कोरोना अपडेट : छत्तीसगढ़ में जारी है कोरोना से मौत का तांडव, प्रदेश में आज 15 हजार के करीब मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से मिले सर्वाधिक मरीज    |    बंगाल चुनाव: EC की नई गाइडलाइंस जारी, प्रचार का समय कम करने से लेकर आपराधिक मामला दर्ज करने तक का आदेश    |    BIG BREAKING : केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर भी आये कोरोना की चपेट में, सोशल मीडिया में दी जानकारी    |    ICMR कोरोना अपडेट: राज्य में आज शाम तक 12079 कोरोना मरीजो की हुई पुष्टि, अकेले रायपुर से 2921 समेत बाकी इन जिलो से...    |    इस राज्य में सरकार ने लागू किया वीकेंड लॉकडाउन, मास्क नहीं पहनने पर लगेगा बड़ा जुर्माना    |    BIG BREAKING : नहीं होगी ऑक्सीजन की कमी, पीएम केयर्स फंड से अस्पतालों में लगेंगे प्लांट    |    कोरोना की चपेट में सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस शाह का पूरा स्टाफ...    |    कोरोना अपडेट : देश में 24 घंटे में सामने आए 2.16 लाख मामले, 1184 मौतें    |    BIG BREAKING : प्रदेश में कोरोना से मौत ने लगाई शतक, प्रदेश में आज 15 हजार से अधिक नए मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से इतने    |    कोरोना अपडेट: ICMR के मुताबिक आज प्रदेश में शाम तक 11819 मरीज मिले, अकेले रायपुर जिले से 2870 समेत बाकी इन जिलो से    |

शराबबंदी के बजाय शराब से 600 करोड़ रुपए अधिक कमाई की योजना बना अपनी मंशा जाहिर कर दी कांग्रेस सरकार ने - शालिनी राजपूत

शराबबंदी के बजाय शराब से 600 करोड़ रुपए अधिक कमाई की योजना बना अपनी मंशा जाहिर कर दी कांग्रेस सरकार ने - शालिनी राजपूत
Share

रायपुर। महिला मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष शालिनी राजपूत ने कहा कि इस बजट में सरकार ने एक बार फिर महिलाओं से छल किया है। शराबबंदी का वादा करके सत्ता में आई कांग्रेस शराबबंदी की ओर बढ़ने के बजाय शराब के व्यापार में 600 करोड रुपए और अधिक कमाने का लक्ष्य निर्धारित कर रही हैं। पिछले वर्षों में महिलाओं के खिलाफ लगातार अनाचार, अपहरण, और हिंसा की घटनाएं बढ़ी है। परंतु सरकार ने इस पर कोई बात नहीं की है। “गढ़बो नवा छत्तीसगढ़” के नारे लगाने वाली सरकार के क्रियाकलाप से छत्तीसगढ़ अपराध के नए कीर्तिमान की ओर बढ़ रहा है। एक तरफ कांग्रेस सरकार पुलिस कर्मियों को पदक देने की बात कर रही है दूसरी तरफ कांग्रेस के कार्यकर्ता थानों में घुसकर पुलिसकर्मियों को पीट रहे हैं । कांग्रेस के जन घोषणा पत्र में किए वादे के महिला स्व सहायता समूह को कर्जा माफ करने के बाद करने के बजाए बजट में जो व्यवस्थाएं रखी गई है वह उठ के मुंह में जीरा साबित होगा छोड़ा जाएगा। 


Share

Leave a Reply