अच्छी खबर : सितंबर से देश में ही होगा स्पूतनिक-वी का उत्पादन...    |    कोरोना अपडेट : 24 घंटे में 41 हजार नए मामले, 541 लोगों की मौत    |    बड़ी खबर : इस BJP सांसद को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जाने क्या है मामला...    |    CG कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज रायपुर में मिले सर्वाधिक मरीज, 203 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, देखें जिलेवार आंकड़े    |    आईसीएमआर अपडेट : आज शाम तक मिले इतने कोरोना पॉजिटिव, देखे जिलेवार आकड़े    |    बड़ी खबर : जेल में बैरक की दीवार ढही, 22 कैदी गंभीर रूप से घायल    |    CG कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज एक्टिव मरीजो की संख्या हुई 2 हजार से कम, 243 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, देखें जिलेवार आंकड़े    |    बड़ी खबर: पान मसाला कंपनी पर आयकर का शिकंजा, 400 करोड़ रुपए के काले कारोबार का हुआ खुलासा    |    आईसीएमआर अपडेट : आज शाम तक मिले इतने कोरोना पॉजिटिव, आकडों में आज रायपुर से मिले सर्वाधिक    |    जज की संदिग्ध मौत पर सुप्रीम कोर्ट ने लिया संज्ञान, सरकार से एक हफ्ते में मांगा जवाब    |
चिटफंड से संबंधित आवेदन लिए जाएंगे अगस्त की इतनी तारीख तक, नोडल एवं सहायक नोडल अधिकारी नियुक्त

चिटफंड से संबंधित आवेदन लिए जाएंगे अगस्त की इतनी तारीख तक, नोडल एवं सहायक नोडल अधिकारी नियुक्त

बिलासपुर । छत्तीसगढ़ शासन गृह, जेल विभाग मंत्रालय के निर्देशानुसार जनसामान्य एवं निवेशकों से चिटफंड से संबंधित आवेदन 2 अगस्त से 6 अगस्त तक लिया जाएगा। इस कार्य हेतु जिला स्तर पर नोडल एवं सहायक नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। कलेक्टर के जारी आदेशानुसार संयुक्त कलेक्टर अंशिका पाण्डेय को नोडल अधिकारी और दोमनिक खाखा क्षेत्रीय सहायक अल्प बचत जिला कार्यालय बिलासपुर को सहायक नोडल अधिकारी बनाया गया है। निवेशकों ने कलेक्टर को चिटफंड से संबंधित आवेदन पत्र निर्धारित प्रारूप में प्रस्तुत करना होगा। 

 छत्तीसगढ़ में फिर सेक्स रैकेट : ब्यूटी पार्लर की आड़ में देह व्यापार, मां-बेटी गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ में फिर सेक्स रैकेट : ब्यूटी पार्लर की आड़ में देह व्यापार, मां-बेटी गिरफ्तार

बिलासपुर। फेसबुक में पहचान के बाद नौकरी दिलाने का झांसा देकर महिला ने रायगढ़ क्षेत्र की युवती को शहर बुला लिया। यहां उसने युवती को देह व्यापार के धंधे में धकेल दिया। इस दलदल से निकलने का प्रयास करने पर महिला उससे मारपीट कर धमकी देती थी। पीडि़त किसी तरह भागकर थाने पहुंची। उसकी शिकायत पर सरकंडा पुलिस ने आरोपित महिला और उसकी बेटी को गिरफ्तार कर लिया है|

सरकंडा थाना प्रभारी जेपी गुप्ता ने बताया कि छह महीने पहले रायगढ़ जिले में रहने वाली 22 वर्षीय युवती की पहचान शहर के अशोक नगर में रहने वाली महिला से हुई। महिला ने युवती को बताया कि वह शहर में ब्यूटी पार्लर का काम करती है। युवती ने उससे काम के संबंध में बात की। इस पर महिला ने उसे अपने ब्यूटी पार्लर में काम देने की बात कही..साथ ही उसे शहर आने के लिए कहा। इस पर युवती उसके पास शहर आ गई। यहां पर महिला ने युवती को देह व्यापार में उतार दिया। युवती ने इसका विरोध किया। इस पर महिला और उसकी 18 वर्षीय बेटी युवती से मारपीट करने लगे। साथ ही उसे काम के स्र्पये देने भी बंद कर दिए। युवती को घर में ही बंद कर रखने लगे। युवती किसी तरह मां-बेटी की चंगुल से भागकर थाने पहुंची। उसने मां-बेटी की करतूत पुलिस को बताई। पुलिस ने जुर्म दर्ज कर मां-बेटी को गिरफ्तार कर लिया है. मामले की शिकायत के बाद पुलिस ने पीडि़त युवती के स्वजन को इसकी जानकारी दी। इसके बाद स्वजन सोमवार को सरकंडा थाने पहुंच गए। स्वजन की मौजूदगी में पीडि़त युवती का बयान दर्ज कराया गया। इसके बाद पुलिस ने नाबालिग को उनके हवाले कर दिया। साथ ही सरकंडा थाना प्रभारी ने उनके जाने की व्यवस्था की।
त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन के लिए अधिकारी नियुक्त

त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन के लिए अधिकारी नियुक्त

बिलासपुर । छत्तीसगढ़ राज्य निर्वाचन आयोग रायपुर ने पंचायतों की मतदाता सूचियां रजिस्ट्रीकृत करने के लिए पंचायत निवार्चन नियम 1995 अंतर्गत रजिस्ट्रीकरण अधिकारी तथा सहायक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी एवं अपील प्राधिकारी पदाभिहित किये गए हैं। अनुविभागीय अधिकारी मस्तूरी को जनपद पंचायत मस्तूरी से संबंधित ग्राम पंचायत नरगोड़ा, एरमसाही, दर्राभाठा, पंधी, देवघाट, दर्रीघाट, पाली, चिल्हाटी, कौड़िया, विद्याडीह, भनेसर एवं भटचैरा क्षेत्र का रजिस्ट्रीकरण अधिकारी पदाभिहित किया गया है। इसी प्रकार तहसीलदार मस्तुरी को जनपद पंचायत मस्तुरी से संबंधित ग्राम जनपद पंचायत मस्तुरी से संबंधित ग्राम पंचायत नरगोड़ा, एरमसाही, दर्राभाठा, पंधी, देवघाट, दर्रीघाट, पाली, चिल्हाटी, कौड़िया, विद्याडीह, भनेसर एवं भटचैरा का सहायक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी पदाभिहित किया गया है। अनुविभागीय अधिकारी बिल्हा को जनपद पंचायत बिल्हा क्षेत्र क्रमांक-3 करमा (ग्राम पंचायत करमा, बसहा, रायपुर, भिल्मी एवं उच्चभट्ठी) जनपद पंचायत बिल्हा से संबंधित ग्राम पंचायत पेण्डरवा (द.) भरारी, सरवानी, बोड़सरा, सलखा, अमेरीअकबरी, भिल्मी, बसिया, गढ़वट, बिटकुली, द. पोड़ी एवं डंगनिया क्षेत्र का रजिस्ट्रीकरण अधिकारी पदाभिहित किया गया है। तहसीलदार बिल्हा को जनपद पंचायत बिल्हा क्षेत्र क्रमांक 3 करमा (ग्राम पंचायत करमा, बसहा, रायपुर, भिल्मी एवं उच्चभट्ठी) जनपद पंचायत बिल्हा से संबंधित ग्राम पंचायत पेण्डरवा (द.) भरारी, सरवानी, बोड़सरा, सलखा, अमेरी अकबरी, भिल्मी, बसिया, गढ़वट, बिटकुली, द. पोड़ी एवं डंगनिया का सहायक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी पदाभिहित किया गया है। अनुविभागीय अधिकारी तखतपुर को जनपद पंचायत तखतपुर से संबंधित ग्राम पंचायत जरेली, सिलतरा, ठाकुरपारा, बहुरता, बोड़सरा, छतौना, काठाकोनी, बहतराई, साल्हेकापा एवं चिचिरदा क्षेत्र का रजिस्ट्रीकरण अधिकारी पदाभिहित किया गया है। तहसीलदार तखतपुर को (पंचायत) जनपद पंचायत तखतपुर से संबंधित ग्राम पंचायत जरेली, सिलतरा, ठाकुरपारा, बहुरता, बोड़सरा, छतौना, काठाकोनी, बहतराई, साल्हेकापा एवं चिचिरदा क्षेत्र का सहायक रजिस्ट्रीकीण अधिकारी पदाभिहित किया गया है। इसी प्रकार अनुविभागीय अधिकारी कोटा को जनपद पंचायत कोटा से संबंधित ग्राम पंचायत करवा, बेलगहना, रानीसागर, कुसमुली, उपका, चुरेली, जाली, मझगांव, नवागांव, सल्फा, सेमरा, मटसगरा एवं रतखण्डी क्षेत्र का रजिस्ट्रीकरण अधिकारी पदाभिहित किया गया है। तहसीलदार कोटा को जनपद पंचायत कोटा से संबंधित ग्राम पंचायत करवा, बेलगहना, रानीसागर, कुसमुली, उपका, चुरेली, जाली, मझगांव, नवागांव, सल्फा, सेमरा, मटसगरा एवं रतखण्डी क्षेत्र का सहायक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी पदाभिहित किया गया है। अपर कलेक्टर बिलासपुर इन क्षेत्रों के रजिस्ट्रीकरण कार्य से संबंधित अपीलीय अधिकारी होंगे। 

पुलिस महानिरीक्षक डांगी ने किया महिला संवेदना कक्ष का उद्घाटन

पुलिस महानिरीक्षक डांगी ने किया महिला संवेदना कक्ष का उद्घाटन

बिलासपुर । सरगुजा रेंज के पुलिस महानिरीक्षक रतनलाल डांगी ने राजपुर में जिला स्तरीय समीक्षा बैठक ली, साथ ही उन्होंने थाना में संवेदना कक्ष का उद्घाटन किया। पुलिस अधीक्षक रामकृष्ण साहू जिले के सभी थानों में जन प्रतीक्षालय और संवेदना कक्ष तैयार करवा रहे है। इस कड़ी में आज राजपुर थाने में संवेदना कक्ष का उद्घाटन पुलिस निरीक्षक डांगी ने किया, जिसका उद्देश्य पीड़ित महिलाओं एवं बच्चों के थाना आने पर इस कक्ष में अनुकूल वातावरण मिले। साथ ही पीड़ित पुलिस अधिकारियों से अपनी बात निर्भीक होकर कर सकें एवं थाने में पदस्थ महिला अधिकारी इस कक्ष का प्रयोग कर सकें। इस दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रशांत कतलम अनुविभागीय अधिकारी पुलिस कुसमी मनोज तिर्की, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस रामानुजगंज नितेश गौतम डीएसपी नक्सल ऑपरेशन डी.के .सिंह डीएसपी क्राइम जितेंद्र सिंह एवं जिले के समस्त थाना चौकी प्रभारी उपस्थित थे। 

झीरम कांड : एनआईए की दायर याचिका पर आज हाईकोर्ट में अंतिम सुनवाई

झीरम कांड : एनआईए की दायर याचिका पर आज हाईकोर्ट में अंतिम सुनवाई

बिलासपुर। झीरम घाटी हत्याकांड में दरभा थाने में दर्ज आपराधिक प्रकरण को चुनौती देने वाली याचिका पर आज हाईकोर्ट में अंतिम सुनवाई होगी। इस दौरान राष्ट्रीय जांच एजेंसी(एनआइए) व राज्य शासन के क्षेत्राधिकार पर बहस हो सकती है।

झीरम कांड में दिवंगत कांग्रेस नेता और पूर्व विधायक उदय मुदलियार के पुत्र जितेंद्र मुदलियार ने जून 2020 में दरभा थाने में प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कराई थी। उनका कहना है कि एनआइए ने इस घटना में राजनीतिक षड्यंत्र की जांच नहीं की है। दरभा थाने में दर्ज रिपोर्ट को चुनौती देते हुए एनआइए ने अपनी विशेष अदालत में याचिका दायर की थी, जिसे खारिज कर दिया गया। इस फैसले के खिलाफ एनआइए ने हाईकोर्ट में आपराधिक अपील प्रस्तुत की है।

14 वें वित्त की राशि का फर्जी आहरण करने वाले 5 ग्राम सचिव निलंबित

14 वें वित्त की राशि का फर्जी आहरण करने वाले 5 ग्राम सचिव निलंबित

बिलासपुर। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत बिलासपुर नें 14 वें वित्त की राशि के फर्जी आहरण कर गबन करने वाले गौरेला पेण्ड्रा मरवाही जिले के 5 ग्राम पंचायत सचिवों को निलंबित कर दिया है। हरिलाल केंवट सचिव ग्राम पंचायत पोंड़ी जनपद पंचायत मरवाही जिला गौरेला पेण्ड्रा मरवाही को 14वें वित्त की राशि का फर्जी रूप से आहरण करने पर निलंबित कर दिया गया है। निलंबित अवधि में हरिलाल केंवट का मुख्यालय जनपद पंचायत मरवाही निर्धारित किया गया है, तथा हरिलाल केंवट को नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता होगी। सचिव ग्राम पंचायत पोंड़ी का अतिरिक्त प्रभार संतोष गुप्ता सचिव ग्राम पंचायत खुरपा को सौंपा गया है। इसी तरह ग्राम पंचायत मालाडाड के सचिव गुलाब सिंह तिलगाम को निलंबित किया गया है। निलंबित अवधि में गुलाब सिंह तिलगाम का मुख्यालय जनपद पंचायत मरवाही निर्धारित किया गया है तथा उन्हें नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता होगी। सचिव ग्राम पंचायत मालाडाड का अतिरिक्त प्रभार अनिल कुमार जायसवाल सचिव ग्राम पंचायत पड़खुड़ी को सौंपा गया है। ग्राम पंचायत पथर्रा एवं दरमोहली के सचिव मूलविजय सिंह को निलंबित किया गया हैं। उनके स्थान पर श्रीमती गीता मारको को ग्राम पंचायत पथर्रा और दरमोहली के सचिव का प्रभार राजेश जायसवाल सचिव ग्राम पंचायत मसूरीखार को सौंपा गया है। ग्राम पंचायत उषाढ़ के सचिव गया प्रसाद को निलंबित कर उनके स्थान पर प्रवीण चन्द्र राय सचिव ग्राम पंचायत धनौरा को अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है। ग्राम पंचायत बदरौड़ी के सचिव कमलेश सिंह श्याम को निलंबित कर उनके स्थान पर श्रीमती झमेल कुंवर सचिव ग्राम पंचायत बन्धौरी को अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है।
 

निलंबित एडीजी जीपी सिंह की याचिकाओं को कोर्ट ने ख़ारिज किया

निलंबित एडीजी जीपी सिंह की याचिकाओं को कोर्ट ने ख़ारिज किया

बिलासपुर: छत्तीसगढ़ के निलंबित एडीजी जीपी सिंह की राजद्रोह और EOW की कार्यवाही के विरुद्ध में दायर याचिकाओं को जस्टिस नरेंद्र व्यास की कोर्ट ने ख़ारिज कर दिया है। मामले को लेकर न्यायमूर्ति नरेंद्र व्यास के उस विस्तृत आदेश की प्रतीक्षा है जिससे यह स्पष्ट होगा कि उन्होंने निर्णय के लिए क्या आधार बताया है। खबरें हैं कि राजद्रोह के मसले पर अग्रिम ज़मानत याचिका लगाए जाने और फिर वापस लिए जाने के मसले को भी ख़ारिज करने का एक आधार माना गया है।

 

बड़ी खबर : तालाब पर बना मैग्नेटो माल, हाईकोर्ट सख्त...

बड़ी खबर : तालाब पर बना मैग्नेटो माल, हाईकोर्ट सख्त...

बिलासपुर। बिलासपुर में मैग्नेटो माल के तालाब पर बने होने के मामले में लगी याचिका पर हाईकोर्ट में कार्यवाहक चीफ जस्टिस की बेंच ने शासन और नगर निगम बिलासपुर से जवाब तलाब किया है। दो हप्ते में मामले में जवाब पेश करने का आदेश दिया है। राजनीतिक रसूख रखने वालों से जुड़ा मैग्नेटो माल तालाब पर बना है।


मामले में रोहित राठौर ने यचिका लगाई है। अधिवक्ता अर्जित तिवारी ने मामले की पैरवी की। अर्जित तिवारी ने बताया, किसी भी जल स्रोत पर निर्माण नहीं किया जा सकता न उसके स्वरूप को बिगड़ा जा सकता है। मैग्नेटो माल तालाब पर बना दिया गया है। इससे वाटर लेबल नीचे गया और नैसर्गिक स्रोत को पाट कर माल बना दिया गया जो पूर्णतः गलत है। जलस्रोत जनउपयोगी और जनहित के लिये होता है। ऐसे में किसी तालाब को पाट कर माल बनानां गलत है। मामले में शासन और नगर निगम से जवाब तलब किया गया है।

सुनवाई के बाद जीपी सिंह के मामले में हाईकोर्ट ने फैसला रखा सुरक्षित

सुनवाई के बाद जीपी सिंह के मामले में हाईकोर्ट ने फैसला रखा सुरक्षित

बिलासपुर । निलंबितत आईपीएस जीपी सिंह की याचिकाओं पर आज हाईकोर्ट में सुनवाई पूरी हो गई है। दोनों पक्षों की सुनवाई पूरी होने के बाद कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा है।
गौरतलब है कि पिछले सुनवाई में जीपी सिंह की दोनो याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने राज्य सरकार से केस डायरी तलब की थी। वहीं जीपी सिंह ने जो अंतरिम राहत की मांग को लेकर अपनी पहली याचिका लगाई थी, उस पर कोर्ट ने सरकार से जवाब तलब किया था। आज शासन की ओर से केस डायरी प्रस्तुत की गई।
छत्तीसगढ़ के सीनियर आईपीएस जीपी सिंह ने अपने वकील किशोर भादुड़ी के माध्यम से रिट पिटीशन दायर कर मांग की थी कि उनके खिलाफ एसीबी और रायपुर सिटी कोतवाली थाने में जो मामले दर्ज किए गए हैं, उसकी जांच सीबीआई जैसी किसी स्वतंत्र एजेंसी से कराइ जाए। उन्होंने अपनी इस याचिका में अंतरिम राहत की मांग करते हुए उनके खिलाफ चल रही जांच पर रोक की मांग की है। इसके साथ ही उन्होंने एक और याचिका दायर कर सरकार द्वारा अपने खिलाफ दायर किए गए राजद्रोह के केस को भी हाईकोर्ट में चुनौती दी है।
 

 अजीबोगरीब मामला: अज्ञात व्यक्ति ने की कब्र खोदकर मुर्दे के अंगों की चोरी, मामला दर्ज

अजीबोगरीब मामला: अज्ञात व्यक्ति ने की कब्र खोदकर मुर्दे के अंगों की चोरी, मामला दर्ज

बिलासपुर। जिले के रतनपुर थाना क्षेत्र स्थित मुस्लिम कब्रिस्तान से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि अज्ञात व्यक्ति ने यहां एक कब्र खोदकर शव के कुछ अंग किसी ने निकाल लिए। इस बात की जानकारी तब सामने आई जब करैया पारा में रहने वाला एक शख्स ने अपने भाई की कब्र पर फातेहा पढऩे गए थे। उनके भाई की लाश यहां तीन महीने पहले दफनाई गई थी। फातेहा पढऩे गए भाई ने देखा कि कब्र से छेड़छाड़ की गई हैं। उन्होंने पास जाकर देखा कि कब्र को किसी औजार से खोदा गया है। लकड़ी के पटरे व्यवस्थित रखने के बाद शव के कुछ अंग निकाल लिए गए हैं। शव के सिर के बाल भी नहीं हैं। इसकी जानकारी मुस्लिम समाज के पदाधिकारियों को दिए जाने के साथ ही रतनपुर थाने को भी दी गई हैं। मौके पर जाकर रतनपुर पुलिस ने मुआयना किया। इस मामले को देखकर पुलिस भी सकते में है। रतनपुर थाना प्रभारी हरविंदर सिंह के मुताबिक शव के शरीर के कुछ अंग गायब किए गए हैं। कफन भी कब्र के बाहर मिला है। पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दी हैं।
 छत्तीसगढ़ अनलॉक : रायपुर सहित इन तीन जिलों में रात इतने बजे तक खुलेंगी दुकानें, नाइट कर्फ्यू भी हुआ खत्म

छत्तीसगढ़ अनलॉक : रायपुर सहित इन तीन जिलों में रात इतने बजे तक खुलेंगी दुकानें, नाइट कर्फ्यू भी हुआ खत्म

बिलासपुर। राजधानी रायपुर के बाद अब न्यायधानी बिलासपुर में भी अनलॉक को लेकर नया आदेश जारी कर दिया गया है, अब यहां भी रायपुर की तरह ही रात 10 बजे तक दुकानें खुल सकेगीं। इस आशय के आदेश जिला कलेक्टर ने जारी ​कर दिया है।

इसके पहले बीते दिन राजधानी रायपुर में भी रात 10 बजे तक दुकान खोलने की अनुमति दी गई है, इसके पहले यहां रात 8 बजे तक ही दुकानों को परमिशन थी। लेकिन अब दुकान खोलने के समय में बढ़ोत्तरी की गई है। यहां पर नाइट कर्फ्यू भी खत्म हो गया है, शहर में फिर पुरानी व्यवस्था लागू हो गई है।

बता दें कि इससे पहले कांकेर जिला प्रशासन ने भी अनलॉक को लेकर नई गाइडलाइन जारी करते हुए सभी दुकानों को रात 10 बजे तक खोलने की छूट दे दी थी। आदेश के अनुसार आज यानि 16 जुलाई से जिले की सभी दुकानें रात 10 बजे तक खुलेंगी। प्रशासन ने इस दौरान दुकानदारों को कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने का निर्देश दिया है।
हाईकोर्ट से आईएमआई हॉस्पिटल को बड़ी राहत, बिल्डिंग के अतिरिक्त निर्माण को तोड़ने पर लगाई रोक

हाईकोर्ट से आईएमआई हॉस्पिटल को बड़ी राहत, बिल्डिंग के अतिरिक्त निर्माण को तोड़ने पर लगाई रोक

बिलासपुर। हाईकोर्ट से आईएमआई मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल प्रबंधन को राहत मिली है। भिलाई निगम ने हॉस्पिटल के अतिरिक्त निर्माण को तोड़ने की कार्रवाई शुरू की थी, जिस पर रोक लगाते हुए कोर्ट ने 15 दिन के भीतर नियमितीकरण के लिए दिए गए आवेदन पर नियमानुसार कार्रवाई कर निराकरण करने कहा है।


भिलाई के आईएमआई हॉस्पिटल के संचालक डॉ. राजेश कुमार ने अपने अधिवक्ता के माध्यम से हाईकोर्ट में अर्जेंट सुनवाई के लिए याचिका दायर की थी क्योंकि नगर निगम ने 15 जुलाई को हॉस्पिटल के अतिरिक्त निर्माण को अवैध बताते हुए तोड़ने का आदेश जारी किया था।


सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता ने बताया कि उन्होंने भवन निर्माण के लिए भिलाई नगर निगम में आवेदन लगाया था, पर उस पर कार्रवाई नहीं हुई। निर्माण तोड़ने के नोटिस के बाद उन्होंने नियमितीकरण के लिए भी आवेदन दिया था लेकिन उस पर भी सुनवाई नहीं हुई। ऐसे समय में जबकि कोरोना महामारी की तीसरी लहर आने की आशंका है, हॉस्पिटल में मरीजों के इलाज की तैयारी की गई है। दूसरी लहर में भी डॉक्टर तथा स्टाफ मरीजों का उपचार कर रहे हैं। ऐसे समय में तोड़फोड़ किए जाने से स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने में दिक्कत होगी और मरीजों को परेशानी होगी। प्रकरण की सुनवाई करते हुए जस्टिस पीपी साहू ने नगर निगम के आदेश पर रोक लगा दी और नगर निगम को अतिरिक्त भवन निर्माण के नियमितीकरण के लिए दिए गए आवेदन का निराकरण करने कहा।

सेवानिवृत्त आईएएस शुक्ल की संविदा नियुक्ति के मामले में अंतिम सुनवाई 29 को

सेवानिवृत्त आईएएस शुक्ल की संविदा नियुक्ति के मामले में अंतिम सुनवाई 29 को

बिलासपुर । सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी डाॅ.आलोक शुक्ला की संविदा नियुक्ति के मामले में लगी याचिका पर आज हाईकोर्ट में सुनवाई हुई। कार्यकारी चीफ जस्टिस प्रशांत मिश्रा और रजनी दुबे की बेंच ने अंतिम सुनवाई की तारीख मुकर्रर कर दी है। इस मामले की अंतिम सुनवाई 29 जुलाई को होगी। कोर्ट ने अपने आदेश में कहा है कि संविदा नियुक्ति से जुड़े रिकॉर्ड पेश किया जाए। ज्ञातव्य है कि भाजपा नेता नरेश चंद्र गुप्ता ने रिटायरमेंट के बाद दी गई संविदा नियुक्ति को चुनौती देते हुए इसे नियम विरूद्ध बताया था।
याचिका पक्ष के वकील विवेक शर्मा ने कहा कि, कोर्ट ने अंतिम सुनवाई के लिए 29 तारीख का वक्त दिया है। तब तक संविदा से जुड़े रिकार्ड्स मांगे गए हैं। इससे पहले याचिका पक्ष में कोर्ट के सामने दलील रखी थी कि संविदा भर्ती नियम के रूल 4 (1) के तहत संविदा नियुक्ति के लिए विज्ञापन जारी किए जाने का प्रावधान है, जबकि डाॅ.आलोक शुक्ला की संविदा नियुक्ति के पहले किसी तरह का विज्ञापन जारी नहीं किया गया। रूल 9 के तहत इंटिग्रिटी डाउटफुल होने तथा क्रिमिनल केस पेंडिंग होने पर संविदा नियुक्ति नहीं दी जा सकती। डाॅ. शुक्ला नान घोटाला मामले में अभियुक्त हैं और उनका नाम चार्जशीट में है। ईडी की जांच जारी है। प्रावधानों के तहत डाॅ.आलोक शुक्ला को संविदा नियुक्ति नहीं दी जा सकती।
इससे पहले सरकार की ओर से पक्ष रखा गया था, जिसमें यह कहा गया था कि संविदा भर्ती नियम के रूल 17 में दिए गए अधिकार का इस्तेमाल करते हुए डाॅ.शुक्ला को नियुक्ति दी गई है। जबकि रूल में सरकार की ओर से दिए जाने वाला रिलैक्सेशन पब्लिक परपज से जुड़े मसलों पर ही दिया जा सकता है। क्वालिफिकेशन में रिलैक्सेशन सरकार दे सकती है, लेकिन सर्विस के लिए इंटीग्रिटी की जरूरी है। चूंकि शुक्ला के खिलाफ प्रकरण चल रहा है, लिहाजा उनकी संविदा नियुक्ति में उन्हें किसी तरह का रिलेक्सेशन नहीं दिया जा सकता।
बता दें कि शुक्ला 30 मई को ही रिटायर हुए थे.राज्य शासन ने रिटायरमेंट के अगले दिन ही उन्हें प्रमुख सचिव के रूप में संविदा नियुक्ति दी थी। भाजपा नेता नरेशचंद्र गुप्ता की ओर से वकील अनिल खरे, विवेक शर्मा और गैरी मुखोपाध्याय ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की थी। इस याचिका में संविदा नियुक्ति पर डाॅक्टर शुक्ला को लिए जाने की राज्य सरकार की मंशा पर सवाल उठाया गया है। याचिका में कहा गया है कि बहुचर्चित नान घोटाले में शुक्ला का नाम शामिल हैं, ऐसे में उनकी पुनःनियुक्ति असंवैधानिक है। संविदा भर्ती नियम 2013 के मुताबिक रिटायर अधिकारी के विरूद्ध यदि कोई विभागीय या अन्य तरह की जांच लंबित है, तो उस अधिकारी को पोस्ट रिटायरमेंट संविदा नियुक्ति नहीं दी जा सकती। आलोक शुक्ला नान घोटाले में चार्टशीटेड हैं। उनके खिलाफ जांच जारी है। तत्कालीन मुख्य सचिव ने भी उनके खिलाफ निलंबन की सिफारिश की थी।
 

 निलंबित एडीजी जीपी सिंह की याचिकाओ पर हाईकोर्ट में हुई सुनवाई, कोर्ट ने राज्य सरकार से मांगी केस डायरी

निलंबित एडीजी जीपी सिंह की याचिकाओ पर हाईकोर्ट में हुई सुनवाई, कोर्ट ने राज्य सरकार से मांगी केस डायरी

बिलासपुर। आय से अधिक चल-अचल संपत्ति एवं राजद्रोह मामले में फंसे निलंबित एडीजी जीपी सिंह की याचिकाओं पर उच्च न्यायालय बिलासपुर में सुनवाई हुई। न्यायालय ने सुनवाई के दौरान राज्य सरकार से इस मामले की केस डायरी मांगते हुए अगली सुनवाई की तारीख 20 जुलाई तय की है। 

एडीजी जीपी सिंह के ठिकानों पर ईओडब्ल्यू-एसीबी की छापेमार कार्यवाही में 10 करोड़ से अधिक की चल-अचल सम्पत्ति का पता लगाया गया है। इस कार्यवाही के बाद जीपी सिंह के घर पर पुलिस लगातार नजर रखे हुए थे। संभावना जतायी जा रही थी कि जीपी सिंह की कभी भी गिरफ्तारी हो सकती है। इसका आभाष संभवत: जीपी सिंह को भी था और इससे पहले ही वे घर से अचानक गायब हो गए। उनके घर से इस तरह से गायब होने के बाद ईओडब्ल्यू-एसीबी ने जीपी सिंह के घर से मिले महत्वपूर्ण दस्तावेजों को आधार बनाकर उनके खिलाफ पुलिस में शिकायत की। जिस पर पुलिस ने जीपी सिंह के खिलाफ राजद्रोह का मामला दर्ज किया। इस बीच जीपी सिंह ने अपने वकील के जरिए हाईकोर्ट में दो याचिका लगाई है जिसमें उन्होंने जहां उनके खिलाफ पुलिस द्वारा जारी जांच को रोकने की मांग की है, वहीं उनके मामले की जांच सीबीआई से कराये जाने की मांग की है। आज दोनों याचिकाओं पर उच्च न्यायालय में सुनवाई हुई। इस दौरान न्यायालय ने राज्य सरकार से केस डायरी मांगी है। सरकारक  जवाब आने के बाद ही जीपी सिंह के अंतरिम राहत की मांग सुनवाई होगी। मामले की अगली सुनवाई अब 20 जुलाई मंगलवार को होगी।
 रेल हादसा: बिलासपुर मार्ग में 12 बोगियां पटरी से उतरी, 10 गिरी पुल के नीचे

रेल हादसा: बिलासपुर मार्ग में 12 बोगियां पटरी से उतरी, 10 गिरी पुल के नीचे

अनूपपुर। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे अंतर्गत बिलासपुर से कटनी रेलखंड में शुक्रवार शाम बिलासपुर से कटनी कोयला लेकर जा रही एक मालगाड़ी की कई बोगियां जैतहरी और वेंकट नगर रेलवे स्टेशन के मध्य निगौरा स्टेशन के समीप एक नदी पर बने पुल में जा गिरी। अनूपपुर से करीब 25 किलोमीटर दूर बिलासपुर मार्ग के निगौरा स्टेशन का यह मामला है। करीब 10 बोगियां मालगाड़ी के पिछले हिस्से की पटरी से पुल पार करते समय नीचे गिर गई । दो बोगियां पुल के ऊपर हैं।
माल गाड़ी के आगे का हिस्सा पुल से दूर जा चुका था। यह घटनाक्रम बिलासपुर से कटनी के बीच तैयार हो रही तीसरी लाइन का है। छत्तीसगढ़ के कुष्मांडा खदान से जबलपुर की तरफ पावर प्लांट में कोयला सप्लाई करने यह माल गाड़ी जा रही थी। माल गाड़ी बिलासपुर से छूटने के बाद अप लाइन में दौड़ रही थी। निगौरा रेलवे स्टेशन से करीब 3 किलोमीटर पहले अलान नदी पर बने जरेली नदी पुल पर यह हादसा हुआ। मालगाड़ी के करीब 12 बोगियां नई तैयार हो रही तीसरी लाइन पर और कुछ पुल के नीचे जा गिरे।
घटना के वक्त पुल के आस पास कोई नहीं था जिससे जानमाल का नुकसान नहीं हुआ। जिस पुल पर मालगाड़ी के डिब्बे पटरी से उतरे कुछ माह पहले ही पुल का निर्माण हुआ है। यह माल गाड़ी बिलासपुर से छूटने के बाद खोड़री स्टेशन कुछ मिनट खड़ी हुई थी इसके बाद सीधे निगौरा पहुंच रही थी।
पेंड्रा से रेल कर्मचारियों का दल यहां पहुंच चुका है। रेल परिचालन बाधित ना हो इसके लिए रेलवे द्वारा पहली और दूसरी लाइन से धीमी गति में अन्य आने जाने वाली गाड़ियों को निकाला जा रहा है। अभी स्पष्ट नहीं हो सका है कि मालगाड़ी कि बोगियां आखिर पटरी से अचानक कैसे उतर गई।

 

  शहर के सिलिव लाइन इलाके में व्यापारी की पत्नी ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

शहर के सिलिव लाइन इलाके में व्यापारी की पत्नी ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

बिलासपुर। बिलासपुर शहर के व्यापारी की पत्नी ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि उन्होंने प्रेम विवाह किया था। इस दौरान दोनों पति-पत्नी में आए दिन विवाद होता था। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। सिविल लाइन थाना प्रभारी संजय बरेठ ने बताया कि घटना श्रीकांत वर्मा मार्ग स्थित उषा हाइट की है। यहां रहने वाले निशांत वर्मा व्यापारी हैं। वर्ष 2012 में उन्होंने पूनम से प्रेम विवाह किया था। शादी के बाद उनके दो बच्चे भी हुए। पति-पत्नी के बीच आए दिन विवाद होते रहता था।

मिली जानकारी के मुताबिक पूनम वर्मा अपने कमरे में लगे पंखे में फंदा बनाकर फांसी लगा ली। इस दौरान निशांत वर्मा दूसरे कमरे में था। अचानक उन्होंने पत्नी पूनम को फंदे पर लटकते देखा, तब आनन-फानन में उन्होंने फंदा खोलकर उन्हें नीचे उतरा और उपचार के लिए निजी अस्पताल ले कर गए। इस बीच डाक्टर ने उन्हें सिम्स ले जाने की सलाह दी। सिम्स पहुंचने के बाद जांच कर डाक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस पहले मौका मुआयना करने घटनास्थल पहुंची। इस दौरान कमरे की तलाशी ली गई। लेकिन, सुसाइड नोट नहीं मिला। इस स्थिति में पुलिस मोबाइल के साथ ही मृतका के मायके वालों के बयान के आधार पर कार्रवाई करेगी।
 
छत्तीसगढ़ : एनटीपीसी में हुआ धमाका, पेंट हाउस की छत बुरी तरह क्षतिग्रस्त

छत्तीसगढ़ : एनटीपीसी में हुआ धमाका, पेंट हाउस की छत बुरी तरह क्षतिग्रस्त

बिलासपुर। बिलासपुर के सीपत स्थित एनटीपीसी प्लांट में बुधवार देर रात ब्लास्ट हो गया। धमाका इतना तेज था कि पेंट हाउस की छत उड़ गई। वहीं 500 मेगावाट की यूनिट ठप हो गई है। हालांकि हादसे में कोई जनहानि नहीं हुई। बताया जा रहा है कि प्लांट में बॉयलर फटने के कारण ऐसा हुआ है। हालांकि अभी ज्यादा जानकारी सामने नहीं आ सकी है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक प्लांट के 500 मेगावाट की यूनिट-5 में देर रात काम चल रहा था। इसी दौरान करीब 11 बजे उसकी दूसरी इकाई में शिफ्ट चेंज ओवर के समय ब्लास्ट हो गया। बताया जा रहा है कि ड्रम का राइजर फटने से बॉयलर में ब्लास्ट हुआ है। धमाका इतनी तेज था कि उससे पेंट हाउस की छत तक बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई और टूट कर नीचे गिर पड़ी।


बताया जा रहा है कि ब्लास्ट के कारण प्लांट में 500 मेगावाट की यूनिट ठप होने से उत्पादन भी बाधित हो गया है। घटना से जनरेशन का भी बड़ा नुकसान होना बताया जा रहा है। हालांकि शिफ्ट चेंज ओवर के समय हादसा होने के कारण कोई जन हानि की खबर नहीं है।

छत्तीसगढ़ कांग्रेस के इस वरिष्ठ नेता व पूर्व राज्यसभा सदस्य का हुआ निधन

छत्तीसगढ़ कांग्रेस के इस वरिष्ठ नेता व पूर्व राज्यसभा सदस्य का हुआ निधन

बिलासपुर । कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व राज्यसभा सदस्य रामाधार कश्यप का निधन हो गया। वे 85 साल के थे। निधन की खबर से पूरे प्रदेश में शोक की लहर दौड़ गई। मुख्यमंत्री बघेल सहित कांग्रेस के अन्य नेताओं ने उनके निधन पर शोक प्रकट किया है।

 

हाईकोर्ट ने बड़े पैमाने पर सिविल जजों का किया तबादला

हाईकोर्ट ने बड़े पैमाने पर सिविल जजों का किया तबादला

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट ने बड़े पैमाने पर सिविल जज वर्ग-1 और वर्ग-2 के जजों का तबादला आदेश जारी किया है। हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार जनरल दीपक कुमार तिवारी ने सिविल न्यायाधीश वर्ग- 2 के 64 जजों का तबादला किया है।
6 सिविल जज वर्ग-1-सह-मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट का भी ट्रांसफर किया गया है। वहीं राजस्व जिले के लिए सिविल जज वर्ग- 1 के 13 जजों का ट्रांसफर किया गया है।
जारी आदेश में जस्टिस विनोद कुमार देवांगन, प्रथम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश, दक्षिण बस्तर,दंतेवाड़ा और वरिष्ठतम न्यायिक अधिकारी, जो जिला मुख्यालय दंतेवाड़ा में पदस्थ हैं, उन्हें कार्यवाहक जिला एवं सत्र न्यायाधीश दंतेवाड़ा नियुक्त किया गया है।
 

छत्तीसगढ़: अपार्टमेंट के चौथे मंजिल से युवती ने कूद कर दी जान, पुलिस कर रही मामले की जाँच

छत्तीसगढ़: अपार्टमेंट के चौथे मंजिल से युवती ने कूद कर दी जान, पुलिस कर रही मामले की जाँच

बिलासपुर। शहर के सिविल लाइन थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्रीन गार्डन कालोनी स्थित स्ट्रीट गोल्डन ऑक अपार्टमेन्ट से युवती ने छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली। जिसके बाद खबर लगते ही पुलिस मौके पर पहुंच जांच पड़ताल कर रही है।

मामले में मिली जानकारी के मुताबिक ग्रीन गार्डन कालोनी स्थित एक अपार्टमेन्ट से युवती ने छलांग लगा दी है,बताया जा रहा है कि जिससे युवती की मौके पर ही मौत हो गयी है,खबर लगते ही पुलिस भी मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल कर रही है।

मिली जानकारी के मुताबिक छलांग लगाने वाली युवती का नाम खुश्बू विश्वकर्मा है,जिसकी उम्र करीब 26 से 28 साल के बीच बतायी जा रही है,पुलिस को पंचनामा कार्रवाई के दौरान जानकारी मिली कि खुश्बू 2020 लाकडाउन के पहले अपार्टमेन्ट के मालिक राजेश गुप्ता के दुकान में कम्प्यूटर आपरेटर का काम करती थी।
 BREAKING : न्यायधानी में हुआ बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों का तबादला, एसपी ने जारी किया आदेश

BREAKING : न्यायधानी में हुआ बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों का तबादला, एसपी ने जारी किया आदेश

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ की न्यायधानी बिलासपुर पुलिस विभाग में बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों का फेरबदल हुआ है। एसपी प्रशांत अग्रवाल ने आदेश जारी कर एक साथ 198 आरक्षकों का तबादला किया है देखिए किस पुलिसकर्मी को कहां नई जिम्मेदारी दी गई है।'
 
 
 बड़ी खबर: ससुर को तलाशने गए दामाद की जंगल में मिली लाश, ससुर लापता

बड़ी खबर: ससुर को तलाशने गए दामाद की जंगल में मिली लाश, ससुर लापता

बिलासपुर।  छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले के  कोटा इलाके के कंचनपुर के जंगल में एक युवक की लाश मिली है। मामला कोटा इलाके के बेलगहना चौकी क्षेत्र का है। लाश के सिर पर चोट के निशान हैं। जिसके कारण युवक के हत्या की आशंका जताई जा रही है। इतना ही नहीं मृतक का ससुर भी लापता है। जिससे मृतक मिलने के लिए जंगल गया था। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है। युवक का शव मिलने से सनसनी फैल गई है। मृतक का नाम अशोक धनुवार है। 

लापता ससुर खोरबहरा धनुवार भी गांव के ही पास के जंगल में कुटिया बनाकर रहता था। शनिवार को अशोक अपने ससुर से ही मिलने गया था, लेकिन फिर वापस नहीं लौट सका है। मृतक अपनी पत्नी के साथ ससुराल में ही रहता था। अशोक जब रात तक घर नहीं लौटा तब परिजनों ने उसकी तलाश शुरू कि, इसके बाद जब परिजन जंगल की ओर गए तब रविवार सुबह अशोक की लाश मिली है। परिजनों ने अशोक की हत्या की ही आशंका जताई है।
ट्रैफिक जवान को धमकाने वाले कांग्रेसी नेता के खिलाफ दर्ज हुआ एफआईआर

ट्रैफिक जवान को धमकाने वाले कांग्रेसी नेता के खिलाफ दर्ज हुआ एफआईआर

बिलासपुर। न्यायधानी बिलासपुर में ट्रैफिक आरक्षक को सरेराह धमकी तथा गाली देने वाले कांग्रेस के ब्लॉक अध्यक्ष के खिलाफ जुर्म दर्ज कर लिया गया है। जानकारी के अनुसार बीते दिनों एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमे रेलवे क्षेत्र के ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष कांग्रेस नेता मोती थारवानी ने सरेआम ट्रैफिक जवान से धक्का मुक्की कर दी। इस दौरान जवान मोती थारवानी को नियम कायदों का हवाला देता रहा। लेकिन कांग्रेस नेता ने कई बार ट्रैफिक जवान को धमकाया। घटना का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद अब कांग्रेस नेता पर एफआईआर दर्ज की गई है। आरक्षक की रिपोर्ट पर पुलिस ने गैर जमानती धाराओं के तहत जुर्म दर्ज कर लिया है।  

BIG BREAKING : रविवार को रात 8 बजे तक इन दुकानों को खोलने की मिली छूट, यहां के लिए संशोधित आदेश जारी

BIG BREAKING : रविवार को रात 8 बजे तक इन दुकानों को खोलने की मिली छूट, यहां के लिए संशोधित आदेश जारी

बिलासपुर। कोरोना के मामलों में तेजी से कमी आई है। जिसके बाद अब जिला प्रशासन ने अनलॉक की गाइडलाइन जारी किया है। जिला प्रशासन पहले की तरह सभी तरह की सेवाओं में छूट दी है। इसके साथ ही अब रविवार को भी अनलॉक किया है।
बिलासपुर जिला प्रशासन ने अनलॉक को लेकर संशोधित आदेश जारी किया है। नया आदेश के अनुसार रविवार को भी दोपहर दो बजे तक व्यवसायिक गतिविधि संचालित करने की छूट दी गई है। जबकि सैलून और ब्यूटी पार्लर रविवार रात 8 बजे तक संचालित हों सकेंगे। वहीं अन्य दिनों में रात 8 बजे तक व्यवसायिक गतिविधियों की अनुमति रहेगी।
बिलासपुर के अलावा रायपुर में भी रविवार को अनलॉक किया है। बता दें कि प्रदेश में कोरोना के मामलों में गिरावट होने के बाद लॉकडाउन में ढील दी गई है। वहीं प्रशासन ने कोरोना गाइडलाइन का पालन करने के सख्त निर्देश दिए हैं।
 

बड़ी खबर: छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय ने 36 जजों को दी स्थाई नियुक्ति, देखें सूची

बड़ी खबर: छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय ने 36 जजों को दी स्थाई नियुक्ति, देखें सूची

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ के बिलासपुर हाईकोर्ट ने सिविल जजों का तबादला आदेश जारी किया है। जारी सूची में 36 सिविल जजों की स्थाई नियुक्ति दी गई है। यह आदेश रजिस्ट्रार जनरल दीपक तिवारी ने जारी किया गया है।  

+ Load More