कोरोना अपडेट : छत्तीसगढ़ में जारी है कोरोना से मौत का तांडव, प्रदेश में आज 15 हजार के करीब मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से मिले सर्वाधिक मरीज    |    बंगाल चुनाव: EC की नई गाइडलाइंस जारी, प्रचार का समय कम करने से लेकर आपराधिक मामला दर्ज करने तक का आदेश    |    BIG BREAKING : केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर भी आये कोरोना की चपेट में, सोशल मीडिया में दी जानकारी    |    ICMR कोरोना अपडेट: राज्य में आज शाम तक 12079 कोरोना मरीजो की हुई पुष्टि, अकेले रायपुर से 2921 समेत बाकी इन जिलो से...    |    इस राज्य में सरकार ने लागू किया वीकेंड लॉकडाउन, मास्क नहीं पहनने पर लगेगा बड़ा जुर्माना    |    BIG BREAKING : नहीं होगी ऑक्सीजन की कमी, पीएम केयर्स फंड से अस्पतालों में लगेंगे प्लांट    |    कोरोना की चपेट में सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस शाह का पूरा स्टाफ...    |    कोरोना अपडेट : देश में 24 घंटे में सामने आए 2.16 लाख मामले, 1184 मौतें    |    BIG BREAKING : प्रदेश में कोरोना से मौत ने लगाई शतक, प्रदेश में आज 15 हजार से अधिक नए मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से इतने    |    कोरोना अपडेट: ICMR के मुताबिक आज प्रदेश में शाम तक 11819 मरीज मिले, अकेले रायपुर जिले से 2870 समेत बाकी इन जिलो से    |
अब यात्री रात में चलती ट्रेन में नहीं कर पाएंगे इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का उपयोग

अब यात्री रात में चलती ट्रेन में नहीं कर पाएंगे इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का उपयोग

नई दिल्ली। रेलवे ने आग की घटना को रोकने के लिए ऐहतियाती कदम के तौर पर यात्रियों को रात 11 बजे से सुबह 5 बजे के बीच ट्रेनों के भीतर मोबाइल चार्जिंग पोर्ट का इस्तेमाल नहीं करने देने का फैसला किया है। यह जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों ने दी। पश्चिम रेलवे ने 16 मार्च को इस अवधि के दौरान इन चार्जिंग पोर्ट की बिजली आपूर्ति रोकना शुरू कर दिया था। पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी (सीपीआरओ) सुमित ठाकुर ने बताया, ``यह रेलवे बोर्ड का सभी रेलवे के लिए निर्देश है। हमने इसे 16 मार्च से लागू करना शुरू कर दिया है।`` दक्षिणी रेलवे के सीपीआरओ बी गुगनेसन ने को बताया कि ये निर्देश नए नहीं हैं, बल्कि इसके जरिये रेलवे बोर्ड के पहले के आदेशों को दोहराया गया है।

2014 में बैंगलोर-हजूर साहिब नांदेड़ एक्सप्रेस में आग लगने की घटना के तुरंत बाद रेलवे सुरक्षा आयुक्त ने सिफारिश की थी कि रात 11 बजे से सुबह 5 बजे के बीच चार्जिंग पोर्ट को बंद कर दिया जाए। रेलवे बोर्ड ने आखिरकार सभी रेल जोन को इस तरह के आदेश जारी किए। गुगनेसन ने कहा, ``आग की हाल की घटनाओं के मद्देनजर, हमने कई कदम उठाये हैं। यह एक एहतियाती उपाय है और इससे पहले भी रेलवे बोर्ड ने इस तरह के आदेश जारी किए थे। इन बिंदुओं के लिए मुख्य स्विचबोर्ड से बिजली 11 बजे से 5 बजे तक बंद कर दी जाएगी।``
 
कोरोना अपडेट : होली के बाद रायपुर में फटा कोरोना बम, आज प्रदेश में 3 हजार से अधिक नए मरीजों की हुई पहचान, 29 मरीजों की मौत

कोरोना अपडेट : होली के बाद रायपुर में फटा कोरोना बम, आज प्रदेश में 3 हजार से अधिक नए मरीजों की हुई पहचान, 29 मरीजों की मौत

रायपुर | छत्तीसगढ़ प्रदेश में आज कुल 3108 नए कोरोना मरीजों की पहचान की गई है | जिसमे जिला दुर्ग से सर्वाधिक 769 मरीज, रायपुर से 728, राजनांदगांव से 245, बालोद से 114, बेमेतरा से 200, कबीरधाम से 51, धमतरी से 78, बलौदा बाजार से 50, महासमुंद से 119, गरियाबंद से 33, बिलासपुर से 163, रायगढ़ से 69, कोरबा से 108, जांजगीर-चांपा से 76, मुंगेली से 29, जीपीएम से 14, सरगुजा से 53, कोरिया से 19, सूरजपुर से 53, बलरामपुर से 10, जशपुर से 36, बस्तर से 27, कोंडागांव से 5, दंतेवाड़ा से 6, सुकमा से 2, कांकेर से 47, नारायणपुर से 2, बीजापुर से 2, अन्य राज्य से 00 मरीज शामिल है । आज प्रदेश में कुल 987 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ्य होने के उपरांत अपने घर लौटे है | राज्य में आज कुल 29 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है | प्रदेश में अब कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 22057 है |

 दर्दनाक हादसा: घर में आग लगने से भाई-बहन समेत छह की जिन्दा जलने से मौत

दर्दनाक हादसा: घर में आग लगने से भाई-बहन समेत छह की जिन्दा जलने से मौत

पटना। बिहार के अररिया जिले में मंगलवार को दर्दनाक हादसा हुआ। यहां भुट्टा पकाते समय उड़ी चिंगारी से एक घर में लगी आग में भाई-बहन समेत छह बच्चे जिंदा जल गए। घटना जिले के पलासी प्रखंड के कबैया गांव में मंगलवार की दोपहर एक बजे की है। 

जानकारी के अनुसार मंगलवार की दोपहर पलासी प्रखंड के कबैया गांव में भाई-बहन समेत छह बच्चे फूस के बने घर में लोगों से छिपकर भुट्टा पका रहे थे। इसी दौरान उड़ी चिंगारी से घर में आग लग गई और बच्चों को घर से निकलने का मौका तक नहीं मिल सका। जब तक बच्चों का शोर सुनकर लोग पहुंचते तब तक वे सभी आग में जिंदा जल गए। घटना में किसी भी बच्चे को बचाया नहीं जा सका। घटना के बाद मौके पर अफरातफरी मच गई। मृतकों में युनुश का 5 वर्षीय बेटे अशरफ और 3 वर्षीय बेटी गुलनाज, मंजूर का 6 वर्षीय बेटा दिलवर, फारूक का 4 वर्षीय बेटा बरकस, मतीन का पांच वर्षीय बेटा अली हसन और तनवीर का 5 वर्षीय बेटा खुसनिहार शामिल है। 
 बड़ी खबर: एम्स में हुई राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की सफल बाइपास सर्जरी

बड़ी खबर: एम्स में हुई राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की सफल बाइपास सर्जरी

नई दिल्ली। दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में मंगलवार को 75 वर्षीय राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की बाइपास सर्जरी सफलता पूर्वक तरीके से संपन्न हो गई। ऑपरेशन के बाद विशेषज्ञ डॉक्टरों द्वारा राष्ट्रपति की स्थिति पर गहनता से नजर रखी जा रही है। राष्ट्रपति की हालत फिलहाल स्थिर बताई जा रही है। जानकारी के अनुसार, राष्ट्रपति कोविंद को शुक्रवार 27 मार्च की सुबह सीने में तकलीफ होने के बाद स्वास्थ्य जांच के लिए सेना के रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल लाया गया था। डॉक्टरों ने उन्हें आगे की जांच के लिए एम्स के लिए रेफर किया था। इसके बाद राष्ट्रपति को 27 मार्च की दोपहर को दिल्ली स्थित एम्स ले जाया गया। जांच करने के बाद डॉक्टरों ने उन्हें बाइपास सर्जरी कराने की सलाह दी थी, जिसके लिए 30 मार्च का समय तय किया गया था। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शुक्रवार को राष्ट्रपति के स्वास्थ्य की जानकारी लेने के लिए सेना के रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल गए थे। 
  बड़ा हादसा: बाइक सवार को बचाने की कोशिश में भिड़े दो ट्रक, बाइक सवार पर जुर्म दर्ज

बड़ा हादसा: बाइक सवार को बचाने की कोशिश में भिड़े दो ट्रक, बाइक सवार पर जुर्म दर्ज

हैदराबाद। हैदराबाद के राजेंद्र नगर इलाके में एक बाइक सवार चालक की लापरवाही के चलते एक बड़ा हादसा हो गया। हादसे में दो लोग घायल है जबकि बाइक चालक पूरी तरह सुरक्षित बच गया। 

हैदाराबाद के राजेंद्र नगर पुलिस स्टेशन इलाके में हिमायतसागर टोल गेट के पास एक बाइक सवार को बचाने की कोशिश में दो ट्रकों की सीधी टक्कर होते-होते बच गई, किस्मत सभी की अच्छी थी कि किसी की भी जान नहीं गई। सीसीटीवी फुटेज के मुताबिक, एक ट्रक पीडीएस (राशन) का चावल लेकर जा रहा था कि तभी गांधीनगर इलाके में एक बाइक सवार सामने से तेजी से आते हुए ट्रक को न देखकर सड़क के दूसरी तरफ जा रहा था।

तेज रफ्तार से आ रहे ट्रक ने बाइक सवार को बचाने की कोशिश में ट्रक को तेजी से विपरीत दिशा वाली सड़क की तरफ मोड़ दिया। उसी समय विपरीत दिशा से दूसरा ट्रक आ रहा था। पहले ट्रक ने उस दूसरे ट्रक को भी आमने-सामने की जबरदस्त टक्कर होने से बचाने की कोशिश की, लेकिन फिर भी वह थोड़ा टक्कर मारते हुए सड़क किनारे जाकर पलट गया, वहीं दूसरी दिशा से आ रहा ट्रक टक्कर के बाद मुड़ गया, जिसमें ड्राइवर थोड़ा घायल हो गया।

ट्रक के पलटने से ड्राइवर और क्लीनर दोनों घायल-
पहले ट्रक के पलट जाने के बाद ड्राइवर और क्लीनर दोनों घायल हो गए, लेकिन अच्छी बात ये हुई कि दोनों ही सुरक्षित हैं। सीसीटीवी फुटेज देख कर बताया जा सकता है कि ये भीषण हादसा बाइक सवार की गलती की वजह से हुआ। अगर पहले ट्रक ड्राइवर ने ट्रक को दूसरी तरफ नहीं मोड़ा होता तो बाइक सवार ट्रक से टकरा जाता और शायद उसे अपनी जान से भी हाथ धोना पड़ता।

बाइक सवार पूरी तरह सुरक्षित है. ट्रक डाइवर ने बाइक सवार को बचाने की कोशिश में अपनी जान जोखिम में डाल दी थी। जब राजेंद्र नगर पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जांच की तो वहां के सीसीटीवी फुटेज को देखकर सभी चौंक गए। घटना के सीसीटीवी कैमरे के फुटेज का इस्तेमाल करते हुए पुलिस ने बाइक सवार के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 337 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।
 
 बड़ी खबर: दुकान में आग लगने से एक ही परिवार के चार सदस्यों की मौत, तीन अन्य घायल

बड़ी खबर: दुकान में आग लगने से एक ही परिवार के चार सदस्यों की मौत, तीन अन्य घायल

पालघर। महाराष्ट्र के ठाणे जिले में सोमवार को दुकान में आग लगने से एक परिवार के चार सदस्यों की मौत हो गई और तीन अन्य घायल हो गए। पुलिस ने यह जानकारी दी। मोखड़ा थाने के एक अधिकारी ने कहा कि मृतकों में दो नाबालिग शामिल है, जिनकी आयु 10 और 15 साल है।

उन्होंने कहा कि मोखड़ा तालुका के ब्राह्मणगांव में एक दुकान में रात करीब ढाई बजे आग लग गई। पीड़ित इस दुकान में ही रहते थे। अधिकारी ने कहा कि दुकानदार की पत्नी, मां और दो बच्चों की जलकर मौत हो गई।

उन्होंने कहा कि दुकानदार तथा उसके दो अन्य बच्चे भी गंभीर रूप से झुलस गए। उन्हें इलाज के लिये नासिक सिविल अस्पताल ले जाया गया है। जिला आपदा प्रकोष्ठ के अधिकारी विवेकानंद कदम ने कहा कि आग शॉर्ट सर्किट के कारण लगी। एक घंटे में उसपर काबू पा लिया गया। पुलिस ने कहा कि मृतकों की पहचान गंगूबाई मोले (78), द्वारका अनंत मोले (46), पल्लवी मोले (15) और कृष्ण मोले (10) के रूप में हुई है।
 
बड़ी खबर: पार्क में लटका मिला भाजपा नेता का शव, जांच में जुटी पुलिस

बड़ी खबर: पार्क में लटका मिला भाजपा नेता का शव, जांच में जुटी पुलिस

नई दिल्ली। भाजपा नेता और दिल्ली के पूर्व उपाध्यक्ष जीएस बावा के शव पार्क में मिलने से हड़कंप मच गया है। बताया जा रहा है कि जीएस बावा ने अपने घर के पास स्थित एक पार्क में कथित रुप से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। खबरों के मुताबिक, सोमवार की शाम करीब 6 बजे पार्क में घूमने पहुंचे लोगों ने ग्रिल से लटक रहे शव को देख पुलिस को सूचना दी थी।


दिल्ली पुलिस के अधिकारियों के मुताबिक पार्क से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। हालांकि पुलिस और परिवार दोनों ही अभी आत्महत्या के कारणों पर कुछ नहीं कह रहे।

बता दें कि पिछले दिनों दिल्ली के गोमती अपार्टमेंट में हिमाचल प्रदेश के मंडी से सांसद राम स्वरूप शर्मा का शव संदिग्ध हालात में उनके फ्लैट में मिला था। रामस्वरूप शर्मा भाजपा के वरिष्ठ नेता थे और वह 2019 में हिमाचल प्रदेश में मंडी से लोकसभा सांसद चुने गए थे।
कोरोना अपडेट: प्रदेश में कल कम टेस्ट के बाद भी निकले अधिक मरीज, हुई 18 मौते. देखे जिलेवार आकड़े

कोरोना अपडेट: प्रदेश में कल कम टेस्ट के बाद भी निकले अधिक मरीज, हुई 18 मौते. देखे जिलेवार आकड़े

रायपुर | छत्तीसगढ़ प्रदेश में कल कुल 1423 नए कोरोना मरीजों की पहचान की गई है | जिसमे जिला दुर्ग से सर्वाधिक 509 मरीज, रायपुर से 442, राजनांदगांव से 73, बालोद से 25, बेमेतरा से 38, कबीरधाम से 11, धमतरी से 5, बलौदा बाजार से 10, महासमुंद से 40, गरियाबंद से 00, बिलासपुर से 95, रायगढ़ से 7, कोरबा से 13, जांजगीर-चांपा से 00, मुंगेली से 4, जीपीएम से 5, सरगुजा से 56, कोरिया से 6, सूरजपुर से 7, बलरामपुर से 9, जशपुर से 32, बस्तर से 18, कोंडागांव से 1, दंतेवाड़ा से 1, सुकमा से 0, कांकेर से 16, नारायणपुर से 00, बीजापुर से 00, अन्य राज्य से 00 मरीज शामिल है । आज प्रदेश में कुल 419 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ्य होने के उपरांत अपने घर लौटे है | राज्य में आज कुल 18 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है | प्रदेश में अब कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 20181 है |  

देश में कोरोना के कुल सक्रिय मामलों में इन पांच राज्यों का समग्र योगदान 80.17 प्रतिशत है

देश में कोरोना के कुल सक्रिय मामलों में इन पांच राज्यों का समग्र योगदान 80.17 प्रतिशत है

आठ राज्यों - महाराष्ट्र, कर्नाटक, पंजाब, मध्य प्रदेश, गुजरात, केरल, तमिलनाडु और छत्तीसगढ़ में प्रतिदिन कोरोना के नए मामलों में बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है। इन 8 राज्यों से नए मामलों का योगदान 84.5 प्रतिशत रहा है।पिछले 24 घंटों में 68,020 नए मामले सामने आए है। महाराष्ट्र में सबसे अधिक 40,414 दैनिक नए मामले दर्ज किए गए हैं। इसके बाद कर्नाटक में 3,082 जबकि पंजाब में 2,870 नए मामले सामने आए। दस राज्यों में अभी भी कोरोना के दैनिक नए मामलों में बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है। देश में कोरोना के सक्रिय मामलों (केस लोड) आज यह 5,21,808 है। यह कुल पॉजिटिव मामलों का 4.33 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटों में कुल सक्रिय मामलों (केस लोड) में 35,498 मामलों की बढ़ोतरी हुई है। देश में कोरोना के कुल सक्रिय मामलों में पांच राज्यों महाराष्ट्र, केरल, पंजाब, कर्नाटक और छत्तीसगढ़ का समग्र योगदान 80.17 प्रतिशत है।

बड़ी खबर : राकांपा अध्यक्ष पवार की तबियत बिगड़ी, सर्जरी की तैयारी में डॉक्टर...

बड़ी खबर : राकांपा अध्यक्ष पवार की तबियत बिगड़ी, सर्जरी की तैयारी में डॉक्टर...

मुंबई । राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के अध्यक्ष शरद पवार की तबियत बिगड़ गयी है और इस सप्ताह के अंत में उनकी एक सर्जरी होने की आशंका है। राकांपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता और महाराष्ट्र के अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री नवाब मलिक के अनुसार, 80 वर्षीय पवार ने रविवार रात पेट में दर्द की शिकायत की और उन्हें चेक अप के लिए ब्रीच कैंडी अस्पताल ले जाया गया। जांच के बात पचा चला कि उनके पित्ताशय की थैली में कुछ समस्या है। मलिक ने कहा कि पहले से चल रही दवाएं रोक दी गई हैं। अब, पवार को बुधवार को अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा और सर्जरी के बाद एंडोस्कोपी किया जाएगा। इस बीच पवार के सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए गए हैं।
 

कोरोना अपडेट : होली के पहले दिन रायपुर में हुआ कोरोना विस्फोट, प्रदेश में आज दो हजार से ज्यादा मरीजों की हुई पहचान

कोरोना अपडेट : होली के पहले दिन रायपुर में हुआ कोरोना विस्फोट, प्रदेश में आज दो हजार से ज्यादा मरीजों की हुई पहचान

रायपुर | छत्तीसगढ़ प्रदेश में आज कुल 2153 नए कोरोना मरीजों की पहचान की गई है | जिसमे जिला दुर्ग से सर्वाधिक 785 मरीज, रायपुर से 371, राजनांदगांव से 225, बालोद से 42, बेमेतरा से 69, कबीरधाम से 19, धमतरी से 45, बलौदा बाजार से 36, महासमुंद से 70, गरियाबंद से 59, बिलासपुर से 110, रायगढ़ से 18, कोरबा से 52, जांजगीर-चांपा से 24, मुंगेली से 13, जीपीएम से 6, सरगुजा से 51, कोरिया से 34, सूरजपुर से 25, बलरामपुर से 2, जशपुर से 39, बस्तर से 25, कोंडागांव से 2, दंतेवाड़ा से 5, सुकमा से 0, कांकेर से 19, नारायणपुर से 1, बीजापुर से 4, अन्य राज्य से 2 मरीज शामिल है । आज प्रदेश में कुल 672 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ्य होने के उपरांत अपने घर लौटे है | राज्य में आज कुल 14 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है | प्रदेश में अब कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 19239 है |  

BREAKING NEWS: कलेक्टोरेट में कोरोना विस्फोट, डिप्टी डायरेक्टर, सहित आधा दर्जन से अधिक कोरोना पॉजेटिव, विभागों में मचा हड़कंप

BREAKING NEWS: कलेक्टोरेट में कोरोना विस्फोट, डिप्टी डायरेक्टर, सहित आधा दर्जन से अधिक कोरोना पॉजेटिव, विभागों में मचा हड़कंप

कोरबा। बड़ी खबर सामने आ रही है, यहां कलेक्ट्रेट कार्यालय में संचालित खनिज विभाग के दफ्तर में कोरोना का जबर्दस्त संक्रमण फैला है। विभाग के डिप्टी डायरेक्टर सहित आधा दर्जन अधिकारी कर्मचारी जहां कोरोना संक्रमित है, वही एक कर्मचारी की आज तड़के कोरोना संक्रमण से कोविड हॉस्पिटल में मौत हो गयी है। छत्तीसगढ़ में एक बार फिर कोरोना ने अपना पैर पसारना शुरू कर दिया है। कोरोना के बढ़ते मामलो को देखते हुए कोरबा कलेक्टर किरण कौशल ने जिले में धारा 144 लागू कर सख्ती अपनाना शुरू कर दिया है। लेकिन वहीं दूसरी तरफ कोरबा कलेक्ट्रेट में ही कोरोना संक्रमण ने दस्तक दे दी है।
पिछले एक सप्ताह के भीतर कलेक्ट्रेट कार्यालय में संचालित माईनिंग विभाग के डिप्टी डायरेक्टर एस.एस.नाग सहित माईनिंग आफिसर दीपक मिश्रा सबसे पहले कोरोना से संक्रमित हुए। दोनों अफसरो का चिंताजनक हालत में ईलाज रायपुर में चल रहा है। वहीं इन अधिकारियों के संक्रमित होने के बाद माइनिंग आफिस की एक महिला कर्मचारी सहित दो सीनियर बाबू कोरोना से संक्रमित हो गए। माईनिंग विभाग में सहायक ग्रेड-1 के पद पर कार्यरत ज्ञानेश्वर सिंग की तबियत दो दिन पहले अचानक बिगड़ गया, सांस लेने में तकलीफ होने पर उन्हे कोविड हाॅस्पिटल में चिंताजनक हालत में वेंटिलेटर पर रखा गया था, जहां आज तड़के ज्ञानेश्वर सिंह की मौत हो गयी। वहीं गौर करने वाली बात ये है कि माईनिंग विभाग में फैले कोरोना संक्रमण का असर अब कलेक्ट्रेट के दूसरे दफ्तरो में भी देखने को मिल रहा है। माईनिंग विभाग के ठीक बगल में संचालित डीएमएफ के दफ्तर में भी कोरोना संक्रमण ने दस्तक दे दी है। यहां डीएमएफ की परियोजना समन्वयक व ज्वांईट कलेक्टर सूर्य किरण तिवारी की रिपोर्ट भी पिछले दिनों कोरोना पाॅजिटिव आई है।
ऐसे में कोरबा कलेक्ट्रेट में एक ओर जहां कोरोना संक्रमण फैलने को खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है। वही माईनिंग विभाग में अधिकांश स्टाफ के कोरोना पाॅजिटिव होने के साथ ही एक कर्मचारी की मौत की खबर से प्रशासनिक अमले में काफी दहशत है। ऐसे में उम्मीद जताई जा रही है कि कलेकट्रेट कार्यालय में संक्रमण के रोकथाम को लेकर कलेक्टर किरण कौशल कोई बड़ा फैसला ले सकती है। होली की छुट्टी के बाद कई दफ्तरों को बंद करने का आदेश देने के साथ ही बाहरी लोगों ले कलेक्ट्रेट कार्यालय में आने पर प्रतिबंध लगाया जा सकता है।
 

लॉकडाउन : राजधानी में सोमवार के इतने बजे तक लॉक डाउन, सड़कों पर रहेगा सन्नाटा

लॉकडाउन : राजधानी में सोमवार के इतने बजे तक लॉक डाउन, सड़कों पर रहेगा सन्नाटा

भोपाल | मध्य प्रदेश में कोरोना की चेन तोडऩे के लिए सरकार ने सख्ती बढ़ा दी है। प्रदेश के 12 शहरों में रविवार लॉकडाउन लगाया गया है। इसमें भोपाल, इंदौर, जबलपुर, रतलाम, बैतूल, छिंदवाड़ा, खरगोन और उज्जैन, ग्वालियर, नरसिंहपुर, सौंसर (छिंदवाड़ा) और विदिशा में कल पूरी तरह से सख्ती की जाएगी।  राजधानी भोपाल में शनिवार रात 9 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक का लॉकडाउन लगाया गया है।

पढ़ें : बड़ी खबर : छत्तीसगढ़ में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सीएम बघेल ने बुलाई आपात बैठक, लॉकडाउन को ले कर आ सकती है बड़ी खबर

होली के चलते कलेक्टर ने सोमवार को भी प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किए हैं। इसलिए सोमवार को भी अघोषित लॉकडाउन रहेगा। यानी लोग दो दिन तक घरों में रहकर कोरोना के संक्रमण को रोकेंगे। रविवार सुबह सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा। पुलिस ने जगह-जगह बेरिकेडिंग की है। हालांकि कुछ लोग आ जा रहे है। इसमें जरूरी सेवाओं और रेलवे और एयरपोर्ट जाने वाले लोग शामिल है। पुलिस पूछताछ और उनके आईकार्ड देखकर आने-जाने दे रही है।

पढ़ें : जिला कलेक्टर ने की लोगों से अपील : अपनों की सुरक्षा के लिए होली का पर्व मनाये घर पर 

पुलिस ने हबीबगंज अंडर ब्रिज, पुल बोगदा, रचना नगर अंडर ब्रिज, सुभाष नगर अंडर ब्रिज जैसी कई जगहों पर पूरी तरह बैरिकेडिंग कर दी है, जिससे दोपहिया वाहन भी यहां से नहीं गुजर सकते। शहर में 200 स्थानों पर पुलिस तैनात है और आने-जाने वाले लोगों से पूछताछ कर रही है। लॉकडाउन का पालन करवाने के लिए तीन हजार पुलिसकर्मियों का अमला सड़कों पर है। पुलिस की गाडिय़ां भी लगातार गश्त लगा रही हैं।

पढ़ें : होली के दिन 24 घंटे चालू रहेगा डॉ. भीमराव अम्बेडकर स्मृति चिकित्सालय 

कोरोना संक्रमण के चलते जिला प्रशासन ने सांकेतिक रूप से होली जलाने व शब-ए-बारात व पाम संडे मनाने की अनुमति दी है। लेकिन अधिक संख्या में लोगों के एकत्र होने पर रोक रहेगी। बड़े आयोजन नहीं होंगे। इस संबंध में कलेक्टर अविनाश लवानिया ने संशोधित आदेश जारी कर दिया। कलेक्टर के आदेश के मुताबिक प्रतीकात्मक रूप से कॉलोनी/सोसायटी के अंदर होलिका दहन अधिकतम 20 लोगों की मौजूदगी में किया जा सकेगा। अन्य सार्वजनिक स्थानों से मुख्य मार्ग, मुख्य चौराहे, पार्क इत्यादि में बड़ी संख्या में एकत्रित होकर दहन नहीं किया जाएगा। व्यक्तियों की सीमा एवं कोविड प्रोटोकॉल के पालन की जिम्मेदारी संबंधित हाउसिंग सोसायटी की रहेगी।
 
 
लॉकडाउन की सख्ती के कारण श्री हिंदू उत्सव समिति ने होली के दिन यानी सोमवार को निकलने वाला चल समारोह रद्द कर दिया है। सोमवार को सुबह 6.15 बजे होलिका दहन किया जाएगा। कोरोना से बचाने सोमवार को आयोजित होली चल समारोह स्थगित कर दिया है। जिला प्रशासन से अत्यधिक सख्ती ना करने और सोमवार को अनराव की होली पर जिन परिवारों में गमी की होली है। रंग गुलाल लगाने जाने वालों को न रोके जाने की अपील की है। शराब की दुकानों को संडे लॉकडाउन के साथ होली के दिन सोमवार को भी बंद कराया जाएगा।
 
किस बात पर थरूर ने प्रधानमंत्री से मांगी माफ़ी... पढ़े पूरी खबर

किस बात पर थरूर ने प्रधानमंत्री से मांगी माफ़ी... पढ़े पूरी खबर

नई दिल्ली । अपने बांग्लादेश प्रवास के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दिए एक भाषण पर गलत टिप्पणी करने के लिए कांग्रेस नेता शशि थरूर ने माफी मांगी है। बता दें, थरूर ने शनिवार सुबह एक ट्वीट के जरिये अपनी गलती स्वीकारते हुए लिखा, `जब मैं गलत होता हूं तो स्वीकार करने में कोई समस्या नहीं होती।` उन्होंने अपने ट्वीट में आगे सॉरी भी लिखा।
क्या है पूरा मामला
प्रधानमंत्री मोदी ने बांग्लादेश की 50 वीं वर्षगांठ के अवसर पर ढाका में अपने भाषण के दौरान कहा था, ‘मैं 20-22 साल का था, जब मैंने अपने दोस्तों के साथ मिलकर बांग्लादेश की स्वतंत्रता के लिए सत्याग्रह किया था। मुझे यहां तक कि गिरफ्तार किया गया था।’ बस फिर क्या था कुछ समाचार पत्रों के शीर्षक पढ़ने के बाद कांग्रेस नेता थरूर इस नतीजे पर पहुंच गए कि ढाका में अपने भाषण के दौरान बांग्लादेश की आजादी में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की महत्वपूर्ण भूमिका को दरकिनार कर दिया।
थरूर को लगा कि प्रधानमंत्री मोदी ने अपने भाषण में बांग्लादेश की आजादी को लेकर केवल अपना योगदान बताया। दरअसल, थरूर ने अपने ट्वीट में इस बात को स्वीकारा कि वह केवल समाचार पत्रों के शीर्षक पढ़कर इस नतीजे पर पहुंच गए। उन्होंने पूरी खबर पढ़ने की जुगत नहीं की और प्रधानमंत्री के खिलाफ जल्दबाजी में एक ट्वीट कर दिया।
कांग्रेस नेता ने किया था यह ट्वीट
माफी मांगने वाले ट्वीट से पहले शुक्रवार को शशि थरूर ने ट्वीट कर कहा था, ‘अंतरराष्ट्रीय शिक्षा: हमारे पीएम बांग्लादेश को भारतीय फेक न्यूज का स्वाद चखा रहे हैं। हैरानी की बात यह है कि हर कोई जानता है कि बांग्लादेश को किसने आजाद कराया।’
गौरतलब है कि थरूर के अलावा अन्य नेताओं ने भी बिना जाने समझे प्रधानमंत्री के बयान को लेकर उनकी खिंचाई की थी। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मोदी द्वारा बांग्लादेश के स्वतंत्रता संघर्ष में शामिल होने वाले बयान पर कहा, ‘यह सबसे तेज गेंदबाज से भी तेज फेंकते हैं। लोगों ने अब विश्वास करना छोड़ दिया है। विदेश में जाकर इस प्रकार की बातें कहना हास्यास्पद है।’
वहीं, पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत ने ट्वीट किया, ‘आज पीएम मोदी बांग्लादेश की स्वतंत्रता के 50 वर्ष का समारोह मनाने गए! क्या उन्होंने कभी हमारी पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी और मेरे पिता स्वर्गीय प्रणब मुखर्जी की भूमिका को स्वीकार किया? शायद इसलिए नहीं क्योंकि उनका अपना राजनीतिक एजेंडा है जिसे पूरा करने के लिए वह बेचैन हैं।’
अपने भाषण में प्रधानमंत्री ने क्या कहा था?
पीएम मोदी ने अपने भाषण में कहा गया था कि उन्होंने बांग्लादेश की मुक्ति के लिए सत्याग्रह किया था और इसके लिए उन्हें जेल भी हुई थी। साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘बांग्लादेश के स्वाधीनता संग्राम को भारत के कोने-कोने से, हर पार्टी से, समाज के हर वर्ग से समर्थन प्राप्त था। तत्कालीन प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी जी के प्रयास और उनकी महत्वपूर्ण भूमिका सर्वविदित है। उसी दौर में 6 दिसंबर 1971 को अटल बिहारी वाजपेयी जी ने कहा था कि हम न केवल मुक्ति संग्राम में अपने जीवन की आहुति देने वालों के साथ लड़ रहे हैं, हम इतिहास को भी एक नई दिशा देने के लिए प्रयत्न कर रहे हैं।’
उल्लेखनीय है कि भारत और पाकिस्तान के बीच युद्ध के बाद वर्ष 1971 में बांग्लादेश ने अपनी स्वतंत्रता हासिल की थी। बांग्लादेश अब अपनी आजादी की स्वर्ण जयंती मना रहा है।
 

75 वां एपिसोड: मन की बात,  प्रधानमंत्री ने यह भी बताया कि

75 वां एपिसोड: मन की बात, प्रधानमंत्री ने यह भी बताया कि

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मन की बात के जरिए राष्ट्र को संबोधित किया। बता दें कि ये साल 2021 का तीसरा और अब तक का 75 वां एपिसोड था। इस दौरान उन्होंने आजादी के अमृत महोत्सव का जिक्र किया। उन्होंने बताया कि यह महोत्सव 2023 तक चलेगा। पीएम मोदी ने यह भी बताया कि देश को कोरोना से जंग जीतने के लिए दवाई भी, कड़ाई भी मंत्र को जीनाा होगा। गौरतलब है कि इससे पहले पिछले महीने 28 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात में कई अहम मुद्दों पर बात की थी। उन्होंने पानी के महत्व के बारे में कहा था। उन्होंने कहा था कि पानी, एक तरह से पारस से भी ज्यादा महत्वपूर्ण है। देश के अलग-अलग क्षेत्रों में जल्द ही नया साल भी मनाया जाएगा। चाहे उगादी हो या पुथंडू, गुड़ी पड़वा हो या बिहू, नवरेह हो या पोइला बोईशाख हो या बैसाखी - पूरा देश, उमंग, उत्साह और नई उम्मीदों के रंग में सराबोर दिखेगा। इसी समय, केरल भी खूबसूरत त्योहार विशु मनाता है। इसके बाद, जल्द ही चैत्र नवरात्रि का पावन अवसर भी आ जाएगा।  

कोरोना अपडेट : 24 घंटे में सामने आए 62,714 नए मामले, 300 से ज्यादा मौत...

कोरोना अपडेट : 24 घंटे में सामने आए 62,714 नए मामले, 300 से ज्यादा मौत...

नई दिल्ली, देश में कोरोना वायरस के मामले बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं। पिछले दो दिनों से कोरोना के दैनिक मामले 60,000 के पार आ रहे हैं। हालांकि कोरोना को रोकने के लिए राज्य सरकारों द्वारा कई कदम उठाए जा रहे हैं लेकिन कोरोना पर काबू पाना टेढ़ी खीर जैसा हो गया है।
पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना के 62,714 नए मामले सामने आए हैं। वहीं 300 से ज्यादा लोगों ने इस खतरनाक वायरस के आगे अपना दम तोड़ा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में देश में 312 लोगों ने अपनी जान गंवा दी है।
स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 62,714 मामले सामने आए हैं, जबकि शनिवार को यह आंकड़ा 62,258 था। रोजाना 60,000 से ज्यादा मामले दर्ज किए जा रहे हैं, जिसके बाद कोरोना संक्रमण का कुल आंकड़ा बढ़कर 1,19,71,624 हो गया है। वहीं इस खतरनाक वायरस के आगे 312 लोगों ने हार मान ली है और कोरोना से मरने वाले मरीजों का आंकड़ा बढ़कर 1,61,552 हो गया है।
इसके अलावा देश में लगातार कई दिनों से एक में ठीक होने वाले मरीजों की संख्या संक्रमित मरीजों की संख्या से काफी कम आ रही है। मसलन, पिछले 24 घंटे में 28,739 मरीज ही कोरोना से ठीक हुए हैं, जबकि संक्रमित मरीजों का आंकड़ा साठ हजार के भी पार है, यानी रोजाना संक्रमित मामलों की संख्या में आधे मरीज से ठीक हो रहे हैं।
स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में मौजूदा समय में 1,13,23762 लोग कोरोना की चपेट से बाहर निकल गए हैं। लेकिन संक्रमित मामलों में तेजी की वजह से सक्रिय मामले भी लगातार बढ़ रहे हैं। देश में सक्रिय मामलों का आंकड़ा बढ़कर 4,86,310 हो गया है। बता दें कि 15 फरवरी के बाद कोरोना के सक्रिय मामलों में भारी बढ़ोतरी हुई है।
 

सरकार ने लागू किया नया नियम, 1 अप्रैल से बोतलबंद पानी बेचना होगा मुश्किल

सरकार ने लागू किया नया नियम, 1 अप्रैल से बोतलबंद पानी बेचना होगा मुश्किल

नई दिल्ली, यदि आप बोतलबंद पानी के व्यवसाय से जुड़े तो सावधान हो जाइये क्योंकि 1 अप्रैल से बोलतबंद पानी बेचना अब आसान नहीं होगा। इस संबंध में भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) ने नियमों बड़ा फेरबदल कर दिया है। FSSAI ने बोतलबंद पानी और मिनरल वॉटर निर्माताओं के लिए कुछ प्रमाण पत्रों को अनिवार्य कर दिया है, यदि ये प्रमाण-पत्र विक्रेता के पास नहीं है तो बिक्री की अनुमति नहीं होगी। मिली मिली जानकारी के अनुसार भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) ने बोतलबंद पानी और मिनरल वाटर निर्माताओं के लिए लाइसेंस हासिल करने या पंजीकरण की खातिर भारतीय मानक ब्यूरो (बीआइएस) का प्रमाणन अनिवार्य कर दिया है। सभी राज्यों और संघ शासित प्रदेशों के खाद्य सुरक्षा आयुक्तों को भेजे पत्र में एफएसएसएआइ ने यह निर्देश दिया है। यह निर्देश एक अप्रैल, 2021 से लागू होगा। एफएसएसएआई ने कहा कि खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम, 2008 के तहत सभी खाद्य कारोबार परिचालकों (एफबीओ) के लिए किसी खाद्य कारोबार को शुरू करने से पहले लाइसेंस/रजिस्ट्रेशन हासिल करना अनिवार्य होगा। नियामक ने कहा कि खाद्य सुरक्षा और मानक (प्रतिबंध एवं बिक्री पर अंकुश) नियमन, 2011 के तहत कोई भी व्यक्ति बीआइएस प्रमाणन चिह्न के बाद ही बोतलबंद पेयजल या मिनरल वाटर की बिक्री कर सकता है।

बीआइएस सर्टिंफिकेशन मार्क अब अनिवार्य
एफएसएसएआई ने कहा कि पैकेज्ड ड्रिंकिंग वाटर और मिनरल वाटर बनाने वाली कई कंपनियां एफएसएसएआई के लाइसेंस पर काम कर रही हैं। लेकिन उनके पास बीआइएस सर्टिंफिकेशन मार्क नहीं है। इसे देखते एफएसएसएआई के लाइसेंस के लिए बीआईएस लाइसेंस या आवेदन को अनिवार्य बना दिया गया है।
 

कोरोना अपडेट: प्रदेश में आज भी कोरोना विस्फोट 3 ह्जार के पार संख्या, अकेले दुर्ग से 1128 समेत इन जिलो में मिले इतने मरीज

कोरोना अपडेट: प्रदेश में आज भी कोरोना विस्फोट 3 ह्जार के पार संख्या, अकेले दुर्ग से 1128 समेत इन जिलो में मिले इतने मरीज

रायपुर | छत्तीसगढ़ प्रदेश में आज कुल 3162 नए कोरोना मरीजों की पहचान की गई है | जिसमे जिला दुर्ग से सर्वाधिक 1128 मरीज, रायपुर से 796, राजनांदगांव से 222, बालोद से 77, बेमेतरा से 124, कबीरधाम से 31, धमतरी से 34, बलौदा बाजार से 53, महासमुंद से 92, गरियाबंद से 11, बिलासपुर से 137, रायगढ़ से 37, कोरबा से 52, जांजगीर-चांपा से 24, मुंगेली से 9, जीपीएम से 15, सरगुजा से 83, कोरिया से 49, सूरजपुर से 54, बलरामपुर से 3, जशपुर से 51, बस्तर से 20, कोंडागांव से 24, दंतेवाड़ा से 9, सुकमा से 1, कांकेर से 21, नारायणपुर से 4, बीजापुर से 0, अन्य राज्य से 1 मरीज शामिल है । आज प्रदेश में कुल 511 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ्य होने के उपरांत अपने घर लौटे है | राज्य में आज कुल 11 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है | प्रदेश में अब कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 17836 है |  

BIG BREAKING : राष्ट्रपति कोविंद को किया गया एम्स में शिफ्ट, 30 मार्च को हो सकती है बाइपास सर्जरी

BIG BREAKING : राष्ट्रपति कोविंद को किया गया एम्स में शिफ्ट, 30 मार्च को हो सकती है बाइपास सर्जरी

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को आर्मी के रिसर्च एंड रेफरल हॉस्पीटल से शनिवार की दोपहर बाद दिल्ली स्थित एम्स अस्पताल में शिफ्ट किया गया. राष्ट्रपति भवन की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि राष्ट्रपति की हालत स्थिर है. जांच के बाद डॉक्टरों ने उन्हें एक नियोजित बाइपास सर्जरी करने की सलाह दी है. यह 30 मार्च को होने की उम्मीद है.


गौरतलब है कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को शुक्रवार सुबह सीने में तकलीफ होने के बाद स्वास्थ्य जांच के लिये सेना के रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल लाया गया था. अस्पताल के मेडिकल बुलेटिन में कहा गया है, ‘‘ राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की हालत स्थिर है. उन्हें आगे की जांच के लिये एम्स (अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान) रेफर किया गया है.’’

 

BIG BREAKING : पहले चरण के मतदान में बंगाल में हुई बम्पर वोटिंग, शाम 6 बजे तक हुए इतने प्रतिशत मतदान

BIG BREAKING : पहले चरण के मतदान में बंगाल में हुई बम्पर वोटिंग, शाम 6 बजे तक हुए इतने प्रतिशत मतदान

नई दिल्ली, चुनाव आयोग के मुताबिक असम और पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों के पहले चरण के मतदान में शाम 6 बजे तक क्रमशः 72.14% और 79.79% मतदान हुआ.