कोरोना अपडेट: प्रदेश में आज 12665 ने जीती कोरोना से जंग, कुल 6577 नए मरीज मिले 149 मृत्यु भी, देखे जिलेवार आकड़े    |    लॉन्च हुई 2डीजी दवा, कोरोना संक्रमण से जंग में कैसे करेगी मदद? जानिए सब कुछ    |    आईसीएमआर अपडेट : राज्य में मिले 5294 कोरोना पॉजिटिव, 21 जिलों में सौ से अधिक मिले मरीज, देखे जिलेवार आकड़े    |    सेक्स रैकेट : पुलिस ने छापा मारकर देह व्यपार का किया खुलासा, मौके से दो युवक और दो युवती गिरफ्तार    |    दो पक्षों के बीच विवाद में गोली लगने से एक महिला की मौत, तीन अन्य घायल    |    चक्रवाती तूफान तौकते हुआ विनाशकारी, 5 राज्यों में अब तक 11 लोगों की मौत    |    बड़ी खबर: जानिए आखिर किस मामले में सीबीआई ने 4 नेताओं को किया गिरफ्तार    |    ममता बनर्जी के मंत्रियों-नेताओं पर सीबीआई ने कसा शिंकजा, यहां जानें क्या है मामला    |    रक्षा मंत्री व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने लॉन्च की कोरोना की स्वदेशी दवा 2DG    |    कोरोना अपडेट: देश में 24 घंटों में 2 लाख 81 हजार नए मामले आए, 4106 लोगों की हुई मौत    |
 छत्तीसगढ़ : चक्रवाती तूफान का आंशिक प्रभाव इस जिले में पड़ेगा

छत्तीसगढ़ : चक्रवाती तूफान का आंशिक प्रभाव इस जिले में पड़ेगा

जगदलपुर। मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटे तक मौसम में उतार-चढ़ाव का सिलसिला इसी तरह जारी रहेगा। संभावना है कि यह चक्रवाती तूफान 18 मई को गुजरात से टकराएगा। देश के अन्य राज्यों के साथ-साथ इस चक्रवाती तूफान का आंशिक प्रभाव बस्तर पर भी पड़ेगा। बस्तर में 18 और 19 मई को बादल छाए रहेंगे । वहीं कुछ स्थानों पर हल्की बारिश हो सकती है ।

मौसम वैज्ञानिक एचपी चंद्रा ने बताया कि अगले 24 घंटों के भीतर अबर सागर में चक्रवात का पूर्वानुमान जताया गया है। दक्षिण की तरफ से आने वाली नमी के कारण बस्तर के मौसम में बदलाव होगा। गर्म वातावरण और नमी के मिलने से बादल छाए रहेंगे। वहीं तूफान को लेकर केंद्रीय मौसम विभाग ने अलर्ट जारी कर दिया है। लेकिन बस्तर में इस तूफान का कोई ज्यादा असर नहीं रहेगा। वहीं जिले का अधिकतम तापमान 36 डिग्री और न्यूनतम तापमान 23 डिग्री दर्ज की गई। तूफान के चलते बादल छाने पर तापमान में कुछ गिरावट हो सकती है।
 
 पूर्व विधायक ने कलेक्टर को पत्र लिखकर छोटे व्यापारियों को सीमित समय में दुकान खोलने की अनुमति देने की मांग की

पूर्व विधायक ने कलेक्टर को पत्र लिखकर छोटे व्यापारियों को सीमित समय में दुकान खोलने की अनुमति देने की मांग की

जगदलपुर। कोरोना वायरस महामारी को रोकने के लिए बस्तर जिले में एक महीने से लॉकडाउन जारी है। इस बीच भाजपा के पूर्व विधायक संतोष बाफ ना ने जिला कलेक्टर को पत्र लिखकर जिले के छोटे-बड़े समस्त व्यापारियों को सीमित समय के लिए दुकानें खोलने की अनुमति देने का आग्रह किया है।

गौरतलब है कि, बस्तर जिलें में फैलते कोरोना संक्रमण को मद्देनजर रखते हुए अप्रैल माह में एक सप्ताह के लॉकडाउन की घोषणा की गई थी, लेकिन किसी को इसका अंदाजा नहीं था कि, यह लॉकडाउन निरंतर बढ़ता ही चला जाएगा। जिला प्रशासन के इस फैसले पर जिले के सभी व्यापारियों ने भी व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रखकर पूरी तन्मयता से अपना बहुमुल्य योगदान भी दिया। लेकिन लगातार दुकान बंद रखने से व्यापारियों के समक्ष आर्थिक संकट गहराने लगा है जिस पर चिंता जाहिर करते हुए पूर्व विधायक ने कहा है कि, बढ़ते गए लॉकडाउन की वजह से सभी व्यापारियों के सामने रोजी-रोटी की समस्याएं पैदा हो रही है। इसलिए अब यह आवश्यकता प्रतीत हो रही है कि, जिला प्रशासन नीति-नियम बनाकर दिनांक 16.05.2021 को समाप्त हो रहे लॉकडाउन की अवधि के पश्चात् एक सीमित समय के लिए सुबह 10:00 बजे से दोपहर 3:00 बजे तक सभी दुकानों को खोलने की अनुमति दी जानी चाहिए। कुछ घण्टों के लिए बाजार की सभी दुकानें खुलने से जहॉ व्यापारी वर्ग को काफी राहत मिलेगी, वहीं आम जनता को भी इससे लाभ होगा और उन्हें सामान खरीदने में राहत प्रदान की जा सकेगी। और व्यापारियों के सामने रोजी-रोटी का संकट काफी हद तक सुलझ जाएगा।

पूर्व विधायक बाफना ने कलेक्टर से आग्रह करते हुए आगे कहा है कि, सभी दुकानें सीमित समय के लिए और सामाजिक दूरी तथा बिना मास्क के प्रवेश की अनुमति नहीं देने जैसी एहतियात बरतने के साथ व्यापारियों तथा जनता को भी राहत प्रदान करते हुए दुकानें खोलने की अनुमति देने की कृपा करें। इससे सरकार को भी लाभ होगा और लॉकडाउन के सभी नियमों का आसानी से पालन करवाया जा सकेगा।
 छत्तीसगढ़ लॉकडाउन: इस जिले में लॉकडाउन की अवधि को 30 मई तक बढ़ाने की संभावना

छत्तीसगढ़ लॉकडाउन: इस जिले में लॉकडाउन की अवधि को 30 मई तक बढ़ाने की संभावना

जगदलपुर। जिले में 16 मई के बाद लॉकडाउन की अवधि 30 मई तक बढ़ाने की संभावना है। ऐसे संकेत मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने मंत्रीमंडलीय सहयोगियों और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ की गई वर्चुवल बैठक से संकेत मिल रहे हैं। हालांकि उन्होंने जिलों के कलेक्टर्स को पूरी छूट दी है कि वे संपूर्ण लॉक डाउन के बजाए माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाने पर ध्यान दें, एक और बात पर मुख्यमंत्री श्री बघेल ने ध्यान देने कहा है कि इस लॉक डाउन में ऐसी व्यवस्था होनी चाहिए कि सभी वर्गों का हित हो।
  बड़ी खबर : शराब की होम डिलीवरी के नाम पर ऑनलाइन ठगी

बड़ी खबर : शराब की होम डिलीवरी के नाम पर ऑनलाइन ठगी

जगदलपुर। जिले में शराब के आदी लोगों से ऑनलाइन ठगी की शिकायत आबकारी विभाग ने कोतवाली में की है। थाने में मिली शिकायत के अनुसार फेसबुक में अज्ञात व्यक्ति ने वाट्सएप 7653038768 नंबर से शहर के नया बस स्टेंड एवं हिकमीपारा की विदेशी मदिरा दुकानों से होम डिलवरी से मदिरा प्रदाय करने हेतु फर्जी अफवाह फैलाई। अज्ञात व्यक्ति के झांसे में आकर कुछ मदिरा प्रेमियों ने मदिरा हेतु ऑनलाइन भुगतान तो किया पर अज्ञात व्यक्ति द्वारा दुकान से शराब प्रदाय नहीं की गई।

आबकारी इंस्पेक्टर रवि पाठक ने बताया शराब खरीदने राज्य सरकार द्वारा जारी वेबसाइट या मोबाइल एप का ही इस्तेमाल करें। किसी अंजान व्यक्ति को बैंक खाता नंबर, एटीएम कार्ड नंबर, सीवीवी कोड नहीं दें, छत्तीसगढ़ शासन ने किसी भी व्यक्ति को मदिरा प्रदाय हेतु सोशल मीडिया से अधिकृत नहीं किया है।
कोविड-19 के द्वितीय लहर से नियंत्रण एवं बचाव के संबंध में दिशा निर्देश जारी

कोविड-19 के द्वितीय लहर से नियंत्रण एवं बचाव के संबंध में दिशा निर्देश जारी

जगदलपुर । कलेक्टर ने समस्त अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को कोविड-19 के द्वितीय लहर से नियंत्रण एवं बचाव के संबंध में दिशा निर्देश जारी किए है। कलेक्टर बंसल ने कहा कि बस्तर जिले में आमा त्यौहार के पूजा विधान के समय बड़ी संख्या में इकट्ठा होने की परम्परा है। इस वर्ष कोविड-19 के बढ़ते संकमण को दृष्टिगत रखते हुए केवल पुजारियों के रीति रीवाज एवं परम्परा अनुसार आमा त्यौहार पूजा विधान सम्पन्न कराने के लिए अनुरोध करने कहा है। मंदिरो, देवगुड़ी, धार्मिक स्थलों, चर्च आदि के पट बंद रखा जाएगा। केवल पुजारियों ने ही पूजा विधान सम्पन्न किया जाए। 14 मई को ईद-उल-फितर का त्यौहार है। सदर तथा समाज प्रमुखों की बैठक लेकर अपील करें कि मस्जिदों में कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए नमाज अदा करें। मस्जिदों में मौलाना, मौजन, मुतवल्ली एवं कमेटी के एक पदाधिकारी को सम्मिलित करते हुए नमाज अदा की जाए तथा शेष लोग अपने घरों में ही नमाज अदा करे। इसके अतिरिक्त सामूहिक जलसाध्भोज आदि का आयोजन न किया जाए। हर ब्लाक में कोविड-19 के बढ़ते संकमण को दृष्टिगत रखते हुए तत्काल कम से कम दो कंटेनमेंट जोन घोषित करें। बस्तर जिले के ग्रामीण अंचल में परम्परा है कि किसी व्यक्ति की मृत्यु होने पर पूरे गांव के लोग इकट्ठा होकर क्रिया-कर्म आदि कार्यक्रम सम्पन्न करते है। इस के लिए ग्राम प्रमुखों एवं जनप्रतिनिधियों से अनुरोध करें कि इस विषम परिस्थिति में 10 व्यक्तियों तक ही सीमित रखकर सम्पन्न कराया जावे तथा मृत्यु भोज न दिया जाए। 

 कोरोना के कहर से दो मासूम बच्चों के सिर से उठ गया माता-पिता का साया

कोरोना के कहर से दो मासूम बच्चों के सिर से उठ गया माता-पिता का साया

जगदलपुर। जिले के बास्तानार ब्लॉक से ह्दय विदारक घटना सामने आई है, जहां कोरोना संक्रमण काल में कोरोना के कहर से एक दिन में दो मासूम बच्चों के सिर से माता-पिता का साया उठ गया। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार कोरोना से संक्रमित होने के बाद मासूम बच्चों के पिता को मेडिकल कॉलेज ले जाया गया था। वहीं मां की तबीयत ठीक होने से उन्हें होम आइसोलेशन में रखा गया था। इलाज के दौरान शनिवार की रात्रि में पिता की तबीयत बिगड़ गई और उन्होंने दम तोड़ दिया। इसकी जानकारी होम आइसोलेशन में रह रही पत्नी को रात में ही मिल गई।
 
सुबह जब संक्रमण के खतरे से दूर दूसरे कमरे में सो रहे बच्चों ने मां के नहीं उठने पर उनके कमरे में जाकर देखा तो मां नहीं उठ रही थी, बच्चों द्वारा इसकी जानकारी पड़ौस में जाकर मकान मालिक को बताया कि मां नहीं उठ रही है, ऐसे में जब उन्होंने आकर देखा तो महिला की तरफ से कोई जवाब नहीं मिलता देख स्वास्थ्य विभाग को जानकारी दी गई, जिन्होंने उन्हें मृत घोषित कर दिया। दोनों के शव को मेकॉज में रखा गया है। परिवार वाले आज पहुंचने के बाद अंतिम संस्कार यहीं पर किया जावेगा। 

बास्तानार टीआई संतोष सिंह ने बताया कि घटना की जानकारी परिवार वालों को दे दिया गया है, वे रायगढ़ के निवासी थे और मृतक यहां शिक्षा के क्षेत्र में अपनी सेवा दे रहे थे। रायगढ़ में परिवार वालों को जानकारी देने के बाद वे वहां के लिए निकल गए हैं, आज बस्तर पहुंचने के बाद ही यहां अंतिम संस्कार व आगे की कार्रवाई की जाएगी।
 छत्तीसगढ़: स्टील प्लांट में कार्यरत कोरोना संक्रमित 02 मजदूरों की मौत से दहशत, 40 से अधिक मजदूर बीते पखवाड़े में संक्रमित मिले

छत्तीसगढ़: स्टील प्लांट में कार्यरत कोरोना संक्रमित 02 मजदूरों की मौत से दहशत, 40 से अधिक मजदूर बीते पखवाड़े में संक्रमित मिले

जगदलपुर। नगरनार स्टील प्लांट में काम कर रहे निजी कंपनियों के मजदूर लगातर संक्रमित हो रहे हैं। यहां कोरोना पॉजिटीव 02 मजदूरों की मौत के बाद दहशत का आलम है। नगरनार स्टील प्लांट में दूसरे राज्यों से आए लगभग 16 निजी कंपनी काम कर रहे हैं, वे आस-पास के गांवों में रहते हैं। इन कंपनियों में गांव के लोग भी काम कर रहे हैं। प्लांट की जद में आने वाले मारकेल, नगरनार, चोकावाड़ा और बम्हनी में रहने वाले ग्रामीण और दूसरे राज्यों से आकर किराए पर पर रहने वाले 40 से अधिक मजदूर बीते पखवाड़े में संक्रमित मिले हैं। बम्हनी के 20 से अधिक और नगरनार में दर्जन भर मजदूर कोरोना संक्रमित पाये गये हैं।
 यात्री ट्रेन हुई बंद अब बस और हवाई सेवा भी बंद होने के कगार पर पंहुचे

यात्री ट्रेन हुई बंद अब बस और हवाई सेवा भी बंद होने के कगार पर पंहुचे

जगदलपुर। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को कारण बताते हुए ईको रेलवे नेएक बार फिर केके रेललाइन पर दौड़ रही दोनों यात्री ट्रेनों का परिचालन अस्थायी रूप से रोक दिया है, वहीं संक्रमण की वजह से ही बसों का संचालन भी बंद होने की कगार पर है। अब यात्रा के लिए एक मात्र हवाई सेवा का लोगों को बस्तर से कहीं जाने का माध्यम बचा है।

ज्ञात हो कि गुरुवार को यात्री संख्या कम होने पर इसकी फ्लाइट रद्द कर दी गई थी, लेकिन एलायंस प्रबंधन ने शुक्रवार को अपना निर्णय बदला और कहा कि यात्री कम भी हुए तो हम नियमित रूप से फ्लाइट का संचालन करेंगे। बस मालिकों के मुताबिक छग-ओडिशा, छग-तेलंगाना की सीमा सहित जिलों के बॉर्डर मेंचेक पोस्ट स्थापित किए गए हैं, जहां बस में सवार लोगों की कोविड जांच की जा रही है। इसके चलते लोगों में भय है और लोग यात्रा करने से परहेज कर रहे हैं। आलम यह है कि सवारियों की अनुपलब्धता की वजह से एक दिन छोड़कर एक दिन बसें चलाई जा रही हैं। अंतर्राज्यीय बस सेवा जगदलपुर से हैदराबाद, जगदलपुर से विशाखापट्टनम, जगदलपुर से राजमेंद्री, जगदलपुर से विजयवाड़ा सहित सीमाई प्रांत ओडि़शा के बड़े शहरों और कस्बों तक सीधी बस सेवा प्रभावित है। कोविड गाइन लाइन का पालन करते हुए सवारियां बैठाना है। ऐसे में लोग भी यात्रा करने से बच रहे हैं।

प्राइवेट बस एसोसिएशन के कार्यकारी अध्यक्ष गोपेंद्र चौहान ने बताया कि दो दिन में एक बार ही बसें चल रही हैं, सवारी कम मिलने की वजह से बस के संचालन में बस मालिकों को दिक्कत आ रही है। बस का संचालन नुकसान का सौदा साबित हो रहा है।  

एलायंस एयर की हैदराबाद-जगदलपुर-रायपुर नियमित फ्लाइट गुरुवार को यात्री संख्या कम होने पर फ्लाइट रद्द कर दी गई थी, लेकिन एलायंस प्रबंधन ने शुक्रवार को अपना निर्णय बदला और कहा कि यात्री कम भी हुए तो हम नियमित रूप से फ्लाइट का संचालन करेंगे।

एलायंस एयर के जगदलपुर स्टेशन इंचार्ज पवन शर्मा ने बताया कि गुरुवार को हैदराबाद से जगदलपुर के लिए चार यात्रियों ने बुकिंग ली थी इसलिए फ्लाइट रद्द कर दी गई थी, लेकिन अब कंपनी ने निर्णय लिया है कि यात्री कम होने पर भी फ्लाइट का संचालन बाधित नहीं होगा।
 पुलिस ने किया अज्ञात व्यक्ति का शव बरामद, हत्या का दर्ज हुआ मामला

पुलिस ने किया अज्ञात व्यक्ति का शव बरामद, हत्या का दर्ज हुआ मामला

जगदलपुर। जिले के परपा थाना क्षेत्र अंर्तगत बिरींगपाल के डुमरपारा से परपा पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति का शव बरामद कर हत्या का मामला दर्ज किया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बीती रात्रि में बिरींगपाल के डुमरपारा में अज्ञात व्यक्ति की धारदार हथियार से हत्या कर शव को फेंके जाने की सूचना मिलने पर परपा थाना प्रभारी बुधराम नाग दल बल के साथ घटना स्थल पहुंचे और बिरींगपाल के ग्रामीणों की उपस्थिति में पंचनामा बनाकर शव को पोस्टमार्टम के लिया भेज दिया। परपा थाना प्रभारी बुधराम नाग ने बताया कि हत्या के मामले में अज्ञात व्यक्ति की पहचान एवं अपराधियों की पतासाजी की जा रही है।
बड़ी खबर : जगदलपुर में कोरोना के आंध्रा म्युटेंट से युवक की मौत, मचा हड़कंप

बड़ी खबर : जगदलपुर में कोरोना के आंध्रा म्युटेंट से युवक की मौत, मचा हड़कंप

जगदलपुर। देश में कोरोना महामारी का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। वहीँ जगदलपुर में डेंगगुड़ापारा के रहने वाले 35 साल के युवक की आइसोलेशन सेंटर में कोरोना के नए स्ट्रेन से मौत के बाद हड़कंप मच गया है। हैदराबाद से लौटे इस युवक को क्वारंटाइन किया गया था। लोहंडीगुड़ा बीएमओ ने टेलीफोन पर स्वास्थ्य महकमे के वरिष्ठ अफसरों को इस बारे में जानकारी दी।
जानकारी के मुताबिक, हैदराबाद से लौटे युवक को क्वारंटीन किया गया था। युवक की 4 मई की तड़के मौत हो गई। युवक की मौत के बाद जब उसकी जांच की गई, तो वह कोरोना पॉजिटिव मिला। हेल्थ अफसरों की चिंता का सबब यह नहीं था कि मृतक कोविड पॉजिटिव है बल्कि उसमें पाए गए आंध्र म्यूटेंट ने सभी को झकझोर दिया।

मौजूदा वायरस से ज्यादा खतरनाक है नया स्ट्रेन

कोरोना वायरस की दूसरी के कहर के चलते लोग पहले से ही चिंतित हैं। अब कोविड की दूसरी लहर के बीच आंध्र म्यूटेंट का नया स्ट्रेन मिलने से दहशत फैल गई है। इस वायरस को लेकर दावा किया जा रहा है कि मौजूदा स्ट्रेन के मुकाबले नया वेरिएंट कई गुना ज्यादा खतरनाक है। आंध्र स्ट्रेन आंध्र प्रदेश, कर्नाटक और तेलंगाना में काफी तेजी से फैल रहा है। इसका असर अब बस्तर तक पहुंच चुका है। इस बात को लेकर पूरा बस्तर जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग चिंतित है। विशेषज्ञों का दावा है कि कोरोना के नए वेरिएंट से संक्रमित होने वाले मरीज 3 से 4 दिनों में ही हाइपोक्सिया या डिस्पनिया के शिकार हो जाते हैं। इस स्थिति में सांसें मरीज के फेफड़ों तक पहुंचनी बंद हो जाती हैं। सही समय पर इलाज और ऑक्सीजन सपोर्ट नहीं मिलने पर मरीज की मौत हो जाती है।

बॉर्डर सील फिर कैसे पहुंचा संक्रमित व्यक्ति?

जिले में आयोजित बैठक में वरिष्ठ प्रशासनिक अफसरों ने राजस्व अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई। सवाल यह उठा कि बॉर्डर सील होने के दावों के बावजूद हैदराबाद से यह युवक संक्रमित होने के बावजूद बस्तर तक कैसे पहुंच गया। इस बात को लेकर सरकार ने नाराजगी जाहिर करते हुए तत्काल व्यवस्था दुरुस्त करने के निर्देश दिए। बता दें कि बस्तर में तेलंगाना और ओडिशा से प्रवेश के लिए जो रास्ते हैं, वहां चेक पोस्ट लगाकर हर आने-जाने वालों की जांच के दावे किए जा रहे थे। संभाग के कमिश्नर, रेंज आईजी, सभी कलेक्टर और एसपी को हाई अलर्ट पर रहने कहा गया है। सभी बॉर्डर सील करने के साथ ही चौकसी बढ़ाए जाने के निर्देश दिए गए हैं।
 

 यातायात पुलिस ने किया पांच यात्री बसों पर 13 हजार 600 रुपए की चालानी कार्रवाई

यातायात पुलिस ने किया पांच यात्री बसों पर 13 हजार 600 रुपए की चालानी कार्रवाई

जगदलपुर। लॉकडाउन में यात्री बस को चलाने की अनुमति सोशल डिस्टेन्स का पालन करने की शर्तों पर दी गई है, लेकिन बस संचालको के द्वारा गाइड लाइन की अवहेलना की जा रही थी। यातायात पुलिस ने गाइड लाइन की अवहेलना करने पर पांच यात्री बसों पर चालानी कार्रवाई कर 13 हजार 600 रुपए का शुल्क वसूल किया गया। 

यातायात प्रभारी कौशल देवांगन ने बताया कि केशलूर में यात्री बसों की चेकिंग की जा रही थी। बस में चेकिंग के दौरान यात्री सोशल डिस्टेन्स का पालन नहीं करते हुए पाए गए। यातायात पुलिस ने ऐसे पांच बसों पर सोशल डिस्टेन्स का उल्लंघन करते हुए पाए जाने पर 13 हजार 600 रुपए की चालानी कार्रवाई की गई है।
पूजा करने के दौरान कपड़े में आग लगने से झुलसी बुजुर्ग

पूजा करने के दौरान कपड़े में आग लगने से झुलसी बुजुर्ग

जगदलपुर। गंगानगर वार्ड निवासी 80 वर्षीय एक बुजुर्ग महिला पूजा करने के दौरान कपड़े में आग लगने से झुलस गई। जिसे डिमरापाल में इलाज के लिए भर्ती किया गया है।


बोधघाट पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक गंगा नगर वार्ड पंप हाउस के पास रहने वाली वरल अम्मा पति स्वर्गीय नागेश्वर राव उम्र 80 वर्ष घर में आज सुबह पूजा करते समय दीया जला रही थी। इस दौरान दिए से उनकी साड़ी में आग लग गई। जिससे उनका हाथ पैर में जल गया। घर पर मौजूद लोगों ने आग बुझाया। डायल 112 वाहन में उन्हें इलाज के लिए महारानी अस्पताल लाया गया है।
 लॉकडाउन: बस्तर जिले में आंशिक छूट के साथ 16 रात 12 बजे तक लॉकडाउन

लॉकडाउन: बस्तर जिले में आंशिक छूट के साथ 16 रात 12 बजे तक लॉकडाउन

जगदलपुर। बस्तर जिले में कोरोना वायरस के लगातार बढ़ रहे संक्रमण के कारण को फिर से 16 मई रात 12 बजे तक के लिए लॉक डाउन लागू कर दिया गया है। लेकिन लॉक डाउन के साथ कुछ आंशिक छूट प्रशासन ने दी हैं। मालूम हो कि 6 मई को सुबह 6 बजे तक प्रशासन ने लॉकडाउन घोषित किया था, लेकिन लगातार मिल रहे नए संक्रमितों और हो रही मौतों के चलते अब इसको आगे बढ़ा दिया गया है।

कलेक्टर रजत बंसल के द्वारा जारी आदेश में 16 मई तक बस्तर जिले की सभी सीमाएं पूर्णत: सील रहेंगी। सभी अस्पताल, मेडिकल दुकाने, क्लिनिक एवं पशु चिकित्सालय निर्धारित समय पर खुलेंगे, मेडिकल दुकान संचालक मरीजो के लिए दवाओं की होम डिलीवरी को प्राथमिकता देंगे।

जिले के सभी शासकीय उचित मूल्य दुकानो को टोकन की व्यवस्था कर खोली जाए। सभी प्रकार की मंडियां, बाजार तथा थोक दुकाने आम नागरिको के लिए बंद रहेगी। पारा, मोहल्ले मे स्थित किराना दुकाने, आटा चक्की, अंडा, पोल्ट्री, मटन, मछली, दूध, डेयरी और डेयरी उत्पाद की दुकानों को सुबह 06 से शाम 05 बजे तक खुली रहेंगी।  आवश्यक सामानों की आपुर्ति के लिए गोडाउन में रात 09 से सुबह 09 बजे तक लोडिंग अनलोडिंग हो सकेगी। बीज, उर्वरक, कीटनाशक, कृषि यंत्र और मरम्मत दुकानें सुबह 06 से शाम 05 बजे तक खुलेंगी। फल, सब्जी सुबह 06 से शाम 05 बजे तक ठेले, पिकअप व छोटे वाहनों में लोग बेच सकेंगे। ऑनलाइन व ई - कामर्स यानी एमाजोन , फ्लिपकार्ट जैसे सेवाओं को फिर से शुरू किया जा रहा है। होटल, रेस्टोरेंट, बेकरी व मिठाई दुकान स्वीगी व जोमेटो के साथ घर पर सामान मंगा सकेंगे। लेकिन होटलो में बिठाकर खिलाना प्रतिबंधित रहेगा। नियम की अनदेखी करने पर 30 दिन दुकान सील की कार्रवाई की जाएगी।

पेट्रोल पंप 24 घंटे खुलेंगे। गैस एजेंसियां खुली रहेंगी, होम डिलीवरी को देंगे प्राथमिकता।  शासकीय क्षेत्रों में होने वाले विकास कार्य प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे। इन कार्यो मे कार्यरत मजदूर कार्य स्थल मे रहकर कार्य सम्पादित करेगें। विवाह कार्यकम वर अथवा वधू के निवास गृह में ही आयोजित होगी। इसमें अधिकतम 20 लोगों के आने की ही अनुमति होगी। अन्त्येष्ठि, दशगात्र इत्यादि मृत्यु संबंधी कार्यकम में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 20 निर्धारित की जाती है। विवाह व अंत्येष्ठि कार्यक्रम के लिए तहसीलदार की अनुमति लेना आवश्यक होगा। 

बैंक कर्मियों 50 प्रतिशत की उपस्थिति के साथ कार्य करने की अनुमति होगी। ऑटो में ड्राईवर सहित अधिकतम 03, एवं दो पहिया वाहन में अधिकतम 02 व्यक्तियों की अनुमति होगी। रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट, बस स्टैंड, अस्पताल आवागमन तक के लिए होगी। रजिस्ट्री कार्यालय 50 प्रतिशत कर्मचारियों की उपस्थिति में टोकन प्रणाली के साथ खोले जाएंगे।
 फर्जी पत्रकार व पुलिस अधिकारी बनकर उगाही करने वाले 2 आरोपी गिरफ्तार

फर्जी पत्रकार व पुलिस अधिकारी बनकर उगाही करने वाले 2 आरोपी गिरफ्तार

जगदलपुर। जिला मुख्यालय के बोधघाट थाना क्षेत्र में अपने आप को पत्रकार और पुलिस अधिकारी बताकर वाहनों को रोककर अवैध उगाही करने वाले 02 आरोपियों शंकर सिंह उर्फ सोनू एवं प्रमोद कंवर को बोधघाट पुलिस ने गिरफ्तार किया है। 

नगर पुलिस अधीक्षक हेमसागर सिदार ने बताया कि गिरफ्तार दोनो आरोपियों  के द्वारा 01 मई 2021 को ग्राम करकापाल में एक ट्रेक्टर चालक सुखराम कश्यप से अपने आप को पत्रकार और पुलिस अधिकारी होना बताकर ट्रेक्टर वाहन के कागजात मांग की गई, वाहन चालक द्वारा कागजात नहीं दिखने पर अवैध रूप से 05 हजार रूपये की मांग किया गया एवं ट्रेक्टर चालक के द्वारा पैसा नहीं है बाद में लाकर देने की बात कहने पर उसी शाम को माडिय़ा चैक पर वाहन चालक सुखराम कश्यप से चार सौ रूपये अवैध रूप से लिया गया था। मामले में ट्रेक्टर स्वामी विश्वेश्वर राव के रिपोर्ट पर आरोपियों के विरूद्व धारा 384, 419, 420, 34 भादवि का अपराध पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया। 

मामले में बस्तर जिले के एसपी दीपक कुमार झा, अति पुलिस अधीक्षक ओमप्रकाश शर्मा के मार्गदर्शन एवम नगर पुलिस अधीक्षक हेमसागर सिदार के पर्यवेक्षक थाना प्रभारी धनंजय सिन्हा के नेतृत्व में विवेचना के तकनीकी साक्ष्यों के आधार पर आरोपी शंकर सिंह उर्फ सोनू एवं प्रमोद कंवर की पहचान कर गिरफ्तार किया गया। आरोपी शंकर सिंह अपने आप को बस्तर किरण का पत्रकार कहकर अवैध रूप से वाहनों से जांच के नाम पर पैसे वसूलना एवं आरोपी प्रमोद सिंह कंवर पूर्व में बस्तर जिले में आरक्षक के पद पर पदस्थ होना एवं अगस्त 2020 में उक्त पूर्व आरक्षक को सेवा से पृथक कर देना बताया गया है। मामले में दोनों आरोपियों के कब्जे से चार सौ रूपये नगद, 02 नग मोबाईल, छत्तीसगढ़ पुलिस लिखा हुआ पर्स जप्त किया गया है। मामले में दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर रवाना किया गया।
  छत्तीसगढ़: बेमौसम बारिश तेंदूपत्ता खरीदी बंद हुई

छत्तीसगढ़: बेमौसम बारिश तेंदूपत्ता खरीदी बंद हुई

जगदलपुर। बस्तर वनमंडल में 02 दिन पहले ही शुरु हुई तेंदूपत्ता खरीदी पर बेमौसम बारिश ने पानी फेर दिया और खरीदी बंद करनी पड़ गई। पिछले वर्ष भी संग्रहाकों को ऐसे ही हालातों का सामना करना पड़ा था। बेमौसम बारिश के कारण तेन्दूपत्ता खरीदी प्रभावित हुई थी। खरीदी फिर से शुरू होने का तेन्दूपत्ता संग्राहकों को इंतजार रहेगा।

उल्लेखनीय है कि ग्रामीण तेंदूपत्ता संग्रहण कर अच्छी आय अर्जित करते हैं। राज्य की सरकार तेंदूपत्ता का पारिश्रमिक प्रति मानक बोरा 2500 से 4000 रूपये कर दिया है। पारिश्रमिक बढऩे से संग्राहकों में उत्साह के साथ संग्रहण कार्य में जुटे थे। बस्तर वन मंडल के 15 लाट में सिर्फ 02 लाट तेंदूपत्ता की बिक्री हुई है। अब 13 लाट पर विभागीय स्तर पर खरीदी की जा रही है, लेकिन मौसम खराब होने के कारण खरीदी बंद कर दी गई है।

वन मंडलाधिकारी सुषमा नेताम ने कहा कि बस्तर वन मंडल के सभी लाट में तेंदूपत्ता की खरीदी शुरू हुई थी। बेमौसम बारिश के कारण खरीदी बंद की गई है। मौसम खुलने पर फिर से खरीदी शुरू की जाएगी। 
लॉकडाउन छत्तीसगढ़ : प्रदेश के इस संभाग से कुछ छूट के साथ लॉकडाउन जारी रहने के मिल रहे संकेत, पढ़ें पूरी खबर

लॉकडाउन छत्तीसगढ़ : प्रदेश के इस संभाग से कुछ छूट के साथ लॉकडाउन जारी रहने के मिल रहे संकेत, पढ़ें पूरी खबर

जगदलपुर | बस्तर संभाग के 07 जिलों में लगाए गए लॉक डाऊन की मियाद 06 मई की सुबह 06 बजे पूरी हो जाएगी, इसके बाद क्या स्थिति बनेगी ? यह सवाल लोगों में चर्चा का विषय बना हुआ है। प्रशासनिक सूत्र बता रहे हैं कि आने वाले एक-दो दिन में लॉकडाऊन को लेकर आदेश जारी कर दिया जाएगा। संभावना व्यक्त की जा रही है कि कुछ जगहों पर छूट मिलेगी तो अधिकांश जगहों पर कड़ाई से लॉकडाऊन जारी रहने के संकेत मिल रहे हैं। 

चिकित्सा वैज्ञानिकों ने मई में कोरोना का प्रभाव सबसे अधिक होने की चेतावनी दी है, जिसे ध्यान में रखते हुए लॉकडाऊन बढ़ाया जा सकता है। हालांकि जिन जिलों में संक्रमण की दर प्रभावी रूप से कम हुई होगी, वहां लॉकडाऊन तो रहेगा पर छूट बढ़ सकती है। हालांकि यह छूट बेहद कड़ी शर्तों के साथ होगी। सूत्र बता रहे हैं कि जिन जिलों में कड़ाई से लॉक डाऊन की अवधि बढ़ाए जाने के संकेत मिल रहे हैं, उनमें बस्तर का नाम शामिल नहीं है।
प्रशासन से जुड़े लोगों से मिल रहे इशारों के मुताबिक जब तक राज्य सरकार को संक्रमण में प्रभावशाली सकारात्मक अंतर दिखे बिना लॉकडाऊन का हटना संभव नहीं है। इसे लेकर 03 दिन बाद राज्य स्तर पर होने वाले सरकार के फैसले पर सबकी निगाहें टिकी हुई है। अंचल में कोरोना संक्रमण की रफ्तार को कम करने के लिए लगाए गए लॉक डाऊन के और बढऩे की संभावना से इनकार नहीं किया जा रहा है। हालांकि इस पर अंतिम निर्णय एक-दो दिन के बाद कोरोना के ताजा आंकड़ों को देखने के बाद लिया जाएगा। 
 छत्तीसगढ़: कर्तव्य के प्रति लापरवाही बरतने वाले आरएचओ निलंबित

छत्तीसगढ़: कर्तव्य के प्रति लापरवाही बरतने वाले आरएचओ निलंबित

जगदलपुर। कोविड-19 महामारी के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा समय-समय पर कर्मचारियों की विभिन्न कार्यो में ड्यूटी लगाई जा रही है। जिसमें विभिन्न विभागों के अधिकारी व कर्मचारी अपनी जिम्मेदारी का वहन पूर्ण निष्ठा व ईमानदारी से कर रहे है। जिसमें की कई ऐसी माताएं भी है जो अपने बच्चों को घर पर छोड़कर अपने दायित्वों का पालन कर रहे है।
 
 
जबकि उन्हें इस बात की जानकारी है कि इसे महामारी में उन्हें भी संक्रमण हो सकता है। लेकिन कतिपय कुछ ऐसे कर्मचारी भी है जो अपने दायित्वों को निर्वहन नही करते हुए इस महामारी के दौर में अन्य गतिविधियों में संलिप्त होकर कार्यरत साथी कर्मचारियों को हतोत्साहित एवं मनोबल गिराने में लगे हुए है।
 
 
ऐसे ही एक कर्मचारी आरएचओ रूपेन्द्र ठाकुर को बार-बार चेतावनी देने के बावजूद तथा उनके दायित्वों के प्रति सचेत करने के बाद भी अपने सौंपे गए कार्य स्थल पर उपस्थित न होने के कारण जिला दण्डाधिकारी रजत बंसल द्वारा तत्काल प्रभाव से उन्हें निलंबित कर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र कोलेंग में आगामी आदेश पर्यन्त संलग्न किया गया है।
 लॉकडाउन छत्तीसगढ़: लॉकडाउन में दुकान खोलने वाले चार दुकानदारों पर हुई कार्यवाही

लॉकडाउन छत्तीसगढ़: लॉकडाउन में दुकान खोलने वाले चार दुकानदारों पर हुई कार्यवाही

जगदलपुर। जिले में लागू लॉक डाउन के दौरान बिना अनुमति के दुकान खोलने पर पुलिस के द्वारा चार दुकानदारों के विरूद्ध दंडात्मक कार्रवाई की गई है। वहीं अनावश्यक सड़कों पर और बिना मास्क के घूमने वालों के खिलाफ भी पुलिस ने कार्रवाई की है।
 
सीएसपी हेमसागर सिदार ने बताया कि कोरोना संक्रमण से बचाव और रोकथाम के लिए जिला प्रशासन के द्वारा जिले को आगामी 06 मई तक लॉक किया गया है। इस दौरान शासन के आदेशों का उल्लंघन करने वाले चार दुकानदारों के खिलाफ पुलिस ने कार्रवाई की है। उन्होंने बताया कि संजय बाजार क्षेत्र में स्थित इलेक्ट्रॉनिक और किराना दुकान संचालक प्रशासन की बिना अनुमति के ही दुकान खोलकर संचालन कर रहे थे। सूचना मिलने के बाद पुलिस ने मौके पर छापेमार कार्रवाई करते हुए वहां स्थित चार दुकानों से 05 हजार रुपये समन शुल्क वसूल किया है। वहीं बिना मास्क पहनकर घूमने वालों के खिलाफ करते हुए पुलिस ने उनसे 24 सौ रुपये की दंडात्मक कार्रवाई की है। इसके अलावा पुलिस ने अपनी वाहनों में बेवजह घूमने वालों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए मोटरयान एक्ट के तहत 22 वाहनों को जप्त करते हुए चालानी कार्रवाई की है।
 छत्तीसगढ़ : नवनियुक्त सीएमएचओ फिर कोरोना संक्रमित हुए, सीएमएचओ के संपर्क में आये नेताओं का होगा कोरोना टेस्ट

छत्तीसगढ़ : नवनियुक्त सीएमएचओ फिर कोरोना संक्रमित हुए, सीएमएचओ के संपर्क में आये नेताओं का होगा कोरोना टेस्ट

जगदलपुर। नव नियुक्त सीएमएचओ गिरीश शर्मा को पदभार ग्रहण किये मुश्किल से 72 घंटे भी नहीं हुए थे कि उनकी कोरोना रिपोर्ट एक बार फिर पॉजिटिव आ गई है। मालूम हो कि वे इसी महीने 15 अप्रैल के करीब संक्रमित हुए थे। होम आइसोलेशन के दौरान आठवें दिन उन्हें नए सीएमएचओ की जिम्मेदारी मिली थी। जिसके दूसरे दिन ही उन्होंने पद संभाल लिया था। 

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के दौरान सीएमएचओ गिरिश शर्मा इस बीच भाजपा नेताओ और प्रशासनिक बैठक में भी शामिल हुए थे। कोरोना संक्रमण के बढ़ते दायरे और इलाज की व्यवस्था को दुरूस्त करने की मांग को लेकर भाजपा नेताओं ने सीएमएचओ से मुलाकात की, जिस दौरान भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता और पूर्व मंत्री केदार कश्यप, पूर्व महापौर किरण देव और पूर्व विधायक संतोष बाफना उनसे मुलाकात कर रहे थे उसी दौरान उनकी पॉजिटिव रिपोर्ट बन रही थी। इस मुलाकात के कुछ समय बाद ही सीएमएचओ पॉजिटिव आ गये। माना जा रहा है कि सीएमएचओ से मिलने के बाद भाजपा नेता कई अलग-अलग स्थानों पर भी गए हैं, अब सीएमएचओ के संपर्क में आये नेताओं का भी कोरोना टेस्ट करवाया जाएगा।
 लॉकडाउन के आदेश में प्रशासन ने किया संशोधन, जानिए किन्हें दी गई छूट

लॉकडाउन के आदेश में प्रशासन ने किया संशोधन, जानिए किन्हें दी गई छूट

जगदलपुर। लॉकडाउन में आम लोगों को आ रही दिक्कतों और व्यापारियों की समस्याओं को देखते हुए प्रशासन ने पहले जारी किए गए अपने आदेश में संशोधन किया है। इसमें मुख्य रूप से बैंकिंग को 01 घंटे तक बढ़ाते हुए रकम जमा करने और बीमा कंपनियों को भी सिर्फ भुगतान के लिए दफ्तर खोलने की छूट दी गई है। वहीं राशन दुकान से राशन लाने और कोविड टीकाकरण करने आने-जाने की छूट लोगों को दी गई है।

कलेक्टर रजत बंसल ने जारी आदेश में छूट के दौरान भी सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना प्रोटोकॉल का अनिवार्य रूप से पालन करने कहा है। जिला प्रशासन द्वारा जारी आदेश में मिठाई दुकानों, दुग्ध वितरण सेवा, बैंक व बीमा कंपनियों को ग्राहकों को सेवा देने समय में वृद्धि की है। मिठाई व दुग्ध की दुकानों को सुबह छह बजे से दोपहर दो बजे तक होम डिलवरी करने कहा गया है। इसके अलावा बैंक व बीमा कंपनियों को सुबह 10 से दोपहर दो बजे तक संचालित होंगे। इस दौरान उन्हें कोरोना प्रोटोकाल के अन्य नियमों का पालन करना होगा। बैंकिंग व बीमा में क्लैम की दिक्कतें आने की वजह से ऐसा किया गया है। मेडिकल कालेज ने संक्रमितों के सहायतार्थ दो हैल्प लाइन नंबर जारी किए हैं। इन नंबर पर संपर्क कर कोविड कंट्रोल संबंधित जानकारियां ली जा सकती हैं। इनमें 7587145231 व 7587703407 नंबर हैं।
  विवाह का प्रलोभन देकर 17 वर्षीय नाबालिग का अपह्र्ता गिरफ्तार

विवाह का प्रलोभन देकर 17 वर्षीय नाबालिग का अपह्र्ता गिरफ्तार

जगदलपुर। जिले के कोड़ेनार थाना के बड़े किलेपाल निवासी लालाराम ने अपनी 17 वर्षीय बेटी के घर में बताएं बगैर कहीं चले जाने की रिपोर्ट दर्ज कराने के साथ ही पुलिस को किसी अज्ञात आरोपी द्वारा अपहरण कर ले जाने की शंका जाहिर की थी। पुलिस ने लापता नाबालिग की पतासाजी कर आरोपी चंद्रप्रकाश दीवान को रायपुर से गिरफ्तार कर अपहृत बालिका को बरामद किया गया।  

कोडेनार थाना प्रभारी संतोष सिंह ने बताया कि नाबालिग लड़की लापता होने की रिपोर्ट पर एसपी और एसडीओपी केशलुर के मार्गदर्शन में टीम गठित कर तत्काल पतासाजी कर रही थी, आरोपी के रायपुर में होने की सूचना पर तत्काल टीम रवाना की गई, जहां से आरोपी को गिरफ्तार कर अपहृत बालिका को बरामद किया गया। आरोपी चंद्रप्रकाश दीवान द्वारा नाबालिग लड़की को विवाह का प्रलोभन देकर अपहरण करने के बाद बलात्कार करना पाया गया।
 लॉकडाउन के दौरान अवैध शराब तस्करी मामले में 3 गिरफ्तार

लॉकडाउन के दौरान अवैध शराब तस्करी मामले में 3 गिरफ्तार

जगदलपुर। जिले के नगरनार पुलिस ने लॉकडाउन के दौरान अवैध शराब बेचने के मामले में एक युवक मुकेश सेठिया को गिरफ्तार किया है। इसके पास से पुलिस ने 02 पेटी बीयर भी बरामद की है। युवक ओडिशा बॉर्डर स्थित नगरनार में शराब बेच रहा था। वहीं ग्राम पाहुरबेल में दो युवक अभिलाष कश्यप और परशुराम को भी पुलिस ने इसी इलाके से पकड़ा है। पुलिस का कहना है कि ये कार में दो पेटी बीयर और सात बोतल अंग्रेजी शराब लेकर आ रहे थे।
 छत्तीसगढ़ लॉकडाउन : व्यापारियों ने रखी लॉकडाउन के आदेश में संशोधन करने की मांग

छत्तीसगढ़ लॉकडाउन : व्यापारियों ने रखी लॉकडाउन के आदेश में संशोधन करने की मांग

जगदलपुर। बस्तर चेम्बर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्रीज जगदलपुर ने लॉक डाउन संबंधी जारी आदेश की व्यवहारिक कमियों की ओर ध्यान आकृष्ट करते हुए कुछ संशोधन की मांग प्रशासन से किया है। आज दोपहर सीएसपी कार्यालय में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बस्तर चेम्बर कामर्स एंड इंडस्ट्रीज के किराना व्यापारी, होटल, भोजनालय व्यवसायी, दूध विक्रेताओं की बैठक हुई जिसमें व्यापारी वर्ग की ओर से कई संशोधनों की मांग रखी गई है।

व्यापारियों द्वारा सुझाये गये संशोधनों में बैंकों को पूरी तरह से तथा सभी के लिए खोलने की मांग की गई है। प्रशासन ने किराना, फल, सब्जी आदि को व्यापार में होम डिलीवरी की छूट प्रदान की है वहीं दूसरी ओर इनके लिए बैंकिंग की अनुमति नहीं होने से भुगतान के अभाव में माल की आवक नहीं हो सकेगी तथा वर्तमान स्टॉक भी समाप्ति की ओर है। माह के अंत में बैंक सम्बन्धी बहुत से काम जैसे टैक्स, ब्याज भुगतान आदि होते हैं, जो बिना अनुमति के सम्भव नहीं है। 

सामानों के लोडिंग-अनलोडिंग हेतु सुबह 06 से 12 बजे तक का समय करने की मांग की गई है क्योंकि मजदूरों का रात्रि में आना सम्भव नहीं है, साथ ही यह भी मांग की गई है कि मजदूरों को भी आने की अनुमति दी जाए। थोक व चिल्लहर किराना व्यापारियों को 06 से दोपहर 02 बजे तक होम डिलिवरी की अनुमति मांगी गई है। होटेल व रेस्टोरेंट के लिए भी होम डिलीवरी की अनुमति मांगी गई है।

बस्तर चैम्बर ने कृषि संबंधी कार्यों के लिए भी अनुमति देने की मांग की है, चूंकि यह समय खेती की तैयारियों का हैं, इसलिए लैम्प्स से खाद बीज आदि की व्यवस्था भी होनी चाहिए। कृषि कार्य हेतु ट्रैक्टर सम्बन्धी सुविधाओं की बहाली की भी मांग की गई है। बस्तर चेम्बर ने नलकूप खनन सम्बन्धी कार्यों की अनुमति की भी मांग की है क्योंकि इनके कार्य के लिए मात्र एक माह का समय ही बचा है। 

बस्तर चेम्बर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्रीज ने आशा प्रकट की है कि ध्यान दिलाए गए बिंदुओं पर जल्द निर्णय लेकर राहत दी जाएगी।
 कलेक्टर ने दिए रेलवे स्टेशन का नियमित सेनेटाईजेशन और बाहर से आने वाले यात्रियों की कोरोना जाँच के निर्देश

कलेक्टर ने दिए रेलवे स्टेशन का नियमित सेनेटाईजेशन और बाहर से आने वाले यात्रियों की कोरोना जाँच के निर्देश

जगदलपुर। कोरोना के बढ़ते संक्रमण के नियंत्रण के लिए राज्य शासन के निर्देशानुसार जिला प्रशासन द्वारा मुख्य परिवहन केंद्रों में यात्रियों का कोरोना जाँच करवाया जा रहा है। उन केंद्रो में कोरोना टेस्टिंग की व्यवस्था का जायज़ा लेने के लिए कलेक्टर श्री रजत बंसल, पुलिस अधीक्षक श्री दीपक झा और सीईओ जिला पंचायत श्री इंद्रजीत चन्द्रवाल मंगलवार को जगदलपुर रेल्वे स्टेशन पहुँचे।

कलेक्टर श्री बंसल ने कोरोना जांच दल को सभी यात्रियों की कोरोना टेस्ट करने के निर्देश दिए। कोरोना टेस्ट में कोई व्यक्ति का पॉजि़टिव आता है तो उसके लिए ऐंबुलेंस की सुविधा उपलब्ध करवाने के भी निर्देश दिए।

कलेक्टर श्री बंसल ने रेलवे स्टेशन प्रभारी और नगर निगम आयुक्त को स्टेशन परिसर का नियमित तौर पर सेनेटाईजेशन करवाने के निर्देश दिए। इस दौरान सहायक कलेक्टर सुश्री सुरुचि सिंह, नगर निगम आयुक्त  प्रेम पटेल, रेलवे स्टेशन प्रभारी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
  नर्सिग कालेज में पॉजिटिव मामले आने के बाद छात्राओं को कॉलेज से ले जाने लगे परिजन

नर्सिग कालेज में पॉजिटिव मामले आने के बाद छात्राओं को कॉलेज से ले जाने लगे परिजन

जगदलपुर। जिला मुख्यालय अंर्तगत खमारगांव नर्सिग कालेज की कुछ छात्राएं कॉलेज कैंपस से बाहर निकल गईं और सड़क पर प्रदर्शन करने लगीं। छात्राओं का कहना था कि उनके कॉलेज कैंपस के अंदर 20 छात्राएं पिछले कुछ दिनों में ही पॉजिटिव हो चुकी हैं और कैंपस में सक्रमण तेजी से बढ़ रहा है फिर भी उन्हें घर नहीं जाने दिया जा रहा है। पूरे कैंपस में हल्ला है कि यहां रहेंगे तो मर जाएंगे। इसके बाद छात्राओं के पॉजिटिव होने की जानकारी परिजन को भी लगी तो यहां परिजन का तांता लग गया, एक-एक परिजन कॉलेज पहुंचने लगे और अपने बच्चों को कॉलेज से ले जाने लगे। 


छात्राओं का कहना था कि यहां सभी छात्राओं को एक साथ रखा गया है और खाने-पीने का सामान भी एक साथ दिया जा रहा है। डर के कारण छात्राओं ने कैंपस छोड दिया, परिजन यहां पंहुचकर आवेदन देकर अपने साथ छात्राओं को ले जा रहे हैं। कॉलेज की प्रिंसिपल जीबी जार्ज ने बताया कि अचानक ही सुबह-सुबह छात्राएं घर जाने की जिद करने लगीं हैं।
+ Load More