BIG BREAKING : रायपुर में हुआ कोरोना विस्फोट, प्रदेश में आज कुल 1893 नए मरीजों की हुई पहचान, 28 मरीजों की हुई मौत    |    कोरोना मरीजों के मकान पर पोस्टर लगाने के संबंध में सुप्रीम कोर्ट ने कही यह बड़ी बात, पढ़ें पूरी खबर    |    बड़ी खबर: 6 बच्चियां को तस्करों के चंगुल से बचाया गया, राजधानी ट्रेन से दिल्ली ले जाने की थी तैयारी    |    शिवसेना में शामिल हुईं बॉलीवुड अभिनेत्री उर्मिला मांतोंडकर    |    JNU की पूर्व छात्र नेता शेहला के पिता ने लगाया बड़ा आरोप: बोले- देशद्रोह और देश विरोधी गतिविधियों में शामिल है मेरी बेटी    |    निर्दयी बाप ने कुल्हाड़ी से अपने पांच बच्चों सहित पत्नी को काटा, जाने कहा का है यह मामला    |    बड़ी खबर: उत्तराखंड के हरिद्वार में 3.9 तीव्रता से आए भूकंप के झटके    |    किसान सड़कों पर धरना दे रहे हैं और `झूठ` टीवी पर भाषण- राहुल गांधी    |    छह बच्चों की मौत के बाद सरकारी अस्पताल में हड़कंप, मुख्यमंत्री ने दिए जांच के आदेश    |    प्रदेश में कल 1,324 नए कोरोना संक्रमित मिले, 18 मरीजों की हुई मौत    |
छत्तीसगढ़ महतारी की महाआरती किसानों के द्वारा संपन्न

छत्तीसगढ़ महतारी की महाआरती किसानों के द्वारा संपन्न

बलोदा| बलोदा बाजार जिला ग्राम पंचायत रीको कला विकासखंड कसडोल का पहला धान खरीदी केंद्र है जहां किसानों द्वारा छत्तीसगढ़ महतारी की महाआरती से संपन्न हुआ, मुख्यमंत्री माननीय श्री भूपेश बघेल के मंशानुरूप राज्य शासन द्वारा विपणन वर्ष 2020- 21 , 1 दिसंबर को धान खरीदी का शुभारंभ हुआ है। ग्राम पंचायत रीकोकला में नवगठित प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति और धान उपार्जन केंद्र खोला गया पिछले वर्ष ग्राम पंचायत रीकोकला में धान उपार्जन केंद्र खोलने की मांग को लेकर किसानों के द्वारा रोड तक की लड़ाई लड़ी गई थी परंतु कुछ कारणवश ना खुलने के कारण छत्तीसगढ़ के यशस्वी मुख्यमंत्री माननीय भूपेश बघेल जी ने  इस वर्ष नवगठित सहकारी साख समिति एवं धान उपार्जन केंद्र खोलने की सौगात दी जिसके लिए रीकोकला गांव एवं आसपास के किसान भाइयों ने माननीय मुख्यमंत्री जी का आभार जताया। आज छत्तीसगढ़ महतारी की महा आरती में श्री वासुदेव अवस्थी, श्री रतन डड़सेना, राजीव अवस्थी कांग्रेस नेता  संतोष दीवान खोलबहरा राम ठाकुर जनपद सदस्य  नैंन सिंह नेताम दुर्गा प्रसाद नायक  सरपंच चमरू निषाद राम  माखन डड़सेना मिलुबैगा रामचरन डड़सेना ,सुनील दीक्षित, सुरीत साहू आदि किसान भाई शामिल हुए। 
 
  छत्तीसगढ़ के इस कोविड अस्पताल में बड़ी लापरवाही: मरीज को चढ़ा दी गई ग्लूकोज की 4 एक्सपायर बॉटल

छत्तीसगढ़ के इस कोविड अस्पताल में बड़ी लापरवाही: मरीज को चढ़ा दी गई ग्लूकोज की 4 एक्सपायर बॉटल

बलौद। छत्तीसगढ़ के बालोद कोविड अस्पताल में लापरवाही का मामला प्रकाश में आया है। हस्पताल के कोविड-ऑक्सीजन वार्ड में तीन मरीजों को तीन माह पहले एक्सपायर हो चुकी ग्लूकोज की बॉटल चढ़ा दी गई।

मरीजों ने जब हंगामे किया तो अस्पताल प्रशासन की नींद खुली। कोविड मरीजों के साथ की गई लापरवाही के मामले में कलेक्टर ने संविदा में लगी नर्स को बर्खास्त कर दिया है। मगर स्टोर कीपर के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

नर्स ने जब संक्रमितों को 500 एमएल की 4-4 बॉटल चढ़ा दी, तो किसी एक संक्रमित मरीज की नजर ग्लूकोज की बॉटल पर गई। एक्सपायरी ग्लूकोज चढ़ाने को लेकर हंगामा मचा और फिर आनन-फानन में कार्रवाई हुई। आपको बता दें कि बालोद में तारिणी साहू 26 नवम्बर को रात की ड्यूटी में थी।

जिन्होंने बगैर जाचें संक्रमितों को एक्सपायरी ग्लूकोज की बॉटल चढ़ाई थी। ये बॉटल्स जुलाई 2020 में एक्सपायर हो गई थी। जब मरीजों ने हंगामा मचाया, वीडियो फूटेज बनाकर वायरल किया, तो प्रशासन जागा।

लापरवाही के उजागर होते ही नर्स को बर्खास्त कर दिया गया, लेकिन स्टोर कीपर जिन्होंने बॉटल नर्स को दिया उसके खिलाफ कोई भी सख्त निर्णय नही लिया गया है। इस मामले में कलेक्टर ने जांच के आदेश दिए हैं। इसके अलावा अस्पताल की दवाइयों को चेक करने को भी कहा है।
 पॉलिटेक्निक छात्र ने फांसी लगाकर की खुदकुशी, पढ़े पूरी खबर

पॉलिटेक्निक छात्र ने फांसी लगाकर की खुदकुशी, पढ़े पूरी खबर

बालोद। रनचिरई थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम कलंगपुर में एक युवक ने फांसी लगाकर जान दे दी। घटना रविवार शाम 7 बजे की है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मृतक छात्र अशोक कुमार साहू पिता स्वर्गीय सनत कुमार साहू (22 वर्ष) ने घर में कमरे के सीलिंग हुक में अपने गमछा का फंदा बनाकर झूल गया। वह अपने घर की छत के ऊपर वाले रूम में रहकर पढ़ाई करता था।
 
 
घटना के समय घर पर उनकी भाभी थी। जो ऊपर रूम में अगरबत्ती व दीया जलाने के लिए गई, तब अपने देवर को फांसी पर छटपटाते देख तुरंत पड़ोस के एक युवक को बुलाकर फंदे पर झूलते देवर को नीचे उतारा। तब तक दम तोड़ दिया था। घटना के थोड़ी देर बाद उनका बड़ा भाई भी घर आ गया। इसके बाद कोटवार के साथ रनचिराई थाना पहुंचकर घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई।
 घर बनाने के लिए लाए गए रेत में मिला नरकंकाल, जांच में जुटी पुलिस

घर बनाने के लिए लाए गए रेत में मिला नरकंकाल, जांच में जुटी पुलिस

बालोद। छत्तीसगढ़ के बालोद जिले के एक गांव में सनसनी फैली हुई है। यहां पंचायत भवन निर्माण के लिए रेत मंगाया जिसमे नरकंकाल पाया गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम पंचायत खैरतराई में पंचायत भवन निर्माण के लिए रेत लाया गया। ग्राम पंचायत खैरतराई में पंचायत भवन निर्माण कार्य चल रहा है जिसके लिए चारामा से रेत मंगाया गया।
 
 
रात के वक्त रेत खाली करने के दौरान कंगाल को देखा गया। जिसकी सूचना तत्काल बालोद थाना में दी गई। बालोद थाना पुलिस मौके पर पहुंच कंकाल को अपने कब्जे में ले लिया। कंकाल काफी दिन पुराना हैं।

 
बालोद थाना के थाना प्रभारी ने बताया कि रेत कांकेर जिले के चारामा थाना क्षेत्र से लाने की जानकारी मिली है। फि लहाल पुलिस ने मर्ग कायम कर नरकंकाल को पीएम के लिए भेज दिया है।
 पत्नी की हत्या कर पति हुआ फरार, हंसिया से किया गले व चेहरे पर वार

पत्नी की हत्या कर पति हुआ फरार, हंसिया से किया गले व चेहरे पर वार

बालोद। दो पत्नी के साथ रह रहे  एक व्यक्ति ने हंसिया से गले व चेहरे पर वार कर अपनी एक पत्नी को मौत के घाट उतार दिया। घटना की रिपोर्ट देवरी थोन में दर्ज की गई है। 

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम फरफोद थाना देवरी जिला बालोद निवासी नरेन्द्र कुमार हल्बा 31 वर्ष ने रिपोर्ट दर्ज करायी है कि प्रार्थी का छोटा भाई बीरेन्द्र कुमार हल्बा 28 वर्ष पिता जोहरी राम हल्बा अपने दो पत्नी के साथ रह रहा था एक पत्नी के दो बच्चे है। 11 सितंबर की शाम 7 बजे के आस-पास प्रार्थी घर के बाहर गली में बैठा था, इसी दौरान सरीता बाई आयु 25 वर्ष जोर से बचाओ कहकर चिल्लाई घर अंदर जाकर देखा तो छोटा भाई बीरेन्द्र कुमार सब्जी काटने के धारदार हंसिया से सरिता बाई के गला, चेहरा व हाथ में प्राणघातक हमला कर वार कर रहा था। बीच बचाव करने पर छोटे भाई ने प्रार्थी को हंसिये से वार कर बाएं हाथ के मध्य उंगूली व बांये हाथ के कलाई को चोंट पहुंचाया हैं । सरिता बाई को 108 वाहन से उपचार कराने शासकीय अस्पताल देवरी लाये थे जहां उपचार दौरान उसकी मौत हो गई। वारदात को अंजाम देने के बाद से आरोपी फरार हो गया है। घटना की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 302 के तहत अपराध कायम कर उसकी गिरफ्तारी में जुटी हुई है।
 मिट्टी तेल छिड़ककर महिला ने खुद को किया आग के हवाले, गंभीर अवस्था में अस्पताल में भर्ती

मिट्टी तेल छिड़ककर महिला ने खुद को किया आग के हवाले, गंभीर अवस्था में अस्पताल में भर्ती

बालोद। जिला मुख्यालय के वार्ड क्रमांक 03 नयापारा अंतर्गत कपिलेश्वर मंदिर के पास एक महिला ने खुद के ऊपर केरोसिन छिड़ककर आत्महत्या की प्रयास की जिसके बाद महिला करीब आधे घंटे तक बीच रास्ते पर तड़पती रही स्थानीय लोगो द्वारा महिला को उपचार की मदद मिल सके इस उद्देश्य से 108 नम्बर पर भी डायल किया लेकिन लगातार नंबर लगाने के बावजूद 108 पर नम्बर नही लग सका इस बीच स्थानीय लोगो की सूचना पर बालोद नगर पालिका से स्वर्गरथ मंगवाकर बालोद जिला अस्पताल ले जाया गया बहरहाल महिला का इलाज जिला अस्पताल में जारी है।
बड़ी खबर: मिस कॉल से हुई फ्रेंडशिप, फिर युवक ने नाबालिग से किया दुष्कर्म

बड़ी खबर: मिस कॉल से हुई फ्रेंडशिप, फिर युवक ने नाबालिग से किया दुष्कर्म

बालोद। मोबाइल के मिस कॉल से नाबालिग लड़की से शुरू हुई दोस्ती के बाद युवक ने दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। पीडि़ता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी युवक के खिलाफ धारा 376 व 4,6 पॉक्सों एक्ट के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है। घटना गुण्डरदेही थाना क्षेत्र की है।

जानकारी के मुताबिक पीडि़त नाबालिग लड़की ने पुलिस से शिकायत में बताया, कि दो वर्ष पहले एक अनजान नंबर से उसके मोबाइल पर मिस कॉल आया। कॉल बैक करने पर युवक ने अपना नाम खिलेंद्र कुमार रात्रे निवासी धमतरी का बताया। इसके बाद युवक से फोन के जरिए दोनों में जान पहचान और दोस्ती हो गई। दो साल तक दोनों की बातचीत होती रही। बीते 19 अगस्त को पीडि़ता के घर पर कोई नहीं था, इसी का फायदा उठाकर आरोपी वहां पहुंचा, और नाबालिग से जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाया, और घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया। पीडि़ता के परिजन जब घर लौटे, तो उसने घटना के बारे में उन्हें जानकारी दी, जिसके बाद गुण्डरदेही पुलिस को की गई। नाबालिग की शिकायत पर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।
बड़ी खबर : 65 वर्ष के बुजुर्ग ने किया 5 बच्चियों के साथ बलात्कार, पढ़ें पूरी खबर

बड़ी खबर : 65 वर्ष के बुजुर्ग ने किया 5 बच्चियों के साथ बलात्कार, पढ़ें पूरी खबर

बालोद | छत्तीसगढ़ के  बालोद जिले से एक बड़ी खबर सामने आई है | खबर मिली है कि बालोद जिले के अर्जुन्दा थाना क्षेत्र मे 65 साल के बुजुर्ग ने 5 बच्चियों से दुष्कर्म किया है। मामले में शिकायत के बाद आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने अपनी विवेचना शुरू कर दी है। 

पढ़ें : भाजपा नेता पूर्व सरपंच की धारदार हथियार से हुई हत्या, आरोपी ने खुद को किया पुलिस के हवाले

जानकारी के अनुसार अर्जुन्दा थाना क्षेत्र में 65 साल का रेखूराम सात से नौ साल की बच्चियों को अपने घर दोपहर में 12 से 4 बजे के बीच टीवी देखने के लिये बुलाता था और बच्चियों की नादानी का फायदा उठा कर उनसे छेड़छाड़ करता था। इसका खुलासा उस समय हुआ जब एक बच्ची ने तकलीफ और दर्द होने की बात अपनी मां को बताई। परिजनों से मिली शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपी को पॉक्सो एक्ट के तहत गिरफ्तार कर रिमांड पर जेल भेज दिया है ।

 
 सुबह की सैर पर निकले दो बच्चों को हाइवा ने कुचला, एक कि मौत-दूसरा गंभीर

सुबह की सैर पर निकले दो बच्चों को हाइवा ने कुचला, एक कि मौत-दूसरा गंभीर

बालोद। जिले के गुंडरदेही से धमतरी मुख्य मार्ग में मॉर्निंग वॉक में निकले दो स्कूली बच्चों को अज्ञात वाहन ने अपने चपेट में ले लिया। जिससे एक बच्चे की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। वहीं दूसरा बालक गंभीर रूप से घायल हो गया है। उसे अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया है। घटना ग्राम मोखा रजोली के बीच रास्ते की है। यहां रोज स्कूली बच्चे सुबह 4 से 5 बजे मॉर्निंग वॉक पर जाते हैं। रविवार को भी बच्चे मॉर्निंग वॉक कर घर लौट रहे थे, तभी गुंडरदेही की ओर से आ रहे तेज रफ्तार अज्ञात वाहन ने चपेट में लिया। दुर्घटन के बाद वाहन चालक मौके से फरार हो गया।
 
 
सड़क दुर्घटना में जान गंवाने वाले कक्षा दसवीं के छात्र 16 वर्षीय दीपांशु साहू पिता धनीराम साहू के सिर पर गंभीर चोट आई थी। उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया। कक्षा नवमीं के 14 वर्षीय छात्र मिथुन साहू पिता राजेश साहू के कमर में गंभीर चोट आई है। उसे संजीवनी 108 एंबुलेंस से गुंडरदेही सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया गया। प्राथमिक उपचार के बाद उसे राजनांदगांव रेफर कर दिया गया।
 
 
घटना के समय अंधेरा होने से लोग वाहन को पहचान नहीं सके। साथी की मौत से सभी बच्चे दहशत में हैं। ग्राम मोखा के बच्चे की सड़क दुर्घटना मौत से पूरे गांव में शोक है। रनचिराई पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच में जुट गई है। रविवार सुबह क्षेत्र से गुजरने वाले वाहनों की पतासाजी में पुलिस जुट गई है।
 बड़ी खबर: छत्तीसगढ़ में अब एक और जिले  में 23 से 29 तक बंद रहेंगे व्यावसायिक प्रतिष्ठान और बाजार

बड़ी खबर: छत्तीसगढ़ में अब एक और जिले में 23 से 29 तक बंद रहेंगे व्यावसायिक प्रतिष्ठान और बाजार

बालोद। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी जनमेजय महोबे ने आदेश जारी कर कहा है कि छत्तीसगढ़ शासन सामान्य प्रशासन विभाग मंत्रालय महानदी भवन अटल नगर नया रायपुर के परिपत्र के द्वारा कोरोना वायरस के संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए जिला स्तर पर प्रतिबंधात्मक आदेश के माध्यम से कड़ाई की जा सकती है, निर्देशित किया गया है। अत: कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम तथा आमजनों की सुरक्षा के दृष्टिकोण से जिला बालोद के समस्त नगरीय क्षेत्रों (नगर पालिका परिषद बालोद, दल्लीराजहरा तथा नगर पंचायत गुरुर, गुण्डरदेही, अर्जुंदा, डौंडीलोहारा, डौंडी, चिखलाकसा क्षेत्र) में 23 जुलाई 2020 की मध्य रात्रि 12.00 बजे से 29 जुलाई 2020 की मध्य रात्रि 12.00 बजे तक व्यावसायिक प्रतिष्ठान तथा बाजार बंद रखने का आदेश पारित किया गया है।

जारी आदेश अनुसार आवश्यक सेवाएं प्रदान करने वाले निम्न कार्यालय व प्रतिष्ठान को उपरोक्त प्रतिबंधों से बाहर रखा गया है:- जिले के नगरीय सीमा क्षेत्र के समस्त शासकीय, अद्र्धशासकीय कार्यालयों को तत्काल प्रभाव से बंद किया जाता है। सभी पदाधिकारी तथा कर्मी अपने घर से शासकीय कार्यों का निष्पादन करेंगे । आवश्यकता पडऩे पर कार्यालय प्रमुख उन्हें कार्यालय बुला सकेंगे। कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, उप पुलिस अधीक्षक, कोषालय, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय एवं उनके अधीनस्थ समस्त कार्यालय, अनुविभागीय दण्डाधिकारी, तहसील, थाना चैकी व नगरीय निकाय कार्यालय खुले रहेंगे। उपरोक्त शासकीय कार्यालयों में कार्यालय प्रमुख की अनुमति के बिना आगंतुकों का प्रवेश नहीं होगा। पंजीयन कार्यालय (एप्प-पास के माध्यम से प्राप्त निर्धारित समय सीमा का कड़ाई से पालन करने की शर्त पर) खुले रहेंगे। भारत सरकार के अधीनस्थ सेवा से संबंधित पदाधिकारी एवं कर्मी, कानून व्यवस्था एवं स्वास्थ्य सेवा से संबंधित पदाधिकारी एवं कर्मी, स्वास्थ्य सेवाएं (जिसके अंतर्गत सभी अस्पताल, लाइसेंस प्राप्त पंजीकृत क्लीनिक भी शामिल है), दवा दुकान, चश्मे की दुकान, दवा उत्पादन की इकाई एवं संबंधित परिवहन खाद्य आपूर्ति से संबंधित परिवहन सेवाएं। उचित मूल्य की दुकान (सार्वजनिक वितरण प्रणाली) एवं छत्तीसगढ़ शासन के खाद्य विभाग द्वारा जारी आदेश में घोषित आवश्यक सेवाएं।
 
 
खाद्य पदार्थ, किराने का सामान, दूध, ब्रेड, फल एवं सब्जी चिकन, मटन, मछली और अंडा के उत्पादन/विक्रय/वितरण/भंडारण/परिवहन की गतिविधियां। ऐसी संस्थाओं में एक समय पर, एक ही स्थान में पॉच से अधिक ग्राहक एकत्रित नहीं होंगे तथा प्रत्येक तीन घंटों में अपने परिसर की साफ सफाई की जाए, ऐसी व्यवस्था उक्त संस्था प्रबंधक को बनाए रखना होगा। इस कंडिका में लॉकडाउन से प्राप्त छूट विक्रय एवं वितरण के लिए प्रात: 7.00 बजे से अपरान्ह 02.00 बजे तक रहेगी। दुग्ध संयंत्र (मिल्क प्लांट)/डेयरी/दूध गंगा में पशुपालकों से दूध संग्रहण का कार्य रात्रि 8.00 बजे तक किया जा सकेगा। घर पर जाकर दूध बांटने वाले दूध विक्रेता एवं न्यूजपेपर हॉकर प्रात: 6.00 बजे से 9.00 बजे तक लॉकडाउन से मुक्त रहेंगे। होटल एवं रेस्टोरेंट बंद रहेंगे लेकिन घर पहुंच सेवाएॅ दी जा सकेगी। मास्क, सैनिटाईजर, दवाईयां, एटीएम वाहन, एलपीजी गैस सिलेंडर का वाहन एवं अन्य आवश्यक वस्तुओं/सेवाएॅ, जो इस आदेश में उल्लेखित हो, उनको परिवहन करने वाले वाहन। बिजली, पेयजल आपूर्ति एवं नगरपालिका सेवाए, न्यूनतम उपार्जन मूल्य पर उपार्जन से सम्मिलित एजेंसियों सहित कृषि उत्पादों के उपार्जन में शामिल एजेंसियां इसमें मंडी बोर्ड द्वारा संचालित अथवा राज्य शासन द्वारा अधिसूचित मंडिया भी शामिल है। जेल, अग्निशमन सेवाएॅ, एटीएम, टेलीकॉम /इंटरनेट सेवाएं/आईटी आधारित सेवाएं, पेट्रोल/डीजल पंप एवं एलपीजी /सीएनजी गैस के परिवहन एवं भंडारण की गतिविधियां, पशु चारा, कृषि आदान विक्रय इकाइयां, कृषि मशीनरी विक्रय, इससे संबंधित स्पेयर पाट्र्स एवं मरम्मत की दुकानें (इसकी सप्लाई चैन सहित), पोस्टल सेवाए, सुरक्षा कार्य में लगी सभी एजेंसियां (निजी एजेंसियों सहित), अनवरत उत्पादन प्रक्रिया अपनाने वाले औद्योगिक संस्थान अथवा फैक्ट्री (जिसमें ब्लास्ट फर्नेस, बायलर आदि हो ) सीमेंट, स्टील, शक्कर, उर्वरक एवं खान (माइंस)। ये सभी संस्थान न्यूनतम अनिवार्य आवश्यकता तक ही कर्मचारियों/अधिकारियों का उपयोग करेंगे एवं संक्रमण विस्तार को दृष्टिगत रखते हुए भारत शासन, राज्य शासन, जिला प्रशासन तथा समय-समय पर अन्य शासकीय संस्थानों के द्वारा महामारी से सुरक्षा हेतु दिए जा रहे निर्देशों अक्षरश: पालन अनिवार्य रूप से करेंगे। प्रिंट/इलेक्ट्रॉनिक मीडिया तथा छत्तीसगढ़ शासन जनसम्पर्क संचालनालय द्वारा जारी पत्र में उल्लेखित सेवाएं। राज्य सरकार द्वारा विशेष आदेश से निर्धारित कोई सेवा। सभी धार्मिक एवं सांस्कृतिक एवं पर्यटन स्थल आम जनता के लिए पूर्णत: बंद रहेंगे। प्रभावित क्षेत्र के सभी नागरिक अपने घर पर रहेंगे। बुनियादी आवश्यकताओं की पूर्ति के क्रम में बाहर जाने पर से सामाजिक दूरी के दिशानिर्देशों का अनुपालन करेंगे। किसी भी स्थिति में तीन से अधिक व्यक्तियों (इसमें ड्राइवर और दो यात्री शामिल है) को घर से बाहर जाने से प्रतिबंधित किया जाता है। (आपातकालीन संस्थागत कारण को छोड़कर)। 

जिला बालोद के नगरीय सीमा क्षेत्र में स्थित समस्त शासकीय एवं अशासकीय बैंकों के लिए निम्नानुसार आदेश जारी किए गए हैं:- सभी बैंक अपने संस्थान में न्यूनतम अनिवार्य आवश्यकता तक ही कर्मचारियों/अधिकारियों का उपयोग करेंगे एवं संक्रमण विस्तार को दृष्टिगत रखते हुए शासन द्वारा महामारी से सुरक्षा हेतु भारत शासन, राज्य शासन, जिला प्रशासन तथा समय-समय पर अन्य शासकीय संस्थानों के द्वारा महामारी से सुरक्षा हेतु दिए जा रहे निर्देशों अक्षरश: पालन अनिवार्य रूप से करेंगे। सभी बैंकों के प्रबंधन द्वारा कर्मचारियों के सामूहिक आवागमन हेतु वाहन व्यवस्था किसी भी स्थिति में उपलब्ध नहीं कराई जाएगी। सभी बैंक अपने संस्थान में अधिकतम पॉच ग्राहकों को ही प्रवेश देंगे। बैंक द्वारा संचालित एटीएम में पर्याप्त मात्रा में मुद्रा की उपलब्धता बैंक प्रबंधक द्वारा सुनिश्चित की जाएगी।

 छत्तीसगढ़ शासन की अधिसूचना दिनांक 13 मार्च 2020 के अंतर्गत उल्लेख है कि किसी व्यक्ति/संस्था/संगठन/प्रतिष्ठान द्वारा कोरोना वायरस के रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु जारी किसी भी निर्देश का उल्लंघन किया जाता है तो वह भारतीय दंड संहिता 1860 (1860 का 45) की धारा 188 के अंतर्गत दंडनीय अपराध की श्रेणी के अंतर्गत है अत: किसी व्यक्ति/संस्था/संगठन/प्रतिष्ठान द्वारा उपर्युक्त आदेश एवं इसमें दिए गए निर्देशों का उल्लंघन नहीं किया जाएगा। आदेश के उल्लंघन किए जाने पर नियमानुसार सख्त कार्रवाई की जाएगी। महामारी रोग अधिनियम 1897 एवं इसके संदर्भ में शासन द्वारा जारी पत्र दिनांक 13 मार्च 2020 के संदर्भ में इस कार्यालय द्वारा पूर्व में जारी समस्त आदेशों को अधिक्रमित करते हुए यह आदेश जारी किया गया है। यह आदेश तत्काल प्रभावशील होगा।
जिले के ग्राम भेडिय़ा नवागॉव, सोहतरा, वनपण्डेल और खुर्सीटीकुर में चिन्हांकित चौहद्दी कन्टेनमेंट जोन घोषित

जिले के ग्राम भेडिय़ा नवागॉव, सोहतरा, वनपण्डेल और खुर्सीटीकुर में चिन्हांकित चौहद्दी कन्टेनमेंट जोन घोषित

बालोद | कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री जनमेजय महोबे ने आदेश जारी कर बालोद तहसील के ग्राम भेडिय़ा नवागॉव और ग्राम सोहतरा तथा डौण्डी तहसील के ग्राम वनपण्डेल और ग्राम खुर्सीटीकुर में कोरोना पॉजिटिव केस पाए जाने के कारण कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलाव को दृष्टिगत रखते हुए उक्त ग्रामों में चिन्हांकित चैहद्दी को कन्टेनमेंट जोन घोषित किया है। जारी आदेश में ग्राम भेडिय़ा नवागॉव में मरीज के मकान के पूर्व दिशा में तेमुराम का मकान, पश्चिम दिशा में पनेश्वर साहू का मकान, उत्तर दिशा में पनेश्वर साहू एवं गिरधारी साहू का मकान और दक्षिण दिशा में लोकनाथ का मकान को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। इसी प्रकार ग्राम सोहतरा में आंगनबाड़ी केन्द्र परिसर के पूर्व दिशा में मुख्य मार्ग बस्ती की ओर, पश्चिम दिशा में गली, तामेश्वर का घर, उत्तर दिशा में प्राथमिक शाला परिसर और दक्षिण दिशा में सामुदायिक भवन को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। ग्राम वनपण्डेल में शासकीय प्राथमिक शाला के पूर्व दिशा में प्रकाश यादव का बाड़ी, पश्चिम दिशा में रास्ता, उत्तर दिशा में रास्ता और दक्षिण दिशा में सरजुराम का लगानी को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। ग्राम खुर्सीटीकुर में आंगनबाड़ी केन्द्र के पूर्व दिशा में खाली जगह जगजीवन, पश्चिम दिशा में मंगतीन, बेलसिंग, युगल का मकान, उत्तर दिशा में लगानी खेत रामप्रसाद और दक्षिण दिशा में मार्ग को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। उक्त कंटेनमेंट जोन के अतिरिक्त तीन किलोमीटर की परिधि को बफर जोन घोषित किया गया है। 

जारी आदेश अनुसार कन्टेनमेंट जोन में निम्नानुसार कार्यवाही की जावेगी:- उक्त चिन्हांकित क्षेत्र अंतर्गत सभी दुकानें एवं अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे। प्रभारी अधिकारी द्वारा कन्टेनमेंट जोन में घर पहुॅच सेवा के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की जाएगी। कन्टेनमेंट जोन अंतर्गत सभी प्रकार के वाहनों के आवागमन पर प्रतिबंध रहेगा। मेडिकल इमरजेंसी को छोड़कर अन्य किसी भी कारण से घर से बाहर निकलना प्रतिबंधित रहेगा। कन्टेनमेंट जोन की निगरानी हेतु लगातार पुलिस पेट्रोलिंग की जावेगी। जिला चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा संबंधित क्षेत्र में स्वास्थ्य की निगरानी एवं निर्देशानुसार सेम्पल इत्यादि जॉच हेतु लिया जाना सुनिश्चित किया जावेगा। 
कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी द्वारा जारी आदेश में कन्टेनमेंट जोन में केवल एक प्रवेश एवं निकास की व्यवस्था हेतु बेरिकेटिंग, कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग, प्रवेश एवं निकास सहित क्षेत्र की सेनेटाईजिंग व्यवस्था एवं आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने, स्वास्थ्य टीम को एस.ओ.पी. अनुसार दवा, मास्क, पी.पी.ई.किट इत्यादि उपलब्ध कराने एवं बायो मेडिकल अपशिष्ट प्रबंधन, घरों का एक्टिव सर्विलांस और खण्ड स्तर पर स्थापित नियंत्रण कक्ष में व्यवस्था हेतु प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया गया  है। यह आदेश तत्काल प्रभावशील होगा। 
 
सीमा विवाद के चलते ग्रामीणों के दो पक्षों के बीच मारपीट, लिया बलवा का रूप कई लोग घायल

सीमा विवाद के चलते ग्रामीणों के दो पक्षों के बीच मारपीट, लिया बलवा का रूप कई लोग घायल

बालोद। सीमा विवाद को लेकर दो गांवों के ग्रामीणों में आपसी तनातनी ने आज बलवा रूप ले लिया। पटवारी को सीमांकन प्रस्ताव देने पहुंचे ग्रामीण आपस में ही भिड़ गए। झूमझटकी में कई लोग जख्मी हो गए जिन्हें इलाज के लिए शासकीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं मामले की जानकारी के बाद पुलिस आवश्यक कार्यवाही में जुटी हुई है।

गुरुर ब्लॉक के ग्राम पंचायत पेंवरो और ग्राम पंचायत घोघोपूरी के ग्रामीणों के बीच झूमाझटकी हुई है। दरअसल दोनों गांवों के बीच एक नाला है जिसे लेकर पूरा विवाद खड़ा हुआ है। दोनों गांव के ग्रामीण चाहते हैं कि नाला उनके गांव की सीमा में दिया जाए। पटवारी को इसके लिए दोनों पक्षों से प्रस्ताव मिले हैं जिसके बाद वह भी दुविधा में हैं। इसके चलते सीमांकन का कार्य अटका हुआ है।

जिस गांव में होगा नाला वहां के ग्रामीणों को ही मिलेगा रोजगार-
लॉकडाउन के चलते ग्रामीण इलाकों में आर्थिक संकट की स्थिति निर्मित हो गई है। भारत सरकार रोजगार गारंटी कार्यक्रम के तहत जॉब कार्डधारियों को रोजगार उपलब्ध करा रही है। जिसमें ग्रामसभा के माध्यम से रोजगार कार्य का चयन कर शासन को भेजा जाता है। तत्पश्चात शासन से स्विकृति मिलने पर काम शुरू किया जाता है। आने वाले समय में नाले से संबंधित कार्यों का प्रस्ताव मिलने पर उसी गांव के लोगों को वहां काम मिलेगा जिस गांव में नाला है। यही वजह है कि दोनों गांव के ग्रामीणों के बीच विवाद की स्थिति बन गई है।
किराना दुकान के गोदाम में लगी आग, दमकल विभाग की गाडिय़ां मौके पर

किराना दुकान के गोदाम में लगी आग, दमकल विभाग की गाडिय़ां मौके पर

बालोद। एक किराना दुकान व गोदाम में शाट सर्किट की वजह से अचानक आग लग गई। इस आग ने धीरे-धीरे विकराल रूप ले लिया। घटना की सूचना मिलने पर दमकलकर्मी मौके पर पहुंचे।

यह घटना डौंडी थाना क्षेत्र की है, जहां डौंडी नगर के एक किराना दुकान व गोदाम में लगी भीषण आग ने पूरी दुकान को अपनी चपेट में ले लिया। आगजनी की इस घटना में दुकान में रखे लाखों रुपये का सामान जलकर खाक हो गया। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची दमकल की गाडिय़ां आग आग पर काबू पाने की कोशिश में जुट गई है।  
जिले के क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे बच्ची की मौत, जानिए क्या था मौत का कारण

जिले के क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे बच्ची की मौत, जानिए क्या था मौत का कारण

बालोद। जिले के टटेंगा क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे एक बच्ची की मौत हो गई है। यह बच्ची महज साढ़े चार महीने के थी, जिसकी तबियत बिगडऩे पर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बच्ची ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया है। फिलहाल अस्पताल में तहसीलदार सहित पुलिस बल तैनात किय गया है।

गौरतलब हो कि प्रदेश में बड़ी संख्या में प्रवासी मजूदूरों को क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया है, इनमें कई जगहों पर मजूदर महिलाओं के साथ बच्चे भी हैं, ऐसे में उन्हे भी साथ में ही रखा जा रहा है, इसी दौरान भीषण गर्मी और अन्य कई कारणों से बच्चों के साथ इस प्रकार के हादसे होने की गुंजाइश है।
इलाज के दौरान युवती की तबियत बिगड़ने से हुई मौत, जाने कहा की है खबर

इलाज के दौरान युवती की तबियत बिगड़ने से हुई मौत, जाने कहा की है खबर

बालोद जिले के डौंडी लोहारा में एक कोरोना संदिग्ध युवती की मौत हो गई है जिससे प्रशासनिक अमले में हड़कंप मच गया है। मिली जानकारी के मुताबिक पचेड़ा गांव के क्वारंटाइन सेंटर में रह रही युवती ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया है। हालांकि युवती का कोरोना टेस्ट रिपोर्ट आना बाकी है पर प्रशासन पूरी तरह अलर्ट है।
बता दें कि मृतिका युवती 14 मई को आंध्रप्रदेश से बालोद जिले में आई थी, जिसे आने के बाद डौंडी क्षेत्र के पचेड़ा गांव में क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया था। युवती की अचानक तबीयत बिगड़ने लगी। तबियत बिगड़ने पर बालोद के बाद युवती को राजनांदगांव लाया गया था। डॉक्टरों ने हालत बिगड़ता देख पुनः उसे रायपुर रिफर किया गया रायपुर पहुंचने से पहले ही रास्ते में युवती ने दम तोड़ दिया है।

 

जिले में कोरोना पाजीटिव केश मिलने के बाद कलेक्टर के आदेश पर इलाके को किया प्रतिबंधित

जिले में कोरोना पाजीटिव केश मिलने के बाद कलेक्टर के आदेश पर इलाके को किया प्रतिबंधित

दल्लीराजहरा। बालोद जिला में एक नए कोरोना पॉजिटिव केस मिलने के बाद शुक्रवार को जिला कलेक्टर रानू साहू ने आदेश जारी कर डौंडी ब्लाक के कोकान गांव के साक्षात आसपास की जगहों को प्रतिबंधित क्षेत्र घोषित कर दिया है। प्रतिबंधित क्षेत्र के चिन्हांकित एरिया के अंतर्गत सभी दुकाने और अन्य वाणिज्य प्रतिष्ठान बंद रहेंगे। प्रभारी अधिकारी के माध्यम से घर पहुंच सेवा से जरूरी वस्तुओं की आपूर्ति की जाएगी प्रतिबंधित जोन के अंतर्गत सभी प्रकार के वाहनों के आवागमन पर प्रतिबंध रहेगा मेडिकल इमरजेंसी को छोड़कर अन्य किन्हीं कारणों से बाहर निकलना प्रतिबंधित रहेगा जानकारी के अनुसार जिला चिकित्सालय एवं स्वास्थ्य अधिकारी संबंधित क्षेत्र में सेम्पल जांच करेंगे।

ग्राम कोकन में मुम्बई से लौटे युवक की सैम्पल रिपोर्ट कोरोना पाजि़टिव आने के बाद क्षेत्र में दहशत का माहौल है।एम्स से पुष्टि होते ही रात 10बजे के बाद प्रशासनिक अधिकारी वह स्वास्थ्य आमला गांव पहुंचा कोरोना पॉजिटिव युवक को रायपुर तथा उसके संपर्क में आने वाले 3 लोगों को बालोद में लाया गया गांव के 3 मिनट किलोमीटर के दायरे में लोगों को उस क्षेत्र में प्रवेश करने से रोक दिया गया है जिससे करोना जैसी संक्रामक बीमारी से दूसरों को बचाया जा सके। गांव के परिजन व अन्य लोग जो युवक के संपर्क में आए हैं उनको चिन्हांकित कर स्वास्थ्य परीक्षण कर होम आइसोलेशन किया गया है । अनावश्यक आने जाने वालों से पूछताछ कर मार्ग परिवर्तित कर उनका रूट बदला जा रहा है ।बता दें कि 3 किलोमीटर के दायरे में चेक पोस्ट लगाकर लोगों को गांव में प्रवेश वर्जित करने संबंधित निर्देश दे दिए गए हैं, साथ ही चिखला कसा ,दल्ली राजहरा नगर, टाउनशिप क्षेत्र एवं आसपास क्षेत्र का भ्रमण कर लोगों को लॉक डाउन नियमों के पालन करने हेतु जागरूक किया जा रहा है।

ज्ञात रहे कि दल्ली राजहरा से 5 किलोमीटर दूर कोकान गांव के युवक 23वर्ष को कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि एम्स के बाद जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग ने कर दी है किया युवक 11 मई को मुंबई से गांव लौटा था। मुंबई में वह मजदूरी का काम करता था, इस युवक के रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद इसे गुरुवार की रात एम्स रायपुर में भर्ती किया गया तथा इलाके को सील कर दिया गया है युवक के साथ मुंबई से आने वाले तीन युवकों को गुरुवार की रात को ही जिला मुख्यालय क्वॉरेंटाइन सेंटर लाया गया।
 बड़ी खबर: सब्जी व्यापारियों और आर्मी के जवान ने की पुलिस पर तलवार से ताबड़तोड़ हमला

बड़ी खबर: सब्जी व्यापारियों और आर्मी के जवान ने की पुलिस पर तलवार से ताबड़तोड़ हमला

बालोद| सब्जी व्यापारियों को समझाने पहुंची पुलिस पर लोगो ने हमला बोल दिया| आपको बता दे की कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने किए लॉक डाउन के बीच पहली बार छत्तीसगढ़ में सब्जी व्यापारियों ने पुलिस जवानों पर हमला कर दिया। गुरुवार को बालोद जिले के अर्जुंदा में पुलिस सब्जी बाजार में व्यापारियों को तय समय पर सब्जी दुकान लगाने की समझाइश दे रही थी। इसी बीच कुछ लोगों ने जवानों पर हमला बोल दिया। पुलिस और सब्जी व्यापारियों के बीच हुई इस झड़प में दो जवान बुरी तरह घायल हो गए। दुर्ग आईजी विवेकानंद सिन्हा ने बताया कि घायल जवानों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। झड़प के बाद सुरक्षा की दृष्टि से अर्जुंदा में अतिरिक्त जवानों को तैनात किया गया है। स्थिति काबू में है। उपद्रव करने वाले दो लोगों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ कार्रवाई की गई है।

आर्मी जवान व व्यवसायी ने कीया हमला- 
पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक यह घटना गुरुवार दोपहर 12 बजे की है। कोरोना वायरस के चलते सब्जी बाजार में लगे भीड़ को व्यवस्थित करने पुलिस जवानों की तैनाती की गई, तभी एक आर्मी जवान व व्यवसायी ने सुरक्षा में लगे पुलिस कर्मी से धक्का-मुक्की करने लगा। पुलिस जवानों ने इसका विरोध कर व्यवस्थित करने का प्रयास किया तो पुलिस के साथ ही गाली-गलौच किया। जिसके बाद विवाद इतना बढ़ गया की आर्मी जवान व सब्जी व्यापारी ने तलवार व पत्थर से आरक्षक विकास राजपूत व कमलेश रावटे पर हमला कर दिया। हमले में कांस्टेबल विकास राजपूत का सिर फट गया।

बड़ी संख्या में पुलिस जवान तैनात-
थाना प्राभारी अरुण नेताम ने बताया कि यह दु:खद घटना है। पुलिस जवान लोगों की सुरक्षा में लगी हुई है लेकिन लोग इस संकट की घड़ी में खुद की सुरक्षा करने के बजाए सुरक्षा में लगे जवानों पर ही हमला कर रहे है। इस घटना के बाद एएसपी डीआर पोर्ते, एसडीओपी दिनेश सिन्हा सहित बड़ी संख्या में पुलिस जवानों की तैनाती कर दी है। पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

की जाएगी सख्त कार्यवाई- 
अर्जुंदा में स्थानीय प्रशासन ने सब्जी बाजार और दुकान खुलने का समय निर्धारित किया है। इसी बीच कुछ सब्जी व्यापारी तय समय से पहले सब्जी की दुकान लगाने लगे। भीड़ बढ़ता देख जवानों ने समझाइश दी। जिसके बाद कुछ लोग भड़क गए और उल्टा जवानों पर हमला कर दिया। पुलिस ने बताया कि उपद्रवियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। लॉक डाउन के बीच पुलिस जवानों पर हमले का छत्तीसगढ़ में यह पहला मामला है। दुर्ग आईजी ने बताया कि सख्ती जरूरी है, उपद्रवी बख्शे नहीं जाएंगे।
 
अत्यावश्यक सेवाओं के प्रदाय के लिए निजी संस्थान प्रात: 07 बजे से अपरान्ह 02 बजे तक ही खुलेगी, कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी ने जारी किया संशोधित आदेश

अत्यावश्यक सेवाओं के प्रदाय के लिए निजी संस्थान प्रात: 07 बजे से अपरान्ह 02 बजे तक ही खुलेगी, कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी ने जारी किया संशोधित आदेश

बालोद | कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्रीमती रानू साहू ने संशोधित आदेश जारी कर अत्यावश्यक सेवाओं के प्रदाय हेतु निजी संस्थानों के खुलने का समय प्रात: 07 बजे से 02 बजे अपरान्ह तक निर्धारित किया है। जिसकी सूची निम्नानुसार है:-

निजी संस्थाए :- दैनिक उपयोग की वस्तुओं को बेचने संबंधी किराना दुकान, प्रोविजन स्टोर, सब्जी एवं फल से संबंधित स्थाई दुकान, पेट्रोल पम्प, गैस एजेंसियॉ, गुड्स कैरियर से संबंधित सेवाए एवं उनको संचालित करने वाले संस्थान, मोबाईल रिचार्ज दुकान एवं सब्जी मंडियॉ शामिल है। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी ने जारी आदेश में कहा है कि उपरोक्त आदेश का पालन जिले के समस्त प्रतिष्ठान के संचालक करना सुनिश्चित करेंगें। निषेधाज्ञा का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाएगी। 
 
व्यापारी परिवार ने युवक को बनाया बंदी और की मारपीट, जाने क्या है पूरा मामला

व्यापारी परिवार ने युवक को बनाया बंदी और की मारपीट, जाने क्या है पूरा मामला

दल्लीराजहरा। नगर के एक व्यापारी परिवार के चार भाइयों एवं उनके दो पुत्रों द्वारा एक युवक को घर में बंधक बनाकर मारपीट की गई मामला आपसी लेनदन का बताया जा रहा है। इस संबंध में राजहरा थाना टीआई टीएस पट्टाबी ने बताया कि वार्ड नंबर 27 में रहने वाला युवक उल्हास देवांगन 21 वर्ष की दोस्ती विकास मित्तल नामक युवक से थी जिससे उसने 3000 उधार लिए थे इस रुपए को लौटाने के लिए उल्लास देवांगन 9 मार्च को गुप्ता चौक से विकास की दुकान की तरफ जा रहा था उल्लास के साथ उसका मित्र चुंम्मन भी था। दुकान के समीप पहुंचते ही विकास मित्तल ने उसके साथ गाली गलौज की साथ ही धक्का-मुक्की भी किया। विकास मित्तल ने उल्लास को पकड़कर अपने घर के अंदर ले गया जहां एक कमरे में उसके साथ मनोज मित्तल दीपक मित्तल प्रहलाद मित्तल एवं विजय मित्तल सहित स्वयं विकास एवं संयम मित्तल ने उसके साथ मारपीट की तथा उसके पास रखे?5000 को छीन लिया तथा उसके मोबाइल को तोड़ दिया। यह घटना रात के 9:30 -10:00 बजे के आसपास की थी जब उल्हास दुकान के अंदर से बाहर नहीं आया तब उसके मित्र चुम्मन ने घर आकर उसके परिजनों को खबर दी जिससे मोहल्ले वासी एवं उसके परिवार वाले मित्तल की दुकान के पास आकर उल्लास के बारे में पूछताछ किए लेकिन मित्तल परिवार ने कहा उल्लास चला गया है। इस दौरान काफी संख्या में भीड़ इक_ी हो गई थी तथा उत्तेजना में थी भीड़ किसी अप्रिय घटना को अंजाम ना दें इस बात को देखते हुए सीएसपी शेख अलीम खान एवं थाना प्रभारी पीएस पट्टाबी ने अपनी सूझबूझ के साथ भीड़ को वहां से हटाया।

पुलिस द्वारा मित्तल के घर की एवं दुकान की तलाशी ली गई जहां ऊपर के एक कमरे में उल्लास देवांगन को बंद करके रखा गया था जिसे पुलिस ने कमरे को खुलवा कर उसे बाहर निकाला ,उस दौरान उल्लास के शरीर पर कपड़ा नहीं था पुलिस के जवानों ने युवक को घर से बाहर निकाला। इधर मित्तल परिवार के युवकों ने कहा कि उल्लास देवांगन चोरी करने के नियत से आया था हालांकि इस बात में कोई सच्चाई नहीं थी सिर्फ अपने बचाव के लिए ऐसा कहा गया।

पुलिस ने मौके पर उपस्थित दीपक मित्तल, विजय मित्तल एवं विकास मित्तल को पकड़कर थाने ले गए शेष आरोपी मनोज मित्तल, प्रहलाद मित्तल एवं संयम मित्तल किसी तरह मौका निकाल कर भाग खड़े हुए जो अब तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। पीडि़त पक्ष उल्हास देवांगन ने राजहरा पुलिस को पूरी घटना की जानकारी क्रमवार दी जिसके चलते पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 365 ,368, 323, 395, 342 ,506 एवं 294 के तहत मामला पंजीबद्ध कर आरोपी दीपक मित्तल एवं विजय मित्तल को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।
पिकअप की ठोकर से स्कूटी सवार महिला इंजीनियर की मौके पर मौत, पढ़े पूरी खबर...

पिकअप की ठोकर से स्कूटी सवार महिला इंजीनियर की मौके पर मौत, पढ़े पूरी खबर...

बालोद। जिले के डौंडी में तेज रफ्तार पिकअप की ठोकर से स्कूटी सवार युवती गंभीर रूप से घायल हो गई. उपचार के लिए अस्पताल लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।


जानकारी के अनुसार, डौंडी से भानुप्रतापुर की ओर जा रही एक तेज रफ्तार बिना नंबर के पिकअप ने बंधिया टोला के पास डौडी जनपद में अपने ड्यूटी पर जा रही स्कूटी सवार रीना केराम को अपनी चपेट में ले लिया. डौंडी जनपद की मनरेगा शाखा में इंजीनियर के पद पर कार्यरत रीना केराम को दुर्घटना में सिर पर गंभीर चोट पहुंची.

आसपास के लोगों ने 108 की मदद से उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. डौंडी पुलिस ने मामले के आरोपी पिकअप ड्राइवर को पकड़ लिया है, वहीं मामला पंजीबद्ध कर कार्रवाई में जुट गई है।
+ Load More