अच्छी खबर : सितंबर से देश में ही होगा स्पूतनिक-वी का उत्पादन...    |    कोरोना अपडेट : 24 घंटे में 41 हजार नए मामले, 541 लोगों की मौत    |    बड़ी खबर : इस BJP सांसद को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जाने क्या है मामला...    |    CG कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज रायपुर में मिले सर्वाधिक मरीज, 203 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, देखें जिलेवार आंकड़े    |    आईसीएमआर अपडेट : आज शाम तक मिले इतने कोरोना पॉजिटिव, देखे जिलेवार आकड़े    |    बड़ी खबर : जेल में बैरक की दीवार ढही, 22 कैदी गंभीर रूप से घायल    |    CG कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज एक्टिव मरीजो की संख्या हुई 2 हजार से कम, 243 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, देखें जिलेवार आंकड़े    |    बड़ी खबर: पान मसाला कंपनी पर आयकर का शिकंजा, 400 करोड़ रुपए के काले कारोबार का हुआ खुलासा    |    आईसीएमआर अपडेट : आज शाम तक मिले इतने कोरोना पॉजिटिव, आकडों में आज रायपुर से मिले सर्वाधिक    |    जज की संदिग्ध मौत पर सुप्रीम कोर्ट ने लिया संज्ञान, सरकार से एक हफ्ते में मांगा जवाब    |
एसीबी में फंसे शिक्षा विभाग के बंजारे की पत्नी ने कलेक्टर से रिहाई की मांग

एसीबी में फंसे शिक्षा विभाग के बंजारे की पत्नी ने कलेक्टर से रिहाई की मांग

बिलाईगढ़। विगत दिवस विकास खंड बिलाईगढ़ के शिक्षा विभाग में पदस्थ सहायक ग्रेड 2 के बाबू रथ राम बंजारे को एसीबी की टीम ने घूस लेने के जुर्म में गिरफ्तार की है।बंजारे बाबू की पत्नी लक्ष्मीन बंजारे पिपरभवना निवासी ने अपने पति पर की गई कार्यवाही का विरोध करते हुए उन्हें फंसाने की साजिश की गई है कहा। उन्होंने कहा की मेरे पति बेकसूर हैं उन्हें फंसाया गया है। उन पर की गई कार्यवाही पर नाराजगी जताते हुए कार्यवाही को निरस्त करने की मांग बलौदाबाजार जिला कलेक्टर से की है।

शिक्षा अधिकारी बिलाईगढ में सह.ग्रेड 2 के पद पर पदस्थ थे।उनके कार्यकाल में आज पर्यन्त तक कभी भी किसी प्रकार का लेन-देन, अनिमियता, नोटिस की शिकायत प्राप्त नहीं हुआ है। जिन्हें 23 जुलाई को स्वाधीन शर्मा पिता स्व.पि.के.शर्मा षडयंत्र रचना रच कर ऐ.सी.बी.रायपुर के व्दारा गिरफ्तार करवाकर उपजेल बलौदाबाजार भेजवा दिया है। कुछ दिन पहले कोवीड19 कोरोना के मरीज थे। जिसे बड़ी मुश्किल से प्रकोप से उपचार करवाकर बचाई गयी। उनका बी.पी./शुगर का इलाज चल रहा है। मैं स्वयं गंभीर गर्भाशय संबंधी बिमारी से जूझ रही हूं मेरा इलाज वी.वाय हास्पिटल रायपुर में चल रहा है। मेरे पति 54 वर्ष के बुजुर्ग व्यक्ति हैं यदि उन्हें या मुझे कुछ भी होता है तो इसका संम्पुर्ण जिम्मेदार स्वाधीन शर्मा पिता स्व.पि.के.शर्मा राजमहल पारा सरईपाली जिला महासमुन्द (छ.ग.) रहेंगे। हम अनुसूचित जाति होने के नाते हमारे साथ अन्याय,अत्याचार कर शोषण किया जा रहा है।

मिडिया समाचार पत्र में कहीं भी रिश्वत लेते रंगे हाथ से रकम मेरे पति के पाकैट ,हाथ,दराज, टेबल आदि पर बरामद नहीं हुआ है।जबरन डरा-धमकाकर बन्द कमरे में बल पूर्वक पहले से रखें हुए दुसरे प्रभार के कर्मचारी के अलमारी से नोट को निकलवाकर उनपर फर्जी मनगढ़ंत रूप से अपराध अधिरोपित कर जेल अभिरक्षा में भेजा है। जिसे जांच कर मेरे निर्दोष पति को जेल से मुक्त कर रिहा किया जावे।ममाले में झूठा आरोप करने वाले स्वाधीन शर्मा के विरुद्ध न्यायासंगत उचीत कड़ी से कड़ी कार्यवाही करने की कृप्पा करेंगे।

बड़ी खबर: सूचना आयोग ने जन सूचना अधिकारी पर लगाया 50 हजार का अर्थदंड

बड़ी खबर: सूचना आयोग ने जन सूचना अधिकारी पर लगाया 50 हजार का अर्थदंड

कुसमी। आरटीआई कार्यकर्ता डीके सोनी ने कन्हर नदी एनीकट योजना निर्माण के संबंध में एवं सूर्या ब्रदर्स को माह सितंबर से दिसंबर 2013 तक कितनी राशि भुगतान की गई के संबंध में जानकारी की मांग सूचना के अधिकार के तहत की थी। कार्यालय कार्यपालन अभियंता जल संसाधन संभाग क्रमांक 2 रामानुजगंज के समक्ष 8 अक्टूबर 2014 और 10 अप्रैल 2014 को अधिवक्ता व आरटीआई कार्यकर्ता सोनी ने सूचना के अधिकार के तहत जानकारी प्रदान करने का आवेदन प्रस्तुत किया था। जिसमें समयावधि में वांछित जानकारी प्राप्त ना होने पर डीके सोनी ने प्रथम अपील 18 नवंबर 2014 एवं 12 मई 2014 को प्रथम अपीलीय अधिकारी के समक्ष प्रथम अपील प्रस्तुत किया था। जिसमें प्रथम अपीलीय अधिकारी ने 28 नवम्बर 2014 एवं 9 जून 2014 को आदेश पारित करते हुए जानकारी निःशुल्क प्रदान करने को कहा था। जिसके उपरांत भी जानकारी प्रदान नहीं होने पर डीके सोनी ने 31 जनवरी 2015 एवं 5 जुलाई 2014 को धारा 18 के तहत राज्य सूचना आयोग में शिकायत प्रकरण क्रमांक सी/59/2015 एवं शिकायत प्रकरण क्रमांक सी/587/2014 प्रस्तुत किया था।


उक्त शिकायत आवेदन को राज्य सूचना आयोग ने पंजीबद्ध करते हुए जन सूचना अधिकारी कार्यालय कार्यपालन अभियंता जल संसाधन संभाग क्रमांक 2 रामानुजगंज को नोटिस जारी किया गया तथा तत्कालिक जन सूचना अधिकारी एनसी सिंह से जवाब मंगाया गया एवं विधिवत सुनवाई करते हुए 5 अप्रैल और 9 अप्रैल को शिकायत प्रकरण क्रमांक सी/59/2015 एवं सी/587/2014 में आदेश पारित करते हुए राज्य सूचना आयोग के सूचना आयुक्त मनोज त्रिवेदी ने एनसी सिंह तत्कालीन जन सूचना अधिकारी कार्यालय कार्यपालन अभियंता जल संसाधन विभाग क्रमांक 2 रामानुजगंज को 25000- 25000/- रुपए कुल 50,000/- रुपए का अर्थदंड धारा 20(1) के तहत आ अधिरोपित किया। कार्यालय अधीक्षण अभियंता श्याम बरनाई परियोजना मंडल अंबिकापुर जिला सरगुजा छत्तीसगढ़ एवं अधीक्षण अभियंता जल संसाधन विभाग जिला सरगुजा ने इनके वेतन से उक्त राशि शासन के खाते में जमा कर राज्य सूचना आयोग में पालन प्रतिवेदन प्रस्तुत करने का आदेश दिया है।

अवैध रेत खुदाई कर रहे ट्रैक्टर जेसीबी जप्त, एसडीएम ने की कार्रवाई

अवैध रेत खुदाई कर रहे ट्रैक्टर जेसीबी जप्त, एसडीएम ने की कार्रवाई

बलरामपुर: रामानुजगंज जिले में नदियों में पोकलेन व जेसीबी लगाकर रेत की अवैध खुदाई है। खुदाई के बाद रेत को ट्रक व ट्रैक्टरों में भरकर यूपी, एमपी में मोटे दामों में बेचा जा रहा है। इस पर रोक लगाने वाले जिम्मेदार भी चैन की नींद ले रहे हैं, उन्हें सिर्फ अपने कमीशन से मतलब है।

इधर कुसमी क्षेत्र में रेत की अवैध रूप से खुदाई कर निर्माण कार्यों में लगाया जा रहा है। सूचना मिलते ही अवैध रूप से नदी में रेत की खुदाई कर परिवहन में लगे 3 ट्रैक्टर एवं 2 जेसीबी मशीन को कुसमी एसडीएम आरएस लाल ने राजस्व अमले के साथ शनिवार को जब्त किया गौरतलब है कि बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के कुसमी क्षेत्र में कई शासकीय निर्माण कार्य चल रहे हैं जिसमें रेत की भी अच्छी-खासी खपत हो रही है। लेकिन ठेकेदारों ने नियम विरुद्ध तरीके से आसपास की नदियों में जिस प्रकार से जेसीबी मशीन लगाकर रेत की खुदाई कराई जा रही है, उससे नदी के अस्तित्व पर खतरा मंडराने लगा है। यह सब प्रशासन के नाक के नीचे हो रहा है लेकिन इस ओर कोई ठोस कार्यवाही नही की जा रही है। शनिवार को भी करौंधा रोड पर स्थित बेलगंगा नदी में ठेकेदारों ने 3 जेसीबी मशीन लगाकर रेत की खुदाई कर दर्जनों ट्रैक्टर से रेत का परिवहन किया जा रहा था। इसकी सूचना जब कुसमी एसडीएम आरएस लाल को मिली तो वे राजस्व अमले के साथ मौके पर पहुंच गए। इस बीच बारिश भी शुरू हो गई, इससे कई ट्रेक्टर व एक जेसीबी मशीन को मौका पाकर चालक ले भागे, जबकि 2 जेसीबी मशीन एवं 3 ट्रैक्टर को जब्त कर लिया गया। एसडीएम की इस कार्यवाही से वाहन मालिकों में हड़कंप मच गया है।


ठेकेदार से भरवाएंगे रॉयल्टी
इस संबंध में एसडीएम आरएस लाल ने बताया कि रेत का उपयोग शासकीय निर्माण कार्यों में किया जा रहा हैं। लेकिन नियम विरुद्ध तरीके से रेत का उत्खनन नहीं करने दिया जाएगा। मौके पर जाकर जांच की जाएगी और रेत कहां से कैसे निकाला जाना है, इसका दिशा निर्देश दिया जाएगा। इसके साथ ही ठेकेदारों से रॉयल्टी भी भरवाया जाएगा।

आपस में भिड़े दो ट्रक : ड्राइवर-कंडक्टर घायल, दूसरे ट्रक का चालाक फरार

आपस में भिड़े दो ट्रक : ड्राइवर-कंडक्टर घायल, दूसरे ट्रक का चालाक फरार

बिलाईगढ़। बीती रात नगर पंचायत भटगांव के स्टेट बैक के सामने गंभीर सड़क हादसा हो गया, जिसमें दो ट्रक आपस में भिड़ गए। बताया जा रहा स्टेट बैंक के सामने खड़ी ट्रक को पीछे से आ रही ट्रक ने जोरदार टक्कर मार दी। हादसे में एक ट्रक में कंडक्टर और ड्राइवर बुरी तरीके से फंस गए। घटना की जानकारी मिलते ही भटगांव पुलिस की टीम मौके पर पहुँची और फँसे हुए ट्रक चालक-कंडेक्टर को बाहर निकाला गया। भटगांव पुलिस को घंटों मशक्कत करना पड़ा। वहीं घायल ड्राइवर और कंडक्टर को इलाज के लिए हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया जहाँ से कंडक्टर की गंम्भीर स्थिति को देखते हुए बिलासपुर रिफर किया गया है। वही दूसरा वाहन चालक मौके से वाहन छोड़ फरार हो गया है।

बड़ी खबर; छत्तीसगढ़ के इस जिले में नाबालिगों ने 7वीं क्लास की छात्रा से किया गैंगरेप

बड़ी खबर; छत्तीसगढ़ के इस जिले में नाबालिगों ने 7वीं क्लास की छात्रा से किया गैंगरेप

बलरामपुर। छत्तीसगढ़ के बलरामपुर में नाबालिगों ने 7वीं क्लास में पढ़ने वाली एक बच्ची को अगवा कर उससे गैंगरेप किया। 12 साल की बच्ची 10वीं क्लास में पढ़ने वाली अपनी बड़ी बहन के साथ देर रात एक शादी कार्यक्रम से लौट रही थी। इसी दौरान 16-17 साल के 6 किशोरों ने उनका रास्ता रोक लिया। आरोपी छोटी बहन का मुंह दबाकर डेढ़ किमी घसीट कर ले गए और सामूहिक दुष्कर्म किया। किसी को बताने पर फिर से रेप की धमकी दी। मामले में FIR दर्ज होने के बाद सभी आरोपियों को पकड़ लिया गया है। मामला कुसमी थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, स्थानीय गांव में रहने वाली दो बहनें 27 जून को एक शादी समारोह में शामिल होने के बाद रात करीब 3.30 बजे घर लौट रही थीं। अभी वे घर से करीब 200 मीटर दूर पहुंची थी कि पहले से छिपे 6 किशोरों ने उनका रास्ता रोक लिया। इसके बाद दोनों बहनों को जबरदस्ती खींच कर ले जाने लगे। बड़ी बहन ने शोर मचाया तो दो आरोपियों ने उसे पकड़ लिया। जबकि 4 आरोपी छोटी बहन को घसीट कर ले गए। नदी किनारे दो आरोपियों ने उससे दुष्कर्म किया और दो पहरा दे रहे थे।

दुष्कर्म के बाद आरोपियों ने धमकी दी कि बताने पर फिर वह ऐसा करेंगे। वहीं बड़ी बहन से दो आरोपियों ने रेप का प्रयास किया तो उसने शोर मचाया। इस पर पड़ोस में रहने वाले दंपती बाहर निकले और टार्च जलाई। इस पर आरोपी उसे भी छोड़कर भाग गए। वहीं बड़ी बहन घर पहुंची और परिजनों को घटना के बारे में बताया। इसके बाद सभी बाइक लेकर छोटी बच्ची की तलाश करने के लिए निकले तो वह नदी किनारे बेहोश पड़ी मिली। घटना के बाद से बच्ची सदमे में है। वह न सोती है और न घर वालों से बात कर रही है।



छत्तीसगढ़ BREAKING: नदी में डूबने से दो सगे भाइयों सहित 3 बच्चों की मौत

छत्तीसगढ़ BREAKING: नदी में डूबने से दो सगे भाइयों सहित 3 बच्चों की मौत

 बलरामपुर। छत्तीसगढ़ के बलरामपुर में बुधवार को नदी में डूबने से दो सगे भाइयों सहित 3 बच्चों की मौत हो गई। तीनों बच्चे एक साथ चनान नदी में नहाने के लिए गए थे। सूचना मिलने पर आपदा प्रबंधन की टीम मौके पर पहुंच गई है। पहले दोनों सगे भाइयों के शव बरामद हुए। इसके तीन घंटे बाद तीसरे बच्चे का भी शव बरामद हो गया है। इसके बाद परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। हादसा कोतवाली क्षेत्र में हुआ है।

जानकारी के मुताबिक, शहर से करीब 10 किमी दूर नवडीह गांव निवासी सगे भाई दिनेश (10) व प्रियांशु (7) वहीं पास में रहने वाले अपने एक दोस्त रंजीत (7) के साथ बुधवार सुबह करीब 11 बजे परिजनों को बिना बताए घर से कुछ दूर बह रही चनान नदी में नहाने के लिए गए थे। बताया जा रहा है कि तीनों बच्चे दौड़ते हुए गए और नदी में कूद पड़े। इसके बाद वे गहरे पानी में फंस गए थे। जानकारी पर परिजनों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। गोताखोरों को भी बुला लिया गया। इसके बाद बच्चों की तलाश शुरू हुई। करीब एक घंटे बाद दोनों भाइयों दिनेश और प्रियांशु के शव मिल गए, लेकिन तीसरे बच्चे रंजीत का पता नहीं चल रहा था। काफी कोशिशों के बाद गोताखोर दोपहर करीब 2 बजे घटना स्थल से दूर उसका शव बरामद कर सके।

कृषि विभाग की लापरवाही: किसानों को बांटी जाने वाली कीटनाशक मिली कचरे मे

कृषि विभाग की लापरवाही: किसानों को बांटी जाने वाली कीटनाशक मिली कचरे मे

बलरामपुर। किसानों के खेती में उपयोग लाए जाने वाले किटनाशक दवाइयों की बड़ी मात्रा कचरे की ढेर में मिली है यह विभाग के अधिकारियो की घोर लापरवाही है। कही न कही ये मामला अ​धिकारियों की निरंकुश्ता को प्रदर्शित करता है। लंबे समय से बाटने के लिए रखे रखे दवाइयां एक्सपायर हो गई है। जिसके बाद ​अधिकारी अपनी बला टालने कीटनाशक दवाइयों को सड़क किनारे फेंक दिए है। आपकों ​बता दें कि बलरामपुर जिले के सुभासनगर में लावारिस हालत में सड़क किनारे कीटनाशक दवा की खेप मिलने से हड़कम्प मच गया।

यह अंदेशा लगाया जा रहा है कि इन दवाइयों को किसानों में बाटने के लिए रखा गया था किन्तु रखे-रखे दवाइयां एक्सपायरी हो जाने के कारण यह बेकार हो गई। मौका देख कर इन दवाओं को फेक दिया गया है। हजारों की यह दवाइयां बेकार हो गई है। अगर इन दवाओं को समय रहते उपयोग कर लिया गया होता तो शायद हजारों रुपए की यह दवाइयां सड़क किनारे नहीं मिलती।आमतौर पर कृषको को कृषि,उद्यान,रेशम व वन विभाग इस तरह के कीटनाशक दवाएं उपलब्ध कराता है। किसानों को कीटनाशक दवाओं के लिए भटकना ना पड़े। सुभाष नगर में इतनी बड़ी मात्रा में दवाई/कीटनाशक की खेप मिलने से हड़कम्प मच गया। निश्चित ही यह कीटनाशक व दवाइयां कृषको को वितरण करने के लिए थी। किंतु दवाइयों का उपयोग नहीं होने के वजह से ये बेकार हो हो चुकी है। जहां एक और किसानों की हितैशी बनी सरकार किसानों की चिंता कर रही है.वही रखे-रखे लाखो की दवाईयां कचरे के ढेर मे पड़ी मिली है। अब देखना होगा की क्या एक्शन ली जाती है।


जिले के प्रभारी उपसंचालक कृषि अजय अनन्त का कहना है। की जो कीटनाशक दवाएं सड़क किनारे मिली है उसका सप्लाई आर्डर तीन वर्षों तक कृषि विभाग ने नही कराया है,ऐसे में अब जांच टीम को यह पता लगाना होगा की यह कीटनाशक कौन से विभाग ने सप्लाई की है और लावारिस हालत में आखिर कीटनाशक की खेप पड़ी मिली है। फिलहाल गांव में लावारिस पड़ी कीटनाशक का पता लगाने के लिए उद्यान और कृषि विभाग के अधिकारी जुटे हुए हैं जल्द मामले का खुलासा हो।

 

नदी में बहकर आया महिला का शव, हत्या करके फेंके जाने की आशंका

नदी में बहकर आया महिला का शव, हत्या करके फेंके जाने की आशंका

बलरामपुर। बलरामपुर जिले के सनावल थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम इन्द्रावतीपुर जंगल के समीप कन्हर नदी में 16 जुन को बाढ़ में बहकर आया हुआ एक अज्ञात महिला का शव मिला है जिससे आसपास के क्षेत्र में सनसनी फ़ैल गई, प्राप्त जानकारी अनुसार मछुआरे ने नदी में शव दिखने की सुचना गांव के सरपंच को दी जिसके बाद इस मामले की जानकारी सनावल थाना प्रभारी अमित बघेल को मिलने पर वह तत्काल अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे आसपास के ग्रामीणों से पुछताछ कर शव को पहचान करने की कोशिश की गई परंतु लंबे समय तक पानी में रहने के कारण शव की पहचान नहीं हो सकी पुलिस को आशंका है कि हत्या करके शव को नदी में फेंका गया है ग्रामीणों की उपस्थिति में शव का पंचनामा बनाकर पोस्टमार्टम के पश्चात सनावल थाना प्रभारी एवं उनकी टीम ने शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया है। सनावल पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है सनावल पुलिस से मिली जानकारी अनुसार अज्ञात मृतिका महिला के शव में लाल रंग की साड़ी हरे रंग का पेटीकोट छींटदार कत्थई रंग का ब्लाउज शव था महिला की उम्र लगभग 30-40 वर्ष के बीच है। महिला के हाँथ तथा पैर में गोदना बना हुआ है।
सनावल थाना प्रभारी अमित बघेल ने लोगों से अपील कि है
नदी में बहकर आए हुए मृतिका महिला के संबंध में कोई जानकारी हो तो सनावल पुलिस का संपर्क नंबर 9479193813, 9009500750 व पत्रकारों के नंबर पर 9098198005, 91098 80011 में फोन करके जरूर बताएं साथ ही कहीं कोई महिला गुमशुदा हो तो भी इन संपर्क नंबर पर फोन कर सुचना जरूर देवें।
 

वट सावित्री पूजन के दौरान वृक्ष में लगे धागों में लगी आग, मची अफरा-तफरी

वट सावित्री पूजन के दौरान वृक्ष में लगे धागों में लगी आग, मची अफरा-तफरी

बलरामपुर | नगर के वार्ड क्रमांक 7 में स्थित प्राचीन शिव मंदिर के सामने स्थित बरगद के वृक्ष में आज महिलाएं पूजा अर्चना करने पहुंची थी उसी दौरान गलती से पेड़ में बांधे गए धागे में आग की लपटें तेजी से उठने लगी जिसके बाद यहां अफरा-तफरी का माहौल निर्मित हो गया। मौके पर ही नगर पंचायत के कर्मचारी अजय गुप्ता एवं  सफाई कर्मी उपस्थित है जिनके द्वारा तत्काल आग पर काबू पा लिया गया।

गौरतलब है कि वट सावित्री की सबसे मुख्य पूजा प्राचीन शिव मंदिर के सामने स्थित बरगद वृक्ष में होती है जहां पूरे नगर से महिलाएं पूजा अर्चना करने आती है महिलाओं की यहां इतनी संख्या हो जाती है कि महिलाओं के द्वारा जो धागा बांधा जाता है वह काफी मोटा हो गया था। यहां सुबह 4 बजे से ही महिलाएं पूजा अर्चना के लिए पहुंचना शुरू हो गई थी वही 11 बजे के करीब किसी ने जो धागा बांधा गया था उसके नीचे दिया जला दिया गया जिसके बाद कुछ ही देर में आग की लपटे तेजी से उठने लगी वह पूरा धागा जलने लगा साथ ही पेड़ को भी नुकसान होने लगा वही मौके पर मौजूद नगर पंचायत के कर्मचारी अजय गुप्ता एवं सफाई कर्मियों की तत्परता से तत्काल आग पर काबू पाया जा सका जिसके बाद सभी ने राहत की सांस ली अचानक आग लगने से वहां अफरा-तफरी का माहौल निर्मित हो गया था।
 छत्तीसगढ़: नदी के पास पेड़ में फांसी पर झूलती मिली महिला की लाश

छत्तीसगढ़: नदी के पास पेड़ में फांसी पर झूलती मिली महिला की लाश

बलरामपुर।  जिले के रामानुजगंज ग्राम छोटकी चिनिया संगीता देवी पिता भीरू सिंह की शादी पिछले 8 मई को झारखंड  के बानूटीकर गांव के उपेंद्र सिंह से हुई थी  रविवार को छत्तीसगढ़ की सीमा से सटे कन्हर नदी के डोंगा घाट जंगल क्षेत्र में नवविवाहिता का शव पेड़ से झूलता मिला। नवविवाहिता के पिता ने हत्या की आशंका जताई है। मामले में झारखंड के रंका थाना में मर्ग कायम कर शव का पोस्टमार्टम करा शव परिजनों को सौंप दिया गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार छोटकी चिनिया के संगीता देवी उम्र 19 वर्ष की शादी झारखंड के बालूटीकर गांव से उपेंद्र से 8 मई को ही थी 22 मई को वह पति के साथ ससुराल से मायके आई थी। संगीता के पिता का घर छत्तीसगढ़ के छोटकी चिनिया एवं झारखंड में ग्राम पानिदोहर मे भी था जो शादी के बाद झारखंड में ही पिता के घर में रह रही थी। वही 29 मई को सुबह 8 बजे संगीता शौच के लिए घर से निकली थी उसके बाद वह नहीं लौटी जिसके उसकी खोजबीन की जाने लगी। इसी बीच परिवार जनों  घर से 10 किलोमीटर दूर पेड़ से लटकता शव होने की जानकारी  परिवार वालों को मिली तब मौके पर पहुंचे तो देखा कि बेटी का शव पेड़ से लटका हुआ है।जिसके बाद परिजनों ने घटना की जानकारी रंका थाने में दी। बताया जा रहा है कि संगीता का बात दो युवकों से होता था उन्हीं पर हत्या की आशंका जताई जा रही है।

प्रेम प्रसंग के चलते हत्या की आशंका संगीता का प्रेम प्रसंग चिनिया गांव के ही एक युवक से था ऐसे में परिजनों के द्वारा आशंका जताई जा रही है कि हत्या युवक के द्वारा ही की गई है इस संबंध में रंका थाना में भी आवेदन दिया है। 
 महुआ पेड़ में करीब 15 फीट ऊंचाई पर फांसी से झूलती मिली किशोरी की लाश,जांच में जुटी पुलिस

महुआ पेड़ में करीब 15 फीट ऊंचाई पर फांसी से झूलती मिली किशोरी की लाश,जांच में जुटी पुलिस

बलरामपुर। रामानुजगंज नगर सीमा से सटे ग्राम पंचायत पुरानडीह  के वार्ड क्रमांक 9 राइस मिल रोड में महुआ पेड़ में करीब 15 फीट ऊंचाई पर किशोरी का पेड़ पर फांसी से झूलता शव मिला था जिस पर थाने में मर्ग कायम कर शव का पोस्टमार्टम करा शव परिजनों को सौंप दिया गया था  परिजनों का आरोप है कि बेटी ने आत्महत्या नहीं की है बल्कि उसकी हत्या की गई है वही आज इसकी निष्पक्ष मांग को लेकर बड़ी संख्या में घटनास्थल के नजदीक एकत्रित हुए थे वही मौके पर एनएसयूआई जिलाध्यक्ष  अभिषेक सिंह मौके पर पहुंचे।

प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत पुरानाडीह सुनील की 17 वर्षीय पुत्री सुषमा कुमारी बुधवार  कि सुबह घर से ?200 लेकर निकली थी जिसके बाद वह शाम तक जब घर नहीं लौटी तो घरवाले सुषमा खोजबीन करने लगे वही  दूसरे दिन राइस मिल रोड में सुषमा महुआ के पेड़ में करीब 15 फीट ऊंचाई पर फांसी लटका हुआ शव मिला। सुषमा के परिजनों ने आरोप लगाया कि बेटी की हत्या की गई है। आज बड़ी संख्या में ग्रामीण घटनास्थल के नजदीक मामले की निष्पक्ष जांच की मांग को लेकर एकत्र हुवे वही मौके पर एनएसयूआई जिला अध्यक्ष अभिषेक सिंह भी पहुंचे जहां ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि  जब परिजन थाने में आवेदन देने गए तो आवेदन में पावती नहीं दी गई जिस पर एनएसयूआई जिला अध्यक्ष ने नाराजगी जताई कहा कि मामले की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए वहीं  कहा यदि कोई फरियाद फरियाद लेकर थाना पहुंचता है तो कम से कम उसके आवेदन में पावती जरूर देनी चाहिए।

 प्रेमी पर है शक........ सुषमा के परिजनों को घर में ही एक फोटो मिला जिसमें सुषमा का फोटो गांव के ही एक युवक के साथ है फोटो में सुषमा सिंदूर लगाई हुई है इसे लेकर सुषमा का परिजनों का सुषमा के प्रेमी शक गहरा रहा है।

जिस दिन हुई थी गायब उसी दिन था प्रेमि का तिलक.......... बुधवार के सुबह 11 बजे सुषमा घर से निकली थी शाम तक वापस नहीं लौटी थी वही उसी दिन उसके प्रेमी का तिलक  था जिसकी आज शादी हो रही है। सुषमा के परिजनों ने मांग की है कि मामले की  निष्पक्षता से जांच हो।
चप्पल पैसा मोबाइल था गायब......... परिजनों ने आरोप लगाया कि पेड जितनी ऊंचाई पर सुषमा का शव फांसी से लटकते मिला उतनी ऊंचाई पर चढऩा उसके लिए संभव नहीं था वही उसका चप्पल पैसा मोबाइल गायब था।
 बड़ी खबर: छत्तीसगढ़ के इस जिले के पूर्व अपर कलेक्टर की कोरोना से मौत

बड़ी खबर: छत्तीसगढ़ के इस जिले के पूर्व अपर कलेक्टर की कोरोना से मौत

बलरामपुर। छत्तीसगढ़ के बलरामपुर जिले में एक माह पूर्व अपर कलेक्टर रहे विजय कुजुर कोरोना के जंग में हार गए और उनकी मृत्यु हो गई। मृदुभाषी और सबकी सहयोग करने वाले स्वर्गीय विजय कुजुर कोरोना संक्रमित थे। जिनका उपचार अंबिकापुर के एक प्राइवेट अस्पताल में किया जा रहा था। सोमवार के दिन शाम के वक्त कोरोना के जंग में हार गए गौरतलब हो कि राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी रहे स्वर्गीय विजय कुजुर पिछले माह तक जिले के अपर कलेक्टर के पद पर पदस्थ थे। तत्पश्चात लगभग एक माह पूर्व सेवानिवृत्त हो गए स्वर्गीय विजय कुजुर रामानुजगंज के अपर कलेक्टर न्यायालय में भी लिंक कोर्ट लिया करते थे। यह दंतेवाड़ा और जशपुर जिले में भी अपर कलेक्टर के पद पर सेवा दी थी।
 छत्तीसगढ़ लॉकडाउन ब्रेकिंग : छत्तीसगढ़ के इस जिले में बढ़ाया गया लॉकडाउन, जाने कब से कब तक

छत्तीसगढ़ लॉकडाउन ब्रेकिंग : छत्तीसगढ़ के इस जिले में बढ़ाया गया लॉकडाउन, जाने कब से कब तक

बलरामपुर। छत्तीसगढ़ के बलरामपुर रामानुजगंज जिले में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मद्देनजर कलेक्टर श्याम धावडेÞ ने जिले में 31 मई रात्रि 12:00 बजे तक लॉकडाउन का आदेश जारी कर दिया है। कलेक्टर ने अपने पिछले आदेश में 23 मई तक लॉकडाउन का आदेश जारी किया था।

अब पुन: लॉकडाउन को बढ़ाकर 31 मई तक कर दिया गया है। उपरोक्त अवधि में बलरामपुर रामानुजगंज जिले की संपूर्ण सीमाएं सील रहेंगे। सभी प्रकार के सभा जुलूस सामाजिक धार्मिक राजनीतिक कार्यक्रम पूर्णत: प्रतिबंधित रहेंगे जिले में विवाह कार्यक्रम भी पूर्णत: प्रतिबंधित रहेंगे।
इस जिले में मिला ब्लैक फंगस का पहला मामला, मरीज रायपुर रेफर...

इस जिले में मिला ब्लैक फंगस का पहला मामला, मरीज रायपुर रेफर...

बलरामपुर। सरगुजा संभाग के बलरामपुर में ब्लैक फंगस का पहला मामला सामने आया है। बलरामपुर के 60 वर्षीय बुजुर्ग में इस बीमारी की पुष्टि की गई है। आंख और नाक में परेशानी के बाद जांच में ब्लैक फंगस की पुष्टि हुई थी। जिले में इलाज की सुविधा नहीं होने पर मरीज को रायपुर रेफर किया गया है।

Read Also:- मुख्यमंत्री बघेल आज लेंगे कैबिनेट की बैठक, कोरोना रोकथाम-वैक्सीनेशन पर हो सकता है बड़ा 
गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में ब्लैक फंसग से अब तक 3 मरीजों की मौत हो चुकी है। दुर्ग में ही ब्लैक फंगस से दो मरीज दम तोड़ चुके हैं।
 

 लॉकडाउन छत्तीसगढ़ : इस जिले में 23 मई तक बढ़ाया गया लॉकडाउन

लॉकडाउन छत्तीसगढ़ : इस जिले में 23 मई तक बढ़ाया गया लॉकडाउन

बलरामपुर। सरगुजा संभाग के बलरामपुर जिला में लॉकडाउन की अवधी को बढ़ाया गया है। इसे लेकर जिला कलेक्टर श्याम धावड़े ने आदेश जारी कर दिया है। नया आदेश के अनुसार 23 मई तक ​जिले में लॉकडाउन प्रभावी रूप से लागू रहेगा। बता दें कि बलरामपुर में कोरोना के केस थम नहीं रहे हैं। लगातार मामलों में बढ़ोतरी देखी जा रही है। जिसके चलते जिला कलेक्टर ने लॉकडाउन की अवधी को बढ़ाया है।
 छत्तीसगढ़ : तेज़ आंधी के कारण युवक पर हाइटेंशन तार गिरने से हुई मौत

छत्तीसगढ़ : तेज़ आंधी के कारण युवक पर हाइटेंशन तार गिरने से हुई मौत

बलरामपुर। छत्तीसगढ़ के बलरामपुर जिले के वाड्रफनगर रघुनाथनगर अंतर्गत ग्राम पंचायत गैना विद्युत तार की चपेट में आने से एक युवक की मौत हो गई। गांव में शाम को अचानक आंधी तूफान आई। इसी दौरान युवक पर विद्युत तार गिर गया। जिससे युवक की मौके पर ही मौत हो गई। बहरहाल, पुलिस इस मामले की जांच में जुटी हुई है। मिली जानकारी के अनुसार वाड्रफनगर रघुनाथनगर अंतर्गत ग्राम पंचायत गैना में शाम को अचानक मौसम का मिजाज बदल गया। तेज आंधी के साथ बारिश होने लगी। तेज हवाओं के चलते विद्युत पोल अचानक गिर गया। इसी पोल से मृतक युवक सुरेन्द्र सिंह मरकाम पिता बिरबल सिंह मरकाम के घर में लाइन आती थी। वह क्षत-विक्षत हो गया था। युवक उसी को सही करने पहुंचा हुआ था। इसी दौरान वह करेंट की चपेट में आ गया। और उसकी मौके हो गई। वहीं घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय ग्रामीण मौके पर पहुंचे और ट्रांसफार्मर से डीओ को उतार कर शव को अलग किया। जिसके बाद पुलिस की टीम।मौके पर पहुच गई।
 छत्तीसगढ़ : सब्जी से भरी पिकअप वाहन अनियंत्रित होकर पेड़ से टकराई, चालक की  मौत

छत्तीसगढ़ : सब्जी से भरी पिकअप वाहन अनियंत्रित होकर पेड़ से टकराई, चालक की मौत

बलरामपुर। जिले के कोसाबाड़ी के पास अनियंत्रित सब्जी लोड पिकअप पेड़ से टकराई टक्कर इतनी भीषण थी पिकअप वाहन के परखच्चे उड़ गए और चालक की पिकअप वाहन में दबने से ही मौत हो गई। वहीं घटना की जानकारी लगते ही हाईवे पेट्रोलिंग वाहन की टीम एवं यातायात विभाग की टीम घटना स्थल पर पहुंच गई है। उन्होंने बताया कि हादसा सुबह करीब 5 या 6 के बीच हुआ है। जिसमें पिकअप सब्जी लोड कर अंबिकापुर की ओर से रामानुजगंज की ओर जा रहा थी। जो कोसाबाड़ी के पास अनियंत्रित होकर पेड़ से टकरा गई है। वही पिकअप वाहन चालक वाहन में फंसने से उसकी मौत हो गई है।


वह पिकअप वाहन में फंसे चालक को जेसीबी की मदद घंटों मशक्कत के बाद बाहर निकाला गया। जिसके पश्चात शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया।
BIG BREAKING : छत्तीसगढ़ के एक और जिले में लॉकडाउन आदेश हुआ जारी, देखें आदेश

BIG BREAKING : छत्तीसगढ़ के एक और जिले में लॉकडाउन आदेश हुआ जारी, देखें आदेश

बलरामपुर | छत्तीसगढ़ के बलरामपुर जिले में भी कोरोना के बढ़ते संक्रमण के चलते आज कलेक्टर श्याम धावडे ने लॉकडाउन का आदेश जारी कर दिया है | जारी आदेश के अनुसार बलरामपुर जिले में 14 अप्रैल शाम 6:00 बजे से 25 अप्रैल रात्रि 12:00 बजे तक बलरामपुर रामानुजगंज जिले में संपूर्ण लॉकडाउन लगाया गया है। लॉक डाउन की अवधि में बलरामपुर रामानुजगंज जिले के संपूर्ण सीमाएं सील रहेंगे साथ ही आपातकालीन एवं मेडिकल सेवाओं को खुली रखने की अनुमति रहेगी।

देखें विस्तृत आदेश :-

 छत्तीसगढ़: 10वीं-12वीं के छात्र और छत्राओं ने किया ऑफलाइन परीक्षा का विरोध

छत्तीसगढ़: 10वीं-12वीं के छात्र और छत्राओं ने किया ऑफलाइन परीक्षा का विरोध

बलरामपुर। छत्तीसगढ़ के बलरामपुर जिले में 10वीं-12वीं के छात्र-छात्राएं ऑफलाइन परीक्षा का विरोध कर रहे हैं। उनकी मांग है कि परीक्षाएं ऑनलाइन ही कराई जाए, क्योंकि क्लासेस भी ऑनलाइन ही ली गई है। ऐसे छात्र चाहते हैं कि ‘जैसी शिक्षा वैसी परीक्षा’ होनी चाहिए।

छात्रों का कहना है कि जिस तरह से 10वीं और 12वीं की ऑनलाइन क्लास चल रही थी, उसी तरीके से ऑनलाइन परीक्षा भी सुनिश्चित की जाए। इसी मांग को लेकर आज बलरामपुर जिला मुख्यालय में 10वीं-12वीं के छात्र-छात्राएं हाथों में तख्तियां लेकर घंटों सड़क पर बैठे रहे।

छात्रों ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और शिक्षा मंत्री के नाम नायब तहसीलदार तोस कुमार सिंह को ज्ञापन सौंपा है। नायब तहसीलदार तोस कुमार सिंह ने बताया कि हमारे उच्च अधिकारी के मार्गदर्शन पर आगे फॉरवर्ड किया जाएगा।
 बड़ी खबर: पति-पत्नी बेरहमी से हत्या, लाके में दहशत का माहौल

बड़ी खबर: पति-पत्नी बेरहमी से हत्या, लाके में दहशत का माहौल

बलरामपुर। बलरामपुर जिले में दिन दहाड़े दम्पत्ति की बेरहमी से हत्या का मामला सामने आया है। बलरामपुर जिले के पस्ता थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत उलिया के जंगल में मुख्य मार्ग में गुरुवार को पति-पत्नी की सरेराह हत्या कर दी गई। इससे इलाके में दहशत का माहौल है। दोनों पति-पत्नी बाइक से अपने घर जा रहे थे। तभी रास्ते में रास्ता रोककर उनके सिर को बुरी तरह कुचल कर हत्या की गई है। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने विवेचना शुरू कर दी है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक विजय नगर मेघुली के रहने वाले रहमतुल्लाह और आइशूनिशा अपने बेटी के ससुराल नावाडीह विवाद सुलझाने के लिए गए हुए थे। बेटी के ससुराल से दोनों पति-पत्नी बाइक में सवार होकर अपने घर जा रहे थे। तभी रास्ते में अज्ञात लोगों ने रास्ता रोककर बेरहमी से उनकी हत्या कर दी। इस वारदात से पूरे इलाके में लोग दहशत में है। सूचना मिलने के बाद जिले के एसपी रामकृष्ण साहू और अंबिकापुर से फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंची है, पुलिस ने हत्या की आशंका मानकर जांच कर रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही हत्या का कारण स्पष्ट होगा। पुलिस की टीम संदिग्धों की तलाश में जुट गई है।
 
शासकीय कार्य में लापरवाही बरतने पर आंतरिक लेखा परीक्षण व करारोपण अधिकारी निलंबित

शासकीय कार्य में लापरवाही बरतने पर आंतरिक लेखा परीक्षण व करारोपण अधिकारी निलंबित

 बलरामपुर। जनपद पंचायत बलरामपुर के सहायक आंतरिक लेखा परीक्षण और करारोपण अधिकारी मोहर साय तिर्की के विरूद्ध जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी की ओर से शासकीय कार्य में रूचि नहीं लेने, कार्यालय उपस्थिति पंजी में हस्ताक्षर कर चले जाने, नशे में रहने, सौंपे गये दायित्व को पूर्ण न करने व वरिष्ठ कार्यालय के आदेशों की अवहेलना करने के संबंध में जिला कार्यालय को शिकायत प्रेषित कर निलंबित करने की अनुशंसा की गई थी। मोहर साय तिर्की का उपरोक्त कृत्य छत्तीसगढ़ सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के नियम-3 के विपरीत कदाचरण की श्रेणी में आता है। कलेक्टर श्याम धावड़े द्वारा उक्त कृत्य के लिए मोहर साय तिर्की को छत्तीसगढ़ सिविल सेवा नियम 1966 के प्रावधानों के तहत् तत्काल प्रभाव से निलंबित कर उनका मुख्यालय कार्यालय उप संचालक, पंचायत नियत किया गया है। निलंबन अवधि में तिर्की को नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता होगी।

जंगल में मिला दो भालू शव, वन विभाग ने किया अंतिमसंस्कार

जंगल में मिला दो भालू शव, वन विभाग ने किया अंतिमसंस्कार

कुसमी । बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के कुसमी रेंज अंतर्गत ग्राम सिविलदाग गांव के बीट क्रमांक 3022 में डाड़ीकोना जंगल में ग्रामीणों ने दो दिन पूर्व 2 भालुओं के शव को देखा था। इसकी सूचना वन विभाग को बुधवार को मिली। इस पर कुसमी रेंजर आरके रावत दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे। मृत भालुओं के शव को कुसमी लाया गया। यहां दोनों का अंतिम संस्कार कर दिया गया।
एक साथ 2 भालुओं की मौत की सूचना मिलने पर कुसमी वन परिक्षेत्र के एसडीओ विजय भूषण केरकेट्टा भी कुसमी पहुंच गए। यहां भालुओ के शवों का पीएम पशुचिकित्सा अधिकारी डॉ. मनु एक्का ने किया।
इस संबंध में एसडीओ विजय भूषण ने बताया कि अभी वन्य प्राणियों के सहवास का सीजन है, इससे वन्य प्राणी आक्रामक स्थिति में रहते हैं। मृत भालुओ में एक नर व एक मादा थी, इससे प्रथम दृष्टया लगता है कि आक्रामक होने की वजह से दोनों में काफी संघर्ष हुआ व अंदरूनी चोट लगने की वजह से उनकी मौत हो गई। एसडीओ ने कहा कि यदि इनका शिकार किया गया होता तो पित्ताशय, सहित अन्य अंग गायब रहते। एसडीओ ने कहा कि पीएम रिपोर्ट में यदि मौत के अन्य कारण सामने आते हैं तो उसी के हिसाब से आगे की जांच-कार्यवाही की जाने की बात कही है । बताया जा रहा हैं कि दो तीन दिन पूर्व रात में कतारीकोना एवं सिविलदाग के लोग जंगल में भालुओं की तेज-तेज आवाज सुनकर दहशत में आ गए थे।
 

इस वर्ष भी कक्षा पहली से आठवीं तक के लिए कौन सी नीति लागू रहेगी

इस वर्ष भी कक्षा पहली से आठवीं तक के लिए कौन सी नीति लागू रहेगी

बलरामपुर जिला शिक्षा अधिकारी बी. एक्का ने बताया कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति के अनुपालन में छत्तीसगढ़ राज्य में पहले से ही यह नीति है कि कक्षा 1ली से कक्षा 8वीं तक के बच्चों को परीक्षा के आधार पर पिछली कक्षा में नहीं रोका जाता हैै। कक्षा 1ली से 8वीं तक के समस्त बच्चों को सामान्य रूप से अगले शिक्षा सत्र में अगली कक्षा में प्रवेश दिया जाता है। सभी विद्यालयों में बच्चों की अकादमिक उपलब्धियों का सतत् मूल्यांकन किया जाता है और उसके आधार पर सभी बच्चों को आवश्यक शिक्षण देने की व्यवस्था की जाती है। इस वर्ष भी कक्षा 1ली से 8वीं तक के लिए यही नीति लागू रहेगी। पढ़ई तुंहर दुआर में विभिन्न विधियों से ऑनलाइन तथा ऑफलाइन कक्षाएं संचालित की जा रही हैं साथ ही बच्चों का एसेसमेण्ट कर पोर्टल में अपलोड किया जा रहा है। विविध तरीकों से किये गये आंकलन के आधार पर विद्यार्थियों को प्रगति पत्र प्रदान किया जायेगा। 

 बड़ी खबर: एसडीएम और तहसीलदार लापता, कांग्रेस विधायक ने सूचना देने वाले को इनाम देने का किया ऐलान

बड़ी खबर: एसडीएम और तहसीलदार लापता, कांग्रेस विधायक ने सूचना देने वाले को इनाम देने का किया ऐलान

बलरामपुर। जिले के रामानुजगंज में दो अधिकारियों के लापता होने की खबर है। बताया जा रहा है कि एसडीएम अभिषेक गुप्ता और तहसीलदार विवेक चंद्र 24 घंटे से लापता हैं। दोनों अधिकारियों का मोबाइल भी बंद आ रहा है। 

दरअसल रामानुजगंज के विधायक बृहस्पत सिंह ने एसडीएम और तहसीलदार के अचानक लापता होने को लेकर पोस्ट वायरल किया है। विधायक बृहस्पत सिंह ने पोस्ट में लिखा है कि, सडीएम अभिषेक गुप्ता और तहसीलदार विवेक चंद्र लापता है और उनका फोन भी बंद आ रहा है उन्होंने यह भी लिखा है कि दोनों वरिष्ठ अधिकारी अपने निवास पर भी नहीं है, और उनका कहीं भी पता नहीं चल रहा है। अधिकारियों के इस तरह गायब हो जाने से सभी परेशान हैं। क्षेत्रीय विधायक ने दोनों अधिकारियों की सूचना देने वाले शख्स को 11 सौ रुपये इनाम देने की भी घोषणा की है। बरहाल इन दोनों अधिकारियों के अचानक मोबाइल बंद होने और पता नहीं चलने से कई सवाल खड़े हुए है। 
 बड़ी खबर छत्तीसगढ़: इस होटल में युवक-युवती का शव मिलने से मचा हड़कंप, मौके पर पहुंची पुलिस

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: इस होटल में युवक-युवती का शव मिलने से मचा हड़कंप, मौके पर पहुंची पुलिस

बलरामपुर। छत्तीसगढ़ के बलरामपुर ज़िला मुख्यालय स्थित होटल युवक-युवती का शव मिलने से हड़कंप मच गया है। घटना स्थल को देखने के आधार पर पुलिस ने यह आशंका जताई है कि युवक ने पहले युवती की हत्या की और फिर ख़ुदकुशी कर गया। 

दोनों के मिले आधार कार्ड-
मृतकों के पास से मिले आधार कार्ड के आधार पर उनकी पहचान विद्युत विश्वास और रिक्ता मिस्त्री के रुप में की गई है।ये कंचन नगर और चंद्र नगर के निवासी के रुप में आधार कार्ड में दर्ज हैं। पुलिस उनके परिजनों की तलाश में जुटी है।
+ Load More