कोरोना अपडेट: प्रदेश में आज 12665 ने जीती कोरोना से जंग, कुल 6577 नए मरीज मिले 149 मृत्यु भी, देखे जिलेवार आकड़े    |    लॉन्च हुई 2डीजी दवा, कोरोना संक्रमण से जंग में कैसे करेगी मदद? जानिए सब कुछ    |    आईसीएमआर अपडेट : राज्य में मिले 5294 कोरोना पॉजिटिव, 21 जिलों में सौ से अधिक मिले मरीज, देखे जिलेवार आकड़े    |    सेक्स रैकेट : पुलिस ने छापा मारकर देह व्यपार का किया खुलासा, मौके से दो युवक और दो युवती गिरफ्तार    |    दो पक्षों के बीच विवाद में गोली लगने से एक महिला की मौत, तीन अन्य घायल    |    चक्रवाती तूफान तौकते हुआ विनाशकारी, 5 राज्यों में अब तक 11 लोगों की मौत    |    बड़ी खबर: जानिए आखिर किस मामले में सीबीआई ने 4 नेताओं को किया गिरफ्तार    |    ममता बनर्जी के मंत्रियों-नेताओं पर सीबीआई ने कसा शिंकजा, यहां जानें क्या है मामला    |    रक्षा मंत्री व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने लॉन्च की कोरोना की स्वदेशी दवा 2DG    |    कोरोना अपडेट: देश में 24 घंटों में 2 लाख 81 हजार नए मामले आए, 4106 लोगों की हुई मौत    |
कोरोना से निपटने मुख्यमंत्री ने दिया सकारात्मक सन्देश, जानिए क्या कहा

कोरोना से निपटने मुख्यमंत्री ने दिया सकारात्मक सन्देश, जानिए क्या कहा

बलौदाबाजार। मुख्यमंत्री ने जिला मुख्यालय बलौदाबाजार में आज 500 बिस्तर नये कोविड अस्पताल का वर्चुअल शुभारम्भ किया। इसके साथ ही जिले की सरकारी अस्पतालों में कोरोना मरीज़ों के इलाज के लिए बिस्तर की सुविधा बढ़कर 1320 हो गई है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हम बहुत जल्द कामयाब होंगे। आम जनता के सहयोग से जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी आपसी तालमेल के साथ संगठित होकर यह लड़ाई लड़ रहे हैं। उन्होंने कोरोना के समूल नाश होते तक कोविड की गाईडलाईन का आवश्यक रूप से पालन करने की अपील भी की है। रिकार्ड 20 दिन के अल्प समय मे सर्वसुविधायुक्त विशाल अस्पताल तैयार करने के लिए जिला प्रशासन को टीम को बधाई दी। कर्यक्रम की अध्यक्षता स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण एवं जिले के प्रभारी मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने की। उन्होंने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण की गति हमेंऔर तेज़ करनी होगी। पहला टीका लगा चुके लोगों को निर्धारित समय आने पर दूसरा टीका अवश्य लेना चाहिए।
मुख्यमंत्री श्री बघेल ने राजधानी रायपुर स्थित अपने निवास कार्यालय से रिमोट बटन दबाकर जिला मुख्यालय बलौदाबाजार के नई मण्डी परिसर में निर्मित कोविड अस्पताल का औपचारिक शुभारम्भ किया और कोरोना से परेशान हो रहे जिले की जनता को इलाज के लिए 500 बिस्तर की अतिरिक्त सुविधा प्रदान की। कोरोना पीड़ित लोगों का यहां पर मुफ्त में इलाज किया जायेगा। कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने अस्पताल निर्माण की पृष्ठभूमि पर प्रकाश डालते हुये कार्यक्रम में जुड़े सभी अतिथियों का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि इस अस्पताल के तैयार हो जाने से हम मरीज़ों को अपने जिले में ही रखकर इलाज करने में सक्षम हो गए है। जरूरत पड़ने पर आस-पास के जिलों के मरीजों का भी इलाज यहां किया जा सकता है। गौरतलब है कि 500 बिस्तर के इस अस्पताल में 120 बिस्तर में ऑक्सीजन की सुविधा है। 320 बिस्तर कोरोना के सामान्य किस्म के मरीजों के लिए है। 13 डॉक्टरों की टीम यहां दिन-रात तैनात रहेगी। उनके रहने की भी व्यवस्था की गई है। लगभग 150 की संख्या में पैरामेडिकल स्टाफ यहां काम करेगी। मानसिक चिंता और अवसाद की स्थिति से बचाने और उनकी कौन्सिल्लिंग के लिए मनोरोग विशेषज्ञ डॉ राकेश प्रेमी को प्रभारी बनाया गया है। भारी गर्मी को देखते हुए अस्पताल को पूर्णतः वातानुकूलित बनाया गया है। चौबीसों घण्टे यहां एम्बुलेंस तैनात होगी। बहुत अच्छी यहाँ पार्किंग की व्यवस्था है। सम्पूर्ण गतिविधियों की सीसीटीवी के जरिये मॉनिटरिंग की जायेगी। अस्पताल का निर्माण जिले की जनप्रतिनिधियों, औद्योगिक प्रतिष्ठानों, समाजसेवी और दानदाताओं के सहयोग के साथ डीएमएफ की राशि मिलाकर की गई हैं। मुख्यमंत्री ने उदार सहयोग के लिए सभी दानदाताओं को धन्यवाद भी दिया।
ऑनलाइन मोड में वीसी के जरिये आयोजित इस कार्यक्रम में लोकसभा सांसद सुनील सोनी एवं गुहाराम अजगले, राज्यसभा सांसद छाया वर्मा, संसदीय सचिव चन्द्रदेव राय, संसदीय सचिव शकुन्तला साहू, विधायक शिवरतन शर्मा, विधायक प्रमोद शर्मा, कृषक कल्याण परिषद के अध्यक्ष सुरेन्द्र शर्मा, पाठ्यपुस्तक निगम के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी, जिला पंचायत अध्यक्ष राकेश वर्मा, जिला अध्यक्ष हितेन्द्र ठाकुर, जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्रीमती सरिता ठाकुर, नगरपालिका अध्यक्ष चित्तावर जायसवाल, विद्याभूषण शुक्ल, दिनेश यदु, पार्षद रूपेश ठाकुर, चैम्बर ऑफ कामर्स अध्यक्ष जुगल भट्टर, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष विक्रम पटेल, सतीश अग्रवाल, सुनील माहेश्वरी ने शामिल होकर अस्पताल निर्माण को जिले के लिए एक उपलब्धि बताया और इसके बेहतर संचालन के लिए शुभकामनाएं दी। कलेक्टर सुनील कुमार जैन के मार्गदर्शन में अस्पताल को आकार प्रदान करने में एडीएम राजेन्द्र गुप्ता ने दिन-रात एक कर दिया, जिसके कारण इतना बड़ा अस्पताल इतनी कम अवधि में तैयार हो सका। इस अवसर पर जिला पंचायत की सीईओ डॉ फरिहा आलम सिद्धिकी, सीएमएचओ डॉ खेमराज सोनवानी, सिविल सर्जन डॉ अवस्थी, नवनियुक्त कोविड अस्पताल प्रभारी डॉ राकेश प्रेमी,एसडीएम महेश राजपूत, संयुक्त कलेक्टर लवीना पाण्डेय, टेकचन्द अग्रवाल, ईई लोक निर्माण टीसी वर्मा, मण्डी सचिव योगेश अग्रवाल सहित तमाम डॉक्टर एवं पैरामेडिकल स्टाफ उपस्थित थे।
 

लॉकडाउन: रायपुर के बाद अब इस जिले में भी इस तारीख तक बढ़ा, देखे किसे मिली छूट और किस पर लगी पाबंदी

लॉकडाउन: रायपुर के बाद अब इस जिले में भी इस तारीख तक बढ़ा, देखे किसे मिली छूट और किस पर लगी पाबंदी

बलौदाबाजार। जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या में कमी नहीं आई है. संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए अब लॉकडाउन बढ़ाया गया है. अब जिले में 6 से 17 मई तक लॉकडाउन लगाया गया है. इस दौरान कई पाबंदी लगाई गई है. इसके लिए कलेक्टर सुनील कुमार जैन निम्नलिखित आदेश जारी किया है, जो इस प्रकार है-
1. बलौदाबाजार-भाटापारा अंतर्गत संपूर्ण क्षेत्र दिनांक 17.05.2021 प्रातः 06.00 बजे तक पूर्ववत् कंटेनमेंट जोन रहेगा। उपरोक्त दर्शित अवधि में बलौदाबाजार-भाटापारा जिले की सभी सीमाएं पूर्णतः सील रहेगी.
2. उपरोक्त समयावधि में निम्नलिखित गतिविधियां पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगी:-
सभी बाजार एवं साप्ताहिक बाजार, माॅल, सुपर बाजार, मैरिज हाॅल, स्विमिंग पूल, क्लब, सैलून/ ब्यूटी-पार्लर तथा जिम इत्यादि बंद रहेंगे.
सम्पूर्ण जिला अंतर्गत संचालित समस्त शराब दुकानें एवं बार बंद रहेंगे.
सभी धार्मिक सांस्कृतिक, पर्यटन स्थल तथा पार्क इत्यादि उक्त अवधि में आम जनता के लिए पूर्णतः बंद रहेंगे. पर्यटक स्थल जैसे बारनवापारा इत्यादि आम जनता हेतु पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगे.
उपरोक्त अवधि में बलौदाबाजार-भाटापारा जिला अंतर्गत सभी केन्द्रीय/ शासकीय/सार्वजनिक/अर्द्ध-सार्वजनिक कार्यालय आम जनता हेतु बंद रहेंगे किन्तु कार्यालयीन प्रयोजन हेतु 50 प्रतिशत स्टाफ के साथ खुलेंगे. उप पंजीयक कार्यालय टोकन सिस्टम के साथ खुलेंगे. टेलीकाॅम, रेल्वे एवं एयरपोर्ट संचालन व रख-रखाव से जुड़े कार्यालय/वर्कशाॅप, रेक पाईंट पर लोडिंग- अनलोडिंग का कार्य, खाद्य सामग्री के थोक परिवहन, धान मिलिंग हेतु परिवहन की अनुमति पूर्ववत रहेगी.
स्कूल एवं कालेज विद्यार्थियों हेतु बंद रहेंगे. शासन से अनुमति प्राप्त समस्त परीक्षाओं को छोड़कर कोचिंग क्लासेस सहित अन्य समस्त शैक्षणिक गतिविधियां बंद रहेगी.
सभी प्रकार की सभा, जुलूस, सामाजिक, धार्मिक एवं राजनैतिक आयोजन इत्यादि पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगे. किन्तु विवाह कार्यक्रम वर अथवा वधू के निवास-गृह में ही आयोजित करने तथा कोविड-19 प्रोटोकाॅल का कड़ाई से पालन की शर्त के अधीन आयोजन में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 10 निर्धारित की जाती है. इसी प्रकार अंत्येष्टि, दशगात्र इत्यादि मृत्यु संबंधी कार्यक्रम में शामिल होने वाले व्यक्तियों की अधिकतम संख्या 10 निर्धारित की जाती है.
सभी प्रकार की मंडियाॅ बंद रहेगी किन्तु आवश्यक वस्तुओं/माल की आपूर्ति सुनिश्चित करने हेतु गोडाउन/मंडियों में लोडिंग/अन-लोडिंग की अनुमति रात्रि 11.00 बजे से प्रातः 06.00 बजे तक दी जाती है.
सभी पान/सिगरेट ठेला तथा चैपाटी, चाट, समोसा, गुपचुप, फास्ट-फूड इत्यादि के विक्रय हेतु ठेलों का संचालन पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा.
होटलों एवं रेस्टोरेंट्स से केवल स्विगी, जोमेटो इत्यादि ऑनलाईन एप्लीकेशन के माध्यम से होम डिलीवरी की अनुमति दी जाती है किन्तु ग्राहकों के लिए इन-हाउस डाइनिंग तथा टेक-अवे पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा. होम डिलीवरी के लिए होटल एवं रेस्टोरेंट्स से डिलीवरी का समय प्रातः 06.00 बजे से रात्रि 8.00 बजे तक ही रहेगा. भीड़-भाड़ या निर्देशों का उल्लंघन होने पर होटलों एवं रेस्टोरेंट्स को नियमानुसार 30 दिवस हेतु सील करने की कार्यवाही की जावेगी. इस व्यवस्था में संलग्न सभी व्यक्तियों को नियमित अंतराल में कोविड-19 जांच तथा 45 वर्ष से अधिक अवस्था वाले व्यक्तियों को कोविड-19 वैक्सीनेशन कराना आवश्यक होगा. उपरोक्तानुसार होम डिलीवरी के दौरान मास्क धारण करना एवं फिजिकल डिस्टेसिंग का कड़ाई से पालन करना अनिवार्य होगा.
3. लाॅक डाउन के दौरान रविवार को छोड़कर अन्य दिनों में प्रातः 8.00 बजे से अपरान्ह 4.00 बजे तक निम्नलिखित गतिविधियों के संचालन हेतु अनुमति प्रदान की जाती है:-
कृषि क्षेत्र में बीज, उर्वरक, कीटनाशक विक्रय हेतु दुकान/गोडाउन तथा कृषि मशीनरी के विक्रय/मरम्मत हेतु दुकानों को खुलने की अनुमति होगी. उपरोक्त कृषि सामग्री के परिवहन हेतु भी अनुमति रहेगी.
आटा-चक्की के संचालन हेतु अनुमति रहेगी.
गली-मुहल्लों एवं काॅलोनियों में स्थित एकल किराना दुकानें खुल सकेंगी किन्तु स्थापित बाजार, माॅल/सुपर बाजार में स्थित दुकानें नहीं खुलेंगी. फल, सब्जी, अंडा, पोल्ट्री, मटन, मछली एवं किराना सामग्री/ग्राॅसरी की होम डिलीवरी केवल स्ट्रीट वेण्डर्स/ठेले वालों/पिक-अप/मिनी ट्रक/ अन्य उपयुक्त छोटे वाहन के माध्यम से की जा सकेगी. इस हेतु प्रयुक्त वाहन पर बैनर या बड़ा स्टिकर प्रदर्शित करना होगा. आम जनता हेतु दुकान खोले बिना डेली निड्स/प्रोविजन स्टोर्स के आसपास के क्षेत्र में दुकानदार द्वारा स्वयं या डिलीवरी बाॅय के माध्यम से उपरोक्त समयावधि में होम डिलीवरी की जा सकेगी. किसी दुकान में एक समय में 05 से अधिक व्यक्ति होने या भीड़-भाड़ होने पर एपिडेमिक एक्ट 1897 के अधीन चालान/अर्थदण्ड अधिरोपित करने के साथ-साथ दुकान को 30 दिवस हेतु सील करने/ठेले को जब्त करने/अर्थदण्ड या चालान की कार्यवाही की जावेगी.
को-माॅर्बिड/गर्भवती अधिकारियों/कर्मचारियों को एक्टिव ड्यूटी से छूट देते हुए पोस्ट आॅफिस/बैंको को अधिकतम 50 प्रतिशत स्टाफ के साथ उपरोक्त अवधि के दौरान समस्त व्यापारिक लेन-देन, ए.टी.एम. कैश रि-फिलिंग, मेडिकल इक्विपमेंट, मेडिसिन, पेट्रोल/डीजल पंप, एल.पी.जी., पी.डी.एस./केरोसीन वितरक शासकीय उचित मूल्य दूकानदारों संबंधी लेन-देन, उद्योगों के व्यापारिक लेन-देन/श्रमिकों के भुगतान, मेडिकल ऑक्सीजन आपूर्ति/लिक्विड ऑक्सीजन उत्पादक, शासकीय लेन-देन, निविदा, अस्पताल एवं मेडिकल प्रयोजन को छोड़कर आम जनता हेतु किसी प्रकार के सामान्य लेन-देन की अनुमति नहीं होगी। इस हेतु शाखा प्रबंधक संबंधित व्यक्तियों से विधिवत आवेदन प्राप्त कर अभिलेख संधारित करेंगे.
ई-काॅमर्स को छोड़कर अन्य सभी डाक सेवाओं हेतु कोरियर सेवाओं के संचालन की अनुमति होगी.
पंखा, कूलर एवं ए.सी. की दुकानों को आम जनता हेतु खोले बिना केवल होम डिलीवरी के माध्यम से विक्रय की अनुमति होगी. इसी प्रकार कूलर, ए.सी. एवं सैनिटरी फिटिंग की मरम्मत/सुधार कार्य हेतु इलेक्ट्रीशियन एवं प्लंबर इत्यादि को होम सर्विस प्रदान करने हेतु अनुमति होगी.
4. उपरोक्त अवधि में सभी अस्पताल, मेडिकल दुकानें, क्लिनिक एवं पशु- चिकित्सालय को उनके निर्धारित समय में खुलने की अनुमति होगी. मेडिकल दुकान संचालक मरीजों के लिए दवाओं की होम डिलीवरी को प्राथमिकता देंगे.
5. दुग्ध पार्लर व दुग्ध-वितरण तथा न्यूज पेपर हाॅकर द्वारा समाचार पत्रों के वितरण की समयावधि प्रातः 6.00 बजे से प्रातः 8.00 बजे तक एवं संध्या 5.00 बजे से संध्या 6.30 बजे तक ही होगी. साथ ही यह स्पष्ट किया जाता है कि दुग्ध व्यवसाय हेतु कोई भी दुकान/पार्लर नहीं खोले जायेंगे. केवल दुकान/पार्लर के सामने फिजिकल डिस्टेंसिंग एवं मास्क संबंधी निर्देशों का पालन करते हुए उपरोक्त समयावधि में केवल दुग्ध विक्रय की अनुमति होगी.
6. पेट शाॅप/एक्वेरियम को केवल पशुओं को पशुचारा देने हेतु प्रातः 6.00 बजे से प्रातः 10.00 बजे तक शाॅप खोलने की अनुमति होगी.
7. औद्योगिक संस्थानों एवं निर्माण इकाईयों को अपने कैम्पस के भीतर (वदेपजम) मजदूरों को रखकर व अन्य आवश्यक व्यवस्था करते हुए उद्योगों के संचालन व निर्माण कार्यों की अनुमति होगी. लोक निर्माण विभाग, जल संसाधन, वन, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, ग्रामीण यांत्रिकी सेवाएं तथा महात्मा गांधी नरेगा इत्यादि अन्तर्गत श्रमिकों की आवश्यकता वाले सभी ऑन-साईट कार्यों के संचालन हेतु अनुमति रहेगी. अनवरत उत्पादन प्रक्रिया अपनाने वाले जिले में स्थित औद्योगिक संस्थान अथवा फैक्ट्री (जिसमें ब्लास्ट फर्नेश, बायलर आदि हो) सीमेंट, स्टील, शक्कर, फर्टिलाईजर एवं खान( माईन्स) कोरोना संक्रमण विस्तार को दृष्टिगत रखते हुए भारत सरकार, राज्य शासन तथा समय-समय पर अन्य संस्थानों के द्वारा महामारी से सुरक्षा हेतु दिये जा रहे या दिये गये निर्देशों का अक्षरशः पालन करने की शर्ताें पर संचालित रहेंगे.
8. पेट्रोल पंप, गैस एजेंसी एवं मेडिकल दुकानेें पूर्ण समयावधि हेतु खुल सकेंगे किन्तु गैस एजेंसियां टेलीफोनिक या ऑनलाईन आर्डर के माध्यम से ग्राहकों को सिलेण्डरों की होम डिलीवरी को प्राथमिकता देेंगे.
9. प्रत्येक रविवार को पूर्ण लाॅकडाउन रखा जावेगा, जिसके दौरान केवल अस्पताल, क्लिनिक, मेडिकल दुकान, पेट्रोल पंप उपरोक्तानुसार निर्धारित समयावधि में एल.पी.जी., पैट शाॅप, न्यूजपेपर, दुग्ध वितरण तथा वस्तुओं/सेवाओं की होम डिलीवरी के संचालन की ही अनुमति होगी.
10. कोविड संक्रमण के रोकथाम हेतु जिले में समस्त कार्य जैसे कांटेक्ट ट्रेसिंग, एक्टिव सर्विलांस, होम आईसोलेशन, दवाई वितरण आदि पूर्वानुसार चलते रहेंगे. इन कार्य में संलग्न सभी शासकीय कर्मचारियों की उपस्थिति पूर्वानुसार अनिवार्य होगी. कोविड केयर सेंटर से डिस्चार्ज होने वाले मरीजों के परिवहन में संलग्न वाहन पूर्वानुसार संचालित रहेंगे.
11. उपरोक्त अवधि में रेल, बस व हवाई यात्रा हेतु रेल्वे स्टेशन, बस स्टैण्ड व एयरपोर्ट पर आने-जाने वाले यात्रियों को ई-पास की आवश्यकता नहीं होगी. यात्रियों को निवास/स्टेशन तक आने-जाने हेतु उनके पास उपलब्ध यात्रा टिकट ही उनका ई-पास माना जावेगा. अपरिहार्य परिस्थतियों में बलौदाबाजार-भाटापारा जिले से अन्यत्र आने-जाने वाले यात्रियों को ई-पास के माध्यम से पूर्व अनुमति लिया जाना अनिवार्य होगा तथापि प्रतियोगी/अन्य परीक्षाओं में सम्मिलित होने वाले परीक्षार्थीयों हेतु उनका एडमिट कार्ड तथा रेल्वे/टेलीकाॅम/एयरपोर्ट संचालन एवं रख-रखाव कार्य, या हाॅस्पिटल या कोविड-19 ड्यूटी में संलग्न कर्मचारियों/चिकित्सकों की दशा में नियोक्ता द्वारा जारी आई.डी. कार्ड, ई-पास के रूप में मान्य किया जायेगा.
12. कोविड-19 टीकाकरण हेतु पंजीयन, कोविड-19 जांच हेतु, मेडिकल दस्तावेज या आधार कार्ड/विधिमान्य परिचय-पत्र या ऑनलाईन रजिस्ट्रेशन दिखाने पर कोविड-19 टीकाकरण केन्द्र अस्पताल/पैथालाॅजी लैब आने-जाने की अनुमति होगी किन्तु अनावश्यक भ्रमण सख्त प्रतिबंधित रहेगा.
13. आपात स्थिति में यात्रा के दौरान चार पहिया वाहनों में ड्राईवर सहित अधिकतम 02, आॅटो में ड्राईवर सहित अधिकतम 02 एवं दो पहिया वाहन में अधिकतम 02 व्यक्तियों को यात्रा की अनुमति होगी. रेल्वे स्टेशन, एयरपोर्ट, बस स्टैण्ड, हाॅस्पिटल आवागमन हेतु ऑटो/टैक्सी परिचालन की अनुमति रहेगी किन्तु अन्य प्रयोजन हेतु पूर्णतः प्रतिबंध रहेगा. इस निर्देश का उल्लंघन किये जाने पर 15 दिवस हेतु वाहन जप्त करते हुए चालानी व अन्य कानूनी कार्यवाही की जावेगी.
14. मिडिया कर्मी यथासंभव वर्क फ्राम होम द्वारा कार्य संपादित करेंगे. अत्यावश्यक स्थिति में कार्य हेतु बाहर निकलने पर अपना आई-कार्ड साथ रखेंगे तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग एवं मास्क संबंधी निर्देशों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करेंगे.
15. यह आदेश कार्यालय कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, उप पुलिस अधीक्षक (शहरी/ग्रामीण), मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय एवं उनके अधीनस्थ समस्त कार्यालय, अनुविभागीय दण्डाधिकारी, तहसील, थाना एवं पुलिस चैकी पर लागू नही होगा. इसके अतिरिक्त कानून व्यवस्था एवं स्वास्थ्य सेवा से सम्बधित अधिकारी, विद्युत, पेयजल आपूर्ति एवं नगर पालिका सेवायें जिसमें सफाई, सीवरेज एवं कचरे का डिस्पोजल इत्यादि भी शामिल है तथा अग्निशमन सेवाओं के संचालन हेतु संबंधित अधिकारियों/कर्मचारियों को कार्यालय संचालन एवं आवागमन की अनुमति होगी किन्तु इन शासकीय कार्यालयों में उपरोक्त अवधि में आम जनता का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा.
16. राज्य शासन या इस कार्यालय के विशेष आदेश द्वारा अनुमति प्राप्त किसी सेवा के संचालन की अनुमति होगी.
उपरोक्त बिंदुओं को छोड़कर जिले में समस्त गतिविधियां पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगी.
 

जिले के कण्टेन्मेंट ज़ोन में आवश्यक वस्तुओं के इंतज़ाम हेतु नोडल अधिकारी नियुक्त

जिले के कण्टेन्मेंट ज़ोन में आवश्यक वस्तुओं के इंतज़ाम हेतु नोडल अधिकारी नियुक्त

बलौदाबाजारकसडोल अनुविभाग के अंतर्गत कसडोल एवं टुण्ड्रा नगर पंचायत क्षेत्रों में घोषित कण्टेन्मेंट जोन में आवश्यक वस्तुओं की व्यवस्था एवं इसकी मॉनिटरिंग के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किये गए हैं। मेडिकल दवाई दुकान, किराना एवं फल सब्जी दुकान वालों को चिन्हित करके उनका फोन सार्वजनिक करते हुए होम डिलीवरी के जरिये सामान उपलब्ध कराने को कहा गया है। संयुक्त कलेक्टर श्री बजरंग दुबे ने बताया कि कसडोल नगरीय निकाय क्षेत्र में इस कार्य के लिए नगरपालिका अधिकारी अनुराधा राजमणि (69891 89304) और टुण्ड्रा में नगरपालिका अधिकारी हरदयाल रात्रे (98277 51929) को नोडल अधिकारी बनाया गया है। सहायक नोडल अधिकारी के रूप में नायब तहसीलदार श्रीधर पंडा (73896 11559) बीएमओ डॉ सीएस पैकरा (97559 84146) सब इंजीनियर प्रतीक पाण्डेय (88392 37042) सहायक राजस्व निरीक्षक कसडोल सुनील शर्मा (9406009652) कैशियर कसडोलअनूप मिश्रा (7089925721) सहायक राजस्व निरीक्षक टुण्ड्रा विद्या प्रकाश शर्मा,(92855 49732) हेतराम पटेल स रा नि (9977424551) इंद्रजीत सिंह ठाकुर सरानि (9399793154) नियुक्त किये गए हैं।

लॉक डाउन समाचार: अब ये जिला भी हुआ 6 मई की सुबह 6 तक लॉक

लॉक डाउन समाचार: अब ये जिला भी हुआ 6 मई की सुबह 6 तक लॉक

बलौदाबाजार। बलौदाबाजार में भी लॉकडाउन 6 मई तक बढ़ा दिया गया है, जो कि 6 मई को सुबह 6 बजे तक प्रभावी रहेगा, इस दौरान फल, सब्जी विक्रेताओं को सुबह 6 से दोपहर 2 बजे डोर टू डोर जाकर बेचने की अनुमति होगी। कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने आदेश जारी किया है।
घातक होती कोरोना की दूसरी लहर को देखते हुए कलेक्टर ने पूर्व में जारी लाकडाउन के आदेश को विस्तारित करते हुए जरूरी सहूलियतों के साथ जारी कर दिया है। उक्त आदेश तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया गया है। जिला अंतर्गत सभी केंद्रीय, शासकीय, सार्वजनिक, अर्द्धसार्वजनिक व निजी कार्यालय के अलावा समस्त शैक्षणिक गतिविधियां बंद रहेंगी। सभी अस्पताल, मेडिकल दुकानें, क्लीनिक एवं पशु चिकित्सालय को उनके निर्धारित समय में खुलने की अनुमति होगी। मेडिकल दुकान संचालक मरीजों के लिए दवाओं की होम डिलीवरी को प्राथमिकता देंगे।
फल, सब्जी, अंडा, पोल्ट्री, मटन, मछली व किराना सामग्री व ग्रासरी की होम डिलीवरी। केवल स्ट्रीट वेंडर्स, ठेले वाले, पिकअप,मिनी ट्रक अन्य उपयुक्त छोटे वाहन के माध्यम से की जा सकेगी। इसके लिए प्रयुक्त वाहन पर बैनर या बड़ा स्टीकर प्रदर्शित करना होगा।
आम जनता के लिए दुकानें खोले बिना किराना दुकानों के आसपास के क्षेत्र में दुकानदार स्वयं या डिलीवरी ब्वाय के माध्यम से सामान की होम डिलीवरी कर सकते हैं।स्थानीय आनलाइन शाप तथा ई-कामर्स सेवाओं अमेजन, फ्लिपकार्ट आदि से उक्त समयावधि में होम डिलीवरी की जा सकती है।
होटलों व रेस्टोरेंट्स से केवल स्विगी, जोमैटो जैसे आनलाइन एप्लीकेशन के माध्यम होम डिलीवरी की अनुमति रहेगी। ग्राहकों के लिए इन हाउस डाइनिंग तथा टेक-अवे बंद रहेगा। नियमों का पालन नहीं करने पर 30 दिनों के लिए संस्थान को सील कर दिया जाएगा।
 

इस अस्पताल को कोविड मरीजों के इलाज के लिए पूर्व में दी गई अनुमति निरस्त कर दी गई

इस अस्पताल को कोविड मरीजों के इलाज के लिए पूर्व में दी गई अनुमति निरस्त कर दी गई

बलौदाबाजार । जिला मुख्यालय बलौदाबाजार स्थित आनंद अस्पताल को कोविड मरीजों के इलाज के लिए पूर्व में दी गई अनुमति निरस्त कर दी गई है। अस्पताल प्रबंधन अब कोविड के नए मरीजों की भरती कर इलाज नहीं कर पाएगा। लेकिन पूर्व में भर्ती किये गए मरीजों का डिस्चार्ज होते तक पूरा इलाज किया जाएगा। मुख्य चिकित्सा व स्वास्थ्य अधिकारी बलौदाबाजार ने अस्पताल को दी गई अनुमति का निरस्तीकरण आदेश आज जारी किया है। गौरतलब है कि अस्पताल प्रबंधन की ओर से इलाज में आईसीएमआर और राज्य शासन की ओर से कोविड मरीजों के उपचार संबंधी जारी दिशा-निर्देशों का पालन नहीं किया जा रहा था। जिला अधिकारियों की टीम ने अस्पताल का कुछ दिनों पूर्व निरीक्षण कर उन पर जुर्माना भी लगाए थे। बड़ी संख्या में कोविड मरीजों के सामने आने पर आपातकालीन इलाज के लिए आनंद अस्पताल को स्वास्थ्य विभाग की ओर से अनुमति प्रदान की गई थी। 

निर्धारित माप से कम पेट्रोल देने सहित कई अनियमितताओं के आरोप में अग्रवाल पेट्रोल पम्प सील, पढ़ें पूरी खबर

निर्धारित माप से कम पेट्रोल देने सहित कई अनियमितताओं के आरोप में अग्रवाल पेट्रोल पम्प सील, पढ़ें पूरी खबर

बलौदाबाजार । जिला मुख्यालय में स्थित मेसर्स अग्रवाल फ्यूल को पूरा दाम लेने के बाद भी निर्धारित मात्रा से कम पेट्रोल देने सहित कई अनियमितताओं के आरोप में सील कर दिया गया है। कलेक्टर सुनील जैन के निर्देश पर खाद्य विभाग के अफसरों ने आज यह कार्रवाई की है। मेसर्स अग्रवाल फ्यूल संस्था के मालिक के विरुद्ध छात्तीसगढ़ एम.एस.एच. एस डी (अनुज्ञापन एवं नियंत्रण ) आदेश 1980 की विभिन्न धाराओं के उल्लंघन का मामला बनाया गया है। पेट्रोल पंप एचपीसीएल कंपनी द्वारा संचालित है।
अपर कलेक्टर व एडीएम राजेन्द्र गुप्ता ने बताया कि मेसर्स एचपीसीएल कंपनी की ओर से संचालित अग्रवाल फ्यूल के विरुद्ध पिछले कुछ दिनों से कई शिकायतें मिल रही थी। शिकायत के आधार पर खाद्य विभाग की टीम ने छापामार शैली में पेट्रोल पम्प पर दबिश दी और विस्तृत रूप से जांच की। कार्रवाई फ़ूड अफसर चित्रकान्त ध्रुव के नेतृत्व में की गई। खाद्य विभाग की ओर से जिला कलेक्टर को प्रस्तुत प्रतिवेदन के अनुसार पंप मालिक द्वारा बिक्री पंजी संधारित नहीं की गई है। डीजल और पेट्रोल के भूमिगत टैंकों के स्टॉक एवं रजिस्टर में मात्रात्मक रूप से अंतर पाया गया। डीजल डिलीवरी के दोनों नोज़ल पहले से ही बंद बताया गया, जिसकी सूचना विभाग को नहीं दी गई है। पेट्रोल डिलीवरी का भी एक नोजल खराब है, जिसकी सूचना भी आज पर्यंत नहीं दी गई। संस्था की ओर से डिफेक्ट रजिस्टर भी संधारित नहीं किया गया है और डिफेक्टेड उपकरण की शिकायत दर्ज कराने के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई। पेट्रोल के दूसरे नोज़ल पर 5 लीटर की धारिता में 3 बार माप लिया गया। जिसमें क्रमश: 420 मिली, 160 मिली और 140 मिली पेट्रोल कम पाया गया है। मुफ्त हवा उपलब्ध कराने की मशीन भी खराब पाई गई और ग्राहकों के लिए शुद्ध पेयजल का इंतजाम भी नहीं था।
 

सांसद सोनी ने की जिले में कोविड से उत्पन्न ताज़ा हालात की समीक्षा, अस्पताल का किया निरीक्षण

सांसद सोनी ने की जिले में कोविड से उत्पन्न ताज़ा हालात की समीक्षा, अस्पताल का किया निरीक्षण

बलौदाबाजार । लोकसभा सांसद सोनी ने आज यहां जिला कार्यालय में अधिकारियों की बैठक लेकर जिले में कोविड महामारी से उत्पन्न ताज़ा हालात की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि यह मानवता की कठिन परीक्षा का वक्त है। हमें आपसी सहयोग एवं समन्वय के साथ पूरा ध्यान कोरोना पीड़ित लोगों की सेवा में लगाना है। उन्होंने जिला प्रशासन से हालात की जानकारी लेकर संकट से निपटने में हरसंभव सहयोग एवं सहायता का भरोसा दिलाया। सांसद सोनी ने बैठक में एम्बुलैंस की मांग आने पर तत्काल इसकी स्वीकृति प्रदान की और बैठक में ही सांसद निधि से 20 लाख रुपये की स्वीकृति पत्र जिला प्रशासन को सौंप दिया। बैठक के बाद सांसद सोनी नई मण्डी परिसर में तैयार हो रहे कोविड केयर अस्पताल का भी निरीक्षण किया। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टरों और तकनीकी अफसरों के मार्गदर्शन में ही अस्पताल का काम कराने को कहा है। विधायक प्रमोद कुमार शर्मा, नगरपालिका अध्यक्ष चित्तावर जायसवाल, पूर्व विधायक सनम जांगड़े, जिला पंचायत सदस्य नवीन मिश्रा, नगरपालिका परिषद के सभापति संकेत शुक्ला एवं सांसद प्रतिनिधि मणिकांत भी इस अवसर पर उपस्थित थे।
लोकसभा सांसद सोनी ने बैठक में कहा कि कोविड मरीज़ों की इलाज के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर विकसित करने में स्थानीय समाजसेवी एवं औद्योगिक संस्थाओं का अच्छा सहयोग मिल रहा है। उन्होंने ऐसे सभी दानदाताओं के प्रति उदार सहयोग के लिए आभार व्यक्त किया। इससे जरूरत के अनुरूप वेंटीलेटर, ऑक्सीजन बेड आदि सुविधा सुनिश्चित हुआ है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि जिले में फिलहाल जिला अस्पताल में ही केवल 8 वेंटीलेटर सुविधा है। बहुत जल्द 22 और वेंटीलेटर मिलने की संभावना है। वेंटीलेटर संचालन के लिए तकनीकी कर्मचारियों की जरूरत होने पर सांसद ने तत्काल विज्ञापन निकालकर भरती करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर विकराल रूप ले चुकी है। पूरी ताकत झोंकने का समय आ चुका है। अकेले स्वास्थ्य विभाग के जिम्मे की बात नही है। अन्य सरकारी विभागों, समाजसेवी और औद्योगिक संस्थाओं को भी सहयोग के लिए और हाथ बटाना होगा। सांसद सोनी ने कोविड जांच की वर्तमान गति को और बढ़ाए जाने के निर्देश दिए। यह प्रयास हो कि संक्रमित लोग एक बार में छंट जाएं तो इसका संक्रमण दर कम हो जाएगा। उन्होंने ऐसी हालात में पूरी संवेदनशीलता के साथ पुलिस विभाग को भी अपनी भूमिका निभाने के निर्देश दिए। उन्होंने पॉजिटिव पाए गए मरीज़ों को शहरी क्षेत्रों में नगरीय निकायों के जरिये दवाई बंटवाने के निर्देश दिए। ग्रामीण इलाकों में ग्राम पंचायतों का सहयोग लिया जाए। विधायक प्रमोद शर्मा ने कोरोना के वर्तमान फैलाव पर चिंता जाहिर करते हुए जिला प्रशासन को हरसंभव सहयोग का आश्वासन दिया।
सांसद सोनी ने बैठक के बाद नई मण्डी परिसर पहुंचकर प्रस्तावित कोविड केयर हॉस्पिटल का निरीक्षण किया। उन्होंने यहां विकसित की जा रही व्यवस्थाओं और सुविधाओं का जायज़ा लिया। सांसद ने कहा कि वेंटिलेटर और ऑक्सीजन पाइप का मरीज़ के बिस्तर तक पहुंचाने में स्वास्थ्य विभाग के तकनीकी अफसरों का सहयोग लिया जाना चाहिए। उन्होंने केयर सेन्टरों में मरीजों को गुणवत्तापूर्ण भोजन परोसने के निर्देश भी दिए। सीएमएचओ डॉ सोनवानी ने बैठक में बताया कि 14 अप्रैल तक जिले में 3 लाख 43 हज़ार कोविड के नमूने लिए जा चुके हैं। जिनमे 16625 लोग कोरोना पॉजिटिव आए हैं। जिले में 187 लोगों की मौत कोरोना से हुई है। तथा 10696 लोग इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं। अपर कलेक्टर राजेन्द्र गुप्ता ने बैठक में कोविड से निपटने में जिला प्रशासन की अब तक कि रणनीति से अवगत कराया। इस अवसर पर एडिशनल एसपी निवेदिता पाल, जिला पंचायत सीईओ हरिशंकर चौहान, संयुक्त कलेक्टर एवं खाद्य प्रभारी लवीना पांडेय, संयुक्त कलेक्टर एवं स्वास्थ्य विभाग के प्रभारी टेकचन्द अग्रवाल, ईई लोक निर्माण विभाग टीसी वर्मा, ईई पीएचई मरकाम, ईई सीएसईबी राठिया,डीपीएम सृष्टि मिश्रा, एसडीओ विद्युत यांत्रिकी सूर्यवंशी, तहसीलदार गौतम सिंह, मण्डी सचिव योगेश अग्रवाल आदि अधिकारी उपस्थित थे।
 

BIG BREAKING : छत्तीसगढ़ के अब इस जिले में लॉकडाउन का आदेश हुआ जारी, देखें आदेश

BIG BREAKING : छत्तीसगढ़ के अब इस जिले में लॉकडाउन का आदेश हुआ जारी, देखें आदेश

बलौदाबाजार | छत्तीसगढ़ के बलौदाबाजार जिले से एक बड़ी खबर आ रही है | खबर मिली है कि बलौदाबाजार जिले में लॉकडाउन लगा दिया गया है | कोरोना के बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने लॉकडाउन का आदेश जारी किया है |

बता दें कि बलौदाबाजार में 11 अप्रैल की शाम 6 बजे से 21 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक जिले में टोटल लॉकडाउन कर दिया गया है | इस दौरान जिले की सामीएं पूर्ण रूप से सील रहेंगी |
बलौदाबाजार-भाटापारा जिला अंतर्गत संपूर्ण क्षेत्र को 11 अप्रैल की शाम 6 बजे से 21 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है |
देखें विस्तृत आदेश: -

जिले में संक्रमण बहुल 8 क्षेत्र कॉंटेन्मेंट जोन घोषित, जोन में आने-जाने पर लगा प्रतिबंध

जिले में संक्रमण बहुल 8 क्षेत्र कॉंटेन्मेंट जोन घोषित, जोन में आने-जाने पर लगा प्रतिबंध

बलौदाबाजार । जिले में कोरोना संक्रमण बहुल 8 क्षेत्रों को कॉंटेन्मेंट जोन घोषित कर दिया गया है। कलेक्टर व जिला दंडाधिकारी सुनील कुमार जैन ने सम्बंधित एसडीएम की रिपोर्ट पर आज कॉंटेन्मेंट जोन घोषित किये हैं। इनमें बलौदाबाजार विकासखंड के ग्राम गैतरा, पलारी विकासखंड के ग्राम अमेरा, लटेरा, कोसमन्दी, सलोनी, कसडोल विकासखंड के ग्राम बार-नवापारा और कुरकुटी शामिल हैं। इनमें पूरे गांव को कॉंटेन्मेंट जोन नहीं बनाया गया है, बल्कि संक्रमित परिवार और उनके आस-पास के इलाकों को कॉंटेन्मेंट एरिया घोषित किया गया है। इसी प्रकार कसडोल शहर के पारसनगर के संक्रमित एरिया को कॉंटेन्मेंट जोन घोषित किया गया है।
जिला कार्यालय की ओर से जारी आदेश के अनुसार घोषित कॉंटेन्मेंट एरिया में किसी मेडिकल इमरजेंसी और अत्यावश्यक सेवाओं को छोड़ किसी भी व्यक्ति के आने-जाने पर पूर्णत: प्रतिबंध रहेगा। इन क्षेत्रों में एक तरह से लॉकडाउन की स्थिति रहेगी। कॉंटेन्मेंट एरिया में निवास करने वाले लोगों को बिना अनुमति के अपने घर नहीं छोड़ेंगे। घोषित क्षेत्र में स्थित दुकान, कार्यालय और अन्य प्रतिष्ठान आगामी आदेश तक बंद रहेंगे। वाहनों की आवा-जाही पर रोक रहेगी। वाहनों की जरूरत पडऩे पर अलग से अनुमति लेनी पड़ेगी। कॉंटेन्मेंट जोन के प्रभारी अधिकारी संबंधित जनपद पंचायत के सीईओ अथवा नगरीय सीएमओ को सौंपा गया है। क्षेत्र में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति प्रभारी अधिकारियों की ओर से उचित दरों पर की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी नियमानुसार सैंपल जांच और स्वास्थ्य निगरानी करेंगे। पुलिस इन क्षेत्रों की सतत निगरानी करेगी। इसके साथ ही अन्य जरूरी व्यवस्थाओं की पूर्ति के लिए संबंधित अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई है।
 

लॉक डाउन छत्तीसगढ़ : कल से एक सप्ताह के लिए जिले के इस क्षेत्र में लगा टोटल लॉक डाउन, कहीं आपका इलाका तो नहीं

लॉक डाउन छत्तीसगढ़ : कल से एक सप्ताह के लिए जिले के इस क्षेत्र में लगा टोटल लॉक डाउन, कहीं आपका इलाका तो नहीं

बलौदाबाजार | छत्तीसगढ़ के बलौदाबाजार जिले से एक बड़ी खबर आ रही है | खबर है कि  कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए बलौदाबाजार जिला प्रशासन ने पलारी नगर पंचायत में टोटल लॉकडाउन का ऐलान किया है। जानकारी के अनुसार  8 अप्रैल से लॉकडाउन प्रभावी रूप से लागू हो जाएगा, जो अगले 7 दिनों तक लागू रहेगा। 

पढ़ें : लॉक डाउन रायपुर : शुक्रवार से लग रहा है राजधानी रायपुर में लॉक डाउन ?

जानकारी के मिली है कि लॉकडाउन को लेकर नगर पंचायत पलारी के अध्यक्ष और पार्षदों ने बैठक की है । वहीं बैठक में लॉकडाउन को लेकर विचार किया गया। जिसके बाद सभी ने लॉकडाउन पर सहमति जताई। वहीं प्रशासन ने नगर पंचायत पलारी में 7 दिनों का टोटल लॉकडाउन का आदेश जारी किया। लॉकडाउन अवधी में सब्जी, दूध, मेडिकल सेवाएं निश्चित समय तक ही खुली रहेंगी। वहीं अन्य सभी सेवाओं पर पूरी तरह से पाबंदी लगाई हैं।

छत्तीसगढ़: होली मना कर गोवा से लौटे 132 व्यापारियों में 12 कोरोना संक्रमित कई के रिपोर्ट आना बाकी, मचा हड़कंप

छत्तीसगढ़: होली मना कर गोवा से लौटे 132 व्यापारियों में 12 कोरोना संक्रमित कई के रिपोर्ट आना बाकी, मचा हड़कंप

भाटापारा, हाल ही में 132 व्यापारियों का समूह गोवा से होली मनाकर भाटापारा लौटा। नागरिकों ने इसकी शिकायत प्रशासन से की, जिस पर प्रशासन ने तत्काल कार्रवाई करतें हुए सभी को ट्रेसिंग कर सभी का कोविड टेस्टिंग करवाया। टेस्टिंग में 12 लोगों की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है, तथा कुछ कुछ की रिपोर्ट आनी बाकी हैं। भाटापारा एसडीएम इंदिरा देवहारी ने बताया कि सभी दाल एवं पोहा मिल से जुड़े हुए व्यापारी है।
132 में 65 लोगों को बाबा गरीब दास सेवार्थ चिकित्सालय में एंटीजन टेस्ट कराया गया है। जिसमें 12 पॉजीटिव आयें है एवं अन्य 67 लोगों का आरटीपीसीआर टेस्ट पोहा उद्योग भवन में कराया गया है। जिसकी रिपोर्ट आना बाकी है। सभी को कोविड गाइडलाइंस का पालन करतें हुए सभी को होम क्वांरटाइन की सलाह दी गई है। साथ ही एसडीएम देवहारी ने अपील जारी करतें हुए कहा है कि अन्य राज्यों से आने वाला सभी लोग स्वयं प्रेरित होकर टेस्ट कराएं एवं खुद व समाज को संक्रमण से बचाए।
 

बड़ी खबर: छत्तीसगढ़ के एक और विधायक हुए कोरोना संक्रमित, ट्विट कर दी जानकारी

बड़ी खबर: छत्तीसगढ़ के एक और विधायक हुए कोरोना संक्रमित, ट्विट कर दी जानकारी

बलौदाबाजार, जेसीसीजे पार्टी के बलौदाबाजार से विधायक प्रमोद शर्मा को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उन्होंने कहा आज मेरा कोरोना टेस्ट हुआ है. जिसमें मेरा रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आया है। आपमें से जो कोई भी पिछले हफ्ते से अब तक मेरे प्रत्यक्ष संपर्क में आये हो तो कृपया कर विशेष सावधानी बरते अगर कुछ लक्षण दिखाई दें तो अपना टेस्ट भी जरूर करवाएं।
आपको बता दे कि उन्हें खांसी और चेस्ट में पेन था. अस्पताल में भर्ती कराने के बाद उनका सीटी स्कैन किया गया.
 

 छत्तीसगढ़: ट्रैक्टर और ट्रक के बिच जबरदस्त भिड़ंत में ट्रैक्टर चालक की मौत, केबिन में फंसा ट्रक चालक

छत्तीसगढ़: ट्रैक्टर और ट्रक के बिच जबरदस्त भिड़ंत में ट्रैक्टर चालक की मौत, केबिन में फंसा ट्रक चालक

बलौदाबाजार। लवन चौकी के अंतर्गत ग्राम लाहोद और मुंडा के बीच लकडी से भरे ट्रैक्टर और ट्रक की भिड़ंत हो गई। इस दुर्घटना में ट्रैक्टर चालक की मौत हो गई। वहीं ट्रक चालक केबिन में फंस गया था, जिसे पुलिस व ग्रामीणों की मदद से बाहर निकाला गया। उन्हें तत्काल ईलाज के लिए भेजा गया। घायल की स्थिति की गंभीरता को देखते हुए रायपुर रिफर किया गया है।

घटना की सूचना मिलते ही बलौदाबाजार यातायात टीआई, कसडोल टीआई एसडीओपी सहित तहसीलदार मौके पर पहुंचे। स्थिति को नियंत्रित करते हुए घायलों को ईलाज के लिए हास्पिटल भेजा गया।

वही प्रशासन की ओर से मृतक के परिजनों को तत्काल 25 हजार की सहायता राशि प्रदान की गई। लकडी से भरा ट्रेक्टर ग्राम कारी से आ रही थी। इसी बीच हादसा हो गया। फिलहाल स्थिति नियंत्रण मे है। लवन पुलिस मामले की जांच मे जुटी है।
 बड़ी खबर छत्तीसगढ़: उप कृषि संचालक को किया गया निलंबित, सदन में मंत्री ने की घोषणा

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: उप कृषि संचालक को किया गया निलंबित, सदन में मंत्री ने की घोषणा

रायपुर। बलौदाबजार के उप कृषि संचालक को निलंबित कर दिया गया है। कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने सदन में की निलंबन की घोषणा की। 

ध्यानाकर्षण के ज़रिए भाजपा विधायक शिवरतन शर्मा, नारायण चंदेल, रजनीश कुमार ने बलौदा बाजार कृषि कार्यालय में उपसंचालक द्वारा राज्य सरकार की योजनाओं में अनियमितता किए जाने की ओर कृषि मंत्री रविंद्र चौबे का ध्यान आकर्षित किया था। 

विधायक शिवरतन शर्मा ने आरोप लगाते हुए कहा कि, ग़लत हाइब्रिड बीज और चूना पर बग़ैर बिल के भुगतान ले लिया गया। उन्होंने भौतिक सत्यापन किए जाने के साथ उप कृषि संचालक को निलम्बित किए जाने की माँग की। 

मंत्री रविंद्र चौबे के कहा- पूरे मामले की जांच की जाएगी। प्रथम दृष्टि में यदि गड़बड़ी पाई गई है तो उस पर सख्ती से कार्रवाई की जाएगी। 
शिवरतन शर्मा ने उप संचालक को निलंबित कर जांच किए जाने की माँग की जिस पर मंत्री रविंद्र चौबे ने कहा इस प्रकार की शिकायतें आती रहती है इसकी जांच कराई जाएगी। 

भाजपा विधायकों की ओर से उठाए जा रहे सवालों के बीच कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने बलौदबजार के उप कृषि संचालक को निलम्बित किए जाने की घोषणा सदन में की, साथ ही कहा कि इस मामले में कमिश्नर के माध्यम से जाँच कराई जाएगी।
बड़ी खबर छत्तीसगढ़: बाइक सवार को टक्कर मारते हुए खाई में पलटी यात्रियों से भरी बस, बाइक सवार आरक्षक की मौके पर ही मौत

बड़ी खबर छत्तीसगढ़: बाइक सवार को टक्कर मारते हुए खाई में पलटी यात्रियों से भरी बस, बाइक सवार आरक्षक की मौके पर ही मौत

बलौदाबाजार। बलौदाबाजार में गिधौरी थाना क्षेत्र के कटगी गांव के पास तेज रफ्तार यात्री बस पलट गई। बाइक सवार को टक्कर मारते हुए बस खाई में पलट गई है। बस में सवार 12 यात्री घायल हो गए हैं। हादसे में बाइक सवार आरक्षक की मौके पर ही मौत हो गई है। 

बस सवार घायलों को कसडोल स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। दुर्घटनाग्रस्त बस गिधौरी से बलौदाबाजार की ओर जा रही थी, इसी दौरान गिधौरी थाना क्षेत्र के कटगी गांव के पास बाइक सवार आरक्षक को टक्कर मारते हुए बस खाई में गिर गई।
बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : कार्यालय से नदारद 23 कर्मचारियों पर गिरी गाज, एसडीएम ने थमाया नोटिस

बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : कार्यालय से नदारद 23 कर्मचारियों पर गिरी गाज, एसडीएम ने थमाया नोटिस

बलौदाबाजार | बलौदाबाजार जिले से एक बड़ी खबर सामने आई है खबर मिली है कि एसडीएम कसडोल मिथलेश डोण्डे ने आज सुबह जनपद पंचायत कसडोल का औचक निरिक्षण करने पहुंचे । एसडीएम ने आज खुद उपस्थिति पंजी अपने कब्जे में लेकर कर्मचारियों की हाजिरी लगाई । जनपद पंचायत के कुल 43 कर्मियों में से 23 कर्मचारी गैरहाजिर पाये गए । श्री डोण्डे कार्यालय में करीब 15 मिनट तक मौजूद रहकर कर्मचारियों के आगमन पर नजर रखी । तब तक भी कोई कर्मचारी नहीं आए ।

जानकारी के अनुसार उनका अवकाश आवेदन भी दफ्तर में नहीं पाया गया । जबकि विभिन्न कामों को लेकर आफिस पहुंचे जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीणजन इंतजार में इधर-उधर भटक रहे थे । श्री डोण्डे ने कर्मियों की हरकतों पर नाराजगी जाहिर करते हुए तनख्वाह काटने के लिए नोटिस थमाई है । जवाब संतोषप्रद नहीं पाये जाने पर कठोर अनुशासनात्मक कार्रवाई किया जायेगा ।

गौठान निर्माण की आड़ में तोड़े जा रहे मकान, ग्रामीणों ने लगाया सरपंच पर आरोप

गौठान निर्माण की आड़ में तोड़े जा रहे मकान, ग्रामीणों ने लगाया सरपंच पर आरोप

बलौदाबाजार । धाराशिव पंचायत में गौठान निर्माण के आड़ में ग्रामीणों को हटाने का मामला सामने आया है। ग्रामीणों ने आरोप लगाते हुए कहा कि चुनावी रंजिश के कारण सरपंच व पंचायत के प्रतिनिधि गौठान निर्माण की आड़ में बदला लेने की कोशिश कर रहे है। धाराशिव के ग्रामीणों ने मीडिया को बताया कि वे उनके पूर्वज सहित स्वयं इस जगह पर विगत लंबे वर्षों से जीवन यापन कर निवास करते आ रहे है। जिस पर सरपंच और पंचायत के प्रतिनिधि चुनावी रंजिश रख उनके साथ लड़ाई झगड़ा कर रहे है, और उनके मकानों को गौठान निर्माण के आड़ में तोड़ने का प्रयास कर रहे है। ग्रामीणों ने आगे कहा कि गाँव से ही लगे कुछ दूरी पर अनेकों एकड़ जमीन खाली पड़ा है जहाँ गौठान निर्माण करना चाहिए। लेकिन जानबूझकर हम लोगों के मकानों को तोड़ाने का प्रयास कर रहे है जो गलत है। साथ ही साथ ग्रामीणों ने आगे बताया कि गाँव में और कब्जा कर रह रहे है उनको छोड़कर इन्हें ही हटाना ठीक नहीं है। वहीं ग्रामीणों ने मीडिया के माध्यम से खाली जमीन में गौठान निर्माण करने की मांग की है। वहीं दूसरी ओर सरपंच ने खुद पर लगाए आरोप को गलत बताया। जबकि बीडीसी ने पूरे दर्राभांठा में कब्जा कर रहने की बात कही। ऐसे में अब प्रशासन को न्याय संगत निर्णय कर, निर्णय लेने की आवश्यकता है ताकि सभी की समस्या सुलझ सके। 

 

भीषण सड़क हादसा : तेज रफ्तार कार और बाइक में भिड़ंत, दो की मौत, जाने कहाँ की है ये घटना

भीषण सड़क हादसा : तेज रफ्तार कार और बाइक में भिड़ंत, दो की मौत, जाने कहाँ की है ये घटना

बलौदाबाजार | छत्तीसगढ़ के बलौदाबाजार जिले के कसडोल थाना क्षेत्र इलाके में एक तेज रफ्तार कार और मोटरसाइकिल में जबर्दस्त भिड़ंत हो गई है। इस हादसे में दो लोगों की मौत की खबर है। 

पढ़ें : नगर पालिका अध्यक्ष समेत 7 पार्षदों के खिलाफ एफआईआर दर्ज, पढ़ें पूरी खबर 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार हड़हापारा कसडोल के पास यह हादसा हुआ है। कार में सवार लोगों को चोटें आई है जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल दाखिल किया गया है।
 
 
कार सवार में सवार होकर लोग अपने परिवार के साथ रायपुर से जांजगीर जा रहे थे तो वहीं बाइक में सवार युवक रायगढ़ से रायपुर की ओर आ रहे थे तभी यह हादसा हुआ।
 
 
हादसे में बाइक सवार अमीर खान निवासी रायपुर और दूसरा बाइक सवार जालंधर प्रजापति दुर्ग निवासी की मौत हो गई है। हादसे के बाद मौके पर पहुंची पुलिस की टीम कार चालक को हिरासत में ले लिया है और उसके खिलाफ मामला दर्ज किया है। 
नगर पालिका अध्यक्ष समेत 7 पार्षदों के खिलाफ एफआईआर दर्ज, पढ़ें पूरी खबर

नगर पालिका अध्यक्ष समेत 7 पार्षदों के खिलाफ एफआईआर दर्ज, पढ़ें पूरी खबर

बलौदाबाजार | नगर पालिका अध्यक्ष समेत 7 पार्षदों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। नगर पालिका अध्यक्ष चित्तावार जायसवाल के खिलाफ शासकीय कार्य मे बाधा डालने और गाली गलौज करने का आरोप है।

पढ़ें : छत्तीसगढ़ के इस जिले की सड़कें बनी यमराज, औसतन हर दिन हादसे में हो रही मौतें, पढ़ें पूरी खबर

नगर पालिका सीएमओ ने सिटी कोतवाली में एफआईआर  दर्ज कराई है। बता दें कि सीएमओ के खिलाफ पालिका अध्यक्ष और पार्षदों ने मोर्चा खोला था, तानाशाही रवैये और लापरवाही के चलते नगर पालिका में ताला भी जड़ दिया था।

 

 
 बड़ी खबर: नोडल अधिकारी की गठित टीम ने छापे-मार कार्यवाई कर की पांच दुकानों पर चालानी कार्रवाई

बड़ी खबर: नोडल अधिकारी की गठित टीम ने छापे-मार कार्यवाई कर की पांच दुकानों पर चालानी कार्रवाई

बलौदाबाजार। शहर को स्मोक फ्री बनाने के तहत बलौदाबाजार जिला नोडल अधिकारी की गठित टीम के सदस्यों ने कई सार्वजनिक स्थानों, रेस्टोरेंट, पान भंडार, जनरल स्टोर्स में छापामार कार्रवाई की। 

मौके पर कोटपा अधिनियम 2003 की धारा 4 व 6 के उल्लंघन पाए जाने पर 5 संस्थानों पर चालान काटकर जुर्माना किया गया। साथ ही सिगरेट व अन्य तंबाकू उत्पाद अधिनियम 2003 के बारे में जानकारी भी दी गई। सिगरेट व अन्य तंबाकू नियंत्रण अधिनियम 2003 पूरे राज्य में लागू है। इस अधिनियम के अनुसार सार्वजनिक स्थलों पर धूम्रपान पर प्रतिबंध है, जबकि शैक्षणिक संस्थानों के साथ-साथ मंदिर, मस्जिद आदि की 100 मीटर की परिधि में तंबाकू उत्पादों की बिक्री पर भी प्रतिबंध है। परंतु लोगों को उपरोक्त एक्ट के संबंध में व्यापक जानकारी नहीं है, जिसकी वजह से तंबाकू युक्त पदार्थों की बिक्री धड़ल्ले से हो रही है। इसी पर रोक लगाने के उद्देश्य से गुरूवार देर शाम सीएमएचओ डॉ. के.आर. सोनवानी के मार्गदर्शन में जिला समिति ने छापामार कार्यवाई कर पांच दुकानों पर चालानी कार्यवाई की।

मौके पर जुर्माना- जिला तंबाकू नियंत्रण सेल के नोडल एनटीसीपी डॉ. राकेश कुमार, डीपीसी एनसीडी डॉ. सुजाता पांडेय, बीएमओ बिलाईगढ़ डॉ. सुरेश और किशोर ठाकुर और स्थानीय पुलिस की मदद से छापामार कार्यवाई की गई। जिले को स्मोक फ्री बनाने और प्रतिबंधित उप्तादों के संबंध में जनजागरूकता लाने के उद्देश्य से गुरूवार को बिलाईगढ़ ब्लॉक में टीम की ओर से छापामार कार्यवाई हुई। लोगों को कोटपा एक्ट और धूम्रपान संबंधी नियम की जानकारी दी गई। टीम की डॉ. सुजाता और डॉ. राकेश ने बताया एक्ट के तहत 200 रुपए की चालानी कार्यवाई होती है। परंतु क्षेत्र में लोगों को कोटपा कानून की जानकारी नहीं थी इसलिए उन्हें चेतावनी देते हुए कुल 5 दुकानों पर चालानी कार्यवाई की गई।

प्रतिबंधित स्थल और जुर्माना-एक्ट की धारा 4 के अंतर्गत सार्वजनिक स्थल जैसे होटल, रेस्टोरेंट, शैक्षणिक संस्थान, समस्त निजी और सरकारी कार्यालयों पर धूम्रपान करना प्रतिबंधित है। इस अधिनियम के तहत सभी सार्वजनिक स्थलों के प्रभारियों की ओर से धूम्रपान निषेध क्षेत्र वाले बोर्ड लगाना अनिवार्य है। धारा-5 में किसी भी तंबाकू उत्पाद का विज्ञापन दुकान, टीवी, अखबार, रेडियों तथा इंटरनेट और तंबाकू उत्पादों का प्रचार करने पर जुर्माने व कैद का प्रावधान, धारा 6 के तहत शैक्षणिक संस्थानों के 100 गज की परिधि में तंबाकू उत्पाद बेचना अपराध है। इसके अलावा तंबाकू विक्रेताओं की ओर से 18 साल से कम उम्र के व्यक्ति को तंबाकू उत्पाद बेचना दंडनीय अपराध है। धारा-7 में किसी भी तंबाकू उत्पाद को उसके दोनों मुख्य भागों के 85 प्रतिशत हिस्से में बिना चेतावनी खुली सिगरेट बेचने पर प्रतिबंध उल्लंघना करने पर जुर्माने व कैद का प्रावधान है। इसके लिए निर्धारित बोर्ड मापदंडों के अनुसार किया जाना अनिवार्य है।

00 क्या है कोटपा 2003 कानून:- एक्ट की धारा-4 में किसी भी सार्वजनिक स्थल में बीड़ी, सिगरेट, हुक्का तथा सिगार पीने पर प्रतिबंध व उल्लंघना करने पर जुर्माना, धारा-6 ए के मुताबिक नाबालिग को तंबाकू उत्पाद बेचने या उससे बिकवाने पर प्रतिबंध व दुकानों पर चेतावनी बोर्ड लगाना अनिवार्य उल्लंघना करने पर जुर्माना, धारा-6बी में किसी भी शिक्षण संस्थान की बाहरी सीमा के 100 वर्ग गज के दायरे के भीतर तंबाकू उत्पाद बेचने पर प्रतिबंध उल्लंघना करने पर जुर्माना।
 
 बैंक मैनेजर बताकर किसान से 58999 रुपये की ऑनलाईन ठगी, मामला दर्ज

बैंक मैनेजर बताकर किसान से 58999 रुपये की ऑनलाईन ठगी, मामला दर्ज

बलौदाबाजार। बैंक मैनेजर बताकर एटीएम रिनिवल करने के बहाने खाते से 58 हजार 999 रुपये निकाल लेने की रिपोर्ट भाटापारा ग्रामीण थाने में दर्ज की गई है। 

मिली जानकारी के अनुसार ग्राम अर्जुनी बलौदाबाजार निवासी धमेन्द्र आडिल 53 वर्ष ने थाने में शिकायत दर्ज करायी है कि प्रार्थी किसान है 04 जनवरी को पीडि़त के मोबाईल नंबर पर 7004224207 से कॉल कर बैंक ऑफ बडौदा का स्वयं को मैनेजर बताया व एटीएम रिनिवल करने को कहकर एटीएम नंबर मांगा। नंबर देते ही पीडि़त के खाते से 58999 रुपये ट्रांजेक्शन होने का मैसेज पीडि़त मोबाईल आया। जिसके बाद वह कुछ समझ नही पाया व बैंक जाकर पता करने पर खाते से किसी 58 हजार 999 रुपये कट जाने की जानकारी मिली। जिसके बाद घटना की शिकायत 20 जनवरी को थाने में दर्ज करायी है। घटना की रिपोर्ट पर पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ ठगी का मामला दर्ज कर जांच में जुटी है। 
 बड़ी खबर: मवेशियों को ट्रक में भरकर कत्लखाने ले जाते वाहन पकड़ाया, 32 बैल जीवित व 2 बछड़े मिले मृत

बड़ी खबर: मवेशियों को ट्रक में भरकर कत्लखाने ले जाते वाहन पकड़ाया, 32 बैल जीवित व 2 बछड़े मिले मृत

बलौदाबाजार। सड़क किनारे संदिग्ध हालत में खड़ी मिली ट्रक के अंदर 32 नग बैल व 2 मृत बछड़ा मिलने पर ट्रक जब्त कर चालक व ट्रक मालिक की पतासाजी की जा रही है। 

मिली जानकारी के अनुसार मुखबीर की सूचना पर 18 जनवरी को सिमगा पुलिस ने ग्राम लिमतरा में सिमगा बिलासपुर हाईवे मार्ग पर खड़ी ट्रक क्रमांक एमएच 34 बीजी 2001 में अवैध रुप से मवेशियों को भरकर कत्लखाने ले जा रहे चालक को गिरफ्तार कर लिया है। ट्रक के अंदर 32 नग बैल एवं 2 बछड़े मृत अवस्था में ट्रक को कब्जे में लेकर मवेशियों के चारा पानी की व्यवस्था की गई है। पुलिस ने ट्रक चालक व मालिक के खिलाफ अलग-अलग धाराओं में अपराध दर्ज कर जांच में जुटी है। 
 छत्तीसगढ़: चर्च के प्रांगण में मिला मृत पक्षी, लोगों में मचा हड़कंप

छत्तीसगढ़: चर्च के प्रांगण में मिला मृत पक्षी, लोगों में मचा हड़कंप

बिलाईगढ़। नगर पंचायत भटगांव के चर्च के प्रांगण में एक पक्षी मृत अवस्था में मिला। मृत पक्षी के मिलने से आसपास में बर्डफ्लू का भय का माहौल बन गया। बताया जा रहा कि सुबह लगभग 9 बजे के आसपास चर्च के फादर बंशी लाल महिपाल जब बाहर निकला तो देखा कि वही चर्च के प्रांगड़ में एक पक्षी जिसे स्थानीय लोग छछान कहते है, मृत अवस्था मे पड़ा मिला।
बर्डफ्लू के आशंका जताते हुए स्थानीय पुलिस व पशु चिकित्सा विभाग को इनकी सूचना दी गई। मौके पर पशु चिकित्सा विभाग के डॉक्टर वाय के रात्रे पहुंचे और मृत पक्षी की जाँच की। जाँच के बाद डॉ. रात्रे ने बताया कि इस पक्षी की मौत किसी वाइरस से नहीं बल्कि किसी से एक्सीडेंट होने के बाद हुई है। जिसके बाद आसपास के लोगों को राहत मिली।


 
छत्तीसगढ़ी अग्रवाल समाज भाटापारा इकाई का चुनाव संपन्न, जगदीश बने अध्यक्ष निखिल बने सचिव

छत्तीसगढ़ी अग्रवाल समाज भाटापारा इकाई का चुनाव संपन्न, जगदीश बने अध्यक्ष निखिल बने सचिव

भाटापारा, छत्तीसगढ़ी अग्रवाल समाज के भाटापारा इकाई का आज दिनांक 15 जनवरी 2021 को चुनाव कार्यक्रम किया गया, जिसमें अध्यक्ष के रुप में श्री जगदीश अग्रवाल जी अधिवक्ता, उपाध्यक्ष के रूप में श्री राकेश अग्रवाल, जी एवं श्री अजय अग्रवाल जी, सचिव श्री निखिल अग्रवाल, जी सह सचिव सूर्यकांत अग्रवाल एवं कोषाध्यक्ष के रुप में श्री स्वरूप अग्रवाल जी चुने गए.
इसी के साथ साथ छत्तीसगढ़ी अग्रवाल महिला मंडल में अध्यक्षा श्रीमती विंध्यवासिनी अग्रवाल, उपाध्यक्ष श्रीमती ममता अग्रवाल, सचिव श्रीमती शिखा अग्रवाल, सचिव श्रीमती श्रुति अग्रवाल तथा कोषाध्यक्ष श्रीमती कामिनी अग्रवाल चुनी गयी.
वही युवा मंडल का भी चुनाव कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें अध्यक्ष श्री अरुण अग्रवाल, उपाध्यक्ष श्री अमन अग्रवाल, सचिव श्री आयुष अग्रवाल एवं सह सचिव श्री सुशील अग्रवाल का मनोनयन किया गया
आपको बता दे उक्त सभी पदों का निर्वाचन निर्विरोध संपन्न हुआ, निर्वाचन कार्य का क्रियान्वयन संरक्षक श्री सतीश अग्रवाल एवं चुनाव अधिकारी श्री डॉ शारदानंद जी अग्रवाल के कुशल निर्देशन में संपन्न हुआ|
अंत में आभार प्रदर्शन श्री अनिल अग्रवाल निर्वितमान अध्यक्ष के द्वारा किया गया,इस अवसर पर केंद्रीय वरिष्ठ सहसचिव श्री बृजेश अग्रवाल ने निर्वाचित पदाधिकारियों को शुभकामनाएं बधाई प्रेषित की तथा समाज के उत्तरोत्तर उन्नति की कामना की|

 

 बड़ी खबर: कबाड़ी गोदाम में लगी भीषण आग, लाखों का नुकसान

बड़ी खबर: कबाड़ी गोदाम में लगी भीषण आग, लाखों का नुकसान

बलौदाबाजार। जिले के अर्जुनी नगर स्थित एक कबाड़ी गोदाम में बीती रात अचानक आग लग गई। इस घटना में किसी की भी हताहत होने की कोई खबर नहीं है लेकिन आगे नहीं किया घटना इतना जोरदार था कि आसपास के लोग दहशत में है आगजनी का कारण शॉर्ट सर्किट का होना बताया जा रहा है फिलहाल दमकल विभाग की टीम मौके पर पहुंचकर आग बुझाने में जुट गई है। 

 

+ Load More