कोरोना अपडेट: छ ग में आज 15 हजार से अधिक मिले, 109 की मृत्यु के साथ रायपुर में रिकॉर्ड तोड़ 4168 समेत इन जिलो से इतने मरीज    |    क्या देश में है रेमडेसिविर दवा की कमी? जानिए केंद्र सरकार ने इसको लेकर क्या जवाब दिया है    |    रात्रि 8.30 बजे राज्य को करेंगे संबोधित मुख्यमंत्री, लॉकडाउन की चर्चा हुई तेज...    |    छग कोरोना अपडेट: आईसीएमआर के मुताबिक आज शाम तक 10748 नये मरीजो की हुई पुष्टि, रायपुर से अकेले 3293 समेत बाकी इन जिलो से...    |    छत्तीसगढ़ से राज्य सभा की ये सांसद हुई कोरोना संक्रमित, दिल्ली AIIMS में हुई भर्ती    |    इस दिन इतने समय के लिए पुरे भारत में बंद रहेगी आरटीजीएस की सुविधा    |    देश में पिछले 24 घंटे में 1.61 लाख कोरोना के नए मरीज मिले, 879 की गई जान, जानिये क्या है टीकाकरण का हाल    |    BIG BREAKING : छत्तीसगढ़ में आज कोरोना से मौत का आंकड़ा 100 के पार, प्रदेश में आज साढ़े 13 हजार नए मरीजों की हुई पहचान, देखें जिले वार आंकड़े    |    BIG BREAKING : राजधानी के इन 14 निजी अस्पतालों को सरकार ने पूरी तरह से कोरोना अस्पताल किया घोषित, देखें आदेश    |    BIG BREAKING : राजधानी में आज रिकॉर्ड तोड़ 11491 नए कोरोना मरीजों की हुई पहचान, राजधानी में आज 72 कोरोना मरीजों की हुई मौत    |
Previous123Next
WhatsApp ने लॉन्च किए Vaccine के स्टिकर पैक, COVID-19 वैक्सीन के लिए करेगा जागरूक

WhatsApp ने लॉन्च किए Vaccine के स्टिकर पैक, COVID-19 वैक्सीन के लिए करेगा जागरूक

फेसबुक के इंस्टेंट मैसेजिंग प्लैटफॉर्म वॉट्सऐप (WhatsApp) ने नए स्टिकर पैक लॉन्च कर दिए हैं, जिसे Vaccines for All कहा गया है. इसे कंपनी ने COVID-19 वैक्सीन के बारे में जागरूकता फैलाने की दिशा में और दुनिया भर के स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के प्रयासों की सराहना करने के रूप में पेश किया है. वॉट्सऐप ने बताया, WhatsApp ऐप विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के साथ मिलकर ‘Vaccines for All’ (सभी के लिए वैक्सीन) नाम का स्टिकर पैक लॉन्च कर रहा है. हम उम्मीद करते हैं कि इन स्टिकर्स के ज़रिए लोग एक-दूसरे से जुड़ पाएंगे’.

वॉट्सऐप ने अपने ब्लॉग में बताया कि इस मुश्किल दौर में लोगों की जान बचाने वाले हेल्थकेयर हीरोज़ के प्रति अपना सम्मान दिखाने के लिए भी स्टिकर्स का इस्तेमाल किया जाएगा.
 

घर के किचन की चिपचिपी टाइल्स टाइल्स को आसान तरीके से साफ़ करें, जाने कैसे

घर के किचन की चिपचिपी टाइल्स टाइल्स को आसान तरीके से साफ़ करें, जाने कैसे

अधिकतर लोग घर की साफ-सफाई पर ध्यान देते हैं। घर को संवारकर रखना पसंद करते हैं जिससे कि घर बिलकुल परफेक्ट और साफ नजर आए। लेकिन घर के किचन की चिपचिपी टाइल्स इसे अधूरा कर देती है। यदि आपके भी किचन की टाइल्स चिपचिपी और गंदी है तो यह आपके घर की शोभा को बिगाड़ सकती है। तो ऐसे में क्या करना चाहिए? यदि आप भी चाहती हैं किचन की टाइल्स को आसान तरीके से साफ़ करना तो इस लेख में हम आपको बता रहे हैं कुछ आसान और बेहतरीन टिप्स सांद्रता वाला ब्लीच का घोल तैयार करें। इसे इस्तेमाल करने से पहले ग्लव्स पहन लें। इस घोल से टाइल्स को अच्छी तरह रगड़कर धोएं।

सिरके के घोल से करें टाइल्स को साफ

इसके लिए आप पानी में सिरका, नमक और बैकिंग सोडा मिलाकर घोल तैयार करें। इस घोल से अपने किचन की टाइल्स को साफ करें। इस घोल से आपकी टाइल्स चमक उठेगी।

पानी में डिटर्जेंट मिलाकर दाग साफ़ करने से आपको अच्छे परिणाम मिल सकते हैं और टाइल्स चमक सकती हैं। इस घोल से आप ब्रश की मदद से अपने किचन की टाइल्स को साफ करें।

वास्तु शास्त्र: घर में पानी सही स्थान पर और सही दिशा में रखने से परिवार के सदस्यों का

वास्तु शास्त्र: घर में पानी सही स्थान पर और सही दिशा में रखने से परिवार के सदस्यों का

हमारे वास्तु शास्त्र में पानी, अग्नि, वायु, आकाश और पृथ्वी तत्व के लिए अलग-अलग दिशाएं या जगह बताई गई हैं। अत: हमें घर में इन तत्वों से जुड़ी चीजें भी इनकी दिशाओं के अनुसार ही रखनी चाहिए, अन्यथा वास्तु दोष के कारण परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। वास्तु शास्त्र में जल का सर्वाधिक शुभ स्थान ईशान कोण को ही माना गया है। इसीलिए घर में पानी सही स्थान पर और सही दिशा में रखने से परिवार के सदस्यों का स्वास्थ्य अनुकूल रहता है और सुख-समृद्धि में वृद्धि होती है।

* पानी का बर्तन रसोई के उत्तर-पूर्व या पूर्व में भरकर रखें।

* पानी का स्थान ईशान कोण है अतः पानी का भण्डारण अथवा भूमिगत टैंक या बोरिंग पूर्व, उत्तर या पूर्वोत्तर दिशा में होनी चाहिए।

* पानी को ऊपर की टंकी में भेजने वाला पंप भी इसी दिशा में होना चाहिए।

* दक्षिण-पूर्व, उत्तर-पश्चिम अथवा दक्षिण-पश्चिम कोण में कुआं अथवा ट्यूबवेल नहीं होना चाहिए। इसके लिए उत्तर-पूर्व कोण का स्थान उपयुक्त होता है। इससे वास्तु का संतुलन बना रहता है।

* ओवर हेड टैंक उत्तर और वायव्य कोण के बीच होना चाहिए। टैंक का ऊपरी भाग गोल होना चाहिए।

* अन्य दिशा में कुआं या ट्यूबवेल हो, तो उसे भरवा दें और यदि भरवाना संभव न हो, तो उसका उपयोग न करें।

* नहाने का कमरा पूर्व दिशा में शुभ होता है।


* ध्यान रखें, घर के किसी नल से पानी नहीं रिसना चाहिए अन्यथा भुखमरी की स्थिति पैदा हो सकती है।

 

होली पर मस्ती खतरनाक साबित हो सकती है, रखें इन 7 बातों का ध्यान

होली पर मस्ती खतरनाक साबित हो सकती है, रखें इन 7 बातों का ध्यान

होली पर थोड़ी सी भी लापरवारी हमारे लिए खतरनाक साबित हो सकती है। आजकल बाजार में आने वाले रासायनिक रंगों में लेड ऑक्साइड, मरकरी सल्फाइड, एल्युमिनियम ब्रोमाइड और कॉपर सल्फेट जैसे घातक रसायन होते हैं, जो एलर्जी के अलावा और भी कई परेशानियां पैदा कर सकते हैं। कई रंग तो आपको अंधा भी बना सकते हैं। वहीं पानी में ज्यादा भीगने से भी परेशानी हो सकती है।
1.होली पर सिंथेटिक रंगों से बचकर रहें। इन रंगों में लेड आक्साइड, मरकरी सल्फाइड ब्रोमाइड, कापर सल्फेट आदि भयानक केमिकल मिले होते हैं जो कि आंखों की एलर्जी, त्वचा में खुजली और अंधा तक बना देते हैं। इनकी जगह हिना, हल्दी पाउडर, चंदन, फूलों की पंखुडिय़ों का चूरा आदि भी प्रयोग कर सकते हैं, जो कि त्वचा को बिल्कुल नुकसान नहीं पहुंचाएंगे।
2. वे लोग जिन्हें रंगों से एलर्जी हैं, उन्हें हर हाल में इन रंगों से दूर रहना चाहिये। साथ ही एक्जिमा से परेशान लोगों को भी इन रंगों से दूर रहना चाहिए। बेहतर होगा कि रंग खेलने से पहले शरीर पर नारियल का तेल या सरसों का तेल लगा लीजिये, जिससे रंग त्वचा पर ना चिपके।
3. होली खेलते वक्त त्वचा लगातार पानी के संपर्क में रहती है, इसलिये त्वचा पर घाव और कटने-छिलने के चांस बढ़ जाते हैं। अगर आपकी त्वचा कट छिल जाए तो उस पर एंटीसेप्टिक लगाएं और रंग खेलना बंद कर दें।
4. रंग खेलने से पहले बालों में खूब सारा तेल लगाएं और सिर को रुमाल या स्कार्फ से ढक लें। सिंथेटिक रंग बालों को भी नुकसान पहुंचा सकते हैं।
5. होली के मौके पर पानी में ज्यादा भीगने से भी बचें। इससे बुखार, जुकाम, सिर दर्द, नाक बहना, बदन दर्द आदि की परेशानियां हो सकती हैं।
6. होली पर गुब्बारों से भी बचें। अक्सर ये आंख में लग जाते हैं जिसकी वजह से रोशनी तक जा सकती है।
7. त्योहार आने पर कई लोग जो डाइटिंग पर भी होते हैं, वह भी इस दिन खुद के पेट को कंट्रोल नहीं कर पाते। इसका नतीजा तबीयत खराब के तौर पर हो सकता है।

 

मोबाइल फोन में इंटरनेट की स्पीड कैसे बढ़ाएं, अपनाएं ये सिंपल तरीका

मोबाइल फोन में इंटरनेट की स्पीड कैसे बढ़ाएं, अपनाएं ये सिंपल तरीका

आजकल हमारी लाइफ इंटरनेट के बिना अधूरी है. फोन से लेकर लैपटॉप तक हर डिवाइस को ऑपरेट करने के लिए इंटरनेट की जरूरत पड़ती है. हमारे ज्यादातर काम अब इंटरनेट के जरिए ही होते हैं. ऐसे में अगर आपके फोन में इंटरनेट की स्पीड कम हो जाए तो परेशानी होने लगती है. कई इलाकों में नेटवर्क की समस्या की वजह से भी इंटरनेट स्पीड कम हो जाती है. ऐसे में अगर आप भी इस समस्या से परेशान हैं तो हम आपको कुछ ऐसी टिप्स दे रहे हैं जिससे आप अपने फोन में internet speed के बारे में भी जान सकते हैं और इसे बढ़ा भी सकते हैं.
मोबाइल में डेटा स्पीड कैसे चेक करें- आजकल कई फोन में कंपनी की ओर से इंटरनेट स्पीड चेक करने वाला फीचर दिया जा रहा है लेकिन अगर आपके फोन में ये फीचर नहीं है तो इसके लिए आपको थर्ड पार्टी ऐप की मदद लेनी होगी. आप play store से इंटरनेट स्पीड मीटर ऐप डाउनलोड कर सकते हैं. आप ऐप का रिव्यू और रेटिंग देख कर डाउनलोड कर सकते हैं. अब आप इंटरनेट की स्पीड इससे चेक कर सकते हैं.

फोन में ऐसे बढ़ाएं इंटरनेट स्पीड

1- फोन को रीस्टार्ट करें- अगर फोन में इंटरनेट धीमा चल रहा है तो इसके लिए सबसे पहले आप फोन को रीस्टार्ट कर लें. ऐसा करने पर मोबाइल network को दोबारा से सर्च करता है और इससे डाटा स्पीड बढ़ जाती है. अगर आप फोन ऑफ नहीं करना चाहते तो डाटा को एक बार बंद करके दोबारा ओपन कर लें.


2- फ्लाइट मोड ऑन/ऑफ करें- अगर आप फोन को ऑफ किए बिना इंटरनेट की स्पीड बढ़ाना चाहते हैं तो इसके लिए आप फोन को फ्लाइट मोड पर लगा कर भी हटा सकते हैं. इससे इंटरनेट की स्पीड में सुधार आ जाएगा.


3- डाटा यूसेज चेक करें- कई बार प्रीपेड प्लान्स में डेली डाटा लिमिट खत्म होने पर भी इंटरनेट की स्पीड काफी कम हो जाती है. इसलिए इंटरनेट स्लो होने पर अपने फोन में डेटा यूज जरूर चेक कर लें.


4- ऑटो डाउनलोड अपडेट्स को डिसेबल करें- अगर आपके फोन में अभी भी इंटरनेट स्लो चल रहा है तो हो सकता है आपके फोन में ऐप्स को अपडेटेड करने के लिए प्ले स्टोर पर ऑटो अपडेट ऑन हो. इससे काफी डाटा खत्म हो जाता है और इंटरनेट की स्पीड भी कम हो जाती है. इसलिए ऑटो अपडेट को बंद कर दें.


5- फोन की नेटवर्क स्पीड बदलें-
कई बार फोन की सेटिंग्स में छेड़खानी करने पर भी इंटरनेट की speed कम ज्यादा हो जाती है. इसलिए आप इंटरनेट की स्पीड कम होने पर फोन में इंटरनेट की सेटिंग्स को एक बाद बदल कर देख लें. 

लम्बे समय तक इसका उपयोग करने से त्वचा की रंगत में आएगा निखार - शहनाज हुसैन

लम्बे समय तक इसका उपयोग करने से त्वचा की रंगत में आएगा निखार - शहनाज हुसैन

दिन का तापमान लगातार बढ़ना शुरू हो गया है और सर्दियों के मौसम की बिदाई महज औपचारिकता मात्र रह गई है। मौसम विभाग की माने तो अगले कुछ दिनों में दिन का तापमान 30 डिग्री से ज्यादा रिकॉर्ड किया जा सकता है। अगले कुछ दिनों में एसी चालू हो जायेंगे, तो ऐसे में मौसम की मार सबसे ज्यादा त्वचा को झेलनी पड़ती है। बदलते मौसम में हमे अपने खान-पान, दिनचर्या, कपड़ों आदि में बदलाव के साथ ही अपनी त्वचा की देखभाल में भी अहम बदलाव लाने की जरूरत है ताकि हमारी त्वचा कोमल, मुलायम और दिव्यमान बनी रहे। गर्मियों के मौसम में तेज धूप में बाहर घूमने से सूर्य की अल्ट्रावॉयलेंट किरणों की बजह से टैनिंग तथा सनबर्न की समस्या अपने चरम पर होती है।चिलचिलाती धूप तथा यू वी रेडिएशन की बजह से त्वचा में नमी कम हो जाती है जिसकी बजह से त्वचा रूखी, मुरझाई तथा बेजान हो जाती है तथा त्वचा का रंग सामान्य से ज्यादा गहरा या काला हो जाता है। सूर्य की गर्मी तथा बायू प्रदूषण की बजह से चेहरे पर कील-मुहाँसे, छईयां, काले दाग़, ब्लैक हैड, तथा पसीने की बदबू की समस्या आम हो जाती है जिससे आपके सौंदर्य को मानो ग्रहण सा लग जाता है तथा आप घर से बाहर निकलने में असहज महसूस करती है तथा मौसम आप के लिए परेशानी का सबब बन जाता है । वास्तव में त्वचा झुलसती कैसे है। त्वचा का सूर्य के सीधे प्रभाव में आने से त्वचा में मेलेनिन की मात्रा बढ़ जाती है जो कि त्वचा की रंगत को प्रभावित करती है। मेलेनिन वास्तव में सूर्य की हानिकारक अल्ट्रा वायलेट किरणों से त्वचा की रक्षा करता है। मेलेनिन जब त्वचा के निचले हिस्सों में पैदा होने के बाद त्वचा के ऊपरी बाहरी हिस्सों तक पहुंचता है। मेलेनिन की रंगत सांवली होती है जिससे त्वचा की रंगत काली पड़ जाती है। भारत में गोरी त्वचा को काफी सराहा जाता है, इसलिए सावंली त्वचा को एक गहरी समस्या के रूप में देखा जाता है, लेकिन इसका पर्याप्त समाधान क्या है? इस समय सूर्य की किरणों से त्वचा के बचाव के लिए सनस्क्रीन का लेप काफी प्रभावी माना जाता है। इसके अलावा टोपी पहनना, छाता लेकर चलना तथा दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक घर में रहना भी वैकल्पिक उपाय माने जाते है। अगर आपको भरी दोपहर में घर से निकलना ही पडे़ तो सूर्य की गर्मी से बचाव करने वाली सनस्क्रीन बाजार में उपलब्ध है।
सूर्य की गर्मी से झुलसी त्वचा की रंगत को दुबारा हल्की रंगत में लाना एक महत्वपूर्ण पहलू है। इसमें फेशियल स्क्रब महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर सकता है। आप अपनी त्वचा के अनुरूप फेशियल स्क्रब का उपयोग कर सकते है। यदि आपकी त्वचा शुष्क हो तो सप्ताह में मात्र एक बार ही स्क्रब का उपयोग करना चाहिए लेकिन तैलीय त्वचा में आपका इसका उपयोग दोहरा सकते है। स्क्रब को त्वचा पर आहिस्ता से गोलाकार स्वरूप में उंगलियों के सहारे लगाया जाना चाहिए तथा कुछ समय बाद इसे ताजे सादे पानी से धो डालना चाहिए। इससे त्वचा में मृतक कोशिकाऐं हट जाती है जिससे त्वचा में निखार आ जाता है तथा धूप से झुलसी चमड़ी हट जाती है। आप अपनी रसोई में रखे उत्पादों से आसानी से स्क्रब बना सकती है। वास्तव में रसोई में रखें अनेक उत्पादों को झुलसी त्वचा को ठीक करने के लिए सीधे तौर पर लगाया जा सकता है। सूर्य की गर्मी से झुलसी त्वचा को ठीक करने के घरेलू उपाय निम्नलिखित है।
अगर आप दिन भर बाहर रहना नौकरी या पेशेवर मज़बूरी है तो शाम को चेहरे को ठण्डक पहुँचाने के लिए चेहरे पर कुछ समय तक बर्फ के टुकड़ों को रखिए इससे सनबर्न से हुए नुकसान से राहत मिलेगी तथा त्वचा में नमी बढ़ेगी। चेहरे पर टमाटर का पेस्ट लगाने से भी गर्मियों में झुलसी त्वचा को काफी सकून मिलता है। गर्मियों में त्वचा पर सनबर्न के नुकसान को कम करने के लिए चेहरे को बार बार ताजे , साफ तथा ठन्डे पानी से धोइये। चेहरे को धोने के बाद इसे तौलिये से पौंछने की बजाय अपने आप सूखने दें जिससे चेहरे में ठंडक वनी रहेगी। गुलाब जल में तरबूज का रस मिलाकर चेहरे पर लगाने के 20 मिनट बाद ताजे पानी से धो डालने से सनबर्न का असर ख़तम हो जायेगा
स्क्रब: बादाम से सबसे बेहतरीन फेशियल स्क्रब बनता है। बादाम को गर्म पानी में तब तक भिगोऐ रखे जब तक इसका बाहरी छिल्का न हट जाए। इसके बाद बादाम को सुखाकर पीस ले तथा इस पाऊडर को एक एयरटाईट जार में रख ले। प्रत्येक सुबह दो चम्मच पाऊडर में दही या ठण्डा दूध मिलाकर इस मिश्रण को कोमलता से त्वचा पर लगाऐं तथा बाद में इसे पानी से धो डालें। चावल के पाऊडर में दही मिलाकर स्क्रब के तौर पर उपयोग करने से तैलीय त्वचा को राहत मिलती है। थोड़ी सी हल्दी को दही में मिलाइए इसे प्रतिदिन त्वचा पर कोमलता से लगाइए तथा आधा घण्टा बाद ताजे स्वच्छ पानी से धो डालिए।
एक चम्मच शहद में दो चम्मच नीबूं जूस मिलाइए इसे प्रतिदिन चेहरे पर लगाइए तथा आधा घण्टा बाद ताजे साफ जल से धो डालिए।
तैलीय त्वचा से झुलसी त्वचा को राहत प्रदान करने के लिए खीरे की लुगदी को दही में मिलाइए तथा इस मिश्रण को प्रतिदिन चेहरे पर लगाइए इस मिश्रण को 20 मिनट बाद ताजे स्चच्छ जल से धो डालिए तथा यह तैलीय त्वचा को सबसे ज्यादा उपयुक्त होगा। तैलीय त्वचा के लिए टमाटर की लुगदी में एक चम्मच शहद मिलाकर इस मिश्रण को प्रतिदिन त्वचा पर लगाइए तथा 20 मिनट बाद धो डालिए। त्वचा को सूर्य की गर्मी से जल जाने से राहत प्रदान करने के लिए काटनवूल की मदद से ठण्डा दूध कोमलता से प्रतिदिन त्वचा पर लगाऐ। इससे त्वचा केा न केवल राहत मिलेगी बल्कि त्वचा कोमल बनकर निखरेगी। लम्बे समय तक इसका उपयोग करने से त्वचा की रंगत में निखार आएगा तथा यह शुष्क तथा सामान्य त्वचा दोनो को उपयोगी सिद्ध होगी। सूर्य की गर्मी से झुलसी त्वचा के उपचार तथा बचाव में तिल अहम भूमिका अदा करते है। मुट्ठी भर तिल को पीसकर इसे आधे कप पानी में मिला लीजिए तथा दो धण्टा तक मिश्रण को कप में रहने के बाद पानी को छानकर इससे चेहरा साफ कर लीजिए। क्लींजिग मास्क: खीरे तथा पपीते की लुगदी का मिश्रण करके इसमें एक चम्मच दही, एक चम्मच शहद, चार चम्मच जई का आटा तथा एक चम्मच नीबूं जूस मिला लीजिए तथा इस मिश्रण को सप्ताह में दो बार चेहरे तथा गर्दन पर लगा लीजिए तथा आधा घण्टा बाद ताजे पानी से धो डालिए। शरीर: शरीर की प्रतिदिन तिल के लेप से मालिश करनी चाहिए। दही में बेसन, नीबूं जूस तथा थोडी हल्दी मिलाइए तथा इसे चेहरे तथा गर्दन पर सप्ताह में तीन बार मालिश तथा 30 मिनट बाद ताजे स्वच्छ पानी से धो डालिए। हाथो के लिए: दो चम्मच सूर्यमुखी तेल तथा तीन चम्मच खुरदरा चीनी का मिश्रण करके इसका पेस्ट बना लीजिए। इसे हाथों पर रगडिये तथा 15 मिनट बाद हाथों को स्वच्छ जल से धो डालिए। पैरों के लिए: पानी में नीबूं जूस मिलाकर इसमें पैरों को डूबों दीजिए इससे पैरों में शीतलता, कोमलता तथा ठण्डक का अहसास मिलता है तथा पैरों की दुर्गन्ध समाप्त हो जाती है। पांव पर नीबूं रगड़ने से भी पांवों की सुन्दरता बढ़ती है।
 

Women's Day 2021 Gifts Idea: महिला दिवस पर अपनी मां, बहन और दोस्त को दें ये खास उपहार

Women's Day 2021 Gifts Idea: महिला दिवस पर अपनी मां, बहन और दोस्त को दें ये खास उपहार

दुनिया भर में हर साल 8 मार्च का दिन अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में मनाया जाता है. यह दिन हमारे जीवन में महिलाओं के योगदान और उसके प्रति सम्मान और प्यार को प्रकट करने का दिन है. घर में जहां मां, बहन, पत्नी और बेटी के रूप में औरतें हमारा संबल बनती हैं तो वहीं ऑफिस में भी सहकर्मी के रूप में औरतें एक बेहतरीन साथ का उदाहरण हैं. आर्थिक, राजनीतिक और सामाजिक स्तर पर भी महिलाओं के महत्व को सेलिब्रेट करने का ये प्रमुख अवसर है. इस मौके पर हम अपनी जिंदगी में खास महत्व रखने वाली इन महिलाओं को गिफ्ट देकर उन्हें खुशी का एहसास करा सकते हैं. आइए आपको बताते हैं इस खास मौके पर आप महिलाओं को कौन-कौन से उपहार दे सकते हैं.

मां को दे सकते हैं ये खास तोहफा
अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर हमें अपनी मां के प्यार और समर्पण को जरूर याद करना चाहिए. इस अवसर पर आप अपनी मां को उनकी कोई जरूरत का सामान गिफ्ट कर सकते हैं, जिसमें किचन की इलेक्ट्रानिक चीजें, घर के सजावट का सामान भी हो सकता है. साथ ही आप चाहें तो ज्वैलरी, साड़ी, किताबें या पुरानी तस्वीरों का कोलाज भी बनाकर गिफ्ट कर सकते हैं.


बहन और परिवार की अन्य महिलाओं को दे सकते हैं ये गिफ्ट
हमारे जीवन में बहन का स्थान भी बेहद खास होता है. परिवार में बहनें सबसे लाड़ली होती हैं यहीं वजह है कि इनकी गिफ्ट की लिस्ट भी बहुत लंबी है. अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर बहन को फिट रहने के लिए फिटनेस बैंड, हैंड बैग, ब्यूटी प्रोडक्ट्स या फिर कोई गैजैट्स दे सकते हैं. साथ ही कुछ अच्छी किताबें भी दे सकते हैं. इसके अलावा घर में मौजूद अन्य महिलाओं को ज्वैलरी जैसे पर्ल का नेकलेस या रिंग गिफ्ट कर सकते हैं. अंगूठी, कानों के झुमके, नेकलेस, कंगन आदि भी आप महिलाओं को गिफ्ट करके उन्हें स्पेशल महसूस करा सकते हैं.

लाईफ पार्टनर को दे ये तोहफा
महिला दिवस के खास मौके पर आपकी लाईफ पार्टनर भी खास गिफ्ट की हकदार है. अपनी पत्नी या फिर किसी खास दोस्त के लिए ये दिन स्पेशल बनाने के लिए कुछ गिफ्ट्स आप गिफ्ट वाउचर, मेकअप किट, ब्यूटी प्रोडक्ट्स, गैजैट्स या फिर किसी ट्रिप का प्लान बना सकते हैं. साथ ही आप अपने पार्टनर को लांग ड्राइव या डिनर के लिए बाहर भी ले जा सकते हैं. अधिकतर महिलाओं का ज्यादातर समय किचन में ही गुजरता है. ऐसे में जब कोई पुरुष उन्हें अपने हाथों से बनाकर कुछ खिलाता है तो ये उनके लिए सबसे ज्यादा स्पेशल होता है. आप भी इस बार इंटरनेट से कोई अच्छी डिश देखकर बना सकते हैं और अपनी जिंदगी में शामिल अहम महिलाओं को सरप्राइज देकर खुश कर सकते हैं.


ऑफिस सहकर्मी के लिए खास तोहफा
ऑफिस में आपके साथ काम करने वाली महिलाओं को आप कप, कार्ड होल्डर, ईयरफोन, ब्लूटूथ स्पीकर, लैपटॉप बैग, पेन, सेल्फी स्टिक आदि दे सकते हैं. इसके अलावा आप उन्हें अच्छी सी पानी की बोतल दे सकते हैं जो उनकी सेहत के लिए भी फायदेमंद हो.

 

लव फेस्टिवल के बाद आने वाला है एंटी वैलेंटाइन वीक, जानिये कौन कौन सा दिन होता है सेलिब्रेट

लव फेस्टिवल के बाद आने वाला है एंटी वैलेंटाइन वीक, जानिये कौन कौन सा दिन होता है सेलिब्रेट

Anti-Valentine’s Week 2021 Full List: वैलेंटाइन वीक तो हर कोई मनाता है. लेकिन क्या कभी आपने एंटी वैलेंटाइन वीक के बारे में सुना है. वैलेंटाइन वीक को दुनिया भर में लोग काफी धूमधाम से मनाते हैं. वैलेंटाइन वीक 7 से 14 फरवरी तक सेलिब्रट किया जाता है. वहीं एंटी वैलेंटाइन वीक 15 से 21 फरवरी तक मनाया जाता है. एंटी वैलेंटाइन वीक को पूरे एक सप्ताह तक सेलिब्रेट किया जाता है. एंटी वैलेंटाइन वीक को प्यार में धोखा खाए लोग मनाते हैं.
एंटी वैलेंटाइन वीक में Slap Day, Kick Day, Flirting Day, कंफेशन डे, परफ्यूम डे, मिसिंग डे और Breakup Day मनाया जाता है. यह हफ्ता इस बात का संदेश देता है कि जिंदगी आगे बढ़ने का नाम है और आप सकारात्मक तरीके से कैसे पुराने रिश्ते को छोड़कर आगे बढ़ सकते हैं. आइए देखते हैं एंटी वैलेंटाइन वीक के महत्वपूर्ण दिन और उनकी डेट्स-
एंटी-वैलेंटाइन वीक की पूरी लिस्ट
15 फरवरी 2019- स्लैप डे
16 फरवरी 2019- किक डे
17 फरवरी 2019- परफ्यूम डे
18 फरवरी 2019- फ्लर्टिंग डे
19 फरवरी 2019- कंफेशन डे
20 फरवरी 2019- मिसिंग डे
21 फरवरी 2019- ब्रेकअप डे
 

Promise Day 2021: प्रॉमिस डे के ये 5 वादे, जिंदगी बदल देंगे

Promise Day 2021: प्रॉमिस डे के ये 5 वादे, जिंदगी बदल देंगे

वेलेंटाइन सप्ताह में प्यार करने वाले, प्रेम के हर रंग को उत्सव की तरह जीते हैं। प्यार का हर पहलू इस सप्ताह में अपने सुर्ख रंग में प्रकट होता है...फिर चाहे वह अपने प्रिय को लाल गुलाब देना हो, कोई उपहार हो या फिर गले लगाकर अपने प्रेम की अभिव्यक्ति देना हो।

लेकिन इन सबमें खास है प्यार का वह वादा, जो मोहब्बत को लंबी उम्र से तो नवाजता ही है, बल्कि उसके हर जर्रे को मोहब्बत से सराबोर कर देता है।
तो फिर आप भी कीजिए अपने प्रिय को प्यार के यह 5 वादे, और लंबी कीजिए अपने प्यार की उम्र...

1 प्यार में उम्र भर साथ निभाना, हर प्रेमी युगल का सपना होता है। अगर आप उम्र भर साथ निभाने का वादा कर इस सपने को सच करने की मुहर लगा देंगे, तो आपके साथी के लिए इससे बड़ी खुशी कोई हो ही नहीं सकती।

2 प्यार के कई रंग हैं। कभी रूठना-मनाना तो कभी झगड़ना और अपने साथी के प्रति एकाधिकार की भावना भी इसका एक रंग है। लेकिन इन सब से ऊपर है विश्वास बनाए रखना। वादा कीजिए कि आप साथी पर कभी शक नहीं करेंगे और अपना एवं साथी का विश्वास बनाए रखेंगे।

3 साथ निभाना अलग बात है और प्यार को जीवन भर सजीव बनाए रखना दूसरी। अगर आप इस प्यार को हमेशा महसूस करने के साथ-साथ अपने साथी को भी जताते रहेंगे, तो यह प्यार उम्र भर सजीव बना रहेगा। तो यह वादा भी कर डालिए।

4 प्यार में सबसे जरूरी है एक दूसरे को समझना और हर परिस्थिति में साथ देना। आपका साथ न केवल साथी को मानसिक संबल देता है, बल्कि प्यार की गर्माहट को भी बनाए रखता है। तो बिना देर किए आप उन्हें इस सहयोग का वादा करें, और प्यार को मजबूती प्रदान करें।

5 सम्मान हर रिश्ते की लंबी उम्र के लिए जरूरी है। प्यार के साथ-साथ साथी के प्रति सम्मान बनाए रखने का वादा कीजिए, और अपने रिश्ते को गरिमामय बनाए रखिए।

 

Happy Teddy Day 2021 Shayari: इन शायरी के जरिए करें टेडी डे विश, पढ़िए

Happy Teddy Day 2021 Shayari: इन शायरी के जरिए करें टेडी डे विश, पढ़िए

रोज डे से शुरू हुआ वैलेंटाइन वीक अब टेडी डे पर पहुंच गया है. टेडी डे पर अपने चाहने वालों को टेडी बियर बतौर गिफ्ट दिया जाता है और अपने प्यार का इजहार किया जाता है. आज हम अपनी इस स्टोरी में आपको बताने जा रहे हैं कि टेडी डे को आप अपने चाहने वालों को कैसे विश कर सकते हैं.


नीचे दिए गए मैसेज और शेर के जरिए टेडी डे विश करें


आजकल हम हर टेडी को देखकर मुस्कुराते हैं
कैसे बताएं तुम्हें अब हर टेडी में तुम्हीं नजर आते हो


टेडी बनकर तेरे साथ 24 घंटें तो नहीं रह सकता
लेकिन मुझे टेडी समझकर हमेशा गले लगाए रखना.


भेज रहा हूं टेडी तुमको प्यार से
रखना इसे तुम संभाल कर


आज Teddy Bear के दिन तुम से वादा करता हूं
हमेशा मैं तुम्हारे पास रहूंगा
कभी दुख ना दूंगा कभी तंग ना करूंगा
हैप्पी टेडी बियर डे


टेडी की कहानी अमेरिका से शुरू होती है


टेडी बियर की कहानी अमेरिका से तब शुरू होती है. जब मिसीसिपी और लूसियाना के बीच सीमा विवाद अपने चरम पर था. उस समय अमेरिका के राष्ट्रपति थेयोडोर रूजवेल्ट थे. जो अमेरिका के 26 वें राष्ट्रपति थे. रूजवेल्ट एक पॉलिटीशियन थे, लेकिन वे एक अच्छे लेखक भी थे. मिसीसिपी और लूसियाना के विवाद को सुलझाने के लिए रूजवेल्ट मिसीसिपी के दौरे पर गए. समस्या को समझने के लिए उन्होने खाली समय में मिसीसिपी के जंगल का भ्रमण किया.


इस दौरान उन्हें एक घायल भालू नजर आया जिसे किसी ने पेड़ से बांध दिया था. भालू तड़प रहा था. रूजवेल्ट ने भालू को आजाद कराया लेकिन उसे गोली मारने के आदेश दिए. ताकि उसे पीड़ा से मुक्ति मिल सके. इस घटना की पूरे अमेरिका में खूब चर्चा हुई. इस घटना से जुड़ा एक कार्टून वहां एक प्रतिष्ठित अखबार में प्रकाशित हुया जिसमें कार्टूनिस्ट बेरीमेन ने जो भालू बनाया था उसे लोगों ने बहुत पसंद किया.


दुनिया का पहला टेडी यहां रखा है


भालू के कार्टून से अमेरिका के ही खिलौनों का स्टोर संचालित करने वाले मॉरिस मिचटॉम इस हद तक प्रभावित हुए कि उन्होंने इस भालू के आकार का एक खिलौना ही बना दिया और इसे नाम दिया टेडी बियर. इसका नाम भी रूजवेल्ट के नाम से रखा गया. क्योंकि रूजवेल्ट का निक नाम 'टेडी' था.


राष्ट्रपति से उनके नाम से इस खिलौने का नाम रखने की अनुमति मिलने के बाद इस बाजार में पेश किया गया. जिसे लोगों ने हाथों हाथ लिया. तभी से यह नाम चलन में आ गया. दुनिया का पहला टेडी बियर इंग्लैंड के पीटरफील्ड में आज भी सुरक्षित रखा हुआ है. इसे 1984 में रखा गया था. 

बाल रेशमी और घने बन जाएंगे जानिए कैसे

बाल रेशमी और घने बन जाएंगे जानिए कैसे

अमरलता से सिर में चंपी करिए, इसके पानी से बालों को धोइए या इसका सेवन करिए। आपके बाल रेशमी और घने बन जाएंगे...

बालों को घना, मोटा और चमकदार बनाने के लिए आपको बाल धोते समय अमरलता के पानी का उपयोग करना होगा। इस पानी को कैसे तैयार करना है, यहां जानें... आपको चाहिए करीब 50 ग्राम अमरलता यानी अमरबेल। अब आप इस बेल के तने और पत्तों को 1 से डेढ़ लीटर पानी में पका लें। जब पानी में 1 उबाल आ जाए तो आंच को बंद कर दें। फिर पानी ठंडा होने पर बाल धोते समय अंत में इस पानी से बाल धोएं। ऐसा करने से आपके बालों को अमरलता के गुणों का पोषण मिलता है। इससे आपके बाल ना केवल घने और मोटे बनते हैं बल्कि मजबूत और शाइनी भी बनते हैं।
इस तेल के साथ सिर में करें अमरलता की चंपी
बालों के झड़ने की समस्या को दूर करने के लिए आप अमरबेल को पीसकर उसे तिल या शीशम के तेल में मिला लें। अब इस तेल से अपने बालों में चंपी करें और आधा से एक घंटा बाद शैंपू कर लें। आपके बाल झड़ने भी कम हो जाएं और नए बाल उगने भी शुरू हो जाएंगे। साथ ही बालों की चमक और उनका घना होना आपकी खूबसूरती में चारचांद लगा देगा।
सिर में खुजली की समस्या होने पर लाभकारी 'अमरलता' है बालों के लिए वरदान, बेजान केशों में डाल देती है नई जान आइए, आज जानते हैं कि बालों को सुंदर, घना और प्राकृतिक रूप से चमकदार बनाने के लिए अमरलता का उपयोग किस तरह करना चाहिए। ताकि केमिकल बेस्ड प्रॉडक्ट्स से बालों और सिर की त्वचा को हो रहे नुकसान से बचा जा सके...
बालों को घना बनाने के लिए अमरलता का उपयोग
बालों को घना, मोटा और चमकदार बनाने के लिए आपको बाल धोते समय अमरलता के पानी का उपयोग करना होगा। इस पानी को कैसे तैयार करना है, यहां जानें... आपको चाहिए करीब 50 ग्राम अमरलता यानी अमरबेल। अब आप इस बेल के तने और पत्तों को 1 से डेढ़ लीटर पानी में पका लें। जब पानी में 1 उबाल आ जाए तो आंच को बंद कर दें। फिर पानी ठंडा होने पर बाल धोते समय अंत में इस पानी से बाल धोएं। ऐसा करने से आपके बालों को अमरलता के गुणों का पोषण मिलता है। इससे आपके बाल ना केवल घने और मोटे बनते हैं बल्कि मजबूत और शाइनी भी बनते हैं।
इस तेल के साथ सिर में करें अमरलता की चंपी
बालों के झड़ने की समस्या को दूर करने के लिए आप अमरबेल को पीसकर उसे तिल या शीशम के तेल में मिला लें। अब इस तेल से अपने बालों में चंपी करें और आधा से एक घंटा बाद शैंपू कर लें। आपके बाल झड़ने भी कम हो जाएं और नए बाल उगने भी शुरू हो जाएंगे। साथ ही बालों की चमक और उनका घना होना आपकी खूबसूरती में चारचांद लगा देगा। इस गलती से नेहा कक्कड़ कर चुकी हैं तौबा, दोहराव से बचने के लिए हर दिन करती हैं ऐसा .
सिर में खुजली की समस्या होने पर लाभकारी
कई बार यह समस्या होती है कि बिना किसी कारण सिर में बहुत अधिक खुजली होने लगती है। ऐसा स्कैल्प इरिटेशन के कारण होता है। आमतौर पर मौसम बदलने के दौरान या बालों को सही देखभाल ना मिलने के कारण सिर की त्वचा के पीएच में बदलाव होता है और बालों की जड़ों में खुजली की समस्या होने लगती है।
स्कैल्प इरिटेशन में लगाएं अमरबेल का लेप आप जब भी सिर में हो रही खुजली की समस्या से परेशान हों तो अमरबेल यानी अमरलता को पीसकर उसका लेप बनाकर अपने बालों पर लगा सकते हैं। सिर्फ बालों पर ही नहीं यदि शरीर के किसी भी हिस्से में खुजली की समस्या आपको बार-बार परेशान कर रही है और आपको त्वचा का कोई रोग नहीं है तो आप अमरलता का लेप लगा सकते हैं। आपको पहली ही बार में आराम का अनुभव होगा।
क्यों इतनी असकारक है अमरलता?
यहां आपको अमरलता के जो भी लाभ बताए गए हैं, उन्हें जानने के बाद आपके मन में यह सवाल जरूर आएगा कि आखिर अमरलता में ऐसा क्या होता है, जो यह इतनी प्रभावी बेल है। तो आपको बता दें कि अमरलता में फ्लैवोनॉयड्स, ऐंटिऑक्सीडेंट्स, विटमिन्स के साथ ही कई लाभकारी पोषक तत्व पाए गए हैं। कई अलग-अलग शोध में यह बात साबित हो चुकी है कि अमरबेल का सेवन पाचनतंत्र को मजबूत करता है। इससे शरीर को पूरा पोषण मिलता है।
सही पोषण का बालों पर असर
जब शरीर को पोषण सही से प्राप्त होगा तो बाल झड़ने खुद ही बंद हो जाएंगे। लेकिन यदि सेवन की बात की जाए तो हम आपको सलाह देंगे कि इसके सेवन से बालों को सही करने से पहले आप किसी अच्छे आयुर्वेदिक चिकित्सक से सलाह लें। ताकि आपकी सेहत को ध्यान में रखते हुए वे इसकी सही मात्रा और सेवन का सही तरीका आपको बताएं।
 
इन 5 में से कोई एक चीज खा लीजिए, चुटकियों में चेहरा चमकेगा

इन 5 में से कोई एक चीज खा लीजिए, चुटकियों में चेहरा चमकेगा

चुटकियों में चेहरा चमकाना हो तो यहां बताई जा रही पांच चीजों में से कोई भी एक खा लीजिए। चेहरे पर ताजगी दिखने लगेगी। ऐसा क्यों होता है, यह भी यहां बताया गया है...दिनभर की थकान, ऊब और स्ट्रेस के कारण चेहरे की त्वचा अपना चार्म खो देती है और आप डल नजर आने लगते हैं। अगर आप इस डलनेस को चुटकियों में दूर करना चाहते हैं तो आपको कोई ब्यूटी प्रॉडक्ट यूज करने की जरूरत नहीं है। बस आप यहां बताई गई इन 5 चीजों में से किसी एक का सेवन कर लीजिए, चेहरा खिल उठेगा...चीकू का स्वाद हम सभी को पसंद होता है। जब भी आप बहुत अधिक थका हुआ अनुभव करें और अपने चेहरे पर एकदम फ्रेश ग्लो लाना चाहे तो एक चीकू खा लीजिए। फिर देखिए आपकी थकान कैसे जादू से गायब हो जाएगी और चेहरे की त्वचा में नई जान आ जाएगी। दरअसल, चीकू में विटमिन-ए, विटमिन-बी और नैचरल ग्लूकोज होता है। विटमिन-ए आपकी आंखों की थकान तो तुरंत दूर करता है। तो विटमिन-बी रिलैक्सेशन बढ़ाने का काम करता है और ग्लूकोज आपके शरीर को तुरंत ऊर्जा देता है। इन सभी का असर होता है कि आपकी थकान उतर जाती है और चेहरा चमकने लगता।आइसक्रीम खाना किसे पसंद नहीं...यानी हम सभी आइसक्रीम बहुत शौक के साथ खाते हैं। जब भी कभी आप तनाव में हों तो अपनी पसंद के फ्लेवर की एक आइसक्रीम खा लीजिए। आपका चेहरा खिल उठेगा। क्योंकि आइसक्रीम खाने से ना सिर्फ त्वचा की कोशिकाओं को रिलैक्शेसन मिलता है बल्कि यह एक अच्छा मूड बूस्टर भी है। आइक्रीम में विटमिन-ए और विटमिन-के पाए जाते हैं। विटमिन-ए आंखों की मसल्स को शांत करता है तो विटमिन-के ब्लड को पतला कर फ्लो बढ़ाता है। इसके साथ ही इसमें कैल्शियम और फास्फोरस होते हैं, जो आपके शरीर को ऊर्जा देने का काम करते हैं। फिर देर किस बात की है, तुरंत अपना पसंदीदा फ्लेवर लीजिए और चेहरे से तनाव को उतार फेंकिए...। पाइनऐपल की खुशबू ही इतनी रिफ्रेशिंग होती है कि आधी थकान तो इसी से मिट जाती है। बाकी का बचा हुआ तनाव इसकी एक बाइट ही दूर कर देती है। पाइनऐपल में विटमिन-ए, विटमिन-सी, कैल्शियम, फास्फोरस, मैग्नीज और पोटैशियम जैसे गुण होते हैं। यही वजह है कि अनानास यानी पाइनऐपल की एक स्लाइस खाते ही दिल और दिमाग दोनों खुश हो जाते हैं। साथ में आपकी त्वचा एकदम रिफ्रेश हो जाती है। क्योंकि पाइनऐपल के गुण आपकी नसों को शांत करते ब्लड और ऑक्सीजन का प्रवाह बढ़ा देते हैं। जिससे चेहरा खिला-खिला दिखने लगता है। यह सही है कि चॉकलेट आपका फैट बढ़ा सकता है। लेकिन सीमित मात्रा में खाया जाए तो कोई चीज नुकसान नहीं करती, चॉकलेट भी नहीं। बल्कि बहुत अधिक थका हुआ होने पर आप चॉकलेट का सेवन करते हैं तो यह आपका मूड बूस्ट करके चेहरे की मुस्कान वापस लाने का काम जरूर करती है। चॉकलेट को बनाने में कोकोआ, दूध और चीनी का उपयोग किया जाता है। कोकोआ का उपयोग सौंदर्य बढ़ाने के लिए कई सदियों से होता आ रहा है। जब आप चॉकलेट खाते हैं तो कोकोआ आपके ब्रेन की नर्व्स को रिलैक्स करने का काम करता है। वहीं, दूध आपकी त्वचा को पोषण देता और चीनी ग्लूकोज के रूप में शरीर को ऊर्जा देना काम करती है। संतरे की खुशबू और इसका स्वाद दोनों ही थकान उतारने का काम करते हैं। जब भी तुरंत मूड फ्रेश करना हो और त्वचा को ग्लोइंग दिखाना हो तो एक संतरा खा लीजिए। बाकी इसके बचे हुए छिलको को तुरंत फेस पर रगड़कर चेहरा धो लीजिए। आपके चेहरे पर ऐसी फ्रेशनेस आएगी कि कोई कह भी नहीं पाएगा कि कुछ देर पहले आप थके हुए, तनावग्रस्त और बोझिल दिख रहे थे। संतरे में विटमिन-ए, बी, सी, ऐंटिऑक्सीडेंट्स, पोटैशियम, फास्फोरस और कोलिन जैसे लाभकारी तत्व पाए जाते हैं। जो शरीर के अंदर तुरंत ऊर्जा का संचार करते हैं और आपको फ्रेश लुक देते हैं। चेहरे की त्वचा पर जमा धूल और प्रदूषण को दूर करने के लिए चेहरे पर गुलाबजल का स्प्रे कर लीजिए। गुलाबजल की स्प्रे बॉटल आप हमेशा अपने साथ पर्स में भी रख सकते हैं। ताकि जब जहां जरूरत पड़े एकदम फ्रेश दिख सकें। तो अब कभी भी और कहीं भी एकदम फ्रेश लुक पाने के लिए आपको यहां बताई गई चीजों में से किसी एक को खाना है और अपने चेहरे पर गुलाबजल लगाना है। फिर कोई नहीं जान पाएगा कि चंद मिनट पहले आप थके हुए और डल दिख रहे थे। 

आपकी गर्लफ्रैंड के लिए  सेल्फ केयर टिप्स ... पढ़िए क्या हैं इसमें

आपकी गर्लफ्रैंड के लिए सेल्फ केयर टिप्स ... पढ़िए क्या हैं इसमें

सुन्दर दिखना हर किसी को अच्छा लगता है। लेकिन बात जब गर्ल फ्रेंड की हो तो यही मामला और भी रोचक और केयर वाली बात बन जाती है। आज हम आपको कुछ ऐसे ही टिप्स यहाँ बताने वाले हैं, जिनके प्रयोग और इस्तमाल से आपकी गर्लफ्रेंड फ्रेश नज़र आएगी। तो आइए बिना इंतज़ार पढ़े पूरी खबर...

ऐसा करके आप उन्हें हर दिन कूल लुक में देखने की अपनी इच्छा भी पूरी कर सकते हैं । क्योंकि चुटकियों में कूल और फ्रेश दिखने की ये क्विक टिप्स बहुत प्रभावी हैं...

रात के समय सोने से पहले फेशवॉश करने में गर्ल्स और बॉयज दोनों को ही बहुत उलझन लगती है, खासतौर पर उन लोगों को जो खुद को बहुत प्राउडली आलसी कहते हैं। खैर, अगर फेसवॉश करने में समस्या है लेकिन चेहरे पर पिंपल्स भी नहीं चाहिए तो वेट वाइप्स आपके लिए वरदान साबित हो सकती हैं। इसलिए इन वेट वाइप्स और मेकअप वाइप्स को आप अपने बिस्तर के पास ही रखें। ताकि अगर आप बाहर से आकर सीधे बेड पर भी लेट जाते हैं, तब भी लेटे-लेटे ही सही इन वाइप्स की मदद से अपने चेहरे की गंदगी साफ कर लें। इससे आपकी त्वचा पर पिंपल नहीं आएंगे और स्किन साफ और स्वस्थ भी रहेगी। अगर किसी मीटिंग या जरूरी इवेंट के लिए जाना है और खुले बालों की जरूरत है। लेकिन आप आलस की वजह से सुबह उठ नहीं पाईं हैं और अब आपके पास शैंपू करने का समय नहीं है तो परेशान ना हों। इस स्थिति से बचने के लिए ड्राई शैंपू लाकर रखें। यह ड्राई शैंपू ऐसी मुसीबत की घड़ी में आपके लिए किसी लाइफ सेविंग टूल की तरह काम करेगा। हालांकि इस बात का पूरा ध्यान रखें कि ड्राई शैंपू को अपनी आदत ना बनाएं। अन्यथा बालों की क्वालिटी पर बुरा असर पड़ सकता है। बाद में हमें दोष मत देना कि पहले बताया नहीं था। यूथ के साथ यह बड़ी समस्या है कि उनके लिए हर चीज जरूरी है सिवाय खाने के। भोजन में खासतौर पर नाश्ता स्किप करना तो मानों फैशन का हिस्सा है। लेकिन ऐसा करना आपकी हेल्थ के साथ ही आपकी ब्यूटी को भी नुकसान पहुंचाता है। इसलिए अगर अपने आलस के कारण आपके साथ भी ऐसा होता है कि क्लास, कॉलेज या ऑफिस के लिए बिना नाश्ता किए ही निकलना पड़ता है तो आप अपने बैग में ड्राईफ्रूट्स रखने की आदत डाल लें। सुबह नाश्ते में सिर्फ ड्राईफ्रूट्स खाकर भी आप कई तरह की ब्यूटी और हेल्थ संबंधी समस्याओं से बच सकते हैं। जैसे, भूखा रहने के कारण मुंह से स्मेल आना, सिर में भारीपन, आंखों के नीचे गड्ढे होना या काले घेरे दिखना, बाल झड़ना और हर समय वीकनेस रहना। हर दिन नाश्ते में सिर्फ मुट्ठीभर ड्राईफ्रूट्स खाने से आप इन तमाम समस्याओं से बच सकते हैं। यह समस्या ज्यादातर गर्ल्स के साथ होती है कि अगर किसी भी वजह से वे ऑइलिंग के बाद शैंपू नहीं कर पाती हैं तो अगले दिन हेयरस्टाइल को लेकर पंगा पड़ता है। कि आखिर अब इन 2 मिनट में ऑइली बालों को कैसे स्टाइल करें? तो आपकी समस्या का समाधान है बन। जी हां, आप स्लीक हाई बन बनाएं। यह जूड़ा, इंडियन और वेस्टर्न हर तरह के कपड़ों के साथ अच्छा लगता है। खास बात यह है कि आप इसे मात्र 2 मिनट में बना सकती हैं और कॉलेज या ऑफिस कहीं भी आराम से जा सकती हैं। रोज वॉटर और पेट्रोलियम जेली, दो ऐसी जरूरी चीजें हैं, जो हर कॉलेज गोइंग और ऑफिस गोइंग पर्सन के बैग में होनी चाहिए। फिर इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप लड़की हैं या लड़का। क्योंकि ये दोनों ही आपको बस 2 मिनट में रेडी करने का काम करते हैं। जब भी तुरंत ऐक्टिव होकर किसी खास इवेंट में भाग लेना हो तो फेस पर रोज वॉटर का स्प्रे करिए और चेहरा पोछ लीजिए।

इसके बाद लिप्स और हाथों पर पेट्रोलियम जेली लगाइए... और आप तैयार हैं। रोज वॉटर स्प्रे आपकी स्किन में तुरंत फ्रेशनेस लाता है और पेट्रोलियम जेली ड्राईनेस को दूर कर देती है। ऐसे मे आप चुटकियों में तैयार हो जाते हैं। 

जल्द आने वाला है WhatsApp Web में भी ऑडियो-वीडियो कॉलिंग वाला फीचर

जल्द आने वाला है WhatsApp Web में भी ऑडियो-वीडियो कॉलिंग वाला फीचर

WhatsApp अपने यूजर्स की जरूरत को देखते हुए नए-नए फीचर्स लेकर आ रहा है. हाल में व्हाट्सऐप ने कई नए फीचर्स और अपडेट किए हैं. अब कंपनी मोबाइल वर्जन WhatsApp वाले फीचर्स WhatsApp Web में भी शुरु करने जा रही है. व्हाट्सऐप मोबाइल की तरह अब WhatsApp Web में ऑडियो और वीडियो कॉलिंग का फीचर शामिल होने वाला है. जल्द ही इस फीचर को यूजर्स के लिए शुरु कर दिया जाएगा.


WABetainfo ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि फिलहाल WhatsApp beta टेस्टर्स को WhatsApp Web में कॉलिंग का फीचर दिया जा रहा है. जिसे आने वाले समय में सभी यूजर्स के लिए भी जारी किया जाएगा. रिपोर्ट की मानें तो WhatsApp ने अपने कुछ यूजर्स को टेस्टिंग के तौर पर WhatsApp Web में कॉलिंग फीचर दिया है. इस फीचर पर काफी लंबे वक्त से काम चल रहा था जिसे अब पूरी तरह से तैयार किया जा चुका है. WhatsApp मोबाइल की तरह ही WhatsApp Web के चैट हेडर में Voice और Video कॉल का ऑप्शन है. जब कॉल आएगा तो WhatsApp Web में एक नया विंडो पॉप अप होगा. यूजर्स कॉल को ऐक्सेप्ट या रिजेक्ट भी कर सकते हैं.


अगर आप WhatsApp Web से कॉल करना चाहते हैं तो इसके लिए भी एक पॉप अप मिलेगा, जिसमें कॉलिंग का ऑप्शन्स होगा. वहीं व्हाट्सऐप मोबाइल के वीडियो कॉलिंग की तरह व्हाट्सऐप वेब में भी आपको वीडियो को ऑफ, वॉयस म्यूट और रिजेक्ट करने का ऑप्शन मिलेगा. इस नए फीचर के जुड़ने के बाद खास बात ये है कि WhatsApp Web में कॉलिंग के वक्त भी आप मेन वॉट्सऐप इंटरफेस पर चैटिंग कर सकते हैं. कॉलिंग के लिए एक अलग पॉप अप विंडो ओपन होगी. हालांकि ये साफ नहीं है कि इसमें ग्रुप कॉलिंग का फीचर मिलेगा या नहीं.


ऐसे में अगर आप WhatsApp beta टेस्टर हैं तो इस फीचर के बारे में आपको पता होगा, लेकिन बाकी लोगों को इस फीचर के WhatsApp वेब बिल्ड में आने तक का इंतजार करना होगा.

 

WhatsApp ने पेश किया नया स्टिकर पैक, जानें कैसे करें इस्तेमाल

WhatsApp ने पेश किया नया स्टिकर पैक, जानें कैसे करें इस्तेमाल

इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप WhatsApp ने अपने यूजर्स के लिए नया स्टिकर पैक ऐड किया है. ऐप की लेटेस्ट खबरों और अपडेट पर नजर रखने वाली वैबसाइट WABetaInfo के मुताबिक वॉट्सऐप के बीटा 2.20.207.18 एंड्रॉयड के लिए Lovely Sugar Cubs पैक ऐड किया है, जिसमें यूजर्स को डिफरेंट क्यूट स्टिकर सेंड करने का ऑप्शन मिलेगा.

ऐसे यूज करें स्टिकर
WhatsApp के नए स्टिकर्स को यूज करने के लिए सबसे पहले ऐप के किसी चैट में जाकर इमोजी आयकन पर टैप करना पड़ेगा. इसके बाद Emoji, GIF और Sticker के ऑप्शन दिखाई देंगे. इसमें से Sticker पर जाना होगा और राइट पर दिए गए '+' साइन पर टैप करना होगा. इसमें आपको नए स्टिकर्स पैक ऊपर ही नजर आ जाएंगे.

Choco Bunny & Coco स्टिकर हुए पेश
WhatsApp ने Choco Bunny & Coco स्टिकर पैक पेश किए हैं. WABetaInfo ने इस स्टिकर पैक के लिए एंड्रॉयड बीटा का जिक्र किया है, लेकिन इस स्टिकर पैक को स्टेबल वर्जन में भी पाया गया है.

लॉन्च हुए Personalised Wallpaper
हाल ही में WhatsApp ने Personalised Wallpaper फीचर मार्केट में उतारा था. WhatsApp का नया अपडेट iOS यूजर्स के लिए आया है. अब WhatsApp के यूजर्स अलग-अलग चैट विंडोज में अलग-अलग बैकग्राउंड यूज कर सकते हैं. फिलहाल WhatsApp में मिलने वाले वॉलपेपर ऑप्शन से सिर्फ एक वॉलपेपर सेट किया जा सकता है. ये वॉलपेपर सभी चैट विंडोज के बैकग्राउंड में नजर आता है. नए ऑप्शन के साथ यूजर्स हर चैट के लिए अलग-अलग वॉलपेपर यूज कर सकते हैं. 

WhatsApp पर कौन छिप-छिपकर देख रहा है आपकी फोटो? इस तरीके से तुरंत पता लग जाएगा किसने कर ली है DP सेव...

WhatsApp पर कौन छिप-छिपकर देख रहा है आपकी फोटो? इस तरीके से तुरंत पता लग जाएगा किसने कर ली है DP सेव...

WhatsApp का इस्तेमाल लोग चैटिंग और वीडियो एंड वॉइस कॉल के लिए करते हैं। WhatsApp ने इस ऐप पर प्राइवेसी के लिए कई फीचर्स दे रखे हैं। आप अपनी प्रोफाइल फोटो से लेकर लास्ट सीन तक हाइड कर सकते हैं। आप चाहें तो सिर्फ उनको ही आपकी डीपी दिखेगी, जिसके नंबर आपने सेव कर रखे हैं। लास्ट सीन और स्टेटस के साथ भी ऐसा ही केस है। हालांकि, कई बार डीपी लगाने के बाद ख्याल आता है कि किसने-किसने आपकी फोटो को देखा है? WhatsApp पर ऐसा कोई फीचर नहीं है, जिससे पता चले कि किसने आपकी डीपी देखी है या किसने आपकी फोटो को सेव किया है। लेकिन एक तरीका है जिससे आप पता लगा सकते हैं कि आपकी फोटो को किसने देखा है या किसी ने उसे सेव किया है या नहीं? आइये आपको बताते हैं इस तरीके के बारे में...
WhatsApp पर ऐसा कोई फीचर नहीं है, जिससे पता चले कि किसी ने आपकी प्रोफाइल विजिट की है। ना कोई अलर्ट आता है ना कोई नोटिफिकेशन। ऐसे में अगर हम आपसे कहें कि एक तरीके से पता लगाया जा सकता है कि कौन आपकी प्रोफाइल देख रहा है तो?
WhatsApp पर भले ही ये फीचर ना हो लेकिन प्ले स्टोर पर आपको WhatsTracker नाम का ऐप मिल जाएगा जो आपकी इस समस्या का समाधान कर देगा। इसे आप फ्री में इनस्टॉल कर सकते हैं।
इस ऐप को tamazons ने बनाया है जिसने WhatsApp Web भी बनाया है। इस ऐप में ऐसे कई फीचर्स हैं, जो WhatsApp पर भी नहीं है। जैसे आप इसमें WhatsApp कॉन्टेक्ट्स के लोकेशन को भी ट्रैक कर सकते हैं।
आइये आपको बताते हैं कैसे काम करता है? सबसे पहले तो गूगल प्ले स्टोर से इस ऐप को डाउनलोड कर लें। इसके बाद आपको एक यूजर एग्रीमेंट दिखेगा। इसे कंटीन्यू कर आपको आगे बढ़ना है।
अब ऐप पर आपसे आपका नाम और देश का नाम पूछा जाएगा। इसकी डिटेल भरने के बाद आपको जेंडर भी भरना होगा। फिर सीधे साइन इन कर लीजिये।
इसमें तीन केटेगरी साफ़ दिखाई देगी, जो कॉन्टेक्ट्स है। इसमें आपके सारे कॉन्टेक्ट्स होंगे। इसके आगे विजिटेड और विजिटर दिखेगा।
विजिटेड में उनकी प्रोफाइल होगी, जिनकी प्रोफाइल आपने देखी है। अगर आपने किसी की तस्वीर देखने के लिए उसकी प्रोफाइल पर क्लिक किया होगा, तो वो यहां दिख जाएगा।
विजिटर में पता चलेगा कि किसने आपकी प्रोफाइल को खोलकर विजिट किया है। आपको उनकी सारी डिटेल्स यहां मिल जाएगी। किसने आपकी तस्वीर देखी है, आपको पता चल जाएगा।
लीजिये अब आपको पता चल गया ना कि कौन देख रहा है आपकी प्रोफाइल फोटो।

हालांकि, ये थर्ड पार्टी ऐप है, ऐसे में आप अपने डाटा को लेकर सतर्क रहे।
 

फेसबुक ने दिवाली पर लॉन्च किया नया फीचर, दोस्तों को दें ये 'चैलेंज'

फेसबुक ने दिवाली पर लॉन्च किया नया फीचर, दोस्तों को दें ये 'चैलेंज'

नई दिल्ली, मशहूर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक (Facebook) ने भी दिवाली (Diwali) की तैयारी कर ली है. फेसबुक ने हर साल की तरह इस दिवाली भी अपने यूजर्स के लिए दिवाली ग्रिटिंग (Diwali Greeting) लॉन्च कर दिया है. फेसबुक यूजर्स इस खास फीचर से अपने अकाउंट पर अपने फेसबुक फ्रेंड्स (Facebook Friends) को दिवाली की बधाई दे सकते हैं.

फेसबुक ने कोरोना वायरस (Coronavirus) के मद्देनजर #DiwaliAtHomeChallenge का हैशटैग भी दिया है.

ऐसे करें फीचर का इस्तेमाल
फेसबुक कंपनी का कहना है कि फेसबुक यूजर्स अपने अकाउंट पर अपनी पसंद की दिवाली थीम बैकग्राउंड को सेट कर इस दिन को अपने दोस्तों संग सेलिब्रेट कर सकते हैं. इस फीचर का इस्तेमाल करने के लिए यूजर्स को पहले फेबबुक एप से फेसबुक अवतार बनाना होगा. इसके बाद क्रिएट पोस्ट पर जाकर ब्रैकग्राउंड पर क्लिक करना होगा. इसके बाद दिवाली बैकग्राउंड पर क्लिक करें.

दोस्तों को दें दिवाली एट हॉम चैंलेंज
ठीक इसी तरह लोगों को कोरोना काल में घर पर ही दिवाली मनाने के लिए उत्साहित करने के लिए सोशल मीडिया पर दिवालीएटहॉमचैलेंज हैशटैग को शेयर कर सकते हैं. इस हैशटैग का इस्तेमाल कर यूजर्स इसमें फोटो, वीडियो और आप कैसे दिवाली मना रहे हैं, अपने फेसबुक फ्रेंड्स संग साझा कर सकते हैं. इतना ही नहीं इसमें आप डावाईई वीडियो भी बना सकते हैं जिसमें आपको यह पता चलेगा की बिजली बल्ब, कैंडलहोल्डर, दीया और लालटेन को कैसे रिसाइकिल करना है. साथ ही आप प्लेटफॉर्म पर #DIYDiwaliChallenge के जरिए अपने फेसबुक फ्रेंड को चैलेंज भी कर सकते हैं.
 

आपका पार्टनर कितना रोमांटिक, केयरिंग और क्यू ट है? नाम के पहले अक्षर से जानें

आपका पार्टनर कितना रोमांटिक, केयरिंग और क्यू ट है? नाम के पहले अक्षर से जानें

हमारे माता-पिता हमारा नाम बहुत ही सोच समझकर रखते हैं. नाम रखने में वह धार्मिक ग्रंथों, महान व्‍यक्तित्‍व और ज्योतिष आदि का भी सहारा लेते हैं क्योंकि हमारे समाज में ऐसी मान्‍यता है कि जिस इंसान का जैसा नाम होता है वैसा ही उसका काम और स्वभाव भी होता है. ज्‍योतिष के अनुसार इंसान के नाम का पहला अक्षर उसके बारे में बहुत कुछ बताता है, तो आइए आज हम आपको बताते हैं कि A से Z तक के नाम वाले व्‍यक्तियों का नेचर कैसा होता है.

 

A से Z अक्षर के नाम वाले लोगों का स्‍वाभाव कैसा हौता है-

 

A- अक्षर वाले लोग दिखने में आकर्षक होते हैं. इनके आस पास लोगों की भीड़ रहती है यानी कि ऐसे लोग सामने वाले को मोहित कर लेते हैं. ये लोग प्रेम और रिश्तों को काफी महत्‍व देते हैं और स्‍वाभाव से काफी रोमांटिक होते हैं. इसके अलावा निर्णय लेने में भी काफी अच्छे होते हैं.

 

B- अक्षर वाले लोग ज्‍यादातर लव मैरिज ही करते हैं. ये लोग स्वभाव से मूडी और हिम्मत वाले होते हैं. ये लोग काफी रोमांटिक होते हैं और टीनएज में ही फ्लर्ट शुरु कर देते हैं.

 

C- अक्षर वाले लोग दोस्ती करना पसंद करते हैं. ऐसे लोग अपने पहले प्यार को हमेशा याद रखते हैं. ये लोग घुमा फिरा कर बात करना पसंद नहीं करते हैं, इनकी आदत सीधी-सीधी बात करने की होती है. ऐसे लोगों को भावुक होने की वजह से अक्सर प्रेम संबंधों में धोखा खाना पड़ता है.

 

D- अक्षर वाले लोग खुद पर भरोसा करते हैं. इन लोगों से हमेशा कुछ न कुछ नया सीखने को मिलता है. ये जिस चीज को पाना चाहते हैं, किसी भी तरह से उसे पा ही लेते हैं. ये लोग काफी जिद्दी स्‍वाभाव के होते हैं.

 

E- अक्षर वाले लोगों का स्वभाव फ्लर्ट करने का होता है. हालांकि इनकी नियत बुरी नहीं होती ऐसा ये मजाकिया स्वभाव के चलते करते हैं. लेकिन कई बार ये बहुत ज्यादा बोलने के कारण खतरा मोल लेते हैं. ये जिंदगी को जिंदादिली के साथ जीने की चाहत रखते हैं.

 

F- अक्षर वाले लोग काफी रचनात्‍मक होते हैं. ये अपनी प्रोफेशनल लाइफ और पर्सनल लाइफ दोनों को अलग-अलग रखते हैं. ऐसे लोगों को अच्‍छा लाइफ पार्टनर मिलता है. इनका जीवन काफी खुशमय होता है.

 

G- अक्षर वाले लोगों का दिल बहुत साफ होता है. ये अपने मन में कुछ भी नहीं रखते और न ही किसी के खिलाफ कोई साजिश रचने में विश्वास रखते हैं. ऐसे लोग स्वभाव से अंर्तमुखी होते हैं. ये बेवजह किसी को परेशान नहीं करते हैं.

 

H- अक्षर वाले लोग अपनी बातें दूसरों से शेयर करने में डरते हैं. इनको समझना थोड़ा मुश्किल होता है. हालांकि ये दिल के बेहद अच्छे और सच्चे होते हैं. आप इन पर आंख बंद करके भरोसा कर सकते हैं.

 

I- अक्षर वाले लोग दिमाग से कम और दिल से ज्‍यादा सोचते हैं. ऐसे लोग बेहद भावुक होते हैं. ऐसे लोगों को उनके दोस्‍त आसानी से बेवकूफ बना देते हैं. इनका प्यार सच्चा ही होता है. लेकिन भावुक स्‍वाभाव के चलते इन्हें अक्सर नुकसान उठाना पड़ता है.

 

J- अक्षर वाले लोग स्वभाव से ईमानदार और वफादार होते हैं. खुशनुमा जीवन जीने की वजह से अक्सर दूसरे लोग इनके दुश्मन बन जाते हैं और इनसे ईर्ष्या करने लगते हैं. ये जिसके भी लाइफपार्टनर बनते हैं वो बहुत ही भाग्‍यशाली होता है.

 

K- अक्षर वाले लोग थोड़े मुहंफट होते हैं. बिना कुछ सोचे समझे किसी को भी कुछ भी कह देते हैं. ये अपने फायदे के लिए कुछ भी कर सकते हैं. इन्हें अपनी इज्जत से ज्यादा पैसों से प्यार होता है.

 

L- अक्षर वाले लोगों के अंदर करूणा का भाव होता है. ऐसे लोग दूसरों को दुखी नहीं देख सकते हैं. इनमें जीवन को लेकर बड़ी इच्छाएं नहीं होती. लेकिन अपने से मिलने वाले हर आदमी को खुश रखना इनकी आदत होती है.

 

M- अक्षर वाले लोग स्वभाव से थोड़े भावुक, जिद्दी और संकोची होते हैं. ऐसे लोग छोटी-छोटी बातों को दिल से लगा लेते हैं. इनके साथ दिल लगाना बेहद खतरनाक हो सकता है. ये कब किस चीज पर गुस्सा हो जाए और कब प्‍यार जताने लग जाएं पता ही नहीं चलता.

 

N- अक्षर वाले लोग बहुत ही जल्दी बोर हो जाते हैं. ये दिखने में शांत होते हैं लेकिन होते बहुत ही आक्रमक हैं. इन्हें अपनी आलोचना जरा भी नहीं सुहाती.

 

O- अक्षर वाले लोग बहुत आकर्षक, ऊर्जावान तथा प्रतिभाशाली होते हैं. ऐसे लोग अक्‍सर प्रेम विवाह करते हैं और परिवार को साथ लेकर चलते हैं. ऊपर से ये शर्मीले दिखाई देते हैं मगर होते नहीं हैं.

 

P- अक्षर वाले लोग घर, देश, दुनिया सबको साथ लेकर चलने में विश्वास रखते हैं. ये अपने सिद्धांतों के पक्‍के होते हैं, अपने मान-सम्मान की रक्षा के लिए कुछ भी कर सकते हैं. इनकी तानाशाही सोच होती है.

 

Q- अक्षर वाले लोग स्वभाव से कलात्मक होते हैं. हर काम को बेहद सलीके से करते हैं. यह अपने आप में ही खोए रहते हैं और दूसरों से इन्हें कुछ लेना-देना नहीं होता. इन्हें गुस्सा भी कम आता है.

 

R- अक्षर वाले लोग थोड़े मन मौजी होते हैं इन्‍हें दुनियादारी से कोई मतलब नहीं होता. ये कम बोलना पसंद करते हैं. ये अपनी दुनिया में ही खोए रहते हैं. स्वभाव से दार्शनिक होते हैं. इनकी दोस्‍ती लेखकों और अपनी ही तरह के लोगों से होती है.

 

S- अक्षर वाले लोग बहुमुखी प्रतिभा वाले होते हैं. इनका स्वभाव आसानी से समझ में नहीं आता है ये अपने आप में ही सिमटे हुए होते हैं और अपने चारों ओर एक रहस्यमय वातावरण बनाए रखते हैं.

 

T- अक्षर वाले लोग मेहनती और बुद्धिमान होते हैं. इस नाम के लोग ज्यादातर मीडिया और प्रशासिनक क्षेत्रों में ज्‍याना पसंद करते हैं. ऐसे लोग रिश्तों और भावनाओं को लेकर बेहद भावुक होते हैं.

 

U- अक्षर वाले लोग बेहद ऊर्जावान, होशियार और दिल के साफ होते हैं. ये लोग छोटी-छोटी चीजों में ही खुशियां ढूंढने की कोशिश करते हैं और दूसरों को भी खुश रखने में विश्वास रखते हैं. ये किस्मत के भी धनी होते हैं.

 

V- अक्षर वाले लोग आजाद ख्याल के होते हैं, ये न तो किसी की सुनते हैं और न ही किसी का कहा मानते हैं, लेकिन अगर इनके मन को कोई बात घर कर जाए तो ये उसे करने से भी नहीं चूकते.

 

W- अक्षर वाले लोग में दूसरों पर रौब जमाने की आदत होती है. इनकी इसी आदत के कारण इनके अपने इनसे दूर होते चले जाते हैं. ये बहुत ही अभिमानी होते हैं.

 

X- अक्षर वाले लोग स्वभाव से बेहद अस्थिर होते हैं और हर चीज से इनका मन बड़ी जल्दी उब जाता है. इन्हें खुद भी पता नहीं होता कि ये अगले पल क्या करेंगे.

 

Y- अक्षर वाले लोग स्वभाव से ईमानदार, स्पष्टवादी और मेहनती होते हैं लेकिन लोगों के साथ मिलना-जुलना इन्हें पसंद नहीं होता. ये लोग समझौता करना भी पसंद नहीं करते हैं.

 

Z- अक्षर वाले लोग थोड़े सीरियस मिजाज के होते हैं और इसके साथ ही स्वभाव से बेहद सीधे और भावुक भी होते हैं. ये बड़ी से बड़ी कठिनाई को भी हंसते हंसते झेल जाते हैं.

टैटू के हैं शौक़ीन, तो बनवाने से पहले और बाद में ये सावधानियां बरतना न भूलें

टैटू के हैं शौक़ीन, तो बनवाने से पहले और बाद में ये सावधानियां बरतना न भूलें

हाथ हो या पैर, पेट हो या गर्दन, आजकल लोग हर जगह पर तरह-तरह के टैटू बनवा रहे हैं. इसका चलन महानगरों में ज़्यादा देखने को मिलता. जहां एक तरफ लोगों में इस चलन को लेकर काफी उत्साह है वहीं मन में बहुत सी दुविधाएं भी. जैसे कि टैटू बनवाते वक्त किस तरह की सावधानी बरतनी चाहिए, बाद में किस तरह की सावधानियां बरतनी चाहिए आदि. आपके इसी कंफ्यूज़न को दूर करने के लिए आज हम आपको उन गलतियों के बारे में बताएंगे जिनसे बचकर आप अपने इस शौक को पूरा कर सकते हैं.


टैटू के बारे में जाने सब कुछ

टैटू को कला के रूप में जाना जाता है. इस कला को लोग अपने शरीर पर अनेक हिस्सों में बनवाते हैं. ब्लैक एंड वाइट टैटू के साथ-साथ रंग-बिरंगे टैटू का भी ट्रेंड है. फूल पत्ती हो या जानवर, अलग शेप्स हो या रोल मॉडल आजकल लोग तरह-तरह के टैटू बनवा रहे हैं. इसके अलावा लोग भगवानों के नाम व उनके चित्र भी टैटू रूप में बनवाते हैं. मार्केट में आज परमानेंट टैटू के अलावा टेंपरेरी टैटूज भी मौजूद हैं. जो लोग परमानेंट टैटूज नहीं बनवाना चाहते वे टेंपरेरी टैटूज की मदद से अपने शौक को पूरा कर सकते हैं. यह टेंपरेरी टैटू स्कीन की ऊपरी लेयर पर बनते हैं. इन्हीं को एपिडर्मिस कहा जाता है. जबकि परमानेंट टैटू स्किन की भीतरी दूसरे लेयर पर बनते हैं जिन्हें डर्मिस कहा जाता है.


इन बातों का रखें ध्यान

- टैटू हमेशा टैटू एक्सपर्ट से ही बनवाएं.
- टैटू आर्टिस्ट का पोर्टफोलियो वेबसाइट पर अच्छे से वेरीफाई करें
- टैटू बनवाते समय ध्यान दें कि आर्टिस्ट ने ग्लब्स पहने हों.
- कुछ लोग सस्ते के चक्कर में क्वालिटी पर ध्यान नहीं देते. यह गलती बिल्कुल ना करें. इससे आपकी स्किन भी खराब हो सकती है.
- जिस सीरिंज से आपका टैटू बने, उसकी एक्सपायरी डेट जरूर जांच लें.
- खाली पेट टैटू बनवाने ना जाएं. इसके अलावा अल्कोहल का सेवन बिल्कुल ना करें.
- अपनी सुविधा के अनुसार ही कपड़े पहन कर जाएं
- टेंपरेरी टैटू हेयर ड्राई और फेविकोल जैसे पदार्थ से तैयार की गई इंक से बनाए जाते हैं. इसीलिए स्किन के पोर्स को हवा नहीं मिल पाती है. ये आपकी सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है. टेंपरेरी टैटूज़ बनवाए भी तो वही जो हफ्ते भर से ज्यादा न चले वरना परमानेंट ही बनवाएं.


टैटू के बाद इन बातों का रखें ध्यान

अगर आप किसी प्रोफेशनल टैटू आर्टिस्ट से अपने टैटू बनवाते हैं तो इससे यह फायदा होता है कि वह टैटू बनाने से पहले आपकी स्किन के नेचर को समझ लेता है और उसी को ध्यान में रखकर टैटू बनाता है. ये आपकी स्किन टाइप को समझ कर ही आपको प्रोडक्ट जैसे कि साबुन, क्रीम, लोशन, एंटी एलर्जी की दवाइयां आदि प्रोवाइड करेगा. ऐसे में आपको स्किन एलर्जी का खतरा एकदम कम हो जाता है. टैटू आपकी त्वचा पर एक स्क्रैच जैसा छपा होता है. जैसे किसी स्क्रैच पर खाल बनने में लगभग हफ्ते 10 दिन का समय लगता है वैसे ही टैटू में भी हफ्ते 10 दिन का वक्त उभरने में लग जाता है. इस दौरान आप धूल मिट्टी, पानी, साबुन से टैटू को बचाएं. अगर आप इसके लिए टैटू कवर का इस्तेमाल करेंगे तो इंफेक्शन नहीं होगा. अगर आपको किसी भी तरह की एलर्जी महसूस हो तो तुरंत स्पेशलिस्ट को दिखाएं. अगर आप समय रहते सावधानी बरतेंगे तो इससे कोई साइड इफेक्ट नहीं होगा. 

Covid-19 : इन 10 चीजों से बढ़ाएं प्रतिरोधक क्षमता, जानिए जरूरी बातें

Covid-19 : इन 10 चीजों से बढ़ाएं प्रतिरोधक क्षमता, जानिए जरूरी बातें

कोरोनावायरस से बचने के लिए तमाम तरह के उपाय आजमाए जा रहे हैं। लेकिन यदि आप अंदर से ही मजबूत होंगे तो आप पर इस संक्रमण का कोई असर नहीं होगा। 'अंदर से मजबूत' से तात्पर्य है कि यदि आपका इम्यून सिस्टम यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत है तो आप किसी भी तरह के संक्रमण को मात देने के लिए सक्षम हैं। इम्यून सिस्टम को मजबूत करने के लिए विशेषज्ञ भी सलाह दे रहे हैं।
अब आपके मन में यह सवाल जरूर आ रहा होगा कि आखिर किन चीजों से इम्यून सिस्टम को मजबूत किया जा सकता है? तो हम आपको बता रहे हैं कुछ ऐसी औषधीय चीजों के बारे में, जो आपके घर में ही मौजूद हैं और इनके प्रयोग से आप खुद की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकते हैं। आइए जानते हैं-

दालचीनी

मसालों में मौजूद दालचीनी का इस्तेमाल आपने खाने के स्वाद को बढ़ाने के लिए तो कई बार किया होगा। दालचीनी खाने के स्वाद को बढ़ाने के साथ ही कई स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करने का काम भी करती है। दालचीनी का इस्तेमाल इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने के लिए भी किया जा सकता है। दालचीनी में कई एंटीऑक्सीडेंट्स और एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं, जो आपकी सेहत के लिए बहुत लाभकारी हो सकते हैं। दालचीनी का इस्तेमाल काढ़ा, चाय या पानी बनाने में किया जा सकता है।
अदरक

अदरक का इस्तेमाल आप अपने रसोई में खूब करते होंगे। इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स और एंटीइंफ्लेमेट्री गुण पाए जाते हैं, जो कई बीमारियों से छुटकारा दिलाने में कारगर माने जाते हैं, क्योंकि यह आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत करने का काम करता है। यदि आपको सर्दी है या खांसी हो रही है तो अदरक का एक छोटा-सा टुकड़ा आपको इन समस्याओं से आराम दिलाने के लिए काफी है। इसका सेवन आप नियमित रूप से कर सकते हैं। आप चाहे तो अदरक वाली चाय व अदरक को पानी में उबालकर काढ़े के रूप में या सादा अदरक का टुकड़ा भी खा सकते हैं।
लौंग

लौंग इम्युनिटी बढ़ाने का एक अच्छा स्रोत है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट और एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं। यह सेहत से जुड़ीं कई समस्याओं को दूर करने में कारगर साबित होती है। आपने अधिकतर सुना होगा कि यदि खांसी हो रही है तो लौंग का सेवन करें, इससे खांसी-सर्दी ठीक हो जाएगी। जी हां, लौग सर्दी-खांसी से छुटकारा दिलाने के लिए कारगर है।

आंवला

आंवला विटामिन-सी का एक बेहतरीन स्रोत है। यह इम्यून सिस्टम को मजबूत करने का काम करता है। जहां ये सौंदर्य लाभ के लिए जाना जाता है, वहीं इसके स्वास्थ्य लाभ भी बेमिसाल हैं।
अश्वगंधा

आयुर्वेदिक औषधि अश्वगंधा कई रोगों से छुटकारा दिलाने के लिए जानी जाती है। यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करती ही है।

लहसुन

घर की रसोई में मौजूद लहसुन खाने के स्वाद को बढ़ाने के लिए प्रयोग में लाई जाती है लेकिन इसके स्वास्थ्य लाभ भी कई हैं। यदि नियमित सुबह इसका सेवन खाली पेट किया जाए तो यह आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को तो बढ़ाती ही है, साथ ही अन्य बीमारियों से भी दूर रखती है।
तुलसी

तुलसी के फायदे अनगिनत हैं। यह आपको कई स्वास्थ्य लाभ देती है। सुबह खाली पेट तुलसी के सेवन से कई लाभ होते हैं। तुलसी सर्दी-जुकाम, बुखार, सूखा रोग, निमोनिया व कब्ज जैसी समस्याओं के लिए भी फायदेमंद हो सकती है।

हल्दी वाला दूध

हल्दी वाले दूध के नियमित सेवन से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। सर्दी-खांसी जैसी समस्याओं से राहत दिलाने के लिए हल्दी वाला दूध बहुत कारगर सिद्ध होता है। यदि नियमित सोने से पहले इसका सेवन करके सोया जाए तो यह आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत करने के लिए बहुत फायदेमंद है।
ग्रीन टी

ग्रीन टी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए काफी फायदेमंद मानी जाती है। यदि इसका नियमित सेवन किया जाए तो रोगों से लड़ने की क्षमता मजबूत होती है।

गिलोय

गिलोय इम्यून सिस्टम को मजबूत करने के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। यह स्वास्थ्यवर्धक गुणों से भरपूर माना जाता है। इसके सेवन से शरीर में संक्रमण से लड़ने की क्षमता मजबूत होती है।

 

Previous123Next