• -

COVID-19 :

Confirmed :

Recovered :

Deaths :

Maharashtra / 230599 Tamil Nadu / 126581 Delhi / 107051 Gujarat / 38419 Uttar Pradesh / 31156 Karnataka / 31105 Telangana / 29536 West Bengal / 25911 Andhra Pradesh / 23814 Rajasthan / 22212 Haryana / 19364 Madhya Pradesh / 16341 Assam / 14033 Bihar / 13978 Odisha / 11201 Jammu and Kashmir / 9261 Punjab / 7140 Kerala / 6535 State Unassigned / 4385 Chhattisgarh / 3526 Uttarakhand / 3305 Jharkhand / 3192 Goa / 2039 Tripura / 1773 Manipur / 1435 Puducherry / 1200 Himachal Pradesh / 1101 Ladakh / 1055 Nagaland / 673 Chandigarh / 523 Dadra and Nagar Haveli and Daman and Diu / 456 Arunachal Pradesh / 287 Mizoram / 203 Andaman and Nicobar Islands / 151 Sikkim / 134 Meghalaya / 113 Lakshadweep / 0

   कोरोना मेडिकल बुलेटिन: प्रदेश में 9 जुलाई को इन- इन जिलो से मिले इतने मरीज साथ ही इतने मरीज हुए स्वस्थ,पढ़े ये खबर    |    BIG BREAKING : रायपुर में मिले 52 नए कोरोना संक्रमित मरीज, डीकेएस हॉस्पिटल के 8 स्टाफ निकले कोरोना संक्रमित    |    त्वरित कार्रवाई से पुलिस के प्रति जनता में बढ़ता है विश्वास : श्री अवस्थी : रायगढ़ और बलौदाबाजार के पुलिसकर्मियों को डीजीपी ने इंद्रधनुष सम्मान से किया सम्मानित    |    BIG NEWS : राजधानी के एक बंद पड़े कंपनी में डकैती करने जा रहे युवकों को मुखबिरी पर पुलिस ने किया गिरफ्तार    |    सावधान: अब एक बार से ज्यादा कोरोना की जांच करवाने वालो पर होगी कार्रवाई, पढ़े पूरी खबर    |    हिरासत में पिता-पुत्र की मौत मामले में पांच और पुलिसकर्मी गिरफ्तार, पढ़े पूरी खबर    |    बड़ी खबर: एक और फिल्म अभिनेता ने दुनिया को कहा अलविदा-जगदीप    |    बड़ी खबर: कानपुर गोलीकांड के मुख्य आरोपी गैंगस्टर विकास दुबे गिरफ्तार, पढ़े पूरी खबर    |    कोरोना बुलेटिन : प्रदेश में आज 65 नए कोरोना संक्रमित मिले, रायपुर से मिले 13 देखे किन किन जिलो से है    |    प्रदेश में मिले 14 नए कोरोना संक्रमित मरीज, देखे किन जिलो से है    |
बड़ी खबर: गोली मारकर कैशवैन लूटने वाले आरोपियों को पुलिस ने किया गिफ्तार

बड़ी खबर: गोली मारकर कैशवैन लूटने वाले आरोपियों को पुलिस ने किया गिफ्तार

रायगढ़। रायगढ़ के करोड़ीमल नगर आजाद चौक स्थित एसबीआई के एटीएम मे पैसा डालने आए वैन के चालक एवं गार्ड को गोली मारकर 14 लाख 50हजार की लूट को अंजाम देने वाले  दोनों आरोपियों को रायगढ़ पुलिस ने वारदात के 10 घंटे के अंदर संपूर्ण रकम के साथ गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल कर ली है। दोनों आरोपी पेशेवर अपराधी हैं। बिलासपुर के आई जी दीपांशु काबरा और रायगढ़ जिले के पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने आरोपियों की गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए बताया कि आरोपियों ने एटीएम बैंक के चालक को गोली मारकर 14 लाख 50 हजार रुपए की लूट को अंजाम दिया था। इस वारदात में दोनों लुटेरों ने गार्ड को भी दो गोली मारी थी वैन के चालक की जहा तत्काल मौत हो गयी वही गार्ड का अस्पताल मे इलाज जारी है। वारदात दोपहर 2 बजे के आसपास की बताई जाती है। रायगढ़ पुलिस इस कामयाबी पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, गृह मंत्री ताम्रध्वज और पुलिस महानिदेशक दुर्गेश माधव अवस्थी ने रायगढ़ पुलिस को बधाई दी है। पुलिस महानिदेशक अवस्थी ने 10 घंटे के भीतर लूट का खुलासा करने वाले पुलिस टीम के सभी सदस्यों को पुरस्कृत करने की घोषणा की है।
 
 

बड़ी खबर: अज्ञात बाइक सवार बदमाशों ने कैश वैन चालक को मारी गोली, लाखों रुपए लुट कर फरार

बड़ी खबर: अज्ञात बाइक सवार बदमाशों ने कैश वैन चालक को मारी गोली, लाखों रुपए लुट कर फरार

रायगढ़। अज्ञात बाइक सवार बदमाशों ने एटीएम केश वेन चालक की गोली मारकर हत्या कर लाखों रूपये नगद रकम लूट की बड़ी घटना को अंजाम दिया है। उक्त घटना छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले में घटित हुई हैं । सूत्रों से मिली मिली जानकारी के मुताबिक शहर के कोतरा रोड थाना क्षेत्र अंतर्गत किरोड़ीमल नगर आजाद चौक के पास बाइक सवारो ने एटीएम में पैसा डालने वाले वाहन के ड्राइवर को गोली मार कर लाखों रूपये  लूटकर फरार हो गए। कोतरा रोड टीआई ने बताया कि- लूट के आरोपियों ने चलाई 3 राउंड गोलियां जिसमें वेन बैंक कर्मचारियों को लगी गोली, एक व्यक्ति की मौत और एक गंभीरहालत गंभीर बताई जा रही है. सूचना मिलते ही पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे है। 

नाकेबंदी कर बदमाशों की तलाश जारी- 
अज्ञात बाइक सवार बदमाशों द्वारा दी गई इस बड़ी घटना को अंजाम देने के बाद जिले के सभी पुलिस थाना क्षेत्र में बदमाशों को पकडऩे के लिए नाकेबंदी की जा रही हैं। 
 राज्य में शैक्षणिक संस्थानों को खोलने में न हो जल्दबाजी, राज्य में इस समय कोरोना संक्रमण चरम पर

राज्य में शैक्षणिक संस्थानों को खोलने में न हो जल्दबाजी, राज्य में इस समय कोरोना संक्रमण चरम पर

रायपुर। राज्य में शैक्षणिक संस्थानों के बंद ताले कब खुलेंगे इसके लेकर अभी भी संशय कायम है। इधर राज्य सरकार की ओर से अभी तक कोई ऐसा संकेत नहीं मिला है जिसे लेकर यह कहा जा सके कि शैक्षणिक संस्थानें जल्द खुलेंगी। वहीं पूर्व में स्कूल शिक्षा मंत्री भी यह कह चुके हैं कि स्थिति की समीक्षा और अधिकारियों से राय-शुमारी के बाद ही इस मुद्दे पर कोई निर्णय लिया जाएगा। 

राज्य में कोरोना संक्रमण के चलते सभी तरह की शैक्षणिक संस्थानों के संचालन पर पूरी तरह से रोक लगाई गई है। इधर राज्य सरकार द्वारा कल बसों के संचालन की अनुमति जारी किए जाने के बाद से ही राजधानी में यह अटकले तेज हो गई थी कि अब जल्द ही स्कूलों को खोलने का भी आदेश आएगा। लेकिन मौजूदा स्थिति को देखते हुए यह कहना काफी जल्दबाजी होगी कि राज्य के अंदर स्कूल खोले जाने और मासूमों को स्कूल भेजने के लिए माहौल अनुकूल हो गया है। राज्य में इस समय कोरोना संक्रमण अपने चरम पर है। ऐसे में नौनिहालों को यदि स्कूल भेजा गया तो यह एक बड़ी चूक होगी। यही नहीं यदि वर्तमान में 01 जुलाई से स्कूल खुलने का आदेश जारी कर दिया गया तो स्थिति नियंत्रण से बाहर हो सकती है। प्रदेश में इस समय कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा दिनों-दिन बढ़ता जा रहा है। राज्य सरकार फूंक-फूंककर कदम रख रही है, यदि ऐसे समय में स्कूल खोलने में हड़बड़ी की गई तो आने वाले समय में स्थिति कितनी भयावह होगी इसकी कल्पना करने से भी मन सिहर जाता है। बहरहाल राज्य के स्कूल शिक्षामंत्री पहले भी यह कह चुके हैं कि शैक्षणिक संस्थानों को खोलने को लेकर किसी भी तरह की जल्दबाजी नहीं की जाएगी। स्थितियों का आंकलन करने, विशेषज्ञों से राय लेने तथा परिस्थितियां अनुकूल होने पर ही शैक्षणिक संस्थानों को खोलने की अनुमति दी जाएगी। इसके पहले एक बैठक होगी जिसमें राज्य के अंदर की मौजूदा परिस्थितियों का आंकलन किया जाएगा और विचार-विमर्श के बाद ही इस पर कोई निर्णय लिया जाएगा।
सोशल डिस्टेसिंग का बाजारों में नहीं हो रहा पालन, कोरोना की चपेट में आया शहर

सोशल डिस्टेसिंग का बाजारों में नहीं हो रहा पालन, कोरोना की चपेट में आया शहर

रायपुर। विश्व व्यापी कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए सोशल मीडिया चिकित्सकगण एवं लोकस्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा लगातार समझाइश दी जा रही है। बावजूद इसके शहर के प्रमुख बाजारों गोल बाजार, सदर बाजार, एमजी रोड, रामसागर पारा, पुरानी बस्ती, फाफाडीह सहित अन्य बाजारों में सुबह से लेकर रात तक लोगों की भीड़ दुकानों में दिखाई दे रही है। आम नागरिक बाजार में खरीददारी के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं कर रहे हैं। डॉ.आरडी अग्रवाल, डॉ.संगीता तिवारी, डॉ. मंजू शुक्ला, डॉ.मीनाक्षी तारे एवं डॉ.चंद्रमणी तिवारी ने कोरोना की चपेट में शहर के अधिकांश हिस्से आने पर चिंता व्यक्त करते हुए लोगों से सोशल डिस्टेसिंग का पालन करने की अपील की है। लंबे लाकडाउन के बाद खुले बाजार में अपना घाटा पूरा करने के लिए दुकानदार भी लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के लिए खरीददारी के वक्त निर्धारित दूरी बनाने के लिए नहीं कह रहे हैं। पास-पास खड़े रहकर खरीददारी करना कोरोना संक्रमण के फैलाव की आने वाले समय में बड़ी वजह बन सकता है। वहीं एम्स हास्पिटल में कार्यरत डॉ.चंद्रशेखर श्रीवास्तव ने भी मरीजों की बढ़ती संख्या के आधार पर लोगों से अति आवश्यक काम होने पर ही घर से निकलने की अपील की है। डॉ.श्रीवास्तव ने कोरोना संक्रमण के खतरे को रेखांकित करते हुए लोगों से अधिक से अधिक संख्या में दी गई चिकित्सकीय सलाह का पालन करने का आग्रह किया है। 
 बड़ी खबर: प्रदेश में हुई एक और हाथी की मौत, नहीं थम रहा हाथी के मौत का सिलसिला

बड़ी खबर: प्रदेश में हुई एक और हाथी की मौत, नहीं थम रहा हाथी के मौत का सिलसिला

धरमजयगढ़। छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले के धरमजयगढ़ में एक और दंतैल हाथी की मौत हो गई है। मृतक हाथी का नाम गणेश बताया जा रहा है। गणेश हाथी ने कई इलाके में लोगों की जान ले चुका था और कई घरों को तबाह किया था। बीती रात छाल रेंज के बेहरामार गाँव के किनारे वह विचरण कर रहा था| सुबह गांव में उसका शव बरामद हुआ| मौत की वजह क्या हो सकती है इसका पता नहीं चल सका है. हाथी की मौत की सूचना पाकर वन विभाग की टीम घटना स्थल पर पहुंचकर पूरे मामले की जांच में जुट गई है

डीएफओ ने की पुष्टि-
डीएफओ  के मुताबिक मृतक हाथी गणेश है, जिसे कॉलर आईडी लगाया गया था, लेकिन कुछ माह पहले ही उसके गले से रेडियो कॉलर आईडी गिर गया था। फिर से गणेश का रेस्कयू करने वन विभाग द्वारा तमाम कोशिश भी की गई थी, लेकिन गणेश की पहचान नहीं हो पा रही थी। उन्होंने कहा कि गणेश की पहचान उसके गले के निशान से हुई है। जहां कॉलर आईडी लगाया गया था। मौके पर कटहल मिला है, जिसे गणेश ने खाया है. उसके शरीर पर चोट के कोई निशान मिला नहीं है। जिससे उसकी मौत की वजह साफ नहीं पाई है।

वन विभाग के आलाधिकारी कर्मचारी मौके पर हैं-
 इससे पहले भी धरमजयगढ़ के गेरसा गांव में 16 जून को एक हाथी की मौत हो गई थी. जिसकी मौत करंट की चपेट में आने से होना पाया गया था। छत्तीसगढ़ में इन सभी हाथियों की जान 9 जून से लेकर 18 जून के बीच गई।

लगातार हो रही हैं हाथियों की मौत -
सूरजपुर के प्रतापपुर में 9 और 10 जून को एक गर्भवती हथिनी समेत 2 हथिनी की मौत हुई थी.
बलरामपुर के अतौरी के जंगल में 11 जून को 1 हाथिनी की मौत हुई थी।
धमतरी के माडमसिल्ली के जंगल में 15 जून को एक हाथी के बच्चे की मौत थी।
रायगढ़ के धरमजयगढ़ में 16 और 18 जून को 2 हाथियों की मौत हुई थी।

 

करेंट से हाथी की मौत के मामले में पांच लोग हुए गिरफ्तार, पढ़ें पूरी खबर

करेंट से हाथी की मौत के मामले में पांच लोग हुए गिरफ्तार, पढ़ें पूरी खबर

रायगढ़ | रायगढ़ जिले के धरमजयगढ़ वनमण्डल के गेरसा गांव में करेंट की वजह से हाथी की मौत के मामले में दो आरोपी किसानों और विद्युत विभाग के तीन कर्मियों के खिलाफ  कार्रवाई की गई है। आरोपी कृषक भादोराम एवं एक अन्य कृषक को इस मामले में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। आरोपी किसानों को सिंचाई पम्प के लिए अवैध रूप से विद्युत कनेक्शन देने तथा घटना स्थल से साक्ष्य मिटाने के मामले में विद्युत विभाग के सब इंजीनियर पी. कुजूर, लाईनमेन श्री अमृत लाल तथा सहायक को गिरफ्तार किया गया है। 

प्रधान मुख्य वन संरक्षक राकेश चतुर्वेदी ने बताया कि धरमजयगढ़ वनमण्डल के ग्राम गेरसा बीट में मंगलवार सुबह विद्युत करेंट के चपेट में आने की वजह से एक हाथी की मौत हो गई। इस मामले की सूचना मिलते ही वन विभाग के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे, तो पाया कि विद्युत पोल से किसान भादोराम एवं एक अन्य किसान द्वारा अवैध रूप से पम्प के लिए तार खींचा गया है, जिसके चपेट में आने की वजह से हाथी की मौत हो गई है। मौके पर पहुंचे मुख्य वन संरक्षक बिलासपुर अनिल सोनी एवं धरमजयगढ़ डीएफओ सुश्री प्रियंका पाण्डेय ने दोनों आरोपी कृषकों से सिंचाई पम्प के लिए अवैध रूप से तार खींचने के संबंध में पूछताछ की और उनके खिलाफ वन्य प्राणी अधिनियम के तहत कार्रवाई के निर्देश दिए। इस दौरान वन विभाग के अधिकारियों ने पाया कि विद्युत विभाग के सब इंजीनियर पी. कुजूर एवं अन्य कर्मियों द्वारा विद्युत पोल से अवैध रूप से खींचे गए तार को निकलवाया जा रहा है। सब इंजीनियर सहित दो विद्युत कर्मियों के विरूद्ध साक्ष्य मिटाने के मामले में कार्रवाई की गई है। 
 
खेत मे मिला नर हाथी का शव, लगातार 5 हाथियों की मौत से मचा हड़कंप

खेत मे मिला नर हाथी का शव, लगातार 5 हाथियों की मौत से मचा हड़कंप

रायगढ़। छत्तीसगढ़ में लगातार वन्य जीवों की मौत से एक बार फिर प्रशासन सकते में है, यहां लगातार 5 हाथियों की मौत से हड़कंप मचा हुआ है। मंगलवार को भी छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले में भी एक नर हाथी की मौत हो जाने की खबर प्रकाश में आयी है। 

जशपुर रायगढ़ जिले की सीमा पर स्थित ग्राम गेरसा में मंगलवार सुबह एक नर हाथी की मौत हो जाने की खबर मिलते ही आसपास के ग्रामीणों में हड़कंप मच गया घटना की जानकारी मिलते ही वन विभाग की टीम मौके पर रवाना हुई और हाथी के शव को अपने कब्जे में ले लिया सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार गांव का किसान बालूराम अपने खेत में सिंचाई के लिए कुए से बोर बेल्स कनेक्शन लिया था सोमवार की रात वह बिजली कनेक्शन बंद करना भूल गया जिसके कारण मंगलवार की सुबह हाथियों का एक झुंड वहां से गुजरा और नर हाथी उसके चपेट में आ गया और उसकी मौत हो गई इधर वन विभाग की टीम ने  आरोपी किसान को गिरफ्तार कर लिया है।
दूध पतला देने के विवाद में युवक ने महिला पर किया चाकू से वार, फिर लगाली फांसी

दूध पतला देने के विवाद में युवक ने महिला पर किया चाकू से वार, फिर लगाली फांसी

रायगढ़। छत्तीसगढ़ के रायगढ़ में गाय का दूध पतला देने को लेकर दो पक्षों में जमकर विवाद हो गया। वहीं इस घटना में एक युवक ने महिला पर चाकू से ताबड़तोड़ हमला कर दिया। युवक को जब लगा कि महिला की मौत हो गई है तो उसने खुद को कमरे में बंद कर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। हालांकि घटना में घायल महिला की हालत अभी स्थिर है। इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मामला शहर के हीरापुर इलाके का है।

बताया जा रहा है, कि एकता नगर निवासी दुर्गा प्रसाद डोंगरवार ने अपनी गाय मुंहबोली बहन लक्ष्मी पैकरा को पालने के लिए दी थी। लक्ष्मी उसका दूध आस पास के घरों में बेचने का काम कर रही है। दुर्गा प्रसाद भी उसी से दूध लेता है। शुक्रवार की सुबह दूध पतला देने के नाम पर दुर्गा प्रसाद का लक्ष्मी से विवाद हो गया, और उसने चाकू से उस पर वार कर दिया। लक्ष्मी को गंभीर रूप से घायल देख दुर्गा प्रसाद भी घबरा गया। उसे लगा कि महिला की मौत हो गई है। उसने खुद को अपने घर के कमरे में बंद कर दिया।
 
इधर लक्ष्मी के परिजनों को घटना की जानकारी मिली, तो उन्होने पुलिस को खबर की और आरोपी युवक के घर को बाहर से ताला लगा दिया। पुलिस टीम जब मौके पर पहुंची और आरोपी के घर का दरवाजा खोला, तो उसकी लाश फांसी पर लटक रही थी। माना जा रहा है कि पुलिस कार्रवाई के भय से दुर्गा प्रसाद ने फांसी लगाई है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।
 जिंदल प्लांट के फ्यूल टैंक में धमाका: चार मज़दूर घायल, एक गम्भीर

जिंदल प्लांट के फ्यूल टैंक में धमाका: चार मज़दूर घायल, एक गम्भीर

रायगढ़। छत्तीसगढ़ के जिला मुख्यालय रायगढ़ के नजदीक जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड के परिसर में स्थित फ्यूल टैंक में ब्लास्ट होने से चार मजदूर घायल हो गए हैं| इनमें से एक की हालत गंभीर बताई जाती है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक पुलिस को शक है कि टैंक में कुछ डीजल या गैस थी जो शायद गैस के कटर से काटे जाने के दौरान ज्वाला के संपर्क में आई हो, जिससे विस्फोट हो गया। प्रतयक्षदर्शी ने बताया कि स्क्रैप यार्ड में गैस कटर से एक पुराने डीजल टैंक को काट रहे थे। 

पुलिस ने बताया कि चार मजदूर घायल हो गए, जिनमें से दो गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। यह विस्फोट बुधवार रात को हुआ। पतरापल्ली गाँव में जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड के परिसर में स्क्रैप यार्ड में गैस कटर से एक पुराने डीजल टैंक को काट रहे थे। 

पुलिस को शक है कि टैंक में कुछ डीजल या गैस थी जो शायद गैस के कटर से काटे जाने के दौरान ज्वाला के संपर्क में आई हो, जिससे विस्फोट हुआ।

विस्फोट में चार लोगों को जलने की चोटें मिलीं। उनमें से दो गंभीर रूप से घायल हो गए और उन्हें रायपुर के एक अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया। पुलिस अधिकारी ने कहा कि अन्य दो को रायगढ़ के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्होंने कहा कि विस्फोट के कारण का पता लगाने के लिए एक जांच 
 बड़ी खबर: फर्जीवाड़ा मामले में 15 सहायक शिक्षक बर्खास्त, जानिए क्या है यह पूरा मामला

बड़ी खबर: फर्जीवाड़ा मामले में 15 सहायक शिक्षक बर्खास्त, जानिए क्या है यह पूरा मामला

रायगढ़। छत्तीसगढ़ से इस वक्त एक बड़ी खबर सामने आ रही है जहां सांरगढ़ और बरमकेला ब्लॉक में अस्थाई जाति प्रमाण पत्र के जरिए नौकरी कर रहे 15 सहायक शिक्षकों को बर्खास्त कर दिया गया है। जिला पंचायत सीईओ ने कार्रवाई की है। इनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश भी दिए हैं। इन सभी शिक्षकों की जाति फर्जी पाई गई है जिसके बाद ये कार्रवाई की गई है। दरअसल साल 2005 से लेकर 2012 -13 के बीच शिक्षकों व सहायक शिक्षकों की भर्ती की प्रक्रिया तहसीलदार के द्वारा जारी जाति प्रमाण पत्र के आधार पर हुई थी। चूंकि तहसीलदार के द्वारा जाति प्रमाण पत्र सिर्फ 6 महीने के लिए ही वैध माना जाता है और बाद में स्थायी जाति प्रमाण पत्र आवेदक को जमा करना अनिवार्य है। लेकिन जिले में 15 सहायक शिक्षक अस्थायी जाति प्रमाण पत्र के जरिए ही सालों से नौकरी कर रहे थे। मामले में जांच के दौरान इनके स्थायी जाति प्रमाण पत्र नही पाए गए जिसके बाद जिला पंचायत ने इनको बर्खास्त कर दिया है।
 
 
बड़ी खबर: गैस सिलेण्डर फटने से एक महिला समेत दो बच्चों की मौत, जाने पूरी खबर

बड़ी खबर: गैस सिलेण्डर फटने से एक महिला समेत दो बच्चों की मौत, जाने पूरी खबर

रायगढ़। छत्तीसगढ़ के रायगढ से आज एक दुखद खबर सामने आई है। गैस सिलेण्डर फटने से 3 लोग हादसे के शिकार हो गये। इस हादसे में एक महिला और दो बच्चों की मौत हो गई। हादसा सारंगढ़ क्षेत्र के ग्राम चंदेली का है, जहां आज सुबह गैस सिलेण्डर फटने से 3 लोगों की मौत हो गई। घटना की सूचना मिलने पर सारंगढ़ पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच कर रही है।

जिले के सारंगढ विधान सभा के ग्राम पंचायत चँदाई में रसोई गैस फटने से तीन लोगों की मौके पर मौत।
आज सुबह हुई घटना।मृतको में लता साहू उम्र 25 वर्ष और उनके दो बच्चे टिकेश शाहू उम्र 6 वर्ष तथा झलप साहू उम्र 5 वर्ष बताया जा रहा है|

घर वाले के अनुसार घटना सुबह 7.30 बजे का बताया जा रहा है। घटना के वक्त उनके पति सुखराम साहू कही गए हुए थे मृतक लता साहू की जेठ घटना के समय घर पर ही थे सारंगढ पुलिस मौके पर पहुंची। उक्त हादसा थाना सारंगढ़ ग्राम चंदाई में घटित हुई जहा लता साहू पति सुकराम साहू 25 वर्ष, टिकेश साहू पिता सुकराम साहू उम्र-7 वर्ष,झलक साहू पिता सुकराम साहू उम्र-3 वर्ष की मौत हुई है। हादसे के बाद इलाके में शोक व्याप्त है।
एक ऐसा कोतवाल जिसका पूरा परिवार कोरोना फाइटर, मजलूमों और बेजुबानों की मदद मे टीआई मार्कण्डेय के साथ पत्नी व पुत्र भी सहयोगी

एक ऐसा कोतवाल जिसका पूरा परिवार कोरोना फाइटर, मजलूमों और बेजुबानों की मदद मे टीआई मार्कण्डेय के साथ पत्नी व पुत्र भी सहयोगी

रायगढ़ | वैश्विक महामारी कोविड- 19 के खौफ से जहां एक तरफ पूरी आबादी घरों मे कैद हो गई है वहीं संकटकाल मे डाक्टर, सफाईकर्मी व पुलिस जैसे विभाग कोरोना योद्धा की भूमिका मे बने हुये हैं। इस संकटकाल मे पीडित मानवता की सबसे ज्यादा सेवा और सहायता करते हुये पुलिस विभाग की छवि सबसे अधिक मददगार साबित हुई है। इसमे भी कुछ वर्दीधारी कोरोना वारियर्स का सहयोगी उनके विभाग के साथ साथ उनका परिवार भी बना हुआ है। परित्राणाय साधुनाम के ध्येय वाक्य की ऐसी ही सार्थकता भूपदेवपुर के कोतवाल ध्रुव कुमार मार्कण्डेय और उनका कुटुम्ब स्थापित करते हुये एक मिसाल कायम करने मे समर्पित भाव से जुटा है ।

बीते 70 दिनों से प्रभावी देशव्यापी तालाबंदी के बीच समूचे भूपदेवपुर थाना क्षेत्र मे टीआई डी.के.मार्कण्डेय की छवि एक ऐसे मददगार की बनी है जो वर्दी का दायित्व और मानवता का धर्म साथ साथ निभा रहा है। थाना मे बाहरी मुसाफिरों के दुख दर्द कम करने का मसला हो या फिर घरों मे कैद जरुरतमंदों की चौखट तक मदद पंहुचाने का सवाल हो,ध्रुव कुमार मार्कण्डेय के रुप मे खाकी वर्दी मे एक सख्स हर वक्त पीडित मानवता की रहनुमाई के लिए तत्पर नजर आता है।आम जनता को राहत और सुरक्षा देने के अभियान मे भूपदेवपुर थाना प्रभारी को समाजसेवी और दानदाताओं का भी आपेक्षित सहयोग दायित्व निभाने की ऊर्जा मे वृद्घि कर रहा है। एक तरफ टीआई मार्कण्डेय  जरुरतमंदों की मदद के लिए तत्पर हैं तो दूसरी तरफ आमजन से कोरोना संकट से निपटने की दिशा मे शासकीय निर्देशों जैसे सामाजिक दूरी,मास्क और धारा 144 के पालन की समझाईश और लापरवाही पर कठोर दण्ड के प्रति भी लोगों को जागरुक कर रहे हैं।सड़क सुरक्षा के मामले में भी टीआई मार्कण्डेय बेहद सतर्क बताए जाते हैं, यही वजह है कि सबसे बड़ा सड़क दुर्घटनाग्रस्त क्षेत्र जिंदल खरसिया रोड भी इनकी निगरानी मे अब तक सुरक्षित है। कोतवाल डीके मार्कण्डेय बताते हैं कि कोरोना सुरक्षा ब्यवस्था मे अब तक उनके द्वारा करीब 10 हजार मास्क का वितरण थाना क्षेत्र मे किया जा चुका है और यह सिलसिला निर्बाध जारी है। सबसे अच्छी बात यह है कि महामारी से बचाव के लिए थानेदार द्वारा निशुल्क बांटे जा रहे मास्क का निर्माण भी मार्कण्डेय के व्यक्तिगत प्रयासों से कराया जा रहा है और टीआई के इस प्रयास ने नजदीकी गांव लोढ़ाझर एवं रक्शापाली के  महिला समूह को लाक डाऊन मे आत्मनिर्भर बने रहने का हौसला दिया है। ये महिलायें पुलिस से कपड़ा लेकर मास्क का निर्माण कर उसे वापस थाने मे जमा करती हैं जहां से मास्क जरुरतमंदों तक पंहुचता है। साथ ही रोजाना करीब 50 पैकेट भोजन भी टीआई मार्कण्डेय के निगरानी मे क्षेत्र के जरुरतमंद मुसाफिर और मजलूमों तक पंहुचाने का सिलसिला जारी है ।

 ध्रुव कुमार का शौक उनके परिवार का मिशन : पीड़ित मानवता की सेवा का जज्बा बिरले ही किसी की भावनाओं मे ज्वार की मानिंद उमड़ता नजर आता है और भूपदेवपुर थाना प्रभारी ध्रुव कुमार मार्कण्डेय मे खाकी वर्दी के पीछे यह जज्बा लगभग साढे 3 दशक से अपना असर दिखा रहा है। टीआई मार्कण्डेय बताते हैं कि अपने करीब 36 साल के पुलिसिया सेवा के दौरान सैकड़ों दिव्यांगो के इलाज की व्यवस्था स्वयं के व्यय पर की गयी है।उनका यह क्रम अभी भी जारी है। यहां तक की आवश्यकता पडने पर जरुरतमंदों की छोटी मोटी आर्थिक सहायता भी उनके द्वारा की जाती है किंतु यह सब किसी लोकप्रियता के लिए न होकर आत्म-संतुष्टि के लिए किया जा रहा है।यही वजह है कि टीआई मार्कण्डेय के इन नेकियों को सुर्खियों से ज्यादा लोगों के दिलों मे जगह मिली है। वहीं नेकदिल पुलिस अफसर के इस अलहदा शौक का प्रभाव उनके परिवार पर भी पडा है। टीआई मार्कण्डेय के साथ उनकी पत्नी श्रीमती शकुंतला मार्कण्डेय एवं सुपुत्र इंजी. अखिलेश कुमार मार्कण्डेय भी कोरोना योद्धा की भूमिका मे देखे जा रहे हैं।टीआई मजलूमों की मदद मे व्यस्त हैं तो उनका परिवार बेजुबानों की सेवा कर मानवीय संवेदनाओं का चित्र प्रस्तुत कर रहा है। भूपदेवपुर क्षेत्र मे वानरों, गौवंशों और श्वानों आदि के लिए चना, फल, अनाज , हरा चारा वगैरह की व्यवस्था कर इन बेजुबानों के पेट भरने के प्रबंध मे जुट जाना इन कोरोना वारियर्स की रोज की दिनचर्या मे शामिल हो गया है। मानव जीवन पर आये इस महामारी के संकट मे पुलिस की  बदलती छवि के बीच भूपदेवपुर कोतवाल डीके मार्कण्डेय और उनका परिवार एक ऐसी मिसाल कायम कर रहे हैं जिसे कोरोना के खौफ का दौर बीत जाने के बाद भी लंबे वक्त तक याद रखा जायेगा। नगर कोतवाल भी रह चुके पुलिस महकमे के इस सबसे अनुभवी थानेदार के अनूठी और लोकप्रिय कार्यप्रणाली की सराहना पूरा पुलिस महकमा तो कर ही रहा है साथ ही पुलिस के आला अधिकारी भी खाकी की शान बढ़ाने वाले ऐसे समर्पित अफसर की मुक्त कंठ से प्रशंसा करते सुने जा रहे हैं

हुक्काबार में पुलिस ने दबिश देकर 2 को किया गिरफ्तार, भारी मात्रा में नशीले पदार्थ जब्त

हुक्काबार में पुलिस ने दबिश देकर 2 को किया गिरफ्तार, भारी मात्रा में नशीले पदार्थ जब्त

रायगढ़। कोरोना के चलते लॉकडाउन के साथ कई गतिविधियों में भी रोक लगा दी गई थी। लॉकडाउन-4 में सरकार ने थोड़ी छूट दी है छूट मिलते ही गलत कामो का दौर शुरू हो गया है। इसी कड़ी में एक खबर सामने आ रही है की कोतवाली टाऊन पेट्रोलिंग द्वारा मुखबिर सूचना पर कोतरारोड कातोरे रेस्टोरेंट के पास बने जीजी कैफे में संदेहास्पद हलचल की सूचना पर रेड किया गया। मौके पर कोतरारोड़ टी.आई. युवराज तिवारी भी स्टाफ के साथ पहुंचे थे। रेड दौरान जीजी कैफे के संचालक लिलेश अग्रवाल पिता लोकेश अग्रवाल उम्र (21) वर्ष सा.दशरथ पान ठेला गली कोतरारोड रायगढ व दीपक कुमार अग्रवाल पिता स्व विनोद कुमार अग्रवाल उम्र (24)वर्ष सा. कृष्ण विहार कालोनी ढिमरापुर चौक रायगढ के द्वारा जिला दण्डाधिकारी रायगढ़ द्वारा जारी आदेश की अवहेलना करते हुये प्रतिबंधित तम्बाखू उतपाद का व्यवसाय करते पाये गए। मौके पर कोतवाली पुलिस द्वारा 05 नग हुक्का सेट मय पाईप, हुक्का पीने का फ्लेवर आधा पैकेट तथा 08 पैकेट हुक्का में जलाने वाला पदार्थ कीमती 9000 रूपये को जप्त किया गया है। आरोपीगण लिलेश अग्रवाल एवं दीपक अग्रवाल के विरूद्ध थाना कोतवाली में अप.क्र. 382/2020 धारा 188, 269, 270, 34 भादंवि की कार्यवाही की गई है ।
दर्दनाक सड़क हादसा: ट्रेलर की चपेट में आने से एक युवक की मौत, एक घायल

दर्दनाक सड़क हादसा: ट्रेलर की चपेट में आने से एक युवक की मौत, एक घायल

रायगढ़। जिले के पूंजीपथरा थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम गेरवानी के मुख्य मार्ग में आज सुबह एक दर्दनाक सड़क हादसा हो गया। जिसमे एक युवक की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। मिली जानकारी के अनुसार दो बाइक सवार युवक को घटना स्थल पर एक विपरीत दिशा से आ रही ट्रेलर ने अपनी चपेट में ले लिया। हादसा इतना भयानक था कि ट्रेलर की ठोकर से दो बाइक सवारों में एक कि घटना स्थल पर ही मौत हो गई। जबकि दूसरा युवक गम्भीर रूप से घायल हो गया।

पुलिस ने अनुसार मृत युवक का नाम फकलू ऊर्फ करण सिंह उम्र 18 वर्ष निवासी गेरवानी का रहने वाला था।। जो अपने दोस्त के साथ बाइक में गेरवानी रोड किसी काम से गया हुआ था। सामने से आ रही ट्रेलर ने दोनों बाइक सवारों को अपनी चपेट में ले लिया जहां घटनास्थल पर ही मृतक करण सिंह की मौत हो। जबकि घायल युवक को इलाज के लिए जिला अस्पताल भिजवाया गया।वहीं मृतक का शव को पंचनामा के बाद उसके परिजनों को सुपुर्द कर दिया गया है।वहीं खूनी ट्रेलर को चालक सहित पुलिस ने लिया हिरासत में लेकर पूंजीपथरा पुलिस ने आगे की कार्रवाई प्रारम्भ कर दी है।
सड़क हादसा:ट्रक से टकराई मोटर साइकिल महिला की मौत समेत  दो घायल,जाने कहा की है खबर

सड़क हादसा:ट्रक से टकराई मोटर साइकिल महिला की मौत समेत दो घायल,जाने कहा की है खबर

रायगढ़, थाना चक्रधर नगर क्षेत्र के अंतर्गत ग्रीन सिटी कालोंनी के सामने गोवर्धनपुर में अभी कुछ देर पहले एक तेज रफ्तार बाइक और ट्रेलर में टक्कर हो गई।इस दुर्घटना में मोटरसाइकिल सवार 3 लोग ट्रक के चपेट में आ गए।। जिसमें दो लोगों को मामूली चोटें आई।। जबकि एक महिला की घटनास्थल पर ही दर्दनाक मौत हो गई।घटना की सूचना मिलते ही चक्रधर नगर पुलिस मौके पर पहुंचकर दोनो घायलों को इलाज के लिए अस्पताल भिजवा गया जबकि मृतक महिला के शव का पंचनामा कर पोस्टर्माटम के लिए मरचुरी रूम भेजा जा रहा है .

 

आपसी रंजिश के चलते ग्रामीण पर धारदार हथियार से वार कर उतारा मौत के घाट, जाने कहा की है यह घटना

आपसी रंजिश के चलते ग्रामीण पर धारदार हथियार से वार कर उतारा मौत के घाट, जाने कहा की है यह घटना

रायगढ़। आपसी दुश्मनी एक दूसरे का काल बन जाता है इस कारण लोग अपनी अपनी जान के दुश्मन बन जाता है छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले में भी कुछ ऐसे ही दर्दनाक घटना सामने आई हैं जिले के धरमजयगढ़ ब्लॉक के गेरसा गांव में घटित हुई हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार धारदार हथियार से ग्रामीण ने अपने ही रिश्तेदार को मौत के घाट उतार दिया। गांव से लगभग 3 किलोमीटर दूर अपने खेत में काम कर रहा था मृतक चरण सिंह राठिया. इसी बीच आरोपी बलदेव ने कुल्हाड़ी से गरदन और सिर पे ताबड़तोड़ वार कर के दिया घटना को अनजाम दिया, वहीँ कुछ दुरी पर खड़े मृतक के भाई को भी मारने दौड़ाया। मोटरसायकल वहीँ छोड़ किसी तरह भाग कर बचाई जान।इस वारदात के बाद पूरे गांव में पसरा सन्नाटा पसर गया। दहशत में लोगों ने अपने घरों में जड़ दिया था ताला| कुछ ग्रामीणों ने थाने में दी वारदात की जानकारी दी। गांव के कुछ साहसी युवकों ने बड़ी जड़्दोजहद के बाद जंगल से पकड़ा कातिल को, रस्सी में बांधकर किया पुलिस के हवाले किया।

मानसिक रूप से कमजोर है आरोपी: ग्रामीणों की माने तो कल रात से घर छोड़कर निकला था आरोपी बलदेव| बताया जा रहा मानसिक रूप से जऱा कमज़ोर है, फिलहाल घटनास्थल पर पुलिस ने सबका पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
बड़ी खबर : एंटी करप्शन ब्यूरो ने 4 हज़ार रिश्वत लेते महिला पटवारी को किया गिरफ्तार, जाने कहा की है ये खबर

बड़ी खबर : एंटी करप्शन ब्यूरो ने 4 हज़ार रिश्वत लेते महिला पटवारी को किया गिरफ्तार, जाने कहा की है ये खबर

रायगढ़महिला पटवारी को रिश्वत लेते  एसीबी की टीम ने पकड़ा। खरसिया के बड़ेदेवगांव निवासी आवेदक संजय साहू 3. मार्च 2020 को एक लिखित शिकायत पत्र उप पुलिस अधीक्षक , एन्टी करप्शन ब्यूरो , बिलासपुर के समक्ष प्रस्तुत किया था कि आवेदक ने स्वयं एवं दो नाबालिक भाईयों के नाम से बड़ेदेवगांव में जमीन खरीदा था। उस समय आवेदक एवं नाबालिक भाईयों के नाम से ऋण पुस्तिका था । अब तीनों भाई बालिक हो जाने से ऋण पुस्तिका में दुरूस्त कराने अपने गांव के पटवारी, कुमारी सुमित्रा सिदार , प. ह. न.-16 , ग्राम बकेली से संपर्क करने पर ऋण पुस्तिका को दुरूस्त करने हेतु 4000 / -रूपये रिश्वत की मांग किया। शिकायत की वाईस रिकार्डर देकर सत्यापन कराया गया जो सही पाया गया । आज ट्रेप कार्यवाही की गई आरोपी कुमारी सुमित्रा सिदार , 0 0 0 -16 , ग्राम बकेली , तहसील खरसिया , जिला रायगढ़ ( छ 0 0 ) को प्रार्थी से 4000 / – रूपये रिश्वत लेते हुये रंगे हाथों पकड़ा गया । आरोपी के विरूद्ध धारा -7 भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अंतर्गत विधिवत कार्यवाही करते गिरफ्तार किया गया है । प्रार्थी द्वारा रिश्वत संबंधित बातचीत को रिकार्ड करने के बाद प्रार्थी के पिताजी का स्वास्थ्य खराब होने एवं लॉकडाउन होने से आज कार्यवाही की गई है।

जिले के एक क्वॉरेंटाइन सेंटर में मजदूर ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, जाने कहा की है यह खबर

जिले के एक क्वॉरेंटाइन सेंटर में मजदूर ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, जाने कहा की है यह खबर

रायगढ़ | करोना बीमारी संकट के मद्देनजर बाहर राज्यों से मजदूरों का आने का  सिलसिला जारी है प्रशासन ने संक्रमण सेेे बचने के विभिन्न जिलों में मजदूरोंं के रूटीन चेकअप के साथ  उन्हें 14 दिन के लिए रखने के लिए  क्वॉरेंटाइन सेंटर  बनाया है  रायगढ़ जिले के सारंगढ़ में अमलीपाली अ गांव में बने क्वारंटाइन सेन्टर में एक मजदूर ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। बताया जाता है कि इसी गांव का रहने वाला मृतक अर्जुन निषाद 10 मई को तेलंगाना से वापस अपने गांव आया था जहां प्रशासन ने उसे उसके एक और साथी के साथ क्वारंटाइन कर दिया गया था। बताया जाता है कि मृतक जब से आया था किसी से बातचीत नहीं कर रहा था। हालांकि आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चला है लेकिन पुलिस ने बताया कि मजदूर अविवाहित था और वह किसी से ज्यादा बातचीत नहीं करता था। 

 

 
 बेमौसम बारिश से हुए नुकसान के लिए प्रभावितों को आर्थिक सहायता पहुंचाने के निर्देश

बेमौसम बारिश से हुए नुकसान के लिए प्रभावितों को आर्थिक सहायता पहुंचाने के निर्देश

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राज्य के विभिन्न जिलों में हुई बेमौसम बारिश से फसलों और अन्य परिसंपत्तियों को हुए नुकसान के लिए प्रभावित लोगों को तत्काल आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने के निर्देश दिए है। राजस्व विभाग की सचिव ने राज्य के सभी जिलों के कलेक्टरों को पत्र जारी कर फसलों और अन्य परिसंपत्तियों सहित अन्य के हुए नुकसान का आकलन कर तत्काल आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित करने के निर्देश जारी कर दिए है। 
लॉक डाउन के दौरान रेलवे के द्वारा पार्सल ट्रेनों के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं के परिवहन की सुविधा

लॉक डाउन के दौरान रेलवे के द्वारा पार्सल ट्रेनों के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं के परिवहन की सुविधा

रायपुर। कोविड-19 (कोरोना वायरस) के संक्रमण को रोकने के मद्देनजर लॉकडाउन के दौरान आवश्यक वस्तुओं जैसे खाद्य सामग्री, दवाएं, चिकित्सा आपूर्ति, चिकित्सा उपकरण, खाद्य तेल, आदि आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता को सुनिश्चित करने हेतु रेलवे प्रशासन द्वारा पार्सल गाडियां चलाई जा रही है। इसी कडी में दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे द्वारा 04 विशेष पार्सल ट्रेनों का परिचालन किया जा रहा है। जिसका विस्तृत विवरण इस प्रकार है:-

00875/ 00876 दुर्ग - छपरा – दुर्ग पार्सल एक्सप्रेस का ठहराव रायपुर, उसलापुर, पेंड्रा रोड, अनूपपुर, शहडोल, कटनी, सतना, प्रयागराज, मीरपुर, वाराणसी  दिया गया है। एक किवंटल पार्सल की बुकिंग के लिए अनुमानित दर दुर्ग-छपरा के लिए  317 / - रु होगी ।

00873/ 00874 दुर्ग - अंबिकापुर - दुर्ग पार्सल एक्सप्रेस का ठहराव रायपुर, उसलापुर, पेंड्रा रोड, अनूपपुर, बिजुरी, बैकुंठपुर रोड दिया गया है। एक किवंटल पार्सल की बुकिंग के लिए अनुमानित दर  दुर्ग- अंबिकापुर के लिए 158 रूपये होगी ।

00871/ 00872 दुर्ग - कोरबा - दुर्ग पार्सल एक्सप्रेस का ठहराव रायपुर, तिल्दा, भाटापारा, बिलासपुर, चंपा दिया गया है, एक किवंटल पार्सल की बुकिंग के लिए अनुमानित दर दुर्ग-कोरबा के लिए  101 /  रूपये होगी।

00881/ 00882 इतवारी - टाटा - इतवारी पार्सल एक्सप्रेस का ठहराव गोंदिया, राजनांदगाँव, दुर्ग, रायपुर, बिलासपुर, चम्पा, रायगढ़, झारसुगुड़ा, राउरकेला, चक्रधरपुर दिया गया है, एक किवंटल पार्सल की बुकिंग के लिए अनुमानित दर दुर्ग-टाटा के  लिए  191/ - रूपये होगी।

इसके अलावा कल्याण सें शंकराइल(हावड़ा के पास) भी पार्सल एक्सप्रेस ट्रेनें चलेंगी। यह पार्सल ट्रेन
दुर्ग, रायपुर, बिलासपुर, राउरकेला, टाटा, संकराइल में ठहराव के साथ चलेंगी। प्रति किवंटल पार्सल की बुकिंग के लिए अनुमानित दर  दुर्ग से संकराइल (हावड़ा के पास) और चंगसारी तक के लिए क्रमश: 260 / - और 473 / - रूपए होगी। यह पार्सल ट्रेन मुंबई से शालीमार और वापस भी चलेगी।

इच्छुक पक्ष पार्सल की बुकिंग के लिए मुख्य पार्सल सुपरवाइजर रायपुर (मोबइल नंबर 9752877967) और दुर्ग (मोबइल नंबर 9109112682) से संपर्क कर सकते हैं।
आइसोलेशन में घर मे रहना छोड़ सड़क पर बखेड़ा करती रही बंगलादेशी महिला,पुलिस ने समझाकर वापस भेजा

आइसोलेशन में घर मे रहना छोड़ सड़क पर बखेड़ा करती रही बंगलादेशी महिला,पुलिस ने समझाकर वापस भेजा

रायगढ़, शहर में बांग्लादेश से आई एक महिला को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने होम आइसोलेशन में रहने के लिए कहा है लेकिन वह घर से बाहर घूम रही थी। जब आस-पास के लोगों ने उस पर आपत्ति की तो महिला ने बखेड़ा खड़ा कर दिया। जिसके बाद वहां खड़े लोग भी उससे उलझ पड़े। इतना ही नहीं मौके पर पहुंची पुलिस से भी महिला उलझ पड़ी। जैसे—तैसे पुलिस अधिकारियों की समझाइश पर महिला घर के भीतर जाने के लिए राजी हुई। बता दे कि चक्रधर नगर थाना क्षेत्र के अंतर्गत रिहायशी इलाके में बैंक कालोनी के समीप बंगालीपारा मोहल्ले में बांग्लादेश से आई एक महिला को 14 दिनों के लिए स्वास्थ्य विभाग ने होम आईसोलेट किया था, लेकिन उक्त महिला निरंतर कलकत्ता की रहने वाली अपनी परिचित युवती के साथ मोहल्ले में बेख़ौफ होकर घूम रही थी। ऐसे में इसकी शिकायत मोहल्लेवासियों ने पुलिस को की। हालांकि पुलिस ने महिला के खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज नहीं किया है।

 

 आंगनबाड़ी केन्द्रों में कार्यकर्ता एवं सहायिका पद के लिए निकली भर्ती, जाने इससे जुडी पूरी खबर

आंगनबाड़ी केन्द्रों में कार्यकर्ता एवं सहायिका पद के लिए निकली भर्ती, जाने इससे जुडी पूरी खबर

रायगढ़। एकीकृत बाल विकास परियोजना धरमजयगढ़ जिला-रायगढ़ अंतर्गत संचालित आंगनबाड़ी केन्द्रों में कार्यकर्ता के 5 एवं सहायिका के 44 पद रिक्त है। जिसके लिए 16 मार्च 2020 तक आवेदन आमंत्रित किया गया है। इच्छुक आवेदिका अपना आवेदन 16 मार्च शाम 5.30 बजे तक परियोजना अधिकारी एकीकृत बाल विकास परियोजना कार्यालय, धरमजयगढ़ में सीधे जमा कर सकते है अथवा पंजीकृत डाक के माध्यम से भेज सकते है। इस संबंध में अन्य विस्तृत जानकारी के लिए कार्यालय में संपर्क कर सकते है।

धरमजयगढ़ विकासखण्ड अंतर्गत जिन ग्रामों के आंगनबाड़ी केन्द्र में कार्यकर्ता हेतु 5 रिक्त पद है इनमें ग्राम-नेवार, फत्तेपुर, कीदा, कुड़ेकेला एवं तेन्दुमुड़ी शामिल है। इसी तरह 44 आंगनबाड़ी सहायिका पद के लिए ग्राम-बायसी ढालीपारा, तराईमार राठियापारा, नरकालो प्रधानपारा स्कूलपारा, सिरकी, बोरो टांगरपारा, संगरा, उदउदा-1, गेरसा चौकपारा, ओंगना-2, पोटिया इंदिरा आवास, सागरपुर इंदिरा आवास, सागरपुर (गलीमार), कानाकूला, बरतापाली पटेलपारा, सिसरिंगा गट्टीनारा, सोहनपुर डोकरीपहरी, छेरगोदरी उरांवपारा, सोखामुड़ा डोकरीबहरी, कटाईपाली नवाडीह, बोकी सुकवासुपारा, मैनीपुर, एडुकला, लोटान, लामीखार, देउरमार, बोजिया नयाडीह, बेहरामुड़ा चौकपारा, गलीमार 2, खर्रा 2, दर्रीपारा, सिदारपारा, चैनपुर 1, कोयलार इंदिरावास, कीदा, सेमीपाली, गडाईनबहरी, बेहरामार उपरपारा, बेहरामार सतनामीपारा, बोकरामुडा वृन्दावन, बोकरामुड़ा फिटिंगपारा, छाल अस्पतालपारा, छाल, लक्ष्मीपुर सिंगारपारा एवं सिथरा (बनहर) ग्राम शामिल है। 
महिलाओं ने सजा रखी थी फड़, पुलिस ने रेड मारकर चार महिलाओं को लिया पकड़

महिलाओं ने सजा रखी थी फड़, पुलिस ने रेड मारकर चार महिलाओं को लिया पकड़

रायगढ़। अक्सर खबर मिलती रहती है की जुआ खेलते दर्जनों युवक दिरफ्तार पर इसके ठीक उल्टा एक मामला छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले से सामने आया है। जहां तालाब के पास जुआ खेल रही महिलाओ को पुलिस ने गिरफ्तार किया है| जानकारी के अनुसार कोतवाली पुलिस ने जुआ खेलते हुए चार महिलाओं को रंगे हाथ पकड़ लिया है। पूरी घटना इंदिरा नगर गंगाराम तालाब के पास की है। जुआ खेल रही चारों महिलाओं को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार कर उनके खिलाफ 13 जुआ एक्ट के तहत कार्रवाई की है।


पढ़े पूरी खबर-
जानकारी के अनुसार- 29 फरवरी को पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि गंगाराम तालाब के पास जुए की महफिल सजी हैं। जहां सिर्फ महिलाएं ही जुआ खेल रही हैं। सूचना मिलते ही कोतवाली थाना से महिला प्रधान आरक्षक समुंद रनकर व अन्य पुरूष आरक्षक सहित करीब नौ लोग मौके पर पहुंचे और आरोपी महिलाओं को पकडऩे के लिए घेराबंदी करने लगे।

महिलाओ के बिच मचा हड़कंप-
पुलिस को देख जुआ खेल रही महिलाओं के बीच हड़कंप मच गया और महिलाएं पुलिस से बचने के लिए दौड़ लगा दी। जबकि पुलिस उन्हें रूकने को कहती रही, लेकिन महिलाएं ऐसे भाग रही थीं जिसे देख पुलिस भी चकित हो गई। इस दौरान कुछ महिलाएं गिर भी गईं। हालांकि पुलिस ने चार महिलाओं को पकड़ लिया, लेकिन बाकी भागने में कामयाब हो गईं। इसके बाद पुलिस महिलाओं को पकड़ कर थाने ले आई, जहां उनके खिलाफ अपराध दर्ज कर मामले को विवेचना में लिया है।

बहुत पहले ही मिल चुकी थी सुचना-
पुलिस को लंबे समय से महिलाओं द्वारा गंगाराम तालाब के पास जुआ खेलने की सूचना मिल रही थी, लेकिन पुलिस सभी महिलाओं को रंगे हाथ पकडऩे के लिए सही समय का इंतजार कर रही थी। इस बीच पुलिस को 29 फरवरी को सूचना मिली और पुलिस ने दबिश दी। पुलिस सूत्रों की मानें तो रविवार को वहां उक्त फड़ में बड़े दांव लगते हैं। वहीं उर्दना व आसपास के क्षेत्रों से भी महिलाएं वहां जुआ खेलने आती हैं।

 
जिले में स्टेट बैंक मुख्य शाखा से छोटे नोट नहीं मिल रहे आम नागरिकों को, आम नागरिक हो रहे है परेशान, जाने पूरी खबर

जिले में स्टेट बैंक मुख्य शाखा से छोटे नोट नहीं मिल रहे आम नागरिकों को, आम नागरिक हो रहे है परेशान, जाने पूरी खबर

रायगढ़ | छत्तीसगढ़ चेंबर ऑफ कॉमर्स रायगढ़ इकाई ने स्टेट बैंक के उच्चाधिकारियों का ध्यान इस ओर आकर्षित करते हुए कहा है कि रायगढ़ में छोटे डिनॉमिनेशन के फ्रेश  नोट आम नागरिकों तक नहीं पहुंच पा रहे हैं यह नोट कब आते हैं और कब बंट जाते हैं इसकी कोई जानकारी आम नागरिकों को नहीं मिल पाती जबकि प्रत्येक परिवार में जब कोई मंगल कार्य होता है तो लोग फ्रेश  नोट के लिए बैंकों का रुख करते हैं। और उन्हें उत्तर मिलता है कि ख़तम हो गये हैं तो वह निराश हो जाते हैं। वहीं दूसरी ओर कुछ खास ग्राहकों को यह नोट मिल जाने से वह मार्केट में ना आकर तिजोरियों में जाम हो जाते हैं जिससे मुद्रा का प्रसार प्रभावित होता है। ठीक इसी तरह चिल्हर  की अधिकता के कारण जब व्यापारी चिल्हर  लेकर बैंक पहुंचते हैं तो बैंक की तरफ से कोई रिस्पांस नहीं मिलने और रुखा व्यवहार मिलने से व्यापारियों में भी निराशा बढ़ती है।  और उनके पास हजारों रुपए की चिल्हर  एकत्रित हो जाती है जिसके कारण बाजार में वह पैसा भी चलन में  नहीं आ पाता और  जाम हो जाता है।  जबकि होना यह चाहिए कि भले ही सप्ताह में एक  निर्धारित दिवस पर एक विशेष काउंटर स्टेट बैंक की सभी शाखाओं में खुलना चाहिए जिसमें लोग चिल्हर  जमा कर सके कटे-फटे नोट भी बदल सके और फ्रेश नोट प्राप्त कर सके।  इसमें यह भी उल्लेखनीय है कि कई बार स्टेट बैंक मेन ब्रांच की तरफ से यह सुविधा कुछ अंश में अपने ही खाताधारकों को दी जाती है यह आवश्यक नहीं है कि जिले का प्रत्येक नागरिक स्टेट बैंक मेन चेस्ट ब्रांच का ही खाताधारक हो इसलिए सभी नागरिकों को यह सुविधा समान रूप से मिल पाए इसके लिये यह आवश्यक है कि स्टेट बैंक के सभी शाखाओं में एक विशिष्ट दिन पर सभी आम नागरिकों के लिए इस प्रकार की सुविधा उपलब्ध कराई जाए और इसकी जानकारी नोटिस बोर्ड पर भी चस्पा की जाए और सभी समाचार पत्रों में एक समाचार के रूप में भी प्रकाशित हो ताकि हर आम नागरिक तक यह  जानकारी पहुंच सके ताकि वे इस सुविधा का लाभ उठा सकें।  छत्तीसगढ़ चेंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष राजेंद्र अग्रवाल एवं महामंत्री हीरा मोटवानी ने कहा कि वे लगातार रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया से पत्राचार करते  हैं। और जब भी उनसे फ्रेश नोट  के आपूर्ति के लिए पत्र लिखते हैं तो उन्हें यह कहा जाता है कि फ्रेश नोट तो हर जिले में पहुंच रहे हैं और उसकी आपूर्ति भी सामान्यत:हो रही है परंतु यह आपूर्ति होने के बाद यह नोट कहां चले जाते हैं इसका पता नहीं  चलता। उल्लेखनीय है कि रायगढ़ में  भारत सरकार द्वारा मुद्रित नये  1,2, 5 एवं 10 के  प्रचलित नोट नहीं पहुंच पा रहे  हैं जबकि आदिवासी बाहुल इलाके में यहां पर छोटे नोटों का ही प्रचलन अधिक रहता है अत: उच्चाधिकारियों से मांग की है कि वह अधिक से अधिक छोटे नोट रायगढ़ चेस्ट में भेजें ताकि यहां मुद्रा का प्रसार सामान्य रूप से चलता रहे।   

 
देवर के साथ मिल कर महिला ने की पति की हत्या, देवर पर आ गया था भाभी का दिल, पढ़े पूरी खबर...

देवर के साथ मिल कर महिला ने की पति की हत्या, देवर पर आ गया था भाभी का दिल, पढ़े पूरी खबर...

रायगढ़| छत्तीसगढ़ से एक दिलदहला देने वाली खबर सामने आई है जहां देवर और महिला ने मिलकर अपने पति की हत्या कर दी| जी हाँ दरअसल, महिला को अपने ही देवर से प्यार हो गया और इसी चाहत को पूरा करने के लिए महिला और उसके प्रेमी देवर ने पति को रास्ते से हटाने का प्लान बनाया। फिर उस प्लान को अंजाम देने के लिए उसकी हत्या कर दी|


पुलिस ने किया खुलासा-
धर्मजयगढ़ थाना क्षेत्र में संदिग्ध परिस्थि में हुए ग्रामीण की हत्या का खुलासा पुलिस ने कर दिया है। बताया जा रहा है कि मृतक की पत्नी ने ही प्रेम प्रसंग में प्रेमी देवर के साथ मिलकर अपने पति की हत्या कर दी। वहीं पुलिस को झूठी कहानी बताने लगी। हालांकि आरोपी महिला की चालाकी नहीं चल सकी और पुलिस ने उसे व उसके प्रेमी को धारा 302 के तहत गिरफ्तार कर लिया है। वहीं उन्हें रिमांड में जेल भेज दिया गया है।

जानिए क्या है पूरा मामला-
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार ग्राम गेरसा निवासी टीकाराम राठिया मृतक बिशेश्वर के मौसी का बेटा था। कुछ सालों से टीकाराम का बिशेश्वर की पत्नी सहोद्रा राठिया के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। इसकी भनक बिशेश्वर को लग चुकी थी। घटना दिनांक को आरोपी टीकाराम मृतक के घर अपने गांव के किसी के यहां शादी का निमंत्रण देने आया था। इस दौरान रात में पत्नी के साथ संबंध की बात को लेकर बिशेश्वर ने टीकाराम के साथ झगड़ा किया| इसके बाद वह अपने कमरे में सोने चला गया। जबकि उसकी पत्नी दूसरे कमरे में सोने चली गई। रात में टीकाराम और मृतक की पत्नी ने उसे रास्ते से हटाने का प्लान बनाया। वहीं देर रात जब बिशेश्वर गहरी नींद में सो रहा था तो टीकाराम और सहोद्रा राठिया उसके कमरे में गए। फिर टीकाराम ने फ्लाईऐश के मजबूत ईंट से सो रहे बिशेश्वर के सिर पर प्राणघातक हमला कर दिया। इससे उसके सिर का भेजा बाहर गया और इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

 गुमराह करने रची झूठी कहानी-
घटना के बाद सहोद्रा पुलिस व घर वालों को गुमराह करने के लिए झूठी कहानी बनाने लगी। रात करीब दो बजे वह अपने पुराने घर से निकल कर सामने स्थित नए घर पहुंची। जहां उसके ससुर और देवर रहते हैं। इसके बाद अपने एक देवर बिदेश्वर को उठाकर बताई कि उसका पति बाहर टहलने निकला था, जो घर के आंगन में रक्तरंजिश हालत में पड़ा था, जिसे उठाकर वह घर के अंदर लेकर गई है। घायल के सिर में गंभीर चोट लगी है। इसके बाद बिदेश्वर अपने पिता और एक अन्य भाई तथा पड़ोसी को उठाकर मौके पर गया और अपने बड़े भाई को इलाज के लिए धरमजयगढ़ अस्पताल पहुंचाया, जहां सुबह पांच बजे उसकी मौत हो गई।

ऐसे हुआ खुलासा-
मृतक के सिर में चोट लगने से पुलिस को शंका हुई कि उसके सिर पर किसी ठोस वस्तु से हमला हुआ है। वहीं पुलिस को पता चला कि उस रात टीकाराम भी उनके घर में था। ऐसे में पुलिस ने उससे कड़ाई से पूछताछ किया तो उसने अपना जुर्म स्वीकारा। वहीं उसके और उसकी भाभी के संबंध के बारे में बताते हुए इस घटना में आरोपी महिला को भी शामिल होना बताया। इसके बाद पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर रिमांड में जेल भेज दिया है।


 
+ Load More