कोरोना अपडेट: प्रदेश में आज 12665 ने जीती कोरोना से जंग, कुल 6577 नए मरीज मिले 149 मृत्यु भी, देखे जिलेवार आकड़े    |    लॉन्च हुई 2डीजी दवा, कोरोना संक्रमण से जंग में कैसे करेगी मदद? जानिए सब कुछ    |    आईसीएमआर अपडेट : राज्य में मिले 5294 कोरोना पॉजिटिव, 21 जिलों में सौ से अधिक मिले मरीज, देखे जिलेवार आकड़े    |    सेक्स रैकेट : पुलिस ने छापा मारकर देह व्यपार का किया खुलासा, मौके से दो युवक और दो युवती गिरफ्तार    |    दो पक्षों के बीच विवाद में गोली लगने से एक महिला की मौत, तीन अन्य घायल    |    चक्रवाती तूफान तौकते हुआ विनाशकारी, 5 राज्यों में अब तक 11 लोगों की मौत    |    बड़ी खबर: जानिए आखिर किस मामले में सीबीआई ने 4 नेताओं को किया गिरफ्तार    |    ममता बनर्जी के मंत्रियों-नेताओं पर सीबीआई ने कसा शिंकजा, यहां जानें क्या है मामला    |    रक्षा मंत्री व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने लॉन्च की कोरोना की स्वदेशी दवा 2DG    |    कोरोना अपडेट: देश में 24 घंटों में 2 लाख 81 हजार नए मामले आए, 4106 लोगों की हुई मौत    |
पुलिस के हत्थे चढ़े शराब तस्कर, 44 लीटर शराब के साथ 4 गिरफ्तार, एक बन्दूक भी हुआ बरामद

पुलिस के हत्थे चढ़े शराब तस्कर, 44 लीटर शराब के साथ 4 गिरफ्तार, एक बन्दूक भी हुआ बरामद

गरियाबंद। लॉकडाउन के दौरान अवैध शराब की तस्करी का खेल धड़ल्ले से जारी है। पुलिस विभाग इस खेल को फेल करने मुस्तैद है। इसी दौरान गरियाबंद पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए भारी मात्रा में शराब की तस्करी करते 4 आरोपियों को रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्जे से लगभग 44 बल्क लीटर अंग्रेजी शराब जप्त की गई। आरोपियों के पास से एक 0.22 बन्दूक भी बरामद की गई।
यह मामला सिटी कोतवाली गरियाबंद क्षेत्र का है जहां मुखबिर द्वारा एक सफेद रंग की बोलेरो वहां क्रमांक सीजी 23-7555 में 04 व्यक्ति सवार होकर बंदूक रखकर अत्यधिक मात्रा में अंग्रेजी शराब को परिवहन करते गरियाबंद तरफ आ रहा है। मुखबिर की सूचना को जिला के आला अधिकारियों को अवगत कराया गया। जिसके बाद जिला गरियबंद के पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल के दिशा-निर्देश, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संतोष महतो व सुखनंदन राठौर के मार्गदर्शन तथा अनुविभागीय अधिकारी पुलिस गरियाबंद संजय ध्रुव के पर्यवेक्षण में थाना प्रभारी सिटी कोतवाली गरियाबंद निरीक्षक वेदवती दरियो के नेतृत्व में तत्काल अलग अलग टीम बनकर थाना स्टाफ द्वारा तत्काल पेट्रिलिंग पार्टी के साथ नाकाबंदी करने थाना के सामने नाकाबंदी प्वाइंट लगाया गया। उसी समय मुखबिर के बताए हुलिए के कार आने पर रोककर पुछताछ किये जो संतोषप्रद जवाब नहीं दिये जिससे गवाहों के समक्ष आबकारी एक्ट के तहत विधिवत पंचनामा तैयार कर तलाशी कार्यवाही किया गया। बोलेरो कार के डिक्की में फ्रंटलाइन कंपनी का 04 पेटी कुल 48 बॉटल अंग्रेजी शराब, 01 पेटी सुपर स्ट्रॉन्ग बियर कुल 10 बॉटल, 02 बॉटल ब्लैंडर्स प्राईड अंग्रेजी शराब कुल 44 बल्क लीटर कीमती 33,140₹ तथा 01 नग प्वाइंट टू टू सिंगल बैरल रायफल कीमती 25,000₹ मिला जिस पर थाना सिटी कोतवाली गरियबांद में अपराध क्रमांक 139/2021 धारा 34(2) आबकारी एक्ट, 25 आर्म्स एक्ट कायम कर आरोपियों को न्यायिक अभिरक्षा में भेजा गया।
उक्त कार्यवाही में सिटी कोतवाली गरियाबंद थाना प्रभारी निरीक्षक वेदवती दरियो, उप निरीक्षक चंदनसिंह मरकाम, प्र0आर0 डिगेश्वर साहू, आरक्षक, मनीष चेलकर, डिलोचन रावटे, शिवलाल तिर्की, नारायण पटेल, योगेश ठाकुर,रविशंकर सोनवानी तथा स्पेशल टीम की सराहनीय भूमिका रही।

गिरफ्तार आरोपी:-
-हेमंत सांग उम्र 46 साल निवासी रावतभाटा गरियाबंद।
-अमित चंद उम्र 45 साल निवासी अमलीडीह रायपुर।
-मोहम्मद अय्यूब उम्र 61 साल निवासी राजातालाब रायपुर।
-अनुभव मशी उम्र 38 साल निवासी 12 पंचशील नगर रायपुर।

जप्त सामग्री:-
-4 पेटी कुल 48 बॉटल अंग्रेजी शराब
-1 पेटी सुपर स्ट्रॉन्ग बियर कुल 10 बॉटल
-2 बॉटल ब्लैंडर्स प्राईड अंग्रेजी शराब कुल 44 बल्क लीटर कीमती 33,140₹
-1 नग प्वाइंट टू टू सिंगल बैरल रायफल कीमती 25,000₹
-1 बोलेरो वाहन क्रमांक सीजी 23-7555 कीमती 2,50,000 ₹
-कुल कीमती 3,08,140₹
 

 बड़ी कार्यवाही: बेशकीमती 440 नग हीरा के साथ दो गिरफ्तार

बड़ी कार्यवाही: बेशकीमती 440 नग हीरा के साथ दो गिरफ्तार

गरियाबंद। सायबर सेल व फिंगेश्वर पुलिस ने सोमवार देर शाम को 2 लोगो से बेशकीमती 440 नग हीरा जब्त किया है।  गिरफ्तार दोनों आरोपी हीरा बेचने के फि राक में निकले थे, तभी दोनों को पकड़ लिया गया। मिली जानकारी के अनुसार आरोपी उज्ज्वल चंद्राकर व शुभाष मंडल अपने स्कूटी से फिंगेश्वर थाना क्षेत्र के सरहदी इलाका से गुजर रहे थे। मौके पर टीम ने दबिश देकर तलाशी लिया तो आरोपी के पास से बेशकीमती हीरा मिले। पुलिस ने कीमती हीरा को बरामद कर जांच की कार्यवाही में लिया है। मामले को लेकर अभी आधिकारिक रूप से पुष्टि नहीं की गई है। फि लहाल पुलिस दोनों आरोपी से पूछताछ कर रही है।
 बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : सड़क किनारे मिली दो लोगों की लाश, पुलिस कर रही मामले की जाँच

बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : सड़क किनारे मिली दो लोगों की लाश, पुलिस कर रही मामले की जाँच

गरियाबंद। छत्तीसगढ़ के गरियाबंद में सोमवार की सुबह हुए एक सड़क दुघर्टना में दो लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। दोनों के शव सड़क किनारे पड़े हुए मिले हैं। वहीं पास में एक स्कूटी भी मिली है। अभी तक दोनों मृतकों की पहचान नहीं हो पाई है। दोनों की उम्र 45 से 50 साल के बीच बताई जा रही है। मामला सिटी कोतवाली क्षेत्र का है।

जानकारी के अनुसार, नेशनल हाईवे 130ष्ट पर कचना धुरवा मंदिर के पास सड़क किनारे दो लोगों के शव पड़े देख स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची तो अधेड़ उम्र के दो आदमियों के शव पड़े हुए थे। वहीं पास में सफेद रंग की रायपुर नंबर की स्कूटी भी पड़ी थी। दोनों के शरीर पर गहरी चोट के निशान मिले हैं।

स्कूटी नंबर के आधार पर  दोनों की शिनाख्त करने का प्रयास कर रही। आशंका जताई जा रही है कि किसी वाहन ने उनकी स्कूटी को टक्कर मारी होगी। जिससे अनियंत्रित होकर सड़क किनारे गिरे होंगे। जहां पत्थर और सड़क से टकराने से उनकी मौत हो गई। बहरहाल, शवों की पहचान कराने का पुलिस प्रयास कर रही है। स्कूटी नंबर के आधार पर भी उनकी जानकारी जुटाई जा रही है।
फर्जी नक्सली को पुलिस ने किया गिरफ्तार, 92 हजार की वसूली कर चुका अब तक

फर्जी नक्सली को पुलिस ने किया गिरफ्तार, 92 हजार की वसूली कर चुका अब तक

गरियाबंद। गरियाबंद पुलिस ने रविवार को एक फर्जी नक्सली को गिरफ्तार किया है। आरोपी नक्सली वर्दी और नकली पिस्टल से दहशत फैलाता था। पुलिस ने फर्जी नक्सली को पीपरछड़ी के कोपेकसा से गिरफ्तार किया है। आरोपी फर्जी नक्सली की आड़ में 92 हजार की वसूली कर चुका है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार फर्जी नक्सली महासमुंद का रहने वाला है।
दरअसल यह मामला गरियाबंद जिले के थाना पीपरछेड़ी अंतर्गत ग्राम कोपेकसा का है, जहां के एक व्यक्ति ने थाना पीपरछेड़ी में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि एक व्यक्ति उनके घर आकर पिस्टल दिखाकर इनके बेटे और बेटी को अपने पार्टी में ले जाने की धमकी देने लगा।
पीड़ित व्यक्ति के मना करने पर आरोपी इनके बेटे और बेटी को पार्टी में न ले जाने की एवज में रकम उगाही करने लगा। जिस पर पीड़ित ने किश्तों में 30 हजार, 35 हजार तथा 27 हजार इस तरह कुल 92 हजार रुपये दिए। मामले कि रिपोर्ट पर थाना पीपरछेड़ी में अपराध क्रमांक 03/2021 धारा 384, 386 भादवि कायम किया गया।
मामले की जानकारी जिला के आला अधिकारियों को दी गयी जिसके उपरांत पुलिस कप्तान गरियाबंद भोजराम पटेल के दिशा-निर्देश, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुखनंदन राठौर, संतोष महतो के मार्गदर्शन, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस गरियाबंद संजय ध्रुव के पर्यवेक्षण में विशेष टीम गठित कर थाना प्रभारी पीपरछेड़ी के नेतृत्व में घेराबंदी कर आरोपी को पकड़ा गया। पूछताछ पर आरोपी ने जुर्म कबूल कर बताया कि इसने स्वयं को नक्सली बताकर पिस्टल दिखाकर प्रार्थी से 92 हजार रुपये की उगाही की है। जिसके बाद आरोपी को विधिवत गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजा गया है।
00 गिरफ्तार आरोपी:
-विष्णु क्षत्रि उम्र 32 साल निवासी नवापारा महासमुंद जिला महासमुंद।
00 जप्त सामग्री- 1 नग पिस्टल, 1 नग नक्सली वर्दी, 1 नग पोच, 1 नग टोपी तथा 1 हजार रुपये नगदी।
 

BIG BREAKING : छत्तीसगढ़ के एक और जिले में लगा लॉकडाउन, जाने कब से कब तक है और क्या क्या सुविधाए रहेंगी चालू

BIG BREAKING : छत्तीसगढ़ के एक और जिले में लगा लॉकडाउन, जाने कब से कब तक है और क्या क्या सुविधाए रहेंगी चालू

गरियाबंद, छत्तीसगढ़ शासन एवं भारत सरकार द्वारा नोबेल कोरोना वायरस (कोविड-19) के रोकथाम/नियंत्रण के संबंध में जारी गाइड लाइन अनुसार कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्री निलेश कुमार क्षीरसागर द्वारा गरियाबंद जिला अन्तर्गत सम्पूर्ण क्षेत्र को 13 अप्रैल प्रातः 06:00 बजे से 23 अप्रैल 2021 प्रातः 06:00 बजे तक कन्टेनमेंट जोन घोषित किया गया है। इस आशय का आदेश आज जारी किया गया ।

आदेश में कहा गया है कि वर्तमान में कोविड-19 प्रकरणों संख्या में लगातार वृद्धि होने के कारण उत्पन्न परिस्थितियों को देखते हुये जिला गरियाबंद में सार्वजनिक आवागमन एवं अन्य गतिविधियों पर कडे प्रतिबंध अधिरोपित किया जाना अत्यावश्यक हो गया है। अतएव दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144, आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 30, 34 सहपठित ऐपिडेमिक एक्ट 1897 यथासंशोधित 2020 द्वारा प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए इस कार्यालय द्वारा जारी आदेश क्रमांक 1458/एडीएम/2021 गरियाबंद दिनांक 25.03 2021 एवं आदेश कमांक 1557/एडीएम/2021 गरियाबंद दिनांक 31.03.2021 में आंशिक संशोधन करते हुये मैं निलेशकुमार क्षीरसागर, कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी, गरियाबंद निम्नलिखित आदेश प्रसारित करता हूँ।

 

गरियाबंद जिला अन्तर्गत सम्पूर्ण क्षेत्र को दिनांक 13 अप्रैल 2021 प्रातः 06:00 बजे से 23 अप्रैल 2021 प्रातः 06:00 बजे तक कन्टेनमेंट जोन घोषित किया जाता है।
उपरोक्त दर्शित अवधि में गरियाबंद जिले की सभी सीमाएँ पूर्णतः सील रहेगी। उपरोक्त अवधि में केवल मेडिकल दुकानों को अपने निर्धारित समय में खुलने की अनुमति होगी। मेडिकल दुकान संचालक दवाओं की होम डिलवरी व्यवस्था को प्राथमिकता देगें। पेट्रोल पंप संचालको द्वारा केवल शासकीय वाहनों व शासकीय कार्य में प्रयुक्त वाहनों,अस्पताल/मेडिकल से इमरजेन्सी से संबंधित निजी वाहन/एम्बुलेंस तथा एल.पी.जी परिवहन कार्य में प्रयुक्त वाहन, बस स्टैण्ड से संचालित ऑटो/टैक्सी, विधिमान्य, एडमिट कार्ड/कॉल लेटर दिखाने पर परीक्षार्थी/ उनके अभिभावक, परिचय पत्र दिखाने पर मीडियाकर्मी/प्रेस वाहन/न्यूज पेपर हाकर, दुग्ध-वाहन तथा छत्तीसगढ़ में नही रूकते हुऐ अन्य राज्य से सीधे अन्य जाने वाले वाहन को पी.ओ.एल. प्रदान किया जायेगा। अन्य सभी वाहनों हेतु पी.ओ.एल. प्रदान करना पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा।

दुग्ध पार्लर व दुग्ध-वितरण तथा न्यूज होकर द्वारा सामाचार पत्रों के वितरण की समयावधि का निर्धारण प्रातः 06 00 बजे से प्रात: 08:00 बजे तक एवं संध्या 05:00 बजे से सध्या 06.30 बजे तक होगी। साथ ही यह स्पष्ट किया जाता है कि दुग्ध व्यवसाय हेतु कोई दुकान /पार्लर नही खोले जायेगे। केवल दुकान/पार्लर के सामने फिजिकल डिस्टेसिंग एवं मास्क संबंधी निर्देशों का पालन करते हुए उपरोक्त समयावधि में केवल दुग्ध विक्रय की अनुमति होगी। पैट शॉप/एक्वेरियम को केवल पशुओं को पशुचारा देने हेतु प्रातः 06 बजे से प्रात: 08 बजे तक एवं संख्या 05 बजे से 06: 30 बजे तक खोलने की अनुमति होगी।
एल.पी.जी. गैस सिलेन्डर की एजेसियों केवल टेलिफोनिक या ऑनलाईन ऑर्डर लेंगे तथा ग्राहको को सिलेन्डरों की घर पहुँच सेवा उपलब्ध करायेंगे। जिले के अंतर्गत लगने वाले समस्त साप्ताहिक बाजार/हाट बंद रहेगे। औद्योगिक संस्थानों एवं निर्माण इकाईयों को अपने कैम्पस के भीतर (Onsite) मजदूरों को रखकर द अन्य आवश्यक व्यवस्था करते हुए उद्योगों के संचालक व निर्माण कार्यो की अनुमति होगी। उक्त अवधि के दौरान सम्पूर्ण जिला अन्तर्गत संचालित समस्त शराब दुकाने बंद रहेगी। सभी धार्मिक, सांस्कृतिक एवं पर्यटन स्थल आम जनता के लिए पूर्णतः बंद रहेंगे। उपरोक्त अवधि में गरियाबंद जिले अन्तर्गत सभी केन्द्रीय/शासकीय/अशासकीय/ निजी कार्यालय एवं बैंक बंद रहेंगे। तथापि टेलीकॉम के संचालन व रख-रखाव से जुड़े कार्यालय वर्कशाप, रेक पाइंट पर लोडिंग-अनलोडिंग का कार्य खाद्य सामाग्री के थोक परिवहन, धान मिलिंगहेतु परिवहन एवं शासन से अनुमति प्राप्त समस्त परीक्षाओं को छोड़कर अन्य समस्त शैक्षणिक गतिविधिया बंद रहेगी, किन्तु अस्पताल एवं एटीएम पूर्ववत संचालित रहेगी।
सभी प्रकार की सभाएँ. जुलुस, सामाजिक, धार्मिक एवं राजनैतिक आयोजन इत्यादि पूर्णत प्रतिबंधित रहेगे। कोविड संक्रमण के रोकथाम हेतु जिले में समस्त कार्य जैसे कांटैक्ट ट्रेसिंग, एक्टिव सर्विलांस, होम आइसोलेशन, दयाई वितरण आदि पूर्वानुसार चलते रहेंगे। इन कार्य में संलग्न सभी कर्मचारियों की उपस्थिति पूर्वानुसार अनिवार्य होगी। कोविड केयर सेन्टर से डिस्चार्ज होने वाले मरीजों के परिवहन में संलग्न वाहन पूर्वानुसार संचालित रहेंगे।

गरियाबंद जिले में प्रतियोगी/अन्य परीक्षाओं में सम्मिलित होने वाले परीक्षार्थीयों हेतु उनका एडमिट कार्ड मान्य होगा तथा रेलवे, टेलीकॉम का संचालन रख-रखाव का कार्य या हास्पिटल या कोविड-19 ड्यूटी में संलग्न कर्मचारियों/चिकित्सकों की दशा में नियोक्ता द्वारा जारी आई कार्ड, ई-पास के रूप में मान्य किया जायेगा। अपरिहार्य परिस्थितियों में गरियाबंद जिले से अन्यत्र आने-जाने वाले यात्रियों को ई-पास के माध्यम से पूर्व अनुमति लिया जाना अनिवार्य होगा। कोविड-19 टीकाकरण हेतु पजीयन, कोविङ-19 जाच हेतु मेडिकल दस्तावेज या आधार कार्ड/विधिमान्य परिचय पत्र दिखाने पर कोविड-19 टीकाकरण केन्द्र अस्पताल/पैथालॉजी लैब अथवा आने-जाने की अनुमति होगी, किन्तु अनावश्यक भ्रमण सख्त प्रतिबंधित रहेगा। आपात स्थिति में यात्रा के दौरान 04 पहिया वाहनों में ड्राईवर सहित अधिकतम 03 ऑटो में ड्राईवर सहित अधिकतम 03 एवं दो पहिया वाहन में केवल 02 व्यक्तियों की यात्रा की अनुमति होगी। बस स्टैण्ड, हास्पिटल आवागमन हेतु ऑटो/टैक्सी परिचालन की अनुमति रहेगी,किन्तु अन्य प्रयोजन हेतु पूर्णत प्रतिबंध रहेगा। इस निर्देश का उल्लंघन किये जाने पर 15 दिवस हेतु वाहन जप्त करते हुए चालानी व अन्य कानूनी कार्यवाही की जायेगी।

विवाह इत्यादि प्रयोजन हेतु पूर्व में अधिकतम 50 व्यक्तियों के शामिल होने हेतु अनुमति प्रदान की गई थी, किंतु कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप के दृष्टिगत विवाह इत्यादि प्रयोजन हेतु पूर्व में प्रदाय की गई समस्त अनुमतियों को निरस्त किया जाता है। विवाह कार्यकम वर अथवा वधू केनिवास-गृह में ही आयोजित करने की शर्त के साथ आयोजन में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 10 निर्धारित की जाती है। इसी प्रकार अंत्येष्टि, दशगात्र, इत्यादि मृत्यु संबंधी कार्यक्रम में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 10 निर्धारित की जाती है।
मीडिया कर्मी यथासंभव वर्क फाम होम द्वारा कार्य सम्पादित करेंगे। अत्यावश्यक स्थिति में कार्य हेतु बाहर निकलने पर अपना आई-कार्ड साथ रखेगें तथा फिजिकल डिस्टेसिंग एवं मास्क संबंधी निर्देश का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करेंगे। यह आदेश कार्यालय पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, उप पुलिस अधीक्षक, होम गार्ड, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय एवं उनके अधीनस्थ समस्त कार्यालय, अनुविभागीय दण्डाधिकारी, तहसील, थाना एवं पुलिस चौकी पर लागू नही होगा। इसके अतिरिक्त कानून व्यवस्था एवं स्वास्थ्य सेवा से संबंधित पदाधिकारी एवं बिजलीकर्मी, पेयजल आपूर्ति एवं नगरपालिका सेवायें जिसमें सफाई, सिवरेज एवं कचरे का डिस्पोजल इत्यादि भी शामिल है तथा अग्निशमन सेवाएं संचालन हेतु संबंधित अधिकारियों/कर्मचारियों को कार्यालय संचालन एवं आवागमन की अनुमति होगी, किन्तु इन शासकीय कार्यालयों में उपरोक्त अवधि में आम जनता का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। राज्य शासन के विशेष आदेश द्वारा अनुमति प्राप्त किसी सेवा के संचालन की अनुमति होगी।

उपरोक्त बिन्दुओं को छोड़कर जिले मे समस्त गतिविधियाँ पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगी। इस आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति/समूह / प्रतिष्ठान भारतीय दण्ड संहिता 1860 की धारा 188 एवं 270, आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51-60 एवं महामारी नियंत्रण अधिनियम 1897 यथा संशोधित 2020 के तहत् तथा अन्य सुसंगत विधि अनुसार कड़ी कार्यवाही के भागी होंगे। यह आदेश अल्प समयावधि में लागू किया जाना अति आवश्यक है। वर्तमान परिस्थितियों में इस आदेश से प्रभावित होने वाले व्यक्तियों को सम्यक समय में तामिली संभव नही होने के कारण यह आदेश एकपक्षीय रूप से पारित किया जाता है।
यह आदेश 13 अप्रैल 2021 समय प्रातः 06:00 बजे से 23 अप्रैल 2021 को प्रातः 06:00 बजे तक प्रभावशील होगा। 

छत्तीसगढ़ में कोरोना से जिला महिला कांग्रेस अध्यक्ष का निधन

छत्तीसगढ़ में कोरोना से जिला महिला कांग्रेस अध्यक्ष का निधन

गरियाबंद। गरियाबंद जिला महिला कांग्रेस की अध्यक्ष ममता राठौर का आज सुबह निधन हो गया। बताया जा रहा है कि ममता राठौर कोरोना संक्रमित थी। 

महिला कांग्रेस की जिला अध्यक्ष ममता राठौर सप्ताह भर पहले असम चुनाव प्रचार से लौटी थी। असम से लौटने के बाद वह बीमार थी। बताया जा रहा है कि बीमार होने के बाद भी ममता राठौर ने कोरोना जांच नहीं कराया। इस बीच उनकी तबीयत अधिक खराब हो गई और गंभीर स्थिति में भर्ती कराया गया, जहां उनका निधन हो गया।  

जिला मुख्य चिकित्सा अधिकारी एनआर नवरत्न ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि ममता राठौर को गंभीर हालत में उन्हें अस्पताल लाया गया था। उन्हें सांस लेंने में कठनाई हो रही थी। उनका कोविड चेक किया गया तो पॉजिटिव आया, कुछ देर बाद ही उनकी मौत हो गई थी।

जिले में बीते 24 घंटे में कोरोना से मरने वालों की संख्या 6 हो गई है जबकि 144 लोग एक ही दिन में पॉजिटिव मिले।
 बड़ी खबर छत्तीसगढ़: 1.70 लाख के गांजे के साथ दो तस्कर गिरफ्तार

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: 1.70 लाख के गांजे के साथ दो तस्कर गिरफ्तार

गरियाबंद। छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में पुलिस ने 1.70 लाख रुपये की कीमत के गांजे के साथ दो तस्कर को गिरफ्तार किया है। पुलिस कप्तान भोजराम पटेल को अवैध गांजा परिवहन के संबंध में मुखबिर से सूचना प्राप्त होने पर थाना प्रभारी छुरा को पुलिस टीम बनाकर करवाई हेतु निर्देश दिए गये थे। बताए गए मुखबीर के निशानदेही पर थाना प्रभारी द्वारा एक लाल रंग के होण्डा स्टनर मोटर सायकल कमांक सीजी 06 जीबी 3007 में दो व्यक्ति जो उड़ीसा से छुरा होते हुए रायपुर की ओर जा रहे थे जिनके साथ एक बोरा भी था संदेह के आधार पर तत्काल अनुविभागीय अधिकारी पुलिस को सूचना दी गई जिनके पहुंचने के बाद तलाशी लेने पर बोरे मे 34किलो 500 ग्राम मादक पदार्थ गांजा किमत 1लाख 70हजार बरामद किया गया साथ में दो मोबाइल एवं 300 रुपये नगद व मोटरसाइकिल जप्त कर कार्यवाही की जा रही है। उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी निरीक्षक संतोष कुमार भुआर्य, सउनि श्रवण विश्वकर्मा प्र.आर. 107 हीरालाल चंद्राकर , प्र.आर. खिलेश्वर कश्यप, अंगदराव आरक्षक, हरिहर साहू माधव साहू, रवि सिन्हा, जयप्रकाश मिश्रा, यादराम ध्रुव, टेमन दुबे, प्रहलाद थानापति, शिवदयाल नागेश, दयानंद गौर, राजेन्द्र गायकवाड़ पुष्पेन्द्र साहू की सराहनीय भूमिका रही।
 
 जनपद पंचायत कर्मचारी की पेड़ पर लटकी मिली लाश, मातम में बदली होली की खुशियां

जनपद पंचायत कर्मचारी की पेड़ पर लटकी मिली लाश, मातम में बदली होली की खुशियां

गरियाबंद। गरियाबंद जनपद कार्यालय में लिपिक पद पर पदस्थ हेमलाल जाधव (48 वर्ष) की लाश नांगाबुडा सड़क किनारे पेड़ पर लटकी मिली है। घटना की जानकारी ग्राम कोटवार और ग्रामीणो के द्वारा सिटीकोटवाली में दिया गया, जानकारी मिलते ही सिटी कोतवली पुलिस मौके पर पहुंची और पंचनामा कार्रवाई पश्चात शव को पीएम के लिए जिला अस्पताल रवाना किया। खुदकुशी के मामले की जानकारी नही हो गए है ,फिलहाल पुलिस विभाग द्वारा मर्ग कायम कर विवेचना किया जा रहा है नागाबुड़ा निवासी मृतक के घर पर होली की खुशियां मातम में बदल गयी।
 छत्तीसगढ़: एक ही परिवार के 3 सदस्य ने किया जहर का सेवन, 2 की मौत, 1 की हालत नाजुक

छत्तीसगढ़: एक ही परिवार के 3 सदस्य ने किया जहर का सेवन, 2 की मौत, 1 की हालत नाजुक

गरियाबंद। हेरापाल निवासी दुर्गेश साहू अपनी पत्नी पुनिया बाई और बेटे पुष्पेन्द्र ने कीटनाशक का सेवन कर लिया। सुबह जब काफी देर तक भी उनके घर का दरवाजा नहीं खुला, तो घर के बगल में रहने वाले जागेश्वर साहू ने अपने घर की छत से झांककर देखा। आंगन में पुष्पेन्द्र बेहोश की हालत में दिखाई दिया, इसके बाद उसने आसपास के लोगों को जानकारी दी। लोगों ने किसी तरह दुर्गेश के घर का दरवाजा खोला, अंदर कमरे में दुर्गेश और उसकी पत्नी पुनिया बाई बिस्तर पर पड़े हुए थे। तीनों ने खेत में छिड़कने वाले कीटनाशक का सेवन किया था, जिसकी बदबू उनके शरीर के साथ-साथ पूरे घर में फैल गई थी। तीनों को तत्काल संजीवनी 108 की सहायता से राजिम के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया।

अस्पताल में डॉक्टर्स ने दुर्गेश को ने मृत घोषित कर दिया, जबकि उसकी पत्नी पुनिया बाई और बेटे पुष्पेन्द्र की गंभीर हालत को देखते हुए तत्काल मेकाहारा रायपुर रेफर किया गया। कुछ घंटे बाद इलाज के दौरान पुनिया बाई की भी मौत हो गई, पुष्पेन्द्र की हालत गंभीर बताई जा रही है।

जानकारी के मुताबिक बेटे पुष्पेन्द्र की शादी हो चुकी है। घटना के वक्त उसकी पत्नी होली मनाने अपने मायके गई हुई थी। तीनों ने सामूहिक आत्महत्या का निर्णय क्यों लिया, इसका पता पुलिस की विस्तृत जांच के बाद ही लग पाएगा, फिलहाल घटना के बाद से गांव में सन्नाटा पसरा हुआ है।
 
कोरोना प्रकोप: संस्थान, कारखाने एवं उपक्रमों में नियोजित श्रमिकों एवं कर्मचारियों के लिए दिशा निर्देश जारी

कोरोना प्रकोप: संस्थान, कारखाने एवं उपक्रमों में नियोजित श्रमिकों एवं कर्मचारियों के लिए दिशा निर्देश जारी

गरियाबंद। कोविड को ध्यान में रखते हुए राज्य शासन द्वारा दिये गये दिशा निर्देश के अनुसार जिले के संस्थान/कारखाने/ उपक्रम में नियोजित श्रमिकों एवं कर्मचारियों के स्वास्थ्य एवं सुरक्षा हेतु कलेक्टर श्री निलेश क्षीरसागर द्वारा निम्नानुसार कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गये है।  


कारखाने के प्रवेश द्वारा, कैन्टीन, शिशु घर, वॉशरूम, टॉयलेट, ऑफिस बिल्डिंग, लेबर क्वार्टर, भवन उपकरण, लिफ्ट, सिंक, पानी के स्थान, दीवारे तथा सतहे, वाहनों, मशीनों, बैठक कक्षो, सम्मेलन हॉल, बरांडा, पोर्च, कैबिन तथा अन्य खुली जगह सहित सम्पूर्ण परिसर को सेनेटाईजेशन करने के पश्चात ही कारखाने में कार्य प्रारंभ करे। कारखाने में पर्याप्त मात्रा में नोज मास्क, दस्ताने, सेनिटाईजर एवं हैण्डवॉश की व्यवस्था करे। कार्यक्षेत्र परिसर में सघन रूप से हाथ धोने के लिए प्रेरित किया जाये। इस हेतु सभी कार्यक्षेत्र परिसर में हाथ धोने के लिए स्थान सुनिश्चित किया जाये। नियमित हॉउसकीपिंग व्यवस्था को बनाये रखे जिसमें नियमित सफाई, उपकरण और कार्य के वातावरण की अन्य तत्वों को कीटाणुरहित करे। अच्छे स्वच्छता की आदतों से भलीभांति परिचय कराने प्रशिक्षण एवं पर्याप्त सूचना प्रदान किया जाये। समस्त कार्य स्थलों में सामाजिक दूरी के नियम का पालन किये जाये। कारखाना परिसर में प्रवेश करने से पहले सभी श्रमिको/कर्मचारियों का थर्मल स्कैनिंग करे। परिसर में प्रवेश करने वाले सभी वाहनों एवं मशीनों को अनिवार्य रूप से स्प्रे कर सैनिटाईज किया जाये। सुरक्षा की दृष्टिकोण से कारखाने का संचालन क्रमबद्ध रूप से करें ताकि किसी प्रकार की दुर्घटना से बचा जा सके। श्रमिकों को श्वसन संबंधी रीति एवं सावधानियों के लिए प्रोत्साहित करें, जिसमें खांसी और छींक के दौरान मुंह को ढकना शामिल है। कोविड-19 संबंधित लक्षण पाये जाने पर उनके उपचार की व्यवस्था किया जाये। आस-पास के अस्पताल एवं क्लिनिक जो कोविड-19 के उपचार के लिए अधिकृत हो, को चिन्हित कर सूची कार्यस्थल पर हर समय उपलब्ध कराया जावे। कार्यस्थल पर दो पालियों के मध्य एक घण्टे का समय अन्तराल रखा जावे तथा सोशल डिस्टेंस के पालन के लिए भोजन अवकाश में भी अन्तराल रखें। कारखाने में श्रमिकों /कर्मचारियों के एक जगह इकठ्ठा होने अथवा बैठकों को हतोत्साहित किया जाये। कार्यस्थल, बैटकों, प्रशिक्षण कार्यक्रमों आदि में बैठने के लिए कम से कम छ: फीट की दूरी बनाकर रखा जावे। अपने श्रमिको/कर्मचारियों को कोविड-19 के संबंध में सम्पूर्ण जानकारी देवें तथा इसके बचाय हेतु कर्मचारियों को सावधानियाँ रखने के लिए प्रोत्साहित की जाये। इसके बचाव के संबंध में एस.ओ पी. बनाया जाकर श्रमिको को अवगत कराये। कोरोना वायरस कोविड -19 के लक्षणों एवं बचाव के साधनों हेतु जागरूकता अभियान चलाया जाये तथा इससे संबंधित संपूर्ण जानकारी हेतु संस्थान में बैनर, पोस्टर तथा नोटिस बोर्ड लगाया जाये। भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर जारी दिशा निर्देशानुसार श्रमिको/कर्मचारियों को वैक्सीन लगवाने के संबंध में प्रोत्साहित करे। वैक्सीन लगवाने हेतु संबंधित श्रमिको/कर्मचारियों को सुविधा अनुसार बारी-बारी से आवश्यक अतिरिक्त समय एवं सहूलियतें प्रदान की जाये। कोविड-19 से संक्रमित अथया वैक्सीनेशन से प्रभावित किसी भी श्रमिको/कर्मचारियों के वेतन भत्ते आदि में कटौती नही किया जाये, सेवा छटनी अथवा सर्विस ब्रेक न किया जाये बल्कि उन्हे आवश्यकता अनुसार अवकाश एवं संवैतनिक अवकाश प्रदान किया जावे। ऐसे समस्त परिस्थितियों में मानवीय दृष्टिकोण अपनाते हुए संबंधित श्रमिक/कर्मचारी एवं उनके परिवार के सदस्यो को वैधानिक सामाजिक सुरक्षा प्रदान की जाये।  
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के लिए अतिशीघ्र आवेदन करें

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के लिए अतिशीघ्र आवेदन करें

गरियाबंद । प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजनान्तर्गत जिले के जिन कृषकों द्वारा पंजीयन नहीं कराया गया है ऐसे किसान अपने क्षेत्र के वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी, कृषि विकास अधिकारी एवं ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी से अति-शीघ्र संपर्क कर प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ लेने हेतु आवेदन करे। उप संचालक कृषि श्री एफ आर कश्यप ने बताया कि विभाग के अलावा किसान अपने क्षेत्र के लोक सेवा केन्द्रो (च्वाइस सेंटर) में भी जाकर अपना आवेदन कर सकते है जैसे- विकाखण्ड गरियाबंद के कृषक गरियाबंद, मालगाँव एवं कोकड़ी, विकासखण्ड छुरा के कृषक छुरा, पाण्डुका एवं मुडागाँव, विकासखण्ड फिर्गेश्वर के कृषक फिगेंश्वर, रावड़, राजिम एवं श्यामनगर, विकासखण्ड मैनपुर के कृषक, मैनपुर, तथा विकासखण्ड देवभोग के कृषक देवभोग एवं झाखरपारा च्वाईस सेंटरों के माध्यम से भी ऑन-लाईन आवेदन प्रस्तुत कर सकते हैं। इसमे ऐसे किसान ही आवेदन करे जिनके पास कृषि भूमि हो वे लघु-सीमांत एवं बड़े भूमि स्वामी किसान परिवार जिनका नाम राजस्व अभिलेख मे दर्ज हो। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में आवेदन करने हेतु आवश्यक दस्तावेज (राजस्य अभिलेख, आधार कार्ड, बैंक खाता नंबर, वैक का आई.एफ.एस.सी.कोड परिवार द्वारा धारित कुल भूमि का विवरण की छायाप्रति एवं फोटोग्राफ्स ) प्रस्तुत कर आनलाईन पंजीयन करा सकते हैं। 

 मुख्यमंत्री बघेल का बड़ा फैसला: 15 दिनों तक बंद रहेंगी शराब दुकानें

मुख्यमंत्री बघेल का बड़ा फैसला: 15 दिनों तक बंद रहेंगी शराब दुकानें

राजिम। छत्तीसगढ़ का प्रयागराज कहे जाने वाले पवित्र त्रिवेणी संगम के तट पर 27 फरवरी से 11 मार्च तक आयोजित होने वाले राजिम माघी-पुन्नी मेला 2021 का समापन महाशिवरात्रि के अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की विशेष मौजूदगी में हुआ।
 
इस अवसर पर उपस्थित जन समूह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि राजिम एक शहर नहीं बल्कि धर्म, अध्यात्म और संस्कृति का परिचय है। पहले इस मेले में हर काम अस्थायी होता था। अब यहां आवश्यक सुविधाओं की स्थायी व्यवस्था हो, इसकी शुरूआत की गई है। इसके लिए 54 एकड़ जमीन को धार्मिक एवं सामाजिक कार्य हेतु आरक्षित किया गया है। इसे विकसित करने के लिए पर्याप्त राशि का प्रावधान किया गया है।
 
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस मौके पर राजिम पुन्नी मेला की धार्मिक महत्ता को देखते हुए विधायक अमितेष शुक्ल के आग्रह पर राजिम मेला के दौरान राजिम सहित आसपास के इलाके की शराब दुकानों को 15 दिन तक बंद रखे जाने की घोषणा की।
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि राजिम माघी-पुन्नी मेला में लगभग 10 लाख आते हैं। श्रद्धालुओं को यहां बेहतर सुविधा मिल सके यह शासन-प्रशासन का प्रयास होगा। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर राज्य में सभी वर्गों की खुशहाली के लिए प्रदेश सरकार द्वारा किए जा रहे कार्यों का उल्लेख करते हुए कहा कि किसानों की खुशहाली और समृद्धि के लिए राज्य में कई अभिनव योजनाएं शुरू की गई है।
 
 राजिम पुन्नी मेला 2021 में यादव (ठेठवार) समाज के युवाओं द्वारा साधु संतों का स्वागत व भंडारा प्रसाद वितरण

राजिम पुन्नी मेला 2021 में यादव (ठेठवार) समाज के युवाओं द्वारा साधु संतों का स्वागत व भंडारा प्रसाद वितरण

राजिम। प्रति वर्ष अनुसार इस वर्ष भी महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर छत्तीसगढ़  की प्रयाग नगरी राजिम की पावन धरा पर हमारे समाज मुख्यालय ठेठवार समाज धर्मशाला, राजिम में यादव (ठेठवार) समाज महासभा छतीसगढ़  के युवा साथियों के द्वारा शाही स्नान में पहुचे साधु संतों के जत्थों का पुष्पवर्षा कर स्वागत किया गया एवं भंडारा व प्रसाद वितरण किया गया। भंडारा में लगभग 400 किलो खिचड़ी का लगभग 8000 से अधिक श्रद्धालुओ को  प्रसाद वितरण किया गया। कार्यक्रम में गत वर्ष  समाज के दो प्रमुख व वरिष्ठ समाज सेवक  स्व. श्री हेमचंद यादव जी पूर्व मंत्री छग शासन एवं आयोजक युवा साथी स्व. श्री सत्येंद्र यादव रायपुर को माल्यार्पण व श्रद्धांजलि देते हुए प्रसाद वितरण किया गया।
इस अवसर पर महासभा के महासचिव उमेश यादव, उपकोषाध्यक्ष अशोक यादव, युवा प्रकोष्ठ निर्वाचन समिति सदस्य सन्तोष यदु, देवीदयाल यादव, रायपुर राज अध्यक्ष संतोष यादव, छुरा राज से योगेश्वर यादव, युवा प्रकोष्ठ से हीरा यादव, मनोज यादव, मनीष यदु, शुभम यदु, देवेंद्र यदु, जितेश यदु, अभिषेक यदु, तेजराम यदु, उग्रसेन यदु,मुकेश यदु, ओंकार यदु, देव यदु,  मुक्कू यदु, शैलेन्द्र यदु, अभिषेक यदु, ज्ञानेश्वर यदु एवं अन्य युवा साथी उपस्थित रहे।  कार्यक्रम के अंत मे यादव ठेठवार समाज महासभा के प्रांताध्यक्ष श्री राजू यादव की उपस्थित में समाज के युवाओ की  बैठक आयोजित कर महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा करते हुए निरन्तर कार्यक्रम को भव्य रूप से सम्पन्न करवाने पर विचार विमर्श करते हुए सफल आयोजन पर बधाई दिया व युवाओ को मार्गदर्शन प्रदान कर आयोजन की सराहना की। उक्त बैठक में उप प्रांताध्यक्ष श्री शोभाराम यादव, चंपारण पार सचिव विजय यादव, जौन्दा पार संरक्षक सेवाराम यादव, तेंदुआ पार अध्यक्ष राजेंद्र यादव, मंदिर हसौद पार 
शादी समारोह में फोटो खींचने के विवाद में एक की हत्या, 4 आरोपी गिरफ्तार

शादी समारोह में फोटो खींचने के विवाद में एक की हत्या, 4 आरोपी गिरफ्तार

रायपुर। छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में शादी समारोह में मामूली विवाद में एक शख्स की बेरहमी से हत्या कर दी। मंगलवार की देर रात हुई इस वारदात में पुलिस ने चार आरोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने सभी के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया है। मामला गरियाबंद जिले के मैनपुर के जाडापदर गांव का है। यहां मंगलवार की देर रात शादी समारोह में युवतियों की फोटो खींचने को लेकर विवाद गहरा गया। बताया गया कि जाडापदर गांव में शादी समारोह चल रहा था। इस बीच नाच गाने के दौरान कुछ युवतियां भी नाच रही थी। इस दौरान कुछ युवकों ने लड़कियों की फोटो खींच ली। ये सब देखने के बाद परिजनों ने मना किया। वहीं कुछ युवक इतने आक्रोशित हो किए मना करने वाले परिवार के एक सदस्य को पकड़कर बड़ी बेरहमी से मौत के घाट उतार किया। आरोपियों ने चाकू से गोदकर युवक की हत्या कर दी। गरियाबंद में इस तरह की वारदात से सनसनी फैल गई। पुलिस चार आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।  

प्लेसमेंट कैम्प 12 मार्च को, 105 पदों पर होगी भर्ती

प्लेसमेंट कैम्प 12 मार्च को, 105 पदों पर होगी भर्ती

गरियाबंद । जिला रोजगार और स्वरोजगार मार्गदर्शन केन्द्र, गरियाबंद की ओर से 12 मार्च को सुबह 11:00 बजे से दोपहर 3.00 बजे तक जिला रोजगार एवं स्वरोजगार मार्गदर्शन केन्द्र परिसर, गरियाबंद में नि:शुल्क प्लेसमेंट कैम्प का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें निजी प्रतिष्ठान- लाईनेस एग्रो इंडिया प्राईवेट लिमिटेड प्रेमकुंज सिविल लाईन रायपुर द्वारा फिल्ड एसोसियेट के 25 पद और ओमड्राई मर्चेंडाईस एंड कंसल्टेंट डीडीयू नगर रायपुर द्वारा सिक्युरिटी गार्ड के 80 रिक्त पदों पर भर्ती की कार्यवाही की जाएगी। फिल्ड एसोसियेट पद के लिए शैक्षणिक योग्यता 10वीं से स्नातक तथा आयु 20 से 24 वर्ष निर्धारित है। इसी प्रकार सिक्युरिटी गार्ड पद हेतु शैक्षणिक योग्यात 8वीं/10वीं/12वीं और आयु 18 से 40 वर्ष निर्धारित है। निजी प्रतिष्ठान में रोजगार के इच्छुक ऐसे आवेदक अपना दो पासपोर्ट साईज फोटो और समस्त शैक्षणिक और तकनीकी योग्यता संबंधी अंकसूची/प्रमाण पत्र की मूलप्रति और छायाप्रति के साथ निर्धारित स्थान, तिथि व समय पर उपस्थित होकर प्लेसमेंट कैम्प का लाभ सकते है। प्लेसमेंट के संबंध में विस्तृत जानकारी के लिए रोजगार कार्यालय के दूरभाष नम्बर 07706-241269 में संपर्क किया जा सकता है।
 

 राजीवलोचन मंदिर में मिलता है देश का प्रसिद्ध प्रसाद "अटिका"

राजीवलोचन मंदिर में मिलता है देश का प्रसिद्ध प्रसाद "अटिका"

राजिम। भगवान राजीवलोचन मंदिर में प्रसिद्ध प्रसाद अटिका (पिडिया) मिलता है। जानकारी के मुताबिक यह प्रसाद देश भर में मात्र भगवान विष्णु का राजीवलोचन मंदिर में वर्षों से वितरित किया जा रहा है। यह मुठिया आकार का बंधा हुआ चावल से बना होता है। इसके साथ इसमें घी, गुड, शक्कर, दुध मिलाया जाता है। इन्हें खाने से मुंह का स्वाद बदल जाता है। स्वादिष्ट ऐसा कि एक बार खाने के बाद बार-बार चखने का मन करता है। आने-जाने वाले श्रद्धालु इस प्रसाद को अपने घर ले जाते है। इन्हें महिनों तक रखा जा सकता है जैसे छत्तीसगढ़ी रोटी लम्बे समय तक खराब नहीं होते, वैसे ही इस प्रसाद को रखा जा सकता है। बता दें कि आज से 10 साल पहले यह प्रसाद 10 रूपये में तीन नग मिलता था, पश्चात् दो नग मिला। लेकिन अब लगातार बढ़ रही मंहगाई के कारण एक नग से ही दर्शनार्थियों को संतुष्ट करना पड़ रहा है। यह काफी पसंदीदा प्रसाद है। मंदिर आने वाले हर भक्त इस प्रसाद को ग्रहण करते है। भगवान राजीवलोचन में दाल-चावल एवं सब्जी का भोग प्रसादी लगाया जाता है। इस प्रसाद को भी लेने के लिए लोग बड़ी संख्या में पॅहुचते है।
तिरूपति से लापता छत्तीसगढ़ के शिवम का मिला सुराग, पुलिस ने दावा किया 48 घंटे के भीतर बच्चे सहित आरोपी होगा हिरासत में

तिरूपति से लापता छत्तीसगढ़ के शिवम का मिला सुराग, पुलिस ने दावा किया 48 घंटे के भीतर बच्चे सहित आरोपी होगा हिरासत में

गरियाबंध। आंध्रप्रदेश से लापता जिले के शिवम के मिल जाने का आज खुलासा हो सकता है। आंध्रा पुलिस शिवम को किडनैप करने वाले आरोपी के बिल्कुल करीब पहुंच चुकी है। तिरूपति में बच्चे के अपहरण का मामला पुलिस सुलझाने के करीब पहुंच गई है। आंध्रप्रदेश पुलिस ने मुख्य आरोपी की पहचान की है। सीसीटीवी फुटेज में आरोपी स्पष्ट रूप से दिखाई दिया है। सूत्रों के मुताबिक आंध्रप्रदेश पुलिस ने दावा किया है कि 48 घंटे के भीतर बच्चे सहित आरोपी हिरासत में ले लिया जाएगा। बताया जा रहा है कि स्थानीय पुलिस ने अपहरणकर्ता की पहचान कर ली है । आज पुलिस आरोपी को गिरफतार कर उसके कब्जे से बालक शिवम का छुड़ा सकती है। बता दें कि परिवार के साथ तिरूपति बालाजी दर्शन करने गए गरियाबंध जिले के 6 वर्षीय शिवम का 27 फरवरी की रात तकरीबन 9 बजे अपहरण हो गया था। शिकायत के बाद स्थानीय पुलिस ने शिवम की खोजबीन शुरू की । एक सप्ताह की खोजबीन के बाद अब पुलिस ने जल्द ही शिवम के सकुशल बरामदगी का दावा किया है।

 बड़ी खबर: तिरुपति में 6 वर्षीया बच्चे का अपहरण, छत्तीसगढ़ से तिरुपति बालाजी दर्शन करने गया हुआ था परिवार

बड़ी खबर: तिरुपति में 6 वर्षीया बच्चे का अपहरण, छत्तीसगढ़ से तिरुपति बालाजी दर्शन करने गया हुआ था परिवार

गरियाबंद। छत्तीसगढ़ से तिरुपति बालाजी दर्शन करने गए परिवार के बच्चे का अपहरण हो गया। बताया जा रहा है कि 6 वर्षीय बच्चा अपने परिजनों के साथ गरियाबंद से तिरुपति बालाजी दर्शन के लिए गया था। इसी दौरान कोई युवक बस स्टैंड से बच्चे को लेकर चला गया।
 
 
वारदात 27 फरवरी की है। काफी तलाश और स्थानीय तिरुपति सिटी थाने में एफआईआर के बाद भी बच्चे का पता नहीं चलने पर परिजनों ने अब छत्तीसगढ़ सरकार से मदद की गुहार लगाई है।
 

गरियाबंद एसपी भोजराज पटेल के मुताबिक़ बच्चे का तिरुपति बालाजी में अपहरण हुआ है। इस संबंध में उन्होंने बच्चे के परिजनों से भी बात की है। साथ ही आंध्र प्रदेश पुलिस से भी बात कर बच्चे को जल्द तलाश करने का आग्रह किया है। वहां के एसपी से भी इस संबंध में बात हुई है। 
 

जानकारी के मुताबिक, गरियाबंद के कुरूद गांव से 58 दर्शनार्थियों को लेकर 27 फरवरी को एक बस तिरुपति बालाजी गई थी। इसी बस में गांव में शिक्षक उत्तम साहू भी परिवार के साथ गए थे। सभी लोग वहां पहुंचने के बाद बस स्टैंड पर ही खाना खा रहे थे। इसी बीच रात करीब 9 बजे उनका 6 साल का बेटा शिवम अचानक लापता हो गया। बच्चे को वहां नहीं देख परिजनों और दोस्तों ने आसपास काफी तलाश किया, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला।

मामला दर्ज होने पर स्थानीय पुलिस ने जांच शुरू की तो आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज में बच्चा एक युवक के साथ जाता दिखाई दिया। बच्चे का हाथ पकड़ कर लुंगी-शर्ट पहने और हाथ में थैला लिए युवक उसे अपने साथ ले जा रहा था। उत्तम साहू ने फोन पर बताया कि बच्चे का अभी तक कुछ पता नहीं चला है। उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मदद की गुहार लगाई है। कहा, छत्तीसगढ़ सरकार मदद करें तो उनका बच्चा मिल सकता है।
 हाथियों का आतंक जारी: धान संग्रहण केंद्र के चौकीदार को हाथियों ने उतारा मौत के घाट

हाथियों का आतंक जारी: धान संग्रहण केंद्र के चौकीदार को हाथियों ने उतारा मौत के घाट

गरियाबंद। फिंगेश्वर इलाके में कुंडेल भाटा धान संग्रहण केंद्र में हाथियों की आमद वह रात्रि चौकीदार ज्ञानचंद सतनामी को कुचल कर मार दिया ज्ञानचंद पिछले कई सालों से वहां कार्यरत था जंगली हाथी ने अपने चपेट में ले लिया। मिली जानकारी के अनुसार अभी भी हाथी कुंडेल के आसपास ही मौजूद हैं वन विभाग और फिंगेश्वर थाना पुलिस की टीम मौके पर मौजूद है।

घटना के बाद से आसपास के इलाकों में दहशत का माहौल कायम है गरियाबंद में हाथियों के तांडव से लगातार लोगों को जाने जा रही है इससे पहले भी साल 2020 में हाथियों ने दो लोगों को मौत के घाट उतारा था बरहाल वन विभाग और पुलिस प्रशासन लोगों से जंगल की ओर ना जाने का अपील कर रहा है।

आपको बता दे 2 दिन पूर्व दो जंगली हाथी बेलरगांव के धान समिति केंद्र में पहुंचकर धान को काफी नुकसान पहुंचायेथे और आज कुंडल धान संग्रहण केंद्र में एक व्यक्ति की मौत के घाट उतार दिया फिंगेश्वर थाना प्रभारी भूषण चंद्राकर ने बताया कि फिलहाल ज्ञानचंद के पीएम के तैयारी चल रही है मौके पर बड़ी संख्या में आसपास के लोग मौजूद हैं।
 
 राजिम: माघी पुन्नी मेला में छत्तीसगढ़ के सुप्रसिद्ध लोक कलाकारों की होगी सांस्कृतिक प्रस्तुति, देखे पूरी लिस्ट

राजिम: माघी पुन्नी मेला में छत्तीसगढ़ के सुप्रसिद्ध लोक कलाकारों की होगी सांस्कृतिक प्रस्तुति, देखे पूरी लिस्ट

गरियाबंद। राजिम माघी पुन्नी मेला पर मुख्य मंच में छत्तीसगढ़ के सुप्रसिद्ध लोक गायकों और कलाकारों से राज्य के पारंपरिक कला और सांस्कृतिक और छत्तीसगढ़ वासियों के मन में रचे-बसे कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी जाएगी। कार्यक्रम के पहले दिन 27 फरवरी को शाम 5 बजे से रात्रि 7 बजे तक सुप्रसिद्ध नन्ही कलाकार आरू साहू की प्रस्तुति से मेला की रंगारंग शुरूआत होगी।
पहले ही दिन शाम 7 बजे से रात्रि 10 बजे तक उर्वशी साहू कृत मया के संदेश की प्रस्तुति होगी। इसी तरह 11 मार्च महाशिवरात्रि तक प्रत्येक दिन दो कार्यक्रमों की प्रस्तुति होगी। 

दूसरे दिन 28 फरवरी को राज्य के लोकप्रिय कलाकार कुलेश्वर ताम्रकर और ममता चन्द्राकार से चिन्हारी की मनमोहक प्रस्तुति दी जाएगी।
तीसरे दिन 1 मार्च को घनश्याम महानंद और महादेव हिरवानी प्रस्तुति देंगे। 02 मार्च को राम वनगमन गीत और संगीत की प्रस्तुति डॉ परदेशी राम वर्मा और संजय सुरीला , 3 मार्च को राकेश शर्मा और रिखी क्षत्रीय, 4 मार्च को ढोलामारू के रजनी रजक और सुर श्रृंगार सतरंगी के नीलकमल वैष्णव, 5 मार्च को चेतन देवांगन से पंडवानी और सुनील सोनी नाईट्स का आयोजन होगा। 6 मार्च को कलाकार जाकिर हुसैन और अल्का चन्द्राकर की प्रस्तुति होगी। 7 मार्च को राघव म्युजिकल ग्रुप और अनुराग धारा के माध्यम से कविता वासनिक प्रस्तुति देंगे। 8 मार्च को रेखा देवार और सुनील तिवारी के रंगझाझर, 9 मार्च को राम लखन नाच पार्टी के केवल राम और लोकरंग के दीपक चन्द्राकर, 10 मार्च को लोकमंच के हिम्मत सिन्हा और रंगझरोखा के दुष्यंत हरमुख, कार्यक्रम के समापन दिवस दिलीप षडंगी जगराता और भूपेन्द्र साहू के रंग सरोवर का कार्यक्रम आयोजित किया गया है।
 
बड़ी खबर : छत्तीसगढ़ के इस जिले में 11 लाख से अधिक के हीरे के साथ तस्कर गिरफ्तार, पढ़ें पूरी खबर

बड़ी खबर : छत्तीसगढ़ के इस जिले में 11 लाख से अधिक के हीरे के साथ तस्कर गिरफ्तार, पढ़ें पूरी खबर

गरियाबंद | छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले से एक बड़ी खबर सामने आई है | खबर मिली है कि गरियाबंद जिले में हीरों की तस्करी करते एक व्यक्ति को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। जानकारी के अनुसार यह मामला जिले के मैनपुर थाना इलाके का हैं जहाँ घेराबंदी कर हीरा की अवैध तस्करी करने वाले आरोपी को गिरफ्तार किया गया है।

पढ़े : BIG BREAKING : राजधानी के स्कूल में पदस्थ महिला वेट लिफ्टिंग खिलाड़ी की हुई हत्या, संदिग्ध अवस्था में मिला शव 


प्राप्त जानकारी के अनुसार पुलिस ने हीरा एक तस्कर को 87 नग हीरे के साथ गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि आरोपी धमतरी के नगरी में हीरों को खपाने के ​फिराक में था, लेकिन पुलिस ने आरोपी को देवभोग के झरिया बहरा में धर दबोचा। पुलिस ने आरोपी के पास एक बाइक भी जब्त की है। हीरों की अनुमानित कीमत 11 लाख 58 हजार रुपए बताई जा रही है |

 धर्मस्व मंत्री ने दी बड़ी जानकारी: माघी पुन्नी मेला में शामिल होने साधु-संतों को नहीं दिया जाएगा न्यौता

धर्मस्व मंत्री ने दी बड़ी जानकारी: माघी पुन्नी मेला में शामिल होने साधु-संतों को नहीं दिया जाएगा न्यौता

राजिम। छत्तीसगढ़ के राजिम माघी पुन्नी मेला स्थल का निरिक्षण करने प्रदेश के धर्मस्व मंत्री ताम्रध्वज साहू पहुंचे। इस दौरान उन्होंने मेला स्थल का बारीकी से निरिक्षण किया, मंत्री ने इस बीच बड़ी जानकारी दी। मंत्री ने बताया कि मेला के पहले दिन विधानसभा अध्यक्ष आएंगे, जानकी जयंती के दिन राज्यपाल, महाशिवरात्रि के दिन मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शामिल होंगे। वहीं इस साल साधु संतों को न्यौता नहीं दिया जाएगा, जिनको आना होगा आएंगे। मंत्री ने जानकारी दी कि मेला में सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे, इसमें केवल छत्तीसगढ़ के कलाकारों को ही बुलाया जाएगा। 


 
छत्तीसगढ़ में बड़ा सड़क हादसा: तेज रफ्तार कार की चपेट में आने से बाईक सवार तीन लोगों की मौत

छत्तीसगढ़ में बड़ा सड़क हादसा: तेज रफ्तार कार की चपेट में आने से बाईक सवार तीन लोगों की मौत

गरियाबंद। गरियाबंद जिले के फिंगेस्वर-राजिम प्रमुख मार्ग स्थित सरगी नाला के पास तेज रफ्तार कार और बाइक आपस में टकरा जाने की वजह से हादसे में बाइक में सवार 3 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई है। वहीं कार सवार लोगों को मामूली चोटें आई है। मिली जानकारी अनुसार भगवान सिंह यादव खड़मा रवेली निवासी मारुति कार क्रमांक सीजी 04 एचए 0460 में 5 बच्चे समेत 9 सदस्यीय परिवार को लेकर शादी समारोह में शामिल होने परसदा जा रहा था। इसी दौरान फिगेस्वर के समीप सरगी नाला प्रमुख मार्ग में राजिम मार्ग से आ रही बाइक सीजी 4 एचक्यू 2833 से भिडंत हो गई। हादसे इतना भयावह था कि घटना स्थल पर ही फिंगेस्वर बेलर निवासी रामप्रसाद मिरी, राजाराम मिरी की घटना स्थल पर ही मौत हो गई व ग्राम पोखरा निवासी ऐस कुमार की फिगेश्वर स्थित सरकारी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। कार चालक विपरीत दिशा से तेज रफ्तार से आ रहा था जिसके वजह से बाईक व कार आमने सामने भिड़ गई। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची फिंगेस्वर पुलिस ने तीनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजवा दिया है।
 राजिम माघी पुन्नी मेला की तैयारी के संबंध बैठक आयोजित, श्रद्धालुओं की सहूलियत का रखा जाएगा पूरा ध्यान विभागीय प्रदर्शनी नही

राजिम माघी पुन्नी मेला की तैयारी के संबंध बैठक आयोजित, श्रद्धालुओं की सहूलियत का रखा जाएगा पूरा ध्यान विभागीय प्रदर्शनी नही

गरियाबंद। राजिम माघी पुन्नी मेला केंद्रीय समिति की बैठक में गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू के दिये गए निर्देश पर राजिम नगर पंचायत के मंगल भवन में कलेक्टर ने आज सम्बंधित विभागीय अधिकारियों की बैठक ली। 

बैठक में कलेक्टर निलेश कुमार क्षीरसागर ने कहा कि सरकार की गाइड लाइन के अनुसार कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए राजिम माघी पुन्नी मेला का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने स्पष्ट किया कि कोई मंचीय आयोजन नहीं किए जाएंगे और ना ही आयोजन शासकीय होंगे। लेकिन श्रद्धालुओं की सहूलियत और सुरक्षा को देखते हुए व्यवस्थाएं पूर्ववत रहेंगे। बेरिकेडिंग, सुरक्षा और भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस प्रशासन से आवश्यक व्यवस्थाएं की जाएगी। बैठक में पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल, जिला सीईओ चंद्रकांत वर्मा, डीएफओ मयंक अग्रवाल, अपर कलेक्टर जे.आर. चैरसिया और जिला अधिकारी मौजूद थे ।

कलेक्टर क्षीरसागर ने कहा की परंपरा के अनुरूप इस वर्ष राजिम माघी पुन्नी मेला 27 फरवरी से 11 मार्च तक आयोजित होगा। इस दौरान 3 स्नान पर्व 27 फरवरी माघी पूर्णिमा, 6 मार्च जानकी जयंती और 11 मार्च महाशिवरात्रि के पुण्य अवसर पर होगा। स्नान के लिए स्नान कुंड बनाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि लोगों की सुविधा के लिए पूर्व आयोजन की तरह सड़क, बायो शौचालय ,बिजली, पानी ,स्वास्थ्य सफाई आदि की व्यवस्था की जाएगी। नगर पंचायत राजिम व नयापारा को सफाई की जिम्मेदारी दी गई है। 

इसी तरह अन्य विभागों को भी उनके कार्य के अनुरूप जिम्मेदारी दी गई है। कलेक्टर ने इस संबंध में आवश्यक तैयारी करने के निर्देश सम्बंधित विभाग को दिए हैं। पीडब्ल्यूडी विभाग को सफाई, सड़क, बेरिकेड्स, विद्युत विभाग को लाइट, नगर पंचायत राजिम को साफ-सफाई, पीएचई को बायो टॉयलेट, पानी की व्यवस्था, खाद्य विभाग को भोजन प्रबन्ध, जल संसाधन विभाग को पर्याप्त स्नान कुंड बनाने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि इस बार शासकीय स्टाल नही लगाए जाएंगे। साथ ही सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन भी नही होगा। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के चलते कोई भी स्टेज कार्यक्रम नहीं आयोजित होंगे। लेकिन आम जनता और श्रद्धालुओं की आस्था को ध्यान में रखते हुए आवश्यक व्यवस्था की जाएगी। राजिम पुन्नी मेला के सुचारू संचालन के लिए कलेक्टर ने जिला पंचायत सीईओ चंद्रकांत वर्मा को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। वहीं राजिम के अनुविभागीय अधिकारी जी.डी. वाहिले को सहायक नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। बैठक के पश्चात कलेक्टर और अधिकारियों ने मेला स्थल का अवलोकन किया गया आवश्यक व्यवस्था के लिए भी निर्देश दिए गए।
 
मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना से दुर्गम आदिवासी ग्रामीण क्षेत्रों में हितग्राहियों को स्वास्थ्य सुविधाओं का मिल रहा लाभ

मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना से दुर्गम आदिवासी ग्रामीण क्षेत्रों में हितग्राहियों को स्वास्थ्य सुविधाओं का मिल रहा लाभ

गरियाबंदजिले के दूरस्थ, दुर्गम एवं पहुॅचविहीन क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधायें उपलब्ध कराने हेतु मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना की शुरूआत 02 अक्टुबर 2019 को मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा शुभारंभ किया गया। जिले के ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य सुविधाए हेतु मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजनान्तर्गत छुरा विकासखण्ड में नागझर, फुलझर, गाड़ाघाट, चुरकीदादर बीजापाल, गरियाबंद विकासखण्ड में पोटिया, ओड़, रावणडिग्गी, आमदी (द), मैनपुर विकासखण्ड में भुतबेड़ा, जुगाड़, कोकड़ी, गरीबा, चिखली सहित कुल 14 हाट बाजारों में संचालन किया जा रहा है। कोविड प्रभाव के पूर्व जिले में 45 हजार 669 मरीजों की जॉच कर 39 हजार 122 हितग्राहियों को दवाईयॉ वितरित किया गया था। वर्तमान में दिसम्बर 2020 से आज तक कुल 60 हाट बाजारों में मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक का संचालन किया गया जिसमें 421 पुरूष एवं 269 महिला कुल 690 हितग्राहियों को लाभान्वित किया गया तथा 367 पुरूष एवं 233 महिला कुल 600 हितग्राहियों को दवाईयों का वितरण किया गया। गुरूवार को हाटबाजार शिविर विकासखण्ड मैनपुर के ग्राम कोकड़ी में कुल 23 मरीजों को लाभान्वित किया गया।  

+ Load More