कोरोना अपडेट : प्रदेश के इस जिले में कोरोना ने ढाया कहर, छत्तीसगढ़ में कल के मुकाबले आज बढ़ी नए कोरोना मरीजों की संख्या    |    बड़ा हादसा: खाई में गिरी मेटाडोर ,10 की मौत व 15 घायल, पीएम मोदी ने जताया शोक    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज 2 की हुई मृत्यु, आज इतने मरीजों की हुई पहचान, देखे जिलेवार आकड़े    |    मौसम अलर्ट: उत्तर-पूर्वी मानसून की आहट से इन राज्यों पर मंडराया बारिश का खतरा    |    बड़ी खबर: पटाखे की गोदाम में लगी भयानक आग से 5 की गई जान, 9 लोग घायल    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में फिर पैर पसारने लगा है कोरोना, छत्तीसगढ़ में आज इतने मरीजों की हुई पहचान    |    बदल गए पेंशन के नियम, 30 नवंबर तक ये काम ना किया तो रुक जाएगी पेंशन    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश के इस जिले में हुआ कोरोना विस्फोट, धीरे धीरे फिर से बढ़ रहे है एक्टिव मरीजो की संख्या, देखें जिलेवार आंकड़े    |    बड़ी खबर: राज्यपाल की बिगड़ी तबियत, दिल्ली AIIMS में भर्ती    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश के इन दो जिलों में हुआ कोरोना विस्फोट, आज प्रदेश में मिले इतने नए मरीज, देखें जिलेवार आंकड़े    |
छत्तीसगढ पुलिस की बड़ी सफलता: साठ किलो गाँजा समेत तीन को किया गिरफ़्तार

छत्तीसगढ पुलिस की बड़ी सफलता: साठ किलो गाँजा समेत तीन को किया गिरफ़्तार

जशपुर, ज़िले के लावाकेरा पुलिस चेकपोस्ट पर पुलिस ने गाँजा तस्कर गिरोह को पकड़ा है। इस गिरोह में एक महिला समेत तीन लोग शामिल हैं। ये सभी स्कोडा कार में सवार थे जिसमें साठ किलो के लगभग गाँजा बरामद हुआ है।
आपको बता दे तस्करों के रुप में पहचाने गए तीनों के साथ एक किशोरी भी है जिसकी आयु लगभग चौदह साल है। पुलिस सूत्रों के अनुसार यह तस्करों की रणनीति होती है कि वे महिला बच्चों के साथ महँगी कार में तस्करी करते हैं ताकि प्रथम दृष्टया शक ना हो साथ ही चेकिंग के दौरान वे महिला बच्चों की उपस्थिति को लेकर कई बार प्रतिरोध भी करते हुए बच निकलने की क़वायद कर लेते हैं।
जिन्हें पकड़ा गया है उनमें मोहन लाल, राजन विश्वकर्मा और श्रीमती ज्योति विश्वकर्मा शामिल हैं।
 

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: दोस्त की नाबालिग बहन से किया दुष्कर्म,आरोपी गिरफ्तार

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: दोस्त की नाबालिग बहन से किया दुष्कर्म,आरोपी गिरफ्तार

जशपुर: जशपुर जिले के बग़ीचा थाना क्षेत्र में दोस्त ने दोस्त की नाबालिग बहन के साथ दुष्कर्म कर फरार हो गया। वहीं पुलिस ने भी महज 3 घंटे में आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।


घटना के संबंध जो तथ्य सामने आए हैं, पीडि़ता 13 वर्षिय नाबालिग है। वहीं उसके बड़े भाई के दोस्त होने के नाते से नाबालिग पीडि़ता भी आरोपी की जान पहचान थी। रात्रि में जब पीडि़ता पढ़ाई कर रही थी, तभी आरोपी ने अपने मोबाइल से व्हाट्सएप्प पर नाबालिग पीडि़ता को घर से बाहर निकलने को कहा, तथा घर के आंगन में निकलने के बाद आरोपी ने नाबालिग को घसीटते हुए वहीं घर से थोड़ी दूर ले जाकर टिकरा में दुष्कर्म की घटना को अंजाम देकर फरार हो गया। जिसके बाद नाबालिग पीडि़ता ने घर आकर परिवारवालों को रोते हुए पूरी घटना के बारे में बताया। घटना को जानने के बाद परिवारवालों के साथ आकर बग़ीचा थाने में पीडि़ता के द्वारा रिपोर्ट दर्ज कराया, वहीं पुलिस भी नाबालिग के साथ घटी इस दुष्कर्र्म की घटना पर तत्काल एक्शन लेते हुए रात्रि में ही आरोपी को ढूंढने निकल गई। पुलिस के तीन घण्टे की मशक्कत के बाद आखिर पुलिस के हाथ आरोपी के गिरेबान तक पहुंच ही गए। जहां उसे गिरफ्तार कर लिया गया। तथा कार्यवाही करते हुए आरोपी को जेल भेज दिया है।

पत्थलगांव केस : कार मालिक और गांजा तस्करी का सरगना गिरफ्तार

पत्थलगांव केस : कार मालिक और गांजा तस्करी का सरगना गिरफ्तार

जशपुर: जिले के पत्थलगांव में कार से लोगों को कुचलने के मामले में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने कार मालिक को मध्यप्रदेश के सिंगरौली से गिरफ्तार किया है। जशपुर पुलिस की विशेष टीम ने इसे गिरफ्तार किया है। मामले में गिरफ्तार आरोपी को 14 दिन की न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है। इसके बाद एक और आरोपी को पकड़ने के लिए पुलिस ने छापेमारी शुरू की है।

इस सड़क हादसे में गांजा तस्करी का सरगना भी गिरफ्तार हो गया है। साथ आरोपी पींटू सिंह को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है। जशपुर पुलिस की विशेष टीम ने मध्यप्रदेश के सिंगरौली से गिरफ्तार किया है। कार मालिक की सिंगरौली से ही गिरफ्तारी हुई है। दोनों को सिंगरौली से जशपुर लेकर जशपुर पुलिस पहुंची है। एसपी विजय अग्रवाल ने इस बात की पुष्टि की है।

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: पत्थलगांव में हुई घटना के चलते 50 पुलिसकर्मियों का तबादला, 16 काॅस्टेबल लाइन अटैच

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: पत्थलगांव में हुई घटना के चलते 50 पुलिसकर्मियों का तबादला, 16 काॅस्टेबल लाइन अटैच

जशपुर: जशपुर के पत्थलगांव में हुई घटना के बाद एसपी विजय अग्रावाल ने बड़ी कार्रवाई करते हुये 16 आरक्षकों को लाईन अटैच किया है। साथ ही निरीक्षक, एएसआई सहित 50 के करीब पुलिसकर्मियों को इधर से उधर किया गया है। जिन पुलिसकर्मियों का नाम सूची में हैं।

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: दुर्गा विसर्जन के लिए जा रही भीड़ को कार ने रौंदा, 26 घायल, एक की मौत, प्रदेश सरकार देगी 50 लाख का मुआवजा

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: दुर्गा विसर्जन के लिए जा रही भीड़ को कार ने रौंदा, 26 घायल, एक की मौत, प्रदेश सरकार देगी 50 लाख का मुआवजा

जशपुर: छत्तीसगढ़ के जशपुर जिलें के पत्थलगांव में करीब 150 लोग शुक्रवार को जुलूस की शक्ल में दुर्गा विसर्जन के लिए जा रहे थे। तभी इसी दौरान तेज रफ्तार कार भीड़ को रौंदते हुए निकली। हादसे में एक व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि 26 लोग घायल हो गए। घायलों में 4 की हालत गंभीर बनी हुई है। जानकारी के मुताबिक कार में गांजा भरा हुआ था और तस्कर इसे ओडिशा से मध्य प्रदेश के सिंगरौली ले जा रहे थे।


घटना के बाद लोगों ने कार को आग के हवाले कर दिया। जांच के दौरान पता चला है कि दोनों आरोपी पहले भी किसी को कुचल कर आ रहे थे। कुछ लोग उनका पीछा कर रहे थे। जिसके कारण वे रफ्तार से कार चला रहे थे। हालांकि पहले जिसे कुचला गया था, उसके बारे में जानकारी नहीं मिल पायी है। जशपुर एसपी ने पत्थलगांव टीआई को मामले में लाइन अटैच कर दिया है। वहीं भाजपा ने घटना के विरोध में आज एक दिन जिला बंद करने का ऐलान किया है। भाजपा ने एसपी के निलंबित ?कर मृतक के परिवार को एक करोड़ रुपए की सहायता देने की मांग की है।
घटना के बाद लोगों ने पीछा कर कार के ड्राइवर को 5 किलोमीटर दूर सुखरापारा से पकड़ लिया। गुस्साए लोगों ने उसकी जमकर पिटाई की। लोगों ने टक्कर मारने वाली कार को भी फूं क दिया। पुलिस ने बड़ी मुश्किल से आरोपी को भीड़ से छुड़ाया। उसे भीड़ से बचाते हुए पुलिस रायगढ़ जिले के कापू थाना लेकर चली गई। लोगों के गुस्से को देखते हुए मौके पर पुलिस तैनात कर दी गई है। इस केस में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है।


इधर इस घटना की जानकारी मिलते ही प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्थानीय थाने के टीआई को लाईन हाजिर करने व एएसआई को निलंबित करने के निर्देश जारी किए है। पूरी घटना की जांच के आदेश भी दिए गए है। वहीं मुख्यमंत्री ने इस घटना में मृतक स्व गौरव अग्रवाल के परिजनों को 50 लाख रुपए मुआवजा देने की घोषणा की है। उल्लेखनीय है कि पत्थलगांव विकासखण्ड में कल लगभग दोपहर 1 बजे के बीच संबलपुर से सिंगरोली जाने वाली कार के चालक ने दुर्गा विर्सजन जुलूस में शामिल लोगों के ऊपर वाहन चढ़ा दी। दुर्घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने आरोपी को पकड़ कर जेल में डाल दिया है 7 इनमें आरोपी बबलू विश्वकर्मा उम्र 21 वर्ष निवासी बैढन और दूसरा आरोपी शिशु पाल साहू निवासी बरगवाम सिंघरोली शामिल हैं 7 साथ ही सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति के प्रति मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल, जशपुर जिले के प्रभारी मंत्री श्री उमेश पटेल और पत्थलगांव विधायक श्री राम पुकार सिंह ने संवेदना व्यक्त करते हुए कलेक्टर से लगातार फोन से सम्पर्क कर घायल व्यक्तियों का हाल चाल जाना और प्रशासन को हर संभव प्रयास करने को कहा।

 

कलेक्टर अग्रवाल ने बताया कि प्रशासन परिजनों के साथ खडी़ है। घायल लोगों का प्रशासन हर सभव सहायता कर रही है 7 उन्होंने कहा कि सड़क दुर्घटना में एक व्यक्ति की मृत्यु हो गईं हैं साथ ही घायल लोगो का ईलाज से किया जा रहा है । पुलिस अधीक्षक विजय अग्रवाल ने बताया कि प्रशासन का पूरा अमला घायल को पूरा सहयोग प्रदान कर रहे हैं। डाक्टरों ने जानकारी देते हुए बताया है कि 12 घायल मरीजों का ईलाज पत्थलगांव के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में किया जा रहा है और 4 घायल मरीजों को रायगढ़ के जिला चिकित्सालय रिफर किया गया 7 जिला प्रशासन परिजनों के साथ हर दुख के साथ खड़ी है 7 कलेक्टर ने कहा कि घायल मरीजों को किसी भी प्रकार की समस्या नहीं होने देगी 7 पुलिस प्रशासन ने लापरवाही बरतने वाले टी आई श्री संतलाल अयाम को लाइन अटैच कर दिया है वही एसआई के. के. साहू को निलंबित कर दिया गया है।

 बड़ी खबर छत्तीसगढ़: महिला ने की जेठ और जेठानी की हत्या, जानिए क्या है ये पूरा मामला

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: महिला ने की जेठ और जेठानी की हत्या, जानिए क्या है ये पूरा मामला

जशपुर। छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले से एक बड़ी खबर प्रकाश में आई है यहा एक महिला ने जेठ और जेठानी पर कुल्हाड़ी से हमला कर उन्हें मौत के घाट उतार दिया। दोनों की हत्या के बाद महिला खुद थाना पहुंचे गई। उसने पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण करते हुए बताया कि 'साहब, मैंने अपने ही परिवार के दो लोगों की हत्या कर दी हैÓ। महिला की यह बात सुनकर पुलिस के भी कान खड़े हो गए। आनन—फानन में महिला को हिरासत में लेकर उसकी बात की मौके पर पहुंचकर तस्दीक की गई, तो एक महिला और पुरुष की लाश खून से सनी हुई पड़े मिली।

एक ही परिवार के दो लोगों की हत्या, वह भी उस परिवार की ही एक महिला के द्वारा किया जाना, इस अंधविश्वास की ही परिणिति है। पूरा मामला जशपुर जिले के सन्ना थाना क्षेत्र का है जहां एक महिला ने जादू टोने के शक में अपने ही परिवार के जेठ जेठानी की हत्या कर दी है और खुद शुक्रवार की रात सन्ना थाने पंहुचकर आत्मसमर्पण कर दिया।

इस दिल दहलाने वाले हत्याकांड की जानकारी मिलने के बाद जशपुर एसपी विजय अग्रवाल खुद घटना स्थल पहुंचे। पुलिस ने बताया कि आरोपी महिला ग्राम पंचायत डोभ की है। जिसे जादू टोने के शक ने इस कदर जकड़ रखा था कि महिला ने कुल्हाड़ी से हमला कर अपने ही परिवार के जेठ जेठानी को मौत के घाट उतार दिया। मृतक का नाम मघनु राम पिता बोलो व उसकी पत्नी गंगोत्री बाई है जिनकी हत्या हुई है। वहीं हत्या कर थाना पहुंची महिला का नाम लुन्दरी बाई पति बुधमन भगत बताया जा रहा है।
CG BREAKING: डकैती करने आये 5 बदमाशो पर अकेले भारी पड़ गया 60 साल का बुजुर्ग

CG BREAKING: डकैती करने आये 5 बदमाशो पर अकेले भारी पड़ गया 60 साल का बुजुर्ग

जशपुर जिले में 60 साल के बुजुर्ग की हिम्मत ने डकैतो के पसीने छुड़ा दिए जिससे वो डकैती करने में नाकाम हो गए। घर में सोमवार देर रात देशी कट्‌टा और फरसा लेकर घुसे 5 डकैतों से बुजुर्ग अकेले ही भिड़ गए। उनके इस हमले में डकैतों का एक साथी गंभीर रूप से घायल हो गया। साथी डकैत उसे अस्पताल लेकर पहुंचे, लेकिन रास्ते में ही मौत हो गई। इस बीच सूचना मिलने पर पुलिस भी एंबुलेंस कर्मचारी के रूप में पहुंची और 24 घंटे में 3 बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। जबकि एक की तलाश की जा रही है। मामला लोदाम चौकी क्षेत्र का है।


ग्राम कुडिंग महुआ टोली के जोगीपारा निवासी सुरेशदास बैरागी (60) सोमवार को पत्नी और दो जवान बेटों के साथ घर में ही थे। बेटे मोबाइल पर गेम खेल रहे थे, जबकि सुरेश पत्नी के साथ किचन में खाना बना रहा था। इसी दौरान शाम करीब 7.30 बजे दरवाजे पर दस्तक हुई। आवाज सुनकर सुरेश के बेटे ने दरवाजा खोला तो उसे धक्का देते हुए 5 डकैत अंदर घुस आए। डकैतों ने दरवाजा बंद कर दिया। शोर सुनकर सुरेशदास और उनकी पत्नी बाहर निकले।

रुपयों और गहनों की मांग कर सुरेश दास को बदमाश पीटने लगे
इस पर डकैतों ने सुरेश दास को पकड़ लिया और उनकी पिटाई शुरू कर दी। सुरेशदास की पत्नी ने 10 हजार रुपए निकालकर डकैतों को दे दिए। ये पैसे धान बेचने पर उन्हें मिले थे। इसके बाद डकैत गहनों की मांग करते हुए सुरेश दास को पीटने लगे। बचाव में सुरेश दास ने भी पलटवार किया। उसके हाथ में जो आया उसी से मारा। इसमें एक डकैत को गंभीर चोट लग गई। डकैतों को हड़बड़ता देख पत्नी और बेटों ने भी शोर मचा दिया। आवाज सुनकर बस्ती के लोग एकत्र होने लगे तो डकैत भाग निकले।

एंबुलेंस कर्मी बनकर पहुंची पुलिस ने डकैतों को पकड़ा
डकैतों के भागने के बाद सुरेशदास की पत्नी ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची तो वहां खून पड़ा था। उसे देखकर अंदाजा लगाया कि डकैत को गंभीर चोट आई है। ऐसे में उसे अस्पताल ले जाना पड़ सकता है। इस पर पुलिस ने 108 कंट्रोल रूम को जानकारी दी तो पता चला कि एक्सीडेंट की सूचना आई है। इसके बाद पुलिसकर्मी एंबुलेंस में ही कर्मचारी बनकर पहुंचे और घायल डकैत को अस्पताल ले गए। जहां गंभीर हालत को देख उसे अंबिकापुर रेफर किया गया, लेकिन रास्ते में दम तोड़ दिया।

घायल साथी के साथ आए डकैत को पकड़ा, तो 2 और हत्थे चढ़े
घायल डकैत के साथ उसका एक साथी भी एंबुलेंस से अस्पताल पहुंचा था। पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। पूछताछ में उससे मिली जानकारी पर पुलिस ने अलग-अलग ठिकानों पर दबिश देकर तीन बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए आरोपियों ने भेलवाडीह निवासी विनेश (23), अंकित राम (23) और बड़ाबनई निवासी विनोद राम (32) शामिल है। जबकि मारे गए आरोपी की पहचान नवाटोली निवासी राम प्रताप (26) के रूप में हुई है। आरोपियों से लूटे गए 2100 रुपए, एक कट्‌टा, एक फरसा, एक डंडा, एक खाली कारतूस, एक जिंदा कारतूस बरामद हुआ है।


नक्सली संगठन के नाम पर पहले भी कर चुके हैं कई वारदात
एसपी विजय अग्रवाल ने बताया कि पकड़े गए आरेापी नक्सली संगठन के नाम पर पहले भी कई वारदातों को अंजाम दे चुके हैं। पूछताछ में पता चला है अगस्त में ग्राम नगड़ी से आए 2 व्यक्ति के साथ देशी कट्टा लेकर बाइक से नवाटोली से लोखंडी मार्ग में बन रहे निर्माणाधीन पुल के पास पहुंचे। वहां एक नक्सली पर्चा मजदूरों को देकर ठेकेदार को धमकी दी और फिरौती की मांग की थी।

CG NEWS: पेट और सिर दर्द से परेशान एक ही परिवार के 3 लोगों की मौत

CG NEWS: पेट और सिर दर्द से परेशान एक ही परिवार के 3 लोगों की मौत

जशपुर: छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गई। बताया जा रहा है की सर्फ मामूली पेट और सर दर्द से ग्रसित होने के कारण मौत हो गई है। लेकिन बीमारी के खतरनाक जकडऩा के कारण तीनों की जिंदगी बच नहीं सकी। एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत एक साथ हुई है। मिली जानकारी के मुताबिक मरने वालों में 14 -17 साल की दो लड़कियां हैं, जबकि एक 70 साल के बुजुर्ग की भी मौत हो गई है. दो दिन में तीन लोगों की मौत हुई है घटना नगर पंचायत पत्थलगांव के महुआ टिकरा मोहल्ले की है। मेडिकल टीम मौक़े पर पहुंची हुई है।

बड़ी खबर : दिव्यांग प्रशिक्षण केंन्द्र में छात्राओं से हुए दुष्कर्म मामले में बाल संरक्षण आयोग ने कलेक्टर व एसपी को जारी की नोटिस

बड़ी खबर : दिव्यांग प्रशिक्षण केंन्द्र में छात्राओं से हुए दुष्कर्म मामले में बाल संरक्षण आयोग ने कलेक्टर व एसपी को जारी की नोटिस

जशपुर | जिले के दिव्यांग प्रशिक्षण केंद्र में दिव्यांग छात्राओं से हुए दुष्कर्म और छेड़छाड़ मामले में अब राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग ने संज्ञान लिया है। आयोग ने इस मामले में जिले के कलेक्टर और एसपी को नोटिस जारी किया है। आयोग ने 6 बिंदुओं पर  3 दिनों के भीतर जबाव मांगा है।  

बता दें कि जिल के समर्थ आवासीय दिव्यांग प्रशिक्षण केंद्र में यौन शोषण का मामला सामने आया था। 22 सितंबर की रात एक दिव्यांग छात्रा के साथ दुष्कर्म और 5 छ़ात्राओं के साथ छेड़छाड़ की पुष्टि हुई थी। छात्राओं ने 2 कर्मचारियों पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। एएसपी प्रतिभा पाण्डेय ने इस मामले में दिव्यांग बच्चियों से बयान लिया है। साथ ही पुलिस ने 2 आरोपी कर्मचारियों को हिरासत में लिया है। गौरतलब है कि कलेक्टर महादेव कावरे ने इस मामले पर कार्रवाई करते हुए अधीक्षक संजय राम को सस्पेंड किया गया था। इसके बाद समाज कल्याण विभाग की उपसंचालक सुचिता मिंज को इसका प्रभार दिया गया है।
 
BIG BREAKING: दिव्यांग केंद्र के नशे में धुत दो कर्मचारियों ने दिव्यांग बच्चो के साथ किये अश्लील हरकत

BIG BREAKING: दिव्यांग केंद्र के नशे में धुत दो कर्मचारियों ने दिव्यांग बच्चो के साथ किये अश्लील हरकत

छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले से मानवता को शर्मसार करने वाला खबर सामने आया है। जशपुर स्थित समर्थ दिव्यांग केंद्र में नशे में धुत केयर टेकर और चौकीदार ने बच्चों से मारपीट और अश्लील हरकतें की। उनके कपड़े फाड़ दिए। बच्चे जान बचाने के लिए नग्न हालत में कैंपस में भागते रहे। चौकीदार ने 15 साल की एक बच्ची से दुष्कर्म किया। जबकि 5 बच्चियों से यौन उत्पीड़न की शिकायत भी सामने आई है। घटना 3 दिन पुरानी है। बच्चियों के परिजन उनसे मिलने पहुंचे तो इसका पता चला। वहीं महिला आयोग ने भी न्यूज़ एजेन्सीयों की खबर को संज्ञान में लिया है।


इस दिव्यांग केंद्र का संचालन खनिज न्यास मद के तहत राजीव गांधी शिक्षा मिशन की ओर से किया जाता है। घटना 22 सितंबर देर रात की है। बताया जा रहा है कि घटना वाली रात हॉस्टल अधीक्षक वहां नहीं थे। बच्चों की जिम्मेदारी यहां के केयर टेकर राजेश राम और चौकीदार नरेंद्र भगत पर थी। दोनों रात करीब 11 बजे शराब के नशे में धुत होकर केंद्र में पहुंचे। वहां शोर मचाया और सो रहे बच्चों को जगा दिया। हॉस्टल में 22 बच्चे और 12 बच्चियां रहती हैं। इनमें से कोई भी बोल और सुन नहीं सकता है।


इस मामले में कलेक्टर ने केंद्र के अधीक्षक संजय राम को निलंबित कर दिया और राजीव गांधी शिक्षा मिशन के जिला समन्वयक विनोद पैंकरा को शोकाज नोटिस जारी किया गया है।


कुछ बच्चों को उठाकर नाली में फेंका
आरोपियों ने बच्चों से मारपीट शुरू कर दी। कुछ बच्चियों के कपड़े फाड़ दिए। किसी तरह से बचकर भाग रहे बच्चों को उठाकर हॉस्टल कैंपस की नाली में फेंक दिया। इस दौरान हॉस्टल की स्वीपर कुमारी बाई बीचबचाव करने आई तो आरोपियों ने उसे बाथरूम में बंद कर दिया। वह किसी तरह से बाहर निकली और फोन कर हॉस्टल अधीक्षक संजय राम को सूचना दी। इस पर वह रात में ही केंद्र पहुंच गए और कर्मचारियों को बाहर निकाल दिया


रात को ही शिक्षकों को बुलाया गया
बच्चों के साथ क्या-क्या हुआ है, इसे पता करने के लिए हॉस्टल अधीक्षक ने रात में ही साइन लैंग्वेज के शिक्षकों को बुलाया। बच्चों ने साइन लैंग्वेज में केयर टेकर और चौकीदार की करतूतों का खुलासा किया। इसके बाद हॉस्टल अधीक्षक ने घटना की सूचना विभाग में दी। विभाग ने केयर टेकर राजेश राम और चौकीदार नरेन्द्र भगत को पद से हटा दिया है। इसके बाद भी घटना पर पर्दा डालने का प्रयास किया गया।


आरोपियों को जेल भेजा
दिव्यांग केंद्र में साइन लैंग्वेज समझने के लिए टीचर या कर्मचारी नहीं हैं। ऐसे में इंटरप्रेटर की मदद से बच्चियों से जानकारी ली जाएगी। कलेक्टर महादेव कावरे ने मामले की जांच के निर्देश दिए हैं। एडिशनल SP प्रतिभा पांडेय ने बताया कि अभी तक एक दिव्यांग बच्ची से दुष्कर्म और 5 छात्राओं से छेड़छाड़ की घटना का पता चला है। पूछताछ के बाद शनिवार को दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया गया। DEO सत्यनारायण पांडा का कहना है कि वह रायपुर में हैं। घटना की जानकारी उनको मिली है। शिक्षकों की स्थिति वहां क्या थी, यह जांच के बाद ही पता चल सकेगा। मुझे गए हुए अभी 4 दिन ही हुए हैं।


महिला आयोग बोला- मामला गंभीर, कार्रवाई करेंगे
राज्य महिला आयोग भी एक्शन में आ गया है। आयोग की अध्यक्ष डॉ. किरणमयी नायक ने कहा कि घटना को स्वत: संज्ञान में लिया जा रहा है। अधिकारियों रिपोर्ट भेजी गई है। जल्दी ही कार्रवाई के लिए नोटशीट चला दी जाएगी। उन्होंने कहा, घटना गंभीर है। महिला आयोग इस पर कड़ी कार्रवाई करेगा।


राज्य में न तंत्र और न प्रशासन काम कर रहा
इस घटना के बाद प्रदेश में सियासत भी गरमाने लगी है। भाजपा और कांग्रेस दोनों एक-दूसरे पर घटना के लिए आक्षेप लगा रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि जशपुर की घटना शर्मनाक है। इस राज्य में बेटियां सुरक्षित नहीं हैं। स्कूल में पढ़ने वाली बच्चियों को ऐसा सामना करना पड़ रहा है। ऐसा लगता है कि छत्तीसगढ़ में न तंत्र काम कर रहा है न प्रशासन काम कर रहा है।


भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा कि बोलने और सुनने में असमर्थ दिव्यांग बच्चों के साथ हृदय विदारक घटना घट जाती हैं। घटना 22 सितंबर की रात की बताई जा रही हैं। यानी 3 दिनों से घटना को दबाने का प्रयास किया जा रहा था, यह शर्मनाक है। इस अमानवीय घटना की न्यायिक जांच कर दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए।


भाजपा की सरकार में ऐसे लोग पुरस्कृत होते थे
कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने भी जशपुर की घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। कहा कि ऐसी घटनाओं को रोके जाने के लिए संबंधित वरिष्ठ अधिकारियों को समय-समय पर छात्रावासों की जांच करनी चाहिए। आवश्यकता हुई तो वरिष्ठ अधिकारियों से भी सवाल पूछे जाएंगे। भाजपा के 15 साल के कार्यकाल में ऐसी घटनाओं के लिए जिम्मेदार लोगों को पुरस्कृत किया जाता था। कांग्रेस की सरकार में घटना उजागर होते ही तत्काल कड़ी से कड़ी कार्रवाई की गई है।


कलेक्टर महादेव कावरा ने आवासीय प्रशिक्षण केंद्र के अधीक्षक संजय राम को निलंबित कर दिया है। वहीं राजीव गांधी शिक्षा मिशन के जिला समन्वयक विनोद पैंकरा को भी शोकाज नोटिस जारी किया गया है।

CG NEWS: शादी का वादा कर नाबालिक लड़की को भागा ले गया, फिर 2 दिन तक करता रहा दुष्कर्म

CG NEWS: शादी का वादा कर नाबालिक लड़की को भागा ले गया, फिर 2 दिन तक करता रहा दुष्कर्म

छत्तीसगढ़ के जशपुर से शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है, 16 साल की एक लड़की को शादी का झांसा देकर युवक ने दुष्कर्म किया। लड़की जब दो दिनों तक घर नहीं लौटी तो परिजन थाने पहुंचे। पुलिस ने साइबर सेल की मदद से 4 घंटे में ही आरोपी को पकड़ लिया। पूछताछ के दौरान लड़की ने बताया कि आरोपी उसे शादी करने की बात कहकर साथ ले गया था, लेकिन फिर दुष्कर्म किया। मामला दुलदुला थाना क्षेत्र का है।


जानकारी के मुताबिक, स्थानीय निवासी 16 साल की लड़की 13 सितंबर को रोज की तरह स्कूल गई थी। इसके बाद नहीं लौटी। परिजनों ने उसे काफी तलाश किया, लेकिन 2 दिनों तक जब कुछ पता नहीं चला तो 15 सितंबर को थाने में FIR दर्ज करा दी। साथ ही परिजनों ने आशंका जताई कि ग्राम रायडीह निवासी अमरदीप केरकेट्‌टा उसे बहला-फुसलाकर भगा ले गया होगा। मामला दर्ज कर पुलिस ने जांच शुरू कर दी।


साइबर सेल की मदद से आरोपी तक पहुंची पुलिस
पुलिस ने साइबर सेल से मदद ली। इस बीच पता चला कि आरोपी लड़के को ग्राम बम्हनी भेड़ीटोला में देखा गया है। इसके बाद पुलिस ने वहां दबिश देकर आरोपी को हिरासत में ले लिया। तलाशी के दौरान वहीं से पुलिस ने लड़की को भी बरामद कर लिया। पुलिस को दिए बयान में लड़की ने बताया कि अमरदीप केरकेट्टा (21) उसे शादी करूंगा कहकर बहला-फुसलाकर भगाकर ले गया था। फिर दुष्कर्म किया।

  लड़कियों ने टेलर दुकान में किया जमकर हंगामा : दर्जी को पीटने लगी चप्पलों से और फिर

लड़कियों ने टेलर दुकान में किया जमकर हंगामा : दर्जी को पीटने लगी चप्पलों से और फिर

जशपुर। छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले के बगीचा में देर शाम को 2 लड़कियों ने मिलकर जमकर हंगामा मचाया। दोनो लड़कियां एक हसमुद्दीन नामक दर्जी की दुकान में घुस गए और पहले तो दर्जी से बहसा बहसी शुरू हुई बाद में लडकिया दर्जी को पीटने लगी वो भी चप्पलों से ।

लड़कियों द्वारा दर्जी दुकान में हंगामा सुनकर आस पास के लोग भी इकट्ठे हो गए और जब लड़कियों से हंगामे का कारण पूछा तो उन्होंने बताया कि खुशबू टेलर्स का संचालक हसमुद्दीन लड़कियों की जिंदगी से खिलवाड़ करता है। अबतक इलाके के 7 -8 लड़कियों की जिंदगी बर्बाद कर चुका है ।

बहरहाल हंगामे के बाद मौके पर बगीचा पुलिस भी पहुंच गई है ।लड़कियों के द्वारा बगीचा थाने में टेलर दुकान के संचालक के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराई जा रही है । एफआईआर के बाद ही पता चलेगा कि असली कहानी क्या है।
 छत्तीसगढ़ सड़क हादसा : दो मोटरसाइकिल आपस में भिड़ी, हादसे में 2 की मौत, 1 गंभीर

छत्तीसगढ़ सड़क हादसा : दो मोटरसाइकिल आपस में भिड़ी, हादसे में 2 की मौत, 1 गंभीर

जशपुर। तेज रफ्तार दो मोटरसाइकिल के बीच हुए आपस में जबरदस्त टक्कर हो गई। इससे सवार दो लोगों की मौके पर मौत हो गई, वहीं तीसरे सवार को घायल अवस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। चौथे सवार की हालत खतरे से बाहर है। घटना बगीचा थाना क्षेत्र के तहसील चौक की है।

दुर्घटना की जानकारी मिलते ही बगीचा एसडीएम आकांशा त्रिपाठी और तहसीलदार अविनाश चौहान ने मौके पर पहुंचकर ऑटो के जरिए चारों को अस्पताल भेजा। एक ही हालत गंभीर देखते हुए उसे अंबिकापुर रेफर किया गया है. चारों युवक की पहचान नहीं हो पाई है। 
BREAKING NEWS: खेतों में शौच करने के लिए गया था शख्स अचानक हाथी ने कुचल दिया, मौके पार मौत

BREAKING NEWS: खेतों में शौच करने के लिए गया था शख्स अचानक हाथी ने कुचल दिया, मौके पार मौत

छत्तीसगढ़ के जशपुर में हाथीयों का आतंक थमने का नाम नही ले रहा है। लगातार दूसरे दिन हाथी के हमले में युवक की मौत हो गई। एक दिन पहले हाथी ने महिला को कुचलकर मार दिया था। मंगलवार को भी हाथी ने शौच के लिए घर के पीछे खेत में गए युवक को मार दिया।घटना तपकरा वन परिक्षेत्र के बाबूसाजबहार की है। सूचना मिलने पर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंच रही है। हाथियों को भगाने का प्रयास किया जा रहा है। मारे गए युवक के बारे में अभी ज्यादा जानकारी नहीं मिल सकी है।


एक दिन पहले महिला को बाइक से गिराकर मार दिया था
तपकरा रेंज में ही एक दिन पहले सोमवार को भी हाथी ने बाइक सवार महिला को सूंड से खींच कर मार दिया था। केरसई के बरटोली निवासी खिज्मती बाई अपने पति रामकुमार के साथ बाइक से बाजार जा रही थी। रास्ते में गोठान के जंगल में दंतैल (टस्कर) हाथी उनके पीछे दौड़ा और बाइक पर पीछे बैठी खिज्मती बाई को सड़क पर पटककर कुचल दिया था। इससे पहले रायमुंडा गांव में एक अन्य महिला सुखो बाई (50) पर हमला कर उसे घायल किया था।

3 सालों में 200 लोगों की जा चुकी जान, कई हाथी भी मारे गए
बताया जा रहा है कि केरसई के आसपास के जंगल मे 3 हाथी मौजूद हैं। प्रदेश में लगातार ऐसे मामले सामने आ रहे हैं। प्रदेश में पिछले 3 सालों के दौरान करीब 200 लोगों की जान जा चुकी है, जबकि ग्रामीणों के बचाव के लिए करंट लगाए जाने के कारण कई हाथियों की भी जान जा चुकी है। खासकर रायगढ़, धरमजयगढ़, कोरबा, महासमुंद, जशपुर के इलाके सबसे ज्यादा प्रभावित हैं।

   बड़ी खबर छत्तीसगढ़: पति के साथ बाजार जा रही महिला को चलती बाइक से हाथी ने खींच कर मार डाला

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: पति के साथ बाजार जा रही महिला को चलती बाइक से हाथी ने खींच कर मार डाला

जशपुर। पति केे साथ बाजार जा रही महिला को हाथी ने बाईक से खींचकर मार डाला। हादसे में बाद इलाके में दहशत है। जानकारी के मुताबिक जशपुर जिले के तपकरा रेंज में पति के साथ बाइक में बाजार जा रही एक महिला केरसई पंचायत के बरटोली गांव की निवासी खिज्मती बाई और उसका पति रामकुमार सोमवार की सुबह बाइक से गुड़ लेने के केरसई जा रहे थे। इसी दौरान रास्ते मे गोठान के जंगल मे दंपती पर पीछे से दंतैल ने हमला कर दिया। हाथी ने चलती हुई बाइक को दौड़ाया और बाइक के पीछे पीछे बैठी हुई महिला को सुढ़ से लपेट लिया।
 
हाथी के इस हमले से बाइक अनियंत्रित हो कर गिर गई। जमीन में गिरी हुई खिज्मती को अतिकाय ने कुचल कर मार डाला। हादसे में मृतिका के पति रामकुमार ने मौके से भाग कर किसी तरह से अपनी जान बचाई। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक इस घटना से पहले दल से अलग हो कर भटक रहे इस दंतैल ने रायमुण्डा गांव में एक अन्य महिला सुखों बाई 50 वर्ष को घायल किया है। उसे इलाज के लिए नजदीक के जंगल मे भर्ती किया गया है। केरसई के आसपास के जंगल मे तीन हाथी मौजूद हैं। महिला को कुचलने के बाद दंतैल आक्रामक हो चुका है। मौके पर अब भी वन अमला और ग्रामीण हाथी को खदेडऩे में जुटे हुए हैं।
 अब तक इतने आवेदन मिले हैं चिट फण्ड कम्पनियों से धन वापसी संबंधित कार्य हेतु, अनुविभागवार निर्धारित प्रपत्र में मांगा गया है आवेदन पत्र

अब तक इतने आवेदन मिले हैं चिट फण्ड कम्पनियों से धन वापसी संबंधित कार्य हेतु, अनुविभागवार निर्धारित प्रपत्र में मांगा गया है आवेदन पत्र

जशपुरनगर। चिट फण्ड कम्पनियों के निवेशक से धन वापसी संबंधी कार्य के लिए जिला कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक जशपुर ने नोडल अधिकारी एवं टीम गठित कर अनुविभागवार निर्धारित प्रपत्र में आवेदन पत्र प्राप्त करने हेतु 15 जुलाई के पालन में 2 अगस्त से 05 अगस्त के मध्य संबंधित चिट फण्ड कम्पनियों से निवेश करने वाले निवेशक एजेंटों से धन वासी संबंधित कार्य हेतु निर्धारित प्रपत्र में आवेदन पत्र प्राप्त किया गया है। जिसमें 4 अगस्त तक की स्थिति में एमडीएम कार्यालय जशपुर में 81 आवेदन, एसडीएम कार्यालय बगीचा में 30 आवेदन, एसडीएम कार्यालय फरसाबहार में 22 आवेदन, एसडीएम कार्यालय कुनकुरी में 60 आवेदन, एसडीएम कार्यालय पत्थलगांव 302 आवेदन पत्र प्राप्त किए गए हैं। इस प्रकार कुल 495 आवेदन पत्र अप्राप्त हुए हैं। 6 अगस्त को अंतिम तिथि निर्धारित की गई है। 

चिटफंड से संबंधित आवेदन 6 तक आमंत्रित

चिटफंड से संबंधित आवेदन 6 तक आमंत्रित

जशपुरनगर। कलेक्टर महादेव कावरे ने जिले जशपुर, कुनकुरी, बगीचा, फरसाबहार, पत्थलगांव विकासखंड के जनसामान्य निवेशकों से चिटफंड से संबंधित आवेदन 02 अगस्त से 06 अगस्त तक आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। इस हेतु नोडल अधिकारी, सहायक नोडल अधिकारी एवं सहायक की नियुक्ति की गई है। जिसके अंतर्गत संबंधित विकासखंड के अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को नोडल अधिकारी, तहसीलदार को सहायक नोडल अधिकारी तथा एसडीएम कार्यालय से सहायक ग्रेड-02, तहसील कार्यालय से सहायक ग्रेड-03, भृत्य को सहायक के रूप में नियुक्त किया गया है। 

नाबालिक लड़के ने शादी का झांसा देकर 35 वर्षीय महिला के साथ किया दुष्कर्म

नाबालिक लड़के ने शादी का झांसा देकर 35 वर्षीय महिला के साथ किया दुष्कर्म

जशपुर: छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले के बगीचा थाना क्षेत्र में दुष्कर्म का मामला सामने आया है, एक 17 वर्षीय नाबालिग लड़के पर 35 वर्षीय महिला ने शादी का झांसा देकर दुष्कर्म का आरोप लगाया है. आरोप है कि अपचारी बालक ने पीड़िता से हजारों रुपये भी ले लिए हैं, जिसे वो वापस भी नहीं कर रहा था. पीड़िता की शिकायत पर पुलिस आरोपी को संरक्षण में लेकर बाल संप्रेक्षण गृह भेज दिया है. दरअसल बगीचा थाना क्षेत्र निवासी एक 35 वर्षीय महिला ने थाने में शिकायत की थी कि सरगुजा जिले का एक 17 वर्षीय नाबालिग का उससे परिचय था. दोनों फोन पर अक्सर बातें किया करते थे और इसी बीच दोनो में प्रेम संबंध बन गया. इस दौरान लड़के ने महिला को शादी का झांसा देकर उसका शारीरिक शोषण किया. आरोपी ने पीड़िता से पैसे भी ले लिए थे।

इस किशोर को जब भी शादी के लिए कहती तो उसे वो अक्सर टाल देता था. बाद में लड़के ने महिला से पीछा छुड़ाने एक मनगढ़ंत कहानी बना ली. किशोर के पास जब भी महिला फोन करती तो वो खुद को आरोपी का छोटा भाई बताकर महिला से बात करता था और उसने महिला को बताया कि उसके बड़े भाई की मौत हो गई है।

परेशान होकर की शिकायत
शिकायत के मुताबिक बाद में जब पीड़िता को उसके जिंदा होने की जानकारी लगी तो पीड़िता उसके पास पहुंची और उसे शादी करने को कहा कि जिस पर लड़के ने पीड़िता से शादी करने से इंकार कर दिया, जिसके बाद पीड़िता ने परेशान होकर मामले की शिकायत थाने में की. बगीचा थाना प्रभारी एसआर भगत ने बताया कि पीड़िता की शिकायत पर आरोपी किशोर को संरक्षण में लेकर बाल संप्रेक्षण गृह भेज दिया है. मामले की जांच की जा रही है.
 

तेज रफ्तार बस ने बाइक सवार को मारी टक्कर, बस चालक फरार

तेज रफ्तार बस ने बाइक सवार को मारी टक्कर, बस चालक फरार

छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में एक दर्दनाक हादसा हुआ है, मंगलवार सुबह तेज रफ्तार बस की टक्कर से बाइक सवार युवक की मौत हो गई। युवक अपने गांव से जामटोली जा रहा था। हादसे के बाद चालक बस छोड़कर भाग निकला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने बस जब्त कर ली है। वहीं युवक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया गया है। बस झारखंड नंबर की है। हादसा कुनकुरी थाना क्षेत्र में हुआ है।

 


जानकारी के मुताबिक, बेमताटोली निवासी अरविंद लकड़ा (28) पुत्र फ्रांसिस लकड़ा मंगलवार सुबह अपने गांव से बाइक पर जामटोली जा रहा था। इसी दौरान टंगरापानी गांव के पास तेज रफ्तार बस ने उसे पीछे से टक्कर मार दी। टक्कर लगते ही अरविंद उछलकर सड़क पर जा गिरा और सिर पर चोट लगने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। स्थानीय लोगों ने देखा तो पुलिस को सूचना दी।


पत्थलगांव की ओर जा रही थी बस
बताया जा रहा है कि यात्री बस पूजा रथ रांची से पत्थलगांव की ओर जा रही थी। हादसे के बाद चालक बस छोड़कर भाग गया है। अभी यह पता नहीं चल सका है कि बस में यात्री थे या नहीं। फिलहाल पुलिस अपनी ओर से कार्यवाही कर रही है। हादसे में मारे गए युवक अरविंद के परिजनों को भी सूचना दे दी गई है। बस को थाने में खड़ी कराने का इंतजाम किया जा रहा है।

जिले को वैक्सीनेशन के लिए 8000 डोज हुए प्राप्त, 18 को 305 टीका केन्द्र में लगाए जाएंगे टीके

जिले को वैक्सीनेशन के लिए 8000 डोज हुए प्राप्त, 18 को 305 टीका केन्द्र में लगाए जाएंगे टीके

जशपुरनगर: कलेक्टर कावरे के निर्देशन में 18 से 44 वर्ष के सभी वर्ग व 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिले के लोगों को शत् प्रतिशत टीकाकरण के लिए कुल 305 टीका केन्द्र बनाए गए है, जिसके अंतर्गत जिला चिकित्सालय, समस्त सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, प्राथमिक व उप स्वास्थ्य केन्द्र सहित अन्य टीका केंद्र शामिल है। जहां लोगों को प्राथमिकता से टीका लगाया जा रहा है। कलेक्टर कावरे ने बताया कि जिले को टीकाकरण के लिए कोविशिल्ड की कुल 8000 डोज प्राप्त हुई है। कल से सभी 305 केंद्रों में टीका लगाया जाएगा। कलेक्टर कावरे ने जिले के सभी पात्र लोगों से अपील की है, कि वे टीका केंद्र में जाकर अनिवार्य रूप से टीका लगवाकर कोरोना संक्रमण को रोकने में शासन की सहयोग करें।

 डेढ़ साल तक पति-पत्नी बनकर रह रहे थे दो युवक, एक ने दिया धोखा तो दूसरे ने लगाया अप्राकृतिक सेक्स का आरोप...

डेढ़ साल तक पति-पत्नी बनकर रह रहे थे दो युवक, एक ने दिया धोखा तो दूसरे ने लगाया अप्राकृतिक सेक्स का आरोप...

जशपुर। जिले में अजब प्रेम की गजब कहानी का मामला सामने आया है। यहां एक युवक ने दूसरे युवक पर शारीरिक शोषण करने का आरोप लगाया है। दरअसल, दोनों लड़के एक दूसरे से प्रेम करते थे। इसके बाद दोनों ने शादी कर ली। लेकिन शादी के डेढ़ साल बाद दोनों अलग हो गए। वहीं, अब पत्नी के रुप में रह चुके युवक ने दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है। इसके बाद पुलिस ने आरोपी युवक के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। मामला जिले के कुनकुरी थाना क्षेत्र का है।

युवक का आरोप है कि नारायणपुर थाना क्षेत्र का रहने वाला 22 साल का सत्यनारायण यादव 2018 में स्कूल में उसके साथ पढ़ता था। इसी दौरान दोनों एक दूसरे के दोस्त बन गए। इसके बाद उनकी दोस्ती प्यार में बदल गई। आरोपी सत्यनारायण जुलाई में उसे अपने घर ले गया। सत्यनारायण ने 2019 में उससे शादी कर ली। वह पीड़ित को हमेशा पत्नी की तरह रखता था। वो उसे हमेशा महिलाओं के कपड़े पहनने को कहता था। एक पत्नी की तरह ही घर के पूरे काम-काज कराता था। सत्यनारायण पीड़ित को घर से बाहर भी निकलने नहीं देता था।

पीड़ित ने बताया कि सत्यनारायण ने उसे जान से मारने की धमकी भी दी। घर से भागने पर तंत्र-मंत्र कर उसे खत्म कर देने की बात भी कही। इस डर से पीड़ित ने उसकी पत्नी के रुप में रहना शुरू कर दिया। लेकिन, अप्रैल 2021 में युवक मौका मिलते ही घर से किसी तरह भाग गया।

पीड़ित ने बताया कि वह घर पंहुचने के बाद भी तंत्र-मंत्र की बात से डरा हुआ था। घर में रहते हुए तीन महीने बीत जाने के बाद भी जब युवक को कुछ नहीं हुआ तो उसे तंत्र मंत्र की बात झूठी लगी। इसके बाद पीड़ित ने कुनकुरी थाने में सत्यनारायण के खिलाफ केस दर्ज करा दिया। पुलिस सत्यनारायण के खिलाफ धारा 377 का मामला दर्ज कर लिया है।

कुनकुरी टीआई भास्कर शर्मा ने बताया कि युवक ने अप्राकृतिक कृत्य करने के संबंध में रिपोर्ट दर्ज कराई है। सत्यनारायण के खिलाफ धारा 377 का मामला दर्ज कर लिया गया है। मामले में जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
 छत्तीसगढ़ में बड़ा हादसा: आकाशीय बिजली की चपेट में आने से 4 बच्चों की मौत

छत्तीसगढ़ में बड़ा हादसा: आकाशीय बिजली की चपेट में आने से 4 बच्चों की मौत

जशपुर। छत्तीसगढ़ के सभी जिलों में बारिश हो रही है। जिसके चलते कई जिलों में जनजीवन प्रभावित हुआ है। इस बीच आकाशीय बिजली गिरने की भी घटनाएं हो रही है। इधर जशपुर जिले में आकाशीय बिजली गिरने से चार बच्चों की दर्दनाक मौत हो गई।

गोताखोरों की टीम ने दो लड़कियों समेत दो लड़कों का शव बरामद किया है। एक ही गांव दो अलग-अलग घटनाओं में चार मासूमों की मौत से गांव में मातम पसर गया है। बताया जा रहा है कि बेलसोंगा गांव में घर के पास खेल रहे दो बच्चे आकाशीय बिजली की चपेट में आ गए। मौके पर दोनों की मौत हो गई।

दूसरी घटना बेलसोंगा गांव के डेम के पास हुआ है। डेम में नहाते समय आकाशीय बिजली की चपेट में आने से दो बच्चों की मौत हो गई। बताया जा रहा ​है कि सोमवार को चार बच्चे डेम में उतरे थे। वहीं आकशीय बिजली गिरने से दो की मौत हो गई। आज सुबह सुबह गोताखोरों ने डेम से दो और शव निकाले।

मौसम विभाग प्रदेश के सभी जिलों में आकाशी बिजली गिरने की संभावना जताते हुए अलर्ट जारी किया था। लोगों को घर से बाहर नहीं निकलने की चेतावनी जारी की थी। प्रदेश के गरियाबंद, धमतरी, महासमुंद, बालोद, बस्तर कोण्डागांव और नारायणपुर जिलों में बिजली गिरने का सबसे ज्यादा खतरा बताया था। लोगों को घर से बाहर नहीं निकलने की चेतावनी जारी की है।
 बड़ा हादसा: बरातियों से भरी पिकअप वाहन पलटने से मौके पर दो लोगों की मौत, कई घायल

बड़ा हादसा: बरातियों से भरी पिकअप वाहन पलटने से मौके पर दो लोगों की मौत, कई घायल

जशपुर: जशपुर जिले के सन्ना थाना क्षेत्र से बड़ी खबर आ रही है यहां बाराती से भरी पिकअप वाहन पलट गई। दुर्घटना में मौके पर ही दो लोगों की मौत हो गई। वहीं कई लोग घायल बताए जा रहे हैं। पिकअप वाहन में बड़ी संख्या में बच्चे भी सवार थे और बच्चों को भी घटना में चोट आई है। वही बताया जा रहा है कि कई घायलों की स्थिति गंभीर है और मौत का आंकड़ा बढ़ सकता है।

पढ़िए पूरी खबर-
सन्ना थाना के ग्राम फुलझर में गुरूवार की रात 9 बजे बाराती से भरे एक पिकअप वाहन पलटने से घटना स्थल पर दो लोगों की मौत कई लोग घायल बताया जा रहे हैं। मिली जानकारी के मुताबिक गुरूवार की सुबह सन्ना थाना क्षेत्र के ग्राम खखरा से बारात लेकर एक पिकप वाहन ग्राम फुलझर आई थी।

वहीं शादी के बाद वापस लौट रहे बाराती से भरी पिकअप वाहन ड्राईवर की लापरवाही से ग्राम फुलझर के समीप पलट गई, जिसमें घटना स्थल पर ही दो लोगों की मौत हो गई। पिकअप में सवार कई लोगों को गंभीर चोटें आई है जिसे इलाज के लिए सन्ना प्राथमिक स्वास्थ केन्द्र भेजा गया है।

वहीं घटना की सुचना मिलने पर सन्ना पुलिस घटना स्थल पहुंच गई है। घायलों का इलाज किया जा रहा है, वहीं दोनों परिवारों सहित गांव के लोग सदमे में है। उल्लेखनीय है की जसपुर जिले में पिकअप वाहन से कई बार दुर्घटना हुई है और अधिकांश घटना में बारात लेकर लोग जा रहे थे। बड़ी दुर्घटनाओं के बावजूद लोग सबक नहीं ले रहे हैं और पिकअप वाहन का उपयोग को ट्रैफिक नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए कर रहे हैं, जिसका परिणाम यह दुर्घटना भी है। बहरहाल पुलिस मामले में कार्रवाई भी कर रही है और घायलों को मदद पहुंचाई जा रही है।
 
अत्यावश्क सेवा को छोड़कर इस जिले में रविवार को रहेगा पूर्ण लॉकडाउन

अत्यावश्क सेवा को छोड़कर इस जिले में रविवार को रहेगा पूर्ण लॉकडाउन

जशपुरनगर: कलेक्टर महादेव कावरे ने जशपुर जिले में कोरोना वायरस संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए रविवार 27 जून को पूर्ण रूप से बंद रखे जाने की निर्देशित किया है। उन्होंने कहा है कि अत्यावश्यक सेवाओं के अतिरिक्त अन्य दुकानें बंद रहेंगें। कलेक्टर ने सभी नागरिकों से अपील की है की सभी लॉकडाउन के नियमों का पालन करें। 

इस जिले को 15 जून से आगामी आदेश तक किया गया कंटेनमेंट जोन घोषित, जाने इस दौरान किन्हें मिलेगी छुट

इस जिले को 15 जून से आगामी आदेश तक किया गया कंटेनमेंट जोन घोषित, जाने इस दौरान किन्हें मिलेगी छुट

जशपुरनगर। छत्तीसगढ़ शासन व भारत सरकार की ओर से जारी गाईडलाईन अनुसार कोरोना (कोविड-19) नियंत्रण के संबंध में कलेक्टर महादेव कावरे ने जिले को आगामी आदेश तक कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में कोविड-19 पॉजिटिव प्रकरणों की संख्या में कमी होने के बावजूद ग्रामीण क्षेत्रों से भी पॉजिटिव प्रकरण आ रहे हैं। इन उत्पन्न परिस्थितियों के अनुक्रम में जिला जशपुर में सार्वजनिक आवागमन और अन्य गतिविधियों पर कड़े प्रतिबंध अधिरोपित किया जाना आवश्यक हो गया है।
आम जनता के लिए आवश्यक वस्तुओं व सेवाओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने के साथ-साथ श्रमिकों और निम्न आय वर्ग छोटे-बड़े व्यवसायिकगण की हितों के सुरक्षा के जिउ निर्बधनों में समुचित रियायत भी दिया जाना भी जरूरी है। उन्होंने कहा कि उक्त परिस्थितियों में समुचित विचारोपरान्त कोरोना वायरस की चैन को तोडऩे तथा सभी वर्गो के के हितों की सुरक्षा के लिए युक्तियुक्त पुनरीक्षित निर्बधन अधिरोपित करते हुए सम्पूर्ण जशपुर जिले में कंटेनमेंट जोन की अवधि बढ़ाया जाना आवश्यक है।
कलेक्टर महादेव कावरे ने जारी आदेश में जशपुर जिला अन्तर्गत सम्पूर्ण क्षेत्र को 15 जून 2021 सुबह 6 बजे से आगामी आदेष तक कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। जारी आदेश के अनुसार इस अवधि में जशपुर जिले की सभी सीमाएॅ सील रहेगी। सभी प्रकार के सभा, जुलूस, धरना, प्रदर्शन, सामाजिक, धार्मिक और राजनैतिक आयोजन इत्यादि पूर्णत: प्रतिबंधित रहेंगे। स्वीमिंग पूल, सिनेमा हॉल पूर्णत: प्रतिबंधित रहेंगे। साप्ताहिक बाजार बन्द रहेंगे। सभी पार्क, रिसोर्ट तथा समूह उपस्थिति वाले सभी धार्मिक स्थल, सांस्कृतिक और पर्यटन स्थल इत्यादि आम जनता के लिए पूर्णत: प्रतिबंधित रहेंगे। स्कूल व कॉलेज विद्यार्थियों के लिए बंद रहेंगे। छात्रावास में केवल परीक्षा देने वाले विद्यार्थियों को निवास की अनुमति होगी। शासन से अनुमति प्राप्त समस्त परीक्षाओं को छोड़कर कोचिंग क्लासेस सहित अन्य समस्त शैक्षणिक गतिविधियॉ बंद रहेगी। देशी-विदेशी मदिरा की फुटकर दुकानों को नगद विक्रय की अनुमति सुबह 6:00 बजे से शाम 8:00 बजे तक होगी।
कोविड-19 के समस्त मापदंड यथा मास्क, सोशल डिस्टेंस, सेनेटाईजर का पालन करना होगा। कोविड-19 के मापदंड का पालन करते हुए 100 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ सभी कार्यालय खुलेंगे। टेलीकॉम, खाद्य सामग्री के थोक परिवहन, धान मिलिंग के लिए परिवहन की अनुमति पूर्ववत रहेगी। दशगात्र के लिए 20 व्यक्तियों तथा वैवाहिक अनुमति कार्यक्रम में शामिल होने वाले 50 व्यक्तियों को कोविड-19 का नेगेटिव टेस्ट रिपोर्ट (72 घंटा अर्थात 03 दिवस) रखना अनिवार्य होगा तथा समय-समय पर हाथ धोना, सेनेटाईजर करना भी अनिवार्य होगा। कार्यक्रम के लिए नियमानुसार जिला दंडाधिकारी अथवा अनुविभागीय दंडाधिकारियों से लिखित अनुमति प्राप्त करना होगा। मृतक के अंतिम संस्कार के लिए अधिकतम 10 व्यक्तियों के लिए अनुमति होगी। आवश्यक वस्तुओं, माल की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए गोडाऊन, मंडियों में थोक माल, कार्गो, फल, सब्जी लोडिंग, अन-लोडिंग की अनुमति रात 10:00 बजे से सुबह 6:00 बजे तक रहेगी। हॉटल व रेस्टोरेंट्स कोविड-19 निर्देशों का पालन करते हुए खोले जाएंगे, लेकिन खुद के रूके ग्राहक को छोड़कर हॉटल और रेस्टोरेंट्स में बैठकर खाने की अनुमति नहीं होगी। पार्सल, टेक-अवे, होम डिलीवरी का समय रात 10:00 बजे तक रहेगा।
कोविड मापदंड को पालन करते हुए जीम खोलने की अनुमति होगी। लोक सेवा केन्द्र, च्वाईस सेंटर और 6:00 बजे तक खोले जाएंगे, किन्तु मास्क तथा फिजिकल डिस्टेसिंग का कड़ाई से पालन कराना अनिवार्य होगा। उल्लंघन की दशा में अर्थदण्ड के साथ-साथ केन्द्र की आई.डी. निलंबित की जाएगी। कृषि क्षेत्र में बीज, उर्वरक, कीटनाशक विक्रय के लिए दुकान, गोडाऊन तथा कृषि मशीनरी के विक्रय, मरम्मत के लिए दुकानों को रात 8:00 बजे तक खुलने की अनुमति होगी। उपरोक्त कृषि सामग्री के परिवहन के लिए भी अनुमति रहेगी। वाहन मरम्मत, पंचर सुधार, लॉन्ड्री सर्विसेस, आटा-चक्की, पैकेजिंग मटेरियल व संबंधित इकाईयों के संचालन के लिए रात 8:00 बजे तक अनुमति रहेगी। समस्त प्रकार के एकल दुकानें व एकल किराना, डेली नीड्स दुकाने, कपड़ा, जूता-चप्पल, ज्वेलरी, फल,सब्जी, तथा दुग्ध, दुग्ध उत्पाद संबंधी दुकानें सुबह 6:00 बजे से रात 8:00 बजे तक रविवार छोड़कर खोली जा सकेगी। किसी दुकान में मास्क, फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं होने या भीड़-भाड़ होने की दशा में अर्थदंड के साथ 30 दिवस के लिए दुकान नियमानुसार सील की जाएगी। स्थापित बाजारों में दुकाने जैसे टू व्हीलर शो रूम, स्टेशनरी, हार्डवेयर, प्लबिंग, इलेक्ट्रानिक्स दुकाने, इलेक्ट्रानिक्स ए.सी., कूलर पान, गुपचुप ठेला, सैलुन सहित रविवार को छोडकर सुबह 6:00 बजे से रात 8:00 बजे तक खोलने की अनुमति होगी। मास्क तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन निवार्य होगा। दुकानदार अंडा, मछली, मांस, पोल्ट्री और किराना सामग्री अथवा ग्रासरी की होम डिलीवरी को प्राथमिकता देगें तथा शहर के बाहर सुबह 6:00 बजे से रात 8:00 बजे तक खोली जा सकेगी। रविवार को छोड़कर घरेलु निर्माण कार्य, मरम्मत कार्य जिसमें लगने वाले मजदूरों का कोविड-19 निगेटिव रिपोर्ट के साथ अनुमति होगी।
कोविड-19 के मापदंड का पालन न होने पर कार्यवाही होगी। ई-कामर्स एप्लीकेशन जैसे अमेजॉन, फ्लिपकार्ट इत्यादि के माध्यम से वस्तुओं की होम डिलीवरी तथा कोरियर डिलीवरी अपरान्ह् 6:00 बजे तक ही की जा सकेगी। टोकन व्यवस्था के साथ बैंक शाम 04:00 बजे तक खोले जा सकेंगे। बी.सी सखी को भी कोविड मापदंड पालन करते हुए लेन-देन की अनुमति होगी। कोविड-19 का पालन करते हुए खाद, बीज वितरण, के.सी.सी. सभी सहकारी समितियों दिया जावेगा। उन्होंने अस्पताल, मेडिकल दुकानें, क्लिनिक और पशु-चिकित्सालय को उनके निर्धारित समय में संचालन की अनुमति होगी। मेडिकल दुकन संचालक मरीजों के लिए दवाओं की होम डिलीवरी को प्राथमिकता देगें। दुग्ध पार्लर व दुग्ध-वितरण तथा न्यूज पेपर हॉकर द्वारा समाचार पत्रों के वितरण की समयावधि सुबह 6:00 बजे से रात 8:00 बजे तक ही होगी। पैट शॉप-एक्योरियम को केवल पशुओं को पशुचारा विक्रय के लिए सुबह 06:00 बजे से रात 8:00 बजे तक शॉप खोलने की अनुमति होगी। कोविड मापदंड का पालन करते हुए औद्योगिक संस्थानों एवं निर्माण इकाईयों को यथासंभव अपने के भीतर मजदूरों को रखकर व अन्य आवश्यक व्यवस्था करते हुए उद्योग के संचालन व निर्माण कार्यो की अनुमति होगी। राष्ट्रीय राजमार्ग, लोक निर्माण, जल संसाधन, वन, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, पंचायत और ग्रामीण विकास, ग्रामीण यांत्रिकी सेवाएॅ तथा महात्मा गांधी नरेगा इत्यादि अन्तर्गत श्रमिकों की आवश्यकता वाले सभी ऑन-साईट कार्यो निजी निर्माण गतिविधियों के संचालन के लिए अनुमति रहेगी।
पेट्रोल पंप, गैस एजेन्सी व मेडिकल दुकानें पूर्ण समयावधि के लिए खुल सकेंगे, किन्तु गैस एजेंसियों टेलीफोनिक या ऑनलाईन ऑर्डर के माध्यम से ग्राहकों को सिलेन्डरों की होम डिलीवरी को प्राथमिकता देगें। शासकीय उचित मूल्य दुकानों को खाद्य नियंत्रण, जशपुर की ओर से निर्धारित समयावधि में मास्क, फिजिकल डिस्टेंसिंग, नियमित सेनिटाइजेशन व भीड़-भाड़ नहीं होने देने की शर्त का कड़ाई से पालन कराने के अधीन, टोकन व्यवस्था के साथ खुलने की अनुमति होगी। प्रत्येक रविवार को पूर्ण लॉकडाउन रखा जावेगा, जिसके दौरान केवल अस्पताल, क्लिनिक, पशु चिकित्सा, मेडिकल दुकान, पेट्रोल पंप ही चालू रहेंगे। होम डिलीवरी के दौरान मास्क धारण करना और फिजिलकल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालना करना अनिवार्य होगा। प्रतिदिन रात 08:00 बजे से सुबह 6:00 बजे तक रात्रिकालीन लॉकडाउन लागू रहेगा, जिसके दौरान इस आदेश द्वारा अनुमति प्राप्त गतिविधियॉ जैसे होटल, रेस्टोरेंट से होम डिलीवरी तथा थोक माल, फल, सब्जी की लोडिंग, अन-लोडिंग की अनुमति निर्धारित समयावधि में रहेगी। आपातकालीन आवागमन को छोड़कर अन्य समस्त गतिविधियों पर प्रतिबंध रहेगा।
कोविड संक्रमण के रोकथाम के लिए जिले में समस्त कार्य जैसे कंाटेक्ट ट्रेसिंग, एक्टिव सर्विलांस, होम आईसोलेशन, दवाई वितरण कार्य में संलग्न सभी शासकीय कर्मचारियों की उपस्थिति पूर्वानुसार अनिवार्य होगी। कोविड केयर सेंटर से डिस्चार्ज होने वाले मरीजों के परिवहन में संलग्न वाहन पूर्वानुसार संचालित रहेगें। जशपुर जिले में कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम के लिए संक्रमित व्यक्ति को सार्वजनिक खुले स्थान, तालाब, नदी- नाला, कुंआ, हैण्डपम्प, डभरी इत्यादि में स्नान करने पर प्रतिबंध लगायी जाती है। संक्रमित व्यक्ति अपने होम आईसोलशन के दौरान अपने घर में ही स्नान करेंगे। संक्रमित व्यक्ति के लिए आवश्यक जल की व्यवस्था उसके परिवार के द्वारा की जाएगी। उपरोक्त अवधि में बस यात्रा टिकट को बस स्टेण्ड तक आन-जाने के लिए पास माना जाएगा। अपरिहार्य परिस्थितियों में जशपुर जिले से अन्यत्र आने-जाने वाले यात्रियें को ई-पास के माध्यम से पूर्व अनुमति लिया जाना अनिवार्य होगा तथापि प्रतियोगी, अन्य परीक्षाओं में सम्मिलित होने वाले परीक्षार्थियों के लिए उनका एडमिट कार्ड तथा रेलवे, टेलीकॉम, एयरपोर्ट संचालन और रख-रखाव कार्य या हॉस्पिटल या कोविड-19 ड्यूटी में संलग्न कर्मचारियों, चिकित्सकों की दशा में नियोक्ता की ओर से आई.डी. कार्ड ई-पास के रूप में मान्य किया जाएगा। आपात स्थिति में यात्रा के दौरान 04 पहिया वाहनों में अधिकतम 03, ऑटो में ड्राईवर सहित अधिकतम 03 और दो पहिया वाहन में अधिकतम 02 व्यक्तियों को यात्रा की अनुमति होगी। बस स्टेंड, हॉस्पिटल आवागमन के लिए ऑटो, टैक्सी परिचालन की अनुमति रहेगी, किन्तु अन्य प्रयोजन के लिए परिचालन पूर्णत: प्रतिबंध रहेगा।
इस निर्देश का उल्लंघन किये जाने पर 15 दिवस के लिए वाहन जब्त करते हुये चालानी व अन्य कानूनी कार्यवाही की जाएगी। यह आदेश कार्यालय कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक कार्यालय, मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय और उनके अधीनस्थ समस्त कार्यालय अनुविभागीय अधिकारी, तहसील, अस्पताल, थाना व पुलिस चौकी पर लागू नहीं होगा। इसके अतिरिक्त कानून व्यवस्था एवं स्वास्थ्य सेवा से संबंधित अधिकारी, विद्युत, पेयजल आपूर्ति और नगर पालिका सेवायें जिसमें सफाई, सीवरेज व कचरे का डिस्पोजल इत्यादि भी शामिल है तथा अग्निशमन सेवाओं के संचालन के लिए संबंधित अधिकारियों-कर्मचारियों को कार्यालय संचालन और आवागमन की अनुमति होगी। राज्य शासन या इस कार्यालय के विशेष आदेश द्वारा अनुमति प्राप्त किसी सेवा के संचालन की अनुमति होगी। इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति, प्रतिष्ठानों पर भारतीय दण्ड सहिता सहित अन्य सुसंगत विधि अनुसार कड़ी कार्यवाही की जावेगी। यह आदेश अल्प समयावधि में लागू किया जाना आवश्यक है। यह आदेश अल्प समयावधि में लागू किया जाना आवश्यक है। वर्तमान परिस्थितियों में इस आदेश से प्रभावित होने वाले व्यक्तियों को सम्यक समय में तामीली संभव नहीं होने के कारण यह आदेश एक पक्षीय रूप से पारित किया जाता है। आदेश का व्यापक प्रचार-प्रसार तथा कड़ाई से पालन सुनिश्चित किया जावें। यह आदेश 15 जून 2021 सुबह 6 बजे से आगामी आदेश तक लागू होगा।
 

+ Load More