कोरोना अपडेट 29 नवम्बर: प्रदेश में आज रायगढ़ और रायपुर में मिले सर्वाधिक मरीज, 21 जिलो में नहीं मिले कोई मरीज, देखें जिलेवार आंकड़े    |    BREAKING NEWS: हंगामे के बीच कृषि कानून वापसी बिल पारित    |    कोरोना अपडेट 28 नवम्बर: प्रदेश में आज कम टेस्ट के बावजूद ज्यादा मिले मरीज, दुर्ग और रायपुर में मिले सर्वाधिक मरीज, देखें जिलेवार आंकड़े    |    BIG NEWS: मस्जिद में कृष्ण की मूर्ति स्थापित करने की महासभा की धमकी के बाद मथुरा में धारा 144 लागू    |    टिकैत ने फिर दी धमकी: दिमाग ठीक कर ले भारत सरकार, नहीं तो 26 जनवरी दूर नहीं…    |    कोरोना अपडेट 27 नवम्बर: प्रदेश का ये जिला बना हुआ है कोरोना का हॉटस्पॉट, आज मिले इतने मरीज, देखें जिलेवार आंकड़े    |    मौसम अलर्ट: इन राज्यों में हो सकती है भारी बारिश, मौसम विभाग ने जारी किया रेड अलर्ट    |    कोरोना अपडेट 26 नवम्बर: प्रदेश में आज मिले इतने मरीज, रायगढ़, रायपुर और जशपुर में लगातार बढ़ रहे है मरीज, देखें जिलेवार आंकड़े    |    बड़ी खबर: कोरोना के नए स्ट्रेन के चलते छह अफ्रीकी देशों से विमान सेवा हुई रद्द    |    26/11 Mumbai Attack की 13वीं बरसी पर राजनेताओं ने शहीदों को दी श्रद्धांजलि    |

कैप्टन ने किया नई पार्टी बनाने का ऐलान तो सिद्धू ने साधा निशाना, कहा...

कैप्टन ने किया नई पार्टी बनाने का ऐलान तो सिद्धू ने साधा निशाना, कहा...
Share

चंडीगढ़: कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बुधवार को ऐलान किया कि वह एक नयी पार्टी बना रहे हैं और इसके नाम और चुनाव चिह्न को निर्वाचन आयोग की मंजूरी मिल जाने पर वह इसकी घोषणा करेंगे। कैप्टन की इस घोषणा पर पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने निशाना साधते हुए उन्हें `जयचंद` कहा।

दरअसल मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि अमरिंदर सिंह भाजपा में शामिल हो सकते हैं। वहीं अमित शाह से मुलाकातों के दौर ने इस कयास को और पुख्ता कर दिया था। लेकिन उन्होंने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में नई पार्टी बनाने की घोषणा कर दी। साथ ही उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस के कई लोग उनसे संपर्क में हैं। वहीं सिद्धू ने पूर्व मुख्यमंत्री को ‘जयचंद’ करार देते हुए कहा कि वह मुख्यमंत्री के तौर पर भाजपा और अकाली दल के साथ मिले हुए थे।

सिद्धू ने अमरिंदर सिंह पर निशाना साधते हुए कहा कि वह ‘फूंके हुए कारतूस’ और राज्य की राजनीति के ‘जयचंद’ हैं। दोनों नेताओं के बीच ट्विटर पर भिडंत देखने को मिली। अमरिंदर सिंह ने कहा कि अगर सिद्धू प्रदेश कांग्रेस को बर्बाद करने पर आमादा हैं तो वह उनके काम को आसान बना रहे हैं।

सिद्धू ने ट्वीट किया, ‘क्या आपको सुशासन के कारण बड़े बेआबरू होकर हटना पड़ा? आपको पंजाब के राजनीतिक इतिहास के जयचंद के रूप में याद किया जाएगा। आप निश्चित तौर पर एक फूंके हुए कारतूस हैं।’ सिद्धू ने सवाल किया, ‘क्या यह तुच्छ बात थी कि आपको जवाबदेह ठहराने के लिए तीन सदस्यीय समिति का गठन किया गया? विधायक आपके खिलाफ क्यों थे? क्योंकि हर कोई जानता था कि आप बादल परिवार से मिले हुए हैं। आप मुझे हराना चाहते हैं। क्या आप पंजाब को जिताना चाहते थे?’ उन्होंने आगे कहा, ‘आप पंजाब के न्याय और विकास को रोकने वाली नकारात्मक शक्ति थे।’

सिद्धू ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री ने पहले भी अपनी पार्टी बनाई थी और चुनाव लड़ने पर उन्हें सिर्फ 856 वोट मिले। इस पर जवाब देते हुए अमरिंदर सिंह ने कहा, ‘सिद्धू, बेवकूफी भरी बातें करना आपकी आदत हो गई है। आप जिन 856 वोटों का मजाक बना रहे हैं वो मुझे खरड़ (क्षेत्र) से नामांकन वापस लेने के बाद मिले थे, क्योंकि मैं समाना से निर्विरोध जीत गया था। इसमें क्या बात है या फिर आपको बात समझ नहीं आती।’ उन्होंने यह भी कहा कि सिद्धू को उन पर हमला करने में समय जाया करने की बजाय अपने काम पर ध्यान देना चाहिए।


Share

Leave a Reply