कोरोना अपडेट : छत्तीसगढ़ में जारी है कोरोना से मौत का तांडव, प्रदेश में आज 15 हजार के करीब मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से मिले सर्वाधिक मरीज    |    बंगाल चुनाव: EC की नई गाइडलाइंस जारी, प्रचार का समय कम करने से लेकर आपराधिक मामला दर्ज करने तक का आदेश    |    BIG BREAKING : केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर भी आये कोरोना की चपेट में, सोशल मीडिया में दी जानकारी    |    ICMR कोरोना अपडेट: राज्य में आज शाम तक 12079 कोरोना मरीजो की हुई पुष्टि, अकेले रायपुर से 2921 समेत बाकी इन जिलो से...    |    इस राज्य में सरकार ने लागू किया वीकेंड लॉकडाउन, मास्क नहीं पहनने पर लगेगा बड़ा जुर्माना    |    BIG BREAKING : नहीं होगी ऑक्सीजन की कमी, पीएम केयर्स फंड से अस्पतालों में लगेंगे प्लांट    |    कोरोना की चपेट में सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस शाह का पूरा स्टाफ...    |    कोरोना अपडेट : देश में 24 घंटे में सामने आए 2.16 लाख मामले, 1184 मौतें    |    BIG BREAKING : प्रदेश में कोरोना से मौत ने लगाई शतक, प्रदेश में आज 15 हजार से अधिक नए मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से इतने    |    कोरोना अपडेट: ICMR के मुताबिक आज प्रदेश में शाम तक 11819 मरीज मिले, अकेले रायपुर जिले से 2870 समेत बाकी इन जिलो से    |

पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की महंगी दाम से त्रस्त महिलाओं को अब प्याज भी रूलाने लगी: वंदना राजपूत

पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की महंगी दाम से त्रस्त महिलाओं को अब प्याज भी रूलाने लगी: वंदना राजपूत
Share

रायपुर। केन्द्र सरकार की गलती की सजा महिलाएं भुगत रही है। छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रवक्ता वंदना राजपूत ने मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुये कहा कि महंगाई नियंत्रण में करने में असफल मोदी सरकार को महिलाओं से माफी मांगे एवं तुरंत इस्तीफ़ा देना चाहिये। केन्द्र की भाजपा सरकार में महंगाई कम करने की क्षमता नहीं। पहले से ही पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस में दाम में आग लगी है, ऊपर से केंद्र सरकार रोज-रोज कीमतें बढ़ा-बढ़ाकर इस आग में पेट्रोल, डीजल छिड़क रही है। महंगाई से महिलाएं त्रस्त है और अब प्याज 60-70 रूपये प्रति किलो, खाद्य तेल 200 रुपये लीटर से पार हो गया है। दाल, बेसन जैसे अनगिनत आवश्यक  वस्तुओं के बढ़ती दामों ने महिलाओं के घर का पूरा बजट ही बिगाड़ दिया है। घर के रसोई गैस से लेकर दाल, बेसन, फल्ली तेल इत्यादि गायब। प्रदेश प्रवक्ता वंदना राजपूत ने कहा कि मोदीजी  ने सात साल में देश के अर्थव्यवस्था को बिगाड़ दिया। मोदी जी, महिलाएं समझ गई है कि महंगाई को काबू में करना आपके बस की बात नही है। बढ़ती महंगाई को नियंत्रण करने के लिये कोई भी कारागार कदम नहीं उठाये तो महंगाई को तो आप सात जन्म में भी कम नहीं कर पाओगे। राज्यसभा सांसद सरोज पांडे जी एवं अन्य भाजपा नेत्रियों को वास्तविकता में महिलाओं की फिक्र है तो बेलगाम महंगाई पर जुबान बंद क्यों? 15 साल तक दमनकारी सरकार में अनगिनत महिलाओं पर हुए अत्याचार, बलात्कार, अनाचार पर भाजपा महिलाओं पर दबाव था इसलिये  बोल नहीं पाई।भूपेश बघेल सरकार ने दो वर्षों में छत्तीसगढ़ में बहुमुखी विकास व महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा दिया। छत्तीसगढ़ में महिला सशक्तिकरण मिसाल बना रही है इसलिये भाजपा नेत्रियां निर्भय होकर अपनी बात रख रही है। भाजपा नेत्रियां चाह रही है कि आने वाले चुनाव में छत्तीसगढ़ की तरह  केन्द्र में भी यूपीए की सरकार काबिज हो ताकि महिलाओं के मुद्दों पर बोल  सके। भाजपा में महिलाओं की आवाज़ को दबाया जाता है। बेलगाम महंगाई को नियंत्रण व कम करने में असफल मोदी सरकार में थोड़ी बहुत भी लज्जा बाकी है तो तुरंत इस्तीफ़ा दे।


Share

Leave a Reply