कोरोना अपडेट: प्रदेश में आज 12665 ने जीती कोरोना से जंग, कुल 6577 नए मरीज मिले 149 मृत्यु भी, देखे जिलेवार आकड़े    |    लॉन्च हुई 2डीजी दवा, कोरोना संक्रमण से जंग में कैसे करेगी मदद? जानिए सब कुछ    |    आईसीएमआर अपडेट : राज्य में मिले 5294 कोरोना पॉजिटिव, 21 जिलों में सौ से अधिक मिले मरीज, देखे जिलेवार आकड़े    |    सेक्स रैकेट : पुलिस ने छापा मारकर देह व्यपार का किया खुलासा, मौके से दो युवक और दो युवती गिरफ्तार    |    दो पक्षों के बीच विवाद में गोली लगने से एक महिला की मौत, तीन अन्य घायल    |    चक्रवाती तूफान तौकते हुआ विनाशकारी, 5 राज्यों में अब तक 11 लोगों की मौत    |    बड़ी खबर: जानिए आखिर किस मामले में सीबीआई ने 4 नेताओं को किया गिरफ्तार    |    ममता बनर्जी के मंत्रियों-नेताओं पर सीबीआई ने कसा शिंकजा, यहां जानें क्या है मामला    |    रक्षा मंत्री व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने लॉन्च की कोरोना की स्वदेशी दवा 2DG    |    कोरोना अपडेट: देश में 24 घंटों में 2 लाख 81 हजार नए मामले आए, 4106 लोगों की हुई मौत    |
Previous123456789...340341Next
रायपुर में कल के मुकाबले आज बढ़े आंकड़े, 318 कोरोना संक्रमित मिले, 20 की मौत

रायपुर में कल के मुकाबले आज बढ़े आंकड़े, 318 कोरोना संक्रमित मिले, 20 की मौत

रायपुर । राजधानी रायपुर में आज 318 कोरोना मरीजों की पहचान हुई है। वही हॉस्पिटल से 267 और होम आइसोलेशन से 356 कुल 623 मरीज स्वस्थ हुए है। जबकि 20 मरीजो की इलाज के दौरान मौत हो गई इस प्रकार मौत का कुल आकड़ा हुआ 3000 साथ अब रायपुर में एक्टिव मरीज 6055 है।

अब इस जिले में भी 31 तक लाकडाउन,शनिवार और रविवार रहेगा कम्पलीट लाकडाउन, जारी हुआ आदेश

अब इस जिले में भी 31 तक लाकडाउन,शनिवार और रविवार रहेगा कम्पलीट लाकडाउन, जारी हुआ आदेश

नारायणपुर। कलेक्टर धर्मेश कुमार साहू ने पूर्व में जारी आदेश के तहत् संपूर्ण नारायणपुर जिले में 10 मई को आदेश जारी कर 17 मई रात्रि 12ः00 बजे तक दण्ड प्रक्रिया संहिता में प्रदत्त शक्तियों के अधीन नारायणपुर जिला अंतर्गत सम्पूर्ण क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोशित करते हुए जिला में सार्वजनिक आवागमन एवं अन्य गतिविधियों पर कड़े प्रतिबंध अधिरोपित किये है। जिला स्तरीय बैठक में हुई चर्चा एवं राज्य शासन के निर्देशानुसार जिले में आम जनता हेतु आवश्यक सामग्रियों के संस्थानों/प्रतिश्ठानों अथवा दुकानों को निर्धारित समय में खोलने की अनुमति लोकहित में दिये जाने का निर्णय लिया गया है। इसके सााथ ही आम जनता हेतु आवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने के साथ-साथ श्रमिकों, निम्न आय वर्ग एवं छोटे-बड़े व्यवसायीगण के हितों की सुरक्षा हेतु निर्बंधनों में रियायत देते हुए देते हुए प्रतिबंधित आदेश जारी किये हैं। जारी आदेश में कहा गया है कि 18 से 31 मई रात्रि 10ः00 बजे तक लाॅकडाउन रहेगा। आदेश में यह भी कहा गया है कि सभी अस्पताल, मेडिकल दुकानें, क्लीनिक एवं पशु चिकित्सालय को उनके निर्धारित समय में खुलने की अनुमति होगी। शासकीय उचित मूल्य दुकानों को खाद्य नियंत्रक रायपुर द्वारा निर्धारित समयावधि में खुलने की अनुमति होगी। मास्क, फिजिकल डिस्टेंसिंग, नियमित सेनिटाईजेशन एवं भीड़-भाड़ नहीं होने देने की शर्त का कड़ाई से पालन कराने की अधीन, टोकन व्यवस्था के साथ अलग - अलग निर्धारित तिथियों में उचित मूल्य दुकानों को खोलने हेतु खाद्य नियंत्रक द्वारा पृथक से आदेश प्रसारित किया जावे। जिला नारायणपुर अंतर्गत सभी प्रकार की दुकानों/प्रतिश्ठानों को सोमवार से शुक्रवार तक समय प्रातः 10ः00 बजे से शाम 5ः00 बजे तक दुकान खोलने की अनुमति दी जाती है। दुकानदार/संचालक अपने प्रतिश्ठान में मास्क एवं सेनेटाईजर की व्यवस्था स्वयं करेगा एवं फिजिकल डिस्टेंसिग का कड़ाई से पालन करना अनिवार्य होगा। शर्तो का उल्लंघन करने तथा भीड़-भाड़ होने पर दुकानदार/संचालक स्वयं जिम्मेदार होगें तथा उन्हें एपिडेमिक एक्ट 1897 के अधीन चलान/अर्थदण्ड अधिरोपित करने के साथ-साथ दुकान को एक सप्ताह हेतु सील किया जावेगा। शनिवार व रविवार को सम्पूर्ण दुकाने पूर्णतः बंद रहेगीं। परन्तु आवश्यक सेवा यथा पेट्रोल पम्प, अस्पताल, मेडिकल दुकान, पी.डी.एस. दुकान, दूध, फल, पेट शाॅप, एल पी जी गैस, न्यूज पेपर, सब्जी एवं अन्य आवश्यक सेवाएं शनिवार एवं रविवार को भी संचालित रहेगीं।
आदेश में कहा गया है कि सभी पान/सिगरेट ठेला तथा चैपाटी, चाट, समोसा, गुपचुप, फास्ट-फूट इत्यादि के विक्रय हेतु ठेलों का संचालन पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। दुग्ध पार्लर व दुग्ध वितरण, ब्रेड विक्रेता तथा न्यूज पेपर हाॅकर द्वारा समाचार पत्रों के वितरण की समयावधि प्रातः 7ः00 बजे से संध्या 5.00 बजे तक ही होगी। स्थानीय एवं नजदीक के गांव से आने वाले फल, सब्जी के विक्रेताओं को मुख्य नगरपालिका अधिकारी, नारायणपुर द्वारा वार्डो में निर्धारित स्थानों पर ही फल, सब्जी विक्रय करने की अनुमति होगी। इस हेतु नगरपालिका अधिकारी पूरे शहर में पर्याप्त दूरी बनाते हुये बिन्दु निर्धारित कर चूना से मार्किंग करेंगे। फल/सब्जी विक्रेता को उन्हीं स्थानों में विक्रय करने की अनुमति होगी। जिस हेतु समय प्रातः 10ः00 बजे से संध्या 05ः00 बजे तक की होगी। उपरोक्त समयानुसार ग्रामीण क्षेत्रों में सब्जी फल की दुकानें खुलेंगी। जिला के रेडी-टू ईट निर्माणकर्ता ईकाईयां प्रातः 9ः00 बजे से संध्या 5ः00 बजे तक अपना कार्य संचालित कर सकेंगी। पेट्रोल पंप एवं गैस एजेंसियां सभी उपभोक्ताओं के लिए खोले जाने की अनुमति रहेगी। गैस एजेंसिया होम डिलीवरी को प्राथमिकता देवें। स्थानीय आॅनलाईन शाॅप तथा ई-काॅमर्स सेवाओं यथा अमेजाॅन, फ्लिफकार्ट इत्यादि को उपरोक्त समयावधि में होम डिलीवरी हेतु अनुमति प्रदान की जाती है किन्तु शाॅप/स्टोर आम जनता हेतु नहीं खुलेंगे। जिला अंतर्गत संचालित शराब दुकान बंद रहेगें, किन्तु आॅनलाईन एप्लीकेशन के माध्यम से होम डिलीवरी की अनुमति रहेगी। सभी धार्मिक, सांस्कृतिक एवं पर्यटन स्थल, मैरिज हाॅल, सिनेमा हाॅल, जिम, सभी पार्क, सैलून, ब्यूटी-पार्लर तथा अन्य सार्वजनिक स्थल पूर्णतः बंद रहेंगे। जिले के नगरीय/ग्रामीण क्षेत्र में साप्ताहिक हाट-बाजार पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगी। सभी बैंकों को ए.टी.एम कैश रि-फिलिंग, अन्य सभी लेन-देन अथवा कार्यो हेतु 50 प्रतिशत क्षमता के साथ अपने कार्यालयीन समय में खोलने की अनुमति रहेगी। जिले के डाकघरों को महत्वपूर्ण डाक, पत्र/पार्सल की प्राप्ति एवं वितरण हेतु कार्यालयीन समय में संचालन की अनुमति होगी। गौण वनोपज से संबंधित कार्य - संग्रहण, विपणन, भण्डारण एवं परिवहन कार्य तथा मनरेगा संबंधित समस्त कार्य की अनुमति होगी। समस्त मिलरों को धान का भण्डारण, मिलिंग एवं चाॅवल को पीडीएस दुकानों तक परिवहन की अनुमति होगी।
कन्टेमेंट अवधि के दौरान अत्यावश्यक कार्य से अन्य जिले में प्रवास हेतु सीजी पास वांछित दस्तावेज सहित आवेदन करना होगा। होटलों एवं रेस्टोरेंट से केवल आॅनलाईन एप्लीकेशन के माध्यम से होम डिलीवरी की अनुमति पूर्ववत रहेगी, किन्तु ग्राहकों के लिए इन-हाउस डायनिंग पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। होम डिलीवरी के लिए होटल एवं रेस्टोरेंटस में होम डिलीवरी आर्डर समय रात्रि 9ः00 बजे तक लिया जा सकेगा। तथा आम जनता हेतु होम डिलवरी रात्रि 10ः00 बजे तक ही की जा सकेगी। भीड़-भाड़ या निर्देशों का उल्लघंन होने पर होटलों एवं रेस्टोरेंटस को नियमानुसार एक सप्ताह हेतु सील करने की कार्यवाही की जावेगी। सभी प्रकार की सभा, जुलूस, सामाजिक, धार्मिक एवं राजनैतिक आयोजन इत्यादि पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगे। विवाह कार्यक्रम वर अथवा वधू के निवास गृह में ही आयोजित करने एवं शामिल होने वाले व्यक्तियों तथा अंत्योष्टि, दशगात्र, मृत्यु इत्यादि संबंधी कार्यक्रम में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 10 निर्धारित की जाती है। उक्त कार्यों के लिए अनुमति हेतु आवेदनकर्ता कार्यक्रम में शामिल होने वाले व्यक्तियों के नाम सहित उनका पहचान पत्र/आधार कार्ड आवेदन में संलग्न करते हुए अनुविभागीय दण्डाधिकारी नारायणपुर से पूर्वानुमति आवश्यक होगी। उक्त कार्यक्रम में शामिल होने वाले प्रत्येक व्यक्ति को सर्वप्रथम कोविड-19 का जांच कराना अनिवार्य होगा। जांच में कोविड-19 पाॅजीटिव पाये जाने वाले व्यक्तियों को उपरोक्त कार्यक्रमों शामिल होने की अनुमति नहीं होगी। इस शर्त के उल्लंघन किये जाने पर संबंधित व्यक्तियों अथवा आवेदनकर्ता के विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही की जावेगी। कोविड संक्रमण के रोकथाम हेतु जिले में समस्त कार्य जैसे कांटेक्ट ट्रेसिंग, एक्टिव सर्विलांस, होम आईसोलेशन, दवाई वितरण आदि पूर्वानुसार चलते रहेंगे इन कर्यो में संलग्न सभी कर्मचारियों की उपस्थिति पूर्वानुसार अनिवार्य होगी। कोविड हाॅस्पिटल/कोविड केयर सेंटर से डिस्चार्ज होने वाले मरीजों के परिवहन में संलग्न वाहन पूर्वानुसार संचालित रहेंगे। जरूरत मंदो को राहत सामग्री पहुंचाने हेतु इच्छुक संस्थाओं/एनजीओ/व्यक्तियों को कोरोना बचाव हेतु प्रसारित निर्देशो के तहत् एक समय में अधिकतम 04 व्यक्तियों को प्रातः 10ः00 बजे से संध्या 5ः00 बजे तक संबंधित अनुविभागीय दण्डाधिकारी की पूर्वानुमति से राहत सामग्री वितरण की अनुमति होगी।
कोविड-19 टीकाकरण हेतु पंजीयन, कोविड-19 जांच हेतु मेडिकल दस्तावेज या आधार कार्ड/विधिमान्य परिचय पत्र दिखाने पर कोविड-19 टीकाकारण केन्द्र अस्पताल/पैथालाॅजी लैब अथवा आने-जाने की अनुमति होगी। यह आदेश कार्यालय कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक, अनुविभागीय दण्डाधिकारी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी एवं उनके अधिनस्थ समस्त कार्यालय, तहसील कार्यालय, थाना/पुलिस चैकी एवं कोविड-19 में ड्यूटीरत अधिकारी/कर्मचारी पर लागू नहीं होगा। इसके अतिरक्त कानून व्यवस्था एवं स्वास्थ्य सेवा से संबंधित अधिकारी, विद्युत पेयजल आपूर्ति एवं नगर पालिका सेवाएं जिसमें सफाई, सीवरेज एवं कचरे का डिस्पोजल इत्यादि भी शामिल है तथा अग्निशमन सेवाओं के संचालन हेतु संबंधित अधिकारियों/कर्मचारियों को कार्यालय संचालन एवं आवागमन की अनुमति होगी, किन्तु इन शासकीय कार्यालयों में उपरोक्त अवधि में आम जनता का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। अन्य शासकीय कार्यालय 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खुले रहेगें परन्तु आम जनता के लिये प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। सभी शासकीय कार्यालय में आम जनता द्वारा आवेदन प्रस्तुत करने हेतु ड्राप बाक्स की व्यवस्था रखेगे, जिसमें कोई भी व्यक्ति अपना आवेदन डाल सकेंगे। तथापि कोई भी अधिकारी/कर्मचारी बिना कलेक्टर की अनुमति के अपना मुख्यालय नहीं छोड़ेंगे। सभी निर्माण कार्य कोविड उपयुक्त व्यवहार के साथ चालू रखने एवं निर्माण संबंधित सामग्री के परिवहन की अनुमति दी जाती है। लोक सेवा केन्द्र/च्वाईस सेंटर खुले रहेंगे, किन्तु मास्क तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन कराना अनिवार्य होगा। उल्लघंन की दशा में अर्थदण्ड के साथ-साथ केन्द्र की आई.डी. निलंबित की जावेगी। राज्य शासन के विशेष आदेश द्वारा अनुमति प्राप्त किसी सेवा के संचालन की अनुमति होगी। इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति/प्रतिश्ठानों पर भारतीय दण्ड संहिता 1860 की धारा 188, आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 50 व 60 तथा अन्य सुसंगत विधि अनुसार कड़ी कार्यवाही की जावेगी। यह आदेश 18 मई 2021 से 31 मई .2021 रात्रिः 10ः00 बजे तक प्रभावशील होगा।
 

हाईकोर्ट में सुनवाई: राज्य सरकार कोविड वैक्सीन बर्बाद न करें, दूसरी श्रेणी में शिफ्ट करें, जिनका ऐप में रजिस्ट्रेशन हो रहा है उनका टीकाकरण सुनिश्चित करें

हाईकोर्ट में सुनवाई: राज्य सरकार कोविड वैक्सीन बर्बाद न करें, दूसरी श्रेणी में शिफ्ट करें, जिनका ऐप में रजिस्ट्रेशन हो रहा है उनका टीकाकरण सुनिश्चित करें

बिलासपुर, छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने सरकार को निर्देश दिया है कि वैक्सीन की बर्बादी रोकने के लिए अगर किसी एक श्रेणी में टीके बच जाते हैं तो उसे दूसरी श्रेणी में स्थानांतरित किया जाये। राज्य सरकार की ओर से बताया गया है कि ऐसा किया जा रहा है। कोर्ट ने दो दिन के भीतर इस पर शपथ-पत्र प्रस्तुत करने का निर्देश सरकार को दिया है।
हाईकोर्ट में कोविड-19 आपदा और उससे जुड़े मुद्दों पर एक स्वतः संज्ञान जनहित याचिका पर सुनवाई चल रही है। आज अवकाशकालीन युगल पीठ में जस्टिस प्रशांत मिश्रा और जस्टिस पीपी साहू ने इस सम्बन्ध में दायर अन्य याचिकाओं के साथ वर्चुअल सुनवाई की। पूर्व विधायक अमित जोगी सहित अन्य ने एक मई से प्रारंभ 18 से 44 वर्ष के लोगों के टीकाकरण पर सरकार की आरक्षण नीति, जिसमें अंत्योदय श्रेणी को पहले टीका लगाने की बात थी, को गलत बताते हुए याचिका दायर की थी। इस पर पिछली सुनवाई में हाईकोर्ट ने कहा था कि राज्य सरकार सभी वर्गों को समान रूप से टीका लगे यह सुनिश्चित करे। इसके बाद राज्य शासन ने टीकाकरण पर रोक लगा दी थी लेकिन अगली हुई सुनवाई में कोर्ट ने तत्काल टीकाकरण शुरू करने का निर्देश दिया था, जिसके बाद बीपीएल, कोरोना वारियर्स, फ्रंट लाइन वर्कर्स, बीपीएल तथा अंत्योदय श्रेणी के लिये टीकाकरण अलग-अलग प्रतिशत आधार पर शुरू कर दिया गया था।
आज की सुनवाई के दौरान राज्य शासन की ओर से 9 पेज का जवाब प्रस्तुत किया गया। इसमें याचिकाकर्ताओं की ओर से पलाश तिवारी द्वारा बताया गया कि टीकाकरण केंद्रों में लंबी लंबी लाइन लग रही है। लोग घंटों खड़े रहते हैं और उन्हें लौटाया जा रहा है। कोविन ऐप में लोगों को तारीख मिल रही है लेकिन सीजी टीका ऐप में ऐसा नहीं हो रहा है। अधिवक्ता अनुमय श्रीवास्तव की ओर से कहा गया कि अंत्योदय श्रेणी में बहुत से टीके बच रहे हैं। उनको अन्य वर्ग में शिफ्ट किया जाए। एक ओर टीका बर्बाद हो रहा है तो दूसरी ओर लोगों को टीकाकरण से वंचित किया जा रहा है। राज्य सरकार की ओर से कहा गया कि टीके बर्बाद नहीं हो रहे हैं, उसे अन्य वर्गों में आवश्यकतानुसार शिफ्ट किया जा रहा है। राज्य सरकार से इस जवाब को कोर्ट ने शपथ पत्र के साथ मांगा है। साथ ही यह सुनिश्चित करने कहा है कि टीकाकरण के ऐप में रजिस्ट्रेशन के अनुसार टीकाकरण सुनिश्चित किया जाये। प्रकरण पर अगली सुनवाई 19 मई को होगी।
 

7 निरीक्षक सहित 9 पुलिसकर्मियों का हुआ तबादला, आदेश जारी

7 निरीक्षक सहित 9 पुलिसकर्मियों का हुआ तबादला, आदेश जारी

जांजगीर जिले के एसपी ने पुलिस विभाग में फेरबदल किया गया है. जिले के 7 निरीक्षक और 2 उप निरीक्षक का तबादला किया गया है. पुलिस विभाग में प्रशासनिक कसावट लाने के दृष्टिकोण से यह ट्रांसफर किया गया है. इस संबंध में वहा की एसपी ने ये आदेश जारी किया है.

देखे आदेश:-
 

केंद्र ने राज्यों को भेजी 20 करोड़ से ज्याद वैक्सीन की डोज़, छत्तीसगढ़ में है इतने उपलब्ध...

केंद्र ने राज्यों को भेजी 20 करोड़ से ज्याद वैक्सीन की डोज़, छत्तीसगढ़ में है इतने उपलब्ध...

नई दिल्ली। देशव्यापी टीकाकरण अभियान के मद्देनजर केंद्र सरकार मुफ्त कोविड वैक्सीन देकर राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की मदद कर रही है। इसके अलावा केंद्र सरकार टीका उत्पादन और आपूर्ति के काम में तेजी ला रही है। महामारी की रोकथाम और बचाव के लिये टीकाकरण की अहम हिस्सेदारी है। इसके तहत टेस्ट, ट्रैक, ट्रीट, कोविड आचरण और टीकाकरण है का प्रबंधन किया जा रहा है।
कोविड 19 टीकाकरण के सरल और तेज तीसरे चरण की रणनीति पर अमल किया जा रहा है। यह रणनीति एक मई से शुरू हो गई थी। रणनीति में यह साफ तौर पर कहा गया है कि हर महीने केंद्रीय औषधि प्रयोगशाला से मान्यता प्राप्त वैक्सीनों में से 50 प्रतिशत वैक्सीन ही केंद्र सरकार लेगी। केंद्र सरकार लगातार केंद्रीय औषधि प्रयोगशाला से मान्यता प्राप्त वैक्सीनों का 50 प्रतिशत हिस्सा हर महीने मुहैया करती रहेगी। इसके अलावा राज्य सरकारों को ये वैक्सीनें लगातार नि:शुल्क मिलती रहेंगी, जैसा कि पहले भी किया जा रहा था।
आज सुबह आठ बजे तक प्राप्त आंकड़ों के अनुसार केंद्र सरकार ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को अब तक 20 करोड़ वैक्सीन (20,76,10,230) से अधिक खुराक नि:शुल्क निशुल्क मुहैया की हैं। इनमें से बरबाद हो जाने वाली वैक्सीनों को मिलाकर 16 मई, 2021 तक औसतन कुल 18,71,13,705 खुराकों की खपत हुई है।
राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास अब भी दो करोड़ से अधिक (2,04,96,525) कोविड वैक्सीन की खुराक मौजूद हैं, जिन्हें अभी लगाया जाना है।
इसके अलावा लगभग तीन लाख (2,94,660) खुराक आपूर्ति प्रक्रिया में हैं और अगले तीन दिनों के भीतर राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को भेज दी जायेंगी।
 

 बड़ी खबर रायपुर: तेज रफ्तार ट्रैक्टर के अनियंत्रित होकर पलटने से चालक की मौत

बड़ी खबर रायपुर: तेज रफ्तार ट्रैक्टर के अनियंत्रित होकर पलटने से चालक की मौत

रायपुर। तेज रफ्तार ट्रैक्टर पटल जाने की वजह से एक व्यक्ति की मौत हो गई वहीं साथ बैठा आपचारी बालक घायल हो गया। घटना की रिपोर्ट धरसींवा थाने में दर्ज करायी गई है। 

मिली जानकारी के अनुसार मठपारा टिकरापारा निवासी आपचारी बालक 17 वर्ष ने थाने में शिकायत दर्ज करायी है कि प्रार्थी 16 मई को 10.30 बजे ट्रैक्टर क्रमांक सीजी 04 एनजे 5678 का चालक मनीष साहू 20 वर्ष पिता समारु साहू के साथ गया था तभी ग्राम गोंढ़ी बंधिया तालाब के पास टैक्टर मोड़ते समय तेज रफ्तार होने की वजह से पलट जाने की वजह से चालक की मौत हो गई तथा आपचारी बालक घायल हो गया। घटना की शिकायत पर पुलिस ने ट्रैक्टर चालक के खिलाफ धारा 279,337,304 ए के तहत अपराध कायम कर मामला दर्ज कर लिया है। 
जंगल से भटक कर रिहायशी इलाके में पहुचा भालू, सायकिल सवार को किया घायल

जंगल से भटक कर रिहायशी इलाके में पहुचा भालू, सायकिल सवार को किया घायल

महासमुंद। घटते जंगल व कटते पेड -पौधो एवं चारा, पानी की कमी के कारण वन्यप्राणी रिहायसी इलाको की तरफ आ रहे है । ताजा मामला महासमुंद वनपरिक्षेत्र का है , जहां सुबह एक भालू महासमुंद शहर मे आ गया और भागते समय बीटीआई इलाके मे एक कुंए मे गिर गया । सूचना पर वन अमला मौके पर पहुंच कर सीढी को कुंए मे डाला । सीढी डालते ही भालू सीढी के माध्यम से बाहर आ गया और भागा । भालू बीटीआई ,कलेक्टर कार्यालय होते हुवे कुर्मी पारा की तरफ भागा और वन अमला भालू को खदेडने मे जुटा है । महासमुंद वनपरिक्षेत्र अधिकारी ने  बताया की रविवार शाम को सूचना मिली की एक भालू मुडमाड के जंगल से निकलकर महासमुंद शहर के सुभाष नगर की तरफ आ गया है । सूचना के बाद से ही वन अमला भालू पर निगरानी रखे हुवे है । भालू की उम्र लगभग दो साल है । भालू भागते समय एक सायकल सवार को पंजा मारा और आगे निकल गया । सायकल सवार वहा से डर कर भाग गया । भालू को खदेडने के बाद घायल व्यक्ति से मुलाकात कर हालचाल लिया जायेगा । बहरहाल वन अमला भालू को खदेडने मे जुटा है ।

 रायपुर: जुआ खेलते 08 गिरफ्तार, नगदी रुपयें के साथ ताश पत्ती जब्त

रायपुर: जुआ खेलते 08 गिरफ्तार, नगदी रुपयें के साथ ताश पत्ती जब्त

रायपुर। जुआ खेलने की सूचना पर पुलिस ने छापामाकर 08 लोगों को गिरफ्तार कर उनके पास से 5980 रुपये एवं ताश की 52 पत्ती जब्त की है। 

मिली जानकारी के अनुसार तिल्दा नेवरा थाना पुलिस ने मुखबीर की सूचना पर 16 मई रविवार को गांधी चौक नेवरा के पास जुआ खेलने की सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर घेराबंदी कर शाम 6 बजे के करीब सूरज चौहान 30 वर्ष पिता तिलकराम चौहान एवं अन्य 04 जुआरियों को गिरफ्तार कर उनके पास व फड से 3350 रुपयें एवं ताश की 52 पत्ती बरामद की है। इसी तरह गोबरानवापारा थाना पुलिस ने मुखबीर की सूचना पर रविवार को ग्राम खोलीपारा में जुआ खेलते तोमन साहू 25 वर्ष पिता रामा साहू एवं अन्य 02 जुआरियों को गिरफ्तार कर उनके पास से नगदी 2630 रुपये एवं ताश की 52 पत्ती जब्त की है। पकड़े गए सभी जुआरियों के खिलाफ जुआ एक्ट की धारा 13 के तहत कार्रवाई कर जमानतीय मुचलका पर रिहा कर दिया गया है। 
वैक्सीन की बर्बादी पर छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट सख्त, दो दिन में सरकार से माँगा शपथ पत्र

वैक्सीन की बर्बादी पर छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट सख्त, दो दिन में सरकार से माँगा शपथ पत्र

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ में 18+ वैक्सीनेशन को लेकर हाईकोर्ट ने फिर सख्त रुख अपनाया है। कोर्ट ने वैक्सीन डोज की बर्बादी को लेकर नाराजगी जताई है। कहा कि सेंटर के बाहर लोगों की लंबी लाइन लगी है। ऐसे में वैक्सीन की बर्बादी रोकनी होगी। एक जगह बच रही है तो उसे अन्य वर्ग के लिए शिफ्ट करें। इस मामले में कोर्ट ने दो दिन में सरकार को शपथ पत्र प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं। मामले की अगली सुनवाई 19 मई को होगी।हाईकोर्ट में स्व प्रेरणा से चल रही सुनवाई में यह जनहित याचिका लगाई गई है। अधिवक्ता पलाश तिवारी, राकेश पांडेय, हिमांशु चौबे, सब्यसाची भादुड़ी और अनुमय श्रीवास्तव ने कोर्ट को बताया कि राज्य सरकार ने अपने 9 पेज के जवाब में वैक्सीनेशन के लिए CG TEEKA को भी जोड़ा है। इस पोर्टल में टीके के लिए रजिस्ट्रेशन कराना होगा, पर इसकी व्यवस्था सही नहीं है। इसके कारण पंजीकरण के बाद भी वैक्सीन नहीं लग पा रही है। अधिवक्ता पलाश तिवारी ने कहा कि हर वैक्सीनेशन सेंटर के बाहर लंबी-लंबी लाइन लग रही है। लोग घंटों खड़े रहते हैं, फिर लौट जाते हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र के कोविन एप में वैक्सीन लगवाने के लिए 5 दिन आगे तक की तारीख मिल रही है, लेकिन CG TEEKA में सही व्यवस्था नहीं है। इसमें भी ऐसा होना चाहिए कि उतने ही हर सेंटर के लिए रजिस्ट्रेशन मिले, जितनी वैक्सीन की डोज उपलब्ध कराई गई है। जिससे लोग परेशान न हों। सरकार की ओर से अधिवक्ता अनुमय श्रीवास्तव ने कहा, वैक्सीन बच जा रही है तो बाकी का क्या होगा उसका पता नहीं है। अंत्योदय में जो वैक्सीन बच जाती है, उसे दूसरे वर्ग के लिए शिफ्ट करें। जिससे बेकार न हो। इस पर राज्य सरकार की ओर से कहा गया कि हम शिफ्ट कर देते हैं। वैक्सीन की बर्बादी को रोक रहे हैं। इस पर कोर्ट ने सरकार को दो दिन में इस मामले और 9 पेज की नीति को लेकर शपथ पत्र प्रस्तुत करने का आदेश दिया है।

 

 बड़ी खबर रायपुर: मां ने की स्वयं पर आग लगाकर जान देने की कोशिश,बिस्तर पर सो रहे बेटे की जलने से मौत

बड़ी खबर रायपुर: मां ने की स्वयं पर आग लगाकर जान देने की कोशिश,बिस्तर पर सो रहे बेटे की जलने से मौत

रायपुर। आग लगाकर आत्महत्या की कोशिश के दौरान पलंग पर सोया मासूम आग की चपेट में आने से मौत हो गई। घटना की शिकायत पर पुलिस मर्ग कायम कर जांच में जुटी थी। जांच के बाद महिला के खिलाफ धारा 304 ए के तहत अपराध कायम कर लिया है। 


मिली जानकारी के अनुसार ग्राम तुलसी बाराडेरा मंदिरहसौद निवासी मनोज धीवर 33 वर्ष ने थाने में शिकायत दर्ज करायी है कि 09 सितंबर को दोपहर 12 बजे प्रार्थी की पत्नी यशोधा धीवर  घरेलू विवाद पर अपने कमरे में दरवाजा खिड़की बंद करके  आत्महत्या के नियत से अपने ऊपर मिट्टी तेल छिड़कर आग लगा ली। तभी प्रार्थी को मिट्टी तेल की गंध आने पर खिड़की तोड़कर उसे जलते हालत में बाहर निकाल लिया। आत्महत्या की कोशिश के दौरान योशदा धीवर का बेटा निखिल धीवर 2 साल 6 माह बिस्तर पर सोया हुआ था जो आग की चपेट में आ गया व उसकी मौत हो गई। घटना की विवेचना के बाद पुलिस ने महिला के खिलाफ 17 मई को धारा 304 ए के तहत अपराध कायम कर मामला दर्ज कर लिया है। 
कुत्ते के काटने पर विरोध करना व्यक्ति को पड़ा भारी, विरोध करने बाप-बेटे ने की पिटाई

कुत्ते के काटने पर विरोध करना व्यक्ति को पड़ा भारी, विरोध करने बाप-बेटे ने की पिटाई

रायपुर। बेटी के घर पैदल जा रहे व्यक्ति को पालतू कुत्ता ने काट लिया। कुत्ता को ठीक से पकड़कर रखने कहने पर आरोपियों ने उसकी पिटाई कर दी। मामले की रिपोर्ट गुढिय़ारी थाने में दर्ज करायी गई है। 

मिली जानकारी के अनुसार मिनीमाता चौक सतनामीपारा गुढिय़ारी निवासी रामकुमार चेलक 55 वर्ष ने थाने में शिकायत दर्ज करायी है कि 16 मई को रात्रि प्रार्थी अपने बेटी के घर विकासनगर गुढिय़ारी जा रहा था तभी कालीचरण का लड़का अपने पालतू कुत्ते को घुमा रहा था,उसी समय कुत्ता अचानक प्रार्थी के उपर झपटकर हाथ का कलाई काट लिया। विरोध करने पर कालीचरण एवं उसका लड़का दोनों एक राय होकर प्रार्थी के साथ गाली-गलौचकर जान से मारने की धमकी देकर मारपीट किये। जिसके चलते उसके गर्दन व बाए पैर में चोट लगी है। 
छत्तीसगढ़ में कोरोना की स्थिति में तेज सुधार, संक्रमण दर अब मात्र 9 फीसदी

छत्तीसगढ़ में कोरोना की स्थिति में तेज सुधार, संक्रमण दर अब मात्र 9 फीसदी

 रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण की स्थिति में तेजी से सुधार हो रहा है। राज्य में संक्रमण-दर में तेज गिरवाट दर्ज की जा रही है। 16 मई को यह आंकड़ा 9 प्रतिशत दर्ज किया गया, जबकि अप्रैल माह में संक्रमण की दर 30 प्रतिशत तक जा पहुंची थी। इसी तरह दैनिक औसत टेस्टिंग जनवरी माह के 22 हजार 761 की तुलना में मई माह में 64 हजार 338 हो चुकी है। प्रदेश में टीकाकरण का काम भी तेज गति से जारी है। 16 मई तक राज्य में कुल 65 लाख 38 हजार लोगों लोगों को वैक्सीन के डोजेस दिए जा चुके थे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि अपनी ठोस रणनीति से छत्तीसगढ़ ने न केवल कोरोना की दूसरी लहर पर शीघ्रता से काबू पा लिया है, बल्कि तीसरी लहर की आशंका को समाप्त करने व्यापक स्तर पर तैयारी कर रही है। यदि तीसरी लहर आती भी है तो उससे और भी कुशलता के साथ निपटा जा सकेगा। उन्होंने कहा है कि इस समय हमारा पूरा जोर ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमण को रोकने तथा वहां टेस्टिंग, ट्रेसिंग और उपचार की सुविधाओं के विस्तार पर है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा की जा रही सतत् माॅनिटंरिग और निर्देशन से अब 39 लैबों में ट्रूनाट और 15 में आरटीपीसीआर टेस्ट की सुविधा मुहैया करायी जा ही है। इसके साथ ही आरटीपीसीआर टेस्ट के लिए बलौदाबजार, दुर्ग, दंतेवाड़ा, जांजगीर-चांपा, जशपुर और कोरबा में 6 नये शासकीय लैब और तैयार हो रहे है। एंटिजन टेस्ट राज्य के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों स्तर तक उपलब्ध है जबकि प्रत्येक जिले में अतिरिक्त मशीन प्रदाय कर टूªनाअ लैब की जांच क्षमता भी बढ़ाई जा रही है। कोरोना संक्रमण के लिए राज्य में किए जा रहे प्रयासों से संक्रमण दर में तेज गिरावट आयी है, अप्रैल में जो संक्रमण दर 30 प्रतिशत के करीब थी वह उतरकर अब 9 प्रतिशत हो गई है। पिछले साल जहां कोविड संक्रमित मरीज पर औसत 4 से 5 काॅंटेक्ट्स को ही टेªक किया जा रहा था वहीं अब हर कोविड मरीज के 7 संपर्को की तलाश और उनकी जांच सुनिश्चित की जा रही है जिससे संक्रमण को रोकने में काफी मदद मिली है। प्रदेश में वर्तमान में 1019 काॅटेन्मेंट क्षेत्र घोषित किये गए हैं जहां घर-घर जाकर टेस्टिंग की जा रही है। राज्य में 6 मेडिकल कॉलेज और एम्स रायपुर सहित 37 डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल तथा कुल 154 कोविड केयर सेण्टर बनाए गए हैं इसके साथ ही राज्य के प्रत्येक जिले में डेडिकेटेड कोविड अस्पताल भी बनाए गए है। शासकीय डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल में 5294 बेड तथा कोविड केयर सेण्टर में 16405 बेड की सुविधा उपलब्ध करायी गई है। निजी कोविड अस्पतालों में 9 हजार 596 बेड उपलब्ध कराए गए है। इसके साथ ही कुल 1151 वेटिंलेटर उपलब्ध कराए गए है जिसमें 526 शासकीय और 625 निजी अस्पतालों में है। ऑक्सीजेनेटेड बेड की संख्या बढ़ाये के लिए राज्य में 18 नए ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट्स स्थापित किये गए हैं इसके अतिरिक्त 6 प्लांट्स प्रक्रियाधीन हैं इनमे से 3 प्लांट अगले एक सप्ताह में स्थापित हो जायेंगे। रायपुर मेडिकल कॉलेज में एक विशेष टेलीकंसल्टेशन हब स्थापित किया गया है जिसके माध्यम से मई 2020 से कॉलेज के विषय विशेषज्ञों द्वारा प्रत्येक दिन सभी शासकीय डेडिकेटेड कोविड अस्पतालों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से संपर्क स्थापित कर उन्हें टेलीकंसल्टेशन प्रदान किया जा रहा है। आवश्यकता पड़ने पर टेली राउंड भी लिए जाते हैं।

  चार जुआरी गिरफ्तार, 52 पत्ते एवं 6450 रुपये नकद बरामद

चार जुआरी गिरफ्तार, 52 पत्ते एवं 6450 रुपये नकद बरामद

कांकेर।  जिले के पखांजुर पुलिस द्वारा जुआ एक्ट के तहत कार्यवाही करते हुए 04 जुआरियों दिपक हालदार पिता उत्तम हालदार साकिन पीव्ही 55, जयंत डे पिता कार्तिक डे साकिन नया बाजार पखांजूर , संजीब धरामी पिता रंजन धरामी साकिन पीव्ही 06, रंजन मंडल पिता सुधन मंडल साकिन पीव्ही 06 को गिरफ्तार किया है। 

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मुखबीर के माध्यम से सूचना मिला थी कि ग्राम कोयगांव में कुछ लोग रूपये पैसा का दावं लगाकर ताश के पत्ते से हार-जीत का जुआ खेल रहे है, मुखबीर सूचना तस्दीक कार्यवाही पर हमराह स्टाफ के द्वारा रविवार रात्रि 08 बजे घेराबंदी एवं रेड कार्यवाही करते हुए दिपक हालदार पिता उत्तम हालदार साकिन पीव्ही 55, जयंत डे पिता कार्तिक डे साकिन नया बाजार पखांजूर , संजीब धरामी पिता रंजन धरामी साकिन पीव्ही 06, रंजन मंडल पिता सुधन मंडल साकिन पीव्ही 06, जुआ खेलते उनके कब्जे से ताश के 52 पत्ते एवं 6450 रुपये नकद बरामद कर जुआरियों को गिरफ्तार कर जुआ एक्ट के तहत वैधानिक कार्यवाही किया गया है।
 एक चक्के में चल रही है छत्तीसगढ़ सरकार की बैलगाड़ी - अमित जोगी

एक चक्के में चल रही है छत्तीसगढ़ सरकार की बैलगाड़ी - अमित जोगी

रायपुर। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी ने 18 से 44 वर्ष के आयुवर्ग लोगों के टीकाकरण में जोर-शोर से शुरू हुई सीजी टीका पोर्टल के बंद होने और इस संबंध में स्वास्थ्य विभाग के द्वारा मुख्यमंत्री के अधीनस्थ विभाग चिप्स को व्यवस्था सुधारने के लिए पत्र लिखे जाने पर सवाल उठाते हुए कहा मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री के संवादहीनता और समन्वय की कमी है, एक चक्के में  छत्तीसगढ़  छत्तीसगढ़ सरकार की बैलगाड़ी लडख़ड़ाते हुए चल रही है जिसका खामियाजा छत्तीसगढ़ की जनता को भोगना पड़ रहा है।

अमित जोगी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि ऑनलाइन शराब के माध्यम से छत्तीसगढ़ सरकार के द्वारा पंजीयन से लेकर घर घर शराब पहुंचाने का काम सुचारू रूप से किया जा रहा है, वहीं जीवनदायिनी रक्षक टीका के लिए अब छत्तीसगढ़ के नौजवानों को फिर से लंबी लाइन लगाना पड़ेगा। उन्होंने कहा छत्तीसगढ़ सरकार ने 18-44 आयुवर्ग के लोगों के टीकाकरण के लिए जोर शोर से  सी जी पोर्टल चालू किया था लेकिन सरकार की अकर्मण्यता, गैरजिम्मेदारी और लापरवाही के कारण पोर्टल खराब हो गया है। व्यवस्था की कुछ ही दिन में  पोल खुल गई। जिस कारण न सिर्फ स्वास्थ्य विभाग को पत्राचार करना पड़ रहा बल्कि अब ऑनलाइन की जगह मैनुअल टीकाकरण किया जाएगा जोकि छत्तीसगढ़ के नौजवानों के जान के साथ खिलवाड़ है।
 विभाग में हुई गड़बड़ी के खिलाफ अफसर घर पर अनशन में बैठे, सीएम विवाह योजना व रेडी-टू-ईट में 30 लाख की गड़बड़ी का आरोप

विभाग में हुई गड़बड़ी के खिलाफ अफसर घर पर अनशन में बैठे, सीएम विवाह योजना व रेडी-टू-ईट में 30 लाख की गड़बड़ी का आरोप

महासमुंद। महिला बाल विकास विभाग में मुख्यमंत्री कन्यादान विवाह योजना और रेडी-टू-ईट योजना में करीब 30 लाख रुपए की गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए जांच के बाद भी कार्रवाई नहीं होने से महिला बाल विकास अधिकारी सुधाकर बोदले ने आज से घर पर ही अनशन शुुरु कर दिया है।

अनिश्चितकालीन के लिए अनशन पर बैठे अधिकारी ने बताया कि मामले में जांच प्रतिवेदन जिला प्रशासन और उच्च अधिकारियों को सौंपे जाने के बाद भी जब कार्रवाई नहीं हुई तो उन्होने अनशन करने का फैसला लिया। इसके लिए जिला प्रशासन से स्थल और अनशन की अनुमति के लिए पत्र लिखकर मांग की लेकिन प्रशासन से जब जवाब नहीं मिला तो वे घर पर ही अनशन पर बैठ गए।

खरीदी की गई सामग्री व रेडी-टृू-ईट को अनशन स्थल पर रखा
सुधाकर बोदले ने अनशन स्थल पर विभाग द्वारा मुख्यमंत्री विवाह कन्या दान योजना अंतर्गत हितग्राहियों के लिए उनके कार्यकाल में खरीदी की गई सामग्री के साथ पिछले दो वर्ष से खरीदी की जा रही सामग्री को अनशन स्थल में गुणवत्ता दिखाने के लिए रखा है। इसके अलावा जांच के दौरान हितग्राहियों को वितरण किए गए रेडी टू ईट को भी उन्होंने रखा है। उन्होने बताया कि विवाह योजना के लिए जो सामान खरीदे गए हैं उसकी कीमत 12 हजार रुपए बताई गई है। जबकि बाजार में उक्त सामग्री की कीमत करीब 7 हजार रुपए है। जिसका मूल्यांकन उन्होंने स्वयं जांच के दौरान किया है। उन्होंने बताया कि कन्यादान योजना में 20 लाख रुपए की गड़बड़ी जांच में सामने आई है।

15 सेक्टरों में वितरित रेडी-टू-ईट में 11 में गुणवत्ता विहीन
उन्होने महासमुुंद ब्लॉक के 15 सेक्टरों में हितग्राहियों को वितरित किए गए रेडी-टू-ईट में 11 सेक्टरों में रेडी-टू-ईट गुणवत्ताविहीन होने का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि रेडी टू ईट में जिस तरह की सामग्री की गुणवत्ता होनी चाहिए वह नहीं है। सोया, चना की जगह गेहूं की मात्रा अधिक है। हितग्राहियों से गुणवत्ता वाले और गुणवत्ताविहीन सामग्री का स्वाद चखाकर परीक्षण किया गया। रेडी टू ईट में करीब 10 लाख रुपए की गड़बड़ी जांच में पाई गई हैै।

जांच के बाद भी कार्रवाई नहीं
मामले में जांच कर प्रतिवेदन जिला प्रशासन और उच्चाधिकारियों को सौंपने के बाद भी मामले में कार्रवाई नहीं की गई है। जिसकी वजह से उन्हें अनशन पर बैठना पड़ा है। आज अवकाश है इसलिए पूरे दिन और कार्यालयीन दिनों में वे कार्य सम्पन्न करने से पूर्व सुबह 8 से 10 व शाम को 5 से 8 बजे तक प्रतिदिन घर पर ही अनशन करेंगे।

वर्जन
सुधाकर बोदले द्वारा लगाए गए सभी आरोप निराधार है। स्वयं के द्वारा जांच कर कार्य को प्रभावित करना है। पूर्व में भी जांच कर शिकायत की गई थी जिसके बाद हुई जांच में सब सही पाया गया था। इससे ज्यादा मैं कुछ नहीं कहना चाहता।
   सिटी कोतवाली अंतर्गत ट्रक की ठोकर से मोटर साइकिल चालक की हुई मौत

सिटी कोतवाली अंतर्गत ट्रक की ठोकर से मोटर साइकिल चालक की हुई मौत

कोण्डागांव। जिले के सिटी कोतवाली अंतर्गत नेशनल हाईवे 30 पर बनियागांव पेट्रोल पंप के ठीक सामने रविवार को एक ट्रक ने विपरीत दिशा से आ रही मोटर साइकिल चालक को ठोकर मार दिया, इस टक्कर में मोटर साइकिल चला रहे पुसावण्ड गांव का निवासी मन्नुराम नेताम उम्र 35 वर्षीय की मौके पर ही मौत हो गई, वहीं घटना के बाद अनियंत्रित ट्रकपेड़ से टकराते हुए पलट गई।

दुर्घटना के तत्काल बाद ट्रक चालक मौके से फरार हो गया, वहीं ट्रक का हेल्पर ट्रक में बुरी तरह से फंस रह गया, जिसे कई घंटों की मशक्कत के बाद स्थानीय लोग, डायल 108, ट्रैफिक पुलिस व क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों के सहयोग से बाहर निकालकर उपचार के लिए अस्पताल में दाखिल किया गया है। 
 छत्तीसगढ़ : चक्रवाती तूफान का आंशिक प्रभाव इस जिले में पड़ेगा

छत्तीसगढ़ : चक्रवाती तूफान का आंशिक प्रभाव इस जिले में पड़ेगा

जगदलपुर। मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटे तक मौसम में उतार-चढ़ाव का सिलसिला इसी तरह जारी रहेगा। संभावना है कि यह चक्रवाती तूफान 18 मई को गुजरात से टकराएगा। देश के अन्य राज्यों के साथ-साथ इस चक्रवाती तूफान का आंशिक प्रभाव बस्तर पर भी पड़ेगा। बस्तर में 18 और 19 मई को बादल छाए रहेंगे । वहीं कुछ स्थानों पर हल्की बारिश हो सकती है ।

मौसम वैज्ञानिक एचपी चंद्रा ने बताया कि अगले 24 घंटों के भीतर अबर सागर में चक्रवात का पूर्वानुमान जताया गया है। दक्षिण की तरफ से आने वाली नमी के कारण बस्तर के मौसम में बदलाव होगा। गर्म वातावरण और नमी के मिलने से बादल छाए रहेंगे। वहीं तूफान को लेकर केंद्रीय मौसम विभाग ने अलर्ट जारी कर दिया है। लेकिन बस्तर में इस तूफान का कोई ज्यादा असर नहीं रहेगा। वहीं जिले का अधिकतम तापमान 36 डिग्री और न्यूनतम तापमान 23 डिग्री दर्ज की गई। तूफान के चलते बादल छाने पर तापमान में कुछ गिरावट हो सकती है।
 
रायपुर से समाचार पत्र लेकर कबीरधाम जा रही गाड़ी में लगी आग

रायपुर से समाचार पत्र लेकर कबीरधाम जा रही गाड़ी में लगी आग

बेमेतरा। राजधानी रायपुर से कबीरधाम के लिए समाचार पत्र लेकर निकले वाहन छोटा हाथी में बेमेतरा के प्रताप चौक में आग लग गई। आग इतनी तेज थी कि समाचार पत्रों के साथ गाड़ी भी जलकर ख़ाक हो गई।


जानकारी के अनुसार ड्राइवर प्रमोद वर्मा के साथ रोज की तरह अखबार लेकर रायपुर से निकला था। सुबह लगभग साढ़े तीन बजे प्रताप बेमेतरा पहुंचा। समाचार पत्र अनलोड करने के बाद ड्राइवर ने प्रताप चौक पहुँचकर देखा तो वाहन पूरी तरह से आग की लपटों से घिरा हुआ था।


फायर ब्रिगेड को वाहन घण्टे भर बाद पहुंची तब तक वाहन व न्यूज पेपर जलकर राख हो गया था। वाहन मालिक ने बेमेतरा सिटी कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई है। वाहन में बेमेतरा नवागढ़ कबीरधाम सहित आसपास के क्षेत्र के लिए समाचरत पत्र थे। वाहन में आग लगने के कारण का पता किया जा रहा है। ऐसी आशंका जताई जा रही हैं कि वाहन में लगे बैटरी में शार्ट सर्किट की वजह से आग लगी होगी।

 राजधानी में छूट के साथ खुली दुकानें, कई इलाको में नियमों का पालन करते नहीं दिखे दुकानों के संचालक

राजधानी में छूट के साथ खुली दुकानें, कई इलाको में नियमों का पालन करते नहीं दिखे दुकानों के संचालक

रायपुर। राजधानी रायपुर में लॉकडाउन के बीच  जिला प्रशासन द्वारा मिली छूट के बाद आज से दुकानें खुलनी शुरू हो गई है, लेकिन प्रशासन के आदेश के बावजूद कई इलाकों में सम-विषम आधार पर नंबरिंगनुसार दुकानें खोलने के नियम का पालन दुकान संचालकों द्वारा नहीं किया जा रहा है। 

राजधानी रायपुर के कटोरा तालाब इलाके में आज जिला प्रशासन के आदेश के अनुसार दुकानें खोली तो गई लेकिन कई दुकान संचालक कोरोना की रोकथाम को लेकर बनाये गये नियमों का उल्लंघन करते दिखे। जिला प्रशासन ने दुकान संचालकों को सम -विषम आधार पर नंबरिंग के साथ दुकान खोलने की अनुमति दी है। यानी एक दुकान के बाद हर दूसरी दुकान बंद रहेगी। उसे दुसरे दिन खोलने की अनुमति दी गई है। लेकिन इस आदेश को भी कई दुकान संचालक दरकिनार कर अपनी दुकानें खोलकर रखे हुए है, जिससे कोरोना संक्रमण के बढऩे का खतरा फिर शहर में मंडराने लगा है।

इधर दोपहर 12 बजे समाचार लिखे जाने तक शहर में छूट के साथ बाजार तो खुल गये लेकिन दुकान संचालकों द्वारा नियमों का पालन कर रहे है या नहीं इसका निरीक्षण करने जिला प्रशासन, नगर निगम व पुलिस प्रशासन के अधिकारियों व कर्मचारियों के किसी दल के शहर में भ्रमण हेतु निकलने की जानकारी प्राप्त नहीं हुई है। लिहाजा शहर में कई व्यापारी जिला प्रशासन के आदेश की खुलेआम उल्लंघन करते अपना व्यापार कर रहे है।

 

 बड़ी खबर: लॉटरी लगने का झांसा देकर महिला से लाखों की ठगी

बड़ी खबर: लॉटरी लगने का झांसा देकर महिला से लाखों की ठगी

बिलासपुर। जिले के सरकंडा इलाके में एक महिला से लाखों की ठगी हो गई है। आरोपी ने महिला को लॉटरी का झांसा देकर लाखों पर चपत कर गया। पीडि़त महिला ने मामले की शिकायत सरकंड़ा पुलिस से की है।

जानकारी के अनुसार अज्ञात आरोपी ने महिला को फोन कर लॉटरी की जानकारी दी। इस दौरान आरोपी ने कई बड़े—बड़े सपने दिखाकर बैंक समेत पूरी डिटेल मांग ली। महिला ने बताया कि बातों में आकर सभी जानकारी दे दी।

वहीं इसके कुछ देर बार अकाउंट से पैसे कट गए। बताया कि आरोपी ने 9 लाख 20 हजार रुपए की ठगी की है। सरकंड़ा पुलिस केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ में ठगी के कई ऐसे मामले सामने आए हैं। फिलहाल पुलिस ने जल्द ही आरोपियों की गिरफ्तारी का दावा किया है।
 मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने लोगों से लॉकडाउन में मिली छूट का लाभ सावधानी के साथ लेने की अपील की

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने लोगों से लॉकडाउन में मिली छूट का लाभ सावधानी के साथ लेने की अपील की

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेशवासियों से कोविड एप्रोप्रिएट बिहेवियर का सतत रूप से पालन करते रहने की अपील की है। 

बघेल ने कहा है कि हम सभी ने बहुत मुश्किलें झेलकर कोरोना की दूसरी लहर को नियंत्रित किया है, हमें हर हाल में तीसरी लहर की आशंका को समाप्त करना है। इस दूसरी लहर में न केवल हमें बड़ा आर्थिक नुकसान पहुंचाया, बल्कि बहुत से करीबियों को भी हमसे छीन लिया है। 

उन्होंने कहा कि सभी के सम्मिलित प्रयासों से कोरोना संक्रमण दर को हम 30 प्रतिशत से 9 प्रतिशत तक लाने में कामयाब हुए हैं। कोरोना की स्थिति में तेजी से हो रहे सुधार को देखते हुए राज्य शासन ने लाकडाउन के प्रतिबंधों में थोड़ी छूट देने का निर्णय लिया है। यह छूट जन-सामान्य की मुश्किलों को थोड़ा आसान करने के लिए दी जा रही है। 

इस छूट के दौरान भी बहुत सावधानी बरतने की आवश्यकता है। मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग, सैनेटाइजिंग का पालन करते रहना होगा, अन्यथा निकट भविष्य में हमें और भी बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है।

मुख्यमंत्री नेे लोगों से यह भी अपील की है कि कोरोना महामारी से बचाव के लिए अपनी बारी आने पर टीका जरूर लगवाएं, जिन लोगों को टीका का पहला डोज लग गया है वो निर्धारित समय अवधि के बार टीका का दूसरा डोज अवश्य लगवाए तभी हम इस महामारी पर विजय प्राप्त कर सकेंगे।
 बड़ी खरब रायपुर: आबकारी विभाग छापामार कार्रवाई कर 6 लाख की शराब जब्त की

बड़ी खरब रायपुर: आबकारी विभाग छापामार कार्रवाई कर 6 लाख की शराब जब्त की

रायपुर। सचिव सह आबकारी आयुक्त निरंजन दास एवं प्रबंध संचालक ए. पी.त्रिपाठी सर के द्वारा दी गई निर्देश के तारतम्य में एवं कलेक्टर रायपुर डॉ एस भारती दासन तथा उपायुक्त आबकारी जि़ला रायपुर अरविंद पाटले के मार्गदर्शन में रविवार को गस्त के दौरान मुखबिर की सूचना पर चंदिनिडीह से नंदन वन जाने के मार्ग पर शंका के आधार पर वाहन क्रमांक ष्टत्र 04 रूष्ट 2939 को रोक कर तलाशी लेने पर आरोपी 1.इंद्रपाल सिंह उम्र 18 वर्ष गुढिय़ारी (मौके से फरार)एवं 2.  ईश्वर साहू उम्र 23 वर्ष सुपेला भिलाई निवासी के कब्जे से 20 पेटी कुल 172.8बल्क लीटर संत्रा देशी दारू महाराष्ट्र निर्मित मदिरा बैच ठ्ठश 21 द्वड्ड4 2021,उत्पादक मे 7 स्टार डिस्टिलरी बरामद किया गया।सामूहिक गस्त के दौरान आबकारी उप निरीक्षक  नीलम किरण सिंग, जीआर आड़े, पंकज कुजूर ,अरविंद साहू मुख्य आरक्षक पुरूषोत्तम साकार,आरक्षक सुमीत शर्मा ,सुदर्शन चौधरी साथ रहे।
बड़ी खबर : सीआरपीएफ कैंप के विरोध में उतरे ग्रामीण

बड़ी खबर : सीआरपीएफ कैंप के विरोध में उतरे ग्रामीण

बीजापुर। बीजापुर जिले के तरेम में सीआरपीएफ के कैंप के विरोध में आज सैकड़ों के संख्या में ग्रामीणों ने विरोध प्रदर्शन किया। दरअसल सीआरपीएफ तरेम के आगे कैंप लगाना चाहती है, पर ग्रामीण उन्हें रोक रहे है। ग्रामीण इस कैंप के खिलाफ है, और आज सुबह कैंप की जगह पर सैकड़ों के संख्या में ग्रामीण पहुंचे और उन्होंने इस कैंप का विरोध किया।

 राज्य सरकार की हर योजना व काम शुरू होते ही दम तोड़ देता है- रमन सिंह

राज्य सरकार की हर योजना व काम शुरू होते ही दम तोड़ देता है- रमन सिंह

रायपुर। वैक्सीनेशन को लेकर छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा बनाई गई सीजी टीका पोर्टल योजना ठीक से काम नहीं करने पर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह ने भूपेश सरकार पर ट्वीट कर निशाना साधा है। 

डा. रमन सिंह ने कहा कि भूपेश सरकार हर जगह फेल है। सरकार की हर योजना व काम शुरू होते ही दम तोड़ देता है। उन्होंने कहा कि टीकाकरण के लिए पहले सेंटरों पर भीड़ इक_ी की फिर सीजी टीका पोर्टल शुरू किया वह भी ठप हो गया। डा. सिंह ने कहा कि राज्य सरकार वैक्सीनेशन तक की व्यवस्था नहीं कर पा रही है, इससे ज्यादा निकम्मापन क्या हो सकता है।
छत्तीसगढ़ अब अनलॉक की ओर, राजधानी के बाजारों में आज से लौटेगी रौनक....

छत्तीसगढ़ अब अनलॉक की ओर, राजधानी के बाजारों में आज से लौटेगी रौनक....

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण के उफान के चलते लगाया गया लॉकडाउन अब धीरे-धीरे खुलने लगेगा, लेकिन भीड़-भाड़ में वृद्धि होने पर कोविड-19 संक्रमण बढ़ने की आशंका अभी भी विद्यमान है। इस कारण आम जनता के लिए वस्तुओं और सेवाओं की आपूर्ति करने के साथ-साथ श्रमिकों, निम्न आय वर्ग व छोटे-बड़े व्यवसायीगण के हितों की सुरक्षा के लिए निबंधनों में धीरे-धीरे रियायतें बढ़ाई गई हैं।
नगर निगम के अपर आयुक्त पुलक भट्टाचार्य ने बताया है कि इस इसके तहत कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी ने स्थापित बाजारों में स्थित दुकानें रविवार को छोड़कर अन्य दिनों में सम/विषम आधार पर नंबरिंग अनुसार उनके सामान्य समय पर खुलते हुये अपरान्ह 05.00 बजे तक खोलने की अनुमति दी है। इसके तहत आज रायपुर जिले की स्थापित बाजारों की दुकानें शर्तों के साथ खुलनी प्रारंभ हो जाएंगी।
इसके तहत एक दिवस में संबंधित व्यापारिक संगठनों द्वारा निर्धारित क्रम के अनुसार किसी बाजार में अधिकतम 50 प्रतिशत दुकानें ही खुल सकेंगी। उन्होंने बताया कि ऐसे बाजार जहां सम- विषम नियम लागू होंगे वे है - रवि भवन, लाल गंगा कॉम्प्लेक्स और जयराम कॉम्प्लेक्स। इसी तरह गोल बाजार, मालवीय रोड, बंजारी मार्केट, सदर बाजार, बूढ़ा तालाब से लेकर लाखे नगर,एम जी रोड.गुढियारी बाजार दाएं -बाएं के तहत खुलेंगी। अभी इन बाजारों को जिला प्रशासन द्वारा चिन्हांकित किया गया है । सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं होने पर अन्य सड़कों और बाजारों को भी शामिल किया जा सकता है। इसी तरह पंडरी के पांच बाजार में भी लेफ्ट- राइट पर सहमति है। उन्होंने बताया कि सड़क से दाएं - बाएं एक - एक दिन बारी-बारी से दुकानें खुलेंगी।
कलेक्टर ने अपने कंटेनमेंट जोन एरिया के आदेश में यह भी कहा है कि आवश्यकता होने पर नगरीय निकाय एवं पुलिस अधिकारी स्थानीय स्तर पर विचार कर उचित क्रोम निर्धारित करेगें। मास्क तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन अनिवार्य होगा।किसी दुकान में फिजिकल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करते हुये भीड़-भाड़ की स्थिति निर्मित होने या राज्य शासन/इस कार्यालय द्वारा जारी निर्देशों का उल्लंघन होने पर नियमानुसार अर्थदण्ड अधिरोपित करने एवं 30 दिवस हेतु दुकान सील करने की कार्यवाही की जावेगी।
यह भी उल्लेखनीय है कि टेलीकॉम, रेलवे एवं एयरपोर्ट संचालन व रख-रखाव से जुड़े कार्यालय/वर्कशॉप, रेक प्वाइंट पर लोडिंग-अनलोडिंग का कार्य, खाद्य सामग्री के थोक परिवहन, धान मिलिंग हेतु परिवहन की अनुमति पूर्ववत है।सभी प्रकार की मंडियाँ एव सब्जी बाजार जैसे शास्त्री मार्केट रायपुर इत्यादि आम जनता हेतु बंद रहेगें किन्तु आवश्यक वस्तुओं/माल की आपूर्ति सुनिश्चित करने हेतु गोडाउन/मंडियों में थोक माल/कार्गो/फल/सब्जी लोडिंग/अन-लोडिंग की अनुमति रात्रि 10.00 बजे से प्रातः 06.00 बजे तक रहेगी। फल एवं सब्जी थोक बाजार समयावधि रात्रि 12.00 बजे से प्रातः 06.00 बजे तक ही संचालित होगा।
इसी तरह सभी पान/सिगरेट ठेला तथा चौपाटी, चाट, समोसा गुपचुप, फास्ट-फूड इत्यादि के विक्रय हेतु ठेलों का संचालन पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। होटलों एवं रेस्टोरेंट्स से केवल स्विगी, जोमेटो इत्यादि ऑनलाइन एप्लीकेशन के माध्यम से होम डिलीवरी की अनुमति पूर्ववत रहेगी किन्तु ग्राहको के लिए इन-हाउस डाइनिंग तथा टेक-अवे पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। होम डिलीवरी के लिए होटल एवं रेस्टोरेंट्स से डिलीवरी का समय प्रातः 06.00 बजे से रात्रि 09.00 बजे तक रहेगा तथा आम जनता हेतु होम डिलीवरी रात्रि 10.00 बजे तक ही की जा सकेगी।

स्वीट्स, मिठाइयों और बेकरी की दुकानों को खोलने का समय शाम 5:00 बजे तक निर्धारित :
कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी रायपुर डॉ एस भारतीदासन ने स्पष्ट किया है कि स्वीट्स, मिठाइयों और बेकरी की दुकानों को खोलने का समय शाम 5:00 बजे तक निर्धारित है। इन दुकानों के माध्यम से होम डिलीवरी भी की जा सकती है और इस कार्य को प्राथमिकता भी देनी है। होम डिलीवरी का कार्य शाम 5:00 बजे तक किया जा सकता है।
उल्लेखनीय है कि रायपुर जिले को 31 मई की सुबह 6:00 बजे तक कंटेनमेंट जोन एरिया घोषित किया गया है और इसके तहत दुकानों तथा अन्य संस्थाओं को शर्तों के साथ खोलने की अनुमति प्रदान की गई है। कलेक्टर ने कहा है कि कंटेनमेंट एरिया के आदेश के तहत बिंदु क्रमांक 6 के माध्यम से किराना , डेली नीड्स तथा अन्य दुकानों को खोलने के लिए समय एवं शर्तों का निर्धारण किया गया है। मिठाइयां, स्वीट्स और बेकरी की दुकानें भी इसी श्रेणी के अंतर्गत आती ऑर्डर के माध्यम से ग्राहकों को सिलेन्डरों की होम डिलीवरी को प्राथमिकता देगें

प्रत्येक रविवार को पूर्ण लॉकडाउन रखा जावेगा :
यह भी उल्ल्लेखनीय हैं कि प्रत्येक रविवार को पूर्ण लॉकडाउन रखा जावेगा, जिसके दौरान केवल अस्पताल, क्लिनिक, मेडिकल दुकान, पेट्रोल पंप तथा इस आदेश द्वारा निर्धारित समयावधि में शासकीय उचित मूल्य दुकानें, एल.पी.जी., पैट शॉप, न्यूज पेपर, दुग्ध/फल/सब्जी तथा अनुमति प्राप्त अन्य वस्तुओं/ सेवाओं की होम डिलीवरी के संचालन की ही अनुमति होगी।
 

Previous123456789...340341Next