे से 3 बजे तक खुली रह सकेगी, जिसमें कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए व्यवसाय करना आवश्यक होगा। सभी संचालित दुकानों में नि:शुल्क वितरण अथवा विक्रय के लिए मास्क रखना तथा दुकान में कार्यरत कर्मचारियों एवं ग्राहकों के उपयोग के लिए सेनिटाईजर रखना अनिवार्य होगा। सभी पात्र व्यवसायियों एवं उनके कार्य करने वाले कर्मचारियों को कोविड एप्रोप्रियेट बिहेवियर का कड़ाई से अनुपालन किया जाना अनिवार्य होगा तथा सभी का टीकाकरण प्राथमिकता से कराया जाना अपेक्षित है। उपरोक्त बिन्दुओं को छोड़कर जिले में समस्त गतिविधियां पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगी। आदेश के अतिरिक्त शासन द्वारा समय-समय पर जारी निर्देशों का पालन आवश्यक होगा। आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति, प्रतिष्ठानों पर भारतीय दण्ड सहिता 1860 की धारा 188, आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 की धारा 51-60 तथा अन्य सुसंगत विधि अनुसार कड़ी कार्रवाई की जायेगी।
 

 लॉकडाउन ब्रे़किंग: अब राजनांदगांव में 31 मई तक बढ़ा लॉकडाउन, रात्रि में किए जाएंगे थोक कारोबार

लॉकडाउन ब्रे़किंग: अब राजनांदगांव में 31 मई तक बढ़ा लॉकडाउन, रात्रि में किए जाएंगे थोक कारोबार

राजनांदगांव। राजनांदगांव में 31 मई तक लॉकडाउन को बढ़ा दिया गया है। अब तक चार चरण के लॉकडाउन लगाया जा चुका है। जो 17 मई सुबह 6 बजे समाप्त होने जा रहा है। जिसको लेकर कलेक्टरों द्वारा पांचवे चरण का लॉकडाउन लगाए जाने का खबर आना शुरू हो गया है। इसके बाद आज राजनांदगांव कलेक्टर ने पांचवे चरण के लॉकडाउन का आदेश जारी कर दिया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश में कोरोना संक्रमण को देखते हुए जिले में लॉकडाउन बढ़ाए जानें के अधिकार दो दिन पहले ही सौंप दिए है। जिसके बाद आज राजनांदगांव कलेक्टर ने जिले में 31 मई तक लॉकडाउन को बढ़ा दिया है।
छत्तीसगढ़: मुठभेड़ में महिला नक्सली समते दो इनामी नक्सली ढेर

छत्तीसगढ़: मुठभेड़ में महिला नक्सली समते दो इनामी नक्सली ढेर

मानपुर। छत्तीसगढ़ सीमा से सटे महाराष्ट्र के कामखेड़ा जंगल में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हो गई। इस मुठभेड़ में एक महिला नक्सली सहित दो नक्सली मारे जाने की खबर है। दोनों का शव बरामद कर लिया गया है। जानकारी के मुताबिक, सी-60 सर्चिंग टीम सुबह साढे़ 5 बजे निकली थी, तभी यह मुठभेड़ हुई।
यह पूरा मामला सावरगांव थाना क्षेत्र का है. पुलिस पार्टी अभी भी जंगल में मौजूद है। मानपुर एसडीओपी हरीश पाटिल ने घटना की पुष्टि की है। पुलिस पार्टी अभी भी जंगल में मौजूद है। मारे गए दोनों नक्सलियों पर 8 लाख रुपए का इनाम घोषित था। पुलिस ने दावा किया है कि दोनों नक्सली कई मुठभेड़ों और वारदात में शामिल था। जिले के अलग-अलग थानों में दोनों के खिलाफ हत्या, आगजनी, लूट के कई मामले दर्ज है।
 

 बड़ी खबर : ज्वेलर के घर-दुकान पर राजस्व खुफिया निदेशालय का छापा, करीब 85 किलो सोना और 22 सौ किलो चांदी बरामद

बड़ी खबर : ज्वेलर के घर-दुकान पर राजस्व खुफिया निदेशालय का छापा, करीब 85 किलो सोना और 22 सौ किलो चांदी बरामद

राजनांदगांव। शहर के नंदई स्थित जसराज शांतिलाल बैद फर्म के मोहनी ज्वेलर्स में रायपुर की राजस्व खुफिया निदेशालय की टीम ने छापा मारकर करीब 85 किलो सोना और 22 सौ किलो चांदी बरामद किया है। सूत्रों के अनुसार इस कार्रवाई में 30 लाख रुपए नगद भी मिले हैं। लागतार दो दिनों से चल रही कार्रवाई से कई और बड़े खुलासे होने की बात भी सामने आ रही है। हालांकि अभी इस बारे में किसी प्रकार की आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है। सोना चांदी से जुड़ी तस्करी को लेकर बड़ी कार्यवाही की गई है जो लगातार दो दिनों से चल रही है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार राजस्व खुफिया निदेशालय की टीम कल 1 मई को दोपहर 12 बजे के आसपास जसराज शांतिलाल बैद के नंदई स्थित मकान में छापामार कार्रवाई की, जो रविवार देर रात तक चली। राजस्व खुफिया निदेशालय के अधिकारी 3 गाड़ियों में सवार होकर मोहनी ज्वेलर्स के मालिक के नंदई स्थित निवास में पहुंचे और जांच पड़ताल शुरू कर दी। इस दौरान किसी को न भीतर जाने दिया जा रहा है और न ही किसी को बाहर जाने की अनुमति है।

सूत्र बता रहे है कि रेवन्यू इंटेलिजेंस के अधिकारियों के साथ रायपुर से उन 4 आरोपियों को भी लाया गया है जिनसे पूछताछ के आधार पर यह छापमार कार्रवाई की गई है। समाचार लिखे जाने तक जांच जारी है और इस संबंध में जांच दल में शामिल अधिकारी मीडिया से दूरियां बनाए हुए हैं।

2200 किलो चांदी, 85 किलो सोना सहित 30 लाख नगद
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार उक्त ज्वेलरी व्यापारी के पास से लगभग 22 सौ किलो चांदी और 85 किलो सोना होना बताया गया है। इसके साथ ही साथ 30 लाख रूपए नगद भी मिलने की जानकारी आ रही है। लगातार दो दिनों से चल रही कार्रवाई से कई और बड़े खुलासे होने की बात भी सामने आ रही है। हालांकि कि अभी किसी प्रकार की आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है कि कितना सामान जब्त किया गया है।

दुकान को किया सील
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मोहनी ज्वेलर्स की दुकान को सील कर दिया गया है। इसके साथ ही साथ उनके एक निवास को भी सील किया गया है। बताया जा रहा है कि रेवन्यू इंटेलिजेंस में लगभग एक दर्जन से अधिक अधिकारी जांच कर रहे है। साथ ही स्थानीय पुलिस की भी मदद ली गई है।
 
4 दिनों से लापता सहायक आरक्षक की मिली बाईक, उस पर एक संदिग्ध नक्सल पर्चा बरामद

4 दिनों से लापता सहायक आरक्षक की मिली बाईक, उस पर एक संदिग्ध नक्सल पर्चा बरामद

राजनांदगांव। मानपुर इलाके में लापता सहायक आरक्षक की बाईक और उस पर एक संदिग्धग नक्सएल पर्चा बरामद हुआ है। कांकेर जिले के कोड़ेखुरसे थाने में सहायक आरक्षक के पद पर पदस्थ मनोज नेताम बीते 28 अप्रैल से अपनी ड्यूटी पर नहीं है। उसके लापता होने पर खोजबीन के दौरान उसकी बाईक राजनांदगांव जिले के मानपुर के रानवावाही व बस्तर जिले के भुरके गांव के बीच एक मई को बरामद की गई । अतिरिक्तक पुलिस अधीक्षक जय प्रकाश बढ़ई ने बताया कि हम पड़ोसी जिले की पुलिस के साथ मिलकर जवान की तलाश में जुटे हुए हैं। सभी दृष्टिकोण से मामले की जांच की जा रही है। पुलिस अधिकारियों के अनुसार जवान मनोज नेताम मूलत: कांकेर के भानूप्रतापपुर इलाके का रहने वाला है। वह 28 अप्रैल से लापता है। इस दौरान ही उसकी बाईक मानपुर इलाके में पड़ोसी जिले की सरहद के पास बरामद की गई । बताया गया कि उसकी बाईक से एक पर्चा मिला है जिसमें नक्सदलियों द्वारा उसका अपहरण किए जाने का उल्ले ख है। लेकिन यह पर्चा पूरी तरह संदिग्धव है। नक्सिली कभी भी इस तरह के पर्चे का इस्ते्माल नहीं करते।पुलिस अधिकारियों ने बताया कि, हम पड़ोसी जिले की पुलिस के साथ मिलकर खोजबीन में जुटे हुए हैं। जवान का फोन ट्रेस किया जा रहा है। इस मामले में किसी भी तरह का मोड़ आ सकता है। लेकिन नक्सालियों ने जवान का अपहरण किया हो इसकी उम्मीद बेहद कम है। अंदेशा जताया जा रहा है कि जवान की बाईक को बाद में यहां लाकर छोड़ा गया है और इसे नक्साल घटना दिखाने की कोशिश की गई है। बहरहाल, लापता जवान की चप्पे -चप्पेय पर खोजबीन जारी है। 

डोंगरगढ़ स्थित मां बम्लेश्वरी मंदिर पहाड़ पर स्थित दुकानों में अचानक लगी आग

डोंगरगढ़ स्थित मां बम्लेश्वरी मंदिर पहाड़ पर स्थित दुकानों में अचानक लगी आग

राजनादगांव, डोंगरगढ़ स्थित मां बम्लेश्वरी मंदिर पहाड़ पर स्थित दुकानों में अचानक आग लग गई, जिससे इलाके में अफरा-तफरा मच गई. आग की लपटे तेज थी. देखते ही देखते दुकानें जलकर खाक हो गई. कई दुकानदार बेरोजगार हो गए हैं. अब उनके पास आजीविका का संकट है.
जानकारी के मुताबिक आग लगने के कारण 12 दुकानें जलकर खाक हुई हैं. मंदिर के कर्मचारियों ने आग पर काबू पा लिया है. कोरोना वायरस के कारण मंदिर में किसी बाहरी व्यक्ति की आवाजाही नहीं है, लेकिन आग कैसे लगी अभी कारण अज्ञात है.
 

बड़ी खबर: कोरोना संक्रमण के मृतकों के शवों को कचरा वाहन में पहुंचाया गया शमशान

बड़ी खबर: कोरोना संक्रमण के मृतकों के शवों को कचरा वाहन में पहुंचाया गया शमशान

राजनांदगाव। छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले से एक तस्वीर सामने आई है, जिसे देखकर हर किसी का दिल दहला जाएगा । यहां कोरोना संक्रमण के मृतकों के शवों को कचरा उठाने वाली गाड़ी में भरकर शमशान पहुंचाया गया। 

डोंगरगांव नगर के कोविड सेंटर में बुधवार को तीन संक्रमित मरीजों के निधन के समाचार ने समूचे क्षेत्र को दहशत में डाल दिया। बुधवार के दिन 12 घंटे के भीतर हुई इन 3 मौतों में तीनों ही महिलाएं हैं, जो बीते दिनों उपचार के लिए भर्ती कराई गई थी। मरने वाली महिलाओं में ग्राम आसरा निवासी दो सगी बहनें हैं, जो कि आपस में देवरानी जेठानी थी। वहीं, एक अन्य महिला ग्राम जारवाही की है। जानकारी के अनुसार डोंगरगाव विधानसभा क्षेत्र के ग्राम आसरा की 2 सगी बहनों व रिश्ते में देरानी-जेठानी व एक अन्य महिला ने कोरोना से दम तोड़ दिया। बताया गया कि मौत आक्सीजन की व्यवस्था नही होने के कारण हुई।

इस संदर्भ में एसडीएम डोंगरगांव ने कहा कि मृतक महिलाओं के अंतिम संस्कार कोविड-19 के गाइडलाइन के अनुसार किये जाने के लिए आदेश जारी कर दिया है। 

इस दौरान बहुत ही दर्दनाक तस्वीर सामने आई, जिसमें कुछ लोग कोरोना संक्रमित का शव कचरा वाहन में भरकर ले जाते नजर आ रहें है। शर्मनाक बात है कि मरने के बाद इन शवों को एम्बुलेंस तक नसीब नही हुआ और इनकी अंतिम यात्रा कचरे के वाहन में सवार होकर मुक्तिधाम तक पहुंची। यह तस्वीरें सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रही है। तस्वीरें देखकर राज्य सरकार और जिला प्रशासन के कार्य पर सवाल उठ रहा है। इस मामले में किसी अधिकारी का अभी तक कोई बयान सामने नही आया है।
+ Load More