कोरोना अपडेट : छत्तीसगढ़ में जारी है कोरोना से मौत का तांडव, प्रदेश में आज 15 हजार के करीब मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से मिले सर्वाधिक मरीज    |    बंगाल चुनाव: EC की नई गाइडलाइंस जारी, प्रचार का समय कम करने से लेकर आपराधिक मामला दर्ज करने तक का आदेश    |    BIG BREAKING : केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर भी आये कोरोना की चपेट में, सोशल मीडिया में दी जानकारी    |    ICMR कोरोना अपडेट: राज्य में आज शाम तक 12079 कोरोना मरीजो की हुई पुष्टि, अकेले रायपुर से 2921 समेत बाकी इन जिलो से...    |    इस राज्य में सरकार ने लागू किया वीकेंड लॉकडाउन, मास्क नहीं पहनने पर लगेगा बड़ा जुर्माना    |    BIG BREAKING : नहीं होगी ऑक्सीजन की कमी, पीएम केयर्स फंड से अस्पतालों में लगेंगे प्लांट    |    कोरोना की चपेट में सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस शाह का पूरा स्टाफ...    |    कोरोना अपडेट : देश में 24 घंटे में सामने आए 2.16 लाख मामले, 1184 मौतें    |    BIG BREAKING : प्रदेश में कोरोना से मौत ने लगाई शतक, प्रदेश में आज 15 हजार से अधिक नए मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से इतने    |    कोरोना अपडेट: ICMR के मुताबिक आज प्रदेश में शाम तक 11819 मरीज मिले, अकेले रायपुर जिले से 2870 समेत बाकी इन जिलो से    |

बड़ी खबर : शिवांश अग्रवाल किडनैपिंग मामले मे पुलिस महकमे को एक लाख रुपये इनाम देने की घोषणा

बड़ी खबर : शिवांश अग्रवाल किडनैपिंग मामले मे पुलिस महकमे को एक लाख रुपये इनाम देने की घोषणा
Share

रायगढ़ | रायगढ़ पुलिस की जाबाज टीम को सैल्यूट, लोगों में बढ़ा पुलिस के प्रति विश्वास एसपी की विशेष रणनीति हमेशा कामयाबी दिलाती है, कई मामलों में रायगढ़। खरसिया में किडनैप की घटना ने  पूरे जिलेवासियों को दशहत में ला दिया । पुलिस की लिए यह बड़ी चुनोती थी | कम समय मे किडनैपर की मंशा को समझना बहुत ही दुष्कर कार्य था |

पढ़ें : LOCK DOWN : राज्य सरकार ने इस जिले में लगाया 1 हफ्ते का लॉकडाउन, कैबिनेट मंत्री ने की घोषणा

दोनो जाबांज अफसरों के दिशा निर्देश पर पुलिस महकमे ने इस मामले को सुलझाने के लिए टीम वर्क में काम किया यही वजह है 6 घण्टो के अंदर ही बच्चे को आरोपी के चंगुल से छुड़ा कर सकुशल माता पिता के पास पहुंचाया गया । आईजी रतन डांगी बिलासपुर मुख्यालय से  खरसिया सड़क मार्ग से पहुँचे वही पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह भी घटना स्थल पर मौजूद रहे और मामले से जुड़े सभी पहलुओं का बारीकी से अध्यन किया ।

पढ़ें : कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्य सरकार के मंत्री लेडीज टॉयलेट का इस्तेमाल कर निकलते आये नजर, विडियो हुआ वायरल, देखें VIDEO 

अनुभवी टीआई के नेतृत्व में कुल सात टीम बनाई गई अमूमन पुलिस मोबाइल लोकेशन ट्रेस कर पीछा करती है लेकिन दोनों अफसरों ने मोबाइल लोकेशन के अलावा अलग टीम बनाई और उंन्हे अलग दिशाओं में रवाना किया गया क्योकि कई बार आरोपी अलग अलग मोबाइल का उपयोग करते है और जानबूझकर लोकेशन बदलते है ताकि पुलिस जांच को भ्रमित किया जा सके । 

पढ़ें : BIG BREAKING : प्रशासन ने 28 फरवरी तक स्कूल और कॉलेजों को बंद करने का आदेश किया जारी 

किडनैप के बाद  रसोइए ने अपने दोस्त से मोबाइल में चर्चा कर मोबाइल को बंद कर दिया लेकिन पुलिस ने दोस्त के मोबाइल को गूगल मैप से जोड़ते हुए उसका लोकेशन ट्रेस करते हुए समय से झारखंड पहुंच गई और आरोपियों को बच्चे को सकुशल बरामद किया । पुलिस की इस तत्परता से जिले के अग्रवाल समुदाय सहित पूरे जिले वासियो में हर्ष की लहर दौड़ गई । पुलिस की इस कार्य शैली से प्रभावित होकर शहर के प्रतिष्ठित यूथ आईकॉन सुनील लेन्ध्रा ने एक लाख रुपये देने की घोषणा कर पुलिस महकमे की हौसला अफजाई की।  सुनील लेन्ध्रा के इस कदम को सामाजिक संस्थाओं ने प्रसंसनीय बताया। इस घटना से केवल अग्रवाल समाज ही नही बल्कि समाज के लोगों ने पुलिस की इस कामयाबी की प्रशंसा की है। पुलिस के प्रति लोगों में विश्वास बढ़ा है। 

 

 


Share

Leave a Reply