COVID-19 :

Confirmed :

Recovered :

Deaths :

Maharashtra / 1282963 Andhra Pradesh / 654385 Tamil Nadu / 563691 Karnataka / 548557 Uttar Pradesh / 374277 Delhi / 260623 West Bengal / 237869 Odisha / 196888 Telangana / 179246 Bihar / 174266 Assam / 165582 Kerala / 154458 Gujarat / 128949 Rajasthan / 122720 Haryana / 118554 Madhya Pradesh / 115361 Punjab / 105220 Chhattisgarh / 93351 Jharkhand / 76438 Jammu and Kashmir / 68614 Uttarakhand / 44404 Goa / 30552 Puducherry / 24895 Tripura / 23786 Himachal Pradesh / 13386 Chandigarh / 10968 Manipur / 9537 Arunachal Pradesh / 8416 Nagaland / 5730 Meghalaya / 5083 Ladakh / 3969 Andaman and Nicobar Islands / 3744 Dadra and Nagar Haveli and Daman and Diu / 2978 Sikkim / 2612 Mizoram / 1759 State Unassigned / 0 Lakshadweep / 0

   BIG BREAKING : प्रदेश में आज 2272 नए कोरोना संक्रमितों की हुई पहचान, 10 कोरोना मरीजों की हुई मौत    |    सोशल मिडिया में वायरल हो रहे निजी अस्पताल में निशुल्क कोरोना इलाज वाले समाचार की क्या है सच्चाई, पढ़े ये खबर    |    कोतवाली थाना क्षेत्र के काली बाड़ी में शराब एवं सट्टा का कारोबार करने वाले 05 आरोपी गिरफ्तार, पढ़ें पूरी खबर    |    BIG BREAKING : राजधानी रायपुर में कार से IPL क्रिकेट में सट्टा खिलवा रहे 7 सटोरी हुए गिरफ्तार, आरोपियों से 10 करोड़ का सट्टा पट्टी जब्त    |    आईपीएल 2020: बैंगलोर के खिलाफ पंजाब कर सकता है बड़ा बदलाव, शामिल होगा विस्फोटक बल्लेबाज    |    किसानों को मजदूर बनाने की साजिश: सीएम भूपेश बघेल    |    Rafale पर CAG की रिपोर्ट, कांग्रेस बोली- अब समझ में आई डील की क्रोनोलॉजी    |    बड़ी खबर: ड्रग्स केस में एनसीबी की रडार पर 50 फिल्मी कलाकार, कई ए-लिस्टर्स एक्टर्स भी शामिल    |    शर्लिन चोपड़ा का बड़ा दावा- बड़े क्रिकेटर्स की बीवियां लेती हैं ड्रग्स    |    कोरोना अपडेट : कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा पहुंचा 57 लाख के पार, पिछले 24 घंटे में 1,129 लोगो की हुई मौत    |
LOCK DOWN : प्रदेश के इस जिले में कल से 2 अक्टूबर तक लगने जा रहा है सम्पूर्ण लॉक डाउन, पढ़ें पूरी खबर

LOCK DOWN : प्रदेश के इस जिले में कल से 2 अक्टूबर तक लगने जा रहा है सम्पूर्ण लॉक डाउन, पढ़ें पूरी खबर

दंतेवाड़ा जिला कलेक्टर श्री दीपक सोनी ने कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने हेतु दक्षिण बस्तर दंतेवाड़ा के संपूर्ण क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। महामारी रोग अधिनियम के अंतर्गत दी गई शक्तियों का प्रयोग करते हुए सीमा क्षेत्र के अंतर्गत संक्रमण से बचाव एवं स्वास्थ्य गत आपातकालीन स्थिति को नियंत्रण में रखने हेतु 23 सितम्बर 2020 प्रातः 7 बजे से 2 अक्टूबर 2020 मध्य रात्रि 12 बजे तक लॉकडाउन घोषित किया है और विभिन्न गतिविधियों पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाई है। आदेश के अनुसार दक्षिण बस्तर दंतेवाड़ा में प्रतिदिन लगातार कोरोनावायरस मरीज चिन्हित किए जा रहे हैं। कोरोनावायरस के संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए भारत सरकार, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग तथा छत्तीसगढ़ शासन द्वारा जारी गाईडलाइन अनुसार कोरोनावायरस पाए जाने वाले क्षेत्रों में कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं।

पढ़ें : BIG BREAKING : राजधानी रायपुर में कार से IPL क्रिकेट में सट्टा खिलवा रहे 7 सटोरी हुए गिरफ्तार, आरोपियों से 10 करोड़ का सट्टा पट्टी जब्त 

दंतेवाड़ा में कंटेनमेंट जोन बनाए जा चुके हैं जो अभी भी प्रभावशील है। दंतेवाड़ा क्षेत्र में आवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं के आवागमन को छोड़कर उक्त नगर पालिका की सभी सीमाओं को एददद्वारा सील किया जा रहा है। इस अवधि में केवल मेडिकल दुकानों को अपने निर्धारित समय में खुलने की अनुमति होगी। मरीज एवं मेडिकल दुकान संचालक दवाओं की होम डिलीवरी व्यवस्था को प्राथमिकता देगें। पेट्रोल पम्प संचालको द्वारा केवल शासकीय वाहनों एवं शासकीय कार्य में प्रयुक्त वाहन, मेडिकल इमरजेन्सी से संबंधित निजी वाहन/एम्बुलेंस तथा एल.पी.जी. परिवहन कार्य में प्रयुक्त वाहनों को ही पी.ओ.एल. प्रदान किया जायेगा अन्य सभी वाहनों हेतु पी.ओ.एल प्रदान करना पूर्णतः प्रतिबंधित होगा। दुग्ध पार्लर व वितरण की समयावधि प्रातः 6 बजे से प्रातः 8 बजे तक एवं संध्या 5 बजे से संध्या 6.30 तक ही होगी। केवल दुकान/पार्लर के सामने फिजिकल डिस्टेंसिंग एवं मास्क संबंधी निर्देशों का पालन करते हुए उपरोक्त समयावधि में केवल दुग्ध वितरण की अनुमति होगी।

पढ़ें : बड़ी खबर: हिस्ट्रीशीटर की 7 लोगों ने मिलकर की हत्या, चार बदमाशों ने थाने में किया सरेंडर

पैट शॉप/एक्वेरियम को केवल पशुओं को पशुचारा देने हेतु प्रातः 6 बजे से प्रातः 8 बजे तक एवं सायं 5 बजे से सायं 6.30 बजे तक शॉप खुली रहेंगीं। एलपीजी गैस सिलेण्डर की एजेंसिया केवल टेलिफोनिक या ऑनलाईन आर्डर लेंगे तथा ग्राहको को सिलेण्डरों की घर पहुंच सेवा उपलब्ध करायेंगे। औधोगिक संस्थानों एवं निर्माण ईकाईयों को अपने कैम्पस के भीतर मजदूरों को रखकर एवं अन्य आवश्यक व्यवस्था करते हुए उद्योगों के संचालन व निर्माण कार्यो की अनुमति होगी। इस अवधि के दौरान नगरीय निकाय बचेली किरन्दुल क्षेत्र के अंतर्गत संचालित समस्त शराब दुकाने बंद रहेंगी। सभी धार्मिक, सास्कृतिक एवं पर्यटन स्थल आम जनता के लिए पूर्णतः बंद रहेंगे। नगर पालिका बचेली एवं किरन्दुल क्षेत्र के समस्त शासकीय, अर्धशासकीय, अशासकीय कार्यालय बंद रहेंगे। सभी पदाधिकारी एवं कर्मी अपने घर से शासकीय कार्य का निष्पादन करेंगे। आवश्यकता पड़ने पर कार्यालय प्रमुख उन्हें कार्यालय में बुला सकते है। सभी प्रकार के सभा, जूलूस आयोजन आदि प्रतिबंदित रहेंगे।

पढ़ें : बड़ी खबर: राजधानी के ब्लू स्काई कैफे में लॉकडाउन के दौरान हुक्का पीते 28 गिरफ्तार 

होम आइसोलेशन में रह रहे कोविड पॉजिटिव मरीजों को भोजन की समस्या उत्पन्न होने पर कोविड केयर सेंटर आवश्यकतानुसार भेजा जाएगा, आपात स्थिति में 07856-252412, 9302706669 नंबर में आवश्यकतानुसार संपर्क किया जा सकता हैै। कोविड-19 संक्रमण के रोकथाम हेतु कार्य जैसे- कॉन्टेक्ट, टेªसिंग, ऐक्टिव सर्विलांस, होम आईसोलेशन, दवाई वितरण आदि पूर्वानुसार चलते रहेंगे। इन कार्य में संलग्न सभी शासकीय कर्मचारियों की उपस्थिति पूर्वानुसार अनिवार्य होगी। कोविड केयर सेन्टर से डिस्चार्ज होने वाले मरीजों के परिवहन में संलग्न वाहन पूर्वानुसार संचालित रहेंगे। अपरिहार्य परिस्थितयों में से अन्यत्र जाने वाले यात्रियों को ई-पास के माध्यम से पूर्व अनुमति लिया जाना अनिवार्य होगा। आपात स्थिति में यात्रा के दौरान 4 पहिया वाहनों में ड्राईवर सहित अधिकतम 3 एवं 2 पहिया वाहन में केवल दो व्यक्तियों को यात्रा की अनुमति होगी। इस निर्देश का उल्लंघन किये जाने पर 15 दिवस हेतु वाहन जप्त करते हुए चालानी व अन्य कानूनी कार्यवाही की जावेगी।

पढ़ें : BIG BREAKING : बिलासपुर सिम्स की नयी प्रभारी डीन की हुई नियुक्ति, राज्य सरकार ने जारी किया आदेश 

  नगर में आवश्यक वस्तुओं एवं सेवाओं के आवागमन को छोड़कर निगम क्षेत्र की सभी सीमाओं को एतद द्वारा सील किया जाता है। सिर्फ वाणिज्यिक कार्गो परिवहन की अनुमति ही इस प्रतिबंधित क्षेत्र में (रात में भी) होगी। नगर पालिका बचेली, किरंदुल, की सभी दुकानें, व्यवसायिक प्रतिष्ठान, गोदाम, साप्ताहिक हाट-बाजार आदि अपनी सम्पूर्ण गतिविधियों को बंद रखेंगे।

पढ़ें : राजधानी में लगे लॉक डाउन का जायजा लेने निकले मंत्री रविन्द्र चौबे, पढ़ें पूरी खबर 

       नगर के अंतर्गत आने वाले फैक्ट्री, निर्माण एवं श्रम कार्य संचालित करने वाली इकाईयों को निम्न शर्तों के अधीन छूट रहेगी। यथासंभव श्रमिकों के रहने की व्यवस्था फैक्ट्री या इकाईयों के अंदर करनी होगी। आवश्यकता पडने पर कर्मचारियों के परिवहन की व्यवस्था फैक्ट्री या ईकाईयों को स्वयं करनी होगी। संक्रमण विस्तार को दृष्टिगत रखते हुए भारत सरकार, राज्य शासन तथा समय-समय पर अन्य संस्थानों द्वारा महामारी से सुरक्षा हेतु जारी समस्त निर्देशों का अक्षरशः पालन सुनिश्चित करना होगा। इन इकाईयों से धनात्मक मरीजों की पहचान होने पर ईलाज पर होने वाले समस्त व्ययों का वहन इन इकाईयों को ही करना होगा। ग्रामीण क्षेत्रों के अंतर्गत स्थित फैक्ट्री, निर्माण एवं श्रम कार्य संचालित करने वाले संस्थान या इकाईयों को इस प्रतिबंध से छूट रहेगी। सभी धार्मिक, सांस्कृतिक एवं पर्यटन स्थल आम जनता के लिए पूर्णतः बंद रहेंगे। मिडिया कर्मी यथासंभव वर्कफ्राम होम द्वारा कार्य सम्पादित करेंगे अत्यावश्यक स्थिति में कार्य हेतु बाहर निकलने पर अपना आई-कार्ड साथ रखेंगे तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग एवं मास्क संबंधि निर्देशों का कड़ाई से पालन करेंगे।

पढ़ें : बड़ी खबर: ड्रग्स केस में एनसीबी की रडार पर 50 फिल्मी कलाकार, कई ए-लिस्टर्स एक्टर्स भी शामिल

यह आदेश अनुविभागीय अधिकारी (रा0), उप पुलिस अधीक्षक, कोषालय, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय एवं उनके अधिनस्त समस्त कार्यालय, तहसील, थाना, एवं चौकी पर लागू नहीं होंगे। इसके अतिरिक्त कानून व्यवस्था एवं स्वास्थ्य सेवा से संबंधित पदाधिकारी एवं कर्मी, बिजली, पेयजल आपूर्ति एवं नगर पालिका सेवायें, जिसमें सफाई, सिवरेज एवं कचरे का डिस्पोजल इत्यादि भी शामिल है, तथा अग्निशमन सेवायें के अधिकारी/कर्मचारी पर लागू नहीं होगा। इन शासकीय कार्यालयों में उपरोक्त अवधि में आम जनता का प्रवेश प्रतिबंधित होगा।

पढ़ें : Rafale पर CAG की रिपोर्ट, कांग्रेस बोली- अब समझ में आई डील की क्रोनोलॉजी

आदेश का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति, प्रतिष्ठान, भारतीय दण्ड संहिता 1860 की धारा 188 तथा अन्य सुसंगत विधि के तहत् दण्डनीय होंगे। इन वर्णित गतिविधियों में संशय उत्पन्न होने पर जिला दण्डाधिकारी का निर्णय अंतिम होगा। पूर्व में जारी समस्त आदेशों को अधिक्रमित करते हुए यह आदेश जारी किया गया है। यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू होगा।

  नौकरी से निकाले जाने से नाराज युवक ने बाईक में लगाई आग

नौकरी से निकाले जाने से नाराज युवक ने बाईक में लगाई आग

जगदलपुर। शहर के स्टेट बैंक मेन ब्रांच के सुरक्षाकर्मी की बाइक को नौकरी से निकाले जाने से नाराज युवक परमेश्वर नाग ने आग के हवाले करने के बाद मौके से फरार हो गया। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार मेटगुड़ा निवासी परमेश्वर नाग एसबीआई बैंक मैन ब्रांच में वाहन चलाने का काम करता था, कुछ दिनों पहले ही उसका और बैंक मैनेजर के बीच विवाद के बाद बैंक मैनेजर ने वाहन मालिक से युवक की शिकायत कर दी। शिकायत पर वाहन मालिक ने परमेश्वर नाग को नौकरी से निकाल दिया। नौकरी से निकाले जाने से नाराज परमेश्वर नाग ने रविवार की शाम पहले एसबीआई बैंक के गेट में पत्थर मारा, उसके बाद मेन ब्रांच के सुरक्षाकर्मी मनोज पटेल की बाहर खड़ी बाइक में आग लगा दिया। बाइक में आग देख आसपास के दुकानदारों ने घटना की सूचना बैंक के कर्मचारी को दिया। सुरक्षा कर्मियों द्वारा आग पर काबू पाने के बाद इसकी सूचना पुलिस को थाना कोतवाली में दिया है, आरोपी युवक की पुलीस पतासाजी कर रही है। 
 क्वॉरंनटाईन सेंटर से फरार कोरोना संक्रमित पर दस हजार का ईनाम घोषित, पढ़े पूरी खबर

क्वॉरंनटाईन सेंटर से फरार कोरोना संक्रमित पर दस हजार का ईनाम घोषित, पढ़े पूरी खबर

जगदलपुर। थाना दरभा के अपराध क्रमांक  32/20 धारा 302 , 201 , 34 भादवि का आरोपी तुलाराम बट्टी पिता बामन उम्र 22 वर्ष निवासी गुमड़पाल पुजारीपारा पखनार जो केन्द्रीय जेल जगदलपुर में हत्या के आरोप में सजा काट रहा था, जिसे करोना संक्रमण होने पर  धरमपुरा पीजी कॉलेज बालक छात्रावास में अस्थाई क्वॉरंनटाईन सेंटर में प्रशासनिक आदेश पर उपचार के लिए भर्ती किया गया था। क्वॉरंनटाईन सेंटर से हत्या के फरार आरोपी तुलाराम बट्टी पर दस हजार रूपये का ईनाम घोषित किया गया है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 02 सितंबर 2020 को रात्रि 10:30 बजे क्वॉरंनटाईन सेंटर मे गणना किया गया तो पता चला कि उक्त आरोपी ताला तोड़कर फरार हो गया है। जिस पर से थाना कोतवाली में अप.क्र. 404/20 धारा 224, 188, 269, 270 भादवि, महामारी अधिनियम, 1897 की धारा 03 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर आरोपी की तलाश की जा रही है। फरार आरोपी नाम  तुलाराम वट्टी, पिता वामन राम उम्र 23 वर्ष रंग सांवला गुमडपाल, पुजारीपारा पखनार दाहिने पिंडली में चोट का निशान, बाल काला, नेकर फुल शर्ट पहना है, गोंडी, हिंदी बोलता है। आरोपी पर दस हजार रूपये का ईनाम घोषित है। 

उक्त हत्या के आरोपी का हर संभव पता तलाश किया गया आज दिनांक तक कोई पता नहीं चला है। जो कोई भी व्यक्ति उक्त फरार आरोपी के संबंध में  जानकारी देगा अथवा जिसकी जानकारी से इनकी गिरफ्तारी संभव होगी ऐसे व्यक्ति को प्रकरण में पुलिस अधीक्षक, बस्तर के द्वारा दस हजार रूपये का नगद ईनाम से पुरस्कृत किया जावेगा। जानकारी देने वाले का पहचान गुप्त रखा जायेगा। थाना कोतवाली फोन नंबर 07782.222350 कंट्रोल रूप फोन नंबर 07782-222170 में इसकी सूचना दी जा सकती है। 
नक्सलियों ने गला घोटकर दो ग्रामीणों की कर दी हत्या, पढ़ें पूरी खबर

नक्सलियों ने गला घोटकर दो ग्रामीणों की कर दी हत्या, पढ़ें पूरी खबर

दंतेवाड़ा | जिले के ग्राम हीरोली और डोकापारा के बीच जंगल में दो बेगुनाह ग्रामीणोंं अशोक कुंजाम पिता आयतू कुंजाम एवं बंडारा पिता हिडिय़ा कुंजाम की नक्सलियों द्वारा गला घोट कर निर्मम हत्या कर दी गई है।

पढ़ें : राजधानी रायपुर में कोरोना संक्रमित के अंतिम संस्कार में शामिल हुए 100 से भी ज्यादा लोग, सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियाँ 

परिजनों द्वारा इसकी सूचना पुलिस को दिए जाने पर दोनों ग्रामीणों के शवों को थाना किरंदुल लाया जा रहा है। नक्सलियों के गंगालूर एरिया कमेटी द्वारा पर्चा जारी करते हुए गोपनीय सैनिक होने का आरोप लगाकर हत्या की जिम्मेदारी ली है।  

पढ़ें : BIG BREAKING : CGPSC मुख्य परीक्षा की तिथि हुई घोषित, जाने कब होगी परीक्षा, देखें आदेश 

प्राप्त जानकारी के अनुसार अशोक कुंजाम के विवाह के प्रस्ताव को अंतिम रूप देने के लिए परिवार के 05 सदस्य ग्राम डूडी टुन्नार जिला बिजापुर गए थे, जहां से वापसी कर रहे थे। इस दौरान ग्राम हीरोली और डोकापारा के बीच जंगल में नक्सलियों ने अशोक कुंजाम एवं बंडारा की गला घोटकर हत्या कर दी गई, तथा बाकी परिजनों के साथ मारपीट भी की गई है।
 
 
नक्सलियों के इस कायराना हरकत को लेकर ग्रामीणों में नाराजगी देखाी जा रही है। ग्रामीणों द्वारा थाना किरंदुल पंहुचकर इसकी रिपोर्ट लिखाई गई है। दंतेवाड़ा एसपी ने इसकी पुष्टि किया है।  
बड़ी खबर: सीएएफ कैंप से लापता हेड कॉन्स्टेबल की बीच सड़क पर मिली लाश, नक्सली वारदात की आशंका

बड़ी खबर: सीएएफ कैंप से लापता हेड कॉन्स्टेबल की बीच सड़क पर मिली लाश, नक्सली वारदात की आशंका

दंतेवाड़ा। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले के बोदली कैम्प में तैनात एक हेड कॉन्स्टेबल कनेश्वर नेताम का शव बोदली और करियामेटा के बीच सड़क पर 5 दिनों बाद मिला है। पुलिस नक्सली हत्या की आशंका जता रही है। दरअसल दंतेवाड़ा एसपी अभिषेक पल्लव ने घटना की पुष्टी करते हुए जानकारी दी है कि सड़क पर मिला शव हेड कांस्टेबल कनेश्वर नेताम का है। जो बीते 28 अगस्त को कैम्प से अचानक  फरार हो गया था, इससे पहले 26 अगस्त को जवान  बोदली कैम्प में  पोस्टिंग में आया था।


कैम्प से फरार होने के बाद उसकी तलाश लगातार आसपास के गांव में की जा रही थी, कैम्प से फरार होने की  सूचना मृतक कांस्टेबल के परिजनों को भी दी गई थी। या तो गांव वालों ने हत्या की या नक्सलियों ने हत्या की इस बात की पतासाजी की जा रही है। जवान के शव के पास से कोई पर्चा पोस्टर भी बरामद नही हुआ है। 

हाल में ही इसी तरह से बीजापुर जिले के कुटरू थाना से एक 58 वर्षीय एएसआई को नक्सलियों ने अगवा कर मौत के घाट उतार दिया था। और अब ये दूसरी घटना है।
छत्तीसगढ़: बाल संप्रेक्षण गृह में नाबालिग ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, पढ़े पूरी खबर

छत्तीसगढ़: बाल संप्रेक्षण गृह में नाबालिग ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, पढ़े पूरी खबर

जगदलपुर। बस्तर जिला मुख्यालय के बोधघाट थाना क्षेत्र के वृंदावन कॉलोनी में स्थित बाल संम्प्रेक्षण गृह में सोमवार की सुबह एक नाबालिग ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस, तहसीलदार तथा अन्य अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। 

मिली जानकारी के अनुसार रोजाना की तरह सोमवार की सुबह भी सभी बच्चे योगा करने के लिए उठकर नित्य क्रिया करने एक-एक कर बाथरूम जाकर वापस लौट आए। लेकिन दो दिनों पहले ही कोंडागांव से यहां लाया गया 14 वर्षीय बच्चा बाथरूम जाने के बाद बाहर ही नही निकला, इसी बीच एक अन्य बच्चा बाथरूम पहुंचा। उस बच्चे के होश तब उड़ गये, जब उसने कोंडागांव से पहुंचे बच्चे की लाश को गमछे से बने फांसी के फंदे पर लटकते हुए देखा। घबराकर उस बच्चे ने घटना की जानकारी अन्य लोगों की दी। इस घटना से बाल सम्प्रेक्षण गृह में दहशत फैल गई। घटना की जानकारी मिलते ही बोधघाट पुलिस, तहसीलदार, फोरेंसिक एक्सपर्ट की टीम और अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचकर मामले की जांच के साथ आवश्यक कार्रवाई में जुट गए है।
सीआरपीएफ के जवानों की मदद से कैंप में एक गर्भवती महिला ने दिया बच्चे को जन्म, पढ़ें पूरी खबर

सीआरपीएफ के जवानों की मदद से कैंप में एक गर्भवती महिला ने दिया बच्चे को जन्म, पढ़ें पूरी खबर

दंतेवाड़ा | जिले के कोंडासवाली पंचायत के ग्राम दोरापारा में गर्भवती महिला डब्ल्यू सोमा टोनाली ने 231 सीआरपीएफ के अधिकारियों और जवानों की मदद से कोंडासवाली शिविर में एक बच्चे को जन्म दिया है। 

READ : छत्तीसगढ़ प्रदेश के इस दिग्गज मंत्री के भाई का हुआ निधन 

जब कोंडासवाली पंचायत और कमल पोस्ट के बीच भारी बारिश और फिसलन के कारण सड़क अवरुद्ध हो गया था। मरीज को इलाज के लिए जिला अस्पताल दंतेवाड़ा भेजना संभव नहीं था। तब जितेंद्र सिंह यादव, कमांडेंट के निर्देश पर महिला के डिलीवरी के लिए कोंडासावली सीआरपीएफ कैंप तक लाया गया।
 
 
कैंप में उसे चिकत्सिय सुविधा उपलब्ध करवाकर डिलीवरी के बाद उसे उसके पैतृक गांव सुरक्षित भेज दिया गया है। जितेंद्र सिंह यादव कमांडेंट 231 सीआरपीएफ ने कहा कि इस प्रकार के सामाजिक कार्य भविष्य में लगातार किए जाएंगे।
 
 बड़ी खबर: आरपीएफ के 31 जवान सहित 38 कोरोना पॉजिटिव, जिला पंचायत सीईओ ने की पुष्टि

बड़ी खबर: आरपीएफ के 31 जवान सहित 38 कोरोना पॉजिटिव, जिला पंचायत सीईओ ने की पुष्टि

दंतेवाड़ा। जिले में कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ती ही जा रही है, जिसमें राहत की बात यह है कि ज्यदातर मामले जवानों के मिले हैं। कल देर शाम कों आरपीएफ के 31 जवान सहित 38 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। जिले में कुल 38 कोरोना पॉजिटिव मरीजों के मिलने की पुष्टि जिला पंचायत सीईओ अश्वनी देवांगन ने की है।
 
 
प्राप्त जानकारी के अनुसार 31 आरपीएफ के जवान कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। वहीं 07 कोरोना पॉजिटिव मरीज बचेली में मिले हैं। जिन्हें गीदम कोविड अस्पताल में उपचार के लिए लाया गया है।
 एसीबी की कार्यवाही: रिश्वत लेते सहायक संचालक गिरफ्तार

एसीबी की कार्यवाही: रिश्वत लेते सहायक संचालक गिरफ्तार

जगदलपुर। एसीबी ने जगदलपुर में खादी ग्रामोद्योग के सहायक संचालक नितिन बैस को घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपी ने प्रधानमंत्री रोजगार निर्माण कार्यक्रम (पीएमईजीपी) के तहत सब्सिडी लोन पास कराने की एवज में रुपए मांगे थे। एसीबी टीम ने पहली किश्त के 5 हजार रुपए लेते पकड़ा है।

जानकारी के मुताबिक, केशकाल निवासी जुबेर मेमन ने प्रधानमंत्री रोजगार निर्माण कार्यक्रम (पीएमईजीपी) के तहत लोन के लिए आवेदन किया था। इसके लिए उसका संपर्क खादी ग्रामोद्योग के सहायक संचालक नितिन बैस से हुआ। आरोप है कि उसने लोन पास कराने की एवज में 30 हजार रुपए रिश्वत की मांग की।

हालांकि सब्सिडी वाले लोन के लिए दोनों के बीच 15 हजार रुपए देना तय हुआ। इसके बाद जुबेर ने एसीबी से शिकायत कर दी। एसीबी ने मामले का सत्यापन कराया। इसकी पुष्टि होने पर ट्रैप का आयोजन किया। पहली किश्त के रूप में 5 हजार रुपए देने के लिए जुबेर को आरोपी ने अपने कोंडागांव स्थित आवास पर बुलाया। वहीं एसीबी ने उसे पकड़ लिया।
 बस्तर जिले में दूसरा कोरोना पॉजिटिव युवक की हुई मौत, मेकॉज में किया गया था भर्ती

बस्तर जिले में दूसरा कोरोना पॉजिटिव युवक की हुई मौत, मेकॉज में किया गया था भर्ती

जगदलपुर। बस्तर जिले के लोहंडीगुड़ा के कोटलापाल निवासी 25 वर्षीय एक युवक को सांस लेने की तकलीफ होने की शिकायत के बाद शुक्रवार को मेकॉज में भर्ती करवाया गया था, जहां कोरोना जांच में युवक का पॉजिटिव रिपोर्ट पाया गया था। उपचार के दौरान शनिवार को युवक की मौत हो गई। कोरोना से बस्तर जिले में यह दूसरी मौत कोरोना संक्रमित की हुई है। इससे पूर्व जगदलपुर के नयामुण्ड़ा निवासी कोरोना संक्रमित एक युवती की मौत रायपुर में हो गई थी। कोरोना संक्रमित युवक के मौत की पुष्टि डिमरापाल मेडिकल कॉलेज के अधीक्षक डॉ केएल आजाद ने किया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार लोहंडीगुड़ा के कोटलापाल निवासी 25 वर्षीय एक युवक को बीते कल शुक्रवार को सांस लेने की तकलीफ होने की शिकायत के बाद लोहंडीगुड़ा अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया था। मरीज की गंभीर स्थिति को देखते हुए चिकित्सकों ने उसे तत्काल डिमरापाल मेडिकल कॉलेज रेफेर कर दिया था। मेकॉज में युवक को भर्ती करने के साथ ही चिकित्सकों ने उसका रैपिड एंटीजेन टेस्ट किया,  जिसमें युवक की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी। आज सुबह उपचार के दौरान उक्त कोरोना संक्रमित युवक मौत हो गई है। युवक की मौत के बाद प्रशासन और स्वास्थ विभाग आवश्यक कार्यवाही में जुट गया है, लोहंडीगुड़ा अस्पताल जहां युवक का उपचार किया गया था उसे सील करने की तैयारी की जा रही है। 
 बस्तर में नक्सलवाद से निपटने में विफल रही भूपेश सरकार- केदार कश्यप

बस्तर में नक्सलवाद से निपटने में विफल रही भूपेश सरकार- केदार कश्यप

जगदलपुर। छत्तीसगढ़ के पूर्व स्कूल शिक्षा मंत्री और भाजपा नेता केदार कश्यप ने भाजपा कार्यालय में हुए प्रेस वार्ता के दौरान भूपेश सरकार को बस्तर में नक्सलवाद से निपटने के लिए पूरी तरह से विफल बताया। साथ ही प्रदेश के गृहमंत्री को भी आड़े हाथों लेते हुए उन्हें प्रदेश का निष्क्रिय मंत्री कहा है।
 
 
भाजपा कार्यालय में कोरोना महामारी के दौरान केंद्र सरकार की ओर से प्रदेश वासियों को गरीब कल्याण योजना के तहत दिए जा रहे लाभ को बताने के लिए प्रेस वार्ता आयोजित किया गया था। इस दौरान मीडिया के एक सवाल पर केदार कश्यप ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस के सरकार बनने के बाद नक्सलवाद को बढ़ावा मिलने के साथ ही घटनाओं में भी लगातार इजाफा हाने की बात कही है। केदार कश्यप ने कहा कि नक्सलवाद से निपटने और इसके खात्मे के लिए भूपेश सरकार के पास कोई रणनीति नहीं है।
 
 
केदार कश्यप ने भूपेश सरकार पर लगाए आरोप पर केदार कश्यप ने प्रदेश के गृहमंत्री को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि गृहमंत्री इतने निष्क्रिय हैं कि उन्हें मालूम ही नहीं रहता है कि नक्सल घटनाओं में कितने जवान शहीद हुए हैं और कहां कौन सी घटना हुई है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को इस बात की चिंता होना चाहिए कि बस्तर से नक्सलवाद को कैसे खत्म करें, लेकिन कांग्रेस कार्यकाल के 02 वर्ष बीतने वाले हैं, लेकिन नक्सलवाद के खात्मे को लेकर मुख्यमंत्री और गृहमंत्री ने एक बार भी बस्तर में कोई बड़ी बैठक नहीं की है। ऐसे में साफ जाहिर होता है कि नक्सलवाद के खात्मे के लिए भूपेश सरकार के पास कोई रणनीति नहीं है।
  अलग खबर: अच्छी बारीश की कामना के लिए मेंढ़क-मेंढ़की की कराई शादी

अलग खबर: अच्छी बारीश की कामना के लिए मेंढ़क-मेंढ़की की कराई शादी

दंतेवाड़ा। जिले के छिन्दगढ़ ब्लाक के ग्राम कांजीपानी में मेंढ़क-मेंढ़की की शादी धूमधाम से सम्पन्न की गई। ऐसी मान्यता है कि इस शादी के बाद अच्छी बारीश होती है। दरअसल इस सीजन में जिले में औसतन बारिश हुई है, जबकि हर साल अच्छी बारीश होती है। ग्राम कांजीपानी में बारीश के लिए ग्रामीणों ने पारंपरिक प्रथाओं का सहारा लिया है। इंद्र देवता को खुश करने के लिए गाजे-बाजे के साथ मेंढ़क-मेंढ़की की शादी का आयोजन किया गया। आयोजन में शामिल ग्रामीणों का मानना है कि बारीश के देवता खुश होंगें और जल्द ही अच्छी बारीश होगी। 
 
 
उल्लेखनिय है कि पूरा सावन सूखा चला गया मानसून सत्र बीत रहा है लेकिन जिले में पिछले वर्षो की अपेक्षा इस वर्ष बारीश नहीं हो रही है। ऐसे में ग्रामीणों ने अच्छी बारीश के लिए मेंढ़क-मेंढ़की की शादी कराई और मन्नत मांगी। ग्रामीणों ने बताया कि वही पूरी शादी आदिवासी संस्कृति से की गई। हल्दी कार्यक्रम का आयोजन रखा गया था, इस दौरान ग्रामीणों ने जमकर नाच-गाना किया गया। ग्रामीणों ने बताया कि करीब 15 साल पहले भी इसी तरह बारिश कम हुई थी, तब भी मेढ़क-मेंढकी की शादी कराई गई थी, जिसके बाद बारिश हुई थी।

 

 हत्या सहित बड़ी वारदातों में शामिल 1 नक्सली ने किया समर्पण

हत्या सहित बड़ी वारदातों में शामिल 1 नक्सली ने किया समर्पण

जगदलपुर। जिले में चलाए जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत माओवादियों के कुन्ना एरिया कमेटी अंतर्गत सक्रिय नक्सली बामन उर्फ रमेश ने अमिताभ कुमार कमांडेंट 80 बटालियन, हरि मोहन मिश्रा द्वितिय कमान अधिकारी, आरके बहाली, आदित्य पांडे, उप पुलिस अधीक्षक बस्तर (ऑप्स), सदन कुमार, उप कमांडेंट खिरोद घोष, डापी बैंकेटा विकास, डॉ आनंद सिंह,  सहा. कमिश्नर, रेहाना राव, एमएस बुच आईबी अधिकारी एवं अन्य अधिकारीगण के समक्ष आत्मसमर्पण किया है। शासन द्वारा आत्मसमर्पण के पश्चात छत्तीसगढ़ पुनर्वास नीति के तहत 10 हजार प्रोत्साहन राशि दिया गया एवं अन्य सुविधाओं का लाभ भी दिया जाएगा।
 
 
नक्सली बामन उर्फ रमेश वर्ष 2007 से 2019 तक नक्सल संगठन में रहते हुए सक्रिय रुप से कार्य कर रहा था। आत्मसमर्पण के पश्चात बामन उर्फ रमेश ने बताया कि वह संगठन में शामिल होने के बाद (एक्शन) टीम में रहकर काम करता था। वर्ष 2009 में भीमा सेठ को मारपीट की घटना में भी वह शामिल था। इस घटना में नक्सली सुखराम, गंगा, कोशा भी शामिल थे। वर्ष 2007 में ग्राम कुन्ना से कुकुनार रोड में आईईडी लगाने में शामिल था।
 
 
वर्ष 2008 में ग्राम कुन्ना निवासी जनपद सदस्य भीमा मंडावी से मारपीट की एवं उसका घर जलाने की घटना में शामिल था। वर्ष 2008-2009 में ग्राम कुन्ना के पहाड़ में हुई पुलिस-नक्सली मुठभेड़ की घटना में भी वह शामिल था, जिसमें 04 जवानों की हत्या की गई थी। आत्मसमर्पित नक्सली ने बताया कि वह ग्राम कुन्ना, कोरमाघोन्दी, कावेड़ापारा, पैदापारा, डब्बा, सराईटिकरा, खासपारा, गिरीपाल, जोगे, पन्दीपारा,ताड़पारा, कुंदनपाल, डोलेराश, मुटेल के जंगल एरिया में रहकर नक्सल गतिविधियों को अंजाम दिया करता था।
 पोटाली से 3 किमी दूर हुई मुठभेड़ नक्सली कैंप ध्वस्त: देशी राकेट लांचर, बड़ी मात्रा में वायर-केबल नक्सली वर्दी बरामद

पोटाली से 3 किमी दूर हुई मुठभेड़ नक्सली कैंप ध्वस्त: देशी राकेट लांचर, बड़ी मात्रा में वायर-केबल नक्सली वर्दी बरामद

दंतेवाड़ा। जिले के थाना अरनपुर अंर्तगत पोटाली कैंप से 03 किमी दूर मिर्चीपारा में 15 से 20 नक्सनियों द्वारा एक बैठक लेने की सूचना आज सुबह मिलने पर पोटाली और अरनपुर से डीआरजी/एसटीएफ की टीम बैठक स्थल पर पहुंचकर इलाके की घेराबंदी के दौरान नक्सलियों ने अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दिया साथ ही नक्सलियों ने सड़क के किनारे लगाए गए दो पाइप बमों को भी सक्रिय कर दिया। जवानों की जवाबी कार्यवाही में अपने को कमजोर पड़ता देख जंगल की आड़ लेते हुए फरार होने में कामयाब हो गये। 

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मुठभेड़ लगभग 20 मिनट तक होने के बाद नक्सली अपने को कमजोर पड़ता देख भाग खड़े हुए।  मुठभेड़ के बाद इलाके की सर्चिंग में मौके से नक्सलियों की दैनिक उपयोग की नक्सल कैम्पिंग सामग्री सहित देशी राकेट लांचर, 02 टिफिन बम, दो पाइप बम बड़ी मात्रा में वायर-केबल नक्सली वर्दी और छाते बरामद की गई है। जवान मुठभेड़ के बाद सुरक्षित रूप से वापस शिविर में लौट आए। मुठभेड़ के दौरान दो एसटीएफ जवानों को मामूली चोटें आई है।
नक्सलियों द्वारा लगाये 10 किलो का एक आईईडी एवं 3 किलो के दो प्रेशर आईईडी पुलिस ने किया बरामद

नक्सलियों द्वारा लगाये 10 किलो का एक आईईडी एवं 3 किलो के दो प्रेशर आईईडी पुलिस ने किया बरामद

दंतेवाड़ा, जिले के किरंदुल थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम हिरौली और पीरनार के मध्य जवानों को नुकसान पहुंचाकर बड़ी वारदात को अंजाम देने के लिए नक्सलियों द्वारा लगाये गये एक 10 किलो का आईईडी और दो-तीन किलो के प्रेशर आईईडी बम बरामद किया गया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सोमवार की सुबह ग्रामीण सूचना तंत्र से मिली जानकारी पर किरंदुल पुलिस एवं डीआरजी की टीम मौके के लिए रवाना की गई थी जिनके द्वारा एक 10 किलो का आईईडी और दो-तीन किलो के प्रेशर आईईडी बरामद करने के बाद सावधानी पूर्वक निष्क्रिय कर दिया गया है। दंतेवाड़ा एसपी डॉ अभिषेक पल्लव पल्लव ने इसकी पुष्टि किया है।  

कोतवाली थाना क्षेत्र में रविवार की अलसुबह कपड़े की दुकान में लगी आग, पढ़ें पूरी खबर

कोतवाली थाना क्षेत्र में रविवार की अलसुबह कपड़े की दुकान में लगी आग, पढ़ें पूरी खबर

जगदलपुर | जिले के कोतवाली थाना क्षेत्र के संजय मार्केट में स्थित विवेकानंद स्कूल के सामने रविवार के अलसुबह एक कपड़े की दुकान में आग लग गई। सूचना पर पहुंची कोतवाली पुलिस, डायल 112 की टीम, अग्निशमन और एनडीआरएफ की टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। 

READ : रक्षाबंधन पर शहर में सोमवार को खुलेंगी राखी और मिठाई की दुकाने, कलेक्टर ने जारी किया आदेश

मिली जानकारी के अनुसार अलसुबह करीबन 03 बजे प्रियंका क्लॉथ स्टोर में अचानक आग लग गई। घण्टों मशक्कत के बाद आग को बुझाया गया। इस घटना में कपड़े दुकान सटे दो अन्य दुकान में भी धुंआ भर गया था।
 
 
लेकिन कोतवाली पुलिस, डायल 112 की टीम, अग्निशमन और एनडीआरएफ टीम की सूझबूझ के चलते बड़ी घटना टल गई है। फिलहाल अभी तक आग लगने का कारण स्पष्ट नही हुआ है । संभावना है कि शार्ट सर्किट की वजह से आग लगी होगी, आग लगने से दुकान में रखे कपड़े बड़ी मात्रा में जलकर खाक हो गये हैं। 
ईनामी नक्सली डिप्टी कमांडर मल्ला ने किया आत्मसमर्पण

ईनामी नक्सली डिप्टी कमांडर मल्ला ने किया आत्मसमर्पण

दंतेवाड़ा |  जिला में रक्षाबंधन पर्व के ठीक पहले भैरमगढ़ एरिया कमेटी की पश्चिम बस्तर डिवीजन के नक्सलियों की प्लाटून नम्बर 13 का सक्रिय 08 लाख का ईनामी नक्सली डिप्टी कमांडर मल्ला तामो ने दंतेवाड़ा एसपी अभिषेक पल्लव एवं सीआरपीएफ डीआईजी के सामने आत्मसमर्पण कर मुख्यधारा में लौट आया है। 

पढ़ें : रक्षाबंधन पर शहर में सोमवार को खुलेंगी राखी और मिठाई की दुकाने, कलेक्टर ने जारी किया आदेश

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार ईनामी नक्सली डिप्टी कमांडर मल्ला तामो 13 सालो तक जमकर नक्सली संगठन में रहते हुये हत्या, लूट, आगजनी जैसी बड़ी हिंसक घटनाओं को लाल आतंक के नाम पर अंजाम दिया। 
 
 
उल्लेखनिय है कि 05 लाख की इनामी नक्सली दशमी ने 20 दिन पहले जगदलपुर में सरेंडर किया था। उसने भी अपने भाई लक्ष्मण से अपील की है कि वह भी सरेंडर कर दे। दशमी ने कहा कि विवाह के 06 महीने बाद पति वर्गीस मुठभेड़ में मारे गए। अब भाई को नहीं खोना चाहती, वह माचकोट में कमांडर है। दशमी ने बताया कि वे 2011 में और भाई 2016 में नक्सल संगठन में शामिल हुआ था। 
 
 
मार्च 2020 में सुकमा पुलिस के सामने सरेंडर करने वाले इनामी नक्सली बादल ने कहा कि मेरी इकलौती बहन जोगी कड़तामी एसीएम है। वह नक्सल लीडर देवा के साथ काम कर रही है। उसे कहूंगा कि रक्षाबंधन के समय सरेंडर करके वह भी मुख्यधारा में शामिल हो जाए। मिलकर राखी मनाएंगे। जोगी 2014 में नक्सल संगठन में शामिल हुई थी। इन दिनों पुलिस भी लोन वर्राटू के नाम से अभियान चला रही है, जिसमें भटके हुए नक्सलियों को वापस मुख्यधारा में लाया जा रहा है । 
 
 प्रशासनिक अधिकारी कोरोना पॉजिटिव कलेक्टोरेट परिसर वीरान, कलेक्टोरेट को किया गया सेनेटाइज

प्रशासनिक अधिकारी कोरोना पॉजिटिव कलेक्टोरेट परिसर वीरान, कलेक्टोरेट को किया गया सेनेटाइज

जगदलपुर। बस्तर जिले में राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी कोरोना पॉजेटिव पाये गये हैं। कलेक्टोरेट के प्रशासनिक अधिकारी एवं एक महिला कर्मचारी के कोरोना रैपिड टेस्ट में रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद कलेक्टोरेट में हड़कंप मच गया है। इधर कलेक्टोरेट भवन को कल देर शाम को सेनेटाइज किया गया है। यदि अधिकारी एवं कर्मचारी की आरटी-पीसीआर रिपोर्ट भी पॉजिटिव आती है तो जगदलपुर कलेक्टोरेट परिसर को सील किया जा सकता है।
 
 
मिली जानकारी के अनुसार अधिकारी एवं कर्मचारी की ट्रेवल हिस्ट्री अभी नहीं मिली है, लिहाजा वो संक्रमित कब और कैसे हुए इसे मालूम किया जा रहा है। अधिकारी एवं कर्मचारी के कोरोना पॉजेटिव पाये जाने के बाद उनके संम्पर्क में आये कई लोगों को भी आइसोलेट होना पड़ सकता है। अधिकारी ने आज ही जिला मुख्यालय में बैठक भी ली थी। अब अधिकारी के संक्रमित होने के बाद स्कूल संचालक व अभिभावकों में भी डर है। बस्तर में तीन स्वास्थ्यकर्मी भी कोरोना पॉजेटिव पाये गये हैं।
 कोरोना: गिरफ्तार आरोपी के कोरोना पॉजिटिव मिलने से पुलिस विभाग में मचा हड़कंप

कोरोना: गिरफ्तार आरोपी के कोरोना पॉजिटिव मिलने से पुलिस विभाग में मचा हड़कंप

जगदलपुर। जिले में कल देर रात 21 लोगों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि मेकॉज के कोविड इंचार्ज डॉ नवीन दुल्हानी ने किया है। इनमें से 14 मरीज तोकापाल क्वारेंटाइन सेंटर से है जब कि 03 लोग जगदलपुर शहर से और 04 मरीज आड़ावाल क्वारेंटाइन सेंटर से हैं। बस्तर जिले में कोरोना का प्रकोप बढ़ता जा रहा है अब इसके शिकार कोरोना वॉरियर्स भी हो रहे है डिमरापाल अस्पताल के 02 नर्स के पॉजिटिव पाये जाने के बाद रविवार को मेकॉज में कोरोना का जांच करने वाला टेक्नीशियन की भी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। टेक्नीशियन के पॉजिटिव आने के बाद मेकॉज में हड़कंप मच गया है, आनन फानन में माइक्रोबायोलॉजी डिपार्टमेंट को सील कर दिया गया है। 
 
 
जगदलपुर शहर से मिले 03 कोरोना संक्रमितों में से एक कोरोना पॉजिटिव मरीज आरोपी जिसे 02 दिन पहले ही पुलिस ने गिरफ्तार किया था। आरोपी को जेल भेजने के बाद उसकी तबियत बिगडऩे पर उसे जेल से डिमरापाल अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां कोरोना टेस्ट में युवक के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने से पुलिस अमला में हड़कंप मच गया है। दरअसल पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद पहले परपा थाना और उसके बाद बोधघाट थाना लाया गया था। इस दौरान संक्रमित मरीज के साथ अन्य आरोपी और कुछ पुलिस के स्टाफ भी मौजूद थे। जिसे देखते हुए तीनों थाना कोतवाली, बोधघाट और परपा को सेनेटाईज किया गया है। 
 
 
इधर देर रात युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद बस्तर एसपी ने एहतियात के तौर पर दोनों ही थाने के स्टाफ की सूची मंगाई है, आज सभी का कोरोना टेस्ट किया जाएगा, बताया जा रहा है कि अगर पुलिस स्टाफ से किसी की रिपोर्ट पॉजिटिव आती है तो उसके बाद दोनों ही थाने को सील करने की कार्रवाई की जाएगी। आज दोनों थाने की स्टाफ की सूची तैयार कर मेडिकल कॉलेज टेस्ट के लिए भेजी जा रही है। वही संक्रमित युवक के साथ मौजूद रहे अन्य आरोपियों का भी टेस्ट किया जाएगा। 
 बड़ा हादसा: केशकाल में सरिये से भरा ट्रेलर दुर्घटनाग्रस्त, चालक को बीच रास्ते आई झपकी

बड़ा हादसा: केशकाल में सरिये से भरा ट्रेलर दुर्घटनाग्रस्त, चालक को बीच रास्ते आई झपकी

जगदलपुर। विशाखापट्टनम से लोहे का सरिया लोड कर रायपुर आ रही एक ट्रेलर केशकाल में दुर्घटनाग्रस्त हो गई। हादसे में वाहन चालक की मौत हो गई। शुक्रवार देर रात करीब 12.30 बजे केशकाल में ट्रेलर ड्रायवर के कंट्रोल से बाहर हो गया और पेड़ से जा टकरया।
 
 
हादसे में ट्रेलर में लोड लोहे का सरिया आगे की ओर खिसक गया, जिससे ड्रायवर पेड और लोहे के बीच फंस गया। कई घंटों की कड़ी मशक्कत के बाद चालक को बाहर निकाला जा सका और इलाज के लिए एंबुलेंस वाहन से केशकाल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रवाना किया गया, लेकिन बीच रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि ड्रायवर को झपकी आने के चलते यह दुर्घटना हुई है। ट्रेलर क्रमांक सीजी 04 जेसी 9255 में लोहे का सरिया लेकर नेशनल हाइवे-30 से विशाखापट्टनम से रायपुर आ रही थी।
 
 
इसी बीच केशकाल के खालेमुरवेंड गांव के पास चालक को नींद आ गई और स्टेयरिंग से कंट्रोल फैल हो गया और विशाल पेड़ से जा टकराया। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि ट्रेलर में लोड लोहे का सरिया सामने की ओर खिसक गया, जिसके चलते ट्रेलर के चालक का आधा शरीर पेड़ व ट्रेलर के बीच फंस गया। 
मलांगिर एरिया कमेटी के 1 लाख का ईनाम नक्सली गिरफ्तार

मलांगिर एरिया कमेटी के 1 लाख का ईनाम नक्सली गिरफ्तार

दंतेवाड़ा। जिले के थाना किरन्दुल अंर्तगत जिला बल एवं डीआरजी बल के नक्सली गश्त सर्चिंग के दौरान ग्राम पीरनार पेरपा के बीच जंगल से पीरनार पंचायत कमेटी अध्यक्ष नंदा कुंजाम उर्फ जीबरा को आज घेराबंदी कर गिरफ्तार किया गया है। 01 लाख रूपये के ईनामी नक्सली नंदा कुंजाम उर्फ  जीबरा बड़ी संख्या में नक्सली वारदातों में शामिल रहा है, जिसमें कई पुलिस और जवान सहित सिविलियन शहीद हो गये, इसके अलावा मतदान पार्टी पर हमले में शामिल रहा है।
 
 
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गिरफ्तार नक्सली नंदा कुंजाम उर्फ जीबरा ने खुलासा किया कि 16 जून 2020 को दन्तेवाड़ा से 04 व्यक्ति किरन्दुल ग्राम पीरनार पहुंचकर नक्सली कमाण्डर देवा, कमलेश, जोगी, राजे, सोमड़ू, गुड्डी के उपस्थिति में स्थानीय आत्मसमर्पित नक्सली जो पुलिस में भर्ती हो गये हैं, उनके द्वारा हमारे साथियों की सूची बनाई जा रही है तथा वर्तमान में बस्तर एवं दन्तेवाड़ा द्वारा चलाये जा रहे लोन वर्राटू अभियान के तहत हमारे साथियों के द्वारा लगातार आत्मसमर्पण किये जाने से ग्रामीणों में नक्सलियों के प्रति जनाधार कम होता जा रहा है, साथ ही शासन/प्रशासन अंदरूनी क्षेत्रों तक आश्रम, स्कूल, रोड़, पंचायत कार्य, मनरेगा कार्य  कर रहे हैं।
 
 
जिससे प्रशासन पर दबाव बनाने हेतु ठेकेदार रविन्द्र सोनी एवं स्थानीय लोग अजय, जोगा, भीमा कांचा को टारगेट करने की बात मीटिंग में तय की गई एवं यह भी निर्णय लिया गया कि इनसे जो भी मिलेंगे उन्हें उठाकर जनअदालत लगाकर मौत के घाट उतार देंगे एवं दबाव बनाने के लिए इस क्षेत्र के जवानों का पर्चा निकाल कर उनके परिजनों की हत्या करने का निर्णय भी लिया गया है। 
 बड़ी खबर: सील हुआ माँ दंतेश्वरी शक्तिपीठ का दरबार, मंदिर के साथ आस-पास के इलाके भी रहेंगे सील

बड़ी खबर: सील हुआ माँ दंतेश्वरी शक्तिपीठ का दरबार, मंदिर के साथ आस-पास के इलाके भी रहेंगे सील

दंतेवाड़ा। प्रदेश में कोरोना वायरस (कोविड-19) के प्रकोप से हड़कंप मचा हुआ है। कोरोना स्थिति के अनुसार अब छत्तीसगढ़ के कई जिलों में फिर से लॉकडाउन लगाया जा रहा है। कोरोना के चलते पर्यटन स्थलों को भी बंद करा दिया गया है। आपको बता दे की अधिस्ठात्री देवी माँ दंतेश्वरी का दरबार भी 14 दिन के लिए बंद करवा दिया। 700 साल के इतिहास में पहली बार छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा स्थित माँ दंतेश्वरी शक्तिपीठ 14 दिनों के लिए सील हुआ है।

पढ़िए पूरी खबर-
बस्तर के काकतीय शासनकाल में 700 साल पहले स्थापित दंतेश्वरी शक्तिपीठ के दर्शन से पहली बार श्रद्धालुओं को रोक दिया गया है। कोरोना संकट के कारण मंदिर को सील कर दिया गया है। परिसर में निवास करने वाले एक श्रद्धालु के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद प्रशासन ने एहतियातन यह कदम उठाया है। पीढ़ियों से मंदिर में सेवा दे रहे जिया परिवार के सदस्य व पुजारी हरेंद्रनाथ जिया कहते हैं कि इतिहास में पहली बार हुआ है, जब शक्तिपीठ को सील किया गया है। मंगलवार से मंदिर परिसर में सन्नाटा पसरा हुआ है।
 
 
परंपरा खंडित न हो इसलिए पुजारी पूजा-पाठ कर रहे हैं। बस्तर का विश्व प्रसिद्ध दशहरा उत्सव मां दंतेश्वरी को समर्पित है। कोरोना काल में अगर हालात नहीं सुधरे तो इस बार इसके आयोजन पर भी असर पड़ सकता है। दंतेवाड़ा से मांईजी की डोली व छत्र हर साल जगदलपुर में आयोजित होने वाले दशहरा में शामिल होने जाते हैं। उसका स्वागत मावली परघाव रस्म के रूप में जगदलपुर में किया जाता है। इस साल इस रस्म के पूरा होने पर भी संशय है। कोरोना वायरस के दुष्प्रभाव से देवी दंतेश्वरी का मंदिर भी प्रभावित हुआ है।
 
 
विगत सोमवार की शाम जिले में मिले 27 कोरोना पॉजिटिव मरीजों में एक मंदिर परिसर निवासी श्रद्धालु भी शामिल है। मंदिर के करीब आवास होने के कारण वह प्रतिदिन देवी दर्शन को आता था। प्रशासन ने कंटेनमेंट जोन के दायरे में मंदिर परिसर को भी रखा है। 14 दिन के लिए मंदिर के साथ आसपास के इलाके भी सील रहेंगे। स्वास्थ्य अमला लगातार सर्वे कर रहा है। 
ग्रामीणों का पक्ष लेने पर नक्सलियों ने अपने ही दो साथियों की कर दी हत्या

ग्रामीणों का पक्ष लेने पर नक्सलियों ने अपने ही दो साथियों की कर दी हत्या

दंतेवाड़ा। जिले के अरनपुर थानाक्षेत्र अंतर्गत मिच्चीपारा के जंगलों में नक्सलियों ने ग्रामीणों का पक्ष लेने पर अपने ही दो साथियों की गला रेतकर हत्या कर दिया, वहीं तीन ग्रामीणों की बेदम पिटाई करने की घटना को अंजाम दिया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मलंगीर दलम के सक्रिय नक्सली सोमारू और जयलाल ने हत्या और मारपीट की घटना को अंजाम दिया है। इलाके में जवानों की सर्चिंग अब बढ़ा दी गयी है।

पढ़ें : दुर्ग जिले में लॉकडाउन के अनुपालन के लिए सुबह से ही लगी रही टीम, प्रशासन ने किया फ्लैगमार्च

प्राप्त जानकारी के अनुसार नक्सली ग्रामीणों को एक सड़क खोदने के लिए कह रहे थे, ग्रामीणों ने सड़क खोदने से इनकार कर दिया। जिससे भड़के नक्सलियों ने इस वारदात को अंजाम दिया है। नक्सलियों के द्वारा बुधवार व गुरुवार की दरम्यानी रात को हत्या और मारपीट की घटना के शिकार पांचों लोगों में तीन घायल ग्रामीणों में हिड़मा डेगा मरकाम, जोगा पोडिय़ामि, और जोगा मंडावी शामिल हैं। वहीं मृतकों में बजरंग वेट्टी और टिडो मंडावी दोनों नक्सलियों के साथी थे, सभी पोटाली के धुर्वापारा के निवासी थे। घटना के बाद से क्षेत्र में दहशत का माहौल देखा जा रहा है।
 
 
दंतेवाड़ा एसपी डॉ अभिषेक पल्लव ने घटना की जानकारी देते हुये बताया कि नक्सलियों ने ग्रामीणों से पोटाली-अरनपुर सड़क खोदने को कह रहे थे। ग्रामीणों ने मना किया तो वे भड़क गए। इस पर नक्सलियों ने 03 ग्रामीणों की बेदम पिटाई की और 02 अपने ही नक्सली साथियों बजरंग वेट्टी उर्फ भीमा मिलिशिया कमांडर और टिडो मंडावी जनमिलिशिया सदस्य की ग्रामीणों की पैरवी करने पर हत्या कर दिया है। 
 शहर में कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद क्लीनिक और मेडिकल स्टोर सील, संजय बाजार मार्ग को भी किया गया सील

शहर में कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद क्लीनिक और मेडिकल स्टोर सील, संजय बाजार मार्ग को भी किया गया सील

जगदलपुर। संभाग मुख्यालय के शहर में बुधवार को कोरोना पॉजिटिव मरीज के मिलने के बाद पॉजिटिव मरीजों की ट्रेवल हिस्ट्री खंगाली जा रही है, ट्रेवल हिस्ट्री के आधार पर देर शाम बैला कोठा के समीप स्थित क्लिनिक, बैंक, मेडिकल दुकान को सील कर दिया गया है। 
 
 
बैला कोठा के समीप स्थित क्लिनिक में तैनात डॉक्टर व अन्य लोगो का भी कोरोना टेस्ट करवाया जा रहा है। नर्स के कोरोना पॉजिटिव पाये जाने के बाद संजय बाजार का क्षेत्र भी सील कर दिया गया है। इसके अलावा बस्तर संभाग में लगातार कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने से बस्तर संभाग के सभी जिले में लॉक डाउन कर दिया गया है। बस्तर संभाग में ज्यादातर मामले यहां तैनात जवानों के मिलने से नक्सल क्षेत्र में इसे लेकर चिंता का सबब है। 
आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने घर में ही फांसी लगा कर की आत्महत्या, पढ़े पूरी खबर

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने घर में ही फांसी लगा कर की आत्महत्या, पढ़े पूरी खबर

दंतेवाड़ा। जिले के कुआकोंडा थाना अंतर्गत ग्राम श्याम गिरी में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने घर में आत्महत्या कर लिया है। थाना प्रभारी कुआकोंडा राठौर ने बताया कि श्यामगिरी स्थित आंगनबाड़ी केंद्र में पार्वती मिडियामी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के रूप में कार्य करती थीं। पार्वती ने घर में ही फांसी लगा ली। पुलिस मामले की विवेचना कर रही है।
 
+ Load More