BIG BREAKING : प्रदेश में आज भी मिले 200 से ज्यादा कोरोना मरीज साथ ही 6 की हुई मृत्यु, देखे जिलेवार आकड़े    |    आम आदमी को अब एक और झटका: अब इस तारीख से बढ़ेंगे यात्री बस का किराया    |    बड़ी खबर: नीरव मोदी के प्रत्यर्पण को मिली मंजूरी, लंदन कोर्ट ने भगोड़ा करारा    |    बड़ी खबर : ट्रेन में सफ़र करने वालों के जेब में फिर बढ़ेगा बोझ, रेलवे ने बढ़ाई टिकटों के दाम    |    बड़ी खबर: नदी में प्रेमी और प्रेमिका की लाश मिलने से फैली सनसनी    |    बड़ी खबर: ओटीटी प्लेटफॉर्म और सोशल मीडिया के लिए सरकार ने जारी किए दिशानिर्देश, अब आपत्तिजनक सामग्री और हिंसा को मंजूर नही    |    हॉस्टल के 190 छात्र निकले कोरोना पॉजिटिव, स्कूल प्रशासन में मचा हड़कंप    |    पेट्रोलियम उत्पादों की बढ़ती कीमतों के खिलाफ ममता का अनोखा विरोध    |    पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी: पुलिस ने उत्तेजक ड्रग म्याऊ-म्याऊ बेचते इंजीनियर को किया गिरफ्तार    |    बड़ी खबर: दुष्कर्म और अपहरण की झूठी कहानी गढ़ने वाली छात्रा ने की आत्महत्या    |
छत्तीसगढ़ के इस जिले को सुखद, समृद्ध, सुंदर और स्वस्थ बनाने भूपेश बघेल ने की कई घोषणाएं

छत्तीसगढ़ के इस जिले को सुखद, समृद्ध, सुंदर और स्वस्थ बनाने भूपेश बघेल ने की कई घोषणाएं

सुकमा सुखद, समृद्ध, सुंदर और स्वस्थ सुकमा के सपने को साकार करने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कई घोषणाएं की। आज सुकमा हाईस्कूल मैदान में आयोजित आमसभा में मुख्यमंत्री ने कहा कि नवा छत्तीसगढ़ की तरह नवा सुकमा बनाना है। उन्होंने कहा कि नवा सुकमा का सपना बच्चों को शिक्षा, युवाओं को रोजगार, खेतों को सिंचाई के लिए पानी और महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाकर पूरा होगा। छत्तीसगढ़ सरकार इस दिशा में कदम उठा रही है। उन्होंने सुखद, समृद्ध, सुंदर और स्वस्थ नवा सुकमा के सपने को साकार करने के लिए दुरमा जलप्रपात के सौन्दर्यीकरण के लिए 5 करोड़, सुकमा जिला अस्पताल को सुपर स्पेशलिटी अस्पताल के रूप में विकास करने, स्वामी विवेकानन्द परिसर के विस्तार के लिए एक करोड़ की स्वीकृति दी। उन्होंने जिले के समस्त देवगुड़ी के निर्माण के लिए 5-5 लाख रुपए, छिन्दगढ़ विकासखण्ड मुख्यालय में तीन किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्ग-30 को चार लेन सड़क चैड़ीकरण के लिए छः करोड़ की स्वीकृति दी। भेज्जी में प्री मैट्रिक बालक छात्रावास, गोलापाल्ली में कन्या आश्रम भवन, प्री मैट्रिक बालक आश्रम और पालाचलमा में पोस्ट मैट्रिक बालक छात्रावास की घोषणा की। साथ ही सोलर ड्यूल पम्प ग्रामीणों क्षेत्रों के लिए चार सौ नग बोर खनन, गोंगला के लिए बीटी सड़क की स्वीकृति, कुकानार से सरईपारा के बीच तीन किलोमीटर सड़क का निर्माण, सामुदायिक प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के समीप कर्मचारियों के लिए आवासीय भवन निर्माण की घोषणा की।
मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि आगे बढ़ने के लिए शिक्षा बहुत जरुरी है और छत्तीसगढ़ सरकार चाहती है कि कोई भी व्यक्ति शिक्षा से वंचित रहे, इसलिए वर्षों से बंद पड़े स्कूलों को खोलने का कार्य वर्तमान सरकार द्वारा किया गया। दो वर्षों के भीतर बंद पड़े 123 स्कूलों में से 90 स्कूलों का संचालन पुनः प्रारंभ कर दिया गया है। आज इसी का परिणाम है, कि जिस जिले की पहचान लाल आतंक से होती थी, अब उसी जिले के बच्चे बोर्ड परीक्षाओं में टाॅप कर रहे हैं। यह इस जिले में हो रहे बदलाव की पहचान है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोई भी व्यक्ति स्वास्थ्य सेवाओं से वंचित रहे और गांव-गांव तक स्वास्थ्य सुविधाएं पहुंचे, इसके लिए सरकार लगातार प्रयास कर रही है। आज इसी कड़ी में यहां 50 स्कूटियां भी मेडिकल किट के साथ स्वास्थ्यकर्मियों को उपलब्ध कराई गई है। लोगों को त्वरित उपचार उपलब्ध कराने के लिए दो एंबुलेंस भी प्रदाय किए गए हैं। उन्होंने कहा कि मलेरियामुक्त बस्तर अभियान का सपना साकार करने के लिए घर-घर जाकर लोगों की जांच और उपचार किया गया। आज इसी का परिणाम है कि मलेरिया के एपीआई में 65 फीसदी की गिरावट आई है। उन्होंने कहा कि बच्चे स्वस्थ और सुपोषित हों, इसके लिए बच्चों को पौष्टिक आहार उपलब्ध कराया जा रहा है। शासन द्वारा बच्चों को गर्म भोजन और अंडा उपलब्ध कराया जा रहा है। अंडों की आपूर्ति के लिए भी स्थानीय स्वसहायता समूह की महिलाओं को मुर्गीपालन और अंडा उत्पादन के लिए भी प्रोत्साहित किया गया है, जिससे उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत हो।

इस अवसर पर जिले के प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल, उद्योग मंत्री कवासी लखमा, सांसद दीपक बैज, कोंडागांव विधायक मोहन मरकाम, बस्तर क्षेत्र विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष लखेश्वर बघेल, उपाध्यक्ष विक्रम शाह मंडावी, हस्तशिल्प विकास बोर्ड के अध्यक्ष चंदन कश्यप, चित्रकोट विधायक राजमन बेंजाम, अक्षय ऊर्जा विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष मिथिलेश स्वर्णकार,जिला पंचायत के अध्यक्ष हरीश कवासी, नगर पालिका अध्यक्ष जगन्नाथ साहू, जगदलपुर नगर निगम की अध्यक्ष श्रीमती कविता साहू कमिश्नर जीआर चुरेन्द्र, पुलिस महानिरीक्षक पी सुंदरराज, मुख्य वन संरक्षक मोहम्मद शाहिद, कलेक्टर विनीत नंदनवार, पुलिस अधीक्षक केएल ध्रुव सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी उपस्थित थे। 

इस जिले में तीन स्थानीय अवकाश की घोषणा, कलेक्टर ने जारी किया आदेश

इस जिले में तीन स्थानीय अवकाश की घोषणा, कलेक्टर ने जारी किया आदेश

सुकमा कलेक्टर ने कैलेंडर वर्ष 2021 के लिए तीन स्थानीय अवकाश की घोषणा की है। जारी आदेश के अनुसार रामाराम मेला मंगलवार 2 मार्च, दशहरा(महानवमी) 14 अक्टूबर गुरुवार और दीपावली के दूसरे दिन गोवर्धन पूजा, शुक्रवार 5 नवंबर को जिले में स्थानीय अवकाश रहेगा। यह अवकाश बैंकों एवं कोषालय, उप कोषालय के लिए लागू नहीं होगा। 

 बड़ी खबर छत्तीसगढ़: बटालियन के जवान ने की आत्महत्या, सर्विस रायफल से खुद को मारी गोली

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: बटालियन के जवान ने की आत्महत्या, सर्विस रायफल से खुद को मारी गोली

सुकमा। कोबरा बटालियन के एक जवान ने सर्विस रायफल से खुद को गोली मार ली है। मौके पर ही जवान की मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक, जवान हरजीत सिंह चिंतागुफा थाना मैं पदस्थ था। बटालियन के जवान जंगल मैं ऑपरेशन के लिए निकले थे। अचानक उन्होंने रायफल से खुद को गोली मार ली। जिससे घटना स्थल पर उसकी मौत हो गई। मृतक जवान पंजाब लुधियाना का रहने वाला है। मामले की एसपी सुकमा केएल धुव ने पुष्टि की है।

आखिर जवान ने ये आत्मघाटी कदम क्योंन उठाया, पता नहीं चल पाया है। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच मैं जुटी है।
 
 जमीन विवाद में परेशान महिला ने खाया जहर, गंभीर अवस्था मे उपचार के लिए कराया गया अस्पताल में भर्ती

जमीन विवाद में परेशान महिला ने खाया जहर, गंभीर अवस्था मे उपचार के लिए कराया गया अस्पताल में भर्ती

सुकमा। जिले के दोरनापाल थानांतर्गत ग्राम दुब्बाटोटा की एक महिला चिचोड आयते ने जमीन विवाद को लेकर जहर खा लिया जिसके बाद गंभीर अवस्था मे उप स्वास्थ्य केंद्र में उपचार के लिए भर्ती किया गया जहां प्रथमिक उपचार के बाद डॉ विजय ने बताया कि महिला की स्थिति खतरे से बाहर है। बेहतर उपचार के लिए महिला को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है।
 

प्राप्त जानकारी के अनुसार महिला के पति चिचोर हिरमा ने बताया कि घर बनाने की लिए वर्षों पहले करीबियों को जमीन दी गई थी, लेकिन करीबीयों ने 01 एकड़ भूमि पर कब्जा कर लिया जिसे लेकर लंबे समय बाद भी जब विवाद न सुलझा तो गुरूवार की रात्रि में महिला ने जहर खाकर आत्महत्या का प्रयास किया, उन्होने बताया कि  पिछले एक सप्ताह से जमीन को लेकर आपसी विवाद लगातार हो रहा हो था। 
 बड़ी खबर: वीडियो वायरल होने पर नाबालिक ने की कलाई काटकर आत्महत्या

बड़ी खबर: वीडियो वायरल होने पर नाबालिक ने की कलाई काटकर आत्महत्या

सुकमा। जिले के तोंगपाल में सोशल मीडिया स्नेक वीडियो पर अपनी ही वीडियो वायरल होता देख आत्मग्लानि वश माता-पिता काम से जब घर से बाहर गये तब घर में कोई नही होने पर नाबालिक प्रियंका ने अपनी कलाई काट कर आत्महत्या कर लिया है। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार तोंगपाल के दिलीप मंडल की 16 वर्षीय बेटी प्रियंका अपनी दो सहेलियों के साथ स्नेक वीडियो पर अपनी वीडियो बनाई जो वाइरल हो गई। स्थानिय लोगों के बताए अनुसार वीडियो वायरल होने के बाद आत्मग्लानि वश उसने यह कदम उठाया व अपने हाथ की कलाई की नस काट कर आत्महत्या कर ली। उसने जब यह कदम उठाया उस वक्त उसकी मां कपड़े धोने घर से बाहर गई हुई थी, व पिता काम के सिलसिले में बाहर गए हुए थे।
 आईईडी ब्लास्ट में घायल डिप्टी कमांडेंट की इलाज के दौरान हुई मौत

आईईडी ब्लास्ट में घायल डिप्टी कमांडेंट की इलाज के दौरान हुई मौत

सुकमा। जिले के किस्टाराम इलाके में नक्सलियों द्वारा लगाए गए आईईडी बम के बरमदगी के बाद निष्क्रय करने के दौरान आईईडी ब्लास्ट में घायल हुए कोबरा 208 बटालियन के डिप्टी कमांडेंट विकास कुमार की रायपुर में इलाज के दौरान मौत हो गई है। कोबरा 208 बटालियन में डिप्टी कमांडेंट के शहीद होने की सूचना पर साथी जवानों ने दुखी मन से उन्हे याद किया है। 

मिली जानकारी के अनुसार रविवार सुबह जवान किस्टाराम इलाके में सर्चिंग पर निकले थे, इस बीच नक्सलियों के लगाए आईईडी की चपेट में आने से कोबरा 208 बटालियन के डिप्टी कमांडेंट घायल हो गए थे, जिसके बाद घायल जवान को तत्काल रायपुर रेफर कर दिया गया। घायल जवान के इलाज के दौरान रात्रि एक बजे दम तोड़ दिया। ज्ञात हो कि बीते 15 दिनों में नक्सली ब्लास्ट में कोबरा बटालियन के दो अधिकारी शहीद हो गए हैं।
 जन्मदिन में डीजे बजाने के नाम पर दो गुटों में जमकर मारपीट, चार लोग गंभीर रूप से घायल

जन्मदिन में डीजे बजाने के नाम पर दो गुटों में जमकर मारपीट, चार लोग गंभीर रूप से घायल

सुकमा। जिले के गादीरास थाना क्षेत्र के चिंगावरम में दो गुटों के बीच देर रात मारपीट हुई जिसमें चार लोग गंभीर घायल हो गए। इस घटना की जानकारी मिलते ही गादीरास थाने से पुलिस पार्टी सुबह गांव पहुंच गई। इसके बाद सभी घायलों को गादीरास अस्पताल आया गया। जहां घायल लोगों को इलाज जारी हैं। गंभीर रूप से घायलों को बेहतर इलाज के लिए जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया।
 

कलेक्टर विनीत नंदनवार और एसपी केएल ध्रुव ने घटना की जानकारी मिलते ही घायल लोगों से मिलने के लिए गादीरास अस्पताल पहुंचे। उन्होंने घायलों को बेहतर इलाज करने के निर्देश दिए। कोया समाज प्रमुख वेको हुंगा ने बताया कि गांव में एक धर्म विशेष के एक परिवार के यहां बाहर से कुछ लोग आये थे। देर रात तक डीजे बजाया जा रहा था। ग्राम पटेल यहां चल रहे डीजे एवं कार्यक्रम के बारे में जाने पहुंचे थे।
 

इसी बात को लेकर पटेल के साथ मारपीट करने लगे। इसके बाद दूसरे गुट के लोग भी वहां पहुंच गए, जिसमें कुछ लोग घायल हुए हैं। वहीं घायल पोडियामी जोगा ने बताया कि जन्मदिन का आयोजन था। डीजे बज रहा था। इसी बीच 15 से 20 लोग पहुंचकर विवाद करने लगे।
 

सुकमा जिला मुख्यालय से 30 किमी दुर चिंगावरम में रात करीब 12 बजे गांव के एक परिवार के यहां जन्मदिन मनाने की तैयारी में थे, जिसमें शामिल होने के लिए परिचित एवं अन्य कुछ लोग बाहर से आए हुए थे। रात में डीजे बजाया जा रहा था।
 

पुलिस महानिरीक्षक सुंदरराज पी ने बताया कि जिसको लेकर ग्राम पटेल यहां पहुंचकर देर रात तक डीजे बजाने एवं कार्यक्रम को लेकर जानकारी लेने की कोशिश की। इस बात को लेकर पटेल के साथ बहसबाजी होने लगी। इसकी जानकारी ग्रामीणों को लगी तो वे बीच बचाव करने पहुंचे पर विवाद ज्यादा बढ गया व मारपीट होने लगी।
 बड़ी खबर छत्तीसगढ़: CRPF के जवान ने खुद को गोली मारकर की आत्महत्या

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: CRPF के जवान ने खुद को गोली मारकर की आत्महत्या

सुकमा। छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले से इस वक्त एक बड़ी खबर सामने आ रही है। यहां सुरक्षा बल के एक जवान ने आत्महत्या कर ली है। मृतक जवान दोरनापाल में पदस्थ था।

पढ़िए पूरी खबर-
जानकारी के मुताबिक 223 बटालियन दोरनापाल कैम्प में बीती रात करीब पौने 12 बजे कांस्टेबल कमला कांता रोहिदास ने अपने इंसास राइफल से खुद को गोली मार ली। कैम्प में गोली की आवाज सुनकर सभी सकते में आ गए। साथी जवानों ने मौके पर जाकर देखा तो जवान कमला कांता रोहिदास जमीन पर खून से लथपथ पड़ा था। इससे पहले की उसे कुछ इलाज मिल पाता जवान की मौत हो चुकी थी। मृतक जवान ओडिशा के झारसुगुडा का रहने वाला था। बताया गया है कि जवान ने अपने वैपन से बेहद करीब से गोली चलाई जो सिर को भेदते हुए पार कर गई। जिसके चलते उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया। फिलहाल, आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है।
 
 लाखों रुपये की उठाईगिरी करने वाले दो आरोपी को उड़ीसा से किया गया गिरफ्तार

लाखों रुपये की उठाईगिरी करने वाले दो आरोपी को उड़ीसा से किया गया गिरफ्तार

सुकमा। भारतिय स्टेट बैंक सुकमा से पुलिस के जवान के द्वारा निकाले गए दो लाख रुपये को दो अज्ञात लुटेरों के द्वारा लुट लिया गया था। जिसकी जानकारी मिलने पर सुकमा पुलिस के द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए आरोपियों की पतासाजी की गई। आरोपियों के पड़ोसी राज्य ओडिशा के मलकानगिरी जिले में होने की जानकारी मिलने पर पुलिस की विशेष टीम के द्वारा लूट के आरोपी कार्तिक दास एंव आउर काली को गिरफ्तार कर सुकमा लाने के बाद कार्यवाही करते हुए आज दोनो आरोपियों को जेल दाखिल कर दिया गया है।  

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार गिरफ्तार दोनो आरोपियों के पास से लूट की रकम दो लाख रुपये एंव एक मोटर साइकिल को जप्त किया है। इस संबंध में आरोपियों से लगातार पुछताछ कीजा रही है कि आरोपियों का कोई संगठित गिरोह है, या और कितने वारदात मे सम्मिलित है। लूट के वारदात को सुलझाने में मुख्य भुमिका सुकमा थाना प्रभारी ऐके नाग, थाना प्रभारी छिंदगड़ राकेश यादव सहित उनके टीम का योगदान राहा है।
जादू-टोने की आशंका में बुजुर्ग की हत्या के 2 आरोपी गिरफ्तार

जादू-टोने की आशंका में बुजुर्ग की हत्या के 2 आरोपी गिरफ्तार

सुकमा | जिले की पुलिस ने जादू-टोने की आशंका में की गई अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझाते हुए 02 आरोपियों करटामी रामा व माड़वी कोसा को एक बुजुर्ग की हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर जेल दाखिल कर दिया है। 

पढ़ें : बड़ी खबर : जिले में दुकानों एवं प्रतिष्ठानों के संचालन हेतु जिला कलेक्टर ने की नई गाइड-लाईन जारी, पढ़ें पूरी खबर 

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सुबह 09 बजे माड़वी जोगा की मां श्रीमती पार्वती सुकमा आने के लिए निकली तब माड़वी भीमा चटाई पर लेटा हुआ था। दोपहर 02 बजे जब माड़वी जोगा की मां पार्वती सुकमा से वापस घर लौटी तब भीमा जिस जगह पर लेटा हुआ था उसी जगह पर मृत अवस्था में मिला। जिसके बाद इसकी जानकारी सुकमा कोतवाली को दी गई। पुलिस ने मामला दर्ज करते हुए जांच में पाया कि मृतक के गले में एवं गले के पीछे तरल काला निशान होना पाया गया था उनके दांए कान में भी निशान था, जिससे किसी अज्ञात व्यकित द्वारा मृतक यो गला घोंटकर हत्या करना प्रतीत हो रहा था। 
 
 
मृतक के शव का पीएम में भी डॉक्टरों ने मृतक के गले की हड्डी का फ्रेकचर होना बताया। जिसके बाद पुलिस ने हत्या के एंगल में जांच के लिए एक टीम बनाई गई प्रकरण के आरोपी को पतासाजी एवं धरकड हेतु भरसक प्रयास किया। गांव वालों से पता चला कि मृतक बैगा-गुनिया का काम करता था, और उसी गांव के करटामी रामा व माड़वी कोसा मृतक पर शंका करते थे। जादू-टोने से कारटामी रामा के पिता मुंडा की मौत की आशंका के कारण दोनो आरोपियों ने माड़वी भीमा की हत्या कर दी। पुलिस ने दोनों को न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया।
कोतवाली प्रभारी एके नाग ने बताया कि काफी जटिल मामला था। लेकिन हमारी टीम ने सूझबूझ से हत्या की गुत्थी सुलझा दी और आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल दाखिल कर दिया है।
 
 सीआरपीएफ में पदस्त एएसआई ने खुद को मारी गोली, कारण अज्ञात

सीआरपीएफ में पदस्त एएसआई ने खुद को मारी गोली, कारण अज्ञात

सुकमा। छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग के सुकमा जिले में एक एएसआई ने अपनी सर्विस रायफल से खुदकुशी कर ली. सीआरपीएफ बटालियन के जवान ने आखिर ऐसा कदम क्यों उठाया ये अभी पता नहीं चल पाया है. पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

मामले की पुष्टि करते हुए एडिशनल एसपी सुनील शर्मा ने बताया कि जवान ने अपने सर्विस राइफल  एके-47 से खुद को गोली मार ली है. आत्महत्या का कारण फिलहाल अज्ञात है. मौके पर कोई सोसाइड नोट नहीं मिला है. शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है।

मृतक जवान का नाम शिवानंद सिदप्पा (49) है। वह गादीरास कैम्प में पदस्थ था। जवान कर्नाटक के बिदर जिला का रहने वाला था. वह जून महीने में छुट्टी मनाकर गादीराम थाने में लौटा था। मिली जानकारी के अनुसार घटना गादीराज थाना क्षेत्र के सीआरपीएफ कैंप की है, जहां ए एसआई शिवानंद की भी तैनाती थी, आज सुबह कैंप में अचानक से गोली चलने की आवाज सुनायी पड़ी।जब कैंप के जवान मौके की तरफ पहुंचे तो शिवानंद को लहूलुहान में पड़े देखा। जब तक उसे अस्पताल पहुंचाया जाता, तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। जानकारी के मुताबिक शिवानंद पिछले कई दिनों से परेशान चल रहा था, माना जा रहा है कि मानसिक तनाव की वजह से उसने ये कदम उठाया है। कैंप में आज सुबह एएसआई अपने साथी जवानों के साथ वालीबॉल खेला।इसी बीच वह अचानक अपने बैरक में चला गया और सर्विस रायफल से खुद को गोली मार ली।
इस जिले के एसपी और एडिशनल एसपी हुए कोरोना संक्रमित

इस जिले के एसपी और एडिशनल एसपी हुए कोरोना संक्रमित

सुकमा। जिले के दो आईपीएस अफसरों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जानकारी के मुताबिक सुकमा एसपी और एडिशनल एसपी संक्रमित पाए गए है। बुधवार को दोनों अधिकारियों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई। 

इसकी जानकारी स्वयं सुकमा एसपी शलभ कुमार सिन्हा ने देते हुए कहा कि रैपिड ऐंटिजन टेस्ट निगेटिव आने के बाद मैंने टू नाट टेस्ट करवाया जिसने मेरी रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। उन्होने कहा कि जो भी पिछले दिनों मेरे सम्पर्क में आए हों वे अपना टेस्ट कर लें एवं सावधानी बरतें। सुकमा एएसपी की भी कोविड 19 रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्होंने भी अपने संक्रमित होने की जानकारी देते हुए संपर्क में आए लोगों से कोरोना जांच करा लेने की अपील की है।

 छत्तीसगढ़: कोंटा में तैनात एक सीआरपीएफ के जवान की कोरोना से हुई मौत

छत्तीसगढ़: कोंटा में तैनात एक सीआरपीएफ के जवान की कोरोना से हुई मौत

सुकमा। जिले के कोंटा इलाके में तैनात में सीआरपीएफ के 219 बटालियन के जवान की कोरोना से रायपुर में उक्त जवान की मौत इलाज के दौरान हो गई है। जवान के कोरोना से मौत की पुष्टि करते हुए नभ एल इस्माईल ने बताया कि सीआरपीएफ 219 बटालियन का जवान कोंटा इलाके में पदस्थ था। कोरोना रिपोर्ट के पॉजिटिव आने के बाद उसे सुकमा के कोविड सेंटर में भर्ती करवाया गया था, जहां से जगदलपुर मेडिकल कालेज के कोविड़-19 अस्पताल में उपचार के लिए लाया गया। यहां भी उसके स्वास्थ में सुधार नही होने से उसे रायपुर रिफर किया गया था, जहा इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई है।
 पिता ने शराब पीकर किया बवाल तो बेटी ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

पिता ने शराब पीकर किया बवाल तो बेटी ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

सुकमा। जिले के तोंगपाल सगुनघाट में शराब के नशे में धुत शांति के पिता दुलाराम घर पहुंचकर सहपरिवार को गाली गलौज करने लगा जिससे दुखी होकर शांति ने अपने दुपट्टे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया है। मृतिका शांति के पिता दूलाराम के शराब के नशे में आए दिन सभी को गाली गलौज करता था। इससे शांति नाराज हो कर घर से निकलकर कहीं चले गए।
 
 
जिसके बाद पिता अपने बेटे को गाली देना शुरू कर दिया। अगले दिन मृतिका का भाई बाड़ी में पहले से गिरे हुए इमली के पेड़ पर शांति को उसके दुप्पटे से फांसी में लटकता पाया। इमली के गिरे हुए पेड़ पर शान्ति द्वारा डन्गाल पर अपना दुपट्टा से फांसी लगा कर आत्महत्या करने की रिपोर्ट कोसाराम मरकाम, हरीश मरकाम, हड़मा राम मांडवी (सरपंच) के द्वारा तोंगपाल थाना में एसआई भीमसेन भारती के उपस्थिति में दर्ज करवाया।
बाढ़ में फंसे दंपति के नवजात की हुई मौत, पुलिस ने किया सराहनीय सहयोग

बाढ़ में फंसे दंपति के नवजात की हुई मौत, पुलिस ने किया सराहनीय सहयोग

सुकमा। जिले के नक्सल प्रभावित चिंतलनार के मोरपल्ली निवासी दंपति नुप्पो पोज्जे पति नुप्पो जोग को प्रसव पीड़ा हुई। जिसे इलाज के लिए जिला अस्पताल लाया गया। अस्पताल में इस दंपती को ज्ञात हुआ कि एक बच्चा गर्भ में ही मर गया था, वहीं दूसरा बच्चे का जन्म सुरक्षित हो गया। जिसके बाद कल उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी। एम्बुलेंस से गांव तक छोडऩे के लिए भेजा गया। लेकिन केरलापाल के पास बोदागुडा के पास एनएच 30 जाम हो गया जिसके बाद एम्बुलेंस ने उन्हें वही छोड़ दिया। 


प्राप्त जानकारी के अनुसार एम्बुलेंस के आगे नही जाने से अपने छोटे बच्चे के साथ नुप्पो दंपति चिकपाल पहुंचे। जहां थाना प्रभारी शैलेन्द्र नाग ने सभी फंसे हुए लोगों के साथ नुप्पो दंपति को भी खाना खिलाया। रात में अचानक नवजात बच्चे की तबियत खराब हुई और सुबह नवजात की मौत भी हो गई। जिसके बाद परिजन शव को लेकर गांव जाना चाहते थे। लेकिन रास्ते मे कई जगह बाढ़ के चलते वे गांव नही जा सकते थे। जिसकी जानकारी थाना प्रभारी शैलेन्द्र नाग को लगी, उन्होंने केरलापाल के ग्रामीणों से बातचीत की और शव को केरलापाल में ही दफनाने की व्यवस्था करवाई।

थाना प्रभारी शैलेन्द्र नाग ने बताया कि केरलापाल में एक नवजात बच्चे की मौत के बाद उसका अंतिम संस्कार की व्यवस्था करवाया गया तथा इस दंपती को पैसा व वाहन की व्यवस्था कर उन्हें उनके गृहग्राम भेजने की व्यवस्था की गई।
 डीआरजी जवानो और नक्सलियों के बिच मुठभेड़ में मारे गये चार नक्सली

डीआरजी जवानो और नक्सलियों के बिच मुठभेड़ में मारे गये चार नक्सली

सुकमा। जिले के थाना जगरगुंडा अंर्तगत ग्राम जंगलगूंडा के जंगल में संयुक्त कार्यवाही के दौरान सुरक्षाबलों ने चार पुरूष नक्सलियों को मुठभेड़ में मार गिराया है। 
 
 
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार जिले के थाना जगरगुंडा से जिला रिजर्व गार्ड (डीआरजी), कोबरा 201 सीआरपीएफ़ 223 के जवान नक्सलियों की सूचना पर संयुक्त कार्यवाही के लिए निकले थे।
 
 
जवानों की सूचना टीम ने ग्राम जंगलगूंडा में नक्सलियों के विरूध्द बड़ी कार्रवाई करते हुए चार पुरूष नक्सलियों को मुठभेड़ में ठेर कर दिया है। मुठभेड़ के बाद मौके से भारी मात्रा में हथियार बरामद किये जाने की सूचना है। जवानों द्वारा इलाके की सर्चिंग जारी है।
 
 
मुठभेड़ की पुष्टि करते हुए बस्तर आईजी सुंदरराज पी ने बताया कि मुठभेड़ में चार पुरूष नक्सली मारे गये हैं, इलाके की सर्चिंग जारी है, जवानों के वापसी के बाद विस्तृत जानकारी मिल पायेगी।
 ग्रामीण महिला से क्वारेंटाइन सीआरपीएफ जवान ने किया दुष्कर्म, एफआईआर के बाद आरोपी जवान गिरफ्तार

ग्रामीण महिला से क्वारेंटाइन सीआरपीएफ जवान ने किया दुष्कर्म, एफआईआर के बाद आरोपी जवान गिरफ्तार

सुकमा। जिले के दोरनापाल थानाक्षेत्र अंतर्गत ग्राम पंचायत दुब्बाटोटा में सीआरपीएफ जवान द्वारा 01 ग्रामीण महिला से  दुष्कर्म व 01 अन्य युवती व 01 महिला से अलग-अलग छेडख़ानी के मामले में सर्व आदिवासी समाज द्वारा दोरनापाल थाने में सम्बन्धित जवान के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई गई, जिसके बाद पुलिस की एक टीम महिला डीएसपी के नेतृत्व में सुकमा से दोरनापाल थाने पहुंची ग्रामीणों की शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर आरोपी सीआरपीएफ जवान को गिरफ्तार कर लिया है।


पढ़िए पूरी खबर-
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार दोरनापाल थाने में युवती व परिजनों का बयान लिया गया तथा युवती का मेडिकल टेस्ट के बाद उक्त जवान को गिरफ्तार कर घटनास्थल का रिक्रिएशन किया गया जिसके बाद रिमांड पर भेजा गया है। जिले के दोरनापाल थानांतर्गत दुब्बाटोटा में ग्रामीणों द्वारा लगाए गया आरोप के अनुसार बीते सोमवार सीआरपीएफ कैम्प से 200 मीटर की दूरी पर उसी कैम्प में पदस्थ पिछले 18 दिन से सीआरपीएफ गाइडलाइंस के अनुसार क्वारेंटाइन सेंटर में रह रहे जवान जवान के द्वारा गाय चरा रही 16 वर्षीय युवतियों से छेडख़ानी के साथ 21 वर्षीय महिला के साथ दुष्कर्म किया गया। जिसकी एफआईआर बुधवार को दोरनापाल थाना में कराई गई। जांच के बाद पुलिस का कहना है उक्त आरोपी जवान को ड्यूटी से पहले 22 दिन के लिए  क्वारेंटाइन में रखा गया था, क्वारेंटाइन के 18 दिन वह काट चुका था। 
 
 
इस मामले पर एसडीओपी दोरनापाल अखिलेश कौशिक ने बताया कि बुधवार को एक महिला से हमे लिखित शिकायत मिली थी कि उसके साथ किसी व्यक्ति के द्वारा दुष्कर्म की घटना की गई है। जिस पर हमने एफआईआर दर्ज करते हुए मामले की विवेचना किया गया। जिसके बाद आरोपी को गिरफ्तार कर आज न्यायिक रिमांड के लिए सुकमा भेज दिया गया है।
युवती ने CRPF के जवान पर लगाया रेप का आरोप

युवती ने CRPF के जवान पर लगाया रेप का आरोप

सुकमा, छत्तीसगढ़ सहित देश में जहां एक ओर कोरोना संक्रमण और मौत के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है तो वहीं दूसरी ओर क्वारंटाइन सेंटर और अस्पतालों में रेप और छेड़छाड़ के मामले भी लगातार सामने आ रहे हैं। इसी बीच छत्तीसगढ़ के वनांचल क्षेत्र के सुकमा जिले से एक बड़ी खबर सामने आई है। खबर है कि एक युवती ने सीआरपीएफ जवान पर रेप का आरोप लगाया है। मामले में आदीवासी समाज की शिकायत के आधार पर आरोपी जवान को गिरफ्तार कर लिया गया है।

ALSO READ:-उच्च शिक्षा विभाग ने महाविद्यालयों के परीक्षा आयोजन एवं प्रवेश हेतु जारी किया गाइडलाइन

मिली जानकारएी के अनुसार सीआरपीएफ जवान को मध्यप्रदेश के बालाघाट से लौटने के बाद दुब्बाटोटा क्वारंटाइन सेंटर में क्वारंटाइन किया गया था। इस दौरान क्वारंटाइन सेंटर के पास युवती को अकेली देखकर जवान की नियत बिगड़ गई और उसने युवती को हवस का शिकार बना लिया। मामले की जानकारी होने पर आदिवासी समाज ने दोरनापाल थाने में शिकायत दर्ज कराई है।
 

बड़ी खबर: 225 किलो गांजे के साथ 2 तस्कर गिरफ्तार, पढ़े पूरी खबर

बड़ी खबर: 225 किलो गांजे के साथ 2 तस्कर गिरफ्तार, पढ़े पूरी खबर

सुकमा। जिले के तोंगपाल पुलिस ने 225 किलो गांजा सहित के साथ 02 तस्करों को गिरफ्तार किया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मुखबिर की सूचना पर थाने के सामने नाकाबन्दी कर वाहनों की जांच पड़ताल के दौरान कल रात्रि को सफेद रंग की बोलेरो क्रमांक सीजी 18-0539 सुकमा की ओर से आ रही थी उसकी जांच करने पर वाहन में 225 किलो गांजा बरामद कर दो तस्कर वाहन चालक दीपक निहाल निवासी दोरनापाल एवं विप्रो सरकार निवासी मलकानगिरी पीव्ही 117 को गिरफ्तार किया गया है। इस कार्रवाई में थाना प्रभारी इस्पेक्टर विनोद एक्का, सउपनि.पन्ना लाल चंद्रवंशी, प्रधान आरक्षक दया शंकर भोई का योगदान रहा।
 
थाना प्रभारी तोंगपाल विनोद एक्का ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर वाहन की चेकिंग के तहत 225 किलो गांजा वाहन क्र0 सीजी 18 के 0539 सफेद रंग की बोलेरो में दोरनापाल से रायपुर जा रहे थे, जिसमें दो तस्करों को पकड़ा गया है।
सड़क निर्माण कार्य में लगे 6 वाहनों को नक्सलियों ने किया आग के हवाले

सड़क निर्माण कार्य में लगे 6 वाहनों को नक्सलियों ने किया आग के हवाले

सुकमा। छत्तीसगढ़ के सुकमा में नक्सलियों ने सड़क निर्माण में लगे वाहनों में आग लगा दी। नक्सलियों ने विकास कार्य ने बाधा डालने के लिए 2जेसीबी, 1 पोकलेन, 3टिप्पर में आग लगा दी। नक्सलियों ने कुल 6 गाडिय़ों को आग के हवाले कर दिया। एसपी शलभ सिन्हा ने इसकी पुष्टि की है। यह घटना जिले के कुकानार थानाक्षेत्र के धनीकोरता गांव की है, जहां भूसारास से मिचवार-कुकानार मार्ग पर नक्सलियों ने की आगजनी की वारदात को अंजाम दिया है। ग्रामीण सूत्रों के हवाले से मिली खबर के मुताबिक कुन्ना के पास सड़क निर्माण में लगी 6 गाडिय़ों में आग लगाई गई है।
अचानक बढ़ा शबरी का जलस्तर ट्रेक्टर ट्राली नदी में फंसी, जाने कहा की है यह घटना

अचानक बढ़ा शबरी का जलस्तर ट्रेक्टर ट्राली नदी में फंसी, जाने कहा की है यह घटना

सुकमा | बस्तर संभाग में मानसून का आगाज लगातार दो दिनों के झमाझम बारिश के साथ शुरू हुई। मानसून के प्रबल प्रभाव से पिछले दो दिनों से जिले के अलग-अलग इलाकों में लगातार बारीश हो रही है हालांकि आज मौसम सुबह से ही साफ है। उसके बावजूद शबरी नदी का जलस्तर अचानक बढ़ गया, जिसके चलते कोंटा में रेत खदान में रेत भरने गया ट्रेक्टर ट्राली देखते ही देखते ट्राली को चारों और से नदी के पानी ने घेर लिया। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार आज सुबह रेत के लिए कुछ मजदूर ट्रेक्टर लेकर कोंटा के शबरी नदी के किनारे रेत भरने के लिए गये हुए थे। ट्रेक्टर ट्राली में रेत भरने के दौरान देखते ही देखते शबरी नदी का जलस्तर बढऩा शुरू हो गया। ट्रेक्टर को किसी तरह वहां से निकालने मे कामयाब हो गये, लेकिन ट्राली वही पर फंस गई। वहा पर प्रत्यक्षदर्शीयों ने बताया कि जब आज सुबह 07 बजे वहां गए तो शबरी नदी का पानी सामान्य था। उसके बाद मजदूर ट्रेक्टर ट्राली में रेत भरने लगे गए लेकिन अचानक देखते ही देखते पानी 04 से 05 फीट बढ़ गया। 
 
नक्सलियों को सरकारी कारतूस सप्लायर एएसआई और हेड कांस्टेबल गिरफ्तार

नक्सलियों को सरकारी कारतूस सप्लायर एएसआई और हेड कांस्टेबल गिरफ्तार

सुकमा। जिले के पुलिस ने नक्सलियों के अर्बन नेटवर्क से जुड़े एएसआई आनंद जाटव और हेड कांस्टेबल सुभाष सिंह को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए दोनों आरोपी नक्सलियों को सरकारी कारतूस सप्लाई करते थे। अप्रैल में कांकेर पुलिस ने शहरी नेटवर्क में शामिल ठेकेदार सहित कई लोगों को अपनी गिरफ्त में लिया था। इन्हीं से हुई पूछताछ के दौरान सुकमा से नक्सलियों को कारतूसों सप्लाई होने की जानकारी मिली थी। इसके बाद से सुकमा पुलिस लगातार कई संदिग्ध जवानों पर नजर रख रही थी। 

पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक संदिग्धों के लगातार मोबाइल फोन टेप व ट्रेस किए जा रहे थे। उनकी हर एक गतिविधियों पर पुलिस की नजर बनाए हुए थे। मनोज शर्मा व हरीशंकर स्कॉर्पियो से सुकमा पहुंचे थे। जैसे ही एएसआई बाइक से मलकानगिरी चौक पहुंचा, तभी सबको पकड़ लिया गया। तीनों को पकड़े जाने के बाद पुलिस ने हेड कांस्टेबल को भी इंदिरा कॉलोनी स्थित उसके घर से गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए हेड कांस्टेबल व एएसआई ने दो बार कारतूस बेचे जाने की बात कबूल की है। तीसरी बार वे पुलिस के हत्थे चढ़ गए। हेड कांस्टेबल की ड्यूटी शस्त्रागार में लगी थी। पुलिस ने 04 जून को माओवादियों के लिए गोला बारूद एवं अन्य सामग्री के सप्लाई के सम्बंध में मुखबिर से सूचना मिलने पर धमतरी निवासी मनोज शर्मा व बालोद निवासी हरिशंकर गेडाम को सुकमा मलकानगिरी चौक से घेराबंदी कर पकड़ा गया था। इनके कब्जे से 303 व एसएलआर हथियारों के 395 राउंड कारतूस मिले थे। जिसमे पूछताछ में मनोज शर्मा व हरिशंकर गेडाम की निशानदेही पर दुर्गकोंदल के गणेश कुंजाम व आत्माराम नरेटी को गिरफ्तार किया गया और उन दोनो का सम्पर्क कांकेर के बड़े नक्सली लीडर दर्शन पेद्दा प्रतापपुर एरिया कमेटी सचिव से होने की बात सामने आयी। इनके कब्जे से भी 70 राउंड इंसास और 303 के मिले ।303, एके 47, एसएलआर, इंसास के कुल 695 राउंड् कारतूस बरामद हुए जिस पर कोतवाली थाना सुकमा में अपराध क्रमांक 51/20 दर्ज कर विवेचना की जा रही है। बस्तर आईजी सुंदरराज पी ने बताया कि नक्सलियों को कारतूस बेचने के मामले में दोनों जवानों के संलिप्तता सामने आने पर दोनो को हिरासत में ले कर अग्रिम कार्यवाही की जा रही है। मामले की सूक्ष्मता से जांच करने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में 09 सदस्यीय एसआईटी गठित की गयी है। अभी इस मामले में और भी खुलासे होने की संभावना।
जिले में दो ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी निलंबित, साथ ही पांच अधिकारीयों पर हुई कार्यवाही, पढ़ें पूरी खबर

जिले में दो ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी निलंबित, साथ ही पांच अधिकारीयों पर हुई कार्यवाही, पढ़ें पूरी खबर

सुकमा | किसानों के कल्याण के लिए संचालित शासन के महत्वपूर्ण योजनाओं के क्रियान्वयन में भारी लापरवाही बरतने के कारण कलेक्टर चंदन कुमार ने दो ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारियों को निलंबित कर दिया हैं। वहीं पांच ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारियों के विरुद्ध एक-एक वेतनवृद्धि रोकने की कार्यवाही की गई है।

कलेक्टर चंदन कुमार की अध्यक्षता में तीन जून को आयोजित कृषि, सहकारिता और राजस्व विभाग के अधिकारियों की संयुक्त बैठक में किसान कल्याण हेतु संचालित योजनाओं के प्रगति की समीक्षा की गई थी। समीक्षा के दौरान प्रधानमंत्री कृषक सम्मान निधि अंतर्गत लाभान्वित किसानों के साथ ही सभी किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड प्रदान करने हेतु दिए गए लक्ष्य को प्राप्त करने में बरती गई लापरवाही के साथ ही रबी फसल के क्षेत्राच्छादन की वास्तविक जानकारी नहीं दिए जाने के कारण कोर्रा क्षेत्र के ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी लकेश कुमार नरेटी और लेदा क्षेत्र के ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी कमलभान सिंह को निलंबित कर दिया गया है। इसके साथ ही जीरमपाल क्षेत्र के राजेन्द्र कुमार दरेन्द्र, नीलावरम क्षेत्र के मनोज कुमार देव, पालेम क्षेत्र के ललित कुमार ओझा, कोंटा क्षेत्र के संतोष कुमार तलाण्डी और मिसमा क्षेत्र के येम कुमार ठाकुर की एक-एक वेतनवृद्धि असंचयी प्रभाव से रोकी गई है । निलंबित कर्मचारियों को नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता होगी।
 
कोरोना संकट के बीच शादी करना पड़ा भारी, नवदंपत्ति सहित बाराती पहुंचे 14 दिनों के लिए क्वॉरेंटाइन सेंटर, जाने कहा की है ये खबर

कोरोना संकट के बीच शादी करना पड़ा भारी, नवदंपत्ति सहित बाराती पहुंचे 14 दिनों के लिए क्वॉरेंटाइन सेंटर, जाने कहा की है ये खबर

सुकमा |  जिले के तोंगपाल से के पास ग्राम सुघनघाट निवासीे युवक का रिश्ता पड़ोसी उड़ीसा राज्य के मलकानगिरी में तय हुआ था। लॉक डाउन के चलते विवाह की तिथि आगे बढ़ा दी गई थी, लेकिन लॉक डाउन मिली थोड़ी छूट के बाद युवक अपनी दुल्हन को बिहाने के लिए बारात लेकर उड़ीसा गया, जहां उसकी शादी धूमधाम से सम्पन्न हुई। विवाह के बाद युवक जब अपने दुल्हन को लेकर वापस सुकमा के अपने गांव लौटा तो प्रशासन ने बारातियों सहित नवदंपत्ति और उसें परिवार को 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन में डाल दिया है।

मिली जानकारी के अनुसार सुकमा जिले के तोंगपाल से लगे हुए सुघनघाट गांव से बारात पड़ोसी राज्य उड़ीसा के मलकानगिरी गई थी। विवाह के बाद कल देर रात दुल्हन को लेकर बारात वापस अपने गांव लौटी जिसकी सूचना प्रशासन को लगते ही प्रशासन के अधिकारी गांव पहुंच गए और नवदंपत्ति सहित बारातियों को क्वारंटाइन सेंटर लाया गया है। अब नव दंपति और बाराती 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन में रहेंगे। प्रशासन के द्वारा एहतियात के तौर पर नव दंपत्ति एवं बारातियोंं को क्वारंटाइन किया है, क्योंकि उड़ीसा के मलकानगिरी में विगत तीन-चार दिनों से कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 19 तक पहुंच गई है। ऐसे में जिला प्रशासन किसी भी प्रकार का खतरा मोल नहीं लेना चाहती है।
 
जिले के क्वारंटाइन सेंटर से भागने वाले युवक के विरुद्ध हुई एफआईआर, जाने पूरी खबर

जिले के क्वारंटाइन सेंटर से भागने वाले युवक के विरुद्ध हुई एफआईआर, जाने पूरी खबर

सुकमा | जिले के ग्राम पुसपल्ली निवासी 19 वर्षीय तेलामी देवा को क्वारंटाइन सेंटर में रखे गए युवक के वहां से भागने पर उसके विरूध्द आज एफआईआर दर्ज कर उसकी पतासाजी की जा रही है। क्वारंटाइन सेंटर से भागने वाला युवक तेलांगाना से लौटा था, जिसके बाद उसे क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया था। 

जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सिंह ने बताया कि ग्राम पुसपल्ली का 19 वर्षीय तेलामी देवा तेलंगाना राज्य गया हुआ था। इस युवक की वापसी 18 मई को हुई थी। वापसी के बाद इसे क्वारंटाइन किया गया था, किन्तु वह 19 मई को सुबह-सुबह क्वारंटाइन सेंटर से भाग गया। कोरोना के रोकथाम के लिए उठाए जा रहे कदमों के विरुद्ध युवक द्वारा बरती गई लापरवाही को क्षेत्र की जनता के स्वास्थ्य के लिए जोखिम भरा पाए जाने पर उसके विरुद्ध एफआईआर की कार्यवाही गई है।
 
+ Load More