कोरोना अपडेट : 24 घंटे में 41 हजार नए मामले, 541 लोगों की मौत    |    बड़ी खबर : इस BJP सांसद को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जाने क्या है मामला...    |    CG कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज रायपुर में मिले सर्वाधिक मरीज, 203 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, देखें जिलेवार आंकड़े    |    आईसीएमआर अपडेट : आज शाम तक मिले इतने कोरोना पॉजिटिव, देखे जिलेवार आकड़े    |    बड़ी खबर : जेल में बैरक की दीवार ढही, 22 कैदी गंभीर रूप से घायल    |    CG कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज एक्टिव मरीजो की संख्या हुई 2 हजार से कम, 243 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, देखें जिलेवार आंकड़े    |    बड़ी खबर: पान मसाला कंपनी पर आयकर का शिकंजा, 400 करोड़ रुपए के काले कारोबार का हुआ खुलासा    |    आईसीएमआर अपडेट : आज शाम तक मिले इतने कोरोना पॉजिटिव, आकडों में आज रायपुर से मिले सर्वाधिक    |    जज की संदिग्ध मौत पर सुप्रीम कोर्ट ने लिया संज्ञान, सरकार से एक हफ्ते में मांगा जवाब    |    CG कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज मिले सिर्फ इतने ही मरीज, 270 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, नही हुई किसी की मृत्यु, देखें जिलेवार आंकड़े    |
 बड़ी सफलता : चेकपोस्ट में जांच के दौरान ट्रक में रखे बोरी के अंदर मिला 1 करोड़ का गांजा

बड़ी सफलता : चेकपोस्ट में जांच के दौरान ट्रक में रखे बोरी के अंदर मिला 1 करोड़ का गांजा

कवर्धा। चिल्फी थाना के चेकपोस्ट पर जांच के दौरान आयशर ट्रक वाहन में छिपाकर ले जा रहे करीब 1 करोड़ गांजा बरामद करने में पुलिस को सफलता मिली है। इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। बता दे कि पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी चिल्फी की ओर से आयशर ट्रक में धान भूसा के अंदर गांजा भर कर तस्करी की जा रही है। सूचना पर पुलिस ने चेक पाइंट लगाया था। इस दौरान आयशर ट्रक को रोक कर तलाशी के दौरान उसमें भरे धान भूसा की जांच करने पर 30 बोरी के अंदर 915 पैकेट गांजा मिला। बरामद गांजे की कीमत करीब 1 करोड़ रुपए आंकी गई है। पुलिस ने इस मामले में सारंगढ़ उड़ीसा निवासी मनोज निषाद को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने मामले में आरोपी से पूछताछ कर रही है।
छत्तीसगढ़ में बड़ा हादसा: सड़क हादसे में नायब तहसीलदार समेत 3 की मौत अन्य 1 गंभीर

छत्तीसगढ़ में बड़ा हादसा: सड़क हादसे में नायब तहसीलदार समेत 3 की मौत अन्य 1 गंभीर

कवर्धा। छत्तीसगढ़ के कवर्धा जिले में चिल्फी थाना क्षेत्र में सड़क हादसे में नायब तहसीलदार समेत 03 लोगों की मौत होने की खबर है, वहीं अन्य 01 गंभीर रूप से घायल है, जिसका अस्पताल में उपचार जारी है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शासकीय बोलेरो वाहन का पगवाही गांव के पास ट्रक से भिड़ंत हो गया। इस हादसे में बोलेरो में सवार एक नायब तहसीलदार जिसका नाम सतीष किसान बताया जा रहा है के अलावा चंदन कुमार आबकारी विभाग का गार्ड एवं 03 कॉलेज छात्र थे। इनमें नायब तहसीलदार समेत 03 लोगों की मौत हो गई, वहीं एक अन्य की हालत गंभीर है जिसे जिला अस्पताल रेफर किया गया है।
 छत्तीसगढ़ : ऑनलाइन पढ़ाई के दौरान चलने लगा अश्लील वीडियो, यह सब देख टीचर और बच्चों के उड़े होश

छत्तीसगढ़ : ऑनलाइन पढ़ाई के दौरान चलने लगा अश्लील वीडियो, यह सब देख टीचर और बच्चों के उड़े होश

कवर्धा। छत्तीसगढ़ के कवर्धा जिले में ऑनलाइन पढ़ाई के दौरान उस वक्त हड़कंप मच गया जब Zoom एप में अचानक अश्लील वीडियो चलने लगी। ये सब देख टीचर और बच्चों के होश उड़ गए। निजी स्कूल की प्राचार्य ने मामले की​ शिकायत कोतवाली थाने में दर्ज कराई है।

जानकारी के अनुसार शहर के स्कूलों में हर दिन की तरह बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई जूम एप के जरिए हो रही थी। इस बीच अज्ञात बदमाशों ने एप्प को हैक कर लिया। इसके बाद उसमें में अश्लील वीडियो पोस्ट कर दिया। इस घटना से बच्चों और टीचरों में हड़कंप मच गया। निजी स्कूल की शिकायत पर कोतवाली पुलिस इस मामले की जांच शुरू कर दी है।
 शादी करने का प्रलोभन देकर नाबालिग से कई बार दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार

शादी करने का प्रलोभन देकर नाबालिग से कई बार दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार

कवर्धा। थाना क्षेत्र के नाबालिग बालिका अपने परिजनों के साथ न्याय की फरियाद लेकर थाना कुंण्डा आकर एफ.आई.आर. दर्ज कराई कि हमारे गांव के ही रहने वाले विधि विरुद्ध संघर्षरत अपचारी बालक द्वारा मुझे शादी करने का प्रलोभन देकर जातिगत गाली गलौज कर जान से मारने की धमकी देकर मेरे साथ 10/07/2020 से 23/03/2021 के मध्य मेरे साथ कई बार शारीरिक संबंध बनाया है, और अब मुझसे शादी करने से साफ-साफ इंकार कर रहा है। नाबालिग बालिका से सम्बंधित गंभीर अपराध होने से तत्काल वरिष्ठ अधिकारी गणों को अवगत कराया गया। जिस पर कबीरधाम पुलिस अधीक्षक मोहित गर्ग के निर्देशन में पंडरिया अनुविभागीय अधिकारी पुलिस नरेंद्र कुमार बेंताल द्वारा प्रकरण की विवेचना किया जा रहा था। जिसके कुशल नेतृत्व मे  पुलिस टीम को सफलता प्राप्त हुआ और विवेचना दौरान विधि विरुद्ध संघर्षरत बालक को लखनऊ उत्तरप्रदेश से दिनांक -13.07.2021 को गिरफ्तार कर उचित कार्यवाही कर माननीय किशोर न्याय बोर्ड के समक्ष न्यायिक रिमांड पर पेश किया गया, जिसे बाल संप्रेक्षण गृह राजनांदगाव दाखिल किया गया।
   तेज रफ्तार मेटाडोर ने बाईक सवार एक परिवार को मारी टक्कर, हादसे में पिता और पुत्र की मौत

तेज रफ्तार मेटाडोर ने बाईक सवार एक परिवार को मारी टक्कर, हादसे में पिता और पुत्र की मौत

कवर्धा। आज सुबह घटना मोटरसाइकिल में सवार होकर पति पत्नी और दो बच्चे मध्य प्रदेश जा रहे थे इसी दौरान पोलमी नाका के पास एक तेज रफ्तार से चल रही अनियंत्रित मेटाडोर की चपेट में आ गए। इस दर्दनाक हादसे में पिता और पुत्र की मौके पर ही मौत हो गई है। पत्नी और बच्ची गंभीर रूप से घायल है, जिन्हें कुकदुर अस्पताल में इलाज के लिए लाया गया है, वहीं पुलिस मौके पर पहुंच कर घटना की जांच कर रही है।मिली जानकारी के अनुसार  आज सुबह 7 बजे संजय यादव 40 वर्षीय मोटरसाइकिल से अपने पुत्र रविकांत जो 6 वर्ष का है इसके साथ अपने पत्नी और लगभग 1 साल की बच्ची के साथ पत्नी के मायके ताई तिरनी से अपने घर मध्यप्रदेश के जलदा गांव ले जा रहा था,अभी पोलमी नाका के पास ही पहुँचे थे तभी एक तेज रफ्तार मेटाडोर के साथ भिड़ंत हो गई।इस जबरदस्त टक्कर में संजय यादव और बेटे रविकांत की मौके पर ही मौत हो गई, पत्नी और बच्ची गंभीर रूप से घायल हैं, जिन्हें 108 के माध्यम से कुकदूर अस्पताल ले जाया गया है,जहां इनका चल रहा है। घटना की जानकारी कुकदूर थाने मे दी गयी है।पुलिस मौके पर पहुंच जांच में जुट गई तथा मृतकों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
शर्मसार: घर में घुसकर किशोरी से किया दुष्कर्म, गर्भवती होने के बाद हुआ खुलासा, जानिए पूरा मामला

शर्मसार: घर में घुसकर किशोरी से किया दुष्कर्म, गर्भवती होने के बाद हुआ खुलासा, जानिए पूरा मामला

छत्तीसगढ़ के कवर्धा में बाल शोषण की दो दिलदहेला देने वाली मामला सामने आया हैं। एक आरोपी ने घर में घुसकर किशोरी से दुष्कर्म किया। फिर धमकी देकर संबंध बनाता रहा। जब किशोरी गर्भवती हो गई तो मामला खुला। वहीं एक अन्य मामले में शादी का झांसा देकर किशोरी को भगा ले गया और डेढ़ साल तक दुष्कर्म करता रहा। फिर शादी से इनकार कर दिया। पुलिस ने दोनों ने ही मामलों में आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।


5 माह से कर रहा था शोषण, किशोरी 4 माह की गर्भवती

पिपरिया क्षेत्र निवासी किशोरी जनवरी में वह घर में अकेली थी। इसी दौरान पड़ोस में रहने वाला गोलू उर्फ संजय साहू घर में घुस आया। आरोप है कि उसने मारपीट कर दुष्कर्म किया। किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद से लगातार शोषण करता रहा। जिसके चलते किशोरी 4 माह की गर्भवती हो गई। इसके बाद खुद ही रायपुर के पंडरी थाने पहुंची और मामला दर्ज कराया। वहां से पुलिस ने मामला पिपरिया थाने ट्रांसफर कर दिया।


शादी का झांसा देकर दुष्कर्म का आरोपी 3 दिन में गिरफ्तार


वहीं एक अन्य मामले में एक किशोरी अपने परिजनों के साथ कुंडा थाने पहुंची। यहां उसने मामला दर्ज कराया कि घोटिया निवासी फेकु डहरिया उसे शादी का झांसा देकर घर से भगा ले गया। इसके बाद डेढ़ साल तक उससे संबंध बनाता रहा। फिर शादी से इनकार कर दिया और अपने पास से धक्का मारकर भाग दिया। किशोरी किसी तरह अपने घर पहुंची। शिकायत की जांच के बाद पुलिस ने महज तीन दिन में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

 बड़ी खबर: बारिश से बचने पेड़ के नीचे खड़े तीन लोगों के उपर गिरी बिजली, तीनों की मौत

बड़ी खबर: बारिश से बचने पेड़ के नीचे खड़े तीन लोगों के उपर गिरी बिजली, तीनों की मौत

कवर्धा। बिजली गिरने से एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई है। मिली जानकारी के अनुसार पांडातराई थाने के चकरभाठा खुर्द गांव में आकाशीय बिजली गिरने से एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई। तीनों शादी सामारोह से वापस घर लौट रहे थे तभी बारिश से बचने पेड की आड़ में खड़े थे तभी बिजली गिरने से तीनों की मौत हो गई। हादसे में एक व्यक्ति घायल भी हो गया जिसे अस्पताल में भर्ती किया गया है। 

पौधा तुहंर दुआर योजना के अंतर्गत घर बैठे निः शुल्क पौधा मंगा सकते है , जानिए यहां

पौधा तुहंर दुआर योजना के अंतर्गत घर बैठे निः शुल्क पौधा मंगा सकते है , जानिए यहां

कवर्धा: पौधा तुहंर दुआर योजना अंगर्तत आज से वाहन द्वारा घर पहुंच निःशुल्क पौधा प्रदाय योजना का शुभारंभ हरी झंडी दिखाकर कवर्धा वन मंडल से किया गया। इस अवसर पर जनप्रतिनिधि सहित वन मंडल के वन मंडल अधिकारी, उप वन मंडल अधिकारी, परिक्षेत्र अधिकारी तथा स्थानीय वन अमला मौके पर उपस्थित थे।


वन मंडलाधिकारी दिलराज प्रभाकर ने बताया कि इस योजना अंतर्गत वन मंडल कवर्धा के पास बांस, नीम, रामफल, आंवला, करंज, इमली, महुआ, हर्रा, बहेड़ा, सफेद सिरस, लाल सिरस, अर्जुन, आम, जामुन, अमरूद, मुनगा, सीताफल, कटहल, बेल, पपीता, अनार, बादाम, पैल्टाफॉर्म और गुलमोहर जैसी औषधीय, ईमारती, फलदार तथा शोभादार पौधों की प्रजातियां निःशुल्क प्रदाय करने हेतु उपलब्ध हैं। इन पौधों को घर बैठे प्राप्त करने के लिए हितग्राही को नोडल अधिकारी के मोबाइल नंबर पर कॉल करके उन्हें अपना नाम, अपने गांव का नाम, कौन सी प्रजाति चाहते हैं तथा कितनी संख्या में चाहते हैं, नोट कराना होगा। निर्धारित तिथि को वन अमला द्वारा पौधा, गांव के समस्त हितग्राहियों को एक साथ वाहन से पहुंचाकर प्रदाय किया जाएगा। इस योजना के नोडल अधिकारी सुनील सोनी वनपाल, मोबाइल नंबर 9329202572 तथा नरेंद्र राजपूत वनरक्षक, मोबाइल नंबर 9340493587 रहेंगे। इनके अतिरिक्त समस्त परिक्षेत्र अधिकारियों के मोबाइल नंबर पर भी संपर्क करके हितग्राही अपनी जानकारी उन्हें नोट करा सकते हैं।

 इंस्टाग्राम पर युवती का फोटो अपलोड कर अश्लील कमेन्ट व पैसे की मांग करने वाला आरोपी पुलिस के गिरफ्त में

इंस्टाग्राम पर युवती का फोटो अपलोड कर अश्लील कमेन्ट व पैसे की मांग करने वाला आरोपी पुलिस के गिरफ्त में

कवर्धा:  युवती ने थाना आकर रिपोर्ट दर्ज करायी कि एक अज्ञात व्यक्ति सोशल मिडिया इंस्टागाम पर उसकी एवं उसकी सहेली की फोटो अपलोड कर उनके संबंध में अश्लील एवं अभद्र आपत्तिजनक गंदी गंदी बाते कमेन्ट कर रहा है तथा फोटो एवं कमेन्ट डिलिट करने के एवज में पैसे का मांग कर रहा है कि रिपोर्ट पर थाना कवर्धा में अपराध कमांक- 370/2021 धारा 509 भा.द.वि. एवं 67 आईटी एक्ट का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया प्रकरण महिला संबंधी सायबर अपराध गंभीर प्रकृति का होने एवं आरोपी अज्ञात होने से थाना प्रभारी कवर्धा निरीक्षक मुकेश सोम द्वारा स्वयं आरोपी की तत्काल पतासाजी हेतु सायबर सेल जिला कबीरधाम की सहायता से आरोपी की पतासाजी की गई। 

आरोपी का लोकेशन गुजरात में होने से आरोपी पतासाजी हेतु टीम गठित कर गुजरात रवाना किया गया गुजरात पुलिस की सहायता से आरोपी दिलीप दाबी पिता जसुभाई दाबी उम्र 19 साल निवासी मुडेल थाना कटलाल जिला खेड़ा गुजरात की पतासाजी कर गिरफ्तार किया गया आरोपी के कब्जे से घटना में प्रयुक्त मोबाईल को जप्त किया गया तथा आरोपी को जिला आनंद तहसील उमरेड न्यायालय में पेश कर आरोपी का ट्रांजिट रिमाण्ड लिया गया आरोपी को सुरक्षार्थ कवर्धा लाकर न्यायालय पेश में किया गया न्यायालय द्वारा आरोपी को जेल भेज दिये है।
बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : कलेक्टर ने दुकानों के संचालन हेतु नया समय किया तय, आदेश हुआ जारी, जाने अब कितने बजे तक खोल सकते है दुकानें

बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : कलेक्टर ने दुकानों के संचालन हेतु नया समय किया तय, आदेश हुआ जारी, जाने अब कितने बजे तक खोल सकते है दुकानें

कवर्धा कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री रमेश कुमार शर्मा ने कार्यालय के आदेश अनुसार सात जून 2021 के माध्यम से कबीरधाम जिला अंतर्गत सम्पूर्ण क्षेत्र को कंटेन्मेंट जोन घोषित करते हुए कबीरधाम जिले में सार्वजनिक आवागमन एवं अन्य गतिविधियों पर कड़े प्रतिबंध अधिरोपित किए गए है। कलेक्टर श्री शर्मा ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों में भी सार्वजनिक आवागमन एवं अन्य गतिविधियों पर युक्तियुक्त प्रतिबंध निरंतर जारी रखा जाना आवश्यक प्रतीत होता है।

    कलेक्टर श्री शर्मा ने दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144, आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 30, 34 सहपठित एपिडेमिक एक्ट 1897 यथा संशोधित 2020 द्वारा प्रदत्त शक्तियों के अधीन कार्यालय के आदेश क्रमांक अनुसार 16 मई 2021, सहपठित आदेश 27 मई 2021 एवं सात जून 2021 को अधिक्रमित करते हुए आदेश जारी किए है। आगामी आदेश पर्यन्त निम्नलिखित गतिविधियां पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगी।

कोचिंग क्लासेस, ग्रामीण हाट बाजार, चौपाटी सहित सभा, रैली, जुलुस, धरना, प्रदर्शन पूर्णतः प्रतिबंध

    जारी आदेश के अनुसार सभी स्विमिंग पूल, सिनेमा हॉॅल, थियेटर, वाटर पार्क, थीम पार्क तथा सामूहिक भीड़-भाड़ वाले स्थल आम जनता हेतु पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगे। स्कूल एवं कॉलेज, विद्यार्थियों हेतु बंद रहेंगे। छात्रावास में केवल परीक्षा देने वाले विद्यार्थियों को आवास की अनुमति होगी। शासन से अनुमति प्राप्त समस्त परीक्षाओं को छोड़कर कोचिंग क्लासेस सहित अन्य समस्त शैक्षणिक गतिविधियां बंद रहेंगी। सभी प्रकार की सभा, रैली, जुलुस, धरना, प्रदर्शन तथा सामाजिक, राजनैतिक, खेल, सांस्कृतिक एवं धार्मिक आयोजन पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगे। चौपाटी एवं बाजार जैसे स्थल नहीं खुलेंगे। ग्रामीण हाट बाजार पूर्णतः बंद रहेंगे।

अस्थायी दुकानें, शॉपिंग मॉल, व्यवसायिक प्रतिष्ठान, सुपर मार्केट, सुपर बाजार, अनाज मण्डी को संध्या 6 बजे तक खोलने की अनुमति

    जारी आदेश में बताया गया है कि कंडिका (1) अनुसार प्रतिबंधित गतिविधियों को छोड़कर अन्य सभी प्रकार की स्थायी एवं अस्थायी दुकानें, शॉपिंग मॉल, व्यवसायिक प्रतिष्ठान, सुपर मार्केट, सुपर बाजार, अनाज मण्डी, शो-रूम, क्लब, मदिरा दुकानें, ठेला, सैलून, ब्यूटी पार्लर, स्पा, पार्क व जिम इत्यादि साप्ताहिक अवकाश दिवस को छोड़कर अन्य दिवस में उनके प्रचलित समय से रात 8 बजे तक खोले जा सकेंगे। नगरीय क्षेत्रों में थोक, फुटकर सब्जी बाजार तथा फल की दुकानें नगर पालिका, पंचायत द्वारा चिन्हांकित स्थल पर ही संचालित हो सकेंगे। फल, सब्जी का विक्रेता ठेले के माध्यम से मोहल्लो में घूमकर विक्रय को प्राथमिकता देंगे। स्थानीय निकाय से अनुमति प्राप्त होने पश्चात् ही सब्जी बाजार एवं फुटकर दुकानों का संचालन किया जा सकेगा।


होटल, रेस्टोरेंट्स, क्लब एवं बार रात्रि 10 बजे तक होगी संचालित

    जारी आदेश के अनुसार होटल, रेस्टोरेंट्स, क्लब एवं बार रात्रि 10 बजे तक खुल सकेंगे। आउटसाइड डाइनिंग की भी अनुमति होगी, किन्तु डायनिंग हॉल, रूम में उनकी बैठक क्षमता के 50 प्रतिशत से अधिक व्यक्तियों को अनुमति नहीं होगी। होटल, रेस्टोरेंट्स ऑनलाईन, टेलीफोनिक ऑर्डर पर होम डिलीवरी तथा टेक-अवे को प्राथमिकता देंगे। क्लब-रेस्टोरेंट्स, होटल एवं रेस्टोरेंट्स से डिलीवरी का समय रात्रि 9 बजे तक तथा आम जनता, ग्राहक के निवास तक होम डिलीवरी का अधिकतम समय रात्रि 10 बजे तक ही रहेगा। होटलों में इन-हाउस अतिथियों के लिए होटल किचन, स्वयं के रेस्टोरेंट्स के उपयोग की अनुमति रहेगी।

शादी, अंत्येष्टि, दशगात्र में शामिल होने की अधिकतम संख्या 25, कोविड-19 प्रोटोकॉल का करना होगा पालन

    जारी आदेश में बताया गया है कि वैवाहिक कार्यक्रम निवास-गृह, होटल अथवा मैरिज हॉल में कोविड-19 प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन की शर्त के अधीन आयोजित करने की अनुमति होगी। विवाह में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 25 रहेगी। विवाह कार्यक्रम हेतु संबंधित तहसीलदार से विधिवत अनुमति अनिवार्य होगी। विवाह में शामिल होने वाले सभी व्यक्तियों का कोरोना जांच निगेटिव प्रमाण पत्र अनिवार्य होगा। होटल, मैरिज हॉल संचालक द्वारा शामिल होने वाले व्यक्तियों की सूची संधारित की जावेगी। इसी प्रकार अंत्येष्टि, दशगात्र, इत्यादि मृत्यु संबंधी कार्यक्रम में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 25 रहेगी। आयोजन के दौरान मास्क धारण करना तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन करने अनिवार्य होगा। अंत्येष्टि कार्यक्रम को छोड़कर अन्य किसी भी कार्यक्रम में सम्मिलित होने के लिए कोरोना निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य होगा।

शासकीय, अर्द्धशासकीय अथवा बैंक में प्रवेश के पूर्व 7 दिवस के भीतर का कोरोना निगेटिव प्रमाण पत्र दिखाना अनिवार्य

    जारी आदेश के अनुसार कबीरधाम जिला अंतर्गत सभी कार्यालय पूर्ववत खुलेंगे। शासकीय कार्यालयों सभी श्रेणी के अधिकारियामें, कर्मचारियों की शत-प्रतिशत उपस्थित अनिवार्य होगी। जिले के किसी भी शासकीय, अर्द्धशासकीय अथवा बैंक में प्रवेश के पूर्व 7 दिवस के भीतर का कोरोना निगेटिव प्रमाण पत्र या कोरोना वैक्सीनेशन कराने का प्रमाण पत्र दिखाए जाने पर ही आम नागरिकों को प्रवेश की अनुमति होगी। सभी अधिकारी, कर्मचारी कोविड 19 के संक्रमण के रोकथाम हेतु निर्धारित मापदंड जैसे मास्क, लगाना, एक दूसरे से पर्याप्त दूरी बनाये रखना, सेनेटाइजर का समय-समय पर उपयोग करना इत्यादि का कड़ाई से पालन करेंगे। सभी अस्पताल, मेडिकल दुकानें, क्लिनिक एवं पशु-चिकित्सालय को उनके निर्धारित समय में संचालन की अनुमति होगी। मेडिकल दुकान संचालक मरीजों के लिए दवाओं की होम डिलीवरी को प्राथमिकता देगें। पेट्रोल पंप, गैस एजेन्सी एवं मेडिकल दुकानें पूर्ण समयावधि हेतु खुल सकेंगे किन्तु गैस एजेंसियां टेलीफोनिक या ऑनलाईन ऑर्डर के माध्यम से ग्राहकों को गैस सिलेन्डरों की होम डिलीवरी को प्राथमिकता देंगे। शासकीय उचित मूल्य दुकानों को खाद्य अधिकारी, कबीरधाम द्वारा निर्धारित समयावधि में मास्क, फिजिकल डिस्टेंसिग, नियमित सेनिटाइजेशन एवं भीड़ भाड़ नहीं होने देने की शर्त का कड़ाई से पालन कराने के अधीन, टोकन व्यवस्था के साथ खुलने की अनुमति होगी।

प्रतिदिन संध्या 8 बजे से प्रातः 6 बजे तक रात्रिकालिन कर्फ्यु लागू

    जारी आदेश के अनुसार सभी संचालित दुकानों में निःशुल्क वितरण, विक्रय के लिए मास्क रखना तथा दुकान में कार्यरत कर्मचारियों एवं ग्राहकों के उपयोग हेतु सेनिटाईजर रखना अनिवार्य होगा। जिले के सभी दुकानदारों एवं वहां पर कार्यरत व्यक्तियों को महीने में कम से कम एक बार कोरोना जांच कराना अनिवार्य होगा। यदि किसी दुकान के मालिक अथवा कर्मचारी कोरोना पॉजिटीव हो जाते है, तो दुकान एक सप्ताह के लिए बंद कर दी जावेगी। होम डिलीवरी के दौरान मास्क धारण करना एवं फिजिकल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन करना अनिवार्य होगा। प्रतिदिन रात्रि 8 बजे से प्रातः 6 बजे तक रात्रिकालिन कर्फ्यु लागू रहेगा, जिसके दौरान होटल, रेस्टोरेंट से होम डिलीवरी तथा थोक माल, वेयरहाउस, कार्गो, फल, सब्जी की लोडिंग, अन-लोडिंग की अनुमति निर्धारित समयावधि में रहेगी। आपातकालीन आवागमन को छोड़कर अन्य समस्त गतिविधियों पर प्रतिबंध रहेगा। साप्ताहिक अवकाश दिवसो में पूर्ण लॉकडाउन रखा जाएगा, जिसके दौरान केवल अस्पताल, क्लिनिक, मेडिकल दुकान, पेट्रोल पंप तथा इस आदेश द्वारा निर्धारित समयावधि में शासकीय उचित मूल्य की दुकानें, एल.पी.जी. पैट शॉप, न्यूजपेपर, दुग्ध, फल, सब्जी तथा अनुमति प्राप्त अन्य वस्तुओं, सेवाओं की होम डिलीवरी के संचालन की ही अनुमति होगी।

अति आवश्यक होने पर ही घरो से बाहर निकले

जारी आदेश में बताया गया है कि आपात स्थिति में यात्रा के दौरान 04 पहिया वाहनों में ड्राईवर सहित अधिकतम 03, ऑटो में ड्राईवर सहित अधिकतम 03 एवं दो पहिया वाहन में अधिकतम 02 व्यक्तियों को यात्रा की अनुमति होगी। जिले के भीतर घरों से बाहर निकलने पर अनिवार्य रूप से मास्क धारण करते हुये सोशल डिस्टेंसिंग का पालन तथा सेनेटाईजर प्रयोग करेंगे। आम जनता से अपेक्षा की जाती है कि अति आवश्यक होने पर ही घरो से बाहर निकले एवं भीड़-भाड़ वाले क्षेत्र में दोहरे मास्क का उपयोग करना तथा कोविड टीकाकरण कराया जाना अपेक्षित है।
 मास्क तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन अनिवार्य होगा। किसी दुकान, मॉल, हॉल को फिजिकल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करते हुए भीड़-भाड़ एकत्रित कर या राज्य शासन इस कार्यालय द्वारा जारी निर्देशों का उल्लंघन करने पर नियमानुसार अर्थदण्ड अधिरोपित करने एवं 30 दिवस हेतु दुकान सील करने की कार्यवाही की जाएगी। साथ ही भारतीय दण्ड संहिता, 1860 की धारा 188 एवं अन्य सुसंगत विधान के अधीन आपराधिक प्रकरण दर्ज कराया जाएगा। यह आदेश कार्यालय कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, उप पुलिस अधीक्षक, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय एवं उनके अधीनस्थ समस्त कार्यालय, अनुविभागीय दण्डाधिकारी, तहसील, अस्पताल, थाना एवं पुलिस चौकी पर लागू नहीं होगा। इसके अतिरिक्त कानून व्यवस्था एवं स्वास्थ्य सेवा से संबंधित अधिकारी, विद्युत, पेयजल आपूर्ति एवं नगर पालिका सेवायें जिसमें सफाई, सीवरेज एवं कचरे का डिस्पोजल इत्यादि भी शामिल है तथा अग्निशमन सेवाओं के संचालन हेतु संबंधित अधिकारियों, कर्मचारियों को कार्यालय संचालन एवं आवागमन की अनुमति होगी। इसी प्रकार आम जनता का शासकीय, अर्द्धशासकीय कार्यालय में प्रवेश की अनुमति होगी।  

कबीरधाम जिले में एन्ट्री से पहले दिखाना होगा दो डोज वैक्सीन का प्रमाण पत्र या 96 घंटे का निगेटिव रिपोर्ट

    जारी आदेश के अनुसार राज्य शासन या इस कार्यालय के विशेष आदेश द्वारा अनुमति प्राप्त किसी सेवा के संचालन की अनुमति होगी। जिले के किसी ग्राम, वार्ड, क्षेत्र को कंटेन्मेंट जोन घोषित किया जाता है, तो उस स्थिति में संबंधित क्षेत्र में अत्यावश्यक सेवाओं को छोड़कर शेष संपूर्ण गतिविधियां प्रतिबंधित रहेंगी। अन्य राज्यों से जिले की सीमा में प्रवेश करने हेतु, जिन यात्रियों के पास 96 घंटे के भीतर की कोरोना जांच टेस्ट की निगेटिव रिपोर्ट अथवा कोविड वैक्सीन के दोनो डोज लगे होने का प्रमाण-पत्र दिखाना अनिवार्य होगा। ऐसे व्यक्तियों ही जिले के भीतर यात्रा की अनुमति होगी। सभी प्रकार के स्थायी, अस्थायी ठेले, गुपचुप दुकान, गुमटी इत्यादि के माध्यम से सामग्री विक्रेताओं को मास्क पहनना अनिवार्य होगा। आदेश की अवहेलना करने पर जब्ती अथवा चालानी कार्यवाही की जावेगी।  उपर्युक्त में जिन सेवाओं, दुकानों को संचालन की अनुमति प्रदान की गई है, उन्हें अपने संस्थान, दुकान में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराना तथा ग्राहकों के लिए सेनेटाईजर रखना अनिवार्य होगा।

आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति, प्रतिष्ठानों पर की जाएगी प्रतिबंधात्मक कार्यवाही

    इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति, प्रतिष्ठानों पर भारतीय दण्ड संहिता 1860 की धारा 188 एवं 270, एपिडेमिक एक्ट 1897 यथा संशोधित 2020, आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 की धारा 51-60 तथा अन्य सुसंगत विधि अनुसार कड़ी कार्यवाही की जाएगी।
    कलेक्टर श्री रमेश कुमार शर्मा ने बताया कि यह आदेश अल्प समयावधि में लागू किया जाना आवश्यक है। वर्तमान परिस्थितियों में इस आदेश से प्रभावित होने वाले व्यक्तियों को सम्यक समय में तामीली संभव नहीं होने के कारण यह आदेश एकपक्षीय रूप से पारित किया जाता है। यह आदेश तत्काल प्रभावशील होगा तथा आगामी आदेश पर्यन्त लागू रहेगा।

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना अंतर्गत आवेदन पत्र आमंत्रित

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना अंतर्गत आवेदन पत्र आमंत्रित

कवर्धा। मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजनान्तर्गत वर्ष 2021-22 के लिए जिले में 20 हितग्राहियों को लाभान्वित करने का भौतिक लक्ष्य प्राप्त हुआ है। जिला व्यापार एवं उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक ने बताया कि योजनान्तर्गत बैंको के माध्यम से उद्योग के लिए 25 लाख रूपए, सेवा उद्यम के लिए 10 लाख रूपए और व्यवसाय के लिए 2 लाख रूपए का ऋण उपलब्ध कराया जाता है। योजना के अनुसार सामान्य श्रेणी के हितग्राहियों को कुल परियोजना लागत का 10 प्रतिशत, महिला, अन्य पिछडा वर्ग, अल्पसंख्यक, निःशक्तजन को 15 प्रतिशत और अनुसूचित जाति, जनजाति वर्ग को 25 प्रतिशत मार्जिन मनी अनुदान प्रदान किया जाएगा। 

योजनान्तर्गत लाभ लेने हेतु आवश्यक अहर्ताएं :- 

जिला व्यापार एवं उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक ने बताया कि आवेदक छत्तीसगढ़ का निवासी हो। न्यूनतम 8 वीं कक्षा उत्तीर्ण हो, आवेदक की आयु 18 से 35 वर्ष के मध्य हो, (अनुसूचित जाति, जनजाति, अपिव, निःशक्तजन, महिला उद्यमी, नक्सल प्रभावित, भूतपूर्व सैनिक अधिकतम आयु सीमा में 5 वर्ष की छूट), आवेदक किसी भी बैंक, वित्तीय संस्था का चूककर्ता (डिफाल्टर) न हों, आवेदक के परिवार की वार्षिक आय 3 लाख से अधिक न हो, आवेदक ने प्र.म.रो.सृ.का., भारत सरकार, राज्य सरकार की अन्य किसी योजनान्तर्गत सब्सिडी का लाभ न लिया हो। उन्होने बताया कि उपरोक्तानुसार अहर्ताएं पूर्ण करने वाले हितग्राही कार्यालय से आवेदन प्रपत्र प्राप्त कर आवेदन प्रस्तुत कर सकते हैं। 

 
डायन-टोनही प्रताड़ना तथा मारपीट के आरोप में दंपति गिरफ्तार

डायन-टोनही प्रताड़ना तथा मारपीट के आरोप में दंपति गिरफ्तार

लखनपुर। लखनपुर पुलिस ने 4 जून दिन शुक्रवार को डायन टोनही प्रताड़ना तथा मारपीट के मामले में ग्राम बन्धा से आरोपी दंपति को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक लखनपुर थाना क्षेत्र के ग्राम बन्धा में 26 अप्रैल को घर के बाहर खड़ी महिला कैलाशो गांव के ही दंपति सुरजा प्रसाद गौड़ पत्नी केन्दी बाई ने डायल-टोनही गाली गलौज करते हुए सुरजा प्रसाद ने हाथ में रखे लोहा के राज से कैलाशो के सिर में प्रहार कर दिया जिससे महिला गंभीर रूप से घायल हो गई। घायल महिला को उपचार के लिए लखनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया।

28 अप्रैल को कैलाशो के पुत्र बहोरन ने लखनपुर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। लखनपुर पुलिस धारा 294, 506, 323, 34 आईपीसी 4,5 डायन टोनही अधिनियम 2005 के तहत अपराध पंजीबद्ध करते हुए मामले की जांच कर 4 जून दिन शुक्रवार को ग्राम बन्धा से आरोपी दंपति सुरजा प्रशाद, पत्नी केन्दी बाई को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा है। इस पूरी कार्रवाई में लखनपुर थाना प्रभारी शिशिर कांति सिंह उप निरीक्षक सुरेश चंद मींस प्रधान आरक्षक इंद्रदेव भगत अरुण दुबे, आरक्षक अजय शर्मा, रविंद्र साहू, दशरथ राजवाड़े, अतुल शर्मा, समर बहादुर सिंह, विवेक कुमार, राजकुमार साहू, भरत लाल महिला आरक्षक शहनाज परवीन सहित अन्य आरक्षक सक्रिय रहे।

शादी का झांसा देकर युवती से दुष्कर्म के आरोपी युवक को पुलिस ने किया गिरफ्तार

शादी का झांसा देकर युवती से दुष्कर्म के आरोपी युवक को पुलिस ने किया गिरफ्तार

कवर्धा। लखनपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम पुहपुटरा निवाड़ी 16 वर्षीय किशोरी के साथ हुए दुष्कर्म मामले में लखनपुर पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा है। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक ग्राम पुहपुटरा निवासी 16 वर्षीय किशोरी को गांव के ही चंद्रदेव उर्फ नाटू रजवाड़े पिता धनीराम राजवाड़े उम्र 24 वर्ष के द्वारा शादी का झांसा देकर किशोरी के साथ लगातार दुष्कर्म करता रहा जिससे 16 वर्षीय किशोरी 2 माह की गर्व से हो गई।

 

गर्भवती होने पश्चात किशोरी ने 1 जून को चंद्रदेव उर्फ नाटू राजवाड़े को शादी करने के लिए कहा युवक ने शादी करने से साफ मना कर दिया। मिली जानकारी के मुताबिक युवक जगदीशपुर निवासी अन्य युवती से विवाह कर रहा था। 3 जून की रात बारात जगदीशपुर के लिए प्रस्थान करती। जिसके बाद किशोरी अपने परिजनों के साथ लखनपुर थाना पहुंच 3 जून को रिपोर्ट दर्ज कराई ।

लखनपुर पुलिस धारा 366 ,376 ,(2)(ढ़)भा द स पास्को एक्ट की धारा 4,5,(ठ)6 किताब अपराध पंजीबद्ध करते हुए ग्राम जगदीशपुर बारात जाने से पूर्व 3 जून शाम युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ किया गया जिस पर युवक ने घटना घटित करना स्वीकार किया। 4 जून दिन शुक्रवार को विधिवत युवक को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर जेल भेजा गया है। इस पूरी कार्रवाई में लखनपुर थाना प्रभारी शिशिरकांत सिंह, उप निरीक्षक सुरेश चंद मिंज, प्रधान आरक्षक अरुण दुबे, इंद्रदेव भगत, आरक्षक अजय शर्मा, रविंद्र साहू, दशरथ राजवाड़े ,अतुल शर्मा, विवेक कुमार, भरत लाल सहित अन्य आरक्षक सक्रिय रहे।

मनरेगा ग्रामीणों के लिए फिर बना संजीवनी, लॉकडाउन में ग्रामीणों को गांव में ही मिल रहा रोजगार

मनरेगा ग्रामीणों के लिए फिर बना संजीवनी, लॉकडाउन में ग्रामीणों को गांव में ही मिल रहा रोजगार

कवर्धा। वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए लगाए गए लॉकडाउन में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना ग्रामीण क्षेत्र के लिए संजीवनी बन गई है। ग्रामीणों को अपने गांव में ही रोजगार का अवसर मिल सके इसके लिए कबीरधाम जिला प्रशासन से संपूर्ण व्यवस्था करते हुए बड़े पैमाने में योजना अंतर्गत कार्य स्वीकृत किए गए। जिसका परिणाम आज कबीरधाम जिला ग्रामीणों को रोजगार देने के मामले में राज्य में दूसरे नंबर पर है । जिले के चारों विकास खंडों को मिलाकर 165000 से अधिक मजदूरों को रोजगार का अवसर औसतन प्रतिदिन प्राप्त हो रहा है।


प्राप्त जानकारी के अनुसार जनपद पंचायत बोड़ला में 46915, जनपद पंचायत कवर्धा में 35628, जनपद पंचायत पंडरिया में 42169 और जनपद पंचायत सहसपुर लोहारा में 40452 पंजीकृत मजदूरों को आज की स्थिति में रोजगार प्राप्त हुआ है। जिले के 468 ग्राम पंचायतों में विभिन्न कार्य प्रगतिरत हैं । जिसमें तालाब गहरीकरण कार्य, नया तालाब निर्माण कार्य, मिट्टी सड़क निर्माण कार्य, डबरी निर्माण कार्य, कच्ची नाली निर्माण के साथ-साथ सुराजी गांव योजना के अंतर्गत कराए जाने वाले नरवा के अंतर्गत जेवियन स्ट्रक्चर निर्माण, छोटे चेक डैम निर्माण, लूज़ बोल्डर चेक डैम, गाद निकासी जैसे अन्य कार्य किए जा रहे हैं। विभिन्न ग्राम पंचायतों में 409 कार्य प्रगति रथ हैं । इन कार्यों में पंजीकृत मजदूरों को नियमित रोजगार का अवसर मिल रहा है । साथ ही समय में मजदूरी भुगतान हो जाने से ग्रामीणों को लॉकडाउन के दौरान आर्थिक परेशानी से बच रहे है। गत वर्ष की भांति इस वर्ष भी कबीरधाम जिले में ग्रामीणों को अधिक से अधिक रोजगार प्रदान करना का सिलसिला निरंतर जारी है। यही कारण है कि राज्य के 27 जिलों में राजनंदगांव के बाद सर्वाधिक रोजगार कबीरधाम के ग्रामीणों को प्राप्त हुआ है।


गांव में ही रोजगार और कार्यस्थल पर कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण के लिए जागरूकता एक साथ: सीईओ जिला पंचायत, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी विजय दयाराम के. ने चर्चा करते हुए बताया कि ग्रामीणों को अधिक से अधिक रोजगार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से सभी ग्राम पंचायतों में बड़ी मात्रा में कार्य स्वीकृत पूर्व से किए गए हैं । ग्रामीणों की मांग अनुसार उन्हें रोजगार प्रदाय किया जा रहा है। मैदानी कर्मचारियों को इस बाबत सख्त निर्देश दिए गए कि निर्माण कार्य के दौरान कोरोना से बचाव के लिए शासन से निर्धारित दिशा-निर्देशों का सख्त पालन कराया जाए। मास्क लगाना,शारीरिक दूरियों का पालन करते हुए हाथों को अच्छे से धोने की भी व्यवस्था कार्य स्थलों पर किया जाता है । जिससे कि ग्रामीणों को महामारी से बचाते हुए रोजगार दिया जा सके। उन्होंने आगे बताया कि कार्यस्थल में ग्रामीणों को कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण के लिए जागरूक किया जा रहा है, साथ ही ग्रामीणों को उनकी पारी अनुसार टीकाकरण केंद्र तक लाया जा रहा है। ताकि बीमारी को नियंत्रण करने में सफलता मिल सके ।

नियम तोड़ने वाले हमें धोखा दे सकते हैं, कोरोना को नही : कलेक्टर

नियम तोड़ने वाले हमें धोखा दे सकते हैं, कोरोना को नही : कलेक्टर

कवर्धा । जनता को कोविड महामारी की चपेट से बचाने के लिए शासन व जिलाप्रशासन द्वारा अनवरत जनहित में निर्णय लिए जा रहे हैं। सम्पूर्ण लॉक डाउन हो, ई पास सिस्टम हो या नेगेटिव कोरोना रिपोर्ट के बाद ही घर से बाहर जाने की अनुमति का निर्णय हो, सबका मूल उद्देश्य जनता को भीड़ में जाने से रोकना है।
कवर्धा कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने जिले वासियों से अपील करते हुए कहा है कि आपके लगातार अनुरोध के बाद हमने सबसे अंत में अपने जिले में लॉक डाउन किया। इससे पहले हमने कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट की अनिवार्यता की, ताकि अधिक से अधिक लोगों का कोरोना टेस्ट किया जा सके व जिससे समय रहते संक्रमतों का पता चल सके। कोरोना संक्रमितों को सही समय पर उपचारित कर आपातकाल को रोकना प्रशासन का उद्देश्य रहा है। परिणाम स्वरूप कोरोना को हम जिले में नियंत्रण कर पाए। इसके पश्चात अब अचानक लॉकडाउन खोलने से भीड़ बढ़ने व कोरोना का संक्रमण बढ़ने के खतरे के मद्देनजर ई पास सिस्टम लागू किया गया। इसकी अवधारणा अति स्पष्ट थी कि अतिआवश्यक स्थिति में घर से बाहर निकलें। बेवजह घूमने वालों को अवरुद्ध करना हमारा उद्देश्य है। ई-पास में आने वाली कठिनाइयों को ध्यान में रखकर हमने इसकी अनिवार्यता हटाकर नेगेटिव कोरोना रिपोर्ट की अनिर्वायता जारी कर दी है। उद्देश्य अब भी यही है कि जनता बेवजह घर से बाहर न निकलें। यदि आप अपना नेगेटिव रिपोर्ट देखकर बेख़ौफ़ बाहर घूमते हैं, तो आपके कोविड संक्रमण का खतरा बढ़ेगा।
लाजमी है कि बहुत से लोग व्यवस्था से नजरें चुराकर बचकर नियमों को तोड़ने की कोशिश करें और यह भी सम्भव है कि ऐसे कुछ लोग प्रशासन की पकड़ से बच जाएं। प्रशासन की मुस्तैदी जनहित के लिए है, जनता की जान जोखिम में न पड़े इसलिए हम व्यवस्थाएं बना रहे हैं। आप हमें धोखा दे सकते हैं, कोरोना को नही। इसकी चपेट में आना नियम तोड़ने वालों के लिए बड़ी सजा होगी, इसका एक दुखद पहलू यह भी होगा कि आपके कारण आपके परिवार व समाज में कोरोना फैल सकता है। इसलिए मानवीय संवेदना को ध्यान में रखकर स्वप्रेरित होकर कोरोना गाइड लाइन का पालन करें और अपने दायरे के सभी लोगों को भी इसके लिए प्रेरित करें।
 

कोरोना की रोकथाम के लिए इस जिला में भी 31 मई तक कन्टेन्टमेंट जोन हुआ घोषित

कोरोना की रोकथाम के लिए इस जिला में भी 31 मई तक कन्टेन्टमेंट जोन हुआ घोषित

कवर्धा। कलेक्टर ने कबीरधाम जिले के संपूर्ण क्षेत्र को आगामी 31 मई सुबह 6 बजे तक पूर्ववत कंटेन्मेंट जोन रखने आदेश जारी किया है। कलेक्टर से पूर्व आदेश के अनुसार जिले में 17 मई सुबह 6 बजे तक कंटेन्मेंट जोन घोषित था। कोरोना वायरस, कोविड-19 के संक्रमण के नियंत्रण एवं रोकथाम को दृष्टिगत रखते हुए कलेक्टर ने आगमी 31 मई सुबह 6 बजे तक पूर्ववत कंटेन्मेंट जोन रखने के आदेश जारी किए है। उपर्युक्त दर्शित अवधि में कबीरधाम जिले की सभी सीमाएं पूर्णतः सील रहेगी।
कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने बताया कि कबीरधाम जिले में व्यवसायिक गतिविधियों पर अधिरोपित प्रतिबंधों और सम्पूर्ण जिले को कंटेन्मेंट जोन घोषित करने से कोविड-19 पॉजिटीव प्रकरणों की संख्या में उल्लेखनीय गिरावट दर्ज की गई है। किन्तु भीड़-भाड़ में वृद्धि होने पर कोविड-19 संक्रमण बढ़ने की आशंका अभी भी है। आम लोगों के लिए आवश्यक वस्तुओं और सेवाओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने के साथ-साथ श्रमिकों, निम्न आय वर्ग और छोटे-बड़े व्यवसायीगण के हितों की सुरक्षा के लिए निर्बंधनों में समुचित रियायत दिया जाना भी जरूरी है। उपरोक्त परिस्थितियों में समुचित विचारोपरान्त कोरोना वायरस की चेन तोड़ने और सभी वर्गों के हितों की सुरक्षा के लिए युक्तियुक्त पुनरीक्षित निर्बंधन अधिरोपित करते हुए सम्पूर्ण कबीरधाम जिले में कंटेन्मेंट जोन की अवधि बढ़ाया जाना व्यापक लोकहित में आवश्यक प्रतीत होता है।

सार्वजनिक स्थल पर पूर्णतः प्रतिबंधित:-
जारी आदेश के तहत कबीरधाम जिला अंतर्गत संपूर्ण क्षेत्र 31 मई प्रातः 6 बजे तक पूर्ववत कंटेन्मेंट जोन रहेगा। उपर्युक्त दर्शित अवधि में कबीरधाम जिले की सभी सीमाएं पूर्णतः सील रहेंगी। उपरोक्त समयावधि में सभी सुपर मार्केट, सुपर बाजार, सब्जी बाजार, मॉल, शो-रूम, मैरिज हॉल, स्विमिंग पुल, क्लब, सिनेमा हॉल, सैलून, ब्यूटी पार्लर, स्पा, जिम और अन्य सार्वजनिक स्थल पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगी। जिला अन्तर्गत संचालित समस्त शराब दुकानें एवं बार बंद रहेंगे। किन्तु ऑनलाइन एप्लीकेशन के माध्यम से होम डिलीवरी की अनुमति रहेगी। सभी पार्क, रिसार्ट और समूह उपस्थिति वाले सभी धार्मिक स्थल, सांस्कृतिक और पर्यटन स्थल आम जनता के लिए पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगे।
स्कूल एवं कॉलेज, विद्यार्थियों के लिए बंद, अंत्येष्टि, दशगात्र, मृत्यु कार्यक्रम में शामिल होने वाले व्यक्तियों की संख्या 10 होगी। जारी आदेश के अनुसार सभी प्रकार की सभा, जुलुस, धरना, प्रदर्शन, सामाजिक, धार्मिकऔर राजनैतिक आयोजन इत्यादि पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगे। किन्तु विवाह कार्यक्रम वर और वधू के निवास-गृह में ही आयोजित करने, कोविड-19 प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करने की शर्त के अधीन आयोजन में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या पूर्ववत 10 रहेगी। इसी प्रकार अंत्येष्टि, दशगात्र, इत्यादि मृत्यु संबंधी कार्यक्रम में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 10 रहेगी। विवाह कार्यक्रम के लिए कार्यालयीन आदेश का पालन करनाप अनिवार्य होगा।
ठेला, चौपाटी तथा फास्ट-फूड इत्यादि के विक्रय हेतु ठेलों का संचालन पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा
जारी आदेश के अनुसार सभी प्रकार की मंडियां और सब्जी बाजार आम लोगो के लिए बंद रहेगें किन्तु आवश्यक वस्तुओं, माल की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए गोडाउन, मंडियों में थोक माल, कार्गो, फल, सब्जी लोडिंग, अन-लोडिंग की अनुमति रात्रि 10 बजे से प्रातः 6 बजे तक रहेगी। फल और सब्जी थोक बाजार रात्रि 12 बजे से प्रातः 6 बजे तक ही संचालित होगा। परंतु इन परिसर में केवल 7 दिवस के भीतर का कोरोना जांच निगेटिव प्रमाण पत्र और कोविड टीकाकरण कराए जाने की स्थिति में 15 दिवस के भीतर का कोरोना जांच निगेटिव प्रमाण पत्र होने पर प्रवेश की अनुमति होगी।
 

होम आइसोलेशन के लिए बने कॉल सेंटर में एक साथ 13 शिक्षक मिले कोरोना पॉजिटिव, मचा हड़कंप

होम आइसोलेशन के लिए बने कॉल सेंटर में एक साथ 13 शिक्षक मिले कोरोना पॉजिटिव, मचा हड़कंप

कवर्धा,  प्रदेश में कोरोना का कहर जारी है. होम आइसोलेशन में रहे कोरोना मरीजों के लिए कवर्धा जिले में कॉल सेंटर में बनाया गया है. अब इस कॉल सेंटर में एक साथ 13 शिक्षक कोरोना पॉजिटिव मिले हैं. जिससे बाकी शिक्षकों के बीच हड़कंप मच गया है. मिली जानकारी के मुताबिक कॉल सेंटर में 49 लोगों का कोरोना सैंपल लिया गया था. जिसमें 13 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. कॉल सेंटर को सेनेटाइजिंग करने के निर्देश दिए गए हैं.

इसकी पुष्टि कलेक्टर रमेश शर्मा ने की है. बता दें कि कल प्रदेश में 7,664 नए कोरोना पॉजिटिव मरीज़ों की पहचान की गई थी. वहीं 11,475 मरीज़ स्वस्थ होने के उपरांत डिस्चार्ज-रिकवर्ड हुए

 छत्तीसगढ़: इस जिले में रेमडीसीवीर की कालाबाजारी का हुआ खुलासा, सौदेबाजी का ऑडियो सोशल मीडिया में हुआ जारी

छत्तीसगढ़: इस जिले में रेमडीसीवीर की कालाबाजारी का हुआ खुलासा, सौदेबाजी का ऑडियो सोशल मीडिया में हुआ जारी

कवर्धा। कोरोना के कहर और लोगो की मौत के बीच जीवनरक्षक इंज्वेक्शन रेमडीसीवीर की कालाबाजारी ने शासन प्रशासन की गतिविधियों पर प्रश्न चिन्ह लगा दिया है । चर्चा है की रेमडीसीवीर इंज्वेक्शन की कालाबाजारी में कुछ निजी चिकित्सालयों के कर्मचारियों की भूमिका संदिग्ध है । जिसके चलते निजी चिकित्सालय भी संदेह के दायरे में आ गए है । रेडमिशिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी और स्वास्थ्य विभाग की अलाली कोरोना संक्रमित मरीजों पर भारी पड़ने लगी है । 

गरीब मरीज जहां इंजेक्शन नही जुगाड कर पाने के चक्कर मे भटकते - भटकते मौत के मुंह में जा रहा वंही समर्थ व्यक्ति ब्लेक मार्केट से इंजेक्शन का जुगाड़ कर रहे । रेमडीसीवीर की कालाबाजारी को लेकर शासन प्रशासन का फेल हो चुके सूचना तंत्र ने सवालिया निशान खड़े कर दिए है। कंही इस खेल में बड़े नामी गिरामी लोंगो से साथ साथ किसी स्वास्थ्य विभाग के किसी कर्मचारी या अधिकारी का हाथ तो नही हांलाकि स्वास्थ्य विभाग के अफसर मामले की जांच कर कार्यवाही करवाने की बात कह रहे है । सारे मामले में स्वास्थ्य विभाग के साथ साथ खाद्य व औषधि विभाग की भूमिका भी संदिग्ध मानी जा रही है । 

मिली जानकारी अनुसार जिला मुख्यालय के भारत माता चौक स्थित नामी गिरामी मल्टीस्पेसिलिटी हॉस्पिटल के एक कर्मचारी का नाम रेडमिशिविर की कालाबाजारी में सामने आया है, जिसका ऑडियो भी वायरल हुआ है । जिसमे कर्मचारी रेडमिसिविर इंजेक्शन ब्लेक मार्केट में लगभग 25 हज़ार में उपलब्ध कराने की बात कर रहा है । मामले के खुलासे के बाद से जिले में हड़कंप मचा हुआ है । खुलासे के बाद ही हॉस्पिटल संचालक डॉ विनय बिसेन ने हॉस्पिटल की बदनामी से बचने मामले के संज्ञान में आते ही संदिग्ध आरोपी कर्मचारी को तत्काल हॉस्पिटल से बाहर का रास्ता दिखा दिया है । उन्होंने स्टिंग ऑपरेशन के जरिए खुलासे पर बधाई देते ऐसे व्यक्तियों पर कड़ी कार्यवाही करने की बात कहा कि ऐसे लोगो को किसी कीमत पर बख्सा नही जाना चाहिए । 
 
मरीजों से ज्यादा पैसा लेने और गाइडलाइन का उल्लंघन करने वाले अस्पताल पर गिरी गाज

मरीजों से ज्यादा पैसा लेने और गाइडलाइन का उल्लंघन करने वाले अस्पताल पर गिरी गाज

कवर्धा। जिले में कोविड नियंत्रण के लिए शासकीय अस्पतालों के साथ-साथ निजी अस्पतालों को भी कोविड गाइड लाइन के दायरे में इलाज की अनुमति दी गई है, ताकि सही समय पर उपचार कराकर मरीजों की जानें बचाई जा सके। इसके लिए बाकायदा स्वास्थ्य विभाग द्वारा निजी अस्पतालों का निरीक्षण किया गया व नियमानुसार कोविड मरीजों के इलाज की अनुमति प्रदान की गई। लेकिन कुछ अस्पतालों से लगातार मरीजों से अधिक पैसे वसूलने, कोविड गाइड लाइन का पालन न करने व प्रॉपर रिपोर्ट नही करने की शिकायतें प्राप्त हो रही थीं। जन शिकायतों के मद्दे नजर आज शहर के एक निजी अस्पताल चन्द्रायण हेल्थ केयर के यंहा कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा के निर्देश पर जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की टीम ने छापामार कार्रवाई की। उक्त कार्रवाई के सम्बंध में जिला सर्विलेंस अधिकारी डॉ केशव ध्रुव व डीपीएम नीलू धृतलहरे ने बताया कि निजी अस्पताल चन्द्रायण हेल्थ केयर में निरीक्षक दल ने बहुत सी गड़बड़ियां पाई। मरीजों के रिकॉर्ड से लेकर , राशि वसूलने तक कोई जानकारी प्राप्त नही हुई। उक्त आधार पर सम्बन्धित निजी अस्पताल के संचालक को नोटिस जारी की गई व आगामी समय में कोई कोविड पेशेंट एडमिट न करने का निर्देश दिया गया है।

समस्त निजी अस्पतालों पर निरीक्षण टीम की नजर रहेगी
कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने कोविड जैसे महामारी के दौर पर जनसहयोग की जगह निजी अस्पताल द्वारा अतिरिक्त राशि वसूली पर नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने जिला प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की संयुक्त टीम बनाकर कोविड इलाज करने वाले सभी निजी अस्पतालों के डेली निरीक्षण करने व रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया है। उन्होंने स्पष्ट किया कि कोविड गाइड लाइन का पालन करते हुए शासन द्वारा जारी राशि ही मरीजो से ली जानी चाहिए।
आज की कार्रवाई में तहसीलदार बिसाहिन चौहान, जिला सर्विलेंस अधिकारी डॉ केशव ध्रुव, डीपीएम नीलू धृतलहरे, नर्सिग एक्ट नोडल डॉ स्वदेश जायसवाल, ड्रग इंस्पेक्टर जितेंद्र पाटीदार व आयुष्मान कार्यक्रम के जिला सलाहकार सैय्यद असलम अली शामिल थे।
 

दुकानदारों की मनमानी रास्ते में बहार तक फैला रहे सामान, ग्राहक हो रहे परेशान

दुकानदारों की मनमानी रास्ते में बहार तक फैला रहे सामान, ग्राहक हो रहे परेशान

कवर्धा जिले में कई क्लेक्टर, एसपी और सीएमओ आए और अपना अपना प्रयोग कर चले गए परन्तु नवीन बाजार से गुरुनानक गेट, ऋषभ देव चौक होते हुए सराफा लाइन तक की व्यस्ततम सड़क को दूकानदारो के कब्जे से मुक्ति नहीं दिला पाए। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर चालू हो गई किंतु मनमर्जी के मालिक दुकानदार दिखेगा तो बिकेगा के सूत्र वाक्य को अपनाते मेन रोड़ की प्रमुख व व्यस्ततम सड़क पर ही कब्जा जमाते दुकानों का सामान सडक़ो पर रख दुकानदारी चालू कर दिए है । जिसके चलते मार्ग संकरा होने से राहगीरों को खासी परेशानी उठानी पड़ रही है ईससे करोना संक्रमण का खतरा और बढ़ गया है। इस ओर पालिका प्रशासन व यातायात विभाग का ध्यान नही जाना चिंताजनक है।

नगर के व्यस्ततम एवं प्रमुख मार्ग नवीन बाज़ार से गुरूनानक गेट, आजाद चौक, महावीर स्वामी चौक, ऋषभ देव चौंक, होते हुए सराफा लाइन तक प्रमुख बाजार व दुकानें होने के कारण उक्त मार्ग पर यातायात का भारी दबाव रहता है। जिसके चलते उक्त मार्ग को कुछ सालो पहले एकांगी मार्ग घोषित करते हुए प्रात: 9 से रात्रि 9 बजे तक भारी वाहनों एवं चार पहिया वाहनों के प्रवेश पर पाबंदी लगाई गई थी ताकि मार्ग के यातायात के दबाव को कम किया जा सके साथ ही समय समय पर अधिकारियों की टोली व्यापारियों से अपना सामान सडक़ों की बजाय दुकानों में रखने का आग्रह करती रहती है किंतु दुकानदारों की हठधर्मिता के चलते सड़कें दुकानदारों के कब्जे से मुक्त नहीं हो पाई। दुकानदार दिखेगा तो बिकेगा कह आपसी कंपीटिशन के चलते लाखो की आलीशान दुकान होने के बावजूद दुकानों का सामान और बोर्ड सडक़ो पर रख फुटपाथिया तौर पर दुकान संचालित कर रहे हैं जिससे अच्छा खासा चौड़ा मार्ग भी सकरी गली बन गया है। राहगीर, ग्राहक व वाहन मालिक खासे परेशान हैं । सामानों को वाहन से ठोकर लगते ही दुकानदार एवं वाहन चालक से झगड़ा होना आम है । कुछ दुकानदार तो मारपीट पर भी उतारू हो जाते हैं इस समस्या को सुलझाने पालिका व यातायात विभाग के साथ साथ प्रशासन अब तक नाकाम व नकारा साबित हो रहा है। पालिका प्रशासन व यातायात विभाग एक दूसरे के सर पर दोषारोपण कर अपनी जिम्मेदारियों से बच रहे हैं प्रशासन की सुगम यातायात व्यवस्था के लिये बनाई गई एकांगी मार्ग योजना पहले ही ध्वस्त हो चुकी है। कोरोना संक्रमण के एक साल बीतने के बाद दूसरी लहर का खतरा भी आ गया बावजूद इसके पालिका व प्रशासन को प्रमुख मार्गों के कब्जे एवं मार्गों पर रखा दुकानदारों का सामान क्यों दिखाई नहीं दे रहा है समझ से परे है , जबकि उक्त मार्ग में जिले का लगभग हर आला अधिकारी और कर्मचारी एवं उनके परिजनों का शापिंग करने आना जाना लगा रहता है। जागरूक नागरिकों राजू , ऋषि , प्रशांत , हिमांशु , रितिक , भागवत , भरत आदि ने चर्चा पर बताया कि कोरोना काल मे दो गज की दूरी का ज्ञान सब दे रहे है पर सड़क पर दुकान दारो के कब्जे के चलते संकरी हुई सड़को में दूरी कैसे बनाये कोई नही बता रहा। प्रशासन इन पर कार्यवाही क्यों नही कर पाता समझ से परे है। प्रशासन से लोगो ने अनुरोध किया है कि सड़क लाखो की पक्की दुकानों के बावजूद छाप दुकानदारी करने वालो पर शासन प्रशासन को नकेल कस इनके अवैध कब्जे से सड़क को मुक्त कराते कोरोना संक्रमण के बचाव में एक छोटा कदम ऐसा भी उठाना चाहिए।

नशे के कारोबारी गिरफ्तार, 3 लाख की चरस बरामद

नशे के कारोबारी गिरफ्तार, 3 लाख की चरस बरामद

कवर्धा। कबीरधाम में कोतवाली पुलिस ने 600 ग्राम चरस के साथ दो युवक को रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। आरोपियों के खिलाफ नार्कोटिक्स एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार दो युवक 600 ग्राम चरस खपाने के लिए बस स्टैंड में घूम रहे थे। मुखबिर की सूचना पर सिटी कोतवाली पुलिस ने दोनों युवक को धर दबोचा। दोनों युवक के पास से 600 ग्राम चरस बरामद हुआ है।
दोनों युवक ओडिशा के रहने वाले है। आरोपियों के कब्जे से जब्त 600 ग्राम चरस की कीमत लगभग 3 लाख से ऊपर आंकी गई है। सिटी कोतवाली पुलिस ने दोनों आरोपी के खिलाफ नार्कोटिक्स एक्ट के कार्रवाई की है।

कांउसलर्स पद पर भर्ती के लिए साक्षात्कार उपरांत अंतिम मेरिट सूची तैयार

कांउसलर्स पद पर भर्ती के लिए साक्षात्कार उपरांत अंतिम मेरिट सूची तैयार

कवर्धा । जिला कौशल विकास प्राधिकरण के सहायक संचालक ने बताया कि संकल्प परियोजना अंतर्गत कार्यालय जिला परियोजना, लाईवलीहुड कालेज, महराजपुर में कांउसलर्स पद पर भर्ती हेतु साक्षात्कार उपरांत अंतिम मेरिट सूची तैयार की गई है। मेरिट सूचि में वरिष्ठताक्रम के अनुसार चयनित अभ्यर्थियों को नियुक्ति आदेश जारी कर 15 अप्रैल तक 10 रूपए के नॉन जुडीशियल स्टॉम्प पेपर में इकरारनामा के साथ अपनी उपस्थिति देने आदेशित किया गया है। अभ्यर्थी अंतिम मेरिट सूची का अवलोकन कार्यालय के सूचना पटल एवं कबीरधाम जिले के वेबसाइट में अवलोकन कर सकते है। 

वार्ड क्रमांक 11 क्षेत्र कंटेन्मेंट जोन घोषित

वार्ड क्रमांक 11 क्षेत्र कंटेन्मेंट जोन घोषित

कवर्धा । कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी रमेश कुमार शर्मा ने कोविड-19, कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के रोकथाम एवं नियत्रंण के तहत पंडरिया विकासखंड के ग्राम खूंटा के वार्ड क्रमांक 11 में कोरोना परीक्षण के दौरान 9 पॉजिटीव केस पाए जाने पर क्षेत्र को कन्टेन्मेंट क्षेत्र घोषित किया है। कंटेन्मेंट जोन के लिए प्राप्त दिशा-निर्देश अनुसार विभिन्न गतिविधियॉं निर्धारित हैं, जिसके तहत अत्यावश्यक सेवाओं जैसे-खाद्य आपूर्ति, आपातकालीन चिकित्सा सेवा को छोड़कर शेष सेवाएं पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगी। कंटेन्मेन्ट जोन के अंतर्गत सभी प्रकार के वाहनों के आवागमन पर प्रतिबंध रहेगा। मेडिकल इमरजेंसी को छोड़कर अन्य किसी भी कारणों से घर से बाहर निकलना प्रतिबंधित होगा, कंटेन्मेंट जोन की निगरानी के लिए लगातार पुलिस पेट्रोलिंग की जायेगी, जिला चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा संबंधित क्षेत्र में स्वास्थ्य की निगरानी एवं निर्देशानुसार जांच के लिए सेम्पल लिया जाना सुनिश्चित किया जायेगा, प्रभारी अधिकारी कन्टेन्मेंट जोन में घर पहुंच सेवा के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे, कंटेन्मेंट जोन में बैंको में ग्राहक सेवा पूर्णतः बंद रहेगा। कलेक्टर श्री शर्मा ने पंडरिया विकासखंड के ग्राम खूंटा के वार्ड क्रमांक 11 के क्षेत्र कंटेन्मेंट जोन के लिए प्रभारी अधिकारी तहसीलदार पंडरिया संजय प्रकाश यादव, पर्यवेक्षण अधिकारी अनुविभागीय अधिकारी पंडरिया दिलेराम डाहिरे को नियुक्त किया है।
 

 छत्तीसगढ़: केदारनाथ मंदिर के तर्ज पर इस जिले में बनेगा शिव मंदिर का स्वरूप

छत्तीसगढ़: केदारनाथ मंदिर के तर्ज पर इस जिले में बनेगा शिव मंदिर का स्वरूप

कवर्धा। कवर्धा नगर के छीरपानी कॉलोनी में स्थित शिव मंदिर को जीर्णोद्धार की कल्पना करते हुए बाबा केदारनाथ के मंदिर के झांकी एवं पुष्प वाटिका जैसे बनाने के लिए महाशिवरात्रि के पावन अवसर पर भूमिपूजन किया गया। मन्दिर निर्माण समिति के तकनीकी टीम द्वारा बाबा केदार नाथ मंदिर स्वरूप में आकर्षक डिजाइन भी तैयार कर ली गई है। इस मंदिर का जीणोद्धार जनसयोग से किया जाएगा। इसके लिए मन्दिर निर्माण समिति भी बनाया गया है।

भूमिपूजन के मौके पर मंदिर के पुजारी श्री विनोद राजपूत, श्री अशोक शर्मा, श्री चंद्रशेखर वर्मा, पार्षद श्री संतोष यादव, श्री प्रफुल्ल गुप्ता, श्री लाला राम चंद्रवंशी, श्री राजेन्द्र चंद्रवंशी,  श्री संतोष सोनी, श्री सतीश धावलकर, श्री हिरेन शर्मा, श्री रामकुमार तिवारी, श्री किशोर ठाकुर सहित नगर के गणमान्य नागरिक और आर्ट ऑफ लिविंग टीम के सभी सदस्य उपस्थित थे। 

उल्लेखनीय है कि प्रतिवर्ष महाशिवरात्रि के अवसर पर  जनसहभागिता और आर्ट ऑफ लिविंग के सयुक्त तत्वावधान में  शिव मंदिर प्रांगण में भव्य महाशिवरात्रि महोत्सव का आयोजन किया जाता है। महोत्सव में देश के प्रख्यात भजन, कथक शिव स्तुति का कथक के माध्यम से प्रदर्शन किया जाता है साथ ही कार्यक्रम का विशेष आकर्षण शिव बारात, गुरू पूजा, रूद्रपूजा, शिवनाद, रूद्राभिषेक एवं नम: शिवाय जाप व रात्रि जागरण होता है, जिसे देखने श्रद्धालु सैकड़ों की संख्या में पहुंचते है। सावन मास में भी श्रद्धालुओं द्वारा विभिन्न स्थानों से जल लेकर इस शिवलिंग में चढ़ाया जाता है।

नगर पालिका अध्यक्ष श्री ऋषि शर्मा और वार्ड पार्षद श्री संतोष यादव द्वारा मंदिर परिसर के आसपास की सुंदरता बढ़ाने के लिए विशेष प्रयास किए जा रहे है। उनके द्वारा मंदिर परिसर में लाईट की समुचित व्यवस्था, सुंदरता और बच्चों के मनोरंजन के लिए झूले एवं अन्य खेल समाग्री भी लगाई गई है,जो सब को लुभा रहा है। इसी तरह यहाँ और कार्ययोजना भी बनाई जा रही है।
 बड़ी खबर: 14 वर्ष की किशोरी की जली अवस्था मे मिली लाश, इलाके में सनसनी

बड़ी खबर: 14 वर्ष की किशोरी की जली अवस्था मे मिली लाश, इलाके में सनसनी

कवर्धा। कवर्धा जिले के डीहीटोला गांव में 14 वर्ष की एक किशोरी की लाश जली हुई हालत में घर के पीछे बाड़ी में मिली है। लाश मिलने के बाद पूरे इलाके में सनसनी का माहौल है। घटना के संबंध में जानकारी मिली है कि रेंगाखार थाना क्षेत्र के ग्राम डीहीटोला में 14 साल की एक किशोरी की लाश मकान के पीछे बाड़ी में पाई गई है। लाश बुरी तरह जली हुई मिली है। कपड़े पूरे जल चुके हैं। लाश मिलने की सूचना ग्रामीणों ने पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने सबसे पहले परिजनों से पूछताछ की है। पुलिस यह जानने में जुट गई है कि यह हत्या है या आत्महत्या? बहरहाल, पुलिस ने लाश का पोस्टमार्टम और पंचनामा के बाद अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को सौंप दिया है।
+ Load More