अच्छी खबर : सितंबर से देश में ही होगा स्पूतनिक-वी का उत्पादन...    |    कोरोना अपडेट : 24 घंटे में 41 हजार नए मामले, 541 लोगों की मौत    |    बड़ी खबर : इस BJP सांसद को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जाने क्या है मामला...    |    CG कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज रायपुर में मिले सर्वाधिक मरीज, 203 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, देखें जिलेवार आंकड़े    |    आईसीएमआर अपडेट : आज शाम तक मिले इतने कोरोना पॉजिटिव, देखे जिलेवार आकड़े    |    बड़ी खबर : जेल में बैरक की दीवार ढही, 22 कैदी गंभीर रूप से घायल    |    CG कोरोना अपडेट : प्रदेश में आज एक्टिव मरीजो की संख्या हुई 2 हजार से कम, 243 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, देखें जिलेवार आंकड़े    |    बड़ी खबर: पान मसाला कंपनी पर आयकर का शिकंजा, 400 करोड़ रुपए के काले कारोबार का हुआ खुलासा    |    आईसीएमआर अपडेट : आज शाम तक मिले इतने कोरोना पॉजिटिव, आकडों में आज रायपुर से मिले सर्वाधिक    |    जज की संदिग्ध मौत पर सुप्रीम कोर्ट ने लिया संज्ञान, सरकार से एक हफ्ते में मांगा जवाब    |

कोरोना के बाद अब हो रही है ये अजीब बीमारी, इस तरह रखें अपना ख्याल

कोरोना के बाद अब हो रही है ये अजीब बीमारी, इस तरह रखें अपना ख्याल
Share

पूरी दुनिया में लोग कोरोना वायरस से परेशान हैं. भारत में भले ही कोरोना के केसों में कमी आ रही हो लेकिन कोरोना की तीसरी लहर को लेकर लोगों के मन में डर है. जिस तरह से कोरोना की दूसरी लहर ने लोगों को प्रभावित किया है लोगों को मन में अब इस बीमारी को लेकर दहशत है. कोरोना में बहुत सारे लोगों ने अपनों को खोया है. हालांकि, काफी लोग कोरोना वायरस को मात देकर घर भी लौटे हैं. लेकिन जो लोग ठीक हुए हैं उनमें कई तरह की मानसिक परेशानियां देखने को मिल रही हैं. कई रिपोर्ट्स और सर्वे में इस बात खुलासा हुआ है कि कोरोना संक्रमित मरीजों को याददाश्त से जुड़ी परेशानी हो रही है. कोरोना दिमाग पर अटैक कर रहा है. जो लोग कोरोना से रिकवर हुए हैं उनमें से बहुत सारे लोग दिमागी गफलत से जूझ रहे हैं. इनमें ज्यादातर बुजुर्ग लोग हैं, जो गंभीर संक्रमण की वजह से आईसीयू में एडमिट रहे हैं. जानते हैं कोराना के बाद क्यों हो रही है याददाश्त से जड़ी परेशानी और इससे कैसे बचा जा सकता है.


कोरोना के बाद याददाश्त संबंधी दिक्कत?
डॉक्टर्स का मानना है कि सार्स-कोव-2 वायरस फेफड़ों पर हमला करता है, जिससे शरीर में भरपूर मात्रा में ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाता और ऑक्सीजन की कमी हो जाती है. ऑक्सीजन की कमी होने पर मरीज के मस्तिष्क में भी ऑक्सीजन का प्रवाह कम हो जाता है. ऐसी स्थिति में याददाश्त भी प्रभावित होती है. एक्सपर्ट्स का कहना है कि कोरोना की रिपोर्ट नेगेटिव आने के करीब 1 महीने बाद तक याददाश्त से जुड़ी दिक्कतें सामने आ रही हैं.


याददाश्त से जुड़ी समस्या होने पर इन बातों का ध्यान रखें
1- योग और अध्यात्म के लिए समय निकालें और ध्यान करें.
2- रात में समय पर सोने की कोशिश करें और 8 से 9 घंटे की नींद जरूर लें.
3- आपको नकारात्मक बातों से दूर रहना है. साथ ही डर और अफवाह फैलाने वाले लोगों से भी दूरी बना कर रखें.
4- ऐसी डाइट लें जिसमें प्रोटीन, मिनरल, विटामिन और पौष्टिक तत्व शामिल हों.
5-सिगरेट और शराब से दूरी बना कर रखें. इनका सेवन न करें तो बेहतर होगा.
6- अपनी पसंद के काम करें और खुश रहने की कोशिश करें
7- तनाव को दूर करने की कोशिश करें.
8- अपना पसंदीदा म्यूजिक सुनें और किताब पढ़ें.


Disclaimer:
इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों व दावों की Just36News पुष्टि नहीं करता है. इनको केवल सुझाव के रूप में लें. इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट पर अमल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें.

 


Share

Leave a Reply