• -

COVID-19 :

Confirmed :

Recovered :

Deaths :

Maharashtra / 230599 Tamil Nadu / 126581 Delhi / 104864 Gujarat / 38419 Uttar Pradesh / 31156 Karnataka / 28877 Telangana / 29536 West Bengal / 25911 Andhra Pradesh / 23814 Rajasthan / 22212 Haryana / 19364 Madhya Pradesh / 16341 Assam / 14033 Bihar / 13978 Odisha / 11201 Jammu and Kashmir / 9261 Punjab / 7140 Kerala / 6535 State Unassigned / 4385 Chhattisgarh / 3526 Uttarakhand / 3305 Jharkhand / 3192 Goa / 2039 Tripura / 1773 Manipur / 1435 Puducherry / 1200 Himachal Pradesh / 1101 Ladakh / 1055 Nagaland / 673 Chandigarh / 523 Dadra and Nagar Haveli and Daman and Diu / 456 Arunachal Pradesh / 287 Mizoram / 203 Andaman and Nicobar Islands / 151 Sikkim / 134 Meghalaya / 113 Lakshadweep / 0

   BIG BREAKING : रायपुर में मिले 52 नए कोरोना संक्रमित मरीज, डीकेएस हॉस्पिटल के 8 स्टाफ निकले कोरोना संक्रमित    |    त्वरित कार्रवाई से पुलिस के प्रति जनता में बढ़ता है विश्वास : श्री अवस्थी : रायगढ़ और बलौदाबाजार के पुलिसकर्मियों को डीजीपी ने इंद्रधनुष सम्मान से किया सम्मानित    |    BIG NEWS : राजधानी के एक बंद पड़े कंपनी में डकैती करने जा रहे युवकों को मुखबिरी पर पुलिस ने किया गिरफ्तार    |    सावधान: अब एक बार से ज्यादा कोरोना की जांच करवाने वालो पर होगी कार्रवाई, पढ़े पूरी खबर    |    हिरासत में पिता-पुत्र की मौत मामले में पांच और पुलिसकर्मी गिरफ्तार, पढ़े पूरी खबर    |    बड़ी खबर: एक और फिल्म अभिनेता ने दुनिया को कहा अलविदा-जगदीप    |    बड़ी खबर: कानपुर गोलीकांड के मुख्य आरोपी गैंगस्टर विकास दुबे गिरफ्तार, पढ़े पूरी खबर    |    कोरोना बुलेटिन : प्रदेश में आज 65 नए कोरोना संक्रमित मिले, रायपुर से मिले 13 देखे किन किन जिलो से है    |    प्रदेश में मिले 14 नए कोरोना संक्रमित मरीज, देखे किन जिलो से है    |    बड़ी खबर: राजधानी के हाउसिंग बोर्ड कालोनी में चाकू बाजी करने वाले 7 आरोपी गिरफ्तार, पढ़े पूरी खबर    |
जिले में 26 हजार लोगों को करना है आधार लिंक, सर्वर और लिंक में आ रही समस्या से काम पिछड़ा

जिले में 26 हजार लोगों को करना है आधार लिंक, सर्वर और लिंक में आ रही समस्या से काम पिछड़ा

महासमुुंद। सर्वर में आ रही समस्या और उचित मूल्य के दुकानदारों द्वारा आधार लिंक करने में रूचि नहीं लिए जाने से जिले में राशन कार्डधारियों का आधार लिंक कार्य धीमा है। जिले के करीब 26 हजार सदस्यों का आधार लिंक किया जाना है लेकिन अभी तक मात्र 536 सदस्यों का ही आधार लिंक हो पाया है।


वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के तहत जिलेभर के राशनकार्ड धारियों और सदस्यों का आधार लिंक किया जाना है। इसके तहत जिलेभर में करीब पौने तीन लाख राशनकार्ड धारियों में से 26400 सदस्यों का आधार लिंक किया जाना है। इसके लिए खाद्य विभाग के साथ जिले के जनपदों और नगर पालिकाओं में आधार लिंक करने के साथ ही उचित मूल्य दुकानदारों को भी इसका कार्य सौंपा गया है। लेकिन उचित मूल्य दुकानदारों के कार्य में रूचि नहीं लिए जाने और सर्वर में आ रही परेशानी की वजह से कार्य पिछड़ता जा रहा है। जिले में अभी मात्र 536 सदस्यों का आधार लिंक हो पाया है। जिसे लेकर अफसरों ने भी नाराजगी जताई है।

ब्लॉकवार लंबित आधार लिंक वाले कार्ड की स्थिति-
जानकारी के मुताबिक जिले के नगरीय निकाय क्षेत्रों में ऐसे राशनकार्ड जिनका आधार लिंक नहीं हो पाया है वह इस प्रकार है। महासमुंद में 108, बागबाहरा मेें 202, पिथौरा में 314, सरायपाली में 207 और बसना में 347 सदस्यों का आधार लिंक नहीं हो पाया है। इसी तरह जनपदों महासमुंद में 5502, बागबाहरा में 2425, पिथौरा में 1117, सरायपाली में 1800, बसना में 1201 और तुमगांव में 846 कार्ड है जिनमें आधार लिंक किया जाना है।

वर्जन
कार्य में तेजी लाने के निर्देश
इस संबंध में जिला खाद्य अधिकारी अजय यादव ने बताया कि आधार लिंक के कार्य को लेकर सर्वर के साथ ही उचित मूल्य के दुकानदारों द्वारा रूचि नहीं लिया जाना है। इसकी वजह से कार्य की गति धीमी है। फिलहाल कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए गए हैं। 
महिलाओं के साथ युवाओं ने किया कांग्रेस प्रवेश, विधायक ने कांग्रेस का गमछा पहनाकर किया स्वागत

महिलाओं के साथ युवाओं ने किया कांग्रेस प्रवेश, विधायक ने कांग्रेस का गमछा पहनाकर किया स्वागत

महासमुंद। विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर के सोमवार को ग्राम पंचायतों में भूमिपूजन कार्यक्रम में पहुंचने के दौरान महिलाओं के साथ ही युवाओं ने कांग्रेस प्रवेश किया। विधायक श्री चंद्राकर ने कांग्रेस प्रवेश करने वालों का कांग्रेस का गमछा पहनाकर स्वागत किया।

ग्राम पंचायत अछरीडीह में कार्यक्रम के दौरान विधायक श्री चंद्राकर की मौजूदगी में नरेंद्र, मनहरण, माखन, राकेश, टीकम, हीराराम, लालाराम, गोपाल, भागीरथी, ओमप्रकाश, इंदल, वासु, गुलशन, चंदु, दुलरवा, जीवन, दौलतराम, नारायण, मेघराज, भानु, कुलेश्वर, रेखराम, सोमनाथ, गोपाल पटेल, कपिल, कुंदन, जगमोहन, लीलेश, असरानी, मानिक, राजेश, गोपी, गंगाधर आदि ने प्रवेश किया। इसी तरह ग्राम पंचायत अछोली में महिला पंचों सहित युवाओं ने कांग्रेस प्रवेश किया। कांग्रेस प्रवेश करने वालों में महिला पंचों सहित रविशंकर, संतोष, गजेंद्र, नोहर, कोमल, डिगेश्वर, नरेंद्र, शंभू, मनराखन, संतराम, शंकर, संतराम साहू, मोहन साहू, कमलेश, ओमप्रकाश, राजू, गोपी, सतीश, प्रदीप, धनंजय, ईश्वर आदि शामिल हैं। विधायक श्री चंद्राकर ने कांगे्रस प्रवेश करने वालों का स्वागत किया है। इस दौरान जनपद अध्यक्ष भागीरथी चन्द्राकर जिला पंचायत सदस्य अमर चन्द्राकर, जनपद सदस्य यतेंद्र साहू, सभापति दिग्विजय साहू, जनपद सदस्य कुणाल चन्द्राकर, अरुण चन्द्राकर, आवेज खान, जावेद जाफरी, देवेंद्र चंद्राकर, आकाश निषाद, ढेलू निषाद आदि मौजूद रहे।
बाइक की सीट में छिपा कर ले जा रहा था गांजा, पुलिस ने किया गिरफ्तार

बाइक की सीट में छिपा कर ले जा रहा था गांजा, पुलिस ने किया गिरफ्तार

महासमुन्द। खल्लारी पुलिस ने 4 किलो गांजा के साथ एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। खल्लारी पुलिस ने आरोपी के पास से गांजे के साथ एक मोटर सायकल भी जब्त किया है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ 20 बी एनडीपीएस के तहत कार्रवाई की है। खल्लारी थाना प्रभारी दीपा केवट ने जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस को मुखबीर से सूचना मिली कि एक व्यक्ति खरियार रोड उड़ीसा से काले सिल्वर रंग की बजाज प्लेटिना बाइक में अवैध रूप से गांजा परिवहन कर बागबहारा खल्लारी रोड से रायपुर की तरफ जाने वाला है। सूचना पर पुलिस नेे एन—एच—353 पर नाकाबंदी कर आरोपी का इंतजार करने लगे। इसी दौरान बाइक बजाज सीडी डिलक्स ओडी एल 8860 पहुंची,तलाशी लेने पर बाइक के सीट के नीचे से 4 किलो गांजा जब्त हुआ। जिसकी क़ीमत 20 हजार रूपए बताई जा रही है। आरोपी देवेन्द्र मेहरा पिता शिशुपति मेहरा उम्र 44 वर्ष  ग्राम नकरीगुड़ा थाना जूनागढ़ जिला कालाहांडी उड़ीसा के खिलाफ 20 बी एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्रवाई कर जेल भेज दिया है। कार्यवाही के दौरारन थाना प्रभारी दीपा केवट, प्रधान आर राजेश मिश्रा,आर रमाकांत साहू,आर का महत्व पूर्ण भूमिका रही।

 दुकान के पीछे की दीवार तोड़कर चोरी करने वाले अपचारी बालक को पुलिस ने पकड़ा

दुकान के पीछे की दीवार तोड़कर चोरी करने वाले अपचारी बालक को पुलिस ने पकड़ा

महासमुंद। दुकानों के पीछे की दीवार तोड़कर चोरी की घटना को अंजाम देने वाले एक अपचारी बालक को पटेवा पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इस बालक ने खल्लारी व पटेवा क्षेत्र के दुकानों चोरी की घटना को अंजाम दिया है। पुलिस ने उसके पास से एक लाख रूपये का सामान व दीवार को वाला औजार गैंती बरामद किया है। आरोपी के खिलाफ थाने में धारा 457, 380 के तहत अपराध दर्ज है। बताया जा रहा है कि आरोपी चोरी का सामान बेचने ग्राहक तलाश रहा था, उसी दौरान पुलिस ने धर दबोचा। पटेवा थाना प्रभारी लेखराम ठाकुर ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि शुक्रवार को मुखबिर से सूचना मिली कि ग्राम टुरीडीह चौक के पास चोरी के समान को बेचने के लिए एक बालक घुम रहा है। सूचना मिलते ही टीम मौके पर पहुंचकर उसे पकड़ा। टीम ने उसके पास रखे सामान के बारे में पूछताछ किया, तो पहले गोलमोल जवाब देते हुए पुलिस को उलझाने का प्रयास किया। जब कडाई से पूछताछ की तो उसने बताया चोरी करना स्वीकार किया। टीम ने आरोपी के पास से 08 नग विभिन्न कंपनी के मोबाईल, 2 नग पावर बैंक, 2 नग ईयरफोन, 1 नग ब्ल्यूटूथ तथा नगदी रकम 3420 रूपये कुल 1,00,000 रूपये का सामान व चोरी में प्रयुक्त 1 नग गैती व एक साइकिल जप्त किया है। आरोपी बालक खल्लारी थाना क्षेत्र के ग्राम अमुरदा का रहने वाला है। वह अपने नानी के घर रहकर पढ़ाई करता है। 

एक ही पैटर्न में दिया तीनों दुकान में चोरी को अंजाम-
आरोपी ने खल्लारी थाना क्षेत्र के ग्राम मुडियाडीह में विरेन्द्र मोबाइ्र्रल शॉप एवं जनरल स्टोर्स, ग्राम मोहगांव में मां भवानी मोबाईल शॉप तथा झलप चौक स्थित सलूजा मोबाईल एण्ड इलेक्ट्रानिक्स की दुकान में चोरी की घटना को अंजाम दिया था। खास बात यह है कि इन तीनों दुकानों में चोरी की करने का पैटर्न एक ही प्रकार का था। वह गैंती से दुकान के पीछे हिस्से को तोड़कर प्रवेश करता था। 

सीसीटीवी कैमरे में कैद थी तस्वरी-
एक दिन पूर्व झलप चौक स्थित मोबाइल दुकान में आरोपी ने चोरी की घटना को अंजाम दिया था। उसकी हरकतें कैमरे में कैद थी। शुक्रवार को जब मुखिबर को फोन आया तो सबसे पहले पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे में कैद आरोपी की तस्वीर को भेजी। उसके बाद मुखिबर ने उक्त तस्वीर का हुलिया मिलता जुलता बताया। इसके बाद टीम ने अपचारी बालक को धर दबोचा। 
दुसरे राज्य  की 102 पेटी अंग्रेजी शराब के साथ एक गिरफ्तार, दो लक्जरी वाहनों से कोमाखान ले जाई जा रही थी शराब

दुसरे राज्य की 102 पेटी अंग्रेजी शराब के साथ एक गिरफ्तार, दो लक्जरी वाहनों से कोमाखान ले जाई जा रही थी शराब

महासमुंद। कोतवाली पुलिस ने दो लक्जरी वाहनों से मध्यप्रदेश की 102 पेटी अंग्रेजी शराब (गोवा ब्रांड) के साथ एक आरोपी को गिरफ्तार किया है, वहीं एक आरोपी पुलिस को चकमा देकर फरार होने में सफल हो गया। जब्त शराब की कुल कीमत 5 लाख रुपए आंकी गई है। पुलिस के अनुसार अवैध शराब भिलाई से कोमाखान भेजी जा रही थी।

पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल कुमार ठाकुर ने पत्रकारों को बताया कि सूचना मिली कि अवैध शराब की एक बड़ी खेप महासमुंद में आने वाली है। उक्त सूचना के आधार पर कोतवाली पुलिस को निर्देशित किया गया। जिस पर कोतवाली पुलिस ने बेलसोंडा रेलवे क्रॉसिंग में नाकेबंदी की। रात करीब 10 बजे एक फॉर्चूनर वाहन क्रमांक सीजी 04 एच ई 0003 को रोका। उसके पीछे एक दूसरा वाहन क्रमांक एमएच 14 बीसी 1151 आ रहा था लेकिन पुलिस को देख कर वाहन चालक वाहन छोड़कर फरार हो गया। पहली गाड़ी में बैठे युवक ने अपना नाम जयंत बंजारे पिता सीताराम बंजारे (20) निवासी कैंप 01 मेहमान कोलाडिपो के सामने शास्त्री नगर भिलाई जिला दुर्ग बताया। पुलिस ने दोनों ही वाहनों की तलाशी ली जिसमें फॉर्चूनर वाहन से 62 पेटी और दूसरे वाहन से 40 पेटी मध्यप्रदेश निर्मित गोवा ब्रांड शराब भरी हुई मिली। उक्त दोनों वाहनों से पुलिस ने 102 पेटी शराब के साथ दोनों वाहन जब्त की। इस तरह कुल 918 लीटर शराब कुल कीमत 5 लाख रुपये, दो वाहनों की कीमत 15 लाख रुपये, नकदी 10 हजार कुल जुमला कीमत 20 लाख 20 हजार रुपये की जब्ती बनाई।

कोमाखान भेजी जानी थी शराब-
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पकड़े गए आरोपी से पूछताछ में यह पता चला है कि वह बागबाहरा रोड के हाड़ाबंद ओवर ब्रिज के पास छोड़ता जहां से यह शराब की खेप कोमाखान जाती। आरोपी ने फरार होने वाले युवक का नाम आसिफ खान बताया। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि यह शराब कहां से लाई जा रही थी और कहां खपाने की तैयारी थी इसकी पूरी जानकारी एकत्रित की जा रही है। आरोपियों के खिलाफ धारा 34(2)आबकारी अधिनियम के तहत सिटी कोतवाली में कार्रवाई की गयी। संपूर्ण कार्रवाई पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमती मेघा टेंभुलकर साहू एवं अनुविभागीय अधिकारी नारद कुमार सूर्यवंशी के निर्देशन में कोतवाली प्रभारी शेर सिंह बंदे, साइबर सेल प्रभारी उपनिरीक्षक संजय सिंह राजपूत, उप निरीक्षक हर्ष कुमार, सहायक उपनिरीक्षक विकास शर्मा एवं थाना स्टाफ ने की।
लग्जरी वाहन से शराब सप्लाई करने वाले गिरोह का हुआ भंडाफोड़, मध्यप्रदेश की 102 पेटी अंग्रेजी शराब को पुलिस ने किया जप्त

लग्जरी वाहन से शराब सप्लाई करने वाले गिरोह का हुआ भंडाफोड़, मध्यप्रदेश की 102 पेटी अंग्रेजी शराब को पुलिस ने किया जप्त

महासमुंद | छत्तीसगढ़ के विभिन्न जिलों में मध्य प्रदेश निर्मित शराब की अवैध खेप लगातार तस्करी हो रही है। इसी क्रम में महासमुंद जिला पुलिस ने अवैध मध्य प्रदेश की शराब को जब्त कर आरोपी को गिरफ्तार करने में सफलता अर्जित की है। शहर के कोतवाली थाना क्षेत्र में सोमवार को पुलिस को मुखबीर से सूचना मिली की रात्रि को अवैध शराब की बडी मात्रा महासमुन्द जिले में आने वाली है। उक्त सूचना पर थाना कोतवाली की टीम ने रात्रि 09:00 बजे से महासमुन्द आने वाले और महासमुन्द से जाने वाले सभी रास्तों पर नाकेबंदी कर उक्त अवैध शराब के वाहन का इन्तजार करने लगी। लगभग रात्रि 10:00 बजे घोडारी पुल पर लगे टीम ने सूचना दी की दो वाहन तेज रफ्तार से निकल रही है सम्भवत: यह वह संदिग्ध वाहन हो सकती है जिसमें अवैध शराब भरा हो। सर्तक कोतवाली पुलिस की टीम ने उक्त वाहन को रोकने के लिए बेलसोण्डा रेलवे क्रासिंग को नाकेबंदी का स्थल बनाया क्योकि पूर्व में भी अवैध शराब से भरी हुये वाहन को चलाने वाले पुलिस पार्टी पर वाहन को चढाने से नही हिचकते बेलसोण्डा रेलवे क्रासिंग के पहले व बाद में तीक्ष्ण मोड है जहॉ पर वाहनों को धीमा करना पड़ता है जिससे वाहनों को रोकवाना असान है संदिग्ध वाहन जैसे ही बेलसोण्डा रेलवे क्रासिंग के मोड में पहुचती है वैसी कोतवाली पुलिस की टीम रेलवे क्रॉसिंग के इस पार व उस पार वाहनों को अढा कर नाकेबंदी कर देती है  पुलिस की इस नाकेबंदी से एक फॉर्चुनर वाहन क्रमांक सीजी 04 एचई/0003 रूक जाती है, जिससे पुलिस की टीम उक्त वाहन को चारों ओर से घेर लेती है। उक्त वाहन में वाहन चालक ही रहता है। दूसरी वाहन एसएक्स-4 पीछे गाडी घुमाकर भागने का प्रयास करती है परन्तु पुलिस की नाकेबंदी देखकर उसका वाहन चालक वाहन को छोडकर अंधेरे का फयादा उठाकर भाग जाता है। पुलिस की टीम द्वारा फार्चुनर वाहन में सवार युवक नाम पता पूछने पर उसने अपना नाम जयंत बंजारे पिता सिताराम बंजारे उम्र 20 वर्ष निवासी कैम्प 01 मेहमान कोलाडीपों के सामने शास्त्रीनगर भिलाई जिला दुर्ग बताया। पुलिस की टीम जब उक्त वाहन की तलाशी लेती है तो उसमें 62 पेटी मध्यप्रदेश निर्मित गोवा ब्राड शराब भरी हुई रहती है। दूसरे वाहन एसएक्स-4 क्रमांक एमएच 14 बीसी/1151 की तलाशी लेने पर उसमें 40 पेटी मध्यप्रदेश निर्मित गोवा ब्राड शराब भरी हुई होती है। पुलिस की टीम उक्त मध्यप्रदेश निर्मित 102 पेटी शराब को जप्त कर लेती है। प्रारंभिक पूछताछ में आरोपी ने बताया कि भिलाई के रहने वाले एक व्यक्ति ने महासमुन्द जिले में उक्त शराब को खपाने के लिए भेजा है। आरोपी ने यह भी बताया कि महासमुन्द से बागबाहरा रोड में पडने वाले हाडाबंद ओवर ब्रीज के पास कोई व्यक्ति आता और उन्हें सप्लाई करने वाली जगह ले जाता। पुलिस की टीम यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि इतनी शराब की मात्रा उक्त युवक किससे ले कर आया और महासमुन्द जिले में किस-किस को उक्त शराब की खेप पहुचाने वाला था। पुलिस की टीम उक्त युवक से पूछताछ कर रही है। बहुत जल्द ही वो चेहरे सामने आयेगें जो महासमुन्द जिले में अवैध शराब की इस खेप को खपाने वाले थे। पुलिस की टीम ने 102 पेटी मध्यप्रदेश निर्मित शराब कीमति 5,10,000/- रूपये, 02 वाहन कीमति 15,00,000/- रूपये एवं 10,000/- रूपये नगदी रकम इस प्रकार कुल कीमति 20,20,000/- रूपये जप्त कर धारा 34(2) आबकारी अधिनियम के तहत् थाना सिटी कोतवाली में कार्यवाही कर रही है। गिरफ्तार आरोपी का नाम जयंत बंजारे पिता सिताराम बंजारे उम्र 20 वर्ष निवासी कैम्प 01 मेहमान कोलाडीपों के सामने शास्त्रीनगर भिलाई जिला दुर्ग है वहीं फरार आरोपी वाहन चालक आसिक खान है। 

 

 
नकली नोट छापने व खपाने वाले अंतर्राज्यीय गिरोह के 4 आरोपी गिरफ्तार, 175000 रूपयें का नकली नोट बरामद

नकली नोट छापने व खपाने वाले अंतर्राज्यीय गिरोह के 4 आरोपी गिरफ्तार, 175000 रूपयें का नकली नोट बरामद

महासमुंद | पुलिस अधीक्षक प्रफुप्रफुल्ल कुमार ठाकुर को विगत दिनों से सूचना मिल रही थी कि बसना क्षेत्रांतर्गत नकली नोट छापने का अवैध कारोबार किया जा रहा है व भीड़-भाड़ वाले स्थानो में नकली नोटो को खपाने का प्रयास कर रहे है। पुलिस अधीक्षक द्वारा थाना बसना की टीम को नकली नोट छापने/खपाने वालो का पता तलाश कर कड़ी कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया था। जिसपर थाना प्रभारी बसना द्वारा क्षेंत्र में मुखबीर व गुप्तचर लगाकर नकली नोट छापने/खपाने वालो गिरोह की तलाश कर रही थी कि दिनांक 28.06.2020 को मुखबीर से सूचना मिली ग्राम भवंरपुर रोड़ पर कुछ संदिग्घ अवस्था में लोग घुम रहे है। जिनके पास बहुत सारे पैसे है और वे लोग बड़ी नोट को छोटी नोट बदलने का प्रयास में ग्राहक तलाश कर रहे है। सूचना पर तत्काल थाना बसना स्टाफ भवंरपुर पहुचकर संदिग्ध लोगो पता तलाश में जुट गई। पुलिस टीम ग्राम भवंरपुर के आसपास के क्षेत्रों में संदिग्ध लोगा को ढूंढ रही थी। तब मुखबीर से पता चला उन लोगो को ग्राम धानापाली के पास देखा गया है। पुलिस टीम त्वरिक कार्यवाही करते हुये ग्राम धानापाली पहुची जहॉ संदिग्ध लोग अलग-अलग घुमकर नकली नोट खपाने का प्रयास में थें। ग्राम धानापाली के आगे बसना रोड पर एक लाल रंग की मोटर सायकल बिना नंबर वाली बजाज प्लेटिना एवं एक बिना नंबर वाली स्लेटी कलर एक्टीवा में दो व्यक्ति बैठे मिले। जिसे पूछताछ करने पर प्लेटीना सवार व्यक्ति ने अपना नाम जयंत यादव पिता राकेश यादव उम्र 36 साल साकिन टेमरी थाना सांकरा जिला महासमुंद तथा एक्टीवा स्कुटी में सवार व्यक्ति ने अपना नाम बिसीकेशन प्रधान पिता दिवाकर प्रधान उम्र 60 साल साकिन कुरलुपाली थाना झारबंद जिला बरगढ उडिसा का रहने वाला बताया। जिनसे बारिकी से पूछताछ करने पर नकल नोट खपाने हेतु ग्राहक तलाश करना बातया। जयंत यादव ने बताया कि तीन चार माह पूर्व से साथी बिसीकेशन प्रधान के साथ मिलकर ग्राम मुनेकेल (उडिसा) निवासी सतपथी साहू के द्वारा प्रींटर फोटोकापी मशीन से किया गया 200 रूपये के नकली नोट की छपाई किये, नकली नोट को खपाने/खपाने के लिए 7500 रूपये के नकली नोट देना एवं नकली नोट छपाने के प्रींटर मशीन सामग्री को सतपथी साहू के पास होना बताते जयंत यादव द्वारा अपने पास रखे 200 रूपये के नकली नोट 20,000 रूपये को अपने पास एवं वाहन के डिक्की में 40,000 रूपये रखना बताया एवं बिसीकेशन ने अपने स्कुटी वाहन के डिक्की में 200 रूपये के नकली नोट 15,000 रूपये नकली नोट को रखना बताया एवं अपने अपने दोपहिया वाहन से नकली नोट को चलाने एवं खपाने ग्राहक तलाश करते ग्राम धानापाली आना बताया। आरोपी जयंत कुमार यादव अपने पास रखे नकली नोट पेश करने पर 200 रूपये के कुल 300 नकली नोट सिरीज क्र0 7क्चङ्क 094006 कुल 60,000 रूपये नकली नोट एक बिना नंबर बजाज कंपनी का प्लेटीना मोटर सायकल पुरानी इस्तेमाली किमती करीब 30,000 रूपये, एक नग जीवो कंपनी को कीपैड मोबाईल किमती 1000 रूपये , आरोपी बिसीकेशन के पेश करने पर 200 रूपये के कुल 75 नग नकली नोट प्रत्येक नोट में सिरीज क्र0 7क्चङ्क 094006 कुल 15,000 रूपये, एक बिना नंबर वाली एक्टीवा पुरानी ईस्तेमाली किमती करीब 20,000 रूपये, एक नग मोईक्रोमेक्श मोबाईल कीमती 1000 को जप्त कर किया तथा पुलिस की टीम थाना पाईकमाल उडिसा पहुंचकर थाना पाईकमाल के स्टाफ को साथ लेकर ग्राम मुनेकेल जाकर आरोपी सतपथी साहू को तलाश कर पता किया गया जो वह अपने साथी प्रदीप धुर्वा के साथ मोटर सायकल सुपर स्प्लेंडर क्रं0 ह्रष्ठ 17 क्क 3422  मिले जिनसे पूछताछ किया गया जो वह बताये कि जयंत यादव , बिसीकेशन एवं प्रदीप धुर्वा को 200 रूपये के नकली नोट बजार में चलाने खपाने हेतु देना एवं अपने घर में छिपाकर रखना बताया कि आरोपी सतपथी साहू पिता मोहन लाल साहू उम्र 45 साल साकिन मुनेकेल थाना पाईकमाल जिला बरगढ उडिसा के यहा एसडीओपी सरायपाली विकास पाटले के नेत्त्व में रेड किया गया जो पुलिस को देखकर एयर पिस्टल दिखाकर भागने का प्रयास किया। जिसें टीम द्वारा घेराबंदी कर गिरफ्तार किया गया। जिसके द्वारा मौके पर पेश करने पर 200 रूपये के कुल 450 नग नकली नोट सिरीज क्र0 7क्चङ्क 094006 लिखा कुल 90,000 रूपये नकली नोट तथा एक नोकिया कंपनी का कीपैड मोबोईल किमती 1000 रूपये, 1 बंडल सफेद पेपर खुला हुआ, एक नग इप्सन कंपनी का कलर प्रींटर 360 माडल मशीन को पेश करने पर जप्त किया गया। आरोपी प्रदीप धुर्वा पिता दहित धुर्वा उम्र 35 साल निवासी पुरेना थाना पाईकमाल उडिसा के पेश करने पर 200 रूपये के नकली नोट कुल 50 नग कुल 5000 रूपये नकली नोट प्रत्येक में सिरीज क्र0 7क्चङ्क 094006 पेश करने पर जप्त किया गया। आरोपीगण के कब्जे कुल 200 रूपयें के कीमती कुल 1,75,000 रूपये नकली नोट तथा वाहन, प्रींटर, मोबाईल, कुल किमती 71,000 रूपये जुमला किमती 2,46,000 रूपये को जप्त किया गया। उपरोक्त समस्त आरोपियों को धारा 489क,ग,घ,ड़ 34 भादवि0, का अपराध घटित करना पाये जाने से गिरफ्तार कर कार्यवाही की जा रही है। यह सम्पूर्ण कार्यवाही पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल कुमार ठाकुर के मार्गदर्शन में अति0 पुलिस अधीक्षक श्रीमती मेघा टेम्बुलकर साहू एवं अनु0अधिकारी (पु) सरायपाली विकास पाटले के निर्देशन में थाना प्रभारी बसना सुश्री वीणा यादव, उनि0 लक्ष्लीनारायण साहू सउनि. दूलार सिंह यादव एवं स्टाफ द्वारा की गई है।

 

 
 रास्ते से हट कहने पर आरोपी ने गाली गलौज कर किया ब्लेड से वार, मामला दर्ज

रास्ते से हट कहने पर आरोपी ने गाली गलौज कर किया ब्लेड से वार, मामला दर्ज

महासमुंद। बागबाहरा के ग्राम सोनदादर में बुधवार शाम सड़क पर खड़े युवक को बाइक सवार ने हटने कहा तो उसकी पिटाई कर दी। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ अपराध दर्ज कर जांच में लिया है। ग्राम सोनदादर में बुधवार शाम छह बजे रोहित बांधे पिता दउवा बांधे बागबाहरा गया था। वहां से दवाई लेकर वापस आ रहा था। गांव की गली में गांव का ही दयाराम ठाकुर, नंदु यादव, टेकराम यादव खड़े थे। उन्हें हटने कहा तो दयाराम ठाकुर आक्रोशित हो गया और गाली गलौज कर ब्लेड से वार कर दिया।
2 क्विंटल 10 किलो अवैध गांजा कीमती 10,50,000 रूपयें जप्त, तीन आरोपी आयशर ट्रक  के साथ गिरफ्तार

2 क्विंटल 10 किलो अवैध गांजा कीमती 10,50,000 रूपयें जप्त, तीन आरोपी आयशर ट्रक के साथ गिरफ्तार

महासमुंद। ओडि़सा के रास्ते महासमुंद जिलें से होकर जाने वाले अवैध गांजा के परिवहन करने वाले आरोपियों पर पुलिस ने कार्रवाई की है। पुलिस को मुखबिर के आधार पर सूचना मिली की सिंघोडा के रास्ते एक गांजे की बड़ी खेप निकलने वाली है। सूचना के आधार पर सरायपाली थाना की टीम ने  11.30  बजें एंव फिक्स पाइंट लगाकर कार्यवाही करने के लिए निर्देशित किया ।सिंघोडा थाना के है 53 रोड रियाज ढाबा के सामने गनियरिपाली पर नाकेबंदी कर वाहनों की चेकिंग कर रही थी कि एक आयशर 1110 क्र0MP13GB 0342 संबलपुर ओडिसा की ओर से आ रही थी। जिसमें तीन व्यक्ति सवार थे पूछताछ करने पर उन्होने स्वयं को ओडिसा एवम मध्यप्रदेश का होना बताया और ओडि़सा से मध्यप्रदेशकी ओर जाना बताया। उन्हें जब ओडि़सा मे कब आना किस कार्य से आना और वापस मध्यप्रदेश जाने के संबंध में जब पूछताछ किया गया तो वो पुलिस को लगातार गोलमोल जवाब देकर गुमराह करते रहें। पुलिस को इस बात पर शंका हुई और पुलिस की टीम ने जब उक्त वाहन की बारीकी से तलाशी ली तो उक्त वाहन के अंदर पषुप्ति पसुआहर के 50 पैकेट के नीचे 07 बोरियों में 105 पैकेट जिसमें प्लास्टिक के भुरे रंग के टेप से लिपटे हुये दिखें उन पैकेट को देखने पर उनमें मादक पदार्थ गांजा होने की सका हुई पुलिस ने वाहन में सवार व्यक्ति 1 राजेन्द्र कुमार सर्मा पिता जगदीश शर्मा उम्र 40 वर्स निवासी रामकृष्ण नगर सेकंड लाइन बहरमपुर थाना सदर जिला गंजाम ओडिशा 2 विकास मिना पिता सरदार सिंह मिना उम्र 24 साल निवासी मकसी नई आबादी गली नम्बर 1 थाना शाजापुर जिला शाजापुर मध्यप्रदेश 3 प्रमोद शर्मा पिता रघुनंदन जी शर्मा उम्र 42 साल निवासी दुर्गा कालोनी अंकपात मार्ग गली नम्बर 1 थाना चिमनगंज जिला उज्जैन मध्यप्रदेश से कड़ाई से पूछताछ करने पर 7 बोरी के अंदर कुल 105 पैकेट में कुल210 किलो ग्राम गांजा होना बताए जिसे  जप्त कर तीनो के खिलाफ 20बी एन.डी.पी.एस. एक्ट के तहत कार्यवाही कर विवेचना कर रही है। पुलिस की टीम यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि इन व्यक्तिओं ने अवैध मादक पदार्थ गांजा कहा से प्राप्त किया है। इनके साथ और कितने लोग है जो इस धंधे में सक्रिय है और क्या वे आगे अवैध गांजे का परिवहन करने वाले है। गिरफ्तार आरोपियों के विरुद्ध धारा 20बी एन.डी.पी.एस.एक्ट के तहत कार्यवाही कर विवेचना कर रही है।

आरोपियों में जब्त सामाग्रियों में 105 पैकेटों में 210 किलो ग्राम गांजा कीमती 10,50,000 रुपये,  आयशर 1110 वाहन जिनका नम्बर क्र0MP13GB 0342 कीमती 15,00,000 रुपये, मोबाईल फोन 05 नग विभिन्न कंपनियों के कीमती 8000 रुपये,  नगदी रकम 5100 रूपयें। 50 पैकेट पसुआहर के पैकेट क़ीमती करीबन 50,000 रुपये है। 
ट्रेक्टर ट्राली के नीचे बनाए बाक्स से ले जा रहे थे गांजा, राजस्थान के दो तस्कर गांजे के साथ गिरफ्तार

ट्रेक्टर ट्राली के नीचे बनाए बाक्स से ले जा रहे थे गांजा, राजस्थान के दो तस्कर गांजे के साथ गिरफ्तार

महासमुुंद। शनिवार को जिला पुलिस ने राजस्थान से गांजा खरीदने के लिए यहां आए दो लोगों को करीब साढ़े नौ लाख रूपए के गांजे के साथ पकड़ा है। पुलिस आरोपियों को नारकोटिक एक्ट के तहत कार्रवाई कर आज न्यायालय में पेश करेगी।

रविवार को पुलिस कंट्रोल रूम में मामले का खुलासा करते हुए एसपी प्रफुल्ल ठाकुर ने बताया कि छग के रास्ते राजस्थान के गांजा तस्कर यहां पहुंचे थे। जांच के दौरान ट्रेक्टर ट्राली के नीचे बनाए गए बाक्स से कुल 1.80 क्विंटल गांजा बरामद किया। जिसकी कीमत करीब साढ़े 9 लाख रूपए है। एसपी ने बताया कि महासमुुंद पुलिस अब तक दिल्ली, एमपी, यूपी और छग के तस्करों को कई बार तस्करी करते हुए पकड़ चुकी है। लेकिन राजस्थान के तस्कर पहली बार यहां गांजा खरीदने के लिए आए थे जिन्हें रोकने में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। गांजे के साथ राजस्थान जिले के सीकर ग्राम घोलासरी निवासी गुर्जर पिता भेरूराम (31) और प्रकाश चौधरी पिता गिरधारी (25) को गिरफ्तार किया गया है। कार्रवाई में बागबाहरा एसडीओपी लितेश सिंह, थाना प्रभारी स्वराज त्रिपाठी, साइबर सेल संजय राजपूत सहित अन्य का योगदान रहा।

मुखबिर से मिली थी सही सूचना-
उन्होंने बताया कि इन तस्करों की सूचना मुखबिर से मिली थी जिस पर बागबाहरा पालिका कार्यालय के सामने घेराबंदी कर वाहनों की जांच की गई। इस दौरान ओड़ीशा से आ रही ट्रेक्टर क्रमांक आरजे 21 आरई 3398 को रोककर जांच की। तस्करों ने ट्राली के नीचे चेंबर बनाकर उसमें करीब 35 पैकेटों में गांजा छुपाकर रखा था।  
रथ यात्रा के बाद अब कांवर यात्रा पर भी कोरोना का लगा ग्रहण, 6 जुलाई से लगेगा सावन

रथ यात्रा के बाद अब कांवर यात्रा पर भी कोरोना का लगा ग्रहण, 6 जुलाई से लगेगा सावन

महासमुंद | कोरोना वायरस के चलते इस बार धार्मिक आयोजन पर ग्रहण लग गया है। नवरात्र में पहली बार भक्तों ने अपने-अपने घरों में पूजा-अर्चना कर पर्व का मनाया। नवरात्र में नौ दिनों तक मंदिर में प्रवेश वर्जित था। मुस्लिम भाइयों ने भी कोरोना के चलते ईद का पर्व उत्साह से नहीं मनाया। अब 23 जून को हिंंदुओं का बड़ा पर्व रथ यात्रा है। यह पर्व भी कोरोना के चलते फीका पड़ गया। ग्रामीण अंचल से लोग शहर में दर्शन के लिए नहीं आ सकते, क्योंकि पहली बार महाप्रभु की रथ यात्रा पर रोक लग गई है। मंदिरों में ही दर्शन होंगे, वे भी नियमों व शर्तों के अनुसार। रथ यात्रा पर्व के बाद 6 जुलाई को सावन लग रहा है। सावन महीने में शिव भक्तों का अलग ही उत्साह रहता है। भक्त कांवर में जल लेकर 40 किमी की दूरी तय कर सिरपुर स्थित गंधेश्वर महादेव में जलाभिषेक करते हैं। इस बार प्रदेश में धारा 144 लागू है। वहीं लॉकडाउन भी चल रहा है। इसके तहत कांवर यात्रा इस वर्ष नहीं हो पाएगी। सिरपुर, कनेकेरा, बम्हनी दलदली के महादेव मंदिर जाने वाले शिवभक्त कांवर यात्रा नहीं कर पाएंगे। वहीं कोरोना की वजह से प्रशासन की ओर से लगाई पाबंदी को देखते हुए बोलबम समिति की बैठक नहीं हो पाई है। सावन लगने में सिर्फ पखवाड़े भर का समय शेष रह गया है। 6 जुलाई से सावन माह प्रारंभ होने जा रहा है, लेकिन आयोजन को लेकर बोलबम कांवर यात्रा समिति की फिलहाल अभी तक बैठक ही आहूत नहीं हो पाई है। समिति अध्यक्ष थनवार यादव का कहना है कि आगामी रविवार को समिति की बैठक आहूत की गई है। आयोजन नहीं करने समिति सदस्यों को जानकारी दी जाएगी और चर्चा की जाएगी। प्रशासन ने जब रथयात्रा के लिए अनुमति नहीं दी है तो कांवर यात्रा के लिए अनुमति मुश्किल है। 

दर्शन पर नहीं है पाबंदी 
अध्यक्ष ने बताया कि श्रद्धालुओं के गंधेश्वर मंदिर में पूजा-अर्चना करने पर कोई पाबंदी नहीं लगाई है। इसके लिए शासन के नियमों का पालन किया जाएगा। व्यवस्था बनाने के लिए बैठक में कार्ययोजना बनाई जाएगी। 
बम्हनी से सिरपुर, दलदली व कनेकेरा जाते हैं यात्री
सावन माह में कांवर यात्री बम्हनी के श्वेत गंगा से जल लेकर सिरपुर के गंधेश्वर महादेव, दलदली स्थित दलेश्वर महादेव और कनेकेरा स्थित कनेश्वर महादेव मंदिर में जलाभिषेक करने जाते हैं। सावन के प्रत्येक सोमवार से दो दिन पूर्व कांवरिए यहां पहुंचते हैं और जल लेकर यात्रा प्रारंभ करते है। बता दें कि सावन माह में प्रतिवर्ष 40 हजार से भी अधिक कांवरिए जलाभिषेक के लिए यहां आते हैं।
 
जिला चिकित्सालय में गुटखा खाते एक युवक पकड़ाया: अस्पताल में गुटखा खाकर हुड़दंग करना पड़ गया भारी, लगा जुर्माना

जिला चिकित्सालय में गुटखा खाते एक युवक पकड़ाया: अस्पताल में गुटखा खाकर हुड़दंग करना पड़ गया भारी, लगा जुर्माना

महासमुंद। जिला चिकित्सालय में भटगांव, गुंडरदेही के रहने वाले एक युवक को घूमते हुए गुटखा चबाना उस वक्त भारी पड़ गया, जब वह चालाकी से गुटखा छिपाए परिसर के भीतर प्रवेश कर गया और उसने मुंह में लगाए मास्क की आड़ में गुटखा का सेवन कर रहा था। इस बीच चहल-कदमी करते हुए जब वह प्रसूती वार्ड के नजदीक पहुंचा तो वहां तैनात सुरक्षाकर्मी की नजर उस पर पड़ गई। फिर पहले तो उसे समझाईश दी गई की वह बाहर जाकर गुटखा थूक आए। लेकिन नियम और कायदे को ताक में रखने वाला युवक उल्टा सुरक्षाकर्मियों पर ही बरस पड़ा और बड़े-बड़े लोगों तक अपनी पहुंच का हवाला देते हुए धमकी देने लगा। सुरक्षाकर्मी द्वारा इसकी सूचना चिकित्सालय प्रबंधन के जिम्मेदार अफसरों को दी गई। इस पर सुरक्षाकर्मियों सहित नगर सैनिकों का दल भी मौके पर आ पहुंचा। इस दौरान करीब आधे घंटे तक युवक ने सबको परेशान किया। शोर बढ़ता देख अन्य मरीजों की परेशानी को समझते हुए उसे चिकित्सालय भवन के बाहर ले जाया गया। लेकिन बार-बार उसे समझाने के बाद भी जब युवक अपनी गलती मानने को तैयार नहीं हुआ तब सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक डॉ आरके परदल के निर्देश पर उससे दो सौ रुपए का चालान काट सरकारी खजाने में जमा किया गया। बताया जा रहा है कि उक्त युवक अपने तीन साथियों के साथ जिला चिकित्सालय में दाखिल हुआ था, जो अपने परिचित के भर्ती मरीज से मिलने के लिए आया था। उल्लेखनीय है कि वर्तमान परिस्थिति में अस्पताल में एक मरीज के साथ केवल एक ही परिजन के रुकने की अनुमति है। चिकित्सालय प्रबंधन को युवक और उसके साथियों द्वारा चिकित्सालय परिसर में अनायास भीड़ बढ़ाना भी तर्कसंगत नहीं लगा। चालानी कार्रवाई के साथ-साथ युवक को चिकित्सालय की पूरी नियमावली से भी अवगत करते हुए दोबारा नियम न तोडऩे की कड़ी हिदयत दे कर छोड़ा गया।
क्वारेंटाइन सेंटर में सुसाइड नोट छोड़कर भागा मजदूर, मामला दर्ज

क्वारेंटाइन सेंटर में सुसाइड नोट छोड़कर भागा मजदूर, मामला दर्ज

महासमुंद। क्वारेंटाइन सेंटर में एक मजदूर द्वारा सुसाइड नोट छोड़कर भागने का मामला सामने आया है। पुलिस ने मजदूर के खिलाफ धारा 188,269,270 के तहत अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया है। मामला कोमाखान थाना क्षेत्र के ग्राम मोखा का है। ज्ञात हो कि मजदूरों को क्वारेंटाइन सेंटर भा नहीं रहा है और वे अपने घर चले जा रहे हैंं। इधर, मजदूरों की लापरवाही से कोरोना वायरस का संक्रमण गांवों में फैल रहा है। मजदूर 14 दिनों तक क्वारेंटाइन पूरा नहीं कर रहे हैं। इसका खामियाजा ग्रामीणों को भुगतना पड़ सकता है। जिले में लगातार कोरोना के मरीज बढ़ते जा रहे हैं। एक की तो इलाज के दौरान मौत भी हो गई है। वहीं पटेवा थाना क्षेत्र में एक मजदूर ने आत्महत्या कर लिया है। जानकारी के अनुसार ग्राम मोखा निवासी टिकेश्वर बरिहा पिता अनंत राम बरिहा (24) व पत्नी संजू (20) जिला पदमपुर राज्य ओडि़शा से आए थे। दोनों को गांव के आंगनबाड़ी में बने क्वारेंटानइ सेंटर में रखा गया था। इसमें से टिकेश्वर लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघ करते हुए 13 जून रात 2 बजे क्वारेंटाईन सेंटर में सोसाइट नोट छोड़कर भाग गया। जब इसकी सूचना सरपंच को हुई तो उन्होंने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई।
 गाली देने से मना करने पर चाकू से हमला, सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र की घटना

गाली देने से मना करने पर चाकू से हमला, सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र की घटना

महासमुंद। सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र नयापारा में शनिवार रात आठ बजे एक युवक पर चाकू से वार करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ खिलाफ धारा 294, 323 के तहत अपराध दर्ज कर जांच में लिया है। कोतवाली थाना से मिली जानकारी के अनुसार वार्ड क्रमांक6 निवासी शिव महिलांग पिता उमेन्द्र महिलांग के पड़ोसी डायमंड बंजारे अपने घर के बाहर गाली गलौज कर रहा था। जिसे शिव ने गाली गलौज देने से मना किया। तभी डायमंड का पुत्र यशवंत घर से बाहर निकला और तू मना करने वाला कौन होता है कहकर गाली गलौच करते हुए चाकुनुमा हथियार से शिव के दाहिने पेट में वार कर दिया। इससे वह घायल हो गया।
बागबाहरा और खल्लारी क्षेत्र में चार तस्करों से एमपी ब्रांड की 40 पेटी शराब और दो कार जब्त, पढ़ें पूरी खबर

बागबाहरा और खल्लारी क्षेत्र में चार तस्करों से एमपी ब्रांड की 40 पेटी शराब और दो कार जब्त, पढ़ें पूरी खबर

महासमुंद |  जिले के बागबाहरा और खल्लारी क्षेत्र में एमपी ब्रांड की शराब खरीद कर अवैध रूप से खपाने वाला मुख्य तस्कर पुलिस को चकमा देकर भाग निकला। हालांकि पुलिस ने चार तस्करों के साथ 40 पेटी शराब बरामद करने में सफलता हासिल की है। मामला खल्लारी थाना क्षेत्र का है।

एसपी प्रफुल्ल ठाकुर ने रविवार को कंट्रोल रूम में पत्रकारों से चर्चा करते हुए बताया कि शनिवार को मुखबिर से सूचना मिली की ग्राम बोईरगांव और कोमा में भारी मात्रा एमपी निर्मित शराब का परिवहन कर जिले में खपाने की तैयारी की जा रही है। सूचना पर टीम ने संभावित मार्गो पर नाकेबंदी कर दी। इस दौरान रास्ते से गुजर रही कार क्रमांक सीजी 08 जेड 6365 को रोककर कार से सवार से पूछताछ की गई। बाद वाहन की तलाशी लेने पर करीब 12 पेटी शराब पुलिस ने जब्त की। पूछताछ में कार सवार लोगों ने पुलिस को बताया कि वे शराब भिलाई से लेकर यहां कोमा निवासी हितेश साहू के पास छोडऩे के लिए आए है। कड़ाई से हुई पूछताछ में आरोपियों ने पुलिस को बताया कि पूर्व मेें वे हितेश साहू को 40 पेटी शराब की डिलवरी उसके बताए स्थान जंगल में कर चुके है। जिसे हितेश अपने कार से ले जा चुका है।
पुलिस की गिरफ्त से बाहर है हितेश  
पुलिस ने बताया कि भिलाई से पकड़े गए आरोपियों से मिली जानकारी पर हितेश को वे शराब के साथ पकडऩे वाले थे। लेकिन वो अपने सहयोगी को शराब की पेटियां थमाकर मौके से फरार हो गया। पुलिस टीम उसकी तलाश में जुटी हुई है। उसके सहयोगी से उदयराम साहू वंदना चिकन सेंटर की दुकान से 10 पेटी और कार क्रमांक सीजी 07 एमए 1118 से 18 पेटी शराब जब्त की। इस तरह पुलिस ने कुल 40 पेटी शराब के साथ सहयोगी उदयराम साहू व भिलाई निवासी खोमेन्द्र सिंह, सहयोगी मनोज आचार्य, खल्लारी निवासी नेतराम साहू कुल चार लोगों को गिरफ्तार की। जिनके खिलाफ 34 (2) के तहत मामला दर्ज कर न्यायलय में पेश किया जाने की तैयारी की गई है। 
 
BIG NEWS : दुर्लभ वन्य जीव पेंगोलिन को चुराने की फिराक में घूम रहे तीन आरोपी पकड़ाए, पढ़ें पूरी खबर

BIG NEWS : दुर्लभ वन्य जीव पेंगोलिन को चुराने की फिराक में घूम रहे तीन आरोपी पकड़ाए, पढ़ें पूरी खबर

महासमुंद | छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले के बसना पुलिस ने दुर्लभ प्रजाति वन्य जीव जंतु पेंगेलिन को अवैध रूप से पकड़कर उसकी तस्करी कर बेचने की फिराक में घूम रहे तीन आरोपियों को पकड़ा है। आरोपियों के खिलाफ  वन्य जीव संरक्षण अधिनियम 1972 की धारा 09,39(1)(बी)20,50(ए,बी ),51 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया है

पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल कुमार ठाकुर ने पत्रकारों को बताया कि  सूचना मिली कि बसना क्षेत्र में दुर्लभ प्रजाति के वन्य जीव जंतु को अवैध रूप से पकड़ कर कुछ लोग बेचने की फि राक में है जिसपर बसना पुलिस को निर्देश जारी किए गए इसी बीच पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि ग्राम पिरदा से बलौदा बाजार के मार्ग पर कुछ लोग दुर्लभ वन्य जीव को वैन में रखकर बेचने के लिए ग्राहक तलाश रहे हैं ।सूचना पर ग्राम चनाट और ग्राम दलदली के बीच पुलिया के पास नाकाबंदी की गई जहां एक ओमनी वैन क्रमांक सीजी 22 के 1557 आती हुई दिखाई दी जिसके आगे डीलक्स मोटरसाइकिल क्रमांक सीजी 06 जी एफ 7418 एवं पीछे प्लैटिना मोटरसाइकिल क्रमांक सीजी 07 एबी 6721 जा रही थी पुलिस ने पायलटिंग कर रहे डीलक्स मोटरसाइकिल को रोका पूछताछ में चालक ने अपना नाम उत्तम कुमार यादव उम्र 42 वर्ष दलदली थाना बसना बताया पश्चात ओमनी वैन को नाकेबंदी के दौरान रोका गया जिसमें सवार वाहन चालक ने अपना नाम गोविंद बरिहा उम्र 35 वर्ष पिरदा बलौदा बाजार बताया पुलिस ने वाहन की तलाशी ली तो उसके पीछे एक दुर्लभ वन्य जीव पेंगोलिन रखा हुआ मिला इसी दौरान पीछे से आ रही प्लैटिना वाहन को भी रोका गया जिसके चालक ने  अपना नाम कीर्ति लाल पटेल उम्र 53 वर्ष धुपेदडीह चौकी भंवरपुर थाना बसना बताया। जब कड़ी पूछताछ की गई तो आरोपियों ने बताया कि बारनवापारा के जंगल से गोविंद बरिहा द्वारा जाल लगाकर पकड़ा गया है और उसे बेचने की फिराक में तीनों घूम रहे थे
पेंगुलिन की कीमत करोड़ों में
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पैंगोलिन का शिकार कर  उसकी तस्करी किए जाने की सूचना बलौदा बाजार सहित गरियाबंद की पुलिस को भी थी लेकिन आरोपियों को पकडऩे में महासमुंद पुलिस को सफलता मिली उन्होंने बताया कि इस दुर्लभ वन्य जीव की विदेशों में कीमत करोड़ों में है इसे साल खपरी के नाम से भी जाना जाता है जो कि हमेशा ही विभिन्न भ्रांतियों के कारण तस्करी का शिकार होता रहा है । उन्होंने बताया कि  इस दुर्लभ जीव जंतु को  वन विभाग को सौंपा जाएगा। पत्रकार वार्ता के दौरान गरियाबंद के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुखनंदन राठौर भी मौजूद थे। इस पूरी कार्यवाही मे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमती मेघा तेंदुलकर साहु एवं अनुविभागीय अधिकारी सरायपाली विकास पटेल थाना प्रभारी सुश्री वीणा यादव उपनिरीक्षक लक्ष्मी नारायण साहू प्रधान आरक्षक राकेश सिकरवार व बसना थाना स्टाफ का योगदान रहा ।
 
गुमास्ता नियमों का पालन नहीं करने वाले दुकानदारों पर चला पालिका का डंडा, वसूले सात हजार

गुमास्ता नियमों का पालन नहीं करने वाले दुकानदारों पर चला पालिका का डंडा, वसूले सात हजार

महासमुंद। नगर पालिका की टीम ने शुक्रवार को गुमास्ता नियमों का पालन नहीं करने वाले दुकानदारों पर कार्रवाई करते हुए जुर्माना ठोका है। इन दुकानदारों से सात हजार रूपये अर्थदण्ड की वसूली की है। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए पालिका अब सख्त होते जा रही है। प्रदेश सरकार द्वारा लिए गए निर्णय का उल्लंघन करने वाले दुकानदारों पर अब पालिका कार्रवाई करेगी। सप्ताह में एक दिन दुकान बंद रखना है। ज्ञात हो कि गुमास्ता नियमों के अनुसार चेंबर्स ऑफ कामर्स ने शहर में शुक्रवार को दुकानें बंद रखने का निर्णय लिया है। वहीं कोरोना संक्रमण के चलते प्रदेश सरकार ने भी अपने-अपने जिले में तय दिनों में दुकानें बंद करने को कहा है। छह दिन व्यापार का संचालन होगा और एक दिन पूर्णत: व्यापार बंद रहेगा। इसके बावजूद कुछ दुकानदारों ने निमयों को दरकिनार कर दुकान खोलकर व्यापार संचालिकत कर रहे थे। जिस पर शुक्रवार को पालिका की राजस्व टीम ने कार्रवाई की।   पालिका के राजस्व अधिकारी देव निमर्लकर ने बताया कि बंद के दौरान दुकान संचालन करने वाले दुकानदारो पर चलानी कार्रवाई की है। इनसे सात हजार रूपये का अर्थदण्ड की वसूली की है।

अध्यक्ष व सीएमओ ने की व्यापारियों से अपील-
नगर पालिका अध्यक्ष प्रकाश चंद्राकर एवं मुख्य नगर पालिका अधिकारी एके हलधर ने तमाम व्यापारियों से अपील करते हुए कहा कि वैश्विक महामारी के संक्रमण से सभी की सुरक्षा करनी है। इस लड़ाई में सभी की सहभागिता होगी तभी इस महामारी से जीता जा सकता है। बंद के दिनों में अपना व्यापार न खोले।
शादी विवाह के लिए अनुमति लेने अब एसडीएम कार्यालय के नहीं लगाना पड़ेगा चक्कर, पढ़े पूरी खबर

शादी विवाह के लिए अनुमति लेने अब एसडीएम कार्यालय के नहीं लगाना पड़ेगा चक्कर, पढ़े पूरी खबर

महासमुंद। शादी ब्याह व दशगात्र कार्यक्रमों के लिए अब अनुमति लेने एसडीएम व तहसील कार्यालयों के चक्कर काटने की जरुरत नहीं है। सरकार ने ऑनलाइन आवेदन करने की सुविधा दी है। अब लोगों को अनुमति लेने के लिए लोकसेवा एवं च्वासइ सेंटरों के में जाना होगा। वहां आवेदन करने बाद अनुमति ऑनलाइन मिलेगी। इसे प्रिंट निकाल सकते हैं। इसकी भी सुविधा रहेगी। इसके लिए निर्धारित फीस अदा करनी पड़ेगी। अब ऑनलाइन सुविधा से लोगों को परेशानी नहीं होगी। इस सुविधा से लोगों को काफी राहत मिलेगी। सरकार ने शादी की अनुमति के लिए तहसीलों में प्रतिदिन सैकड़ों लोग आवेदन के लेकर कतार में खड़े रहते थे, इससे परिसर में भीड़ होने से सोशल डिस्टेंसिंग का खतरा भी बना रहता था और इससे लोगों को परेशानी होती थी। इसे देखते हुए सरकार के आदेश पर चिप्स ने ऑनलाइन आवेदन करने की सुविधा दी है। चिप्स प्रभारी भूपेन्द्र अंबिलकर ने बताया कि शुक्रवार से शादी ब्याह व दशगात्र की अनुमति के लिए सरकार ने ऑनलाइन सुविधा की शुरुआत की है। लोकसेवा व च्वाइस सेंटरों को इसकी जिम्मेदारी दी है। वहां से अब ऑनलाइन आवेदन भरा जाएगा, जिसके बाद ऑनलाइन अनुमति मिलेगी।

तीन दिन के भीतर जारी होगी अनुमति-
चिप्स प्रभारी ने बताया कि लोगों को अनुमति लेने में काफी परेशानी होती थी। जिसे देखते हुए सरकार ने समस्या का हल कर चिप्स को इसकी जिम्मेदारी दी है। चिप्स ने सभी लोक सेवा व च्वाइस सेंटरों को जिम्मेदारी दी है। उन्होंने बताया कि यह अनुमति तीन दिवस के भीतर मिल जाएगी। आवेदन करने के बाद तीन दिन के अंदर सीधे आवेदक के वाट्सअप नंबर पर अनुमति ऑनलाइन भेजी जाएगी। आवेदन इसे प्रिंट भी कर सकता है। इसकी भी सुविधा दी गई है।

जानिए जिले में कितने लोकसेवा व च्वाइस सेंटर-
आय, जाति एवं अन्य कागजात बनाने के लिए लागों को दिक्कत न हो इसके लिए सरकार ने सारे आवेदनों पर जल्द निराकरण करने के लिए लोकसेवा एवं च्वाइस सेंटरों की सुविधा दी है। यहां सभी प्रार के दस्तावेज बनाए जा रहे हैं। इसमें अधिकारियों के डिजिटल हस्ताक्षर की सुविधा दी गई है। चिप्स प्रभारी ने बताया कि जिले में 10 लोकसेवा एवं 200 च्वाइस सेंटर है। यहां लोगों को सारी सुविधाएं दी जा रही है।

एसडीएम कार्यालय में ऑफ लाइन बंद-
शुक्रवार से एसडीएम कार्यालय से शादी ब्याह की अनुमति ऑफ लाइन बनना बंद हो गया है। अब च्वाइस सेंटरों से सीधे ऑनलाइन अनुमति जारी किए जाएंगे। नई सुविधा मिलते ही लोग च्वाइस सेंटरों की ओर चले गए। जिससे एसडीएम कार्यालय में भीड़ लगनी कम हो गई। अब अनुमित के लिए लोग शहर आने के बजाए अपने क्षेत्र के च्वाइस सेंटरों में जा रहे हैं। शहर आने की भी जरुरत नहीं पड़ रही है।
 विधायक व उसका पीए बनकर दो युवकों से ठगी का प्रयास, विधायक ने की साइबर सेल व कोतवाली में शिकायत दर्ज

विधायक व उसका पीए बनकर दो युवकों से ठगी का प्रयास, विधायक ने की साइबर सेल व कोतवाली में शिकायत दर्ज

महासमुंद। विधायक व पीए बनकर दो लोगों से एक अज्ञात मोबाइल धारक द्वारा ठगी करने का प्रयास का मामला सामने आया है। जब इस बात की जानकारी विधायक को हुई तो उन्होंने थाने में शिकायत दर्ज कराई है। बताया जा रहा है कि अज्ञात मोबाइल धारक बेटे का फीस जमा करने के नाम पर खाते में रूपये डालने के लिए कहा था। मामला महासमुंद सिटी कोतवाली का है। इस संबंध में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मेघा टेंभुरकर का कहना है कि विधायक ने शिकायत दर्ज कराई कि किसी अज्ञात व्यक्ति ने फोन से बेटे के फीस जमा करने के लिए ठगी का प्रयास कर रहा है। मामले को संज्ञान में लेते हुए साइबर सेल को नंबर ट्रेस करने के लिए दे दिया गया है। 

जानकारी के अनुसार महासमुंद विधायक विनोद सेवन लाल चंद्राकर ने बताया कि लकी व सोमश दोनों मेरे पहचान के है। दोनों मनी ट्रांसफर का काम करते हैं। इसके पास से मैं भी काम कराता हूं। शुक्रवार को सबसे पहले लकी के मोबाइल नंबर पर एक फोन आया। फोन करने वाले ने बताया कि विधायक विनोद सेवन बात करना चाहते हैं। उसके बाद विधायक बन कर बात करने वाले ने कहा कि मैं किसी काम से बाहर आ गया हूं और हमारे लड़के की फीस 21776 रूपये जमा करना है। मै नंबर देता हूं उसमें पैसे डाल दो और घर जाकर पैसे ले लो। इसी प्रकार दूसरा फोन सोमेश के पास आया और अपने आप को पीए बताया और कहा कि विधायक महोदय के लड़के की फीस 21776 रूपये जमा करा दो, नंबर दे रहा हूं और निवास से लेने को कहा। इधर, लकी व सोमश फोन आने के बाद दोनों ने कंफर्म करने तत्काल विधायक को फोन कर फीस जमा करने की बात पूछी, जिस पर विधायक ने नकारा। इसके बाद विधायक ने फ्राड कॉल आने व रूपये मांगने की शिकायत सिटी कोतवाली में दर्ज कराई।
देशी व महुआ शराब का अवैध परिवहन करते पांच गिरफ्तार, पढ़े पूरी खबर

देशी व महुआ शराब का अवैध परिवहन करते पांच गिरफ्तार, पढ़े पूरी खबर

महासमुंद। कोमाखान थानांतर्गत अलग-अलग जगहों में पुलिस ने घेराबंदी कर देशी शराब का अवैध परिवहन करते हुए तीन लोगों पकड़ा है। इनके पास से पुलिस 157 पौवा शराब जब्त कर, तीनों के खिलाफ आबकारी एक्ट के तहत कार्रवाई की है। कोमाखान थाने से मिली जानकारी के अनुसार बुधवार की देर शाम मुखबिर की सूचना पर सोनामुंदी रेलवे क्रासिंग के पास घेराबंदी कर टीवीएस मोपेड में ग्राम मोंगरापाली ओडिशा निवासी राजू ठाकुर को 65 पौवा देशी शराब का अवैध परिवहन करते हुए पकड़ा है। टीम ने ग्राम बांधापार रेलवे अंडरब्रिज के पास भी घेराबंदी कर खरियाररोड ओडिशा निवासी मुन्ना साहू को शराब परिवहन के आरोप में गिरफ्तार किया है। इसके पास से टीम ने 67 पौवा शराब जब्त किया है। इसी प्रकार ग्राम सराईपाली मार्ग पर धर्मेन्द्र यादव, हेमलाल महिलांग के पास से 5 लीटर महुआ शराब एवं ग्राम कसहीबाहरा निवासी रोशन बघेल के पास 20 नग देशी शराब बरामद कर गिरफ्तार किया है।
   क्वारेंटाइन सेंटर से बिना बताए भागे पति व पत्नी, मामला दर्ज

क्वारेंटाइन सेंटर से बिना बताए भागे पति व पत्नी, मामला दर्ज

महासमुंद। खल्लारी थाना क्षेत्र के ग्राम कोमा में पति व पत्नी द्वारा क्वारेंटाइन सेंटर से भागने का मामला सामने आया है। पुलिस ने नियमों का उल्लंघन करने के आरोप में दोनों के खिलाफ धारा 188, 269, 270, 34 के तहत अपराध दर्ज कर जांच में लिया है। पुलिस के अनुसार ग्राम कोमा के कोटवार दुबेलाल चौहान ने थाने आकर बताया कि शासकीय मिडिल स्कूल कोमा को क्वारेंटाइन सेंटर बनाया गया है। जहां गांव के डिगेश्वर कुर्रे पिता बाबुलाल कुर्रे (22) एवं नीलम कुर्रे पति डिगेश्वर कुर्रे (20) ग्राम सकरी जिला बरगढ ओडिशा से आए थे। आने के कारण कोरोना वायरस से होने वाले संक्रमण, महामारी की रोकथाम व ग्रामीणों की सुरक्षा के लिए 31 मई से 13 जून तक के लिए क्वारेन्टाईन सेंटर क्वारेंटाइन में रखा गया था। सोमवार चार बजे पति व पत्नी किसी को बिना बताए सेंटर से भाग गए। जब इसकी जानकारी सरपंच को हुई तो उन्होंने थाने में लिखित रिपोर्ट दर्ज कराते हुए कार्रवाई करने की मांग की।
शहर के ममता होटल से 28 नग अंग्रेजी शराब के साथ होटल संचालक गिरफ्तार

शहर के ममता होटल से 28 नग अंग्रेजी शराब के साथ होटल संचालक गिरफ्तार

महासमुंद। सरायपाली बस स्टैंड स्थित ममता होटल के संचालक आयुष महापात्र को पुलिस ने 28 नग पौवा अंग्रेजी शराब के साथ गिरफ्तार किया है। इसके खिलाफ पुलिस ने धारा 34 (2) के तहत अपराध दर्ज कर जांच में लिया है। सरापाली थाना से मिली जानकारी के अनुसार मुखिबर से सूचना मिली कि बुधवार को बस स्टेंड स्थित ममता होटल के संचालक आयुष महापात्र अपने होटल में अवैध रूप से शराब बिक्री कर रहा है। सूचना पर टीम ने होटल की तलाशी ली, तो संचालक के कब्जे से अंग्रेजी शराब गोआ स्पेशल का 28 नग पौवा बरामद हुआ।  
गाड़ी की डिक्की से 49 हजार पार, घर पहुंचने पर पता चला रूपये हो गए है पार

गाड़ी की डिक्की से 49 हजार पार, घर पहुंचने पर पता चला रूपये हो गए है पार

महासमुंद। बाइक के डिक्की से 49 हजार रूपये अज्ञात व्यक्तियों द्वारा उठाई गिरी का मामला सामने आया है। किसान बैंक से रूपये निकाल कर जब घर पहुंचा और बाइक के डिक्क में रूपये निकालने हाथ फेरा तो उसके होश उड़ गए। बाइक की डिक्की में रूपये से भरा थैला नहीं था। मामला पिथौरा थाना का है। इधर, पिथौरा पुलिस को जब इसकी जानकारी हुई तो अज्ञात आरोपियों की तलाश में जुट गए है। पिथौरा थाना प्रभारी एके स्वर्णकार ने बताया कि ग्राम डोंगरीपाली के किसान परखित साहू सोमवार को अपने भाई के साथ रूपये निकालने सुपर एक्सल से कॉर्पोरेटिव बैंक पिथौरा आया था। दोनों बैंक से 49 हजार रूपये निकाले और रूपये को गाड़ी की डिक्की में रखकर वापस गांव जाने के लिए रवाना हुए। दोपहर ढ़ाई बजे बार चौक के पास दोनों ने गाड़ी खड़ी की और नाश्ता करने एक होटल में चले गए। इस दौरान दोनों उन्होंने डिक्की से रूपये नहीं निकाले। दोनों नाश्ता कर वापस लौटे और गाड़ी उठाकर घर की रवाना हुए। शाम को जब घर पहुंचे और रूपये निकालने के लिए डिक्की में हाथ फेरे तो पता चला कि रूपये से भरा थैला डिक्की में नहीं है। इसके बाद देर शाम थाने आकर इसकी रिपोर्ट दर्ज कराई है। किसान ने बताया कि संभवत: बार चौक के पास अज्ञात आरोपियों ने डिक्की से रूपये निकाले होंगे।

पुलिस खंगाल रही सीसीटीवी फुटेज-
इधर, उठाईगिरी की सूचना मिलते ही पुलिस अलर्ट हो गई है। आसपास के क्षेत्र में पूछताछ कर रही है, वहीं विभिन्न जगहों की सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है। थाना प्रभारी का कहना है कि संभवत: अज्ञात व्यक्ति किसान का बैंक के बाहर से ही नजर रख रहे थे। होटल में जब नाश्ता करने किसान अंदर गए तभी अज्ञात व्यक्तियों ने डिक्की से रूपये निकल कर फरार हो गए।
युवक ने किया क्वारेंटाइन में रहने से मना, युवक के खिलाफ जुर्म दर्ज, जाने कहा की है यह खबर

युवक ने किया क्वारेंटाइन में रहने से मना, युवक के खिलाफ जुर्म दर्ज, जाने कहा की है यह खबर

महासमुंद | क्वारेंटाइन में रहने से एक युवक द्वारा मना करने का मामला प्रकाश में आया है। मामला कोमाखान थाना क्षेत्र के ग्राम करहीडीह का है। बताया जा रहा है, युवक ने गांव आने के बाद इसकी सूचना भी पंचायत को नहीं दी। घर में बिना बताए रहने लगा था। सूचना पर जब कर्मचारियों ने उसे क्वारंटाइन में रहने को कहा तो उसने मना कर दिया। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 188 के तहत अपराध दर्ज कर जांच में लिया है। पुलिस के अनुसार ग्राम करहीडीह का सरपंच खेमराज ठाकुर पिता विशाल सिंह ठाकुर ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई कि शुक्रवार को गांव का रहने वाला मनोहर लाल साहू पिता रामू लाल साहू ग्राम फिंगेश्वर में तेन्दूपत्ता फड़ में मैनेजर है जो गुरुवार को वहां से गांव आया और इसकी जानकारी पंचायत को नहीं दी।

बड़ी खबर: नाबालिक का अपहरण करने वाले 6 आरोपी गिरफ्तार, जानिए पूरी खबर

बड़ी खबर: नाबालिक का अपहरण करने वाले 6 आरोपी गिरफ्तार, जानिए पूरी खबर

महासमुंद। हेमलाल सागर पिता बिसर सागर उम्र 50 वर्ष निवास ग्राम खोखसा थाना बसना ने थाने में रात्रि लगभग 08:00 बजें आकर रिपोर्ट दर्ज कराई की उसका लड़का लल्ला सागर और भतीजा घर से सोल्ड प्लसर मोटर सायकल लेकर महासमुंद में काम है बोलकर निकले थे अभी तक घर नही पहुचें है और मेरे लड़के लल्ला सागर के मोबाईल नं0 से किसी अज्ञात व्यक्ति ने फोन किया और कहा की मैने तुम्हारे लड़के को किडनैप किया है अगर उसे छुड़ाना चाहते हो तो पैसे लेकर पटेवा आ जावओं अगर इसकी सूचना पुलिस में दो गे तो मैं तुम्हारे लड़के को जान से मारकर फेक दुंगा हेमसागर उसे पैसे देने के लिए राजी हो जाता है परंतु कुछ देर बाद उसे दूसरे मोबाईल नम्बर से फोन आता है और अज्ञात किडनैपर खुद को मूर्गा वाला बोलकर पैसा लेकर तुमगांव के होटल में आने को कहता है। प्रार्थी की इस रिपोर्ट पर थाना पटेवा में धारा 364ए,34 का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया जाता है।
जिलें में घटित किडनैपिंग की इस घटना की सूचना त्वरित थाने से मान पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल कुमार ठाकुर को दी जाती है। पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा त्वरित गति से चार टीमो का गठन किया जाता है। अति0 पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में पहली टीम अनु0अधिकारी (पु) पिथौरा  पुप्लेश पात्रे के नेतृत्व में प्रार्थी के साथ रहकर अज्ञात किडनैपर किस मोबाईल नं0 से फोन कर रहा है। इसकी जानकारी हासिल करने के साथ ही प्रार्थी को किडनैपर के साथ किस तरह बात करके उससे निगोसीएशन करना तथा किडनैपर को प्रार्थी के बताये स्थान पर पैसे देने के लिए तैयार करना था। दूसरी टीम थाना प्रभारी पटेवा लेख राम ठाकुर के नेतृत्व में प्रार्थी के पूरे इतिहासवृत को जानना था। तीसरी टीम थाना प्रभारी तुमगांव किडनैपर द्वारा पैसे मांगे जाने वाले स्थान पर पहुचकर वहा घेराबंदी करना था तथा चैथी टीम सायबर सेल प्रभारी संजय सिंह राजपूत के नेतृत्व में किडनैपर एवं प्रार्थी के मोबाईल नम्बरों को खंगाल रही थी। पुलिस की पहली प्राथमिकता थी कि किडनैप हुये बच्चों को सही सलामत बरामद किया जायें। जिलें के सारे आने-जाने वाले रास्तो पर नाकेबंदी कर किडनैपर के सारे रास्तों को बंद करने के साथ ही अन्य जिलों को भी किडनैपिंग की इस घटना की जानकारी देकर अलर्ट किया गया। जिससें किडनैपर दोनो बच्चों को लेकर कही और न भाग सकें। प्रार्थी ऐसा कोई कारण या घटना नही बता रहे थे। जिससें किडनैपिंग का मोटीव व उददेश्य समक्ष में आयें। पुलिस की टीम यह जानने में लगी हुई थी कि एक मध्यम वर्गी परिवार के दो लोगो को किस लिए किडनैप किया गया है और 1,20,000 रूपयें मांगने का क्या कारण है। पुलिस की वह टीम जो प्रार्थी के साथ रहकर किडनैपर से बातचीत करवाकर निगोसिएशन करवा रही थी उसने कांपा में एक ढ़ाबा के पास पैसे लेकर दोनो बच्चों को छोडऩे की बात कर राजी कर लिया। प्रार्थी हेमलाल सागर गांव के एक व्यक्ति के साथ ग्राम कांपा में एक ढ़ाबा के पास समय 10 बजें  पैसे लेकर पहुच जाते है। पुलिस की टीम सादी वर्दी छीपकर आरोपियों के आने का इंतिजार करती है परन्तु एक-डेर घंटा बीत जाने के बाद भी आरोपी पैसा लेने के लिए वहा नही पहुचता है। इस बीच आरोपी फोन कर कर के प्रार्थी को पैसा देने के स्थान बदलवाते रहते थे कभी नदी मोड़ कभी तुमगावं आदि स्थानों पर पहुचने की बात की जाती है। इस बीच पुलिस की वह टीम जो सादी वर्दी में प्रार्थी की सूरक्षा व किडनैपर को दबोचने के लिए लगी रहती है। उसे कुछ संदिग्ध मोटर सायकल सवार कांपा में नेशनल हाईवें के आस-पास मोटर सायकल की लाईट बंद चालू कर घुमते हुये दिखाई देती है। पुलिस की टीम जब उन संदिग्ध मोटर सायकलो की पीछा करती है, तब वह तेज गति से ग्राम कांपा से खट्टी मार्ग पर भागने लगती है। पुलिस की टीम साहसी तरीके से उन मोटर सायकल सवार लोगो को घेराबंदी कर रोकने में कामयाब हो जाती है। दोनों मोटर सायकल में 06 व्यक्ति सवार रहते है। पुलिस की टीम जिसके पास किडनैप हुये बच्चों की तस्वीर होती है। उन मोटर सायकल सवारों में किडनैप हुये बच्चें भी होते है। जिन्हे पहचान कर सुरक्षित अपने कब्जें कर लेते है। आरोपियों को अपने गिरफत में लेकर नाम व पता पूछने पर आरोपियों ने अपना नाम मुन्ना साहू पिता संतु साहू उम्र 27 वर्ष निवासी ग्राम कांपा थाना तुमगावं, लकेश चंद्राकर पिता स्व. नारायण चंद्राकर उम्र 30 वर्ष निवासी ग्राम कांपा थाना तुमगांव, पुरूषोत्तम उर्फ भुरू सोनी पिता हेमलाल सोनी उम्र 40 वर्ष निवासी कांपा थाना तुमगांव, फुलसिंग चंद्राकर पिता स्व. दाउलाल चंद्राकर उम्र 43 वर्ष निवासी ग्राम सेमराडीह थाना बलौदा बाजार बताया। आरोपियों से कड़ाई से पूछताछ करने पर आरोपियों ने किडनैपिंग की घटना को प्रार्थी हेमलाल सागर के बड़े बेटे से पैसे का लेनदेन होना व उससे पैसे वसुल करने के लिए इस घटना को अंजाम देना बताया। आरोपियों के बातया कि हेमलाल सागर का छोटा लड़का पटेवा में देखा गया है। आरोपियों को पैसा वसुल करने के लिए यह उपयुक्त समय लगा आरोपी घटना की प्लानिंग करते है और बलौदाबाजार के फुलसिंग चंद्राकर एवं विक्की चंद्राकर को किडनैपिंग की योजना के बारे में बताते है और उन्हें फोर व्हीलकर लेकर पटेवा आने के लिए राजी करते है। इस बीच पटेवा निवासी ढ़ालुराम बघेल पिता खिलावन बघेल उम्र 33 वर्ष निवासी ग्राम बोडरा थाना पटेवा जिला महासमुंद दोनो नाबालिक बच्चों को उलझाकर रखता है और खुद को उसके बड़े भाई का दोस्त बताकर दोनो नाबालिक बच्चों से घुलमिल जाता है एंव पटेवा के आउटर में जाकर फुलसिंग चंद्राकर के वाहन ईको ब्ळ 22 भ्-4720 में डरा धमका कर बैठा देते है। वाहन में विक्की चंद्राकर पुरूषोत्तम उर्फ भुरू सोनी, मुन्ना साहू, ढ़ालु राम बघेल बैठकर नाबालिक बच्चों को लेकर ग्राम कांपा की ओर बढ़ते है। बच्चों की मोटर सायकल को लेकर लकेश चंद्राकर ग्राम कांपा की ओर बढते है। आरोपियों की योजना नाबालिक बच्चों को पैसे न मिलने तक ग्राम कांपा में लकेश चंद्राकर के यहा छीपाकर रखने की थी। पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुये न केवल नाबालिक बच्चों को बरामद किया बलकी किडनैपिंग की घटना को अंजाम देने वाले आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की गई। 

इस कार्रवाई को पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल कुमार ठाकुर के मार्गदर्शन, एएसपी मेघा टेम्भुरकर साहू और एसडीओपी पिथौरा पुप्लेश पात्रे के निर्देशन में पटेवा थाना प्रभारी लेखराम ठाकुर, सायबर सेल प्रभारी उनि संजय सिंह राजपूत, सउनि विकाश शर्मा, प्रआर मिनेश ध्रुव, आर कामता आवड़े, रवि यादव, अजय जांगड़े ने अंजाम दिया|

जिला महासमुंद की पुलिस के त्वरित कार्रवाई व परिणाम से प्रसन्न होकर पुलिस महानिरीक्षक आनंद छाबड़ा ने टीम को 25,000 रुपए नगद पुरस्कार और राजपत्रित अधिकारियों को प्रशंसा पत्र देने की घोषणा की गई है|
+ Load More