प्रदेश में आज मिले 1273 कोरोना संक्रमित, रायपुर से सर्वाधिक मरीजो के साथ इन जिलो से मिले इतने ..    |    कारोबारी के यहां छापे से अधिकारियों के उड़े होश, इतने बड़े पैमाने पर कालेधन का खुलासा    |    लव जिहाद: उर्दू-अरबी न सीखने पर पति करता था पिटाई, पुलिस ने पति को किया गिरफ्तार    |    बड़ी खबर: मजहब छिपाकर की शादी, प्रेमी और उसके परिवार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज    |    बड़ी खबर: दर्ज हुआ शादी के लिए जबरन धर्म परिवर्तन कराने का पहला मामला, जारी हुआ आरोपी की गिरफ्तारी का फरमान    |    मन की बात में पीएम मोदी ने उदाहरण देकर किसानों को बताए नए कानूनों के फायदे, पढ़े पूरी खबर    |    बड़ी खबर: पिता ने पुत्र को मारी गोली, उपचार के दौरान बेटे की हुई मौत    |    बड़ी खबर: EOW ने 5 लाख रुपया रिश्वत लेते नगर निगम के सिटी प्लानर को किया गिरफ्तार    |    बड़ी खबर: माचिस न देने पर 2 युवकों ने पीट-पीटकर युवक को उतारा मौत के घाट    |    ओवैसी के क्षेत्र में गरजे योगी: कहा- हैदराबाद का नाम बदलकर फिर से होगा भाग्यनगर    |

सौरभ गांगुली को एक और बड़ी जिम्मेदारी, एटीके-मोहन बागान के निदेशक नामित

सौरभ गांगुली को एक और बड़ी जिम्मेदारी, एटीके-मोहन बागान के निदेशक नामित
Share

कोलकाता। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) अध्यक्ष सौरभ गांगुली को एटीके और मोहन बागान को विलय कर बनी इंडियन सुपर लीग की नयी टीम का एक निदेशक नामित किया गया है। मोहन बागान क्लब में 80 प्रतिशत की हिस्सा हासिल करने वाले चेयरमैन संजीव गोयनका के नेतृत्व में 10 जुलाई को बोर्ड की बैठक होगी जिसमें क्लब के नाम, जर्सी और लोगो (प्रतीक चिन्ह) को अंतिम रूप दिया जाएगा।

टीम के सह-मालिक और एक निदेशक उत्सव पारेख ने बताया कि गांगुली टीम के सह-मालिकों में से एक हैं और निदेशक बनने के शत प्रतिशत पात्र हैं। हम टीम का नाम, जर्सी और लोगो को अंतिम रूप देने के लिए पहली बार 10 जुलाई को मिलेंगे।

पिछले महीने कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय के साथ पंजीकरण के समय, एटीके-मोहन बागान प्राइवेट लिमिटेड ने पांच सदस्यों का नाम दिया था जिसमें एटीके के सह-मालिक उत्सव पारेख, मोहन बागान के श्रीनॉय बोस एवं देबाशीष दत्ता और दो अन्य सदस्यों गौतम रे और संजीव मेहरा का नाम था। 

पारेख ने रविवार को कहा, यह केवल औपचारिकता थी जो आधिकारिक तौर पर उद्यम शुरू करने के लिए एक कागजी कार्रवाई है। हमने उस समय गोयनका (टीम के प्रमुख मालिक) को भी बोर्ड का हिस्सा नहीं बनाया था। हमने अब गोयनका और गांगुली को इसमें शामिल किया है। इस विलय से पहले, एटीके ने तीन बार आईएसएल खिताब जीता था जबकि मोहन बागान ने दो बार आई-लीग चैंपियन रही है।

Share

Leave a Reply