कोरोना अपडेट: प्रदेश में आज 12665 ने जीती कोरोना से जंग, कुल 6577 नए मरीज मिले 149 मृत्यु भी, देखे जिलेवार आकड़े    |    लॉन्च हुई 2डीजी दवा, कोरोना संक्रमण से जंग में कैसे करेगी मदद? जानिए सब कुछ    |    आईसीएमआर अपडेट : राज्य में मिले 5294 कोरोना पॉजिटिव, 21 जिलों में सौ से अधिक मिले मरीज, देखे जिलेवार आकड़े    |    सेक्स रैकेट : पुलिस ने छापा मारकर देह व्यपार का किया खुलासा, मौके से दो युवक और दो युवती गिरफ्तार    |    दो पक्षों के बीच विवाद में गोली लगने से एक महिला की मौत, तीन अन्य घायल    |    चक्रवाती तूफान तौकते हुआ विनाशकारी, 5 राज्यों में अब तक 11 लोगों की मौत    |    बड़ी खबर: जानिए आखिर किस मामले में सीबीआई ने 4 नेताओं को किया गिरफ्तार    |    ममता बनर्जी के मंत्रियों-नेताओं पर सीबीआई ने कसा शिंकजा, यहां जानें क्या है मामला    |    रक्षा मंत्री व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने लॉन्च की कोरोना की स्वदेशी दवा 2DG    |    कोरोना अपडेट: देश में 24 घंटों में 2 लाख 81 हजार नए मामले आए, 4106 लोगों की हुई मौत    |
 घर में लगी आग से पूरा समान जलकर खाक, सहयोग के लिए लोग सामने आये

घर में लगी आग से पूरा समान जलकर खाक, सहयोग के लिए लोग सामने आये

दल्लीराजहरा। कोरोना काल के समय लोगों के साथ रोजगार एवं परिवार पालन की समस्या है वहीँ 6 मई को एक परिवार में विपदा टूट पड़ी 7 घटना वार्ड क्र. 16 कोंडे पॉवर हाउस में 6 मई की सुबह 9.30 से 10 बजे के बीच हगिया बाई मंडावी पति गीतू राम मंडावी के घर में आग लगने से घर का पूरा सामान जल कर राख हो गया ।  सुबह 5 बजे हगिया बाई काम के सिलसिले में घर से बाहर गई थी एवं उसका पुत्र हीरा लाल जो कि अमानी कार्य करता है 8 बजे के आसपास अपने घर से काम पर निकल गया था। 9 बजे के आसपास पड़ोस में रहने वाली शशि मंडावी द्वारा हीरा लाल को फ़ोन कर बताया कि उसके घर में आग लग गई है । वह अपनी माँ हगिया बाई जो कि गुप्ता चौक में पसरा लगाकर सब्जी बेचने का कार्य कर रही थी उसे साथ में लेकर घर पहुंचा एवं आस पड़ोस की मदद से आग बुझाने का प्रयास करने लगे। किन्तु सफल न होने पर पड़ोसियों द्वारा वार्ड पार्षद सोहद्रा ठाकुर को सूचना दी। पार्षद द्वारा तत्काल फायर ब्रिगेड को सूचना दिया गया तब फायर ब्रिगेड द्वारा जल्द ही आग पर काबू पा लिया गया, किन्तु तब तक घर का सारा सामान जलकर खाक हो चुका था। जिसमे 2 पलंग, 1 साइकिल, 1 टीवी एवं बक्शे में रखा हुआ राशन कार्ड, आधार कार्ड जाति प्रमाण पत्र सहित दस्तावेज तथा साथ नकद रखे 8 हजार रुपये व अनाज, बिस्तर कपड़े जलकर खाक हो गए एवं घर की छत भी जल गई । आग लगने का कारण पता नहीं चल पाया है। पार्षद द्वारा तत्काल बाजू के खाली मकान में हगिया बाई एवं उनके पुत्र हीरा लाल के रहने की व्यवस्था की गई तथा तहसील कार्यालय एवं जन प्रतिनिधियों को सूचना दी।  इसके पश्चात् मौके पर पटवारी लक्ष्मण राव द्वारा मुआयना कर मुआवजे की कार्यवाही पूरी की किन्तु तत्काल किसी मुआवजे की व्यवस्था न होने की बात कही। इसके उपरांत भाजपा महामंत्री राकेश द्विवेदी, अमित कुकरेजा, वार्ड पार्षद सोहद्रा ठाकुर, ताम्रध्वज सुधाकर , सुमीत जैन, भूपेंद्र श्रीवास वहां पर पहुंचे भाजपा मंडल के महामंत्री राकेश द्विवेदी, व्यापार प्रकोष्ठ के कार्यकारिणी सदस्य अमित कुकरेजा व सुमीत जैन एवं ताम्रध्वज सुधाकर पार्षद वार्ड क्र 17, भूपेंद्र श्रीवास ने वार्ड पार्षद सोहद्रा ठाकुर के साथ मिलकर परिवार को आवश्यक सामग्री एवं 3-3 जोड़ी कपड़े एवं दो सेट बिस्तर, तीन हजार रुपये नकद एवं जो भी आवश्यक सामग्री लगेगी जिसमे  राशन, सब्जी की व्यवस्था के साथ घर के निर्माण में जो भी खर्च लगेगा देने की बात कही एवं तत्काल व्यवस्था हेतु कोरोना काल में नगरपालिका एवं जैन समाज के सहयोग से वितरित किये जा रहे भोजन से दोनों समय भोजन पैकेट पहुँचाने की व्यवस्था करवाई। 
 युवक ने की पेड़ पर फांसी लगाकर आत्महत्या, मौके पर पहुँच जांच में जुटी पुलिस

युवक ने की पेड़ पर फांसी लगाकर आत्महत्या, मौके पर पहुँच जांच में जुटी पुलिस

बालोद। जिले के डौंडी थाना क्षेत्र के ग्राम मंगलतराई के 22 वर्षिय युवक ने फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली । पुलिस मौके पर पहुँच मामले की जांच में जुटी है। 

मिली जानकारी के अनुसार मृतक का नाम लेखराम लारिया पिता चतुर सिंह लारिया विगत रात 9 बजे से खाना खाने के बाद घर मे किसी को बिना बताए निकल गया। उसके बाद घर वालो ने रात में ढूंढऩे की कोशिश की परन्तु मृतक का कही पता नही चल पाया। सुबह सूचना मिली कि युवक ने गांव के ही जंगल मे पेड़ पर फांसी लगा ली है। जिसके बाद ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी। डौंडी पुलिस द्वारा मौके पर पहुच शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया । बहरहाल पूरे मामले में किसी प्रकार का सुसाइड नोट प्राप्त नही हुआ है। तथा युवक ने अपना मोबाइल भी तोड़ दिया है, अब पूरे मामले में पुलिस परिजनों और आस पास के लोगो से पूछताछ कर जांच में जुट गई है ।
ससुराल वालों से प्रताडि़त बेटी ने लगाई सोशल मीडिया में मदद की गुहार

ससुराल वालों से प्रताडि़त बेटी ने लगाई सोशल मीडिया में मदद की गुहार

रामानुजगंज। नगर के वार्ड क्रमांक 12 की बेटी का शादी डाल्टनगंज में हुआ था जहां पति के मरने के बाद ससुराल पक्ष के लोगों के द्वारा प्रताडऩा से त्रस्त होकर नगर की बेटी का दर्द सोशल मीडिया के माध्यम से छलका एवं बेटी दो मासूम बच्चों के साथ रोते हुए बार-बार न्याय की गुहार लगा रही है। वही रामानुजगंज थाने में भी आवेदन दे कार्यवाही की मांग की है।
 

प्राप्त जानकारी के अनुसार नगर के वार्ड क्रमांक 12 की गरिमा सोनी का शादी डालटेनगंज में हुआ था वही बीमारी से करीब 1 वर्ष पूर्व पति की मृत्यु हो गई जो ससुराल के लोग पहले गरिमा को अपने पलकों में  बैठाए रखते थे वही पति के मरने के बाद सभी का रवैया बदल गया वही मजबूरी में गरिमा अब रामानुजगंज में ही आ कर रह रही है ससुराल पक्ष के लोगों के प्रताडऩा से तंग होकर उसका दर्द सोशल मीडिया के माध्यम से भी छलका।
 
 
गरिमा ने आरोप लगाया कि पति का गोल्ड हाउस डालटेनगंज के पंच मुहान में है जिसे पति की मृत्यु के बाद देवर के द्वारा हड़प लिया गया। यहां तक कि घर में रहना मुश्किल कर दिया था सास के द्वारा भी गंदी गंदी गालियां दी जाती है यहां तक कि पति के मौत का कसूरवार भी ठहराय जाता है। गरिमा ने आरोप लगाया कि पति की मृत्यु के बाद सास के द्वारा मारपीट की जाती रही जिसकी रिपोर्ट मैंने डालटेनगंज थाने में दर्ज भी कराई परंतु कोई कार्रवाई नहीं की गई।
 

खाने खाने का कर दिया है मोहताज...... पति के रहते गरिमा को कभी किसी चीज की कमी नहीं हुई। वही पति के मृत्यु के बाद स्थिति ऐसी हो गई है कि खाने खाने का मोहताज ससुराल के लोगों ने कर दिया है। गरिमा अपने दो मासूम बच्चों के साथ रोते हुए ससुराल के लोगों के द्वारा प्रताडऩा की पूरी दास्तां सोशल मीडिया के माध्यम से बताई है।
 

रामानुजगंज थाने में की गई शिकायत...... गरिमा ने अपने साथ हो रहे प्रताडऩा की शिकायत लिखित रूप में रामानुज गंज थाने में भी की है गरिमा ने लिखित शिकायत पत्र रामानुजगंज थाने में प्रस्तुत कर कार्यवाही की मांग की है।
 बड़ी खबर नवविवाहिता ने कर ली शादी के दूसरे दिन ही आत्महत्या, जांच में जुटी पुलिस

बड़ी खबर नवविवाहिता ने कर ली शादी के दूसरे दिन ही आत्महत्या, जांच में जुटी पुलिस

बालोद।  बालोद जिले के दल्लीराजहरा थाना क्षेत्र में एक नवविवाहिता ने विवाह के दूसरे दिन ही फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। दल्लीराजहरा के वार्ड क्रमांक 12 में युवती की शादी हुई थी। बहरहाल, दल्लीराजहरा पुलिस ने पूरे मामले में मर्ग कायम कर विवेचना में जुट गई है।

जानकारी के अनुसार, बताया जा रहा है कि युवती ने देर रात फ ांसी लगाकर खुदखुशी कर ली। घटना के बाद पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई है। नवविवाहिता ने आखिऱ इतना बड़ा कदम क्यों उठाया। यह अभी जांच का विषय बना हुआ है? जानकारी के मुताबिक, दल्लीराजहरा के वार्ड क्रमांक 12 निवासी महेश निषाद के पुत्र अनिल निषाद का की विवाह ग्राम लोण्डी के युवती उमेश्वरी निषाद से 28 अप्रैल को सामाजिक रीतिरिवाज के साथ विवाह संपन्न हुआ था।

उसके बाद दुल्हन के घर मे भी दूसरे दिन रिसेप्शन आयोजित की गई थी। इसके बाद पूरा परिवार नई बहू लाने की खुशियां मना ही रहे थे। और दूल्हा महेश अपनी विवाह के बाद गृहस्थ जीवन के सपने सजा रहा था। उसकी सारी खुशियां चंद घंटे में मातम में बदल गई।

वहीं इस मामले में पुलिस का कहना है कि  युवती के घर वाले चौथिया लेकर आए हुए थे। लेकिन, पता नहीं किन कारणों से उसने आत्महत्या की है। बहरहाल, दोनो पक्षों से बयान दर्ज करने के बाद यदि किसी प्रकार से युवती को प्रताडि़त करना पाया जाएगा, तो उसके खिलाफ  कार्रवाई की जाएगी। मृतका के शव के पास किसी प्रकार कोई सोसाइडल नोट नहीं मिला हैं। इस पूरे प्रकरण में मर्ग कायम करके आगे की कार्रवाई की जा रही है।
 देश में कोरोना के भयावह स्थिति के लिए केन्द्र जिम्मेदार : मंत्री डाहरिया

देश में कोरोना के भयावह स्थिति के लिए केन्द्र जिम्मेदार : मंत्री डाहरिया

दल्लीराजहरा। नगरीय प्रशासन मंत्री शिव कुमार डाहरिया  ने देश में बढ़ते कोरोना के भयावह स्थिति के लिए केन्द्र सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा की फरवरी 2021 में जब कोरोना अपने भयावह रूप में महाराष्ट्र और पंजाब के कुछ इलाकों में दस्तक दे रहा था तब पी एम मोदी पूरी दुनिया में कोरोना से मुक्तिदाता के रूप में प्रस्तुत हो रहे थे। कोरोना पार्ट वन गुजरते समय यह चेतावनी दे गया था कि देश के सभी 28 राज्यों और नौ केन्द्र शासित प्रदेशों में  ऑक्सीजन व जीवनरक्षक दवाईयों  के इंतजामात सुनिश्चित करने का संकेत दे दिया था। अभी हाल में ही स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक विज्ञप्ति के जरिये व प्रेस कांफ्रेंस में बताया की देश में ऑक्सीजन की कमी बिल्कुल नही है केन्द्र के पास स्टॉक में 50 हजार मीट्रिक टन से अधिक ऑक्सीजन पड़ा हुआ है। आज हर राज्यों में ऑक्सीजन को लेकर हाहाकार मचा हुआ है। ऑक्सीजन नही मिलने से कई संक्रमण मरीजों की मौत हो रही है ।इससे साफ प्रतीत होता है की केन्द्र सरकार इस बात को भी छिपाये रखा की देश में ऑक्सीजन सिलेंडर पर्याप्त मात्रा में है। मोदी सरकार हमेशा देश की जनता से कहती है की 70 साल में देश में सब सत्यानाश हुआ है मगर सात सालों में मोदी सरकार प्राणवायु का प्रबंधन सही ढंग से क्यों नही कर पाई इसका उत्तर  जनता आज सबसे बड़ी आपदा के समय मांग रही है। उन्होने आगे कहा की कोरोना की दूसरी लहर में जवान मौतें जबरदस्त तादात में हुई है मगर केन्द्र का हट योग देश की जनता ने देखा वैक्सीन की उम्र सीमा 45 साल बांध रखी थी देशव्यापी हाहाकार मचने के बाद अब इसे 1मई 2021 से घटाकर 18 साल मोदी सरकार ने किया है, जो हजारों युवा इन गलत नीतियों से मारे गये उसे पी एम मोदी का मिस्टेक माने अथवा हत्या देश में हर दिन तीन लाख से ज्यादा मामले आ रहे हैं मोदी सरकार ने हालात की गंभीरता को नहीं समझा और देश में कोरोना की सुनामी खड़ी कर दी फिर भी मोदी सरकार को अपने ध्वस्त प्रबंधन में अफसोस नहीं है अब जाकर प्रधानमंत्री नये ऑक्सीजन प्लांट लगाने का कार्य कर रही है, यह सरकार जब आग लगे तब कुआं खोदो के सिध्दांत पर कार्य करने में अग्रसर होती है। मंत्री डाहरिया ने आगे कहा की आज बड़े बड़े राज्यों से संक्रमण की पहली लहर के जैसे श्रमिको का पलायन हो रहा है मोदी सरकार इन मेहनतकश श्रमिकों के तरफ ध्यान न देकर  बंगाल में चुनावी रैली में मस्त है सिर्फ चित परिचित तरीके से अपने मन की बात देश से कह रहे हैं। अभी कुछ दिन पूर्व व आज कोरोना की स्थिति को लेकर मन की बात कही उसमें स्पष्ट नही किया गया की देश में कोविड मरीजों के उपचार के लिए वैक्सीन ऑक्सीजन की कमी क्यों है साथ ही पीएम केयर्स फंड के संबंध में देश को कुछ नहीं बताते की कोरोना की लड़ाई में इस फंड का इस्तेमाल किस तरह से हो रहा है। देश करीब डेढ़ साल से इस महामारी से जूझ रहा है लेकिन केन्द्र सरकार इससे निपटने कोई राष्ट्रीय नीति तैयार नही की अनुसूचित जाति के प्रदेश महामंत्री शंकर पिपरे ने कहा की नेतृत्व क्षमता की संवेदनाओं की मृत्यु के बाद ही आम आदमी की मृत्यु होती है।केन्द्र सरकार इतनी अंहकारी हो गई है की इन्हे विपक्ष की सही बात भी बर्दाशत नही होती है मोदी सरकार कोरोना की दूसरी लहर का पूर्वोनुमान लगाने में पूर्णत: असफल रही और यह भी भूला दिया, कि कोविड-19 की दूसरी लहर बच्चों और युवाओं को भी प्रभावित कर सकती है साथ ही पिपरे ने यह भी कहा की भाजपा अपने ही नीति एक देश एक बाजार के खिलाफ जाकर कोरोना वैक्सीन के दाम अलग अलग रखा है, उन्होने केन्द्र सरकार से मांग किया है कि वैक्सीन की कीमत पूरे देश में एक समान हो साथ ही सभी 18 साल से अधिक युवक युवतियों को 1 मई से शुरू हो रही टीकाकरण केन्द्र में जाकर वैक्सीन लगवाने की अपील भी किये हैं।

 

BIG BREAKING : प्रदेश का ये जिला 6 मई तक कंटेनमेंट जोन हुआ घोषित, कलेक्टर ने जारी किया आदेश

BIG BREAKING : प्रदेश का ये जिला 6 मई तक कंटेनमेंट जोन हुआ घोषित, कलेक्टर ने जारी किया आदेश

बालोदकलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री जनमेजय महोबे ने आदेश जारी कर बालोद जिला अंतर्गत संपूर्ण क्षेत्र को अब 06 मई 2021 प्रातः 06 बजे तक कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। जारी आदेश में कहा गया है कि  कोविड-19 पाॅजीटिव प्रकरणों की संख्या में लगातार वृद्धि होने के कारण उत्पन्न परिस्थितियों के अनुक्रम में कार्यालय के आदेश दिनांक 17 अप्रैल 2021 द्वारा जिला अंतर्गत सम्पूर्ण क्षेत्र को 19 अप्रैल 2021 प्रातः 06 बजे से 26 अप्रैल 2021 प्रातः 06 बजे तक कंटेनमेंट जोन घोषित करते हुए जिला बालोद में सार्वजनिक आवागमन एवं अन्य गतिविधियों पर कड़े प्रतिबंध अधिरोपित किए गए हैं। बालोद जिले में व्यावसायिक गतिविधियों पर अधिरोपित प्रतिबंधों एवं सम्पूर्ण जिले को कंटेनमेंट जोन घोषित करने के बावजूद कोविड-19 पाॅजीटिव प्रकरणों की संख्या एवं इस महामारी से होने वाली मौतों की संख्या चिंता का विषय है।

 

मानव जीवन की सुरक्षा सर्वोच्च प्राथमिकता का विषय है तथा मुक्त आवागमन से आम जनता की सुरक्षा को गंभीर खतरा उत्पन्न होने की आशंका बनी हुई है, जिससे सम्पूर्ण बालोद जिले में कंटेनमेंट जोन की अवधि बढ़ाया जाना आवश्यक हो गया है। अतः दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144, आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 की धारा 30, 34 सहपठित एपिडेमिक एक्ट 1987 यथा संशोधित 2020 द्वारा प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए इस कार्यालय द्वारा जारी आदेश दिनांक 17 अप्रैल 2021 में आंशिक संशोधन करते हुए निम्नलिखित आदेश प्रसारित किया गया है:-  


बालोद जिला अंतर्गत संपूर्ण क्षेत्र को 06 मई 2021 प्रातः 06 बजे तक पूर्ववत कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। उपरोक्त दर्शित अवधि में बालोद जिले की सभी सीमाएं पूर्णतः सील रहेगी। उपरोक्त अवधि में केवल अस्पताल, मेडिकल दुकानें, क्लीनिक एवं पशु चिकित्सालय को उनके निर्धारित समय पर खुलने की अनुमति होगी। मेडिकल दुकान संचालक मरीजों के लिए दवाओं की होम डिलीवरी को प्राथमिकता देगें। शासकीय उचित मूल्य की दुकानों को खाद्य अधिकारी बालोद द्वारा निर्धारित समयावधि में मास्क, फिजिकल डिस्टेंसिंग, नियमित सेनेटाईजेशन एवं भीड़-भाड़ नहीं होने देने की शर्त का कड़ाई से पालन कराने के अधीन, टोकन व्यवस्था के साथ खुलने की अनुमति होगी। अलग-अलग निर्धारित तिथियों में उचित मूल्य की दुकानों को खोलने हेतु खाद्य अधिकारी द्वारा पृथक से आदेश प्रसारित किया जाएगा। सभी प्रकार की मंडिया, थोक/फुटकर एवं ग्राॅसरी दुकानें बंद रहेगी किन्तु आवश्यक वस्तुओं/माल की आपूर्ति सुनिश्चित करने हेतु गोडाउन में लोडिंग/अन-लोडिंग की अनुमति रात्रि 11 बजे से प्रातः 04 बजे तक दी जाती है।  


फल, सब्जी, अण्डा, पोल्ट्री, मटन, मछली एवं किराना सामग्री/ग्राॅसरी तथा कृषि आदान सामग्री की होम डिलीवरी प्रातः 06 बजे से अपरान्ह 02 बजे तक केवल स्ट्रीट वेण्डर्स/ठेले वालों/ पिक-अप/ मिनी ट्रक/अन्य उपयुक्त छोटे वाहन के माध्यम से की जा सकेगी। इस हेतु प्रयुक्त वाहन पर बैनर या बड़ा स्टीकर प्रदर्शित करना होगा। आम जनता हेतु दुकान खोले बिना किराना दुकानों के आसपास के क्षेत्र में दुकानदार द्वारा स्वयं या डिलीवरी बाॅय के मायम से उपरोक्त समयावधि में होम डिलीवरी की जा सकेगी। स्थानीय ऑनलाईन शाॅप तथा ई-कामर्स सेवाओं यथा अमेजाॅन, फ्लिपकार्ट इत्यादि को उपरोक्त समयावधि में होम डिलीवरी हेतु अनुमति प्रदान की जाती है किन्तु शाॅप/स्टोर आम जनता हेतु नहीं खुलेंगे। इस व्यवस्था में संलग्न सभी व्यक्तियों को नियमित अंतराल में कोविड-19 जाॅच तथा 45 वर्ष से अधिक अवस्था वाले व्यक्तियों को कोविड-19 वैक्सीनेशन कराना आवश्यक होगा। उपरोक्तानुसार होम डिलीवरी के दौरान मास्क धारण करना एवं फिजिकल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन करना अनिवार्य होगा। किसी दुकान में/होम डिलीवरी के दौरान भीड़-भाड़ होने पर एपिडेमिक एक्ट 1897 के अधीन चालान/अर्थदण्ड अधिरोपित करने के साथ-साथ दुकान को 30 दिवस हेतु सील किया जाएगा। संबंधित नगरीय/ग्रामीण क्षेत्र के अधिकारी उनके क्षेत्र में स्थित प्रोविजन स्टोर/किराना दुकानों से सम्पर्क हेतु उनके मोबाईल नम्बर/पोर्टल की जानकारी सोशल मीडिया के माध्यम से प्रसारित करेंगे। उपरोक्त निर्देशों के उल्लंघन की दशा में दुकान का सील करने/ठेले को जब्त करने/अर्थदण्ड या चालान की कार्यवाही की जाएगी।  


 पेट्रोल पंप संचालकों द्वारा केवल शासकीय वाहन/शासकीय कार्य में प्रयुक्त वाहन, ए.टी.एम. कैश-वैन, अस्पताल/मेडिकल इमरजेन्सी से संबंधित निजी वाहन/एम्बुलेस, ग्राॅसरी होम डिलीवरी/एल.पी.जी. परिवहन कार्य में प्रयुक्त वाहन, एयरपोर्ट/रेल्वे स्टेशन/अन्तर्राज्यीय बस स्टैण्ड से संचालित आॅटो/टैक्सी, विधिमान्य ई-पास धारित करने वाले वाहन, एडमिट कार्ड/काॅल लेटर दिखाने पर परीक्षार्थी/उनके अभिभावक, परिचय पत्र दिखाने पर मीडियाकर्मी/प्रेस वाहन /न्यूज पेपर हाॅकर, दुग्ध-वाहन तथा कृषि आदान सामग्री एवं ऑनलाईन डिलीवरी संबंधी वाहन तथा छत्तीसगढ़ में नहीं रूकते हुए एक राज्य से सीधे अन्य राज्य जाने वाले वाहनों को पी.ओ.एल प्रदान किया जावेगा। अन्य सभी वाहनों हेतु पी.ओ.एल प्रदान करना पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। दुग्ध पार्लर व दुग्ध-वितरण तथा न्यूज पेपर हाॅकर द्वारा समाचार पत्रों के वितरण की समयावधि प्रातः 06 बजे से प्रातः 09 बजे तक एवं संध्या 05 बजेे से संध्या 07 बजे तक ही होगी। साथ ही यह स्पष्ट किया जाता है कि दुग्ध व्यवसाय हेतु कोई भी दुकान/पार्लर नहीं खोले जाएंगे। केवर दुकान/पार्लर के सामने फिजिकल डिस्टेंसिंग एवं मास्क संबधी निर्देशों का पालन करते हुए उपरोक्त समयावधि में केवल दुग्ध विक्रय की अनुमति होगी। पैट शाॅप/एक्वेरियम को केवल पशुओं को पशुचारा देने हेतु प्रातः 06 बजे से प्रातः 08 बजे तक एवं संध्या 05 बजे से संध्या 06.30 बजे तक शाॅप खोलने की अनुमति होगी। एल.पी.जी. गैस सिलेण्डर की एजेंसियाॅ केवल टेलीफोनिक या ऑनलाईन ऑर्डर लेंगें तथा ग्राहकों को सिलेण्डरों की घर पहूँच सेवा उपलब्ध करायेंगें। औद्योगिक संस्थानों एवं निर्माण इकाईयों को अपने कैम्पस के भीतर (ऑनसाईट) मजदूरों को रखकर व अन्य आवश्यक व्यवस्था करते हुए उद्योगों के संचालन व निर्माण कार्योंं की अनुमति होगी। उक्त अवधि के दौरान संपूर्ण जिला अंतर्गत संचालित समस्त शराब दुकाने बंद रहेंगी।


सभी धार्मिक, सांस्कृतिक एवं पर्यटन स्थल आम जनता के लिए पूर्णतः बंद रहेंगी। उपरोक्त अवधि में बालोद जिला अंतर्गत सभी केन्द्रीय /शासकीय /सार्वजनिक /अर्द्ध सार्वजनिक एवं निजी कार्यालय बंद रहेंगें तथापि टेलीकाॅम एवं रेलवे के रख-रखाव से जुडे कार्यालय/वर्कशाॅप, रेक प्वाइंट पर लोडिंग-अनलोडिंग का कार्य, खाद्य सामग्री के थोक परिवहन, धान मिलिंग हेतु परिवहन एवं शासन से अनुमति प्राप्त समस्त परीक्षाओं को छोड़कर अन्य समस्त शैक्षणिक गतिविधियाॅ बंद रहेगी, किन्तु अस्पताल एवं ए.टी.एम. पूर्ववत् संचालित रहेंगे। उपरोक्त अवधि के दौरान को-माॅर्बिड/गर्भवती, अधिकारियों/कर्मचारियों को एक्टिव ड्यूटी से छूट देते हुए बैंको को हब-बैंकिंग सिद्धात अनुसार न्यूनतम स्टाफ के साथ कार्य करने की अनुमति प्रदान की जाती है किन्तु सभी बैंक-शाखाए प्रातः 10 बजे से अपरान्ह 02 बजे तक ही संचालित हो सकेंगी।
उपरोक्त अवधि के दौरान केवल ए.टी.एम. कैश रि-फिलिंग, मेडिकल इक्विपमेंट, मेडिसिन, पेट्रोल/डीजल पंप, एल.पी.जी., पी.डी.एस./केरोसीन वितरक शासकीय उचित मूल्य दुकानदारों संबंधी लेन-देन, उद्योगों के व्यापारिक लेन-देन/श्रमिकों के भुगतान, किराना/आलू-प्याज के थोक व्यापारियों के व्यापारिक लेन-देन, कृषि आदान सामग्री संबंधी लेन-देन, दूध गंगा सहकारी समिति बालोद संबंधी लेन-देन, निविदा, अस्पताल एवं मेडिकल प्रयोजन को छोड़कर आमजनता हेतु किसी प्रकार के सामान्य लेन-देन की अनुमति नहीं होगी। इस हेतु शाखा प्रबंधक संबंधित व्यक्तियों से विधिवत आवेदन प्राप्त कर अभिलेख संधारित करेंगे। सभी प्रकार की सभा, जुलूस, सामाजिक, धार्मिक एवं राजनैतिक आयोजन इत्यादि पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगें। किन्तु विवाह कार्यक्रम वर अथवा वधू के निवास-गृह में ही आयोजित करने की शर्त के साथ आयोजन में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 10 निर्धारित की गई है। इसी प्रकार अंत्येष्टि, दशगात्र इत्यादि मृत्यु संबंधित कार्यक्रम में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 10 निर्धारित की गई है।


 कोविड संक्रमण के रोकथाम हेतु जिले में समस्त कार्य जैसे कंाटेेक्ट ट्रेसिंग, एक्टिव सर्विलांस, होम आईसोलेशन, दवाई वितरण आदि पूर्वानुसार चलते रहेंगें। इन कार्य में संलग्न सभी कर्मचारियों की उपस्थिति पूर्वानुसार अनिवार्य होगी। कोविड हाॅस्पिटल/कोविड केयर सेंटर से डिस्चार्ज होने वाले मरीजों के परिवहन में संलग्न वाहन पूर्वानुसार संचालित रहेंगे। उपरोक्त अवधि में रेल, बस व हवाई यात्रा हेतु रेल्वे स्टेशन, बस स्टैण्ड व एयरपोर्ट पर आने जाने वाले यात्रियों को कोई पास की आवश्यकता नहीं होगी। यात्रियों को निवास/स्टेशन तक आने जाने हेतु उनके पास उपलब्ध यात्रा टिकट ही उनका ई-पास मान्य किया जाएगा। अपरिहार्य परिस्थितियों में बालोद जिले से अन्यत्र आने-जाने वाले यात्रियों को ई-पास के माध्यम से पूर्व अनुमति लिया जाना अनिवार्य होगा तथापि प्रतियोगी/अन्य परीक्षाओं में सम्मिलित होने वाले परीक्षार्थियो हेतु उनका एडमिट कार्ड तथा रेल्वे/टेलीकाॅम संचालन एवं रख-रखाव कार्य या हास्पिटल या कोविड-19 ड्यूटी में संलग्न कर्मचारियों/चिकित्सकों की दशा में नियोक्ता द्वारा जारी आई.डी. कार्ड ई-पास के रूप में मान्य किया जायेगा। कोविड-19 टीकाकरण हेतु पंजीयन, कोविड-19 जांच हेतु मेडिकल दस्तावेज या आधार कार्ड/विधिमान्य परिचय-पत्र दिखाने पर कोविड-19 टीकाकरण केन्द्र अस्पताल/पैथोलाॅजी लैब अथवा आने-जाने की अनुमति होगी किन्तु अनावश्यक भ्रमण सख्त प्रतिबंधित रहेगा। आपात स्थिति में यात्रा के दौरान 4 पहिया वाहनों में ड्राईवर सहित अधिकतम 03, आॅटो में ड्राईवर सहित अधिकतम 03 एवं दो पहिया वाहन में अधिकतम 02 व्यक्तियों को यात्रा की अनुमति होगी। रेल्वे स्टेशन, बस स्टैंड, हाॅस्पिटल आवागमन हेतु आॅटो/टैक्सी परिचालन की अनुमति रहेगी किन्तु अन्य प्रयोजन हेतु पूर्णतः प्रतिबंध रहेगा। इस निर्देश का उल्लंघन किये जाने पर 15 दिवस हेतु वाहन जप्त करते हुए चालानी व अन्य कानूनी कार्यवाही की जावेगी। मीडिया कर्मी यथासंभव वर्क फ्राॅम होम द्वारा कार्य सम्पादित करेंगे। अत्यावश्यक स्थिति में कार्य हेतु बाहर निकलने पर अपना आई-कार्ड साथ रखेंगे तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग एवं मास्क संबंधी निर्देशों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करेंगें।


यह आदेश कार्यालय कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, उप पुलिस अधीक्षक (शहर/ग्रामीण), कोषालय,  मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय एवं उनके अधीनस्थ समस्त कार्यालय, अनुविभागीय दण्डाधिकारी, तहसील कार्यालय, थाना एवं पुलिस चैकी पर लागू नहीं होगा। इसके अतिरिक्त कानून व्यवस्था एवं स्वास्थ्य सेवा से संबंधित अधिकारी, विद्युत, पेयजल आपूर्ति एवं नगर पालिका सेवाएं जिसमे सफाई, सीवरेज एवं कचरे का डिस्पोजल इत्यादि भी शामिल है तथा अग्निशमन सेवाओं के संचालन हेतु संबंधित अधिकारियों/कर्मचारियों को कार्यालय संचालन एवं आवागमन की अनुमति होगी किन्तु इन शासकीय कार्यालयों में उपरोक्त अवधि में आम जनता का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। समस्त कार्यालयों के अधिकारी/कर्मचारी कार्यालयीन दिवसों एवं अवकाश के दिनों में भी मुख्यालय में अनिवार्यतः उपस्थित रहेंगे तथा अति-आवश्यक कार्य होने की दशा में कलेक्टर से ही स्वीकृति उपरांत अवकाश पर प्रस्थान करेंगे।


राज्य शासन या इस कार्यालय के विशेष आदेश द्वारा अनुमति प्राप्त किसी सेवा के संचालन की अनुमति होगी। उपरोक्त बिन्दुओं को छोड़कर जिले में समस्त गतिविधियां पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगी। इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति/प्रतिष्ठानों पर भारतीय दण्ड सहिता 1860 की धारा 188, आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 की धारा 51-60 तथा अन्य सुसंगत विधि अनुसार कड़ी कार्यवाही की जावेगी। यह आदेश अल्प समयावधि में लागू किया जाना आवश्यक है। वर्तमान परिस्थितियों में इस आदेश से प्रभावित होने वाले व्यक्तियों को सम्यक समय में तामीली संभव नहीं होने के कारण यह आदेश एकपक्षीय रूप से पारीत किया जाता है। यह आदेश 26 अप्रैल 2021 प्रातः 6.00 बजे से लागू होगा।

राहत वाली खबर : जिले में  280 ग्राम हुए कोरोना मुक्त

राहत वाली खबर : जिले में 280 ग्राम हुए कोरोना मुक्त

बालोद। मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जे.पी.मेश्राम ने बताया कि जिले में कोविड-19 वैश्विक महामारी की रोकथाम, नियंत्रण और बचाव के लिए विभिन्न उपाय किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि विकासखण्डों से प्राप्त जानकारी अनुसार 18 अप्रैल की स्थिति मंए जिले में कुल 280 ग्राम ऐसे हैं, जो वर्तमान में कोरोना से मुक्त हैं, उक्त ग्राम में 18 अप्रैल की स्थिति में एक भी कोरोना के मरीज नहीं थे। उन्हेांने बताया कि बालोद विकासखंड के 19 ग्राम, डौण्डी के 84 ग्राम, डौण्डीलोहारा के 102 ग्राम, गुण्डरदेही के 24 ग्राम और गुरूर विकासखंड के 51 ग्राम हैं।
मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी ने उक्त ग्राम के निवासियों/सरपंच/सचिव से अपील की है कि अपने ग्राम को कोविड मुक्त रखते हुए संपूर्ण प्रयास जारी रखें, ताकि ग्राम कोरोना मुक्त रहे। बाहर से आने वाले व्यक्तियों को क्वारेंटाइन सेंटर में रखें। दो गज की दूरी का पालन कराएॅ। पूरे समय मास्क पहने तथा 45 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति कोविड टीका जरूर लगाएॅ।
 

 शादी के दौरान प्रोटोकॉल का उल्लंघन, प्रशासन ने वसूला 10 हज़ार का जुर्माना

शादी के दौरान प्रोटोकॉल का उल्लंघन, प्रशासन ने वसूला 10 हज़ार का जुर्माना

बालोद। छत्तीसगढ़ के बालोद से कोविड प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने का मामला सामने आया है। सूचना मिलने पर रात राजस्व विभाग की टीम ने ब्लॉक मुख्यालय के वंनांचल ग्राम भवरमरा में कार्रवाई की। 

पढ़िए पूरी खबर-
इस संबंध में डौंडीलोहारा एस डी एम तिवारी व तहसीलदार रामरतन दुबे ने बताया कि तहसील डौंडीलोहारा अंतर्गत ग्राम भंवरमरा में राजस्व विभाग की टीम को ग्राम कोटवार बसंता बाई की पुत्री के विवाह कार्यक्रम में कुल 30 लोग उपस्थित मिले। जबकि कोरोना प्रोटोकॉल के तहत केवल 10 लोगों के लिए अनुमति है। निर्धारित संख्या से 20 लोग अधिक होने पर प्रति व्यक्ति 500 के हिसाब से चलानी कार्यवाही कर 10 हज़ार रुपए वसूले गए।
 
अस्थायी संविदा पदों पर नियुक्ति के लिए ऑनलाइन आवेदन 16 अप्रैल तक

अस्थायी संविदा पदों पर नियुक्ति के लिए ऑनलाइन आवेदन 16 अप्रैल तक

बालोद । मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी डॉ जे.पी. मेश्राम ने बताया कि राज्य आपदा मोचन निधी के तहत् अस्थायी संविदा पदों पर चिकित्सा अधिकारी, स्टाफ नर्स, लैब टेक्नीशियन, डाटा एन्ट्री ऑपरेटर, बहुद्देशीय पुरूष स्वास्थ्य कार्यकर्ता, प्लम्बर, इलेक्ट्रीशियन और वार्ड आया के कुल 194 पदों पर नियुक्ति के लिए आवेदन ऑनलाइन गुगल डाक के माध्यम से 16 अप्रैल शाम 5:00 बजे तक मंगाए गए है। उन्होंने बताया कि उक्त ऑनलाईन आवेदन के लिए लिंक https://forms.gle/CQS8Pu7JFHzzQj4PA है। अभ्यर्थी विज्ञापन का प्रारूप जिले के वेब साईट बालोद डॉट जीओवी डॉट इन में देख व डाउनलोड कर सकते हैं।  

 कलेक्टर ने जारी किया लॉकडाउन से संबंन्धित संशोधित-आदेश

कलेक्टर ने जारी किया लॉकडाउन से संबंन्धित संशोधित-आदेश

बालोद। कलेक्टर ने सशोधित-आदेश जारी कर कहा कि शासन की जारी गाईड लाईन अनुसार कोरोना वायरस कोविड-19 नियंत्रण के संबंध मेें पूर्व में लागू अधिकांश प्रतिबंधो में समय-समय पर स्वतः छूट प्रदान की गई थी। 

उपरोक्त आंशिक प्रतिबंधों संबंधी आदेषों की समीक्षा की गई, जिसमें वर्तमान में कोरोना पाॅजिटिव प्रकरणों की संख्या में लगातार वृद्धि होने के फलस्वरूप जिला प्रशासन के प्रत्येक स्तर पर पूर्व में अधिरोपित प्रतिबंधों, शर्ताें का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने के लिए संपूर्ण बालोद जिला अंतर्गत दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 प्रभावशील की गई है। कार्यालय के आदेश 5 अप्रैल में आंशिक संशोधन करते हुए सम्पूर्ण बालोद जिला शहरी और ग्रामीण के लिए आदश् जारी किया गया है। जिले में प्रभावशील धारा 144 के परिपेक्ष्य में संपूर्ण बालोद जिला क्षेत्र भीतर स्थित व्यावसायिक प्रतिश्ठानों के संचालन का समय निम्नानुसार निर्धारित किया गया है। 
काउंसलर्स के रिक्त पद के लिए आवेदन 5 अप्रैल तक

काउंसलर्स के रिक्त पद के लिए आवेदन 5 अप्रैल तक

बालोद। जिले में संकल्प योजना के क्रियान्वयन के लिए मुख्यमंत्री कौशल विकास योजना अंतर्गत नवीन गाईडलाईन अनुरूप कौशल प्रशिक्षण के पूर्व चिन्हांकित युवाओं की व्यक्तिगत (वन-टू-वन) काउंसलिंग कार्य लिए काउंसलर्स के रिक्त 2 पदों के लिए निर्धारित प्रारूप में आवेदन 5 अप्रैल शाम 5 बजे तक इच्छुक आवेदकों से स्पीड पोस्ट/रजिस्टर डाक के माध्यम से कार्यालय कलेक्टर सह अध्यक्ष, जिला कौशल विकास प्राधिकरण बालोद, प्रथम तल जिला पंचायत बालोद में आवेदन कर सकते है। जिला कौशल विकास प्राधिकरण के सहायक संचालक विकास देशमुख ने बताया कि उक्त पद पर भर्ती के संबंध में नियम शर्तें, चयन प्रक्रिया, आवेदन का प्रारूप इत्यादि की विस्तृत जानकारी जिला पंचायत बालोद के सूचना पटल और बालोद जिले के वेबसाईट बालोद डॉट जीओवी डॉट इन पर उपलब्ध है।

 बड़ी खबर छत्तीसगढ़: गैस टंकी फटने से घर में लगी भीषण आग, लाखों का समान जलकर हुआ खाक

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: गैस टंकी फटने से घर में लगी भीषण आग, लाखों का समान जलकर हुआ खाक

बालोद। गुंडरदेही ब्लाक के ग्राम पंचायत परसोदा (मोखा) पर घर में रखी गैस की टंकी अचानक फटने से घर जलकर पूरी तरह खाक हो गया। घटना 7 मार्च की रात लगभग आठ बजे की बताई जा रही है। जिस समय घटना घटी थी उस समय घर में कोई सदस्य घर में मौजूद नहीं था, जिससे किसी की जान नहीं हुई है।

महिला झमित बाई साहू व उनके पुत्र ओमप्रकाश साहू अपने घर में ताला लगाकर गांव में ही पड़ोसी के यहां सगाई कार्यक्रम में शामिल होने गए थे। रात 8 बजे अचानक गैस टंकी फटने की आवाज आई और देखते ही देखते घर पूरी तरह आग की चपेट में आ गया और घर में रखे रुपए, अनाज व कपड़े पूरी तरह से जलकर खाक हो गया।

बताया जा रहा है कि लाखों रुपए का नुकसान हो गया है। इस घटना की जानकारी तत्काल आस-पास पड़ोस के लोगों ने घर वालों को दी। आग की लपटें इतनी भंयकर थी की बुझा पाना मुश्किल था, जिससे परिजन सदमे में है आग को बुझाने फायरब्रिगेड की गाड़ी व गुण्डरदेही नगर पंचायत की पानी टैंकर आते तक घर पूरी तरह आग की चपेट में आ गया था। अब पीड़ित परिवार ने शासन प्रशासन से तत्काल मुआवजा देने की मांग की है।
 
बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : हाइवा की चपेट में आने से पूर्व सरपंच की हुई दर्दनाक मौत

बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : हाइवा की चपेट में आने से पूर्व सरपंच की हुई दर्दनाक मौत

बालोद | छत्तीसगढ़ के बालोद जिले से एक बड़ी खबर सामने आ रही है | खबर मिली है कि बालोद जिले के डौंडी ब्लाक में ग्राम पंचायत चिखली के पूर्व सरपंच कोमल सिंह कुंजाम की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई | जानकारी के अनुसार घटना दल्लीराजहरा डौंडी पहुंच मुख्य मार्ग के पास डड़सेना पुलिया के आगे की है | बताया जा रहा है कि माइंस की एक हाइवा ने बाइक सवार कोमल सिंह कुंजाम को जोरदार टक्कर मार दी, जिससे उनकी सिर पर अत्यधिक चोट लगने से घटना स्थल पर ही उनकी मौत हो गई | टक्कर इतनी भयावह थी कि बाइक के परखच्चे उड़ गए | सूचना मिलते ही दल्लीराजहरा पुलिस ने शव का पंचनामा बनाकर पोस्टमार्टम के लिए चीर घर भेज दिया गया | वहीं मामले की जांच करते हुए हाइवा वाहन चालक के खिलाफ अपराध दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है |

बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : जंगल के पेड़ में फांसी पर झूलती मिली युवक युवती की लाश, पढ़ें पूरी खबर

बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : जंगल के पेड़ में फांसी पर झूलती मिली युवक युवती की लाश, पढ़ें पूरी खबर

बालोद | छत्तीसगढ़ के बालोद जिले के गुरुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम चूल्हा पथरा से लगे हुए जंगल में युवक युवती की फंदे पर झुली हुई लाश के मिलने से सनसनी फैल गई। 

पढ़ें : भीषण सड़क हादसा : ट्रक और पिकअप में जोरदार हुई भिडंत, 4 लोगों की मौके पर हुई मौत, 17 घायल 

लाशों की स्थिति देख कर लग रहा है इनकी मौत 7 से 8 दिन पहले हुई है। लगातार फंटे पर लटके रहने से शव बुरी तरह सड़ गए हैं। शवों को देखकर इनके पहचान भी नहीं हो पा रही है। मामले में गुरुर थाना पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है।
 
 
गुरुर पुलिस के अनुसार घटना विस्तृत जानकारी नहीं है जांच के बाद ही वास्तविकता पता चलेगी। पुलिस ने बताया कि संभवत युवक युवती ने फांसी लगाकर आत्महत्या की है, घटना लगभग सप्ताह भर पुरानी हो सकती है। मौत के बाद दोनों के शव जमीन को छूते हुए लटक गए हैं। दोनों शव बुरी तरह सड़ चुके हैं दोनों के चेहरे भी पहचान में नहीं आ रहे हैं।
 
 
शवों की शिनाख्त के लिए आसपास के थानों में गुमशुदगी की शिकायतों की जांच की जा रही है। साथ ही स्थानीय लोगों से भी पूछताछ की जा रही है कि हाल के दिनों में किसी युवक युवती को इस ओर जाते देखा गया था। मृत युवक युवती के कपड़ों को देख अंदाजा लगाया जा रहा है कि दोनों संपन्न घरा परिवार से हैं। दोनों प्रेमी प्रेमिका थे या कोई और फिलहाल यह स्पष्ट नहीं हो सका है। 
 
नाबालिग बालिका की विवाह की सूचना मिलने पर ...जाने क्या है पूरा मामला

नाबालिग बालिका की विवाह की सूचना मिलने पर ...जाने क्या है पूरा मामला

बालोद । जिले के बालोद थाना अंतर्गत एक गांव में आज नाबालिग बालिका की विवाह की सूचना मिलने पर संयुक्त रेस्क्यू दल की ओर से उसके विवाह को रूकवाया गया। महिला और बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि एकीकृत बाल विकास परियोजना अधिकारी (बाल विवाह प्रतिषेध अधिकारी) बालोद, तहसीलदार बालोद, थाना प्रभारी बालोद, बाल संरक्षण इकाई, चाईल्ड लाईन बालोद, सेक्टर सुपरवाईजर, अंागनबाड़ी कार्यकर्ता, मितानीन, ग्राम पंचायत के पंच की संयुक्त रेस्क्यू दल द्वारा नाबालिग बालिका के घर पहुॅचकर उसकी उम्र संबंधी दस्तावेज का सत्यापन किया गया। सत्यापन में बालिका की उम्र 17 वर्ष 10 माह मिला। उन्होंने बताया कि दल की ओर से बालिका के परिवार को बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम 2006 की विस्तृत जानकारी के साथ ही विवाह के समय वर की आयु 21 वर्ष से अधिक और वधु की आयु 18 वर्ष से अधिक होने की जानकारी दी गई। बाल विवाह से संबंधित पंचनामा कर बालिका के परिजन से घोषणा पत्र लिया गया व बालिका के बालिग होने के उपरांत ही विवाह किए जाने की समझाईश दी गई। उन्होंने बताया कि परिवारजनों द्वारा बालिका के बालिग होने के उपरांत विवाह किए जाने की सहमति दी गई। 

सखी वन स्टॉप सेंटर में सेवा प्रदाता के लिए वॉक इन इन्टरव्यूव 02 मार्च को

सखी वन स्टॉप सेंटर में सेवा प्रदाता के लिए वॉक इन इन्टरव्यूव 02 मार्च को

बालोद । सखी वन स्टॉप सेंटर बालोद में दैनिक कार्यो के संचालन व सभी सुसंगत कार्यवाहियों के लिए सेवा प्रदाता केन्द्र प्रशासक के एक पद और केस वर्कर के दो पद की नियुक्त किया जाना है। महिला व बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि पात्र आवेदकों (व्यक्तिगत सेवा प्रदाताओं) से उक्त पदो के लिए 02 मार्च को वॉक इन इन्टरव्यूव के माध्यम से चयन की कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने बताया कि इच्छुक महिला आवेदक 2 मार्च को सुबह 09 बजे से दोपहर 12:00 बजे तक जिला मुख्यालय महिला और बाल विकास विभाग (कलेक्टरेट परिसर) में अपना पंजीयन के लिए आवेदन प्रस्तुत कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि आवेदन प्रपत्र तथा सेवा के लिए आवश्यक शैक्षणिक योग्यता, अनुभव, कार्यदायित्व और अन्य विवरण जिले की वेबसाईट बालोद डॉट जीओवी डॉट इन में उपलब्ध है। 

विधानसभा सत्र के दौरान अवकाश पर प्रतिबंध

विधानसभा सत्र के दौरान अवकाश पर प्रतिबंध

बालोद । छत्तीसगढ़ विधानसभा दशम् सत्र के दौरान जिले के अधिकारियों-कर्मचारियों के अवकाश पर प्रतिबंध लगाया गया है। अपर कलेक्टर ए.के. वाजपेयी ने बताया कि विधानसभा दशम सत्र के दौरान चाही गई वांछित जानकारी शासन को यथाशीघ्र समयावधि में भेजने के लिए अधिकारियों-कर्मचारियों को मुख्यालय में उपस्थित रहना आवश्यक है। उन्होंने बताया कि विधानसभा दशम् सत्र आगामी 22 फरवरी से 26 मार्च तक आहुत की गई है। उन्होंने समस्त कार्यालय प्रमुख अधिकारी, समस्त अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, तहसीलदार और जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को निर्देश दिए हैं, कि वे विधानसभा सत्र के दौरान कलेक्टर के बिना अनुमति के अवकाश पर प्रस्थान नहीं करेंगे और न ही मुख्यालय से बाहर रहेंगे। उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया है, कि वे अपने कार्यालय में एक नोडल अधिकारी की नियुक्ति कर उनके नाम, पदनाम, दूरभाष और मोबाईल नम्बर की जानकारी कलेक्टर कार्यालय को तत्काल उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।

बड़ी खबर: संतानहीनों को झाड़-फूंक के जरिये बच्चा दिलाने के नाम पर ठगी, मामले में पति-पत्नी और एक अन्य गिरफ्तार

बड़ी खबर: संतानहीनों को झाड़-फूंक के जरिये बच्चा दिलाने के नाम पर ठगी, मामले में पति-पत्नी और एक अन्य गिरफ्तार

बालोद। बच्चा नही होने पर झाड़ फूंक कराने पर बच्चा होने का झांसा देकर दंपती से 45 हजार रुपये की ठगी कर लेने की रिपोर्ट बालोद थाने में दर्ज की गई है। मामले में पुलिस ने एक महिला सहित दो लोगों को गिरफ्तार किया है। 
 
पढ़िए पूरी खबर-
मिली जानकारी के अनुसार ग्राम बोदल थाना रनचिरई जिला बालोद निवासी केताम साहु 31 वर्ष ने शिकायत दर्ज करायी थी कि गुन्डरदेही क्षेत्र में ग्राम कुुगदा थाना कुम्हारी जिला दुर्ग निवासी राजकुमार,राधे नेताम एवं श्रीमती भगवती बाई पति राजकुमार अपना डेरा लगाकर जिन लोगों का बच्चा नही होने पर जड़ी-बुटी खाने से बच्चा होने की बात कहकर भ्रमित किये। 16 जनवरी को प्रार्थी के बड़े भाई नूतन कुमार को झांसा में लेकर  आरोपियों ने पूजा पाठ करने व उनके द्वारा दिये जड़ी बुटी खाने से बच्चा होने झांसा दिया। पूूजा पाठ में 40 हजार रुपये का खर्च आना बताया व नही देने पर उनके परिवार पर विपत्ती आने की बात कहकर डराने धमकाने लगा। इस पर पीडि़त ने आरोपियों को डरकर  40 हजार रुपये दे दिये। घटना की रिपोर्ट पर पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ धारा 34,384,420 के तहत अपराध कायम कर मामला दर्ज कर लिया है। 
बड़ी खबर: अंग्रेजी शराब दुकान का ताला तोड़कर लाखों रुपए की चोरी, सीसीटीवी कैमरे में आरोपीयों की तस्वीरे कैद

बड़ी खबर: अंग्रेजी शराब दुकान का ताला तोड़कर लाखों रुपए की चोरी, सीसीटीवी कैमरे में आरोपीयों की तस्वीरे कैद

बालोद। जिले के डौंडीलोहारा अंग्रेजी शराब दुकान में बीती रात 2 अज्ञात आरोपियों ने दुकान का ताला तोड़ 1 लाख 67 हजार से अधिक नगद रकम उड़ा ले गए। उक्त दोनों अज्ञात आरोपीयों की तस्वीरे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई हैं।
 
 
नगद रकम के अलावा अपने साथ शराब की बोतलें नही ले गए हैं। वही मामले की जानकारी लगते ही पुलिस व आबकारी विभाग की टीम मौके पर पहुच आगे की कार्यवाही में जुट गई हैं। एएसपी डीआर पोर्ते ने सीसीटीवी कैमरे के फुटेज को सोशल मीडिया में वायरल कर लोगो से अज्ञात आरोपियों को पकडऩे में अपील की हैं। वही श्री पोर्ते ने बताया कि मंगलवार की सुबह तड़के 3 से 4 बजे के बीच की घटना है। 
 11 जनवरी को 32 रिक्त पदों के लिए प्लेसमेंट कैम्प

11 जनवरी को 32 रिक्त पदों के लिए प्लेसमेंट कैम्प

जशपुरनगर। जिला रोजागर और स्वरोजगार मार्गदर्शन केन्द्र जशपुर से 32 रिक्त पदों के लिए प्लेसमेंट कैम्प का आयोजन 11 जनवरी को दोपहर 12 बजे से किया गया है। जिला रोजागर अधिकारी ने बताया कि प्लेसमेंट कैम्प में वृन्दावन पब्लिक स्कूल संस्था से लुडेग, कोतबा, बागबहार, पण्डरीपानी में कुल 32 पदों के लिए रिक्तियां प्राप्त हुई है। जिसमें हिन्दी, अंग्रेजी, गणित, विज्ञान शिक्षक के लिए 6-6 पद और डाटा एन्ट्री आपरेटर के 2 और प्री प्रायमरी महिला वर्ग 6 पद शामिल है। इच्छुक आवेदक प्लेसमेंट कैम्प में भाग लेने के लिए 5 जनवरी से 10 जनवरी तक रोजगार कार्यालय में आकर या दुरभाष नम्बर 9098227086 में अपना पंजीयन करा सकते है।
सडक हादसा: पाटेश्वर धाम दर्शन के लिए जा रहे थे अनियंत्रित होकर पलटा ट्रैक्टर, एक परिवार के 40 लोग घायल

सडक हादसा: पाटेश्वर धाम दर्शन के लिए जा रहे थे अनियंत्रित होकर पलटा ट्रैक्टर, एक परिवार के 40 लोग घायल

बालोद। छत्तीसगढ़ के बालोद जिले में एक बड़ा सड़क हादसा हो गया। दरअसल एक परिवार ट्रैक्टर में सवार होकर पाटेश्वर धाम दर्शन के लिए जा रहा था और बीच रास्ते में ही पलट गया। बताया जा रहा है इस हादसे में 40 लोग घायल हुए हैं। सभी घायलों को इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया है। घटना डौंडी लोहारा थाना क्षेत्र रायगढ़ घाट के पास का है, जहां ट्रैक्टर अनियंत्रित होकर पलट गया।

इस हदसे में एक ही परिवार के 40 लोग घायल हुए हैं। ट्रैक्टर में 21 महिला, 5 पुरूष और 14 बच्चे सवार थे। ट्रैक्टर पलटने से कुछ लोगों की हालत गंभीर हो गई है। सभी को इलाज के लिए डौंडीलोहारा स्वास्थ केंद्र लाया गया है। वहीं 5 लोगों की गंभीर हालत को देखते हुए राजनांदगांव रिफर किया गया है। सभी लोग ग्राम राहुद के रहने वाले हैं। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और जांच में जुट गई है। 

 छत्तीसगढ़: किसान के घर पर छापे मार कार्यवाई, बरामद हुई बड़ी रकम

छत्तीसगढ़: किसान के घर पर छापे मार कार्यवाई, बरामद हुई बड़ी रकम

बालोद। छत्तीसगढ़ के बालोद जिले के डौंडीलोहारा थाना क्षेत्र के गिधाली गांव के एक किसान के पास से 31 लाख 50 हज़ार पुलिस ने बरामद किए हैं। पुलिस की प्रारंभिक पूछताछ में किसान द्वारा गोलमोल जवाब देने के कारण बड़ी रकम को पुलिस ने जब्त कर लिया है। मामले की जांच की जा रही है। 
 

पुलिस सूत्रों से जानकारी मिली है कि डौंडीलोहारा थाना क्षेत्र की गिधाली गांव के किसान नितेश कुमार धनकर के पास बड़ी राशि मौजूद होने की सूचना पुलिस को मिली थी। इस सूचना की तस्दीक करते हुए जब पुलिस वहां तक पहुंची तो किसान नितेश कुमार धनकर के पास 31 लाख 50 हज़ार रुपए पाए गए।
 
 
इन रुपयों के संबंध में जब पुलिस ने किसान से पूछताछ की तो किसान ने गोलमोल जवाब दिया। किसान नितेश कुमार धनकर से संतोषजनक जवाब न मिलने के कारण पुलिस ने 31 लाख 50 हज़ार को जब्त कर लिया है। यह रकम इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को सौंप दिया गया है। मामले की जांच की जा रही है। 
पिता की शर्मनाक हरकत: हैवान पिता ने बनाया नाबालिग बेटी को अपने हवश का शिकार, मामला दर्ज

पिता की शर्मनाक हरकत: हैवान पिता ने बनाया नाबालिग बेटी को अपने हवश का शिकार, मामला दर्ज

छत्तीसगढ़। बालोद जिले के डौंडी थाना क्षेत्र से एक शर्मनाक घटना सामने आ रही है जहां एक हैवान पिता ने अपने नाबालिग बेटी को अपनी हवस का शिकार बना लिया। नाबालिग जब गर्भवती हुई तो मामले का खुलासा हुआ। पीड़िता ने पिता की दरिंदगी की बात अपनी मां को बताई. उसकी मां ने मासूम को लेकर डौंडी थाने पहुंची और पति के खिलाफ बेटी से ही दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कराई। 

पढ़िए पूरी खबर-
मामले की गंभीरता को देखते हुए डौंडी पुलिस ने आरोपी पिता तिरभुवन साहू 40 के खिलाफ डौंडी पुलिस ने धारा376(2)(च) 506,पास्को के तहत मामला दर्ज कर लिया है। मामला दर्ज होने से पहले ही आरोपी फरार हो गया है। 

आरोपी ने की तीन शादी-
आरोपी ने पहली पत्नी के बच्चे को अपने हवस का शिकार बनाया है। पहली पत्नी ग्राम मोखा की थी, उसका तलाक हो गया है, जिसके दो बच्चे थे, एक लड़का और एक लड़की। तलाक होने के बाद दूसरी पत्नी नंदौरी से लाया, जिससे भी उसका रिश्ता ज्यादा दिन तक नहीं चला और वो भी आरोपी की करतूत के चलते छोड़कर चली गई, उसका एक बेटा है।
 हाथियों का आतंक: दंतैल हाथी ने ली युवक की जान, इलाके में है दहशत का माहौल

हाथियों का आतंक: दंतैल हाथी ने ली युवक की जान, इलाके में है दहशत का माहौल

बालोद। प्रदेश में हाथियों का आतंक थमने का नाम नहीं ले रहा है। कल रात एक दंतैल हाथी ने लिमऊडीही गांव के एक 20 वर्षीया युवक की जान ले ली। घटना के बाद से इलाके में दहशत का माहौल है।

मिली जानकारी के अनुसार यह मामला बालोद के डौण्डी वन परिक्षेत्र के लिमऊडीही गांव का है जहां देर रात अलाव ताप रहे युवक को हाथी ने कुचल के मार दिया। यहां आसपास मौजूद जंगलों में हाथियों का दल पहुंचा हुआ है। वन विभाग ने अलर्ट जारी किया है और लोग रतजगा कर पहरेदारी दे रहे है।

गांव में खेत की रखवाली के लिए युवक रुका हुआ था। रात को बैठ कर अलाव ताप रहा था, कि तभी एक दंतैल आ धमका। युवक इससे पहले संभल पाता, दंतैल ने हमला कर दिया और उसे कुचल कर मार डाला। भोर में गाँवालों को इस घटना का पता चला। मृतक युवक का नाम डोमेन्द्र कुमार ध्रुर्वे उम्र 20 वर्ष है। इस घटना की सूचना वन विभाग को दे दी गई है। अब देखना है की वन विभाग इस मामले में क्या कार्रवाई करता है। 
छत्तीसगढ़ महतारी की महाआरती किसानों के द्वारा संपन्न

छत्तीसगढ़ महतारी की महाआरती किसानों के द्वारा संपन्न

बलोदा| बलोदा बाजार जिला ग्राम पंचायत रीको कला विकासखंड कसडोल का पहला धान खरीदी केंद्र है जहां किसानों द्वारा छत्तीसगढ़ महतारी की महाआरती से संपन्न हुआ, मुख्यमंत्री माननीय श्री भूपेश बघेल के मंशानुरूप राज्य शासन द्वारा विपणन वर्ष 2020- 21 , 1 दिसंबर को धान खरीदी का शुभारंभ हुआ है। ग्राम पंचायत रीकोकला में नवगठित प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति और धान उपार्जन केंद्र खोला गया पिछले वर्ष ग्राम पंचायत रीकोकला में धान उपार्जन केंद्र खोलने की मांग को लेकर किसानों के द्वारा रोड तक की लड़ाई लड़ी गई थी परंतु कुछ कारणवश ना खुलने के कारण छत्तीसगढ़ के यशस्वी मुख्यमंत्री माननीय भूपेश बघेल जी ने  इस वर्ष नवगठित सहकारी साख समिति एवं धान उपार्जन केंद्र खोलने की सौगात दी जिसके लिए रीकोकला गांव एवं आसपास के किसान भाइयों ने माननीय मुख्यमंत्री जी का आभार जताया। आज छत्तीसगढ़ महतारी की महा आरती में श्री वासुदेव अवस्थी, श्री रतन डड़सेना, राजीव अवस्थी कांग्रेस नेता  संतोष दीवान खोलबहरा राम ठाकुर जनपद सदस्य  नैंन सिंह नेताम दुर्गा प्रसाद नायक  सरपंच चमरू निषाद राम  माखन डड़सेना मिलुबैगा रामचरन डड़सेना ,सुनील दीक्षित, सुरीत साहू आदि किसान भाई शामिल हुए। 
 
+ Load More