प्रदेश में आज मिले 1273 कोरोना संक्रमित, रायपुर से सर्वाधिक मरीजो के साथ इन जिलो से मिले इतने ..    |    कारोबारी के यहां छापे से अधिकारियों के उड़े होश, इतने बड़े पैमाने पर कालेधन का खुलासा    |    लव जिहाद: उर्दू-अरबी न सीखने पर पति करता था पिटाई, पुलिस ने पति को किया गिरफ्तार    |    बड़ी खबर: मजहब छिपाकर की शादी, प्रेमी और उसके परिवार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज    |    बड़ी खबर: दर्ज हुआ शादी के लिए जबरन धर्म परिवर्तन कराने का पहला मामला, जारी हुआ आरोपी की गिरफ्तारी का फरमान    |    मन की बात में पीएम मोदी ने उदाहरण देकर किसानों को बताए नए कानूनों के फायदे, पढ़े पूरी खबर    |    बड़ी खबर: पिता ने पुत्र को मारी गोली, उपचार के दौरान बेटे की हुई मौत    |    बड़ी खबर: EOW ने 5 लाख रुपया रिश्वत लेते नगर निगम के सिटी प्लानर को किया गिरफ्तार    |    बड़ी खबर: माचिस न देने पर 2 युवकों ने पीट-पीटकर युवक को उतारा मौत के घाट    |    ओवैसी के क्षेत्र में गरजे योगी: कहा- हैदराबाद का नाम बदलकर फिर से होगा भाग्यनगर    |
 अगस्त से 7425 रुपये सस्ता हो चुका है सोना, क्या फिर बढ़ेगी चमक!

अगस्त से 7425 रुपये सस्ता हो चुका है सोना, क्या फिर बढ़ेगी चमक!

नई दिल्ली। शुक्रवार को बुलियन मार्केट में 24 कैरेट सोना 48829 रुपये प्रति 10 ग्राम के भाव पर बंद हुआ। 7 अगस्त को सोना 56254 रुपये के अपने ऑल टाइम हाई स्तर पर पहुंच गया था। तबसे सोने की कीमतों में 7425 रुपये की गिरावट आ चुकी है। इसी तरह चांदी ने भी 7 अगस्त को अपना ऑल टाइम हाई स्तर छू लिया था। तब चांदी 76008 रुपये प्रति किलोग्राम पहुंच गई थी। लेकिन 27 नवंबर को इसका भाव 60069 रुपये रह गया। इस दौरान चांदी की कीमत में 15939 रुपये की गिरावट आई। कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए वैक्सीन के मोर्चे पर सकारात्मक खबरों से सोने की कीमतों में गिरावट आ रही है। विशेषज्ञों का कहना है कि ग्लोबल इकॉनमी में सुधार और अमेरिका तथा चीन के बीच तनाव कम होने से निवेशक सोने को छोड़कर शेयरों का रुख कर रहे हैं। यही वजह है कि निकट भविष्य में सोने की कीमतों में भारी उछाल की संभावना नहीं है। रॉयटर्स के मुताबिक डॉलर के कमजोर होने, कोविज-19 वैक्सीन को लेकर उम्मीद जगने और इकॉनमी में रिकवरी के कारण निवेशकों का रुख इच्टिीज की तरफ हुआ है। इससे सोने की कीमतों में और गिरावट आ सकती है। स्टोनएक्स ग्रुप इंक के आर ओ कॉनेल ने कहा कि वैक्सीन कोई इलाज नहीं है और संक्रमण के मामलों में तेजी चिंता का विषय है। यह इकॉनमी के लिए भी अच्छी खबर नहीं है। उन्होंने कहा कि निगेटिव इंट्रेस्ट रेट जारी रहेंगे। एंजल ब्रोकिंग में कमोडिटी और करेंसी के डिप्टी वाइस प्रेजिडेंट अनुज गुप्ता ने कहा कि कोविड-19 वैक्सीन के बारे में सकारात्मक खबरों से दुनियाभर में सोने की कीमतों में गिरावट आ रही है। इसके बावजूद अगले एक साल में सोना 57000 से 60000 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर पहुंच सकता है। उन्होंने कहा कि सोने में निवेश लॉन्ग टर्म में फायदे का सौदा है। हालांकि उन्होंने साथ ही कहा कि सोने में निवेश से पहले हर पहलू पर गौर करना चाहिए।
 रेलवे ने 1 दिसंबर से राजधानी-शताब्दी समेत कई ट्रेनों का समय बदला

रेलवे ने 1 दिसंबर से राजधानी-शताब्दी समेत कई ट्रेनों का समय बदला

मुंबई। वेस्टर्न रेलवे ज़ोन ने आगामी 1 दिसंबर से ट्रेन टाइमिंग में बदलाव करने का ऐलान किया है। मुंबई से चलने वाली राजधानी और शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेनों के समय को रिवाइज किया गया है। मुंबई सेंट्रल से नई दिल्ली राजधानी अब 1 दिसंबर के बाद बोरीवली में भी रुकेगी। वहीं दूसरी ओर अगस्त क्रांति राजधानी एक्सप्रेस अब अंधेरी स्टेशन पर नहीं रुकेंगी। इसके अलावा वेस्टर्न रेलवे ज़ोन की अन्य ट्रेनों की टाइमिंग को भी रिवाइज किया गया है।

ट्रेन नंबर 02951/02952 मुंबई सेंट्रल- नई दिल्ली राजधानी स्पेशल एक्सप्रेस (प्रतिदिन)
01 दिसंबर 2020 से मुंबई सेंट्रल-नई दिल्ली राजधानी स्पेशल एक्सप्रेस ट्रेन नंबर 02951 शाम 5 बजे चलेगी। पहले यह 05:30 बजे चलती थी। अब यह ट्रेन बोरीवली स्टेशन पर भी रुकेगी। मुंबई सेंट्रल से चलकर यह ट्रेन बोरीवली, सूरत, वड़ोदरा, रतलाम और कोटा में रुकेगी। राजधानी दिल्ली में यह ट्रेन सुबह 08:32 बजे पहुंचेगी। इसी प्रकार ट्रेन नंबर 02952 नई दिल्ली से मुंबई के लिए शाम 16:55 बजे चलेगी। रिवाइज्ड टाइमिंग के अनुसार, यह ट्रेन कोटा, रतलाम, वड़ोदरा, सूरत और बोरीवली रुकेगी। यह ट्रेन मुंबई सेंट्रल में सुबह 08:35 बजे पहुंचेगी।

ट्रेन नंबर 02953/02954 मुंबई सेंट्रल-हजऱत निजामुद्दीन अगस्त क्रांति राजधानी स्पेशल एक्सप्रेस (प्रतिदिन)
मुंबई सेंट्रल से हजऱत निजामुद्दीन के लिए ट्रेन नंबर 02953 अब आधे घंटे पहले यानि शाम 05:10 बजे चलेगी। 1 दिसंबर से यह ट्रेन अंधेरी स्टेशन पर नहीं रुकेगी। मुंबई सेंट्रल से चलने के बाद यह ट्रेन बोरीवली, वापी, वालसाड़, सूरत, भरूच, वड़ोदरा, रतलाम, कोटा, सवाई माधोपुर और मथुरा होकर हजरत निजामुद्दीन स्टेशन पर रुकेगी। यह ट्रेन सुबह 09:43 बजे पहुंचेगी। इसी प्रकार ट्रेन नंबर 02954 हजऱत निजामुद्दीन से शाम 05:15 बजे चलकर मथुरा, सवाई माधोपुर, कोटा, रतलाम, वड़ोदरा, भरूच, सूरत, वालसाड़, वापी और बोरीवली रुकते हुए अगले दिन सुबह 10:05 बजे मुंबई सेंट्रल पहुंचेगी।

ट्रेन नंबर 02009/02010 मुंबई सेंट्रल-अहमदाबाद शताब्दी स्पेशल एक्सप्रेस (सप्ताह में 6 दिन)
मुंबई सेंट्रल से अहमदाबाद को चलने वाली यह शताब्दी स्पेशल एक्सप्रेस ट्रेन नंबर 02009 अब 1 दिसंबर से 10 मिनट बाद यानि 06:40 बजे से चलेगी। यह ट्रेन बोरीवली, वापी, सूरत, भरूच, वड़ोदरा, आनंद और नादियाड होते हुए दोपहर 01:00 बजे अहमदाबाद पहुंचेगी। वापसी में यह ट्रेन नंबर 02010 अहमदाबद से 02:40 बजे चलकर रात 09:20 पर मुंबई सेंट्रल पहुंचेगी।

- ट्रेन नंबर 02244/02243 बांद्रा टर्मिनस-कानपुर सेंट्रल सुपरफास्ट स्पेशल (प्रतिदिन)
ट्रेन नंबर 02244 सुपरफास्ट स्पेशल बांद्रा टर्मिनस से सुबह 05:10 बजे चलकर बोरीवली, वापी, सूरत, भरूच, वड़ोदरा, गोधरा जंक्शन, रतलाम, नागदा होते हुए अगे दिन सुबह 07:15 बजे कानपुर सेंट्रल पहुंचेगी। इसी प्रकार ट्रेन नंबर 02243 कानपुर सेंट्रल से शाम 06:25 बजे चलकर बांद्रा में अगले दिन शाम 08:55 बजे पहुंचेगी।

- ट्रेन नंबर 02248/02247 साबरमती-ग्वालियर सुपरफास्ट स्पेशल (सप्ताह में तीन दिन)
ट्रेन नंबर 02248 साबरमती से शाम 04:50 बजे चलकर महोसाना और पालनपुर होकर सुबह 09:25 बजे ग्वालियर पहुंचेगी। पहले यह ट्रेन अहमदाबाद से चलती थी, लेकिन अब इसे साबरमती से चलाया जाएगी। इसी प्रकार वापसी में यह ट्रेन ग्वालियर से शाम 08:10 बजे से चलकर अगे दिन सुबह 11:50 बजे साबरमती पहुंचेगी।

ट्रेन नंबर 02548/02547 साबरमती-अगरा कैंट सुपरफास्ट स्पेशल (सप्ताह में 4 दिन)
29 नंवबर से यह ट्रेन भी अहमदाबाद की जगह साबरमती से चलेगी। ट्रेन नंबर 02548 अब साबरमती से शाम 04:50 बजे साबरमती से चलकर महोसान और पालनपुर होते हुए अगले दिन सुबह 07:15 आगर कैंट पहुंचेगी। इस प्रकार में वापस में यह ट्रेन अगरा कैंट से रात 10:10 मिनट से चलकर अगले दिन सुबह 11:50 बजे साबरमती पहुंचेगी।

- ट्रेन नंबर 01104/01103 बांद्रा टर्मिनल-झांसी सुपरफास्ट स्पेशल (सप्ताह में दो दिन)
ट्रेन नंबर 01104 ब्रांद्रा टर्मिनस से झांसी के लिए सुबह 05:10 बजे से चलकर बोरीवाली, वापी, सूरत, भरूच, दाहोड़, रतलाम, नागदा, उज्जैन और मक्सी होते हुए चलेगी। झांसी में यह ट्रेन सुबह 5 बजे पहुंचेगी। इसी प्रकार ट्रेन संख्या 01103 झांसी से शाम 04:50 बजे से चलकर अगले दिन शाम 4 बजे बांद्रा टर्मिनल पहुंचेगी।

 - ट्रेन नंबर 04189/04190 दौंड-ग्वालियर सुपरफास्ट स्पेशल (प्रतिदिन)
ट्रेन नंबर 024189 दौंड से रात 11:10 मिनट पर चलकर वसाई, बोईसार, वापी, वालसाड़, सूरत, भरूच, वड़ोदरा और गोधरा होते हुए दोपहर 01:10 बजे ग्वालियर पहुंचेगी। इसी प्रकार वापसी में ट्रेन नंबर 04190 ग्वालियर से शाम 05:15 बजे चलकर अगले दिन शाम 6:20 मिनट पर दौंड पहुंचेगी।
पेट्रोल और डीजल के दाम में हो सकता है 2 रुपये तक का इजाफा, ये है वजह

पेट्रोल और डीजल के दाम में हो सकता है 2 रुपये तक का इजाफा, ये है वजह

नई दिल्ली, अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत कोरोना महामारी से पहले के स्तर यानी मार्च 2020 के दरों पर पहुंच गई है. कोरोना वैक्सीन पर आ रही सकारात्मक खबरों के बीच आज लगातार चौथे दिन कच्चे तेल की कीमतों में उछाल देखा गया. पिछले चार दिनों में ब्रेंट और वेस्ट टेक्सस इंटरमिडिएट क्रूड ऑयल में लगभग 10 फीसदी का उछाल देखा गया है. क्रूड ऑयल की कीमतों में इजाफे का सीधा असर पेट्रोल और डीजल की कीमतों पर पड़ेगा.


हालांकि पिछले पांच दिनों से भारत में पेट्रोल और डीजल के दाम में हो रहे इजाफे पर आज रोक लगी. दिल्ली में फिलहाल पेट्रोल 81.59 रुपये प्रति लीटर के हिसाब से मिल रहा है. मुंबई में 88.29 रुपये, चेन्नई में 84.64 रुपये और कोलकाता में 83.15 रुपये दाम है. वहीं डीजल की प्रति लीटर कीमत दिल्ली में 71.41 रुपये, मुंबई में 77.90 रुपये और चेन्नई में 76.88 रुपये और कोलकाता में 74.98 रुपये है. बता दें कि पिछले पांच दिनों में पेट्रोल की कीमतों में 53 पैसे और डीजल की कीमतों में 95 पैसे प्रति लीटर इजाफा हुआ है.


हालांकि अंतर्राष्ट्रीय बाजारों में कच्चे तेल की बढ़ती कीमत का असर घरेलू बाजार पर भी पड़ना तय है. कच्चे तेल की कीमतों में अगर और ज्यादा वृद्धि होती है तो यह भारत सरकार और उपभोक्ताओं के लिए नुकसान का सौदा बन सकता है. सरकार को अधिक क्रूड इंपोर्ट बिल अदा करना पड़ सकता है और वहीं बढ़ी हुई कीमतों का असर घरेलू बाजार में पेट्रोल और डीजल के दाम में इजाफे के तौर पर आम आदमी की जेब पर पड़ेगा.


गौरतलब है कि भारत सरकार ने जनवरी से दिसंबर तक क्रूड ऑयल इंपोर्ट बिल पर लगभग 1.6 लाख करोड़ रुपये बचाए हैं. यह रकम मार्च 2020 में भारत सरकार द्वारा कोविड 19 से बचाव के लिए गरीबों को दिए गए 1.7 लाख करोड़ के पैकेज के लगभग बराबर है. क्रूड ऑयल की कीमतों में अगर 1 डॉलर का इजाफा होता है तो पेट्रोल और डीजल की कीमत खुदरा बाजार में लगभग 40 पैसे बढ़ जाती है. इस हिसाब से तेल के सेल की कमी को पाटने के लिए 2 रुपये प्रति लीटर खुदरा कीमतों में इजाफे की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता. इसका सीधा असर आम आदमी की जेब पर पडे़गा. 

 सोना और चांदी के दाम में बड़ी गिरावट, जाने कितने रुपये की आई गिरावट

सोना और चांदी के दाम में बड़ी गिरावट, जाने कितने रुपये की आई गिरावट

नई दिल्ली। वैश्विक बाजार में कमजोरी के संकेतों और रुपये की विनिमय दर में सुधार के बीच दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना मंगलवार को 1,049 रुपये की गिरावट के साथ 48,569 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ। 

पिछले कारोबारी सत्र में सोने का भाव 49,618 रुपये प्रति 10 ग्राम था। बिकवाली दबाव के कारण चांदी भी 1,588 रुपये की गिरावट के साथ 59,301 रुपये प्रति किलो ग्राम पर आ गयी। पिछले सत्र में इका बंद भाव 60,889 रुपये प्रति किग्रा था। अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने का भाव हानि के साथ 1,830 डॉलर प्रति औंस रह गया जबकि चांदी 23.42 डॉलर प्रति औंस पर लगभग अपरिवर्तित रही।

कोविड-19 के टीके के संदर्भ में उम्मीद बढ़ने और बाइडेन के अमेरिकी राष्ट्रपति का कार्यभाव संभालने की तैयारियों के मद्देनजर सोने की कीमतों में गिरावट देखी गई।
EPF बैलेंस करना चाहते हैं चेक तो अपनाएं ये बेहद आसान 4 तरीके,  कुछ ही सेकेंड्स में मिल जाएगी जानकारी

EPF बैलेंस करना चाहते हैं चेक तो अपनाएं ये बेहद आसान 4 तरीके, कुछ ही सेकेंड्स में मिल जाएगी जानकारी

अगर आप अपना ईपीएफ बैलेंस या प्रोविडेंट फंड बैलेंस चेक करना चाहते हैं तो बेहद आसान प्रक्रिया से आप ऐसा कर सकते हैं. इसके लिए अब आपको संस्थान से पीएफ स्टेटमेंट मिलने का इंतजार भी नहीं करना पड़ेगा. दरअसल उमंग एप, ईपीएफ मेंबर ई-सेवा पोर्टल या एसएमएस या मिस्ड कॉल सर्विस के जरिए आसानी से ईपीएफ फंड चेक किया जा सकता है. अगर आपका ईपीएफ छूट प्राप्ट ट्रस्ट मैनेज कर रहा है तो इस संबंध में पीएफ फंड बैलेंस चेक करने के लिए आपको अपने संस्थान से कॉन्टेक्ट करना होगा. चलिए जानते हैं कैसे ईपीएफ अकाउंट बैलेंस चेक किया जा सकता है.


1-उमंग एप से करें पीएफ बैलेंस चेक


ईपीएफओ या कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के सदस्य उमंग एप के माध्यम से मोबाइल फोन पर ही अपना पीएफ बैलेंस चेक कर सकते हैं. बता दें कि उमंग एप सरकार द्वारा लॉंन्च किया गया था. इस एप के जरिये केंद्र और राज्य सरकार की कई तरह की सर्विस को एक ही जगह से प्राप्त किया जा सकता है. इतना ही नहीं इस एप की सहायता से ईपीएफ पासबुक भी देखी जा सकती है और क्लेम भी किया जा सकता है.


2-ईपीएफओ की वेबसाइट से करें बैलेंस चेक


1-ईपीएफओ की वेबसाइट से बैलेंस चेक करने के लिए सबसे पहले इसकी आधिकारिक वेबसाइट epfindia.gov.in पर लॉगिन करें. इसके बाद ई-पासबुक पर क्लिक करना होगा.


2- इसके बाद आपको एक पेज, passbook.epfindia.gov.in पर जाना होगा. यहां आपको अपना यूजर नेम (यूएएन या यूनिवर्सल अकाउंट नंबर), पासवर्ड और कैप्चा कोड़ देना होगा.


3- सारी डिटेल्स सही प्रकार से भरने के बाद एक पेज ओपन होगा जहां आपको मेंबर आईडी का चुनाव करना होगा.


4- मेंबर आईडी चुनते ही आपको ई-पासबुक नजर आएगी. बस यहां से आप अपना ईपीएफ बैलेंस चेक कर सकते हैं.


3-मैसेज से करें बैलेंस चेक


आप टेक्स्ट मैसेज के जरिए अपना पीएफ बैलेंस चेक कर सकते हैं. इसके लिए अपने रजिस्टर मोबाइल नंबर से आपको 7738299899 पर एक मैसेज भेजना होगा. इसके लिए मेंबर को “ EPFOHO UAN” लिखना है. यह सुविधा 10 भाषाओं में दी गई है. अंग्रेजी, हिंदी, पंजाबी, तमिल, मलयालम, गुजराती, मराठी, कन्नड, तेलुगु और बंगाली भाषा में सुविधा उपलब्ध है. ऐसे में मान लीजिए अगर आपको तमिल भाषा में मैसेज के जरिए बैलेंस पता करना है तो आपको “ EPFOHO UAN TAM” लिखकर 77382999999 पर भेजना है.


4-मिस्ड कॉल से जानें ईपीएफ बैलेंस


बता दें की ईपीएफओ मेंबर अपने रजिस्टर मोबाइल नंबर से 011-22901406 पर मिस्ड कॉल कर अपना बैलेंस चेक कर सकते हैं. ध्यान रहे कि इस सुविधा का लाभ लेने के लिए मोबाइल नंबर को यूएएन के साथ यूनिफाइड पोर्टल पर एक्टिव कराना जरूरी है. 

BIG BREAKING : भारत सरकार ने फिर 43 मोबाइल ऐप्स पर लगाई रोक, देखें पूरी सूची

BIG BREAKING : भारत सरकार ने फिर 43 मोबाइल ऐप्स पर लगाई रोक, देखें पूरी सूची

नई दिल्ली | भारत सरकार ने देश में इस्तेमाल किए जा रहे 43 मोबाइल ऐप पर मंगलवार को रोक लगा दी है | इसे सूचना प्रौद्योगिकी एक्ट की धारा 69ए के तहत प्रतिबंधित किया गया| केन्द्र सरकार की तरफ से यह कार्रवाई इसलिए की गई क्योंकि ऐसे इनपुट्स थे कि ये ऐप भारत की संप्रभुता, एकता और सुरक्षा के लिए खतरा हैं| गौरतलब है कि इससे पहले चीनी मोबाइल कंपनियों के टिकटॉक और यूसी समेत कई ऐप को सुरक्षा और एकता के लिए खतरा बताते हुए केन्द्र सरकार ने बैन किया था| चीनी मोबाइल कंपनियों पर बैन का यह कदम भारत सरकार की ओर से पहली बार ऐसे समय पर उठाया गया था जब एलएसी पर चीन के साथ तनाव चरम पर चल रहा है|

भारत में जिन मोबाइल ऐप के इस्तेमाल को प्रतिबंधित किया गया है वो हैं-

AliSuppliers Mobile App
Alibaba Workbench
AliExpress - Smarter Shopping, Better Living
Alipay Cashier
Lalamove India - Delivery App
Drive with Lalamove India
Snack Video
CamCard - Business Card Reader
CamCard - BCR (Western)
Soul- Follow the soul to find you
Chinese Social - Free Online Dating Video App & Chat
Date in Asia - Dating & Chat For Asian Singles
WeDate-Dating App
Free dating app-Singol, start your date!
Adore App
TrulyChinese - Chinese Dating App
TrulyAsian - Asian Dating App
ChinaLove: dating app for Chinese singles
DateMyAge: Chat, Meet, Date Mature Singles Online
AsianDate: find Asian singles
FlirtWish: chat with singles
Guys Only Dating: Gay Chat
Tubit: Live Streams
WeWorkChina
First Love Live- super hot live beauties live online
Rela - Lesbian Social Network
Cashier Wallet
MangoTV
MGTV-HunanTV official TV APP
WeTV - TV version
WeTV - Cdrama, Kdrama&More
WeTV Lite
Lucky Live-Live Video Streaming App
Taobao Live
DingTalk
Identity V
Isoland 2: Ashes of Time
BoxStar (Early Access)
Heroes Evolved
Happy Fish
Jellipop Match-Decorate your dream island!
Munchkin Match: magic home building
Conquista Online II 

कोरोना संकट के बीच भारत में सबसे ज्यादा बढ़ी गौतम अडानी की दौलत, जानें कैसे मिला फायदा

कोरोना संकट के बीच भारत में सबसे ज्यादा बढ़ी गौतम अडानी की दौलत, जानें कैसे मिला फायदा

नई दिल्ली, कोरोना संकट के बीच दुनियाभर में बने चुनौतीपूर्ण आर्थिक माहौल के बाद भी कुछ कंपनियों और कुछ उद्यमियों ने शानदार प्रदर्शन किया है. ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स के मुताबिक, इस साल अडानी ग्रुप के प्रमुख गौतम अडानी की दौलत में सबसे ज्यादा इजाफा दर्ज किया गया है. उनकी दौलत में इस साल अब तक करीब 1.43 लाख करोड़ रुपये (1,910 करोड़ डॉलर) का इजाफा हुआ है. हालांकि, अभी भी रिलायंस इंडस्ट्री ज के चेयरमैन मुकेश अंबानी सबसे अमीर भारतीय कारोबारी हैं. वैश्विक स्तइर पर टेस्ला के एलन मस्क की दौलत में सबसे ज्यादा 7.15 लाख करोड़ रुपये (9530 करोड़ डॉलर) की बढ़ोतरी हुई है.

इसलिए हुआ गौतम अडानी को तगड़ा मुनाफा और बढ़ी संपत्ति
गौतम अडानी को अडानी ग्रुप की कंपनियों के शेयरों में शानदार तेजी का फायदा मिला है. अडानी ग्रीन के शेयरों ने इस साल अब तक 582 फीसदी की तेजी दिखाई है. वहीं, अडानी गैस के शेयर 112 फीसदी और अडानी एंटरप्राइजेज के 86 फीसदी मजबूत हुए हैं. अडानी ट्रांसमिशन में 40 फीसदी और अडानी पोर्ट्स में 4 फीसदी तेजी रही है. हालांकि, उडानी पावर के शेयरों में इस साल 35 फीसदी से ज्यादा की गिरावट दर्ज की गई है. अडानी ग्रुप पोर्ट, हवाई अड्डा, एनर्जी, लॉजिस्टिक्स, एग्रो बिजनेस, रियल एस्टेट, रक्षा और फाइनेंशियल सर्विसेज के क्षेत्र में काम करता है.
मुकेश अंबानी दूसरे और तीसरे पायदान पर हैं सायरस पूनावाला


गौतम अडानी की दौलत इस साल 1.43 लाख करोड़ रुपये के इजाफे के साथ 2.28 लाख करोड़ रुपये हो गई है. वहीं, मुकेश अंबानी की दौलत में इस साल 1.23 लाख करोड़ रुपये की वृद्धि हुई. उनकी कुल दौलत इस इजाफे के साथ 5.63 लाख करोड़ रुपये हो गई है. भारतीय कारोबारियों में तीसरे पायदान पर सीरम इंस्टीट्यूट आफ इंडिया के सायरस पूनावाला हैं. उनकी दौलत इस साल 44,700 करोड़ रुपये के इजाफे के साथ 1.10 लाख करोड़ रुपये हो गई है. इनके बाद एचसीएल टेक्नोौलॉजी के शिव नाडर की दौलत 36,675 करोड़ की वृद्धि के साथ 1.55 लाख करोड़ रुपये और विप्रो के पूर्व चेयरमैन अजीम प्रेमजी की दौलत 33,075 करोड़ के इजाफे के साथ 1.70 लाख करोड़ रुपये हो गई.
दुनियाभर में कारोबारियों की सं‍पत्ति में हुआ शानदार इजाफा
वैश्विक स्तंर पर एलन मस्क की संपत्ति 9,530 करोड़ डॉलर के इजाफे के साथ 12,300 करोड़ डॉलर हो गई है. हालांकि, दुनिया में सबसे अमी व्यतक्ति की तौर पर अभी भी अमेजन के सीईओ जेफ बेजोस ही हैं. उनकी संपत्ति 6,870 करोड़ डॉलर की वृद्धि के साथ 18,400 करोड़ डॉलर हो गई है. फेसबुक के सीईओ मार्क जुगरबर्ग की संपत्ति 2,500 करोड़ डॉलर की बढ़ोतरी के साथ 10,300 करोड़ डॉलर हो गई है. वह अमीरों की सूची में चौथे पायदान पर हैं. सबसे ज्यादा इजाफे के मामले में मैकेंजी स्कॉट पांचवें पायदान पर हैं. उनकी दौलत 2,280 करोड़ डॉलर बढ़कर 5,990 करोड़ डॉलर हो गई है.
 

लगातार चौथे दिन सस्ता हुआ सोना वायदा, चांदी में भी गिरावट

लगातार चौथे दिन सस्ता हुआ सोना वायदा, चांदी में भी गिरावट

नई दिल्ली। आज भारतीय बाजारों में सोने और चांदी की कीमत में गिरावट बरकरार रही। एमसीएक्स पर सोने की वायदा कीमत लगातार चौथे दिन गिरावट आई। यह 0.3 फीसदी फिसलकर 50,180 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया, जबकि चांदी वायदा 0.8 फीसदी घटकर 62,043 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई। पिछले सत्र में सोने और चांदी की कीमतों में भारी गिरावट आई थी। सोना 450 रुपये प्रति 10 ग्राम गिरा था जबकि चांदी की दर 718 रुपये प्रति किलोग्राम सस्ती हुई थी। 
 

वैश्विक बाजारों में इतना रहा दाम-
वैश्विक बाजारों में आज अमेरिकी डॉलर के मजबूत होने से सोने की कीमतों में गिरावट आई। हाजिर सोना 0.1 फीसदी गिरकर 1,869.86 डॉलर प्रति औंस हो गया। अन्य कीमती धातुओं में से चांदी 0.3 फीसदी की गिरावट के साथ 24.24 डॉलर प्रति औंस रह गई। प्लैटिनम 0.5 फीसदी फिसलकर 937.30 पर आ गया, जबकि पैलेडियम 0.7 फीसदी नीचे 2,311.91 पर था।
 

इन कारकों से प्रभावित हुई कीमत-
विश्लेषकों ने कहा कि मिश्रित कारकों ने सोने को सीमित रखा। साथ ही कोरोना वायरस महामारी की वैक्सीन खबरों से भी सोने की कीमत प्रभावित हुई। अमेरिकी दवा कंपनी मॉडर्ना इंक ने कहा है कि उसकी प्रयोगात्मक वैक्सीन कोविड-19 की रोकथाम में 94.5 फीसदी प्रभावी पाई गई है। इसके अतिरिक्त अमेरिका के राजकोषीय प्रोत्साहन से भी इसपर असर डला है।
 

डॉलर सूचकांक 0.16 फीसदी ऊपर था, जिससे अन्य मुद्राओं के धारकों के लिए सोना महंगा हो गया। गोल्ड ईटीएफ आउटफ्लो निवेशकों की कमजोर रुचि को दर्शाता है। दुनिया के सबसे बड़े गोल्ड समर्थित एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ETF), एसपीडीआर गोल्ड ट्रस्ट की होल्डिंग बुधवार को 0.60 फीसदी गिरकर 1,219.00 टन रही।
दिवाली पर शेयर बाजार में बरसेगा जमकर पैसा, जानिए क्या होती है मुहूर्त ट्रेडिंग और इसका शुभ समय

दिवाली पर शेयर बाजार में बरसेगा जमकर पैसा, जानिए क्या होती है मुहूर्त ट्रेडिंग और इसका शुभ समय

दिवाली के त्योहार पर धन की देवी लक्ष्मी के पूजन की परंपरा है. कहा जाता है कि इस दिन लक्ष्मी जी पधारती हैं. दिवाली का त्योहार भारतीय शेयर मार्केट के लिए भी बेहद खास होता है. वैसे तो दिवाली पर शेयर बाजार की भी छुट्टी होती है लेकिन इस दिन शाम के समय देशभर के निवेशक और बाजार के दिग्गज एक विशेष समय पर बाजार में पैसा लगाते हैं. इस एक घंटे के मुहूर्त ट्रेडिंग के दौरान कोई भी नफा-नुकसान के बारे में नहीं सोचता है और न ही कोई पैसा निकालने की कोशिश करता है. बस काफी समय से चली आ रही एक परंपरा को निभाते हुए निवेशक दिवाली की शाम एक घटें तक बाजार में जमे रहते हैं और छोटा निवेश कर परंपरा का निर्वहन करते हैं.


मुहूर्त ट्रेडिंग का इस साल का समय


दिवाली के त्योहार के दिन 14 नवंबर 2020 को शेयर बाजार, बीएसई व एनएसई में शाम 6 बजकर 15 मिनट से एक घंटे का विशेष मुहूर्त कारोबार होगा. वहीं दोनों एक्सचेंज के अनुसार मुहूर्त ट्रेडिंग का शुभ समय 6 बजकर 15 मिनट से शाम 7 बजकर 15 मिनट तक रहेगा. इसके साथ ही प्री ओपनिंग सेशन 6 बजे से 6 बजकर 14 मिनट तक रहेगा. मुहूर्त कारोबार सत्र में दिए जाने वाले सभी सौदों के साथ निपटान दायित्व होता है.


मुहूर्त ट्रेडिंग क्यों की जाती है


दिवाली के साथ ही नव वर्ष की शुरुआत भी हो जाती है. इस बार दिवाली के साथ संवत् 2077 शुरू होने जा रहा है. वहीं देश के कई हिस्सों में दिवाली के त्योहार के साथ ही नया वित्त वर्ष भी आरंभ हो जाता है. शुभ मुहूर्त के समय शेयर मार्किट के कारोबारी खासतौर पर शेयर ट्रेडिंग करते हैं, इस कारण ही इसे मुहूर्त ट्रेडिंग कहा जाता है.


होता है मुनाफा


ऐसा माना जाता है कि मुहूर्त ट्रेडिंग के दिन शेयर बाजार में निवेश करने से लाभ होता है. इस कारण बड़े कारोबारी से लेकर छोटे कारोबारी तक इस जिन जरूर बाजार में अपना पैसा निवेश करते हैं. इसके साथ ही यह भी कहा जाता है कि दिवाली के त्योहार पर खास मुहूर्त ट्रेडिंग की शुरूआत कर निवेशक नए वित्त वर्ष के अच्छे रहने की कामना करते हैं. कई लोग इस दिन शेयर भी खरीदते हैं. 

 दिवाली से पहले सोने की कीमतों में आई गिरावट, चांदी भी टूटी

दिवाली से पहले सोने की कीमतों में आई गिरावट, चांदी भी टूटी

नई दिल्ली। 14 नवंबर को देशभर में दीपावली का त्योहार मनाया जाएगा। दीपावली का पूरा सप्ताह त्योहारों का होता है। जिसकी शुरुआत धनतेरस से होती है। ये खरीदारी का दिन होता है। धनतेरस पर सोना-चादी और पीली वस्तुओं को खरीदना शुभ माना जाता है। ऐसे में इस दिन सोना और चांदी की भारी मात्रा में खरीदारी होती है लेकिन इन दिनों सोने के दाम आसमान छू रहे है। जो हर किसी की परेशानी बना हुआ है लेकिन धनतेरस से पहले सोने और चांदी की कीमतों में भारी गिरावट देखी जा रही है। सोमवार शाम को भी अचानक सोने के दाम में भारी गिरावट आई। जिसके बाद माना जा रहा है कि ये समय सोने में निवेश के सबसे सही है।
 
जानकारी के मुताबिक, धनतेरस और दिवाली से पहले सोने और चांदी की कीमतों में भारी गिरावट आई है। MCX पर गोल्ड का दिसंबर वायदा 2500 रुपये से ज्यादा टूटकर 49665 रुपये प्रति 10 ग्राम पर आ गया है। इससे पहले शुक्रवार को सोने का दाम 52167 रुपये प्रति 10 ग्राम पर चल रहा था। इसी तरह चांदी भी गिरावट देगी गई है। MCX पर चांदी का वायदा 4600 रुपये से ज्यादा टूटा है। जिसके बाद अब चांदी का भाव 60725 रुपये प्रति किलो पर आ गया है।

सोमवार शाम को अचानक आई गिरावट-
सोमवार शाम को अचानक सोने और चांदी की कीमतो में भारी गिरावट दर्ज की गई। फार्मा कंपनी ने सोमवार शाम कोरोना की दवा बनाने का ऐलान किया। इस दौरान दावा किया गया कि दवा कोरोना मरीजों पर 90 फीसदी असर कर रही है। जिसके बाद लगभघ शाम 5.30 बजे सोने और चांदी में गिरावट आई। भारत में गोल्ड 5 परसेंट तक टूटता चला गया। ऐसे में अब जानकारों का मानना है कि सोने में निवेश करना का यहीं समय सबसे सही है। आने वाले दिनों में सोने के दाम में मामूली तेजी आ सकते है। ऐसे में अगर कोई भी सोने में निवेश करना चाहता है तो वह इस वक्त कर सकता है।

सोमवार शाम को सोने की कीमतों में तेजी से गिरावट देखी गई। लेकिन इस गिरावट का आसर बाजारों में नहीं देखा गया। एक रिपोर्ट के मुताबिक 24 कैरेट को गोल्ड के भाव में अलग-अलग शहरों में मामूली फर्क देखा गया। दिल्ली में 54,170 प्रति 10 ग्राम, मुंबई में 52,000 प्रति 10 ग्राम, चेन्नई में 52,150 प्रति 10 ग्राम, कोलकाता में 52, 720 रुपये प्रति 10 ग्राम है।
धनतेरस पर सस्ता सोना खरीदने का है बड़ा मौका, जाने कैसे

धनतेरस पर सस्ता सोना खरीदने का है बड़ा मौका, जाने कैसे

नई दिल्ली | धनतेरस पर सोना खरीदना शुभ माना जाता है और दिवाली से पहले इस अवसर पर आपको सस्ता सोना खरीदने का मौका आपको मिल रहा है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम की आठवीं किस्त जारी करने की जानकारी दी है। 

पढ़ें : फेसबुक फ्रेन्ड्स ने शादी का प्रलोभन देकर युवती से किया दुष्कर्म, मामला दर्ज

आरबीआई के मुताबिक सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम आठवीं सीरीज 9 नवम्बर को सब्सक्रिप्शन के लिए खुलेगी, जिसमें 13 नवम्बर तक निवेश किया जा सकता है। इस गोल्ड बॉन्ड के लिए सोने की कीमत 5,177 रुपये प्रति ग्राम तय की गई है। हालांकि, डिजिटल माध्यम से भुगतान करने वालों को प्रति ग्राम के हिसाब से 50 रुपये की छूट भी मिलेगा। 
 
 
रिजर्व बैंक ने कहा कि स्वर्ण बॉन्ड के लिए इंडियन बुलियन एंज जूलर्स एसोसिएशन लिमिटेड (आईबीजेए) द्वारा 999 शुद्धता के सोने के प्रकाशित सामान्य औसत बंद भाव पर आधारित है। गौरतलब है कि ये बॉन्ड 8 साल की अवधि के लिए जारी किए जाते हैं। इसमें पांच साल के बाद इससे बाहर निकलने का विकल्प भी होता है। आवेदन कम से कम एक ग्राम और उसके गुणक में जारी किए जाते हैं। 
 
 
उल्लेखनीय है कि सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में व्यक्तिगत निवेशक न्यूनतम एक ग्राम और अधिकतम 4 किलो तक के लिए निवेश कर सकता है। इसके अलावा हिन्दू अविभाजित परिवार के लिए चार किलो और ट्रस्ट आदि के लिए किसी एक वित्त वर्ष में अधिकतम 20 किलो तक निवेश करने की अनुमति है।
 
 करवा चौथ पर सोने के रेटों में लगातार गिरावट, चांदी फिर चमकी

करवा चौथ पर सोने के रेटों में लगातार गिरावट, चांदी फिर चमकी

नई दिल्ली। सोने के रेटों में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। सोने के रेट 50 हजार से नीचे आ गए हैं, वहीं दूसरी तरफ चांदी फिर से चमक उठी है। चांदी के रेटों में लगातार बढ़ोत्तरी देखने को मिल रही है। चांदी आज भी रेट बढ़े हैं।

आज सोने के रेटों में 300 रुपये प्रति दस ग्राम की दर से गिरावट दर्ज की गई है। 22 कैरेट सोने के रेट 49 हजार 950 रुपये प्रति दस ग्राम है जबकि 24 कैरेट सोने के रेट 50 हजार 950 रुपये प्रति दस ग्राम है। सोने के रेट कल भी घटत के साथ बंद हुए थे।

इधर चांदी के रेटों में लगातार बढ़ोत्तरी देखी जा रही है। चांदी के रेटों में बढ़त के साथ अब करीब 62 हजार रुपये रेट पहुंच गए हैं। आज चांदी के रेट 200 रुपये की बढ़त के साथ 61 हजार 900 रुपए प्रति किलो हो गई है। चांदी के रेट आज लगातार बढ़त के साथ दिखाई दिये हैं। कल भी चांदी के रेटों में 1600 रुपये की बढ़त थी।
भारत से नहीं जाएगी हार्ले डेविडसन, हीरो मोटोकॉर्प के साथ की करार की घोषणा

भारत से नहीं जाएगी हार्ले डेविडसन, हीरो मोटोकॉर्प के साथ की करार की घोषणा

हार्ले-डेविडसन ने भारत से अपना कारोबार समेटने के ऐलान के बाद अब हीरो मोटोकॉर्प से करार की घोषणा की है. इसका साफ मतलब है कि हार्ले डेविडसन बाइक की अब भारत से विदाई नहीं होगी. भारत में अब हार्ले-डेविडसन की बाइक्स हीरो मोटो कॉर्प बनाएगी. हीरो मोटो कॉर्प वॉल्यूम के लिहाज से दुनिया की सबसे बड़ी बाइक मेकर कंपनी है.


भारत को वर्ल्ड मार्केट के लिए प्रोडक्शन बेस बनाएगी हार्ले


खबरों में कहा गया है कि हार्वे डेविडसन के साथ हीरो को इस करार में गोल्डमैन सलाह दे रहा है. यह पार्टनरशिप बजाज-ट्राइम्फ के जैसी ही होगी. हार्ले-डेविडसन और हीरो मिल कर प्लेटफॉर्म डेवलप करेंगे और भारत को वर्ल्ड मार्केट के लिए प्रोडक्शन बेस के तौर पर इस्तेमाल करेंगी. यह योजना हार्ले के 'हार्डवेयर प्लान' को भारत में आगे बढ़ाने में मदद करेगी. इस योजना से हार्ले डेविडसन 2025 तक भारत में मुनाफा कमाने वाली कंपनी बन सकती है.


भारत मिड साइज मोटरसाइकिल के मामले में दुनिया का सबसे बड़ा बाजार है. हार्ले को हीरो के साथ करार की वजह से भारत के इस बड़े मार्केट में काफी कम लागत में अपना प्रोडक्ट तैयार करने में मदद मिलेगी. इधर, बजाज-ट्राइम्फ के करार के बाद उनकी मोटरसाइकिल 2022 तक बाजार में आ जाएगी. रॉयल एनफील्ड दो सिलेंडर वाली मोटरसाइकिल लाकर अपने वैल्यू चेन को बढ़ाएगी.

 

जिन्दल स्टील एंड पावर लिमिटेड ने विकसित की रेल की नई ग्रेड, मेट्रो परियोजनाओं और हाई-स्पीड कॉरिडोर के लिए होगी मददगार

जिन्दल स्टील एंड पावर लिमिटेड ने विकसित की रेल की नई ग्रेड, मेट्रो परियोजनाओं और हाई-स्पीड कॉरिडोर के लिए होगी मददगार

रायपुर, जाने-माने उद्योगपति नवीन जिन्दल के नेतृत्व वाली कंपनी जिन्दल स्टील एंड पावर लिमिटेड (जेएसपीएल) ने रेल के एक और नए ग्रेड का विकास किया है। रेलवे बोर्ड की अधीनस्थ “द रिसर्च डिजायंस एंड स्टैंडर्ड्स ऑर्गेनाइजेशन” (आरडीएसओ) ने हाई-स्पीड और हाई-एक्सल लोड एप्लिकेशन के लिए जेएसपीएल द्वारा विकसित रेल के इस ग्रेड को अपनी मंजूरी दे दी है।
जेएसपीएल 60ई1 1175 हीट ट्रीटेड (एचटी) रेल को तीव्र गति और हाई-एक्सल लोड प्रयोगों के लिए सफलतापूर्वक विकसित करने वाली पहली और एकमात्र भारतीय कंपनी है। भारतीय रेलवे ने अनुमान लगाया है कि उसे प्रति वर्ष इस ग्रेड की लगभग 1.8 लाख मेट्रिक टन रेल की आवश्यकता पड़ेगी क्योंकि उसने अपनी सेवाओं को और चुस्त-दुरुस्त एवं सुरक्षित बनाने की कवायद तेज कर दी है। भारतीय रेलवे अपने ट्रैक सिस्टम को अपग्रेड कर रही है ताकि 25 टन एक्सल लोड के साथ 200 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से गाड़ियां दौड़ाई जा सकें।
जेएसपीएल के प्रबंध निदेशक वी.आर. शर्मा ने कहा, `पहले देश में स्पेशल रेलों का आयात किया जा रहा था लेकिन आत्मनिर्भर भारत के सपनों के अनुरूप हम रेलवे और मेट्रो रेल कॉरपोरेशंस की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए देश में ही स्पेशल रेल निर्माण के लिए प्रतिबद्ध हैं। 60ई1 1175 हीट ट्रीटेड (एचटी) का इस्तेमाल डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर और बुलेट ट्रेन समेत हाई-एक्सल लोड एप्लिकेशन में किया जाएगा।`
श्री शर्मा ने कहा कि रेलवे बोर्ड/आरडीएसओ के आकलन के अनुसार जेएसपीएल की क्षमता प्रतिवर्ष 3.24 लाख टन 60ई1 1175 एचटी ग्रेड रेल उत्पादन की है जो मौजूदा स्थितियों में भारतीय रेलवे, मेट्रो रेल कॉरपोरेशंस, हाई-स्पीड कॉरिडोर की आवश्यकताओं को देखते हुए पर्याप्त है। उन्होंने कहा कि जेएसपीएल बांग्लादेश, श्रीलंका और
अफ्रीका के अनेक देशों को रेल की आपूर्ति कर रही है। इसी तरह फ्रांस और यूरोपीय रेलवे को नियमित रूप से विशेष रेल ब्लूम का निर्यात किया जा रहा है। इसके साथ ही जेएसपीएल विश्व स्तर की रेल उत्पादक कंपनी के रूप में स्थापित हो गई है, जो हम सभी भारतीयों के लिए गर्व की बात है।
60ई1 1175 हीट ट्रीटेड (एचटी) रेल 1080 हेड हार्डेंड रेल की ही बेहतरीन ग्रेड है, जिसे आरडीएसओ ने पहले ही मंजूरी दे दी है और जिनका इस्तेमाल मेट्रो रेल कॉरपोरेशंस, हाई-स्पीड कॉरिडोर और बुलेट ट्रेन के लिए हो रहा है। कोलकाता मेट्रो रेल परियोजना और पुणे मेट्रो में इस रेल का इस्तेमाल हो रहा है। ये रेल प्रोफाइल और केमिस्ट्री के लिहाज से यूरोप की आर350एचटी ग्रेड के समान है हालांकि इसे अपेक्षाकृत अधिक कठिन गुणवत्ता जांच से गुजरना पड़ा है।
सितंबर में जेएसपीएल ने यूआईसी 60 किग्रा 880 ग्रेड प्राइम (क्लास-ए) रेल विकसित करने की जानकारी दी थी। इसे अपनी परियोजनाओं के लिए रेलवे ने नियमित आपूर्ति कर्ता का दर्जा प्रदान कर दिया है। जेएसपीएल अपने रायगढ़ स्थित प्लांट में रेल का उत्पादन करती है।
 

 सोने चांदी के कीमतों में आई गिरावट, जाने क्या है आज की कीमत

सोने चांदी के कीमतों में आई गिरावट, जाने क्या है आज की कीमत

नई दिल्ली। वैश्विक दरों से प्रभावित होकर भारत में आज सोने और चांदी की कीमतें कम हो गई हैं। एमसीएक्स पर दिसंबर के सोने की वायदा कीमत में लगातार दूसरे दिन गिरावट आई। आज यह 0.22 फीसदी फिसलकर 50437 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया जबकि चांदी वायदा 0.7 फीसदी गिरकर 61,250 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई। पिछले सत्र में सोने में 0.3 फीसदी की गिरावट आई थी, जबकि चांदी में 0.2 फीसदी की तेजी दर्ज की गई थी। 
 
 
वैश्विक बाजारों में सोने की दरें आज स्थिर थीं, यह 1,900 डॉलर प्रति औंस पर रही। हाजिर सोना थोड़े बदलाव के साथ 1,900.21 डॉलर प्रति औंस पर था, जबकि चांदी 0.1 फीसदी बढ़कर 24.20 डॉलर प्रति औंस हो गई। मजबूत डॉलर सोने पर दबाव डालता है। अमेरिकी डॉलर, जो आमतौर पर एक सुरक्षित-संपत्ति के रूप में माना जाता है, वह छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले 93.735 पर रहा।
 

त्योहारी सीजन में बढ़ेगी मांग-
भारत में इस साल वैश्विक स्तर के अनुरूप सोने की कीमतें 25 फीसदी बढ़ी हैं। विश्लेषकों को उम्मीद है कि अमेरिकी डॉलर और सामान्य बाजार जोखिम धारणा में तेजी के आधार पर सोने की कीमत में गिरावट बनी रहेगी। विश्लेषकों के उम्मीद जताई कि भारत में सोने की मांग त्योहारी सीजन में बढ़ेगी। सोना व्यापक प्रोत्साहन उपायों से प्रभावित होता है क्योंकि इसे व्यापक रूप से मुद्रास्फीति और मुद्रा में आई गिरावट के खिलाफ बचाव के रूप में देखा जाता है। 

भारत के पास इतना है सोने का भंडार-
दुनिया के सबसे बड़े स्वर्ण-समर्थित एक्सचेंज-ट्रेड फंड, एसपीडीआर गोल्ड ट्रस्ट की होल्डिंग शुक्रवार को 0.27 फीसदी गिरकर 1,272.56 टन रही। मालूम हो कि वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल (WGC) की रिपोर्ट के अनुसार मौजूदा समय में भारत के पास 653 मेट्रिक टन सोना है। इसके साथ ही सबसे ज्यागा गोल्ड रिजर्व के मामले में भारत दुनिया में 9वें स्थान पर आता है। 
 एप्पल ने 5जी वायरलेस नेटवर्क के लिए जरूरी तकनीकी से लैस 4 आईफोन किए पेश

एप्पल ने 5जी वायरलेस नेटवर्क के लिए जरूरी तकनीकी से लैस 4 आईफोन किए पेश

 मुम्बई। दुनिया की दिग्गज आईफोन निर्माता अमेरिकी कंपनी एप्पल ने तेज 5जी वायरलेस नेटवर्क का इस्तेमाल के लिए जरूरी तकनीक से लैस चार आईफोन भारत सहित वैश्विक बाजार में पेश किए हैं। एप्पल ने बुधवार को एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि पहला मॉडल 6.1 इंच डिस्प्ले वाला आईफोन 12 है। 

 
 
यह आईफोन 11 की तरह ही है, लेकिन उससे हल्का और पतला है। इसकी कीमत 800 अमेरिकी डॉलर से शुरू है। दूसर मॉडल 5.4 इंच डिस्प्ले के साथ आईफोन 12 मिनी है, जिसकी कीमत लगभग 700 डॉलर है। उच्च श्रेणी वाला आईफोन 12 प्रो अधिक बेहतर कैमरे के साथ आता है, जिसकी कीमत करीब 1000 डॉलर है। चौथा मॉडल 6.7 इंच डिस्प्ले वाला 12 प्रो मैक्स है,  जिसकी कीमत 1,100 डॉलर से शुरू है। कंपनी फोन के साथ एडॉप्टर नहीं दे रही है। इसकी कीमत कंपनी अलग से वसूल रही है, जिसकी कीमत 20 डॉलर से 50 डॉलर के बीच है।
 500 रुपये से ज्यादा सस्ती हुई चांदी, पहले लुढ़का फिर संभला सोना

500 रुपये से ज्यादा सस्ती हुई चांदी, पहले लुढ़का फिर संभला सोना

नई दिल्ली। दिसंबर डिलीवरी वाली चांदी सोमवार को एमसीएक्स पर 514 रुपये की गिरावट के साथ खुली। पिछले सत्र में इसका बंद भाव 59027 रुपये था और आज सुबह यह 58513 रुपये प्रति किलोग्राम के भाव पर खुली। करीब एक घंटे के कारोबार में इसने 58344 रुपये का न्यूनतम और 58755 रुपये का उच्चतम स्तर छुआ। इसी तरह मार्च डिलीवरी वाली चांदी भी 490 रुपये की गिरावट के साथ 60225 रुपये पर ट्रेड कर रही थी।

दिल्ली सर्राफा बाजार में चांदी की कीमत शुक्रवार को 2124 रुपये की तेजी के साथ 60 हजार पार कर गई। चांदी की ताजा कीमत 60536 रुपये प्रति किलोग्राम है। गुरुवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में चांदी की कीमत 58412 रुपये प्रति किलोग्राम थी। यह जानकारी एचडीएफसी सिक्यॉरिटीज ने दी है।

मोतीलाल ओसवाल फाइनैंशल सविर्सिज के जिंस शोध के उपाध्यक्ष नवनीत दमानी ने कहा कि हाल के दिनों में सोना और चांदी की कीमत में बहुत फेरबदल हो रहा है। सोने का भाव 57,000 रुपये की ऊंचाई से गिरकर 50,000 रुपये के दायरे में आया है जबकि चांदी 78,000 रुपये की ऊंचाई से सुधरकर 60,000 रुपये के दायरे में आई है। उन्होंने कहा कि जब तक कोरोना वैक्सीन नहीं आ जाती, सोना और चांदी की की कीमत में इसी तरह उतार-चढ़ाव दिखाई देगा।

एमसीएक्स की बात करें तो इस सप्ताह चांद डिलिवरी की कीमत में गिरावट दर्ज की गई है। दिसंबर डिलिवरी वाली चांदी कारोबार समाप्त होने पर शुक्रवार को 611 रुपये की गिरावट के साथ 59018 के स्तर पर बंद हुई। वहीं मार्च 2021 की डिलिवरी वाली चांदी कारोबार समाप्त होने पर 513 रुपये की गिरावट के साथ 60747 के स्तर पर बंद हुई। दिसंबर डिलिवरी में 29 हजार 815 लॉट का कारोबार हुआ, जबकि मार्च 2021 की डिलिवरी वाले में 252 लॉट का कारोबार हुआ है।

सोना और चांदी की कीमत में ऑलटाइम हाई से काफी गिरावट आई है। सोना अपने ऑल टाइम हाई से अब तक 6800 रुपये प्रति दस ग्राम के करीब सस्ता हो चुका है। वहीं चांदी की कीमत में ऑल टाइम हाई से करीब 18500 रुपये की गिरावट दर्ज की गई है। सात अगस्त को सर्राफा बाजारों में सोना 56254 पर खुला था। यह अपने सर्वोच्च शिखर पर था, जबकि चांदी 76008 रुपये प्रति किलो पर पहुंच गई थी।

हफ्ते के पहले दिन सोना सोमवार को एक बार फिर गिरावट के साथ खुला। लेकिन फिर इसमें मामूली तेजी आई। एमसीएक्स पर अक्टूबर डिलीवरी वाला सोना सुबह 10 बजे यह 34 रुपये की मामूली गिरावट के साथ 49625 रुपये प्रति 10 ग्राम के भाव पर ट्रेड कर रहा था। पिछले सत्र में यह 49659 रुपये के भाव पर बंद हुआ था और आज सुबह 185 रुपये की गिरावट के साथ 49474 रुपये पर खुला। शुरुआती आधे घंटे में ही इसने 49460 रुपये का न्यूनतम और 49669 रुपये का उच्चतम स्तर छुआ। दिसंबर डिलीवरी वाला सोना 33 रुपये की गिरावट के साथ 49617 रुपये पर ट्रेड कर रहा था।

पिछले महीने 7 अगस्त को सोने ने वायदा बाजार में अपना उच्चतम स्तर यानी ऑल टाइम हाई छुआ था और प्रति 10 ग्राम की कीमत 56,200 रुपये हो गई थी। वहीं अब सोने ने 49,380 रुपये प्रति 10 ग्राम का न्यूनतम स्तर भी छू लिया। यानी तब से लेकर अब तक सोने की कीमतों में करीब 6,820 रुपये की गिरावट आई है। हालांकि, शुक्रवार को बंद होते-होते सोना कुछ रिकवर हुआ था।
 
अंतरराष्ट्रीय बाजार में सुधार आने पर दिल्ली सर्राफा बाजार में शुक्रवार को सोने की कीमत 324 रुपये बढ़कर 50,824 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गयी। इससे बहुमूल्य धातुओं में पिछले चार सत्र से चली आ रही गिरावट पर ब्रेक लग गया। एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने यह जानकारी दी है। पिछले दिन के कारोबार में सोना 50,500 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना तेजी दर्शाता 1,873 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया।

हाजिर मांग कमजोर पडऩे के कारण कारोबारियों ने अपने जमा सौदे को कम किया जिससे वायदा बाजार में सोना शुक्रवार को 0.2 प्रतिशत की गिरावट के साथ 49,806 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गया। एमसीएक्स में अक्टूबर महीने में डिलिवरी वाले सोना अनुबंध की कीमत 98 रुपये यानी 0.2 प्रतिशत की गिरावट के साथ 49,806 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गया। इसमें 4,219 लॉट के लिये कारोबार हुआ। न्यूयार्क में सोने का भाव 0.09 प्रतिशत गिरकर 1,875.30 डॉलर प्रति औंस रह गया।

सोने के डीलर ग्राहकों को सोने पर तगड़ा डिस्काउंट देकर बाजार में डिमांड पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं। 6 हफ्तों से लगातार ग्राहकों को सोने पर डिस्काउंट देने का सिलसिला जारी है। पिछले हफ्ते 5 डॉलर प्रति औंस यानी करीब 130 रुपये प्रति 10 ग्राम तक का डिस्काउंट दिया गया। उससे पहले ये डिस्काउंट 23 डॉलर प्रति औंस था। थोड़ा और पीछे जाएं तो उससे पिछले हफ्ते 30 डॉलर प्रति औंस का डिस्काउंट दिया जा रहा था, जो कभी 40 डॉलर प्रति औंस भी रह चुका है।
 तीन दिन चढऩे के बाद सोने में आई गिरावट, 1000 रुपये से अधिक सस्ती हुई चांदी

तीन दिन चढऩे के बाद सोने में आई गिरावट, 1000 रुपये से अधिक सस्ती हुई चांदी

नईदिल्ली। सोने की तरह आज चांदी की कीमत में भी भारी गिरावट देखी जा रही है। एमसीएक्स पर दिसंबर डिलीवरी वाली चांदी दोपहर बाद साढ़े 12 बजे 991 रुपये की गिरावट के साथ 67790 रुपये प्रति किलो के भाव पर ट्रेड कर रही थी। कल यह 68781 रुपये के भाव पर बंद हुई थी और आज गिरावट के साथ 67500 रुपये के भाव पर खुली। इसी तरह मार्च डिलीवरी वाली चांदी 946 रुपये की गिरावट के साथ 70122 रुपये पर ट्रेड कर रही थी। कल यह 71068 रुपये पर बंद हुई और आज गिरावट के साथ 70021 रुपये पर खुली।
 
 
 लगातार तीन दिन तक तेजी के साथ खुलने वाले सोने की कीमत में आज गिरावट देखी जा रही है। अक्टूबर डिलीवरी वाला सोना एमसीएक्स पर आज गिरावट के साथ खुला। यह कल 51824 रुपये प्रति दस ग्राम के भाव पर बंद हुआ था और आज गिरावट के साथ 51710 रुपये पर खुला। शुरुआती कारोबार में ही यह 51279 रुपये के न्यूनतम स्तर पर पहुंच गया। इसी तरह दिसंबर डिलीवरी वाला सोना भी गिरावट के साथ खुला। बुधवार को यह 51988 रुपये के भाव पर बंद हुआ जबकि आज गिरावट के साथ 51500 रुपये के भाव पर खुला।

 
दिल्ली सर्राफा बाजार में बुधवार को सोने का भाव 137 रुपये घटकर 53,030 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गया। एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने इसकी जानकारी दी। मंगलवार को यह 53,167 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपये की मजबूती से सोने में गिरावट का रुख रहा। बुधवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 12 पैसे मजबूत होकर 73.52 रुपये प्रति डॉलर पर पहुंच गया। चांदी भी 517 रुपये घटकर 70,553 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई। मंगलवार को चांदी की कीमत 71,070 रुपये प्रति किलोग्राम रही थी। अंतरराष्ट्रीय बाजार में हालांकि, सोना बढ़त के साथ 1,967.7 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रहा था। चांदी 27.40 डॉलर प्रति औंस पर स्थिर चल रही थी।
 
 
इस बीच हाजिर मांग में तेजी के बीच सटोरियों के नये सौदे करने से बुधवार को वायदा बाजार में सोना 153 रुपये बढ़कर 51,922 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में अक्टूबर डिलिवरी का सोना 153 रुपये या 0.30 प्रतिशत बढ़कर 51,922 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया। इसमें 10,814 लॉट के लिये कारोबार हुआ। विश्लेषकों ने कहा कि सटोरियों के नये सौदों के कारण सोने की वायदा कीमतों में तेजी रही। इस बीच न्यूयॉर्क में सोने की कीमत 0.49 प्रतिशत बढ़कर 1,975.90 डॉलर प्रति औंस हो गयी।
 
 
अक्टूबर-नवंबर के दौरान अमूमन सोने की मांग काफी बढ़ जाती है। इसकी वजह है फेस्टिव सीजन का आना। दिवाली के करीब सोना हमेशा चमकता है, लेकिन कोरोना की वजह से इस बार लोगों को आर्थिक तंगी झेलनी पड़ रही है, जिसका सीधा असर सोने की मांग पर पड़ा है। मुंबई के एक गोल्ड डीलर का कहा है कि इस बार फेस्टिव सीजन के दौरान भी कीमतें कम ही रहने का अनुमान है, क्योंकि कीमतें काफी बढ़ चुकी हैं।
 गिरावट के साथ खुली चांदी में फिर आई तेजी, सोने में लगातार तीसरे दिन भी तेजी

गिरावट के साथ खुली चांदी में फिर आई तेजी, सोने में लगातार तीसरे दिन भी तेजी

नईदिल्ली। आज सोना तेजी के साथ खुला लेकिन चांदी 53 रुपये की मामूली गिरावट के साथ खुली। कल शाम को 68,967 रुपये प्रति किलो के स्तर पर बंद हुई चांदी आज सुबह 53 रुपये की गिरावट के साथ 68,914 रुपये प्रति किलो के स्तर पर खुली। शुरुआती कारोबार में ही चांदी ने 69,070 रुपये प्रति किलो का उच्चतम स्तर और 68,852 रुपये प्रति किलो का न्यूनतम स्तर छू लिया। एमसीएक्स पर दिसंबर डिलीवरी वाली चांदी सुबह करीब साढ़े दस बजे 65 रुपये की तेजी के साथ 69032 रुपये प्रति किलो पर ट्रेड कर रही थी।

रुपये में गिरावट तथा सकारात्मक वैश्विक रुख के बीच मंगलवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में चांदी 1,013 रुपये के उछाल के साथ 70,743 रुपये प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई। पिछले कारोबारी सत्र में चांदी 69,730 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुई थी। एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने यह जानकरी दी। पिछले कारोबारी सत्र में सोना 52,597 रुपये प्रति दस ग्राम पर बंद हुआ था।

हाजिर मांग में तेजी के चलते प्रतिभागियों के नए सौदे करने के कारण मंगलवार को वायदा बाजार में चांदी का भाव 392 रुपये बढ़कर 69,357 रुपये प्रति किलोग्राम हो गया। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में दिसंबर में आपूर्ति के लिए चांदी के सौदे 392 रुपये या 0.57 प्रतिशत बढ़कर 69,357 रुपये प्रति किलोग्राम के भाव पर हुए। इसमें 17,224 लॉट के लिए कारोबार हुआ। विश्लेषकों ने कहा कि प्रतिभागियों के नए सौदे करने से चांदी वायदा कीमतों में तेजी रही। वैश्विक स्तर पर न्यूयॉर्क में चांदी 0.60 प्रतिशत बढ़कर 27.52 डॉलर प्रति औंस पर चल रही थी।

आर्थिक सुस्ती, अमेरिका-चीन के बीच तकरार और डॉलर में कमजोरी से सोने और चांदी की तेजी को आगे भी सपोर्ट मिलने के आसार हैं। कमोडिटी विशेषज्ञों की माने तो सोने और चांदी के प्रति निवेशकों को आकर्षण अभी कायम है क्योंकि कोरोना का कहर अभी टला नहीं है और शेयर बजार में अनिश्चितता बनी हुई है। विशेषज्ञ बताते हैं कि महंगी धातुओं के प्रति निवेशकों का आकर्षण कम नहीं हुआ है।

51,769 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बंद हुआ था, जो आज 70 रुपये की बढ़त के साथ 51,839 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर खुला। शुरुआती कारोबार में ही सोने ने 51,880 रुपये प्रति 10 ग्राम का उच्चतम स्तर और 51,7770 रुपये प्रति 10 ग्राम का न्यूनतम स्तर छू लिया। एमसीएक्स पर अक्टूबर डिलीवरी वाला सोना सुबह दस बजे यह 101 रुपये की बढ़त के साथ 51870 रुपये पर ट्रेड कर रहा था।

हाजिर मांग में तेजी के चलते सटोरियों के नए सौदे करने से सोने की कीमत मंगलवार को वायदा बाजार में 323 रुपये बढ़कर 52,010 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गई। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में अक्टूबर डिलीवरी के लिए सोने के अनुबंध 323 रुपये या 0.62 प्रतिशत की तेजी के साथ 52,010 रुपये प्रति 10 ग्राम पर हुए। इसमें 11,397 लॉट के लिए कारोबार हुआ। विश्लेषकों ने कहा कि प्रतिभागियों के ताजा सौदों के कारण सोने की कीमतों में तेजी रही। इस बीच न्यूयॉर्क में सोने की कीमत 0.43 प्रतिशत बढ़कर 1,972.20 डॉलर प्रति औंस हो गई।

रुपये में गिरावट तथा सकारात्मक वैश्विक रुख के बीच मंगलवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 422 रुपये की बढ़त के साथ 53,019 रुपये प्रति दस ग्राम पर पहुंच गया। एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने यह जानकरी दी। पिछले कारोबारी सत्र में सोना 52,597 रुपये प्रति दस ग्राम पर बंद हुआ था। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के वरिष्ठ विश्लेषक (जिंस) तपन पटेल ने कहा कि दिल्ली में 24 कैरेट सोने का भाव 422 रुपये चढ़ गया। रुपये में कमजोरी के रुख तथा अंतरराष्ट्रीय बाजारों में तेजी से यहां भी सोने में धारणा मजबूत रही।

क्टूबर-नवंबर के दौरान अमूमन सोने की मांग काफी बढ़ जाती है। इसकी वजह है फेस्टिव सीजन का आना। दिवाली के करीब सोना हमेशा चमकता है, लेकिन कोरोना की वजह से इस बार लोगों को आर्थिक तंगी झेलनी पड़ रही है, जिसका सीधा असर सोने की मांग पर पड़ा है। मुंबई के एक गोल्ड डीलर का कहा है कि इस बार फेस्टिव सीजन के दौरान भी कीमतें कम ही रहने का अनुमान है, क्योंकि कीमतें काफी बढ़ चुकी हैं।
सोने की कीमतों में फिर आया तेजी, चमकी चांदी, देखें पूरी खबर

सोने की कीमतों में फिर आया तेजी, चमकी चांदी, देखें पूरी खबर

रायपुरमंगलवार को सोने और चांदी की कीमतों में तेजी दिखाई दे रही है। एमसीएक्स पर आज शुरुआती कारोबार में सोने का वायदा 0.39 प्रतिशत बढ़कर 51,889 प्रति 10 ग्राम हो गया, जबकि चांदी वायदा 0.65 प्रतिशत बढ़कर 69,410 प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई है।

पढ़ें : चौथी मंजिल से कूदकर व्यापारी ने की आत्महत्या, पढ़े पूरी खबर 

वहीं पिछले सत्र में सोने का वायदा 51,687 रुपये प्रति 10 ग्राम और चांदी वायदा 68,965 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुए थे। सोना पिछले महीने 56,200 की रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गया था। उसके बाद इसमें गिरावट देखने को मिली थी।

पढ़ें : पेट्रोल-डीजल की कीमत में आज फिर हुई कटौती, जाने कीमतों में कितनी हुई कटौती


विदेशी बाजार में मंगलवार को सोने में स्थिरता दिखी। अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व की बैठक से पहले डॉलर में नरमी है। इसका असर सोने पर दिख रहा है। विदेशी बाजार में सोना स्पॉट 1,956.17 डॉलर प्रति औंस पर स्थिर दिखा। सोमवार को इसमें 1 प्रतिशत की तेजी आई थी।

पढ़ें : देह व्यापार : अब प्रदेश के इस जिले में देह व्यापार का हुआ खुलासा, 8 युवक सहित 1 युवती हुई गिरफ्तार, पढ़ें पूरी खबर 


अमेरिकी गोल्ड फ्यूचर 0.1 प्रतिशत चढ़कर 1,966.40 डॉलर प्रति औंस चल रहा था। विदेशी बाजार में चांदी में हल्की नरमी दिखी। यह 0.1 प्रतिशत गिरकर 27.12 प्रति औंस पर कारोबार करती दिखी।