BIG BREAKING : राजधानी रायपुर में फिर हुआ कोरोना विस्फोट, आज प्रदेश में इतने नए मरीजों की हुई पहचान    |    कोरोना वैक्सीन के सर्टिफिकेट से पीएम मोदी की फोटो हटाने चुनाव आयोग ने दिया स्वास्थ्य मंत्रालय को निर्देश, पढ़े पूरी खबर    |    बड़ी खबर: इस भाजपा सांसद की बिगड़ी तबियत, अस्पताल में कराया जा रहा है भर्ती    |    डरा धमकाकर विवाहिता से दुष्कर्म, आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज    |    ईवेंट मैनेजर को होटल में बंधक बनाकर की छेड़छाड़, मामला दर्ज    |    बीजेपी विधायक के जन्मदिन की पार्टी में गोली चलने से दो की मौत    |    रेल यात्रियों के लिए अच्छी खबर: जाने क्या है डिजिटल इंडिया की तरफ रेलवे का नया कदम    |    बड़ी खबर: विदाई के दौरान इतना रोई दुल्हन कि पड़ा दिल का दौरा, मातम में तब्दील हुआ खुशी का माहौल    |    एक्ट्रेस तापसी पन्नू और अनुराग के घर छापेमारी के बाद आयकर विभाग का बड़ा बयान: कहा- करोड़ों की हेरफेरी    |    कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज फिर बढे कोरोना के मरीज राजधानी में 100 के करीब समेत इन जिलो से मिले इतने    |

रावतपुरा यूनिवर्सिटी का साइबर अपराध जागरूकता पर एक दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन

रावतपुरा यूनिवर्सिटी का साइबर अपराध जागरूकता पर एक दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन
Share

रायपुर | रावतपुरा सरकार यूनिवर्सिटी के कंप्यूटर साइंस विभाग ने साइबर अपराध जागरूकता विषय पर एक दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन किया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में आर के विज विशेष पुलिस महानिदेशक, छत्तीसगढ़ उपस्थित हुए। अति विशिष्ट अतिथि के रूप में सोनाली गुहा, साइबर फ़ोरेंसिक विशेषज्ञ, विशिष्ट अतिथि यूनिवर्सिटी के प्रति-कुलाधिपति राजीव माथुर उपस्थित रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता कुलपति प्रो.डॉ. राजेश कुमार पाठक ने किया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि  आर के विज ने कहा कि साइबर अपराध विभिन्न रूपों में किये जाते हैं। कुछ साल पहले, इंटरनेट के माध्यम से होने वाले अपराधों के बारे में जागरूकता का अभाव था। साइबर अपराधों के मामलों में भारत भी उन देशों से पीछे नहीं है, जहाँ साइबर अपराधों की घटनाओं की दर भी दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। साइबर अपराध के मामलों में एक साइबर अपराधी, किसी उपकरण का उपयोग, उपयोगकर्ता की व्यक्तिगत जानकारी, गोपनीय व्यावसायिक जानकारी, सरकारी जानकारी या किसी डिवाइस को अक्षम करने के लिये कर सकता है। कार्यशाला में अतिथियों द्वारा प्राध्यापकों एवं विद्यार्थियों के साइबर अपराध से जुडी आशंकाओं का प्रश्नोत्तर के माध्यम से समाधान किया गया। उक्त कार्यशाला के संयोजक कंप्यूटर साइंस विभाग के विभागाध्यक्ष कोमल यादव थे। कार्यक्रम का संचालन कला संकाय की अधिष्ठाता प्रो. शोभना झा द्वारा किया गया। आभार प्रदर्शन विज्ञान संकाय के अधिष्ठाता डॉ. आर पी रजवाड़े द्वारा किया गया। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलसचिव वरुण गंजीर सहित अधिकारियों-कर्मचारियों एवं विद्यार्थियों की गरिमामयी उपस्थिति रही।

 

 

Share

Leave a Reply