Corona Update 04 Oct : प्रदेश में आज इतने मरीजों की हुई पुष्टि, इस जिले से मिले सबसे ज्यादा मामले, देखिए जिलेवार आंकड़ें    |    Corona Update 3 Oct : राज्य में कोरोना से 1 की मौत...इस जिले से मिले सबसे ज्यादा मामलें...देखें जिलेवार आंकड़ें    |    Corona Update 2 Oct : प्रदेश में आज मिले कोरोना के इतने मरीज, फिर इस जिले से सामने आए सर्वाधिक मामलें...देखें जिलेवार आंकड़े    |    TRANSFER BREAKING : लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग में बड़ी फेरबदल, कई अधिकारी कर्मचारी इधर से उधर...देखें पूरी लिस्ट    |    Corona Update 30 Sept : प्रदेश में आज इतने मरीजों की हुई पुष्टि, इस जिले से मिले सबसे ज्यादा मामले, देखिए जिलेवार आंकड़ें    |    कोरोना को लेकर राहत की खबर...24 घंटे में मिले इतने नए कोरोना के मरीज...देखिए जिलेवार आकड़े    |    कोरोना को लेकर राहत की खबर...24 घंटे में मिले इतने नए कोरोना के मरीज...देखिए जिलेवार आकड़े    |    Corona Update 26 September : छत्तीसगढ़ में आज मिले कोरोना के इतने नए मरीज...देखें जिलेवार आंकड़े    |    कोरोना को लेकर राहत की खबर...24 घंटे में मिले इतने नए कोरोना के मरीज...देखिए जिलेवार आकड़े    |    Corona Update 24 September : छत्तीसगढ़ में आज मिले कोरोना के इतने नए मरीज...देखें जिलेवार आंकड़े    |
दंतेवाड़ा में 5 लाख के इनामी नक्सली ने किया आत्मसमर्पण

दंतेवाड़ा में 5 लाख के इनामी नक्सली ने किया आत्मसमर्पण

 दंतेवाड़ाजिले में 5 लाख के इनामी नक्सली लखमा कोर्राम ने आत्मसमर्पण किया है। आत्मसमर्पित नक्सली मलांगेर एरिया कमेटी का सदस्य और नीलावाया जनताना सरकार का अध्यक्ष था। यह मामला अरनपुर थाना क्षेत्र का है। आत्मसमर्पित नक्सली के खिलाफ 17 मामले दर्ज थे।

लखमा कोर्राम पर छत्तीसगढ़ शासन द्वारा 5 लाख रूपये एवं दंतेवाड़ा पुलिस के तरफ से दस हज़ार रुपए इनाम घोषित था। यह गोपनीय सैनिक 3 ग्रामीणों की हत्या सहित कई गंभीर घटनाओं में शामिल था। दन्तेवाड़ा एसपी सिद्धार्थ तिवारी ने विजयादशमी के अवसर पर लखमा कोर्राम को तिलक लगाकर एवं प्रसाद खिलाकर समाज की मुख्यधारा में शामिल होने के लिये स्वागत किया। बता दें अब तक लोन वर्राटू अभियान के तहत 140 इनामी माओवादी सहित कुल 559 माओवादियों ने आत्मसमर्पण किया है।

मां दंतेश्वरी का दर्शन कर भूल जाते हैं सारी तकलीफें, घुटने के बल चलकर शक्तिपीठ पहुंच रहे श्रद्धालु…

मां दंतेश्वरी का दर्शन कर भूल जाते हैं सारी तकलीफें, घुटने के बल चलकर शक्तिपीठ पहुंच रहे श्रद्धालु…

 दंतेवाड़ा :- बस्तर की आराध्य देवी मां दंतेश्वरी की आस्था देश-विदेश में फैली है। नवरात्रि के दौरान माता के भक्त तमाम दुश्वारियों को बर्दाश्त कर शक्तिपीठ पहुंचते हैं और मांई दंतेश्वरी के दर्शन कर अपनी मुरादें पाते हैं। ऐसा ही नजारा इस साल भी दिख रहा है।

पिछले दो साल से कोरोना महामारी के चलते शारदीय नवरात्र पर मंदिर में श्रद्धालुओं की संख्या अपेक्षाकृत कम रही, लेकिन इस बार तमाम पाबंदियों के हटते ही भक्तों का रेला शक्तिपीठ में उमड़ने लगा है।

दूर-दराज से बड़ी संख्या में पदयात्री श्रद्धालु दंतेवाड़ा पहुंच रहे हैं। इनमें कई श्रद्धालु ऐसे भी हैं, जो माता का आशीर्वाद पाने शक्तिपीठ का रास्ता घुटनों के बल चलकर तय कर रहे हैं।

बस्तर की खास परंपरा… नवरात्र में किन्नर निकालते है श्रृंगार यात्रा, दंतेश्वरी मंदिर में चढ़ाते हैं पहली चुनरी और श्रृंगार

बस्तर की खास परंपरा… नवरात्र में किन्नर निकालते है श्रृंगार यात्रा, दंतेश्वरी मंदिर में चढ़ाते हैं पहली चुनरी और श्रृंगार

 दंतेवाड़ा। पूरे देश समेत बस्तर में भी शारदीय नवरात्रि का पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है, सोमवार सुबह से ही बस्तर के सभी देवी मंदिरों में भक्तों का तांता लगा हुआ है, वही बस्तर की आराध्य देवी मां दंतेश्वरी मंदिर में सुबह से ही लोग दर्शन के लिए पहुंच रहे हैं। लेकिन नवरात्रि के पहले दिन देवी की पहली पूजा किन्नर समाज के द्वारा किए जाने की परंपरा बस्तर में लंबे समय से चले आ रही है। जिसके लिये रविवार और सोमवार के आधी रात किन्नर समाज के द्वारा शहर में श्रृंगार यात्रा निकाली गई।

इस परंपरा के तहत देर रात बग्गी में सवार साज श्रृंगार किये किन्नरो के द्वारा आधी रात में श्रृंगार यात्रा निकालकर देवी भजन के धुन पर दंतेश्वरी मंदिर पहुंचते है और सुबह के करीब 4 बजे जैसे ही मां दंतेश्वरी का दरबार खुलता है, पहला दर्शन किन्नरों के द्वारा किया जाता है, जिसके बाद माता को पहली चुनरी और श्रृंगार किन्नरों के द्वारा चढ़ाई जाती है।

दरअसल हर साल नवरात्रि के शुरू होने से पहले देर रात किन्नर समाज ही मां दंतेश्वरी को पहली चुनरी चढ़ाते हैं, इस दौरान किन्नर समाज के सभी लोग श्रृंगार सामान लेकर दंतेश्वरी के दरबार पहुंचते हैं और नाच गाने के साथ मां की भक्ति में सराबोर हो जाते हैं। किन्नर समाज की अध्यक्ष रिया परिहार ने बताया कि हर साल किन्नरों के श्रृंगार यात्रा में जगदलपुर के अलावा पड़ोसी राज्य उड़ीसा से भी किन्नर भव्य यात्रा में शामिल होने के लिए बस्तर पहुंचते हैं और नवरात्रि के पहले दिन हर साल किन्नरों द्वारा श्रृंगार यात्रा निकाली जाती है।

इसमें बस्तर वासियों का भी समर्थन मिलता है। माता रानी के भजन के धुन पर सभी किन्नर थिरकते हुए माता को चुनरी और श्रृंगार का सामान चढ़ाने के लिए मंदिर पहुंचते हैं। इस दौरान सभी किन्नर सात श्रृंगार किए होते हैं। अध्यक्ष रिया का कहना है कि मां दंतेश्वरी के प्रति किन्नरों की गहरी आस्था जुड़ी हुई है। यही वजह है कि हर साल नवरात्रि के पहले दिन चुनरी और श्रृंगार का सम्मान किन्नरों के द्वारा ही माता को चढ़ाया जाता है। किन्नरों ने कहा कि वह भी समाज का एक प्रमुख अंग है, इस पूजा के पीछे उनका उद्देश्य होता है कि सभी व्यापारियों व बस्तरवासियों पर किसी तरह की कोई समस्या ना आए और किसी की गोद खाली ना रहे, इसलिए मां दंतेश्वरी से वे प्रार्थना करने पहुंचते हैं।

चंदखुरी की तर्ज पर दंतेश्वरी के प्रांगण में बनने जा रहा मध्य भारत का सबसे बड़ा ज्योति कलश भवन

चंदखुरी की तर्ज पर दंतेश्वरी के प्रांगण में बनने जा रहा मध्य भारत का सबसे बड़ा ज्योति कलश भवन

 दंतेवाड़ा /  का ऐतिहासिक दंतेश्वरी मंदिर जो पहले ही अपनी पौराणिक कथाओं को लेकर विश्व प्रसिद्ध है, अब एक और नया आयाम लिखने जा रहा है। दरअसल, माई दंतेश्वरी के प्रांगण में चंदखुरी की तर्ज पर मध्य भारत का सबसे बड़ा ज्योति कलश भवन बनने जा रहा है। इस भवन का निर्माण लाल बालू पत्थर से किया जाएगा। इतना ही नहीं भवन की दीवारों पर माई दंतेश्वरी की पौराणिक कथाओं को दर्शाया जाएगा जिससे यहां आने वाले भक्तों को मंदिर के इतिहास के बारे में पूरी जानकारी हो पाएगी। इस भवन में एक साथ 11100 ज्योति कलश की स्थापना हो पाएगी। आपको बता दे की भेट मुलाकात कार्यक्रम के दौरान मुख्मंत्री भुपेश बघेल ने मंदिर के पुजारियों की मांग पर इस भवन की नीव रखी थी। जिला कलेक्टर विनीत नंदनवार ने बताया कि आने वाली चैत्र नवरात्रि तक इस भवन के निर्माण का कार्य पूर्ण कर लिया जाएगा।

Accident News : ट्रक ने बाइक सवार जीजा-साले को रौंदा, एक की मौत

Accident News : ट्रक ने बाइक सवार जीजा-साले को रौंदा, एक की मौत

 दंतेवाड़ा। जिले में दर्दनाक सड़क ( road accident)हादसा हुआ है। एक ट्रक ने बाइक सवार युवक को कुचल दिया है। जिससे युवक की मौके पर ही मौत हो गई है। हादसा कतियाररास के रेलवे अंडर ब्रिज के नजदीक हुआ है। हादसे के बाद ट्रक चालक( truck driver) मौके से फरार हो गया है। वहीं एक अन्य युवक भी गंभीर रूप से घायल है। मामला सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, बीजापुर जिले के कुटरू कुम्हारपारा का रहने वाला युवक लच्छू मरकाम (25) अपने जीजा के साथ बाइक से दंतेवाड़ा आया हुआ था। जिला मुख्यालय से फिर किसी गांव जा रहा था। इस बीच कतियाररास में रेलवे अंडर ब्रिज के पास मोड़ में ट्रक से टक्कर हो गई। युवक का सिर ट्रक के पिछले टायर के नीचे आ गया। वहीं दूसरा युवक टक्कर के बाद दूर फेंका गया।

ट्रक चालक मौके से फरार ( truck) 

हादसे के बाद ट्रक चालक ट्रक को वहीं छोड़ मौके से फरार हो गया। वहीं इस मार्ग से गुजर रहे राहगीरों ने घायल को फौरन दंतेवाड़ा जिला अस्पताल पहुंचाया। फिर, इस मामले की सूचना दंतेवाड़ा पुलिस को दी गई मौके पर पहुंची पुलिस ने मृत युवक के शव को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल लाया है।

सड़कों पर उतने गड्ढे, जैसे नरवा गरवा योजना सड़कों पर उतर आई-बीजेपी

सड़कों पर उतने गड्ढे, जैसे नरवा गरवा योजना सड़कों पर उतर आई-बीजेपी

 दंतेवाड़ा: बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव और नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल बस्तर के दौरे पर है। इस दौरान वे आज पहली बार दंतेवाड़ा पहुंचे। यहां प्रेस कॉन्फ्रेंस कर प्रदेश सरकार पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि सड़कों में इतने गड्ढे हैं जैसे नरवा गरवा योजना सड़कों पर उतर आई है।बता दें कि बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष अरुण साव और नेता प्रतिपक्ष पांच दिवसीय बस्तर दौरे पर है। इस दौरान शुक्रवार को दंतेवाड़ा पहुंचे। जहां भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष साव, नेता प्रतिपक्ष चंदेल और महामंत्री केदार कश्यप का जोरदार स्वागत किया।

इससे पहले वे सुकमा जिले के दौरे पर थे, जहां से रवाना होकर शाम को दंतेवाड़ा पहुंचे। दंतेवाड़ा शहर के हर चौक - चौराहों से काफिले के गुजरने पर बीजेपी के अलग-अलग मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया। काफिले के साथ मोटरसाइकिल रैली में युवा मोर्चा के कार्यकर्ता भी दिखाई दिए।

नाबालिग युवती की मानव तस्करी के आरोपी को आजीवन कारावास की हुई सजा

नाबालिग युवती की मानव तस्करी के आरोपी को आजीवन कारावास की हुई सजा

 दंतेवाड़ा। नाबालिग युवती को बहला फुसलाकर अपने साथ ले जाकर मानव तस्करी करने वाले आरोपियों को विशेष न्यायाधीश के न्यायालय ने 01 लाख 15 हजार का अर्थदंड व आजीवन कारावास की सजा सुनाई है।
युवती के परिजनों ने भैरमगढ़ थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि बंजाराम मिच्चा उनकी बेटी को बहला फुसलाकर दिल्ली ले गया। यहां लक्ष्मण नाम के एक व्यक्ति के घर रख उसे लुधियाना ले जाकर किसी अन्य व्यक्ति के घर रखा गया। यहां से युवती भागकर दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंची। यहां जीआरपी ने युवती से पूछताछ की, उसने अपने साथ हुई पूरे घटना की जानकारी दी। रेलवे सुरक्षा बल ने दिल्ली सीडब्ल्यूसी को सुपुर्द किया। इसकी जानकारी नाबालिग युवती के परिजनों को मिली। परिजनों ने भैरमगढ़ थाने में जाकर रिपोर्ट कराई। पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ 363, 370 का मामला दर्ज किया। पूरे मामले की जांच के बाद विशेष न्यायाधीश शैलेष शर्मा की विशेष अदालत ने आरोपियों को 363 के आरोप में 7 साल कारावास व 5-5 हजार रुपए, विनियम की धारा 9 (1) के अंतर्गत 5-5 हजार रुपए अर्थदंड, अधिनियम की धारा 26 के स्थान पर 81 के आरोप में 5 साल का सश्रम कारावास व 1-1 लाख रुपए अर्थदंड, कुल 1 लाख 15 हजार रुपए अर्थदंड लगाया।

बस्तर में माओवादियों ने मचाया उत्पात: मालगाड़ी को बनाया निशाना, लोको पायलट को लूटा, डिब्बे में बांधे बैनर

बस्तर में माओवादियों ने मचाया उत्पात: मालगाड़ी को बनाया निशाना, लोको पायलट को लूटा, डिब्बे में बांधे बैनर

 दंतेवाड़ा: बस्तर में माओवदियों ने एक बार फिर उत्पात मचाया है। इस बार माओवदियों ने मालगाड़ी को अपना निशाना बनाया। रविवार देर रात झिरका-बासनपुर के जंगल में मालगाड़ी को रुकवाकर लोको पायलट से वॉकी-टॉकी लूट लिए और ट्रेन में बैनर बांध दिया। हालांकि किसी भी कर्मचारी को नुकसान नहीं पहुंचाया है। यह पूरा मामला भांसी थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के अनुसार, देर रात लाल बैनर लेकर माओवादी किरंदुल-विशाखापट्टनम रेलवे लाइन में ट्रैक के बीच खड़े थे। 20 से 30 माओवादियों ने इस वारदात को अंजाम दिया है। वहीं जब ट्रेन आई तो माओवादियों ने ट्रेन को रुकवाया। माओवादियों को देख पायलेट ने इमरजेंसी ब्रेक लगा दिया। संवेदनशील इलाका होने की वजह से ट्रेन की रफ्तार पहले से ही कम थी।

मालगाड़ी को रुकवाने के बाद माओवादियों ने लोको पायलट समेत अन्य कर्मचारियों को नीचे उतारा और एक डिब्बे में बैनर-पोस्टर लगा दिए। मालगाड़ी के एक डिब्बे में बैनर बांधने के बाद माओवादी जंगल की तरफ चले गए। वारदात होने के बाद रेलवे कर्मचारियों ने इसकी जानकारी फौरन रेलवे के उच्चाधिकारियों को दी। पुलिस को इसकी खबर मिलते ही इलाके में सर्च ऑपरेशन तेज कर दिया गया है।

दरअसल इस रुट पर नक्सल दहशत की वजह रेलवे को पहले ही अंदेशा था इस वजह से पैसेंजर ट्रेनों को कुछ दिनों से दंतेवाड़ा स्टेशन में ही रोका जा रहा है। लेकिन मालगाड़ियों की आवाजाही बरकरार थी। इसके पहले बीजापुर जिले में माओवादियों ने सीआरपीएफ की सब्जी वाहन को आग के हवाले कर दिया था।

2 बाइकों की आमने-सामने जबरदस्त भिड़ंत...एक युवक की मौत, दूसरे की हालत गंभीर

2 बाइकों की आमने-सामने जबरदस्त भिड़ंत...एक युवक की मौत, दूसरे की हालत गंभीर

 दंतेवाड़ा। CG ACCIDENT NEWS : जिले में 2 बाइकों की आमने-सामने जबरदस्त टक्कर हो गई। हादसे में 23 साल के एक युवक की मौत हो गई है, जबकि एक अन्य युवक गंभीर रूप से घायल है। घायल युवक का दंतेवाड़ा जिला अस्पताल में इलाज जारी है। हादसा सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र में हुआ है।

जानकारी के मुताबिक, मृतक का नाम सोहन नेताम (23) है। यह जिले के बींजाम गांव का रहने वाला था। बताया जा रहा है कि सोहन रविवार को नकुलनार से अपनी बाइक से दंतेवाड़ा जिला मुख्यालय की तरफ आ रहा था। इस बीच सामने से एक अन्य युवक बाइक नकुलनार की तरफ जा रहा था।

वहीं बीच जंगल में दोनों की बाइक आमने-सामने से टकरा गई। दोनों को काफी गंभीर चोटें आईं। दोनों सड़क पर ही पड़े हुए थे। इस मार्ग से गुजर रहे लोगों की नजर जब इनपर पड़ी तो उन्होंने फौरन 108 को कॉल कर हादसे की जानकारी दी। मौके पर पहुंचे एंबुलेंस कर्मियों ने फौरन दोनों घायलों को जिला अस्पताल लाया।

इनमें से एक युवक सोहन ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। जिसका पोस्टमार्टम किया जा रहा है। वहीं दूसरे युवक को गंभीर चोटें आईं। जिसका जिला अस्पताल में इलाज जारी है। अब तक घायल युवक के नामों की जानकारी नहीं मिल पाई है।

जादू-टोने के शक में युवक ने शख्स के सिर को किया धड़ से अलग, पुलिस ने किया आरोपी को गिरफ्तार

जादू-टोने के शक में युवक ने शख्स के सिर को किया धड़ से अलग, पुलिस ने किया आरोपी को गिरफ्तार

 दंतेवाड़ा/ जिले के गमावाड़ा गांव के मुंडरा पारा में एक युवक ने जादू-टोना के शक में 55 साल के शख्स का गला काट दिया। घर से बाजार के लिए निकले शख्स को युवक ने पहले पीछे से पकड़ा, फिर धारदार हथियार से गले पर वार कर सिर को धड़ से अलग कर दिया है। पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है। मामला भांसी थाना क्षेत्र का है।
जानकारी के मुताबिक, जिले के गमावाड़ा गांव के मुंडरा पारा के रहने वाले नगड़ूराम भास्कर (55) की हत्या हुई है। नगड़ूराम बुधवार सुबह अपने घर से दंतेवाड़ा जिला मुख्यालय के बाजार जाने के लिए पत्नी के साथ निकला था। लेकिन, पत्नी को इसने पहले बाजार भेज दिया और खुद गांव में ही किसी काम से रुक गया था।

वहीं, गांव का ही एक युवक कमलू भास्कर (22) इनका पीछा करने लगा। जब नगड़ूराम पत्नी से अलग हुआ तो युवक ने मौका पाकर घर से कुछ ही दूरी पर पीछे से पकड़ लिया। मुंह को हाथ से दबाकर धारदार हथियार से गला काट दिया। फिर, शव को खेत में फेंक दिया। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी घर में जाकर छिप गया था।

इधर, ग्रामीणों ने शख्स हत्या होने की जानकारी गांव के ग्रामीणों ने पुलिस को दी थी। मौके पर जवान पहुंचे। जवानों ने शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवाया। जिसके बाद पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू की। पुलिस को पता चला कि गांव के युवक कमलू के साथ पहले भी विवाद हो चुका था। इसके बाद पुलिस ने युवक की तलाश की। जिसमें आरोपी अपना घर में छिपा हुआ मिला है। पूछताछ में ही उसने पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी। आरोपी ने पुलिस को बताया कि नगड़ूराम उसके परिवार पर जादू-टोना कर रहा था। इससे सब की तबीयत बिगड़ रही थी। इसलिए उसे मार दिया।

 

 

सामूहिक भोज के बाद ग्रामीणों की बिगड़ी तबीयत, उल्टी-दस्त से 2 की मौत…

सामूहिक भोज के बाद ग्रामीणों की बिगड़ी तबीयत, उल्टी-दस्त से 2 की मौत…

 दंतेवाड़ा। CG News जिले के कुआकोंडा थाना क्षेत्र के बड़े गुडरा कवासीपारा में सामूहिक भोज के बाद ग्रामीणों की अचानक तबीयत बिगड़ गई। जिससे उल्टी दस्त होने से दो लोगों की मौत हो गई। वहीं दर्जन भर से ज्यादा लोग बीमार बताये जा रहे है।

बता दें कि गांव में सामूहिक भोज के बाद ही इन सभी की तबियत बिगडी है। कलेक्टर विनीत नंदनवार ने मामले की पुष्टि की है। इधर स्वास्‍थ्‍य विभाग के कर्मचारी बड़ी संख्या में पूरे गांव की खाक छानने में लगे हैं। इतनी ज्यादा संख्या में बीमार लोगों के मिलने के बाद दंतेवाडा जिला अस्पताल से भी एंबुलेंस मंगाया गया है।

कुछ मरीजों का गांव में ही उपचार किया जा रहा है। स्वास्‍थ्‍य विभाग ने अब तक बीस से ज्यादा लोगों के बीमार होने की बात कही है। वहीं गांव के अन्य मोहल्लों में भी जाकर स्वास्‍थ्‍यकर्मी बीमार लोगों की पतासाजी करने में जुट गए हैं।

सर्चिंग पर निकले जवानों ने नक्‍सलियों के मंसूबे पर फेरा पानी, 2 जिंदा पाइप बम व आईईडी किया निष्क्रिय…

सर्चिंग पर निकले जवानों ने नक्‍सलियों के मंसूबे पर फेरा पानी, 2 जिंदा पाइप बम व आईईडी किया निष्क्रिय…

 दंतेवाड़ा। 231वीं बटालियन के जवाने सर्चिंग पर निकले थे। जवान सावधानी बरतते हुए कमारगुड़ा कैम्‍प से जगरगुण्‍ड़ा की ओर जा रहे थे। इसी दौरान 2 जिंदा पाइप बम और एक स्टील कंटेनर में 10-10 किलो का आईईडी मिला। जिसे बम निरोधक दस्ता ने निष्क्रिय किया है।

बता दें कि पूर्व में भी माओवादियों के द्वारा इस वाहिनी को कई आईईडी व स्‍पाईक्‍स लगाकर सुरक्षाबलों को नुकसान पहुँचाने का भरसक प्रयास किया गया है, परन्‍तु जवानों द्वारा अपनी ड्यूटी का सर्तकतापूर्वक निर्वाहन करने के कारण माओवादियों के मंसूबों को लगातार नाकाम किया जा रहा है। 231 बटालियन द्वारा अभी तक थाना अरनपुर (दंतेवाड़ा) जगरगुण्‍ड़ा (सुकमा) में कुल 128 आईईडी को सफलतापूर्वक बरामद किया गया है

BREAKING : एक लाख इनामी सहित दो नक्सलियों ने किया सरेंडर

BREAKING : एक लाख इनामी सहित दो नक्सलियों ने किया सरेंडर

दंतेवाड़ा। लोन वर्राटू अभियान के तहत पुलिस को फिर से एक बड़ी कामयाबी मिली है। जहां 1 इनामी सहित कुल 2 नक्सलियों ने सरेंडर किया है। नक्सलियों ने DIG CRPF और दंतेवाड़ा SP के समक्ष आत्मसमर्पण किया है। दोनों माओवादी मलिंगिर एरिया कमेटी के सदस्य है। आत्मसमर्पित जोगा मंडावी जनताना सरकार का अध्यक्ष था। जिस पर 1 लाख का इनाम घोषित था। लोन वर्राटू अभियान के तहत अब तक 137 इनामी सहित कुल 552 नक्सली आत्मसमर्पण कर चुके है। इसकी पुष्टि एडिशनल DP योगेश पटेल ने की है।

इस शारदीय नवरात्र में मां दंतेश्वरी की होगी VIP दर्शन, चुकाना होगा इतना शुल्क

इस शारदीय नवरात्र में मां दंतेश्वरी की होगी VIP दर्शन, चुकाना होगा इतना शुल्क

 दंतेवाड़ाछत्तीसगढ़ में बस्तर की आराध्य देवी मां दंतेश्वरी के इस शारदीय नवरात्र VIP दर्शन होंगे। इसके लिए भक्तों को 2100 रुपए का शुल्क चुकाना होगा। एक परिवार से 2 बच्चे सहित 6 सदस्य एक साथ गर्भगृह तक जाकर माता रानी के दर्शन कर सकेंगे। अन्य भक्तों को गर्भगृह के बाहर स्थित गणेश जी की मूर्ति के पास से ही दर्शन करने की अनुमति है। दंतेवाड़ा कलेक्टर विनीत नंदनवार, विधायक देवती कर्मा, मंदिर के प्रधान पुजारी की उपस्थित में हुई टेंपल कमेटी की बैठक में यह निर्णय लिया गया है।

बताया जा रहा है कि, पिछले साल ही VIP दर्शन की शुरुआत की गई है। VIP दर्शन के लिए 1100 रुपए का शुल्क जमा करना निर्धारित किया गया था। हालांकि, नवरात्रि के पूरे 9 दिनों तक यह सुविधा उपलब्ध थी। लोगों का रिस्पॉन्स काफी अच्छा मिला था। इस बार इस शुल्क में 1000 रुपए बढ़ा दिए गए हैं। परिवार के 4 सदस्य समेत 2 बच्चों के अलावा संख्या बढ़ती है तो प्रति सदस्य 300 रुपए का का टिकट अलग से कटवाना होगा।

पुलिस मुखबिरी के शक में नक्सली ने उतारा मौत के घाट! बीच सड़क पर पड़ा मिला युवक का शव

पुलिस मुखबिरी के शक में नक्सली ने उतारा मौत के घाट! बीच सड़क पर पड़ा मिला युवक का शव

 दंतेवाड़ा: जिले के कटेकल्याण थाना क्षेत्र के तुमकपाल के गुडसे चौक पर एक युवक का शव मिला है। शव के पास पर्चे मिले हैं उस पर बुधराम मारकाम पुलिस का मुखबिर लिखा हुआ है। फिलहाल युवक किस गांव का है यह जानकारी अभी नहीं मिल पाई है।

जानकारी के मुताबिक मृतक युवक के हाथों में रस्सी बंधी हुई है। शरीर में चोट के निशान भी दिख रहे हैं। बीच सड़क में पड़े शव की पहचान करने गुडसे, तुमकपाल, कटेकल्याण सहित आसपास के गांव के लोग जुटे, लेकिन शव की पहचान नहीं हो पाई है।कटेकल्याण एरिया कमेटी के नाम से फेंके गए पर्चे में लिखा हुआ है कि मृतक डीआरजी जवानों के संपर्क में रहता था। कटेकल्याण क्षेत्र में डीआरजी जवानों को भेजता था। यह घटना नक्सली वारदात है या आपसी रंजिश, इसका खुलासा अभी नहीं हो सका है। फिलहाल पुलिस सभी पहलुओं से जांच कर रही है।

रक्षाबंधन 2022: दंतेवाड़ा की महिलाओं ने तैयार की देसी राखियां, लोकल फोर वोकल को दे रहीं बढ़ावा

रक्षाबंधन 2022: दंतेवाड़ा की महिलाओं ने तैयार की देसी राखियां, लोकल फोर वोकल को दे रहीं बढ़ावा

 रक्षाबंधन का त्यौहार नजदीक आ रहा है. राखियों का बाजार सज गया है. बाजार में हर तरह की राखियां देखने को मिल रही. ऐसे में दंतेवाड़ा के बाजार में देसी राखियां धूम मचा रही है. दंतेवाड़ा में जिला प्रशासन की मदद से स्व सहायता समूह की महिलाएं छिंद के पत्ते यानी खजूर पेड़ के पत्ते, चावल और धान से राखियां तैयार कर रही है. लोकल बाजार में इस तरह के राखियों की काफी ज्यादा डिमांड है. इन राखियों की कमाई से स्व सहायता समूह की महिलाओं की अच्छी कमाई हो रही है. पार्वती महिला ग्राम संगठन, मां दंतेश्वरी संकुल संगठन, किसान संकुल संगठन और एकता महिला ग्राम संगठन यह राखियां तैयार कर रही है. पिछले वर्ष इन राखियों से महिला स्व सहायता समूहों को 40 से 50 हजार रुपये की आमदनी हुई थी. इस बार भी महिलाओं को अच्छी कमाई की उम्मीद जगी है.

 

वन कर्मियों के साथ मारपीट करने वाले 3 ग्रामीणों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, पढ़ें पूरा मामला

वन कर्मियों के साथ मारपीट करने वाले 3 ग्रामीणों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, पढ़ें पूरा मामला

 दंतेवाड़ा। जिले के किरंदुल थाना क्षेत्र के एक गांव में लकड़ियों की अवैध तस्करी करने वालों पर कार्रवाई करने पहुंचे वन कर्मियों की पिटाई करने वाले तीन ग्रामीणों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों ने वन कर्मियों को अन्य ग्रामीणों के साथ मिलकर दौड़ा-दौड़ाकर मारा था। इधर, तीनों आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद ग्रामीणों में भी आक्रोश है। पुलिस की इस कार्रवाई को गलत बताते हुए मामले का विरोध अब शुरू हो गया है।

यह था पूरा मामला

यह मामला 1 अगस्त का है। वन विभाग के कर्मचारियों को मुखबिर से सूचना मिली थी कि दंतेवाड़ा जिले के टिकनपाल ग्राम पंचायत में बेशकीमती लकड़ियों का अवैध कारोबार चल रहा है। इसी सूचना पर 4 से 5 लोगों की टीम तस्करों को पकड़ने के लिए गई हुई थी। जब टीम गांव पहुंची तो तस्करों ने गांव वालों को इकट्ठा कर वन विभाग की टीम पर हमला कर दिया था। दो से तीन वन कर्मी अपनी जान बचाकर भाग निकले थे, जबकि 2 कर्मी सिराज पटेल और उमेश नेगी को पकड़कर बेदम पीटा था। दोनों का अस्पताल में इलाज चल रहा है।

घटना के बाद वन कर्मियों ने टिकनपाल गांव के पोदिया तांती, जोगा तांती और भीमा तांती इन तीनों के खिलाफ नामजद FIR दर्ज करवाई थी। जिसके बाद पुलिस गांव में पहुंचकर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। जिन्हें न्यायालय में पेश कर जेल भी भेज दिया गया है। पुलिस की इस कार्रवाई का ग्रामीण जमकर विरोध कर रहे हैं। गांववालों का कहना है कि, वन कर्मी नकाब पहनकर गांव के हर घर में घुस रहे थे। महिलाओं को डरा धमका रहे थे। जो बिल्कुल गलत था। यदि लकड़ी के तस्करों पर कार्रवाई करनी थी तो उन्हीं के घर घुसते। ग्रामीणों ने भी वन कर्मियों पर कार्रवाई की मांग की है।

दंतेवाड़ा-सुकमा सीमा पर पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़: 5 लाख रुपए का इनामी नक्सली ढेर

दंतेवाड़ा-सुकमा सीमा पर पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़: 5 लाख रुपए का इनामी नक्सली ढेर

 दंतेवाड़ा: छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा और सुकमा सीमा पर जवानों को नक्सलियों के शहीदी सप्ताह के दूसरे दिन एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ में 5 लाख रुपए के हार्डकोर इनामी नक्सली राकेश मड़कम मारा गया है। राकेश मड़कम कटेकल्याण एरिया कमेटी का सदस्य है। जवान अब भी मौके पर ही मौजूद हैं। SP सिद्धार्थ तिवारी नक्सली के मारे जाने की पुष्टि की है। उसका शव भी बरामद कर लिया गया है।

जानकारी के मुताबिक, सुकमा और दंतेवाड़ा जिले के बॉर्डर इलाके नहनी गुडरा के जंगल में हथियारबंद माओवादियों के होने की सूचना जवानों को मिली थी। इसी सूचना के आधार पर इन दोनों जिलों से फोर्स को मौके के लिए रवाना किया था। जब फोर्स मौके पर पहुंची तो माओवादियों ने फायर खोल दिया। दोनों तरफ से हुई गोलीबारी में जवानों ने एक माओवादी को ढेर कर दिया है। मुठभेड़ अभी जारी है।

दंतेवाड़ा में 18 लाख के 3 नक्सलियों ने किया लोन वर्राटू अभियान के तहत आत्मसमर्पण

दंतेवाड़ा में 18 लाख के 3 नक्सलियों ने किया लोन वर्राटू अभियान के तहत आत्मसमर्पण

 

० अब तक कुल 549 नक्सलियों ने किया है के तहत आत्मसमर्पण

दंतेवाड़ा। छत्तीसगढ़ शासन की पुनर्वास नीति ‘‘लोन वर्राटू अभियान‘‘ (घर वापस आईये) के अंतर्गत आज गुरूवार को कुल 18 लाख रूपए के तीन इनामी नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया। इन तीन आत्मसमर्पित नक्सलियों में से दो पर 5-5 लाख रूपए एवं एक पर 8 लाख रूपये का इनाम राज्य शासन द्वारा घोषित किया गया था।

आधारहीन विचारधारा एवं उनके शोषण, अत्याचार तथा स्थानीय आदिवासियों पर होने वाले नक्सली हिंसा से तंग आकर इन्होने आत्मसमर्पण किया है। इनके द्वारा ये आत्मसमर्पण नक्सलियों के द्वारा प्रतिवर्ष मनाये जाने वाले शहीद सप्ताह (28 जुलाई – 3 अगस्त) के पहले दिन किया गया है। मिली जानकारी के अनुसार तीनो आत्मसमर्पित माओवादी पुलिस पर घात लगाकर हमला करने जैसी घटनाओ में शामिल थे। जिनमे से दो आत्मसर्पित माओवादी बटालियन टीम के सदस्य थे वहीं एक माओवादी कंपनी नं. 2 का सदस्य था। ये तीनो पिछले 10 से 11 सालों से नक्सल संगठन में सक्रिय बताये गए हैं।

विश्व का सबसे छोटा हिरण छत्तीसगढ़ में मिला...वजन सिर्फ 3 किलोग्राम, यहां देखें लेटेस्ट तस्वीर…

विश्व का सबसे छोटा हिरण छत्तीसगढ़ में मिला...वजन सिर्फ 3 किलोग्राम, यहां देखें लेटेस्ट तस्वीर…

 दंतेवाड़ा: छत्तीसगढ़ में विश्व के सबसे छोटे प्रजाति का हिरण मिला है। यह हिरण बैलाडीला की पहाड़ी में पाया गया. बताया जाता है कि बचेली के सुभाष नगर में रात के समय जंगल से भटकते हुए यह हिरण आ गया। इसकी सूचना स्थानीय लोगों ने वन विभाग को दी।

जानकारी के मुताबिक, यह हिरण घायल अवस्था में शहरी क्षेत्र में पहुंच गया। वन विभाग ने हिरण का इलाज करवाया और वापस बैलाडीला के घने जंगल-पहाड़ी में छोड़ दिया। बताया जा रहा है कि इस प्रजाति के हिरण का वजन सिर्फ तीन किलो ही होता है। यह बेहद दुर्लभ प्रजाति का वन्य जीव है।

एक प्रतिष्ठित मीडिया में प्रकाशित सर्प मित्र और पर्यावरण प्रेमी अमित मिश्रा के मुताबिक, यह अत्यंत दुर्लभ प्रजाति का हिरण है। इसे इंडियन माउस डियर (इंडियन स्पॉटेड शेवरोटेन), जिसका वैज्ञानिक नाम मोसियोला इंडिका हैं। ये विश्व की सबसे छोटी हिरण की प्रजाति मानी जाती है। इसकी लंबाई 57.5 cm होती है। वजन सिर्फ 3 किलोग्राम के आसपास होता है।

महिला के शव को खाट में लेटाकर 10 किमी तक पैदल चले परिजन...पुलिस ने देखा तो मिली मदद

महिला के शव को खाट में लेटाकर 10 किमी तक पैदल चले परिजन...पुलिस ने देखा तो मिली मदद

 दंतेवाड़ा। जिले से दिल को झकझोर देने वाली एक तस्वीर सामने आई है। अज्ञानता और आर्थिक तंगी ने एक परिवार को बुजुर्ग महिला के शव (dead body of elderly woman) को खाट के सहारे पैदल गांव तक ले जाने को मजबूर कर दिया। खाट में शव लेकर जब 25 किमी के रास्ते में करीब 10 किमी पैदल चले तो पुलिस ने मदद की। फिर वाहन की व्यवस्था कर शव को गांव भेजा गया।

दरअसल, यह मामला जिले के कुआकोंडा ब्लॉक (Cuaconda Block) का है। टिकनपाल गांव (Tikanpal Village) की रहने वाली महिला जोगी पोडियाम की किसी बीमारी की वजह से रेंगानार में मौत हो गई थी। जिसके बाद परिजनों ने रेंगानार से शव को ले जाने के लिए खाट का सहारा लिया। खाट को उल्टा कर उसमें रस्सी बांधी, फिर कंधे से उठाकर टिकनपाल गांव के लिए निकल पड़े।

परिवार के सदस्यों ने बताया कि, उनके पास वाहन के पैसे नहीं थे। यह भी नहीं मालूम था कि अस्पताल से शव वाहन का बंदोबस्त हो जाएगा। इसी वजह से पैदल सफर तय करने का निर्णय लिया। लेकिन, इसी बीच कुआकोंडा थाना के जवानों की नजर इन पर पड़ी। जिसके बाद थाना प्रभारी चंदन कुमार भी मौके पर पहुंच गए। जिन्होंने तुरंत पिकअप वाहन का बंदोबस्त किया और शव को टिकनपाल गांव पहुंचाया।

नौकरी लगाने के नाम पर 28 लाख रुपए की ठगी...आरोपी गिरफ्तार

नौकरी लगाने के नाम पर 28 लाख रुपए की ठगी...आरोपी गिरफ्तार

 दंतेवाड़ा. जिले में नौकरी लगाने के नाम पर 28 लाख रुपए की ठगी करने का मामला सामने आया है। आरोपी ने अलग-अलग तीन लोगों को गुमराह कर बोला कि NMDC में मेरी चलती है। नौकरी लगवा दूंगा, लेकिन इसके लिए पैसे लगेगें। ऐसा कहकर आरोपी ने एक महिला से 12 लाख और अन्य 2 लोगों से 8-8 लाख रुपए ले लिए। जब नौकरी नहीं लगाई तो लोगों ने थाने में शिकायत दर्ज करवाई। जिसके बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। मामला किरंदुल थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, किरंदुल की रहने वाली महिला शहजादी सत्तार ने थाने में शिकायत दर्ज करवाई की साल 2013 में परिचित के पवन डेविड (40) उनके घर आया। दामाद की NMDC में नौकरी लगा दूंगा कहा। फिर बोला कि नौकरी के लिए पैसे लगेंगे, ऊपर से लेकर नीचे तक के अधिकारियों को मैनेज करने पड़ते हैं। आरोपी के झांसे में आकर महिला ने 12 लाख रुपए दे दिए। लेकिन साल 2022 तक नौकरी नहीं लगाई। जब भी नौकरी लगाने की बात कहती तो आरोपी टाल मटोल करता रहता था। महिला को एहसास हो गया कि उनके साथ धोखाधड़ी हुई है। जिसके बाद शिकायत दर्ज करवाई।

दंतेश्वरी माई को मुख्यमंत्री ने चढाई 11 किमी लंबी चुनरी…

दंतेश्वरी माई को मुख्यमंत्री ने चढाई 11 किमी लंबी चुनरी…

रायपुर/दंतेवाड़ा : दंतेवाड़ा में माँ दंतेश्वरी का दर्शन कर मुख्यमंत्री बघेल ने उन्हें 11 किमी लंबी चुनरी ओढ़ाई और इस तरह से दंतेवाड़ा की डेनेक्स की बहनों का नाम विश्व रिकार्ड में दर्ज हो गया। इससे पहले नर्मदा मैया को मंदसौर में 8 किमी लंबी चुनरी ओढ़ाई गई थी। डेनेक्स की 300 महिलाओं ने केवल 7 दिनों में अपने हुनर से यह कार्य कर लिया। जब मुख्यमंत्री अपने हाथों से चुनरी अर्पित करने पहुंचे तो पूरे दंतेवाड़ा शहर में उत्सव सा माहौल था। पूरा शहर इस सुंदर दृश्य को देखने उमड़ आया था।

11 किमी लंबी इस चुनरी के साथ मुख्यमंत्री के नेतृत्व में नागरिकों के गहरे उत्साह की जो झलक मिल रही थी। वो अपने आप में अद्भुत है। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर मंदिर में पूजा अर्चना की और प्रदेश की खुशहाली की कामना की। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने मंदिर परिसर में मावली माता और भैरव के दर्शन भी किये। इस दौरान मंदिर परिसर में पारंपरिक वाद्ययंत्रों की सुमधुर ध्वनि से पूरा वातावरण आध्यात्मिक रंग में रंग गया था।

जिला प्रशासन के अधिकारियों ने बताया कि डेनेक्स की महिलाओं ने जो चुनरी बनाई है उससे उनके हुनर को पूरे देश में जगह मिलेगी और इससे उनके काम की ख्याति दुनिया भर में फैलेगी। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर मंदिर के पुजारियों से भी संवाद किया। उन्होंने कहा कि हम प्रदेशवासी बहुत सौभाग्यशाली हैं कि हमें माईं दंतेश्वरी का निरंतर आशीर्वाद और उनकी छत्रछाया मिल रही है।

 

सड़क हादसा : तेज रफ्तार वाहन ने मवेशियों को रौंदा....

सड़क हादसा : तेज रफ्तार वाहन ने मवेशियों को रौंदा....

दंतेवाड़ा : जिले के गीदम के तुमनार में सीडब्ल्यूसी कार्यालय के सामने मुख्य मार्ग पर बैठे 08 आवारा मवेशियों को तेज रफ्तार अज्ञात वाहन के द्वारा रौंदने के बाद फरार हो गया। इस घटना में 06 गायों की मौके पर ही मौत हो गई तथा 02 घायल गाय की स्थिति गंभीर है। स्थानीय ग्रामीण सुखराम और बलराम ने जब आज सुबह सड़क में मेवेशियों के शव देखे तो उन्होंने पहले घायल गायों को उपचार के निकटस्थ पशु चिकित्सालय पहुंचाया उसके बाद मृत मवेशियों को सड़क से हटाया।

गौरतलब है कि शहर व गांव की सड़कों व गली, मोहल्लों में घूमने वाले आवारा मवेशियों को पकड़कर गोठान में रखा जाना है, लेकिन इस ओर ध्यान ही नहीं देने का दुष्परिणाम है कि 06 गायों की मौत के रूप में सामने आया है। सड़कों में आवारा मवेशियों की मौजूदगी की समस्या बस्तर संभाग में लगभग हर क्षेत्र में देखने को मिलता है। बारिश होने पर आवारा मवेशी सड़क पर सूखे स्थान पर बैठ जाते हैं, जिससे दुर्घटना की आशंका बनी रहती है।
 

CG NEWS : नक्सलियों ने ग्राम गुड़से के कोटवार की हत्या कर दी...

CG NEWS : नक्सलियों ने ग्राम गुड़से के कोटवार की हत्या कर दी...

दंतेवाड़ा : जिले के थाना कटेकल्याण से 12 किलोमीटर दूरी पर स्थित ग्राम गुड़से में नक्सलियों ने बीती रात एक ग्रामीण लखमा मरकाम की धारदार हथियार से हमला कर हत्या कर दी है। मृतक लखमा मरकाम गुड़से गांव का कोटवार था, इसकी जानकारी ग्रामीणों ने पुलिस को दी, पुलिस की टीम मौके के लिए रवाना कर दी गई है, वहीं यह भी जानकारी मिल रही है कि नक्सलियों ने चारो तरफ एंबुश लगा रखा है, जिसके कारण फोर्स पैदल निकली है।


दंतेवाड़ा एसपी राजेन्द्र जयसवाल बताया कि ग्राम गुड़से में हत्या का मामला सामने आया है, पुलिस के द्वारा मामला दर्ज कर अग्रीम कार्यवाही की जा रही है।
 

+ Load More