कोरोना अपडेट : प्रदेश के इस जिले में कोरोना ने ढाया कहर, छत्तीसगढ़ में कल के मुकाबले आज बढ़ी नए कोरोना मरीजों की संख्या    |    बड़ा हादसा: खाई में गिरी मेटाडोर ,10 की मौत व 15 घायल, पीएम मोदी ने जताया शोक    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज 2 की हुई मृत्यु, आज इतने मरीजों की हुई पहचान, देखे जिलेवार आकड़े    |    मौसम अलर्ट: उत्तर-पूर्वी मानसून की आहट से इन राज्यों पर मंडराया बारिश का खतरा    |    बड़ी खबर: पटाखे की गोदाम में लगी भयानक आग से 5 की गई जान, 9 लोग घायल    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में फिर पैर पसारने लगा है कोरोना, छत्तीसगढ़ में आज इतने मरीजों की हुई पहचान    |    बदल गए पेंशन के नियम, 30 नवंबर तक ये काम ना किया तो रुक जाएगी पेंशन    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश के इस जिले में हुआ कोरोना विस्फोट, धीरे धीरे फिर से बढ़ रहे है एक्टिव मरीजो की संख्या, देखें जिलेवार आंकड़े    |    बड़ी खबर: राज्यपाल की बिगड़ी तबियत, दिल्ली AIIMS में भर्ती    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश के इन दो जिलों में हुआ कोरोना विस्फोट, आज प्रदेश में मिले इतने नए मरीज, देखें जिलेवार आंकड़े    |
CG NEWS: नाबालिक लड़की से इश्क ने पहुंचाया जेल की सलाखों पर

CG NEWS: नाबालिक लड़की से इश्क ने पहुंचाया जेल की सलाखों पर

छत्तीसगढ़ के गरियाबंद में नाबालिग लड़की से इश्क युवक को भारी पड़ गया इस चक्कर ने युवक को जेल पहुंचा दिया। युवक पड़ोसी गांव की लड़की को भगा कर ले गया था। उसे तलाश करती हुई पुलिस पहुंच गई। फिर पता चला कि दोनों के बीच अफेयर था। लड़की के बालिग नहीं होने के कारण युवक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। खास बात यह है कि लड़का एक अन्य युवती के साथ 3 माह से लिव इन में भी रह रहा था। मामला देवभोग थाना क्षेत्र का है।


जानकारी के मुताबिक, देवभोग क्षेत्र के एक गांव में 22 अक्टूबर को नाटक का मंचन था। इसमें गांव के सभी लोग पहुंचे थे। इसी बीच गांव की 16 साल की एक लड़की गायब हो गई। नाटक खत्म हुआ तो उसकी तलाश शुरू हुई। नहीं मिली तो अगले दिन परिजनों ने थाने में FIR दर्ज करा दी। इसी बीच लड़की घर पहुंच गई। सूचना मिली तो पुलिस आ गई। पूछताछ में पता चला कि गांव बरबहली निवासी सोमनाथ यादव उसे जबरदस्ती ले गया था।


गांव से बाहर मिलने बुलाया और शादी का झांसा देकर ले गया
लड़की ने पुलिस को बताया कि सोमनाथ ने 22 अक्टूबर की रात कॉल कर उसे गांव के बाहर बुलाया। वह मिलने पहुंची तो उसके साथ जबरदस्ती करने लगा और फिर शादी का झांसा देकर अपने साथ ले गया। वहां पहुंची तो पहले से एक अन्य लड़की मौजूद थी। उसे भी शादी का झांसा देकर भगा लाया था। इस पर किसी तरह नाबालिग वहां से भाग निकली और घर पहुंची। इसके बाद पुलिस ने सोमनाथ के घर दबिश दी, पर मिला नहीं।


परिजनों की मर्जी से लिव इन में रह रहा था युवक
अगले दिन रविवार को पुलिस को सोमनाथ के घर आने की जानकारी मिली तो उसे गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में सोमनाथ ने बताया कि वह नाबालिग से प्यार करता है और शादी करना चाहता है। घर में जो युवती रह रही है, वह मामा की बेटी है। परिजन उस युवती से उसकी शादी कराना चाहते हैं। परिजनों की मर्जी से दोनों करीब तीन माह से बिना शादी किए पति-पत्नी की तरह साथ रह रहे थे। फिलहाल युवक को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया है।

 

CG CRIME NEWS: पति ने पत्नी को जिन्दा जलाया, वजह जानकर आप हो जाएंगे हैरान

CG CRIME NEWS: पति ने पत्नी को जिन्दा जलाया, वजह जानकर आप हो जाएंगे हैरान

छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले से हैरान कर देने वाली खबर सामने आ रही है, पति ने अपनी बीवी को मिट्‌टी तेल (केरोसिन) डालकर जिंदा जला दिया। जिससे उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई । आरोपी ने बीवी को इसलिए मारा डाला क्योंकि वो अपने बच्चों के साथ मायके चले गई थी। वारदात को अंजाम देकर आरोपी फरार हो गया था। पुलिस ने अब आरोप पति को गिरफ्तार कर लिया है। मामला जिले के राजिम थाना क्षेत्र का है।


जानकारी के मुताबिक, पोखरा गांव के वार्ड नंबर 13 में थान सिंह चंदेल अपनी बीवी और तीन बच्चों के साथ रहता था। कुछ समय पहले उसकी बीवी अपने 3 बच्चों के साथ एक सप्ताह के लिए अपने मायके महासमुंद जिले के बिरकोनी चले गई थी। इसी बात से आरोपी थान सिंह नाराज था। इस बीच उसकी बीवी 11 अक्टूबर को अपने भाई और बच्चों के साथ वापस घर आ गई। मृतिका का भाई उसे छोड़कर घर वापस बिरकोनी चला गया था। पत्नी के घर आते ही थान सिंह ने उसके साथ विवाद शुरू कर दिया और उसे गाली देने लगा।


गाली देने के बाद विवाद इतना बढ़ा कि थान सिंह ने मिट्‌टी तेल उठाया और अपनी बीवी के शरीर पर डाल दिया था और उसके शरीर में आग लगा दी। इससे महिला बुरी तरह झुलस गई। वारदात को अंजाम देकर थान सिंह भाग निकला। इधर, जैसे ही आस-पास के लोगों को इस बात की जानकारी लगी तो महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया। मगर महिला की इलाज के दौरान ही मौत हो गई। वहीं महिला की मौत के बाद परिजनों ने इस बात की शिकायत राजिम थाने में दर्ज कराई। जिसके बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू की थी।


पुलिस मामले की जांच कर ही रही थी। लेकिन थान सिंह का कुछ पता नहीं चल पा रहा था। इस बीच पुलिस को उसके छिपे होने की सूचना मिली। इसके बाद बाद पुलिस ने आरोपी को गुरुवार को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार करने के बाद ही पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा किया है।

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: डांस के कार्यक्रम में घुसी सागौन से भरी मेटाडोर, जशपुर जैसा बड़ा हादसा टला

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: डांस के कार्यक्रम में घुसी सागौन से भरी मेटाडोर, जशपुर जैसा बड़ा हादसा टला

गरियांबद: गरियाबंद में सागौन से भरी मेटाडोर ने एक साथ 2 बाइक, पिकअप और बोलेरो को टक्कर मार दी। अच्छी बात यह रही कि समय रहते वहां मौजूद लोगों ने मेटाडोर को देख लिया। लोग वहां से हट गए। टक्कर के बाद गाड़ी रुक गई। इसके कारण बड़ा हादसा टल गया है।
शुक्रवार को दशहरे के मौके पर नागलदेही गांव में ग्रामीणों ने धुमरा प्रतियोगिता का आयोजन किया था। धुमरा ओडिशा का पारंपरिक नृत्य है। देवभोग का इलाका भी ओडिशा की सीमा से लगा है। कार्यक्रम रात से शुरू होकर चल ही रहा था कि शनिवार सुबह 4 बजे एक मेटाडोर उदंती वन्यजीव अभ्यारण्य क्षेत्र की तरफ से गांव में घुसी।


कार्यक्रम में इतनी भीड़ थी की लोग रोड पर ही बैठकर प्रतियोगिता देख रहे थे। इसी दौरान अचानक मेटोडार एक साथ कई गाडिय़ों को टक्कर मारती हुई भीड़ के पास पहुंची ही थी कि इतने में भीड़ ने उसे देख लिया। भीड़ ने देखते ही शोर मचा दिया। जिस कारण लोग रोड से किसी तरह किनारे हो गए। मेटाडोर को रोकने के बाद ड्राइवर भाग निकला है। ग्रामीणों ने प्लास्टिक को हटाया तो वह भी दंग रह गए। ग्रामीणों ने देखा कि मेटाडोर में सागौन की लकड़ी रखी हुई है। इसके बाद लोगों ने इस बात की सूचना देवभोग पुलिस और वन विभाग को दी।


देवभोग वन विभाग के मुताबिक मेटाडोर से 25 नग सागौन की लकड़ी जब्त की गई है, जिसकी कीमत तीन लाख से ज्यादा है। वन विभाग ने इस मामले में सागौन तस्करी की भी आशंका जताई है। हादसा जिले के देवभोग के नागलदेही गांव में हुआ है। जानकारी मिलने के बाद वन विभाग की टीम ने मौके पर पहुंचकर मेटाडोर को जब्त कर लिया है।

CG NEWS: प्रधानमंत्री आवास के लिए मिले थे 75 हजार रुपए, ठगों ने ऑनलाइन गोल्ड खरीदा

CG NEWS: प्रधानमंत्री आवास के लिए मिले थे 75 हजार रुपए, ठगों ने ऑनलाइन गोल्ड खरीदा

छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले से ठगी का मामला सामने आया है, साइबर ठगों ने व्यक्ति की मौत के 5 माह बाद उसके खाते से ट्रांजेक्शन कर 75 हजार रुपए का ऑनलाइन सोना खरीद लिया। यह रुपए प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत व्यक्ति के खाते में आए थे। जब मकान नहीं बना तो नोटिस आने लगा, तब इस ठगी का पता चला। पुलिस को इस मामले में शातिर ठग 'टिल्लू' की तलाश है।


सिटी कोतवाली क्षेत्र के हरदी गांव निवासी देवी सिंह ने खाते में पीएम आवास योजना के तहत खाते में 75 हजार रुपए आए थे। इस बीच अप्रैल 2020 में देवी सिंह की मौत हो गई। आवास योजना में आवेदन की जानकारी परिजनों को नहीं थी। जब कई नोटिस आए तो वे पुलिस के पास पहुंचे।


मरने से पहले देवी सिंह के नाम एक और सिम रजिस्टर्ड कराया
पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला कि UPI ट्रांजेक्शन के जरिए ऑनलाइन खरीदारी की गई है। यह खरीदारी सितंबर 2021 में की गई। जांच में पता चला कि देवी सिंह के नाम एक और सिम रजिस्टर्ड है, जो कि उनकी मौत से पहले ही जारी करा लिया गया था। इसका पहले भी इस्तेमाल हो रहा था।


दो अलग-अलग वेबसाइट से सोना खरीदा, फिर बेचकर रुपए हड़पे
एडिशनल एसपी संतोष महतो ने बताया कि जांच के दौरान एक आरोपी टिकम कमार गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में पता चला कि उसने टीलेश्वर ध्रुव 'टिल्लू' के साथ मिलकर ठगी को अंजाम दिया है। टिल्लू ही इसका मास्टरमाइंड है। दोनों ने MMCTM और सेप गोल्डलाइन वेबसाइट से सोने की खरीदारी की। फिर उसे दूसरी जगह बेचकर रकम अपने खाते में ट्रांसफर करा लिया। फिलहाल उसकी तलाश की जा रही है।

निगरानी बदमाश, ओडिशा में भी ऐसे ही ठगी की
एडिशनल एसपी संतोष महतो ने बताया कि टिल्लू इलाके का शातिर चोर और निगरानी बदमाश है। वह पहले छोटी-मोटी चोरियां करता था। फिर उसने साइबर क्राइम के तरीके सीख लिए। आरोपियों ने ओडिशा में भी ऐसी ठगी की है। वहां की पुलिस से भी संपर्क किया जा रहा है। टिल्लू को भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि गरियाबंद जिले में अपनी तरह का यह पहला मामला है, जब ठग स्थानीय है।


बेटा बोला- हम कहां से लाएंगे आवास बनाने की रकम
देवी सिंह के बेटे रोहित ध्रुव ने कहा कि पिताजी ने प्रधानमंत्री आवास बनवाने के लिए रकम ली थी। अब वह कहां से बनेगा। ऑफिस वाले बार-बार नोटिस भेज रहे हैं। हम गरीब लोग हैं। मुश्किल से ही परिवार का गुजारा होता है। पिता जी के खाते से रकम निकाली गई, इसका भी पता नहीं था। उनके नाम से सिम कार्ड कैसे जारी हुआ, इसकी भी जानकारी नहीं है।

 

बड़ी खबर: नाकाबंदी देखकर कार सहित गांजा छोड़कर फरार हुआ था तस्कर, पुलिस ने पकड़ा

बड़ी खबर: नाकाबंदी देखकर कार सहित गांजा छोड़कर फरार हुआ था तस्कर, पुलिस ने पकड़ा

गरियाबंद।  कार में गांजा छोड़कर फरार हुए आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. सोमवार को नाकेबंदी देखकर कार सहित गांजा छोड़कर आरोपी तस्कर फरार हो गया था. एक देसी पिस्टल भी पुलिस ने जप्त की थी। मामला जिला गरियाबंद की छुरा थाना क्षेत्र का है। जहां कल मुखबीर की सूचना पर कोसमी नवापारा तरफ से आ रही सैंटरो कार की घेराबंदी कर पुलिस ने नाकेबंदी की। जिसे देखकर आरोपी गांजा सहित कार को छोड़कर फरार हो गया था। कार में पांच प्लास्टिक बोरी में 44 पैकेट में कुल 73 किलो गांजा जप्त की गई थी। जिसकी कीमत सात लाख सैंतीस हजार बताया जा गया है सेंट्रो कार में एक बैग में देसी पिस्टल भी मिला, जिसमें चार नग जिंदा कारतूस भी बरामद किया गया था जिसे खोजबीन के बाद आज पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है आरोपी का नाम मुकेश साहू 32 वर्ष एमजी नगर वार्ड क्रमांक 16 कांकेर निवासी बताया जा रहा है।

 

CG NEWS: आदमखोर तेंदुए ने बुजुर्ग पर किया हमला, गर्दन पकड़ कर घसीटता हुआ ले गया

CG NEWS: आदमखोर तेंदुए ने बुजुर्ग पर किया हमला, गर्दन पकड़ कर घसीटता हुआ ले गया

छत्तीसगढ़ के गरियाबंद से दिल-देहला देने वाली खबर सामने आई है, सोमवार को तेंदुए ने एक बुजुर्ग पर हमला कर दिया। बुजुर्ग खेत से अपने घर लौट रहा था। इसी दौरान घात लगाए तेंदुए ने बुजुर्ग की गर्दन पकड़ ली और घसीटते हुए खींच कर ले जाने लगा। ग्रामीणों ने देखा तो शोर मचाते हुए उसके पीछे दौड़े। इस पर बुजुर्ग को छोड़कर तेंदुआ जंगल की ओर भाग निकला। बुजुर्ग को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अब तेंदुए के मूवमेंट पर नजर रखने के लिए वन विभाग कैमरे लगवाने की बात कह रहा है।


जानकारी के मुताबिक, जड़ा-जड़ा के रहने वाले शंकर निषाद का खेत कोचेना गांव के पास है। वह सोमवार को खेत से लौट रहा था। इस दौरान बस्ती के पास ही स्थित हैंड पंप बोरिंग के पास बैठ गया7 तभी घात लगाए हुए तेंदुए ने उस पर हमला कर दिया। शंकर के बैठे होने के चलते उसकी गर्दन तेंदुए ने पकड़ ली और खींचते हुए जंगल की ओर ले जाने लगा। शंकर की चीख पुकार सुनकर आसपास के लोग शोर मचाते हुए दौड़े। लोगों को शोर मचाता आते हुए देख तेंदुआ बुजुर्ग को छोड़कर भाग निकला।


डेढ़ साल पहले भी तेंदुआ घर से उठाकर ले गया था बच्ची को
इसके बाद ग्रामीणों ने शंकर के गांव जड़ा जड़ा फोन कर इसकी जानकारी दी और एंबुलेंस बुलाई। शंकर को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। जानकारी मिलने पर वन विभाग की टीम भी मौके पर पहुंच गई और इलाज के लिए एक हजार रुपए की तात्कालिक सहायता उपलब्ध कराई है। ग्रामीणों ने बताया कि इसी गांव में डेढ़ साल पहले भी तेंदुआ एक घर से बच्ची को उठाकर ले जा चुका है। अब फिर इस तरह की घटना होने से ग्रामीण काफी चिंतित है।


जंगल के बीच बस्ती होने से वन्य जीवों की रहती है आमद
वन विभाग के अधिकारी ने बताया कि कोचेना कमार बस्ती है। जंगल के बीच होने के कारण वन्य जीवों की मौजूदगी बस्ती के आसपास बनी रहती है। उनका कहना है कि यहां शराब बनाई जाती है। नशे में होने के चलते यह घटना हुई है। फिलहाल तेंदुए के मूवमेंट की जानकारी के लिए ट्रैक कैमरे लगाए जा रहे हैं। इसके बाद अगर बहुत आवश्यक हुआ, तभी तेंदुआ पकड़ने पिंजरा लगाने की अनुमति उच्च कार्यालय से मांगी जाएगी।

CG NEWS: मामूली विवाद पर भतीजों ने चाचा पर टंगिया से मार-मारकर कर दिया अधमरा

CG NEWS: मामूली विवाद पर भतीजों ने चाचा पर टंगिया से मार-मारकर कर दिया अधमरा

छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले से दिल-देहला देने वाली खबर सामने आ रही है, दो भतीजों ने अपने ही चाचा पर जानलेवा हमला किया है। सभी मिलकर मंगलवार रात को शराब पी रहे थे कि अचानक विवाद शुरू हो गया। इससे नाराज भतीजों ने टंगिया उठाकर चाचा को दे मारा। जिससे वह बुरी तरह घायल हुआ है। मामला सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र के गरगट्‌टी परसूली गांव का है।


जानकारी के मुताबिक, आरोपी गेंदलाल और सोहन मंगलवार रात को अपने चाचा विजय पात्रे(26) के साथ बैठकर शराब पी रहे थे। अचानक किसी बात को लेकर विजय पात्रे से दोनों का विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ा कि गेंदलाल ने पास में रखे में टंगिया उठाकर विजय के पीठ में दे मारा। इससे विजय वहीं गिर गया और उसके शरीर से खून बहने लगा। इतना ही नहीं सोहन ने भी शराब के नशे में गेंदलाल से टंगिया लिया और उसने भी विजय पर वार कर दिया। जिससे विजय बुरी तरह घायल हुआ है।


वहीं इस बात की जानकारी जब परिजनों को लगी तब विजय को अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां विजय का इलाज किया जा रहा है। इधर, परिजनों ने पुलिस को भी इस बात की जानकारी दी। जिसके बाद दोनों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। पुलिस अब दोनों आरोपी को कभी भी गिरफ्तार कर सकती है।


सिटी कोतवाली प्रभारी सत्येन्द्र श्याम ने बताया कि घटना बीती रात 10 बजे की है। गेंदराम ने अपने चाचा पर टंगिया से हमला किया है। घायल को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। थाना प्रभारी ने बताया कि मामला दर्ज कर लिया गया है। आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

 छत्तीसगढ़ : तालाब किनारे पेड़ पर लटकता मिला एक युवती का शव, इलाके में मचा हड़कंप

छत्तीसगढ़ : तालाब किनारे पेड़ पर लटकता मिला एक युवती का शव, इलाके में मचा हड़कंप

गरियाबंद। बरकानी गॉव में आज सुबह उस वक्त हड़कम्प की स्थिति निर्मित हो गईं। जब गॉव के कुछ लोगों ने गॉव से कुछ दूरी पर तालाब किनारे पेड़ पर एक युवक की लाश को लटकता हुआ देखा। वहीं युवक का शव मिलने की खबर गॉव में आग की तरह फैल गया। देखते ही देखते मौके पर ग्रामीणों की भीड़ उमड़ पड़ी। वहीं मामले की सूचना परिजनों ने देवभोग पुलिस को दे दी हैं। थाना प्रभारी विकास बघेल ने बताया कि परिजनों ने थाने में सूचना दिया हैं।

छबिराम नागेष पिता मोहन नागेश (25) ने पेड़ पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया हैं। थाना प्रभारी ने बताया कि मौके के लिए पुलिस टीम रवाना किया जा रहा हैं। श्री बघेल ने यह भी बताया कि जांच के बाद ही मामले की तस्वीर साफ होगी कि युवक ने ऐसा आत्मघाती कदम क्यों उठाया, बहरहाल इस घटना के बाद बरकानी गॉव में मातम पसर गया हैं।
 
भारी बारिश से जिले में जनजीवन प्रभावित, तटीय इलाकों में अलर्ट घोषित

भारी बारिश से जिले में जनजीवन प्रभावित, तटीय इलाकों में अलर्ट घोषित

गरियाबंद: जिले में लगातार तीन दिन से हो रही बारिश से जनजीवन प्रभावित हुआ है। बीती रात और आज सुबह हुई तेज बारिश से जिले के सबसे बड़ी पैरी नदी और अंचल की छोटे नदी नाले उफान पर है। आज सुबह तक गरियाबंद तहसील में ही 197.7 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है। वही राजिम में 112.6 और छूरा में 137,7 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है। जिले में आज 107.1 मिलीमीटर औसत वर्षा रिकॉर्ड की गई है । पैरी नदी में बाढ़ आ जाने के कारण नेशनल हाईवे 130c में आवागमन अवरुद्ध हो गया है, साथ ही छुरा अंचल में भी तेज बारिश से जिला मुख्यालय का संपर्क टूट गया है। कलेक्टर निलेश क्षीरसागर, एसपी श्रीमती पारुल ठाकुर और आला अधिकारी मालगांव पण्टोरा के पास बाढ़ की स्थिति का स्वयं जायजा लिए हैं।

साथ ही कलेक्टर ने तत्काल बाढ़ प्रभवित इलाकों का दौरा कर वस्तुस्थिति का जायजा ले रहे हैं। सभी अनुविभागीय अधिकारियों को मौके पर तैनात रहने के निर्देश दिए गए हैं। मैदानी अमलों को भी अपने पंचायत में रहने के निर्देश दिए गए हैं, भारी बारिश से जनजीवन प्रभावित हुआ है वही बाढ़ में जिले के अलग अलग जगहों पर 8 लोग फंसे हैं जिन्हें लोगों को की सहायता और पुलिस , एसडीआरएफ की टीम की सहायता से सुरक्षित निकाला जा रहा है ।जानकारी के मुताबिक मैनपुर में दो ,छुरा में तीन और मालगांव पण्टोरा में 3 लोग फंसे होने की जानकारी है। चिखली में फंसे 2 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है ।

पुलिस प्रशासन और जिला प्रशासन द्वारा मुस्तैदी से राहत और बचाव का कार्य जारी है। वहीं प्रभावित क्षेत्रों में कच्चे मकानों में रह रहे लोगों को पंचायतों में रहने के लिए कहा गया है ।नगरीय क्षेत्र में गरियाबंद में स्थानीय मंगल भवन में लोगों के रहने और खाने की व्यवस्था जिला प्रशासन द्वारा की जा रही है। कलेक्टर ने राजस्व अमला को भी गरियाबंद के प्रभावित 30 गांवों में जन माल की हानि का रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं, साथ ही सभी तटीय इलाकों में अलर्ट घोषित किया गया है।



कलेक्टर क्षीरसागर ने आम लोगों से भी अपील किया है कि बाढ़ के पानी को पार करने से बचें और पानी जब खतरे से नीचे उतरे तब ही आवागमन करें। उन्होंने बताया कि सिकासेर बांध में 20669 क्यूसेक पानी छोड़ा गया है। आज दोपहर 12:00 बजे की स्थिति में 22 गेट में से 17 गेट को 3 फीट तक खोला गया है। अभी सिकासेर बांध में जलभराव की स्थिति लगभग 90% तक हो गई है।

CG BREAKING: बाढ़ में फंसे लोगों की पुलिस व एसडीआरएफ की टीम ने की मदद

CG BREAKING: बाढ़ में फंसे लोगों की पुलिस व एसडीआरएफ की टीम ने की मदद

गरियाबंद: भारी बारिश के बीच जिले में बाढ़ की स्थिति बनी हुई है। ऐसे में नदी और तटीय इलाकों में लोग फंसे हुए हैं। इनमें से चार जगह पर लोगों को सफलतापूर्वक रेस्क्यू किया गया है। पुलिस प्रशासन और राज्य आपदा प्रबंधन दल ने इस रेस्क्यू मिशन को अंजाम दिया। कलेक्टर निलेश क्षीरसागर ने बताया कि चार स्थानों पर फंसे लोगों को निकाल लिया गया है, जबकि मालगांव के पास पंटोरा में फंसे तीन लोग और सुहागपुर के गौशाला में फंसे 3 लोगों को निकालने रेस्क्यू जारी है।

उन्हें भी निकाल लिया जाएगा। कलेक्टर ने बताया कि और अन्य स्थानों पर लोगों के फंसे होने की जानकारी मिली है, लेकिन वे सभी सुरक्षित स्थान पर है और उसे भी सफलतापूर्वक निकाल लिया जाएगा। कलेक्टर ने जिलेवासियों से अपील की है कि जिले की नदियों और नालों में अभी भी बाढ़ की स्थिति बनी हुई है, इसलिए अपने घरों में ही रहे और नदियों के आसपास ना जाएं। उन्होंने लोगों से अपील की है कि पुल के ऊपर से बहते हुए पानी को पार न करें। किसी भी विकट परिस्थिति के लिए बाढ़ नियंत्रण कक्ष के नोडल अधिकारी डिप्टी कलेक्टर भूपेंद्र साहू के मोबाइल नंबर 9425281108 पर संपर्क कर तत्काल जानकारी और सहयोग लिए जा सकता है।

छत्तीसगढ़ में एक बार फिर पुलिस ने गांजा तस्करों को धर-दबोचा, तस्करों में पति-पत्नी भी शामिल

छत्तीसगढ़ में एक बार फिर पुलिस ने गांजा तस्करों को धर-दबोचा, तस्करों में पति-पत्नी भी शामिल

छ्त्तीसगढ़ के गरियाबंद में एक बार फिर गांजा तस्करों को पकड़ा गया है। इस बार पुलिस ने गरियाबंद जिले में एक पति-पत्नी समेत 4 लोगों को गिरफ्तार किया है। चारों आरोपी कार के अंदर लगेज बैग में लगभग 5 लाख का गांजा छिपाकर ले जा रहे थे। जिन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। ये कार्रवाई देवभोग पलिस ने ओडिशा सीमा पर की है।


दरअसल बुधवार सुबह देवभोग पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि कुछ लोग सफेद कार में ओडिशा की तरफ से गांजा लेकर छत्तीसगढ़ आने वाले हैं। जिसके बाद पुलिस की एक टीम को तुरंत ओडिशा सीमा पर खटगांव नाका पर भेजा गया। जहां पुलिस ने सभी आने-जाने वाली गाड़ियों की जांच शुरू की। इसी दौरान आरोपी भी ओडिशा की तरफ खटगांव नाका पर पहुंचे। जिस पर पुलिस ने उनसे भी पूछताछ शुरू की।


दिल्ली, उत्तर प्रदेश और ओडिशा के रहने वाले हैं आरोपी
पुलिस ने कार की भी तलाशी ली। जिसमें कार के अंदर डिग्गी में 3 लगैज बैग में 61 किलो गांजा रखा हुआ था। पुलिस ये देखकर हैरान रह गई। फिर पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपियों का नाम शादाब खान(25), इंद्रीश शेख(19), अरशी खान(20) और घनश्याम मेहर बताया है। शदाब उत्तर प्रदेश का रहने वाला है। वहीं इंद्रीश और उसकी पत्नी दिल्ली में रहते थे। जबकि घनश्याम ओडिशा का रहने वाला है।


कार और मोबाइल भी जब्त
पुलिस ने आरोपियों से 4 लाख 88 हजार का गांजा, कार और 2 मोबाइल जब्त किया है। फिलहाल ये पूछताछ की जा रही है कि ये ओरोपी गांजा लेकर ओडिशा से कहां जा रहे थे। प्रदेश में इससे पहले भी ओडिशा सीमा पर गांजा तस्करों को गिरफ्तार किया गया है। खासकर ओडिशा सीमा से ही लगे महासमुंद में सबसे ज्यादा गांजा तस्करी के मामले सामने आते रहे हैं।

 बड़ी खबर छत्तीसगढ़: स्कूल में दारु-मुर्गा पार्टी और छात्राओं से अभद्र व्यवहार करने वाले 3 शिक्षक निलंबित

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: स्कूल में दारु-मुर्गा पार्टी और छात्राओं से अभद्र व्यवहार करने वाले 3 शिक्षक निलंबित

गरियाबंद। स्कूल में ही मुर्गा और दारु पार्टी करने वाले तीन शिक्षकों को शिक्षा विभाग ने निलंबित कर दिया है। नशेड़ी तीनों शिक्षकों को ग्रामीणों ने स्कूल में दबिश देकर दबोचा था। आईबीसी24 ने प्रमुखता के साथ इस खबर को चलाया था जिसके बाद आज इस मामले में शिक्षकों के खिलाफ शिक्षा विभाग ने कार्रवाई की है।

जानकारी के अनुसार दो शिक्षक ढोडरा के और एक कोदोभाटा में पदस्थ है। वहीं दो नशेड़ी शिक्षक के अलावा तीसरे शिक्षक प्रकश शुक्ला पर छात्राओं से अभद्र व्यवहार करने का आरोप लगा है। ग्रामीणों ने बताया कि शिक्षक हर दिन स्कूल में ही दारु, मुर्गा का पार्टी करते थे।

बता दें कि गुरुवार को शिक्षक नशे में इतना चूर था कि वह ठीक से खड़ा ही नहीं हो पा रहा था।, जबकि प्रधान पाठक नशे में धुत्त होकर एक स्कूली छात्र की कान खिंचाई करते हुए नजर आया। आक्रोशित पालकों ने शिक्षा व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कार्रवाई की मांग की थी। जिसके बाद अब तीनों को निलंबित किया है।
 
CG NEWS: ग्रामीणों ने शराबी मास्टर की काली करतूत का किया पर्दाफाश, स्कूल में रोज करता था मुर्गा-शराब पार्टी

CG NEWS: ग्रामीणों ने शराबी मास्टर की काली करतूत का किया पर्दाफाश, स्कूल में रोज करता था मुर्गा-शराब पार्टी

छत्तीसगढ़ के गरियाबंद के मैनपुर ब्लॉक में एक मास्टर की काली करतूत सामने आई है, वह स्कूल में ही आकर मुर्गा पकाते और फिर प्रधान पाठक के साथ शराब पार्टी करते। इस दौरान बच्चे पढ़ाई की बात करते तो उन्हें पीटा जाता। ग्रामीणों को पता चला तो गुरुवार दोपहर स्कूल पहुंच गए। रंगे हाथ पकड़े गए मास्टर जी नशे में इतना धुत मिले कि जमीन पर जा गिरे।


आदिवासी बहुल्य ढोर्रा गांव के मिडिल स्कूल में पदस्थ प्रधान पाठक शशि शेखर पांडेय और शिक्षक खिरसिंह नेताम रोज स्कूल तो पहुंचते, लेकिन बच्चों को पढ़ाने की जगह शराब और मुर्गा पार्टी करते। बच्चों की बेवजह पिटाई की जाती। परेशान होकर बच्चों ने इसकी जानकारी अपने परिजन को दी। बात गांव में फैली तो उन्होंने स्कूल जाकर खुद देखना तय किया। इसके लिए सरपंच प्रतिनिधि शोप सिंह ने संकुल समन्वयक जगजीवन ठाकुर को भी अपने साथ ले लिया।

नशा इतना ज्यादा की अपने पैरों पर ही नहीं खड़े हो पा रहे थे
सभी लोग एकजुट होकर दोपहर करीब 1 बजे स्कूल पहुंच गए। वहां ग्रामीणों ने दोनों शिक्षकों को शराब और मुर्गा पार्टी करते पकड़ लिया। प्रधान पाठक शशि शेखर पांडेय तो ग्रामीणों और परिजनों से भिड़ गए। मीडिया पहुंची तो उसे भी कैमरा बंद करने की चेतावनी दे डाली। शिक्षक खिरसिंह नेताम तो इतना ज्यादा नशे में था कि अपने पैरों पर ही नहीं खड़े हो पा रहे थे। ग्रामीणों को देख थोड़ा संभले और मैदान में खड़ी अपनी बाइक उठाने पहुंचे, लेकिन नशे की हालत में लहराते हुए वहीं जमीन पर जा गिरे।


बिना कारण बच्चों के कान खींचे तो खुला मामला
बताया जा रहा है कि पिछले कई दिनों से दोनों मास्टरों का यह शराब और मुर्गा पार्टी का खेल चला रहा था, लेकिन बिना कारण बच्चों की पिटाई ने इसे बिगाड़ दिया। प्रधान पाठक आने वाले हर बच्चे का कान पकड़ कर खींचते। इसके चलते बच्चे भी गुस्से में थे। एक दिन पहले फिर उनके साथ ऐसा हुआ तो परिजनों को इसकी जानकारी दे दी। इसके बाद परिजन और अन्य ग्रामीण पहुंचे तब भी हेड मास्टर बाज नहीं आए। उन्होंने एक बच्चे का कान पकड़कर खींचना शुरू कर दिया। इससे ग्रामीण और भड़क गए।


ग्रामीण बोले- दोनों शिक्षकों को हटाया जाए, होगी शिकायत
इस पूरे मामले के सामने आने के बाद ग्रामीण और परिजन नाराज हो गए हैं। उनका आक्रोश बढ़ गया है। अब उन्होंने दोनों टीचरों को वहां से हटाने की मांग कर दी है। उनका कहना है कि दोनों शिक्षकों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। सरपंच प्रतिनिधि शोप सिंह ने कहा कि शिकायत मिलने के बाद वह सुबह से मॉनिटरिंग कर रहे थे। इसके बाद भी दोनों शिक्षक अपनी हरकतों से बाज नहीं आए। वह इसकी शिकायत शिक्षा विभाग के अफसरों से करेंगे। दोनों को ही हटाकर यहां नए शिक्षकों की तैनाती हो।

8 दिन पहले मुंगेली में भी ऐसा मामला आया था सामने
मुंगेली जिले के लोरमी ब्लाक में भी करीब 8 दिन पहले ऐसा ही मामला सामने आया था। लाखासर गांव के सरपंच हलधर सिंह वर्मा को शिकायत मिली थी कि प्राथमिक स्कूल में पदस्थ शिक्षक कन्हैलाला पनागर अक्सर गायब रहते हैं। इस पर वह निरीक्षण के लिए पहुंचे। वहां दोपहर 3 बजे टीचर कन्हैयालाल शराब के नशे में स्कूल पहुंचे। उन्होंने रजिस्टर खोला और हाजिरी लगाई। सरपंच ने टोका तो धमकी दे डाली, कि किसी ने माई का दूध पिया हो तो वहां से ट्रांसफर करवा कर दिखाए।

शिकायत पर जांच के लिए आए थे, BEO को रिपोर्ट सौपेंगे
संकुल समन्वयक जगजीवन ठाकुर ने बताया कि दोनों शिक्षकों को लेकर पहले भी शिकायत मिली थी। इसके बाद अफसरों ने जांच के लिए भेजा था। ग्रामीणों का भी इसमें सहयोग मिल गया। अब दोनों नशेड़ी शिक्षकों की रिपोर्टिंग BEO (ब्लॉक शिक्षा अधिकारी) को करेंगे। इसके बाद आगे तय होगा। उन्होंने परिजन को दोनों शिक्षकों पर कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया है।

CG NEWS: मामूली विवाद पर फावड़े से वार कर उतारा मौत के घाट, जिले में एक दिन के अंदर हुए 2 मर्डर

CG NEWS: मामूली विवाद पर फावड़े से वार कर उतारा मौत के घाट, जिले में एक दिन के अंदर हुए 2 मर्डर

छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में एक युवक की मामूली विवाद पर निर्मम हत्या कर दी गई। बताया गया है कि आरोपी ने उसे इसलिए मार डाला क्योंकि खेत में नहर से पानी निकालने को लेकर उसका मृतक से विवाद हुआ था। हत्या करने के बाद आरोपी ने खुद थाने में जाकर सरेंडर किया है। आरोपी ने यह भी बताया है कि युवक की हत्या करने के लिए उसने फावड़े का इस्तेमाल किया था। पूरा मामला फिंगेश्वर थाना के छुईया गांव का है। इस प्रकार फिंगेश्वर इलाके में एक दिन के भीतर 2 लोगों की हत्या की गई है।


पेट पर हमला कर मौत के घाट उतारा
जानकारी के मुताबिक नीलकंठ सिन्हा (39) सोमवार सुबह 10 बजे अपने खेत में काम कर रहा था। इस बीच आरोपी रोशन ध्रुव (33) भी बगल के अपने खेत में काम कर रहा था। चूंकि इस बार जिले में बरसात कम हुई है, इसलिए कई लोग नहर से पानी निकालने का काम करते हैं। नीलकंठ भी नहर से पानी निकालने के लिए गड्‌ढ़ा बना रहा था। तभी दोनों के बीच पानी निकालने को लेकर जमकर विवाद शुरू हो गया। इस पर रोशन ने वहीं रखे फावड़े से नीलकंठ की पेट पर हमला कर दिया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई।


घटना के बाद रोशन खुद थाने पहुंच गया और बताया कि उसने नीलकंठ की हत्या कर दी है। आरोपी अपने साथ फावड़ा लेकर भी पहुंचा था। रोशन की ही निशानदेही पर मृतक के शव को जब्त कर लिया गया और पोस्टमॉर्टम कराकर परिवार को सौंप दिया गया है। वहीं आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

कांग्रेस के पूर्व विधायक के भतीजे की बीच बाजार हत्या
इसके पहले जिले में रविवार को करीब 12 बजे के आसपास बीच बाजार कांग्रेस के पूर्व विधायक अग्नि चंद्राकर के भतीजे संदीप चंद्राकर की हत्या कर दी गई थी। संदीप मछली के कारोबार से जुड़ा था। रविवार को फिंगेश्वर इलाके में लगे मछली बाजार में वह रुपयों के लेन-देन की बात करने कुछ दुकानदारों के पास पहुंचा था। तब बाजार में दुकानें लगी हुईं थी और लोग भी मौजूद थे। रुपयों की लेन-देन को लेकर संदीप की दूसरे व्यापारियों से बहस हो गई। युवकों ने संदीप पर लाठी डंडे से वार कर दिया। संदीप ने भी उन्हें पीटा। इसके बाद एक युवक ने धारदार हथियार से संदीप के सीने और गले पर वार किया। संदीप की घटना स्थल पर ही मौत हो गई थी।

BIG BREAKING: 2 दिन से लापता बच्ची की लाश जंगल मे मिली, तेंदुए के उठा ले जाने और मारने की आशंका

BIG BREAKING: 2 दिन से लापता बच्ची की लाश जंगल मे मिली, तेंदुए के उठा ले जाने और मारने की आशंका

छत्तीसगढ़ के गरियाबंद से दिल देहला देने वाली खबर सामने आ रही है, दो दिन से लापता 9 साल की बच्ची के अवशेष गुरुवार शाम को जंगल में मिले हैं। बच्ची दो दिन पहले घर के बाहर खेलते हुए गायब हो गई थी। परिजन पहले उसकी तलाश करते रहे। जब नहीं मिली तो सुबह पुलिस में शिकायत की। जिसके बाद 40 जवानों के साथ अफसरों की टीम बच्ची की सर्चिंग में लगी है। आशंका है कि तेंदुआ या कोई जंगली जानवर बच्ची को उठा ले गया और मार दिया। मामला कोतवाली क्षेत्र का है।


जानकारी के मुताबिक, गरियाबंद वन परिक्षेत्र के बमनी गांव निवासी 9 साल की रानी कमार 17 अगस्त की शाम पड़ोस के अन्य बच्चों के साथ घर के बाहर खेल रही थी। इसी दौरान आसपास के बच्चों के चीखने की आवाज आई। परिजन बाहर निकले, लेकिन बच्ची तब तक गायब थी। उन्होंने अन्य बच्चों से पूछा, लेकिन डर के चलते वह कुछ बता नहीं पा रहे थे। इसके बाद परिजन दो दिनों तक बच्ची को आसपास के इलाके में तलाश करते रहे।


गांव से 300 मीटर दूर जंगल में मिले शव के अवशेष
इस पर परिजन गुरुवार को कोतवाली पहुंचे और शिकायत दर्ज कराई। इसके बाद पुलिस के साथ वन विभाग के 40 जवान सुबह करीब 11 बजे से बच्ची की तलाश में निकले। इस दौरान डॉग स्क्वॉयड को भी साथ लिया गया। शाम ढलने से पहले गांव से करीब 300 मीटर दूर जंगल में बच्ची के शव के अवशेष मिले हैं। यह गांव गरियाबंद मुख्यालय से करीब 7 किमी दूर है। फिलहाल अंधेरा होने पर सर्चिंग रोक दी गई है। पुलिस फिर सुबह तलाश करेगी।

बच्ची के घर के पास वन्य जीव के पग मार्क मिले
एडिशनल SP सुखनंदन राठौर ने बताया कि किसी जंगली जानवर के बच्ची पर हमला करने की संभावना है। घर के पास तेंदुए और जंगली जानवर के पग मार्क मिले हैं। आशंका है कि बच्ची को जानवर ने मार दिया है। फिलहाल तलाश जारी है। अंधेरा होने के कारण सर्चिंग रोक दी गई है। सुबह फिर से उसकी तलाश शुरू की जाएगी। इसमें वन विभाग के कर्मचारी और अफसर भी सहयोग में लगे हुए हैं।

छत्तीसगढ़: जतमाई घटारानी में लगी भक्तों की भीड़ ,नियम को किये अनदेखा

छत्तीसगढ़: जतमाई घटारानी में लगी भक्तों की भीड़ ,नियम को किये अनदेखा

गरियाबंद। जिले में स्थापित छत्तीसगढ़ राज्य में प्रसिध्दि लिए जतमाई और घटारानी धाम जहाँ पूरे राज्य से दर्शनार्थी दर्शन करने आते है लेकिन इस संक्रमन काल मे प्रशासन द्वारा उन दर्शनार्थियों के लिए विभिन्न प्रशासनिक नियम बनाए गए है ताकि संक्रमन जो अब काफी हद तक कम हो गया है ,वो पुन: न फैले । लेकिन इन धार्मिक स्थलो में आने वाले श्रद्धालुओं के द्वारा उस संक्रमन के भय से दूर प्रशासनिक नियमो को अनदेखा कर बेतहाशा भीड़ किया जा रहा है ,जो ऐसा न हो कि उन भक्तों के साथ क्षेत्र के किये संकमण फैला कर नुकसान दे हो।

जबकि सावन के इस माह में गरियाबंद जिले के अंदर स्थापित विभिन्न धार्मिक स्थल में आने वाले लोगो के लिए प्रशासनिक नियम बनाया गया है ,जिसमे शोसल दूरी बनाना मास्क लगाना और सेनेटाइजर का बार बार उपयोग करना है ,वही इन नियमो में लापरवाही करने से समिति की जवाबदारी प्रशासान द्वारा निर्धारित किया गया है ,लेकिन जतमई धाम समिति इन नियमो को पालन कराने में अक्षम दिख रहा गई ,और समिति स्वयं आने वाले वाहनों से टैक्स वसूलने में ब्यस्त दिखा है ,और उस स्थल में सेनेटाइजर मशीन तो है लेकिन वो भी खराब पड़ा है ।

 CG NEWS: पति ने बीच सड़क पर पत्नी को तलवार से मारकर उतारा मौत के घाट

CG NEWS: पति ने बीच सड़क पर पत्नी को तलवार से मारकर उतारा मौत के घाट

गरियाबंद। जिले के राजिम थाना क्षेत्र के ग्राम कुरूसकेरा में एक युवक ने बीच सड़क पर अपनी पत्नी पर तलवार से हमला कर हत्या कर दी। घटना की सूचना पर मौके में पहुंची पुलिस ने मर्ग कायम कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वही आरोपी को गिरफ्तार कर तलवार जब्त कर लिया है।  मृतिका गायत्री तारक 26 वर्ष का विवाह मनोज तारक के साथ हुई थी। उन दोनों की तीन बच्चे भी है। 

बताया जाता है कि एक साल पहले गायत्री तारक ने अपने पति व तीन बच्चों को छोड़कर पड़ोसी मानसचंद के साथ भाग गई थी। जब एक साल बाद वह गांव लौटी तो गांव में ही मानसचंद और गायत्री पति-पत्नी बनकर रह रहे थे। जिससे आरोपी मनोज को नागवार गुजरी। जिसके बाद आरोपी स्वतंत्रता दिवस की सुबह अपनी पत्नी गायत्री के पास पहुंची। जिससे दोनों में विवाद हुआ। इतने में ही मनोज ने तलवार से गायत्री की दोनों कनपटी पर वार कर मौत के घाट उतार दिया। गायत्री खून से लतपथ बीच गली में ही तड़पती रही और उसकी मौत हो गई। जिसके बाद आरोपी वहां से भाग निकला। सूचना पर मौके में पहुंची पुलिस ने आरोपी की पतासाजी कर गिरफ्तार कर लिया है और उसके पास से तलवार जब्त कर लिया है।
जिले के इस चिन्हित क्षेत्र को किया गया माईक्रो कन्टेनमेंट जोन घोषित

जिले के इस चिन्हित क्षेत्र को किया गया माईक्रो कन्टेनमेंट जोन घोषित

गरियाबंद, जिले के नगर पंचायत राजिम के वार्ड नम्बर 15 में कोरोना वायरस के सक्रिय प्रकरण पाये जाने पर संबंधित चौहद्दी को कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री निलेशकुमार क्षीरसागर द्वारा माईक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। कलेक्टर द्वारा जारी आदेश में कंटेनमेंट जोन के चिन्हित क्षेत्र अंतर्गत सभी दुकानें एवं अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश पर्यन्त तक बन्द रहेंगे। प्रभारी अधिकारी द्वारा घर पंहुच सेवा के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति उचित दरों पर सुनिश्चित की जायेगी। सभी प्रकार के वाहनों के आवागमन पूर्ण प्रतिबन्ध रहेगा। मेडिकल इमरजेंसी को छोड़कर अन्य किन्हीं भी कारणों से घर के बाहर निकलना प्रतिबंधित रहेगा। वार्ड नम्बर 15 में पाये गये संक्रमित व्यक्ति के आवास के पूर्व दिशा, पश्चिम, उत्तर एवं दक्षिण दिशा के चिन्हित चौहद्दी को माईक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है। आदेश के तहत उक्त क्षेत्र में स्वास्थ्य विभाग के मानकों के अनुरूप व्यवस्था हेतु पुलिस पेट्रोलिंग सुनिश्चित की जायेगी। स्वास्थ्य विभाग के निर्देशानुसार आवश्यक सर्विलांस, कान्टेक्ट, ट्रेसिंग एवं सैम्पल जांच आदि की कार्यवाही की जायेगी। साथ ही जोन में कार्यवाही हेतु अधिकारियों को दायित्व सौंपा गया है। केवल एक प्रवेश एवं निकास हेतु बैरिकटिंग हेतु कार्यपालन अभियंता लोक निर्माण विभाग, प्रवेश एवं निकास सहित क्षेत्र की सेनिटाइजिंग व्यवस्था एवं आवश्यक वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने संबंधित जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को दायित्व सौंपा गया है। कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग के लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी गरियाबंद को दायित्व सौंपा गया है। खण्ड चिकित्सा अधिकारी को स्वास्थ्य टीम को दवा, मास्क, पीपीई कीट इत्यादि उपलब्ध कराने एवं बायोमेडिकल अपशिष्ट प्रबंधन तथा महिला एवं बाल विकास विभाग के पर्यवेक्षक को घरों का एक्टिव सर्विलांस व विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी को खंड स्तर पर स्थापित नियंत्रण कक्ष में व्यवस्था हेतु दायित्व सौंपा गया है। पुलिस विभाग के संबंधित अनुविभागीय अधिकारी को दुकानें बंद करवाने और आवागमन प्रतिबंधित करने दायित्व सौंपा गया है। संबंधित क्षेत्र के लिए पर्यवेक्षण अधिकारी नियुक्त किया गया है एवं संबंधित अनुविभागीय दण्डाधिकारी (राजस्व) श्री जी.डी वाहिले को संबंधित क्षेत्र के सम्पूर्ण प्रभार एवं इंसीडेन्ट कमांडर का दायित्व सौपा गया है। उपरोक्त समस्त अधिकारी-कर्मचारी आपस में समन्वय बनाकर समस्त दायित्वों का निर्वहन करेंगे। आवश्यकता पडऩे पर उपरोक्त कार्यों हेतु अन्य स्थानीय अमलों की ड्यूटी लगाने हेतु अधिकृत होंगे।

 

बड़ी कार्रवाई: 204 नग हीरे के साथ तस्कर गिरफ्तार

बड़ी कार्रवाई: 204 नग हीरे के साथ तस्कर गिरफ्तार

गरियाबंद: हीरा तस्करी के खिलाफ गरियाबंद पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए हीरों के साथ तस्कर को गिरफ्तार किया है। देवभोग से निकाले गए हीरे के लिए ग्राहक तलाश करने निकले युवक को मुखबिर की सूचना पर पकड़ लिया गया। आरोपी तस्कर से 204 नग हीरे के टुकड़े बरामद किये गए।

गरियाबंद एसपी पारूल माथुर को मुखबिर से सूचना मिली थी कि देवभोग क्षेत्र से एक हीरा तस्कर मोटर सायकल से मैनपुर की ओर हीरा बेचने जा रहा है। इसके आधार पर तत्काल थाना प्रभारी मैनपुर के नेतृत्व में टीम गठित कर घेराबंदी करने झरियाबहरा की ओर रवाना किया। टीम को सर्चिंग के दौरान ग्राम बरदुला में किराना दुकान के पास मोटर सायकल क्रमांक ओ.डी. 08 एल 5877 में सवार एक संदिग्ध व्यक्ति नजर आया, जो पुलिस को देखकर भागने लगा। पुलिस के जवानों ने तत्काल घेरेबंदी कर उसे धर दबोचा।

पकडे गए युवक ने पूछताछ करने पर अपना नाम नीलम दास कश्यप ग्राम बुध्दुपारा थाना देवभोग का रहने वाला बताया। जिसकी तलाशी लेने पर उसके पेंट की जेब से एक कागज के पुड़िया मे लिपटे हुए प्लास्टिक के डिब्बे में हीरे जैसा कीमती पत्थर मिले। गिनती करने पर 204 नग हीरा मिले, जिनकी अनुमानित कीमत लगभग 22 लाख रूपए है। थाना मैनपुर की पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया।

बड़ी खबर : सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र में डेढ़ माह पूर्व गम हुए व्यक्ति की मिली हड्डी, मचा हड़कंप

बड़ी खबर : सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र में डेढ़ माह पूर्व गम हुए व्यक्ति की मिली हड्डी, मचा हड़कंप

गरियाबंद | सिटी कोतवाली में एक जून 2021 को ग्राम दर्रीपारा कोचवाय के व्यक्ति मोहन धु्रव पिता विशाम्भर धु्रव उम्र 45 वर्ष जो कि अपनी लड़कीं के घर जाने के नाम से निकला था जो न ही अपनी लड़कीं के घर गया न ही वापस अपने घर आया । उसके गुम होने की रिपोर्ट तीन जून को गरियाबंद सिटी कोतवाली में दर्ज कराया गया था । वही आज शुक्रवार को गरियाबंद सिटी कोतवाली को मुखबिर के माध्यम से जानकारी मिला कि ग्राम हरदी से गायडबरी जाने के मार्ग में नाले के पास किसी व्यक्ति की हड्डी देखा गया है । इस जानकारी के आधार पे सिटी कोतवाली प्रभारी देववती दरियो अपने पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुचे ,और इंसान की हड्डी के पास पता तलाश किया गया ,तब पत्थर के बीच फसा हुआ मृतक के कपड़े और हड्डी के साथ नजदीक ही सायकल और चप्पल मिला जिससे लापता व्यक्ति की रिपोर्ट हुए परिजनों को बुलाया गया जिससे उक्त व्यक्ति को मोहन ध्रुव दर्रीपारा निवासी के रूप के परिजनों के द्वारा पहचान किया गया । वही थाना प्रभारी ने बताया कि मौके पर जहर की शीशी भी पाई गई है ,जिससे मृतक के द्वारा आत्महत्या किये जाने की संभावना है, फिलहाल मर्ग कायम कर विवेचना किया जा रहा है ।

 
टंगिया से बुजुर्ग पर वार कर कटा हुआ सर लेकर थाने पहुंचा शख्स

टंगिया से बुजुर्ग पर वार कर कटा हुआ सर लेकर थाने पहुंचा शख्स

गरियाबंद. गरियाबंद जिले के छुरा थाना क्षेत्र से एक दर्दनाक घटना सामने आई है। दरअसल एक युवक ने अपने बुजुर्ग पड़ोसी की टंगिया से हत्या कर दी। हैरानी की बात ये है कि हत्या के बाद बुजुर्ग का कटा हुआ सिर लेकर आरोपी थाने पहुंच गया। युवक के हाथ में कटा हुआ सिर देखकर पुलिस भी हैरान रह गई। फिलहाल पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।


मिली जानकारी के अनुसार आरोपी युवक को पड़ोसी से किसी बात को लेकर लंबे समय से विवाद चल रहा था। वहीं, विवाद के चलते आरोपी युवक आज टंगिया लेकर पहुंचा और पड़ोसी बुजुर्ग की हत्या कर दी।

पुलिस की बड़ी कार्रवाई : अंतरराज्यीय खाल तस्करों के गिरोह का भंडाफोड़, तेंदुए-बाघ की खाल के साथ 6 गिरफ्तार

पुलिस की बड़ी कार्रवाई : अंतरराज्यीय खाल तस्करों के गिरोह का भंडाफोड़, तेंदुए-बाघ की खाल के साथ 6 गिरफ्तार

गरियाबंद। गरियाबंद पुलिस ने अंतरराज्यीय खाल तस्करों के गिरोह का भंडाफोड़ किया है। बड़ी कार्रवाई करते हुए जिला पुलिस ने 6 तस्करों को गिरफ्तार किया है। तस्करों के कब्जे से 4 तेंदुए की तथा 1 बाघ की खाल बरामद हुई है। मामला पड़ोसी राज्य ओडिशा के कालाहांडी जिले के वन परिक्षेत्र का बताया जा रहा है। डब्ल्यू सीसीबी ने गरियाबन्द व कालाहांडी के अफसरों की सयुंक्त टीम के साथ इस कार्रवाई को अंजाम दिया है।

शिकार करते चार आरोपी धरे गए, शिकार के लालच में काट रहे थे बड़ा सा पेड़

शिकार करते चार आरोपी धरे गए, शिकार के लालच में काट रहे थे बड़ा सा पेड़

गरियाबंद, मामला वन परिक्षेत्र पांडुका के अंतर्गत 127 तालेसर बिट का है जहां परीक्षत्र कार्यालय के अंतर्गत ग्राम तलेसर के ग्रामीण मांस की लालच लिए एक जीव कों मरने के लिय बड़े से साल प्रजाति के पेड़ को काटने लगे थे। मौके पर पहुंचे बीट गार्ड नरेंद्र साहू एवं घनश्याम ध्रुव ने पकड़ा इस बारे में वन परीक्षेत्र अधिकारी जयकांत गांडेचा ने बताया कि 27 तारीख की शाम तालेसर एवं जूनवानी के 4 लोग गोइहा प्रजाति के जीव को मारने के लिए जंगल में पेट्रोल आरा मशीन से साल पेड़ को काट रहे थे। तभी गश्त पर निकले वन विभाग की टीम मशीन की आवाज सुनकर मौके पर पहुंचा तो वहां गोइहा प्रजाति के जीव को मारने के लिए बड़ा से पेड़ को आधा काट चुके थे इसकी जानकारी मिलते ही वन परिक्षेत्र अधिकारी ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार किया। जिसमें फागु माधव पिता केशव राम जुनवानी, देवकरण पिता फिरतू गोंड, कोमल पिता सुकूल राम,माखन पिता लखन तलेसर को वन अधिनियम 1927 की धारा 26 (च)एवं वन्य संरक्षण अधिनियम 1972 के तहत ,(9 )51, 52 कार्रवाई किया , एवं रिमांड पर लिया गया है जिसे न्यायालय में पेश किया जाएगा। आरोपियो के पास से एक पेट्रोल आरा मशीन एवं दों मोटरसाइकिल भी बरामद किया गया है। इस बारे में वन परीक्षेत्र अधिकारी पांडुका जय कांत गुंडेचा ने बताया कि यह गो इहा प्रजाति काप्रजाति का प्राणी लुप्तप्राय प्राणी हैं एवं यहां अनुसूची 1 में आता है और चारों आरोपी इस छोटे से जीव के लालच में बड़ा सा साल पेड़ को भी काट रहे थे पेड़ा जीव जंतु बचाना हमारी फर्ज है जो कोई भी गलत कार्य करेगा उसे बख्शा नहीं जाएगा उस पर कार्रवाई की जाएगी।चाहे कोई भी हो।।

 

 बड़ी खबर: नदी किनारे मिली महिला व एक व्यक्ति की लाश, प्रेमप्रसंग में खुदकुशी करने की आशंका

बड़ी खबर: नदी किनारे मिली महिला व एक व्यक्ति की लाश, प्रेमप्रसंग में खुदकुशी करने की आशंका

गरियाबंद। गरियाबंद में नदी किनारे एक महिला व पुरुष का शव पड़ा मिला। दोनों ने जहरिला पदार्थ खाकर आत्महत्या कर लिया है। मामले की सूचना पर मौके पर पहुच कर पुलिस दोनों के शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। 

मिली जानकारी के अनुसार गरियाबंद में एक महिला व पुरुष का शव नदी किनारे मिलने की सुचना पर पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंचकर शव का शिनाख्ती कराई तो पता चला वो परमेश्वर मरकाम 37 वर्ष और ललिता यादव 38 वर्ष के थे। दोनों पास के ही गांव साहेबिन कछार के रहने वाले थे। पुलिस को वहीं पर डिस्पोजल में तरल पदार्थ भी मिला। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया तो जहरीला पदार्थ पीने से मौत होने का कारण सामने आया है। पुलिस ने जांच शुरु की तो पता चला कि दोनों शादीशुदा थे। हालांकि ललिता विधवा थी और उसके 4 बच्चे हैं। जबतिक परमेश्वर के 5 बच्चे हैं। ग्रामीणों से पूछताछ में पता चला कि ललिता और परमेश्वर में गहरी दोस्ती थी। इस बीच अगले दिन सोमवार को दोनों के शव मिले। ऐसे में पुलिस को प्रेम प्रसंग में जान देने की आशंका है। 
 बड़ी खबर: तीन बच्चों के पिता ने की प्रेमिका संग फांसी लगाकर आत्महत्या, पेड़ से लटकती मिली लाश

बड़ी खबर: तीन बच्चों के पिता ने की प्रेमिका संग फांसी लगाकर आत्महत्या, पेड़ से लटकती मिली लाश

गरियाबंद। छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में एक 30 वर्षीय युवक ने 18 वर्षीय युवती के साथ जंगल में पेड़ पर लटककर खुदकुशी कर ली, दोनों कोदोहरदी गांव के निवासी बताये जा रहे हैं।

घटना की जानकारी मिलते ही एसडीओपी सजंय ध्रुव पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों की मौजूदगी में शवों को नीचे उतारा गया. पंचनामा कार्रवाई के बाद शवों को पोस्टमार्टम के लिए गरियाबंद भेज दिया गया।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कामता और युवती शनिवार को अपने घर से निकले थे। रविवार को दोनों के शव एक ही पेड़ पर लटके मिले। कामता 3 बच्चों का पिता बताया जा रहा है। सिटी कोतवाली पुलिस प्रेम प्रसंग मानकर मामले की जांच कर रही है। 
+ Load More