कोरोना अपडेट 18 मई : छत्तीसगढ़ में बढ़ने लगे कोरोना के मामले, मिले इतने मरीज, देखे जिलेवार आकड़ें...    |    कोरोना अपडेट 17 मई : छत्तीसगढ़ में आज मिले इतने कोरोना संक्रमित मरीज, देखे जिलेवार आकड़ें...    |    कोरोना अपडेट 16 मई : छत्तीसगढ़ में आज मिले इतने कोरोना संक्रमित मरीज , देखे जिलेवार आकड़ें...    |    कोरोना अपडेट 15 मई : प्रदेश में आज 08 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, अब एक्टिव केस हुए इतने    |    कोरोना अपडेट 14 मई : प्रदेश में एक्टिव कोरोना मरीजों की संख्या पहुंची इतनी, आज प्रदेश में इतने नए मरीज की हुई पहचान, देखें आंकड़े    |    कोरोना अपडेट 13 मई : छत्तीसगढ़ में आज मिले इतने कोरोना संक्रमित मरीज , देखे जिलेवार आकड़ें...    |    कोरोना अपडेट 12 मई : प्रदेश के इस जिले में मिलने लगे ज्यादा मरीज, अब एक्टिव मरीज हुए इतने, देखे जिलेवार आकड़ें...    |    कोरोना अपडेट 11 मई : छत्तीसगढ़ में आज मिले इतने कोरोना संक्रमित मरीज , देखे जिलेवार आकड़ें...    |    कोरोना अपडेट 10 मई : छत्तीसगढ़ में आज मिले इतने कोरोना संक्रमित मरीज , देखे जिलेवार आकड़ें...    |    कोरोना अपडेट 09 मई : छत्तीसगढ़ में मिले कोरोना के इतने मरीज, देखे कुल एक्टिव मरीजो की संख्या...    |

BIG BREAKING : राजधानी के इस अस्पताल में 1 माह के बच्चे ने दिया कोरोना को मात, डिस्चार्ज के समय भावुक हुआ हॉस्पिटल स्टाफ

BIG BREAKING : राजधानी के इस अस्पताल में 1 माह के बच्चे ने दिया कोरोना को मात, डिस्चार्ज के समय भावुक हुआ हॉस्पिटल स्टाफ
Share

नई दिल्ली | कोरोना की पहली और दूसरी लहर में जहां वयस्क और बुजुर्ग लोग कोरोना से प्रभावित हुए थे वहीं अब कोविड के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन की वजह से देश में आई तीसरी लहर में नवजात शिशु और कम उम्र के बच्चे भी संक्रमण की चपेट में आ रहे हैं. शनिवार को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से कोरोना संक्रमण का एक भावुक कर देने वाला मामला सामने आया. दरअसल यहां के एक निजी अस्पताल में एक महीने के शिशु ने कोरोना को मात दी और उसे शनिवार को डिस्चार्ज कर दिया गया.

गौरतलब है कि कोरोना की तीसरी लहर में राजधानी दिल्ली में हर दिन हजारों की संख्या में संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं. इस बीच दिल्ली के एक निजी अस्पताल में पिछले सप्ताह एक एक महीने के शिशु को अस्पताल में भर्ती कराया गया था. शिशु को चिड़चिड़ापन और बुखार की शिकायत होने पर माता पिता अस्पताल लाए थे. अस्पताल में जब बच्चे का कोविड टेस्ट किया गया तो वह कोरोना पॉजिटिव पाया गया.

दिल्ली स्थित मूलचंद अस्पताल के नियोनेटोलॉजी और बाल रोग विभाग की डॉक्टर प्रीति चड्ढा ने जानकारी देते हुए कहा कि शिशु को बीते सप्ताह अस्पताल में लाया गया था.बच्चा लगातार रो रहा था हमने उसका तापमान जांचा तो वह सामान्य था. बच्चा खाना भी नहीं खा पा रहा था. बाद में हमने उसे एंटीबायोटिक देना शुरू कर दिया था. उन्होंने बताया कि हमने एक बार फिर से उसका टेस्ट किया तो वह कोरोना पॉजिटिव पाया गया.

डॉ. चड्डा के अनुसार बच्चे को एनएसयूआई में भर्ती करा दिया. इसके 48 घंटे बाद बच्चे में सुधार आने लगा और वह पहले की अपेक्षा शांत भी था. उन्होंने कहा कि बच्चे के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद हमने ऐहतियात के तौर पर उसके माता पिता का कोरोना टेस्ट किया तो वह भी कोरोना से संक्रमित निकले.

डॉक्टर ने बताया कि जब बच्चे को अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया तो अस्ताल के डॉक्टर और कर्मचारी इतने ज्यादा भावुक हो गए थे उस बच्चे को लेकर की उसके जाने पर वह खुद को रोक नहीं सके और लोगों की आंखे नम हो गईं थी. उन्होंने बताया कि कोरोना के इस दौर में इस समय पिछले 15 दिन से हर दिन इस प्रकार के 2 से 3 बच्चों के मामले सामने आ रहे हैं और हम उन्हें आइसोलेशन में इलाज की सलाह दे रहे हैं.


Share

Leave a Reply