कोरोना अपडेट : छत्तीसगढ़ में जारी है कोरोना से मौत का तांडव, प्रदेश में आज 15 हजार के करीब मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से मिले सर्वाधिक मरीज    |    बंगाल चुनाव: EC की नई गाइडलाइंस जारी, प्रचार का समय कम करने से लेकर आपराधिक मामला दर्ज करने तक का आदेश    |    BIG BREAKING : केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर भी आये कोरोना की चपेट में, सोशल मीडिया में दी जानकारी    |    ICMR कोरोना अपडेट: राज्य में आज शाम तक 12079 कोरोना मरीजो की हुई पुष्टि, अकेले रायपुर से 2921 समेत बाकी इन जिलो से...    |    इस राज्य में सरकार ने लागू किया वीकेंड लॉकडाउन, मास्क नहीं पहनने पर लगेगा बड़ा जुर्माना    |    BIG BREAKING : नहीं होगी ऑक्सीजन की कमी, पीएम केयर्स फंड से अस्पतालों में लगेंगे प्लांट    |    कोरोना की चपेट में सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस शाह का पूरा स्टाफ...    |    कोरोना अपडेट : देश में 24 घंटे में सामने आए 2.16 लाख मामले, 1184 मौतें    |    BIG BREAKING : प्रदेश में कोरोना से मौत ने लगाई शतक, प्रदेश में आज 15 हजार से अधिक नए मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से इतने    |    कोरोना अपडेट: ICMR के मुताबिक आज प्रदेश में शाम तक 11819 मरीज मिले, अकेले रायपुर जिले से 2870 समेत बाकी इन जिलो से    |
ICMR कोरोना अपडेट: प्रदेश में आज 7365 मरीजो की हुई पहचान सिर्फ एक जिले से मिले 2255, देखे बाकी जिलो का हाल

ICMR कोरोना अपडेट: प्रदेश में आज 7365 मरीजो की हुई पहचान सिर्फ एक जिले से मिले 2255, देखे बाकी जिलो का हाल

रायपुर, राज्य में आज शाम 5.00 तक 7365 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इनमें सर्वाधिक 2255 अकेले रायपुर जिले के हैं। केन्द्र सरकार के संगठन आईसीएमआर के इन आंकड़ों के मुताबिक आज शाम तक 20 जिलों में सौ-सौ से अधिक कोरोना पॉजिटिव मिले हैं।

आईसीएमआर के मुताबिक आज बालोद 245, बलौदाबाजार 295, बलरामपुर 24, बस्तर 121, बेमेतरा 170, बीजापुर 5, बिलासपुर 417, दंतेवाड़ा 23, धमतरी 174, दुर्ग 1116, गरियाबंद 217, जीपीएम 19, जांजगीर-चांपा 205, जशपुर 143, कबीरधाम 138, कांकेर 144, कोंडागांव 5, कोरबा 268, कोरिया 80, महासमुंद 211, मुंगेली 120, नारायणपुर 8, रायगढ़ 186, रायपुर 2255, राजनांदगांव 454, सुकमा 7, सूरजपुर 112, और सरगुजा 204 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं।

केन्द्र सरकार के संगठन आईसीएमआर के इन आंकड़ों में रात तक राज्य शासन के जारी किए जाने वाले आंकड़ों से कुछ फेरबदल हो सकता है क्योंकि ये आंकड़े कोरोना पॉजिटिव जांच के हैं, और राज्य शासन इनमें से कोई पुराने मरीज का रिपीट टेस्ट हो, तो उसे हटा देता है। लेकिन हर दिन यह देखने में आ रहा है कि राज्य शासन के आंकड़े रात तक खासे बढ़ते हैं, और इन आंकड़ों के आसपास पहुंच जाते हैं, कभी-कभी इनसे पीछे भी रह जाते हैं।

    Source: Daily Chhattisgarh 

 हम लॉकडाउन नहीं लगाना चाहते, मजबूरी में लगाए प्रतिबंध: सीएम

हम लॉकडाउन नहीं लगाना चाहते, मजबूरी में लगाए प्रतिबंध: सीएम

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेस के माध्यम से दिल्लीवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि दिल्ली में पिछले 10 दिनों में बहुत तेजी से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं. ये दिल्ली में चौथी लहर है, इससे पहले तीन लहर आ चुकी हैं. ये लहर बहुत खतरनाक है. पिछले 24 घंटों में 10, 732 नए मामले सामने आए हैं. इस समय स्थिति चिंताजनक है मगर हम नजर रखें हुए हैं. हम सब का सहयोग ले रहे हैं.

उन्होंने कहा कि हम लॉकडाउन नहीं लगाना चाहते. लेकिन कल हमे मजबूरी में कुछ प्रतिबंध लगाने पड़े. इस समय हम तीन स्तर पर काम कर रहे हैं. पहले तो कोरोना का फैलने से कैसे रोका जाए. दूसरा जब किसी को कोरोना होता है तो वो अस्पताल या होम आइसोलेशन में जाता है. अस्पताल में भर्ती कराने के लिए दिल्ली सरकार के ऐप का इस्तेमाल करिए. सब लोग प्राइवेट अस्पतालों की ओर मत जाइए. सरकारी अस्पतालों में भी अच्छा इलाज मिल रहा है.

उन्होंने कहा कि अगर आपको जरूरत नहीं हो तो होम आइसोलेशन में ही रहिए. हमारी टीम आएगी और आपको सब चीजें बताकर जाएगी. दिल्ली में होम आइसोलेशन को लेकर सबसे अच्छा प्रोग्राम चल रहा है. उन्होंने आगे कहा कि मैं लॉकडाउन के पक्ष में नहीं हूं. लॉकडाउन से कोरोना की स्थिति धीमी हो जाती है. मगर लॉकडाउन की जरुरत तब होती है जब आपके अस्पतालों की स्थिति काबू से बाहर हो जाए. अगर अस्पतालों में बेड कम पड़े तो लॉकडाउन लगाना पड़ेगा. इसके लिए हमे आपका सहयोग चाहिए.

सीएम ने आगे कहा कि कोरोना को हराने के लिए कोरोना से तेज वैक्सीनेशन की जरूरत है. हमने केंद्र सरकार से कई बार अनुरोध किया है कि वो सभी प्रतिबंधों को हटा दें. हम घर-घर जाकर जल्द से जल्द सबका वैक्सीनेशन पूरा कर देंगे. दिल्ली के डेटा के अनुसार कोरोना वायरस के 65 प्रतिशत मरीज 35 साल से कम उम्र के हैं. हमे इस समय युद्ध स्तर पर वैक्सीनेशन करने की जरुरत है. केजरीवाल ने आगे कहा कि कई ऐसे मामले सामने आए हैं. जहां वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बाद भी व्यक्ति कोरोना संक्रमित हुए हैं. इस बारे में विशेषज्ञों से बात कि उनका कहना है कि वैक्सीन लेने के बाद भी कोरोना हो सकता है लेकिन वैक्सीन का फायदा ये होगा कि वो सिरियस नहीं होगा.

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हमने दिल्ली में टेस्ट बढ़ा दिए हैं. पहले एक दिन में 80 से 85 टेस्ट किए जाते थे. मगर अब एक दिन में 1,10,00 टेस्ट किए जा रहे हैं. मैं सभी राजनीतिक दलों से आग्रह करता हूं कि ये बहुच कठिन समय हैं आइए मिलकर दिल्ली की जनता की सेवा करते हैं. सिर्फ कुछ दिन की बात है. इस समय सभी दिल्ली वाले साथ मिलकर लड़ेंगे.
देशभर में आज से शुरू होगा 'टीका उत्सव', ज्यादा से ज्यादा कोरोना वैक्सीन लगाने का लक्ष्य

देशभर में आज से शुरू होगा 'टीका उत्सव', ज्यादा से ज्यादा कोरोना वैक्सीन लगाने का लक्ष्य

नई दिल्ली, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर देशभर में आज से 14 अप्रैल तक 'टीका उत्सव' का आयोजन किया जाएगा. इसका उद्देश्य ज्यादा से ज्यादा योग्य लाभार्थियों का टीकाकरण करना है. 'टीका उत्सव' के दौरान उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे कई राज्य योग्य लोगों से टीका लगवाने की अपील कर रहे हैं. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी लोगों से अपील की है कि 'टीका उत्सव' के दौरान बड़ी संख्या में वे टीका लगवाएं.


85 दिन में लगाए गए 10 करोड़ टीके
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि भारत ने 85 दिन में 10 करोड़ टीके लगाए हैं और वह दुनिया का सबसे तेज टीकाकरण अभियान चलाने वाला देश बन गया है. मंत्रालय ने कहा कि अमेरिका को टीके की 10 करोड़ खुराक देने में 89 दिन लगे जबकि चीन को इस कार्य में 102 दिन लग गए. प्रधानमंत्री कार्यालय ने भी भारत में सबसे तेज टीकाकरण को दर्शाने वाला एक चार्ट ट्वीट किया और इसे 'स्वस्थ व कोविड मुक्त भारत के लिए मजबूत प्रयास करार दिया.'


कोविड-19 की स्थिति और टीकाकरण अभियान की गुरुवार को मुख्यमंत्री के साथ समीक्षा के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने उनसे अपील की थी कि उन सभी लोगों का टीकाकरण कराने पर ध्यान केंद्रित करें जो 45 साल से अधिक उम्र के हैं.


मोदी की अपील- टीके की बर्बादी बिल्कुल न करें
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, "कभी-कभी इससे माहौल बदलने में मदद मिलती है. ज्योतिबा फुले की जयंती 11 अप्रैल को है और 14 अप्रैल को बाबा साहेब की जयंती है. क्या हम टीका उत्सव का आयोजन कर सकते हैं और टीका उत्सव का माहौल बना सकते हैं? हमें विशेष अभियान के माध्यम से अधिक से अधिक योग्य लाभार्थियों का टीकाकरण करना चाहिए और इसकी बर्बादी बिल्कुल नहीं हो इस पर विचार करना चाहिए. ‘टीका उत्सव’ के दौरान अगर चार दिनों में बर्बादी नहीं होगी तो इससे हमारे टीकाकरण की क्षमता बढ़ेगी."


कुछ राज्यों ने जहां टीके की आपूर्ति में कमी का मुद्दा उठा रहा है, वहीं केंद्र ने कहा है कि सभी राज्यों को पर्याप्त संख्या में टीके आवंटित किए गए हैं. 

कोरोना अपडेट : 24 घंटे में 1 लाख 52 हजार से ज्यादा नए केस, 839 की मौत

कोरोना अपडेट : 24 घंटे में 1 लाख 52 हजार से ज्यादा नए केस, 839 की मौत

नई दिल्ली। देश में कोरोना बेकाबू हो गया है। भारत में कोरोना ने एक बार फिर पुराने सभी रिकॉर्ड को तोड़ दिया। स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से रविवार सुबह जारी ताजा आंकड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटों में देश में 1,52,879 नए मामले दर्ज किये गए और इस दौरान 839 की मौत हो गई। देश में अब कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा तेजी के साथ बढ़कर 1,33,58,805 पहुंच गया है और अब तक 1,69,275 लोगों की मौत हो चुकी है। देश में फिलहाल 11,08,087 एक्टिव मामले हैं और 1,20,81,443 लोग इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं। बीते 24 घंटे में भी कुल 90,584 मरीज इलाज के बाद ठीक हुए हैं।
आईसीएमआर की तरफ से बताया गया कि देश में एक दिन पहले 14,12,047 सैंपल की जांच की गई। इसके साथ ही अब तक 25,66,26,850 सैंपल की जांच हो चुकी है।
 

कोरोना अपडेट: प्रदेश में आज मौत की संख्या पहुची सौ के करीब, 14 हजार से अधिक मिले मरीज, रायपुर-दुर्ग में कोरोना का कोहराम जारी

कोरोना अपडेट: प्रदेश में आज मौत की संख्या पहुची सौ के करीब, 14 हजार से अधिक मिले मरीज, रायपुर-दुर्ग में कोरोना का कोहराम जारी

रायपुर | छत्तीसगढ़ प्रदेश में आज कुल 14098 नए कोरोना मरीजों की पहचान की गई है | जिसमे जिला रायपुर से सर्वाधिक 3797 मरीज, दुर्ग से 2272, राजनांदगांव से 978, बालोद से 385, बेमेतरा से 381, कबीरधाम से 538, धमतरी से 384, बलौदा बाजार से 717, महासमुंद से 533, गरियाबंद से 193, बिलासपुर से 895, रायगढ़ से 480, कोरबा से 429, जांजगीर-चांपा से 493, मुंगेली से 198, जीपीएम से 78, सरगुजा से 194, कोरिया से 138, सूरजपुर से 235, बलरामपुर से 68, जशपुर से 250, बस्तर से 149, कोंडागांव से 28, दंतेवाड़ा से 28, सुकमा से 14, कांकेर से 229, नारायणपुर से 0, बीजापुर से 10, अन्य राज्य से 4 मरीज शामिल है । आज प्रदेश में कुल 4668 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ्य होने के उपरांत अपने घर लौटे है | राज्य में आज कुल 97 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है | प्रदेश में अब कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 85860 है |

ICMR कोरोना अपडेट: प्रदेश में आज 11 हजार के करीब मिले नये मरीज, रायपुर से 3210 समेत इन जिलो से ..

ICMR कोरोना अपडेट: प्रदेश में आज 11 हजार के करीब मिले नये मरीज, रायपुर से 3210 समेत इन जिलो से ..

रायपुर, राज्य में आज शाम 5.45 तक 10803 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इनमें सर्वाधिक 3210 अकेले रायपुर जिले के हैं। केन्द्र सरकार के संगठन आईसीएमआर के इन आंकड़ों के मुताबिक आज शाम तक 21 जिलों में सौ-सौ से अधिक कोरोना पॉजिटिव मिले हैं।

आईसीएमआर के मुताबिक आज बालोद 263, बलौदाबाजार 516, बलरामपुर 42, बस्तर 143, बेमेतरा 342, बीजापुर 11, बिलासपुर 743, दंतेवाड़ा 35, धमतरी 211, दुर्ग 1624, गरियाबंद 166, जीपीएम 47, जांजगीर-चांपा 400, जशपुर 181, कबीरधाम 313, कांकेर 158, कोंडागांव 15, कोरबा 286, कोरिया 124, महासमुंद 385, मुंगेली 167, नारायणपुर 0, रायगढ़ 395, रायपुर 3210, राजनांदगांव 653, सुकमा 14, सूरजपुर 204, और सरगुजा 155 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं।

केन्द्र सरकार के संगठन आईसीएमआर के इन आंकड़ों में रात तक राज्य शासन के जारी किए जाने वाले आंकड़ों से कुछ फेरबदल हो सकता है क्योंकि ये आंकड़े कोरोना पॉजिटिव जांच के हैं, और राज्य शासन इनमें से कोई पुराने मरीज का रिपीट टेस्ट हो, तो उसे हटा देता है। लेकिन हर दिन यह देखने में आ रहा है कि राज्य शासन के आंकड़े रात तक खासे बढ़ते हैं, और इन आंकड़ों के आसपास पहुंच जाते हैं, कभी-कभी इनसे पीछे भी रह जाते हैं।

 

SOURCE: DAILY CHHATTISGARH

बड़ी खबर : कोरोना संक्रमित मरीजो के परिजनों का मेडीकल कॉलेज परिसर में प्रवेश प्रतिबंधित, कलेक्टर ने जारी किया निर्देश

बड़ी खबर : कोरोना संक्रमित मरीजो के परिजनों का मेडीकल कॉलेज परिसर में प्रवेश प्रतिबंधित, कलेक्टर ने जारी किया निर्देश

विदिशा | कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने अटल बिहारी वाजपेयी शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय में कोविड संक्रमित मरीजो के इलाज हेतु किए गए प्रबंधो का पुन: जायजा लिया है। कलेक्टर डॉ जैन ने बताया कि जिले में धारा 144 के तहत लॉक डाउन के संबंध में नवीन दिशा निर्देश जारी किए गए है। मेडीकल कॉलेज परिसर में भर्ती कोविड मरीजो के परिजनों का प्रवेश पूर्णत: प्रतिबंधित किया गया है। भर्ती मरीजो की जानकारी उनके परिजनों को चिकित्सकों द्वारा दर्ज कराए गए मोबाइल नम्बर पर सुबह शाम अवगत कराने के प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। उन्होंने बताया कि संक्रमित व्यक्ति के निवास क्षेत्र को माइक्रो कंटेनमेंट जोन  में बनाया गया है अत: निवासरत मरीज के परिजन कंटेनमेंट जोन के नियमों का उल्लंघन ना करें इस हेतु उपरोक्त व्यवस्था का संचालन मेडीकल कॉलेज में किया गया है। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने मेडीकल कॉलेज में संचालित हो रहे कोविड केयर सेन्टर, आईसीयू, स्टेप डाउन वार्ड के अलावा अन्य प्रबंधो का जायजा लेकर आवश्यक निर्देश दिए है।    

 

 
BIG BREAKING : राजधानी में भाजपा के पूर्व सांसद की कोरोना संक्रमण से हुई मौत, सियासी गलियारों में शोक की लहर

BIG BREAKING : राजधानी में भाजपा के पूर्व सांसद की कोरोना संक्रमण से हुई मौत, सियासी गलियारों में शोक की लहर

नई दिल्ली | प्रयागराज के उद्योगपति व पूर्व सांसद श्यामाचरण गुप्ता का शुक्रवार की रात को निधन हो गया है। कोरोना संक्रमित पूर्व सांसद दिल्ली के मैक्स अस्पताल में भर्ती थे। इलाज के दौरान उन्होंने आखिरी सांस ली। पूर्व सांसद के भतीजे अनिल अग्रहरि ने उनके निधन की पुष्टि की। 

आपको बता दें कि होली के दिन कोरोना पॉजिटिव मरीजों में पूर्व सांसद श्यामाचरण गुप्ता और उनकी पत्नी जमनोत्री गुप्ता भी शामिल थीं। श्यामाचरण गुप्ता को परिजन उपचार के लिए दिल्ली लाए थे। उनकी पत्नी जमनोत्री गुप्ता होम आइसोलेशन में थीं। 
श्यामाचरण गुप्त भारतीय जनता पार्टी और समाजवादी पार्टी के सांसद रह चुके हैं। इसके अलावा श्यामाचरण गुप्त प्रयागराज के पूर्व मेयर भी रहे थे।  श्यामाचरण गुप्ता के निधन से परिवार, व्यापार जगत व राजनैतिक गलियारों सहित प्रदेश में शोक की लहर है।
 
BIG BREAKING : राज्य के इस जिले में 200 लोगों की कैपिसिटी में किया जा सकेगा शादी का आयोजन, सीएम ने ली बैठक

BIG BREAKING : राज्य के इस जिले में 200 लोगों की कैपिसिटी में किया जा सकेगा शादी का आयोजन, सीएम ने ली बैठक

भोपाल | मध्यप्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण ने राज्य के अधिकतर  जिलों में लॉकडाउन की स्थिति खड़े कर दी है। इसी बीच खबर मिली है कि शिवराज सरकार ने आज विडियो कांफ्रेंस के जरिये क्राइसिस मैनेजमेंट की टीम से कोरोना के नियंत्रण पर चर्चा की है | जानकारी के अनुसार मध्यप्रदेश सरकार विडियो कांफ्रेंस में लॉकडाउन के बाद दूसरे विकल्प पर भी मंथन कर रहा है। सीएम ने बैठक में प्रदेश के अलग-अलग कमेटियों के साथ पाबंदी और छूट को लेकर चर्चा की।

जानकारी मिली है कि ग्वालियर जिला क्राइसिस मैनेजमेंट ने लॉकडाउन के बाद शादी समारोह में लोगों की उपस्थिति को लेकर छूट दिया है। प्रस्ताव के अनुसार विवाह समारोह में अब डिनर नहीं, लंच होगा। इसके अलावा शाम 6 बजे तक 200 लोगों की कैपिसिटी के साथ शादी समारोह का आयोजन हो सकेंगे। इधर रेस्टोरेंट में 30 फीसदी क्षमता के साथ चालू किए जा सकेंगे।

वहीं जिले में एक समय में पांच व्यक्तियों को प्रवेश मिलेगा। जिला क्राइसिस मैनेजमेंट ने प्रस्ताव बनाकर शासन को भेज दिया है। वहीं पास होते ही लॉकडाउन के बाद लागू हो सकता है।

कोरोना की लहर बेकाबू: 24 घंटे में आए एक लाख 45 हजार नए केस, एक्टिव केस 10 लाख के पार

कोरोना की लहर बेकाबू: 24 घंटे में आए एक लाख 45 हजार नए केस, एक्टिव केस 10 लाख के पार

नई दिल्ली, कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर बेकाबू हो चुकी है. नए संक्रमण मामले हर दिन रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं. पांचवीं बार देश में एक लाख से ज्यादा कोरोना केस आए हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय की ताजा रिपोर्ट के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 145,384 नए कोरोना केस आए और 794 लोगों की जान चली गई है. हालांकि 77,567 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं. इससे पहले 4, 6, 7 और 8 अप्रैल को एक लाख से ज्यादा केस आए थे.


आज देश में कोरोना की स्थिति-
• कुल कोरोना केस- एक करोड़ 32 लाख 5 हजार 926
• कुल डिस्चार्ज- एक करोड़ 19 लाख 90 हजार 859
• कुल एक्टिव केस- दस लाख 46 हजार 631
• कुल मौत- एक लाख 68 हजार 436
• कुल टीकाकरण- 9 करोड़ 80 लाख 75 हजार 160 डोज दी गई

महाराष्ट्र में हालात सबसे ज्यादा खराब
महाराष्ट्र में कल कोरोना वायरस संक्रमण के 58,993 नए मामले सामने आए जिसके बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 32,88,540 हो गई. इसके साथ ही महामारी से 301 और मरीजों की मौत हो गई जिससे मृतकों की संख्या 57,329 पर पहुंच गई. पिछले कुछ दिनों से राज्य में संक्रमण के 55,000 से अधिक मामले सामने आ रहे हैं. इस साल सात अप्रैल को एक दिन में सर्वाधिक 59,907 मरीज सामने आए थे. महाराष्ट्र में अब तक 26,95,148 लोग ठीक हो चुके हैं और अभी 5,34,603 मरीज उपचाराधीन हैं.

छत्तीसगढ़ की हालत भी है ख़राब
छत्तीसगढ़ में कल कोरोना वायरस संक्रमण के 11447 नए मामले सामने आए जिसके बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 418678 हो गई. इसके साथ ही महामारी से 63 और मरीजों की मौत हो गई जिससे मृतकों की संख्या 4654 पर पहुंच गई.

 

Read Also:- BIG BREAKING : प्रदेश में आज भी जारी है कोरोना से मौत का तांडव, प्रदेश में आज साढ़े 11 हजार नए कोरोना मरीजों की हुई पहचान 


 

BIG BREAKING : प्रदेश में आज भी जारी है कोरोना से मौत का तांडव,  प्रदेश में आज साढ़े 11 हजार नए कोरोना मरीजों की हुई पहचान

BIG BREAKING : प्रदेश में आज भी जारी है कोरोना से मौत का तांडव, प्रदेश में आज साढ़े 11 हजार नए कोरोना मरीजों की हुई पहचान

रायपुर | छत्तीसगढ़ प्रदेश में आज कुल 11447 नए कोरोना मरीजों की पहचान की गई है | जिसमे जिला रायपुर से सर्वाधिक 2622 मरीज, दुर्ग से 1786, राजनांदगांव से 1149, बालोद से 337, बेमेतरा से 336, कबीरधाम से 377, धमतरी से 397, बलौदा बाजार से 619, महासमुंद से 548, गरियाबंद से 191, बिलासपुर से 687, रायगढ़ से 262, कोरबा से 523, जांजगीर-चांपा से 261, मुंगेली से 152, जीपीएम से 78, सरगुजा से 202, कोरिया से 77, सूरजपुर से 119, बलरामपुर से 57, जशपुर से 174, बस्तर से 148, कोंडागांव से 60, दंतेवाड़ा से 60, सुकमा से 6, कांकेर से 194, नारायणपुर से 10, बीजापुर से 12, अन्य राज्य से 3 मरीज शामिल है । आज प्रदेश में कुल 2305 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ्य होने के उपरांत अपने घर लौटे है | राज्य में आज कुल 63 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है | प्रदेश में अब कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 76868 है | 

 छत्तीसगढ़ का ये सीमा हुआ सील, प्रदेश में आने वाले सभी को दिखाना होगा कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट

छत्तीसगढ़ का ये सीमा हुआ सील, प्रदेश में आने वाले सभी को दिखाना होगा कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट

भुवनेश्वर। कोरोना के चलते पूरे देश में हालत बेकाबू होते नजर आ रहे है। कई राज्यों के जिलों में या तो रात्रि कर्फ्यू लगाया गया है, या तो पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई है। वहीं हालात को देखते हुए ओडिशा सरकार ने ओडिशा-छत्तीसगढ़ सीमा सील कर दी है। ओडिशा आने वाले सभी सार्वजनिक परिवहन और इसके विपरीत 10 से 30 अप्रैल तक निलंबित कर दिया गया। जारी निर्देश के अनुसार प्रदेश में आने वाले सभी लोगों को कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी। वहीं, जिनके पास रिपोर्ट नहीं होगी उन्हें 7 दिन तक होम क्वारंटाइन रहना होगा।

किसी भी सार्वजनिक या निजी वाहन द्वारा ओडिशा आने वाले लोगों को प्रवेश या अंतिम टीकाकरण प्रमाणपत्र (टीकाकरण की दो खुराक के बाद) के 72 घंटे के भीतर आरटी-पीसीआर नकारात्मक रिपोर्ट प्राप्त करनी होगी। सरकार ने ओडिशा से छत्तीसगढ़ आने वाले सभी सार्वजनिक परिवहन सेवाओं को 10 से 30 अप्रैल तक निलंबित कर दिया गया। आने वाले व्यक्तियों / वाहनों के प्रवेश का प्रबंधन करने के लिए बॉर्डर पर बॉर्डर चेक पॉइंट्स स्थापित करने के निर्देश दिए गए हैं।
 बड़ा हादसा: एयर इंडिया एक्सप्रेस फ्लाइट में आग लगने का बजा अलार्म, कराया गया इमरजेंसी लैंडिंग

बड़ा हादसा: एयर इंडिया एक्सप्रेस फ्लाइट में आग लगने का बजा अलार्म, कराया गया इमरजेंसी लैंडिंग

कोझिकोड। शुक्रवार की सुबह एयर इंडिया एक्सप्रेस की एक फ्लाइट में आग लगने का अलार्म बज गया, जिसके बाद पायलटों ने इमरजेंसी लैंडिंग की।

एयर इंडिया एक्सप्रेस के प्रवक्ता ने जानकारी दी कि विमान ने 17 यात्रियों के साथ कोझिकोड से कुवैत के लिए उड़ान भरी थी। विमान के कार्गों में आग लगने की बात सामने आ रही थी।

प्रवक्ता ने बताया कि शुक्रवार को कोझिकोड से कुवैत के लिए उड़ान भरी एयर इंडिया एक्सप्रेस की फ्लाइट में अचानक ही आग लगने की चेतावनी वाला अलार्म बज गया, जिसके बाद पायलटों ने बिना समय जाया किए केरल के कोझिकोड में आपातकालीन लैंडिंग की। लैंडिंग के बाद पायलटों को पता चला कि विमान के कार्गो डिब्बे में आग लग गई थी।

पायलट की सूझबूझ से एक बड़ा हादसा होने से टल गया। इस मामले में एयर इंडिया एक्सप्रेस के प्रवक्ता ने बताया कि एयर इंडिया एक्सप्रेस की एक फ्लाइट ने कोझिकोड में एहतियाती लैंडिंग की जिसके बाद पायलटों ने कार्गो से फायर अलार्म का पता लगाया। 
 दुष्कर्म मामले में दोषी कुलदीप सेंगर की पत्नी को भाजपा ने बनाया पंचायत उम्मीदवार

दुष्कर्म मामले में दोषी कुलदीप सेंगर की पत्नी को भाजपा ने बनाया पंचायत उम्मीदवार

लखनऊ। दुष्कर्म के आरोप में भारतीय जनता पार्टी से निष्कासित किए जाने के करीब डेढ़ साल बाद पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की पत्नी संगीता सेंगर को भाजपा ने आगामी पंचायत चुनावों के लिए अपना उम्मीदवार घोषित किया है। संगीता फतेहपुर चौरासी से उन्नाव जिला पंचायत का चुनाव लड़ेंगी। इससे पहले उन्होंने 2016 में जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव जीता था। पार्टी सूत्रों ने बताया है कि उनकी उम्मीदवारी को प्रदेश के भाजपा प्रमुख स्वतंत्र देव सिंह महासचिव (संगठन) सुनील बंसल ने मंजूरी दी है। इसके पीछे वजह अप्रैल 2018 में कुलदीप सेंगर की गिरफ्तारी के बाद उनके परिवार को इलाके में मिली सहानुभूति है। यहां के कई लोगों का मानना है कि वह निर्दोष हैं उन्हें राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों द्वारा फंसाया गया है। लोगों की इन्हीं भावनाओं को ध्यान में रखते हुए संगीता सेंगर को भाजपा ने मैदान में उतारा है। 

बता दें कि कुलदीप सिंह सेंगर बांगरमऊ से बीजेपी के टिकट पर 4 बार विधायक रह चुके हैं। साल 2017 में उन्नाव रेप केस में कुलदीप सिंह सेंगर को गिरफ्तार किया गया था। इस घटना के बाद बीजेपी ने कुलदीप सिंह सेंगर को 2019 में पार्टी से निकाल दिया था। पूरे मामले में कोर्ट ने सेंगर को रेप और अपहरण के मामले में दोषी पाया। साथ ही उम्रकैद की सजा सुनाई गई। रेप पीड़िता के पिता की पुलिस कस्टडी में हुई मौत के मामले में सेंगर समेत सभी दोषियों को कोर्ट ने 10 साल की सजा सुनाई थी। उम्रकैद की सजा पा चुके कुलदीप सेंगर की पिछले साल फरवरी में उत्तर प्रदेश विधान सभा की सदस्यता खत्म कर दी गई थी। अभी वह तिहाड़ जेल में बंद है।
 
 3 नोटिस के बाद भी इस खिलाड़ी ने नहीं बताया पता, नाडा ने किया प्रतिबंधित

3 नोटिस के बाद भी इस खिलाड़ी ने नहीं बताया पता, नाडा ने किया प्रतिबंधित

नई दिल्ली। विश्व चैंपियनशिप और 2014 के इंचियोन एशियाई खेलों का स्वर्ण जीतने वाली भारतीय कबड्डी टीम के सदस्य नामी खिलाड़ी अजय ठाकुर को नाडा ने अस्थाई रूप से प्रतिबंधित कर दिया है। पूर्व कप्तान और अर्जुन अवार्डी को व्हेयर अबाउट (टेस्टिंग के लिए अपना पता) नहीं देने पर एंटी डोपिंग गतिविधियों का आरोपी माना गया। व्हेयर अबाउट के लिए नाडा की ओर से तीन नोटिस का जवाब नहीं देने पर उनका मिस टेस्ट घोषित किया गया है। यह पहली बार है जब नाडा ने बड़े खिलाड़ी को मिस टेस्ट के लिए अस्थाई रूप से प्रतिबंधित किया है। उन पर 19 मार्च से प्रतिबंध लगा है। एंटी डोपिंग सुनवाई पैनल के समक्ष अगर अजय अपनी बेगुनाही साबित नहीं कर पाए तो उन पर दो साल का प्रतिबंध लग सकता है। ऐसे में अगले वर्ष होने वाले एशियाई खेलों में वह नहीं खेल पाएंगे। 

साल में चार बार टेस्टिंग के लिए बताना होता है पता-
नाडा ने अजय को अपने रजिस्टर्ड टेस्टिंग पूल (आरटीपी) में शामिल कर रखा है। आरटीपी में शामिल होने वाले खिलाडिय़ों को साल में चार बार (तीन माह का एक क्वार्टर पर) अपना व्हेयर अबाउट देना पड़ता है। एक क्वार्टर में पता नहीं देने पर एक नोटिस जाता है। साल में ऐसे तीन नोटिस का जवाब नहीं देने पर वाडा के नियम 2.4 के तहत खिलाड़ी का मिस टेस्ट घोषित कर दिया जाता है, जिसके तहत दो साल के प्रतिबंध का प्रावधान है। नाडा ने व्हेयर अबाउट नहीं भेजने पर कड़ा रुख अपना रखा है।

क्रिकेटर्स को भी मिला था नोटिस
बीते वर्ष उसने पांच क्रिकेटरों समेत 42 खिलाड़ियों को अपना व्हेयर अबाउट नहीं देने पर पहला नोटिस भेजा था। जिस पर काफी हंगामा हुआ था। इस साल अंतरराष्ट्रीय स्तर पर व्हेयर अबाउट नहीं देने पर लंबी कूद में ओलंपिक का रजत जीतने वाले दक्षिण अफ्रीकी लूवो मोनयांगो और जकार्ता एशियाई खेलों में 400 मीटर की स्वर्ण पदक विजेता बहरीन की सलवा ईद नासेर पर अस्थाई प्रतिबंध लग चुका है।नाडा महानिदेशक नवीन अग्रवाल का कहना है कि उनकी ओर से सुनिश्चत किया जा रहा है कि आरटीपी में शामिल खिलाड़ी अपना व्हेयर अबाउट निश्चित समय पर उपलब्ध कराएं, जिससे उनकी आउट ऑफ कंपटीशन टेस्टिंग बिना नोटिस के कभी भी कराई जा सके। व्हेयर अबाउट नहीं देने पर नोटिस भेजा जाता है जिसमें वह इसका कारण स्पष्ट कर सकें।

एशियाई यूथ चैंपियन रेस वॉकर समेत चार डोप में फंसे-
नाडा ने चार अन्य खिलाडिय़ों को प्रतिबंधित दवाओं के सेवन के लिए अस्थाई रूप से प्रतिबंधित किया है। इनमें एशियाई यूथ चैंपियन रेस वॉकर विश्वेंदर सिंह भी शामिल हैं। रांची में हुई राष्ट्रीय पदचालन चैंपियनशिप में अंडर-20 10 किलोमीटर पदचाल में स्वर्ण जीतने वाले विश्वेंदर यहां डोप पॉजिटिव पाए गए। ओलंपिक क्वालिफायर एशियाई चैंपियनशिप में खेलने से रोकी गईं वेटलिफ्टर राखी हलदर, राष्ट्रीय चैंपियनशिप में ग्रीको रोमन के 60 किलो भार में स्वर्ण जीतने वाले मनीष कुंडू और पद चालक अनिल विश्वकर्मा अस्थाई रूप से प्रतिबंधित होने वाले अन्य खिलाड़ी हैं।
 
BIG BREAKING : रायपुर में लॉक डाउन के पहले हुआ कोरोना विस्फोट, प्रदेश में 10 हजार से अधिक मरीजों की हुई पहचान, अब तक का सर्वाधिक 72 मरीजों की मौत

BIG BREAKING : रायपुर में लॉक डाउन के पहले हुआ कोरोना विस्फोट, प्रदेश में 10 हजार से अधिक मरीजों की हुई पहचान, अब तक का सर्वाधिक 72 मरीजों की मौत

रायपुर | छत्तीसगढ़ प्रदेश में आज कुल 10652 नए कोरोना मरीजों की पहचान की गई है | जिसमे जिला रायपुर से सर्वाधिक 2330 मरीज, दुर्ग से 2132, राजनांदगांव से 1047, बालोद से 313, बेमेतरा से 364, कबीरधाम से 286, धमतरी से 363, बलौदा बाजार से 601, महासमुंद से 517, गरियाबंद से 111, बिलासपुर से 638, रायगढ़ से 240, कोरबा से 343, जांजगीर-चांपा से 287, मुंगेली से 141, जीपीएम से 85, सरगुजा से 153, कोरिया से 113, सूरजपुर से 117, बलरामपुर से 51, जशपुर से 151, बस्तर से 64, कोंडागांव से 37, दंतेवाड़ा से 26, सुकमा से 10, कांकेर से 118, नारायणपुर से 2, बीजापुर से 9, अन्य राज्य से 3 मरीज शामिल है । आज प्रदेश में कुल 735 कोरोना संक्रमित मरीज स्वस्थ्य होने के उपरांत अपने घर लौटे है | राज्य में आज कुल 72 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है | प्रदेश में अब कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 68125 है | 

आईसीएमआर के इन आंकड़ों के मुताबिक लॉकडाउन के बाद भी यह जिला आज संक्रमण के मामले में आगे, प्रदेश में आज शाम तक कुल 6752 कोरोना पॉजिटिव मिले

आईसीएमआर के इन आंकड़ों के मुताबिक लॉकडाउन के बाद भी यह जिला आज संक्रमण के मामले में आगे, प्रदेश में आज शाम तक कुल 6752 कोरोना पॉजिटिव मिले

रायपुर। राज्य में आज शाम 4.30 तक 6752 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। इनमें सर्वाधिक 1674 अकेले दुर्ग जिले के हैं। केन्द्र सरकार के संगठन आईसीएमआर के इन आंकड़ों के मुताबिक आज शाम तक 14 जिलों में सौ-सौ से अधिक कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। आईसीएमआर के मुताबिक आज बालोद 199, बलौदाबाजार 411, बलरामपुर 9, बस्तर 50, बेमेतरा 247, बीजापुर 8, बिलासपुर 351, दंतेवाड़ा 16, धमतरी 214, दुर्ग 1674, गरियाबंद 60, जीपीएम 27, जांजगीर-चांपा 161, जशपुर 79, कबीरधाम 127, कांकेर 78, कोंडागांव 19, कोरबा 173, कोरिया 113, महासमुंद 328, मुंगेली 90, नारायणपुर 2, रायगढ़ 135, रायपुर 1502, राजनांदगांव 519, सुकमा 7, सूरजपुर 66, और सरगुजा 87 कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। केन्द्र सरकार के संगठन आईसीएमआर के इन आंकड़ों में रात तक राज्य शासन के जारी किए जाने वाले आंकड़ों से कुछ फेरबदल हो सकता है क्योंकि ये आंकड़े कोरोना पॉजिटिव जांच के हैं, और राज्य शासन इनमें से कोई पुराने मरीज का रिपीट टेस्ट हो, तो उसे हटा देता है। लेकिन हर दिन यह देखने में आ रहा है कि राज्य शासन के आंकड़े रात तक खासे बढ़ते हैं, और इन आंकड़ों के आसपास पहुंच जाते हैं, कभी-कभी इनसे पीछे भी रह जाते हैं। 

 बड़ी खबर: IIT के लगभग 88 छात्र पाए गए कोरोना संक्रमित, हॉस्टल को किया गया स्पेशल कोविड केयर सेंटर में तब्दील

बड़ी खबर: IIT के लगभग 88 छात्र पाए गए कोरोना संक्रमित, हॉस्टल को किया गया स्पेशल कोविड केयर सेंटर में तब्दील

देहरादून। उत्तराखंड के हरिद्वार जिले के प्रतिष्ठित भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) रुड़की के लगभग 88 छात्रों का बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस टेस्ट पॉजिटिव आया है। बृहस्पतिवार को संस्थान के एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी है। संस्थान की प्रवक्ता सोनिका श्रीवास्तव ने कहा कि सभी 88 छात्रों को आईआईटी परिसर के अंदर गंगा हॉस्टल में रखा गया है। इस हॉस्टल को स्पेशल कोविड केयर सेंटर बनाया गया है। 

सोनिका श्रीवास्तव ने कहा कि, "इन छात्रों को हरिद्वार के चिकित्सा अधिकारियों की निगरानी में रखा गया है" साथ ही करीब 5 हॉस्टल को सील कर दिया गया है। हालांकि संस्थान की ऑनलाइन क्लासेस बिना किसी रुकावट के जारी हैं। श्रीवास्तव ने स्पष्ट किया कि संस्थान राज्य सरकार के सभी कोविड दिशानिर्देशों का सख्ती से पालन कर रहा है।
 
 शहर के इस अंग्रेजी शराब दुकान में लगी भीषण आग, शराब लेने आये लोगों में मचा हड़कंप

शहर के इस अंग्रेजी शराब दुकान में लगी भीषण आग, शराब लेने आये लोगों में मचा हड़कंप

ग्वालियर। शहर के एक अंग्रेजी शराब दुकान में गुरुवार दोपहर आग लग गई। आग लगने के बाद वहां शराब लेने पहुंचे लोगों में हड़कंप मच गया। हालांकि आगजनी की घटना से किसी भी कर्मचारी को नुकसान होने की खबर नहीं आई है। वहीं, अभी इस बात का भी खुलासा नहीं हुआ है कि आग कैसे लगी। फिलहाल आग पर काबू पाने का प्रयास जारी है।
 जज ने फेसबुक और वाट्सऐप की याचिकाओं पर सुनवाई से खुद को किया अलग

जज ने फेसबुक और वाट्सऐप की याचिकाओं पर सुनवाई से खुद को किया अलग

नई दिल्ली। दिल्ली हाईकोर्ट की एक न्यायाधीश ने नयी निजता नीति की जांच के भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) के आदेश को चुनौती देने वाली फेसबुक और वाट्सऐप की अलग-अलग याचिकाओं पर सुनवाई से बृहस्पतिवार को खुद को अलग कर लिया। जस्टिस प्रतिभा एम सिंह ने दोनों याचिकाओं पर सुनवाई से खुद को अलग कर लिया और न्यायालय की रजिस्ट्री को निर्देश दिया कि इस मामले को 12 अप्रैल को किसी अन्य पीठ के समक्ष सुनवाई के लिये सूचीबद्ध किया जाए। फेसबुक और वाट्सऐप ने आयोग के 24 मार्च के आदेश को चुनौती दी है, जिसमें नयी निजता नीति की पड़ताल करने का निर्देश दिया गया है। आयोग ने 60 दिन के अंदर जांच पूरी करने का भी निर्देश दिया था। फेसबुक और वाट्सऐप ने अधिवक्ता तेजस करिया के जरिये दाखिल की गई याचिकाओं में कहा है कि चूंकि वाट्सऐप की निजता नीति का मामला सुप्रीमकोर्ट में लंबित है, लिहाजा आयोग को जांच का आदेश देने की कोई जरूरत नहीं थी। आयोग ने जनवरी में वाट्सऐप की नयी निजता नीति से संबंधित समाचारों के आधार पर इसकी पड़ताल करने का फैसला किया था।