कोरोना अपडेट : प्रदेश के इस जिले में कोरोना ने ढाया कहर, छत्तीसगढ़ में कल के मुकाबले आज बढ़ी नए कोरोना मरीजों की संख्या    |    बड़ा हादसा: खाई में गिरी मेटाडोर ,10 की मौत व 15 घायल, पीएम मोदी ने जताया शोक    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज 2 की हुई मृत्यु, आज इतने मरीजों की हुई पहचान, देखे जिलेवार आकड़े    |    मौसम अलर्ट: उत्तर-पूर्वी मानसून की आहट से इन राज्यों पर मंडराया बारिश का खतरा    |    बड़ी खबर: पटाखे की गोदाम में लगी भयानक आग से 5 की गई जान, 9 लोग घायल    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में फिर पैर पसारने लगा है कोरोना, छत्तीसगढ़ में आज इतने मरीजों की हुई पहचान    |    बदल गए पेंशन के नियम, 30 नवंबर तक ये काम ना किया तो रुक जाएगी पेंशन    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश के इस जिले में हुआ कोरोना विस्फोट, धीरे धीरे फिर से बढ़ रहे है एक्टिव मरीजो की संख्या, देखें जिलेवार आंकड़े    |    बड़ी खबर: राज्यपाल की बिगड़ी तबियत, दिल्ली AIIMS में भर्ती    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश के इन दो जिलों में हुआ कोरोना विस्फोट, आज प्रदेश में मिले इतने नए मरीज, देखें जिलेवार आंकड़े    |
Previous12345678Next
शादी में ही दूल्हे की बहन ने कर दी ऐसी बात, तुरंत टूट गया रिश्ता

शादी में ही दूल्हे की बहन ने कर दी ऐसी बात, तुरंत टूट गया रिश्ता

दुनियाभर के तमाम देशों से शादियों के कई अजब-गजब वाकये सामने आते रहते हैं और वे वायरल हो जाते हैं। हाल ही में ब्रिटेन से एक ऐसी घटना सामने आई जब शादी के दिन दूल्हे की बहन ने ऐसी बात कर दी कि उसका रिश्ता ही टूट गया। यह सब तब हुआ जब उसने दुल्हन वालों से सिर्फ एक छोटी से मांग की और उसकी मांग पूरी नहीं हुई। इसके बाद उसने कहा कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो वह शादी की रस्म में शामिल नहीं होगी और अपना रिश्ता तोड़ लेगी।

दरअसल यह घटना ब्रिटेन के एक शहर की है। 'मिरर' की एक ऑनलाइन रिपोर्ट के मुताबिक, सोशल मीडिया ऐप रेडिट पर दुल्हन ने खुद इस घटना के बारे में खुलासा किया है। दुल्हन ने बताया कि दूल्हे की बहन को शाकाहारी खाना पसंद था और उसने यह बता रखा था कि शादी के दौरान सभी व्यंजन शाकाहारी होने चाहिए। उसने धमकी भी दी थी कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो ठीक नहीं होगा।

दूल्हे की बहन की इस बात पर सभी को अचरज हुआ लेकिन किसी ने यह नहीं सोचा था कि इसका अंजाम कितना चौंकाने वाला होगा। लेकिन जिसका डर था वही हुआ, शादी में दूल्हे की बहन की पसंद के मुताबिक पूरी तरह शाकाहारी खाना नहीं बनाया गया। इसका तर्क लड़की वालों ने यह दिया कि उसने यहां बाहर से भी काफी मेहमान आए हुए हैं, इसलिए ऐसा संभव नहीं हो पाएगा।

जब दूल्हे की बहन को इस बात का पता चला कि शादी में शाकाहारी खाने की बजाय मांसाहारी खाना भी बनाया गया है, तो वह नाराज हो गई। उसने ऐलान कर दिया कि वह दुल्हन के घर वालों से अपने सारे रिश्ते तोड़ रही है, इतना ही नहीं वह अपने भाई की शादी में भी नहीं पहुंची। इसके अलावा दूल्हे के घर वाले भी नाराज हो गए कि क्या इतनी सी बात लड़की वालों ने नहीं मानी।

फिलहाल दूल्हे की बहन के इस मांग के बाद शादी में बवंडर मच गया और उस लड़की ने अपने रिश्ते तोड़ लिए। हालांकि रिपोर्ट में इस बात का जिक्र नहीं है कि यह रिश्ता आखिर में अपने अंजाम तक पहुंचा या दूल्हे ने भी अपनी बहन के समर्थन में शादी ही नहीं की। उधर सोशल मीडिया पर लोगों ने दूल्हे की बहन की आलोचना करते हुए कहा उसे ऐसी मांग नहीं करनी चाहिए।

 

क्या आपको भी हो गया है अपने दोस्त से प्यार, इन 5 संकेतों के जरिए पता लगाएं

क्या आपको भी हो गया है अपने दोस्त से प्यार, इन 5 संकेतों के जरिए पता लगाएं

Relationship Tips: दुनिया में दोस्ती का रिश्ता जीवन में बाकी सब रिश्तों से खास और गहरा होता है. लेकिन, यही दोस्ती जब प्यार में बदल जाती है तो उसे समझना बहुत मुश्किल होता है. कई बार यह समझ में नहीं आता कि जो आपके मन में अपने दोस्त के प्रति बदलाव आया है यह क्या है? यह प्यार का संकेत हो सकता है. तो चलिए हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताने वाले हैं जिससे आप यह समझ सकते हैं कि कही आपकी दोस्ती प्यार में तो नहीं बदल गई है. आपको अपने दोस्त के प्रति मन में दोस्त से अधिक फीलिंग है जिसे आपको समझने की जरूरत है. वह संकेत है-

रोजाना बातचीत करना
अच्छे दोस्त अक्सर एक दूसरे से बातचीत करते रहते हैं. लेकिन, अगर आप दोस्त से बात किए बिना बेचैन हो जाएं तो समझ लीजिए कि यह दोस्ती प्यार में बदल चुकी है. इसके साथ ही जिस दिन आपकी उनसे बात नहीं होती है और आपका मन बैचेन रहता है तो यह संकेत है कि यह रिश्ता दोस्ती से आगे बढ़ चुका है.

जबरदस्त बॉडिंग होना
दोस्तों के बीच में भी अच्छी बॉडिंग होती है लेकिन, एक इंसान से आप खुद का जरूरत से जुड़ाव महसूस करते है तो समझ लें यह दोस्ती से बढ़कर प्यार का रिश्ता है. आपके दोस्त के टच को आप बाकि दोस्तों से अलग समझते हैं तो यह भी एक संकेत हो सकता है. आप खुद की बॉडिंग किसी एक दोस्त के साथ ज्यादा महसूस करते है यह भी प्यार का संकेत हो सकता है.

बाकि दोस्तों से बाते रहने लगे सीक्रेट
हर फ्रेंड्स गुप में लड़के और लड़कियां दोनों होते हैं. लेकिन, आपकी बॉडिंग किसी एक दोस्त के साथ ज्यादा हो और आप बाकि लोगों के साथ सीक्रेट रखने लगे तो समझ लें कि दोस्ती प्यार में बदल गई है. खासतौर पर यह सीक्रेट रखने की आदत आप दोनों की हो गई है तो यह रिश्तों दो तरफा हो सकता है.
ज्यादा टाइम स्पेड
जब हम किसी को पसंद करते है तो अनजाने में ही सही हर वक्त उसके साथ टाइम स्पेंड करने का सोचते हैं. आप वह हर काम करना शुरू कर देते है जो आमतौर पर कपल्स करते हैं. आप एक साथ खाना, पीना, बाहर घूमना और अकेले में रहना पसंद करना शुरू कर देते हैं. यह संकेत है कि आपको अपने दोस्त से प्यार हो गया है.

अपनी हर बातचीत में दोस्त का जिक्र करना
जब हम किसी को पसंद करने लगते हैं तो अनजाने में ही सही उसका जिक्र हर चीज में करते हैं. आपका दिन उनकी बातें किए बिना पूरा नहीं होता है तो यह संकेत है कि आपको अपने दोस्त से प्यार हो गया है.

 

ALERT! बिना परमिशन फोन में खुद से इंस्टॉल हो रहे कुछ ऐप, खतरे में प्राइवेसी; ऐसे बचें

ALERT! बिना परमिशन फोन में खुद से इंस्टॉल हो रहे कुछ ऐप, खतरे में प्राइवेसी; ऐसे बचें

कुछ एंड्रॉइड ऐप कथित तौर पर उपयोगकर्ता की सहमति के बिना स्मार्टफोन में डाउनलोड हो रहे हैं। Reddit थ्रेड ने ऐसे कई उपयोगकर्ताओं को देखा है जिन्होंने इसी तरह की समस्या का सामना किया है। ऐसा ही एक एंड्रॉइड ऐप भी गूगल प्ले स्टोर पर लिस्टेड पाया गया है। यह देखते हुए कि ऐप अभी भी प्ले स्टोर पर लिस्टेड है, अन्य मलैशियस एक्टर्स भी स्टोर की सुरक्षा को बायपास कर सकते हैं।
ये ऐप बिना परमिशन खुद हो रहा डाउनलोड
ऐप जो अभी भी गूगल प्ले स्टोर पर लिस्टेड है और ऑटोमैटिक डाउनलोड का कारण बन रहा हैं में "वेदर होम-लाइव रडार अलर्ट और विजेट" है। यह थ्रेड उस विज्ञापन के कुछ स्क्रीनशॉट भी दिखाता है जिसके कारण डाउनलोड हुआ। उपयोगकर्ता के ऑप्ट-आउट करने के बावजूद, ऐप बैकग्राउंड में डाउनलोड हो गया।
रिव्यू में समस्या बता रहे परेशान यूजर्स
गूगल प्ले स्टोर पर एप्लिकेशन के रिव्यू भी इस समस्या को उजागर करते हैं और कुछ उपयोगकर्ता यह भी दावा करते हैं कि यदि तथाकथित मौसम ऐप को डिफ़ॉल्ट के रूप में चुना जाता है, तो यह होम स्क्रीन के पूरे लेआउट को बदल देता है।
एक रिव्यू में ये तक लिखा है कि," वॉर्निंग, ये ऐप बिना अनुमति के डाउनलोड हो रहा है। मेरे पास एक गेम पर एक ऐड पॉप-अप था जिसे मैंने क्लिक किया था, और इस ऐप ने डाउनलोड करना शुरू कर दिया। क्या यह हर बार एक विज्ञापन पॉप अप होता है, भले ही आप विज्ञापन को रद्द कर दें। काश मैं ऐप को ब्लॉक कर पाता।"
डेवलपर्स ने शिकायत का जवाब देते हुए कहा कि वे मामले को देख रहे हैं। एक अन्य रिव्यू में कहा गया है, "किसी विज्ञापन को बंद करने की कोशिश करने से ही इस ऐप ने खुद को इंस्टॉल कर लिया। मैं इस ऐप को नहीं चाहता था। 1 स्टार।"
इस वजह से खुद इंस्टॉल हो रहे ऐप
रेडिट पोस्ट के अनुसार, कुछ सर्विस प्रोवाइडरों ने दावा किया कि यह तकनीक डीएसपी डिजिटल टर्बाइन की है, जिसने एक ऐप इंस्टॉल करने की प्रक्रिया में गूगल प्ले इंटरैक्शन से बचने का एक तरीका खोजा है।
सुरक्षित रहने का सरल उपाय
सुरक्षित रहने के लिए, एंड्रॉइड उपयोगकर्ताओं को सलाह दी जाती है कि वे किसी एप्लिकेशन को डाउनलोड करने से पहले रिव्यूज को ध्यान से पढ़ें। इससे यह सुनिश्चित करने में भी मदद मिलेगी कि यह नकली नहीं है।

 

फोटो खींचते समय न करें ये गलतियां, खराब हो सकती हैं तस्वीरें

फोटो खींचते समय न करें ये गलतियां, खराब हो सकती हैं तस्वीरें

स्मार्टफोन ने हर शख्स को फोटोग्राफर बना दिया है क्योंकि इससे फोटो क्लिक करना आसान होता है। कुछ लोग तो स्मार्टफोन का इस्तेमाल प्रोफेशनल फोटोग्राफी के लिए भी करते हैं। हालांकि जो लोग इस मामले में नए हैं, उनसे फोटो खींचते समय अनजाने में कुछ ऐसी गलतियां हो जाती हैं जिनकी वजह से तस्वीर अच्छी नहीं आ पाती। आइए आज आपको कुछ ऐसी ही गलतियों के बारे में बताते हैं जिनसे आपको फोटो खींचते समय बचना चाहिए।
हर बार फ्लैश लाइट का इस्तेमाल करना
कई लोग फोन से तस्वीरें खींचते समय हर बार फ्लैश का इस्तेमाल करते हैं। हालांकि कई जगहों पर फ्लैश की जरूरत नहीं पड़ती है और ऐसे में अगर आप इसका इस्तेमाल करते हैं तो इससे तस्वीर खराब हो सकती है। दरअसल, अगर आप पर्याप्त रोशनी में भी फ्लैश का इस्तेमाल करते है तो इससे आपको मनचाही तस्वीर नहीं मिल पाएगी। इसलिए हमेशा कम रोशनी में ही फ्लैश का इस्तेमाल करें।
डिजिटल जूम का इस्तेमाल न करें
डिजिटल जूम एक तरह का फीचर है जिसका फ्लैश की तरह ज्यादा इस्तेमाल करना गलत है। दरअसल, इसका इस्तेमाल करने से फोटो की क्वालिटी बहुत ज्यादा प्रभावित होती है और इसकी वजह से फोटो पिक्सलेट होकर धुंधली होने लगती है। इसलिए सबसे बढिय़ा तरीका यह है कि आप जिस ऑब्जैक्ट की फोटो खींच रहे हैं, उसके पास जाकर फोटो खींचें। इसके बाद आप एडिटिंग टूल का इस्तेमाल करते हुए तस्वीर के मुख्य हिस्सों को जूम कर सकते हैं।
लेंस को साफ न करना
आमतौर पर लोग अपने फोन को जेब, बैग, कॉफी टेबल और बेड जैसी कई जगहों पर रख देते हैं जिसकी वजह से उस पर धूल लग जाती है। अगर आपके फोन के कैमरे पर धूल लगी है तो इससे आपकी तस्वीर खराब ही होगी। इसलिए अपने फोन के कैमरे को रोजाना साफ करें, लेकिन इसके लिए पानी का इस्तेमाल बिल्कुल न करें। इसकी बजाय लेंस क्लीनर और सूती कपड़े से कैमरे के मॉड्यूल को साफ करें।
ऑटो मोड में फोटोग्राफी करना भी है गलत
हर स्मार्टफोन मैनुअल मोड के साथ आता है और अगर आप ऑटो सेटिंग इस्तेमाल करने के आदी हैं तो आप कैमरे की असली ताकत के बारे में जान ही नहीं पाएंगे। वैसे तो आप फोन की डिफॉल्ट सेटिंग से बढिय़ा फोटो खींच सकते हैं, लेकिन आईएसओ (फोटो को ब्राइट करने का तरीका जिसे नंबर में मापा जाता है) को मैनुअली कैसे नियंत्रित कर सकते हैं, यह जरूर सीखें। कैमरे के वॉइट बैलेंस और शटर स्पीड का भी इस्तेमाल करें।

 

क्या आप भी फोन की बैटरी जल्द उतर जाने से है परेशान, तो जाने किन कारणो से बहुत तेजी से कम होती है फोन की बैटरी

क्या आप भी फोन की बैटरी जल्द उतर जाने से है परेशान, तो जाने किन कारणो से बहुत तेजी से कम होती है फोन की बैटरी

अक्सर देखने में आता है कि स्मार्टफोन की बैटरी 6 महीने में खराब होने लग जाती है. फुल चार्ज करने के बाद भी बैटरी पूरा दिन नहीं चल पाती. इतन ही नहीं एक साल पूरा होते-होते बैटरी की समस्या काफी हद तक बढ़ जाती है. अब इसके पीछे कई कारण होते हैं जिन्हें हम अनदेखा कर जाते हैं या फिर गौर नहीं करते. लेकिन इस रिपोर्ट में हम आपको वो बड़े कारण बता रहे हैं जो आपके स्मार्टफोन की बैटरी की लाइफ तेजी से कम करते हैं. आइए जानते हैं.

ओवर चार्जिंग से बचें-
अपने मोबाइल फोन को बार-बार चार्ज करने से बचें, अक्सर लोग 40 से 50 फीसदी  बैटरी होने पर भी फोन को चार्ज करने लगते हैं जोकि बिलकुल सही नहीं है. जब बैटरी 20 फीसदी तक हो तभी फोन को चार्ज करें और यह भी ध्यान रखें कि फोन को कभी भी 100 फीसदी चार्ज न करें, सिर्फ 90 फीसदी तक ही चार्ज करें, ऐसा करने से बैटरी की लाइफ बढ़ती है.

ब्राइटनेस भी है कारण-
अक्सर लोग अपने स्मार्टफोन की ब्राइटनेस फुल रखते हैं, जिससे फोन की बैटरी तेजी से डाउन होने लगती है. अगर आप चाहते हैं फोन की बैटरी लंबे समय तक चलती रहे तो आपको चाहिए कि इसे या तो ऑटो मोड पर रखें या फिर कम रखें. इससे बैटरी जल्दी खत्म नहीं होगी. 

कई सारे टैब-
अक्सर हम अपने स्मार्टफोन में ब्राउजर में कई सारे टैब्स खोलकर छोड़ देते हैं और उन्हें बंद करना भूल जाते हैं. ऐसे में  बैकग्राउंड में टैब्स के खुले रहने से बैटरी का काम बढ़ जाता है और बैटरी तेजी से खत्म होने लगती है. अगर बैटरी की लाइफ बढ़ाना चाहते हैं इस्तेमाल करने के बाद इन टैब को बंद कर दें.

वाइब्रेट मोड है खतरनाक-
जो लोग अपने मोबाइल फोन को हमेशा वाइब्रेट मोड पर रखते हैं उनके फोन की बैटरी जल्दी खत्म होती है. इतना ही नहीं यह बैटरी के साथ साथ सेहत के लिए भी खतरनाक है. अगर फोन को टच करते समय या किसी बटन को दबाते समय जो वाइब्रेशन होता है उसे भी बंद कर देना चाहिए क्योंकि उससे भी बैटरी की हेल्थ खराब होती है.

नकली चार्जर-
हमेशा फोन को उसी के चार्जर से चार्ज करें. किसी दूसरे के फोन के चार्जर से फोन को चार्ज करना आपके फोन को खराब कर सकता है. इतना ही नहीं नकली चार्जर का इस्तेमाल भी खतरनाक साबित हो सकता है.

हमेशा डाटा ऑन रखना-
हर समय मोबाइल फोन के डेटा ऑन रखने से बैटरी की खपत बढ़ जाती है क्योंकि ऑटो सिंक ऑन की वजह से फोन में ईमेल फोल्डर हर वक्त अपडेट होता रहता है, जिससे बैटरी का काम भी बढ़ जाता है.

 

पत्नी का दिल जीतने के लिए अपनाएं यह चार टिप्स, रहेगी खुशहाल शादीशुदा जिंदगी

पत्नी का दिल जीतने के लिए अपनाएं यह चार टिप्स, रहेगी खुशहाल शादीशुदा जिंदगी

जब लड़का लड़की रिलेशनशिप में रहते हैं तो हर छोटी-छोटी बातों का ख्याल रखते हैं जिससे वह अपने पार्टनर को खुश रख सकें. लेकिन, शादी के बाद वहीं कपल उन बातों का ख्याल रखना भूल जाता है. जिससे कई बार आगे चलकर रिश्ते में दरार पड़ जाती हैं. लड़के अपनी पत्नी से प्यार तो बहुत करते हैं लेकिन, वह उसे जता नहीं पाते हैं. इससे पत्नी को कई बार यह लगता है कि उनका पार्टनर शादी से पहले जैसा रोमंटिक नहीं रहा. अगर आपकी पत्नी को भी आपसे यह शिकायत रहती हैं तो हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताने वाले हैं जिससे उन्हें खुश कर सकते हैं. इन उपायों को अपनाकर पत्नी दिल जीत सकते हैं. तो चलिए जानते हैं उन उपायों के बारे में-

आई लव यू कहें
आज कल हम सभी अपनी जिंदगी में इतने व्यस्त हो गए हैं कि अपने पार्टनर के लिए भी हमारे पास टाइम नहीं हैं. ऐसे में कई बार पत्नी को पति अपना प्यार जताना भी भूल जाते हैं. उन्हें अपना प्यार जताने के लिए किसी डायमंड रिंग की जरूरत नहीं है. इसकी जगह आप एक गुलाब और आई लव यू कह देंगे तो भी वह खुश हो जाएंगी. यह उनके लिए काफी है. फीलिंग्स जाहिर करने से इमोशनल बॉन्ड मजबूत होता है और आपकी पत्नी के दिल में यह भावना नहीं आएगी कि आप उनसे प्यार नहीं करते हैं.

पत्नी के साथ टाइम स्पेंड करें
पति पत्नी अक्सर परिवार और बच्चों की जिम्मेदारियों में इतने ज्यादा उलझ जाते हैं कि वह एक दूसरे को ही टाइम नहीं नहीं दे पाते है. कोशिश करें कि आप अपनी पत्नी के साथ क्वालिटी टाइम स्पेंड करें. उन्हें यह एहसास दिलाएं कि वह आपकी जिंदगी में बहुत महत्वपूर्ण है. कई बार पत्नी को अकेला छोड़ देने से उनके मन में नेगेटिव फीलिंग्स बढ़ जाती है जो किसी भी रिश्ते के लिए हानिकारक है.

घर के काम और जिम्मेदारी शेयर करें
अक्सर देखा गया है कि घरों में बच्चों को संभालने की जिम्मेदारी और घर के काम सिर्फ महिलाएं ही करती हैं. पति होने के नाते आपको अपनी पत्नी के काम में हाथ जरूर बटाना चाहिए. रिस्पॉन्सबिलिटी शेयर करने से आपका रिश्ता बेहतर और सफल बनेगा.


थैंक यू कहें
एक लड़की अपना घर और परिवार को छोड़ कर आपके घर आई है. आपके परिवार को उसने अपनाया है और आपके बच्चों का भी ख्याल रखती है. इसलिए उन्हें शुक्रिया कहना तो बनता ही है. इस थैंक यू से आपकी पत्नी को एहसास होगा कि उनकी आपके जीवन में क्या वैल्यू है. 

ना टूटेंगे व्रत के नियम, ना होगी शरीर में पोषक तत्वों की कमी, नवरात्रि में इन फूड्स को करें डाइट में शामिल

ना टूटेंगे व्रत के नियम, ना होगी शरीर में पोषक तत्वों की कमी, नवरात्रि में इन फूड्स को करें डाइट में शामिल

Healthy Foods During Navratri 2021: नवरात्रि का त्योहार शुरू होने में कुछ ही दिन बाकी हैं. इस साल शारदीय नवरात्रि 7 अक्टूबर 2021 से शुरू हो रहे हैं. नवरात्रि (Navratri 2021)में बहुत से लोग व्रत रखते हैं. कुछ लोग नवरात्रि में नौ दिनों तक बिना कुछ खाए उपवास करते हैं, तो कुछ लोग सिर्फ पानी या जूस पीकर उपवास करते हैं. जबकि अधिकांश लोग फलाहारी करते हैं यानी सिर्फ फल और पानी पर रहते हैं, लेकिन फल, दूध या पानी का संतुलन नहीं रहने के कारण ऐसे लोगों को परेशानी होती है. ऐसे में आज हम आपको ऐसे फास्टिंग फूड्स (Navratri 2021 Main Kya Khaye) के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें खाने से आपको पोषक त्तव भी मिल जाएंगे और व्रत के नियम भी नहीं टूटेंगे.
बनाना-वालनट शेकः
केले और अखरोट का शेक फास्टिंग के दौरान हेल्दी ऑप्शन है. इसके लिए केले, छाछ, अखरोट और शहद को ब्लैंडर में एक साथ डाल दें और कुछ देर तक इसे ब्लैंड करें. आप अपने स्वाद के अनुसार इसमें शहद डालें.
नारियल और शहद-
इसके लिए आपको पीनट बटर, शहद, नारियल का आटा और नारियल चाहिए होगा. सबसे पहले शहद और पीनट बटर को अच्छी तरह से मिलाएं. इसके बाद इसमें नारियल का आटा मिला दें. फिर इसकी बॉल बना लें और इसपर नारियल के बूरे को लगाएं. अब इसे फ्रीज में कुछ देर छोड़ दें. फ्रीज से निकालने के बाद इस सर्व करें.
ओट्स खीर-
व्रत के दौरान आप ओट्स की खीर खा सकते हैं. यह काफी हेल्दी होती है. इसके लिए कड़ाही का गर्म कर उसमें घी डालें और इसमें ओट्स को थोड़ी देर तक भूनें. इसके बाद इसमें दूध डाल दें. जब तक ओट्स सॉफ्ट न हो जाएं, इसे चलाते रहे. इसमें आप ड्राई फ्रूट डालें और इसे बारीक होने तक चलाते रहे. ओट्स की खीर को आप गर्म और ठंडा करके खा सकते हैं.
 

Chanakya Niti: आपकी ये खास आदतें, शत्रु की हर चाल को असफल बनाती हैं

Chanakya Niti: आपकी ये खास आदतें, शत्रु की हर चाल को असफल बनाती हैं

चाणक्य नीति के अनुसार व्यक्ति को कुछ बातों का हमेशा ध्यान रखना चाहिए. जो व्यक्ति सफलता के सोपान को स्पर्श करता है, और निरंतर अपने लक्ष्यों के प्रति गंभीर रहता है, उसे जीवन में कुछ बाधाओं का भी सामना करना पड़ता है. हर सफल व्यक्ति के कुछ ज्ञात और अज्ञात शत्रु भी होते हैं. ये शत्रु सदैव आपकी सफलता में बाधा पहुंचाने का प्रयास करते हैं. इसलिए शत्रु के मामले में सदैव गंभीर और सतर्क रहना चाहिए.


चाणक्य की चाणक्य नीति बताती है कि शत्रु दो प्रकार के होते हैं, एक शत्रु वो जो आपको नजर आता है, दूसरा शत्रु वो होता है जो दिखाई नहीं देता है और आपको निरंतर हानि पहुंचाने का कार्य करते रहते हैं. ये दोनों ही शत्रु, खतरनाक होते हैं. इन दोनों ही प्रकार के शत्रुओं से बचने का प्रयास करना चाहिए. आचार्य चाणक्य नीति कहती है कि शत्रु कितना ही शक्तिशाली क्यों न हो, यदि आप सूझबूझ और प्रत्येक कार्य को गंभीरता से करते हैं तो शत्रु को कभी भी हानि पहुंचाने का अवसर प्राप्त नहीं होगा. इसके साथ ही इन बातों को भी अपनाना चाहिए-


वाणी की मधुरता-

चाणक्य नीति कहती है कि सफलता में वाणी का विशेष योगदान होता है. जिन लोगों की वाणी में मधुरता नहीं होती है, वे हमेशा सफलता प्राप्त करने के लिए संघर्ष करते हैं. ऐसे लोगों को दूसरों से सहयोग प्राप्त करने में भी दिक्कत आती है. वाणी दोष, शत्रु और प्रतिद्वंदियों की संख्या में भी वृद्धिद करता है. ऐसे लोगों के ज्ञात और अज्ञात शत्रु भी अधिक होते हैं. इसलिए वाणी दोष को दूर करने का प्रयास करना चाहिए. वाणी में मधुरता लाने का प्रयास करना चाहिए. वाणी की मधुरता शत्रु को भी मित्र बनाने की क्षमता रखती है.


धन और ज्ञान में वृद्धि करें-

चाणक्य नीति कहती है शत्रु को यदि पराजित करना है तो व्यक्ति को निरंतर अपने ज्ञान और धन में वृद्धि करते रहना चाहिए. लक्ष्मी जी की कृपा जहां व्यक्ति को आत्मविश्वास प्रदान करती है वही ज्ञान की देवी सरस्वती का आशीर्वाद व्यक्ति को कष्ट और अंधकार से दूर रखता है. व्यक्ति को अपने ज्ञान में निरंतर वृद्धि करते रहना चाहिए. जिन लोगों पर माता सरस्वती और लक्ष्मी जी की आशीर्वाद बना रहता है, उन लोगों को शत्रुओं का भय नहीं रहता है. ऐसे लोगों से शत्रु भी भय खाते हैं.

 

रिलेशनशिप में आने के बाद इन बातो को ना करे ignore, वरना रिलेशनशिप में आ सकती है खटास

रिलेशनशिप में आने के बाद इन बातो को ना करे ignore, वरना रिलेशनशिप में आ सकती है खटास

अक्सर शादीशुदा जिंदगी या फिर लव रिलेशनशिप में पार्टनर्स के बीच उतार-चढ़ाव आते रहते हैं. ये एक ऐसा रिश्ता है जिसमें हर घड़ी दोनों को एक दूसरे की जरूरत होती है. लेकिन जीवन में कभी कभी ऐसा भी समय आता है जब दोनों के बीच झगड़े भी हो जाते हैं. इसके कई कारण हो सकते हैं, लेकिन ज्यादातर मामलों में दोनों एक दूसरे को मना लेते हैं और हाथ थामकर आगे बढ़ते रहते हैं.


आमतौर पर तो ऐसा ही होता है. क्योंकि कहते हैं कि रिश्ते में अटूट प्यार हो, तो सब बातें भुलाई जा सकती है. लेकिन अगर प्यार और विश्वास में जरा भी कमी आती है, तो बात बिगड़ जाती है. क्या आप जानते हैं, शादीशुदा जिंदगी या लव रिलेशनशिप में छोटी-मोटी लड़ाई झगड़ों की वजह से ही नहीं, कुछ और बातें भी हैं, जो आपके पार्टनर संग आपके रिश्ते को खराब कर सकती है?

रिस्पेक्ट इज फर्स्ट
जब हम किसी दूसरे को रिस्पेक्ट देंगे, तभी वो हमें रिस्पेक्ट देगा. ये एक सर्वमान्य नियम है. इसे हम ना जाने क्यों अपने रिलेशनशिप पार्टनर या लाइफ पार्टनर के साथ संबंधों पर लागू नहीं करते हैं. अगर आप अपने लाइफ पार्टनर या रिलेशनशिप पार्टनर को सम्मान नहीं देंगे. तो ये आपके प्यार भरे रिश्ते के लिए खतरनाक हो सकता है. ऐसा करने से बचें, रिस्पेक्ट योअर पार्टनर.


विश्वास की कमी
प्यार की नींव विश्वास के रिश्ते पर टिकी होती है, जिस दिन ये नींव हिल जाती है, उसी दिन से रिश्ते में दरार आना शुरू हो जाती है. इसलिए ऐसा कोई काम ना करें जिससे आपके रिश्ते में विश्वास की कमी आ जाए. रिश्ते में विश्वास खोने से आप प्यार ही नहीं खोते, बल्कि रिश्ता भी खो सकते हैं.


रोकना-टोकना, पाबंदी लगाना
एडल्ट होने के बाद हर कोई चाहता है कि वह अपने जीवन के फैसले खुद लें, उसे कहां जाना है, क्या करना है, किससे मिलना है. ये सब वो खुद तक करने में सक्षम है. लेकिन लव रिलेशनशिप या शादीशुदा जिंदगी में भी ये देखने को मिलता है कि लोग ये मानकर चलते हैं उसके सारे फैसले मैं करूं, या फिर उसने मुझसे क्यों नहीं पूछा? ऐसे में लोग अपने पार्टनर पर कई तरह की पाबंदियां थोंप देते हैं. ऐसे में रिश्ते में खटास आना लाजमी है.

टाइम की कमी होना
हम चाहते हैं कि हमारा पार्टनर हर मुश्किल वक्त में हमारे साथ खड़ा हो, लेकिन क्या हम ऐसा उसकी तरफ से भी सोचते हैं? मतलब क्या पता उसे जब हमारी जरूरत हो, तब हम उसके पास ना रहते हों? प्यार के रिश्ते में अगर दोनों पार्टनर के पास एक दूसरे के लिए टाइम ना हो तो बिना किसी लड़ाई-झगड़े की नौबत आए रिश्ते में दरार पड़ सकती है. इसलिए ऐसी नौबत ना आने दें. अपने पार्टनर को टाइम दें, उसके साथ वक्त बिताए, उसकी जरूरत को समझें, उसे प्यार दें.

Chanakya Niti: सेहत और धन के मामले में इन बातों का हमेशा रखना चाहिए

Chanakya Niti: सेहत और धन के मामले में इन बातों का हमेशा रखना चाहिए

चाणक्य नीति के अनुसार धन और सेहत के मामले में व्यक्ति को हमेशा ही गंभीर और सतर्क रहना चाहिए. अच्छी सेहत में ही सफलता के राज छिपे हुए हैं. व्यक्ति प्रतिभाशाली है और सहेत से कमजोर है तो उसे सफलता प्राप्त करने में मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है. इसलिए सेहत के मामले में किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए.

चाणक्य नीति कहती है कि धन के मामले में भी लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए. जो लोग धन आने पर उसकी सुरक्षा नहीं करते, उसके व्यय पर ध्यान नहीं देते, इसके साथ धन का उचित उपयोग नहीं करते, उन्हें आगे चलकर दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. आचार्य चाणक्य कहते हैं कि धन और सेहत के मामले में व्यक्ति को अधिक गंभीर रहना चाहिए. जो लोग इस बात पर ध्यान नहीं देते हैं, उन्हें धन और सेहत के मामले में दिक्कतों को सामना करना पड़ता है. चाणक्य ने चाणक्य नीति में सेहत और धन को लेकर कुछ जरूरी बातें बताई हैं, जिन्हें हर व्यक्ति को जानना चाहिए-

खानपान और जीवनशैली पर ध्यान दें
चाणक्य नीति कहती है कि व्यक्ति को सेहत के मामले में उसी प्रकार से गंभीर रहना चाहिए जैसे एक सुरक्षा कर्मी अपने किले की रक्षा करता है. शरीर को रोग से बचने के लिए हर संभव प्रयास करने चाहिए. जो लोग इस बात का ध्यान नहीं रखते हैं, उन्हें बहुत जल्द रोग घेर लेते हैं. रोग से बचने के लिए व्यक्ति को अपने खानपान और जीवनशैली पर ध्यान देना चाहिए. व्यक्ति को यदि स्वस्थ्य रहना है तो पौष्टिक आहार लेना चाहिए. पौष्टिक आहर सेहत को तंदुरुस्त रखता है, इसके साथ ही कठोर अनुशासन का पालन करना चाहिए. हर महत्वपूर्ण चीज का समय निर्धारित करना चाहिए.

धन की सुरक्षा करनी चाहिए
चाणक्य नीति कहती है कि धन की सुरक्षा को लेकर व्यक्ति को अत्यंत गंभीर रहना चाहिए. धन की रक्षा न करने पर धन चला जाता है. धन अवगुणों से भी बहुत जल्द नष्ट होता है. इसलिए व्यक्ति को बुरी आदतों से दूर रहना चाहिए. प्रतिभा, ज्ञान, दान और दया से धन की देवी लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं.

 

 Relationship Tips: पार्टनर का मूड हो खराब तो इन बातों का रखें ख्याल, भूल कर भी न करे ये गलती

Relationship Tips: पार्टनर का मूड हो खराब तो इन बातों का रखें ख्याल, भूल कर भी न करे ये गलती

हर किसी के साथ कभी न कभी ऐसा होता है, जब ऑफिस या घर की कोई छोटी या बड़ी बात मूड (Mood) ख़राब कर देती है. ऐसे में हर व्यक्ति की अलग-अलग प्रतिक्रिया (Reaction) होती है. किसी को चुप रहना पसंद होता है, तो कोई गुस्से से भर जाता है. ऐसे में बहुत लोग अपना गुस्सा अपने पार्टनर (Partner) पर भी निकालने लगते हैं. अगर आपके पार्टनर के साथ भी ऐसा है तो आपको इस दौरान कुछ बातों का ख्याल ज़रूर रखना चाहिए. आइये जानते हैं इनके बारे में.

डिस्कशन करने से बचें
किसी भी वजह से अगर आपके पार्टनर का मूड ठीक नहीं है, तो आप ऐसे में उनके साथ किसी भी तरह का डिस्कशन करने से बचें. दरअसल, गुस्से में इंसान कुछ सोच नहीं पाता है और अक्सर गलत बोल जाता है. ऐसे में कई फैसले भी गलत हो जाते हैं.

पार्टनर से दूर न भागें
पार्टनर का मूड खराब होने पर उनसे दूर न भागें. न ही घर से बाहर जाएं और न ही किसी दूसरे कमरे में बैठें. आप भले ही अपने पार्टनर से बात न करें लेकिन उनके आस-पास रहें और उनको अपनी मौजूदगी का अहसास भी कराते रहें. साथ ही इस बात का अहसास भी दिलाएं कि आप उनके साथ हैं.

बार-बार बात न पूछें
कई बार पार्टनर का मूड खराब होने पर हम उनसे ये पूछने की कोशिश करते हैं कि किस बात पर मूड ख़राब है? अक्सर वह उन बातों को दोहराने के मूड में नहीं होते हैं. लेकिन हम उनसे बार-बार ये पूछते रहते हैं, ‘क्या हुआ? क्या हो गया? पूरी बात अभी बताओ?’ ये सुनकर उनका मूड और भी ज्यादा ख़राब हो सकता है. इसलिए अपने पार्टनर को थोड़ा सा समय दें और बार-बार सवालों को रिपीट न करें.

खाना खाने के लिए ज़बरदस्ती न करें
मूड खराब होने पर बहुत लोग खाना नहीं खाना चाहते हैं. लेकिन घर के लोग या पार्टनर, केयर के चलते उनको खाना खाने के लिए मजबूर करते हैं. ऐसे में कई बार ये जबरदस्ती महंगी पड़ जाती है और उनका गुस्सा आप पर ही निकल जाता है. जिसकी वजह से घर का माहौल खराब हो सकता है.

गलती न थोपें
पार्टनर का मूड ख़राब होने पर गलतियों को उन पर न थोपें. भले भी मूड ख़राब होने की वजह के पीछे, पूरी गलती उनकी ही क्यों न हो. गुस्से में हर बात नॉर्मल से ज्यादा बुरी लगती है. ऐसे में आपके साथ भी उनकी बहस हो सकती है. इसलिए जब भी माहौल शांत हो और उनका मूड भी ठीक हो, तब इस बात का जिक्र उनसे करें.
 ऑनलाइन खाना मंगाने से पहले पढ़ लें यह जरूरी बदलाव, जानें अब आप पर कितना पड़ेगा असर?

ऑनलाइन खाना मंगाने से पहले पढ़ लें यह जरूरी बदलाव, जानें अब आप पर कितना पड़ेगा असर?

नई दिल्ली. जोमैटो (Zomato) और स्विगी (Swiggy) जैसे ऑनलाइन ऐप-आधारित फूड डिलिवरी प्लेटफार्मों (Food delivery App) को अब 5 प्रतिशत GST देना होगा. जीएसटी परिषद (GST Council meeting) की 45वीं बैठक में फूड-डिलिवरी कंपनियों को टैक्स के दायरे में लाने का फैसला किया. 

बैठक के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (FM nirmala sitharaman) ने कहा कि इन फूड डिलिवरी प्लेटफॉर्म को उनके जरिए दी जाने वाले रेस्टोरेंट सर्विस पर जीएसटी देना होगा.

इस टैक्स को ऑर्डर की डिलीवरी के स्थान पर वसूला जाएगा. वहीं, कार्बोनेटेड फ्रूट ड्रिंक्स और जूस पर 28 फीसदी +12 फीसदी जीएसटी लगेगा. ये फैसले 1 जनवरी 2022 से लागू होंगे.

ग्राहक हुए परेशान
इस खबर के बाद से ही सोशल मीडिया पर कई यूजर्स इस फैसले से परेशान नजर आएं.. ग्राहकों को इस बात का डर है कि उन्हें नए जीएसटी नियम के तहत डिलिवरी के लिए अधिक भुगतान करना होगा. हालांकि, जल्द ही यह स्पष्ट कर दिया गया कि इस कदम का अंतिम उपभोक्ताओं पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा क्योंकि कोई नया टैक्स नहीं लगाया गया है. हालांकि, लेकिन कई आइटम के टैक्स रेट में बढ़ोतरी की गई है.

ग्राहकों पर नहीं पड़ेगा असर
जीएसटी काउंसिल की बैठक के बाद रेवेन्यू सेक्रेटरी तरुण बजाज ने कहा कि कोई नया टैक्स नहीं लगा है. बस टैक्स वसूलने की जगह को एक जगह से ट्रांसफर करके दूसरे जगह पर किया गया है. ग्राहकों से अतिरिक्त टैक्स नहीं वसूला जाएगा और न ही किसी नए टैक्स की घोषणा की गई है. पहले कर रेस्तरां द्वारा देय था, अब रेस्तरां के बजाय कर एग्रीगेटर द्वारा देय होगा.

उन्होंने कहा, “मान लिजिए कि आपने किसी ऐप से खाना मंगाया. अभी इस ऑर्डर पर रेस्टोरेंट आपसे पैसे लेकर टैक्स दे रहा है. लेकिन हमने पाया कि कई रेस्टोरेंट अथॉरिटी को टैक्स नहीं दे रहे थे. ऐसे में अब हमने ये किया है कि आपके खाना ऑर्डर करने फूड एग्रीगेटर ही कंज्यूमर से टैक्स लेकर अथॉरिटी को देगा, न कि रेस्टोरेंट. इस तरह कोई नया टैक्स नहीं लगा है.” वहीं, वित्त मंत्री ने कहा कि फूड डिलिवरी ऐप स्वैगी व जोमैटो से खाना मंगाने पर अतिरिक्त टैक्स लगाने की कोई बात नहीं है. ये ऐप वही टैक्स वसूलेंगे जो रेस्टोरेंट कारोबार पर लगता है.

खाने-पीने के ये सामान होंगे महंगे
खाने-पीने के सामान में कार्बोनेटेड फ्रूट ड्रिंक महंगा हुआ है. इस पर 28% का GST और उसके ऊपर 12% का कंपनसेशन सेस लगेगा. इससे पहले इस पर सिर्फ 28% का GST लग रहा था.
इसके अलावा आइसक्रीम खाना महंगा हो जाएगा. इस पर 18% टैक्स लगेगा.
मीठी सुपारी और कोटेड इलायची अब महंगी पड़ेगी. इस पर 5% GST लगता रहा था जो अब 18% हो गया है
रिश्ते को लेकर है मन में इंसिक्योर फीलिंग, इन टिप्स को अपनाकर करें उसे दूर

रिश्ते को लेकर है मन में इंसिक्योर फीलिंग, इन टिप्स को अपनाकर करें उसे दूर

जब भी हम किसी रिश्ते में बंधते है तो सब कुछ बहुत अच्छा लगता है लेकिन, समय के साथ कई बार इस रिश्ते में बहुत सी प्रॉब्लम भी आने लगती है. किसी सीरियस रिश्ते में रहने में सबसे बड़ी समस्या की कई बार हम उसके प्रति केयरलेस हो जाते हैं. इस कारण रिश्ते में दूरी आने लगती है. इस वजह से रिश्ते में इंसिक्योर फीलिंग आने लगती है. अगर आपके साथ भी ऐसा हो रहा है. तो हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताने वाले हैं जिससे आप इस इंसिक्योर फीलिंग को कम कर सकते हैं. तो चलिए जानते हैं इस बारे में-


एक दूसरे का सम्मान करना है जरूरी
कई बार लोगों को एक दूसरे से प्यार बहुत होता है लेकिन, वह एक दूसरे का सम्मान नहीं करते हैं. ऐसे की लोगों के मन में इंसिक्‍योरटी की फीलिंग आती है. ऐसे में जरूरत है कि आप एक-दूसरे का सम्मान करें और एक दूसरे की पसंद ना पसंद का विशेष ध्यान रखें.


रिश्ते के प्रति रहें ईमानदार
किसी भी रिश्ते को निभाने के लिए सबसे पहले उसके प्रति ईमानदार रहना बहुत जरूरी है. वरना अच्छे से अच्छा रिश्ता इसकी कमी के कारण खराब हो जाता है. अगर कोई व्यक्ति आप पर भरोसा कर रहा है तो यह आपकी भी जिम्मेदारी है कि आप उस भरोसे पर पूरी तरह खड़ा उतरे. इससे आपका रिश्ता और मजबूत होगा और इंसिक्योर फीलिंग कभी नहीं आएगी.


कम्युनिकेशन रखें बेहतर
किसी भी रिश्ते को बेहतर बनाने के लिए कम्युनिकेशन सही रखना बहुत जरूरी है. कम्युनिकेशन गैप से अच्छे से अच्छा रिश्ता खराब हो जाता है. आप चाहें काम में कितने बिजी क्यों न हो लेकिन, आपके पार्टनर के लिए समय जरूर निकालें.  

 खो जाए एंड्रॉयड फोन तो रखें इन बातों का ध्यान, वापस मिल जाने का रहता है चांस

खो जाए एंड्रॉयड फोन तो रखें इन बातों का ध्यान, वापस मिल जाने का रहता है चांस

स्मार्टफोन हमारी जिंदगी का अहम हिस्सा बन गए हैं. कुछ लोगों के लिए एक फोन खोने से उनके पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ दोनों में रुकावट आ सकती है. कई बार आपकी लापरवाही आपका फोन खो जाने या चोरी हो जाने की वजह बन जाती है. ऐसे में आइए कुछ बातों पर गौर करते हैं जो ये सुनिश्चित करने के लिए कर सकते हैं कि अगर आपका फोन चोरी हो गया है या गुम हो गया है तो आप आसानी से अपने पर्सनल और प्रोफेशनल डेटा को दुबारा से प्राप्त कर सकते हैं.

फोन पर कॉल करें या टेक्स्ट करें: अपने फोन पर कॉल करना जाहिर तौर पर पहला काम है, जो कोई भी व्यक्ति एक बार फोन खो जाने के बाद करता है. हालांकि, सुनिश्चित करें कि आपके पास ‘मां,’ ‘पिताजी, पत्नी, या बहन/भाई जैसे कुछ कॉमन कॉन्टेक्ट्स आपके फोन में सेव हो. ऐसा इसलिए जरूरी है, क्यूोंकि आपका फोन अगर किसी अच्छे व्यक्ति के हाथ लगता है तो वह इन आसान नाम से खोजे जाने वाले कांटेक्ट पर कॉल करके आपके गुम हुए फोन की जानकारी दे सकता है.

अपने फोन को वापस पाने के लिए आप टेक्स्ट मैसेज के साथ किसी नंबर को भेज कर फोन रिटर्न करने की रिक्वेस्ट भी कर सकते हैं. टेक्स्ट मैसेज फोन को अनलॉक किए बिना स्क्रीन पर दिखाई देगा जो किसी व्यक्ति को आपका डिवाइस वापस करने के लिए आपसे कांटेक्ट करने में मदद करेगा.

फाइंड माई डिवाइस को एक्टिवेट करें
सैमसंग डिवाइस पर फाइंड माई डिवाइस या फाइंड माई मोबाइल नाम का इन-बिल्ट फीचर होता है. चोरी होने की स्थिति में इस फीचर का इस्तेमाल आपके स्मार्टफोन को दूर से ट्रैक करने, रिंग करने, लॉक करने या इरेस करने के लिए किया जा सकता है. ये फीचर यूज़र्स को सेट्टिंग टैब पर मिल जाएगा, जहां सिर्फ टॉगल करके इस फीचर का इस्तेमाल किया जा सकता है.

ब्लूटूथ ट्रैकर, स्मार्ट स्पीकर
ब्लूटूथ ट्रैकर आपके फोन के गुम होने पर उसे ट्रैक करने का एक और तरीका है. हालांकि ये सिर्फ एक तय सीमा के अंदर ही काम करता है. एक बार जब आप ब्लूटूथ ट्रैकर खरीद लेते हैं, तो बस इसे अपने फोन से कनेक्ट करें, और आप ट्रैकर के बटन को दबाकर इसका पता लगा पाएंगे, जो आपके फोन पर अलार्म को सक्रिय करेगा.

यदि आप अकसर अपने स्मार्टफोन को घर के आसपास खो देते हैं, तो आप इसे खोजने के लिए एक स्मार्ट स्पीकर का इस्तेमाल कर सकते हैं, इसके लिए आपका डिवाइस और स्पीकर एक ही अकाउंट में साइन इन होना चाहिए.

लॉक स्क्रीन मैसेज
यदि आपका फोन चोरी हो जाता है तो आप कई तरह के लॉक स्क्रीन मैसेज सेट कर सकते हैं. पासवर्ड के बिना, कोई भी आपके डिवाइस से छेड़-छाड़ नहीं कर सकता. इसलिए, आप लोगों को यह बताने के लिए मैसेज सेट कर सकते हैं कि आप डिवाइस की तलाश कर रहे हैं.

अपने अकाउंट की सुरक्षा
आपके फ़ोन में कई सोशल मीडिया, ईमेल और अन्य जरूरी एकाउंट्स के लॉग इन होने की संभावना काफी अधिक है, इसलिए उनमें से साइन आउट करना आपके डेटा की सुरक्षा के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है. फिर चाहें वो आपका जीमेल अकाउंट हो या अमेज़न अकाउंट, आपको सभी अकाउंट से लॉग-आउट करना जरूरी हो जाता है. आप फाइंड माई डिवाइस का इस्तेमाल करके अपने पूरे डिवाइस को इरेस करने का विकल्प चुन सकते हैं, हालांकि ऐसा करने के बाद आप इसे ट्रैक नहीं कर पाएंगे.

चोरी की रिपोर्ट करें
भारत में, आप किसी डिवाइस की चोरी की रिपोर्ट करने के लिए हमेशा FIR (First Information Report) दर्ज कर सकते हैं. यह ऑनलाइन या अपने नजदीकी पुलिस स्टेशन में जाकर किया जा सकता है.
शादी से पहले जरूर करवा लें ये 7 टेस्ट, शादी के बाद नहीं पड़ेगा पछताना

शादी से पहले जरूर करवा लें ये 7 टेस्ट, शादी के बाद नहीं पड़ेगा पछताना

भारतीय परंपरा के अनुसार शादी (Marriage) के लिए लड़का और लड़की की कुंडली मिलाई जाती है और देखा जाता है कि लड़का और लड़की के कितने गुण मिल रहे हैं. कुंडली न मिलने पर पक्का रिश्ता भी टूट जाता है. वहीं ऐसा देखा जाता है कि अधिकतर लोगों के कुंडली मिलने के बाद भी रिश्तों में दरार आ जाती है. अब शादी के लिए कुंडली मिलाना जरूरी नहीं है बल्कि शादी के लिए एक दूसरे के लायक होना जरूरी है और शारीरिक रूप से फिट रहना जरूरी है ताकि शादी के बाद किसी तरह की कोई परेशानी न आएं.
शादी से पहले युवक युवती को एक दूसरे के बारे में सब कुछ पता हो तो आगे चल कर सिचुएशन हैंडल करने में काफी आसानी रहती है और दोनों एक दूसरे को उसकी कमियों के साथ स्वीकारने की हिम्मत रखते हैं तो ऐसा रिश्ता काफी मजबूत बनता है. इसलिए दूल्हा दुल्हन को शादी से पहले यह मेडिकल टेस्ट कराने में नहीं हिचकिचना चाहिए. आइए जानें ये मेडिकल टेस्ट कौन से हैं और करना क्यों जरूरी है.
एचआईवी टेस्ट
यदि युवक या युवती में से किसी एक को भी एचआईवी संक्रमण हो तो दूसरे की जिंदगी पूरी तरह से बरबाद हो जाती है. इसलिए शादी से पहले यह टेस्ट करवाना बहुत जरूरी है. इसमें आप की सजगता और समझदारी है.
उम्र का परीक्षण
कई बार शादी करने में देर हो जाती है और अगर आप एक महिला हैं और आपकी उम्र ज्यादा है तो अपनी ओवरी की जांच जरूर कराएं. उम्र अधिक होने के कारण युवतियों में अंडाणु बनने कम हो जाते हैं और बच्चे होने में परेशानी आ सकती है. इससे आपके मां बनने की क्षमता का पता चल जाएगा. इसलिए यदि बढ़ती उम्र में शादी कर रहे हैं तो टेस्ट जरूर कराएं.
इनफर्टिलिटी टेस्ट
पुरुषों में स्पर्म की क्या स्थिति है, स्पर्म काउंट कितना है. इससे जुड़ी बातों के बारे में जानने के लिए इनफर्टिलिटी टेस्ट कराना जरूरी है. चूंकि शरीर में इन्फर्टिलिटी से जुड़ी कोई खास लक्षण नहीं दिखते. लिहाजा टेस्ट कराना जरूरी है ताकि भविष्य में फैमिली प्लान करने और गर्भधारण करने में किसी तरह की दिक्कत न आए. अगर आपको पहले ही इस बारे में पता चल जाएगा तो आप सही ट्रीटमेंट करवा पाएंगे.
जेनेटिक टेस्ट
शादी से पहले दोनों पार्टनर को जेनेटिक टेस्ट जरूर कराना चाहिए. इस टेस्ट को करवाने से यह पता चल जाएगा कि आपके होने वाले पार्टनर को कोई अनुवांशिक बीमारी तो नहीं है. अगर टेस्ट में किसी बीमारी का पता चलता है तो समय रहते उसका इलाज करवाया जा सकता है.
एसटीडी टेस्ट
यह टेस्ट दोनों पार्टनर को जरूर कराना चाहिए, जिससे दोनों में से कोई भी शादी के बाद सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिजीज का शिकार न हो. क्योंकि अगर दोनों में से किसी एक को भी यह होती है तो दूसरे को भी हो सकती है. जो बहुत खतरनाक साबित हो सकती है.
ब्लड ग्रुप कम्पेटिबिलिटी टेस्ट
अगर दोनों पति-पत्नी का ब्लड ग्रुप एक दूसरे के साथ कम्पैटिबल यानी अनुकूल या सुसंगत न हो तो प्रेग्नेंसी के दौरान समस्याएं आ सकती हैं. लिहाजा दोनों पार्टनर का Rh फैक्टर सेम हो यह बेहद जरूरी है. ऐसे में शादी से पहले ब्लड ग्रुप का कम्पेटिबिलिटी टेस्ट जरूर करवाएं.
ब्लड डिसऑर्डर टेस्ट
महिलाओं को शादी से पहले यह टेस्ट जरूर कराना चाहिए. क्योंकि इससे यह पता चलता है कि आप ब्लड हीमोफीलिया या थैलेसीमिया से ग्रसित तो नहीं है. क्योंकि इसका सीधा असर आपके बच्चे और दांपत्य जीवन पर पड़ता है.

 

अगर आप रिलेशनशिप में है तो मोहब्बत के साथ -साथ इन बातों का भी रखें ध्यान

अगर आप रिलेशनशिप में है तो मोहब्बत के साथ -साथ इन बातों का भी रखें ध्यान

Healthy Relationship : अधूरी मोहब्बत की कसक या टीस मन में रह ही जाती है इसलिए जरूरी है कि इस खूबसूरत एहसास के साथ कुछ बातों का भी ध्यान रखा जाए. किसी भी रिश्ते में होने से पहले उसकी सकारात्मक और नकारात्मक पहलू को समझना जरूरी है. अगर आप रिलेशनशिप में हैं, तब आपके लिए यह जानना जरूरी है कि रिश्ते की नींव कैसे मजबूत रखें..


आपसी ताल मेल


दुनिया में सभी लोग परफेक्ट नहीं होते और कभी भी हर रिश्ता परफेक्ट नहीं होता है लेकिन किसी भी रिश्तों को शर्तों के आधार पर कायम नहीं कर सकते. अधिकांश रिश्ते आज इसलिए टूटते हैं क्योंकि हम उनसे ज़रूरत से ज्यादा अपेक्षा रखते हैं, उम्मीद रखते हैं. ऐसे में आपसी ताल -मेल होना बहुत जरूरी है. जैसे की अगर आपका साथी किसी काम में ज्यादा फंस गया है और वह आपके लिए समय नहीं निकाल पा रहा है तो इससे दूसरे साथी को समझने की जरूरत हैं. अक्सर हम रिश्तें निभाते वक्त अपनी बुद्धिजीवी सोच को दूसरों पर हावी कर देते हैं. जिससे फिर धीरे-धीरे आपसी सम्मान खोने लगते हैं. ऐसा नहीं होना चाहिए क्योंकि हर किसी को अपना आत्मसम्मान और स्वाभिमान प्यारा होता है.


रिश्तों में पैसे की अहमियत


रिश्तों को पैसों से न तोलें, उसे अहमियत दें. कई बार ऐसा होता है कि लड़का हो या लड़की अपने साथी से ज्यादा पैसे की डिमांड करने लगते हैं या महंगे गिफ्ट्स की मांग करने लगते हैं. ऐसे में रिश्तें प्यार के कारण नहीं बल्कि पैेसे के कारण टूटने लगते हैं.


परिवार की अहमियत ज्यादा


कई बार ऐसा देखा जाता है कि प्यार होने के बाद भी लोगों के रिलेशनशिप मे दरार आ जाते हैं. अगर आपका साथी परिवार को ज्यादा अहमियत देता है और आपको नहीं तो ऐसे रिश्तें ज्यादा नहीं टिकते हैं. दो अलग -अलग पर्सनालिटी के लोग एक साथ रह रहें है ऐसे में एक साथी अपनी दुनिया में मस्त रहना पसंद करता हो और दूसरा साथी परिवार के इर्द-गिर्द रहना पसंद करता हो तो ऐसे में दोनों के बीच में समस्या आ जाती है.


फ्यूचर की प्लानिंग


कई बार ऐसा देखा जाता है कि रिश्तें में आने के बाद कई तरह के दबाव बढ़ जाते हैं . इसलिए जरूरी है कि पहले से भी कुछ प्लानिंग कर लेनी चाहिए .ताकि आपको पता हो कि अपके साथी को क्या पसंद है और क्या नहीं. कई बार करियर, घर, फैमिली आदि जैसे टॉपिक्स को लेकर आपसी तालमेल नहीं बन पाती है. ऐसे में रिश्तें में आने से पहले इन चीजों की अच्छी तरह प्लानिंग करें.

 

 सेक्स ड्राइव में कमी आने से शादीशुदा जीवन हो सकता है खराब, वॉर्निंग साइन्स समझकर पुरुष यूं करें तुरंत निपटारा

सेक्स ड्राइव में कमी आने से शादीशुदा जीवन हो सकता है खराब, वॉर्निंग साइन्स समझकर पुरुष यूं करें तुरंत निपटारा

सेक्स एक हेल्दी रिलेशनशिप का जरूरी हिस्सा है। इसकी वजह से दो लोगों के बीच के रिश्ते में मजबूती आती है। लेकिन आजकल व्यस्त दिनचर्या के चलते लोगों की सेक्स लाइफ काफी बोरिंग हो गई है। खासतौर से पुरूषों में सेक्स के प्रति दिलचस्पी कम होने लगती है। हालांकि महिलाएं इस बात को समझ नहीं पातीं और उन्हें लगता है कि उनका पति उनसे पहले जैसा प्यार नहीं करता।

लेकिन ऐसा नहीं है, बल्कि क्रॉनिक डिसीज से लेकर तनाव और चिंता में घिरे रहने की वजह से टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन में कमी आने लगती है, जो पुरूषों में शुक्राणु के बनने के लिए जिम्मेदार है। जब ये हार्मोन कम होने लगे, तो सेक्स करने की इच्छा कम हो जाती है। तो आइए, पुरूषों में घटती सेक्स ड्राइव से निपटने के कुछ तरीका हम यहां आपको बताने जा रहे हैं।

​शराब का सेवन घटाएं
घटी हुई सेक्स ड्राइव पुरूषों के लिए बहुत परेशान करने वाली हो सकती है। लंबे समय तक अधिक मात्रा में शराब पीना पुरूषों की सेक्स लाइफ को बर्बाद कर सकती है। जो पुरूष नियमित रूप से तीन या उससे ज्यादा मादक पेय पदार्थों का सेवन करते हैं, उन्हें सेक्स में कुछ खास दिलचस्पी नहीं रहती। इसलिए यौन प्रदर्शन को बढ़ाने के लिए उन्हें शराब के सेवन और धूम्रपान से बचना चाहिए।

​खुद के स्ट्रेस लेवल को मैनेज करें
आज व्यक्ति जितना व्यस्त हो गया है, तनाव ने उसे उतना ज्यादा घेर लिया है। अगर हर वक्त आप तनाव में रहेंगे, तो सेक्स ड्राइव बढ़ाने के लिए जिम्मेदार टेस्टोस्टेरोन हार्मोन के उत्पादन में कमी आ सकती है।

बता दें कि तनाव के दौरान धमनियां सिकुड़ सकती हैं। साइंटिफिक रिसर्च एंड एसेज में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, तनाव का महिला और पुरूष दोनों में यौन समस्याओं पर सीधा असर पड़ता है। इसलिए एक बेहतर रिश्ते के लिए तनाव के स्तर को प्रबंधित करना बेहद जरूरी है। इससे आपका यौन स्वास्थ्य भी बेहतर बन पाएगा।

​पार्टनर के साथ बात करें
कई बार सेक्स ड्राइव में कमी आने का कारण रिश्तों में कड़वाहट आना भी होता है। कई मुद्दे ऐसे होते हैं, जो सुलझ नहीं पाते और कपल्स के बीच दूरी बढ़ती जाती है। नतीजा, पुरूषों की सेक्स करने की इच्छा खत्म या कम हो जाती है। लेकिन एक बार जब आप सेक्स ड्राइव को कम करने के कारणों की पहचान कर लेते हैं, तो आपको इसे अपने पाटर्नर के साथ शेयर करना चाहिए। इससे न केवल आपका पार्टनर आपको सपोर्ट करेगा बल्कि अतरंगता बनाने में अपकी मदद भी कर सकता है।

​लो लिबिडो के कारण का पता लगाएं
कामेच्छा की कमी अक्सर तनाव और थकान से जुड़ी होती है। इसलिए इसका समाधान खोजने से पहले आपको मूल समस्या पर ध्यान देना होगा। कहीं ऐसा तो नहीं कि आप लंबे समय से किसी बीमारी से पीडि़त हों या हैवी दवाओं का सेवन कर रहे हों। तनाव, अनिद्रा और शराब का सेवन सहित अन्य कई कारण भी आपकी सेक्स ड्राइव को कम कर सकते हैं।

​टेस्टोस्टेरान रिप्लेसमेंट थैरेपी
पुरूषों में कम होती सेक्स ड्राइव शरीर में टेस्टोस्टेरॉन में आई कमी के कारण होती है। जिन पुरूषों को उपायों के बाद भी परिणाम नहीं मिल रहा, वे टेस्टोस्टेरॉन रिप्लेसमेंट थैरेपी की मदद ले सकते हैं। यह थैरेपी उनमें ऊर्जा के स्तर , सेक्स ड्राइव और मूड में सुधार करती है। हालांकि इसके कुछ साइड इफेक्ट हैं, इसलिए इस थैरेपी को ट्राय करने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें।

​काउंसलिंग कराएं
लो सेक्स ड्राइव के स्तर को शारीरिक और मनोवैज्ञानिक दोनों कारणों से ट्रिगर किया जा सकता है। ऐसे समय में सेक्स थैरेपिस्ट की मदद लेना कम सेक्स ड्राइव का इलाज करने के बढिय़ा तरीकों में से एक है। अपने पाटर्नर से संवाद करने में मदद करने से लेकर मानसिक तनावों को समझने में मदद करने के लिए एक विशेषज्ञ आपके यौन स्वास्थ्य को वापस लौटाने में आपकी मदद कर सकता है।

कम होती सेक्स ड्राइव का इलाज अक्सर अंतनिर्हित समस्या के इलाज पर निर्भर करता है। आप चाहें, तो अपनी लो सेक्स ड्राइव को बढ़ाने के लिए खुद भी कदम उठा सकते हैं। स्वस्थ जीवनशैली को अपनाना, अच्छी नींद लेना और स्वस्थ आहार खाना जैसी क्रियाओं में कामेच्छा बढ़ाने की अच्छी क्षमता है।
कंडोम का इस्तेमाल करना होगा अब इस नियम से, वरना पड़ सकते हैं आप मुसीबत में, राज्य सरकार लागू करने जा रही है ये नियम

कंडोम का इस्तेमाल करना होगा अब इस नियम से, वरना पड़ सकते हैं आप मुसीबत में, राज्य सरकार लागू करने जा रही है ये नियम

यूं तो किसी की भी निजी ज़िंदगी में कोई दखल नहीं दे सकता, लेकिन अमेरिका के कैलिफोर्निया  में कपल्स के निजी पलों में कानून का दखल ज़रूर होगा | दरअसल कैलिफोर्निया में सरकार  ने ये तय किया है कि एक रोमांटिक रिलेशनशिप में अगर पार्टनर की अनुमति के मुताबिक कंडोम का इस्तेमाल नहीं किया गया, तो ये गैरकानूनी होगा |

दुनिया में पहली बार किसी राज्य या देश ने इस तरह का नियम  लागू किया है | कैलिफोर्निया में लंबे वक्त से इस नियम पर बातचीत चल रही थी, लेकिन अब इसे लागू कर दिया गया है | इस अजीबोगरीब नियम के मुताबिक कपल्स के निजी पलों के दौरान अगर पार्टनर से परमिशन लिए बिना कंडोम हटाता है, तो उस पर कानूनी कार्यवाही हो सकेगी | जल्दी ही कैलिफोर्निया में इससे संबंधित ड्राफ्ट पास होने वाला है |

दुनिया में पहली बार बना ऐसा नियम
अमेरिकन अखबार इंडिपेंडेंट की रिपोर्ट के मुताबिक कैलिफोर्निया इस तरह का कानून बनाने वाला अमेरिका का पहला राज्य बन जाएगा | हालांकि इससे पहले दुनिया में कभी भी, कहीं भी ऐसा कानून सामने नहीं आया है | ये बिल कैलिफोर्निया एसेंबली में पहले ही पेश किया जा चुका है, जिस पर उस वक्त सहमति नहीं बनी थी | अब इस ड्राफ्ट को पास कराने की दिशा में कदम बढ़ाया जा चुका है | कानून के मुताबिक ऐसे केसेज़ में पीड़ित पहला कदम उठा सकेगा और आरोपी के खिलाफ इमोशनल और फिजिकल हार्म को लेकर केस कर सकता है |

क्यों अजीबोगरीब कानून बनाने की पड़ी ज़रूरत?
इस बिल को लेकर विशेषज्ञों का मानना है कि पार्टनर को बिना बताए या चोरी से कंडोम हटाने के कई नुकसान होते हैं | ये संबंधों में धोखा भी है और पीड़ित के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी ठीक नहीं है | इससे सेक्सुअली ट्रांसमिटेड डिज़ीज़, प्रेगनेंसी और इमोशनल ट्रॉमा जैसी समस्या आ सकती है | फिलहाल कैलिफोर्निया में बनाया गया ये कानून अमेरिका ही नहीं पूरी दुनिया में हेडलाइंस बटोर रहा है | हर कोई इस पर बात कर रहा है और अपनी-अपनी राय दे रहा है |

इन 3 गुणों वाले लोगों को हर जगह मिलता है सम्मान, आप भी जान लीजिए

इन 3 गुणों वाले लोगों को हर जगह मिलता है सम्मान, आप भी जान लीजिए

आचार्य चाणक्य की नीतियां व्यक्ति को सही मार्ग पर चलकर सफल होने के लिए प्रेरित करती हैं। इतने वर्षों के बाद भी चाणक्य की नीतियां आज भी प्रासंगिक हैं। चाणक्य के अनुसार, व्यक्ति को हमेशा गुणों को अपनाना चाहिए और अवगुणों का त्याग करना चाहिए। एक नीति में चाणक्य ने बताया है कि किन गुणों वाले व्यक्ति को हर जगह मिलता है सम्मान-
1. सत्य के मार्ग पर चलने वाला-
चाणक्य के अनुसार, व्यक्ति को हमेशा सत्य के मार्ग पर चलना चाहिए। हमेशा सत्य बोलना चाहिए। परिस्थितियां कैसी भी हों लेकिन व्यक्ति को सत्य का साथ नहीं छोड़ना चाहिए। चाणक्य कहते हैं कि हमेशा सत्य बोलने वाले व्यक्ति सफलता प्राप्त करते हैं। झूठ बोलने वाले व्यक्ति को क्षणिक सम्मान प्राप्त होता है। ऐसे लोगों का सफलता ज्यादा समय तक नहीं टिकती है।
2. मधुर वाणी-
चाणक्य कहते हैं कि मधुर वाणी वाले व्यक्ति को हर किसी से मान-सम्मान प्राप्त होता है। मधुर वाणी कठोर से कठोर व्यक्ति को प्रभावित करती है। हर व्यक्ति को इस आदत को अपनाना चाहिए। मधुर बोलने वाले व्यक्ति को समाज में मान-सम्मान प्राप्त होता है।
3. मेहनती व्यक्ति-
परिश्रम सफलता की कुंजी है। चाणक्य कहते हैं कि किसी भी काम को करने में आलस नहीं करना चाहिए। जिन लोगों में मेहनत का गुण होता है, उन्हें सफलता के साथ मान-सम्मान भी प्राप्त होता है।

 

आपके फोन पर है हैकर्स की नजर, अगर ये संकेत दिखें तो हो जाएं अलर्ट

आपके फोन पर है हैकर्स की नजर, अगर ये संकेत दिखें तो हो जाएं अलर्ट

हैकिंग आज के दौर की एक बड़ी समस्या बन गई है. हैकर्स ने शुरुआत में मशहूर लोगों को अपना निशाना बनाया लेकिन अब उनके निशाने पर आम लोग भी हैं. इस खतरे से निपटने के लिए आपको अपने स्मार्टफोन की सुरक्षा को लेकर सतर्क रहना होगा.


कई बार स्मार्टफोन हैक हो जाने का पता तुरंत नहीं लगता है. हम आपको ऐसे कुछ संकेतों के बारे में बताने जा रह हैं जिनसे आप यह पता लगा सकते हैं कि आपका फोन हैक हुआ है या नहीं. हालांकि ये फुलप्रूफ तरीके नहीं हैं, और जब कि आपको फोन हैक होने का शक हो तो आप निश्चित रूप से अपने डिवाइस को किसी विशेषज्ञ के पास ले जाएं.


स्मार्टफोन की परफॉर्मेंस

• अगर आप वेबपेज ठीक से लोड नहीं कर पा रहे या फोन को तेजी से चलाने के लिए आपको फिर से चालू करना पड़ रहा है तो इन परेशानियों का कारण डिवाइस में चल रहा मैलवेयर सॉफ़्टवेयर हो सकता है.
• यह आपके सिस्टम के रिसोर्स का इस्तेमाल करके बैकग्राउंड में खामोशी से काम करने वाला एक क्रिप्टोक्यूरेंसी माइनर भी हो सकता है.
पॉपअप और एडवर्टाइजमेंट
• गूगल,ट्विटर या फेसबुक जैसी वेबसाइटों पर सर्च करते समय अगर संदिग्ध पॉपअप दिखें तो यह भी फोन हैक होने का एक संकेत हो सकता है.
• इन साइटों में आमतौर पर मैलवेयर पॉपअप नहीं होते हैं जो आपको एंटीवायरस सॉफ़्टवेयर या अन्य टूल्स इंस्टॉल करने के लिए कहते हैं.
• इसलिए अगर आप वेब ब्राउज़ करते समय या अपने फ़ोन का इस्तेमाल करते हुए इन विज्ञापनों को देख रहे हैं, तो आपका फोन Adware से संक्रमित हो सकता हैं.
बैटरी लाइफ में अचानक गिरावट दिखे
• फोन की बैटरी की क्षमता समय के साथ धीरे-धीरे कम होती जाती है.
• फोन की बैटरी लाइफ में अगर अचानक गिरावट दिखे यह एक संकेत हो सकता है कि आपका फोन हैक हो गया है.
• हो सकता है कि मैलवेयर बैकग्राउंड में चल रहा है जिससे बैटरी तेजी से खत्म हो रही है.
एप्स अगर ठीक से काम न करे
• व्हाट्सएप या इंस्टाग्राम जैसे मशहूर एप अगर अचानक से हैंग या फ्रीज करना शुरू कर दें या बिना अनइंस्टॉल किए आपके फोन से गायब हो जाएं तो यह भी इस बात का संकेत हैं कि मैलवेयर सॉफ़्टवेयर के कारण डिवाइस की स्टोरेज खत्म हो रही है.

 

Previous12345678Next