एक लाख के इनामी के साथ छः नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण

एक लाख के इनामी के साथ छः नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण

सुकमा । छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा नक्सलियों के पुनर्वास के लिए कई तरह की योजनाएं संचालित की जा रही है। जिससे प्रभावित होकर नक्सली हथियार छोड़कर अब मुख्यधारा से जुड़ने लगे हैं । छत्तीसगढ़ के नक्‍सल प्रभावित सुकमा जिले में नक्सलियों के खिलाफ पुना नर्कोम जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। जिससे प्रभावित होकर एक लाख का इनामी समेत छह नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया है। पुलिस के मुताबिक नक्सलियों को आत्मसमर्पण के लिए प्रोत्साहित करने में 131 वाहिनी सीआरपीएफ के आसूचना शाखा का विशेष प्रयास रहा है।

 

नक्सली संगठन में सक्रिय छह नक्सलियों क्रमश: सुक्का (मिलिशिया कमांडर एलमागुंडा आरपीसी एक लाख का इनामी है। वहीं मंगा सन्ना, लखमा मिलिशिया सदस्य सदस्य है। इसी तरह नंदा (डीएकेएमएस सदस्य, एलमागुण्डा, कोसा डीएकेएमएस सदस्य ने नक्सल आपरेशन कार्यालय सुकमा में मौली मोहन कुमार, द्वितीय कमान अधिकारी 131 वाहिनी सीआरपीएफ व उत्तम प्रताप सिंह, उप पुलिस अधीक्षक सुकमा के समक्ष बिना हथियार के आत्मसमर्पण किया गया है।

सभी आत्मसमर्पित नक्सली थाना चिंतागुफा क्षेत्रान्तर्गत विभिन्न नक्सली गतिविधियों में सम्मिलित रहे हैं, आत्मसमर्पित नक्सलियों को शासन की पुनर्वास योजना के तहत सहायता राशि व अन्य सुविधाएं दी जाएंगी।