अच्छी खबर : सितंबर से देश में ही होगा स्पूतनिक-वी का उत्पादन...    |    कोरोना अपडेट : 24 घंटे में 41 हजार नए मामले, 541 लोगों की मौत    |    बड़ी खबर : इस BJP सांसद को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जाने क्या है मामला...    |    CG कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज रायपुर में मिले सर्वाधिक मरीज, 203 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, देखें जिलेवार आंकड़े    |    आईसीएमआर अपडेट : आज शाम तक मिले इतने कोरोना पॉजिटिव, देखे जिलेवार आकड़े    |    बड़ी खबर : जेल में बैरक की दीवार ढही, 22 कैदी गंभीर रूप से घायल    |    CG कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज एक्टिव मरीजो की संख्या हुई 2 हजार से कम, 243 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, देखें जिलेवार आंकड़े    |    बड़ी खबर: पान मसाला कंपनी पर आयकर का शिकंजा, 400 करोड़ रुपए के काले कारोबार का हुआ खुलासा    |    आईसीएमआर अपडेट : आज शाम तक मिले इतने कोरोना पॉजिटिव, आकडों में आज रायपुर से मिले सर्वाधिक    |    जज की संदिग्ध मौत पर सुप्रीम कोर्ट ने लिया संज्ञान, सरकार से एक हफ्ते में मांगा जवाब    |
Previous123456789...7778Next
पुलिसकर्मी निलंबित, महिला को गिरफ्तार कर दी गालियां और दिखाया प्राइवेट पार्ट : वीडियो वायरल

पुलिसकर्मी निलंबित, महिला को गिरफ्तार कर दी गालियां और दिखाया प्राइवेट पार्ट : वीडियो वायरल

लाहौर, लाहौर में एक पुलिसकर्मी को सस्पेंड कर दिया गया है। इस पुलिसकर्मी ने एक महिला को गिरफ्तार करने के बाद उसे गालियां दी थीं और उसे प्राइवेट पार्ट दिखाया था। यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था। वीडियो में शादबाग पुलिस स्टेशन पर तैनात ट्रेनी असिस्टेंट सब-इंस्पेक्टर महिला का अपमान करता दिखाई रहा है। जियो टीवी की वेबसाइट पर चल रही खबर के मुताबिक शुरुआती जांच के बाद डीआईजी साजिद कयानी ने पुलिसकर्मी को निलंबित कर दिया।

सेवाएं खत्म, कानूनी कार्रवाई भी होगी

पंजाब पुलिस ने मामले की ताजा जानकारी टिवटर पर दी है। इसके मुताबिक पुलिसकर्मी को निलंबित करने के बाद उसके खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। उसके खिलाफ यह कार्रवाई पंजाब आईजी इनाम गनी के आदेश पर की गई है। इस पुलिसकर्मी की सेवाएं समाप्त करने के साथ-साथ उसके खिलाफ कार्रवाई भी की जाएगी। पंजाब पुलिस ने कहा कि कानून की नजर में हर कोई अपराधी चाहे वह पुलिस कर्मचारी ही क्यों न हो। वहीं डीआईजी साजिद कयानी का कहना है कि नागरिकों का सम्मान किया जाना बहुत जरूरी है। किसी भी मामले में गलत आचरण बर्दाश्त नहीं होगा।

हवाई फायरिंग का वीडियो सुन गए थे अरेस्ट करने
वायरल वीडियो में साफ-साफ दिख रहा है कि पुलिसकर्मी महिला के खिलाफ अपशब्दों का इस्तेमाल कर रहा है। साथ ही वह महिला को आपत्तिजनक शब्द भी कह रहा है। सस्पेंड किए गए पुलिस इंस्पेक्टर के मुताबिक वह गश्त पर था। इसी दौरान उसने हवाई फायरिंग की आवाज सुनी। जब वह मौके पर पहुंचे तो उन्होंने वहां से महबूब नाम के शख्स को गिरफ्तार किया। इसी दौरान महबूब का भाई महमूद उसे बचाने के लिए आगे आया। पुलिस ने उसे भी गिरफ्तार कर लिया। सस्पेंड पुलिसकर्मी के मुताबिक दोनों की मां, जबरन पुलिस के वाहन में घुसकर अपने बेटों को बचाने लगी।

 

शराब पीने की लत और काम नहीं करने को लेकर पत्नी ने घर से निकाला तो शराबी पति ने...

शराब पीने की लत और काम नहीं करने को लेकर पत्नी ने घर से निकाला तो शराबी पति ने...

नई दिल्ली,  मंगोलपुरी इलाके में एक शख्स पत्नी की हत्या कर शनिवार सुबह चाकू लिए थाने पहुंच गया। आरोपी का कहना था कि पत्नी ने उसे घर से निकाल दिया था, जिस कारण उसकी हत्या कर दी। मंगोलपुरी थाना पुलिस ने आरोपी 42 वर्षीय समीर को गिरफ्तार कर लिया और 40 वर्षीय शबाना के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा। पुलिस ने बेटी के बयान पर आरोपी के खिलाफ केस दर्ज किया है। पुलिस उपायुक्त परविंदर सिंह ने बताया कि शबाना परिवार के साथ मंगोलपुरी आई ब्लॉक में रहती थी। परिवार में पति समीर के अलावा 21 वर्षीय बेटी और 18 वर्षीय बेटा है। शबाना दुकान चलाकर परिवार का भरण-पोषण करती थी। वहीं, समीर बेरोजगार था और शराब पीने का आदी था।
पुलिस उपायुक्त परविंदर सिंह ने बताया कि शनिवार सुबह करीब 8.15 बजे आरोपी पत्नी की हत्या कर खून से सना हुआ चाकू लेकर थाने पहुंच गया। एसएचओ मुकेश कुमार की टीम आरोपी को हिरासत में लेकर घटनास्थल पर पहुंची, जहां दुकान के बाहर और अंदर खून दिखा। पता चला कि घायल शबाना को लेकर बच्चे अस्पताल गए हैं। पुलिस अस्पताल पहुंची तो पता चला कि शबाना की उपचार के दौरान मौत हो गई।

फुटपाथ पर सो रहा था
पुलिस को मृतका की बेटी से पूछताछ में पता चला कि समीर के शराब पीने की लत और काम नहीं करने को लेकर परिवार में अक्सर झगड़ा होता था। एक महीने पहले जब झगड़ा हुआ तो शबाना ने समीर को घर से निकाल दिया था। इसके बाद से समीर फुटपाथ पर सो रहा था और बाहर ही भोजन करता था। इससे वह शबाना से नाराज था। शनिवार सुबह समीर चाकू लेकर दुकान पर पहुंचा और शबाना पर हमला कर दिया।

अब फिर से लागू होगा कोरोना लॉकडाउन? केंद्र ने राज्यों को दिया ये निर्देश

अब फिर से लागू होगा कोरोना लॉकडाउन? केंद्र ने राज्यों को दिया ये निर्देश

नई दिल्ली, कई राज्यों में कोरोना वायरस के नए मामलों में बढ़तोरी और पॉजिटिविटी रेट में बढ़ोतरी के बाद केंद्र सरकार ने प्रतिबंधों को फिर से लागू करने पर विचार करने के लिए कहा है। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने शनिवार को 10 राज्यों के साथ एक हाई लेवल बैठक की। स्वास्थ्य सचिव ने केरल, महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, ओडिशा, असम, मिजोरम, मेघालय, आंध्र प्रदेश और मणिपुर के प्रतिनिधियों से कहा कि पिछले कुछ हफ्तों में 10 प्रतिशत से अधिक की पॉजिटिविटी रेट रिपोर्ट करने वाले सभी जिलों को सख्त प्रतिबंधों पर विचार करने की आवश्यकता है। मंत्रालय ने कहा कि इस स्तर पर किसी भी तरह की ढिलाई से इन जिलों में स्थिति बिगड़ सकती है।
बैठक में मौजूद भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR) के महानिदेशक डॉ बलराम भार्गव ने कहा कि प्रतिदिन 40000 ने मामले के साथ समझौते करने की जरूरत नहीं है। भारत में लगभग 46 जिले 10 प्रतिशत से अधिक पॉजिटिविटी रेट रिपोर्ट कर रहे हैं और 53 जिले ऐसे हैं जो कि खतरे की ओर बढ़ रहे हैं। यहां पॉजिटिविटी रेट 5 से 10 प्रतिशत के बीच है। कोरोना के नए मामलों में बढ़ोतरी को देखते हुए मंत्रालय की ओर से इन राज्यों को 4 प्वाइंट में दिशा-निर्देश दिए गए हैं।
जिनमें पहला है कि जहां ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं वहां काबू करने के प्रयास किए जाए और निगरानी रखी जाए। दूसरी बात मामलों की मैपिंग की जाए और संपर्कियों का पता लगाना और नियंत्रण क्षेत्रों को परिभाषित करना है। तीसरा निर्देश ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य के बुनियादी ढांचे को बढ़ाना और बाल चिकित्सा देखभाल पर ध्यान देना है। चौथा निर्देश है कि मौत पर नजर रखना और गणना करना।
मंत्रालय ने कहा कि इन 10 राज्यों में 80 प्रतिशत से अधिक सक्रिय मामले होम आइसोलेशन में हैं। इन लोगों पर नजर रखने की जरूरत पर जोर देते हुए मंत्रालय ने कहा कि इन मरीजों की निगरानी के लिए समुदाय, गांव मोहल्ला, वार्ड आदि के स्तर पर स्थानीय निगरानी होनी चाहिए ताकि यह पता लग सके कि कहीं उनको अस्पताल में भर्ती कराने की जरूरत तो नहीं है।
 

मानवता हुई शर्मसार: 5 लोगो ने मिलकर बकरी के साथ किया रेप

मानवता हुई शर्मसार: 5 लोगो ने मिलकर बकरी के साथ किया रेप

इस्लामाबाद: पाकिस्तान से एक बकरी के साथ दुष्कर्म की खबर सामने आई है. पंजाब प्रांत के ओकारा शहर में 5 लोगों ने बकरी के साथ रेप किया और बाद में उसे तड़पा-तड़पाकर मार डाला. पुलिस ने पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज जांच शुरू कर दी है।


इस घटना के बाद सोशल मीडिया पर लोगों का गुस्सा फूटा है. लोग प्रधानमंत्री इमरान खान को रेप की घटनाओं पर दिए उनके बयान को लेकर ट्रोल कर रहे हैं. बता दें कि इमरान खान ने हाल ही में कहा था कि रेप के पीछे एक वजह छोटे कपड़े भी हैं. महिलाओं के ऐसे कपड़े पुरुषों को आकर्षित करते हैं।

स्थानीय मीडिया के मुताबिक घटना 24 जुलाई की है. बकरी के मालिक ने बताया है कि उसने बकरी को 60 हजार रुपये में खरीदा था. घटना वाले दिन बकरी घर के बाहर बंधी थी. इसी बीच पांच लोग उसे उठा ले गए. कुछ किलोमीटर दूर जंगली इलाके में बकरी की लाश मिली. उसका गला चीरा हुआ था।


मालिक के मुताबिक बकरी को पशु चिकित्सालय ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने रेप की पुष्टि की. तीन आरोपियों की पहचान नईम, नदीप, रब नवाज के रूप में हुई है. दो आरोपियों की पहचान नहीं हो पाई. सभी आरोपी फिलहाल फरार हैं।


पाकिस्तान पैनल कोड की धारा 377 और 429 के तहत सभी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है. पुलिस पांचों आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास कर रही है।

पत्नी की हत्या करके पुलिस थाने पहुंचा शख्स

पत्नी की हत्या करके पुलिस थाने पहुंचा शख्स

आउटर दिल्ली से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है, आउटर दिल्ली जिला अंतर्गत मंगोलपुरी थाने में शनिवार सुबह उस समय अफरा-तफरी मच गया, जब एक युवक हाथ में खून से सना चाकू लेकर आया और बोला साहब, मैंने अपनी पत्नी का खून कर दिया है जिसकी बॉडी घर में पड़ी हुई है. पुलिस ने तुरंत आरोपी को गिरफ्तार किया और उसके कब्जे से चाकू जब्त किया.


आरोपी की पहचान समीर के रूप में हुई है. पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया.

आउटर जिला डीसीपी परविंदर सिंह के अनुसार, शनिवार सुबह 7.47 मिनट पर थाने में आरोपी समीर आया जिसके हाथ में खून से लथपथ चाकू था. जिसको तुरंत पकड़ लिया. इस बीच पुलिस को संजय गांधी अस्पताल से सूचना मिली कि एक महिला को उसके पति ने चाकू मार दिया है, जिसकी मौत हो गई है. पुलिस की टीमें आरोपी समीर के घर और अस्पताल पहुंची।


पूछताछ करने पर पता चला कि पड़ोसियों ने आरोपी की पत्नी शबाना को खून से लथपथ हालात में संजय गांधी अस्पताल में भर्ती करवाया है जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया है. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि दंपति के दो बच्चे हैं. प्रत्यक्षदर्शी में से एक मृतक की बेटी के बयान पर हत्या का मामला दर्ज किया गया।


आरोपी समीर ने बताया कि उसकी पत्नी ने उसके शराब पीने की आदत और कोई काम न करने को लेकर उससे झगड़ा करती थी. उसने पिछले एक महीने से उसे घर में घुसने नहीं दिया था. इसलिए बदला लेने के लिए उसने पत्नी की हत्या कर दी।

 मोबाइल पर गेम खेलने से मना करने पर 13 साल के बच्चे ने फांसी लगाकर कर ली आत्महत्या

मोबाइल पर गेम खेलने से मना करने पर 13 साल के बच्चे ने फांसी लगाकर कर ली आत्महत्या

छतरपुर। कुछ बच्चों में मोबाइल गेम की लत कुछ इस कदर लगी है कि वे इसके लिए कुछ भी कर लेते हैं। ऐसा ही एक मामला छतरपुर में सामने आया है, जहां गत दिवस दोपहर 13 साल के एक बच्चे को उसकी मां ने मोबाइल पर गेम खेलने से रोका तो उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। जानकारी के अनुसार हर दिन की तरह बच्चा मोबाइल पर गेम खेल रहा था। तभी उसकी मां प्रीती पांडेय ने उसे डांटा। इससे गुस्सा होकर बच्चा अपने कमरे में गया और फांसी लगा ली। पुलिस का कहना है कि प्राथमिक जांच से पता चला है कि बच्चा मोबाइल गेम का शौकीन था, लेकिन जब उसे गेम नहीं खेलने दिया तो उसने यह कद उठा लिया। 
 दिनदहाड़े दो बदमाशों ने युवती के गाल पर मारी ब्लेड, हुलुहान हालत में युवती को कराया गया अस्पताल में भर्ती

दिनदहाड़े दो बदमाशों ने युवती के गाल पर मारी ब्लेड, हुलुहान हालत में युवती को कराया गया अस्पताल में भर्ती

भोपाल। एमपी नगर के महाराणा प्रताप अपार्टमेंट में दिनदहाड़े एक युवती के गाल पर दो बदमाशों ने ब्लेड मारकर लहुलुहान हालत में युवती को जब महिलाओं ने देखा तो उसे निजी अस्पताल लेकर पहुंची। घटना की जानकारी अस्पताल से पुलिस को लगी तब जाकर पुलिस सक्रिय हुई और आरोपितों के बारे में पता लगाकर उनकी गिरफ्तारी की। घटना 28 जुलाई की बताई जा रही है। 

एमपी नगर पुलिस के अनुसार गुवाहटी असम की रहने वाली 19 वर्षीय युवती एमपी नगर में अपनी सहेली के साथ हॉस्टल में कमरा साझा कर रहती है। वह पहले एक इवेंट कंपनी में काम करती थी। इवेंट कंपनी में नौकरी छूटने के बाद वह इस समय नई नौकरी की तलाश कर रही है। 28 जुलाई को उसकी किसी परिचित का जन्मदिन था। वह उसमें शामिल होने के लिए गई थी। जहां से वह दोपहर में चार बजे के करीब लौट रही थी। वह घर के पास पहुंची थी, तभी बाइक सवार बदमाश सलीम उर्फ सुमेर अली निवासी चांदबढ़ और आरिफ निवासी जिंसी जहांगीराबाद आए और युवती को रोककर विवाद करने लगे। आरोपितों ने पहले युवती के साथ मारपीट की फिर सलीम ने ब्लैड निकाली और युवती के गाल पर मार दी। हमला करने के बाद दोनों धमकी देकर फरार हो गए। हालांकि बाद में लोगों से जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया।
 
सलीम नाम के बदमाश का पुराना आपराधिक रिकार्ड है। इससे पहले भी वह लोगों के साथ मारपीट कर हमले का चुका है। टीआइ सुधीर अरजरिया ने बताया कि पुलिस ने उसे गत दिवस गिरफ्तार कर लिया है। बाद में आरोपितों को कोर्ट में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है। एमपी के महाराणा प्रताप अपार्टमेंट के आसपास कई कॉलेज की छात्राएं अकेली रहती है। आसपास पुलिस का कोई मूवमेंट नहीं रहता है। ऐसे में इस वारदात के बाद पूरे इलाके में दहशत का माहौल है। क्षेत्र में कई आपराधिक प्रवृत्ति के लोग घूमते रहते हैं। पुलिस व्यवस्था पूरी तरह से चौपट है। घायल युवती अपनी सहेली के साथ रूम साझा करती है। उसकी सहेली का एक युवती से विवाद चल रहा है। दोनों के बीच में अनबन है। पीडि़ता को उसने रूम खाली करने और उससे बात करने से रोका था। इस घटना को इसी बात से जोड़कर देखा जा रहा है। 
राजधानी पुलिस की बड़ी कार्यवाही, काला जठेड़ी के साथ कुख्यात लेडी गैंगस्टर भी गिरफ्तार

राजधानी पुलिस की बड़ी कार्यवाही, काला जठेड़ी के साथ कुख्यात लेडी गैंगस्टर भी गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को बड़ी कामयाबी मिली हैं, दिल्ली के टॉप गैंगस्टर काला जठेड़ी की गिरफ्तारी के साथ-साथ ही पुलिस टीम ने राजस्थान के कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल की पूर्व गर्लफ्रेंड अनुराधा उर्फ मैडम मिंज को भी गिरफ्तार किया है।


आनंद पाल के एनकाउंटर के दौरान अनुराधा राजस्थान पुलिस की गिरफ्त से फरार हो गयी थी,
फ़रारी के बाद लारेंस विश्नोई की मदद से अनुराधा की मुलाकात काला जठेड़ी से हुई. पिछले 9 महीनों से दोनों लिव इन में साथ रह रहे थे. खास बात ये है कि अनुराधा के इशारे पर काला जठेड़ी राजस्थान में जबरन उगाही और कत्ल जैसे संगीन वारदातों को अंजाम देता था।


काला जठेड़ी 2020 में फरीदाबाद पुलिस की गिरफ्त से फरार होने के बाद एक बार सिर्फ नेपाल गया था, किसी और देश नहीं गया. फिलहाल, ये अनुराधा के साथ उत्तराखंड में छिपा हुआ था. वहां से जब वो सहारनपुर आया तो वहां से पकड़ा गया. उसके पास से एक पिस्टल भी बरामद हुआ है. फरारी के दौरान ये लोग हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार, महाराष्ट्र के मुम्बई, राजस्थान, एमपी में छिपकर रह चुके हैं।


अनुराधा का बैकग्राउंड
अनुराधा @ मैडम मिंज आज से 6 साल पहले तक राजस्थान के कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल के साथ ही रहती थी. वह आनंद पाल के गैंग को ऑपरेट करती थी. उस वक़्त आनंदपाल राजस्थान के एक अन्य गैंगस्टर राजू बसोदी के टारगेट पर था. आंनदपाल के एनकाउंटर में मारे जाने के बाद से अनुराधा राजू बसोदी के टारगेट पर थी, जिसके बाद उसने बलबीर बानूड़ा का साथ पकड़ा लेकिन जब बलबीर बानूड़ा पकड़ा गया तो अनुराधा लारेन्स विश्नोई के संपर्क में आ गई, जहां से उसे काला जठेड़ी का साथ मिला।


अनुराधा ही वो गैंगस्टर थी जिसके साथ मिलने के बाद आनंदपाल फाइनेंसियल स्ट्रांग हुआ था. कहा जाता था अनुराधा का दिमाग और आनंदपाल की ताकत के सामने राजस्थान सरकार और पुलिस भी पानी भरती थी।

बड़ी खबर: भारी बारिश के चलते नौ लोगों की मौत, इन राज्यो मे बाढ़ का अलर्ट जारी

बड़ी खबर: भारी बारिश के चलते नौ लोगों की मौत, इन राज्यो मे बाढ़ का अलर्ट जारी

नई दिल्ली: इन दिनों देश के ज्यादातर हिस्सों में भारी बारिश जारी है। पिछले दो दिनों से हो रही मूसलाधार बारिश के कारण जनजीवन बेपटरी हो गया है। भारी बारिश के चलते उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल में वर्षा जनित घटनाओं में नौ लोगों की मौत हो गई। दिल्ली में बाढ़ का अलर्ट जारी किया गया है, जबकि राजस्थान के लिए रेड और मध्यप्रदेश के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल और झारखंड में अगले तीन दिन भारी बारिश होने का अनुमान है।

यमुना का जलस्तर खतरे के निशान के पार
भारत मौसम विज्ञान विभाग ने दिल्ली के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। मौसम वैज्ञानिक ने शनिवार को मध्यम बारिश और निचले इलाकों में जलजमाव की आशंका जाहिर की है। वहीं दिल्ली प्रशासन ने शुक्रवार को बाढ़ का अलर्ट जारी किया और यमुना के मैदानी इलाके में रह रहे लोगों से स्थान खाली कराने के प्रयास तेज कर दिए। राजधानी में यमुना के डूब वाले इलाकों में भारी बारिश के बीच जलस्तर खतरे के निशान 205.33 मीटर को पार कर गया है।

राजस्थान और मप्र के लिए अलर्ट जारी
भारत मौसम विज्ञान विभाग ने राजस्थान के लिए ‘रेड अलर्ट’ जारी कर राज्य के कई जिलों में अत्यंत भारी बारिश का अनुमान लगाया है, जबकि मध्यप्रदेश के लगभग आधे हिस्से में भारी से भारी बारिश की चेतावनी जारी करते हुए विभाग ने ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी किया है, जहां अब तक औसत से तीन फीसदी से अधिक बारिश हो चुकी है। पूर्वी राजस्थान और उत्तरी मध्य प्रदेश में 4 अगस्त तक भारी बारिश की आशंका है। मौसम विभाग के अनुसार, पिछले 24 घंटे में राजस्थान के कई इलाकों में भारी बारिश हुई है।

आईएमडी के अनुसार, पिछले 24 घंटों में राजस्थान के करौली, भरतपुर, धौलपुर, दौसा, अलवर, झुंझुनूं, चुरू व हनुमानगढ़ जिलों में भारी वर्षा दर्ज की गई। सबसे अधिक बारिश श्रीमहावीरजी (करौली) में 268 मिमी दर्ज की गई है। इसी तरह चुरू के राजगढ़ में 135 मिमी, भरतपुर के उच्चैन में 114 मिमी, दौसा के महवा में 104 मिमी, अलवर के नीमराणा में 99 मिमी, झुंझुनू के पिलानी में 87.3 मिमी और हनुमानगढ़ के भादरा में 67 मिमी बारिश दर्ज की गई।

हिमाचल: भूस्खलन के चलते 200 से अधिक लोग फंसे
हिमाचल प्रदेश के लाहौल-स्पीति में इस सप्ताह के प्रांरभ में बादल फटने और भारी बारिश के बाद जगह-जगह भूस्खलन होने से 200 से अधिक लोग फंस गए हैं, जबकि शुक्रवार को तीन ट्रैकर लापता बताए गए हैं।

लोगों को नदियों के किनारे न जाने की सलाह
शिमला मौसम विज्ञान केंद्र ने 3 तीन अगस्त तक भारी बारिश की आशंका जताते हुए येलो चेतावनी जारी की है। साथ ही लोगों से नदियों और जल इकाइयों के निकट नहीं जाने की सलाह दी है क्योंकि हाल के दिनों में भारी बारिश की वजह से इनका जलस्तर बढ़ सकता है। वहीं 5 अगस्त तक मैदानी और निचले एवं मध्य पहाड़ी इलाकों में भारी बारिश और भूस्खलन की घटनाओं का अनुमान लगाया गया है।

जम्मू-कश्मीर: लापता हुए 20 लोगों की तलाश जारी
जम्मू-कश्मीर में किश्तवाड़ जिले के एक गांव में बादल फटने के बाद लापता हुए 20 लोगों का पता लगाने के लिए बचाव अभियान शुक्रवार को फिर से शुरू हो गया, जो अभी जारी है। इससे पहले खराब मौसम के कारण अभियान को कुछ घंटों के लिए रोकना पड़ा था। दचन तहसील के सुदूर होंजर गांव में बुधवार को तड़के बादल फटने की घटना में सात लोगों की मौत हो गई और 17 अन्य व्यक्ति जख्मी हो गए। इस घटना में 21 मकान, एक राशन भंडार, एक पुल, एक मस्जिद और गायों के लिए बने 21 शेड भी क्षतिग्रस्त हो गए।

यूपी और बंगाल में गई नौ लोगों की जान
उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में भारी बारिश के कारण एक मकान की छत ढहने से तीन लोगों की मौत हो गई और चार लोग घायल हुए हैं। पश्चिम बंगाल में शुक्रवार को बारिश से संबंधित घटनाओं में छह लोगों की मौत हो गई। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। इनमें से पांच लोगों की मौत राज्य के विभिन्न हिस्सों में भारी बारिश के बाद दीवार गिरने से हुई। तटीय बांग्लादेश व सटे हुए पश्चिम बंगाल के ऊपर बने कम दबाव के क्षेत्र के कारण दक्षिण पश्चिम मानसून ने जोर पकड़ लिया है।

बड़ी खबर: मुख्यमंत्री-आईजी समेत 6 अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज

बड़ी खबर: मुख्यमंत्री-आईजी समेत 6 अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज

आइज़ोल: असम-मिजोरम सीमा विवाद को लेकर दोनों सरकार आमने सामने हैं। हिंसक झड़प में 7 लोगों की जान जाने के बाद अब मिजोरम पुलिस ने असम के मुख्यमंत्री, आईजी समेत 6 अधिकारियों के खिलाफ केस दर्ज किया है। वहीं सभी को 1 अगस्त यानी रविवार को थाना बुलाया गया है।

बता दें कि सीमा पर हिंसक झड़प को लेकर दोनों राज्यों में तनाव जारी है। खूनी झड़प में मौत के बाद असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा के खिलाफ आएआईआर दर्ज की गई है। मिजोरम पुलिस ने मुख्यमंत्री बिस्वा सरमा के खिलाफ हत्या की साजिश रचने के आरोप में केस दर्ज किया है।

वहीं मिजोरम ने असम पर आरोप लगाया कि सीमा विवाद की शुरुआत असम से हुई है। असम की ओर से पहली फायरिंग की गई, जिसके बाद मिजोरम पुलिस ने जवाब दिया। वहीं मिजोरम के मुख्यमंत्री जोरमथंगा ने कहा कि असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा उनके भाई की तरह हैं और वे इस विवाद को शांतिपूर्ण ढंग से सुलझा लेंगे।

दोनों राज्यों के पुलिस बलों के बीच बीते 26 जुलाई को हुई हिंसक झड़प में कछार के पुलिस अधीक्षक वैभव चंद्रकांत निंबालकर के निजी सुरक्षा अधिकारी (पीएसओ) समेत पांच पुलिसकर्मी और एक आम नागरिक की मौत हो गई थी। इसके अलावा घटना में कछार एसपी समेत 50 अन्य घायल हो गए थे।

14 जगहों पर एनआईए की छापेमारी, हिदायतुल्लाह मलिक और आईईडी से जुड़ा है मामला

14 जगहों पर एनआईए की छापेमारी, हिदायतुल्लाह मलिक और आईईडी से जुड़ा है मामला

जम्मू: जम्मू-कश्मीर में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने 14 जगहों पर छापेमारी की है। एनआईए की यह कार्रवाई लश्कर-ए-मुस्तफा के कमांडर हिदायतुल्लाह मलिक की गिरफ्तारी और जम्मू में बरामद हुई पांच किलो आईईडी के मामले में हो रही है। जिसमें शोपियां, अनंतनाग, बनिहाल सुंजवां और जम्मू में अधिकारी कार्रवाई कर रहे हैं।

गौरतलब है कि दहशतगर्द हिदायतुल्लाह मलिक को गंग्याल में इसी साल 6 फरवरी को गिरफ्तार किया गया था। मलिक की गिरफ्तारी और जम्मू को दहलाने की साजिश के खुलासे के बाद इस मामले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को सौंप दी गई थी।

प्रतिबंधित संगठन जैश-ए-मोहम्मद के प्रॉक्सी संगठन लश्कर-ए-मुस्तफा ने जम्मू में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने की साजिश रची थी। हिदायतुल्लाह की गिरफ्तारी के बाद उसके कब्जे से एक हैंड ग्रेनेड, तीन मैगजीन व 28 गोलियां बरामद की गईं। हिदायतुल्लाह ने 2018 व 2019 में जम्मू व दिल्ली में कई महत्वपूर्ण सैन्य प्रतिष्ठानों और ठिकानों की रेकी आतंकी हमले के लिए की थी।

उसने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के कार्यालय की भी रेकी की थी। कश्मीर में कई आतंकी गतिविधियों और हमलों के पीछे हिदायतुल्लाह का हाथ रहा है। 2020 में शोपियां की जेके बैंक शाखा से दिनदहाड़े 60 लाख रुपये की लूट में वह शामिल रहा था। हिदायतुल्लाह कश्मीर के साथ जम्मू में आतंकी गतिविधियों को चला रहा था।

चोर ने खुद के शादी समारोह में कर दी ऐसी हरकत, दूल्हा बनने से पहले ही हो गया गिरफ्तार

चोर ने खुद के शादी समारोह में कर दी ऐसी हरकत, दूल्हा बनने से पहले ही हो गया गिरफ्तार

यूपी के आगरा में पुलिस ने चोरी की एक अलग ही वारदात का खुलासा किया है। पुलिस ने दो शातिर चोरों को भी गिरफ्तार किया है। उनके पास से चोरी का माल बरामद हुआ है। दो में से एक चोर ऐसा है जिसकी अभी कुछ दिन पहले शादी तय हुई थी। प्रोफेशन चोर होने के चलते वह चोरी की अक्सर वारदातें करता ही रहता है। जहां भी सामान दिखता है तो वह चोरी करने से अपने आप को रोक नहीं पाता। शादी समारोह में भी कुछ ऐसा ही हुआ। चोर का रिश्ता तय हो गया था। शादी समारोह में लड़की पक्ष ने लड़के वालों की जमकर आवभगत की। काफी सामान भी लड़की वाले लाए थे। सामान को देखते ही लड़के की नीयत डोल गई। उसने हर बार की तरह यहां भी सामान पर हाथ साफ कर दिया। चोर ने लड़की पक्ष के दो मोबाइल चोरी कर लिए। इसकी जानकारी जब लड़की पक्ष को हुई तो उन्होंने शादी करने से इनकार कर दिया। पुलिस ने चोर को दूल्हा बनने से पहले ही गिरफ्तार कर लिया।
एसपी पश्चिम सत्यजीत गुप्ता ने बताया कि गुरुवार को पुलिस को सूचना मिली कि सुम्मेर गढ़ी के पास चोरी करने की फिराक में दो चोर सिरजी बार्डर की तरफ से आने वाले हैं। पुलिस ने उनके आते ही घेराबंदी कर दबोच लिया। आरोपियों के नाम अजय उर्फ नहना उर्फ अजगर निवासी कुरगवां बरहन, शीलेंद्र निवासी नगला सिरजी, बरहन बताए गए हैं। पुलिस ने अरोपियों से चोरी व लूट के 11 मोबाइल, 1 लैपटॉप बरामद किया है। पुलिस के मुताबिक आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि शादी समारोह, ढाबे व रात के समय चलती हुई ट्रेनों में जब यात्री सो जाते हैं, तब उनके मोबाइल, लैपटॉप व अन्य कीमती सामान उठा लेते थे। इसके बाद ट्रेन जहां रुकती वहीं उतर जाते। इसके बाद दूसरी ट्रेन से अपने गंतव्य की ओर बढ़ जाते थे। इसके अलावा रात में कोई अकेला जाता हुआ दिखता था तो उसका मोबाइल छीन कर भाग जाते थे। चोरी के माल को राहगीरों को कम रुपयों में बेच कर आपस में बंटवारा कर लेते थे। पुलिस के मुताबिक आरोपी अजय पर तीन व शीलेंद्र पर दो मुकदमें दर्ज हैं।
ससुराल से किया मोबाइल चोरी, शादी टूटी
एसपी पश्चिम के मुताबिक आरोपी अजय उर्फ नहना ने पूछताछ में बताया कि वह अविवाहित है। उसकी जहां शादी तय हुई थी वहां गया था। वहां पर निगाह बचाकर एक मोबाइल पार कर दिया। लड़की के परिजनों को इसकी जानकारी हो गई। इसके बाद उसका संबंध तय नहीं हो पाया। पुलिस ने बताया कि पेशेवर चोर होने के चलते वह अपने आपको मोबाइल चोरी करने से रोक नहीं पाया। एसपी के मुताबिक आरोपी टूंडला, कानपुर, अलीगढ़, दिल्ली रूट की ट्रेनों के यात्रियों को निशाना बनाते थे। सवारियों के सोने के बाद उनके कीमती माल मोबाइल, लैपटॉप आदि पर हाथ साफ करते देते थे। गिरफ्तारी करने वाली टीम में थानाध्यक्ष बहादुर सिंह समेत अन्य पुलिस कर्मी शामिल रहे।

 

राजधानी में शराब के लिए 50 रुपये न देने पर 17 साल के नाबालिग ने 2 दोस्तों को चाकू से गोदा

राजधानी में शराब के लिए 50 रुपये न देने पर 17 साल के नाबालिग ने 2 दोस्तों को चाकू से गोदा

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से अपराध से जुड़ी एक खबर सामने आ रही है, जहां एक नाबालिग को पुलिस ने चाकू मारने के आरोप में पकड़ा है. 17 वर्षीय एक नाबालिग ने शराब के लिए 50 रुपये न देने पर अपने दो दोस्तों को कथित तौर पर चाकू गोद दिया. पुलिस ने इसे नाबालिग आरोपी को पकड़ लिया है. इस घटना के बाद से दो अन्य आरोपी फरार बताए जे रहे हैं. इधर इस घटना में घायल शख्स को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. 

पति से शादीशुदा प्रेमिका को छीन ले गया युवक, सबके सामने बाइक पर बैठाकर भागा

पति से शादीशुदा प्रेमिका को छीन ले गया युवक, सबके सामने बाइक पर बैठाकर भागा

बदायूं, अभी तक आपने प्रेमी को चोरी-छिपे प्रेमिका को ले जाने की खबरें सुनी होंगी, लेकिन यूपी के बदायूं में जो हुआ वह लोगों को हैरान कर देने वाला है। यहां पुलिस भी मौजूद थी इसके बाद भी करीब आधे घंटे तक पति, पत्नी और वो का ड्रामा चलता रहा। पुलिस मूक दर्शक बनकर तमाशा देखती रही और सबके सामने से एक युवक प्रेमिका को उसके पति से छीनकर फरार हो गया। प्रेमिका भी प्रेमी के साथ बाइक पर आसानी से चली गई।
मामला बदायूं जिले के फैजगंज थाना क्षेत्र का है। एमएफ हाईवे पर कब्रिस्तान के पास शुक्रवार को 15 से 20 लोग अचानक आ धमके। इनमें से एक युवक शादीशुदा महिला को उसके पति से छीनने लगा। पहले तो किसी को कुछ समझ ही नहीं आया। कुछ देर बाद लोगों को हकीकत की जानकारी हुई। पुलिस भी मौके पर पहुंची। जांच-पड़ताल में मामला प्रेम-प्रसंग का निकला तो सब तमाशा देखते रहे। पुलिस भी मूकदर्शक बन गई। संभल जिले के धनारी क्षेत्र का रहने वाला एक युवक का युवती के साथ काफी समय से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। युवती के इस बीच दूसरे व्यक्ति से शादी हो गई, लेकिन इसके बाद भी युवती और प्रेमी का मिलना-जुलना जारी था।
इस बात की जानकारी जब युवती के ससुराल वालों को हुई तो उन्होंने इसका विरोध किया। युवती ने पूरी बात अपने प्रेमी को बताई। शुक्रवार को प्रेमी 15 से 20 साथियों के साथ बाइक पर शादीशुदा प्रेमिका को लेने के लिए पहुंचा था। प्रेमी को देखते ही प्रेमिका उसके पास जाने लगी तो उसके पति ने महिला का हाथ पकड़ लिया। इसके बाद प्रेमी ने प्रेमिका का उसके पति से हाथ छुड़ाया। इतना ही नहीं आरोपी प्रेमी ने दबंगई के बलबूते प्रेमिका को अपनी बाइक पर बिठा लिया। इसके बाद सभी फरार हो गए। करीब आधा घंटे तक चले इस हाईवोल्टेज ड्रामे को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हो रही हैं।

 

 अजीबोगरीब घटना : प्राइवेट पार्ट से होते हुए शख्स के पेट में चली गई 20 cm लंबी मछली, फिर हुआ कुछ ऐसा...

अजीबोगरीब घटना : प्राइवेट पार्ट से होते हुए शख्स के पेट में चली गई 20 cm लंबी मछली, फिर हुआ कुछ ऐसा...

बीजिंग: चीनसे एक अजीबोगरीब घटना सामने आई है. दरअसल यहां एक शख्स ने अपने प्राइवेट पार्ट में खुद 20 cm लंबी जिंदा Eel Fish घुसा ली. फिर वो मछली प्राइवेट पार्ट से होते हुए शख्स के पेट में चली गई. Eel Fish ने शख्स की आंत में कई जगह काट लिया.

पेट में तेज दर्द के बाद हॉस्पिटल पहुंचा शख्स
ग्लोबल टाइम्स में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, इस मामले का खुलासा तब हुआ जब शख्स के पेट में बहुत तेज दर्द हुआ और वह डॉक्टर को दिखाने हॉस्पिटल पहुंचा. दरअसल पीड़ित डर रहा था कि अगर ये समस्या लोगों के सामने आ गई तो वे उसके बारे में क्या सोचेंगे? दर्द जब असहनीय हो गया तब वह अस्पताल पहुंचा.

ऑपरेशन के वक्त भी जिंदा थी Eel Fish
बता दें कि डॉक्टरों ने ऑपरेशन करके शख्स के पेट से Eel Fish को निकाल दिया है. पेट से निकालते समय भी मछली जिंदा थी.

शख्स ने क्यों किया ऐसा?
गौरतलब है कि शख्स ने अपने पेट की कब्ज को दूर करने के लिए ऐसा किया था. उसने ऐसे किसी नुस्खे के बारे में सुना था कि प्राइवेट पार्ट में Eel Fish डालने से कब्ज सही हो जाती है. डॉक्टरों ने कहा कि इसका कोई सबूत नहीं है कि Eel Fish की मदद से कब्ज ठीक हो सकती है. ऐसे जानलेवा नुस्खों को करने का रिस्क नहीं लें.

जान लें कि पिछले साल भी चीन में ऐसा ही एक मामला पहले भी आ चुका है. तब 50 साल के एक शख्स ने 16 इंच लंबी Eel Fish को अपने प्राइवेट पार्ट में डाल लिया था. मछली ने शख्स की आंत को फाड़ दिया था. मछली शख्स के पेट में एक हफ्ते तक फंसी रही थी.
 शादी की आधी रात दुल्हन हुई ससुराल की छत कूदकर फरार, मामला जानकर हो जायेंगे आप भी हैरान

शादी की आधी रात दुल्हन हुई ससुराल की छत कूदकर फरार, मामला जानकर हो जायेंगे आप भी हैरान

एमपी में भिंड के गोरमी इलाके में एक दुल्हन अपनी शादी वाली रात ही अपनी ससुराल की छत कूदकर भाग निकली. दूल्हे ने शादी करने के लिए पूरे 90 हजार में सौदा तय किया था. ठगी का शिकार हुए दूल्हे ने गोरमी थाने में 5 लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया है. गोरमी थाना पुलिस ने 3 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ भी की है.

जानकारी के अनुसार, गोरमी इलाके में रहने वाले दिव्यांग सोनू जैन की शादी नहीं हुई थी. सोनू जैन के परिचय के ग्वालियर निवासी उदल खटीक ने सोनू जैन को बताया कि वह उसकी शादी करा देगा लेकिन इसके बदले में उसे एक लाख देने होंगे. सोनू जैन ने 90 हजार में सौदा तय कर लिया.

मंगलवार को उदल खटीक, अनीता रत्नाकर नाम की एक महिला को लेकर गोरमी पहुंच गया. अनीता रत्नाकर के साथ अरुण खटीक और जितेंद्र रत्नाकर को भी लेकर ऊदल खटीक गोरमी पहुंचा. इसके अलावा एक अन्य व्यक्ति भी उदल खटीक के साथ था. यहां सोनू जैन की शादी अनीता के साथ घर में ही परिवार के लोगों के सामने संपन्न करवाई गई. मंगलसूत्र पहनाया गया, मांग भरी गई. सोनू के घर वालों ने दूल्हा-दुल्हन को आशीर्वाद भी दिया. इसके बाद सभी लोग सोने चले गए

अनीता के साथ आए जितेंद्र रत्नाकर जिसे अनीता ने अपना भाई बताया था और अरुण खटीक, दोनों कमरे के बाहर सोने चले गए जबकि रात के वक्त अनीता खुद की तबीयत खराब होने का बहाना बनाकर छत पर चली गई. आधी रात के वक्त जब घर वालों की नींद खुली तो उन्होंने बहू की तलाश शुरू की लेकिन बहू कहीं नजर नहीं आई.
 
अनीता छत से कूद कर भागने की फिराक में थी लेकिन गश्त कर रही पुल‍िस ने अनीता को भागते हुए पकड़ लिया. इसके बाद दूल्हा बने सोनू ने गोरमी थाने पहुंचकर अपने साथ हुई इस धोखाधड़ी की शिकायत पुलिस से की. पुलिस ने सोनू जैन की शिकायत पर उदल खटीक, जीतेंद्र रत्नाकर, अरुण खटीक और अनीता रत्नाकर समेत एक अन्य अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया है. साथ ही पकड़े गए तीनों आरोपियों से पूछताछ भी शुरू कर दी है
 
राजधानी में खतरे के निशान के करीब पहुंचा यमुना का जल स्तर, अलर्ट जारी

राजधानी में खतरे के निशान के करीब पहुंचा यमुना का जल स्तर, अलर्ट जारी

नई दिल्ली: दिल्ली-एनसीआर सहित उत्तर-पश्चिम भारत के कई राज्यों में हो रही झमाझम बारिश के चलते यमुना का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है। दिल्ली प्रशासन ने शुक्रवार को राजधानी में यमुना का जलस्तर 205.22 मीटर तक पहुंच जाने पर `अलर्ट` की घोषणा की, जो अनिश्चित रूप से 205.33 मीटर के `खतरे के निशान` के करीब है।

अधिकारियों ने कहा कि दिल्ली प्रशासन ने शुक्रवार को राजधानी में यमुना का जलस्तर 205.22 मीटर तक पहुंच जाने पर `अलर्ट` जारी किया, जो अनिश्चित रूप से 205.33 मीटर के `खतरे के निशान` के करीब है, क्योंकि उत्तर पश्चिम भारत में बारिश जारी है। सिंचाई और बाढ़ नियंत्रण विभाग ने विभिन्न क्षेत्रों में 13 नावों को तैनात किया है और 21 अन्य को स्टैंडबाय पर रखा है।

हरियाणा के हथिनीकुंड बैराज से यमुना नदी में अधिक पानी छोड़ने के साथ, दिल्ली पुलिस और पूर्वी दिल्ली जिला प्रशासन ने राजधानी में यमुना के मैदानी इलाकों में रहने वाले लोगों को निकालना शुरू कर दिया है। एक अधिकारी ने कहा कि इन लोगों को यमुना पुश्ता इलाके में दिल्ली सरकार के शेल्टर होम में शिफ्ट किया जा रहा है।

पुराने रेलवे ब्रिज पर सुबह 8:30 बजे यमुना का जलस्तर 205.22 दर्ज किया गया, जो गुरुवार रात 8:30 बजे 203.74 मीटर था। अधिकारी ने कहा का जलस्तर सुबह छह बजे 205.10 मीटर और सुबह सात बजे 205.17 मीटर था। उन्होंने कहा कि इसके और बढ़ने की संभावना है।
यमुना के 204.50 मीटर के `चेतावनी निशान` को पार करने पर बाढ़ की चेतावनी घोषित की जाती है। जिला प्रशासन के एक अधिकारी ने कहा कि स्थिति पर चौबीसों घंटे नजर रखी जा रही है।
मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि दिल्ली और ऊपरी जलग्रहण क्षेत्रों में बारिश के कारण नदी उफान पर है। मौसम विभाग ने शुक्रवार को लगातार तीसरे दिन दिल्ली-एनसीआर में मध्यम बारिश के लिए `ऑरेंज अलर्ट` भी जारी किया है।

दिल्ली बाढ़ नियंत्रण कक्ष के अनुसार, हथिनीकुंड बैराज से छोड़े गए पानी की डिस्चार्ज दर मंगलवार दोपहर 1.60 लाख क्यूसेक तक पहुंच गई, जो इस साल अब तक की सबसे अधिक है। बैराज से छोड़े गए पानी को राजधानी पहुंचने में आमतौर पर दो-तीन दिन लगते हैं।

हरियाणा यमुनानगर स्थित बैराज से सुबह आठ बजे 19,056 क्यूसेक के हिसाब से पानी छोडा जा रहा था। गुरुवार रात 8 बजे पानी की प्रवाह दर 25,839 क्यूसेक थी। सामान्य तौर पर, हथिनीकुंड बैराज में प्रवाह दर 352 क्यूसेक होती है, लेकिन जलग्रहण क्षेत्रों में भारी वर्षा के बाद पानी छोड़ने की दर बढ़ जाती है। एक क्यूसेक 28.32 लीटर प्रति सेकेंड के बराबर होता है।

2019 में, प्रवाह दर 18-19 अगस्त को 8.28 लाख क्यूसेक तक पहुंच गई थी और यमुना का जलस्तर 205.33 मीटर के खतरे के निशान को पार करते हुए 206.60 मीटर के निशान पर पहुंच गया था। नदी के उफान पर पहुंचते ही कई निचले इलाकों के जलमग्न हो जाने के बाद दिल्ली सरकार को लोगों को वहां से निकालने और राहत कार्य शुरू करने पड़े।

वहीं, 1978 में यमुना नदी 207.49 मीटर के सर्वकालिक रिकॉर्ड जल स्तर तक पहुंच गई थी। 2013 में यह बढ़कर 207.32 मीटर हो गई थी।

अचानक आई बाढ़ से 40 लोगों की मौत, कई लापता

अचानक आई बाढ़ से 40 लोगों की मौत, कई लापता

काबुल/नई दिल्ली: अफगानिस्तान के नूरिस्तान प्रांत के कामदेश जिले में आई बाढ़ में कम से कम 40 लोगों की मौत हो गई। अचानक आई बाढ़ में कई अन्य लापता भी हो गए। कामदेश जिले के मिर्देश गांव में गुरुवार को भारी बारिश के कारण आई बाढ़ ने कई ग्रामीणों को अपनी चपेट में ले लिया। प्रारंभिक जानकारी से पता चला है कि स्थानीय ग्रामीणों के 40 शव मिले हैं, जबकि कई अन्य अभी भी लापता बताए जा रहे हैं।

अधिकारियों ने कहा कि गांव के लगभग सभी घर बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। उन्होंने कहा कि गांव में पानी भर गया है। बाढ़ ने मवेशियों, कृषि भूमि को नष्ट कर दिया है। जानकारी के अनुसार पाकिस्तान की सीमा से लगे कामदेश जिले में एक सड़क के एक बड़ा हिस्सा पूरी तरह से ध्वस्त हो गया, जिसके परिणामस्वरूप इसे बंद कर दिया गया।

आपदा प्रबंधन राज्य मंत्री के कार्यालय ने कहा कि क्षेत्र में खोज और बचाव अभियान नहीं चलाया जा सका क्योंकि यह जिला तालिबान के नियंत्रण में है। इस बीच प्रांतीय गवर्नर के प्रवक्ता मोहम्मद सैयद मोहम्मद ने कहा कि नूरिस्तान एक पहाड़ी क्षेत्र है और प्रांत के बड़े हिस्से पर तालिबान का कब्जा है। मोहम्मद ने कहा कि बाढ़ की वजह से हजारों परिवारों को पड़ोसी कुनार क्षेत्र में पनाह लेनी पड़ी है।

उन्होंने कहा कि नूरिस्तान सरकार ने तालिबान से अपील की है कि वे बचाव दलों को अपने क्षेत्र में जाने की इजाजत दे। तालिबान का करीब करीब आधे अफगानिस्तान पर कब्जा है। अमेरिका और नाटो सैनिकों की वापसी के ऐलान के बाद, तालिबान ने दर्जनों जिलों पर कब्जा कर लिया है।

 कोरोना कहर : इन राज्यों में फिर लगाया गया लॉकडाउन, छत्तीसगढ़ और उत्तर प्रदेश के..

कोरोना कहर : इन राज्यों में फिर लगाया गया लॉकडाउन, छत्तीसगढ़ और उत्तर प्रदेश के..

नई दिल्ली: कोरोनावायरस को लेकर इस समय देश में दोहरी स्थिति बनी हुई है. जहां कई राज्यों में कोरोना (Corona Cases in India) के मामलों में गिरावट आ रही है तो वहीं कुछ राज्य ऐसे भी हैं जहां एक बार फिर से कोरोना ने रफ्तार पकड़ ली है. कोरोना के हालात को सुधरते देख जहां कई राज्य अब धीरे-धीरे अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए पाबंदियों में ढिलाई दे रहे हैं तो कई राज्य फिर से कोरोना संक्रमण (Covid Infection) की चैन को तोड़ने के लिए लॉकडाउन (Lockdown Again) का सहारा ले रहे हैं.

बुधवार को पूरे देश में कोरोना के 43 हजार से अधिक मामले दर्ज किए गए. जिसके बाद देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 3 करोड़ 14 लाख, 84 हजार 605 हो गई. बुधवार को 640 लोगों की वायरस के कारण मौत हुई जिसके बाद देश में कोविड 19 से मरने वालों की कुल संख्या 4 लाख 22 हजार 022 हो गई. इस समय देश में कुल सक्रिय मामले 3 लाख 99 हजार 436 हैं.

आइए कुछ ऐसे राज्यों के बारे में बात करतें है जहां या तो कोविड 19 के मामलों में सुधार के बाद प्रतिबंधो में ढील दी है या फिर कोरोना के एक बार फिर से तेजी पकड़ने के बाद लॉकडाउन का सहारा लिया है.

Maharashtra Covid-19 Lockdown Status
महाराष्ट्र देश के उन राज्यों में पहले स्थान पर आता है जहां कोरोना का प्रकोप सबसे ज्यादा फैला है. कोविड संक्रमितों की संख्या में महाराष्ट्र पहले नंबर पर है लेकिन अब यहां हालात पहले से काफी सुधरे हैं. कोरोना के मामलों में लगातार गिरावट आ रही है. इसे देखते हुए हुए राज्य सरकार अब धीरे धीरे प्रतिबंधों को हटा रही है. स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने गुरुवार को कहा कि महाराष्ट्र सरकार शनिवार को राज्य में कुछ सीमाओं के साथ COVID प्रतिबंध हटा सकती है. हालांकि, रविवार को पूर्ण बंदी अभी जारी रहेगी. इसके अलावा, राज्य पूरी तरह से टीकाकरण वाले लोगों को मुंबई में लोकल ट्रेनों में यात्रा करने की अनुमति दे सकता है.

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि दुकानों, होटलों और जिमों का समय शाम 4 बजे से बढ़ाकर 8-9 बजे तक किया जा सकता है, बशर्ते कि मालिक ये सुनिश्चित करें कि कर्मचारियों को पूरी तरह से टीका लगाया गया है. उन्हें 50 फीसदी क्षमता पर ही काम करने की इजाजत होगी. उद्धव ठाकरे सरकार आगे चलकर सिनेमा हॉल खोलने की अनुमति दे सकती है.

मुंबई और 24 अन्य जिलों में मौजूदा समय में कोविड 19 संक्रमण दर औसत से कम है और उम्मीद जताई जा रही है कि इन जिलों में अब प्रतिबंधों को हटाया या फिर ढील दी जा सकती है. इसके अलावा शेष 11 जिले – पुणे, सोलापुर, सांगली, सतारा, कोल्हापुर, पालघर, रायगढ़, रत्नागिरी, सिंधुदुर्ग, बीड और अहमदनगर जहां संक्रमण दर अधिक है, वहां और प्रतिबंध लगे रह सकते हैं.

Kerala Covid-19 Lockdown Status
इस समय पूरे देश में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले केरल राज्य से सामने आ रहे हैं. केरल में बढ़ते कोरोना के मामलों ने केंद्र को भी चिंता में डाल दिया है. राज्य में बिगड़ते हालात के बाद केंद्र सरकार ने 6 सदस्यीय दल केरल भेजा है. केरल में गुरुवार को 24 घंटे में 22 हजार से अधिक नए मामले सामने आए जबकि 128 लोगों की मौत हुई. नए आंकड़ों के बाद राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 33 हजार, 49 लाख 365 पहुंच गई है. केरल में कोरोना से अब तक 16585 लोगों की मौत हो चुकी है. इस समय राज्य में पॉजिटिव रेट 13.53 प्रतिशत पहुंच चुकी है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से केरल में छह सदस्यीय टीम की को हालात का जायजा लेने के लिए भेजा गया है. पूरे देश में इस समय सबसे अधिक मामले कोरोना से ही रिपोर्ट हो रहे हैं. कोरोना मामलों को कंट्रोल में लाने के लिए राज्य सरकार ने पूरे राज्य में 31 जुलाई और 1 अगस्त को पूर्णरूप से लॉकडाउन घोषित कर दिया है.

West Bengal Covid-19 Lockdown Status
कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर और तमाम राज्यों में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए पश्चिम बंगाल सरकार ने पहले से लागू प्रतिबंधों को 15 अगस्त तक के लिए बढ़ा दिया है. सरकार ने कुछ मामलों में रियायत भी बरती है. अब 50 प्रतिशत क्षमता के साथ इनडोर सुविधाओं वाली जगहों पर सरकारी कार्यक्रमों के आयोजन की इजाजत दे दी है. बसों, टैक्सियों, ऑटो रिक्शा 50 प्रतिशत क्षमता के साथ चल सकेंगे. सरकारी और निजी दोनों कार्यालयों को भी 50 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ काम करने की इजाजत दे मिल गई है.

सभी जिला प्रशासनों को मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग कोरोना गाइडलाइन से संबंधित निर्देशों का कड़ाई से पालन करने के लिए कहा गया है. जारी एक आदेश में कहा गया है, ” यदि कोई भी नियमों या फिर प्रतिबंधों का उल्लंघन करता हुआ पाया जाता है तो आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 और आईपीसी की संबंधित धाराओं के तहत उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.”

Madhya Pradesh Covid-19 Lockdown Status
कोरोना वायरस के फिर से रफ्तार पकड़ने के बाद मध्य प्रदेश सरकार ने महाराष्ट्र के साथ बस सेवाओं पर जारी प्रतिबंध को 4 अगस्त तक के लिए बढ़ा दिया है. अंतरराज्यीय बस सेवाओं पर प्रतिबंध 28 जुलाई तक प्रभावी था, लेकिन अब इसे भी एक और सप्ताह के लिए बढ़ा दिया गया है. मध्य प्रदेश परिवहन विभाग द्वारा इस प्रतिबंध के संबंधित एक आदेश भी जारी किया गया और इसमें कहा गया है कि आने वाले बुधवार तक महाराष्ट्र से किसी भी बस को संचालित करने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

बता दें कि मध्य प्रदेश ने राजस्थान, छत्तीसगढ़ और उत्तर प्रदेश के साथ अपनी परिवहन सेवाओं को कोरोना से हालात सुधरने के बाद फिर से शुरू कर दिया है. इसके साथ ही सभी बस ऑपरेटरों को यह निर्देश दिए गए हैं वह बस के अंदर कोरोना नियमों का पालन करें.
बीबीसी की रिपोर्टिंग से बीजिंग तिलमिला उठा, जानिए क्या है मामला

बीबीसी की रिपोर्टिंग से बीजिंग तिलमिला उठा, जानिए क्या है मामला

चीन,  चीन में बाढ़ की रिपोर्टिंग करना बीजिंग को पसंद नहीं आया है। बीबीसी द्वारा बाढ़ की रिपोर्टिंग करने पर बीजिंग तिलमिला उठा है। चीन ने बीबीसी को ना सिर्फ फर्जी ब्रॉडकास्टिंग कंपनी कह दिया है बल्कि यह भी आरोप लगाया है कि बीबीसी ने पत्रकारिता के मानदंडों का भी उल्लंघन किया है। चीन ने ब्रिटिश ब्रॉडकास्टिंग कॉरपोरेशन (BBC) पर फर्जी न्यूज दिखाने का आरोप लगाया है। गुरुवार को बीजिंग की तरफ से कहा गया है कि सेंट्रल चीन में आई बाढ़ को लेकर बीबीसी ने गलत रिपोर्टिंग की है। अभी पिछले हफ्ते ही यह खबर सामने आई थी कि चीन के सेंट्रल प्रोविनेन्स ऑफ हेनान में बाढ़ से भारी तबाही मची थी और यहां 99 लोग बाढ़ की भेंट चढ़ गये थे। बीबीसी का आरोप है कि बाढ़ की रिपोर्टिंग कर रहे उसके पत्रकारों को प्रताड़ित किया गया है और उन पर हमला भी हुआ है। बीबीसी का आरोप है कि चीन में बाढ़ के दौरान ग्राउंड पर मौजूद उसके पत्रकारों पर हमला किया गया। इतना ही नहीं बाढ़ की रिपोर्टिंग में जुटे कई पत्रकारों को ऑनलाइन भी काफी बुरा-भला कहा गया है। लेकिन बीबीसी के इन आरोपों पर गुरुवार को चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने बीबीसी पर बड़ा हमला किया। चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि 'बीबीसी एक फर्जी ब्रॉडकास्टिंग कंपनी है। इसने चीन की छवि को मलिन करने की कोशिश की और पत्रकारिता मापदंडों का भी उल्लंघन किया है।' चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने कहा कि चीनी जनता के बीच बीबीसी का विश्वास खत्म हो गया उसने ऐसी कोई वजह नहीं छोड़ी जिससे की लोग उससे घृणा ना करे।
आपको बता दें कि बीबीसी और बीजिंग के बीच यह तल्खियां उस वक्त शुरू हुईं जब चीन की कम्युनिस्ट पार्टी ने ऑनलाइन एक मैसेज डाल कर अपने 1.6 फॉलोअर्स से कहा कि वो बीबीसी के रिपोर्ट्स की गतिविधियों के बारे में जानकारी जुटाएं। हेनान कम्युनिस्ट यूथ लीग के इस कमेंट के बाद बीबीसी के पत्रकारों को जान से मारने की धमकी मिलने लगी। The Foreign Correspondents' Club of China ने एक बयान जारी कर कहा है कि झिनगांजोऊ में पत्रकारों को कुछ नाराज स्थानियों ने घेर कर पकड़ लिया। जबकि कई पत्रकारों को जान से मारने की धमकी भी मिल रही है। झिनगांजोऊ में रिपोर्टिंग कर रहे न्यूज एजेंसी 'AFP' के पत्रकारों से जबरन फुटेज डिलीट करवाया गया। ये पत्रकार एक ट्रैफिक टनल की रिपोर्टिंग कर रहे थे।

बीबीसी के साथ चीन का टकराव उस वक्त शुरू हुआ जब बीबीसी संवाददाता रॉबिन ब्रांट की एक रिपोर्ट में बाढ़ के बीच एक ट्रेन के डिब्बे में एक दर्जन लोगों की मौत के बाद सरकार की नीतियों पर सवाल उठाया गया था। इसके बाद चीनी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म वीबो पर बीबीसी संवाददाता के खिलाफ कई नफरत भरे पोस्ट किये गये थे। आपको बता दें कि हाल ही में कई मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि हेनान में मूसलाधार बारिश के कारण आपदा का संकट गहराता जा रहा है। वहीं, इस बीच चीनी लोग विदेशी पत्रकारों को अपना काम करने से रोक रहे हैं। चीनी राज्य-मीडिया द्वारा चीनी शहरों में बाढ़ की कवरेज के लिए विदेशी मीडिया पर निशाना साधने के बाद, वहां के नागरिकों ने हेनान प्रांत में सड़कों पर कई अंतरराष्ट्रीय मीडिया आउटलेट्स के संवाददाताओं को परेशान किया।

Previous123456789...7778Next