Corona Update 04 Oct : प्रदेश में आज इतने मरीजों की हुई पुष्टि, इस जिले से मिले सबसे ज्यादा मामले, देखिए जिलेवार आंकड़ें    |    Corona Update 3 Oct : राज्य में कोरोना से 1 की मौत...इस जिले से मिले सबसे ज्यादा मामलें...देखें जिलेवार आंकड़ें    |    Corona Update 2 Oct : प्रदेश में आज मिले कोरोना के इतने मरीज, फिर इस जिले से सामने आए सर्वाधिक मामलें...देखें जिलेवार आंकड़े    |    TRANSFER BREAKING : लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग में बड़ी फेरबदल, कई अधिकारी कर्मचारी इधर से उधर...देखें पूरी लिस्ट    |    Corona Update 30 Sept : प्रदेश में आज इतने मरीजों की हुई पुष्टि, इस जिले से मिले सबसे ज्यादा मामले, देखिए जिलेवार आंकड़ें    |    कोरोना को लेकर राहत की खबर...24 घंटे में मिले इतने नए कोरोना के मरीज...देखिए जिलेवार आकड़े    |    कोरोना को लेकर राहत की खबर...24 घंटे में मिले इतने नए कोरोना के मरीज...देखिए जिलेवार आकड़े    |    Corona Update 26 September : छत्तीसगढ़ में आज मिले कोरोना के इतने नए मरीज...देखें जिलेवार आंकड़े    |    कोरोना को लेकर राहत की खबर...24 घंटे में मिले इतने नए कोरोना के मरीज...देखिए जिलेवार आकड़े    |    Corona Update 24 September : छत्तीसगढ़ में आज मिले कोरोना के इतने नए मरीज...देखें जिलेवार आंकड़े    |
10वीं पास युवाओं के लिए 23 सितम्बर को प्लेसमेंट कैम्प का आयोजन: 25 पदों पर होगी भर्ती

10वीं पास युवाओं के लिए 23 सितम्बर को प्लेसमेंट कैम्प का आयोजन: 25 पदों पर होगी भर्ती

गरियाबंद: जिला रोजगार एवं स्वरोजगार मार्गदर्शन केन्द्र, गरियाबंद द्वारा 23 सितम्बर 2022 दिन शुक्रवार को प्रातः 11ः00 बजे से दोपहर 03.00 बजे तक कार्यालय परिसर में निःशुल्क प्लेसमेंट कैम्प का आयोजन किया जायेगा। जिसमें निजी प्रतिष्ठानों - एस्प्रा स्कील्स, भटगांव रायपुर, प्रेरक संस्था गरियाबंद एवं एस.बी.आई.लाईफ इंश्योरेंस कं. लि. महासमुंद से प्राप्त प्रशिक्षक के एवं सहायक प्रशिक्षक (नर्सिंग) के 1-1, सहायक लेखापाल के 1, डेवलपमेंट मैनेजर के 3 और इंश्योरेस एडवाईजर के 25 रिक्त पदों पर भर्ती की कार्यवाही की जायेगी।

निजी प्रतिष्ठानों में रोजगार के इच्छुक एवं शैक्षणिक योग्यता प्रशिक्षक व सहायक प्रशिक्षक पद हेतु बी.एस.सी नर्सिंग (2016-17 तक उर्त्तीण), सहायक लेखापाल हेतु बी काम, टैली एक्सपर्ट, डेवलपमेंट मैनेजर हेतु स्नातक एवं इंश्योरेंश एडवाईजर हेत 10वीं पास योग्यता रखने वाले छ.ग. के निवासी आवेदक अपने दो पासपोर्ट साइज फोटो एवं समस्त शैक्षणिक योग्यता संबंधी अंकसूची/प्रमाण पत्र की मूल प्रति एवं छायाप्रति के साथ जिला रोजगार एवं स्वरोजगार मार्गदर्शन केन्द्र गरियाबंद में निर्धारित तिथि एवं समय पर उपस्थित होकर निःशुल्क प्लेसमेंट कैम्प का लाभ उठायें। प्लेसमेंट कैंप के संबंध में कार्यालय दूरभाष क्रमांक +91-7706-241269, मो.नं. +91-9329559607, +91-8963970727 में संपर्क कर सकते है। 

वाह रे औलाद...बीमार मां ने डॉक्टर बुलाने को कहा...कलयुगी बेटे ने पत्थर मारकर उतारा मौत के घाट

वाह रे औलाद...बीमार मां ने डॉक्टर बुलाने को कहा...कलयुगी बेटे ने पत्थर मारकर उतारा मौत के घाट

 गरियाबंद. अमलीपदर थाना क्षेत्र अंतर्गत एक कलयुगी बेटे का कारनामा सामने आया है. दरअसल, अमलीपदर निवासी हराबाई निषाद (47वर्ष) विगत तीन दिनों से बुखार से पीड़ित थी. बीमार होने के बावजूद वह परिवार के सभी 5 सदस्यों के लिए भोजन बनाती थी. आज सुबह करीब 10 बजे महिला ने अपने बेटे धनमान को डॉक्टर बुलाने को कहा. लेकिन उसने डॉक्टर को बुलाने की बजाए अपनी मां से झगड़ किया.

युवक ने पहले हाथापाई की. इस बीच बचाव में आई दोनों छोटी बहनों पर भी उसने हाथ उठाया. गुस्सा ठंडा नहीं हुआ तो पत्थर लेकर मां को मारने दौड़ाया. जान बचाने के लिए महिला घर के पीछे खेत की ओर भाग गई. लेकिन युवक पीछा करते-करते वहां भी चला गया और अपनी मां की तरफ पत्थर फेंका. सिर पर पत्थर लगने से महिला की मौके पर ही मौत हो गई.

युवक ने की आत्महत्या की कोशिश

घटना के बाद आरोपी युवक ने घर से बाहर भागकर डीजल पीकर आत्महत्या करने की कोशिश की. थाना प्रभारी चंदन मरकाम ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है.

राजस्व विभाग में बड़े पैमाने पर तबादला...किसे मिली कहां की जिम्मेदारी...देखें सूची

राजस्व विभाग में बड़े पैमाने पर तबादला...किसे मिली कहां की जिम्मेदारी...देखें सूची

 गरियाबंद. राजस्व विभाग में बड़े पैमाने पर तबादला किया गया है. गरियाबंद कलेक्टर प्रभात मलिक ने तबादला आदेश जारी किया है, जिसमें 11 पटवारी, आरआई और राजस्व विभाग के 6 लिपिकों को इधर से उधर भेजा गया है. बताया जा रहा कि लंबे समय से एक ही जगह पदस्थ पटवारी, आरआई और लिपिकों का स्थानांतरण किया गया है.

देखें सूची –

लापरवाही पर बड़ा एक्शन- पटवारी की सेवा समाप्त… कलेक्टर ने जारी किया आदेश

लापरवाही पर बड़ा एक्शन- पटवारी की सेवा समाप्त… कलेक्टर ने जारी किया आदेश

  गरियाबंद  / कलेक्टर प्रभात मलिक ने जिले के राजिम तहसील में पदस्थ पटवारी पितऊराम नाग को अपने कर्तव्य पर उपस्थिति होने अंतिम अवसर के बाद भी अनाधिकृत रूप से अनुपस्थित रहने के कारण सेवा से त्याग पत्र दिया हुआ मानकर पटवारी पद से सेवा समाप्त कर दिया है। ज्ञात हो कि पटवारी पितऊराम नाग 12 मई 2014 से आज दिनांक तक बिना किसी पूर्व सूचना अथवा अवकाश स्वीकृति के अपने कर्तव्य से अनाधिकृत रूप से निरंतर अनुपस्थित है। नाग को अपने कर्तव्य पर उपस्थित होने हेतु समय-समय पर कार्यालय तहसीलदार राजिम एवं अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) से सूचना पत्र जारी किया गया। पटवारी नाग को अनाधिकृत रूप से अनुपस्थिति हेतु नोटिस जारी कर समाचार पत्र में भी प्रकाशन कराया गया, किन्तु पटवारी पितऊराम नाग द्वारा आदेश जारी होने की तिथि तक कार्यालय में उपस्थिति नहीं दिया गया एवं न ही किसी भी माध्यम से अपना पक्ष प्रस्तुत किया गया। पटवारी श्री पितऊराम नाग के विरूद्ध छत्तीसगढ़ सिविल सेवा (वर्गीकरण, नियंत्रण तथा अपील) नियम 1966 एवं छ.ग. सिविल सेवा अवकाश नियम 2010 के नियम 11 के प्रावधानों के तहत 12 मई 2014 से बिना किसी पूर्व सूचना अथवा अवकाश स्वीकृति के अपने पदीय कर्तव्य से अनाधिकृत रूप से निरंतर अनुपस्थित रहने के कारण सेवा से त्यागपत्र दिया हुआ समझा मानकर पटवारी पद से सेवा समाप्ति कर दी गई है।

शिक्षा विभाग में बड़े पैमाने पर तबादला, 65 शिक्षक किये गए इधर से उधर… देखिए आदेश

शिक्षा विभाग में बड़े पैमाने पर तबादला, 65 शिक्षक किये गए इधर से उधर… देखिए आदेश

 गरियाबंद। शिक्षा विभाग में बड़े पैमाने पर तबादला हुआ है। जहां गरियाबंद जिले में 65 शिक्षकों का ट्रांसफर किया गया है। इस सम्बन्ध में कलेक्टर प्रभात मलिक ने आदेश जारी की है।

देखिए आदेश-

Transfer Breaking : 15 सहायक उप निरीक्षक हुए इधर से उधर...देखें लिस्ट

Transfer Breaking : 15 सहायक उप निरीक्षक हुए इधर से उधर...देखें लिस्ट

 गरियाबंद। जिला पुलिस अधीक्षक जे.आर.ठाकुर ने 15 सहायक उपनिरीक्षकों का तबादला आदेश जारी किया है। जिसके तहत प्रहलाद ठाकुर को गरियाबंद से फिंगेश्वर भेजे गए है। वहीं फिंगेश्वर के खुमान लाल महिलांग को गरियाबंद थाना में पदस्थ किए है। प्रशासन में कसावट लाने के लिए तबादला आदेश जारी किया गया है। वहीं सभी स्थानांतरित ए.एस.आई. को तत्काल ज्वाइन करने का निर्देश दिए गए है।

Transfer Breaking

6 फर्जी नक्सलियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, सरपंच से मांगे थे 5 लाख की फिरौती

6 फर्जी नक्सलियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, सरपंच से मांगे थे 5 लाख की फिरौती

 रायपुर/गरियाबंद। 6 फर्जी नक्सलियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. दरअसल मामला जिला गरियाबंद के थाना छुरा क्षेत्र का है जहां 06 आरोपियों ने फर्जी नक्सली बनकर सरपंच से 5 लाख रुपये की उगाही करने वाले सभी 6 फर्जी नक्सलियों को जिला पुलिस गरियाबंद ने घेराबंदी कर गिरफ्तार किये हैं।

थाना छुरा में प्रार्थी हेमू नागेश पिता विष्णु राम उम्र 30 साल निवासी ने रिपोर्ट दर्ज कराया कि 3-04 नकाबपोस हथियारबन्द नक्सली इनके घर मे घुसकर जान से मारने की धमकी देते हुए 5 लाख रुपये की मांग किया. जिस रिपोर्ट पर थाना छुरा में अपराध क्रमांक 107/2022 धारा 323, 458, 384, 34, 386, 387, 419, 398 भादवि दर्ज किया गया।

मामले कि गंभीरता को देखते हुये थाना प्रभारी छुरा ने जिला के आला अधिकारियों को घटना की जानकारी दी गयी। जिला गरियाबंद के पुलिस कप्तान जे०आर० ठाकुर के दिशा-निर्देश, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक चन्द्रेश ठाकुर के मार्गदर्शन, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस पुष्पेंद्र नायक, व उप पुलिस अधीक्षक सुश्री निशा सिन्हा के पर्यवेक्षण में स्पेशल टीम गठित कर प्रकरण के त्वरित निराकरण हेतु निर्देशित किया गया। जिसके पश्चात स्पेशल टीम, सायबर सेल एवं थाना छुरा के टीम द्वारा सूचना तन्त्र को सक्रिय किया गया था, विश्वस्त मुखबिर द्वारा दिये गए सूचना में आधार पर संदेही प्रह्लाद नायक, रोहित नायक, गेमेन्द्र ध्रुव, ओमप्रकाश निषाद, गौतम चक्रधारी एवं पायल मानिकपुरी को हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर सभी 6 आरोपियों द्वारा अपना जुर्म कबूल कर घटना को अंजाम देने में उपयोग किये एयर गन तथा नक्सली वर्दी एवं अन्य सामग्री को पेश करने पर गवाहों के समक्ष जप्त किया गया। सभी 06 आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया।

उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी छुरा, स्पेशल टीम प्रभारी प्र०आर० अंगद राव ,चूड़ामणि देवता, आरक्षक सुशील पाठक रविंद्र सिन्हा, हरीश साहू, यादराम ध्रुव, साथ ही थाना छुरा से सहायक उपनिरीक्षक सुरेश निषाद, प्र०आर०हीरालाल चंद्राकर, तुलाराम, उमेश शांडिल्य ,आरक्षक माधव साहू, दयानंद गौड़, राजेंद्र गायकवाड, सूर्यकांत राय की सराहनीय भूमिका रही।

गिरफ्तार आरोपी

01 *प्रहलाद नायक पिता विजय नायक उम्र 40 साल निवासी पिपरहट्टा थाना छुरा,*

02. रोहित नागेश पिता भादुराम उम्र 30 साल निवासी कोचेंगा थाना शोभा,*

03. गेमेंद्र ध्रुव पिता जागेश्वर राम उम्र 23 साल निवासी पोखरा थाना राजिम,*

04. ओमप्रकाश उर्फ छोटू पिता हेमलाल निषाद उम्र 25 साल निवासी पोखरा थाना राजिम,*

05. गौतम चक्रधारी पिता जनकराम उम्र 31 साल निवासी करेली थाना शोभा,*

06. पायल मानिकपुरी पिता कंचन्दास उम्र 31 साल निवासी बिलाईगढ़ कैथा थाना बिलाईगढ़ जिला बलौदाबाजार, वर्तमान पता सढ्ढु मोवा रायपुर

सिकासेर बांध के 10 गेट खोले, पैरी नदी का भी बढ़ा जलस्तर, प्रशासन ने जारी किया अलर्ट

सिकासेर बांध के 10 गेट खोले, पैरी नदी का भी बढ़ा जलस्तर, प्रशासन ने जारी किया अलर्ट

 गरियाबंद: छत्तीसगढ़ में बीते कुछ दिनों से लगातार बारिश हो रही है। जिसके चलते नदियों का जलस्तर बढ़ गया है। वहीं गरियाबंद जिले में मूसलाधार बारिश से सिकासेर बांध का भी जलस्तर काफी बढ़ गया है।

सिकासेर बांध के बढ़े हुए जलस्तर को देखते हुए प्रशासन अलर्ट मोड पर है। जिले में मूसलाधार बारिश से सिकासेर बांध के 10 गेट खोल दिए गए है। बांध से 16000 क्यूसिक पानी छोड़ा जा रहा हैं। इसके साथ ही पैरी नदी का भी जलस्तर बढ़ा है। वहीं प्रशासन ने किनारे बंसे गांवों में सतर्कता बढ़ा दी है।

कॉलेज जाने निकला था छात्र, फिर इस हालत में मिली लाश, जांच में जुटी पुलिस

कॉलेज जाने निकला था छात्र, फिर इस हालत में मिली लाश, जांच में जुटी पुलिस

 गरियाबंद। फिंगेश्वर थाना क्षेत्र में एक कॉलेज छात्र का शव पेड़ से लटका मिला है। छात्र कॉलेज जाने के लिए रायपुर से अभनपुर निकला था। इसके बाद से उसका शव पेड़ पर लटका मिला। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को नीचे उतरवा कर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।

जानकारी के अनुसार, शुक्रवार देर शाम चरवाहे अपने पशुओं को लेकर जंगल से लौट रहे थे। इसी दौरान उन्होंने बाबाकूपि जंगल के पास एक युवक का शव फांसी से लटका हुआ देखा। जिसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर शव नीचे उतरवाया और उसकी शिनाख्त करवाई। देर रात पता चला कि युवक रायपुर के चंडी बेलर का रहने वाला नंद किशोर साहू (22) है। वह अभनपुर के हीरा लाल कॉलेज में ग्रेजुएशन का छात्र था। रोज की तरह नंद किशोर शुक्रवार को भी बाइक से कॉलेज जाने के लिए निकला था, लेकिन शाम तक घर नहीं लौटा। इसके बाद से परिजन उसे तलाश रहे थे।

नंद किशोर अगर अभनपुर कॉलेज जाने निकला था तो शव राजिम में कैसे मिला है। उसने खुदकुशी की है हत्या कर लटकाया गया है, इसके लिए पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है। तब तक पुलिस परिजनों और अन्य लोगों से पूछताछ कर रही है।

एक स्कूल ऐसा भी जो शासन के रिकार्ड में नहीं है, पर सात वर्षो से हो रहा है संचालित

एक स्कूल ऐसा भी जो शासन के रिकार्ड में नहीं है, पर सात वर्षो से हो रहा है संचालित

 मैनपुर। छत्तीसगढ़ को नया राज्य बने 22 बरस हो गया है बावजूद इसके अभी भी लोगो को शिक्षा, स्वास्थ्य, पानी जैसी मूलभूत सुविधा सुलभ नहीं हो पाई है, जिसके हांथ में सत्ता की चाबी रही है सभी यह ढोल पीटने से पीछे नहीं रहे कि हम गांव के अतिम छोर और व्यक्ति के विकास के लिए प्रतिबद्ध है।

Chhattisgarh Crimes

सरकारी तंत्र गांव के अतिम व्यक्ति तक सरकारी योजनाओं के पहुंचने का दंभ भरती हैं पर मैदानी सच्चाई इसके ठीक विपरीत है, अगर सरकारी योजनाएं गांव तक पहुंचती तो कभी यह दृश्य देखने को नहीं मिलता कि ग्रामीणों को अपने नौनिहालो को शिक्षा प्रदान करने के लिए श्रमदान कर झोपड़ी बनाकर बच्चों को पढ़ाई के लिए भेजना और शिक्षक का वेतन चंदा जमाकर कर देने की जरूरत पड़ती। जी हां हम बात कर रहे हैं एक ऐसे स्कूल की जो पिछले सात वर्षों से शिक्षा की अलख जगा रहा है और नौनिहालो को साक्षर बना रहा है। शिक्षा का अलख सरकारी प्रयासों से गांव में कब शुरु होगा इसकी बाट जोहने के बजाए ख़ुद के प्रयासों से ग्रामीणों ने स्कूल शुरु किया। हम बात कर रहे है, तहसील मुख्यालय मैनपुर से लगभग 42 किलोमीटर दूर बीहड़ जंगल उड़ीसा सीमा से लगे ग्राम ईचरादी की। यहां पर शासन द्वारा आज तक एक शासकीय स्कूल नहीं खोला जा सका है। ग्रामीणों ने शुरूवाती दौर मे श्रमदान करते हुए एक झोपड़ी का निर्माण कर फिर टीना टप्पर वाला मकान बनाकर स्कूल प्रारंभ किया जो पिछले सात वर्षो से संचालित है। यहां हम आपको बताए कि बकायदा इस विद्यालय में बच्चो को शिक्षा देने के लिए एक शिक्षक का भी व्यवस्था ग्रामीणों के द्वारा किया गया और गांव वाले शिक्षक को मेहताना के रूप में प्रतिमाह 4 हजार रूपए चंदा कर देते थे। तब कहीं जाकर इस आदिवासी गांव के बच्चों को शिक्षा हासिल हो पा रहा था।

Chhattisgarh Crimes

बाद मे शासकीय तौर पर एक शिक्षक की व्यवस्था विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी मैनपुर द्वारा किया गया जो इस वर्ष बिलकुल बंद है। फिलहाल शासन से मध्यान भोजन उपलब्ध हो जाता है। मासूम बच्चे बराबर स्कूल आ रहे हैं लेकिन शिक्षकों के अभाव मे बिना पढ़ाई किए खेलकूद कर अपना घर वापस लौट जाते हैं।

शिक्षा के अधिकार अधिनियम जिसमें संविधान के 86 वें संशोधन अधिनियम 2002 के द्वारा 27 क जोड़कर शिक्षा को मौलिक अधिकार बना दिया गया है।इसके तहत राज्यों को यह कर्तव्य दिया गया है कि वह 6 से 14 वर्ष की आयु के सभी बच्चों को निशुल्क और अनिवार्य शिक्षा प्रदान करेंगे,लेकिन यहाँ के बच्चो के लिए कानून का परिपालन होता नजर नही आ रहा है।

एक तरफ शासन-प्रशासन लगातार अनेक अभियान चलाकर एक -एक बच्चों को शिक्षा दिलाने और कोई भी बच्चा शिक्षा से वंचित न हो इसके लिए अनेक प्रयास किये जा रहे है बावजूद इसके इस गांव के आदिवासी बच्चों के लिए क्यो अब तक स्कूल नहीं खोला जा सका है जो एक बडा सवाल खड़ा करता है। सरकार द्वारा शिक्षा के नाम पर करोडों रूपए पानी की तरह खर्च किया जा रहा हैं और तरह-तरह के प्रयोग व कार्यक्रम संचालित कर शाला त्यागी बच्चों को स्कूल तक लाने अभियान चलाया जा रहा हैं ठीक इसके विपरीत गरियाबंद जिला के आदिवासी विकासखंड मैनपुर क्षेत्र के ग्रामीण वनांचल इलाको में बांस व लकड़ी के झोपड़ी का निर्माण कर इसमें आदिवासी क्षेत्र के बच्चों का भविष्य गढ़ा जा रहा हैं।

राजीव गांधी शिक्षा मिशन, सर्व शिक्षा अभियान द्वारा मैनपुर विकासखंड क्षेत्र में पिछले कुछ वर्षो से वनांचल के ग्रामों में आवासीय विशेष प्रशिक्षण केन्द्र स्थापित कर क्षेत्र के बच्चों को वहां रख कर पढाई लिखाई करवाई जा रही थी। ग्राम ईचरादी में वर्ष 2012-13 से आवासीय विशेष प्रशिक्षण केन्द्र खोला गया था जो संकुल केन्द्र भूतबेडा के अंतर्गत आता हैं इस गांव में स्कूल नहीं होने की वजह से बच्चों को शिक्षित करने के उदेश्य से सर्व शिक्षा अभियान द्वारा यहां एस आर टी सी केन्द्र खोला गया था लेकिन यह आवासीय विशेष प्रशिक्षण केन्द्र एक वर्ष संचालित होने के बाद बंद कर दिया गया जिससे यहां के आदिवासी बच्चे शिक्षा से वंचित होने लगे तो ग्रामीणों ने श्रमदान कर एक झोपड़ी का निर्माण करते हुए एक शिक्षक की व्यवस्था कर वहां पढ़ाई प्रारंभ करवा दी । शासन द्वारा पूर्व मे एक शिक्षक की वैकल्पिक व्यवस्था तो कर दिया था लेकिन इस वर्ष पूर्ण रूप से बंद है। बच्चों की पढ़ाई इस वर्ष बाधित हो रही है।

जहां वर्तमान में कक्षा पहली से पांचवी तक 46 छात्र -छात्राएं अध्यनरत् है, यहां के ग्रामीणों ने कई बार यहां शासकीय स्कूल खोलने की मांग को लेकर विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी व जिला शिक्षा अधिकारी को ज्ञापन सौपकर मांग कर चुके है लेकिन अब तक क्यो यहां शासकीय प्राथमिक शाला नहीं खोला जा सका है यह समझ से परे है । जबकि यहां वर्तमान में 46 छात्र -छात्राएं अध्यनरत् है और सरकारी स्कूल नहीं होने के कारण इन बच्चो का भविष्य अंधकारमय दिखाई दे रहा है,

शासन के रिकार्ड में ईचरादी में नहीं है स्कूल

ज्ञात हो कि शासन ने सर्व शिक्षा अभियान द्वारा संचालित इस विशेष आवासीय प्रशिक्षण केन्द्र ईचरादी को बंद कर दिया है और वहां से 5 किलोमीटर दूर ग्राम गरीबा में शासकीय प्राथमिक शाला संचालित हो रहा है लेकिन स्कूल की दूरी अधिक होने और जंगली रास्ता होने के कारण अपने बच्चो को ग्रामीण इसी झोपड़ीनुमा स्कूलो में पढ़ाई करवा रहे है, लेकिन इन्हे शासन से मिलने वाली योजनाओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है और अपने भविष्य झोपड़ी में गढ़ रहे है जिसकी जानकारी स्थानीय अधिकारियों को होने के बावजूद इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। भले ही शिक्षा का अधिकार कानून लागू हो गया है इस ग्राम इचरादी से गरीबा की दूरी 5 कि.मी. है और घने जंगल होने के कारण यहां के बच्चे वहां तक स्कूल जाने में असमर्थ है, इसलिए शासन को चाहिए कि ईचरादी में शासकीय प्राथमिक शाला खोला जाना चाहिए।

झमाझम बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्तः बारिश से नदी नाले उफान पर, जानिए कैसा है ज़िला मुख्यालय का हाल

झमाझम बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्तः बारिश से नदी नाले उफान पर, जानिए कैसा है ज़िला मुख्यालय का हाल

 गरियाबंद ज़िले के कई इलाकों में बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. मैनपुर सहित आस पास के नदी नालों में भारी बारिश के चलते हालात बिगड़े हुए देखे जा रहे हैं.छत्तिशगढ में लगतार बारिश से कई ज़िलों में अलर्ट जारी किया गया है.वहीं, ज़िले में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है.

जिला मुख्यालय गरियाबंद में सुबह से हो रही बारिश के चलते पूरा जन जीवन प्रभावित हो गया है। अत्यधिक वर्षा के कारण नगर के मुख्य सड़क मार्ग सहित कई गलियों में सड़क के ऊपर तक पानी बह रहा है। वही बारिश के कारण आवाजाही भी प्रभावित हो रही है। सुबह से ही हो रही तेज बारिश के कारण लोग घर में ही दुबके है। सुबह जल्दी खुलने वाले बस स्टेंड सहित चौक चौराहों की कई दुकान भी अब तक खुली नहीं हैं। यात्री बसों में भी सवारी नही पहुंच रहें हैं। गरियाबंद से राजिम और रायपुर जाने वाली शुरू की दो तीन बसों में अधिकांश सीटे खाली देखने को मिल रही है। हालाकि अत्यधिक जरूरी काम होने पर लोग छाते और रेनकोट के सहारे निकल रहे हैं।

इधर तेज बारिश के चलते एक बार फिर नदी नाले उफान में आ गए हैं। बीते दो दिन मैनपुर क्षेत्र में हुई बारिश का असर पैरी नदी में देखने को मिल रहा है। बीती रात से पैरी नदी का जलस्तर काफी बढ़ गया है। इसके साथ ही ग्रामीण अंचलों में भी नदी नाले रपटों में पानी भरना शुरू हो गया है गरियाबंद के आसपास के गांव जैसे नागाबुढ़ा, पारागांव, छिंदौला में नाले रपटे में तेजी से पानी का स्तर बढ़ने लगा है। कुछ देर और बारिश हुई तो यह आवागमन अवरुद्ध होने की संभावना है।

अधिकारी विभागीय समन्वय के साथ योजनाओं का बेहतर ढंग से क्रियान्वयन करें : कलेक्टर

अधिकारी विभागीय समन्वय के साथ योजनाओं का बेहतर ढंग से क्रियान्वयन करें : कलेक्टर

गरियाबंद। जिले के पांच विकासखण्ड में सात गौठान को मॉडल गौठान के रूप में विकसित किया जायेगा। इनमें गौठान की गतिविधियों के अलावा विभागीय योजनाओं की क्रियान्वयन के साथ अलग से पहचान बनाई जायेगी। मत्स्य, पशुपालन और वन विभाग द्वारा 1-1 गौठान में तथा उद्यानिकी एवं जिला पंचायत द्वारा 2-2 गौठान को विभागीय गतिविधियों से विकसित किया जायेगा। कलेक्टर प्रभात मलिक ने आज कृषि, पशुपालन, मछलीपालन, उद्यानिकी, क्रेडा, मंडी बोर्ड, रेशम और कृषि विज्ञान केन्द्र द्वारा संचालित योजनाओं की विभागवार समीक्षा करते हुए अधिकारियों को विभागीय योजनाओं के क्रियान्वयन कर गौठान को मॉडल स्वरूप प्रदान करने के निर्देश दिये। बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्रीमती रोक्तिमा यादव, सभी जनपद सीईओ और संबंधित विभाग के अधिकारी तथा विभागीय मैदानी अमला मौजूद थे।

कलेक्टर ने अधिकारियों से कहा कि जिला एवं विकासखण्ड स्तर के अधिकारी विभागीय समन्वय के साथ जिले में शासन की योजनाओं का बेहतर ढंग से क्रियान्वयन सुनिश्चित करें। उन्होंने सभी जनपद सीईओ को नए स्वीकृत गौठान के लिए जगह चिन्हांकित कर गौठान निर्माण कार्य शीघ्र पूर्ण करने तथा जिले के प्रत्येक ग्राम पंचायत में गोधन न्याय योजना के तहत गौठान में गोबर खरीदी प्रारंभ करने निर्देशित किया है। उन्होंने गौठान का जी-मैप, जिओ-टैग व स्टॉक एन्ट्री पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिये। समीक्षा के दौरान उद्यानिकी विभाग के अधिकारियों को गौठानों में बाड़ी विकास तथा मैनपुर विकासखण्ड में जिडार और देवभोग विकासखण्ड के नवागांव में चिन्हित स्थानों पर उद्यानिकी नर्सरी विकासित करने निर्देशित किया।

पशुपालन विभाग के अधिकारियों को ग्राम पंचायतवार पी.आई.डल्ब्यू प्रशिक्षण तथा गौठान में सक्रिय समूह को विभागीय योजनाओं से लाभान्वित करने, चिन्हांकित गौठान में हेचरी निर्माण एवं अन्य विभागीय गतिविधियाँ गौठान में प्रदर्शित करने निर्देशित किया। मत्स्य विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी व अद्यतन प्रगति की समीक्षा करते हुए विभागीय अधिकारी को प्रत्येक विकासखण्ड के दो गौठान में मत्स्य विभाग के योजना अंतर्गत तालाब निर्माण कर गौठान से जुड़े समूह को मत्स्य पालन हेतु प्रोत्साहित करने के निर्देश दिय। क्रेडा द्वारा संचालित योजना अंतर्गत जहां सौर ऊर्जा चलित बैटरी डाउन के कारण सिस्टम फेल है, इसे पुनः रिचार्ज करने नये बैटरी की व्यवस्था हेतु क्रेडा के अधिकारी को निर्देशित किया। साथ ही सभी जनपद सीईओ को सौर सिस्टम फैल होने संबंधी सूची क्रेडा विभाग को उपलब्ध कराने के निर्देश दिये। समीक्षा के दौरान रेशम विभाग के अधिकारी ने अवगत कराया कि जिले के लोहरसी, कौंदकेरा, किरवई और रावड़ कोसा उत्पादन केन्द्र में टसर व मलबरी कोसा का उत्पादन किया जा रहा है।

गरियाबंद विकासखण्ड के मालगांव में नया कोसा उत्पादन सेंटर विकसित किया गया है। कृषि विभाग के समीक्षा के दौरान जिले में खाद, बीज की उपलब्धता, गोधन न्याय योजना अंतर्गत गोबर खरीदी, गौठान में प्रसंस्करण इकाई की प्रगति व मल्टी एक्टीविटी केन्द्र, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन और धान के बदले अन्य फसल की जानकारी लेते हुए अधिकारियों से कहा कि धान के बदले अन्य फसल लेने वाले कृषकों का पंजीयन धान फसल के लिए न होने पाये, अधिकारी सतर्क रहे। मक्का फसल हेतु पंजीयन बढ़ाई जाए। वर्तमान में अन्य फसल पैदावारी हेतु 1750 हेक्टेयर पंजीयन हुई है, इसे 4000 हेक्टेयर तक पंजीयन बढ़ाई जाए। कलेक्टर ने कृषि विभाग के अधिकारियों से कहा कि जिले के कोई भी किसान प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना, राजीव गांधी किसान न्याय योजना, धान के बदले अन्य फसल परिवर्तन योजना और किसान क्रेडिट कार्ड योजना से वंचित न होने पाये। अधिकारी उक्त योजनाओं के जिले में बेहतर क्रियान्वयन पर विशेष ध्यान देवे।

कलेक्टर ने जिले में विभागीय योजनाओं के क्रियान्वयन के संबंध में आ रही दिक्कतें एवं समस्याओं की विभागवार जानकारी लेकर इनका समाधान भी किया। वन मण्डलाधिकारी मंयक अग्रवाल ने विभाग द्वारा बनाये गये आवर्ती चराई गौठान निर्माण प्रक्रिया के संबंध में अधिकारियों को विस्तारपूर्वक जानकारी दी। उन्होंने गौठान निर्माण में मूलभूत आवश्यकताओं पर फोकस करते हुए शेष निर्माण की गतिविधियां पूर्ण कराई जाने की बाते कही।

महानदी में बह गए दो युवक...एनीकट में नहाने के दौरान हुआ हादसा

महानदी में बह गए दो युवक...एनीकट में नहाने के दौरान हुआ हादसा

 गरियाबंद. महानदी में दो युवकों के बहने की घटना सामने आई है. बताया जा रहा कि 7 युवक महानदी पीतईबंद एनीकेट में नहाने गए थे. इस दौरान यह हादसा हुआ. सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची है

जिले में गुरुवार को सुबह से ही बारिश हो रही है. इसके चलते नदी-नालों का जलस्तर बढ गया है. नहाने के दौरान दो युवक महानदी में बह गए. वहीं 4 युवकों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है. मामले की सूचना मिलते ही राजिम पुलिस मौके पर पहुंची. पानी में बहे युवकों की तलाश जारी है. गोताखोरों को भी लगाया गया है.

जतमाई जलप्रपात हुआ प्रारंभ...पहुंचने लगे पर्यटक

जतमाई जलप्रपात हुआ प्रारंभ...पहुंचने लगे पर्यटक

 Gariaband News :गरियाबंद (Gariaband)में रायपुर (Raipur)से 85 किमी की दूरी पर स्थित है। एक छोटा सा जंगल के खूबसूरत स्थलों (beautiful places in the forest)के बीच सेट, जतमई मंदिर माता जतमई के लिए समर्पित है। और वहीं एक बड़ा झरना हैं। जो जतमाई जलप्रपात (Jatmai Falls)के नाम से जाना जाता है जिसकी शुरुआत होने से पर्यटकों की लगेगी भीड़। आपको बता दें की अब से 6 माह तक जतमाई जलप्रपात गुलजार रहेगा। और जलप्रपात की शुरुआत आज ही हुई है।

राजिम से 35 किमी की दूरी पर घने जंगलों के बीच स्थित है जतमाई जलप्रपात और जतमाई माता के इस मंदिर में रायपुर दुर्ग भिलाई समेत देश विदेश से पर्यटक यहां आते है। यहां नहाकर जलप्रपात का लुफ्त उठाते है।

राजधानी रायपुर से 75 किमी दूर राजिम से गरियाबंद मार्ग पर पाण्डुका के पास है जतमाई माता का मंदिर और जतमाई जलप्रपात। वर्षा ऋतु के आगमन के साथ ही पहली बारिश में यहा का जलप्रपात गुलजार हो जाता है, घने जंगलों के बीच प्रकृति की अनुपम गोद मे तौरेन्गा जलाशय के ऊपर पहाड़ी के बीचोबीच जतमाई जलप्रपात की खूबसूरती देखते बनती है। जलप्रपात के बीच मे ही माता जतमाई का भव्य मंदिर है जहाँ पर गुफा के अंदर माता जतमाई विराजित है। यहाँ आने वाले पर्यटक जलप्रपात का लुफ्त तो उठाते ही है साथ ही माता जतमाई का दर्शन प्राप्त कर आशीर्वाद भी लेते है, कहते है कि जो भी भक्त सच्चे मन से माता जतमाई की पूजा करता है उसकी सभी मनोकामनाएं माता पूर्ण करती है। यहाँ पर वर्षा ऋतु से लेकर आने वाले 6 माह तक या यूं कहें कि दिसम्बर महीने तक जलप्रपात के रहते यहाँ पर पर्यटकों की अच्छी खासी भीड़ रहती है, छुट्टी के दिन यानी रविवार को और विशेष पर्व में यहा हजारों की संख्या में भयंकर भीड़ रहती है।

जतमाई मन्दिर परिसर के मौनी बाबा ने बताया कि जलप्रपात आज ही शुरू हुवा है और पर्यटकों की भीड़ भी आज से ही बढ़ने लगी है, अब धीरे धीरे रोज यहा पर पर्यटकों का मेला लगा रहेगा।

गजराज का आतंक: जंगली हाथी के हमले में 45 वर्षीय महिला की मौत...क्षेत्र में दहशत

गजराज का आतंक: जंगली हाथी के हमले में 45 वर्षीय महिला की मौत...क्षेत्र में दहशत

 गरियाबंद / वन मंडल के वन परीक्षेत्र धवलपुर से एक बड़ी खबर निकल कर सामने आ रही है रात हाथियों के दल ने खेत के झोपड़ी में सो रही महिला को कुचल कर मार डाला मामले की जानकारी लगते ही सुबह ही वन विभाग के अधिकारियों का दल और पुलिस प्रशासन घटना स्थल पर पहुंच गई है।

उल्लेखनीय है कि गरियाबंद वन मंडल के मैनपुर वन परीक्षेत्र एवं धवलपुर वन परीक्षेत्र में पिछले 3 दिनों से हाथियों का दल पहुंचा हुआ है और किसानों के झोपड़ियों को 2 दिन पहले नुकसान पहुंचाया था आज आज गुरुवार को वन परीक्षेत्र धवलपुर अंतर्गत झापान नाला पुलिया के ऊपर कक्ष क्रमांक 867 में हाथियों के दल ने रात 3:00 बजे के आसपास पहुंचा और हाथियों के चिंघाड़ से झोपड़ी के भीतर सो रही महिला लक्ष्मी बाई अपने पुत्र को देखने के लिए बाहर निकला महिला लक्ष्मीबाई जैसे ही झोपड़ी से बाहर निकला हाथियों के दल ने महिला को बुरी तरह पटक कर और कुचल कर मौत के घाट उतार दिया मैनपुर से महज 14 कि भी दूर नेशनल हाईवे 130 से से महज 4 किलोमीटर दूर पर यह घटना घटने से भारी दहशत देखने को मिल रही है।

वहीं दूसरी ओर वन विभाग के एसडीओ राजेंद्र सोरी, वन परीक्षेत्र अधिकारी मैनपुर संजीत मरकाम वन परीक्षेत्र अधिकारी धवलपुर एवं वन विभाग के स्थानीय अधिकारी कर्मचारी के साथ पुलिस के प्रशासन भी मौके पर पहुंच चुके है

नक्सलियों पर भारी पड़े CRPF के जवान, कैंप छोड़कर भागे, कल देर रात तक जारी था मुठभेड़…

नक्सलियों पर भारी पड़े CRPF के जवान, कैंप छोड़कर भागे, कल देर रात तक जारी था मुठभेड़…

 गरियाबन्द। ओडिशा के नुआपाड़ा में पाटदहरा कैम्प के पास बड़ी संख्या में नक्सलियों के जमावड़ा की सूचना मिली थी. जसिके बाद नक्सलियों को सबक सिखाने के लिए मौका तलाश रहे CRPF के जवानों ने ऑपरेशन शुरू किया. शुक्रवार सुबह से जारी ऑपरेशन देर रात तक जारी रहा. मुठभेड़ में शिकस्त सामने देख नक्सली छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में प्रवेश किए. लेकिन यहां भी जवानों के हाथों मुंह की खानी पड़ी.

ओडिशा का नुआपाड़ा वही इलाका था, जहां 21 जून को नक्सलियों के हमले से सीआरपीएफ के 3 जवान शहीद हो गए थे. घटना के बाद से ओडिशा में तैनात सीआरपीएफ के जवान मौके की तलाश में थे. कैंप के पास नक्सलियों की जमावड़े की सूचना पर शुक्रवार सुबह से ऑपरेशन शुरू किया जो देर रात तक जारी रहा.

जवानों की ओर से 280 राउंड फायर व मोर्टार दागे गए. 60 से 80 की संख्या में मौजूद हथियारबंद नक्सलियों ने भी फायर किया. लेकिन कमजोर पड़ते देख छत्तीसगढ़ की ओर भाग निकले. भागते हुए नक्सली गरियाबन्द सीमा में प्रवेश किया तो यहां मौजूद जवानों ने इलाके की घेराबंदी शुरू कर दी. सीआरपीएफ डीआईजी रायपुर रेंज संजय कुमार सिंग मौके पर मौजूद रहकर जवानों की हौसला अफजाई कर रहे हैं.

गरियाबंद ओड़िशा बॉर्डर पर नक्सली मुढभेड़

गरियाबंद ओड़िशा बॉर्डर पर नक्सली मुढभेड़

 गरियाबंद। पाटदहरा कैंप से लगे इलाके में नक्सलियों के हमले के बाद से सीआरपीएफ एक्शन मोड में है. कुल्हाड़ीघाट से लगे मटाल व डड़इपानी के जंगलों में नक्सलियों को घेर लिया है. दोनों ओर से जारी गोलीबारी के बीच सीआरपीएफ नक्सलियों को शिकस्त देने में जुटी है.

बोडेन, ओड़िशा से सर्चिंग के लिए निकले सीआरपीएफ के जवानों की ओडिशा के नुवापड़ा जिला से लगी सीमा पर मटाल व डड़इपानी के जंगलों में नक्सलियों से भिड़ंत हो गई. घटना की पुष्टि करते हुए एसएसपी चंद्रेश ठाकुर ने कहा कि मुठभेड़ जारी है. स्थिति को देखते हुए गरियाबन्द सीआरपीएफ को भी अलर्ट कर दिया गया है. बल की एक टुकड़ी कुल्हाड़ीघाट कैम्प से सीमा की ओर भी निकल गई है.

बता दे कि बीते 21 जून को मैनपुर डिवीजन कमेटी माओवादी संग़ठन ने पाटदहरा कैंप से लगे इलाके में सीआरपीएफ पर हमला कर दिया था. इस हमले में 3 जवान शहीद हो गए थे. नक्सलियों के इस कायराना करतूत के बाद नुवापड़ा जिले में पुलिस व सीआरपीएफ एक्शन में है. लगातार सर्चिग जारी है. ओडिशा की ओर से पड़ रहे दबाव के बाद नक्सलियों की कुछ टुकड़ी छतीसगढ़ सीमा की ओर मूव कर चुकी है.

साड़ी का फंदा बना पति ने लगाई फांसी...

साड़ी का फंदा बना पति ने लगाई फांसी...

गरियाबंद : जिले के देवभोग थाना के मगररोडा गांव में 25 वर्षीय युवक ने अपनी पत्नी की साड़ी का फंदा बनाकर आत्महत्या कर ली। मृतक हेमलाल यादव के परिजनों ने घटना की सूचना देवभोग पुलिस को दी।

देवभोग थाना प्रभारी बोधन साहू के अनुसार युवक मानसिक तौर पर परेशान था. पुलिस घटना की जांच कर रही है। 

सड़क हादसा : मालवाहक और  बाइक दोनों आपस में टकराई , 2 की मौत, 2 घायल…

सड़क हादसा : मालवाहक और बाइक दोनों आपस में टकराई , 2 की मौत, 2 घायल…

गरियाबंद : नेशनल हाइवे में पांडुका थाने के सामने मालवाहक (टाटा मैजिक) और बाइक के बीच जोरदार टक्कर हो गई। इस हादसे में दो सवारों की मौत हो गई। वहीं इस घटना में एक युवती और मालवाहक चालक बुरी तरह से घायल हो गये .जिन्हें इलग हेतु अस्पताल भेज दिया गया है।

थाना प्रभारी भूषण चन्द्राकर ने बताया कि नेशनल हाइवे में पांडुका मोड़ के पास टाटा मैजिक और बाइक में भिड़ंत हो गई। बाइक में दो युवक व एक युवती सवार थे। गलत दिशा से चला रहा बाइक चालक सामने से आ रहे टाटा मैजिक से जा टकराया। दुर्घटना में बाइक में आग लग गई, जिससे चालक व पीछे सवार युवक बुरी तरह से झुलस गए। वहीं युवती दूर फिंक गई। सभी को उपचार के लिए जिला अस्पताल भेजा गया, जहां डॉक्टर से दोनों युवकों के मौत होने की पुष्टि की। वहीं घायल युवती और मालवाहक चालक का इलाज किया जा रहा है। मृतकों में राजिम निवासी देवनारायण यादव व मदनपुर निवासी करन ध्रुव शामिल हैं, वहीं मदनपुर निवासी सोहद्रा ठाकुर घायल है।
 

सीमा पर हुए नक्सली मुठभेड़ में 3 जवान शहीद

सीमा पर हुए नक्सली मुठभेड़ में 3 जवान शहीद

गरियाबंद : छत्तीगढ़ और ओडिशा की सीमा पर सुरक्षाबलों पर नक्सलियों ने अचनाक हामला कर दिया . जिससे इस मुठभेड़ में सीआरपीएफ के 3 जवान शहीद हो गए।

जानकारी के मुताबिक छत्तीसगढ़ के गरियाबंद इलाके से लगे ओडिशा के नुवापाड़ा जिले में सीआरपीएफ की रोड ओपनिंग पार्टी ड्यूटी पर निकली थी, उसी दौरान हमला हो गया। बताया जा रहा है कि मौके पर 100 से अधिक नक्सली मौजूद थे। जवानों ने भी जबरदस्त फायरिंग कर मुहतोड़ जवाब दिया। फिलहाल सर्च अभियान तेज कर दिया गया है।

बता दे कि शहीद हुएजवान में एएसआई-शिशुपाल सिंह, ASI-शिवलाल और कॉन्स्टेबल धर्मेंद्र कुमार सिंह शहीद हो गए। शिशुपाल सिंह यूपी के अलीगढ़ के रहने वाले थे, वहीं शिवलाल महेंद्रगढ़ और धर्मेंद्र सिंह रोहतास के रहने वाले थे।

भालू ने युवक पर किया हमला, हुई मौत

भालू ने युवक पर किया हमला, हुई मौत

मैनपुर : उदंती सीतानदी टाइगर रिजर्व के दक्षिण उदंती अभ्यारण्य में भालू के हमले से एक युवक की मौत हो गई है। युवक अपने मवेशियो को ढूंढने के लिए जंगल गया था, जहां भालू ने उस पर हमला कर दिया।

मिली जानकारी के अनुसार बुधवार को युवक का शव उदंती अभ्यारण्य के सरदीनाला जंगल के पास मिला। इसकी जानकारी लगते ही पूरे क्षेत्र में दहशत का माहौल देखने को मिल रहा है औरमामले की शिकायत जुंगाड़ थाना मे किया गया है। जुंगाड़ थाना द्वारा शव का पंचनामा कर मामले में मर्ग कायम करते हुए पोस्टमार्डम के लिए मैनपुर भेजा गया है। वही दूसरी वन विभाग के वन परिक्षेत्र अधिकारी उदंती डोमार साहू ने तत्काल पहुंचकर मृतक के परिजनो को 25 हजार रूपये प्रदान किया है।
 

ट्रैक्टर पलटने से 2 की मौत, 2 घायल…

ट्रैक्टर पलटने से 2 की मौत, 2 घायल…

गरियाबंद : पीपरछेड़ी थानाक्षेत्र के केरगांव में एक दर्दनाक हादसा हो गया। ट्रैक्टर पलटने से 2 लोगों की मौत हो गई, जबकि 2 गंभीर रूप से घायल है जिन्हें ईलाज के लिए रायपुर रिफर किया गया है। मिली जानकारी के अनुसार हादसे में ट्रैक्टर पलटने से अश्ववनी नेताम (28) और धीरज टेकाम (13) की मौत हो गयी है। जबकि दो गंभीर रूप से घायल है। दोनों को जिला अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद रायपुर रिफर कर दिया गया है।

हादसा उस समय हुआ जब ये सभी लोग खेत की जोताई कर ट्रैक्टर पर सवार होकर वापिस लौट रहे थे। इसी बीच ट्रैक्टर अनियंत्रित होकर पलट गया और ट्रैक्टर समेत सभी उसके नीचे दब गए। कड़ी मशक्कत के बाद उन्हें बाहर निकाला गया। फिलहाल कोतवाली थाना में मर्ग कायम कर जांच में लिया गया है
 

सडक हादसा : तेज रफ्तार पिकअप ने बाइक को मारी टक्कर, हादसे में 4 गम्भीर...

सडक हादसा : तेज रफ्तार पिकअप ने बाइक को मारी टक्कर, हादसे में 4 गम्भीर...

गरियाबंद : छत्तीसगढ़ के गरियाबंद में सड़क सुरक्षा कार्यक्रम के लिए जागरूकता रैली में शामिल 4 बाइक को पिकअप ने टक्कर मार दी. बाइक में सवार 6 लोग घायल हुए हैं. इस हादसे में 4 लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए हैं. घायलों को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है। दरअसल, विगत 3 दिनों से जिले में ब्रम्हकुमारिज संस्था ने रोड़ सेफ्टी के लिए रैली निकाल कर जागरूकता अभियान चला रहे हैं. आज रैली मैनपुर से होकर देवभोग आ रही थी

इसी बीच विपरीत दिशा से जा रहे पिकअप ने रैली के 4 बाइक को टक्कर मार दिया. 6 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं, जिनमें से 4 की हालत गम्भीर बताई जा रही है. घटना के बाद घायलों को देवभोग अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां से जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है.
मामले में एसडीओपी अनुज गुप्ता ने बताया कि घायलों को 108 भेजकर तत्काल उपचार के लिए भर्ती कराया गया है. घटना के बाद इंदागांव पुलिस ने चालक को हिरासत में ले लिया है. घटना की जांच की जा रही है।
 

दो मोटरसाइकिल में भिड़ंत, 4 लोग घायल....

दो मोटरसाइकिल में भिड़ंत, 4 लोग घायल....

गरियाबंद : जिला मुख्यालय से दो किलोमीटर दूर ग्राम कोकड़ी के समीप दो मोटरसाइकिल के आपस मे भिडंत होने से दो युवकों के साथ एक महिला को चोट लगी जिन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कर उपचार किया जा रहा है ।घटना के विषय में मिली जानकारी के अनुसार बागबाहरा ढोकरपाली निवासी दो युवक मोटरसाइकिल से गरियाबंद के समीप ग्राम नांगाबुडा में बारात आए थे ,और शाम छै बजे वापस अपने गाँव ढोकरपाली जा रहे थे ,उसी दौरान ग्राम कोकड़ी के समीप नवागढ़ निवासी राजेश जगत अपनी पत्नी के साथ खऱीहरी ग्राम में पारिवारिक कार्य से गए थे वे वापस नवागढ़ जा रहे थे, तभी दोनो मोटरसाइकिल के बीच भिड़ंत हो गई । घायलों को संजीवनी 108 के माध्यम से गरियाबंद जिला अस्पताल लेकर आए जहा डॉक्टरों ने बताया कि ढोकरपाली निवासी बसन्त दीवान का दायां पैर टूटा गया है वही साथ बैठे हरीश दीवान को मामूली चोट लगी है।

वही नवागढ़ निवासी राकेश जगत के दाया पैर का तला बुरी तरह से छिल गया और उसके साथ बैठी महिला के चेहरे में चोट लगी थी जिसमे टाका लगाया गया। घटना के बारे में ढोकरपाली निवासी हरीश दीवान ने बताया कि उसकी मोटरसाइकिल चला रहा युवक बसन्त दीवान नशे की हालत था ।घटना की जानकारी मिलते ही सिटीकोतवाली पुलिस जिला अस्पताल पहुचकर घायलों का उपचार कराते हुए घटना की जांच पड़ताल में जुटी हुई है।

 

उज्ज्वला गैस उपभोक्ताओं को घर पहुंच सेवा उपलब्ध कराई जाएं : सांसद साहू

उज्ज्वला गैस उपभोक्ताओं को घर पहुंच सेवा उपलब्ध कराई जाएं : सांसद साहू

गरियाबंद : केन्द्र सरकार की विभिन्न योजनाओं की जिले में क्रियान्वयन की समीक्षा के लिए आज महासमुंद लोकसभा क्षेत्र के सांसद चुन्नीलाल साहू की अध्यक्षता में जिला विकास समन्वय व मूल्यांकन समिति (दिशा) की बैठक कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में हुई। सांसद साहू ने केन्द्र प्रवर्तित योजनाओं का क्रियान्वयन समय-सीमा और लक्ष्य के अनुरूप करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि उज्ज्वला गैस योजना अंतर्गत गैस उपभोक्ताओं को घर पहुंच सेवा उपलब्ध कराई जाएं। जल-जीवन मिशन अंतर्गत जल के लिए घरों में कनेक्शन देने ठेकेदार की ओर से नये पाइप उपयोग में लायी जाए, यह सुनिश्चित किया जाएं। उन्होंने इंदागांव विद्युत सबस्टेशन को भी आगामी दो माह के भीतर पूर्ण करने के निर्देश देते हुए कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिये।


बैठक में बिन्द्रानवागढ़ क्षेत्र के विधायक डमरूधर पुजारी, नगर पालिका अध्यक्ष गफ्फार मेमन, सभी नगर पंचायत अध्यक्ष, सभी जनपद अध्यक्ष, भागीरथी मांझी, मनोनित सदस्य तथा कलेक्टर नम्रता गांधी, मुख्यकायर्पालन अधिकारी जिला पंचायत रोक्तिमा यादव, उदंती सीतानदी टायगर रिजर्व के उप निदेशक वरूण जैन और विभिन्न विभागों के जिला प्रमुख अधिकारी उपस्थित थे।


समीक्षा के दौरान सांसद साहू ने विभागीय अधिकारियों से विस्तृत चर्चा की व विभागों को पूर्ण जवाबदेही व समयबद्धता से कार्य निष्पादन करने कहा। विभिन्न योजनाओं के तहत जिले में चल रहे विभिन्न योजनाओं की गतिविधियों की और प्रगति के संबंध में जिला पंचायत सीईओ रोक्तिमा यादव ने लोकसभा सांसद चुन्नीलाल साहू को अवगत कराया। समीक्षा के दौरान अवगत कराया गया कि जल जीवन मिशन के तहत जिले में 666 ग्रामों की योजना बनाई गई है। अब तक 23 हजार 91 घरेलु कनेक्शन उपलब्ध कराई जा चुकी है। स्वास्थ्य विभाग में डॉक्टरों की उपलब्धता और प्रसव के लिए विशेषज्ञ चिकित्सक की कमी पर ध्यान आकृष्ट करते हुए आवश्यक पहल करने के निर्देश दिये है। साथ ही निष्चेतक विशेषज्ञ के रूप में स्थानीय चिकित्सक को प्रशिक्षित करने के निर्देश दिये। जिले में अवैध रेत उत्खनन और परिवहन पर रोक लगाने व कड़ी कायर्वाही करने के निर्देश खनिज विभाग को दिये गये।


इस अवसर पर सांसद साहू ने कहा कि जनता की बेहतरी व उन्हें आर्थिक सामाजिक रूप से सशक्त बनाने के लिए अनेक जनकल्याणारी योजनाएं संचालित की जा रही है। इन योजनाओं को पूरी पारदशिर्ता के साथ सफल क्रियान्वयन कराने प्रत्येक विभाग के अधिकारियों का दायित्व है। इसे पूरी निष्ठा के साथ निभाये। बैठक में महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार गारंटी योजना, दीनदयाल अंत्योदय आजीविका मिशन, प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, कौशल विकास, स्वच्छ भारत मिशन, डिजिटल इंडिया, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, मृदा स्वास्थ्य कार्ड समेत विभिन्न योजनाओं का समीक्षा किया गया।
 

+ Load More