Garuda Purana : मरने से पहले हर व्यक्ति के अंतिम क्षण में मिलता हैं ये 5 संकेत, जानिए क्या कहता है गरुड़ पुराण?

Garuda Purana: गरुड़ पुराण हिन्दू धर्म के प्रसिद्ध धार्मिक ग्रंथों में से एक है. सनातन धर्म के अनुसार गरुड़ पुराण मृत्यु के बाद सद्गति प्रदान करता है. इसलिए किसी भी व्यक्ति की मृत्यु के बाद उसके घर में गरुड़ पुराण सुनने का प्रावधान है. अठारह पुराणों में से गरुड़ महापुराण का अपना एक विशेष महत्व है क्योंकि इसके देव स्वयं विष्णु माने जाते हैं. गरुड़ पुराण में जन्म और मृत्यु की घटनाओं के बारे में विस्तारपूर्वक बताया गया है. इसमें स्वर्ग, नरक, पाप, पुण्य ज्ञान, नीति, नियम और धर्म की बाते हैं. गरुड़ पुराण में व्यक्ति के जीवन से लेकर मृत्यु तक कई अहम पहलुओं के बारे में विस्तार से बताया गया है. सनातन धर्म में गरुड़ पुराण का पाठ किसी व्यक्ति की मृत्यु के बाद किया जाता है.

इस पुराण में व्यक्ति की मृत्यु के बाद उसके पृथ्वीलोक से स्वर्ग लोक तक की यात्रा के बारे में विस्तार से बताया गया है. आइए जानते हैं गरुड़ पुराण के मुताबिक मृत्यु से पहले कौन से 5 संकेत मिलते हैं?

जीवनभर के कर्म आते हैं याद

गरुड़ पुराण के अनुसार जब व्यक्ति की मृत्यु नजदीक होती है तो उसे अपने जीवन में किए गए सभी कर्म याद आने लगते हैं और वह पुरानी बातें करने लगता है. चा चाहते हुए भी व्यक्ति अपने जीवन की बुरी यादों को नहीं रोक पाता. ऐसे समय में व्यक्ति अपने परिवारजनों को अपने अच्छे व बुरे कर्मों के बारे में बताता है और उनसे बात करता है.

दिखने लगता है एक रहस्मयी द्वार

गरुड़ पुराण के अनुसार मृत्यु नजदीक आने पर व्यक्ति को रहस्यमयी द्वार दिखाई देने लगता है और अपने परिवार को बताने लगता है कि उसे कोई द्वार दिख रहा है. इसके अलावा कुछ लोगों को अपने आस-पास आग की लपटें दिखाई देने लगती हैं.

करीब दिखते हैं यमदूत

गरुड़ पुराण के अनुसार जब व्यक्ति की मृत्यु करीब आने लगती है तो उसे कुछ दिन पहले से ही यमराज के दूत अपने पास आते हुए दिखाई देने लगते हैं. उस व्यक्ति को हमेशा अपने पास किसी नकारात्मक शक्ति के होने का अहसास होता है.

हाथ की रेखाएं पड़ जाती हैं हल्की

मौत नजदीक आने पर मनुष्य के हाथ की रेखाएं अचानक से हल्की पड़ने लगती हैं. यहां तक कि गरुड़ पुराण में बताया गया है कि ऐसे समय में कुछ लोगों के हाथ की रेखाएं दिखनी भी बंद हो जाती हैं.

सपने में दिखते हैं पूर्वज

गरुड़ पुराण के मुताबिक मृत्यु से कुछ दिन पहले मनुष्य को सपने में अपने पूर्वज दिखाई देने लगते हैं. कुछ लोगों को सपने में दुखी या रोते हुए पूर्वज भी दिखते हैं. जो कि मृत्यु के करीब होने का संकेत देते हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button