कोरोना अपडेट: छ ग में आज 15 हजार से अधिक मिले, 109 की मृत्यु के साथ रायपुर में रिकॉर्ड तोड़ 4168 समेत इन जिलो से इतने मरीज    |    क्या देश में है रेमडेसिविर दवा की कमी? जानिए केंद्र सरकार ने इसको लेकर क्या जवाब दिया है    |    रात्रि 8.30 बजे राज्य को करेंगे संबोधित मुख्यमंत्री, लॉकडाउन की चर्चा हुई तेज...    |    छग कोरोना अपडेट: आईसीएमआर के मुताबिक आज शाम तक 10748 नये मरीजो की हुई पुष्टि, रायपुर से अकेले 3293 समेत बाकी इन जिलो से...    |    छत्तीसगढ़ से राज्य सभा की ये सांसद हुई कोरोना संक्रमित, दिल्ली AIIMS में हुई भर्ती    |    इस दिन इतने समय के लिए पुरे भारत में बंद रहेगी आरटीजीएस की सुविधा    |    देश में पिछले 24 घंटे में 1.61 लाख कोरोना के नए मरीज मिले, 879 की गई जान, जानिये क्या है टीकाकरण का हाल    |    BIG BREAKING : छत्तीसगढ़ में आज कोरोना से मौत का आंकड़ा 100 के पार, प्रदेश में आज साढ़े 13 हजार नए मरीजों की हुई पहचान, देखें जिले वार आंकड़े    |    BIG BREAKING : राजधानी के इन 14 निजी अस्पतालों को सरकार ने पूरी तरह से कोरोना अस्पताल किया घोषित, देखें आदेश    |    BIG BREAKING : राजधानी में आज रिकॉर्ड तोड़ 11491 नए कोरोना मरीजों की हुई पहचान, राजधानी में आज 72 कोरोना मरीजों की हुई मौत    |
आईपीएल 2021 : किस खिलाड़ी की चमकेगी किस्मत, इस दिन होगी निलामी

आईपीएल 2021 : किस खिलाड़ी की चमकेगी किस्मत, इस दिन होगी निलामी

नई दिल्ली इंडियन प्रीमियर लीग(आईपीएल) 2021 के लिए अगले महीने खिलाड़ियों की किस्मत खुलने जा रही है। बीसीसीआई से जानकारी मिली के मुताबिक 18 फरवरी को आईपीएल के लिए खिलाड़ियों की निलामी होगी है, जिसके लिए खिलाड़ियों में काफी उत्साह दिखाई दे रहा है। कोरोना वायरस महामारी के कारण 2020 में आईपीएल का आयोजन संयुक्त अरब अमीरात में हुआ था। अगले महीने से इंग्लैंड के खिलाफ खेली जानी वाली घरेलू सीरीज का सुचारू संचालन इस आकर्षक लीग के भारत में आयोजन का रास्ता साफ करेगा। खिलाड़ियों को रिटेन करने की आखिरी तारीख 20 जनवरी थी, जबकि चार फरवरी तक ट्रेडिंग विंडो (खिलाड़ियों का एक टीम से दूसरे टीम में हस्तांतरण) जारी रहेगा।
आईपीएल के फरवरी में होने वाले मिनी ऑक्शन से पहले टीमों ने कई खिलाड़ी रिलीज किए हैं। हरभजन सिंह का करार जहां चेन्नई सुपर किंग्स के साथ खत्म हुआ है, तो स्टीव स्मिथ को राजस्थान रॉयल्स ने बाहर कर दिया है। टीमों से रिलीज किए गए खिलाड़ी में ऑस्ट्रेलिया के ग्लेन मैक्सवेल (किंग्स इलेवन पंजाब) जैसे दिग्गज भी शामिल हैं। फ्रेंचाइजी टीमों ने कुल 139 खिलाड़ियों को रिटेन रखा, जबकि 57 खिलाड़ियों को बाहर कर दिया। खिलाड़ियों को रिटेन रखने की समय सीमा 20 जनवरी को खत्म हुई थी और `ट्रेडिंग विंडो` चार फरवरी को बंद हो जाएगी।
भारतीय क्रिकेट बोर्ड अभी फैसला करना है कि आईपीएल भारत में होगा या नहीं, हालांकि बोर्ड अध्यक्ष सौरव गांगुली ने बार-बार दोहराया है कि इस लुभावनी लीग को घरेलू मैदान पर कराने के लिए हर संभव प्रयास किया जाएगा। नीलामी के लिए किंग्स इलेवन पंजाब के पास सबसे ज्यादा राशि (53.20 करोड़ रुपये) है, जिसके बाद रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के पास 35.90 करोड़ रुपये और राजस्थान रॉयल्स के पास 34.85 करोड़ रूपये हैं। कोलकाता नाइट राइडर्स और सनराइजर्स हैदराबाद के पास नीलामी के लिए समान 10.75 करोड़ रुपये हैं।

उन्होंने भारतीय खिलाड़ियों को लिफ्ट के अंदर जाने की अनुमति नहीं दी : जाने क्या है मामला

उन्होंने भारतीय खिलाड़ियों को लिफ्ट के अंदर जाने की अनुमति नहीं दी : जाने क्या है मामला

 भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने खुलासा किया है कि हाल ही में ऑस्ट्रेलिया में समाप्त हुई बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के दौरान सिडनी में उन्हें मेजबान टीम के खिलाड़ियों के साथ लिफ्ट में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी गई.

 

अश्विन ने भारतीय क्रिकेट टीम के फील्डिंग कोच आर श्रीधर के साथ यूटयूब चैनल पर बातचीत के दौरान कहा, "सिडनी पहुंचने के बाद उन्होंने हमें कड़े प्रतिबंधों के साथ बंद कर दिया. सिडनी में एक अनोखी घटना हुई. ईमानदारी से कहूं तो यह अजीब था. भारत और ऑस्ट्रेलिया दोनों एक ही बायोबबल में थे, लेकिन जब ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी लिफ्ट में थे, तो उन्होंने भारतीय खिलाड़ियों को लिफ्ट के अंदर जाने की अनुमति नहीं दी."

अश्विन ने आगे कहा, "वाकई, उस समय हमें यह बहुत बुरा लगा. हम एक ही बायो बबल में हैं. लेकिन आप लिफ्ट में बैठ जाते हैं और आप एक ही बबल में रहने वाले किसी अन्य व्यक्ति के साथ लिफ्ट साझा नहीं कर सकते. हमारे लिए इसे पचाना बहुत मुश्किल था."

 

अश्विन ने ऑस्ट्रेलिया दौरे पर खेली गई चार मैचों की टेस्ट सीरीज में बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए 12 विकेट लिए थे. उन्होंने गेंद के साथ-साथ सिडनी टेस्ट में हनुमा विहारी के साथ मिलकर भारत को हार से भी बचाया था. हालांकि, पीठ में दर्द के कारण वह सीरीज के चौथे टेस्ट में टीम इंडिया का हिस्सा नहीं थे.

क्रिकेट इतिहास में पहली बार : एक ही गेंद पर दो बार रन आउट हुआ बल्लेबाज

क्रिकेट इतिहास में पहली बार : एक ही गेंद पर दो बार रन आउट हुआ बल्लेबाज

सिडनी/नई दिल्ली बिग बैश लीग 2021 में एडिलेड स्ट्रइकर्स और सिडनी थंडर के बीच हुए एक मैच में मजेदार नजारा देखने को मिला। इस मैच के दौरान एडिलेड स्ट्राइकर के ओपनर जैक वेदरलैंड सिंगल बॉल पर दो बार रन आउट हुए। क्रिकेट इतिहास में इस तरह का रन आउट पहली बार हुआ है, जब कोई खिलाड़ी एक ही गेंद पर दो बार रन आउट हुआ हो। यह घटना मैच के 10वें ओवर में हुई, जब वेदरलैंड नॉन स्ट्राइकर एंड पर थे और थंडर के सीमर क्रिस ग्रीन गेंदबाजी कर रहे थे। क्रिस ग्रीन ने गेंद फेंकी और स्ट्राइकर एंड पर खड़े फिलिप साल्ट ने गेंदबाज की तरफ ही शॉट खेला। गेंद सीधा विकेटों पर जा लगी। इस बीच ग्रीन ने समझदारी दिखाते हुए गेंद पर हाथ लगा दिया था, जिसके बाद नॉन स्ट्राइकर एंड पर खड़े जेक वेदरलैंड के खिलाफ रन आउट की अपील हुई। इससे पहले कि अपील पर फैसला हो पाता, उससे पहले ही फिलिप रन लेने दौड़ पड़े, जबकि वेदर नॉन स्ट्राइकर एंड पर ही खड़े रहे। दरअसल, वेदरलैंड पीछे की तरफ पीठ करके खड़े थे। ऐसे में वह साल्ट के कॉल को देख नहीं पाए। इसके बाद विकेटकीपर सैम बिलिंग्स ने गेंद स्ट्राइकर एंड के विकेटों पर लगा दी और साल्ट के खिलाफ रन आउट की अपील की। मैच में दोनों रनआउट की अपीलों पर तीसरे अंपायर ने रिव्यू किया। रीप्ले में साफ देखा जा सकता था कि गेंद विकेट पर लगने से पहले दोनों ही बल्लेबाज क्रीज से बाहर थे, क्योंकि वेदरलैंड पहले रनआउट हुए थे। इस वजह से फिलिप साल्ट को रन आउट नहीं दिया गया। दरअसल, विकेट गिरने के बाद गेंद डेड घोषित कर दी जाती है। ऐसे में फिलिप का रन मान्य नहीं रह जाता है। वेदरलैंड 31 रन की पारी खेलकर पवेलियन लौट गए। कमेंटेटर इस रन आउट को देखकर काफी हैरान थे। ब्रेंडन जूलियन ने फॉक्स क्रिकेट के कमेंट्री बॉक्स से कहा, ``जैक वेदरलैंड, वह क्या कर रहे थे? बहुत बुरी रनिंग।`` उन्होंने आगे कहा, ``वेदरलैंड इससे पहले भी रन आउट के काफी करीब थे और इस बार वह रन आउट हो ही गए।``पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर मार्क वॉ ने कहा, ``मुझे लगता है कि उन्हें विकेट के बीच रनिंग पर काम करने की जरूरत है। सच में उन्हें और अधिक ध्यान लगाने की जरूरत है।`` रीप्ले देखने के बाद वॉ ने कहा, ``मैंने ऐसा पहले कभी नहीं देखा।`` स्ट्राइकर्स के कोच और पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी जैसन गिलेस्पी ने फॉक्स क्रिकेट से कहा, ``नहीं, यकीनन यह पहला मौका है। हमें लगा कि गेंदबाज की तरफ से है, लेकिन वह दो बार आउट हुए।`` पूर्व पेसर ब्रेट ली ने कहा, ``मैंने पहले कभी किसी को दो बार रन आउट होते हुए नहीं देखा है।`` 

 

एसएआई ने कुश्‍तीबाजी राष्‍ट्रीय प्रतियोगिताओं में कोविड नियमों की अवहेलना को लेकर रिपोर्ट मांगी

एसएआई ने कुश्‍तीबाजी राष्‍ट्रीय प्रतियोगिताओं में कोविड नियमों की अवहेलना को लेकर रिपोर्ट मांगी

 नई दिल्ली ।  भारतीय खेल प्राधिकरण ने उन मीडिया रिपोर्टों का संज्ञान लिया है जिनमें कहा गया है कि कोरोनावायरस महामारी के बीच प्रतियोगिताओं के आयोजन के लिए एसओपी में सोशल डिस्‍टेंसिंग नियमों तथा अन्‍य कार्यवाहियों का 23 जनवरी को नोएडा स्‍टेडियम में आयोजित कुश्‍तीबाजी राष्‍ट्रीय प्रतियोगिताओं में कथित रूप से उल्‍लंघन किया गया। एसएआई के महानिदेशक संदीप प्रधान ने इस मुद्दे पर बोलते हुए कहा कि हमने इस मामले को भारतीय कुश्‍तीबाजी फेडरेशन के समक्ष उठाया है और उन्‍हें समझाया कि प्रतियोगिताओं के लिए एसओपी का सख्‍ती से अनुपालन किया जाए। हमने कथित उल्‍लंघन पर फेडरेशन से सोमवार तक रिपोर्ट भी मांगी है। फेडरेशन ने प्रोटोकॉल का अनुपालन करने का आश्‍वासन दिया है। एसएआई ने एथलीटों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कोविड प्रोटोकॉल का सख्‍ती से पालन करने हेतु सभी राष्‍ट्रीय खेल फेडरेशनों को संवेदनशील बनाने के लिए भारतीय ओलंपिक एसोसिएशन से भी आग्रह किया है।

चिडिय़ों को दाना खिलाकर फंसे भारतीय क्रिकेटर शिखर धवन, वाराणसी प्रशासन नाराज

चिडिय़ों को दाना खिलाकर फंसे भारतीय क्रिकेटर शिखर धवन, वाराणसी प्रशासन नाराज

वाराणसी | भारतीय क्रिकेट टीम के ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन वाराणसी आकर विवादों में घिरते नजर आ रहे हैं। दरअसल, वाराणसी में नौका विहार के दौरान उन्होंने विदेशी पक्षियों को दाना खिलाया था,  जबकि बर्ड फ्लू को देखते हुए प्रशासन और सरकार ने ऐसा करने पर रोक लगाई हुई है।

पढ़ें : BIG BREAKING : शहर में स्थित इस बड़े बैंक के ब्रांच मैनेजर ने विडियो वायरल करने का धमकी दे कर युवती से किया बलात्कार

शिखर धवन की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद जिला प्रशासन ने इसका कड़ा संज्ञान लिया है और इस पर कार्रवाई के मूड में नजर आ रहा है। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि जिस नाव से शिखर धवन नौका विहार के लिए गए थे उस नाविक पर भी कार्रवाई शुरू की जा रही है। उन्होंने बताया कि बर्ड फ्लू के दौरान विदेशी पक्षियों को दाना खिलाने पर रोक है।

पढ़ें : बड़ी खबर : राजधानी रायपुर में हुए दोहरे हत्याकांड का आरोपी हुआ गिरफ्तार, पुलिस ने किया खुलासा

लेकिन धवन ने अपने ऑफिसियल ट्विटर से एक फोटो ट्वीट किया है जिसमें वे दाना खिलाते नजर आ रहे हैं। ऐसे में तस्वीर की जांच की जा रही है। बता दें वाराणसी शिखर धवन ने बाबा विश्वनाथ के दर्शन भी किए और विश्व प्रिसद्ध गंगा आरती में भी शामिल हुए। इस इस दौरान अपनी पहचान छिपाने के लिए उन्होंने मास्क भी लगा रखा था। हालांकि इसके बावजूद कुछ लोगों ने उन्हें पहचान लिया। शिखर धवन ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से एक वीडियो भी शेयर किया है। शिखर धवन की एक ऐसी तस्वीर भी वायरल हुई है जिसमें वे त्रिपुंड लगाए नजर आ रहे हैं।

 
लद्दाख में पहली बार खेलो इंडिया ज़ांस्कर विंटर स्पोर्ट्स फेस्टिवल शुरू

लद्दाख में पहली बार खेलो इंडिया ज़ांस्कर विंटर स्पोर्ट्स फेस्टिवल शुरू

लद्दाख।  केंद्रीय खेल और युवा मामलों के मंत्री किरेन रिजिजू ने कारगिल जिले के ज़ांस्कर के पदुम में पहले खेलो इंडिया ज़ांस्कर विंटर स्पोर्ट्स फेस्टिवल का उद्घाटन किया  लद्दाख केंद्र शासित प्रशासन द्वारा जांस्कर को शीतकालीन पर्यटन स्थल के रूप में बढ़ावा देने के लिए इस 13 दिवसीय समारोह/ फेस्टिवल का आयोजन किया गया है|

पढ़ें : शहर में फिर युवती का अश्लील फोटो वायरल करने का मामला आया सामने, आरोपी गिरफ्तार

केंद्रीय खेल मंत्री ने यह कहा कि, ज़ांस्कर का क्षेत्र भारी बर्फ के कारण 5-6 महीने तक दुनिया के बाकी हिस्सों से कटा रहता था, लेकिन अब और नहीं! मंत्री ने ट्वीट करते हुए यह कहा कि, दिन के समय मौसम का तापमान -20 डिग्री सेल्सियस और रात को -32 डिग्री सेल्सियस पर बेहद सर्द होने के बावजूद, लोगों की भावनाएं और माहौल ज़ांस्कर में खेलो इंडिया विंटर स्पोर्ट्स फेस्टिवल को रंगीन और यादगार बना रही हैं | 

 गौतम गंभीर के निशाने पर फिर विराट कोहली: पूछा- बिना ट्रोफी कैसे कर रहे 8 साल से कप्तानी

गौतम गंभीर के निशाने पर फिर विराट कोहली: पूछा- बिना ट्रोफी कैसे कर रहे 8 साल से कप्तानी

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग के 2021 सत्र के लिए ऑक्शन कुछ ही दिनों में होना है। इससे पहले पूर्व भारतीय ओपनर बल्लेबाज गौतम गंभीर के निशाने पर एक बार फिर विराट कोहली हैं। दरसअल, लीग के 14वें सत्र के लिए रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की कमान विराट कोहली के हाथों में होगी। फ्रैंचाइजी और कोहली के फैन की चाहत होगी कि ट्रोफी जीतने का सपना इस सत्र में पूरा हो जाए।

खैर, ऑक्शन से ठीक पहले गौतम गंभीर ने अपने पुराने साथी कोहली को निशाने पर लिया है। उन्होंने सवाल फिर उठाया है। कोलकाता नाइटराइडर्स को दो बार आईपीएल जितवाने वाले गंभीर ने कहा कि आखिर बिना लीग जीते कोई कैसे 8 सीजन तक टीम की कप्तानी कर सकता है। स्टार स्पोर्ट्स के एक शो में उन्होंने कहा- 8 वर्ष से एक भी खिताब नहीं जीता है। यह लंबा समय है। कप्तान तो छोडि़ए किसी एक खिलाड़ी का नाम बताओ, जो 8 सीजन से बिना खिताब के खेल रहा हो।

उल्लेखनीय है कि रिटेंशन में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर  फ्रैंचाइजी ने पार्थिव पटेल और आरोन फिंच समेत 10 प्लेयर्स को रिलीज कर दिया है। इस पर गंभीर ने कहा, आरसीबी की यही सबसे बड़ी समस्या है। टीम हर सीजन में बड़ा बदलाव करती है और इससे प्लेयर्स में असुरक्षा की भावना आती है। उन्होंने आगे कहा- ऑक्शन की जवाबदेही कप्तान की होनी चाहिए। मैं कोहली को कुछ नहीं कह रहा, लेकिन उन्हें आगे बढ़कर जिम्मेदारी लेनी चाहिए।

अनुष्का-विराट बने माता-पिता, फैंस के लिए किया इमोशनल मैसेज
 
रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर
रिटेन प्लेयसर्: विराट कोहली (कप्तान), एबी डि विलियर्स, देवदत्त पडिक्कल, मोहम्मद सिराज, नवदीप सैनी, वॉशिंगटन सुंदर, युजवेंद्र चहल, जोश फिलिपे, पवन देशपांडे, शाहबाज नदीम, एडम जाम्पा, केन रिचर्डसन
 
रिलीज प्लेयसर्: क्रिस मॉरिस, आरोन फिंच, मोइन अली, इसरू उडाना, डेल स्टेन, शिवम दुबे, उमेश यादव, पवन नेगी, गुरकीरत मान, पार्थिव पटेल
 
बचा पैसा: 35.7 करोड़
प्लेयर्स लेने हैं: 13 (4 विदेशी)
 भारत ने दर्ज की ब्रिसबेन टेस्ट मैच में शानदार जीत: चार टेस्ट मैचों में 2-1 से भारत ने अपने नाम किया सीरीज

भारत ने दर्ज की ब्रिसबेन टेस्ट मैच में शानदार जीत: चार टेस्ट मैचों में 2-1 से भारत ने अपने नाम किया सीरीज

ऑस्ट्रेलिया। भारत क्रिकेट प्रेमियों के लिए इस वक्त एक अच्छी खबर सामने आ रही है की भारत ने ब्रिसबेन टेस्ट मैच में शानदार जीत दर्ज की है। चार टेस्ट मैचों में 2-1 से जीत दर्ज कर भारत ने सीरीज अपने नाम कर लिया है। चौथे टेस्ट मैच में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 3 विकेट से हराया।

ऋषभ पंत ने 89 रन की नाबाद पारी खेली है। वहीं शुभमन गिल ने 99 रन बनाए।  पिछली बार भारत ने ऑस्ट्रेलिया को उसके ही घर में 2018-19 टेस्ट सीरीज में 2-1 से हराया था। भारतीय टीम ने बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी लगातार तीसरी बार अपने नाम कर जीत की हैट्रिक लगाई है।

इससे पहले भारत ने पिछली दोनों सीरीज जीतकर बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी पर कब्जा किया था। 2018/19 में पिछले ऑस्ट्रेलिया दौरे में भारत ने 2-1 से और इससे पहले 2016/17 में भारत ने अपने घर में ऑस्ट्रेलिया को इतने ही अंतर से मात दी थी।
 ऋषभ पंत ने एमएस धोनी को पीछे छोड़ बनाया बड़ा रेकॉर्ड

ऋषभ पंत ने एमएस धोनी को पीछे छोड़ बनाया बड़ा रेकॉर्ड

ब्रिसबेन। भारतीय युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत  ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ब्रिसबेन टेस्ट के पांचवें और अंतिम दिन दूसरी पारी में अपने 1000 टेस्ट रन पूरे कर लिए। पंत सबसे तेज एक हजार टेस्ट रन बनाने वाले भारतीय विकेटकीपर बन गए हैं।

धोनी ने 32वीं पारी में 1000 टेस्ट रन बनाए थे-
23 वर्षीय पंत ने 16 टेस्ट मैचों की 27वीं पारी में ये उपलब्धि हासिल की। इससे पहले ये रेकॉर्ड भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी के नाम था। धोनी ने 32वीं पारी में अपने 1000 टेस्ट रन पूरे किए थे।

तीसरे नंबर पर हैं फारुख इंजीनियर-
इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर दिग्गज भारतीय विकेटकीपर फारुख इंजीनियर हैं जिन्होंने एक हजार टेस्ट रन के आंकड़े को छूने के लिए 36 पारियों का सहारा लिया था।

सबसे तेज 50 शिकार का रिकॉर्ड भी है पंत के नाम-
पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी के लिए उतरे पंत ने पैट कमिंस की गेंद पर 2 रन रन लेकर अपना खाता खोला और इस रिकॉर्ड को अपने नाम कर लिया। पंत के नाम टेस्ट मैचों में सबसे तेज 50 शिकार करने का भी रिकॉर्ड है। उन्होंने 11 टेस्ट मैचों की 22वीं पारी में विकेट के पीछे पचास शिकार किए थे।

संजू सैमसन या ऋषभ पंत, कौन है बेहतर? बीच उठे सवाल
 
पंत ने सिडनी टेस्ट की दूसरी पारी में 97 रन बनाए थे-
ब्रिसबेन टेस्ट को छोड़कर पंत ने 15 टेस्ट मैचों में 40.66 की औसत से कुल 976 रन बनाए थे जिसमें 2 शतक और 3 अर्धशतक शामिल है। इस दौरान उनका बेस्ट स्कोर नाबाद 159 रन रहा है। पंत ब्रिसबेन टेस्ट की पहली पारी में 29 गेंदों पर 23 रन बनाकर आउट हुए थे। सिडनी में ड्रॉ हुए टेस्ट मैच में पंत ने दूसरी पारी में 97 रन की पारी खेली थी।
तीसरे दिन टीम  इंडिया मुश्किल में नज़र आ रही है, आखिर क्यों

तीसरे दिन टीम इंडिया मुश्किल में नज़र आ रही है, आखिर क्यों

 ब्रिस्बेन टेस्ट के तीसरे दिन इंडिया मुश्किल में नज़र आ रही है. तीसरे दिन इंडिया ने पुजारा, रहाणे, मयंक और पंत के विकेट गंवा दिए हैं. ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी 369 रन पर समाप्त हुई।   72 ओवर के बाद इंडिया का स्कोर 6 विकेट के नुकसान पर 205 रन है. शार्दुल 12 रन बनाकर खेल रहे हैं जबकि सुंदर का स्कोर भी 12 ही है. स्टार्क और लिएन ऑस्ट्रेलिया की ओर से गेंदबाजी कर रहे हैं. ऑस्ट्रेलिया की नज़रें कम से कम 150 रन की बढ़त हासिल करने पर होंगी.

 दुनिया कह रही थी धोखेबाज तब विराट कोहली ने दिलाया सम्मान, शायद भूल गए स्टीव स्मिथ और ऑस्ट्रेलियाई फैन

दुनिया कह रही थी धोखेबाज तब विराट कोहली ने दिलाया सम्मान, शायद भूल गए स्टीव स्मिथ और ऑस्ट्रेलियाई फैन

नई दिल्ली। बॉर्डर-गावसकर ट्रोफी की शुरुआत से ठीक पहले भारतीय और ऑस्ट्रेलियाई खिलाडिय़ों ने रंगभेद के खिलाफ अभियान ब्लैक लाइव्स मैटर का सपॉर्ट किया था। ऑस्ट्रेलिया की ओर से अच्छे खेल और मैदान पर व्यवहार को लेकर तमाम बातें कही गई थीं, लेकिन वो बातें ही थीं। सीरीज जैसे-जैसे आगे बढ़ी कंगारू खिलाडिय़ों और दर्शकों ने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया। मीडिया ने जहां मैदान के बाहर टीम इंडिया को अनुशासनहीन दिखाने की कोशिश की तो दर्शकों ने अपशब्दों का इस्तेमाल किया। कप्तान टिम पेन, डेविड वॉर्नर और स्टीव स्मिथ सहित कई खिलाडिय़ों ने तो इतना बुरा बर्ताव किया कि उन्हें माफी तक मांगनी पड़ी है।

तब विराट ने दिलाई थी इज्जत-
खैर, यही वह स्टीव स्मिथ हैं, जिन्हें दुनिया धोखेबाज कह रही थी। वह जहां जाते थे लोग चीटर-चीटर कहकर चिढ़ाना शुरू कर देते थे। साउथ अफ्रीका में हुए सेंडपेपर कांड के बाद वर्ल्ड कप-2019 खेलने इंग्लैंड पहुंचे स्टीव स्मिथ की नाक में इंग्लिश दर्शकों ने दम कर रखा था। इंटरनैशनल खिलाड़ी भी बहुत खुलकर सपॉर्ट नहीं कर रहे थे। उस वक्त टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने मैच के दौरान न केवल स्मिथ का हौसला बढ़ाया, बल्कि दर्शकों से उन्हें इज्जत भी दिलाई। हालांकि, लगता है स्मिथ और उनकी टीम कोहली के उस दिल जीतने वाले व्यवहार को भूल चुके हैं। 

व्यवहार और रणनीति कहीं से भी नहीं जेंटलमैन-
मेलबर्न टेस्ट के बाद से लेकर सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर जो कुछ भी हुआ उसे देखकर लगता है कि न तो स्टीव स्मिथ बदले हैं और न तो ऑस्ट्रेलियाई टीम ने सेंडपेपर कांड से कुछ सीख ली है। कंगारू खिलाडिय़ों ने भारतीय टीम से न केवल गाली-गलौच की, बल्कि जानलेवा रणनीति के अनुसार तेज गेंदबाज जानबूझकर बॉडी लाइन बोलिंग करते दिखे। रिजल्ट यह रहा कि मोहम्मद शमी, आर. अश्विन, रविंद्र जडेजा, ऋषभ पंत, उमेश यादव, हनुमा विहारी समेत कई अहम भारतीय खिलाड़ी चोटिल हो गए हैं।

स्मिथ का व्यवहार गली बॉयज की तरह-
स्मिथ भले ही क्रिकेट रेकॉर्ड के तौर पर दिग्गजों की लिस्ट में शामिल हैं, लेकिन उनका और उनकी मौजूदगी में टीम का व्यवहार गली बॉयज की तरह ही नजर आता है। यही नहीं, भारत की हार पहले ही सुनिश्चित करने वाले शेन वॉर्न तक कॉमेंट्री के दौरान अपशब्दों का इस्तेमाल कर लेते हैं। सचिन तेंडुलकर, राहुल द्रविड़, सौरभ गांगुली, एमएस धोनी को तो छोडि़ए आक्रामक छवि वाले विराट कोहली और रोहित शर्मा तक शायद ही ऐसा व्यवहार करें।

इसलिए विराट कहीं बेहतर-
शुरुआती करियर में बैड बॉय की छवि रखने वाले विराट कोहली को विपक्षी खिलाड़ी (स्टीव स्मिथ) को इज्जत दिलाने के लिए आईसीसी 'स्पिरिट ऑफ क्रिकेट अवॉर्ड देती है तो स्मिथ जैसे क्रिकेटरों के व्यवहार से साबित होता है कि वे सिर्फ जेंटलमैन क्रिकेट खेलने का ढोंग रचते आए हैं। खैर, अब जब माफी मांग ही ली है तो ब्रिस्बेन टेस्ट में कुछ बेहतर व्यवहार की उम्मीद की जा सकती है।
 टीम इंडिया को एक और बड़ा झटका: रविंद्र जडेजा और हनुमा विहारी के बाद अब ये खिलाड़ी हुआ बाहर

टीम इंडिया को एक और बड़ा झटका: रविंद्र जडेजा और हनुमा विहारी के बाद अब ये खिलाड़ी हुआ बाहर

नई दिल्ली। रविंद्र जडेजा और हनुमा विहारी के बाद ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे टेस्ट से बाहर होने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम को एक और झटका लगा है। जसप्रीत बुमराह भी पेट की मांसपेशियों में खिंचाव के कारण ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे टेस्ट से बाहर हो गए हैं। 
 

मीडिया रिपोर्ट्स में दावा बीसीसीआई के सूत्रों के हवाले से बुमराह के आखिरी टेस्ट में नहीं खेलने का दावा किया जा रहा है।बुमराह की स्कैन रिपोर्ट में स्ट्रेन नजर आ रहा है और भारतीय टीम प्रबंधन उन्हें खिलाकर कोई खतरा नहीं मोल लेना चाहता। भारत को इंग्लैंड के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की घरेलू सीरीज खेलनी है इसी को देखते हुए टीम प्रबंधन बुमराह की चोट के बढऩे का खतरा मोल नहीं लेना चाहता।
 

जसप्रीत बुमराह को सिडनी में फील्डिंग के दौरान एबडॉमिनल स्ट्रेन हो गया था। वह ब्रिसबन टेस्ट में नहीं खेलेंगे। हालांकि इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज के लिए वह उपलब्ध रह सकते हैं।

उम्मीद की जा रही है कि दो टेस्ट मैच खेलने वाले मोहम्मद सिराज ही भारतीय तेज गेंदबाजी आक्रमण की अगुआई करेंगे। इसके साथ ही नवदीप सैनी भी टीम का हिसासा होंगे। शार्दुल ठाकुर और टी. नटराजन को भी 15 जनवरी से शुरू हो रहे टेस्ट मैच के लिए प्लेइंग इलेवन में जगह मिल सकती है।
 

ध्यान देने की बात है कि ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भारतीय टीम के कई खिलाड़ी चोट की वजह से बाहर हो चुके हैं। तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी और उमेश यादव के अलावा बल्लेबाज केएल राहुल भी सीरीज से पहले ही बाहर चुके हैं। वहीं सिडनी टेस्ट में चोट के बाद रविंद्र जडेजा भी ब्रिसबने टेस्ट में नहीं खेलेंगे।
 दर्द में रहते हुए पंत ने जड़े ताबड़तोड़ 97 रन: शतक से चूके लेकिन बना डाला ये बड़ा रिकॉर्ड

दर्द में रहते हुए पंत ने जड़े ताबड़तोड़ 97 रन: शतक से चूके लेकिन बना डाला ये बड़ा रिकॉर्ड

सिडनी/नई दिल्ली। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच बॉर्डर गावस्कर सीरीज का तीसरा मुकाबला सिडनी में खेला जा रहा है। सिडनी टेस्ट मैच का पांचवा दिन काफी रोमांचक रहा है। सिडनी टेस्ट के पांचवे दिन की शुरूआत में ही टीम इंडिया को अजिंक्य रहाणे के रूप में पहला झटका लगा। इसके बाद बल्लेबाजी को आए ऋषभ पंत। ऋषभ पंत को पहली पारी के दौरान चोट कोहनी पर गेंद लगी थी। पहली पारी में चोटिल होने के बाद पंत दूसरी पारी में विकेटकीपिंग के लिए नहीं आए थे। लेकिन दूसरी पारी में पंत बल्लेबाजी को जरूर आए।

ऋषभ पंत को हनुमा विहारी से पहले बल्लेबाजी के लिए भेजा गया था। ऋषभ पंत से फैंस को काफी उम्मीदें थी और वो उन उम्मीदें पर खड़े भी उतरे। पांचवे दिन के पहले सेशन में ऋषभ पंत ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की। हालांकि, वो अपने शतक से तीन रन से चूक जरूर गए, लेकिन टीम इंडिया उनकी बल्लेबाजी के दम पर ही मजबूत परिस्थिति में पहुंची है। ऋषभ पंत जब पुजारा के साथ मिलकर बल्लेबाजी कर रहे थे, तब एक बार ऐसा भी लगा कि टीम इंडिया यह मैच अपने नाम कर सकती है। वहीं अपनी इस पारी के दौरान ऋषभ पंत ने अपने नाम एक बड़ा रिकॉर्ड भी दर्ज कर लिया है।

ऋषभ पंत ऑस्ट्रेलिया में किसी भी एशियन विकेटकीपर द्वारा सबसे अधिर रन बनाने वाले विकेटकीपर बन गए हैं। उन्होंने इस मामलें में टीम इंडिया के पूर्व विकेटकीपर सैयद किरमानी को पीछे छोड़ा है। सैयद किरमानी ने बतौर विकेटकीपर 471 रन बनाए थे। ऋषभ पंत ने इस मैच की पहली पारी में 36 रनों की पारी के दम पर ऑस्ट्रेलिया में अपने 400 रन पूरे किए थे। इसके बाद 97 रनों की पारी के दम पर उन्होने सैयद को पीछे छोड़ दिया। इस पारी के बाद ऋषभ पंत के ऑस्ट्रेलिया में 512 रन हो गए हैं और उनका औसत 56।88 का है।

वहीं किसी टेस्ट मैच की चौथी पारी में सबसे अधिक रन बनाने वाले भारतीय विकेटकीपरों की बात करें तो उसमें शुरूआती दो स्थानों पर ऋषभ पंत का ही नाम है। इससे पहले पंत ने इंग्लैंड के खिलाफ ओवर के मैदान पर 114 रनों की पारी खेली थी। वहीं इस मैच में उन्होंने 97 रनों की पारी खेली और दूसरे स्थान पर उनकी यह पारी है। महेंद्र सिंह धोनी द्वारा साल 2007 में लॉर्डस के मैदान पर खेली गई 76 रनों की पारी लिस्ट में तीसरे स्थान पर हैं। इस मैच में भी पंत ने 25 से अधिक का स्कोर किया है। ऐसे में वो ऑस्ट्रेलिया में लगातार 10 पारियों में 25+ का स्कोर करने वाले मेहमान बल्लेबाज बन गए हैं।
सौरव गांगुली की स्वास्थ्य को ले कर आई एक अच्छी खबर, डॉक्टरों ने कहा भी उनकी हालत स्थिर

सौरव गांगुली की स्वास्थ्य को ले कर आई एक अच्छी खबर, डॉक्टरों ने कहा भी उनकी हालत स्थिर

कोलकाता दिल का हल्कादौरा पड़ने के बाद अस्पताल में भर्ती कराए गए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष सौरव गांगुली का उपचार कर रहे चिकित्सकों ने रविवार को कहा कि उनकी हालत स्थिर है। शनिवार को गांगुली के हृदय की तीन धमनियों में अवरोध पाया गया था, जिसके बाद एक में स्टेंट लगाया गया था।

पढ़ें : बड़ी खबर : छत्तीसगढ़ के इस पर्यटन स्थल में लगी भीषण आग, 10 से अधिक दुकाने जलकर खाक

गांगुली जिस निजी अस्पताल में भर्ती हैं, वहां से रविवार देर रात जारी बुलेटिन में कहा गया है, गांगुली की कोरोनरी एंजियोग्राफी दोपहर तीन बजे की गयी और उनकी इकोकार्डियोग्राफी कल फिर की जाएगी। इसमें बताया गया है कि गांगुली का रक्तचाप 110/80 है तथा उनके शरीर में ऑक्सीजन का स्तर 98 फीसदी है।

पढ़ें : BIG BREAKING : शहर के श्मशान घाट हादसे में अब तक 25 लोगों के शव बरामद, 3 लोगों को किया गया गिरफ्तार

चिकित्सकों ने कहा कि गांगुली की स्थिति को देखने के बाद उनकी एक और एंजियोप्लास्टी करने के बारे में फैसला लिया जाएगा। अस्पताल की प्रवक्ता ने एक सवाल के जवाब में कहा कि मेडिकल बोर्ड बाईपास सर्जरी के विकल्प के बारे में विचार नहीं कर रहा है। उन्होंने कहा, आगे के उपचार के बारे में हमारी विशेषज्ञ समिति कल फैसला लेगी।

पढ़ें : बड़ी खबर छत्तीसगढ़ : पत्नी ने अपने पति की टंगिया मारकर की हत्या, अपने 3 बच्चों को भी कुँए में फेका, पढ़ें पूरी खबर 

बुलेटिन के अनुसार नौ सदस्यीय मेडिकल बोर्ड सोमवार को बैठक करेगा और गांगुली के परिवार के सदस्यों के साथ आगे की उपचार योजना पर चर्चा करेगा। गांगुली ने रात दस बजे भोजन किया। इस बीच, पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी के प्रशंसक हाथों में पोस्टर लिए एकत्र हुए। उन पोस्टरों पर लिखा था दादा लौट आओ। सौरव गांगुली को सीने में दर्द की शिकायत के बाद शनिवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

 इस खिलाडी के लिए खुशखबरी लाया नया साल, हो सकती है आईपीएल में वापसी

इस खिलाडी के लिए खुशखबरी लाया नया साल, हो सकती है आईपीएल में वापसी

नई दिल्ली। भारत के पूर्व तेज गेंदबाज एस श्रीसंत को 10 जनवरी से शुरू हो रहे सैयद मुश्ताक अली टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट के लिए केरल की टीम में शामिल किया गया है। मैच फिक्सिंग के आरोपों में सात साल का प्रतिबंध झेल चुके श्रीसंत का यह पहला टूर्नामेंट होगा। भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने आईपीएल में स्पॉट फिक्सिंग में कथित भागीदारी के कारण श्रीसंत पर प्रतिबंध लगाया था। हालांकि आईपीएल 2021 में श्रीसंत खेलते हुए नजर आ सकते हैं। यह बात उन्होंने खुद बताई है। श्रीसंत ने कहा है कि कुछ आईपीएल फ्रेंचाइजी ने मुझसे बात की है। उन्होंने मुझे फिट रहने और सेलेक्शन के लिए उपलब्ध रहने को कहा है। उन्होंने आखिरी बार आईपीएल 2013 में राजस्थान रॉयल्स के लिए खेला था।

37 वर्षीय तेज गेंदबाज श्रीसंत को सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में केरल के लिए पेस अटैक की अगुवाई करेंगे। इस मही ने शुरू होने वाले घरेलू टी20 टूर्नामेंट से पहले उन्होंने हाल ही में वार्म अप मैचों में हिस्सा लिया। वह पहले की तरह ही आक्रामक दिख रहे हैं।

दो बार वर्ल्ड कप जीतने वाली टीम का हिस्सा रहे-
श्रीसंत ने इंटरनेशनल क्रिकेट में बैन होने से पहले 27 टेस्ट में 87 विकेट लिए हैं। वह 2011 वर्ल्ड कप विजेता टीम के सदस्य ने 53 वनडे मैचों में 75 बल्लेबाजों को आउट किया है। वह 2007 में टी20 वर्ल्ड जीतने वाली टीम का हिस्सा भी थे।
 धुआंधार बल्लेबाज रोहित शर्मा को मिली नए साल के पहले दिन बड़ी खुशखबरी: बनाए गए टीम इंडिया के उपकप्तान

धुआंधार बल्लेबाज रोहित शर्मा को मिली नए साल के पहले दिन बड़ी खुशखबरी: बनाए गए टीम इंडिया के उपकप्तान

नई दिल्ली। रोहित शर्मा को लेकर इस वक्त एक बड़ी खबर सामने आ रही है की रोहित शर्मा को बीसीसीआई ने भारतीय टेस्ट टीम का उपकप्तान नियुक्त किया है। रोहित शर्मा चोट की वजह से एडिलेड और मेलबर्न टेस्ट में नहीं खेले थे। दूसरा टेस्ट खत्म होने के बाद वो क्वारंटीन पीरियड खत्म कर टीम इंडिया से जुड़े। ऐसे सवाल खड़े किये जा रहे थे कि क्या रोहित शर्मा को सिडनी टेस्ट में मौका मिलेगा? लेकिन अब बीसीसीआई ने उन्हें उपकप्तान बनाकर इन सभी अटकलों को खत्म कर दिया है। विराट कोहली की गैरमौजूदगी में अजिंक्य रहाणे टीम की कमान संभाल रहे हैं और अब रोहित शर्मा उनके सहयोग के लिए उपकप्तान बनाए गए हैं। बता दें दूसरे टेस्ट में टीम इंडिया की उपकप्तानी चेतेश्वर पुजारा संभाल रहे थे।

पढ़िए पूरी खबर-
बता दें बीसीसीआई ने आखिरी दो टेस्ट मैचों के लिए टीम में कुछ अहम बदलाव किये हैं। चोटिल उमेश यादव की जगह टी नटराजन को टेस्ट टीम में मौका मिला है। वहीं मोहम्मद शमी की जगह शार्दुल ठाकुर को टीम में जोड़ा गया है। भारत की आखिरी दो टेस्ट मैचों के लिए टीम इंडिया- अजिंक्य रहाणे (कप्तान), रोहित शर्मा (उपकप्तान), मयंक अग्रवाल, पृथ्वी शॉ, केएल राहुल, चेतेश्वर पुजारा, हनुमा विहारी, शुभमन गिल, ऋद्धिमान साहा, ऋषभ पंत, जसप्रीत बुमराह, नवदीप सैनी, कुलदीप यादव, रवींद्र जडेजा, आर अश्विन, मोहम्मद सिराज, शार्दुल ठाकुर और टी नटराजन। 
तैयार हुआ टीम इंडिया का 2021 शेड्यूल: देखें कब, कहां कौन सा मैच

तैयार हुआ टीम इंडिया का 2021 शेड्यूल: देखें कब, कहां कौन सा मैच

नई दिल्ली। दुनिया भर के क्रिकेट प्रशंसकों के लिए साल 2020 अच्छा नहीं था, क्योंकि मार्च में कोरोना वायरस के प्रकोप के कारण सभी क्रिकेट गतिविधियों को रद्द करना पड़ा था। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट जुलाई में इंग्लैंड में वेस्टइंडीज की मेजबानी के साथ फिर से शुरू हुआ। भारतीय क्रिकेट टीम की आखिरी अंतर्राष्ट्रीय सीरीज फरवरी 2020 में न्यूजीलैंड के खिलाफ थी और अब नवंबर में ऑस्ट्रेलिया में खेली जा रही है।
 

2020 में कोरोना संक्रमण के कारण खिलाड़ियों को मजबूरन ब्रेक लेना पड़ा था। हालांकि वर्ष 2021 भारतीय टीम को लगभग पूरे साल एक्शन में देखने के लिए तैयार है। भारत के पास वर्ष 2021 के लिए बड़ी सीरीज और टूर्नामेंटों की मेजबानी के साथ इंग्लैंड टी 20 विश्व कप 2021 के चुनौतीपूर्ण दौरे और एशिया कप 2021 के लिए पूरा बिजी शेड्यूल है।
 
 
भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) टीम इंडिया के लिए आधिकारिक शेड्यूल जारी करना अभी बाकी है, लेकिन इनसाइडपोर्ट की एक रिपोर्ट के अनुसार विराट कोहली एंड कंपनी को 16 एकदिवसीय, 23 T20I और 14 टेस्ट मैच 2021 में खेलने होंगे, जिसमें एशिया कप और टी-20 विश्व कप के मैच शामिल नहीं हैं।

2021 में टीम इंडिया के कार्यक्रम पर एक नजर:

भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया- जनवरी
भारत की 2021 ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चल रही टेस्ट सीरीज के साथ जारी रहेगी। चार मैचों की सीरीज वर्तमान में 1-1 के स्तर पर है, जिसमें दो और टेस्ट बाकी हैं। तीसरा टेस्ट सिडनी में 07 जनवरी से शुरू होगा और चौथा और अंतिम मैच 15 जनवरी से ब्रिसबेन में खेला जाएगा।

भारत का इंग्लैंड दौरा- फरवरी से मार्च
ऑस्ट्रेलिया दौरे के समापन के बाद टीम इंडिया चार टेस्ट, तीन वनडे और पांच टी-20 समेत एक पूरी सीरीज की मेजबानी इंग्लैंड के खिलाफ करने के लिए स्वदेश लौट आएगी।

आईपीएल 2021- अप्रैल से मई
इंडियन प्रीमियर लीग का अगला संस्करण अप्रैल और मई के बीच खेला जाएगा। भारत में COVID-19 स्थिति के कारण UAE में 2020 संस्करण का मंचन किया गया था, लेकिन यदि स्थिति नियंत्रण में है, तो टूर्नामेंट को 2021 में भारत वापस लाया जा सकता है।

श्रीलंका और एशिया कप का भारत दौरा (जून-जुलाई)
भारत तीन मैचों की एकदिवसीय सीरीज और पांच टी-20 के लिए इंडियन प्रीमियर लीग के समापन के बाद श्रीलंका का दौरा करेगा। भारत एशिया कप में हिस्सा लेने के लिए श्रीलंका में अपने दौरे का विस्तार करेगा, जहां वे दो साल के लंबे अंतराल के बाद अपने खिताब का बचाव करेंगे और कट्टर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से भिड़ेगा।

भारत का जिम्बाब्वे दौरा (जुलाई)
श्रीलंका दौरे के बाद भारत को सीमित ओवरों की सीरीज के लिए जिम्बाब्वे दौरे पर जाना है। यह दौरा 2020 में होने वाला था, लेकिन COVID-19 के कारण रद्द कर दिया गया था। कुछ युवा खिलाड़ियों और नए चेहरों को ज़िम्बाब्वे सीरीज में खुद को साबित करने का मौका मिल सकता है।

भारत का इंग्लैंड दौरा (अगस्त से सितंबर)
घर में इंग्लैंड की मेजबानी करने के बाद भारत अगस्त में पांच मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए यात्रा करेगा। टेस्ट सीरीज साल 2021 में टीम इंडिया के लिए सबसे बड़ी चुनौतियों में से एक होगी।

भारत का दक्षिण अफ्रीका दौरा (अक्टूबर)
भारत आईसीसी टी-20 विश्व कप 2021 से पहले अक्टूबर के महीने में दक्षिण अफ्रीका की मेजबानी करेगा।

आईसीसी टी 20 विश्व कप 2021
भारत टी-20 विश्व कप 2021 का मंचन करेगा और शोपीस इवेंट में पसंदीदा में से एक के रूप में शुरू करेगा।

भारत का न्यूजीलैंड दौरा (नवंबर-दिसंबर)
टीम इंडिया नवंबर-दिसंबर में दो टेस्ट और तीन T20I के लिए न्यूजीलैंड की मेजबानी करेगी।

भारत का दक्षिण अफ्रीका दौरा (दिसंबर)
टीम इंडिया दिसंबर में दक्षिण अफ्रीका के दौरे के साथ वर्ष का अंत करेगी, जहां वे तीन टेस्ट और कई टी-20 खेलेंगे।
 दशक के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर बने कोहली, धोनी को क्रिकेट भावना सम्मान

दशक के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटर बने कोहली, धोनी को क्रिकेट भावना सम्मान

दुबई। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने सोमवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) का दशक का शीर्ष सम्मान अपने नाम किया जब उन्होंने पिछले 10 साल के सर्वश्रेष्ठ पुरुष क्रिकेटर के लिए सर गारफील्ड सोबर्स ट्रॉफी जीती। कोहली को दशक का सर्वश्रेष्ठ एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर भी चुना गया। पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने आईसीसी का दशक का खेल भावना पुरस्कार जीता। 

प्रशंसकों ने 2011 में नॉटिंघम टेस्ट में इयान बेल के अजीब हालात में रन आउट होने के बाद उन्हें वापस बुलाने के लिए धोनी को इस पुरस्कार के लिए चुना। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने ट्विटर पर कोहली के इस पुरस्कार के लिए चुने जाने की घोषणा की। कोहली ने आईसीसी पुरस्कारों के समय के दौरान अपने 70 में से 66 अंतरराष्ट्रीय शतक जड़े। इस दौरान उनके नाम पर सर्वाधिक अर्धशतक (94), सर्वाधिक रन (20396) के अलावा 70 से अधिक पारी खेलते हुए सर्वाधिक औसत (56.97) का रिकॉर्ड भी रहा। कुल मिलाकर 32 साल के कोहली ने एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में 12040 रन, टेस्ट क्रिकेट में 7318 रन और टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 2928 रन बनाए हैं और सभी प्रारूपों में मिलाकर उनका औसत 50 से अधिक का है। कोहली इसके अलावा 2011 विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम के सदस्य भी रहे। कोहली ने बयान में कहा, सबसे पहले तो यह पुरस्कार मिलना मेरे लिए बड़े सम्मान की बात है। पिछले एक दशक में जो लम्हा मेरे दिल के सबसे करीब है वह निश्चित तौर पर 2011 में विश्व कप, 2013 में चैंपियन्स ट्रॉफी और 2018 में आस्ट्रेलिया में श्रृंखला जीतना है। सर्वश्रेष्ठ एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर चुने जाने पर कोहली ने कहा, एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से मैं काफी जल्दी जुड़ गया था। मैंने पहले एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय टीम में जगह बनाई और इसके कुछ साल बाद मैंने टेस्ट पदार्पण किया। उन्होंने कहा, इसलिए मुझे काफी पहले ही अपने खेल को समझने का मौका मिला। और मैं पहले भी कह चुका हूं कि मेरा एकमात्र इरादा और मानसिकता टीम के लिए विजयी योगदान देना था और मैंने अपने प्रत्येक मैच में सिर्फ ऐसा करने का प्रयास किया। कोहली ने कहा, अपने इस सफर के दौरान मैंने कभी आंकड़ों और संख्या पर ध्यान नहीं दिया और आप मैदान पर जो कुछ भी करते हो यह उसका नतीजा है और मेरे लिए यह जीत के रास्ते पर चलते हुए हासिल की गई उपलब्धियां हैं। कोहली आईसीसी के पुरस्कार समय के दौरान एकदिवसीय क्रिकेट में 10000 से अधिक रन बनाने वाले एकमात्र बल्लेबाज रहे। उन्होंने इस दौरान 39 शतक और 48 अर्धशतक जड़े और 61.83 की औसत से रन बनाए। वैश्विक संचालन संस्था ने आस्ट्रेलिया के स्टार बल्लेबाज स्टीव स्मिथ को दशक का सर्वश्रेष्ठ टेस्ट क्रिकेटर जबकि अफगानिस्तान के स्टार स्पिनर राशिद खान को दशक का सर्वश्रेष्ठ टी20 क्रिकेटर चुना। आस्ट्रेलिया की एलिस पैरी ने महिला पुरस्कारों में बाजी मारते हुए आईसीसी की दशक की सर्वश्रेष्ठ महिला क्रिकेटर के अलावा दशक की सर्वश्रेष्ठ एकदिवसीय और टी20 महिला क्रिकेटर के पुरस्कार भी अपने नाम किए।
 क्रिकेट प्रशंसकों के लिए बुरी खबर: पूर्व गेंदबाज ने दुनिया को कहा अलविदा- शिमला से था गहरा नाता

क्रिकेट प्रशंसकों के लिए बुरी खबर: पूर्व गेंदबाज ने दुनिया को कहा अलविदा- शिमला से था गहरा नाता

नई दिल्ली। क्रिकेट प्रशंसकों के लिए एक बुरी खबर सामने आई है। इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर रॉबिन जैकमैन ने दुनिया को अलविदा कह दिया। जैकमैन क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद कमेंट्री करने लगे थे और खासे मशहूर थे। आईसीसी ने जैकमैन के निधन पर बयान जारी किया है, जिसमें कहा है कि इंग्लैंड के पूर्व गेंदबाज और महान कमेंटेटर रॉबिन जैकमैन के निधन से हम दुखी हैं।
 
 
इस मुश्किल वक्त में हम उनके परिवार के साथ खड़े हैं। जैकमैन 75 साल के थे। क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद रॉबिन जैकमैन साउथ अफ्रीका में कमेंट्री करने लगे थे और पत्नी के साथ वहीं रहते थे। जैकमैन का भारत से भी खास रिश्ता है। उनका जन्म 13 अगस्त 1945 को शिमला में हुआ था। जहां उनके पिता सेकंड गुरखा राइफल्स में मेजर के पद पर तैनात थे। उनका परिवार 1946 में इंग्लैंड लौट गया। जैकमैन ने इंग्लैंड के लिए 4 टेस्ट और 15 वनडे खेले। टेस्ट में उन्होंने 14 जबकि वनडे में 19 विकेट अपने नाम किए।
 

रॉबिन जैकमैन शुरुआत में अपने अंकल मशहूर कॉमेडियन पैट्रिक सारगिल की तरह एक्टर बनना चाहते थे,  लेकिन असफलता के बाद उन्होंने क्रिकेट में अपना करियर बनाने का फैसला किया। जैकमैन ने अपने करियर में 399 प्रथम श्रेणी मैच खेले, जिनमें उन्होंने 1402 विकेट लिए। ये मैच उन्होंने 1966 से 1982 के बीच लिए। इसके अलावा उन्होंने 288 लिस्ट ए मुकाबलों में भी हिस्सा लिया। इनमें जैकमैन के खाते में 439 विकेट दर्ज हुए।

न्यूजीलैंड के पूर्व गेंदबाज और कमेंटेटर डैनी मॉरिसन ने जैकमैन के निधन पर शोक जताया है। उन्होंने कहा, सुबह प्यारे साथी रॉबिन जैकमैन के निधन की बुरी खबर के साथ उठा। खुशकिस्मत हूं कि उनके साथ इतना शानदार समय बिताने का मौका मिला। साउथ अफ्रीकी क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान एबी डिविलियर्स ने भी जैकमैन के निधन पर शोक जताया है।
 क्रिसमस पर सचिन तेंडुलकर बने सैंटा, शेयर किया एक वीडियो

क्रिसमस पर सचिन तेंडुलकर बने सैंटा, शेयर किया एक वीडियो

नई दिल्ली। क्रिसमस के अहम मौके पर महान क्रिकेटर सचिन तेंडुलकर, रोहित शर्मा, फुटबॉलर क्रिस्टियानो रोनाल्डो, लियोनेल मेसी सहित तमाम दिग्गज खिलाडिय़ों ने अपने चाहने वालों को शुभकामनाएं दी हैं। सचिन तेंडुलकर ने एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें वह सैंटा बने दिख रहे हैं। इसी तरह से मेसी, रोनाल्डो, बेकहम सहित तमाम दिग्गजों ने तस्वीरें और वीडियो अपने सोशल मीडियो पेज पर शेयर किए हैं।