COVID-19 :

Confirmed :

Recovered :

Deaths :

Maharashtra / 1282963 Andhra Pradesh / 654385 Tamil Nadu / 563691 Karnataka / 548557 Uttar Pradesh / 374277 Delhi / 260623 West Bengal / 237869 Odisha / 196888 Telangana / 179246 Bihar / 174266 Assam / 165582 Kerala / 154458 Gujarat / 128949 Rajasthan / 122720 Haryana / 118554 Madhya Pradesh / 115361 Punjab / 105220 Chhattisgarh / 93351 Jharkhand / 76438 Jammu and Kashmir / 68614 Uttarakhand / 44404 Goa / 30552 Puducherry / 24895 Tripura / 23786 Himachal Pradesh / 13386 Chandigarh / 10968 Manipur / 9537 Arunachal Pradesh / 8416 Nagaland / 5730 Meghalaya / 4961 Ladakh / 3969 Andaman and Nicobar Islands / 3712 Dadra and Nagar Haveli and Daman and Diu / 2978 Sikkim / 2612 Mizoram / 1759 State Unassigned / 0 Lakshadweep / 0

   BIG BREAKING : प्रदेश में आज 2272 नए कोरोना संक्रमितों की हुई पहचान, 10 कोरोना मरीजों की हुई मौत    |    सोशल मिडिया में वायरल हो रहे निजी अस्पताल में निशुल्क कोरोना इलाज वाले समाचार की क्या है सच्चाई, पढ़े ये खबर    |    कोतवाली थाना क्षेत्र के काली बाड़ी में शराब एवं सट्टा का कारोबार करने वाले 05 आरोपी गिरफ्तार, पढ़ें पूरी खबर    |    BIG BREAKING : राजधानी रायपुर में कार से IPL क्रिकेट में सट्टा खिलवा रहे 7 सटोरी हुए गिरफ्तार, आरोपियों से 10 करोड़ का सट्टा पट्टी जब्त    |    आईपीएल 2020: बैंगलोर के खिलाफ पंजाब कर सकता है बड़ा बदलाव, शामिल होगा विस्फोटक बल्लेबाज    |    किसानों को मजदूर बनाने की साजिश: सीएम भूपेश बघेल    |    Rafale पर CAG की रिपोर्ट, कांग्रेस बोली- अब समझ में आई डील की क्रोनोलॉजी    |    बड़ी खबर: ड्रग्स केस में एनसीबी की रडार पर 50 फिल्मी कलाकार, कई ए-लिस्टर्स एक्टर्स भी शामिल    |    शर्लिन चोपड़ा का बड़ा दावा- बड़े क्रिकेटर्स की बीवियां लेती हैं ड्रग्स    |    कोरोना अपडेट : कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा पहुंचा 57 लाख के पार, पिछले 24 घंटे में 1,129 लोगो की हुई मौत    |
Previous123456789Next
दुष्कर्मियों को नपुंसक बनाये जाने के कानून को मिली मंजूरी

दुष्कर्मियों को नपुंसक बनाये जाने के कानून को मिली मंजूरी

लागोस। नाइजीरिया के कदूना राज्य के गवर्नर ने एक कानून पर दस्तखत किए हैं, जिसके तहत दुष्कर्म के दोषी करार दिए गए व्यक्ति को सर्जरी कर नपुसंक बना दिया जाएगा और 14 साल से कम उम्र की लड़की के साथ दुष्कर्म करने वाले को मृत्युदंड दिया जाएगा।
गर्वनर नासिर अहमद अल रूफाई ने कहा कि दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई से बच्चों को जघन्य अपराध से बचाने में मदद मिलेगी। कोरोनावायरस महामारी के दौरान नाइजीरिया में दुष्कर्म के मामलों में बढ़ोतरी हुई है। महिला संगठनों ने दुष्कर्मियों के खिलाफ मृत्युदंड समेत कठोर कार्रवाई का अनुरोध किया था।

अफ्रीका की सबसे घनी आबादी वाले देश नाइजीरिया में दुष्कर्म के अपराध को रोकने के लिए कदूना राज्य में सबसे कठोर कानून बनाया गया है।
राज्य में हाल में संशोधित दंड संहिता में कहा गया है कि 14 साल से अधिक उम्र की लड़कियों, महिलाओं से दुष्कर्म करने वालों को आजीवन कारावास की सजा दी जाएगी।

पूर्व के कानून में वयस्कों से दुष्कर्म करने पर 21 साल जेल की सजा और बच्चियों से दुष्कर्म के लिए आजीवन कारावास की सजा का प्रावधान था।

 

जब  हैंडपंप से निकलने लगी शराब, लोग देखकर हो गये हैरान

जब हैंडपंप से निकलने लगी शराब, लोग देखकर हो गये हैरान

झांसी, हैंडपंप से पानी की जगह शराब निकलने लगी यह चौंकाने वाली घटना हुई झांसी के मऊरानीपुर और तोड़ी फतेहपुर थाना क्षेत्र की है। यहां आबकारी विभाग और उत्तर प्रदेश पुलिस की संयुक्त टीम कार्रवाई के लिए आई थी। जब उन्होंने पास में लगे एक हैंडपंप को चलाया तो उसमें से पानी नहीं, बल्कि शराब की धारा निकल पड़ी। झांसी जिले के बाहरी इलाके में पुलिस और आबकारी अधिकारियों ने छापेमारी कर भारी मात्रा में नकली शराब और कच्चा माल बरामद किया है।
इस छापेमारी में पुलिस ने ड्रोन कैमरों और जेसीबी मशीनों की मदद ली। इसी बीच अधिकारी तब दंग रह गए जब उन्होंने एक ऐसा हैंडपंप देखा, जिसमें से पानी की जगह शराब निकल रही थी। दरअसल, वो हैंडपंप जमीन के अंदर बने शराब के बैरलों से जुड़ा हुआ था। उधर, झांसी पुलिस ने ड्रोन कैमरे के माध्यम से शराब तस्करों के उन अड्डों तक पहुंची। जो घने जंगलों में बनाए जाते थे। इन अड्डों पर भी पुलिस को बड़े पैमाने पर अवैध शराब बरामद करने में सफलता मिली।
वहीं, जिला मजिस्ट्रेट झांसी ने कहा कि प्रशासन ने पिछले दो दिनों में 1,245 लीटर अवैध देशी शराब और 14 हजार किलोग्राम कच्चा माल बरामद किया है। उन्होंने कहा कि, ’हम किसी भी परिस्थिति में अवैध और नकली शराब का निर्माण या बिक्री नहीं होने देंगे। इसकी खपत से स्वास्थ्य को गंभीर खतरा है और सरकारी खजाने को भी नुकसान होता है।
 

महाराष्ट्र के राज्यपाल से मिलीं कंगना, मुलाकात के बाद कहा- उम्मीद है न्याय मिलेगा

महाराष्ट्र के राज्यपाल से मिलीं कंगना, मुलाकात के बाद कहा- उम्मीद है न्याय मिलेगा

मुंबई, पिछले दिन हुए विवादों के बीच अभिनेत्री कंगना रनौत ने आज महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की. कंगना ने मुलाकात के बाद अपने ऑफिस में बीएमसी की तोड़फोड़ की कार्रवाई को लेकर राज्यपाल के सामने अपना पक्ष रखा है.


राज्यपाल से मुलाकात के बाद कंगना ने कहा, ''मेरे साथ जो भी अन्याय हुई उसे लेकर बात की. वो हमारी अभिवावक हैं यहां पर. मुझे न्याय मिलेगा, ऐसी उम्मीद है. मैं कोई राजनेता तो हूं नहीं. मुझे हमेशा से इस शहर ने बहुत कुछ दिया है लेकिन अचानक ऐसा बर्ताव हुआ. मुझे राज्यपाल महोदय ने बेटी की तरह सुना है. मुझे उम्मीद है कि न्याय मिलेगा. हमारे देश के जो लोग हैं खासकर जो बच्चियां उनका सिस्टम में भरोसा बना रहे.''
 

राजस्थान में फिर खींचतान, सचिन पायलट ने CM गहलोत को याद दिलाया वादा

राजस्थान में फिर खींचतान, सचिन पायलट ने CM गहलोत को याद दिलाया वादा

जयपुर। राजस्थान की कांग्रेस सरकार में एक बार फिर खींचतान शुरू होती नजर आ रही है। पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने राज्य की सरकारी नौकरियों में अति पिछड़ा वर्ग (एमबीसी) को 5 प्रतिशत आरक्षण देने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) को पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने कहा है कि चुनावी घोषणा के बावजूद यह आरक्षण अभी तक लागू नहीं किया गया है।
पायलट ने अपने पत्र में लिखा है कि मेरे संज्ञान में लाया गया है कि राज्य सरकार द्वारा निकाली गई भर्तियों में एमबीसी समाज को 5 प्रतिशत आरक्षण नहीं दिया जा रहा है।
पूर्व उपमुख्यमंत्री का यह पत्र शनिवार को मीडिया में जारी हुआ। उन्होंने लिखा है कि पुलिस कांस्टेबल भर्ती 2018 और रीट भर्ती 2018 में भी पांच प्रतिशत आरक्षण नहीं दिया गया।
पायलट ने कहा है कि राज्य के विभिन्न क्षेत्रों से आए प्रतिनिधिमंडलों ने उनसे मिलकर और प्रतिवेदनों के जरिए इस मुद्दे को उठाया है। इसके अलावा पायलट ने देवनारायण बोर्ड व देवनारायण योजना के तहत आने वाले विकास कार्यों के ठप होने का भी जिक्र किया है। उनके अनुसार लोग इन दोनों योजनाओं को उचित बजट आवंटन के साथ कार्यान्वित करने की मांग कर रहे हैं।

पत्र में लिखा गया है कि मौजूदा वक्तं में कांग्रेस सरकार में फरवरी 2019 में सरकार एवं एसबीसीके प्रतिनिधियों के बीच हुए समझौते के अनुसार एसबीसी के लिए 4 प्रतिशत पद और प्रक्रियाधीन भर्तियों के चार फीसद अतिरिक्त पद स्वीकृत करने तथा वर्तमान में चल रही भर्तियों में चार फीसद अतिरिक्त पद विभागवार छायापद स्वीकृत करने के आदेश के बाद भी कुछ भर्तियों को छोड़कर शेष भर्तियों में पूरा 5 फीसद आरक्षण नहीं दिया जा रहा है।
 

सोशल मीडिया पर #उद्धव_इस्तीफा दो हैशटैग हुआ ट्रेंड, क्या है कारण...

सोशल मीडिया पर #उद्धव_इस्तीफा दो हैशटैग हुआ ट्रेंड, क्या है कारण...

नई दिल्ली, देश में इन दिनों कंगना रनौत और महराष्ट्र के मख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की जुबानी जंग चल रही है। यह जुबानी जंग इतनी बढ़ गई कि हाल में कंगना ने उद्धव का वंशवाद का नमूना तक कह डाला। वहीं दूसरी तरफ शिवसेना के कार्यकर्ता अपने नेता के अपमान से बौखला गई है। जिसके बाद पार्टी ने लोगों ने आज एक नौसेना के एक पूर्व कर्मचारी के साथ इसलिए हिंसा की क्योंकि उन्होंने उद्धव का एक कार्टून शेयर किया था।

लोग चला रहे हैं हैशटैग
इसके बाद से पूरे देश में इस समय महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना के खिलाफ काफी गुस्सा नजर आ रहा है। लोग सोशल मीडिया पर उद्धव सरकार के बारे में भला बुरा लिखकर #उद्धव_इस्तीफा_दो हैशटैग ट्रेंड कर रहा है। लोग इस हैशटैग के साथ उद्धव को भला-बुरा लिखकर उनके इस्तीफे की मांग कर रहे हैं।

मांग रहे हैं इस्तीफा
लोग उद्धव ठाकरे को ट्रोल करके उनकी सरकार पर सुशांत के दोषियों को बचाने और कंगना रनौत को परेशान करने का आरोप लगा रहे हैं। लोग कह रहे हैं कि कंगना सुशांत के लिए लड़ रही हैं। इसलिए उद्धव ठाकरे कंगना के पीछे पड़ गए हैं। बता दें पिछले कुछ दिनों से कंगना और शिवसेना एक दूसरे के लिए जंग लड़ रही है।
 

सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश का निधन, लम्बे समय से थे बीमार

सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश का निधन, लम्बे समय से थे बीमार

दिल्ली, सामाजिक कार्यकर्ता और आर्य समाज की प्रतिष्ठित हस्ती स्वामी अग्निवेश का निधन हो गया है। उन्होंने दिल्ली के एक अस्पताल में शुक्रवार शाम को अंतिम सांस ली। स्वामी अग्निवेश को सोमवार को नई दिल्ली के इंस्टिट्यूट ऑफ लिवर एंड बायिलरी साइंसेज में भर्ती कराया गया था। ILBS ने स्वामी अग्निवेश के निधन की पुष्टि करते हुए कहा, `स्वामी अग्निवेश को शुक्रवार शाम 6 बजे कार्डियक अरेस्ट हुआ। उन्हें बचाने की भरपूर कोशिश की गई, लेकिन ऐसा संभव नहीं हो सका। उन्होंने शाम 6.30 बजे अंतिम सांस ली।


मल्टि ऑर्गन फेल्योर के कारण गंभीर हुई थी हालत

लिवर सिरोसिस से पीड़ित अग्निवेश को कई प्रमुख अंगों ने काम करना बंद कर दिया तो मंगलवार से उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था। अस्पताल के सीनियर डॉक्टरों की एक टीम उनकी हालत पर पैनी नजर रख रही थी, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका।


हरियाणा के शिक्षा मंत्री रह चुके थे स्वामी अग्निवेश
21 सितंबर, 1939 को जन्मे स्वामी अग्निवेश सामाजिक मुद्दों पर अपनी बेबाक टिप्पणियों के लिए जाने जाते थे। 1970 में आर्य सभा नाम की राजनीतिक पार्टी बनाई थी। 1977 में वह हरियाणा विधानसभा में विधायक चुने गए और हरियाणा सरकार में शिक्षा मंत्री भी रहे। 1981 में उन्होंने बंधुआ मुक्ति मोर्चा नाम के संगठन की स्थापना की।
 

स्पा सेंटरों में पुलिस का छापा, मसाज के नाम पर चल रहा था जिस्मफरोशी का धंधा

स्पा सेंटरों में पुलिस का छापा, मसाज के नाम पर चल रहा था जिस्मफरोशी का धंधा

रुद्रपुर के नैनीताल रोड पर स्थित मेट्रो पोलिस मॉल में संचालित हो रहे चार स्पा सेंटरों में पंतनगर थाना पुलिस ने महिला पुलिस के साथ छापेमारी की कार्रवाई की. स्पा सेंटरों में छापेमारी की कार्रवाई के दौरान स्पा सेंटर संचालकों में हड़कंप मच गया. आनन-फानन में कई स्पा सेंट्रल संचालकों ने सेंटर में काम करने वाली युवतियों को मौके से हटा दिया. पुलिस टीम ने द गोल्डन स्पा, सेवेन स्काई स्पा, मैलोडी, हल्क स्टीम स्पा में छापेमारी की कार्रवाई की.


स्पा सेंटर संचालकों का हुआ चालान
पुलिस जांच में पता चला है कि स्पा सेंटर बिना किसी परमिशन के मॉल में संचालित हो रहे थे. जिसके बाद पुलिस ने सभी स्पा सेंटर संचालकों का चालान किया है. साथ ही पुलिस को ये भी पता चला है कि मॉल में बड़ी संख्या में दिल्ली और फरीदाबाद की युवतियां काम कर रही हैं. स्पा सेंटरों में काम करने वाली लड़कियों का किसी भी प्रकार का कोई पुलिस वेरिफिकेशन भी संचालकों की तरफ से नहीं कराया गया था.


चार स्पा सेंटरों में की गई छापेमारी
पंतनगर थानाध्यक्ष मदन मोहन जोशी ने बताया कि पुलिस को लगातार सूचना मिल रही थी कि रुद्रपुर और उसके आसपास संचालित हो रहे स्पा सेंटरों में मसाज के नाम पर जिस्मफरोशी का धंधा जोरों पर चल रहा है. जिसके बाद पुलिस फोर्स सहित महिला पुलिस की टीम बनाकर एक साथ चार स्पा सेंटरों में छापेमारी की कार्रवाई की गई. फिलहाल पुलिस की कार्रवाई से मॉल प्रबंधन और स्पा संचालकों में हड़कंप मचा हुआ है. 

बर्थडे पार्टी में घर बुलाकर दोस्त ने साथियों संग किया सामूहिक दुष्कर्म, जाने कहा की है घटना

बर्थडे पार्टी में घर बुलाकर दोस्त ने साथियों संग किया सामूहिक दुष्कर्म, जाने कहा की है घटना

संगम नगरी प्रयागराज में बर्थडे के बहाने एक युवती को घर बुलाकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किए जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. आरोप है कि ब्यूटीशियन का काम करने वाली 22 साल की युवती को उसके एक दोस्त ने अपनी बर्थडे पार्टी में शामिल होने का न्यौता दिया. घर आने पर उसे धोखे से शराब पिलाई गई. युवती जब शराब के नशे में धुत होकर अपनी सुध बुध खो बैठी तो दोस्त और उसके साथ मौजूद तीन अन्य लोगों ने उसके साथ हैवानियत की वारदात को अंजाम दिया. इस दौरान विरोध करने पर युवती के साथ मारपीट भी की गई.


नहीं हुई गिरफ्तारी
ये घटना शहर के धूमनगंज थाना क्षेत्र के सुलेम सरांय इलाके की है. पीड़ित युवती की शिकायत पर पुलिस ने मामले में ब्यूटीशियन को बर्थडे पार्टी में बुलाने वाले उसके दोस्त समेत दो नामजद और दो अज्ञात के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर मामले की पड़ताल शुरू कर दी है. अभी किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया जा सका है.


धोखे से पिलाई शराब
अफसरों के मुताबिक युवती अपनी मर्जी से दोस्त के पास गई थी. दोस्त से उसके पुराने और गहरे संबंध हैं, लेकिन दोस्त ने ही दगाबाजी कर उसे धोखे से शराब पिलाई और उसके बाद चार लोगों ने उसकी इज्जत तार-तार की. अफसरों का दावा है कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दो टीमें गठित की गई हैं.

 

शादी का झांसा देकर 3 दोस्तों ने किया गैंगरेप, सभी फरार

शादी का झांसा देकर 3 दोस्तों ने किया गैंगरेप, सभी फरार

राजस्थान के जालौर जिले में एक नाबालिग का अपहरण कर उसके साथ गैंगरेप करने का मामला सामने आया है. पुलिस ने पॉक्सो एक्ट में गैंगरेप का मामला दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है. दरअसल, जिले के भीनमाल शहर की एक नाबालिग पीड़िता ने पुलिस थाने में अपहरण कर गैंगरेप करने का मामला दर्ज कराया है.
पुलिस के मुताबिक, भीनमाल शहर निवासी एक नाबालिग पीड़िता के परिजनों ने रिपोर्ट पेश कर बताया कि अपने मामा के घर से पैदल जा रही थी. इस दौरान 4 लोगों ने नाबालिग को कार में डालकर ब्लैकमेल कर फोटो वायरल करने की धमकी देकर शादी करने की नीयत से अपहरण कर लिया.
आरोपी मनीष ने अपने मोबाइल से फोटो दिखाकर फोटो वायरल करने एवं साथ चलने के लिए धमकियां दीं. इसके बाद पीड़िता उसके साथ मोटरसाइकिल पर पाली पहुंची जहां उसे आरोपी की मौसी के घर बंधक बनाकर रखा था. वहां नाबालिग के साथ छेड़छाड़ की गई.
 

'रसोड़े में कौन था' के अंदाज में स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर कसा तंज, देखें वीडियो

'रसोड़े में कौन था' के अंदाज में स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर कसा तंज, देखें वीडियो

नई दिल्ली, सोशल मीडिया पर पिछले कुछ दिनों से 'रसोड़े में कौन था' का ट्रेंड बरकरार है, जिसे लोग अपने अलग-अलग अंदाज में वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे हैं. अब केंद्रीय महिला और बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने भी 'रसोड़े में कौन था' को लेकर एक वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया है. रविवार को केंद्रीय मंत्री ने इस मजेदार वायरल रैप के एक अलग वर्जन को पोस्ट किया, जिसे कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी पर तंज कसने के रूप में बनाया गया है.


स्मृति ईरानी ने इस वीडियो को अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम अकाउंट पर शेयर किया. वीडियो में, स्मृति ईरानी साल 2010 के लोकप्रिय धारावाहिक 'साथ निभाना साथिया' में कोकिलाबेन के मशहूर संवाद 'रसोड़े में कौन था' की लिपसिंक करते हुए दिखाई दे रही हैं. ठीक इसी तरह से बाकी के किरदारों में राहुल गांधी और कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के विज़ुअल को शामिल किया गया है.
वीडियो के अंत में बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा 'राहुल ही राशि है' कहते दिख रहे हैं. ऐसा उन्होंने एक टेलीविजन न्यूज चैनल में अपने दिए इंटरव्यू में कहा था. उसी एक क्लिप को वीडियो में जोड़कर पेश किया गया है. अपने इस पोस्ट को कैप्शन देते हुए स्मृति ने लिखा, "बस अब यही बचा था."


स्मृति ईरानी द्वारा शेयर किए गए इस वीडियो को अब तक 7 लाख से अधिक लोग देख चुके हैं. कमेंट कर लोग अलग-अलग प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं. स्मृति ईरानी द्वारा शेयर किया गया ये वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है.

 

इस प्रदेश के एयर पोर्ट में साबुन के अन्दर से निकला 38 लाख का सोना, पढ़ें पूरी खबर

इस प्रदेश के एयर पोर्ट में साबुन के अन्दर से निकला 38 लाख का सोना, पढ़ें पूरी खबर

नई दिल्लीतमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली एयरपोर्ट पर अधिकारियों ने सोने के तस्करी करने वालों के पास से 38 लाख का सोना बरामद हुआ है वो भी साबुन के अंदर से तस्करों ने साबुन के अंदर इस तरह सोना को छिपाया था, जो पता नहीं लग पा रहा था। साबुन पैकेट में सील था और उसके अंदर सोना था।

पढ़ें : सीएम भूपेश बघेल आज प्रदेश में कोरोना संक्रमण की करेंगे समीक्षा, बैठक में हो सकती है लॉकडाउन पर चर्चा

ट्विटर यूजर ने इस घटना का वीडियो शेयर किया है। उन्होंने कैप्शन में लिखा, ’’38 लाख का साबुन तिरुचिरापल्ली एयरपोर्ट पर जब्त किया गया।’’ सोशल मीडिया पर यह वीडियो चर्चा का विषय बन गया है।

पढ़ें : रायपुर का हलवाई लाइन 14 दिनों के लिए हुआ सील, कलेक्टर ने की कार्यवाही 

साबुन के काटने पर अधिकारियों को सोना मिला है। वीडियो में देखा जा सकता है कि तस्करों ने बहुत ही सफाई के साथ एक मशहूर ब्रांड के साबुन में सोना को फिट किया था। लेकिन एयरपोर्ट पर सुरक्षाकर्मियों को इसकी भनक लग गई और उन्होंने उसको पकड़ लिया। अधिकारियों ने जब साबुन को चेक किया तो उसके अंदर से 38 लाख रुपये का गोल्ड बरामद हुआ।

महाराष्ट्र के गृहमंत्री और संजय राउत के बयान के बाद कंगना रनौत ने डंके की चोट पे कहा, हॉ मैं मराठा हूँ ,उखाड़ो मेरा क्या उखाड़ोगे?

महाराष्ट्र के गृहमंत्री और संजय राउत के बयान के बाद कंगना रनौत ने डंके की चोट पे कहा, हॉ मैं मराठा हूँ ,उखाड़ो मेरा क्या उखाड़ोगे?

मुंबई, महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ शिवसेना और अभिनेत्री कंगना रनौत में तीखी बयानबाजी जारी है. राज्य के गृहमंत्री अनिल देशमुख और शिवसेना नेता संजय राउत के बयान पर रनौत ने पलटवार किया है. उन्होंने कहा ''किसी के बाप का नहीं है महाराष्ट्र, महाराष्ट्र उसी का है जिसने मराठी गौरव को प्रतिष्ठित किया है. और मैं डंके की चोट पे कहती हूँ हॉ मैं मराठा हूँ ,उखाड़ो मेरा क्या उखाड़ोगे?''


इससे पहले महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने मुंबई को पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से जोड़ने और पुलिस की आलोचना से संबंधित अभिनेत्री कंगना रनौत की टिप्पणियों पर कहा कि जिन्हें महाराष्ट्र या मुंबई में असुरक्षित महसूस होता है, उन्हें यह राज्य छोड़ देना चाहिये.


कंगना ने कहा था कि उन्हें उन लोगों से अधिक मुंबई पुलिस से डर लगता है, जिन्हें वे मूवी माफिया कहती हैं. देशमुख ने नागपुर में पत्रकारों से कहा कि ऐसे हालात में एक अभिनेत्री द्वारा इस तरह के बयान दिया जाना हास्यास्पद है. चाहे मुंबई हो या पूरा महाराष्ट्र, सब पुलिस के हाथों में सुरक्षित है.


एनसीपी नेता देशमुख ने कहा कि महाराष्ट्र पुलिस राज्य में उचित कानून- व्यवस्था सुनिश्चित करने में सक्षम है और जिन्हें मुंबई या महाराष्ट्र में असुरक्षित महसूस होता है, उन्हें यहां रहने का कोई अधिकार नहीं है.


कंगना द्वारा मुंबई और यहां की पुलिस को लेकर दिये गए विवादित बयानों पर तीखी प्रतिक्रिया देखने को मिली है. दरअसल शिवसेना नेता संजय राउत ने कथित तौर पर कंगना को कहा था कि अगर उन्हें मुंबई पुलिस से डर लगता है तो उन्हें यहां नहीं आना चाहिये.


कंगना ने राउत के इस बयान से जुड़ी एक खबर को टैग करते हुए ट्वीट किया था, ''मुंबई पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर क्यों लगने लगी है.'' कंगना ने कहा था कि उन्हें 'बॉलीवुड में ड्रग माफिया' का पर्दाफाश करने के लिये हरियाणा या हिमाचल प्रदेश पुलिस की सुरक्षा चाहिये और वह मुंबई पुलिस की सुरक्षा स्वीकार नहीं करेंगी.


संजय राउत आज क्या बोले?


वहीं शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा,''मुंबई मराठी लोगों के बाप की है जिन्हें यह बात मान्य नहीं वह अपना बाप दिखाए. शिवसेना ऐसे महाराष्ट्र के दुश्मनों का श्राद्ध किए बिना रुकेगी नहीं. वादा है जय हिंद जय महाराष्ट्र.''
 

16 हजार लोगों को दर्दनाक मौत देने वाले क्रूर जेलर ही हुई मौत, पढ़ें पूरी खबर

16 हजार लोगों को दर्दनाक मौत देने वाले क्रूर जेलर ही हुई मौत, पढ़ें पूरी खबर

नोमपेन्ह | कंबोडिया के तानाशाह खमेर रूज का जेलर रहा कियांग गुयेक इआव की 77 साल की उम्र में मौत हो गई। उसने अपने जेलर के कार्यकाल में सत्ता के खिलाफ आवाज उठाने वाले 16 हजार कंबोडियाई नागरिकों को जेल में यातना देकर मार डाला था। कियांग को इन कृत्यों के लिए युद्ध अपराधी घोषित किया गया था। वह तानाशाह खमेर रूज के शासन में मुख्य जेलर के पद पर कार्यरत था।

पढ़ें : पति द्वारा चरित्र पर संदेह करने पर पत्नी ने लगाई फांसी, पति के खिलाफ मामला दर्ज

कियांग को डच के नाम से भी जाना जाता था। वह यु्द्ध अपराध एवं मानवता के खिलाफ अपराध के मामले में उम्र कैद की सजा काट रहा था। खमेर रूज के शासन के दौरान हुए अपराधों की सुनवाई करने वाले न्यायाधिकरण के प्रवक्ता नेथ फियकत्रा ने बताया कि कियांग की मौत बुधवार सुबह कंबोडिया के एक अस्पताल में हुई। वर्ष 2013 में न्यायाधिकरण ने उसे कंदाल प्रांतीय जेल में स्थानांतरित किया था। 
 
 
जेल प्रमुख चैत सिनयांग ने बताया कि कियांग को सांस लेने में परेशानी होने पर सोमवार को कंबोडियन सोवियत फ्रेंडशिप अस्पताल में भर्ती कराया गया था। गौरतलब है कि संयुक्त राष्ट्र समर्थित न्यायाधिकरण में वर्ष 2009 में हुई सुनवाई में कियांग खमेर रूज शासन का पहला शीर्ष अधिकारी था जिसको सजा सुनाई गई। 
 
 
 
1970 के दशक में खमेर रूज शासन को सबसे क्रूर शासन माना जाता है जिसमें 17 लाख लोगों की मौत हुई थी जो कंबोडिया की उस समय की कुल आबादी का 25 प्रतिशत था। 
 
डोनाल्ड ट्रंप की सेक्रेटरी ने लगाया बड़ा आरोप, कहा - उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग ने मुझे मारी थी आंख

डोनाल्ड ट्रंप की सेक्रेटरी ने लगाया बड़ा आरोप, कहा - उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग ने मुझे मारी थी आंख

प्योंगयांगअमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पूर्व प्रेस सेक्रेटरी सारा सैंडर्स ने उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन को लेकर बड़ा खुलासा किया है। सारा ने बताया कि सिंगापुर में ट्रंप और किम जोंग उन की मुलाकात के दौरान उत्तर कोरियाई तानाशाह ने उन्हें आंख मारी थी। ट्रंप का यह सिंगापुर दौरा ऐतिहासिक था और उन्होंने पहली बार किम जोंग उन से आमने-सामने की मुलाकात की थी। 

पढ़ें : छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कार्यकर्ता की अर्थी को दिया कंधा, पढ़ें पूरी खबर 

सारा ने अपनी किताब स्पीकिंग फॉर माइसेल्फ में यह दावा किया है। सारा ने लिखा, हमने पहली बार सीधे आंख मिलाई और किम ने भी इशारा किया। इसके बाद ऐसा लगा जैसे उत्तर कोरियाई तानाशाह ने उन्हें आंख मारी। मैं स्तब्ध रह गई और तेजी से नीचे देखने लगी और अपना नोट्स लेती रही। उन्होंने कहा कि मैं बस यही सोचती रही कि क्या हुआ? निश्चित रूप से किम जोंग उन ने केवल मुझे देखा नहीं था। 

पढ़ें : 5 माह बाद हसदेव एक्सप्रेस एक बार फिर लौटी पटरी पर, जाने कब तक होगा इसका संचालन 

यह घटना उस समय हुई जब ट्रंप और किम जोंग उन खेल खासतौर पर महिला स्पोर्ट्स पर चर्चा कर रहे थे। इसके बाद डोनाल्ड ट्रंप ने सारा से मजे लिए थे। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि वह समझते हैं कि उत्तर कोरियाई तानाशाह उन्हें ले जाना चाहते थे। किम जोंग का आप पर दिल आ गया था। उन्होंने ऐसा किया। सारा तुम नार्थ कोरिया जा रही हो। आपके पति और बच्चे आपको मिस करेंगे। आप अमेरिका में हीरो बन जाओगी। 

पढ़ें : पति द्वारा चरित्र पर संदेह करने पर पत्नी ने लगाई फांसी, पति के खिलाफ मामला दर्ज 

इस दौरान ट्रंप और उनके चीफ ऑफ स्टॉफ ने जमकर ठहाके लगाए। ट्रंप के इस मजाक पर सारा ने जवाब दिया, सर प्लीज बंद करिए ये सब। बता दें कि इस दौरे पर डोनाल्ड ट्रंप और किम जोंग उन ने परमाणु हथियार छोडऩे पर बात की थी। इसके बाद दोनों नेता वियतनाम और दक्षिण कोरियाई सीमा पर मिले थे। उत्तर कोरिया ने अपने परमाणु हथियारों को छोडऩे से मना कर दिया जिससे यह वार्ता विफल हो गई। 

 
 सेक्स रैकेट का भंडाफोड़: इस स्पा सेंटर में मास्क पहनकर चलाया जा रहा था सेक्स रैकेट का धंदा

सेक्स रैकेट का भंडाफोड़: इस स्पा सेंटर में मास्क पहनकर चलाया जा रहा था सेक्स रैकेट का धंदा

दिल्ली। प्रदेश में सेक्स सैकेट (देह व्यपार) का धंदा बेधड़क जारी है। आय दिन कई जिलों से पुलिस देह व्यपार के धंदो का भंडाफोड़ कर रही है। इसी कड़ी में खबर है की दिल्ली महिला आयोग ने एक स्पा सेंटर पर छापा मार कर सेक्स रैकेट का भंड़ाफोड किया है।
 
 
महिला आयोग को हेल्पलाइन पर सेक्स रैकेट चलने की शिकायत मिली थी। आयोग का कहना है कि जब टीम पुलिस के साथ स्पा में घुसी तो अंदर कस्टमर आपत्तिजनक स्थिति में पाए गए, मामले में एफआईआर दर्ज कराई गई है। जानकारों के मुताबिक इस दौरान धंधे में लिप्त लोगों ने मास्क पहना हुआ था।
 

पढ़िए पूरी खबर-
मिली जानकारी के अनुसार दिल्ली महिला आयोग ने शिकायत मिलने पर तिलक नगर में एक स्पा में चल रहे सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया।  जानकारी के मुताबिक यहां के कई स्पा कोरोना लॉकडाउन के दौरान भी धड़ल्ले से चल रहे हैं और जिस्मफरोशी का धंधा भी कर रहे हैं। जिस स्पा सेंटर में सेक्स रैकेट चल रहा था उसका नाम ‘अमेजिंग स्पा’ बताया जा रहा है।
 
 
टीम को स्पा से भारी मात्रा में इस्तेमाल किए गए कॉन्डम भी बरामद किए गए। महिला आयोग की चीफ स्वाति मालीवाल ने मीडिया से बातचीत में कहा है कि हम पुलिस और एमसीडी को नोटिस जारी कर रहे हैं कि कैसे उनकी जानकारी के बिना ऐसे खुलेआम ये गतिविधियां चल रही हैं?
 सो रही महिला के मुंह में जा बैठा एक मीटर लंबा सांप, निकालने वाले डॉक्टरों के भी उड़े होश

सो रही महिला के मुंह में जा बैठा एक मीटर लंबा सांप, निकालने वाले डॉक्टरों के भी उड़े होश

मॉस्को। डॉक्टरों के सामने कई बार ऐसी मेडिकल इमर्जेंसी आती हैं जिन्हें देखकर लोग हैरान रह जाएं। हालांकि, रूस के दागिस्तान में डॉक्टरों ने एक महिला का ऐसा च्इलाजज् किया कि वे खुद भी देखते रह गए। दरअसल, यहां के एक अस्पताल का वीडियो सामने आया है जिसमें दिख रहा है कि एक महिला के मुंह से सांप एक मीटर लंबा सांप निकल है जिसे देखकर डॉक्टरों के होश भी उड़े हुए हैं।


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यह महिला अपने घर के आंगन में सो रही थी जब उसके मुंह में एक मीटर लंबा सांप घुस गया। अस्पताल ले जाए जाने पर डॉक्टरों ने उसके मुंह से सांप निकाला और इस पूरे ऑपरेशन का वीडियो बनाया गया। इस दौरान डॉक्टर एक मीटर का सांप मुंह से निकालते हुए देखे गए। वीडियो में देखा जा सकता है कि सांप निकालते हुए डॉक्टर भी हैरान नजर आ रहे हैं और अचानक उसके बाहर आने से वे भी चौंक जाते हैं। यह सांप कितना भारी था इससे समझा जा सकता है कि इसे महिला के मुंह से निकालकर बालटी में रखना पड़ा। इस वीडियो को सोशल मीडिया पर देखने वालों ने भी कहा कि अब उन्हें रात को सोते वक्त यही मंजर नजर आएगा।
एचआईवी संक्रमित होने की बात छुपाकर की शादी, पत्नी भी हुई संक्रमित, जाने कहाँ का है मामला

एचआईवी संक्रमित होने की बात छुपाकर की शादी, पत्नी भी हुई संक्रमित, जाने कहाँ का है मामला

जींद, एक व्यक्ति ने एचआईवी संक्रमित होने की बात कथित तौर पर छुपाकर शादी की और बाद में उसकी पत्नी भी इससे संक्रमित हो गयी. पीड़िता की शिकायत पर महिला थाना पुलिस ने पति समेत चार लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी, दहेज उत्पीड़न समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है.

 अब पूरे शहर में होगी अंडरग्राउंड वायरिंग, स्मार्ट सिटी सलाहकार समिति की बैठक में लिया गया फैसला
महिला की शिकायत के अनुसार, उसकी शादी पिछले साल कैथल निवासी युवक के साथ हुई थी. शादी के बाद से ही ससुराल के लोग उसे दहेज को लेकर प्रताड़ित करने लगे. इसी दौरान उसका स्वास्थ्य खराब हो गया और जांच में पता लगा कि एचआईवी संक्रमित हो गयी है.

BIG BREAKING : राजधानी रायपुर में कल से खुलेंगे बार और क्लब, राज्य शासन ने दी अनुमति, देखें आदेश 
बाद में पता लगा कि उसका पति शादी से पहले ही एचआईवी संक्रमित था. इसके बाद ससुराल के लोगों ने समाज का भय दिखाते हुए चुप रहने के लिए कहा और साथ ही बुरा अंजाम भुगतने की धमकी दी.

आज दिनांक 1 सितम्बर का राशिफल, जाने कैसा रहेगा आज आपका दिन 
पीड़िता की शिकायत पर महिला थाना पुलिस ने उसके पति, ननद, ससुर सहित चार लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी, अमानत में ख्यानत, दहेज उत्पीडऩ समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है. महिला थाना प्रभारी शीला देवी ने बताया कि शिकायत के बाद पति समेत चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है और आगे की जांच की जा रही है.

 

ISIS आतंकी अबू यूसुफ का बड़ा खुलासा- करोल बाग में करना चाहता था बड़ा धमाका

ISIS आतंकी अबू यूसुफ का बड़ा खुलासा- करोल बाग में करना चाहता था बड़ा धमाका

नई दिल्ली, आईएसआईएस आतंकी अबू यूसुफ ने पूछताछ के दौरान बड़ा खुलासा किया है. उसने दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के सामने पूछताछ के दौरान सोमवार को खुलासा किया है. अबू यूसुफ ने कहा है कि वह दिल्ली के करोल बाग में बड़ा बम धमाका करना चाहता था. इसके लिए बकायदा उसने करोल बाग में रेकी की थी. उसने कहा कि उसका मकसद भीड़-भाड़ वाली जगहों पर कुकर बम प्लांट कर धमाका करना था.

दरअसल, बीते 22 अगस्त को राजधानी दिल्ली के धौलाकुआं इलाके में मुठभेड़ के बाद आतंकी अबू यूसुफ पकड़ा गया था. पुलिस के मुताबिक, इसका संबंध आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट से है. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 22 अगस्त की रात को धौलाकुआं से करोल बाग को जोड़ने वाली रिज रोड के पास एनकाउंटर के बाद इसे गिरफ्तार किया था. इसके पास से दो IED और एक पिस्तौल बरामद हुआ था. तब दिल्ली पुलिस ने बताया था कि आईएसआईएस आतंकी बू यूसुफ एक बाइक पर सवार था. इसके पास 15 किलो विस्फोटक था. हालांकि, पुलिस का कहना था कि उसके पास से प्रेशर कुकर से बना आईईडी भी बरामद हुआ है.

कई हिस्सों में बम धमाके की योजना बना रहा

साथ ही आतंकी अबू यूसुफ ने पुलिस पूछताछ में बताया था कि राम मंदिर के भूमि भूजन के बाद आईएसआईएस देश के कई हिस्सों में बम धमाके की योजना बना रहा है.आतंकी ने बताया था कि ये धमाके भूमि पूजन के एक महीने के अंदर ही करने की बनाई गई है.

आतंकी राजधानी में दहशत फैलाने के इरादे से घुसा है
बता दें कि दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को सूचना मिली थी कि एक आतंकी राजधानी में दहशत फैलाने के इरादे से घुसा है. सूचना के आधार पर पुलिस टीम ने धौलाकुआं के पास संदिग्ध को पकड़ने की कोशिश की तो उसने फायरिंग शुरू कर दी. दोनों ओर से चली फायरिंग के बाद आतंकी को गिरफ्तार कर लिया गया. स्पेशल सेल के डीसीपी प्रमोद कुशवाह के मुताबिक पकड़ा गया संदिग्ध आतंकी अबू यूसुफ इस्लामिक स्टेट से जुड़ा हुआ है.
 

प्रशांत भूषण पर लगा 1 रुपया जुर्माना, नहीं चुकाया तो जाएंगे जेल

प्रशांत भूषण पर लगा 1 रुपया जुर्माना, नहीं चुकाया तो जाएंगे जेल

नई दिल्ली, सुप्रीम कोर्ट ने अपनी अवमानना के मामले में वकील प्रशांत भूषण को 1 रुपया जुर्माने की सजा दी है. अगर प्रशांत भूषण यह जुर्माना 15 सितंबर तक जमा नहीं कराएंगे, तो उन्हें 3 महीने के लिए जेल भेजा जाएगा. 3 साल तक वकालत पर भी पाबंदी लग जाएगी.


जजों पर विवादित टिप्पणी का मामला

27 जून और 29 जून को प्रशांत भूषण ने वर्तमान चीफ जस्टिस और 4 पूर्व चीफ जस्टिस पर 2 विवादित ट्वीट किए थे. कोर्ट ने इस पर संज्ञान लेते हुए उनसे जवाब मांगा था. लेकिन उन्होंने अपने बयान पर सफाई देते हुए जो जवाब दाखिल किया, उसमें जजों पर और ज्यादा इल्जाम लगा दिए. कोर्ट ने इस स्पष्टीकरण को अस्वीकार करते हुए 14 अगस्त को उन्हें अवमानना का दोषी करार दिया. कोर्ट ने उन्हें बिना शर्त माफी मांगने के लिए समय दिया. लेकिन भूषण ने इससे मना कर दिया.
 

देश में अब तक इन नेताओं, मुख्यमंत्रियों और मंत्रियों को हुआ कोरोना, पढ़ें ये खास  रिपोर्ट

देश में अब तक इन नेताओं, मुख्यमंत्रियों और मंत्रियों को हुआ कोरोना, पढ़ें ये खास रिपोर्ट

नई दिल्ली. देश में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैलता ही जा रहा है. आम लोगों की कौन कहे, इस वायरस ने वीवीआईपी केंद्रीय मंत्री कई राज्यों के मुख्यमंत्री और मंत्रियों, सांसदों और विधायकों यहां तक कि पूर्व राष्ट्रपति को भी नहीं बख्शा. भारत में नेताओं की एक लंबी लिस्ट है, जो कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं. एक अनुमान के मुताबिक देश में तकरीबन 200 से भी ज्यादा मंत्री और बड़े नेता कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं. हालांकि, इनमें ज्यादातर ठीक होकर काम पर वापस भी लौट चुके हैं. सबसे बड़ी बात यह है कि बीते कुछ महीनों में देश के कई राज्यों के मुख्यमंत्री और मंत्री कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं या फिर उन्होंने अपने आपको होम क्वारंटाइन कर लिया है. उत्तर प्रदेश ऐसा राज्य है जहां पर दो कैबिनेट मंत्री की कोरोना से मौत हो चुकी है और 14 मंत्री अबतक कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं. इसके अलावा तमिलनाडु के कन्याकुमारी से कांग्रेस पार्टी के सांसद की भी कोरोना की वजह से जान चली गई.

इन नेताओं, मंत्रियों और मुख्यमंत्रियों को हुआ कोरोना
बता दें कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, कर्नाटक के सीएम बीएस येद्दियुरप्पा और हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर कोरोना संक्रमित हो चुके हैं. वहीं, पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह, झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन, हिमाचल प्रदेश के सीएम जयराम ठाकुर जैसे कई और मुख्यमंत्रियों को कोरोना पॉजिटिव शख्स के संपर्क में आने पर अपने आपको होम क्वारंटाइन करना पड़ा. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, धर्मेंद्र प्रधान, कृष्णपाल गुर्जर और गजेंद्र सिंह शेखावत जैसे कई केंद्रीय मंत्रियों को भी कोरोना ने चपेट में ले लिया. वहीं उत्तर प्रदेश के दो कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान और कमला रानी वर्मा की कोरोना से मौत हो चुकी है.


पक्ष-विपक्ष को भी कोरोना ने नहीं बख्शा
कुछ महीने पहले ही में बीजेपी में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ उनकी मां माधवी राजे सिंधिया भी कोरोना पॉजिटिव पाई गई थीं. सिंधिया और उनकी मां के ठीक होने के कुछ ही दिन बाद मध्य प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष वीडी शर्मा भी कोरोना संक्रमित हो गए थे. इसके अलावा पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम और वरिष्ठ कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी भी कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं. वही छत्तीसगढ़ विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष धरम लाल कौशिक भी कोरोना पॉजिटिव हो चुके है.

उत्तर प्रदेश के 14 मंत्री हुए कोरोना पॉजिटिव
कोरोना ने जिस राज्य की सियासत में सबसे ज्यादा उथल-पुथल मचाई है, वह उत्तर प्रदेश है. यूपी में अब तक 14 मंत्री कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं. पिछले दिनों ही औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना भी कोरोना वायरस संक्रमित पाए गए. बीजेपी के अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह और कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह भी कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं. भूपेंद्र सिंह चौधरी, चौधरी उदयभान सिंह, अतुल गर्ग, जय प्रताप सिंह, राजेंद्र प्रताप सिंह उर्फ मोती सिंह, ब्रजेश पाठक, महेंद्र सिंह, धरम सिंह सैनी, रघुराज सिंह शाक्य और उपेंद्र तिवारी जैसे मंत्री भी कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं.

बिहार-झारखंड के कई नेता कोरोना पॉजिटिव
कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में आने वाले अन्य राज्यों के नेताओं-मंत्रियों पर नजर डालें तो बिहार में रामविलास पासवान की पार्टी लोजपा के सांसद चंदन सिंह वायरस के संक्रमण की चपेट में आए. जेडीयू सांसद आरसीपी सिंह और उनकी पत्नी, बिहार के कैबिनेट मंत्री बिनोद सिंह और उनकी पत्नी भी संक्रमित की लिस्ट में शामिल हैं. वहीं झारखंड में तो राज्य के स्वास्थ्य मंत्री ही संक्रमित हो गए. झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता और कृषि मंत्री बादल पत्रलेख की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाई गई. इसके अलावा प्रदेश के दिग्गज नेता सुदेश महतो भी संक्रमित हुए.


दिल्ली-हरियाणा और उत्तराखंड के मंत्री भी हुए कोरोना पॉजिटिव
राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की बात करें तो यहां आम आदमी पार्टी की सरकार के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन, आप नेता आतिशी जैसे कई नाम हैं, जो कोरोना पॉजिटिव मरीजों की लिस्ट में शामिल हैं. इसके अलावा आप के कई अन्य नेता भी बीमारी से बच नहीं पाए हैं. इसके अलावा पर्वतीय राज्य उत्तराखंड के नेता भी कोरोना से बच नहीं सके हैं. उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज और उनकी पत्नी के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद मुख्यमंत्री समेत मंत्रिमंडल के कई अन्य सदस्यों को होम-आइसोलेशन में जाना पड़ा था.

 

SOURCE: NEWS18
 

Previous123456789Next