कोरोना अपडेट : छत्तीसगढ़ में जारी है कोरोना से मौत का तांडव, प्रदेश में आज 15 हजार के करीब मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से मिले सर्वाधिक मरीज    |    बंगाल चुनाव: EC की नई गाइडलाइंस जारी, प्रचार का समय कम करने से लेकर आपराधिक मामला दर्ज करने तक का आदेश    |    BIG BREAKING : केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर भी आये कोरोना की चपेट में, सोशल मीडिया में दी जानकारी    |    ICMR कोरोना अपडेट: राज्य में आज शाम तक 12079 कोरोना मरीजो की हुई पुष्टि, अकेले रायपुर से 2921 समेत बाकी इन जिलो से...    |    इस राज्य में सरकार ने लागू किया वीकेंड लॉकडाउन, मास्क नहीं पहनने पर लगेगा बड़ा जुर्माना    |    BIG BREAKING : नहीं होगी ऑक्सीजन की कमी, पीएम केयर्स फंड से अस्पतालों में लगेंगे प्लांट    |    कोरोना की चपेट में सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस शाह का पूरा स्टाफ...    |    कोरोना अपडेट : देश में 24 घंटे में सामने आए 2.16 लाख मामले, 1184 मौतें    |    BIG BREAKING : प्रदेश में कोरोना से मौत ने लगाई शतक, प्रदेश में आज 15 हजार से अधिक नए मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से इतने    |    कोरोना अपडेट: ICMR के मुताबिक आज प्रदेश में शाम तक 11819 मरीज मिले, अकेले रायपुर जिले से 2870 समेत बाकी इन जिलो से    |
 आम आदमी की जेब पर अब पडेगा अधिक बोझ: 1 अप्रैल से दूध और स्मार्टफोन्स के साथ ये चीजें होंगी महंगी

आम आदमी की जेब पर अब पडेगा अधिक बोझ: 1 अप्रैल से दूध और स्मार्टफोन्स के साथ ये चीजें होंगी महंगी

सप्ताहभर बाद हम इस साल के नए माह अप्रैल में प्रवेश कर जाएंगे. 1 अप्रैल आने ही वाला है और अप्रैल आम आदमी के लिए कई चुनौती लेकर आ रहा है. जहां आम आदमी की जेब पर अधिक बोझ पड़ेगा. जी हां! जहां एक तरफ पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों ने जीना मुहाल कर रखा है, वहीं, दूसरी तरफ 1 अप्रैल से दूध, एयर कंडीशनर, पंखा, टीवी, स्मार्टफोन्स के दाम बढ़ रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ हवाई यात्रा से टोल टैक्स और बिजली के लिए अधिक पैसे चुकाने पड़ेंगे. तो आइए जानते हैं 1 अप्रैल से क्या कुछ महंगा होगा और इसके लिए आपको कितने रुपये चुकाने होंगे.

1 अप्रैल से 3 रुपये बढ़ेंगे दूध के दाम-
दूध के दाम बढ़ाने पर व्यापारियों ने फैसला ले लिया है. किसानों ने दूध के दाम 55 रुपये प्रति लीटर करने की बात कही थी. लेकिन व्यापारियों का कहना है कि वे 3 रुपये ही दूध के दाम बढ़ाएंगे. बढ़े हुए दाम 1 अप्रैल से लागू होंगे. यानी 1 अप्रैल से आपको दूध 49 रुपये प्रति लीटर मिलेगा.

एक्सप्रेसवे पर सफर करना पड़ेगा महंगा-
आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर सफर और महंगा होने जा रहा है. उत्तर प्रदेश एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण बोर्ड ने वर्ष 2021-22 के लिए नई दरों को मंजूरी दे दी है. कम से कम 5 रुपये और ज्यादा से ज्यादा 25 रुपये की बढ़ोतरी की गई है. नई दरें 1 अप्रैल से लागू होंगी.

बिजली के लिए चुकाने होंगे ज्यादा दाम-
बिहार के लोगों को 1 अप्रैल से बिजली विभाग झटका देने की तैयारी कर रहा है. बिहारवासियों को अगले महीने से बिजली के लिए ज्यादा बिल चुकाना पड़ सकता है. बिजली विभाग के मुताबिक, साउथ और नाॅर्थ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी ने बिजली की दर में 9 से 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी का प्रस्ताव दिया है. अगर इस प्रस्ताव को यदि बिहार राज्य विद्युत विनियामक आयोग मान लेता है तो उपभोक्ताओं पर महंगाई का एक और बोझ बढ़ने के संकेत मिल रहे हैं.

एक अप्रैल से महंगा होगा हवाई सफर-
अगर आप अक्‍सर फ्लाइट से ट्रैवल करते है तो आपके ल‍िए यह झटका है. जल्‍द ही आपको फ्लाइट्स से उड़ान भरने के लिए अधिक रकम देनी होगी. हाल ही में केंद्र सरकार के डोमेस्टिक फ्लाइट्स किराए की लोअर लिमिट को 5 फीसदी बढ़ाने का फैसला किया. अब 1 अप्रैल से एविएशन सिक्सोरिटी फीस यानी एएसएफ (Aviation Security Fees) भी बढ़ने वाली है. 1 अप्रैल से डोमेस्टिक फ्लाइट्स के लिए एविएशन सिक्सोरिटी फीस 200 रुपये होगी. फिलहाल यह 160 रुपये है. इंटरनेशनल फ्लाइट्स की बात करें तो इनके लिए शुल्क 5.2 डॉलर से बढ़कर 12 डॉलर हो जाएगा. ये नई दरें एक अप्रैल 2021 से जारी होने वाली टिकटों पर लागू होंगी.

एक अप्रैल से TV होगा महंगी-
एक अप्रैल 2021 से टेलीविजन  की कीमतों में 2000 से 3000 रुपये तक की बढ़ोतरी हो सकती है. यह भी तब जबकि, बीते 8 महीनों में ही कीमतें 3 से 4 हजार रुपये तक बढ़ गई हैं. इसे देखते हुए टीवी मैन्युफैक्चर्स ने टीवी को भी पीएलआई स्कीम्स में लाने की मांग रखी है. 1 अप्रैल 2021 से TV की कीमतों में कम से कम 2 से 3 हजार रुपये की बढ़ोतरी होगी.

AC, फ्रिज, कूलर होंगे महंगे-
अगर आप इस साल गर्मी के मौसम में एसी या फ्रीज खरीदने की सोच रहे हैं तो आपको बड़ा झटका लग सकता है. अप्रैल से AC कंपनियां कीमत में बढ़ोतरी का प्लान कर रही है. कंपनियां कच्चे माल की कीमतों में हो रही बढ़ोतरी के चलते एसी की कीमत बढ़ाने की तैयारी कर रही हैं. AC बनाने वाली कंपनियां कीमत में 4-6 फीसदी बढ़ोतरी की योजना बना रही है. यानी प्रति यूनिट एसी की कीमत में 1500 रुपये से 2000 रुपये की बढ़ोतरी हो सकती है.

कार खरीदना होगा महंगा-
अगर आप कार लेने की सोच रहे है तो आपके लिए मार्च अच्छा महीना रहेगा, क्यूंकि अप्रैल में आपको कार खरीदना महंगा पड़ सकता है. जापानी कंपनी Nissan ने अपने कार की कीमतों में इजाफा करने की घोषणा की है, साथ में Nissan अपने दूसरे ब्रांड Datsun के गाड़ियों की कीमत में इजाफा करने की घोषणा की है. Nissan के कारों के अलावा 1 अप्रैल से Renault Kiger जो कि देश की सबसे सस्ती कॉम्पैक्ट एसयूवी है, वो भी अब महंगी होने जा रही है. कृषि उपकरण बनाने वाली कंपनी एस्कॉर्ट्स लिमिटेड के एस्कॉर्ट्स एग्री मशीनरी डिवीजन ने बुधवार को कहा कि वह अगले महीने से ट्रैक्टर के दाम बढ़ाएगी.
 होली में इस बार 38 डिग्री तक पहुंचेगा पारा, 10 साल का टूटेगा रिकॉर्ड

होली में इस बार 38 डिग्री तक पहुंचेगा पारा, 10 साल का टूटेगा रिकॉर्ड

नई दिल्ली। इस बार की होली पिछले दशक में सबसे अधिक गर्म होने वाली है। अधिकतम तापमान 38 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचेगा। इससे पहले वर्ष 2011 में होली पर अधिकतम तापमान 35.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। वहीं, अगले 24 घंटे में आसमान साफ रहने के साथ तापमान अधिकतम 34 व न्यूनतम 17 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। वहीं अगले तीन दिनों में अधिकतम तापमान में छह डिग्री तक की बढ़ोतरी होगी। दिन भर आसमान साफ रहेगा और धूप लोगों को परेशान करेगी। स्काईमेट वेदर की रिपोर्ट के मुताबिक इस होली पर मौसम ज्यादा गर्म रहने वाला है। होली के आसपास दिल्ली-एनसीआर में बारिश की संभावना भी नहीं बन रही है। वर्ष 2010 में होली का पर्व फरवरी माह में था। वर्ष 2000 के बाद यह तीसरी बार है, जब होली का पर्व 25 मार्च के बाद है। अमूमन इन दिनों मौसम अधिक गर्म माना जाता है। इससे पहले, वर्ष 2005 में 25 मार्च और 2013 में 27 मार्च को होली मनाई गई थी। 

मौसम विभाग के मुताबिक, हाल ही में पश्चिमी विक्षोभ के गुजरने की वजह से न्यूनतम तापमान में कमी आ रही है। वहीं, अधिकतम तापमान में भी ज्यादा वृद्धि नहीं हो रही है। शुक्रवार को राजधानी का अधिकतम तापमान सामान्य के बराबर 32 और न्यूनतम सामान्य से एक कम 16 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। पिछले 24 घंटे में हवा में नमी का स्तर 36 से 81 फीसदी तक दर्ज किया गया। वहीं, स्पोर्ट्स कांप्लेक्स इलाका 33.6 डिग्री सेल्सियस के साथ सबसे गर्म रहा। 

बदलते मौसम का असर वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) पर भी पड़ रहा है। शुक्रवार को भी दिल्ली-एनसीआर की हवा औसत श्रेणी में बनी रही। अगले दो दिन भी इसके इसी स्तर पर रहने की संभावना है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार, राजधानी का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक 150 दर्ज किया गया। इसके अलावा फरीदाबाद व नोएडा की हवा 135 एक्यूआई के साथ सबसे साफ रही। 

सफर के अनुसार, इन दिनों हवा की दिशा दक्षिण-पश्चिम दिशा की ओर है। वेंटिलेशन इंडेक्स के साथ देने से एक्यूआई मेें सुधार है। अगले दो दिन तक यही स्थिति रहेगी। पिछले 24 घंटे में हवा में पीएम10 142 व पीएम2.5 का स्तर 53 माइक्रोग्राम प्रति घनमीटर दर्ज किया गया।
 बॉलीवुड में कोरोना: अब ये दिग्गज अभिनेता हुए कोरोना संक्रमित

बॉलीवुड में कोरोना: अब ये दिग्गज अभिनेता हुए कोरोना संक्रमित

मुंबई। दिग्गज अभिनेता परेश रावल ने बताया कि वह कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में आ गए हैं। रावल (65) ने नौ मार्च को कोविड-19 रोधी टीके की पहली खुराक ली थी। उन्होंने ट्विटर के जरिये खुद के संक्रमित होने की जानकारी दी और अपने संपर्क में आए लोगों से भी जांच कराने की अपील की। अभिनेता ने ट्वीट किया, दुर्भाग्यवश, मैं कोरोना वायरस की चपेट में आ गया हूं। बीते दस दिन में मेरे संपर्क में आए सभी लोगों से जांच कराने का अनुरोध करता हूं। 

 

 बड़ी खबर: फैशन स्ट्रीट मार्केट में भीषण आग, 500 से अधिक दुकानें ख़ाक

बड़ी खबर: फैशन स्ट्रीट मार्केट में भीषण आग, 500 से अधिक दुकानें ख़ाक

पुणे। महाराष्ट्र में पुणे के कैंप इलाके में फैशन स्ट्रीट मार्केट में आग लग गई। स्ट्रीट मार्केट में आग लगने से काफी तेज धुंआ उठने लगा। दमकल कर्मियों की गाड़ियां सूचना मिलते ही मौके पर पहुंच गईं। आग कैसे लगी इस बारे में अधिक जानकारी नहीं मिली है।

दमकल विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार देर रात महाराष्ट्र के बाजार में आग लगने से हड़कंप मच गया। आगजनी की घटना में पुणे का फैशन स्ट्रीट बाजार पूरी तरह से नष्ट हो गया। अधिकारी ने कहा कि 500 से अधिक छोटी दुकानें जलकर राख हो गईं क्योंकि आग बड़ी तेजी से पूरे इलाके में फैल गई।

पुणे में एमजी रोड पर फैशन स्ट्रीट एक प्रसिद्ध विंडो शॉपिंग डेस्टिनेशन है, जहां कपड़े, जूते, चश्मे और अन्य सामान बेचने वाले छोटी दुकानें लगती हैं। अधिकारी ने कहा कि सड़क की भारी भीड़ के कारण दमकल विभाग को मौके पर पहुंचने में काफी मशक्कत करनी पड़ी। 

मुख्य अग्निशमन अधिकारी के अनुसार, छावनी क्षेत्र से रात 9:30 बजे मदद के लिए कॉल आया था। आग तेजी से पूरे बाजार में फैल चुकी थी। 50 से अधिक अग्निशामकों, 16 फायर टेंडरों और 10 अन्य अधिकारी स्थानीय लोगों के साथ आग बुझाने में लग गए। रात के करीब एक बजकर 10 मिनट पर स्थिति नियंत्रण में आई। हालांकि, 500 से अधिक दुकानें जलकर खाक हो गईं।

उन्होंने कहा कि घटना के कारणों की पड़ताल की जा रही है। पुणे का फैशन स्ट्रीट खासा मशहूर बाजार और शॉपिंग के लिए लोगों की खासी पसंदीदा मार्केट है यहां दुकानें काफी घने तरीके से बसी हुई हैं जिसके चलते आग को फैलने में देर नहीं लगी।

गौरतलब है कि पिछले 15 दिनों में यह दूसरी आग की घटना है जो छावनी क्षेत्र से रिपोर्ट की गई है। 16 मार्च को पुणे के शिवाजी मार्केट में भी भीषण आग लग गई थी। इस घटना के बाद कम से कम 25 दुकानें जल गईं।
 
 बड़ी खबर: कोरोना की चपेट में आए मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर

बड़ी खबर: कोरोना की चपेट में आए मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर

मुंबई। सर्वकालिक महान भारतीय बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। ट्विटर पर शनिवार की सुबह जानकारी देते हुए उन्होंने लिखा, `मैं लगातार टेस्ट करवा रहा था, साथ ही सारे दिशा-निर्देशों का पालन भी कर रहा था हालांकि हल्के लक्षणों के साथ मुझे पॉजिटिव पाया गया है। घर में अन्य सभी की रिपोर्ट निगेटिव आईं हैं। मैंने खुद को क्वारंटीन कर लिया है और सारे प्रोटोकॉल्स का पालन भी कर रहा हूं। डॉक्टर्स की सलाह पर अमल कर रहा हूं। मुझे और विभिन्न देशों में लोगों का ख्याल रख रहे तमाम स्वास्थ्यकर्मियों का धन्यवाद भी करना चाहता हूं।`
 
कोरोना अपडेट: दुर्ग और रायपुर में लगातार जारी कोरोना का कहर,आज भी 22 लोगो की मृत्यु के साथ प्रदेश में  2665 मरीज मिले

कोरोना अपडेट: दुर्ग और रायपुर में लगातार जारी कोरोना का कहर,आज भी 22 लोगो की मृत्यु के साथ प्रदेश में 2665 मरीज मिले

रायपुर | छत्तीसगढ़ प्रदेश में आज कुल 2665 नए कोरोना मरीजों की पहचान की गई है | जिसमे जिला दुर्ग से सर्वाधिक 988 मरीज, रायपुर से 689, राजनांदगांव से 178, बालोद से 55, बेमेतरा से 97, कबीरधाम से 16, धमतरी से 42, बलौदा बाजार से 45, महासमुंद से 70, गरियाबंद से 20, बिलासपुर से 113, रायगढ़ से 17, कोरबा से 50, जांजगीर-चांपा से 25, मुंगेली से 6, जीपीएम से 8, सरगुजा से 77, कोरिया से 39, सूरजपुर से 33, बलरामपुर से 1, जशपुर से 44, बस्तर से 12, कोंडागांव से 1, दंतेवाड़ा से 3, सुकमा से 4, कांकेर से 22, नारायणपुर से 2, बीजापुर से 6, अन्य राज्य से 2 मरीज शामिल है । आज प्रदेश में कुल 570 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ्य होने के उपरांत अपने घर लौटे है | राज्य में आज कुल 22 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है | प्रदेश में अब कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 15307 है |  

 बड़ी खबर: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को आज सीने में तकलीफ के बाद कराया गया अस्पताल में भर्ती

बड़ी खबर: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को आज सीने में तकलीफ के बाद कराया गया अस्पताल में भर्ती

नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को आज सीने में तकलीफ के तत्काल बाद दिल्ली के आर्मी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। उनका रूटीन चेकअप चल रहा है। आर्मी हॉस्पिटल की ओर से जारी ताजा बयान में कहा गया है कि उनकी हालत स्थिर है और चिंता की बात नहीं है।

जानकारी के मुताबिक शुक्रवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को सीने में तकलीफ होने के बाद सेना के अनुसंधान और रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया था। फिलहाल वो आर्मी हॉस्पिटल में डॉक्टरों की निगरानी में हैं।

इससे पहले आज सुबह ही राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बांग्लादेश के लोगों को स्वतंत्रता दिवस पर बधाई दी थी। इसके साथ ही उन्होंने बांग्लादेश के बेहतर भविष्य की कामना भी की थी।
 
बड़ी खबर: प्रेमी की शादी कहीं और तय होने से नाराज प्रेमिका ने तेजाब डालकर प्रेमी को उतारा मौत के घाट

बड़ी खबर: प्रेमी की शादी कहीं और तय होने से नाराज प्रेमिका ने तेजाब डालकर प्रेमी को उतारा मौत के घाट

आगरा। आगरा के थाना हरीपर्वत क्षेत्र में एक महिला ने बहाने से युवक को बुलाकर तेजाब से नहला दिया। युवक की इलाज के दौरान मौत हो गई। इस घटना में महिला भी झुलस गई और उसका अस्पताल में इलाज चल रहा है। बताया जा रहा है कि दोनों लिव इन में रहते थे। युवक की शादी कहीं और तय होने से नाराज महिला ने यह खौफनाक कदम उठा लिया। जानकारी के मुताबिक, सुबह सात बजे के लगभग थाना हरीपर्वत के शास्त्री नगर में एक मकान में युवक की चीख सुनाई दी। लोगों ने मदद के लिए दौड़ लगाई तो वहां एक युवक बुरी तरह तेजाब से झुलसा हुआ था और एक महिला भी घायल अवस्था में थी। पुलिस ने उन्हें अस्पताल भेजा जहां मजिस्ट्रेट के सामने बयान के बाद युवक की मौत हो गई। युवक की शिनाख्त कासगंज के मूल निवासी देवेंद्र के रूप में हुई है। वह आगरा में थाना सिकन्दरा में रहता था। वह हरीपर्वत क्षेत्र के एक लैब में सहायक के पद पर काम करता था। वहीं महिला सोनम औरैया की रहने वाली है।

पुलिस के मुताबिक, महिला कई सालों से पति से अलग रह रही थी। वह यहां अपने दो बच्चों के साथ रह रही थी। देवेंद्र और महिला के बीच प्रेम संबंध थे और वे लिव इन में रह रहे थे। इस बीच देवेंद्र के परिजनों ने उसकी शादी कहीं और तय कर दी। देवेंद्र भी महिला को छोड़कर शादी को तैयार हो गया। 

मरने से पहले अस्पताल में देवेंद्र ने कहा कि मैं घर लौटा तो उसने मुझे चाय पिलाई। इसके बाद मैं सो गया। सोते समय ही मेरे ऊपर तेजाब डाला और भाग गई। एसपी सिटी रोहन पी बोत्रे के मुताबिक, प्रेमी देवेंद्र कासगंज जिला का रहने वाला था और लड़की सोनम औरैया की रहने वाली है और वह एक अस्पताल में नर्स है। दोनों लिव इन रिलेशन में रह रहे थे और किसी विवाद के चलते लड़की सोनम ने देवेंद्र पर तेजाब फेंक दिया और इलाज दौरान देवेंद्र की मौत हो गई। वहीं, महिला का हाथ जलने पर उसे निजी अस्पताल भेजा गया है। मामले में एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद ने कहा कि जांच की जा रही है।
 बड़ी खबर: सीबीआई ने 100 स्थानों पर की छापेमारी, अलग-अलग बैंकों से 3700 करोड़ की धोखाधड़ी

बड़ी खबर: सीबीआई ने 100 स्थानों पर की छापेमारी, अलग-अलग बैंकों से 3700 करोड़ की धोखाधड़ी

नई दिल्ली। सीबीआई ने गुरुवार को राष्ट्रव्यापी अभियान के तहत 100 स्थानों पर छापेमारी की। 11 राज्यों व संघ शासित प्रदेशों में यह कार्रवाई बैंक धोखाधड़ी के 30 से ज्यादा मामलों में की गई। इन मामलों में कुल 3700 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की गई है। 

सीबीआई के प्रवक्ता आर सी जोशी ने कहा कि ये छापेमारियां भारत में विभिन्न राष्ट्रीयकृत बैंको से मिली शिकायतों के आधार पर धोखाधड़ी करने वालों के खिलाफ शुरू किए गए विशेष अभियान का हिस्सा है। शिकायतकर्ता बैंकों में इंडियन ओवरसीज बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ बड़ौदा, पंजाब नेशनल बैंक,स्टेट बैंक आफ इंडिया आदि शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि ये छापेमारियां, कानपुर, दिल्ली, गाजियाबाद, मथुरा, नोएडा, गुड़गांव, चेन्नई, तिरुवरूर, वेल्लोर, तिरुपुर, बेंगलुरु, गुंटूर, हैदराबाद, पश्चिमी गोदावरी, सूरत, मुंबई, भोपाल, निमडी, तिरुपति, विशाखापत्तमन, अहमदाबाद, राजकोट, करनाल, जयपुर और गंगानगर आदि में की गईं। छापेमारी के दौरान जांच एजेंसी ने बड़ी मात्रा में दस्तावेज जब्त किए। 

सीबीआई को लगातार बैंकों की ओर से विभिन्न फर्मों द्वारा धोखाधड़ी, फंड के गलत उपयोग, फर्जी दस्तावेज जमा करके लोन लेने की शिकायतें मिल रही थीं। ये कंपनियां कर्ज नहीं चुका रही थी और ये एनपीए में जा रहा था। इससे बैंकों को भारी नुकसान हो रहा था। स्क्रूटनी करने के बाद बैंक ने ये कार्रवाई की। 
 
 हाई टेंशन तार की चपेट में आई यात्रियों से भरी बस: छत पर बैठे यात्री झुलसे, एक की मौत

हाई टेंशन तार की चपेट में आई यात्रियों से भरी बस: छत पर बैठे यात्री झुलसे, एक की मौत

मथुरा। उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में रंगभरनी एकादशी के मौके पर वृन्दावन की परिक्रमा कर लौट रही अलीगढ़ जनपद के श्रद्धालुओं से भरी एक बस के ऊपर बैठे करीब आधा दर्जन लोग बिजली की हाईटेंशन लाइन की चपेट में आ गए। इस हादसे में एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि कम से कम 6 लोग घायल हो गए। पुलिस ने घायलों को इलाज के लिए मांट के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया है।

पुलिस अधिकारी के मुताबिक, अलीगढ़ जनपद के पिसावा थाना क्षेत्र के मेहगौरा गांव निवासी कुछ लोग बृहस्पतिवार को रंगभरनी एकादशी के मौके पर वृन्दावन की परिक्रमा करने के बाद वापस गांव लौट रहे थे। उन्होंने बताया कि कुछ युवक बस की छत पर बैठे हुए थे। जब बस मांट थाना क्षेत्र के डांगौली तिराहे पर खड़ी थी, तभी एक अन्य युवक गोल्डी भी बस की छत पर चढ़ने लगा। इसी दौरान वह ऊपर से गुजर रही 11 हजार वोल्टेज की हाईटेंशन लाइन के संपर्क में आ गया। इससे पूरी बस में करंट आ गया। चारों तरफ आग की चिंगारियां उठने लगीं। छत पर बैठे अन्य लोग भी झुलस गए। अधिकारी ने कहा कि हादसे में आधा दर्जन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए, जबकि गोल्डी की मौके पर ही मौत हो गई। उन्होंने कहा कि गंभीर रूप से जली तीन महिलाओं को आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर कर दिया गया है।
 
 बड़ी खबर: मॉल में संचालित हॉस्पिटल में आग लगने से कोरोना संक्रमित दो मरीजों की मौत

बड़ी खबर: मॉल में संचालित हॉस्पिटल में आग लगने से कोरोना संक्रमित दो मरीजों की मौत

मुंबई। अस्पताल में आग लगने से कोविड-19 के दो मरीजों की मौत हो गई वहीं 70 अन्य मरीजों को सुरक्षित निकाल लिया गया। एक पुलिस अधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि भांडुप इलाके में स्थित ड्रीम्स मॉल सनराइज अस्पताल में आधी रात के कुछ देर बाद आग लग गई।

उन्होंने बताया कि यह अस्पताल पांच मंजिला मॉल की तीसरी मंजिल पर स्थित है और जब आग लगी तो उस समय कोविड-19 के मरीजों के अलावा और भी कई मरीज अस्पताल में थे। मुंबई में कोरोना वायरस के मामले बढ़ने के बीच यह घटना हुई है। शहर में बृहस्पतिवार को संक्रमण के 5,504 नए मामले सामने आए जो इस महामारी की शुरुआत से लेकर अब तक एक दिन में सर्वाधिक मामले हैं।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि घटना में दो मरीजों की मौत हो गई। हालांकि बीएमसी नियंत्रण कक्ष के एक अधिकारी ने केवल एक व्यक्ति की मौत की ही पुष्टि की है। नियंत्रण कक्ष के सूत्रों ने बताया कि आग लगने की वजह का अभी पता नहीं चला है।

अधिकारी ने बताया कि दमकल की 20 गाड़ियां, पानी के 15 टैंकर और एम्बुलेंस को घटनास्थल पर भेजा गया। आग पर काबू पाने की कोशिश चल रही है।

उन्होंने बताया कि दमकल कर्मियों ने मरीजों को बाहर निकाल लिया और उन्हें एक अन्य अस्पताल में भेजा गया है। दमकलकर्मी इसकी जांच कर रहे हैं कि कहीं कोई मरीज अब भी अस्पताल में तो फंसा नहीं है।

मुंबई की महापौर किशोरी पेडनेकर घटनास्थल पहुंचीं और उन्होंने इस बात पर हैरानी जताई कि मॉल के अंदर अस्पताल है। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने पहली बार किसी मॉल के अंदर अस्पताल देखा है।’’ उन्होंने कहा कि अगर यहां अस्पताल चलाने में किसी तरह की अनियमितता पाई गई तो कार्रवाई की जाएगी।
 
लॉकडाउन: 27 मार्च से इस जिले में 60 घंटे का लॉकडाउन, नियम तोड़ने पर दो हजार का जुर्माना

लॉकडाउन: 27 मार्च से इस जिले में 60 घंटे का लॉकडाउन, नियम तोड़ने पर दो हजार का जुर्माना

वर्धा। महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के नए मामले आए दिन बढ़-चढ़कर सामने आ रहे है, जिस कारण प्रशासन के हाथ-पांव भी फूलते जा रहे हैं। इस राज्य के वर्धा जिले में पिछले दो हफ्तों में हर दिन कम से कम 200 कोविड-19 के नए मामले सामने आने लगे हैं। वर्धा में कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए जिला प्रशासन ने बड़ा फैसला ले लिए लिया है। इसके तहत शहर में शनिवार (27 मार्च) से पूरे 60 घंटे तक लॉकडाउन लागू रहेगा। एक अधिकारी ने बताया कि जिले में कोविड-19 के मामलों में आए उछाल को देखते हुए बृहस्पतिवार को एक आदेश जारी किया गया। इस आदेश में जिला कलेक्टर प्रेरणा देशभट्ट ने कहा, ‘शनिवार सुबह आठ बजे से मंगलवार सुबह आठ बजे तक जिले में 60 घंटे का लॉकडाउन लगाया जाएगा। लॉकडाउन के दौरान सभी आवश्यक दुकानें, मेडिकल स्टोर और एमआईडीसी औद्योगिक क्षेत्र खुले रहेंगे।’ 


लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ होगी कार्रवाई-
गौरतलब है जिले में लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई का भी प्रावधान है। इसके तहत जिला प्रशासन लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने वालों पर दो हजार रुपये का जुर्माना वसूलेगा। जिले में लगातार बढ़ते कोरोना के आंकड़े अब डरा रहे हैं।

यहां बृहस्पतिवार को कोरोना से संक्रमित 251 लोगों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई। वहीं, कोरोना की चपेट में आने से पिछले 24 घंटे में चार लोगों की मौत हो गई। अधिकारियों ने कहा कि होली के त्योहार के मद्देनजर लॉकडाउन का निर्णय भी लिया गया है,  क्योंकि जिला प्रशासन सार्वजनिक समारोहों पर नजर रखना चाहता था।

नागपुर में स्थिति चिंताजनक-
इसके अलावा नागपुर जिले की बात करें तो यहां लगातार चौथे दिन तीन हजार 500 कोविड-19 के मामले दर्ज किए गए, जिनमें से तीन हजार 579 लोग बृहस्पतिवार के दिन कोरोना जांच में पॉजिटिव पाए गए। यहां पिछले 24 घंटों में जिले में सात लोगों की मौत के मामले दर्ज किए गए हैं। 

कोविड-19 की घातक संक्रमण के मामलों में वृद्धि ने नागपुर जिला प्रशासन को चौंका दिया है। ऐसे में स्थिति को देखते हुए नागपुर में प्रतिबंध 31 मार्च तक कुछ ढील के साथ जारी रहेंगे। बता दें, नागपुर में 15 मार्च से पूर्ण लॉकडाउन किया गया था और 21 मार्च से कुछ छूट दी जाने लगी।

शहर के नए दिशानिर्देशों के अनुसार यहां रेस्तरां शाम सात बजे तक ही खुले सकते हैं, जबकि सभी दुकानें शाम चार बजे तक बंद किए जाने का आदेश है। इसके अलावा शहर के सभी निजी और सरकारी कार्यालय 25 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ कार्य कर सकते हैं। वहीं, आवश्यक वस्तुओं को बेचने वाली दुकानें शाम चार बजे के बाद भी खुली रह सकती हैं।
कोरोना अपडेट : प्रदेश में लगातार बढ़ रहे संक्रमित, आज आकड़ा 25 सौ के करीब दुर्ग से फिर सर्वाधिक जाने कितने, देखें बाकि जिलों में संख्या

कोरोना अपडेट : प्रदेश में लगातार बढ़ रहे संक्रमित, आज आकड़ा 25 सौ के करीब दुर्ग से फिर सर्वाधिक जाने कितने, देखें बाकि जिलों में संख्या

रायपुर | छत्तीसगढ़ प्रदेश में आज कुल 2419 नए कोरोना मरीजों की पहचान की गई है | जिसमे जिला दुर्ग से सर्वाधिक 913 मरीज, रायपुर से 550, राजनांदगांव से 163, बालोद से 60, बेमेतरा से 116, कबीरधाम से 18, धमतरी से 41, बलौदा बाजार से 24, महासमुंद से 45, गरियाबंद से 27, बिलासपुर से 114, रायगढ़ से 26, कोरबा से 53, जांजगीर-चांपा से 11, मुंगेली से 7, जीपीएम से 4, सरगुजा से 64, कोरिया से 44, सूरजपुर से 33, बलरामपुर से 7, जशपुर से 38, बस्तर से 25, कोंडागांव से 13, दंतेवाड़ा से 2, सुकमा से 4, कांकेर से 14, नारायणपुर से 0, बीजापुर से 3, अन्य राज्य से 0 मरीज शामिल है । आज प्रदेश में कुल 594 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ्य होने के उपरांत अपने घर लौटे है | राज्य में आज कुल 14 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है | प्रदेश में अब कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 13318 है | 

देश में इस हिस्से में आया भूकंप, 3.5 मापी गई तीव्रता

देश में इस हिस्से में आया भूकंप, 3.5 मापी गई तीव्रता

लेह । लद्दाख के लेह में गुरुवार को भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के अनुसार, रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 3.5 मापी गई है। फिलहाल किसी प्रकार के नुकसान की कोई सूचना नहीं है। इससे पहले लद्दाख में मंगलवार को भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। जिसकी रिक्टर स्केल पर तीव्रता 3.0 मापी गई थी।
देश में भूंकप की सटीक निगरानी के लिए पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय ने भूकंप के लिहाज से संवेदनशील इलाकों की निगरानी को बढ़ाने का फैसला किया है। इसके तहत देश भर में 35 और निगरानी केंद्र खोले जाएंगे। दस महीने के भीतर यह केंद्र पूरी क्षमता से काम करने लगेंगे।
इन केंद्रों के खुल जाने से राष्ट्रीय भूंकप निगरानी केंद्र (नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी) रियल टाइम डाटा एकत्र कर सकेंगे। अभी तक राष्ट्रीय भूकंप निगरानी केंद्र देश में भर में रिक्टर स्केल पर 3.5 परिमाण के भूकंप और दिल्ली और आसपास के लिए 2.5 परिमाण के भूकंप दर्ज करता है।
नए निगरानी केंद्रों के आने से और सूक्ष्मता से पृथ्वी के पेट की हलचल का अध्ययन हो सकेगा। नए निगरानी सिस्टम की मदद से कम तीव्रता वाले भूकंप भी मापे जा सकेंगे। इतना ही नहीं देश भर के इलाकों का भूकंप आने की संवेदनशीलता के अनुसार उसकी भूगर्भीय स्थितियों का आकलन किया जा सकेगा। नए खुलने वाले केंद्रों में सबसे अधिक जोर समुद्र के तटीय इलाकों के साथ पिछले दशक में भूकंप की मार झेलने वाले इलाकों को प्राथमिकता दी गई है।
इसलिए नए खुलने वाले केंद्रों में सबसे अधिक पांच केंद्र कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और राजस्थान सरीखे राज्यों में चार-चार स्टेशन, उत्तराखंड में तीन, गुजरात और केरल में दो-दो, अरुणाचल, छत्तीसगढ़, हरियाणा, मिजोरम, उड़ीसा, पंजाब में एक-एक निगरानी केंद्र खोला जाएगा।
 

आतंकी हमले में सीआरपीएफ के दो जवान घायल, दो शहीद

आतंकी हमले में सीआरपीएफ के दो जवान घायल, दो शहीद

जम्मू । श्रीनगर के बाहरी इलाके लावापोरा में सीआरपीएफ की नाका पार्टी पर आतंकियों ने हमला किया। इस हमले में सीआरपीएफ के चार जवान घायल हुए जिनको उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां दो जवान शहीद हो गए। वहीं आतंकियों की तलाश में इलाके की घेराबंदी कर अभियान चलाया जा रहा है। इस हमले में किसी भी नागरिक के हताहत होने की सूचना नहीं है।
सीआरपीएफ के पीआरओ ओपी तिवारी ने बताया कि नाका पार्टी पर तैनात 73वीं बटालियन पर आतंकियों ने अंधाधुंध गोलीबारी की। जिसमें चार जवान घायल हुए जिनमें से दो जवान शहीद हो गए हैं।
इस बीच सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार हमलावरों की संख्या तीन बताई जा रही है। जोकि ताबड़तोड़ फायरिंग करने के बाद भाग निकले। इस दौरान सुरक्षा कर्मियों द्वारा संयम बरता गया क्योंकि इलाक़ा भीड़भाड़ वाला था। जवान अगर वह जवाबी कार्रवाई करते तो स्थानीय लोगों को नुकसान पहुंच सकता था।
घाटी में आतंकियों और उनके समर्थन में पत्थरबाजी करने वालों पर नकेल कसी जा रही है। इसी के चलते आतंकी संगठन बौखलाए हुए हैं। पुलिस के कश्मीर रेंज के आईजी विजय कुमार ने सोमवार को कहा था कि घाटी में आतंकवाद से बड़ा मुद्दा पत्थरबाजी है।
इस पत्थरबाजी से घाटी का माहौल खराब होता है। इस बार गर्मियों के दौरान किसी को भी शांति भंग करने नहीं दी जाएगी। जो भी पत्थरबाजी में शामिल पाया जाएगा उसके खिलाफ पीएसए के तहत कार्रवाई की जाएगी।
आईजीपी ने कहा कि मुठभेड़ स्थल पर पत्थरबाजी की घटना को अंजाम दिया जाता है। जबकि हकीकत यह है कि मुठभेड़ स्थलों के आस पास के गावों के कोई भी युवा पत्थरबाजी करने नहीं पहुंचते हैं। मुठभेड़ के दौरान स्थानीय लोगों को सुरक्षित निकालने के दौरान शरारती तत्व पत्थरबाजी को अंजाम देते हैं।
 

वकीलों-पुलिस के बीच विवाद, पुलिसवालों ने की वकीलों की पिटाई.... जानिए फिर क्या हुआ

वकीलों-पुलिस के बीच विवाद, पुलिसवालों ने की वकीलों की पिटाई.... जानिए फिर क्या हुआ

जबलपुर । जबलपुर में देर रात वकीलों और पुलिसकर्मियों के बीच जमकर झड़प हुई है। आरोप है कि पुलिसकर्मियों ने कुछ वकीलों के साथ खूब मारपीट की है। इस मारपीट के बाद वकीलों ने थाने के सामने धरना दिया और धरने के बाद पुलिस अधीक्षक ने तीन पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है। दरअसल किसी बात को लेकर बीती रात वकीलों और पुलिस के बीच विवाद हो गया। पुलिसकर्मियों ने कुछ वकीलों की जमकर पिटाई कर दी। वकीलों ने धरना दिया। तब एसपी ने 3 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड किया है।
इस सम्बंध में जानकारी मिली है कि वकीलों ने पुलिस पर पिटाई करने का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि अधिवक्ता अमित कोहली, बाला ठाकुर, रोहित पटेल और राजीव चौधरी के साथ पुलिस ने मारपीट की है। यह घटना देर रात रसल चौक में हुई है। घटना के बाद सैकड़ो वकीलों ने ओमती थाने में देर रात धरना दिया। वकील मांग कर रहे थे कि मारपीट करने वाले पुलिसकर्मियों पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया जाए। वकीलों के धरने के बाद एसपी ने तीन पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया है।
 

बुजुर्गों के लिए पोषण अभियान शुरू करेगा यह मंत्रालय

बुजुर्गों के लिए पोषण अभियान शुरू करेगा यह मंत्रालय

नईदिल्ली।   सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय बुजुर्गों के लिए ‘पोषण अभियान’ शुरू करने जा रहा है ताकि उन्हें ‘पोषण सहायता’ प्रदान की जा सके। इस मिशन के तहत, उन बुजुर्गों को सहायता प्रदान की जाएगी जो ओल्ड एज होम्स में नहीं रहते हैं और कुपोषण के शिकार हैं। यह मिशन स्वस्थ खाद्य सामग्री की खरीद पर ध्यान केंद्रित करेगा जो स्थानीय रूप से गर्म-पकाए गए मध्याह्न भोजन के लिए उपलब्ध हैं। यह योजना “ग्राम पंचायतों और शहरी नगर पालिकाओं” द्वारा कार्यान्वित की जाएगी। ‘वरिष्ठ नागरिक कल्याण कोष’ का उपयोग मिशन को फण्ड प्रदान करने और कार्यान्वित करने के लिए किया जाएगा।

वरिष्ठ नागरिकों के लिए राष्ट्रीय कार्य योजना (National Action Plan for Senior Citizens)
भारत सरकार वरिष्ठ नागरिकों के लिए एक छाता योजना के तहत कई योजनाओं और कार्यक्रमों को लागू कर रही है, जिन्हें “वरिष्ठ नागरिकों के लिए राष्ट्रीय कार्य योजना” कहा जाता है। यह योजना वित्तीय सुरक्षा, आश्रय और कल्याण, स्वास्थ्य और पोषण, जीवन और संपत्ति की सुरक्षा, जागरूकता सृजन प्रदान करती है।

पोषण अभियान या राष्ट्रीय पोषण मिशन (Poshan Abhiyan or National Nutrition Mission – NNM)
भारत में प्रचलित कुपोषण की समस्या से निपटने के लिए 2018 में NNM नामक बहु-मंत्रालयीय पहल शुरू की गई थी। यह बच्चों, किशोरों, गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं के पोषण परिणामों में सुधार करने के लिए शुरू किया गया था। स मिशन का मुख्य उद्देश्य “कम पोषण के स्तर को कम करना” है। यह बच्चों के लिए उनकी पोषण स्थिति को बढ़ाने के लिए शुरू किया गया था। यह मिशन 2022 तक कुपोषण को खत्म करने का प्रयास करता है। यह विशेष रूप से स्टंटिंग, कुपोषण, एनीमिया और कम वजन की समस्या का समाधान करने की दिशा में लक्षित है।

पोषण पर राष्ट्रीय परिषद (National Council on Nutrition)
यह परिषद पोषण अभियान के तहत स्थापित की गई है। नीति आयोग के उपाध्यक्ष इस परिषद के अध्यक्ष हैं। यह ‘पोषण संबंधी चुनौतियों’ को दूर करने और इसके कार्यक्रमों की समीक्षा करने के लिए नीति निर्देश प्रदान करता है। 

 1 लाख की घूस लेते पकड़ा गया रेवेन्यू इंस्पेक्टर, तहसीलदार ने डर के मारे जला दिए 20 लाख

1 लाख की घूस लेते पकड़ा गया रेवेन्यू इंस्पेक्टर, तहसीलदार ने डर के मारे जला दिए 20 लाख

जयपुर। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने बीती रात सिरोही जिले के पिंडवाड़ा में भांवरी वृत्त में कार्यरत रेवेन्यू इंस्पेक्टर को एक लाख रुपए की रिश्वत लेते ट्रैप किया, लेकिन आरआर्ई की गिरफ्तारी के बाद पूरा घटनाक्रम नाटकीय अंदाज में बदल गया। पकड़े जाने के बाद आरआई ने स्वीकार किया कि रिश्वत की राशि उसने पिंडवाड़ा तहसीलदार कल्पेश जैन के लिए थी। इस पर एसीबी टीम कल्पेश जैन के घर पहुंची, लेकिन भनक लगते ही उसने खुद को घर में बंद कर दिया और नोट जलाने लगा। इस पर पिंडवाड़ा पुलिस को भी सूचना दी गई और करीब 1 घंटे की मशक्कत के बाद कटर से दरवाजा तोड़ टीम अंदर घुसी। इसके बाद देर रात तक कार्रवाई चलती रही। प्रारंभिक तौर पर यह सामने आया कि जो राशि जलाई गई थी वह तकरीबन 20 लाख रुपए थी। टीम ने अधजले नोट भी बरामद किए हैं। एसीबी के डीआईजी विष्णुकांत ने बताया कि आंवले की छाल की खुली बोली द्वारा नीलामी की प्रक्रिया की जाती है। अगले साल का भी ठेका सांडिया पाली निवासी मूल सिंह को देने के लिए रिश्वत मांगी गई थी। शिकायत का सत्यापन होने के पश्चात एसीबी की टीम ने बुधवार को परिवादी को एक लाख रुपए के साथ पर्बत सिंह के पास भेजा। उसके कार्यालय में एक लाख रुपए थमाते ही उसने राशि अपने बैग में रख दी। उसी समय एसीबी की टीम ने उसे दबोच लिया। पूछताछ में उसने स्वीकार किया कि रिश्वत की राशि तहसीलदार कल्पेश जैन के लिए ली गई थी। दूसरी तरफ पर्बत सिंह के पकड़े जाने की सूचना मिलते ही तहसीलदार कल्पेश जैन अपने घर की तरफ भागा और टीम के पहुंचने से पहले उसने अपने आप को अपने परिवार के साथ घर में बंद कर दिया गया। सूचना के बाद स्थानीय पुलिस भी मौैके पर पहुंची। इस दौरान एसीबी की टीम लगातार दरवाजा खोलने के लिए कहती रही लेकिन तहसीलदार ने दरवाजा नहीं खोला। इस दौरान उसने रसोई में गैस पर करीब लाखों रुपए रख जला दिए। करीब 1 घंटे की मशक्त के बाद टीम ने कटर से दरवाजा तोड़ा और घर में प्रवेश कर देर रात तहसीलदार कल्पेश जैन को गिरफ्तार किया। कार्रवाई के दौरान एसीबी की टीम तहसीलदार के घर पहुंची जिस पर तहसीलदार ने अपना घर अंदर से बंद कर दिया। इस पर टीम बाहर से चिल्लाकर दरवाजा खोलने के लिए कहती रही। कुछ देर बाद तहसीलदार छत पर आए और वापस चले गए और नीचे जाने के बाद उन्होंने अपने घर के गैस पर रुपयों में आग लगा दी।

इस दौरान एसीबी टीम की ओर से पूरे घटनाक्रम का वीडियो बनाया गया। यहां तक कि टीम बार-बार यह समझाती रही कि परिवार अंदर है और वे लोग परेशान हो रहे हैं, लेकिन तहसीलदार नहीं माने। जैसे ही तहसीलदार ने नोट गैस पर रख जलाने लगा तो टीम की ओर से रसोई की खिड़की के कांच तोड़े गए और इस दौरान कटर की सहायता से दरवाजा तोड़ा गया।
बड़ी खबर: अदालत से लौट रहे वकील पर जानलेवा हमला, हालत बेहद गंभीर

बड़ी खबर: अदालत से लौट रहे वकील पर जानलेवा हमला, हालत बेहद गंभीर

भोपाल। अरेरा हिल्स इलाके में रात साढ़े आठ बजे वकील पर तीन लोगों ने घेरकर जानलेवा हमला कर दिया। घटना के बाद तीनों फरार हो गए। घायल की हालत बेहद गंभीर बनी हुई है। अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जांच में सामने आया है कि आरोपितों, पीडि़त ओर उनके भतीजे से एक दिन पहले विवाद हुआ था। अरेरा हिल्स थाने के एएसआई गोकुल प्रसाद के अनुसार भीमनगर में रहने वाले मोनिस सेन (28) वकील हैं और जिला कोर्ट में वकालत करते हैं। सोमतवार को उनके भतीजे का आरोपित से झगड़ा हो गया था। उस समय मोनिस सेन से भी इन लोगों का विवाद हुआ था। इस कारण मोनिस से रंजिश रखते हुए वह बुधवार को जिला कोर्ट से लौट रहे थे। आरोपित बलराम, रिंकूम और गुलजार शराब पीकर बैठे थे। उसी समय उनको मोनिस सेन नजर आए और उनका रास्ता रोक कर विवाद करने लगे। थोड़ी देर में आरोपितों ने उनके साथ मारपीट शुरू कर दी। एक आरोपित ने उनके सिर में फावड़ा मार दिया, जिससे वह लहुलुहान होकर गिर पड़े। थाना प्रभारी अरेरा हिल्स आरके सिंह का कहना है कि एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है बाकी की तलाश जारी है। 
 बड़ी खबर: सड़क हादसे में सेना के 3 जवानों की मौत, 5 घायल

बड़ी खबर: सड़क हादसे में सेना के 3 जवानों की मौत, 5 घायल

श्रीगंगानगर। राजस्थान के श्रीगंगानगर के सूरतगढ़ में सड़क हादसे में तीन जवानों की मौत हो गई हैं। वहीं पांच जवान घायल हो गए हैं। बताया जा रहा है कि इंदिरा गांधी नहर की 330 आर डी के पास सेना की जिप्सी बेकाबू होकर पलट गई। इसके बाद जिप्सी में आग लगने से 3 जवान जिंदा जल गए। पांच घायल जवानों की हालत भी गंभीर बताई जा रही है

बताया जा रहा है कि हादसा देर रात करीब 1:00 बजे हुआ। मृतक सेना के जवान बठिंडा की 47 A D यूनिट के थे। यह जवान युद्धाभ्यास के लिए सूरतगढ़ आए हुए थे। हादसे के आसपास मौके पर ग्रामीण जमा हो गए और किसी तरह आग पर काबू पाया। बाद में मौके पर पहुंची राजियासर पुलिस की मदद से घायल जवानों को सूरतगढ़ के ट्रॉमा सेंटर ले जाया गया। प्राथमिक इलाज के बाद सूरतगढ़ के ही मिलिट्री हॉस्पिटल में घायल जनानों को भर्ती करा दिया गया।