प्रदेश में आज मिले 1273 कोरोना संक्रमित, रायपुर से सर्वाधिक मरीजो के साथ इन जिलो से मिले इतने ..    |    कारोबारी के यहां छापे से अधिकारियों के उड़े होश, इतने बड़े पैमाने पर कालेधन का खुलासा    |    लव जिहाद: उर्दू-अरबी न सीखने पर पति करता था पिटाई, पुलिस ने पति को किया गिरफ्तार    |    बड़ी खबर: मजहब छिपाकर की शादी, प्रेमी और उसके परिवार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज    |    बड़ी खबर: दर्ज हुआ शादी के लिए जबरन धर्म परिवर्तन कराने का पहला मामला, जारी हुआ आरोपी की गिरफ्तारी का फरमान    |    मन की बात में पीएम मोदी ने उदाहरण देकर किसानों को बताए नए कानूनों के फायदे, पढ़े पूरी खबर    |    बड़ी खबर: पिता ने पुत्र को मारी गोली, उपचार के दौरान बेटे की हुई मौत    |    बड़ी खबर: EOW ने 5 लाख रुपया रिश्वत लेते नगर निगम के सिटी प्लानर को किया गिरफ्तार    |    बड़ी खबर: माचिस न देने पर 2 युवकों ने पीट-पीटकर युवक को उतारा मौत के घाट    |    ओवैसी के क्षेत्र में गरजे योगी: कहा- हैदराबाद का नाम बदलकर फिर से होगा भाग्यनगर    |
बस्तर दशहरा में योगदान देने वाले युवाओं को बस्तर महाराजा ने किया सम्मानित

बस्तर दशहरा में योगदान देने वाले युवाओं को बस्तर महाराजा ने किया सम्मानित

बस्तर | कोरोना संक्रमण काल में बस्तर दशहरा के आयोजन में योगदान देने वाले युवा कार्यकर्ताओ को आज एक सादे समारोह में राजमहल में बस्तर महाराजा कमल चंद भजदेव द्वारा सम्मान किया गया। प्रवीर सेना से जुड़े समस्त कार्यकर्ता जिन्होंने अपना योगदान इस सेवा कार्य मे लगाया,उन्हें मोमेंटो व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मान किया गया।  बस्तर महाराजा कमल चंद भजदेव ने कहा कि हमारी सांस्कृतिक विरासत व परंपरा को बनाये रखने एवं सहेजने हेतु इन सभी युवाओ का प्रयास अत्यंत सराहनीय है, सभी निष्ठावान कार्यकर्ता हैं, जिन्होंने प्रवीर सेना के सैनिक के रूप में कोरोना संक्रमण काल में बस्तर दशहरा के दौरान अपनी सेवा दी उन्हे अपनी शुभकामनाएं दी। 

पढ़ें : लॉक डाउन ब्रेकिंग : देश में 2 दिसंबर तक रहेगा लॉक डाउन, प्रधानमंत्री ने लिया बड़ा फैसला 

बस्तर दशहरा के दौरान कोरोना काल मे प्रवीर सेना द्वारा भोजन वितरण, खाद्य पदार्थ व मास्क वितरण एवं गरीबो के सेवा कार्य को देखते हुए सम्मान किया गया। इसके अलावा बसतर दशहरा पर्व में जिन्होंने फोटोग्राफी के माध्यम से नई दिशा दी उन्हें भी सम्मानित किया गया। जिसमें अजय साहू, राहुल ठाकुर, अभिषेक सिंह ठाकुर ,विकास चांडक, सुभेन्द्र भदौरिया, तनिष जैन, देवेश चांडक, जशविन्दर सिंह, प्रकाश साहू,विशाल सेंगर, हेमंत तिवारी, दिव्यराज सिंह राणा, सूरज मिश्रा, पुष्पराज पात्रो, सोनू यादव ,राहुल शर्मा, विकास यादव, सन्नी साव, अंजलि दास, भावना यादव, दुर्गा ठाकुर, पार्थ शर्मा, पर्व शर्मा, शालू वर्मा, राज पांडेय, नरेंद्र,समरथ सेठिया, करण राव सहित प्रवीण सेना के कार्यकर्ता उपस्थित थे।

 

 
सीसीटीवी कैमरे में कपड़ा लपेटकर चोरी करने वाले शातिर चोर गिरफ्तार, पढ़ें पूरी खबर

सीसीटीवी कैमरे में कपड़ा लपेटकर चोरी करने वाले शातिर चोर गिरफ्तार, पढ़ें पूरी खबर

जगदलपुर | जिले की परपा थाना पुलिस ने शातिर चोरो आदर्श कुमार उर्फ अभय को गिरफ्तार किया है, पकड़े गए आरोपी पहले रैकी करते फिर सूने मकानों में वारदात को अंजाम देते थे।

पढ़ें : बड़ी खबर: चरित्र संदेह के चलते पत्नी को उतारा मौत के घाट, आत्महत्या का रूप देने शव को लटकाया फंदे पर

आरोपी शातिर चोर ठंड का फायदा उठाकर सुने मकान में चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया करते थे। ऐसे ही एक मामले में इन चोरों ने घर पर लगे सीसीटीवी कैमरे में कपड़ा लपेटकर चोरी करने का प्रयास किया। हालांकि घर के खिड़की दरवाजे मजबूत होने की वजह से चोर घटना को अंजाम नही दे सके लेकिन इनका शातिर अंदाज कैमरे में कैद हो गया। 

पढ़ें : बड़ी खबर: बॉलीवुड के अब इस एक्टर कि हुई मौत, बॉलीवुड में शोक की लहर

परपा टीआई बुधराम नाग ने बताया कि कुछ दिन पूर्व कंगोली पुजारीपारा पारा में मिरीह रजन पटनायक के घर में चोरी व हाल में संजय ठाकुर के घर का प्रयास करने के मामले में आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है गिरफ्तार आरोपियों में मेटगुड़ा निवासी आदर्श कुमार उर्फ अभय, किशारे वासनिक और गणपत सेटूटी उर्फ मलिंगा कालीपुर निवासी है।
 
 
इनमें गणपत सेटूटी उर्फ मलिंगा शहर का शातिर चोर है, कई चोरी के मामलों में जेल जा चुका है। इनके कुछ अन्य साथी घटना के बाद से फरार है, जिनकी पता तलाश जारी है। गिरफ्तार आरोपीयो को न्यायालय में पेश किया गया जहां से उन्हें रिमांड पर जेल दाखिल कर दिया गया है।
 
जगदलपुर में विश्व प्रसिद्ध बस्तर दशहरा के अंतर्गत आयोजित ‘मुरिया दरबार‘ में शामिल हुए सीएम बघेल

जगदलपुर में विश्व प्रसिद्ध बस्तर दशहरा के अंतर्गत आयोजित ‘मुरिया दरबार‘ में शामिल हुए सीएम बघेल

जगदलपुरमुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल आज जगदलपुर में विश्व प्रसिद्ध बस्तर दशहरा के अंतर्गत आयोजित ‘मुरिया दरबार‘ में शामिल हुए। इस अवसर पर स्कूल शिक्षा एवं आदिम जाति विकास और जिले के प्रभारी मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा, लोकसभा सांसद श्री दीपक बैज, संसदीय सचिव श्री रेखचंद जैन, छत्तीसगढ़ हस्तशिल्प बोर्ड के अध्यक्ष श्री चंदन कश्यप, जगदलपुर महापौर श्रीमती सफिरा साहू, बस्तर महाराजा श्री कमलचंद भंजदेव, बड़ी संख्या में मांझी, चालकी, मेंबरीन तथा प्रबुद्ध नागरिक शामिल हुए।   

करोड़ो के सट्टा-पट्टी एवं नगदी सहित 6 सटोरियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, पढ़ें पूरी खबर

करोड़ो के सट्टा-पट्टी एवं नगदी सहित 6 सटोरियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, पढ़ें पूरी खबर

जगदलपुर | जिले में इन दिनों आईपीएल मैच में सट्टा लगाने का कारोबार बड़े पैमाने पर चल रहा है, कोतवाली और नगरनार थाना अंर्तगत करोड़ो के सट्टा-पट्टी सहित 06 सटोरियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बस्तर जिला मुख्यालय के कोतवाली थाना क्षेत्र अंर्तगत धरमपुरा से पुलिस ने रविवार को आईपीएल मैच में रुपयों का दांव लगवाकर सट्टा खिलाने वाले तीन सटोरियों को गिरफ्तार किया है।

पढ़ें : BIG BREAKING : भाजपा ने की मरवाही उपचुनाव में अपने प्रत्याशी के नाम की घोषणा, साथ ही इन सीटों के प्रत्याशियों के नाम की सूची हुई जारी 

वहीं नगरनार थाना क्षेत्र के तुरेनार में स्थित एक किराने की दुकान में आईपीएल मैच में रुपयों का दांव लगवाकर सट्टा खिलाने वाले तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। सीएसपी हेमसागर सिदार ने बताया कि पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि धरमपुरा में स्थित बिनाका मॉल के सामने एक कार में बैठकर कुछ लोग आईपीएल मैच रॉयल चैलेंज बैंगलोर और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच चल रहे मैच में रुपयों का दांव लगवाकर सट्टा खिला रहे है।

पढ़ें : सड़क हादसा : राजधानी के संतोषी नगर में तेज रफ्तार ट्रक की चपेट में आने से स्कूटी सवार दो युवकों की मौत, देखें विडियो

पुलिस ने मौके पर दबिश देते हुए तीन सटोरी फिरोज खान, मतिन सिद्दीकी और योगेश यादव को सट्टा खिलाते रंगे हाथों पकड़ लिया। पुलिस ने मौके पर से 40 हजार रुपये से अधिक नगद, तीन मोबाइल फोन, एक लक्जरी कार समेत करोड़ों रुपयों का सट्टा-पट्टी बरामद किया है। वहीं दूसरे मामले में नगरनार पुलिस ने तुरेनार के एक किराने की दुकान में कुछ लोग आईपीएल मैचों में रुपयों का दांव लगवाकर सट्टा खिला रहे तीन आरोपियों सोमदास कश्यप, कल्याण सिंह तोमर एवं मनीराम बघेल को रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे दो हजार रुपये नगद समेत दो मोबाइल फ़ोन और लगभग 15 हजार रुपये का सट्टा-पट्टी बरामद किया  पुलिस सभी आरोपियों के विरूध्द जुआ एक्ट की धारा 04 तथा प्रतिबंधात्मक धारा 151 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर लिया है। 

 

 
नक्सलियों द्वारा ठेकेदार से 50 लाख की मांग असत्य और निराधार है - दीपक झा

नक्सलियों द्वारा ठेकेदार से 50 लाख की मांग असत्य और निराधार है - दीपक झा

जगदलपुर | बस्तर जिले के नगरनार स्टील प्लांट के ठेकेदार से नक्सलियों द्वारा 50 लाख की मांग की गई है। इस मामले की जांच करने पहुंचे पुलिस ने जांच में पाया कि यह पूरा मामला असत्य है। पुलिस अधीक्षक दीपक झा ने बताया कि जो खबरें सोशल मीडिया में चल रही है। वह, पूरी तरह असत्य और निराधार है, नगरनार थाना नगरनार स्टील प्लांट के पास ही स्थित है, उड़ीसा के साथ इन इलाकों के लगातार सर्चिंग चलती रहती है।

पढ़ें : आज दिनांक 10 अक्टूबर का राशिफल, जाने कैसा रहेगा आज आपका दिन 

एसपी दीपक झा ने बताया कि ठेकेदार द्वारा की गई शिकायत जिसमें नक्सलियों ने ठेकेदार से 50 लाख की मांग की जांच में पाया कि जिस कर्मचारियों का जिक्र किया था, उन कर्मचारियों से पूछताछ की गई कर्मचारियों ने बताया कि ऐसी कोई घटना नहीं हुई है। नक्सली के नाम से धमकी नहीं मिली है, और न ही पैसे की मांग नहीं की गई है।
 
 
उन्होने कहा कि कुछ फोटो सोशल मीडिया में चल रहे हैं, जिन्हें नक्सली बताया गया है, उन लोगों की पहचान भी कर ली गई है। वह फोटो नगरनार में ठेकेदार के पास काम करने वाले कर्मचारियों की है। कर्मचारी अपने काम का पैसा लेने गए हुए थे, इस मामले में कोई नक्सली संबंध नहीं है। 
 
विशालकाय दुमंजिला बस्तर दशहरा रथ निर्माण के लिए लकडिय़ां पहुंची, ऐतिहासिक बस्तर दशहरा की तैयारियां शुरू

विशालकाय दुमंजिला बस्तर दशहरा रथ निर्माण के लिए लकडिय़ां पहुंची, ऐतिहासिक बस्तर दशहरा की तैयारियां शुरू

जगदलपुरबस्तर संभाग मुख्यालय में बस्तर दशहरा की तैयारियां जोरों पर हैं। कोरोना संक्रमण काल के बावजूद बस्तर दशहरा की रियासत कालीन परंपराओं के निर्वहन के लिए विशालकाय दुमंजिला रथ निर्माण के लिए लकडिय़ों का आना प्रारंभ हो गया है। आने वाले कुछ दिनों में रथ निर्माण का कार्य प्रारंभ हो जाएगा।

पढ़ें : बड़ी खबर : जिले में दुकानों एवं प्रतिष्ठानों के संचालन हेतु जिला कलेक्टर ने की नई गाइड-लाईन जारी, पढ़ें पूरी खबर 

विशालकाय दुमंजिला रथ निर्माण की प्रक्रिया रियासत कालीन ऐतिहासिक बस्तर दशहरा का मुख्य आकर्षण निर्माण के साथ ही जुड़ा हुआ है। ऐतिहासिक बस्तर दशहरा के रथ निर्माण की प्रक्रिया को यदि समाप्त कर दिया जाए तो बस्तर दशहरा का आकर्षण लगभग समाप्त हो जावेगा। बस्तर दशहरा के आकर्षण को बनाये रखने के लिए यह आवश्यक है कि बस्तर दशहरा के रथ निर्माण की प्रक्रिया के परंपराओं बनाये रखा जावे। 

पढ़ें : शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय का बड़ा बयान: छत्तीसगढ़ में 15 अक्टूबर से नहीं खुलेंगे स्कूल

बस्तर दशहरा की तैयारी जोरों पर शुरू हो गई है 75 दिनों तक चलने वाले विश्व प्रसिद्ध इस दशहरा इस कोरोना संक्रमण काल में अधिमास के कारण 104 दिनों तक मनाया जावेगा। बस्तर दशहरा का संबंध राम-रावण संग्राम से नहीं है, यहां आदिवासियों की आराध्य देवी मां दंतेश्वरी और बस्तर की मूल देवी मावली माता से जुड़ा पर्व है। बस्तर दशहरा 612 वर्षों से अनवरत मनाये जाने वाली रियासत कालीन परंपरा के साथ इसी रूप में मनाते आ रहे हैं। बस्तर संभाग सहित पड़ोसी ओडि़सा राज्य के 600 से अधिक देवी-देवताओं को आमंत्रित किया जाता है। इसीलिए बस्तर दशहरा को देवी दशहरा भी कहा जाता है। रथ परिक्रमा प्रक्रिया जल्द ही शुरू हो जायेगी, इस वर्ष 08 पहियों वाला विशालकाय दुमंजिला रथ का निर्माण होगा, जिसे  अंतिम दो दिनों के लिये चलाया जावेगा। बस्तर की आराध्य देवी मां दंतेश्वरी के छत्र को रथारूढ़ कर शहर में परिक्रमा लगाई जाती है। विशालकाय दुमंजिला रथ परिक्रमा कराने के लिए 400 से अधिक ग्रामीण की टीम रथ खींचने के लिए जुटती है। 
 
नगरनार एनएमडीसी स्टील प्लांट के डिमर्जर का शुरू हुआ विरोध

नगरनार एनएमडीसी स्टील प्लांट के डिमर्जर का शुरू हुआ विरोध

जगदलपुर | नगरनार एनएमडीसी केन्द्र सरकार के फैसले का जिसमें एनएमडीसी लिमिटेड और उसकी सब्सिडरी कंपनी एनएमडीसी स्टील लिमिटेड को डिमर्जर किए जाने की कार्यवाही का विरोध नगरनार स्टील प्लांट के कर्मचारी यूनियनों ने शुरू कर दिया है।

पढ़ें : स्वर कोकिला लता मंगेशकर की बिल्डिंग हुई सील, जाने क्या है वजह

संगठन के पदाधिकारियों ने इसकी जानकारी आल इंडिया एनएमडीसी वर्कर फेडरेशन के अध्यक्ष आरडीसीपी राव और महासचिव एसक्यू जामा को दिया जिस पर तत्काल कार्यवाही करते हुए उन्होनें सीएमडी को चर्चा हेतु पत्र प्रेषित किया है। 

पढ़ें : सड़क हादसे में ढाबाकर्मी की हुई दर्दनाक मौत, जाने कहा की है यह खबर 

29 अगस्त 2020 को संगठन के द्वारा केन्द्र सरकार और एनएमडीसी प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए विरोध प्रदर्शन किया और निर्णय लिया तथा भु-प्रभावित ग्राम पंचायतों के सरपंचो की बैठक आयोजित कर विशेष ग्राम सभा की मांग करने का निर्णय लिया है। यह बैठक नगरनार सामुदायिक भवन में कल दोपहर 02 बजे से होगी जिसमे प्रभावित क्षेत्र के जनपद सदस्यो को भी बुलाया गया है, आज की बैठक मे अगली रणनीति तय की जायेगी।
 
शहर के कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत नाले में मिला एक महिला का शव, पढ़ें पूरी खबर

शहर के कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत नाले में मिला एक महिला का शव, पढ़ें पूरी खबर

जगदलपुर | बस्तर जिला मुख्यालय कोतवाली थाना क्षेत्र अंर्तगत गोरिया बहार नाले में एक महिला का शव मिला है। आज सुबह महिला का शव गोरिया बहार नाले में आगे कटीली तारों अटका हुआ मिला, जिसकी सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मृतक महिला जमुना मंडावी के शव को बाहर निकालकर पीएम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है।

मामले की जानकारी देते हुए एएसआई होरोलाल नाविक ने बताया कि ओडि़सा के जयपुर निवासी जमुना मंडावी उम्र 45 वर्ष अपने पति मंगलू राम के साथ महावीर फार्म हाउस में काम करती थी। बीते 18 अगस्त को महिला कुम्हारापारा में स्थित अपनी बहन के घर गई हुई थी, 21 अगस्त को वह वापस फार्म हाउस के लिए निकली, लेकिन लागातर हो रही बारिश के चलते फार्म हाउस जाने वाले मार्ग पर पानी भरा हुआ था। वहां तैनात सुरक्षा कर्मियों ने महिला को आगे जाने से मना कर दिया, लेकिन महिला अन्य मार्ग से फार्म हाउस जाने के प्रयास में वह डूब गई जिससे उसकी मृत्यु हो गई। 

 
कोरोना पॉजिटिव नर्स का वीडियो बनाने पर दर्ज हुआ एफआईआर

कोरोना पॉजिटिव नर्स का वीडियो बनाने पर दर्ज हुआ एफआईआर

जगदलपुर, जिले की स्टाफ नर्स के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि के बाद जब स्टाफ नर्स को लेने उसके घर एंबुलेंस पहुंची तो पड़ोस में रहने वाले एक व्यक्ति ने स्टाफ नर्स का वीडियो बनाया था इस वीडियो में स्टाफ नर्स अपने घर के गेट से निकलकर एंबुलेंस में बैठती नजर आ रही है। इसके बाद सोशल मीडिया में विडियो वायरल भी किया ऐसे में उक्त व्यक्ति के विरूध्द एफआईआर दर्ज की गई है।
सीएसपी हेमसागर सिरदार ने बताया कि पॉजिटिव मरीज की पहचान उजागर करना प्रतिबंधित है, इसके बावजूद एक व्यक्ति ने वीडियो बनाया बल्कि इसे सोशल मीडिया में वायरल भी किया ऐसे में उक्त व्यक्ति के खिलाफ धारा 188, 269, 270 भादवि के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। पुलिस ने वीडियो बनाने वाले आरोपी का नाम सार्वजनिक नहीं किया है।
उन्होने कहा कि शहर एवं ग्रामीण क्षेत्रों में भी किसी कोरोना पॉजिटिव मरीज की व्यक्ति या पड़ोसी के क्वारेंटाइन या आइसोलेशन के लिए ले जाते हुए उसका वीडियो या फोटो शेयर ना करें इससे स्वयं मुसीबत में आ सकते।

 

बस्तर के स्वादिष्ट काजू ने कोरोना संकट के समय में बढ़ाई वनवासी परिवारों की आमदनी

बस्तर के स्वादिष्ट काजू ने कोरोना संकट के समय में बढ़ाई वनवासी परिवारों की आमदनी

रायपुरसंकट काल में अंचल में रहने वाले वनवासी परिवारों की आमदनी बढ़ा दी है। नए स्वरूप में पैकेजिंग और बस्तर ब्रांड नेम से इसकी लांचिंग मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने हाल में ही की है। बस्तर के स्वादिष्ट काजू की मांग को देखते हुए इसे वन विभाग के संजीवनी स्टोर्स में उपलब्ध कराया गया है। राज्य सरकार ने वनांचल में रहने वाले लोगों को वनोत्पाद के जरिए रोजगार उपलब्ध कराने की मुहिम के चलते जहां फिर से बंद पड़े काजू प्रसंस्करण को फिर से शुरू किया गया वहीं काजू के समर्थन मूल्य में वृद्धि की गई है। 

पढ़ें यह भी : राजधानी में जिला अस्पताल के सिविल सर्जन और उनकी पत्नी पाए गए कोरोना पॉजिटिव

         बस्तर की जलवायु को काजू के लिए अनुकूलता को देखते हुए वहां के वन क्षेत्रों में सत्तर के दशक में काजू के पौधों का रोपण किया गया था। लेकिन वृक्षारोपण के बाद इसके संग्रहण के लिए न तो कोई मेकेनिजम बनाया गया और न ही प्रसंस्करण की ओर ध्यान नहीं दिया गया। जिसके कारण यहां के वनों में उत्पादित काजू ज्यादातर निकटवर्ती ओडि़शा प्रदेश में बिचौलियों के माध्यम से बेचा जाता रहा, जिससे यहां के वनवासियों को काजू का उचित मूल्य नहीं मिल पाता था। संग्राहकों को काजू का संग्रहण दर 50-60 रूपए प्रति किलोग्राम ही प्राप्त होता था एवं प्रसंस्करण इकाई की अनुपलब्धता के कारण प्रसंस्करण मूल्य से भी यहां के हितग्राहियों को वंचित होना पड़ता था। वर्तमान में बस्तर में लगभग 15 हजार हेक्टेयर भूमि पर काजू के सफल वृक्षारोपण विद्यमान है, जिसकी उत्पादन क्षमता 10-12 हजार क्विंटल है।

पढ़ें यह भी : पं रविशंकर शुक्ल विश्विद्यालय ने सेमेस्टर परीक्षाओं के लिए जारी की ऑनलाइन परीक्षा फार्म भरने की तिथि

         राज्य में गठित हुई नई सरकार ने वनवासियों को अतिरिक्त आय का जरिया दिलाने के लिए इस ओर ध्यान दिया। बकावंड के वनधन विकास केन्द्र में बंद पड़े काजू प्रसंस्करण इकाई को फिर से शुरू किया। राज्य सरकार द्वारा इस वर्ष काजू का समर्थन मूल्य बढ़ाकर 100 रूपए प्रति किलो करने से जहां कोरोना संकट काल में उन्हें रोजगार मिला वहीं इस वर्ष काजू का संग्रहण बढ़कर 5500 क्विंटल हो गया है। इस वर्ष लगभग 6 हजार वनवासी परिवारों द्वारा काजू का संग्रहण का कार्य किया, जिससे हर परिवार को औसतन 10 हजार रूपए की आय हुई। वन धन विकास केन्द्र बकावण्ड में लगभग 300 महिलाओं द्वारा काजू प्रसंस्करण का काम किया जा रहा है। प्रसंस्करण कार्य से क्षेत्र की महिलाओं को 8 माह तक सतत रूप से रोजगार उपलब्ध होगा। इससे प्रति परिवार लगभग 60 हजार रूपए आय संभावित है। कोविड महामारी के दौरान 6300 से अधिक परिवारों को रोजगार काजू वनोपज से ही प्राप्त हो गया। 

ALSO READ : राजधानी में लॉकडाउन नियम तोड़ने पर पोल्ट्री सेन्टर में चिकन सेन्टर को ताला लगाकर किया गया सीलबंद

         बस्तर में ICAR Directorate of Cashew Research Puttur, Karnataka के तकनीकी मार्गदर्शन में प्रसंस्करण का कार्य किया जा रहा है। काजू बीज से प्रसंस्करण पश्चात लगभग 22 प्रतिशत काजू प्राप्त होता है। इस वर्ष संग्रहित किए गए 5500 क्विंटल काजू से लगभग 1200 क्विंटल काजू तैयार किया जाएगा। महिला स्व-सहायता समूहों द्वारा तैयार किए गए काजू के व्यापार से इस वर्ष 30-50 लाख रूपए लाभ संभावित हैं। प्राप्त लाभ को तेंदूपत्ता की भांति प्रोत्साहन राशि काजू के संग्रहण एवं प्रसंस्करण से संलग्न परिवारों को वितरित की जाएगी। इस प्रकार अब 3 स्तर पर वनवासियों को लाभ प्राप्त होगा। पहला काजू बीज का उचित दाम, दूसरा प्रसंस्करण में 300 परिवारों को रोजगार तथा तीसरा व्यापार से प्राप्त लाभ का 100 प्रतिशत राशि का वितरण। 

पढ़ें : रायपुर कोतवाली थाना का चालक आरक्षक निकला कोरोना पॉजिटिव

 छत्तीसगढ़ राज्य में देश का लगभग 6 प्रतिशत लघु वनोपज का उत्पादन होता है। न्यूनतम समर्थन मूल्य योजनांतर्गत लघु वनोपज के क्रय की योजना पूरे देश में लागू है। मुख्यमंत्री के अगुवाई में प्रदेश में कोविड-19 विश्व महामारी के साये में विगत 4 माह में इस योजना के अंतर्गत पूरे देश में क्रय किए गए लघु वनोपज का 76 प्रतिशत लघु वनोपज का क्रय छत्तीसगढ़ राज्य के द्वारा किया गया है। सम्पूर्ण देश में विगत 4 माह में लगभग 148 करोड़ रूपए राशि की लघु वनोपज क्रय की गयी, जिसमें छत्तीसगढ़ राज्य द्वारा 112 करोड़ राशि की लघु वनोपज क्रय की गयी। यह कार्य प्रदेश में 3500 महिला स्व-सहायता समूह के माध्यम से किया गया। इसमें लगभग 40 हजार महिलाओं ने घर-घर जाकर वनोपज का क्रय किया है। राज्य में पूर्व में मात्र 7 लघु वनोपज का क्रय न्यूनतम समर्थन मूल्य योजना के अंतर्गत किया जा रहा था, जिसे अब बढ़ाकर 31 लघु वनोपज कर दिया गया है। 

महिलाएं रोजगार मिलने से खुश

        काजू संग्रहण और प्रसंस्करण कार्य में काम कर रही वन धन विकास केन्द्र बकावण्ड स्व सहायता समूह की प्र्रभारी अध्यक्ष श्रीमती गुनमनी ने बताया कि प्रसंस्करण कार्य से उन्हें माह में 3 हजार से साढे़ तीन हजार तक मिल रहे हैं। इस वर्ष काजू की मात्रा अधिक है, इसलिए लाभ लगभग 5 हजार से 6 हजार रूपए बढ़ने की संभावना है। संग्रहण केन्द्र स्तर समूह की अध्यक्ष श्रीमती हेमबती कहती है कि हमारी समिति को सिर्फ काजू के संग्रहण से मात्र 15 दिनों में 20 हजार रूपए की राशि प्राप्त हुई है। करीतगांव संग्रहण केन्द्र स्तर की प्रेरक श्रीमती जयमनी बघेल की कहना है कि इस वर्ष राज्य सरकार द्वारा काजू का समर्थन मूल्य बढ़ाकर 100 रूपए प्रति किलो करने से संग्रहण कार्य से जुड़ी महिलाओं को अधिक आर्थिक लाभ हुआ। इसी तरह राजनगर समिति बकावण्ड श्रीमती पद्मनी का कहना है कि काजू प्रसंस्करण से प्राप्त राशि से उन्हें परिवार चलाने में मदद मिली है। इस राशि से राशन, पानी की व्यवस्था हो जाती है। इसी समिति की श्रीमती बेलाबाली बताती हैं कि प्रसंस्करण कार्य से प्राप्त राशि से उनके परिवार के जीवन में सुधार आया है। वे अपने बच्चों को अच्छा पढ़ा-लिखा रही है। ग्राम स्तर संग्रहण केन्द्र की श्रीमती मचनदई, पद्मा और नविना बताती हैं कि प्रसंस्करण कार्य से उन्हें रोजगार मिला है और जीवन यापन में सुधार आया है।

 
 बड़ी खबर: 31 प्रधान आरक्षक और 23 आरक्षकों को मिली पदोन्नति

बड़ी खबर: 31 प्रधान आरक्षक और 23 आरक्षकों को मिली पदोन्नति

जगदलपुर। पुलिस मुख्यालय, रायपुर द्वारा जारी निर्देश के परिपालन में बस्तर रेंज अंतर्गत जिलों में विभागीय पदोन्नति परीक्षा उत्तीर्ण होने के पश्चात् योग्यता सूची में शामिल आरक्षक/प्रधान आरक्षकों की पी.पी. कोर्स उत्तीर्ण उपरान्त 31 प्रधान आरक्षक को सहायक उप निरीक्षक एवं 23 आरक्षकों को प्रधान आरक्षक के पद पर इस प्रकार कुल 54 कर्मचारियों को पदोन्नति दी गई।

उल्लेखनीय है कि मई, 2020 में आरक्षक से प्रधान आरक्षक एवं प्रधान आरक्षक से सहायक उप निरीक्षक के लिए कुल 22 कर्मचारियों को पदोन्नति प्रदान दी जा चुकी है। इस प्रकार वर्ष 2020 में छ.ग. शासन गृह विभाग तथा पुलिस मुख्यालय, रायपुर द्वारा जारी निर्देश के अनुरूप जिला बस्तर, दन्तेवाड़ा, कांकेर, बीजापुर, नारायणपुर, सुकमा एवं कोण्डागांव के 38 आरक्षकों को प्रधान आरक्षक एवं 38 प्रधान आरक्षकों को सहायक उप निरीक्षक के पद में कुल 76 कर्मचारियों को पदोन्नति का लाभ दिया गया।

पुलिस महानिरीक्षक, बस्तर रेंज श्री सुन्दरराज पी. द्वारा संभाग के अंतर्गत पदोन्नत हुये सभी कर्मचारियों को बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुये जन अपेक्षा अनुरूप निष्ठा एवं ईमानदारी से कर्तव्य पालन का संदेश दिया गया।
छत्तीसगढ़ पुलिस ने जारी की इनामी नक्सली नेताओं की लिस्ट, गांवों में लगेंगे पोस्टर

छत्तीसगढ़ पुलिस ने जारी की इनामी नक्सली नेताओं की लिस्ट, गांवों में लगेंगे पोस्टर

रायपुर, छत्तीसगढ़ में बस्तर क्षेत्र की पुलिस ने 34 नक्सली नेताओं की लिस्ट जारी है और इनके पोस्टर इलाके में सार्वजनिक स्थलों पर लगाने का निर्णय किया गया है. वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि बस्तर क्षेत्र की पुलिस ने 34 नक्सली नेताओं की लिस्ट जारी है. इन नक्सली नेताओं में दो महिला नक्सली भी शामिल हैं. इन पर आठ लाख रूपए से एक करोड़ रूपए के इनाम रखे गये हैं.

पुलिस ने जारी की 34 नक्सली नेताओं की लिस्ट

बस्तर क्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक सुंदरराज पी. ने बताया कि पुलिस द्वारा जारी इन नक्सली नेताओं की लिस्ट में भाकपा (माओवादी) के पोलित ब्यूरो सदस्य और महासचिव नम्बाला केशव राव उर्फ गगन्ना समेत 34 नक्सली नेताओं का नाम शामिल हैं. इस लिस्ट को सोशल मीडिया, स्थानीय समाचार पत्रों के माध्यम से सार्वजनिक किया जाएगा और गांवों के हाट, बाजार में इनका बैनर, पोस्टर लगाया जाएगा.


पुलिस महानिरीक्षक ने कहा कि पिछले पांच दशकों से बस्तर क्षेत्र की शांति व्यवस्था और विकास के विरोध में माओवादी संगठनों ने अनेक हिंसात्मक घटनाओं को अंजाम दिया है. राज्य निर्माण के बाद से अब तक नक्सली हिंसा में 1800 से अधिक जनहानि हुई और करोड़ों रूपए की शासकीय एवं निजी सम्पत्ति की क्षति हुई है.


सुंदरराज ने कहा कि आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, उड़ीसा, महाराष्ट्र और अन्य प्रान्तों के शीर्ष माओवादियों ने स्थानीय युवाओं को गुमराह करने की लगातार कोशिश की थी. लेकिन बस्तर की शांतिप्रिय जनता माओवादियों की विकास विरोधी और मानव विरोधी चेहरों की पहचान करते हुए उनका साथ छोड़कर क्षेत्र में विकास कार्यों में अपना योगदान दे रही है.


उन्होंने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में अनेक स्थानीय युवक - युवती माओवादी संगठन को छोड़कर समाज की मुख्यधारा में शामिल होकर सामान्य जीवन जी रहे हैं.


जानकारी देने वाले लोगों का नाम पता रखा जाएगा गुप्त


सुंदरराज ने कहा कि माओवादियों के संबंध में जानकारी देने वाले व्यक्तियों का नाम, पता को गोपनीय रखा जाएगा और इनाम की राशि सूचना देने वाले व्यक्तियों को वितरित की जाएगी.


नक्सल प्रभावित बस्तर क्षेत्र के अंतर्गत बस्तर, कांकेर, कोंडागांव, नारायणपुर, दंतेवाड़ा, बीजापुर और सुकमा जिले शामिल हैं. यह क्षेत्र लगभग 40 हजार वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है.


पुलिस ने जिन 34 नक्सली नेताओं की लिस्ट जारी की है, उनमें महासचिव नम्बाला केशव राव उर्फ गगन्ना, पोलित ब्यूरो सदस्य पुपल्ला लक्ष्मण राव उर्फ गणपति, कट्टकम सुदर्शन उर्फ आनंद, मल्लोजुला वेणुगोपाल उर्फ भूपति समेत अन्य नक्सली नेता शामिल हैं. गगन्ना, गणपति, आनंद और भूपति पर एक—एक करोड़ रूपए का इनाम है.


पुलिस अधिकारी ने बताया कि इनमें से नौ नक्सली नेताओं के सिर पर 40 लाख रूपए का तथा 17 नक्सलियों पर 25 लाख रूपए का इनाम है.

 

30 लीटर महुआ शराब सहित एक महिला गिरफ्तार, पढ़ें कहा की है यह खबर

30 लीटर महुआ शराब सहित एक महिला गिरफ्तार, पढ़ें कहा की है यह खबर

जगदलपुर। शहर के बोधघाट थाना पुलिस ने शहर के गांधी नगर वार्ड में अवैध रूप से शराब का विक्रय करते हुए एक महिला को गिरफ्तार कर उसके पास से 30 लीटर महुआ शराब जब्त किया है। 

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार शहर में अवैध रूप से शराब की बिक्री कर रहे लोगों पर पुलिस द्वारा लगातार कार्रवाई की जा रही है। वार्ड पुलिस दुशीला भारद्वाज की सूचना पर जानकारी मिली कि शहर के गांधी नगर वार्ड में अपने घर में अवैध रूप से बड़ी मात्रा में महुआ शराब रख विक्रय किया जा रहा है। इसकी सूचना के बाद बोधघाट पुलिस बुधवार को मौके पर पहुंची और घर में दबिश देकर तलाशी लेन पर पुलिस को कंनटेनर में रखें 30 लीटर महुआ शराब बरामद किया। महिला आरोपी के खिलाफ आबकारी एक्ट 34 (ब)के तहत कार्रवाई करते हुए पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।  
आत्महत्या के मामले में अंत्येष्टि रूकवाकर करवाया पोस्ट मार्डम, शमशान घाट पहुंची पुलिस कुछ लोग डरकर भाग निकले

आत्महत्या के मामले में अंत्येष्टि रूकवाकर करवाया पोस्ट मार्डम, शमशान घाट पहुंची पुलिस कुछ लोग डरकर भाग निकले

जगदलपुर। शहर से लगे 05 किलोमीटर की दूरी पर स्थित ग्राम तुरेनार में शुक्रवार को एक नर्सिगं छात्रा आत्महत्या के बाद परिजन आनन-फानन में उसकी अंत्येष्टि करने की तैयारी में जुट गए थे। नगरनार थाना प्रभारी शिव शंकर गेंदले को सूचना मिलते ही थाना प्रभारी अपनी टीम लेकर तूरेनार के शमशान घाट पहुंचकर अंत्येष्टि को रूकवाकर मृतक छात्रा के शव को अपने कब्जे लेकर पोस्ट मार्डम करवाकर आज परिजनों को सौप दिया गया है। मिली जानकारी के अनुसार तो एक नर्सिगं छात्रा के आत्महत्या के बाद परिजन उसकी अंत्येष्टि करने शमशान घाट में जुटे थे। इस दौरान पुलिस के वहां पहुचने पर वहां से कुछ लोग डरकर भाग निकले वहीं तूरेनार सरपंच भी मौके में मौजूद थे, उनसे पूछताछ करने पर मामले को लेकर अज्ञानता जाहिर किया। पुलिस को संदेह हुआ कि मामला गंभीर है, पुलिस के द्वारा कड़ई से पूछताछ करने पर सरपंच ने बताया कि मामला आत्महत्या का है। बताया जा रहा है कि 17 वर्षीय मृतिका अपने परिजनों के साथ काजू तोडऩे काजू प्लाट गई हुई थी अचानक वहां से कितने समय घर आकर फांसी लगाई यह परिजनों को नहीं मालूम, परिजनों के वापस लौटने  के बाद युवती घर में फांसी के फंदे पर लटकी हुई मिली। 

नगरनार थाना प्रभारी शिवशंकर गेंदले ने बताया कि पुलिस मौके पर पहुंचकर पंचनामा कर शव अपने कब्जे में लेकर डिमरापाल मेडिकल कालेज पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। जहां आज शव का पोस्टमार्डम के बाद परिजनों को शव सुपुर्द कर दिया गया है। जांच जारी है, पोस्टमार्डम रिपोर्ट का इंतजार है। 
नशे की हालत में महिला कुएं में गिरी, गंभीर रूप से हुई घायल

नशे की हालत में महिला कुएं में गिरी, गंभीर रूप से हुई घायल

जगदलपुर। जिले के गीदम ब्लॉक अंतर्गत हारम निवासी 30 वर्षीय महिला शराब के नशे में कुएं में गिर गई। गम्भीर रूप से घायल महिला को 108 संजीवनी एक्सप्रेस की मदद से जिला अस्पताल पहुंचाया गया। मिली जानकारी के अनुसार, रामबती बाई, पति कमलू राम पानी भरने कुएं गयी हुई थी। इस दौरान महिला ने शराब का सेवन किया हुआ था। पानी भरते वक्त महिला का संतुलन बिगड़ गया और वह कुएं में गिर गई। इस हादसे में महिला के सिर पर गंभीर चोटें आई। 108 की ईमटी प्रियंका साहू व टीम लीडर अशोक सिंह द्वारा घायल महिला का प्राथमिक उपचार कर उन्हें जिला अस्पताल दंतेवाड़ा में भर्ती कराया गया।
सट्टा खिला रहे आरोपी को कोतवाली पुलिस ने रंगे हाथों किया गिरफ्तार

सट्टा खिला रहे आरोपी को कोतवाली पुलिस ने रंगे हाथों किया गिरफ्तार

जगदलपुर। कोतवाली थाना क्षेत्र अंर्तगत समुंद चौक से पुलिस ने खुलेआम सट्टा खिला रहे एक आरोपी को रंगे हाथों गिरफ्तार किया है।

मामले की जानकारी देते हुए कोतवाली टीआई एमन साहू ने बताया कि मुखबिर से पुलिस को सूचना मिली कि समुंद चौक पर एक व्यक्ति खुलेआम सट्टा खिला रहा है। सूचना मिलते ही पुलिस की एक टीम को मौके पर रवाना किया गया। टीम ने आरोपी खिरेंद्र कश्यप निवासी पनारापारा को पकड़ लिया। पुलिस ने आरोपी के कब्जे से 05 नग सट्टा पर्ची समेत दो हजार रुपये से अधिक नगद बरामद किया है। आरोपी के खिलाफ पुलिस ने जुआ एक्ट की धारा 4 (क) के तहत मामला दर्ज कर लिया है
गाज गिरने से 15 मवेशियों की हुई मौत, पढ़े पूरी खबर

गाज गिरने से 15 मवेशियों की हुई मौत, पढ़े पूरी खबर

जगदलपुर। जिले के बास्तानार ब्लॉक के ग्राम पंचायत परलमेटा पाकलु पारा में रविवार की दोपहर को हुई तेज बारिश के साथ गाज गिरने से 15 मवेशियों की मौत हो गई है। 

मिली जानकारी के अनुसार बास्तानार ब्लॉक के ग्राम पंचायत परलमेटा पाकलु पारा देवगुड़ी के पास आम पेड़ के नीचे खड़े मवेशियों पर गाज गिरने से मौके पर उनकी मौत हो गई। मवेशियों में 03 गाय,11 बैल और 01 बछड़ा शामिल हैं। इसकी सूचना राजस्व विभाग के पटवारी एवं थाना कोड़ेनार को दी गई है।
शहर के एक होटल में पुलिस ने दबिश देकर, 12 युवकों को किया रंगे हाथ गिरफ्तार, लॉकडाउन के बिच चल रहा था यह काम

शहर के एक होटल में पुलिस ने दबिश देकर, 12 युवकों को किया रंगे हाथ गिरफ्तार, लॉकडाउन के बिच चल रहा था यह काम

जगदलपुर। कोरोना की महामारी और लॉकडाउन के बिच भी बदमासों और जुआरिओं की हरकतों में कमी नहीं आई है। आय दिन कोई न कोई मामला सामने आ रहा है इसी कड़ी में एक खबर सामने आ रहा है की हाता ग्राउंड के सामने स्थित हॉटल रवि रेसीडेंसी में जुआ खेल रहे 12 युवकों को पुलिस ने शनिवार रात दबिश देकर पकड़ा। इनके पास से 2 लाख 3 हजार रुपए नगद और मोबाइल बरामद किया गया।

इन्हे किया गया न्यायालय में पेश-
कोतवाली प्रभारी एमन साहु ने बताया कि इन सभी को रंगे हाथ धर दबोचा है। सिटी कोतवाली में दर्ज प्रकरण के तहत शांतिनगर वार्ड निवासी सागर शर्मा, लालबाग हाऊसिंग बोर्ड कालोनी निवासी शिव चौहान, अजय दुबे, बालाजी वार्ड निवासी मो. अगास, मोतीतालब पारा निवासी फयाज़, प्रतापगंज पारा निवासी सन्नी साव, अनुपमा चौक निवासी शिवम, हिकमीपारा निवासी विजय जैन, बालाजी वार्ड निवासी सौरभ यदु, गंगानगर वार्ड निवासी सुभम सिंह, अग्रसेन चौक निवासी एस मिचवी, प्रतापगंज पारा निवासी निकेश को न्यायालय में पेश किया गया फिर जमानत पर रिहा किया गया है।
 
प्रेम प्रसंग के चलते आत्महत्या तक पहुंचा मामला, डायल 112 की टीम ने सुलझाया मामला

प्रेम प्रसंग के चलते आत्महत्या तक पहुंचा मामला, डायल 112 की टीम ने सुलझाया मामला

जगदलपुर। बस्तर जिले के थाना परपा क्षेत्रांतर्गत ग्राम कुरेंगा व करंजी के बीच एक लड़की प्रेम प्रसंग के कारण आत्महत्या करने जाने की सूचना 24 मई की रात लगभग 12:40 बजे डायल 112 को प्राप्त हुई। सूचना पर डायल 112 परपा बायसन 01 को तत्काल घटना स्थल के लिए रवाना किया गया। डायल 112 की टीम आत्महत्या करने के लिए आमादा नाराज लड़की तक घटना स्थल पहुंचकर लड़की को लड़के तथा उनके परिजनों से मिलवाकर मामले का समाधान करने में सफल हुई है। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार डायल 112 की टीम घटना स्थल पहुंचकर पुछताछ करने पर लड़की ने बताया कि वो हिड़मा पारा के लड़के से प्रेम करती है, उससे विवाह करना चाहती है। जिसे समझाकर घर छोडऩे की बात कहने पर वह नहीं मानी। लड़की ने अपने हाथ में मिट्टी तेल एक जरकिन पकड़ी हुई थी, तथा आत्महत्या करने की बात बोल रही थी। लड़की को थाना प्रभारी ने समझाकर उसे प्रेमी लड़के घर हिड़मा पारा लेकर गये, जहां वह लड़का मिला जिसे पूछताछ करने पर पीडि़त लड़की से विवाह करने के लिए अपनी सहमति जताई। दोनों लड़का-लड़की की सहमति के बाद लड़के के माता-पिता नहीं होने से लड़की को उसके चाचा के सुपुर्द किया गया है। आगे पारिवारिक सहमति से इनका विवाह की सहमति बनी है। इस कार्यवाही में ईआरव्ही आरक्षक 39 मोतीलाल नागेश, आरक्षक 984 चितू मौर्य एवं चालक परमेश्वर ठाकुर ने अपना योगदान मामले के निपटारे में दिया।
पुलिस अधिकारियों पर महिला ने लगाए संगीन आरोप, जानिए क्या है पूरा मामला

पुलिस अधिकारियों पर महिला ने लगाए संगीन आरोप, जानिए क्या है पूरा मामला

जगदलपुर। बस्तर जिले के बड़ांजी पुलिस थाना स्टाफ के थाना प्रभारी विकास राय उनके ड्राइवर और एसडीओपी राकेश कुर्रे के विरूध्द राज्यपाल, मुख्यमंत्री, गृहमंत्री, डीजीपी, आईजी, महिला आयोग और एसपी से पुलिस के द्वारा एक महिला से मारपीट और यौन अत्याचार के आरोप लगाते हुए महिला ने शिकायत कर न्याय की मांग की है। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार महिला दीपिका (बदला हुआ नाम) निवासी जगदलपुर ने संगीन आरोप लगाते हुए उन्होने कहा कि वह स्वयं के यौन प्रताडऩा की शिकायत लेकर बड़ांजी थाना गयीं लेकिन वहां के थाना प्रभारी ने उल्टे उसी के विरूध्द मामला दर्ज कर उसे और उसके भाई व एक मित्र को जेल भेज दिया। जमानत पर जेल से बाहर आने के बाद महिला ने बड़ांजी पुलिस थाना स्टाफ के विरूध्द शिकायत दर्ज करवाई है। 

पीडि़ता का आरोप है की बड़ांजी थाने में एसडीओपी कुर्रे और थाना प्रभारी विकास रॉय ने उसके साथ बदसुलूकी की और थाना प्रभारी के ड्राइवर ने नशे में धुत्त होकर थाने में ही महिला के साथ गाली गलौच कर उसके संवेदनशील अंगों पर लात मारा गया। पीडि़ता ने कहाना है कि यदि उसे न्याय नहीं मिला तो मरने के सिवाय उसके पास कोई रास्ता नहीं है। महिला की अधिवक्ता फातिमा राजपूत का कहना है की पीडि़त महिला के खिलाफ पुलिस ने गलत धाराएं लगाकर उसे जेल भेजा था। महिला के साथ पूर्व में बैंक के सहायक प्रबंधक ने यौन दुव्र्यवहार किया और जब महिला न्याय के लिए थाने पहुंची तो उसे वहां भी अभद्रता और यौन दुर्व्यवहार के साथ मारपीट किया गया है। 

इस मामले पार संज्ञान लेते हुए बस्तर आईजी सुंदरराज पी ने प्रकरण की जांच के लिए एक टीम गठित किया है। आईजी का कहना है की मामला संवेदनशील है, मामले की जांच महिला पुलिस अधिकारी के द्वारा की जाएगी। 
लापता युवक के मामले का हुआ पर्दाफास: दोस्तों ने की थी चाकू घोंपकर हत्या, जाने क्या है यह पूरा मामला

लापता युवक के मामले का हुआ पर्दाफास: दोस्तों ने की थी चाकू घोंपकर हत्या, जाने क्या है यह पूरा मामला

जगदलपुर। शहर के रेल्वे कॉलोनी निवासी युवक शेखर विगत दस महीने से लापता था। जिसकी पतासाजी एवं जांच में पुलिस जुटी हुई थी। पुलिस ने शेखर के दो दोस्तों को संदेह के आधार पर कड़ी पूछताछ के बाद उन्होंने शेखर ही हत्या की बात आखिरकार कबूल कर लिया है। बोधघाट पुलिस ने रेलवे कॉलोनी के लापता के युवक शेखर सेना के मामले का पटाक्षेप हो गया है। पुलिस ने बताया कि शेखर के दोस्तों ने ही उसे चाकू घोंपकर मौत के घाट उतार दिया है। 

उल्लेखनिय है कि 09 जुलाई 2019 को रेल्वे कॉलोनी का रहने वाला शेखर अपनी बाइक लेकर घर से दोस्तों के साथ पार्टी मनाने की बात कहते हुए घर से निकला था, इसके बाद युवक शेखर एकाएक लापता हो गया था। पुलिस ने उसे ढूंढने का काफी प्रयास किया, लेकिन उसका कुछ भी पता नहीं चला। बोधघाट पुलिस लगाातार पतसजी में लगी हुई थी। इसी बीच उसकी बाइक मोतीतालाब पारा के एक होटल के पास क्षतिग्रस्त हालत में मिली थी। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगालने के साथ ही परिजनों से लेकर दोस्तों से पूछताछ के साथ पुलिस ने परिजनों से लेकर दोस्तों तक का नार्को टेस्ट कराने की तैयारी में लगी हुई थी, लेकिन लॉकडाउन के चलते मामला अटक गया था।

बस्तर एसपी दीपक झा ने फिर नए सिरे से मामले की जांच शुरू कराई। इसमें शेखर के दो दोस्तों को संदेह के दायरे में लेकर कड़ी पूछताछ की गई। उसके दोस्तों द्वारा मामले पर शेखर ही हत्या की बात आखिरकार कबूल कर लिया। शेखर के दोस्तों की निशानदेही पर आज पुलिस ने एसडीआरएफ की मदद से शव को खोजने में जुटी हुई है, लेकिन अब तक उसका कोई पता नहीं चल सका है। दस माह पहले हुई हत्या के बाद शव का मिलना मुश्किल है, शव के अवशेष की तलाश जारी है।

बोधघाट थाना प्रभारी राजेश मरई ने बताया कि लापता युवक शेखर सेना और उसके दोस्तों के बीच गांजा पीने के दौरान किसी बात को लेकर विवाद हो गया। दोस्तों ने चाकू मारकर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद उन्होंने शव को एक बोरे में भरकर अग्रसेन भवन के पीछे तालाब में फेंकने की बात संदेही साथियो के बताये गये स्थान पर पतासाजी की जा रही है।
सड़क हादसे में पत्नी की मौके पर मौत पति गंभीर, पुलिस ने आरोपी ट्रक चालक को पकड़ा

सड़क हादसे में पत्नी की मौके पर मौत पति गंभीर, पुलिस ने आरोपी ट्रक चालक को पकड़ा

जगदलपुर। जिले के दरभा थाना अंर्तगत ग्राम नेगानार के पास एक तेज रफ्तार ट्रक ने बाइक से जा रहे दंपत्ति को जोरदार ठोकर मार दी जिससे पत्नी आयती की मौके पर ही मौत हो गई, वहीं पति पीलूराम गंभीर रूप से घायल हो गया है। पुलिस ने ट्रक चालक को पकड़ लिया है। पुलिस प्राप्त जानकारी के अनुसार छिंदावाड़ा के रहने वाले पीलूराम और आयती बाइक से किसी काम से जगदलपुर गए हुए थे। वापस लौटने के दौरान नेगानार के दयालु ढाबा के पास एक ट्रक ने उन्हें अपनी चपेट में लिया। हादसे में आयती की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई, जबकि पीलूराम बुरी तरह घायल हो गया। 

दरभा थाना प्रभारी लालजी सिन्हा ने बताया कि हादसे में मृतका के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजकर परीक्षण बाद उन्हें परिजनों को सौंप दिया गया, जबकि पीलूराम को मेकॉज में भर्ती किया गया है।
शहर के कपड़े दुकान में शॉट सर्किट से लगी आग, फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर

शहर के कपड़े दुकान में शॉट सर्किट से लगी आग, फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर

जगदलपुर। शहर के पुराना नरेन्द्र टाकीज के मार्ग पर एक कपड़े की दुकान में रविवार की रात्रि में शॉट सर्किट की वजह से आग लग गई। मौके पर पहुचकर पुलिस ने शटर खुलवाया तो पता चला की दुकान में रखे कपड़ो में आग नही लगी थी। शॉट सर्किट से सिर्फ वायर ही जलने तथा लोगों की सर्तकता के कारण बड़ा नुकसान नही हुआ है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार कपडे की कपड़े की दुकान विकास मेन्स वियर लॉक डाउन की वजह से बन्द थी। रात 8:30 बजे के करीब अचानक दुकान के शटर के नीचे से धुंआ निकलते हुए कुछ लोगो ने देखा। जिसकी जानकारी दुकान संचालक व पुलिस को दी गयी। धुंए के गुबार को देखते हुए फायर ब्रिगेड को भी बुलाया गया आग पर काबू पाया गया।
जमातियों की भीड़ देख उग्र हुए ग्रामीण, भेजा गया ओडिशा

जमातियों की भीड़ देख उग्र हुए ग्रामीण, भेजा गया ओडिशा

जगदलपुर। दंतेवाड़ा से ओडि़शा लाये गए 25 लोगों में 10 जमातियों को देखकर ग्रामीण उग्र हो गये। इस दौरान उनकी मदद के लिए गांव का युवक आगे आया लेकिन एक युवक द्वारा जमातियों के लिए खाना लाने पर गुस्साए ग्रामीणों ने युवक के घर को घेर लिया।

यह नगरनार थाना क्षेत्र से सटे ओडि़सा के चांदली चौकी का मामला है, जहां 25 लोगों को दंतेवाड़ा से ओडि़शा लाया गया था, जिसमें 10 जमाती भी शामिल थे। जमातियों को देख ग्रामीणों का आक्रोश भड़क उठा और उन्होंने जमकर हंगामा किया। मामला बिगड़ता देख पुलिस ने मोर्चा संभाला और सभी को कोटपाड़ शिफ्ट किया गया। 
मदिरा प्रेमियों के लिए खुशखबरी: दवा की दुकान के साथ दारू की दूकान खुलने की संभावना 4 से, पढ़े पूरी खबर

मदिरा प्रेमियों के लिए खुशखबरी: दवा की दुकान के साथ दारू की दूकान खुलने की संभावना 4 से, पढ़े पूरी खबर

जगदलपुर। लॉकडाउन के दूसरे चरण के खत्म होने के साथ ही 04 मई से शराब दुकानों को खोलने की तैयारी पूरी कर ली गई है। प्रशासनिक स्तर पर जिला आबकारी अधिकारी के द्वारा 04 मई से शराब की दुकान खुलने की संभावना को देखते हुए बकायदा अधिकारी-कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जाकर आदेश पारित कर दिया गया है। अब तक लोगों को दवा मिल रही थीं, 04 मई से लोगों को दारू भी मिलने लगेगी। 
 
उल्लेखनिय है कि शराब की दुकानों को खोलने का संकेत सरकार लगभग दे चुकी है। जिसके आधार पर जिला आबकारी अधिकारी जगदलपुर के द्वारा शराब की दुकान खुलने की स्थिति में आबकारी अधिकारियों एवं कर्मचारियों की ड्यूटी का आदेश पारित करना इसी ओर इशारा कर रहा है। वहीं दूसरी ओर बस्तर जिला प्रशासन के द्वारा पूरे बस्तर जिले के व्यापारियों की मांग के बावजूद आज दिनांक तक ग्रीन जोन बस्तर जिले में आवश्यक वस्तुओं को छोड़कर किसी भी दुकान को खोलने का आदेश नहीं दिया गया है। जिससे परेशान होकर व्यापारी संगठन जगदलपुर विधायक को ज्ञापन देकर अपनी परेशानी को जनप्रतिनिधि के सामने रखी है, इसके बाद भी जिला प्रशासन के द्वारा ग्रीन जोन बस्तर जिला में दुकानों को खोलने के लिए कोई आदेश आज दिनांक तक पारित नहीं किया गया है। वहीं इसके ठीक विपरीत ग्रीन जोन बस्तर जिला में प्रशासन ने कर्फ्यू लागू कर दिया है। केंद्र सरकार के गाइडलाइन के बावजूद ग्रीन जोन क्षेत्र में इसका लाभ व्यापारियों तथा अन्य कारोबारियों को नहीं मिल पा रहा है। 

गौरतलब है कि जिला आबकारी अधिकारी ने आदेश जारी करते हुए कर्मचारियों की ड्यूटी भी लगाई है। इसमें केवरामुंडा, हिकमीपारा, नया बस स्टैंड की अंग्रेजी शराब दुकान और गीदम रोड स्थित देशी शराब दुकान के लिए ड्यूटी रोस्टर तैयार किया गया है।
+ Load More