कोरोना अपडेट : प्रदेश के इस जिले में कोरोना ने ढाया कहर, छत्तीसगढ़ में कल के मुकाबले आज बढ़ी नए कोरोना मरीजों की संख्या    |    बड़ा हादसा: खाई में गिरी मेटाडोर ,10 की मौत व 15 घायल, पीएम मोदी ने जताया शोक    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज 2 की हुई मृत्यु, आज इतने मरीजों की हुई पहचान, देखे जिलेवार आकड़े    |    मौसम अलर्ट: उत्तर-पूर्वी मानसून की आहट से इन राज्यों पर मंडराया बारिश का खतरा    |    बड़ी खबर: पटाखे की गोदाम में लगी भयानक आग से 5 की गई जान, 9 लोग घायल    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में फिर पैर पसारने लगा है कोरोना, छत्तीसगढ़ में आज इतने मरीजों की हुई पहचान    |    बदल गए पेंशन के नियम, 30 नवंबर तक ये काम ना किया तो रुक जाएगी पेंशन    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश के इस जिले में हुआ कोरोना विस्फोट, धीरे धीरे फिर से बढ़ रहे है एक्टिव मरीजो की संख्या, देखें जिलेवार आंकड़े    |    बड़ी खबर: राज्यपाल की बिगड़ी तबियत, दिल्ली AIIMS में भर्ती    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश के इन दो जिलों में हुआ कोरोना विस्फोट, आज प्रदेश में मिले इतने नए मरीज, देखें जिलेवार आंकड़े    |
CG CRIME NEWS: प्रेमी ने प्रेमिका को पीट-पीटकर मार डाला, और लड़की के परिजनों को सुनाई झूठी कहानी....

CG CRIME NEWS: प्रेमी ने प्रेमिका को पीट-पीटकर मार डाला, और लड़की के परिजनों को सुनाई झूठी कहानी....

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर से हैरान कर देने वाली खबर सामने आई है, लिव इन में एक महीने रहने के बाद युवक ने पीट-पीटकर अपनी प्रेमिका को मार डाला। इसके बाद लड़की के परिजनों को बीमारी से मौत होने की कहानी सुना दी। परिजन को उसकी बात पर भरोसा नहीं हुआ तो पुलिस में शिकायत की। पोस्टमार्टम रिपोर्ट हत्या का राज खुला, जिसके बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। खास बात यह है कि परिजन दोनों के रिश्तों के लेकर तैयार थे। उनकी एक-दो माह में शादी भी होने वाली थी। मामला कोटा थाना क्षेत्र का है।


पुलिस ने बताया कि बेलगहना चौकी क्षेत्र के ग्राम बिटकुली की में रहने वाला अनिकेत कोल मनेंद्रगढ़ जिले के कठौतिया निवासी सविता कोल से शादी करना चाहता था। एक-दो माह उनकी शादी भी होने वाली थी। अगस्त माह में अनिकेत कठौतिया गांव मेहमानी में गया था। तब वह अपनी प्रेमिका सविता कोल को भगाकर गांव ले आया था। यहां दोनों एक साथ रह रहे थे। 21 सितंबर की रात अनिकेत ने सविता के पिता व परिजनों को सूचना दी कि बीमारी से उसकी मौत हो गई है।


बेटी की मौत की खबर सुनकर 22 सितंबर को परिजन बिटकुली गांव पहुंचे। यहां उन्हें बेटी की बीमारी से मौत पर भरोसा नहीं हुआ। लिहाजा, उन्होंने पुलिस से शिकायत कर दी। पुलिस ने मामले को जांच में लिया और शव का पोस्टमार्टम कराया। करीब एक माह बाद पीएम रिपोर्ट आई। इसमें शरीर में अंदरुनी चोट व सीने में खून जमने से युवती की मौत होने की बात सामने आई। इस आधार पर पुलिस ने आरोपी अनिकेत के खिलाफ हत्या का अपराध दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।


शादी के लिए राजी हो गए थे परिजन
आरोपी अनिकेत का कठौतिया गांव में रिश्तेदारी है। इसके चलते उसका गांव आना-जाना था। इस दौरान युवती से बातचीत शुरू हो गई। इसके बाद दोनों एक-दूसरे को चाहने लगे। युवक व युवती के परिजन भी उनकी शादी तय करने के लिए राजी हो गए। उन्होंने रिश्ता भी तय कर दिया था। अगस्त में अनिकेत उसे भगाकर अपने साथ ले आया था। तब से दोनों साथ रह रहे थे।


गणेश उत्सव में डीजे में नाचने को लेकर हुआ था विवाद
अनिकेत ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि गांव में गणेश उत्सव चल रहा था। जहां डीजे में नाचने की बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हो गया था। दरअसल, अनिकेत ने उसे अपने साथ नाचने के लिए कहा, तब सविता ने मना कर दी। इसके बाद दोनों घर आ गए। फिर अनिकेत ने उसकी पिटाई कर दी। मुक्के के वार से सविता अचानक बेहोश हो गई और उसकी मौत हो गई।

CG CRIME NEWS: बाइक पर बैठने से मना किया तो चाकू से किया हमला, गिरफ्तार

CG CRIME NEWS: बाइक पर बैठने से मना किया तो चाकू से किया हमला, गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर से हैरान कर देने वाला मामला सामने आ रहा है, मंगलवार रात जरा से विवाद में एक युवक की चाकू मार कर हत्या कर दी गई। इस दौरान बदमाश ने उसके दोस्तों पर भी हमला किया, लेकिन उन्होंने आरोपी को दबोच लिया। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। विवाद सड़क पर खड़ी बाइक पर बैठने को लेकर हुआ था। मरने वाला युवक झारखंड का रहने वाला था। मामला सिविल लाइन थाना क्षेत्र का है।


जानकारी के मुताबिक, तिफरा के कुंदरापारा निवासी ओम प्रकाश यादव ट्रांसपोर्टर है। उसके घर में झारखंड के युवक तबरेज खान और संजू यादव सहित अन्य किराए पर रहते हैं और यहां सैलून दुकान चलाते हैं। ओम प्रकाश मंगलवार रात अपनी पिकअप खड़ी करने के बाद तबरेज खान और संजू के साथ महाराणा प्रताप चौक पर भेल-पूरी खाने आया था। पास में ही उसकी बाइक खड़ी थी। इस बीच एक युवक आकर बाइक पर बैठ गया।

तबरेज ने उसे मना किया तो आरोप है कि युवक भड़क गया और गाली-गलौज करने लगा। इतने में अन्य युवक भी आ गए और बाइक की चाबी छीन ली। संजू, तबरेज ने मना किया तो आरोपियों ने चाकू निकाल लिया और हमला कर दिया। पेट में चाकू लगने से तबरेज गंभीर रूप से घायल हो गया। ओम प्रकाश ने एक हमलावर को पकड़ लिया और चाकू छीन लिया। इस हमले में संजू और ओम प्रकाश भी घायल हो गए हैं।


इस बीच सूचना मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने जरहाभाठा मिनी बस्ती निवासी अज्जू उर्फ अजय खांडेकर और चीकू को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं, 5-6 अन्य युवकों को भी हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। उधर, घायल हालत में अस्पताल में भर्ती तबरेज ने उपचार के दौरान देर रात दम तोड़ दिया। उसके परिजनों को सूचना दी गई है। उनके आने के बाद पोस्टमार्टम कराया जाएगा।

CG पुलिस को बड़ी कामयाबी: पुलिस ने किडनैप हुए छात्र को दो घंटे में छुड़ाया, जानिए पूरा मामला

CG पुलिस को बड़ी कामयाबी: पुलिस ने किडनैप हुए छात्र को दो घंटे में छुड़ाया, जानिए पूरा मामला

बिलासपुर: जिले के तखतपुर में नाबालिक बालक के अपहरण का खुलासा बिलासपुर पुलिस को मिली सफलता चंद घंटे में ही मिली पुलिस को सफलता नाबालिक के अपहरण के एवज में मांगी गई थी ?1000000 फिरौती की रकम बिलासपुर पुलिस की तत्परता एवं सक्रियता से चंद घंटे में सभी आरोपी भी हुए गिरफ्तार बहला-फुसलाकर साथियों युवकों ने ही किया था नाबालिक बालक का अपहरण नवमी कक्षा के ट्यूशन के लिए निकले नाबालिक बालक को दुपहिया वाहन में ले जाकर सकरी के आउटर क्षेत्रों में रखकर किया गया था अपहरण एक अपचारी सहित 7 आरोपी गिरफ्तार फिऱौती के लिए पुलिस को गुमराह करने हेतु अलग अलग जगहों का किया था

आरोपियों ने उपयोग फिऱौती के लिए उपयोग किया गया सिम मोबाईल वाहन भी बरामद 2 घण्टो में ही सभी आरोपी 40 किमी की अलग अलग दूरी से गिरफ्तारनाबालिक बालक को अपहरण कर सैदा गाँव के निर्माणाधीन सुनसान मकान में बंधक बनाकर कर रहे थे फिऱौती की इस प्रकार है कि प्रार्थी शशि कांत पांडे पिता दामोदर पांडे निवासी तखतपुर थाना आकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि उसके नाबालिग पुत्र हिमालया पांडे उम्र 15 साल का है जो पाठक पारा प्राइवेट कोचिंग क्लास में कक्षा 9वी का कोचिंग करता है जो प्रतिदिन की भांति आज दिनांक 26/10 /2021 को प्रात: 10:00 ट्यूशन के लिए रवाना हुआ था बालक हिमालया पांडे ट्यूशन से प्रतिदिन 11:30 बजे वापस घर लौट आ जाता था जो शाम करीबन 4:00 बजे तक घर वापस नहीं आया इसी दौरान प्रार्थी के मोबाइल नंबर पर एक मोबाइल नंबर अज्ञात व्यक्ति का फोन आया जो प्रार्थी से बोला कि उसका नाबालिग पुत्र उसके कब्जे में है जिसके एवज में अगर वह ?1000000 नहीं देगा तो उक्त व्यक्ति ने प्रार्थी के पुत्र को जान से मार देने की धमकी दिया की प्रार्थी के रिपोर्ट पर धारा 364 क आईपीसी के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

तखतपुर शहर में अपहरण की सूचना मिलते ही प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बिलासपुर श्री दीपक झा ने तत्काल अपने मातहत अधिकारियों अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण रोहित झा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर उमेश कश्यप एवं कोटा अनुविभागीय अधिकारी पुलिस श्री आशीष अरोरा को दिशा निर्देश देकर अपहृत बालक की सकुशल बरामदगी एवं अपहरण में शामिल आरोपियों की गिरफ्तारी सुनिश्चित करने हेतु टीम गठित करने का आदेश दिया। वरिष्ठ अधिकारियों से प्राप्त दिशा निर्देश पर अनुविभागीय अधिकारी कोटा ष्ठस्क्क श्री आशीष अरोरा के नेतृत्व में साइबर सेल एवं तखतपुर पुलिस की एक संयुक्त टीम का गठन किया गया।गठित टीम में निरीक्षक कलीम खान ,निरीक्षक मोहन भारद्वाज ,उपनिरीक्षक मनोज नायक, उपनिरीक्षक सागर पाठक उपनिरीक्षक प्रसाद सिन्हा आरक्षक तरुण केशरवानी आरक्षक मुकेश वर्मा तदबीर पोर्ते सोनु पाल दीपक यादव जय साहू अभिजीत सनत,सुनील सूर्यवंशी ,किशन राय,दीपक उपाध्यायसुनील पटेल एवम तखतपुर के स्टाफ के साथ संयुक्त रूप से गठित की गई।


गठित टीम में निरीक्षक कलीम खान ,निरीक्षक मोहन भारद्वाज ,उपनिरीक्षक मनोज नायक, उपनिरीक्षक सागर पाठक उपनिरीक्षक प्रसाद सिन्हा आरक्षक तरुण केशरवानी आरक्षक मुकेश वर्मा तदबीर पोर्ते सोनु पाल दीपक यादव जय साहू अभिजीत सनत,सुनील सूर्यवंशी ,किशन राय,दीपक उपाध्यायसुनील पटेल एवम तखतपुर के स्टाफ के साथ संयुक्त रूप से गठित की गई।


गठित टीम को अलग-अलग भागों में विभाजित कर उन्हें आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए एक टीम के द्वारा अपहृत बालक के घर से निकलने से लेकर ट्यूशन जाने वाले रास्तों के मध्य पाए जाने वाले 100 से अधिक सीसीटीवी कैमरे की चेकिंग की गई जबकि दूसरे टीम के द्वारा अपहृत बालक के नजदीकी रिश्तेदार एवम दोस्तों के संबंध में जानकारी जुटाई गई ।तखतपुर पुलिस की टीम के निरीक्षक मोहन भारद्वाज के द्वारा लगातार फिरौती के लिए आ रहे कॉल के संबंध में अपहृत बालक के परिवार को साहस देते हुए उनके साथ पूरे समय रहकर उनसे प्राप्त जानकारी को अन्य टीमों को भेजते रहें साइबर सेल की टीम के द्वारा दो अलग अलग टीम बनाकर तकनीकी जानकारी और दूसरी टीम को प्राप्त तकनीकी जानकारी को फील्ड में जाकर उसकी तस्दीक की में लगाया गया था सभी टीम के द्वारा आपस में समन्वय बनाकर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री दीपक झा के नेतृत्व में लगातार उनसे प्राप्त दिशा निर्देश पर कार्य कर रही थी


मामले की मामले की सूचना मिलते ही वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री दीपक झा के द्वारा स्वयं तखतपुर पहुच कर कैम्प कर सभी टीमों को समय-समय पर आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया । इस बीच फिरौती के लिए अलग-अलग स्थानों पर आई कॉल के संबंध में साइबर सेल की तकनीकी और फील्ड के टीम के द्वारा लगाता जानकारी एकत्र की गई आरोपी द्वारा अपनी पहचान छुपाने के लिए अलग-अलग जगह पर इस्तेमाल करते रहे इस बीच साइबर सेल एवं संयुक्त टीम को दो आरोपियों के संबंध में पुख्ता जानकारी मिली जिस के संबंध में तकनीकी जानकारी जुटाई गई और संयुक्त टीम के द्वारा सेमर सेल गांव पहुंचकर दबिश देकर दो आरोपियों मौके पर घेराबंदी कर पकड़ा गया दोनों आरोपियों से कड़ाई से पूछताछ किया गया जिन्होंने अपहृत बालक को सैदा ग्राम के जंगल में एक निर्माणाधीन मकान में रखना बताया एवं अपने अन्य साथियों को भी वहां पर होना बताया।


दोनों आरोपियों की निशानदेही पर संयुक्त टीम के द्वारा मौके पर पहुंचकर दबिश देकर अपरहित बालक को सकुशल बरामद किया गया एवं प्रकरण में शामिल अन्य आरोपी को घेराबंदी कर गिरफ्तारी की गई ।प्रकरण में फिरौती की रकम के लिए उपयोग किया गया सिम एवं मोबाइल मोटरसाइकिल एवं चाकू सहित अन्य सामान बरामद किया गया।बिलासपुर पुलिस के द्वारा ऑपरेशन कृष को 2घण्टो में ही 50 किमी की दूरी तय कर सक्रियता एवम ततपरता से मिली सफलता।


किडनैपिंग स्थल पर चारपहिया वाहन न पहुँचने के मद्देनजर बाइक से टीम रवाना की गई। बाइक को भी दूर में छोड़ कर मेड के किनारे किनारे पुलिस कर्मियों द्वारा अपहर्ताओं के समीप पहुँचा गया। और उनकी धरपकड़ की गई। 3 अपहर्ता बच्चे के मूल गांव के ही हैं जिन्हें जानकारी थी कि बच्चे के परिवार की आर्थिक स्थिति अच्छी हैं। अपहर्ताओं ने बताया कि रकम मिलने के बाद उनकी कट्टा खरीदने की प्लानिंग थी। जिस युवक ने बच्चे की माँ को फोन किया था उसकी आवाज सुन कर बच्चे की माँ ने भी पहचान लिया था। बच्चे ने बताया कि उसको फोन दिलवाने के बहाने गांव के ही तीन परिचित युवक ले कर गए थे। थोड़ी दूर ले जाने के बाद बाकी 4 युवको ने बच्चे को चाकू दिखा कर धमकाया था।युवक इतने शातिर थे कि उन्होंने पुलिस से बचने के लिए कांफ्रेस काल से फिरौती की मांग की थी। पुलिस महानिरीक्षक रतन लाल डांगी के द्वारा पुरस्कृत करने की गई घोषणा।


गिरफ्तार आरोपियों के नाम
राममंगल यादव पिता दुर्गा यादव 19 वर्ष साकिन ग्राम सेमरसल थान जरहागाँव मुंगेली
सुरेंद्र रजक उर्फ माली पिता स्वर्गीय नर्मदा रजक 23 वर्ष कुदुदंड बिलासपुर
घनश्याम यादव पिता बिसाहू राम यादव 19 वर्ष साकिन वेयरहाउस रोड़ बिलासपुर
जगदीश पटेल पिता अमृत लाल पटेल 21 वर्ष ग्राम सेमरसल जरहा गाँव मुंगेली
कान्हा पिता स्वर्गीय सुरेश शर्मा 24 वर्ष निवासी सरकंडा बिलासपुर
सोमराज पटेल पिता माधुरी लाल पटेल 21 वर्ष सेमरसल जरहा गाँव मुंगेली एवम एक अन्य अपचारी बालक है।

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: प्रेमजाल में फंसा कर बनाया शारीरिक संबंध, बाद में दूसरी लड़की से विवाह किया

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: प्रेमजाल में फंसा कर बनाया शारीरिक संबंध, बाद में दूसरी लड़की से विवाह किया

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर से दुष्कर्म का मामला सामने आया है, युवती को प्रेम जाल में फंसाकर उसके साथ दुष्कर्म करने वाले आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने पहले तो युवती को अपने प्रेम में फंसाकर शादी का वादा कर बार-बार शारीरिक संबंध बनाया था। बाद में बातचीत बंद कर दूसरी लड़की से शादी कर ली थी। इसी बात से परेशान युवती ने जब पुलिस से शिकायत की तब पुलिस ने आरोपी को उसके ससुराल से ही गिरफ्तार किया है। आरोपी युवक बेमेतरा अपने ससुराल में करवा चौथ बनाने पहुंचा था। मामला बिल्हा थाना क्षेत्र का है।


यहां करीब एक साल पहले 21 साल की युवती और बिल्हा क्षेत्र के निपनिया निवासी रामकुमार कोसले ( 29) के बीच जान-पहचान हुई थी। इस बीच उनकी दोस्ती हो गई। फिर रामकुमार ने युवती को प्यार का इजहार किया। युवती भी रामकुमार को चाहने लगी। जून 2020 में युवक ने उसके साथ शादी करने का वादा किया और उसके साथ शारीरिक संबंध बनाया।


सितंबर में हुआ केस दर्ज, तब से फरार था
युवती भी उसके भरोसे में आ गई। इसके बाद से रामकुमार अप्रैल 2021 तक युवती का शारीरिक शोषण करता रहा। अचानक युवक ने उससे बातचीत बंद कर दूरी बढ़ा ली। इस बीच युवती को पता चला कि उसकी दूसरी जगह शादी तय हो गई। इस पर युवती ने उससे शादी करने के लिए दबाव बनाया, लेकिन युवक मुकर गया। उसकी हरकतों से परेशान होकर युवती ने थाने में रिपोर्ट दर्ज करा दी। सितंबर में FIR दर्ज होने के बाद आरोपी फरार था। तब से पुलिस उसकी तलाश कर रही थी। पुलिस ने रामकुमार के खिलाफ रेप का केस दर्ज किया था।


बेमेतरा में मिला लोकेशन
पुलिस इस फरार आरोपी रामकुमार की एक माह से तलाश कर रही थी, लेकिन वह गायब हो गया था। इसी दौरान पुलिस को उसका मोबाइल नंबर मिला। जिसे लगातार ट्रेस किया जा रहा था। रविवार को उसके फोन का लोकेशन बेमेतरा में मिला। तब पता चला कि उसका ससुराल बेमेतरा के ग्राम झुलना में है। आनन-फानन में पुलिस रात में उसके ससुराल पहुंच गई, जहां वह अपनी पत्नी से मिलने व करवा चौथ पर्व मनाने गया था। पुलिस उसे गिरफ्तार कर ले आई। सोमवार को उसे कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया है। पुलिस ने भी इस मामले का खुलासा सोमवार को किया है।

कलेक्टर ने किया राज्योत्सव की तैयारियों का निरीक्षण, दिए आवश्यक निर्देश

कलेक्टर ने किया राज्योत्सव की तैयारियों का निरीक्षण, दिए आवश्यक निर्देश

गौरेला-पेंड्रा-मरवाही: कलेक्टर नम्रता गांधी ने मंगलवर की सुबह राज्योत्सव स्थल गुरुकुल स्टेडियम पहुंच कर तैयारियों का जायजा लिया। उन्होंने राज्य स्थापना दिवस पर एक नवम्बर को आयोजित होने वाले राज्योत्सव के आयोजन के लिए संबंधित विभाग के अधिकारियों को सभी आवश्यक तैयारियां सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने राज्योत्सव स्थल में लोगों को किसी प्रकार की असुविधा नहीं हो इसका विशेष ध्यान रखते हुए प्रवेश द्वार बनाने, व्हीआईपी, मीडिया एवं आम नागरिकों के लिए बैठक व्यवस्था, बैरीकेट, पार्किंग सहित विभिन्न व्यस्थाओं के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए। कलेक्टर ने स्टेज का साइज बड़ा और मजबूत बनाने कहा ताकि नृतक दलों को असुविधा नहीं हो। उन्होंने लोगों के मनोरंजन के लिए आकर्षक साज-सज्जा के साथ मेला लगाने, फूड स्टॉल तथा जनकल्याणकरी योजनाओं पर आधारित विभागीय स्टाल लगाने कहा। राज्योत्सव के अवसर पर आतिशबाजी तथा प्रवेश द्वार पर आकर्षक रांगोली सजाने के भी निर्देश दिए। उन्होंने जनसुविधा को ध्यान में रखते हुए बायो टॉयलेट, लाइटिंग, पेयजल, पुलिस सहायता केंद्र के साथ ही प्रवेश द्वार पर कोरोना संक्रमण के मद्देनजर सेनेटाइजर और मास्क की व्यवस्था भी सुनिश्चित करने कहा।

इस अवसर पर परियोजना निदेशक श्रीआर के खूंटे, कार्यपालन अभियंता लोक निर्माण चारी, डिप्टी कलेक्टर अपूर्व टोप्पो, हितेश्वरी बाघे सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित थे।

CG CRIME NEWS: अश्लील वीडियो बनाकर युवती को धमकाया और फिर करता रहा दुष्कर्म

CG CRIME NEWS: अश्लील वीडियो बनाकर युवती को धमकाया और फिर करता रहा दुष्कर्म

बिलासपुर: बिलासपुर जिले में अधेड़ उम्र के प्रापर्टी डीलर ने युवती से प्यार का इजहार किया। इस दौरान उससे शादी करने का झांसा देकर दुष्कर्म करता रहा। जब युवती ने शादी के लिए दबाव बनाया, तब वह अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देने लगा। पुलिस ने अपराध दर्ज करने के 24 घंटे के भीतर ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। कोतवाली पुलिस के अनुसार तोरवा क्षेत्र के लालखदान के महमंद रोड निवासी शैलेष तिवारी उर्फ बबलू तिवारी (56) प्रापर्टी डीलर है। 21 वर्षीय युवती भी पहले लालखदान में अपने परिवार के साथ रहती थी। प्रापर्टी डीलर का उसके घर आना-जाना था। इस दौरान वह उससे मिलने जुलने लगा।

फिर उसने प्यार का इजहार किया। युवती के साथ शादी करने का झांसा देकर दुष्कर्म करने लगा। बाद में युवती अपनी मां व भाई के साथ कोतवाली क्षेत्र में आ गई। इस दौरान भी आरोपी उसका शारीरिक शोषण करता रहा। युवती ने जब शादी करने के लिए दबाव बनाया, तब आरोपी ने अश्लील वीडियो बनाने और उसे वायरल करने की धमकी देने लगा। इससे परेशान होकर युवती ने कोतवाली थाने में शिकायत दर्ज कराई। शनिवार की रात अपराध दर्ज करने के साथ ही 24 घंटे के भीतर पुलिस ने आरोपी शैलेष तिवारी को गिरफ्तार कर लिया है।

आर्थिक मदद कर उठाया फायदा
युवती ने पुलिस को बताया कि उसके घर की आर्थिक स्थिति कमजोर है। उसकी मां साफ सफाई कर जीवन गुजारा करती है। इसका फायदा उठाकर शैलेष उनकी आर्थिक मदद करता रहा। इसके बाद वह युवती के करीब आने लगा। इसी दौरान शादी करने का झांसा देकर दुष्कर्म किया।


शादीशुदा है और बेटी की उम्र की है पीड़िता
आरोपी शैलेष तिवारी शादीशुदा है। उसके बच्चे भी बड़े हो गए हैं। रविवार को पुलिस उसे गिरफ्तार कर लाई तो उसकी बेटी व परिजन भी मिलने पहुंचे थे। उसकी बेटी पीड़िता की उम्र की है। पुलिस ने उसे कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया है।

जे.एस.पी.एल. द्वारा इन्जीनियर्स मीट जीवन मूल्यवान है, इसलिए क्वालिटी के प्रति सजग है जिन्दल पैंथरः रोहित लांबा

जे.एस.पी.एल. द्वारा इन्जीनियर्स मीट जीवन मूल्यवान है, इसलिए क्वालिटी के प्रति सजग है जिन्दल पैंथरः रोहित लांबा

बिलासपुर: निर्माण के क्षेत्र में विश्व में अग्रणी बहुराष्ट्रीय भारतीय ब्रांड जिन्दल पैंथर के ग्रुप मार्केटिंग हेड रोहित लांबा ने कहा कि उनकी कंपनी की निगाह में प्रत्येक जीवन मूल्यवान है इसलिए वह क्वालिटी के प्रति सजगता को सर्वोच्च प्राथमिकता देती है। भूकंप, भूस्खलन, बाढ़ या आग के संकट में जिन्दल पैंथर नागरिकों का सच्चा साथी है क्योंकि तमाम आपदाओं को ध्यान में रखते हुए सर्वोच्च तकनीक का उपयोग कर जिन्दल पैंथर टीएमटी रिबार तैयार किया जाता है।


छत्तीसगढ़ सिविल इंजीनियर एसोसिएशन, बिलासपुर के प्रेसिडेंट आर.के.सोनी और सचिव गिरीश पाठक की उपस्थिति में यहां आज होटल इंपीरियल में आयोजित इंजीनियर्स एंड आर्किटेक्ट मीट में श्री लांबा ने कहा कि जिस तरह स्वस्थ जीवन के लिए पौष्टिक भोजन आवश्यक है, उसी तरह स्वस्थ आवास के लिए गुणवत्तायुक्त सामग्री की भी आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि स्टील तैयार करने की कई तकनीक हैं लेकिन बेहतरीन तकनीक वह है जो स्टील में फॉसफोरस और सल्फर की मात्रा नियंत्रित रखे। जिन्दल पैंथर ब्लास्ट फर्नेस और डीआरआई प्रणाली, बेसिक ऑक्सीजन फर्नेस, इलेक्ट्रिक आर्क फर्नेस, लैडल रिफाइनिंग फर्नेस और अन्य आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल कर टीएमटी रिबार में फॉसफोरस और सल्फर की मात्रा नियंत्रित रखता है, जिससे गलने और जलने दोनों के खतरे न के बराबर रह जाते हैं। इसके अलावा यह भूकंप, भूस्खलन और अन्य आपदाओं में भी कवच का काम करता है। जिन्दल पैंथर लौह अयस्क से टीएमटी रिबार तैयार करता है, जिससे इसके उत्पाद में अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुरूप शुद्धता रहती है।


श्री लांबा ने कहा कि जिन्दल पैंथर लोगों के भरोसे पर खरा उतर रहा है। यह देश के कोने-कोने में उपलब्ध है और अग्रणी बहुराष्ट्रीय ब्रांड भी बन गया है। हमारे उत्पाद की मांग यूरोप, मध्य-पूर्वी एशियाई देश, ऑस्ट्रेलिया, अफ्रीका और यूरोप में अच्छी है। जिन्दल पैंथर कनाडा में अपनी पहचान बना रहा है और अमेरिकी बाजार में प्रवेश के लिए भी तैयार है। उन्होंने कहा कि देश में सस्ता के चक्कर में लोग क्वालिटी से समझौता कर लेते हैं और उन कंपनियों के उत्पाद का इस्तेमाल करते हैं, जो इंडक्शन फर्नेस से रिबार तैयार करते हैं। कबाड़ इनका रॉ मैटीरियल होता है और इनके पास रिफाइनिंग की अन्य शुद्धता प्रणालियों का अभाव होता है, जिससे इनके उत्पाद में फॉसफोरस और सल्फर की मात्रा अधिक होती है। फॉसफोरस अधिक होने पर सरिया के कठोर होकर टूटने, या जल्दी जंग लगने और सल्फर की मात्रा अधिक होने पर आग बेकाबू होने का खतरा रहता है। उन्होंने टाइटनिक हादसे का उदाहरण दिया, जो आइसबर्ग से टकराकर क्षतिग्रस्त हो गया था क्योंकि उसके स्टील में फॉस्फोरस अधिक था। इसी तरह न्यूयॉर्क के ट्विन टावर पर जब विमान हमला हुआ तो आग लगने के कारण वह भरभरा कर गिर गया क्योंकि उसके स्टील में सल्फर की मात्रा अधिक थी।


इस अवसर पर जिन्दल पैंथर प्रोडक्ट अप्लीकेशन ग्रुप के प्रबंधक हिमांशु बिंयाला ने बताया कि निर्माण हमारे जीवन की मूलभूत आवश्यकता है इसलिए जिन्दल पैंथर ने टीएमटी रिबार समेत अनेक समाधान बाजार में प्रस्तुत किये हैं। उन्होंने कहा कि हमारे सुरक्षित जीवन के लिए उपभोक्ताओं की जागरूकता सबसे बड़ी आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि कोलकाता, भुबनेश्वर में ब्रिज का ढहना, मुंबई के वडाला स्थित लॉयड एस्टेट में पार्किंग स्थल का धंसना और गाजियाबाद के वसुंधरा में सड़क टूटकर खाई में तब्दील हो जाना ऐसे उदाहरण हैं जो देश में बुनियादी ढांचे के विकास में आ रही कमियों की ओर ध्यान दिला रहे हैं। ऐसे अनगिनत मामले सामने आए हैं, जिनमें मानकों के अनुरूप सामग्री का इस्तेमाल न होने से करोड़ों रुपये का नुकसान हुआ है और बेशकीमती जानें भी गई हैं।


श्री नवीन जिन्दल के नेतृत्व वाली कंपनी जिन्दल स्टील एंड पावर (जेएसपीएल) के निमंत्रण पर आयोजित इस इंजीनियर्स एंड आर्किटेक्ट मीट की मेजबानी ए.आर. एंटरप्राइजेज ने किया। इस अवसर पर निदेशक श्री राजेश मोदी ने जिन्दल पैंथर की विश्वसनीयता की सराहना करते हुए कहा कि इसके माध्यम से हम उपभोक्ताओं में क्वालिटी के प्रति चेतना जगाने का काम कर रहे हैं। उपभोक्ताओं की गुणवत्ता चेतना से ही कोई भी राष्ट्र महान बनता है। इस अवसर पर जेएसपीएल के प्रेसिडेंट एंड सीएमओ (वायर रॉड एंड राउंड) राजकमल श्रीवास्तव, महाप्रबंधक पारस शर्मा, बिलासपुर के अनेक नामचीन इंजीनियर और आर्किटेक्ट उपस्थित रहे।

CG BREAKING: पति की तबियत बिगडऩे पर पत्नी ने अस्पताल के दूसरे माले से लगा दी छलांग, हालत गंभीर

CG BREAKING: पति की तबियत बिगडऩे पर पत्नी ने अस्पताल के दूसरे माले से लगा दी छलांग, हालत गंभीर

बिलासपुर: पति की हालत बिगडऩे पर पत्नी ने सिम्स आपातकालीन के ऊपर दूसरे तल से छलांग लगा दी। महिला के रीढ़ में गंभीर चोट आई है। उचाई से गिरने की वजह से उसकी हालत गंभीर बनी हुई हैं।


जानकारी के मुताबिक अकलतरा के ग्राम किरारी निवासी कृष्ण कुमार कश्यप लंबे समय से हार्ट की बीमारी से पीडि़त चल रहा है। जिससे उसकी पत्नी लता कश्यप को आर्थिक के साथ मानसिक परेशानी झेलना पड़ रहा था। चार दिन पहले पति की हालत बिगडऩे पर उसे सिम्स में भर्ती कराया था। जब बुधवार को डाक्टर ने बताया कि उसकी पति की हालत और भी गम्भीर हो चुकी है। इसके बाद से वह परेशान हो गई व गुरुवार की सुबह लगभग साढ़े आठ बजे लता आपातकालीन के ऊपर दूसरे तल स्थित ओपीडी में पहुंचीं और खिड़की की जाली निकालकर छलांग लगा दी। जिसके बाद वह शेड से टकराते हुए सीधे सिम्स पुलिस चौकी के पास गिरी। लगभग 30 फिट की ऊंचाई से गिरने की वजह से गंभीर चोटे आई। इसके बाद उसकी तत्काल जांच करने पर रीढ़ की हड्डी पर गंभीर चोट आने की पुष्टि की गई। जिसका उपचार किया जा रहा है, जिसकी हालत गंभीर बनी हुई है। वही दूसरी तरह उसके पति की हालत भी गम्भीर बनी हुई।

बड़ा हादसा: मेटाडोर की चपेट में आये बाइक सवार, फैक्ट्री मैनेजर की मौत

बड़ा हादसा: मेटाडोर की चपेट में आये बाइक सवार, फैक्ट्री मैनेजर की मौत

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में बड़ा हादसा हुआ है, गुरुवार सुबह मेटाडोर ने बाइक सवार दो लोगों को चपेट में ले लिया। इस हादसे में प्रकाश इंडस्ट्रीज लिमिटेड के मैनेजर की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं, इंजीनियर गंभीर रूप से घायल हो गए। इंजीनियर को अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया है।


सिविल लाइन क्षेत्र के अज्ञेय नगर निवासी प्रकाश गुप्ता जांजगीर-चांपा की प्रकाश इंडस्ट्रीज में मैनेजर थे। उनके साथ विनोबा नगर निवासी विभांश देवाकीर्ति इंजीनियर हैं। दोनों सुबह एक साथ ड्यूटी जाने के लिए निकले थे। उनको सुबह करीब 6.45 बजे व्यापार विहार स्थित श्रीकांत वर्मा तिराहे पर मेटाडोर ने पीछे से चपेट में ले लिया।


हादसे में बाइक के पीछे बैठे प्रकाश गुप्ता मेटाडोर के पहिए के नीचे आ गए। उनकी मौके पर ही मौत हो गई। बाइक चला रहे विभांश गंभीर रूप से घायल हो गए। इस बीच आसपास के लोगों की भीड़ जुट गई। खबर मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने विभांश को अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उनकी गंभीर हालत को देखकर अपोलो अस्पताल ले जाया गया।


बिना देखे चालक ने मोड़ दिया लेफ्ट साइड
बताया जा रहा है कि मेटाडोर रायपुर से सामान लेकर आ रहा था। हादसे के समय मेटाडोर बीच सड़क पर चल था। वहीं, विभांश लेफ्ट साइड में गाड़ी चला रहे थे, तभी तिराहे पर मेटाडोर चालक ने बिना इंडीकेटर चालू किए लेफ्ट साइड में टर्न लिया। इसके चलते दोनों मेटाडोर की चपेट में आ गए।


हड़बड़ी में गलत साइड से कर रहे थे ओवरटेक
प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार मेटाडोर श्रीकांत वर्मा मोड़ तरफ लेफ्ट साइड में टर्न ले रहा था। इस बीच बाइक सवार विभांश हड़बड़ी में थे। लेफ्ट साइड में किनारे चल रहे विभांश को यह पता नहीं चला कि मेटाडोर उसी दिशा में मुड़ने वाला है और वे मेटाडोर को ओवरटेक करने लगे, तभी मेटाडोर के मुड़ गया और दोनों उसकी चपेट में आ गए।


रेलवे स्टेशन में बस में जाते हैं स्टाफ
प्रकाश इंडस्ट्रीज बिलासपुर से अपने अधिकारी-कर्मचारियों को लाने-ले जाने के लिए स्टाफ बस चलाती है। बिलासपुर से चांपा जाने वाले स्टाफ अपने साधन से रेलवे स्टेशन पहुंचते हैं। इसके बाद सभी बस में सवार होकर चांपा जाते हैं। प्रकाश व विभांश रोज एक ही बाइक में स्टेशन जाते थे। वे स्टेशन में बाइक खड़ी कर बस से जाते थे।

BREAKING NEWS CG: दुर्गा विसर्जन देखने गए पत्नी और साली से बदमाशो ने किया छेड़-छाड, मना करने पर जमकर की मारपीट

BREAKING NEWS CG: दुर्गा विसर्जन देखने गए पत्नी और साली से बदमाशो ने किया छेड़-छाड, मना करने पर जमकर की मारपीट

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर से शर्मनाक खबर सामने आ रही है, दुर्गा प्रतिमा विसर्जन कार्यक्रम देखने निकले युवक की पत्नी व साली को देखकर युवकों ने इशारा करते हुए कमेंट कर दिया। उन्हें मना करने पर उन्होंने बेरहमी से मारपीट कर दी है। इस बीच युवक के साले और उसके दोस्त बीच बचाव करने आए तब बदमाशों ने उन पर भी चाकू से हमला कर दिया। इसमें चार लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। उन्हें इलाज के लिए सिम्स में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने दो हमलावरों को भी गिरफ्तार कर लिया है। मामला तखतपुर थाना क्षेत्र का है।


सरकंडा के चांटीडीह मेलापारा निवासी लेखराम पिता अरूण देवांगन का तखतपुर के देवांगन मोहल्ले में ससुराल है। रविवार को वह परिवार सहित अपने ससुराल गया था। इस दौरान रात करीब 11 बजे वह अपनी पत्नी आरती देवांगन, बच्चे व साली रानी देवांगन को लेकर दुर्गा विसर्जन व जगराता कार्यक्रम देखने निकला था। रात करीब 1.30 बजे सभी पुराना बस स्टैण्ड के पास होते हुए घर लौट रहे थे। तभी श्रीराम ज्वेलर्स के पास अविनाश डहरिया उन्हें देखकर इशारा करते हुए कमेंट करने लगा।


इस पर लेखराम ने उन्हें मना किया। तब अविनाश उसके साथी बबलू नवरंग, गोलू धुरी सहित अन्य ने मिलकर गाली-गलौज शुरू कर दी। फिर जान से मारने की धमकी देकर पिटाई करने लगे। इतने में पीछे से लेखराम का साला दीप देवांगन और उसके दोस्त गजानंद देवांगन, राजा देवांगन आ रहे थे। उन्होंने विवाद होते देखकर बीच बचाव किया। तब अविनाश डहरिया ने चाकू और डंडे से गजानंद पर हमला कर दिया।
इस बीच हमलावर युवकों ने दीप व राजा के साथ भी बुरी तरह मारपीट की। गजानंद के साथ ही दीप, राजा देवांगन व लेखराम को गंभीर चोटें आई हैं। उन्हें इलाज के लिए सिम्स में भर्ती कराया गया है। मामले की शिकायत पर पुलिस ने विनाश व गोलू धुरी को गिरफ्तार कर लिया है। अन्य आरोपियों की पुलिस तलाश कर रही है।

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: युवक की हत्या कर रेलवे ट्रैक पर फेंकी लाश, इलाके में मचा हड़कंप

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: युवक की हत्या कर रेलवे ट्रैक पर फेंकी लाश, इलाके में मचा हड़कंप

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर से सनसनीखेज खबर सामने आई है, दगौरी रेलवे स्टेशन के पास रेलवे ट्रैक पर एक युवक की लाश मिली है। शव के ट्रेन से कटने जैसी स्थिति नहीं और सिर में कई जगह पर गंभीर चोट के निशान मिले है। वहीं मृतक के गले पर फंदा लपेटा हुआ था। इसके अलावा पुलिस को मौके से खून लगा पत्थर मिला है। जिसकी वजह से जीआरपी युवक के हत्या की आशंका जता रही है। बताया गया कि युवक के छोटे भाई ने शुक्रवार रात को जब उसे फोन भी किया था। तब उसने बताया था कि वह दोस्त के साथ है। ऐसे में पुलिस अब उसके दोस्तों की भी जानकारी जुटा रही है।


शनिवार की सुबह जीआरपी थाना प्रभारी जीआर राठिया को सूचना मिली कि दगौरी स्टेशन से कुछ दूर में रेलवे ट्रैक पर युवक की लाश पड़ी है। खबर मिलते ही टीम मौके पर पहुंच गई। शव को देखकर ही पहली नजर में हत्या की आशंका जताई गई। दरअसल, जिस पटरी पर शव को मिला, उस ट्रैक से कोई गाड़ी ही नहीं गुजरी थी। शव की जांच करने पर पता चला कि युवक के सिर में कई जगह गंभीर चोंटों के निशान हैं। पुलिस ने आसपास के ग्रामीणों से पूछताछ की और युवक की पहचान करने की कोशिश की। तब कुछ ग्रामीणों ने युवक की पहचान मुंगेली जिले के सरगांव क्षेत्र के मोहभट्‌ठा निवासी राजू उर्फ विभीषण वर्मा (30 साल) के रूप में की। इस बीच पुलिस ने उसके परिजन को सूचना दी।


पूछताछ में पता चला कि राजू गांव में जूता-चप्पल की दुकान चलाता था। उसका भाई हेमंत वर्मा की भी कपड़े की दुकान है। पुलिस को आशंका है कि घटना शुक्रवार की देर रात की है। मामले में पुलिस अभी ज्यादा जानकारी नहीं जुटा पाई है। माना जा रहा है कि युवक की हत्या कर हादसा का रूप देने के लिए शव को पटरी पर लाकर रख दिया गया होगा। जीआरपी थाना प्रभारी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट मिलने के बाद ही युवक के मौत का राज खुलने की बात कह रहे हैं। पीएम रिपोर्ट के आधार पर ही पुलिस इस मामले की जांच करेगी।


मोबाइल से खुल सकता है मौत का राज
जीआरपी थाना प्रभारी राठिया का कहना है कि अभी पुलिस न तो परिजन का बयान दर्ज कर पाई है और न ही सही तरीके से पूछताछ हुई है। युवक के पास से दो मोबाइल मिले हैं। मोबाइल लाक था, जिसके चलते अभी उसकी जांच नहीं हो पाई है। पुलिस को उम्मीद है मोबाइल कॉल डिटेल व तकनीकी जांच से युवक की मौत का राज खुल सकता है।


शराब दुकान तक पहुंचा डॉग
पुलिस ने इस मामले की जांच के लिए फॉरेंसिक एक्सपर्ट के साथ ही डॉग स्क्वॉड की भी मदद ली है। जांच के दौरान डॉग घटनास्थल से पहले प्लेटफॉर्म तक गया। इसके बाद वहां से स्टेशन से कुछ दूर स्थित शराब दुकान तक भी गया था। पुलिस शराब दुकान में लगे सीसीटीवी फुटेज भी खंगाल रही है। फुटेज के जरिए राजू व उसके साथियों की जानकारी जुटाई जा सकती है।


इस वजह से हत्या की आशंका
राजू शुक्रवार की देर शाम 7 बजे दुकान बंद कर अपने दोस्तों के साथ बाहर जाने के लिए निकला था। इसके बाद वह घर नहीं लौटा। इस पर परिजन उसकी तलाश भी कर रहे थे। घटनास्थल की जांच के दौरान पुलिस को खून लगा हुआ पत्थर मिला है। वहीं पर राजू के गले पर फंदा भी लपेटा हुआ था। मौके पर शराब की शीशी वगैरह भी मिली है। इससे आशंका है कि शराब पीने के बहाने राजू को हत्यारे साथ ले गए और फिर योजनाबद्ध तरीके से उसकी हत्या कर दी।


10 दिन पहले बेटा पैदा हुआ
राजू के परिजन अलग-अलग व्यापार करते हैं। राजू की शादी हुए सात साल से भी ज्यादा समय हो गया था। लेकिन, उसकी संतान नहीं हो रही था। बताया जा रहा है कि 10-12 दिन पहले ही उसका बेटा हुआ है। इसके चलते परिवार में खुशी का माहौल था। लेकिन राजू की मौत के बाद परिवार की खुशियां मातम में बदल गई।

छत्तीसगढ़ में फटाखो के अवैध कारोबार का पर्दाफाश, रिहायशी कॉलोनी के मकान में बना रखा था गोदाम, व्यापारी गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ में फटाखो के अवैध कारोबार का पर्दाफाश, रिहायशी कॉलोनी के मकान में बना रखा था गोदाम, व्यापारी गिरफ्तार

दिवाली पर्व के आने से पहले ही पटाखों का अवैध भंडारण शुरू हो गया है। बिलासपुर के सरकंडा स्थित राजकिशोर नगर के रियहाशी मकान को एक व्यवसायी ने पटाखा गोदाम बना लिया था। पुलिस ने दबिश देकर व्यापारी को पकड़ लिया और बड़ी मात्रा में उसके घर से पटाखे भी जब्त किए। मामले में व्यापारी के खिलाफ विस्फोटक अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई है।


पुलिस को शुक्रवार रात सूचना मिली कि राजकिशोर नगर में व्यापारी ने रियाहशी इलाके में पटाखा गोदाम बना लिया है। जहां पटाखों का अवैध भंडारण किया गया है। इस पर पुलिस ने लोयला स्कूल रोड स्थित मकान की जांच की। जहां बड़े पैमाने में पटाखे मिले। पुलिस पटाखों को जब्त कर राजकिशोर नगर तुलसी आवास निवासी व्यापारी रिजवान मेमन (31) को पकड़कर थाने ले गई। उसके खिलाफ विस्फोटक अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।


एसडीएम से अनुमति व लाइसेंस है जरूरी
नियमानुसार पटाखों की बिक्री व भंडारण करने के लिए एसडीएम से अनुमति लेना पड़ता है। दुकान या गोदाम की जगहों का निरीक्षण करने के बाद ही एसडीएम पटाखा दुकान के लिए अनुमति देते हैं। अनुमति के साथ पटाखों के भंडारण करने की क्षमता भी तय की जाती है, लेकिन, लाइसेंस की आड़ में व्यापारी क्षमता से अधिक पटाखों का भंडारण कर रख लेते हैं।


दिवाली में दिया जाता है अस्थाई लाइसेंस
दिवाली पर्व पर जिला प्रशासन लाटरी के माध्यम से दुकानों का आबंटन करता है। इस दौरान गांधी चौक स्थित मल्टीपरपज स्कूल ग्राउंड के साथ ही बुधवारी बाजार व मुंगेली नाका मैदान में पटााखों के दुकान लगते हैं। लेकिन कोरोना के कारण बुधवारी बाजार व मल्टीपरपज स्कूल ग्राउंड में दुकानों का आबंटन किया जाता है।


रिहाइशी क्षेत्र में गोदाम फिर भी नहीं होती कार्रवाई
शहर के बड़े पटाखा व्यापारी सदरबाजार, जूनीलाइन, गांधी चौक, जूना बिलासपुर, ज्वाली पुल सहित रिहायशी क्षेत्रों में दुकान संचालित कर रहे हैं। लाइसेंस की आड़ में पटाखों का गोदाम भी बना कर रखे हैं, लेकिन पुलिस अफसर व थानेदार ऐसे बड़े व्यापारियों तक पहुंच ही नहीं पाती। वहीं छोटे कारोबारियों को अपना निशाना बनाती है।


पटाखा वाहन जब्त, पुलिस ने नहीं जुटाई जानकारी
सिविल लाइन पुलिस ने तीन दिन पहले पटाखों से भरे वाहन को जब्त किया था। वाहन चालक व एक युवक के खिलाफ कार्रवाई करते हुए खानापूर्ति कर ली। सरजू बगीचा रोड पर पुलिस ने मालवाहक को जब्त किया था। वाहन चालक राजीव पिल्ले और उसमें सवार अफरोज खान को पकड़ा। दोनों के खिलाफ विस्फोटक अधिनियम के तहत कार्रवाई कर ली। लेकिन, पटाखा कहां से आ रहा था और कहां ले जाया जा रहा था। इसकी जानकारी तक नहीं जुटाई गई।

प्रेमजाल में फंसा कर किशोरी से किया दुष्कर्म, फास्ट ट्रैक कोर्ट ने सुनाई  सजा

प्रेमजाल में फंसा कर किशोरी से किया दुष्कर्म, फास्ट ट्रैक कोर्ट ने सुनाई सजा

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिला न्यायालय की फास्ट ट्रैक कोर्ट ने दुष्कर्मी को 20 साल की सजा सुनाई है। उसने एक किशोरी को पहले प्रेम जाल में फंसाया। फिर शादी का झांसा देकर भगा ले गया और दुष्कर्म किया था। कोर्ट ने बढ़ते रेप के मामलों पर चिंता भी जताई। कहा कि ऐसे अपराधों के प्रति नरम दृष्टिकोण नहीं रख सकते हैं। मामला बिल्हा थाना क्षेत्र में करीब 2 साल पुराना है।


बिल्हा क्षेत्र के आमापारा निवासी महेश बघेल (20) ने अपने परिचित की किशोरी से दोस्ती की। फिर उसे प्रेम जाल में फंसा लिया। इस दौरान युवक ने उसके साथ शादी करने का वादा किया। किशोरी भी उसकी बातों में आ गई। बाद में 29 नवंबर 2019 को वह अपने साथ किशोरी को लेकर भाग गया। किशोरी के गायब होने पर परिजन ने अगले दिन थाने में सूचना दी।


पुलिस ने महेश को गिरफ्तार कर किशोरी को बरामद किया
पुलिस ने अपहरण की आशंका से अपराध दर्ज कर जांच शुरू की और महेश को गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से किशोरी भी बरामद हो गई। पूछताछ में किशोरी से शारीरिक संबंध बनाने की बात का भी पता चला। इस पर पुलिस ने युवक के खिलाफ धारा 363 के साथ ही 366, 376 व पाक्सो एक्ट जोड़ दिया। अदालत में चालान प्रस्तुत किया गया और ट्रायल में युवक को दोषी पाया गया।


गंभीर अपराध में नरम दृष्टिकोण नहीं रखा जा सकता
अपर सत्र न्यायाधीश विवेक कुमार तिवारी ने महेश को 20 साल कारावास की सजा सुनाई है। साथ ही उन्होंने टिप्पणी भी की। कहा, किसी युवक के अपराधी होने के संबंध में कोई केस न हो, तो भी गंभीर प्रकृति के अपराध में उसके प्रति नरम दृष्टिकोण नहीं रखा जा सकता। यौन हिंसा अमानवीय कार्य के साथ ही किसी नारी जाति की पवित्रता के अधिकार का उल्लंघन है। ऐसी घटना उनके सर्वोच्च सम्मान पर गंभीर प्रहार है। नाबालिग के साथ इस तरह की घटना हो तो अपराध की गंभीरता और बढ़ जाती है।

छत्तीसगढ़ की पैरालंपिक खिलाड़ी को मिली जान से मारने की धमकी, धमकी देने वाले के बारे में जान-कर आप हो जाएंगे हैरान

छत्तीसगढ़ की पैरालंपिक खिलाड़ी को मिली जान से मारने की धमकी, धमकी देने वाले के बारे में जान-कर आप हो जाएंगे हैरान

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर से बड़ी खबर सामने आ रही है, जिले में पैरालंपिक व्हीलचेयर तलवारबाजी की राष्ट्रीय खिलाड़ी को जान से मारने की धमकी देने का मामला सामने आया है। उन्हें धमकी किसी और ने नहीं बल्कि पैरालंपिक व्हीलचेयर तलवारबाजी संघ के अध्यक्ष और सचिव ने ही दी है। खिलाड़ी ने दोनों पर घर में घुसकर धमकाने, गाली-गलौज करने और जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है। खिलाड़ी ने बताया कि सचिव और अध्यक्ष के खिलाफ उन्होंने खेल विभाग में शिकायत की थी। जिसकी वजह से उन्होंने उसे धमकी दी है। जिसके बाद महिला खिलाड़ी ने दोनों के खिलाफ सरकंडा थाने में केस दर्ज कराया है।


दरअसल, सरकंडा के चिंगराजपारा निवासी दीक्षा तिवारी व्हीलचेयर तलवारबाजी की सीनियर खिलाड़ी हैं। अपने बेहतर प्रदर्शन से उन्होंने राष्ट्रीय स्तर पर भी पुरस्कार प्राप्त किया है। इस बीच राज्य शासन ने शहीद राजीव गांधी खेल अलंकरण पुरस्कार के लिए विजेता खिलाड़ियों के नाम मंगाए गए। लेकिन, जिला खेल संघ ने उनका नाम नहीं भेजा।


इसकी जानकारी जब दीक्षा तिवारी को लगी तो उन्होंने इस मामले की शिकायत खेल विभाग के अधिकारियों से कर दी। वहीं इस बात का पता जब 10 अक्टूबर को पैरालंपिक व्हीलचेयर तलवारबाजी संघ के अध्यक्ष डीआर साहू को लगा तो वे अपनी पत्नी जया साहू के साथ दीक्षा के घर पहुंच गए। इस दौरान उन्होंने खिलाड़ी दीक्षा को धमकी देते हुए गाली-गलौज कर जान से मारने की धमकी भी दी। साथ ही खेल संघ को बदनाम करने का आरोप लगाया। इसके बाद दोनों वहां से चले गए।


सचिव भी घर पहुंच गया
मंगलवार को संघ के सचिव दीपक साहू भी दीक्षा के घर पहुंच गए। दीपक के साथ उनका साथी खिलाड़ी भी मौजूद था। दीपक ने भी दीक्षा को जान से मारने की धमकी दी और गाली-गलौज करने लगे। दीपक ने दीक्षा को अपने साथ स्टेडियम चलने को भी कहा। फिर जब दीक्षा के परिचित घर पहुंचे तो दीपक और उनका साथी खिलाड़ी घर से चला गया। इसी बात से परेशान होकर दीक्षा ने मंगलवार को पूरे मामले की शिकायत सरकंडा थाना में दर्ज कराई है।

देश में उत्पन्न बिजली संकट के बीच छत्तीसगढ़ पहुंचे केंद्रीय कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी, कही ये बाते

देश में उत्पन्न बिजली संकट के बीच छत्तीसगढ़ पहुंचे केंद्रीय कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी, कही ये बाते

देश में कोयले की कमी से उत्पन्न बिजली संकट की खबरों के बीच केंद्रीय कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी बुधवार को बिलासपुर पहुंचे। उनके साथ कोल इंडिया के चेयरमैन प्रमोद अग्रवाल भी आए हैं। दोनों एयरपोर्ट से सड़क मार्ग से कोरबा चले गए। छत्तीसगढ़ की 41 खदानों से कोल इंडिया की कंपनी SECL कोयला निकालती है। यह देश से निकलने वाले कोयले का 20 फीसदी है। 150 लाख मीट्रिक टन कोयले का सालाना उत्पादन होता है। कोरबा जिले की ही खदानों से SECL 130 लाख मीट्रिक टन कोयला निकालती है।


कोल इंडिया के चेयरमैन प्रमोद अग्रवाल ने मीडिया से बात नहीं की। कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि वे कोयला उत्पादन बढ़ाने को लेकर मंथन करेंगे और कोरबा में अधिकारियों की बैठक लेकर उत्पादन की समीक्षा करेंगे। इस समय देश में डिमांड बढ़ गई है और बारिश के कारण खदानों से कोयला निकालने में परेशानी हो रही थी, इसलिए ऐसी स्थिति थी, लेकिन अब हालात पूरी तरह नियंत्रण में हैं। उन्होंने कहा कि इस समय बिजली कंपनियों की डिमांड 1.1 मिलियन टन है, लेकिन हम आज की तारीख में ही 2 मिलियन टन का प्रोडक्शन करने लगे हैं।


मंत्री जोशी साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड लिमिटेड (SECL) के मेगा प्रोजेक्ट दीपका, गेवरा व कुसमुंडा खदान का दौरा करेंगे। कोयला मंत्री जोशी अधिकारियों की बैठक के बाद दोपहर दोपहर 2:30 बजे वापस गेवरा से बिलासपुर आएंगे। फिर तीन बजे बिलासपुर से विशेष विमान से रांची के लिए रवाना होंगे।


कोरोना काल में बिजली की खपत कम होने से घटा उत्पादन
देश में कोयला संकट गहराने का प्रमुख कारण कोरोना काल में उत्पादन कम करने को माना जा रहा है। अफसर बताते हैं कि जिन राज्यों को SECL द्वारा कोयला उपलब्ध कराया जाता है उन राज्यों ने बिजली उत्पादन कम होने के कारण कोल इंडिया से कोयला लेने में आनाकानी की। उनके द्वारा कोयला खरीदी के अनुबंधों का भी नवीनीकरण नहीं कराया गया। इसके चलते SECL को उत्पादन घटाना पड़ गया।


नहीं मिला हेलिकॉप्टर, सड़क के रास्ते गए कोरबा
केंद्रीय मंत्री को हेलिकॉप्टर से बिलासपुर से कोरबा जाना था। लेकिन, उनका हेलिकॉप्टर नहीं मिल पाया, इसलिए उन्हें सड़क के रास्ते कोरबा जाना पड़ा। उनके आधिकारिक कार्यक्रम में हेलिकॉप्टर से कोरबा पहुंचने और खदानों का दौरा करके वापस बिलासपुर व रांची जाने का कार्यक्रम तय हुआ था। ऐसी स्थिति में अब उनका शेड्यूल दो ढाई घंटा लेट होगा।

कोयला मंत्री से मिलने पहुंचे भाजपा नेता
बिलासपुर के चकरभाठा एयरपोर्ट पर प्रह्लाद जोशी से मिलने सांसद अरुण साव, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, महामंत्री भूपेंद्र सवन्नी, महिला आयोग की सदस्य हर्षिता पांडेय, विधायक डाक्टर कृष्णमूर्ति बांधी, रजनीश सिंह समेत कई भाजपा नेता मौजूद रहे। इन्होंने जोशी का स्वागत किया और छत्तीसगढ़ के विकास को लेकर चर्चा की।

बड़ी खबर बिलासपुर : महिला जज की कार चोरी मामले में हुआ चौंकाने वाला खुलासा, नौकरानी गिरफ्तार

बड़ी खबर बिलासपुर : महिला जज की कार चोरी मामले में हुआ चौंकाने वाला खुलासा, नौकरानी गिरफ्तार

बिलासपुर | बिलासपुर में महिला जज की कार चोरी मामले में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। जज के घर काम करने वाली नौकरानी ही आरोपी है। उसने अपने पति के साथ वारदात को अंजाम दिया था। पूछताछ में नौकरानी ने बताया कि जज आए दिन उसे डांटती और प्रताडि़त करती थी, इसलिए उसने चोरी की योजना बनाई थी। पुलिस ने चोरी के आरोपी दंपती को गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में दंपती ने बताया कि उन्होंने कई इलाकों से बाइक भी चोरी की है। कुछ दिन पहले कोर्ट परिसर से चोरी हुई कार को पुलिस ने सकरी क्षेत्र के गोकुलधाम के पास जब्त किया था। कार मिलने के बाद पुलिस को CCTV फुटेज मिला था, जिसके आधार पर उनकी तलाश की जा रही थी। फुटेज में एक युवक कार छोड़कर जाता दिख रहा था। वहीं, थोड़ी दूर जाने के बाद युवक एक युवती के साथ एक्टिवा पर नजर आ रहा है। इस दौरान पुलिस को युवक-युवती के एक्टिवा का नंबर पता चला। इसके जरिए पुलिस आरोपियों तक आसानी से पहुंच गई।

 

 
बड़ी खबर छत्तीसगढ़: बेटी को पीटा तो शख्स ने कर दी अपनी प्रेमिका की हत्या, दोनों लिव-इन रिलेशनशिप में रह रहे थे

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: बेटी को पीटा तो शख्स ने कर दी अपनी प्रेमिका की हत्या, दोनों लिव-इन रिलेशनशिप में रह रहे थे

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले से सनसनीखेज वारदात सामने आई है, शुक्रवार देर रात एक युवक ने अपनी प्रेमिका की कुल्हाड़ी से हत्या कर दी। इसके बाद वो खुद थाने पहुंच गया। आरोपी ने पुलिस को बताया कि उसने अपनी पत्नी की हत्या कर दी है। लाश घर में ही पड़ी है। महिला की गलती सिर्फ इतनी थी कि उसने बेटी को पीटा था। खास बात यह है कि उनकी शादी नहीं हुई थी। दोनों करीब दो साल से लिव-इन रिलेशनशिप में रह रहे थे। पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया। मामला तोरवा थाना क्षेत्र का है।


जानकारी के मुताबिक, महमंद-लालखदान निवासी राजेंद्र निर्मलकर (40) करीब दो साल से अपनी प्रेमिका पूर्णिमा पासी (35) के साथ रह रहा था। दोनों की 5 महीने की एक बेटी भी है। पुलिस ने बताया कि शुक्रवार रात किसी बात को लेकर पूर्णिमा ने बेटी की पिटाई कर दी थी। इस पर राजेंद्र ने नाराजगी जताई और मना किया। पूर्णिमा नहीं मानी तो राजेंद्र कुल्हाड़ी उठाकर ले आया और गुस्से में उस पर एक के बाद एक कई वार कर दिए। इसके चलते पूर्णिमा की मौके पर ही मौत हो गई।


दोनों के बीच अक्सर छोटी-छोटी बातों को लेकर होता था विवाद
फिर बच्ची को शव के पास ही छोड़कर आरोपी थाने पहुंचा और पुलिस को बताया कि उसने पत्नी की हत्या कर दी है। सिपाही को मौके पर भेजा तो घर में पूर्णिमा की लाश पड़ी थी। इसके बाद पुलिस ने बच्ची को गांव की मितानिन को सौंप कर मकान को सील कर दिया। अगले दिन शनिवार सुबह फॉरेंसिक टीम को बुलाकर जांच कराई गई। शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवा दिया गया है। ग्रामीणों ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि राजेंद्र और पूर्णिमा के बीच अक्सर छोटी-छोटी बातों को लेकर विवाद होता था।


पति के छोड़ने के बाद आरोपी के साथ रहने लगी थी पूर्णिमा
आरोपी राजेंद्र निर्मलकर ने बताया कि गांव की बस्ती में उसका परिवार रहता है। परिवार में पत्नी और दो बच्चे भी हैं। पहली बार जब कोरोना के चलते लॉकडाउन लगा तो वह गांव में ही था। इसी दौरान गांव की ही पूर्णिमा पासी से उसका प्रेम संबंध हो गया। पूर्णिमा के पति ने उसे छोड़ दिया था। इसके चलते वह पति और बच्चों से वह अलग रहती थी। इसके बाद राजेंद्र ने भी अपने परिवार को छोड़ दिया और पूर्णिमा के साथ गांव से बाहर रहने लगा था।

BIG BREAKING: 5 तहसीदारों का तबदला, कलेक्टर ने जारी किया आदेश

BIG BREAKING: 5 तहसीदारों का तबदला, कलेक्टर ने जारी किया आदेश

बिलासुपर: जिले के 5 तहसीलदारों का तबादला व प्रमोशन किया गया है। बिलासुपर कलेक्टर ने इस बाबत् में आदेश जारी किया हैं जारी आदेश के अनुसार, मस्तूरी में मनाज खांडे की जगह अतुल कुमार को नए तहसीलदार का पद दिया गया है।


वहीं प्रांजल मिश्रा को कोटा तो आकाश गुप्ता को बिल्हा तहसीलदार का भार मिला है। शशिभूषण सोनी अतिरिक्त तहसीलदार उप तहसील सीपत बनाए गए।

CG BREAKING: अवैध संबंध के चलते टंगिया से वार कर की हत्या, पति-पत्नी सहित 4 गिरफ्तार

CG BREAKING: अवैध संबंध के चलते टंगिया से वार कर की हत्या, पति-पत्नी सहित 4 गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ के गौरेला-पेंड्रा-मरवाही से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है, जिले में एक महिला ने मां से अवैध संबंधों के चलते टंगिया से वार कर अपने ससुर की हत्या कर दी। इसके बाद पिता के साथ मिलकर गले में पत्थर डाल शव को नदी में फेंक दिया। पांच दिन से ससुर के लापता होने पर उनकी बेटी ने जब FIR दर्ज कराई तो मामला खुला। पुलिस ने पिता-पुत्री सहित हत्या में साथ देने और जानकारी छिपाने के आरोप में 4 लोगों को गिरफ्तार किया है। मामला गौरेला थाना क्षेत्र का है।


ग्राम मानपुर निवासी चैन सिंह मैना (45) दवाई लेने जाने की बात कह कर एक अक्टूबर को घर से निकला था। इसके बाद से उसका कुछ पता नहीं चल रहा है। जब 5 तारीख तक भी चैन सिंह नहीं लौटा तो उसकी बेटी चंद्रकली ने अपने भाई के साथ थाने पहुंची और गुमशुदगी दर्ज कराई। इसी बीच 6 अक्टूबर को ग्राम बनझोरका टिकरीकला में अरपा नदी में एक शव मिला। पुलिस ने शव बाहर निकलवा कर पहचान कराई तो वह चैन सिंह का निकला।


वार से गले की हड्‌डी टूटी, फिर कोमा में जाने से हुई मौत
पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा तो पता चला कि धारदार हथियार से गले पर वार किया गया है। इसके चलते गले की हड्‌डी टूट गई और कोमा में जाने से मौत हुई। पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला कि चैनसिंह का अपनी समधन अमिता बाई से अवैध संबंध था। इस बात को लेकर अमिता के पति कुंवर सिंह से उसका झगड़ा भी हो चुका था। कुंवर सिंह चैन सिंह को धमकी भी दी थी। इसके बाद पुलिस ने अमिता बाई को हिरासत में ले लिया।


मां के साथ ससुर को आपत्तिजनक हालत में देखा तो मार दिया
अमिता बाई ने पुलिस को बताया कि एक अक्टूबर की रात करीब 12 बजे चैन सिंह शराब पीकर घर पहुंचा। इसके बाद अमिता बाई को घर से कुछ दूर ले गया और संबंध बनाने लगा। उसी समय अमिता बाई की बेटी राम प्यारी ने देख लिया। वह पहले भी दोनों को ऐसा करने से मना कर चुकी थी। इसको लेकर उसके ससुर चैन सिंह ने राम प्यारी से मारपीट भी की थी। फिर से दोनों को इस हालत में देख गुस्से में राम प्यारी टंगिया लेकर आई और चैन सिंह पर वार कर दिया।


एक दिन नाले में छिपाई लाश, अगले दिन नदी में फेंकी
चैन सिंह की हत्या के बाद मां-बेटी ने शव को एक दिन के लिए नदी किनारे नाले में छिपा दिया। बाहर कमाने गया अमिता का पति कुंवर सिंह अगले दिन लौटा तो उसे पूरी घटना का पता चला। इसके बाद कुंवर सिंह, अमिता बाई और अमिता की मां बिरसिया बाई तीनों ने मिलकर चैनसिंह की लाश के गले में पत्थर डाला और उसे प्लास्टिक के बोरी से बांधकर नदी में फेंक दिया। अमिता बाई ने रास्ते में गिरे खून को मिट्‌टी सहित खोदकर पानी वाले खेत में डाल दिया था।


जानकारी पर भी सूचना नहीं देने पर 5 अन्य भी बनाए गए आरोपी
पुलिस ने आरोपियों से पूछताछ के बाद उनकी निशानदेही पर वारदात में प्रयुक्त औजार, गले मे बंधा हुआ पत्थर, चैन सिंह की साइकिल, खून से सनी मिट्‌टी और अमिता के खून लगे कपड़े बरामद कर लिए हैं। एसपी त्रिलोक बंसल ने बताया कि गांव के बलराम मैना, समारु भैना, गुलाब सिंह, रामसिंह, यशपाल सिंह को घटना के संबंध में पहले से जानकारी थी। इसके बाद भी थाने में सूचना नहीं दी। इनके खिलाफ अलग से मामला दर्ज किया जा रहा है।

छत्तीसगढ़ में बड़ा गैंगवार: आपसी रंजिश के चलते 2 गुटों में जमकर विवाद, रात-भर हुई मार-पीट और तोड़-फोड़

छत्तीसगढ़ में बड़ा गैंगवार: आपसी रंजिश के चलते 2 गुटों में जमकर विवाद, रात-भर हुई मार-पीट और तोड़-फोड़

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर से गैंगवार का मामला सामने आया है, सिरगिट्टी थाना क्षेत्र में दो युवकों के बीच आपसी रंजिश के मामले ने गैंगवार का रूप ले लिया। दोनों युवकों के गुटों ने पहले एक-दूसरे के घर जाकर मारपीट और तोड़फोड़ की। इसके बाद एक गुट ने गोविंद नगर में खड़ी करीब 20 गाड़ियों को तोड़ दिया। पुलिस ने अभी तक 10 लोगों को गिरफ्तार किया है।


जानकारी के अनुसार सिरगिट्टी थाना क्षेत्र के गोविंद नगर में पुराने विवाद में कल दो पक्षों में भिड़ंत हो गई। गोविंद नगर में रहने वाले विकास श्रीवास व इस्माइल खान का कुछ दिन पहले मामूली बात पर विवाद हुआ था। बुधवार को इस्माइल अपने साथियों के साथ विकास श्रीवास के घर पहुंचा। वहां उसने मारपीट शुरू कर दी, जिसे मोहल्ले वालों ने बीच बचाव कर के बचाया। बताया जाता है कि इस्माइल आदतन अपराधी हैं और उसका पुराना आपराधिक रिकाॅर्ड भी है। मोहल्लेवालों ने पुलिस को भी सूचना दी। इसके बाद इस्माइल और उसके साथी वहां से भाग गए।
बाद में विकास श्रीवास भी अपने साथ हुई मारपीट का बदला लेने की नीयत से इस्माइल के घर में अपने साथियों के साथ पहुंचा। पर इस दौरान इस्माइल फरार हो गया। इस्माइल को न पा कर विकास श्रीवास व उसके साथियों ने उसके घर मे तोड़फोड़ कर दी।


10 मोटरसाइकिल से आए युवक
इसका बदला लेने देर रात इस्माइल ने अपने साथियों को इकट्‌ठा कर तलवार, कुल्हाड़ी, रॉड आदि हथियारों से लैस हो कर गोविंद नगर मोहल्ले में हमला बोल दिया। कई गाड़ियों पर तलवार, रॉड से हमला कर तोड़फोड़ शुरू कर दी। मोहल्ले के लोग डर के मारे घरों में ही दुबके रहे और पुलिस को सूचना दी। सूचना पर तत्काल ही पुलिस मौके पर पहुंच गयी और उत्पातियों को दौड़ाया। पुलिस को देख कर उत्पाती हथियार फेंककर भाग निकले, जिनका पुलिस ने काफी दूर तक पीछा किया। तोड़फोड़ का सीसीटीवी भी मिला, जिसमें बदमाश कई गाड़ियों में हथियारों से लैस हो कर आते व तोड़फोड़ करते दिख रहे हैं। खास बात यह रही कि बदमाश सिर्फ तोड़फोड़ करने में ही सफल रहे, पुलिस के पहुंचने के कारण कोई अप्रिय घटना होने से पहले ही टल गई।


10 गिरफ्तार, कई की तलाश
पुलिस ने इस्माइल की मां की रिपोर्ट पर विकास श्रीवास सहित अन्य युवकों के खिलाफ अपराध दर्ज किया है। वहीं विकास श्रीवास की रिपोर्ट पर इस्माइल, संजू समेत अन्य युवकों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। दोनों पक्ष के 10 युवकों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं करीब 20 और युवकों की तलाश जारी है।

BREAKING NEWS: 2 लाख की ई-टिकट के साथ 15 दलाल गिरफ्तार, आरपीएफ की बड़ी कार्रवाई

BREAKING NEWS: 2 लाख की ई-टिकट के साथ 15 दलाल गिरफ्तार, आरपीएफ की बड़ी कार्रवाई

बिलासपुर: जिले में रेलवे के अवैध टिकट दलालों पर आरपीएफ ने बड़ी कार्रवाई की है। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 15 टिकट दलालों को गिरफ्तार किया है। सभी आरापियों के खिलाफ रेल अधिनियत के तहत कार्रवाई किया गया है।

जानकारी के अनुसार, आरपीएफ को लगातार अवैध टिकट बेचने वालों की शिकायत मिल रही थी। जिसके बाद पुलिस ने आज ये बड़ी कार्रवाई की है। पुलिस ने 15 अवैध टिकट दलालों को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से करीब 2 लाख रुपए की 338 ई-टिकट बरामद किया है। इन सभी आरोपियों पर कुल 11 प्रकरण दर्ज किए है।

बड़ी खबर: न्यायधानी में कोर्ट परिसर से महिला जज की कार चोरी, अज्ञात चोर के खिलाफ मामला दर्ज

बड़ी खबर: न्यायधानी में कोर्ट परिसर से महिला जज की कार चोरी, अज्ञात चोर के खिलाफ मामला दर्ज

बिलासपुर। जिला अदालत महिला जज की कार पार कर दी चोरो ने। महिला जज ने इसकी एफ आइआर सिविल लाईन थाने में दर्ज करवाई हैं। श्वेता श्रीवास्तव जिला अदालत में न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी के पद पर पदस्थ हैं। रोजाना वह अपने कार से कोर्ट आना जाना करती हैं। 5 अक्टूबर दोपहर जब वह लंच के टाइम तकरीबन दो बजे कोर्ट से निकलीं तो अदालत परिसर में जजो के लिए बनी पार्किंग में खड़ी उनकी कार गायब थी। आस पास पूछताछ करने व काफी खोजबीन करने पर भी नही मिलने पर उन्होंने सिविल लाइन थाने में अपनी कार क्रमांक सीजी 09 जे 5130 चोरी होने की एफआईआर दर्ज करवाई।

 हनीमून मनाकर लौटी नई दुल्हन सहेलियों से फोन पर बोली- गे है मेरा पति, फिर...

हनीमून मनाकर लौटी नई दुल्हन सहेलियों से फोन पर बोली- गे है मेरा पति, फिर...

रायपुर. छत्तीगढ़ के बिलासपुर में नया शादीशुदा जोड़ा चर्चा का विषय बना हुआ है. पत्नी ने राजस्थान के जयपुर से वापस लौटने के बाद पति के ऑफिस में सहकर्मियों से फोन पर कहा है कि मेरा पति गे है. पत्नी ने पति के ऊपर शादी से अभी तक एक बार भी शारीरिक संबंध ना बनाने का आरोप लगाया है. पत्नी के आरोपों के खिलाफ पति ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. पति ने डॉक्टर पत्नी के खिलाफ मानहानि का केस दायर है. पति ने कहा है कि पत्नी के आरोप से उसकी खूब बदनामी हो रही है और लोग हीन भावना से देखने लगे हैं. वहीं पत्नी पर आरोप है कि उसके किसी अन्य से अवैध संबंध हैं.

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर की रहने वाली डॉ आकांक्षा शुक्ल की अभिनव शर्मा से साल 2018 में शादी हुई थी जिसके बाद दोनों राजस्थान के जयपुर में हनीमून मानाने गए थे. हनीमून से लौटने के बाद पति-पत्नी में जमकर विवाद होने लगा. डॉ पत्नी ने अपने दोस्तों और पति के ऑफिस में काम करने वाले सहकर्मियों से फोन कर कहा है कि मेरा पति गे है. पत्नी के इन आरोपों से आहत होकर पति ने कोर्ट का रुख करते हुए मानहानि का केस दायर किया है. पति ने पत्नी के परिवार और रिश्तेदारों पर बदनाम करने के आरोप लगाये हैं. मंगलवार को न्यायिक मजिस्ट्रेट रायपुर की कोर्ट ने सुनवाई करते हुए पत्नी व उसके रिश्तेदारों को समन जारी किया है.

पति ने कहा है कि पत्नी के आरोपों के कारण उसकी बदनामी हो रही है. आरोपों के बाद से ही लोग उसे हीन भावना से देख रहे हैं. साथ ही पति के वकील ने पत्नी के खिलाफ कोर्ट में कहा है कि अभिनव शुक्ल मुंबई में जॉब करते हैं और उनकी पत्नी किसी अन्य से बात करती है. पत्नी के फोन में एक नंबर बोर्नविटा के नाम से सेव है जिससे वह पूरे दिन फोन पर बात करती है. पति ने इसी के साथ आरोप लगाया है कि उसकी डॉक्टर पत्नी के सहयोगी डॉक्टर विवेक उपाध्यया के साथ अवैध संबंध हैं. जिसके कारण से वह पत्नी दबाव बनाकर बिलासपुर में रहना चाहती है. 

पति का कहना है कि वह कनाडा जाना चाहते हैं. आरोपों से परेशान पति ने अपना शारीरिक मेडिकल करवाकर कोर्ट में रिपोर्ट पेश की है. जिसमें डॉक्टरों ने पति को महिलाओं से शारीरिक संबंध बनाने के लिए योग्य बताया.
 अजनबियों को लिफ्ट देना पड़ा महंगा, बाइक छीन कर आरोपी हो गए फरार

अजनबियों को लिफ्ट देना पड़ा महंगा, बाइक छीन कर आरोपी हो गए फरार

बिलासपुर। सीपत के ग्राम कुली निवासी एनटीपीसी कर्मी से लिफ्ट मांगी। इसके बाद युवक ने दोस्त से शराब मंगाकर पी। शराब पीने के बाद वह एनटीपीसी कर्मी की बाइक लेकर भाग निकला। पीडि़त ने इसकी शिकायत सीपत थाने में की है। इस पर पुलिस जुर्म दर्ज कर मामले की जांच कर रही है। सीपत क्षेत्र के ग्राम कुली निवासी गुलाबचंद साहू एनटीपीसी के इलेक्ट्रीकल विभाग में काम करते हैं। एक अक्टूबर की रात वे ड्यूटी से वापस अपने घर जा रहे थे। नवाडीह चौक के पास एक युवक ने कुकदा गांव जाने के लिए लिफ्ट मांगी। पास के गांव का समझकर उन्होंने अपनी बाइक में बिठा लिया। गुड़ी के पास गुलाब ने युवक से बाइक चलाने की बात पूछी। इस पर युवक उनसे बाइक लेकर चलाने लगा। लुतरा के राउतराय भांठा के पास युवक ने बाइक रोक दी। इसके बाद उसने किसी को फोन कर शराब मंगाया। युवक ने अपने दोस्त के साथ बाइक के पास ही खड़े होकर शराब पिया। शराब पीने के बाद युवक उनकी बाइक को लेकर भाग निकला। पीडि़त ने मंगलवार को इसकी शिकायत सीपत थाने में की है। इस पर पुलिस जुर्म दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।
 छत्तीसगढ़: युवक ने बच्चों के सामने हथौड़ी से पीटकर अपनी पत्नी की कर दी हत्या, आरोपी ने किया सरेंडर

छत्तीसगढ़: युवक ने बच्चों के सामने हथौड़ी से पीटकर अपनी पत्नी की कर दी हत्या, आरोपी ने किया सरेंडर

बिलासपुर। सिविल लाइन थाना क्षेत्र के मंझवापारा में एक युवक ने अपनी पत्नी के चरित्र पर संदेह कर हथौड़ी से पीटकर हत्या कर दी। घटना के बाद आरोपी स्वयं थाने पहुंचकर अपने आप को सरेंडर कर दिया।

गौरतलब हो कि मृतिका हरी कुमार भार्गव 40 वर्ष जीएसटी कार्यालय में पदस्थ थी। वहीं उसका पति अक्षय भार्गव अपनी पत्नी के चरित्र पर संदेह करता था। बुधवार के सुबह दोनों पति-पत्नी में इसी बात को लेकर विवाद हुआ। जिसके बाद आरोपी अक्षय ने हथौड़ी से अपनी पत्नी के सिर पर ताबड़तोड़ वार किया। जिससे चीखने के आवाज पर दोनों बच्चे जाग गए। घटना के बाद आरोपी वहां से भागते हुए थाने पहुंचा। वहीं बच्चे भी पड़ोसियों के साथ थाना पहुंचा। मौके में पहुंची पुलिस ने देखा की हरी कुमारी लहूलुहान हालत में जमीन पर मृत अवस्था में पड़ी है। बताया जाता है कि अक्षय भार्गव कोई काम नहीं करता है। हरीकुमारी से करीब 15 साल पहले शादी हुई थी। उनके दो बच्चे भी हैं, 13 साल का अनीश भार्गव और 12 साल का मनीष भार्गव नाम है।
+ Load More