कोरोना अपडेट: प्रदेश में हो रही है कोरोना की रफ़्तार कम आज 10144 ने जीती कोरोना से जंग, कुल 4888 नए मरीज मिले 144 मृत्यु भी, देखे जिलेवार आकड़े    |    आईसीएमआर अपडेट : राज्य में मिले 4166 कोरोना पॉजिटिव, 19 जिलों में सौ से अधिक मिले मरीज, देखे बाकी जिलों के आकड़े    |    उपभोक्‍ता कार्य, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय ने उचित मूल्य की दुकानों के खुला रखने को लेकर कही ये बात    |    पीएम मोदी ने दिए ऑडिट के आदेश, पढ़े पूरी खबर    |    कोरोना अपडेट: देश में 24 घंटे में 3.11 लाख लोग हुए संक्रमित, 4 हजार से ज्यादा मौत    |    कोरोना अपडेट: प्रदेश में हो रही है कोरोना की रफ़्तार कम आज 11475 ने जीती कोरोना से जंग, कुल 7664 नए मरीज मिले 129 मृत्यु भी, देखे जिलेवार आकड़े    |    आईसीएमआर अपडेट : राज्य में मिले 6918 कोरोना पॉजिटिव, आज रायगढ़ में सर्वाधिक, देखे बाकी जिलों के आकड़े    |    स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन की पहली खुराक देने में छत्तीसगढ़ बना नंबर वन, दूसरे नंबर पर ये प्रदेश    |    राहुल गांधी का पीएम पर तंज, कहा- आपने तो मां गंगा को रुला दिया    |    प्रधानमंत्री मोदी का राज्यों को सख्त आदेश, तुरंत इंस्टॉल किए जाएं स्टोरेज में पड़े वेंटिलेटर्स    |
लॉकडाउन में करिए बच्चों के साथ पढ़ाई और ऐसे सुधारिए हैंडराइटिंग

लॉकडाउन में करिए बच्चों के साथ पढ़ाई और ऐसे सुधारिए हैंडराइटिंग

स्मार्टफोन और मोबाइल के बढ़ते चलन ने लोगों की लिखने की आदत को लगभग खत्म सा कर दिया है. जिसके कारण हैंडराइटिंग की अहमियत कम हो गई है. स्मार्ट दुनिया में पैरेंट्स ने भी बच्चों की हैंडराइटिंग पर ध्यान देना कम कर दिया है. अक्सर पैरेंट्स इस बात की शिकायत करते हैं कि उनके पास बच्चों की हैंडराइटिंग सुधारने का वक्त नहीं है. ऐसे लोगों के लिए लॉकडाउन अच्छा समय है. बच्चों के साथ पढ़ाई करने का और उनकी हैंडराइटिंग को ठीक करने का. आइए जानते हैं कैसे सुधारी जा सकती है बच्चों की हैंडराइटिंग.


क्यों ज़रूरी है अच्छी हैंडराइटिंग?
एग्जाम में अक्सर बच्चों को लगता है कि उन्हें नंबर लाने के लिए सिर्फ पढ़ाई की जरूरत है. परन्तु ऐसा नहीं है एग्जाम पेपर में गंदी लिखावट के कारण भी नंबर कम मिलते हैं. एग्जाम में अच्छे नंबर लाने के लिए लिखावट का सुंदर और स्पष्ट होना बेहद ज़रूरी है. अगर आप भी अपने बच्चे की खऱाब हैंडराइटिंग को उसकी सफलता की राह का पत्थर नहीं बनने देना चाहते हैं तो बच्चों की हैंडराइटिंग को सुधारने में आज ही लग जाइए.

पेंसिल ग्रिप करने का सही तरीका
बच्चे की हैंडराइटिंग सुधारने का सबसे पहला स्टेप है बच्चों को पेंसिल की ग्रिप सही से पकडऩे का तरीका बताना. गलत तरीके से पेंसिल पकडऩे के कारण भी हैंडराइटिंग खराब हो जाती है. छोटे बच्चे को पेंसिल अंगूठे और दूसरी उंगली के बीच में रखकर पेंसिल के ऊपरी भाग को पकड़़कर लिखना सिखाएं.

राइटिंग प्रोजेक्ट्स
बच्चों को पेंसिल और पेपर पर लिखने के लिए प्रोत्साहित करने हेतु उन्हें कुछ खास राइटिंग प्रोजेक्ट्स करने के लिए दें. राइटिंग प्रोजेक्ट्स से बच्चों का मन प्रोत्साहित होता है. आप बच्चों को राइटिंग प्रोजेक्ट्स में निम्न चीजें दे सकती हैं.

- मां-पापा या मामा या फिर किसी दोस्त को लैटर लिखने के लिए कहें.

- किसी रंगीन पेपर पर बच्चे को कविता लिखने के लिए कहें, इसके बाद इसे घर की किसी दीवार पर लगाएं.

- बच्चों को कई तरह के कार्ड बनाने के लिए कहें.

 

कोरोना वाइरस से बचाव के लिए अपनी कार को भी करें इस तरह सेनेटाइस

कोरोना वाइरस से बचाव के लिए अपनी कार को भी करें इस तरह सेनेटाइस

दुनिया इस समय Corona virus की महामारी से लड़ रहा है। शरीर को वायरस से दूर रखने के साथ ही आपको अपनी कार को भी सेनेटाइज करना होगा।


अगर आप सिर्फ साबुन और पानी से अपनी कार धो रहे हैं तो वह संक्रमण मुक्त नहीं होगी, इसके लिए आवश्यक है कि आप अपनी कार को भी SANITIZE करें। आपको अपनी कार भी रोगाणु मुक्त रखना होगा।

संक्रामक वायरस सीटों या दरवाजों की सरफेस पर 2-3 दिनों तक रह सकते हैं और उन्हें छूने से लोग इस वायरस की चपेट में आप सकते हैं।

जरूरी है कि जिस तरह आप कार की बाहरी सफाई करते हैं, उसी तरह इंटीरियर जर्म क्लीनिंग भी आवश्यक है।

अक्सर हम कार को चमकाने में लग जाते हैं, लेकिन भीतरी सफाई पर ध्यान नहीं देते हैं। एक्सपर्टस भी कार को वायरस से मुक्त रखने की सलाह लगातार दे रहे हैं।

इंटीरियर में घर पर अपनी कार को ऐसे करें Sanitize

1. कार की आगे और पीछे की सीटों और रूफ को साफ करें और सैनेटाइज करें।

2. वैक्यूम क्लीनिंग की सहायता से सीटों और रूफ की अच्छीै तरह से सफाई की जा सकती है।

3. कार डोर्स और डोरनॉब्स की अच्छी तरह से सफाई करें।

4. एसी की बाहरी सतह की भी अच्छी तरह से सफाई करें। लॉकडाउन के बाद आप सर्विस सेंटर लेकर एसी के आतंरिक भाग को भी सैनेटाइज करवा सकते हैं।

5. डेश बोर्ड और स्टेयरिंग को भी साफ और सैनेटाइज करना जरूरी है।

6. कार के कांच को आप बाहर से तो साबुन और पानी से धोते हैं लेकिन अंदर की तरफ भी सफाई जरूरी और इन्हें सैनेटाइज भी करें।


 

कोरोना से बचने का बड़ा हथियार Aarogya Setu Mobile App, जानिए कैसे करता है काम

कोरोना से बचने का बड़ा हथियार Aarogya Setu Mobile App, जानिए कैसे करता है काम

कोरोना वायरस की लड़ाई में भारत सरकार ने आरोग्य सेतु (Aarogya Setu) ऐप लांच किया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी लोगों से इस ऐप को लांच करने की अपील कर चुके हैं। भारत सरकार ने इस ऐप को 2 अप्रैल को लॉन्च किया था।


3 दिन के अंदर ही इसे 50 लाख लोगों ने अपने स्मार्ट फोन में इंस्टाल कर लिया। लॉकडाउन 2 की घोषणा करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सप्तपदी में लोगों से आरोग्य सेतु ऐप इंस्टाल करने की अपील की थी। पिछले 24 घंटे में ही इसे 1 करोड़ नए लोगों ने इसे लाउनलोड किया है। लॉन्चिंग के 13 दिन के भीतर ही इस ऐप के यूजर्स की संख्या 5 करोड़ पार कर गई है।


आइए जानते हैं कैसे काम करता है Aarogya Setu

कोरोना जोखिम के दायरे से बचाएगा ऐप : आरोग्य सेतु ऐप आम लोगों को COVID-19 संक्रमण के बारे में सही और सटीक जानकारी देता है। यह ऐप यूजर को बताता है कि वह कोरोना वायरस से संक्रमित किसी व्यक्ति के संपर्क में तो नहीं आया है। यह ऐप अंग्रेजी और हिंदी समेत कई भाषाओं को सपॉर्ट करता है। इसे ऐंड्रॉयड और iOS दोनों डिवाइस में डाउनलोड किया जा सकता है।


- सबसे पहले गूगल प्ले या ऐप से स्टोर से Aarogya Setu ऐप को इंस्टाल करें।


- आरोग्य सेतु एप को ब्लूरटूथ और जीपीएस डेटा की आवश्यकता पड़ेगी। अपने मोबाइल ऐप को काम करने के लिए इसकी अनुमति दें।

- आरोग्य सेतु कॉन्टैिक्टम ट्रेसिंग के लिए आपके मोबाइल नंबर, ब्लूटूथ और लोकेशन डेटा का उपयोग करता है।

- डाउनलोड करने के बाद ऐप ओपन करें और अपनी भाषा का चुनाव करें।

- अब Register Now ऑप्शन पर क्लिक करें।

अब आपसे कुछ परमिशन मांगी जाएंगी। सभी नियम व शर्तें पढ़ने के बाद I Agree पर क्लिक करें।

- अब आपसे डिवाइस का लोकेशन और ब्लूटूथ ऐक्सेस मांगा जाएगा। इसे Allow करें।

अब अपना मोबाइल नंबर डालें।

- मोबाइल नंबर पर आने वाले OTP को भरकर वेरिफाई करें।

- आप चाहें तो अपनी निजी जानकारी जैसे- नाम, उम्र, प्रोफेशन, ट्रैवल डीटेल आदि बता सकते हैं।

- अगर आप चाहें तो जरूरत और संकट के इस वक्त में खुद को वॉलिंटियर के तौर पर रजिस्टर कर सकते हैं। इसे आप Skip भी कर सकते हैं।

- यह ऐप आपको बताएगा कि आप किसी कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में तो नहीं आए। इस ऐप पर कोरोना वायरस से बचाव के तरीके भी बताए गए हैं।


कर सकते हैं सेल्फ एसेसमेंट टेस्ट :

आरोग्य सेतु एप पर आप 'सेल्फर एसेसमेंट टेस्टट' फीचर का प्रयोग कर सकते हैं। इस फीचर का इस्ते माल करने के लिए ऑप्शपन पर क्लिक करें और फिर एप चैट विंडो खोल देगा। इसमें यूजर की सेहत और लक्षण से जुड़े कुछ सवाल किए जाएंगे, जिनके उत्तर आपको देना होंगे।

जोखिम भरे स्थानों से सचेत : इसमें लोकेशन देने के बाद ये आपको कोरोना के जोखिम भरे स्थानों के प्रति भी सचेत करेगा।

 

रंगों से पता चलेगा जोखिम का स्तर :

एप हरे और पीले रंग के कोडों में आपके जोखिम के स्तोर को दिखाता है। यह भी सुझाव देता है कि आपको क्या करना चाहिए।

अगर आपको ग्रीन में दिखाया जाता है और बताया जाता है कि 'आप सुरक्षित हैं' तो कोई खतरा नहीं है। कोरोना से बचने के लिए आपको सोशल डिस्टेंसिंग को बनाए रखना चाहिए और घर पर रहना चाहिए


अगर आपको पीले रंग में दिखाया जाता है और text बताता है कि 'आपको बहुत जोखिम है', लेकिन आपको घबराने की आवश्यकता नहीं है। आप हेल्प लाइन में संपर्क कर सकते हैं।

 

WhatsApp से जुड़ी बड़ी खबर, Status पर डलेगा सिर्फ 15 सेकंड का वीडियो

WhatsApp से जुड़ी बड़ी खबर, Status पर डलेगा सिर्फ 15 सेकंड का वीडियो

देश में लॉकडाउन के चलते सभी लोग अपने घरों में हैं और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म का जमकर इस्तेमाल कर रहे हैं।
बड़ी संख्या में लोग वर्क फ्रॉम होम भी कर रहे हैं। इस वजह से डाटा नेटवर्क पर बहुत दबाव पड़ रहा
है। ऐसे में फेसबुक के मालिकाना हक वाली मैसेजिंग एप व्हाट्सएप ने एक बड़ा फैसला किया है।
इस एप पर अब सिर्फ 15 सेकंड का स्टे्टस वीडियो लगाने की अनुमति होगी। जबकि पहले 30 सेकंड तक का स्टेट्स वीडियो डाला जा सकता था।

बताया जा रहा है कि भारत में लॉकडाउन में सर्वर इंफ्रास्ट्रक्चर पर ट्रैफिक को घटाने के लिए यह कदम उठाया गया है। हालांकि, इस बदलाव को लेकर व्हाट्सएप की ओर से अभी तक कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया गया है।

इस संबंध में डब्ल्यूबीटाइंफो की ओर से रविवार को एक ट्वीट किया गया। इसमें कहा गया कि आप अब 16 सेकंड के वीडियो को व्हाट्सएप स्टेट्स नहीं बना सकते। सिर्फ 15 सेकंड तक के वीडियो को इसकी इजाजत है। सर्वर इंस्फ्रास्ट्रक्चर के ऊपर से दबाव को घटाने की दिशा में इसे बड़ा कदम माना जा रहा है।
 

व्हाट्सएप्प लेकर आया अपने यूजर्स के लिए एक नया फीचर, आपके लिए है बड़ा फायदेमंद

व्हाट्सएप्प लेकर आया अपने यूजर्स के लिए एक नया फीचर, आपके लिए है बड़ा फायदेमंद

लोगो द्वारा अधिक उपयोग किये जाने वाला व्हाट्सप्प एक नया फीचर अपने ग्राहकों के लिए लेकर आया है|  व्हाट्सएप ने अपने सभी यूजर्स के लिए डार्क मोड फीचर जारी कर दिया है। इस फीचर का यूजर्स को कई दिनों से इंतजार था। व्हाट्सप्प डार्क मोड फीचर आईफोन और एंड्रॉयड दोनों ही यूजर्स के लिए उपलब्ध है। इस लोगो का कलर ब्लैक है।

पढ़े पूरी खबर-
कंपनी ने इसे 3 मार्च को जारी किया है। इस फीचर का लोगों को काफी वक्त से इंतजार था। से ही लोग इसका इंतजार कर रहे थे। कंपनी इस फीचर के जरिए उपभोक्ताओं को ज्यादा बेहतर और रिफ्रेश एहसास प्रदान करना चाहती है।

व्हाट्सएप्प का ये फीचर कम रोशनी में बेहतर विजिबिलिटी प्रदान करता है, जिससे यूजर्स की आंखों पर ज्यादा जोर नहीं पड़ता है। इसे बेहतर तरीके से व्हाट्सएप्प  की यूआई के साथ डिजाइन किया है। इसमें उस रंग का चुनाव किया है, जिसकी मदद से यूजर्स की आंख पर कम से कम प्रभाव पड़े और कम थकावट का एहसास हो।

व्हाट्सएप्प डार्क मोड में न सिर्फ चैट हेड बल्कि चैट बैक ग्राउंड भी डार्क हो जाएगा। हालांकि इसमें कई रंगों का इस्तेमाल किया है, जो आपके कॉन्टैक्ट के अनुसार नजर आएंगे यानी अलग-अलग नाम से लोगों का कॉन्टैक्ट एक ग्रुप में अलग-अलग रंग में नजर आएगा। कंपनी ने इसमें ब्लैक और डार्क ग्रीन कलर का इस्तेमाल किया है।
बाउंसी हेयर की चाहत पूरी करता है प्याज का रस, जानें इसे लगाने का सही तरीका

बाउंसी हेयर की चाहत पूरी करता है प्याज का रस, जानें इसे लगाने का सही तरीका

अगर आप अपने गिरते बालों की समस्या से परेशान हैं या बालों में बढ़ते रुखेपन की वजह से वे दिन- प्रतिदिन पतले होते जा रहे हैं तो आपका परेशान होना स्वाभाविक है। लेकिन इस समस्या को परेशान होकर दूर नहीं किया जा सकता। बल्कि परेशान होने से तो यह समस्या और अधिक बढ़ सकती है। इसका समाधान आपकी रसोई में रखी प्याज में छिपा है। यहां जानें, कैसे प्याज आपके बालों को मोटा, मुलायम और घना बनाने का काम करती है... 

बालों की जड़ों पर काम करे 

-ब्यूटी एक्सपर्ट्स का मानना है कि प्याज में मौजूद पोषक तत्व हमारे बालों की जड़ों को मजबूती देने का काम करते हैं। जो बालों का वॉल्यूम बढ़ाने यानी उन्हें घना बनाने का काम करता है।

-प्याज का रस बालों पर नियमित रूप से इस्तेमाल करने पर बालों को एक्सट्रा पोषण मिलता है। जिससे बाल शाइनी और सॉफ्ट बनते हैं। 

- एक्सपर्ट्स के अनुसार, प्याज में मौजूद डायट्री सल्फर सिर में उन जगहों पर बाल फिर से उगाने का काम करता है, जहां से बाल झड़ चुके हैं। साथ ही उगे हुए बालों को मजबूती देता है, जिससे रोजमर्रा में बालों की खूबसूरती को होनेवाले नुकसान में कमी आती है। 

- हमारी सेहत के लिए सल्फर एक बेहद जरूरी मिनरल है। यह एंजाइम्स और प्रोटीन के उत्पादन में मदद करता है। केराटिन में भी सल्फर पाया जाता है, जो बालों का मुख्य अव्यव या कॉम्पोनेंट है। 

- प्याज के रस में मौजूद सल्फर ना केवल हमारे बालों को पोषण देकर उनकी ग्रोथ में मदद करता है बल्कि बाल बढऩे की प्रक्रिया को भी यह तेज करता है।

ऐंटी-माइक्रोबियल खूबियां 

प्याज का रस बालों को फंगल इंफेक्शन से बचाने और बालों की जड़ों में रुसी या डैंड्रफ की समस्या होने से भी रोकता है। क्योंकि प्याज के रस में ऐंटिबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज होती हैं। 

- प्याज का रस बालों की जड़ों में किसी भी तरह के इंफेक्शन को नहीं पनपने देता, इस कारण बाल तेजी से ग्रोथ कर पाते हैं और हेल्दी रहते हैं। 

-प्याज के रस में फ्लेवोनॉइड्स जैसे ऐंटिऑक्सीडेंट्स भी होते हैं। ये हमारे पूरे शरीर को रेडिकल फ्री रखने में मदद करते हैं। इस कारण हेयर डैमेज के चांसेज कम होते हैं और बालों का टैक्सचर स्मूद बनता है। 

ऐसे बनाएं प्याज का रस 

बालों में लगाने के लिए प्याज का रस बनाना है तो सबसे पहले प्याज छील लें और फिर इसे धुल लें। साफ प्याज को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें। 

- कटे हुए प्याज को पीसकर या जूसर की सहायता से इसका रस बना लें। अब इस रस को कॉटन के कपड़े या बारीक छन्नी की मदद से छान लें। ताकि प्याज के मोटे कण रस से अलग हो जाएं। 

- अब प्याज के इस रस को बालों में लगा लें। अगर आप प्याज की स्मेल से बचने के बारे में सोच रहे हैं तो इस जूस में किसी भी असेंशियल ऑइल की दो-तीन बूंद मिला लें। जैसे, पिपरमिंट, लैवंडर या रोज मैरी असेंशियल ऑइल। ये सभी ऑइल हमारी स्किन के लिए बहुत अच्छे होते हैं। 

- कई लोगों को प्याज का रस लगाने के बाद बालों की जड़ों में इचिंग या इरिटेशन की समस्या हो सकती है। हालांकि यह कुछ देर बाद शांत हो जाती है। लेकिन अगर ऐसा नहीं होता है तो आप तुरंत बाल धो लें और इस जूस को ना लगाएं। क्योंकि हर चीज हर स्किन टाइप को सूट नहीं करती है। 

प्याज के रस का बालों की ग्रोथ में प्रभाव और इसके पोषक तत्वों के बारे में जर्नल ऑफ डर्मेटॉलजी में पब्लिश एक रिसर्च के मुताबिक, बालों में प्याज का रस लगाने पर कुछ लोगों में बहुत बेहतर परिणाम देखने को मिलते हैं। क्योंकि इसके नियमित उपयोग से उनके बाल हेल्दी, डैमेज फ्री और स्मूद हो जाते हैं। साथ ही बाल घने भी बनते हैं।

नेल रिमूवर खत्म हो जाएं तो आजमाएं ये खास टिप्स

नेल रिमूवर खत्म हो जाएं तो आजमाएं ये खास टिप्स

नेल रिमूवर एक छोटी सी लेकिन हर लड़की के मेकअप बॉक्स में एक बहुत ही जरूरी चीज होती है। इसकी अहमियत तब पता चलती है जब आपको किसी पार्टी के लिए तैयार होना हो, पुराना आधा-अधूरा नैल पेंट हटाकर नया लगाना हो और आपको मालूम पड़े की आपका नेल पॉलिश 

रिमूवर तो खत्म हो चुका हैं।

ऐसी स्थिती के लिए यदि आपको ऐसे कुछ घरेलू तरीके पता हो जिससे आप अर्जन्सी में अपनी नेल पॉलिश हटा सकें, तो ये आपके बहुत काम आएंगे। आइए जानें ऐसे ही कुछ आसान से तरीके:

1. अल्कोहल

अगर आपके घर में अल्कोहल है तो आप इसकी मदद से नेल पॉलिश छुड़ा सकती हैं। कॉटन बॉल को लेकर अल्कोहल में डुबा लें और उसे धीरे-धीरे नाखून पर रगड़ें। ऐसा करने से नेल पॉलिश उतर जाएगी।

2. सिरका

सिरके की मदद से भी आप नेल पॉलिश उतार सकती हैं। इसे भी कॉटन बॉल की मदद से नाखूनों पर लगाएं। अगर आपको और बेहतर रिजल्ट चाहिए तो सिरके को एक कटोरी में लेकर उसमें कुछ बूंद नींबू के रस की मिला लें। इस घोल से नेल पॉलिश साफ करें।

3. गर्म पानी

नेल पॉलिश छुड़ाने का ये सबसे आसान तरीका है। एक कटोरी में गर्म पानी ले लें और अपने नाखूनों को 10 मिनट तक उसमें डुबो कर रखें। उसके बाद कॉटन से मल लें। पुराना नेल पॉलिश उतर जाएगा।

4. टूथपेस्ट

यह सुनने में भले ही बहुत मजेदार लग रहा हो लेकिन टूथपेस्ट एक बहुत कारगर उपाय है। थोड़ा सा टूथपेस्ट लेकर नाखूनों पर लगा लें। अब इसे कॉटन की मदद से धीरे-धीर रगड़ें। कुछ ही देर में नाखून साफ हो जाएंगे।

5. नेल पॉलिश

क्या आपको पता है हर नेल पॉलिश में रिमूवल का गुण होता है। अगर आपके पास नेल पॉलिश रिमूवर नहीं है तो आप किसी दूसरे नेल पॉलिश को पुराने नेल पॉलिश पर लगाकर तुरंत पोछ लें। ऐसा करने से पुराना पॉलिश उतर जाएगा।

 
वैलंटाइन्स डे पर अपने खास को दें ये खास गिफ्ट्स, आएगी  रिश्तों में मिठास

वैलंटाइन्स डे पर अपने खास को दें ये खास गिफ्ट्स, आएगी रिश्तों में मिठास

प्यार को सेलिब्रेट करने का मौका देने वाला वैलंटाइन्स डे बस कुछ ही दिन दूर है, ऐसे में अपने लव्ड वन के लिए क्या गिफ्ट लिया जाए इसे लेकर जाहिर सी बात है कि टेंशन हो ही रही होगी। अगर आपने गिफ्ट ले लिया है तो बहुत अच्छा लेकिन अगर आपको यह समझ नहीं आ रहा कि बॉयफ्रेंड/गर्लफ्रेंड या फिर पति/पत्नी को तोहफे में क्या दिया जाए तो नीचे दिए गिफ्ट ऑप्शन्स में से आप सिलेक्शन कर सकते हैं।

परफ्यूम ऐंड वॉच कॉम्बो

परफ्यूम और वॉच दोनों ही ऐसी चीजें हैं जिन्हें लड़कियां बेहद पसंद करती हैं। इन दोनों का कॉम्बो अमेजॉन पर लिया जा सकता है। इसमें ऑफ वाइट कलर की वॉच के साथ परफ्यूम आएगा। पैकिंग एक बॉक्स में होगी जिसमें अंदर पिंक कलर का सैटन क्लोद होगा। सबसे खास बात यह है कि यह गिफ्ट आपको बेहद ही सस्ते दाम में मिल जाएगा।

गिफ्ट करिए रोज लैंप

अपनी प्यार भरी जिंदगी में अगर आपको रोशनी बनाए रखनी है तो आप वैलंटाइन्स यानी 14 फरवरी 2020 वैलंटाइन्स डे के दिन अपनी गर्लफ्रेंड या बॉयफ्रेंड को यह गिफ्ट कर सकते हैं। इसमें आपको एक बंद कांच के जार में एक आर्टिफिशल गुलाब के साथ एलईडी लाइट मिलेगी। रेड रोज जहां आपके प्यार को बयां करेगा वहीं लाइट आपके लव लाइफ को और ब्राइट बनाएगी।

यह कुशन कवर हमेशा दिलाता रहेगा आपके प्यार की याद

यह रेड कुशन कवर आपके प्रेमी या प्रेमिका को हमेशा आपके प्यार की याद दिलाएगा। इस पर जो कोट लिखा है उसका मतलब है 'मैं तुमसे हमेशा प्यार करूंगा'। अब आप ही बताइए भला इस कंफेशन को कौन लव्ड वन पसंद न करेगा।

बॉयफ्रेंड/पति के लिए अच्छा रहेगा यह गिफ्ट

यह खास गिफ्ट आपके बॉयफ्रेंड के लिए खासतौर पर बनाया गया है। सबसे खास बात यह कि इसमें आपको एक बेल्ट और एक पर्स मिलेगा जिसे आपका बॉयफ्रेंड/पति हमेशा पास रखेगा। इससे वह आपकी याद महसूस करते रहेंगे और प्यार की अहमियत को भी समझेंगे।

गर्लफ्रेंड को गिफ्ट करिए यह वाला टेडी बेयर

लड़कियों को टेडी बेयर तो हमेशा से पसंद रहा है, इसलिए अगर आप अपनी गर्लफ्रेंड को कोई अच्छा सा टेडी बियर गिफ्ट करना चाहते हैं तो इस टेडी बेयर को गिफ्ट कर सकते हैं। इस टेडी बेयर की लंबाई 5 फीट है और इसका रंग लाल है, जो प्यार का प्रतीक भी माना जाता है।

 
न्यूट्रिऐंट्स से भरपूर होती है डार्क चॉकलेट, इसे खाने के होते हैं ये 5 फायदे

न्यूट्रिऐंट्स से भरपूर होती है डार्क चॉकलेट, इसे खाने के होते हैं ये 5 फायदे

मारे लिए चॉकलेट सैकेंड स्वीट बन गई है। इसकी बड़ी वजह है इसकी प्रिजर्व क्वालिटी। पहले जहां ज्यादातर लोग रिश्तेदारों के घर जाते हुए मिठाई और फ्रूट्स खरीदते थे, अब वो जगह चॉकलेट ने ले ली है। केक और आइसक्रीम से लेकर शेक्स और ब्यूटी प्रॉडक्ट्स तक सभी पर चॉकलेट फ्लेवर का कब्जा है। ऐसे में मन में यह सवाल आना तो तय है कि आखिर चॉकलेट में ऐसी कौन-सी खूबियां हैं कि हम लोग इस कदर इसके दीवाने हैं...

चॉकलेट से बॉडी को क्या मिलता है?

चॉकलेट और खासतौर पर डार्क चॉकलेट फाइबर, आयरन, मैग्निशियम, कॉपर, जिंक, फॉस्फोरस, पोटैशियम जैसे बॉडी के लिए जरूरी न्यूट्रिऐंट्स से भरपूर होती है। खास बात यह है कि डार्क चॉकलेट में इन न्यूट्रिऐंट्स की मात्रा बहुत ही संतुलित होती है। जिनकी हमें हर दिन जरूरत होती है। 

कोकोआ की खास डोज

डार्क चॉकलेट में करीब 85 प्रतिशत तक कोकोआ होता है। अगर हम इसकी 100 ग्राम की एक चॉकलेट बार की बात करें तो इससे हमारी बॉडी को दिनभर के लिए सभी जरूरी न्यूट्रिऐंट्स मिल जाते हैं। लेकिन इन सबसे साथ ही हमारी बॉडी को 600 कैलरीज भी मिलती हैं। इसलिए पोषण के साथ एनर्जी लेवल बना रहता है।

जरूरी फैटी एसिड से भरपूर

आपको पता होगा कि बॉडी में फैट दो तरह का होता है, एक गुड फैट और एक हार्मफुल फैट। गुड फैट हमारे शरीर को ऐसे फूड्स से मिलता है जो फैटी एसिड से भरपूर होते हैं, इनमें डार्क चॉकलेट भी शामिल है। गुड फैड ब्लड में घुलनशील होता है और कॉलेस्ट्रोल को बैलंस रखने के साथ ही हार्ट को हेल्दी भी रखता है।

ऐंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर

हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि कोकोआ सीड्स उन फूड्स में सबसे अधिक रिच हैं, जो हमारे शरीर को ऐंटीऑक्सीडेंट्स देते हैं। डार्क चॉकलेट, जिसमें कि कोकोआ की मात्रा बहुत अधिक होती है, हमारी बॉडी को ऐंटीऑक्सीडेंट्स जैसे पॉलिफेनॉल्स और फ्लैवनॉल्स देती है। हालांकि ये ऐंटीऑक्सीडेंट्स हमें बेरीज से भी मिलते हैं लेकिन डॉर्क चॉकलेट की तुलना में बेरीज में इनकी मात्रा काफी कम होती है।

ब्लड फ्लो बढ़ाए

डार्क चॉकलेट की एक खूबी यह भी है कि ये ब्लड फ्लो को मैनेज करने में मदद करती है। अब आपके मन में यह सवाल जरूर आएगा कि आखिर डॉर्क चॉकलेट ऐसा कैसे करती है? दरअसल, डार्क चॉकलेट में कोकोआ होता है, जिससे बॉडी को फैटी एसिड्स मिलते हैं। ये फैटी एसिड्स ब्लड में घुल जाते हैं और हमारी आर्ट्ररीज को क्लियर करने का काम करते हैं और ब्लड फ्लो को मैनेज करने में मदद करते हैं।

आईलाइनर लगाते समय महिलाएं करती हैं ये 4 गलतियां, आज ही सुधार लें

आईलाइनर लगाते समय महिलाएं करती हैं ये 4 गलतियां, आज ही सुधार लें

जकल की ट्रेंडी लाइफस्टाइल में आईलाइनर लगाना काफी कॉमन हो गया है. हालांकि इसको लगाने के तरीके बदल गए है. अब ऑकेजन को ध्यान में रखते हुए आईलाइनर के स्टाइल को तय किया जाता है. ऐसे में आईलाइनर लगाना आपका रोज का ब्यूटी स्टेटमेंट बन सकता है. कुछ महिलाएं रोज, तो कुछ केवल खास मौकों पर ही आईलाइनर लगाना पसंद करती हैं.

वहीं बहुत सी महिलाओं को आईलाइनर लगाना बहुत बड़ा टास्क लगता है, ऐसे में इसे लगाना मुश्किल होने के साथ-साथ आपके लुक को बना या बिगाड़ भी सकता है. इसलिए इसे लगाने के लिए सही तकनीक को अपनाना बहुत जरूरी है. आपकी छोटी सी गलती सबकुछ बर्बाद कर सकती है. आइए आपको बताते हैं आईलाइनर लगाते समय कौन सी सामान्य गलतियां करती हैं आप.

लाइनर लगाते समय पलकों को झपकाना

यह सबसे आम लेकिन सबसे बड़ी गलती हो सकती है क्योंकि अगर आपको आईलाइनर लगाते समय अपनी पलकों को टटोलने या झपकाने की आदत है, तो यह आपके मेकअप को बिगाड़ सकती है. ऐसा करने से आपको आईलाइनर में सफाई नहीं मिलेगी. यदि आप लिक्विड आईलाइनर का इस्तेमाल करती हैं तो आंखे झपकाने पर यह आपकी आंखों के अंदर भी जा सकता है जिससे आपकी आंखों को नुकसान पहुंच सकता है.

आंख के निचले हिस्से पर लिक्विड आईलाइनर का इस्तेमाल करना

बहुत से महिलाएं आईलाइनर को आंख के ऊपरी हिस्से की बजाय नीचे की ओर लगाना पसंद करती हैं. वहीं कुछ महिलाएं आंखों के ऊपरी और निचली, दोनों ओर आईलाइनर लगाती हैं. महिलाओं को लगता है कि ऐसा करने से उनकी आंखें बड़ी दिखेंगी लेकिन यह बिल्कुल गलत है. निचली लैश लाइन पर लिक्विड आईलाइनर लगाने से न केवल आपकी आंखें छोटी दिखेंगी बल्कि ओवर भी दिखेंगी. अगर आप अपनी निचली लैश लाइन पर कुछ लगाना चाहती हैं तो काजल का इस्तेमाल करें.

आईलाइनर लगाने के बाद कर्लर का इस्तेमाल करना

आईलाइनर एकमात्र ऐसा ब्यूटी प्रोडक्ट है, जो आपकी लैशेस के सबसे करीब लगता है. यदि आप आईलाइनर लगाने के बाद कर्लर का उपयोग करते हैं, तो इससे यह फीका हो जाएगा या लाइनर को हटा देगा. सिर्फ इतना ही नहीं यह असमान व पैची भी दिखने लगेगा और आपके लुक को खराब कर देगा. इसलिए आईलाइनर लगाने से पहले अपनी पलकों को कर्ल कर लें या फिर आई लैशेज लगा लें और फिर इसका उपयोग करें.

पुराने या सूखे आईलाइनर का उपयोग करना

अगर आप नियमित रूप से आईलाइनर नहीं लगाती हैं तो आप हमेशा अपने आईलाइनर के उपयोग से पहले उसकी जांच जरूर कर लें कि वह ज्यादा पुराना न हो गया हो. पुराना आईलाइनर लगाने से आपकी आंखों को नुकसान पहुंच सकता है. पुराना आईलाइनर आंखों के इंफेक्शन का कारण बन सकता है.

 
'रोज डे' से वैलेंटाइन वीक की हो गयी शुरुआत, गुलाब के अलग-अलग रंगों का क्या है खास महत्व जाने

'रोज डे' से वैलेंटाइन वीक की हो गयी शुरुआत, गुलाब के अलग-अलग रंगों का क्या है खास महत्व जाने

प्यार के हफ्ते की शुरुआत आज से हो चुकी है। युवाओं को इस हफ्ते का खासतौर पर इंतजार रहता है। वैलेंटाइन डे वीक की शुरुआत के साथ ही युवा इस मस्ती भरे हफ्ते में खो जाते हैं। इस हफ्ते की शुरुआत रोज डे के साथ होती है। इस दिन एक-दूसरे को युवा गुलाब देते हैं। लेकिन क्या आपने कभी ये सोचा है कि आखिर इस हफ्ते की शुरुआत रोज डे से ही क्यों होती है। शायद नहीं, तो चलिए आपको इसकी वजह बताते हैं। दरअसल, इसके पीछे जो बड़ी वजह मानी जाती है वो ये कि प्राचीन काल में विक्टोरियाई लोग अपनी भावनाएं जताने के लिए एक-दूसरे को गुलाब का फूल देते थे। वैसे तो गुलाब कई रंगों का होता है, लेकिन लाल रंग के गुलाब का इस्तेमाल सबसे ज्यादा प्यार का इजहार करने के लिए किया जाता था। ऐसे में प्यार की शुरुआत गुलाब का देकर ही की जाती है। वहीं लाल गुलाब को देना सबसे ज्यादा सही माना जाता है।
रेड रोज यानि लाल गुलाब को प्यार का प्रतीक माना जाता है। उदाहरण के लिए अगर किसी से प्यार का इजहार करना है, तो आप रेड रोज देकर इस बात को बोल सकते हैं।
पिंक रोज ये किसी का आभार, कृपा या फिर उसके महत्व को मानने के रूप में पिंक रोज दिया जाता है। इस फूल के जरिए एक तरह का खुशी का इजहार किया जा सकता है।
वहीं येलो रोज को दोस्ती का प्रतीक माना जाता है। पीले रंग के रोज का इस्तेमाल दोस्ती कायम रखने या दोस्ती जताने के लिए भी किया जाता है।

 

सुबह-सुबह म्यूजिकल अलार्म बजेगा तो दिनभर मूड अच्छा रहेगा

सुबह-सुबह म्यूजिकल अलार्म बजेगा तो दिनभर मूड अच्छा रहेगा

रातभर की नींद पूरी करने के बाद भी अगर सुबह आपकी नींद नहीं खुलती, सुस्ती और आलस आता रहता है और फ्रेशनेस महसूस नहीं होता तो मधुर म्यूजिकल अलार्म आपकी मदद कर सकता है। जी हां, अगर नींद से जागने के लिए आप ऐसा अलार्म लगाएं जिसमें से म्यूजिकल आवाज आती है तो इससे न सिर्फ आपकी सुस्ती और आलस दूर होगा बल्कि दिनभर आपका मूड भी अच्छा रहेगा।
अलार्म तय करता है सुस्ती दूर होगी या नहीं
एक रिसर्च में कहा गया है कि सुबह जिस तरह का अलार्म सुनकर लोग जागते हैं, वही तय करता है कि उनकी सुस्ती दूर होगी या नहीं। शोधकर्ताओं ने पाया है कि एक अच्छा म्यूजिकल अलार्म आपको पूरे दिन तरोताजा रखता है। इसके उलट तेज आवाज वाला अलार्म सुनने से सुबह के वक्त सुस्ती बढ़ सकती है। यह रिसर्च उन लोगों के लिए काम की है जो सुबह उठते ही काम पर लग जाते हैं।
सजगता का स्तर बेहतर होता है
'पीएलओएस वन नाम के जर्नल में इस रिसर्च को प्रकाशित किया गया है जिसे ऑस्ट्रेलिया की आरएमआईटी यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने किया है। रिसर्च में बताया गया है कि म्यूजिकल अलार्म सुनकर अगर किसी व्यक्ति की नींद खुलती है तो इससे उस व्यक्ति में सजगता का स्तर बेहतर हो सकता है यानी वो ज्यादा अलर्ट रह सकता है।
मधुर आवाज सुनकर हम अच्छे से जाग पाते हैं
ऑस्ट्रेलिया की आरएमआईटी यूनिवर्सिटी में असोसिएट प्रफेसर एडरियान डायर ने कहा, 'नींद से जागने पर 'बिप बिप की तेज और कर्कश आवाज से दिमाग की गतिविधियां भ्रमित हो जाती हैं जबकि मधुर आवाज जैसे बीच बॉयज का गाना गुड वाइब्रेशन्स से हम अच्छे से जाग पाते हैं। रिसर्च में ये भी बताया गया है कि म्यूजिकल अलार्म सुनकर उठना उन लोगों के लिए खास मायने रखता है जो जागते ही खतरनाक हालात में काम करने के लिए पहुंच जाते हैं। जैसे- दमकल विभाग के कर्मचारी, पायलट के रूप में विमान उड़ाने का कार्य, अस्पताल या कोई अन्य आपात कार्य जिसमें लोगों को बेहद चौकन्ना रहना पड़ता है।
 

सर्दी के दिनों में सुबह जल्दी उठना जरूरी हो, तो अपनाएं यह 5 उपाय सुबह उठाने में मिलेगी मदद

सर्दी के दिनों में सुबह जल्दी उठना जरूरी हो, तो अपनाएं यह 5 उपाय सुबह उठाने में मिलेगी मदद

र्दी का मौसम और सुबह-सुबह की नींद...भई वाह, जैसे सोने पर सुहागा, वहीं सर्दी का मौसम और सुबह जल्दी उठना...ऊफ्फ, आफत की सुबह। लेकिन तब क्या किया जाए, जब सर्दी के इन दिनों में सुबह जल्दी उठना जरूरी हो? न नींद खुलती है न रजाई से निकलने का मन होता है। लेकिन टेंशन मत लीजिए, यह 5 उपाय करेंगे आपकी मदद इस कठिन काम में

1 अलार्म - हां-हां, जानते हैं कि अलार्म बजते ही बंद कर दिया जाता है और आप दोबारा नींद के आगोश में चले जाते हैं। लेकिन इस बार आपको अपने दिमाग को यह समझाइश देनी होगी, कि अलार्म बजने का मतलब बिस्तर से उठना ही है। इसमें कोई कोताही बरती गई, तो बड़ा नुकसान हो सकता है।
2 मोबाइल - आपको जानकर आश्चर्य होगा लेकिन सुबह जल्दी नींद खुलने के बाद भी जब आप उठ न पाएं, तो अपना मोबाइल चेक करें। जी हां, मोबाइल ऑपरेट करते समय आप होश में होते हैं और आपका दिमाग सक्रिय रूप से उसमें संलग्न होता है। वॉट्सएप और फेसबुक चेक करें, या फिर कोई जरूरी काम जो अधूरा हो। देखिए कैसे नींद छू मंतर होती है।
3 बिस्तर छोड़ें - सुबह नींद खुलते या अलार्म बजते ही तेजी से बिस्तर छोड़ दें और मुस्कुराएं। इस तरह से आपके दिन की शुरुआत सकारात्मक होगी और दोबारा सोने के बजाए आपका दिनचर्या बढ़ाने का मन होगा।
4 पानी पिएं - अपने बिस्तर के पास पानी भरकर रखें और नींद खूलते ही बिस्तर से उठकर सबसे पहले गिलास भरकर पानी पिएं। इससे आपका रासा आलस और नींद तुरंत गायब हो जाएगा और अब आप दिन की शुरुआत कर सकते हैं।
5 अलार्म रखें दूर - अलार्म लगाने के बाद घड़ी को अपने पास कभी न रखें, वरना आप उसे बजते ही बंद कर देंगे। अलार्म अगर दूर होगा, तो आपको उसे बंद करने के लिए भी बिस्तर से उठना ही होगा, और यह आपकी नींद उड़ाने के लिए काफी है।
 
घर पर बाल स्ट्रेट करना चाहते है तो अपनाये ये इजी टिप्स, नहीं पड़ेगा पार्लर जाना

घर पर बाल स्ट्रेट करना चाहते है तो अपनाये ये इजी टिप्स, नहीं पड़ेगा पार्लर जाना

स्ट्रेट बाल हर तरह के आउटफिट को सूट करते हैं। जितना ये ट्रडिशनल लुक के साथ जंचते हैं, उतना ही वेस्टर्न वियर के साथ भी। यूं तो बाल स्ट्रेट कराने के लिए आमतौर पर महिलाएं ब्यूटी पार्लर जाती हैं। लेकिन केमिकल प्रोडक्ट्स की बजाय आप घर पर ही हर्बल तरीके से भी स्ट्रेट बाल पा सकती हैं। इससे आपके बालों पर एक्स्ट्रा केमिकल और हीट का यूज नहीं होगा... 
बालों की ऐंठन को कम करता है गर्म तेल
कुछ दिन तक रोज बालों में गर्म तेल लगाने से बाल सीधे होने लगते हैं। गर्म तेल बालों की ऐंठन और कर्ल को सीधा करने का काम करता है। अगर आप नारियल तेल, ऑलिव ऑयल या फिर बादाम के तेल में से एक को यूज करती हैं तो आपको ज्यादा फायदा होगा। तिल का तेल भी इसमें आपके खूब काम आएगा। इसके लिए तेल लें और उसे हल्का गर्म कर लें। अब हल्के हाथों से बालों पर 15 से 20 मिनट तक स्कैल्प पर मसाज करें। करीब आधे घंटे बाद बालों को किसी माइल्ड शैंपू से क्लीन कर गीले बालों पर ही कंघी कर लें।
मुल्तानी मिट्टी का पेस्ट 
मुल्तानी मिट्टी के इस्तेमाल से भी बाल नेचरल रूप से स्ट्रेट हो जाते हैं। मुल्तानी मिट्टी को अंडे के सफेद भाग के साथ मिला लीजिए। इसमें एक चम्मच चावल का आटा भी मिला लें। इसमें पानी डालकर एक गाढ़ा पेस्ट बना लें। इस मिक्सचर को बालों में ऊपर से नीचे लगा लीजिए। उसके बाद किसी मोटे दांत वाली कंघी से कंघी कर लीजिए। एक घंटे के लिए इसे ऐसे ही छोड़ दीजिए और फिर धो लीजिए। इसके बाद बालों पर दूध का स्प्रे कर लें। 15 मिनट के लिए छोड़कर फिर धो लें। दो से तीन बार में ही इस प्रोसेस को अपनाने से बाल स्ट्रेट होने लगेंगे।
 
 
कोकोनट मिल्क और लेमन जूस 
कोकोनट मिल्क और लेमन जूस को किसी कटोरी में अच्छी तरह से मिक्स करके कुछ घंटों के लिए िफ्रज में रख दें। अब इन्हें अपने बालों पर मास्क की तरह लगाएं। तकरीबन 15 से 20 मिनट लगा रहने दें। फिर बालों को स्टीम दीजिए। अब बालों को किसी बेहतर शैंपू से धो लें और बालों के सूखने के बाद पाएं खूबसूरत स्ट्रेट बाल, वो भी बेहतरीन चमक के साथ।
बेसन, मुल्तानी मिट्टी और सिरका 
बेसन, मुलतानी मिट्टी और सिरका ले लें। इसके लिए लगभग 4 बड़े चम्मच बेसन और इतनी ही मात्रा में मुल्तानी मिट्टी को ले लीजिए। अब इसमें आधा कप सिरका मिलाएं। तैयार किए गए इस पेस्ट को 10 से 15 मिनट बालों पर लगाएं और शैंपू से बालों को धो लें।
सर्दियों में स्टाइल और कम्फर्ट को मैंटेन करेगी फंकी कैप, लुक भी दिखेगा सबसे अलग

सर्दियों में स्टाइल और कम्फर्ट को मैंटेन करेगी फंकी कैप, लुक भी दिखेगा सबसे अलग

नवरी का महीना खत्म होने वाला है, लेकिन राजधानी दिल्ली समेत पूरे उत्तर भारत में सर्दी का सितम थमने का नाम नहीं ले रहा है. सर्दियों से शरीर को बचाने के लिए स्वैटर, जैकेट सब कुछ कैरी किया जाता है, लेकिन जब बात आती है टोपी, मफलर या स्कार्फ को कैरी करने की तो मन में कई तरह की हिचकिचाहट रहती है.
ऐसा इसलिए क्योंकि ये आपके लुक को पूरी तरह से खराब कर सकते हैं. खासकर लड़कियों को ऐसा लगता है कि सर्दियों के मौसम में सिर पर कैप कैरी करने से उनके बाल खराब हो जाए या उनका लुक आउट ऑफ फैशन हो जाएगा.
सर्दियो में फंकी कैप्स है बेस्ट ऑप्शन
अगर, आप भी ऐसा ही सोचते हैं तो विंटर में आप कैप नहीं बल्कि फंकी विंटर कैप ट्राई करके देखिए. ये कैप्स न सिर्फ सिर को सर्दी से बचाएंगे बल्कि क्यूट लुक भी देती है. आपको मार्केट के अलावा ऑनलाइन भी विंटर कैप्स के तमाम ऑप्शन मिलेंगे. इन कैप्स को देखते ही कोई भी लड़की इसे खरीदने से खुद को रोक नहीं पाएगी. इन कैप्स को सिर्फ घर या आउटिंग पर नहीं बल्कि ऑफिस में भी आसानी से कैरी किया जा सकता है.
पॉम-पॉम वाली रिब-निट हैट
रिब-निट कैप पॉम-पॉम डिटेल के साथ आती है. इस कैप को स्वेटशर्ट, स्वैटर के साथ आसानी से कैरी किया जा सकता है. इस कैप की खास बात ये है कि सर्दियों के मौसम में इसे इंडियन ड्रेसअप के साथ भी कैरी किया जा सकता है.
ब्रश्ड निट कैप
सर्दियों में टोपी ना पहनने की वजह कई बार ऊनी कपड़ों से होने वाली परेशानी जैसे की इचिंग, रैश भी सकते हैं. ऐसे लोग ब्रश्ड निट कैप को ट्राई कर सकते हैं. प्रिस्टीन व्हाइट कलर वाली कैप क्लासिक लुक के लिए परफेक्ट है. इस कैप को किसी भी लुक के साथ मिक्स एंड मैच किया जा सकता है.
पहली मुलाकात में इन सवालों से करें शुरुआत, बातें होगी लंबी, गहरा होगा रिश्ता

पहली मुलाकात में इन सवालों से करें शुरुआत, बातें होगी लंबी, गहरा होगा रिश्ता

कहते हैं जब किसी इंसान को दिल से चाह लो तो पूरी कायनात उसे आपसे मिलाने में लग जाती है. चाहे बात नौकरी की हो या फिर किसी खास से मिलने की. किसी खास पर फोकस कर लिया जाए तो इंसान उसे पा ही लेता है. नौकरी की बात अलग है, लेकिन जब बात किसी खास से मिलने की आती है तो मन में एक अजब सी घबराहत, हिचकिचाहट और कई सारे सवाल आते हैं.
जब किसी खास से मिलने की बात आती है तो सवाल आता है कि आखिरकार शुरुआत कैसी की जाए, ये समझना उतना ही मुश्किल होता है, जितना मंगल ग्रह पर पानी खोजना. मन के उलझे हुए सवालों के कारण हम कई बार हम कुछ भी बोल देते हैं, जिससे बात बिगड़ सकती है. इसलिए आज हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ खास सवाल जिससे आप बातों की शुरुआत अच्छी कर सकते हैं और पहली मुलाकात में ही रिश्तों को गहरा कर सकते हैं.
अपनी कहानी के बारे में बताइए?
किसी से पहली मुलाकात का यह ओपेन इंडेड सवाल बहुत खास होता है. इससे सामने वाले इंसान के बाले में बहुत कुछ पता करने का मौका मिलता है. ऐसा माना जाता है कि एक इंसान को जितना आनंद स्वादिष्ट खाने में आता है, उतना ही अच्छा अपने बारे में किसी को बताने में लगता है.
सबसे नजदीकी इंसान के बारे में...
इंसान का चरित्र के बारे में पता लगाने का सबसे आसान तरीका है इस बात की पहचान करना कि वो दूसरों से कैसा बर्ताव करता है. इसलिए सबसे पहले उस इंसान के बारे में जानिए जो सबसे खास हो. ऐसा करने से सामने वाले के व्यवहार के बारे में बातें पता चलती हैं.
नई रिलीज में कौन सी फिल्म पसंद आई?
आजकल लोगों को फिल्मों में काफी इंटरस्ट होता है, इसलिए नई रिलीज फिल्मों के बारे में उससे जानिए.
खाने बनाना पसंद है या खाना?
हो सकता है कि एक पल के लिए ये सवाल थोड़ा सा अटपटा लगे, लेकिन वाजिब है. इस दुनिया में कई तरह के लोग हैं, किसी को खाना बनाना पसंद होता है और किसी को खाना. जाहिर सी बात है जब पहली मुलाकात होगी तो खाने के बारे में बात तो होगी ही. इसलिए शुरुआत यहां से भी की जा सकती है
न्यू इयर पार्टी के लिए बेस्ट हैं ये 4 मेकअप लुक्स, जरूर करें ट्राई

न्यू इयर पार्टी के लिए बेस्ट हैं ये 4 मेकअप लुक्स, जरूर करें ट्राई

साल की सबसे बड़ी पार्टी यानी नए साल के जश्न की पार्टी में अब महज चन्द घंटे ही बाकी हैं और आप इस पार्टी को किसी भी कीमत पर मिस नहीं करना चाहेंगी। न्यू इयर पार्टी एक ऐसा मौका होता है जहां आप दोस्तों और फैमिली मेंबर्स के साथ जमकर मस्ती करते हैं और शायद यही वजह है कि आपको पूरे साल इस पार्टी का इंतजार रहता है ताकि आप इसमें सबसे बेस्ट लग सकें। ऐसे में अगर आपने अपनी न्यू इयर पार्टी आउटफिट डिसाइड कर ली है यानी क्या पहनना है ये आपको पता है तो अब ड्रेस के हिसाब से आपका मेकअप कैसा होना चाहिए, ये जानना भी जरूरी है। 

इन दिनों पार्टी के लिए शिमरी ड्रेसेज काफी ट्रेंड में है। ऐसे में पार्टी रेडी लुक के लिए आपका मेकअप भी होना चाहिए शाइन और शिमर वाला। हम आपको बता रहे हैं 4 बेस्ट मेकअप लुक्स जिन्हें आप इस पार्टी सीजन ट्राई कर सकती हैं...
 
ड्रेस से मैचिंग आई मेकअप 
इन दिनों ड्रेस से मैचिंग आई मेकअप लुक भी काफी ट्रेंड में है। आप चाहें तो टीवी की सबसे फेमस और सेक्सी ऐक्ट्रेसेज में से एक निया शर्मा से टिप्स लेकर इस बार न्यू इयर पार्टी मेकअप आइडिया ले सकती हैं। ये देखिए निया ने कैसे ब्लू ड्रेस के साथ मैचिंग ब्लू आई मेकअप और पिंक ड्रेस से मैचिंग पिंक आई मेकअप कर रखा है।
 
शिमरी आइज संग रेड लिप्स 
इन दिनों गोल्डन कलर का शिमरी आई शैडो वाला आई मेकअप और उसके साथ बोल्ड रेड लिपस्टिक का कॉम्बिनेशन एक ऐसा मेकअप लुक है जो हमेशा ही आपके लुक को इन्हैस करने का काम करता है। खासकर न्यू इयर पार्टी का मौका हो तो गोल्ड और रेड का यह कॉम्बो बेहतरीन लगता है।
 
स्मोकी आइज 
स्मोकी आइज- ये अब तक सबसे वर्सेटाइल मेकअप स्टाइल है। शादियों से लेकर पार्टी तक हर अकेजन पर यह मेकअप लुक हमेशा ही बेहतरीन लगता है और आप इसे ट्रडिशनल से लेकर वेस्टर्न तक किसी भी ड्रेस के साथ कैरी कर सकती हैं। ध्यान रखें कि स्मोकी आई मेकअप करते वक्त लिपस्टिक का कलर बहुत डार्क न रहे। लाइट और सटल लिप कलर्स चुनें।
 
मेटैलिक आइज विद ग्लॉसी लिप्स 
ब्लू मेटैलिक आई मेकअप लुक को ग्लॉसी न्यूड लिपस्टिक या लिप ग्लॉस के साथ टीमअप कर मेकअप करें। यह भी न्यू इयर पार्टी के लिए बेस्ट ऑप्शन है। हां इसके साथ एक्सट्रा शाइन के लिए हाइलाइटर को मिस न करें।
 
अगर आप नए साल पर दोस्तों-रिश्तेदारों को कुछ गिफ्ट देने का विचार कर रहे है तो ये हो सकते है बेहतर विकल्प

अगर आप नए साल पर दोस्तों-रिश्तेदारों को कुछ गिफ्ट देने का विचार कर रहे है तो ये हो सकते है बेहतर विकल्प

एक और साल खत्म होने की कगार पर है और नया साल, साल 2020 नई उम्मीदें, नए सपने और नई स्टोरीज को बनाने का इंतजार कर रहा है। यह नया साल हम सबकी लाइफ में एक हैपी गिफ्ट की तरह आए और सभी के चेहरे पर हमेशा मुस्कान बनी रहे, इन उम्मीदों के साथ अगर आप भी अपने दोस्तों या परिवार के सदस्यों के लिए कुछ गिफ्ट्स खरीदने की सोच रहे हैं तो हम आपको दे रहे हैं कुछ बेहतरीन गिफ्टिंग आइडियाज।
डायरी नहीं बुलेट जर्नल दें गिफ्ट में
न्यू इयर के मौके पर आमतौर पर लोग एक दूसरे को डायरी गिफ्ट में देते हैं लेकिन इस बार ओल्ड स्कूल डायरी की जगह आप चुन सकते हैं बुलेट जर्नल। जी हां, अगर आपका दोस्त, पत्नी या परिवार का कोई सदस्य बेहद ऑर्गनाइज्ड तरीके से अपनी लाइफ जीता है तो ऐसे व्यक्ति के लिए यह एक अच्छा गिफ्टिंग ऑप्शन हो सकता है। इस जर्नल की मदद से गिफ्ट पाने वाला व्यक्ति अपनी सालभर की ऐक्टिविटी, टू-डू लिस्ट और अपने विचारों को बड़ी आसानी से इसमें कैद कर पाएगा।
स्किनकेयर हैम्पर
अगर आप सोच रहे हैं कि इस तरह की चीजें तो सिर्फ लड़कियों की गिफ्ट की जाती हैं तो ऐसा बिलकुल नहीं है। एक अच्छा स्किन केयर हर कोई चाहता है। लिहाजा आप अपने दोस्त को शैंपू, साबुन, इंसेंस स्टिक, मॉइश्चराइजर आदि का एक पूरा हैम्पर तैयार करके गिफ्ट में दे सकते हैं। आप चाहें तो सर्दी के मौसम को देखते हुए इस बास्केट में बॉडी लोशन और लिप बाम भी ऐड कर सकते हैं ताकि उनका दिन हमेशा बना रहे फ्रेश और डीटॉक्स।
फिटनेस बैंड
अगर आपके दोस्त या रिश्तेदार ने इस नए साल में वजन घटाने और फिट रहने का रेजॉलूशन लिया है तो ऐसे दोस्त के लिए फिटनेस बैंड एक अच्छा गिफ्ट ऑप्शन हो सकता है। अगर आपका फ्रेंड या परिवार का कोई सदस्य डायबीटिक है या हार्ट पेशंट है जिन्हें अपने स्टेप्स काउंट करने पड़ते हैं, कैलरी पर नजर रखनी होती है तो उनके लिए भी ये एक अच्छा गिफ्ट ऑप्शन हो सकता है।
गिफ्ट करें एक अच्छा सा स्टेकेशन
अगर आपका बजट ये अलाउ करता है और आप गिफ्ट देने वाले व्यक्ति से हद से ज्यादा प्यार करते हैं तो उन्हें किसी फैंसी से होटल में वीकेंड पर स्टेकेशन गिफ्ट में दे सकते हैं। नए साल के मौके पर यह भी एक परफेक्ट गिफ्ट हो सकता है उस व्यक्ति के लिए जो एक अच्छी जगह पर, अच्छे खाने के साथ पर्सनल टाइम स्पेंड कर नए साल का स्वागत करे।
तोहफे में दें प्लांट्स
इन दिनों चारों तरफ एयर पलूशन की दिक्कत हो रखी है। ऐसे में सांस लेने के लिए ताजी हवा किसे नहीं चाहिए। लिहाजा आप नए साल के मौके पर अपने दोस्त या किसी अपने को एयरप्योरिफाइंग प्लांट गिफ्ट में दे सकते हैं ताकि उन्हें मिल सके बाहर के वातावरण की जहरीली हवा से कुछ राहत।