कोरोना अपडेट : छत्तीसगढ़ में जारी है कोरोना से मौत का तांडव, प्रदेश में आज 15 हजार के करीब मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से मिले सर्वाधिक मरीज    |    बंगाल चुनाव: EC की नई गाइडलाइंस जारी, प्रचार का समय कम करने से लेकर आपराधिक मामला दर्ज करने तक का आदेश    |    BIG BREAKING : केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर भी आये कोरोना की चपेट में, सोशल मीडिया में दी जानकारी    |    ICMR कोरोना अपडेट: राज्य में आज शाम तक 12079 कोरोना मरीजो की हुई पुष्टि, अकेले रायपुर से 2921 समेत बाकी इन जिलो से...    |    इस राज्य में सरकार ने लागू किया वीकेंड लॉकडाउन, मास्क नहीं पहनने पर लगेगा बड़ा जुर्माना    |    BIG BREAKING : नहीं होगी ऑक्सीजन की कमी, पीएम केयर्स फंड से अस्पतालों में लगेंगे प्लांट    |    कोरोना की चपेट में सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस शाह का पूरा स्टाफ...    |    कोरोना अपडेट : देश में 24 घंटे में सामने आए 2.16 लाख मामले, 1184 मौतें    |    BIG BREAKING : प्रदेश में कोरोना से मौत ने लगाई शतक, प्रदेश में आज 15 हजार से अधिक नए मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से इतने    |    कोरोना अपडेट: ICMR के मुताबिक आज प्रदेश में शाम तक 11819 मरीज मिले, अकेले रायपुर जिले से 2870 समेत बाकी इन जिलो से    |
कोरोना अपडेट: आज 28 मौतों के साथ कोरोना ने मचाया भूचाल, 2106 मरीजो के साथ दुर्ग और रायपुर में मिले ज्यादा मरीज

कोरोना अपडेट: आज 28 मौतों के साथ कोरोना ने मचाया भूचाल, 2106 मरीजो के साथ दुर्ग और रायपुर में मिले ज्यादा मरीज

रायपुर | छत्तीसगढ़ प्रदेश में आज कुल 2106 नए कोरोना मरीजों की पहचान की गई है | जिसमे जिला दुर्ग से सर्वाधिक 793 मरीज, रायपुर से 573, राजनांदगांव से 128, बालोद से 22, बेमेतरा से 52, कबीरधाम से 8, धमतरी से 42, बलौदा बाजार से 29, महासमुंद से 76, गरियाबंद से 19, बिलासपुर से 101, रायगढ़ से 16, कोरबा से 17, जांजगीर-चांपा से 19, मुंगेली से 5, जीपीएम से 4, सरगुजा से 46, कोरिया से 28, सूरजपुर से 39, बलरामपुर से 6, जशपुर से 35, बस्तर से 20, कोंडागांव से 4, दंतेवाड़ा से 3, सुकमा से 1, कांकेर से 14, नारायणपुर से 3, बीजापुर से 3, अन्य राज्य से 2 मरीज शामिल है । आज प्रदेश में कुल 479 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ्य होने के उपरांत अपने घर लौटे है | राज्य में आज कुल 28 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है | प्रदेश में अब कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 11934 है |

 


 

 दुकान से लौट रहे कपड़ा व्यापारी से लाखों रुपयें की लुट, आरोपियों ने ऐसे दिया लुट की घटना को अंजाम

दुकान से लौट रहे कपड़ा व्यापारी से लाखों रुपयें की लुट, आरोपियों ने ऐसे दिया लुट की घटना को अंजाम

इंदौर। एमजी रोड थाना क्षेत्र में गत दिवस देर रात दुकान से घर लोट रहे रेडीमेड कपड़ा व्यापारी के साथ लूट हो गई। दो बदमाशों ने व्यापारी को रास्ते में रोका और मारपीट कर डिक्की से 12 लाख रुपए से ज्यादा राशि लूट ली। आरोपी मौके से भाग निकले। थाना एमजी रोड पुलिस के अनुसार, वारदात गत रात करीब नौ बजे नगर निगम रोड पर रेडीमेड कपड़ा व्यापारी महेश तोषनीवाल (40) के साथ हुई। उक्त व्यापारी रीवर साइड रोड स्थित रेडीमेड काम्पलेक्स स्थित अपनी दुकान से घर लोट रहा था। उसने अपनी गाड़ी की डिक्की में 14 लाख रुपए रखे हुए थे। यह रकम तीन दिन की कमाई से हुई थी, जो घर ले जारहा था। व्यापारी के मुताबिक नगर निगम रोड पर जैसे ही अंबिका इलेक्ट्रानिक्स के पास पहुंचा, दो बदमाशों ने उसे घेरा और मारपीट की। साइड में ले जाकर डिक्की में से 14 लाख रुपए लूटकर भाग निकले। घटना की सूचना पुलिस को मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने हुलिए के आधार पर बदमाशों की तलाश शुरू कर दी है। व्यापारियों को मेडिकल के लिए अस्पताल ले जाया गया।
  बड़ी खबर: पार्टी कार्यालय के पास मिला भाजपा मंडल अध्यक्ष का शव, मचा हडकंप

बड़ी खबर: पार्टी कार्यालय के पास मिला भाजपा मंडल अध्यक्ष का शव, मचा हडकंप

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के कूचबिहार के दिनहाटा में भाजपा कार्यालय के पास के पार्टी के मंडल अध्यक्ष का शव मिलने से हड़कंप मच गया है। भाजपा ने इसे प्रायोजित हत्या बताया है और इसका इल्जाम टीएमसी पर लगाया है। भाजपा कार्यकर्ता ने कहा है कि यह एक पूर्व-नियोजित हत्या है। वे (टीएमसी) चाहते हैं कि हम (भाजपा कार्यकर्ता) डर के मारे घर में  बैठें रहें, बाहर न निकले लेकिन हम अपनी लड़ाई जारी रखेंगे। 

वहीं दूसरी ओर आसनसोल के हीरापुर थाना अंतर्गत रांगापाडा में भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष दिग्विजय सिंह के आवास पर मंगलवार देर रात अज्ञात लोगों ने अंधाधुंध फायरिंग की। घटना के समय दिग्विजय सिंह अपने आवास पर ही थे। सूचना पाकर रात में ही पुलिस पहुंची और जांच पड़ताल की। रात में ही भाजपा नेता जितेंद्र तिवारी, कृष्णेंदु मुखर्जी दिग्विजय सिंह के आवास पहुंचे और घटना की निंदा की। 

इससे पहले भी कोलकाता से सटे सोनारपुर में एक बीजेपी कार्यकर्ता विकास नस्कर का शव पेड़ से लटकता मिला था। बीजेपी ने कहा है कि विकास नस्कर की हत्या कर दी गई है। वह बूथ नंबर 57 का बीजेपी का कार्यकर्ता था। बीजेपी ने आरोप लगाया था कि विकास नस्कर को टीएमसी के गुंडों ने मारकर उसके शव को रस्सी के सहारे पेड़ से टांग दिया। ऐसा दिखाने की कोशिश की गई है मानो विकास ने आत्महत्या की है।
 भाजपा नेता के घर के बाहर हुई अंधाधुंध फायरिंग, जाँच में जुटी पुलिस

भाजपा नेता के घर के बाहर हुई अंधाधुंध फायरिंग, जाँच में जुटी पुलिस

कोलकाता। बंगाल चुनाव को लेकर जारी चुनाव प्रचार के बीच हिंसक घटनाओं का दौर जारी है। ताजा मामले में कुछ अज्ञात लोगों ने बर्नपुर इलाके में भाजपा युवा मोर्चा के नेता दिग्विजय सिंह के घर के बाहर अंधाधुंध फायरिंग की, जिसका आरोप टीएमसी कार्यकर्ताओं पर लग रहा है। मौके पर पहुंची पुलिस मामले की जांच कर रही है। 

बता दें आज ही इस युवा नेता के घर मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा पहुंचने वाले थे। बताया जाता है कि पश्चिम बंगाल प्रदेश भाजपा युवा मोर्चा के उपाध्यक्ष दिग्विजय सिंह के घर के सामने रात करीब 1:00 बजे कुछ लोग पहुंचे और दरवाजा खटखटाना शुरू किया। लेकिन जब अंदर से कोई बाहर नहीं निकला तो उन लोगों ने वही कथित तौर पर 6 राउंड फायरिंग की। इस घटना के बाद दिग्विजय सिंह के परिवार में आतंक का माहौल है। भाजपा विधायक जितेंद्र तिवारी ने बताया, रात करीब 1 बजे खबर आई कि उनके घर के बाहर कुछ आज्ञात लोगों ने गोलियां चलाई। जिसके बाद हम सब वहां गए। इस घटना की सूचना मिलने के बाद स्थानीय पुलिस मामले की जांच कर रही है। बीजेपी युवा मोर्चा के नेता दिग्विजय सिंह के माता-पिता ने पुलिस से घर से बाहर हुई फायरिंग की लिखित में शिकायत स्थानीय पुलिस से की है। बीजेपी विधायक जितेंद्र तिवारी ने इस मामले में पुलिस से दोषियों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई की मांग की है। प्रभावी कार्रवाई न होने पर उन्होंने इस मामले को उच्च स्तर पर उठाने की थाना पुलिस को चेतावनी भी दी है।
 बड़ी खबर: अब ये अभिनेता पाए गए कोरोना पॉजिटिव, खुद को किया होम क्वारनटीन

बड़ी खबर: अब ये अभिनेता पाए गए कोरोना पॉजिटिव, खुद को किया होम क्वारनटीन

मुंबई। कोरोना अब बॉलीवुड के अंदर भी पहुँच गया है। अब एक्टर आमिर खान भी कोविड 19 पॉजिटिव हो गए हैं। कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद आमिर खान होम क्वारनटीन हो गए हैं।
 
आमिर के स्पोक्सपर्सन ने बताया- 'मिस्टर आमिर खान कोविड 19 पॉजिटिव पाए गए हैं। वो घर पर सेल्फ क्वारंटीन में हैं और सभी प्रोटोकॉल्स को फॉलो कर रहे हैं. वो ठीक हैं। जो भी कुछ बीते कुछ दिनों में उनके संपर्क में आए हैं उन्हें भी एहतियात के तौर पर अपना टेस्ट करना चाहिए और सारे रूल्स फॉलो करने चाहिए। आप सभी की विशेज के लिए शुक्रिया।
 
 नए बिल को लेकर विधानसभा में जमकर मचा हंगामा: पर्दा गिरते ही बरसने लगी लाठियां, चलने लगे घूंसे-थप्पड़

नए बिल को लेकर विधानसभा में जमकर मचा हंगामा: पर्दा गिरते ही बरसने लगी लाठियां, चलने लगे घूंसे-थप्पड़

पटना। 23 मार्च की तारीख विधानसभा सत्र के इतिहास में काले अध्याय के रूप में जानी जाएगी। देश के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ कि सदन के अंदर पुलिस बुलाई गई, एसपी और डीएम ख़ुद विधायकों को बाहर करने का काम कर रहे थे। इस दिन को `काला दिन` के रूप में देश की जनता याद रखेगी। अब तक आपने मंच पर यह देखा और सुना होगा कि पर्दा गिरा और खेल खत्म। लेकिन, बिहार विधानसभा में मंगलवार को इसके बिल्कुल उलट हुआ। यहां पर्दा गिरा और खेल शुरू हो गया। दरअसल, मंगलवार को बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस विधेयक 2021 के विरोध में आरजेडी के कार्यकर्ताओं ने पहले पटना की सड़कों पर कोहराम मचाया और फिर इस विरोध की आग सदन तक पहुंच गई।

विपक्ष के ऐसे हंगामे के बावजूद भी सत्ता पक्ष बिल पास कराने पर अड़ा हुआ था। प्रस्ताव पास करने के लिए सदन की बैठक कई बार शुरू करने की कोशिश हुई। लेकिन विपक्षी विधायकों ने स्पीकर को बैठक में भाग लेने से रोकने के लिए उनके चेंबर के सामने ही धरना शुरू कर दिया।

आम दिनों की तरह मंगलवार सुबह 11 बजे सदन की कार्यवाही शुरू हुई, लेकिन पांचवी बार जब 4.30 बजे सदन की कार्यवाही शुरू करने के लिये घंटी बजी उसी वक्त विपक्ष के तमाम विधायक विधानसभा अध्यक्ष के दरवाजे पर पहुंच गये और उन्हें  एक तरह से बंधक बना लिया। विपक्ष सदस्यों  के विरोध के बाद सदन 12 बजे तक के लिये स्थगित हो गया। पुलिस विधेयक को लेकर विपक्ष के हंगामे की वजह सदन दिन में चार बार स्थगित हुआ।सदन की कार्यवाही के लिए विधानसभा की घंटी काफी देर तक बजती रही, लेकिन अध्यक्ष सदन के अंदर नहीं पहुंचे, ऐसे में विधानसभा में तैनात मार्शल विधानसभा अध्यक्ष के गेट पर पहुंचे और विपक्षी विधायको को समझाने की कोशिश की लेकिन तब तक मामला बिगड़ चुका था। ऐसे में विधानसभा अध्यक्ष को आनन-फानन में पटना डीएम और एसएसपी को बुलाना पड़ा। वरीय अधिकारियों के पहुंचने के बाद अध्यक्ष को छुड़ाया गया। इससे पहले विधायकों और वरीय अधिकारीयो में नोकझोंक भी हुई। इसके बावजूद पुलिस विधेयक का विरोध कर रहे विधायक हटने के लिए तैयार नहीं थे।

बिगड़ते हालात के मद्देनर विधानसभा में भारी पुलिस बल की तैनाती की गई। विपक्ष के विधायक विधानसभा अध्यक्ष के गेट में रस्सी बांधकर जहां उन्हेंी बंधक बनाकर बैठे थे, वहीं बिल्कुल पास में बड़ा ग्रिल लगा है। पहले पटना एसएसपी और पटना डीएम ने विधायकों को मनाने की पूरी कोशिश की। लेकिन

पुलिस और प्रशासन के सदन में आते ही विपक्षी विधायकों का प्रदर्शन उग्र हो गया। विधायकों के साथ हाथापाई शुरू हुई और विधानसभा के मार्शल उन्हें घसीट-घसीट कर बाहर ले जाने लगे। ऐसे में विधानसभा अध्यक्ष के गेट के सामने बड़े ग्रिल पर लगे पर्दे को पहले पुलिस ने गिराया, और फिर क्या था। बिहार में लोकतंत्र के सबसे बड़े मंदिर की गरिमा तार-तार हो गई। विधायकों पर लात-घूसे, थप्पड़ और डंडे की बरसात हो गई। इसी दौरान पुलिस ने विधायकों को घसीट-घसीट कर बाहर फेंकना शुरू कर दिया. जिसमें किसी के हाथ में चोट आई तो किसी का पैर में तो किसी के पीठ और गाल लाल हो गए।

पुरुष विधायकों के साथ पुलिस का ऐसा बर्ताव देखकर विपक्षी महिला विधायक भी स्पीकर की कुर्सी के पास पहुँचकर प्रदर्शन करने लगीं। फिर महिला पुलिस बलों ने उन्हें ज़बरन घसीटकर बाहर किया। पुरुष विधायकों में राजद के सुधाकर सिंह, सीपीआईएम के सत्येंद्र कुमार, राजद के सतीश दास के साथ-साथ महिला विधायक प्रतिमा कुमारी और अनीता देवी को गंभीर चोटें लगी हैं।

विधायकों की पिटाई की घटना होने के बाद सदन एक बार फिर से शुरू हुआ। लेकिन, विपक्ष इस बार सदन से वॉकआउट कर गया। हालाँकि, बिना विपक्ष के मौजूदगी के ही नए पुलिस विधेयक को सदन से पास करा लिया गया।
 
 मरीज को झोलाछाप डॉक्टार ने दनादन लगाए 20 इंजेक्शन, मरीज की मौत के बाद डॉक्टर फरार

मरीज को झोलाछाप डॉक्टार ने दनादन लगाए 20 इंजेक्शन, मरीज की मौत के बाद डॉक्टर फरार

आगरा। आदमी बीमार होता है तो डॉक्टर के पास जाता है, और डॉक्टर कितनी भी गंभीर बिमारी रहे एक बार में ज्यादा से ज्याद 2 इंजेक्शन लगाता है। पर यहां एक डॉक्टर ने मरीज को 1 या 2 नहीं, लगातार 20 इंजेक्शन लग दिए, जिससे मरीज की मौत हो गई। 

आगरा के कोतवाली बाह के अंतर्गत कस्बा जरार में झोलाछाप डॉक्टकर के क्लीनिक पर इलाज कराने गए मरीज को डॉक्टर ने दनादन 20 इंजेक्शन लगा दिए, जिससे उसकी मौत हो गई। मरीज की मौत से इलाके में हड़कंप मच गया है। परिजनों की सूचना पर पहुंची पुलिस और स्वास्थ विभाग की टीम ने झोलाछाप डॉक्टार के क्लीनिक को सील करने की कार्रवाई की है। जबकि झोलाछाप डॉक्टीर फरार हो गया है। बहरहाल स्वास्थ्य विभाग की लचर कार्यशैली के चलते ग्रामीण क्षेत्र में झोलाछाप क्लीनिक का जाल बिछा हुआ है। स्वास्थ्य विभाग इन पर कठोर कार्रवाई नहीं करता है जिसके चलते उनका धंधा लगातार बढ़ता चला जा रहा है। 

जानकारी के अनुसार बाह क्षेत्र के गांव बिजौली में रहने वाले बच्चू लाल (उम्र करीब 50 वर्ष) पिछले सप्ताह से सामान्य बीमारी से ग्रसित थे। वह परिजनों के साथ अपना इलाज कराने के लिए कस्बा जरार में केनरा बैंक के सामने झोलाछाप डॉक्टनर की क्लीनिक पर पहुंचे। इसके बाद डॉक्टसर ने उनका इलाज शुरू किया, लेकिन गलत इंजेक्शन एवं दवा के कारण हालत बिगड़ गई। परिवार का आरोप है कि झोलाछाप डॉक्टिर ने दनादन 20 इंजेक्शन लगा डाले, इससे बच्चू लाल बेहोश हो गए। इसके बाद झोलाछाप क्लीनिक छोड़कर फरार हो गया। परिजन तत्काल बेहोशी की हालत में बच्चू लाल को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बाह लेकर पहुंचे जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। इसके बाद परिजनों में कोहराम मच गया। बच्चू लाल की बेटी का आरोप है कि उसके पिता को झोलाछाप डॉक्टोर ने लगातार 20 इंजेक्शन लगाए और वह मना करने पर भी नहीं माना। साथ ही कहा कि गलत इंजेक्शन और दवा के इस्तेमाल से उनके पिता की मौत हो गई।

परिजनों सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामले का संज्ञान लिया। पुलिस एवं स्वास्थ्य विभाग की टीम ने कस्बा जरार पहुंचकर झोलाछाप के क्लीनिक को सील कर दिया है। अब पुलिस और स्वास्थ्य महकमा मामले की जांच कर रहा है। इस मामले को लेकर बाह सीएचसी प्रभारी जितेंद्र कुमार का कहना है कि आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा रही है। 
 
 छेड़छाड़ से परेशान नाबालिग छात्रा ने फांसी लगाकर की ख़ुदकुशी, आरोपी गिरफ्तार

छेड़छाड़ से परेशान नाबालिग छात्रा ने फांसी लगाकर की ख़ुदकुशी, आरोपी गिरफ्तार

भोपाल। निशातपुरा थाना इलाके में रहने वाली एक किशोरी ने फांसी लगा ली। पुलिस को मौके से एक सुसाइड नोट मिला है, जिसमें किशोरी ने मनचले द्वारा उसे दो साल से परेशान किए जाने का जिक्र है। पुलिस ने आरोपित को हिरासत में ले लिया है। वह 12वीं का छात्र है। उसकी पहले से छात्रा से दोस्ती थी।

निशातपुरा थाने के एसआइ एसएल वर्मा ने बताया कि क्षेत्र की एक कॉलोनी में रहने वाली 17 वर्षीय किशोरी 11वीं कक्षा में पढ़ती थी। उसके पिता वित्त विभाग में काम करते हैं। परिवार में माता-पिता के अलावा 19 वर्ष का बड़ा भाई है। शाम करीब साढ़े पांच बजे किशोरी के पिता दफ्तर से नहीं लौटे थे। भाई किसी काम से घर से बाहर था। उसकी मां घर के दूसरे कमरे में थी। इस दौरान किशोरी ने फांसी लगा ली। मां ने खिड़की से झांका तो बेटी को फांसी पर लटके देखा तो शोर मचाया। दरवाजा तोड़कर उसे अस्पताल ले जाया गया। वहां डॉक्टर ने किशोरी को मृत घोषित कर दिया। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस को पलंग पर सुसाइड नोट मिला। उसमें लिखा था कि मेरे माता-पिता की कोई गलती नहीं है। निशातपुरा थाना प्रभारी एमएस चौहान ने बताया कि आरोपित संदीप शाक्य को छात्रा को खुदकुशी के लिए उकसाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में पता चला है कि संदीप की छात्रा के साथ दोस्ती थी। इस बात का पता चलने पर दोनों परिवारों के बीच विवाद भी हुआ था, लेकिन मामला थाने तक नहीं आया था।
 नौकरी के नाम पर 900 नर्सों से धोखाधड़ी, ईडी ने फर्म की 7 करोड़ की संपत्ति की अटैच

नौकरी के नाम पर 900 नर्सों से धोखाधड़ी, ईडी ने फर्म की 7 करोड़ की संपत्ति की अटैच

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय ने कुवैत में नौकरी के नाम पर 900 नर्सों से धोखाधड़ी करने वाली मुंबई की एक कंपनी की साढ़े सात करोड़ रुपये की संपत्ति अटैच की है।

मुंबई के जेवीपीडी योजना इलाके में एक डूप्लेक्स फ्लैट, केरल में एक जमीन का टुकड़ा और एक मर्सिडीज बेंज कार के अलावा पीजे मैथ्यू और अन्य की 4.55 करोड़ रुपये की नकदी भी अटैच की गई।

ईडी ने एक बयान जारी कर बताया कि अटैच की गई संपत्ति मैथ्यू इंटरनेशनल के प्रोपराइटर पीजे मैथ्यू, केलिन मैथ्यू और थॉमस मैथ्यू व उनसे जुड़े कुछ अन्य लोगों के नाम पर है। ईडी ने सीबीआई की एफआईआर के आधार पर मैथ्यू और मोहम्मद नैना प्रभु के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया था। आयकर विभाग की नजर भी मैथ्यू पर है और उसकी अप्रैल 2015 के दौरान उसकी 4.55 करोड़ रुपये की नकदी जब्त की गई है।

ईडी ने जांच में पाया कि पीजे मैथ्यू ने 900 नर्सों से कुवैत में नौकरी देने के नाम पर 18.5 लाख से 20 लाख रुपये तक प्रत्येक से वसूले थे। इसके अलावा हर एक नर्स से 20,000 रुपये का निर्धारित शुल्क भी वसूला गया था। मैथ्यू इंटरनेशनल ने गैरकानूनी ढंग से 205.71 करोड़ रुपये वसूले थे। इस पैसे को हवाला के जरिये कुवैत भेजा गया। इसमें एर्नाकुलम के आईडियल फोरेक्स के मालिक मोहम्मद असलम ने मैथ्यू की मदद की। ईडी ने दिसंबर 2018 में आईडियल फोरेक्स में छापा मारकर 30 लाख रुपये मूल्य की भारतीय और विदेशी मुद्रा जब्त की थी।
 
कोरोना अपडेट : कोरोना का कहर लगातार जारी, एक ही दिन 2 हजार के करीब संक्रमित, अकेले दुर्ग का ही आकड़ा इतना, देखें शेष जिलों में मरीजो की संख्या

कोरोना अपडेट : कोरोना का कहर लगातार जारी, एक ही दिन 2 हजार के करीब संक्रमित, अकेले दुर्ग का ही आकड़ा इतना, देखें शेष जिलों में मरीजो की संख्या

रायपुर | छत्तीसगढ़ प्रदेश में आज कुल 1910 नए कोरोना मरीजों की पहचान की गई है | जिसमे जिला दुर्ग से सर्वाधिक 691 मरीज, रायपुर से 507, राजनांदगांव से 98, बालोद से 21, बेमेतरा से 70, कबीरधाम से 18, धमतरी से 42, बलौदा बाजार से 31, महासमुंद से 30, गरियाबंद से 14, बिलासपुर से 117, रायगढ़ से 28, कोरबा से 40, जांजगीर-चांपा से 19, मुंगेली से 2, जीपीएम से 4, सरगुजा से 35, कोरिया से 27, सूरजपुर से 36, बलरामपुर से 9, जशपुर से 36, बस्तर से 17, कोंडागांव से 3, दंतेवाड़ा से 2, सुकमा से 1, कांकेर से 09, नारायणपुर से 1, बीजापुर से 2 , अन्य राज्य से 0 मरीज शामिल है । आज प्रदेश में कुल 460 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ्य होने के उपरांत अपने घर लौटे है | राज्य में आज कुल 20 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है | प्रदेश में अब कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 10491 है |  

BIG BREAKING : नारायणपुर में नक्सलियों ने जवानों से भरी बस को उड़ाया, हमले में 4 जवान शहीद, कई जख्मी

BIG BREAKING : नारायणपुर में नक्सलियों ने जवानों से भरी बस को उड़ाया, हमले में 4 जवान शहीद, कई जख्मी

नारायणपुर । कड़ेनार-मंदोडा के पास नक्सलियों ने सुरक्षाबलों के वाहन को निशाना बनाकर विस्फोट कर दिया। इस हमले में 4 जवान शहीद हो गए हैं और 8 से ज्यादा जवानों के घायल होने की खबर है। बताया जा रहा है, बस में डीआरजी के जवान सवार थे। एसपी मोहित गर्ग ने घटना की पुष्टि कर दी है। घटना के बाद भारी संख्या में सुरक्षा बल के जवानों को मौके के लिए रवाना कर दिया गया है।
हमले में घायल जवानों को पास के घौड़ाई स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया है। गंभीर रूप से घायल जवानों को नारायणपुर जिला अस्पताल लाया गया है। इसमें से भी कई जवानों को बेहतर इलाज के लिए रायपुर लाने की तैयारी की जा रही है। बस्तर के आईजी सुंदरराज पी ने 4 जवानों के शहीद होने की पुष्टि कर दी है। हमले में 8 जवान घायल हैं। बस में हमले के वक्त 30 जवान सवार थे। हमला घौड़ाई और पल्लीनार के बीच किया गया है। जिले के एसपी-डीजीपी घटना पर नजर बनाए हैं। घटना के बाद जवान इलाके की सर्चिंग के लिए निकल गए हैं। गंभीर रूप से घायल जवानों को लाने के लिए एमआई-17 हेलिकॉप्टर रवाना हो चुके हैं। सभी घायलों को नारायणपुर से रायपुर लाया जाएगा।
 

Coronavirus Guidelines: कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन

Coronavirus Guidelines: कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन

Coronavirus Guidelines: कई राज्यों में कोरोना के नए मामलों में तेजी देखी जा रही है. इस बीच केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अप्रैल महीने के लिए गाइडलाइन जारी किया है. इस गाइडलाइन में मुख्य रूप से टेस्ट, ट्रैक और ट्रीट की रणनीति पर काम करने पर जोर दिया गया है. साथ ही टीकाकरण अभियान पर फोकस अधिक रखने के लिए कहा गया है. जिन भी राज्यों में आरपीसीआर टेस्ट का आंकड़ा कम है इसे बढ़ाये जाने की सलाह दी गई है.


गाइडलाइन में कहा गया है कि जब नए कोरोना केस का पता चले तो उसका समय पर इलाज हो और उसपर नजर रखी जाए. कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग के जरिए सभी संपर्क में आने वाले लोगों को क्वारंटीन की जाए. कंटेनमेंट जोन की जानकारी जिला कलेक्टर वेबसाइट पर डालें और इस लिस्ट को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय से साझा करें.


गाइडलाइन में मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन कराने के लिए उचित जुर्माने की भी बात कही गई है. यह भी साफ किया गया है कि इंटर स्टेट और इंट्रा स्टेट (दूसरे राज्य में जाने) को लेकर पाबंदियां नहीं लगाई जाए.

जिन राज्यों में टीकाकरण की रफ्तार धीमी है उसको लेकर गाइडलाइन में चिंता जताई गई है. राज्यों से कहा गया है कि टीकाकरण में तेजी लाएं. कोरोना के चेन को तोड़ने के लिए यह जरूरी है.


महाराष्ट्र, पंजाब, गुजरात, छत्तीसगढ़, कर्नाटक और तमिलनाडु में तेजी से कोरोना के मामले बढ़े हैं. देश में पिछले 24 घंटो में सामने आए नए संक्रमण के मामलों में से 81% मामले सिर्फ इन 6 राज्यों से हैं.

 

बेटी करती थी दूसरे समाज के युवक के साथ प्यार, इसलिए माता-पिता व भाई ने युवती को उतारा मौत के घाट

बेटी करती थी दूसरे समाज के युवक के साथ प्यार, इसलिए माता-पिता व भाई ने युवती को उतारा मौत के घाट

 सनावद। एक युवती का अन्य समाज के युवक से प्रेम उसके परिजनों को इतना नागवार गुजरा कि उसे मौत के घाट उतार दिया। मां-पिता, भाई, बुआ और फूफा ने मिलकर 16 मार्च को उसकी हत्या कर दी। हत्या को आत्महत्या साबित करने के लिए शव को कुएं में फेंक दिया। गिरफ्तार पांचों आरोपियों ने पुलिस के सामने जुर्म कबूल कर लिया है। पोस्टमार्टम से पता चला कि उसकी मौत मुंह दबाने या दम घुटने से हुई है। आरोपियों ने शव को एक दिन घर में छिपाकर रखा। दूसरे दिन करीब चार बजे कुएं में फेंक दिया। वहीं, अगले दिन पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने पूछताछ में सख्ती बरती तो सच सामने आ गया।

 बड़ी खबर: अब इनको नहीं भरनी पड़ेगी टूशन फीस, सरकार ने जारी किया आदेश

बड़ी खबर: अब इनको नहीं भरनी पड़ेगी टूशन फीस, सरकार ने जारी किया आदेश

चंडीगढ़। हरियाणा में सालाना 1.80 लाख रुपये से कम आय वाले परिवारों की परास्नातक की छात्राओं को अब ट्यूशन शुल्क का भुगतान नहीं करना होगा। एक आधिकारिक बयान में यह जानकारी दी गई।

उच्च शिक्षा विभाग के महानिदेशक ने इस संबंध में सभी सरकारी और सरकार से सहायता प्राप्त कॉलेजों के प्रधानाध्यापकों को एक पत्र भेजा है। इस बीच हरियाणा स्कूल शिक्षा बोर्ड, भिवानी के अध्यक्ष जगबीर सिंह ने कहा कि नौवीं और 11वीं कक्षा की परीक्षाओं का आयोजन पूर्व निर्धारित समय सुबह आठ बजकर 30 मिनट से सुबह 11 बजे के बजाए अब सुबह 10 बजे से अपराह्न 12:30 बजे तक किया जाएगा।
 भीषण सड़क हादसे में 13 लोगों की मौत, मुख्यमंत्री व पूर्व मुख्यमंत्री ने जताया शोक

भीषण सड़क हादसे में 13 लोगों की मौत, मुख्यमंत्री व पूर्व मुख्यमंत्री ने जताया शोक

ग्वालियर। ग्वालियर में मंगलवार की सुबह भीषण अनहोनी लेकर आई। पुरानी छावनी पर बस और ऑटो की भिड़ंत में 13 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। इस दर्दनाक दुर्घटना के बाद घटनास्थल का दृश्य बेहद ह्रदय विदारक था। ग्वालियर में आनंदपुर ट्रस्ट अस्पताल के सामने आज सुबह भीषण सड़क हादसा हो गया। ऑटो और बस की टक्कर में 13 लोगों की मौत हो गई। इनमें बारह महिलाएं और एक ऑटो चालक थे। तीन अन्य को अस्पताल ले जाया गया, उनकी हालत भी नाजुक है। हादसे में ऑटो के परखच्चे उड़ गए हैं।

ग्वालियर के एस पी अमित सांघी ने बताया कि ऑटो ग्वालियर से मुरैना रोड पर चमन पार्क तरफ जा रहा था जिसमें आंगनबाड़ी के बच्चों के लिए रसोई बनाने का काम करने वालीं महिलाएं थीं। ये रात भर काम कर लौट रहीं थीं। ये सब दो ऑटो में सवार थीं मगर एक ऑटो खराब होने के बाद एक ही ऑटो में बैठ गईं। बस मुरैना से ग्वालियर आ रही थी। ऑटो और बस की सामने सामने की टक्कर में कोई नहीं बचा।

अब इस हादसें के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मृतकों के परिवार के लिए 4-4 लाख रुपए और घायलों के लिए 50 हजार रुपये का मुआवजा देने की घोषणा कर दी है। उन्होंने ट्वीट किया है। इस ट्वीट में वह लिखते हैं- ``ग्वालियर में बस और ऑटो में टक्कर से हुए भीषण हादसे में कई अनमोल जिंदगियों के असमय काल कवलित होने से बहुत दुःख पहुंचा है। ईश्वर से दिवंगत आत्माओं को अपने श्री चरणों में स्थान और परिजनों को यह वज्रपात सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं। ॐ शांति!``

उनके अलावा पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने भी सड़क हादसे के पीड़ित परिवारों के प्रति दुख व्यक्त किया है। उन्होंने एक ट्वीट कर कैप्शन में लिखा है, `ग्वालियर में बस व ऑटो में हुई भीषण दुर्घटना में 13 लोगों की दुखद मृत्यु का समाचार व्यथित करने वाला है। पीड़ित परिवारों के प्रति मेरी शोक संवेदनाएँ हैं। घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूँ। मैं सरकार से माँग करता हूँ कि इस ह्रदय विदारक दुर्घटना में पीड़ित परिवारों की हर संभव मदद की जाए, घायलों के समुचित इलाज की व्यवस्था हो।`
 
BIG BREAKING : प्रदेश के इस जिले में फट कोरोना बम, आज प्रदेश में 1500 से अधिक नए कोरोना मरीजों की हुई पहचान

BIG BREAKING : प्रदेश के इस जिले में फट कोरोना बम, आज प्रदेश में 1500 से अधिक नए कोरोना मरीजों की हुई पहचान

रायपुर | छत्तीसगढ़ प्रदेश में आज कुल 1525 नए कोरोना मरीजों की पहचान की गई है | जिसमे जिला दुर्ग से सर्वाधिक 468 मरीज, रायपुर से 349, राजनांदगांव से 115, बालोद से 20, बेमेतरा से 53, कबीरधाम से 22, धमतरी से 16, बलौदा बाजार से 21, महासमुंद से 39, गरियाबंद से 10, बिलासपुर से 85, रायगढ़ से 18, कोरबा से 44, जांजगीर-चांपा से 19, मुंगेली से 5, जीपीएम से 3, सरगुजा से 63, कोरिया से 51, सूरजपुर से 24, बलरामपुर से 4, जशपुर से 53, बस्तर से 8, कोंडागांव से 1, दंतेवाड़ा से 4, सुकमा से 1, कांकेर से 22, नारायणपुर से 1, बीजापुर से 5 , अन्य राज्य से 1 मरीज शामिल है । आज प्रदेश में कुल 527 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ्य होने के उपरांत अपने घर लौटे है | राज्य में आज कुल 10 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है | प्रदेश में अब कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 9205 है |  

बड़ी खबर: ये मुख्यमंत्री हुए कोरोना संक्रमित, लगातार कई कार्यक्रमों में हुए थे शामिल

बड़ी खबर: ये मुख्यमंत्री हुए कोरोना संक्रमित, लगातार कई कार्यक्रमों में हुए थे शामिल

देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसकी जानकारी उन्होंने खुद सोशल मीडिया के जरिए दी है। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर ये जानकारी साझा की है।  

कूड़ेदान में ले जाकर 8 साल की मासूम से रेप, 40 फोटो देखकर बच्ची ने की आरोपी की पहचाना

कूड़ेदान में ले जाकर 8 साल की मासूम से रेप, 40 फोटो देखकर बच्ची ने की आरोपी की पहचाना

भोपाल। शहर में आठ साल की बच्ची से रेप हुआ है। बच्ची जब अपने घर के बाहर खेल रही थी, तब गुजरात के रहने वाले आरोपी ने अयोध्या नगर इलाके में नगर निगम के एक कूड़ेदान के भीतर ले जाकर बच्ची से रेप किया। हालांकि, 40 तस्वीरें देखने के बाद पीडि़त बच्ची ने आरोपी की पहचान की और उसे गिरफ्तार किया गया। यह घटना शनिवार की दोपहर एक बजे की है।


पुलिस के मुताबिक, पीडि़त बच्ची अपने घर के बाहर खेल रही थी, तभी काले रंग का शर्ट पहने और दाढ़ी रखा आरोपी वहां आया। आरोपी ने बच्ची को पास की दुकान से तंबाकू का पाउच लाने को कहा। तंबाकू का पाउच लाने के बाद बच्ची को आरोपी ने कूड़ेदान के पीछे खड़े शख्स को उसे देने के लिए कहा। जैसे ही बच्ची कूड़ेदान के पीछे गई, आोरोपी ने उसे कूड़ेदान के भीतर धकेल दिया और उसके रेप किया। रेप करने के बाद घटनास्थल से आरोपी भाग गया।

इस घटना के बारे में बच्ची ने अपने नानी को बताया। इसके बाद बच्ची की नानी पुलिस के पास पहुंची। इसके बाद पुलिस ने छानबीन शरू कर दी। फिलहाल, बच्ची की हालत स्थिर है। पुलिस के मुताबिक, आरोपी की तलाश करने के लिए आठ टीमों का गठन किया गया। बाहर से अयोध्या नगर जेजे कलस्टर आए हुए सभी लोगों में से आरोपी को पकडऩे के लिए ये टीमें बनाई गईं। पीडि़ता द्वारा दिए गए विवरण के आधार पर 40 संदिग्धों की तस्वीरें खींची गईं और फिर पीडि़ता को दिखाया गया। 

40 संदिग्धों की तस्वीर देखने के बाद बच्ची ने आरोपी को पहचान लिया। इसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया। आरोपी गुजरात का रहने वाला है। वह शादीशुदा है और मगर उसकी पत्नी कुछ साल पहले ही उसे छोड़ चुकी है। रेप करने के बाद आरोपी गुजरात भागने की फिराक में था, मगर भोपाल में संडे लॉकडाउन की वजह से उसके नापाक मंसूबे कामयाब नहीं हो पाए। आरोपी के खिलाफ पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज है। 
 यहां खेली जाती है `जूता मार होली`, जाने इससे जुड़ी दिलचस्प बातें

यहां खेली जाती है `जूता मार होली`, जाने इससे जुड़ी दिलचस्प बातें

शाहजहांपुर। जिस तरह मथुरा के बरसाना-नंदगांव की `लट्ठमार होली` दुनिया भर में प्रसिद्ध है, उसी तरह शाहजहांपुर जिले में हर साल होली के दिन खेली जाने वाली `जूता मार होली` की भी एक अलग पहचान है। इसकी तैयारी में पुलिस प्रशासन पूरी मुस्तैदी से जुट गया है।

आयोजकों के मुताबिक इस बार `लाट साहब` दिल्ली से आएंगे जबकि पिछली बार `लाट साहब` रामपुर से लाए गए थे। होली के दिन भैंसा गाड़ी पर निकलने वाले जुलूस में `लाट साहब` मुख्यम आकर्षण होते हैं। अपर पुलिस महानिदेशक अविनाश चन्द ने जिलाधिकारी तथा पुलिस अधीक्षक के अलावा बड़ी संख्या में पुलिस बल के साथ `लाट साहब` के जुलूस के मार्ग पर फ्लैग मार्च किया तथा अधिकारियों को दिशा-निर्देश भी दिए।

लाट साहब को जूसे से मारते हैं
स्वामी शुकदेवानंद कॉलेज के इतिहास विभाग के अध्यक्ष डॉ. विकास खुराना ने बताया कि `यहां होली वाले दिन `लाट साहब` का जुलूस निकलता है और उन्हें भैंसा गाड़ी पर तख्त डालकर बिठाया जाता है। लाट साहब का जुलूस बड़े ही गाजे-बाजे के साथ निकलता है और इस दौरान लाट साहब की जय बोलते हुए होरियारे उन्हें जूतों से मारते हैं।`

डॉ खुराना ने बताया, `शाहजहांपुर शहर की स्थापना करने वाले नवाब बहादुर खान के वंश के आखिरी शासक नवाब अब्दुल्ला खान पारिवारिक लड़ाई के चलते फर्रुखाबाद चले गए। वो 1729 में 21 साल की उम्र में वापस शाहजहांपुर आए। वह हिंदू-मुसलमानों के बड़े प्रिय थे और इसी बीच होली का त्योहार आ गया और तब दोनों समुदाय के लोग उनसे मिलने के लिए घर के बाहर खड़े हो गए। जब नवाब साहब बाहर आए तो लोगों ने होली खेली। बाद में उन्हें ऊंट पर बैठाकर शहर का एक चक्कर लगाया गया इसके बाद से यह परंपरा बन गई।`
 
उन्होंने बताया कि 1857 तक हिंदू- मुस्लिम दोनों मिलकर यहां होली का पर्व बड़े ही धूमधाम से मनाते थे तथा नवाब साहब को हाथी या फिर घोड़े पर बैठा के शहर में घुमाया जाता था। परंतु हिंदू मुस्लिम का यह सौहार्द प्यार अंग्रेजों को रास नहीं आया। खुराना ने बताया, ``इसके बाद 1858 में बरेली के सैन्य शासक खान बहादुर खान के सैन्य कमांडर मरदान अली खान ने एक टुकड़ी के साथ शाहजहांपुर में हिंदुओं पर हमला कर दिया जिसमें तमाम हिंदू मुसलमान मारे गए थे। तब शहर में सांप्रदायिक तनाव हो गया क्योंकि विद्रोह के बाद अंग्रेजों की नीति थी फूट डालो और राज करो।`

क्यों पड़ा `लाट साहब` नाम
डॉक्टर खुराना के मुताबिक 1947 के बाद नवाब साहब के जुलूस का नाम बदल कर प्रशासन ने `लाट साहब` कर दिया और तब से यह लाट साहब के नाम से जाना जाने लगा। इसी दौरान अंग्रेज यहां से चले गए और फिर अंग्रेजों के प्रति लोगों में जो आक्रोश था उससे ही इस नवाब के जुलूस का रूप विकृत हो गया। लाट साहब का यह जुलूस चौक कोतवाली स्थित फूलमती देवी मंदिर से निकलता है और वहां लाट साहब मंदिर में मत्था टेकते हैं तथा पूजा अर्चना करते हैं। इसके बाद कोतवाली में सलामी लेते हुए बाबा विश्वनाथ मंदिर में पहुंचते हैं और पुन यह जुलूस चौक में ही आकर समाप्त हो जाता है।

पुलिस प्रशासन सख्त
पुलिस अधीक्षक एस आनंद ने बताया कि होली पर निकलने वाले छोटे तथा बड़े लाट साहब के जुलूस के लिए पुलिस प्रशासन की ओर से पांच पुलिस क्षेत्राधिकारी, 30 थाना प्रभारी तथा 150 उपनिरीक्षक, 900 सिपाही के अलावा दो कंपनी पीएसी तथा दो कंपनी आरपीएफ तथा दो ड्रोन कैमरों की मांग की गई है जो संभवत 25 मार्च तक यहां आ जाएंगे।
 
 बड़ी खबर: जारी हुआ इस परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड, इस डायरेक्ट लिंक से करें डाउनलोड

बड़ी खबर: जारी हुआ इस परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड, इस डायरेक्ट लिंक से करें डाउनलोड

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक ने आरबीआई ग्रेड बी 2021 फेज 2 परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड अपनी ऑफिशियल वेबसाइट पर जारी कर दिया है. जो कैंडिडेट्स आरबीआई ग्रेड बी 2021 फेज 1 परीक्षा में सफल घोषित किये गए हैं, वे फेज-2 की परीक्षा में शामिल होने के लिए एडमिट कार्ड ऑफिशियल वेबसाइट https://opportunities.rbi.org.in/Scripts/CallLetters.aspx पर जाकर डाउनलोड कर सकते हैं। आरबीआई ग्रेड बी 2021 परीक्षा का एडमिट कार्ड डाउनलोड करने के लिए कैंडिडेट्स को अपना रजिस्ट्रेशन नंबर, डेटऑफ बर्थ, पासवर्ड का उपयोग करना होगा। कैंडिडेट्स ऑफिशियल वेबसाइट के अलावा नीचे दिए गए लिंक के जरिए अपने एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं।

कैंडिडेट्स सबसे पहले आरबीआई की ऑफिशियल वेबसाइट को लॉग इन करें। उसके बाद होम पेज पर करेंट वैकेंसी सेक्शन में कॉल लेटर पर क्लिक करें। यहां परीक्षार्थी अपने पद के अनुसार एडमिशन लेटर फेज फर्स्ट, फेज सेकेंड और पेपर थर्ड पर क्लिक करें। जो पेज खुलेगा उसपर अब RBI ग्रेड B 2021 रजिस्ट्रेशन नंबर, पासवर्ड दर्ज और स्क्रीन पर दिखाई देने वाला सिक्योरिटी कोड एंटर करें। एंटर करने के बाद RBI ग्रेड B 2021 एडमिट कार्ड स्क्रीन पर दिखाई देगा। इसके बाद आरबीआई ग्रेड बी फेज-2 परीक्षा के एडमिट कार्ड को डाउनलोड कर प्रिंटआउट लें।

भर्ती आरबीआई ग्रेड बी ऑफिसर के पदों पर होगी :
ऑफिसर ग्रेड बी (डीआर) जनरल - 270 पद, ऑफिसर इन ग्रेड बी (डीआर) डीईपीआर- 29 पद, ऑफिसर इन ग्रेड बी (डीआर) डीएसआईएम- 23 पद।

महत्वपूर्ण तिथियों
आरबीआई ग्रेड बी फेज- 2 परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड- 20 मार्च, 2021
आरबीआई ग्रेड एग्जाम परीक्षा की तारीख- 31 मार्च, 2021
आरबीआई ग्रेड एग्जाम- 1 अप्रैल, 2021