कोरोना अपडेट: छ ग में आज 15 हजार से अधिक मिले, 109 की मृत्यु के साथ रायपुर में रिकॉर्ड तोड़ 4168 समेत इन जिलो से इतने मरीज    |    क्या देश में है रेमडेसिविर दवा की कमी? जानिए केंद्र सरकार ने इसको लेकर क्या जवाब दिया है    |    रात्रि 8.30 बजे राज्य को करेंगे संबोधित मुख्यमंत्री, लॉकडाउन की चर्चा हुई तेज...    |    छग कोरोना अपडेट: आईसीएमआर के मुताबिक आज शाम तक 10748 नये मरीजो की हुई पुष्टि, रायपुर से अकेले 3293 समेत बाकी इन जिलो से...    |    छत्तीसगढ़ से राज्य सभा की ये सांसद हुई कोरोना संक्रमित, दिल्ली AIIMS में हुई भर्ती    |    इस दिन इतने समय के लिए पुरे भारत में बंद रहेगी आरटीजीएस की सुविधा    |    देश में पिछले 24 घंटे में 1.61 लाख कोरोना के नए मरीज मिले, 879 की गई जान, जानिये क्या है टीकाकरण का हाल    |    BIG BREAKING : छत्तीसगढ़ में आज कोरोना से मौत का आंकड़ा 100 के पार, प्रदेश में आज साढ़े 13 हजार नए मरीजों की हुई पहचान, देखें जिले वार आंकड़े    |    BIG BREAKING : राजधानी के इन 14 निजी अस्पतालों को सरकार ने पूरी तरह से कोरोना अस्पताल किया घोषित, देखें आदेश    |    BIG BREAKING : राजधानी में आज रिकॉर्ड तोड़ 11491 नए कोरोना मरीजों की हुई पहचान, राजधानी में आज 72 कोरोना मरीजों की हुई मौत    |
Apple Days Sale: सस्ते में खरीद सकते हैं iPhone 12 Mini, मिल रहा है भारी डिस्काउंट

Apple Days Sale: सस्ते में खरीद सकते हैं iPhone 12 Mini, मिल रहा है भारी डिस्काउंट

नई दिल्ली, अगर आप नया iPhone खरीदने के बारे में सोच रहे हैं तो यह आपके लिए अच्छा मौका हो सकता है। क्योंकि ई-कॉमर्स साइट अमेजन इंडिया ने आज यानि 12 मार्च से Apple Days Sale की घोषणा की है और ये सेल 17 मार्च तक जारी रहेगी। इस सेल में Apple के लेटेस्ट iPhone से लेकर सभी डिवाइसेज पर शानदार ऑफर्स दिए जा रहे हैं। इस सेल में iPhone पर डिस्काउंट के साथ ही एक्सचेंज ऑफर और नो कोस्ट ईएमआई की भी सुविधा दी जा रही है। आज पहले दिन सेल में iPhone 12 Mini बेस्ट डील में मौजूद है। आइए जानते हैं iPhone 12 Mini पर मिलने वाले डिस्काउंट व ऑफर के बारे में डिटेल से...
Apple Days Sale में उठाएं इन ऑफर्स का लाभ
Apple Days Sale में iPhone पर मिलने वाले ऑफर्स की बात करें तो इसमें नो कोस्ट ईएमआई विकल्प और एक्सचेंज ऑफर की सुविधा दी जा रही है। इसके अलावा अगर आपके एचडीएफसी बैंक का कार्ड है तो आप सीधे 6,000 रुपये का इंस्टैंट डिस्काउंट प्राप्त कर सकते हैं।
iPhone 12 Mini पर मिल रहा है भारी डिस्काउंट
iPhone 12 Mini की बात करें तो यह डिवाइस पिछले साल नवंबर में ही भारतीय बाजार में उपलब्ध हुआ है। इसकी ओरिजनल कीमत 69,900 रुपये है। लेकिन Apple Days Sale में इस स्मार्टफोन पर 2,890 रुपये का डिस्काउंट दिया जा रहा है जिसके बाद इसे 67,100 रुपये में खरीदने का मौका मिल रहा हैं अगर आप पास एचडीएफस बैंक कार्ड है तो 6,000 रुपये का इंस्टैंट डिस्काउंट भी प्राप्त कर सकते है जिसके बाद इस डिवाइस की कीमत कम होकर 61,100 रुपये हो जाएगी।
iPhone 12 mini के स्पेसिफिकेशन्स
iPhone 12 mini में ड्यूल सिम सपोर्ट दिया गया है जिसमें यूजर्स Nano और e-SIM का उपयोग कर सकते हैं। iOS 14 ओएस पर आधारित ये डिवाइस A14 Bionic chip पर काम करता है। iPhone 12 mini में 5.4 इंच का सुपर रेटिना XDR OLED डिस्प्ले दिया गया है। इसमें ड्यूल रियर कैमरा सेटअप दिया गया है जिसमें 12MP का वाइड एंगल लेंस और अल्ट्रा वाइड एंगल शूटर शामिल है। वहीं iPhone 12 Pro max में 12MP का ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप मौजूद है। इसके साथ ही डिवाइस में MagSafe वायरलेस चार्जिंग सपोर्ट मिलेगा।

 

नीति आयोग ने निजीकरण के लिए 12 सार्वजनिक उपक्रमों की पहली सूची प्रस्तुत की, देखे पूरी लिस्ट

नीति आयोग ने निजीकरण के लिए 12 सार्वजनिक उपक्रमों की पहली सूची प्रस्तुत की, देखे पूरी लिस्ट

नईदिल्ली। सरकार के थिंक टैंक नीति आयोग ने 12 सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों के निजीकरण के लिए पहली सूची प्रस्तुत की है। नीति आयोग द्वारा प्रस्तुत सूची में रणनीतिक क्षेत्रों के PSU भी शामिल हैं। इस सूची की समीक्षा अब निवेश विभाग और सार्वजनिक परिसंपत्ति प्रबंधन विभाग (DIPAM) और Core Group of Secretaries on Divestment (CGD) द्वारा की जाएगी जिसकी अध्यक्षता कैबिनेट सचिव करेंगे। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा बजट 2021 में सार्वजनिक उपक्रमों के निजीकरण की योजना की घोषणा की गई थी। इससे वित्त वर्ष 2021-1722 में विनिवेश के 1.75 लाख करोड़ रुपये के लक्ष्य को पूरा करने के लिए केंद्र के रास्ते साफ हो जाएंगे। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वर्ष 2021-22 में दो सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक और एक सामान्य बीमा कंपनी के निजीकरण की घोषणा की थी। नीति आयोग को रणनीतिक सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम के नाम सुझाने का काम सौंपा गया है, जिन्हें नए सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रम (PSE) की नीति के अनुसार अन्य सार्वजनिक उपक्रमों के विलय, निजीकरण या सहायक बनाने की आवश्यकता है।

रणनीतिक क्षेत्र क्या हैं?
रणनीतिक क्षेत्रों में पेट्रोलियम, बिजली, परमाणु ऊर्जा, कोयला और अन्य खनिज, अंतरिक्ष, रक्षा, बीमा, बैंकिंग, वित्तीय सेवाएं, परिवहन और दूरसंचार शामिल हैं। 

 सोने की कीमतों में गिरावट जारी, जाने कितना लुढ़का सोना

सोने की कीमतों में गिरावट जारी, जाने कितना लुढ़का सोना

मुंबई। सोने की कीमतों में गिरावट जारी है। महाशिवरात्रि के मौके पर सुबह के सत्र में मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज बंद रहा था। शुक्रवार को इसके खुलने पर वायदा कारोबार में सोने की कीमतों में और गिरावट दिखी। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज पर शुक्रवार को अप्रैल गोल्ड वायदा भाव सुबह 138 रुपये गिरकर 44,741 रुपये प्रति 10 ग्राम पर खुला। इससे पिछले ट्रेड में शाम को यह 44,879 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। शुक्रवार को सुबह 9.30 बजे के आसपास एमसीएक्स पर सोना 44772 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर ट्रेड कर रहा था।सोने की तरह चांदी वायदा में भी गिरावट चल रही है। एमसीएक्स पर शुक्रवार को मई सिल्वर वायदा भाव 345 रुपये टूटकर 67,200 रुपये प्रति किलो पर खुला। इससे पिछले ट्रेड में शाम को चांदी वायदा का बंद भाव 67,545 रुपये प्रति किलो था।शुक्रवार सुबह 9.30 बजे के आसपास एमसीएक्स पर चांदी 67232 रुपये प्रति किलो पर ट्रेड कर रही थी।
ई कॉमर्स कंपनियों को मिलेगी टक्कर देने  कैट ने लॉन्च किया स्वदेशी मोबाइल ऐप Bharat E Market

ई कॉमर्स कंपनियों को मिलेगी टक्कर देने कैट ने लॉन्च किया स्वदेशी मोबाइल ऐप Bharat E Market

नई दिल्ली, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'वोकल फॉर लोकल' के नारे को आगे बढ़ाते हुए कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया (कैट) ने स्वदेशी ई-कार्ट 'भारत ई मार्केट' की शुरुआत की है. कैट का दावा है कि इससे विदेशी व्यपारियों को प्रोत्साहन मिलेगा और देश का व्यापार देश की अर्थव्यवस्था को बढ़ाएगा. स्वदेशी कंपनियां भारत के व्यापार से फायदा उठा रही हैं और कई सारे कानूनों को नजरअंदाज कर रही हैं. इसलिए कैट ने स्वदेशी उत्पादों को इंटरनेट के जरिए व्यापक करने का फैसला लिया है.


कैट के अनुसार इस मुहीम के जरिए दिसंबर 2021 तक सात लाख व्यापारियों को ऐप से जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है. वहीं जिस तेजी से देश में इंटरनेट संपर्क और स्मार्टफोन का इस्तेमाल बढ़ता जा रहा है और तेजी के साथ ई-कॉमर्स के जरिए खरीदारी में बढ़ोतरी हो रही है, उसको देखते हुए कैट ने राजधानी दिल्ली में ये ई-कॉमर्स मोबाइल ऐप लॉन्च किया है.


कैसे करें रजिस्ट्रेशन?
पहले चरण में व्यापारियों और सेवा प्रदाताओं के जरिए अपनी ई-दुकान बनाने के लिए एक मोबाइल ऐप को लांच किया गया है. पहले व्यपारियों के लिए 'ई-दुकान' की व्यवस्था की जाएगी. प्लेस्टोर या एपस्टोर से 'भारत ई मार्किट' डाउनलोड करके व्यपारी अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं. इसमें किसी तरह का कोई कमीशन नहीं लिया जाएगा जबकि अन्य ई कॉमर्स कंपनियां उनके पोर्टल पर हो रहे कारोबार पर 5 प्रतिशत से लेकर 35 प्रतिशत तक का कमीशन लेते हैं.


व्यापारियों को मोबाइल ऐप के जरिए अपना पंजीकरण करना होगा और पंजीकरण करते समय उन्हें एक ओटीपी मिलेगा. इसके बाद केवाईसी होने पर कोई भी व्यक्ति बेहद आसानी से अपनी ई-दुकान खुद बना सकता है. ई-दुकान बन जाने के बाद ऐप पर कारोबार किया जा सकता है. कैट का लक्ष्य है कि आने वाले एक साल में 7 लाख से ज्यादा व्यापारी इस ऐप से जुड़ सकें.


इसके दूसरे चरण में उपभोक्ताओं के लिए ऐप तैयार किया जाएगा. कैट के अध्यक प्रवीण खंडेलवाल ने दावा किया के विदेशी ई-कॉमर्स कंपनियों के जरिए अपनी मनमानी करते हुए देश के नियम और कानूनों का उल्लंघनकर व्यापारियों के व्यापार को जो नुकसान पहुंचाया जा रहा है, उसका मजबूती से मुकाबला यह ऐप करेगा. इन विदेशी कंपनियों के खुद के ईस्ट इंडिया कंपनी के दूसरे संस्करण बनने के इरादों को कैट भारत में कभी सफल नहीं होने देगा.


कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीसी भरतिया ने भारत ई मार्किट ऐप के बारे में जानकारी देते हुए बताया की यह ऐप पूर्ण भारतीय होगा, जिसका समस्त डेटा देश में ही रहेगा और डेटा का कोई विक्रय नहीं होगा. इस ऐप में किसी भी प्रकार की विदेशी फंडिंग नहीं होगी.


4 घंटे में डिलीवरी

कैट के अनुसार इस ई कॉमर्स में ऐसी कई सुविधाएं होंगी, जो दूसरे ऐप में नहीं हैं. कैट ने कहा है उपभोक्ताओं को सुविधा देने के लिए डिलीवरी सिस्टम आसान किया जाएगा. एक ही शहर में डिलीवरी होगी तो उसे 4 घंटे में उपभोक्ताओं के पास पहुंचा दिया जाएगा.


चीनी सामान का बॉयकॉट

इस ऐप पर चीन का कोई भी सामान किसी भी विक्रेता के जरिए नहीं बेचा जाएगा और खास तौर पर देश के कोने-कोने में फैले स्थानीय कारीगरों, शिल्पकारों और अन्य वस्तुओं के छोटे निर्माताओं और व्यापारियों को राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय बाजार उपलब्ध कराया जाएगा. कैट ने बताया की भारत ई कॉमर्स पोर्टल पर सरकार के सभी नियमों और कानूनों का किसी भी प्रकार से कोई उल्लंघन नहीं होगा. यह पोर्टल केवल एक तकनीकी प्लेटफॉर्म के रूप में व्यापारियों और उपभोक्ताओं के बीच पारदर्शी तरीके से सामान और सेवाओं का लेनदेन संभव कराएगा.

 

IDBI Bank को PCA Framework से बाहर निकाला गया

IDBI Bank को PCA Framework से बाहर निकाला गया

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने IDBI बैंक को प्रॉम्प्ट करेक्टिव एक्शन (Prompt Corrective Action-PCA) फ्रेमवर्क से बाहर निकाल दिया है। IDBI बैंक को इसके वित्तीय प्रदर्शन में सुधार के परिणामस्वरूप चार साल के बाद इस ढांचे से हटा दिया गया है। भारतीय रिजर्व बैंक ने मई, 2017 में IDBI बैंक को PCA ढांचे के तहत सूचीबद्ध किया था। इसका कारण यह है कि बैंक ने पूंजी पर्याप्तता (capital adequacy), उत्तोलन अनुपात (leverage ratio), परिसंपत्ति की गुणवत्ता (asset quality) और परिसंपत्तियों पर रीटर्न (return on assets) के लिए सीमाएं तोड़ दी थीं। मार्च, 2017 के महीने में शुद्ध एनपीए 13% से अधिक था। 31 दिसंबर, 2020 के अंत तक, यह नोट किया गया था कि बैंक नियामक पूंजी, उत्तोलन अनुपात और शुद्ध एनपीए पर पीसीए मापदंडों का उल्लंघन नहीं कर रहा था। इसने उस तिमाही में 378 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया। इस प्रकार, इसे नियामक फ्रेमवर्क से हटा दिया गया था। Prompt Corrective Action (PCA) यह एक फ्रेमवर्क है जिसके तहत कमजोर वित्तीय मैट्रिक्स वाले बैंकों को केंद्रीय बैंक द्वारा नियमन के तहत रखा जाता है। आरबीआई द्वारा 2002 में यह फ्रेमवर्क पेश किया गया था। यह उन बैंकों के लिए एक संरचित प्रारंभिक हस्तक्षेप तंत्र है जो खराब गुणवत्ता वाले हैं या घाटे की वजह से कमजोर हैं। PCA को बैंकिंग क्षेत्र में नॉन-परफॉर्मिंग एसेट्स (एनपीए) के मुद्दे की जांच के उद्देश्य से लॉन्च किया गया था। यह फ्रेमवर्क केवल वाणिज्यिक बैंकों पर लागू होता है। 

 सोने में तेजी पर लगा ब्रेक, सोने की कीमतों में एक बार फिर गिरावट

सोने में तेजी पर लगा ब्रेक, सोने की कीमतों में एक बार फिर गिरावट

मुंबई। सोने की कीमतों में एक बार फिर गिरावट आने लगी है। वायदा कारोबार में सोने की कीमतों में दो दिन तेजी दिखने के बाद बुधवार को कीमत फिर से लुढ़कने लगी। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज पर बुधवार को अप्रैल गोल्ड वायदा भाव सुबह 127 रुपये गिरकर 44,730 रुपये प्रति 10 ग्राम पर खुला। यह 44,857 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। बुधवार सुबह 10.15 बजे के आसपास एमसीएक्स पर सोना 44795 रुपये प्रति 10 ग्राम पर ट्रेड कर रहा था।सोने की तरह चांदी वायदा में भी गिरावट दिख रही है। एमसीएक्स पर बुधवार को मई सिल्वर वायदा भाव 529 रुपये टूटकर 66,951 रुपये प्रति किलो पर खुला। बुधवार शाम को बंद भाव 67,480 रुपये प्रति किलो था। बुधवार को सुबह 10.15 के आसपास एमसीएक्स पर चांदी 67085 रुपये प्रति किलो पर ट्रेड कर रही थी।
Motorola ने लॉन्च किए दो सस्ते फोन Moto G30 और G10 Power, जानें कीमत

Motorola ने लॉन्च किए दो सस्ते फोन Moto G30 और G10 Power, जानें कीमत

मोटोरोला ने भारत में दो नए बजट स्मार्टफोन Moto G30 और Moto G10 Power लॉन्च कर दिए हैं। दोनों ही फोन 11 हजार रुपये से कम कीमत में आते हैं। इन स्मार्टफोन्स में वॉटरड्रॉप नॉच वाला डिस्प्ले, एंड्रॉइड 11 ऑपरेटिंग सिस्टम और चार रियर कैमरा सेटअप मिलते हैं। मोटो जी 30 की बिक्री 17 मार्च से और मोटो जी 10 पावर स्मार्टफोन की बिक्री 16 मार्च से फ्लिपकार्ट पर होगी।
Moto G30 और Moto G10 Power की कीमत
दोनों ही स्मार्टफोन एक ही वेरिएंट में आते हैं। मोटो जी 30 के 4 जीबी रैम + 64 जीबी स्टोरेज मॉडल की कीमत 10,999 रुपये है। यह डार्क पर्ल और पेस्टल स्काई कलर्स में आता है। जबकि मोटो जी 10 पावर के 4 जीबी रैम + 64 जीबी स्टोरेज मॉडल की कीमत 9,999 रुपये है। यह ऑरोर ग्रे और ब्रीज ब्लू कलर्स में आता है।
Moto G30 के स्पेसिफिकेशंस
Moto G30 में 90 इंच के रिफ्रेश रेट के साथ 6.5 इंच का HD+ डिस्प्ले दिया गया है। यह ऑक्टा-कोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 662 प्रोसेसर, 4GB की रैम और 64GB इंटरनल स्टोरेज के साथ आता है। इसमें चार रियर कैमरा दिए गए हैं, जिसमें 64MP का प्राइमरी सेंसर, 8MP अल्ट्रा-वाइड-एंगल सेंसर, 2MP मैक्रो-शूटर और 2MP डेप्थ सेंसर मिलता है। सेल्फी और वीडियो कॉलिंग के लिए फ्रंट में 13MP का कैमरा है। फोन में 5,000mAh की बैटरी मिलती है, जो 20W फास्ट-चार्जिंग सपोर्ट करती है। कंपनी का दावा है कि फोन एक बार चार्ज करने पर 2 दिन तक की परफॉर्मेंस दे सकता है।
मोटो जी 10 पावर के स्पेसिफिकेशन
मोटो जी 10 पावर स्मार्टफोन में जी 30 की ही तरह 6.5 इंच का डिस्प्ले मिलता है, हालांकि यह 90Hz रिफ्रेश रेट वाला नहीं है। फोन में 4GB की रैम और 64GB की इंटरनल स्टोरेज के साथ क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 460 प्रोसेसर दिया गया है। इसमें 48MP + 8MP + 5MP + 2MP का क्वाड रियर कैमरा सेटअप है। जबकि सेल्फी के लिए 8MP का फ्रंट कैमरा दिया गया है। इस फोन में 6,000mAh की बैटरी दी गई है, 20W फास्ट चार्जिंग सपोर्ट करती है।
 

OnePlus 9 सीरीज की लॉन्चिंग तारीख का हुआ आधिकारिक एलान, मिलेगा अब तक का बेस्ट कैमरा

OnePlus 9 सीरीज की लॉन्चिंग तारीख का हुआ आधिकारिक एलान, मिलेगा अब तक का बेस्ट कैमरा

एक लंबे इंतजार के बाद OnePlus 9 सीरीज की लॉन्चिंग तारीख की आधिकारिक घोषणा हो गई है। OnePlus 9 सीरीज की लॉन्चिंग 23 मार्च को होगी। OnePlus 9 सीरीज के तहत तीन स्मार्टफोन लॉन्च होंगे जिनमें OnePlus 9, OnePlus 9 Pro और OnePlus 9e शामिल हैं। आखिरी मॉडल एक किफायती फोन होगा। OnePlus 9 सीरीज के कैमरा के लिए कंपनी ने कैमरा मैन्यूफैक्चरर Hasselblad के साथ साझेदारी की है। इसके अलावा कंपनी ने यह भी कहा है कि वह फोन के कैमरा पर रिसर्च और बेहतरी के लिए 150 मिलियन डॉलर यानी करीब 1,094 करोड़ रुपये खर्च करेगी। यह खर्च अगले तीन साल में होगा।
OnePlus 9 सीरीज की लॉन्चिंग 23 मार्च को शाम साढ़े सात बजे होगी। लॉन्चिंग इवेंट को कंपनी की वेबसाइट पर देखा जा सकेगा। वनप्लस की सीईओ पिट लाउ ने Hasselblad के साथ साझेदारी को लेकर कहा कि कंपनी को परंपरागत फोटोग्राफी में काफी तजुर्बा है और मैं यकीन के साथ कह सकता है कि OnePlus 9 सीरीज का कैमरा काबिल-ए-तारीफ होगा।
आपकी जानकारी के लिए बता दें कि OnePlus और Hasselblad पिछले तीनों सालों से साथ में काम कर रहे हैं। वनप्लस 9 सीरीज के साथ अलग से एक Hasselblad Pro मोड मिलेगा जिसमें Hasselblad सेंसर कैलिब्रेशन होगा जिसके जरिए फोटो में नेचुरल कलर आएंगे। प्रो मोड में ISO, फोकस, एक्सपोजर टाइम और व्हाइट बैलेंस को एडजस्ट किया जा सकेगा।
बता दें कि OnePlus 9 सीरीज को लेकर वनप्लस इंडिया की वेबसाइट पर OnePlus 9 सीरीज का पेज लाइव हो गया है जिसका टाइटल “Moonshot” है, हालांकि फोन के फीचर्स के बारे में कंपनी ने आधिकारिक तौर पर कोई जानकारी नहीं दी है और ना ही मॉडल के बारे में कुछ कहा है।

OnePlus 9 सीरीज के फीचर्स
OnePlus 9 Pro एक बढ़िया स्मार्टफोन फोन है। इसका वजन 205 gram है और इसकी मोटाई 8.5 mm है। OnePlus 9 Pro में 6.78 inches (17.22 cm) और 1440 x 3168 Pixels डिस्प्ले है, जिसका आस्पेक्ट रेशियो है। इसमें 256.0 का रैम और 256 GB इनबिल्ट स्टोरेज है, जिसे माइक्रोएसडी कार्ड के जरिए तक बढ़ा सकते हैं। OnePlus का यह हैंडसेट Android v11 (Q) ऑपरेटिंग सिस्टम पर चलता है और हैंडसेट को पावर देने के लिए 4710 mAh बैटरी दी गई है। फोन में Octa-core (1x2.84 GHz Kryo 585 & 3x2.42 GHz Kryo 585 & 4x1.8 GHz Kryo 585) प्रोसेसर है और अड्रेनो Adreno 660 जीपीयू दिया गया है। कैमरे की बात करें तो OnePlus 9 Pro में अपर्चर के साथ 64.0 मेगापिक्सल प्राइमरी और 64 MP + 16 MP + 48 MP + 5 MP मेगापिक्सल सेकंडरी सेंसर वाला कैमरा सेटअप है। इस डिवाइस में Accelerometer, Gyro, Proximity, Compass सेंसर भी दिए गए हैं। कनेक्टिविटी फीचर्स की बात करें तो फोन 5G supported by device (network not rolled-out in India), 4G (supports Indian bands), 3G, 2G को सपोर्ट करता है। इसके अलावा जीपीएस, ब्लूटूथ, वाई-फाई और ओटीजी जैसे फीचर्स भी हैं। OnePlus 9 Pro की भारत में कीमत 52990 है।
 

जानिए वित्त मंत्रालय की वे  योजनाएं जिनमें महिला सशक्तिकरण के लिए विशेष प्रावधान हैं ...

जानिए वित्त मंत्रालय की वे योजनाएं जिनमें महिला सशक्तिकरण के लिए विशेष प्रावधान हैं ...

वित्‍त मंत्रालय ने पिछले 7 वर्षों में अनेक योजनाएं शुरू की हैं, जिनमें महिला सशक्तिकरण के लिए विशेष प्रावधान है। इन योजनाओं ने महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्‍त बनाया है, ताकि वे बेहतर जीवन जी सकें और उद्यमी बनने के अपने सपने को साकार कर सके।आज हम अंतर्राष्‍ट्रीय महिला दिवस मना रहे हैं और वित्‍त मंत्रालय की ओर से महिलाओं के लिए शुरू की गई विभिन्‍न योजनाओं पर एक नजर डालते हैं :

स्‍टैंड अप इंडिया स्‍कीम : इस योजना की शुरुआत 5 अप्रैल, 2016 को की गई थी और इसका उद्देश्‍य ग्रामीण क्षेत्रों में निचले स्‍तरों पर आर्थिक सशक्तिकरण और रोजगार सृजन के लिए उद्यमिता को बढ़ावा देना है। इस योजना का उद्देश्‍य संस्‍थागत ऋणों का फायदा ऐसे वर्गों तक पहुंचाना है, जहां इनकी पहले पहुंच नहीं थी और इनमें अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और महिला उद्यमी है, ताकि राष्ट्र की आर्थिक प्रगति में हिस्‍सेदारी के लिए उन्‍हें भी अवसर प्रदान किया जा सके।

इस योजना का उद्देश्‍य 10 लाख रुपये से एक करोड़ रुपये के बैंक ऋणों को अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक (एससीबी) की प्रत्‍येक शाखा से अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के कम से कम एक सदस्‍य और कम से कम एक महिला उद्यमी को ऋण की सुविधा प्रदान करना है, ताकि वे हरित क्षेत्र उद्यमों की स्‍थापना कर सके। स्‍टैंडअप इंडिया योजना के तहत 26.02.2021 तक 81 प्रतिशत से अधिक यानी 91,109 खातों में महिला उद्यमियों के लिए 20,749 करोड़ रुपये की राशि को मंजूरी दी जा चुकी है।

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (पीएमएमवाई) : इस योजना की शुरुआत 8 अप्रैल, 2015 को गैर-कॉरपोरेट, गैर-कृषि लघु/सूक्ष्‍म उद्यमों के लिए 10 लाख रुपये तक की ऋण राशि उपलब्‍ध कराने के लिए की गई थी। इन ऋणों को पीएमएमवाई के तहत मुद्रा ऋण के रूप में वर्गीकृत किया गया है और ये ऋण वाणिज्यिक बैंकों, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों, लघु वित्‍त बैंकों, सूक्ष्‍म वित्‍त संस्‍थान और गैर-बैंकिंग वित्‍तीय निगमों द्वारा प्रदान किए जाते हैं।

पीएमएमवाई के तहत मुद्रा ऋण को शिशु, किशोर और तरुण के रूप में वर्गीकृत किया गया है, ताकि लाभार्थी सूक्ष्‍म इकाई/उद्यमी की वृद्धि के चरण – विकास एवं वित्‍त आवश्‍यकताओं की पहचान की जा सके और उन्‍हें विकास के अगले चरणों के लिए आगे समर्थन दिया जा सके।  मुद्रा योजना की शुरुआत से लेकर 26.02.2021 तक महिला उद्यमियों के 68 प्रतिशत यानी 19.04 करोड़ खातों में 6.36 लाख करोड़ रुपये की राशि को मंजूरी दी जा चुकी है।

प्रधानमंत्री जन धन योजना (पीएमजेडीवाई) : यह योजना 28 अगस्‍त, 2014 को शुरू की गई थी और इसका उद्देश्‍य प्रत्‍येक परिवार को कम से कम एक बैंक खाते की आधारभूत सुविधा, वित्‍तीय साक्षरता, ऋण तक पहुंच, बीमा एवं पेंशन सुविधा उपलब्‍ध कराना है। इस योजना के तहत 24.02.2021 तक कुल 41.93 करोड़ खाते खोले जा चुके हैं जिनमें से 23.21 करोड़ खाते महिलाओं से संबंधित हैं। 

जय व्यापार पैनल का भिलाई, दुर्ग एवं राजनांदगांव का दौरा, कई कार्यक्रमों में शामिल हुए प्रत्याशी

जय व्यापार पैनल का भिलाई, दुर्ग एवं राजनांदगांव का दौरा, कई कार्यक्रमों में शामिल हुए प्रत्याशी

रायपुर |  जय व्यापार पैनल के मुख्य चुनाव संचालक नरेन्द्र दुग्गड, चुनाव सह संचालक गारगी शंकर मिश्रा, चुनाव सह संचालक जितेन्द्र दोशी, छ.ग. चेम्बर ऑफ़ काॅमर्स एण्ड़ इंडस्ट्रीज के उपाध्यक्ष राजेन्द्र जग्गी, दीपक बल्लेवार, विजय शर्मा चुनाव सह संचालक मगेलाल मालू, चुनाव सह संचालक विक्रम सिंहदेव एवं परमानन्द जैन ने बताया कि छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ  कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्रीज चुनाव 2021 के परिपेक्ष्य में आज रविवार को जय व्यापार पैनल के प्रदेश अध्यक्ष प्रत्याशी अमर पारवानी, महामंत्री प्रत्याशी अजय भसीन, कोषाध्यक्ष प्रत्याशी उत्तम गोलछा सहित भिलाई उपाध्यक्ष प्रत्याशी महेश बंसल एवं मंत्री प्रत्याशी मनोज बक्त्यानी ने भिलाई का दौरा कर कई व्यापारी मिलन समारोह में शामिल हुए एवं डोर टू डोर संपर्क किया। 


चरोदा, भिलाई 3, सर्कुलर मार्केट पावर हाउस, आकाशगंगा, सेक्टर 6 एवं रिसाली में आयोजित व्यापारी मिलन समारोह में बड़ी संख्या में व्यापारी साथी उपस्थित हुए और प्रत्याशियों का जोरदार स्वागत किया। इस दौरान उपस्थित सभी व्यापारियों ने जय व्यापार पैनल को अपना समर्थन दिया और ऐलान किया कि दीया छाप पर मुहर लगाएंगे।इसी कड़ी में जय व्यापार पैनल मुख्य चुनाव संचालक नरेन्द्र दुग्गड़, कैलाश खेमानी, सुरिन्द्र सिंह सहित राजनांदगांव उपाध्यक्ष प्रत्याशी अनिल बरड़िया एवं मंत्री प्रत्याशी राजेश माखीजा ने राजनांदगांव का दौरा कर कई व्यापारी मिलन समारोह में शामिल हुए एवं डोर टू डोर संपर्क किया। व्यापारी मिलन समारोह में बड़ी संख्या में व्यापारी साथी उपस्थित हुए और प्रत्याशियों का जोरदार स्वागत किया। दुर्ग उपाध्यक्ष प्रत्याशी प्रकाश सांखला एवं मंत्री प्रत्याशी दर्शनलाल ठाकवानी ने दुर्ग का दौरा कर व्यापारी मिलन समारोह में शामिल हुए।

जय व्यापार पैनल मुख्य चुनाव संचालक नरेन्द्र दुग्गड़ एवं भिलाई के चुनाव संचालक शिरीष अग्रवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश में चेम्बर चुनाव को लेकर व्यापारी साथियों में जोरदार उत्साह है। प्रदेश के व्यापारियों द्वारा जय व्यापार पैनल को जोरदार समर्थन दिया जा रहा है। इसी कड़ी में आज प्रदेश अध्यक्ष प्रत्याशी अमर पारवानी, महामंत्री प्रत्याशी अजय भसीन एवं कोषाध्यक्ष प्रत्याशी उत्तम गोलछा सहित उपाध्यक्ष प्रत्याशी महेश बंसल एवं मंत्री प्रत्याशी मनोज बक्त्यानी भिलाई में आयोजित कई व्यापारी मिलन समारोह में शामिल हुए। इस दौरान प्रत्याशियों ने व्यापारियों से भेंट करते हुए जय व्यापार पैनल को समर्थन देने की अपील की। वहीं सभी व्यापारियों ने भी पैनल को अपना समर्थन देने की घोषणा करते हुए इस बार- जय व्यापार के नारे लगाए। कार्यक्रम को प्रदेश कोषाध्यक्ष प्रत्याशी उत्तम गोलछा, प्रदेश चुनाव सहसंचालक गारगी शंकर मिश्र, उपाध्यक्ष प्रत्याशी महेश बंसल एवं मंत्री प्रत्याशी मनोज बक्त्यानी ने भी संबोधित किया। 

जय व्यापार पैनल से प्रदेश अध्यक्ष प्रत्याशी अमर पारवानी ने कहा कि भिलाई के हमारे साथियों ने हमेशा ही हमें अपना स्नेह और आशीर्वाद दिया है। हमारे साथियों की ये विशाल भीड़ इस बात को साबित करती है जो सभी परिवर्तन चाहते हैं। सभी काम करने वाले प्रत्याशी को चेम्बर का नेतृत्व सौंपना चाहते हैं। श्री पारवानी ने कहा कि यह कोई राजनीतिक चुनाव नहीं है जहां हम मतदाताओं को प्रलोभन देकर वोट मांगे। यह चुनाव व्यापारिक संगठन का चुनाव है, जिसमें हमारी प्राथमिकता केवल व्यापारी हित है। हमने सदैव ही व्यापारी हित में कार्य करने का प्रयास किया है और सभी व्यापारी साथियों के सहयोग से इसमें सफल हुए हैं। श्री पारवानी ने व्यापारी साथियों से अपील करते हुए कहा कि अपना मतदान अवश्य करें और उसे चुनें जो 24 घंटे 365 दिन आपकी सेवा और सहयोग करने के लिए तत्पर रहे। जय व्यापार पैनल के साथियों ने कोरोनाकाल में 24 घंटे व्यापारियों की समस्याओं के समाधान में जुटे रहे। उन्होंने कहा हम बगैर स्वार्थ के चुनाव लड़ रहे हैं। साथ ही यह कहा कि पहली बार प्रदेश महामंत्री के लिए भिलाई- दुर्ग से अजय भसीन को प्रत्याशी बनाया गया है। इसलिए भिलाई- दुर्ग के व्यापारी 100 प्रतिशत मतदान करें, ये भिलाई-दुर्ग के व्यापारियों के लिए गर्व की बात है। 

व्यापारी हित में कार्य किया और आगे भी करता  रहूंगा - भसीन
प्रदेश महामंत्री पद के प्रत्याशी अजय भसीन ने उपस्थितजनों का अभिनंदन करते हुए कहा कि भिलाई- दुर्ग के व्यापारी साथियों, आपकी संगठन क्षमता के दम पर ही जय व्यापार पैनल ने प्रदेश महामंत्री पद का प्रत्याशी बनाया है। मैंने सदैव व्यापारी हित में कार्य किया है और आगे भी करता रहूंगा। मैं प्रदेश के सभी व्यापारी साथियों का आभारी हूं जिन्होंने मुझे अपना स्नेह और आशीर्वाद दिया है। मैं सभी को विश्वास दिलाता हूं कि व्यापारी हित में आगे भी कार्य करता रहूंगा। 

कार्यक्रम में मुख्य रूप से भिलाई से पवन अग्रवाल, अनिल जेठानी, रमन्ना, नरेंद्र भाई, सम्मन लाल, कोमल जैन, शिवराज शर्मा, अखराज ओस्तवाल, भीमसेन सेतपाल, शिव कुमार प्रजापति, राजीव गुप्ता, सुधाकर शुक्ला, चिन्ना राव, आनंद अग्रवाल, प्रेम गहलोत, विनोद मिश्रा, विजय सिंह, मनोज माखीजा, अमित पाण्डेय, सम्मन भाई, लक्ष्मण आयलानी, हरीश शर्मा, राकेश मल्होत्रा, विनोद प्रसाद, आत्माराम सावलानी, राहुल चेलानी, नरेश विसवानी, उत्तम जैन, हेमंत अरोरा, अनिल खन्ना, पम्मा भाई, राजनांदगांव से शरद अग्रवाल गुरमुख दास जी वाधवा संजय तेजवानी संजय रिजवानी सूरज खंडेलवाल सुमित खंडेलवाल रेख चंद जैन रूबी गरचा राजू भंसाली मतीन अहमद हरीश मोटलानी घनश्याम वाधवानी आलोक तिवारी भागचंद गिड़िया नथमल कोटडिया विनेश चोपड़ा संजय छाजेड़ संजय बहादुर सिंह मनोज वैद्य रोहित माखीजा प्रकाश कांकरिया मनोज ओस्तवाल अजय वैद्य ओमप्रकाश भूतड़ा विजय छाजेड़ नवीन मखीजा पंकज मखीजा धीरज मोटवानी साहिल जुमनानी सहित बड़ी संख्या में सम्मानित व्यापारीगण उपस्थित थे।
गिरते-गिरते 43 हजार रुपये तोला के करीब पहुंचा सोना, अभी इतने रुपए के स्तर तक जा सकता है

गिरते-गिरते 43 हजार रुपये तोला के करीब पहुंचा सोना, अभी इतने रुपए के स्तर तक जा सकता है

मुंबई , सोने की कीमतों में तगड़ी तेजी देखे जाने के बाद अब सोना लगातार गिरता ही जा रहा है। सोने की कीमत में गिरावट दर्ज की गई और सोना 44 हजार के स्तर से भी नीचे चला गया। बल्कि यूं कहें कि सोना अब 43 हजार रुपये प्रति प्रति ग्राम के स्तर के बेहद करीब आ पहुंचा है। सोने ने पिछले साल अगस्त में 56,310 का उच्चतम स्तर छुआ था, लेकिन अब 43 हजार के करीब आ पहुंचा है। यानी सोने की कीमत 20 फीसदी से भी अधिक गिर चुकी है। ऐसे में सवाल ये है कि अभी सोना और गिरेगा या अब इसमें तेजी देखने को मिलेगी। अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना गुरुवार को ही 1700 डॉलर प्रति औंस से नीचे गिर चुका है यानी 43,900 के लेवल के भी नीचे आ चुका है। वहीं अगस्त में सोने ने 2010 डॉलर प्रति औंस का उच्चतम स्तर छुआ था, जिससे अब तक 15 फीसदी की गिरावट आ चुकी है।
एनालिस्ट मान रहे हैं कि अभी सोने में गिरावट और आएगी। माना जा रहा है कि सोना 1500 डॉलर प्रति औंस तक गिर सकता है, जिसके बाद इसमें स्थिरता दिखेगी। यानी इस हिसाब से भारतीय रुपयों में देखा जाए तो सोना करीब 38,800 रुपये प्रति 10 ग्राम के लेवल के करीब पहुंच सकता है।
 

विश्व में सर्वाधिक विदेशी मुद्रा भंडार वाले देशों की सूची में भारत  इस स्थान पर

विश्व में सर्वाधिक विदेशी मुद्रा भंडार वाले देशों की सूची में भारत इस स्थान पर

26 फरवरी, 2021 को समाप्त हुए सप्ताह के दौरान भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 689 मिलियन डॉलर की वृद्धि के साथ 584.55 अरब डॉलर पर पहुँच गया है। विश्व में सर्वाधिक विदेशी मुद्रा भंडार वाले देशों की सूची में भारत पांचवें स्थान पर है, इस सूची में चीन पहले स्थान पर है।

विदेशी मुद्रा भंडार
इसे फोरेक्स रिज़र्व या आरक्षित निधियों का भंडार भी कहा जाता है भुगतान संतुलन में विदेशी मुद्रा भंडारों को आरक्षित परिसंपत्तियाँ’ कहा जाता है तथा ये पूंजी खाते में होते हैं। ये किसी देश की अंतर्राष्ट्रीय निवेश स्थिति का एक महत्त्वपूर्ण भाग हैं। इसमें केवल विदेशी रुपये, विदेशी बैंकों की जमाओं, विदेशी ट्रेज़री बिल और अल्पकालिक अथवा दीर्घकालिक सरकारी परिसंपत्तियों को शामिल किया जाना चाहिये परन्तु इसमें विशेष आहरण अधिकारों , सोने के भंडारों और अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष की भंडार अवस्थितियों को शामिल किया जाता है। इसे आधिकारिक अंतर्राष्ट्रीय भंडार अथवा अंतर्राष्ट्रीय भंडार की संज्ञा देना अधिक उचित है।

26 फरवरी, 2021 को विदेशी मुद्रा भंडार
विदेशी मुद्रा संपत्ति (एफसीए): $542.615 बिलियन
गोल्ड रिजर्व: $35.421 बिलियन
आईएमएफ के साथ एसडीआर: $ 1.517 बिलियन
आईएमएफ के साथ रिजर्व की स्थिति: $ 5.001 बिलियन 

 12 हजार रुपये से भी अधिक सस्ता हुआ सोना, चांदी में भी भारी गिरावट

12 हजार रुपये से भी अधिक सस्ता हुआ सोना, चांदी में भी भारी गिरावट

नई दिल्ली। सोने-चांदी में गिरावट का सिलसिला जारी रहा। दिल्ली के सर्राफा बाजार में शुक्रवार को सोने का भाव 522 रुपये की गिरावट के साथ 43,887 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गया। पिछले कारोबारी सत्र में सोना 44,409 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। वहीं दूसरी तरफ चांदी 1,822 रुपये गिरकर 64,805 रुपये प्रति किलो ग्राम पर पहुंच गई है. जो पिछले कारोबारी सत्र में 66,627 रुपये प्रति किलो ग्राम पर बंद हुई थी। पिछले साल 4 मार्च 2020 को दिल्ली के सर्राफा बाजार में सोने की कीमत 43,228 रुपये से बढ़कर 44,383 रुपये प्रति 10 ग्राम हुई थी।
 रायपुर सराफा में सोने-चांदी की कीमतों में लगातार कमी

रायपुर सराफा में सोने-चांदी की कीमतों में लगातार कमी

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के सराफा बाजार में सोने-चांदी की कीमतों में इस महीने के प्रथम चार दिनों में लगातार कमी आती गई है। सराफा एसोसिएशन रायपुर के अध्यक्ष हरख मालू से प्राप्त जानकारी के अनुसार रायपुर सराफा में सोने का भाव जहां एक मार्च को 47 हजार 600 रूपए प्रति दस ग्राम था, वहीं यह कल 4 मार्च को घटकर 46 हजार 800 रूपए हो गया। इस प्रकार सोने के भाव में 4 दिनों में प्रति 10 ग्राम 800 रूपए की कमी दर्ज की गई। इसी कड़ी में चांदी का भाव एक मार्च को 70 हजार 600 रूपए प्रति किलो था जो कल 4 मार्च को घटकर 68 हजार 300 रूपए हो गया। इस तरह चांदी की कीमत में प्रति किलो 2300 रूपए की कमी आई। 
 सस्ता हुआ सोना, चांदी में भी आई भारी गिरावट

सस्ता हुआ सोना, चांदी में भी आई भारी गिरावट

नई दिल्ली। दिल्ली सर्राफा बाजार में सोने का भाव 217 रुपये नरम हो कर 44,372 रुपये प्रति दस ग्राम पर आ गया। एचडीएफसी सिक्यूरिटीज के अनुसार कोविड-19 महामारी को रोकने के लिए टीकाकरण अभियान तेज होने से बाजार में निवेशकों में जोखिम उठाने का मनोबल सुधरा है और वे निवेश के लिए सुरक्षित माने जाने वाले सोने की जगह दूसरी सम्पत्तियों पर दाव लगाने को प्रेरित हुए हैं। सोना बुधवार को 44,589 रुपये प्रति दस ग्राम के भाव पर बंद हुआ था। सोने ही तरह चांदी भी 1,217 नीचे खिसक कर 66,598 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गयी।एक दिन पहले भाव 67,815 पर बंद हुआ था। एचडीएफसी सिक्यूरिटीज के वरिष्ठ विश्लेषक (जिंस) तपन पटेल ने कहा,'रुपये की विनिमय दर में गिरावट के बावजूद दिल्ली बाजार में 24 कैरेट सोने का हाजिर भाव 217 रुपये नीचे आना पिछले दिन में वायदा बाजार में इस धातु के भाव में आई गिरावट से प्रेरित है।ÓÓ उन्होंने कहा कि कोविड की वैक्सीन से निवेशकों का मनोबल ऊंचा हुआ है और वे सोने की ओर से निकल कर दूसरे निवेशों में जोखिम उठाना चाहते हैं। इससे सोने की मांग कम हुई है। अंतरराष्ट्रीय बजाार में सोना थोड़ा चढ़कर 1,717 डालर प्रति औंस और चांदी भी थोड़ी कड़क हो कर 26.09 डालर प्रति औंस पर चल रही थी।
 रेलवे का झटका: तीन से पांच गुना महंगा हुआ प्लेटफॉर्म टिकट

रेलवे का झटका: तीन से पांच गुना महंगा हुआ प्लेटफॉर्म टिकट

नई दिल्ली। कोरोना काल में बंद हुई प्लेटफॉर्म टिकटों की बिक्री रेलवे स्टेशनों पर फिर से शुरू हो गई है। लेकिन अब कीमत पहले के मुकाबले तीन गुना ज्यादा चुकानी होगी। एक प्लेटफॉर्म टिकट की कीमत अब 30 रुपये होगी, जो पहले 10 रुपये हुआ करती थी। दरअसल कोरोना से निपटने के लिए लागू लॉकडाउन के दौरान जब बंदिशें लागू हुई थीं तो प्लेटफॉर्म टिकटों की बिक्री भी बंद हो गई थी। इसके बाद स्पेशल ट्रेनें तो चलनी शुरू हुईं, लेकिन यात्रियों के अलावा किसी और को स्टेशन परिसर में जाने की अनुमति नहीं थी। अब यह अनुमति मिल गई है, लेकिन तीन गुना महंगे प्लेटफॉर्म टिकट के साथ ही एंट्री हो सकेगी। दिल्ली ही नहीं, मुंबई में भी प्लेटफॉर्म टिकट के रेट बढ़ा दिए गए हैं। बल्कि यहां तो रेलवे ने 5 गुणा कीमत कर दी है। सेंट्रल रेलवे ने मुंबई मेट्रोपॉलिटन रीजन के कुछ प्रमुख स्टेशनों पर प्लेटफॉर्म टिकटों की कीमत बढ़ा दी है। रेलवे के मुताबिक मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस, दादर और लोकमान्य तिलक टर्मिनस में 10 रुपये की पिछली दर के बजाय प्लेटफॉर्म टिकट की कीमत 50 रुपये कर दी गई है।

वहीं दूसरी तरफ रेलवे ने मुफ्त वाई-फाई सुविधा देने के साथ भी कमाई का जरिया भी ढ़ूंढ़ लिया है। रेलवे स्टेशनों पर हाईस्पीड वाई-फाई की सुविधा के लिए भी आब आपको जेब ढीली करनी होगी। इस सुविधा को इस्तेमाल करने के लिए कम से कम 10 रुपये चार्ज वसूला जाएगा। रेलवे ने 4,000 से अधिक स्टेशनों के लिए पेड वाई-फाई प्लान को लॉन्च किया है। हालांकि यात्रियों को पहले से चल रहे आधा घंटा का मुफ्त वाई-फाई का लाभ मिलता रहेगा। आधे घंटे के बाद अगर आप पांच जीबी डाटा का इस्तेमाल करते है तो इसके लिए 10 रुपये चुकाना होगा।

प्लेटफॉर्म टिकट के रेट में हुई वृद्धि के साथ ही रेलवे की ओर से लोकल किराया में भी बढ़ोतरी कर दी गई है। रेलवे की ओर से पैसेंजर ट्रेन की जगह एक्सप्रेस ट्रेन की सेवा शुरू की गई है, जिसके किराये में भी बढ़ोतरी हुई है। मुसाफिरों को 10 की जगह 30 रुपये देकर लोकल में सफर करना होगा।

अगर आपको दिल्ली से गाजियाबाद का सफर तय करना है तो उसके लिए 10 रुपये की जगह 30 रुपये देने पड़ेंगे। जाहिर सी बात है इस फैसले से रेलवे ने यात्रा शुरू कर एक तरफ से यह सहूलियत दी है। वहीं दूसरी तरफ आम आदमी की जेब पर भी इसका सीधा असर पडऩे वाला है।
एक्सिस बैंक ने व्हाट्सएप बैंकिंग लॉन्च की

एक्सिस बैंक ने व्हाट्सएप बैंकिंग लॉन्च की

एक्सिस बैंक ने 3 मार्च 2021 को अपने ग्राहकों की बैंकिंग जरूरतों को पूरा करने में मदद करने और संबोधित करने के उद्देश्य से व्हाट्सएप बैंकिंग शुरू की है। व्हाट्सएप बैंकिंग ग्राहक को कहीं भी और कभी भी चैटिंग एप्पपर बैंक का उपयोग करने में मदद करेगी। इस सेवा का लाभ कैसे उठाया जा सकता है? व्हाट्सएप बैंकिंग सेवाओं का लाभ उठाने के लिए, ग्राहकों को निर्दिष्ट एक्सिस बैंक नंबर के साथ चैट शुरू करना होगा और विवरण मांगना होगा। यह सेवा ग्राहकों को उनके खाते की शेष राशि, क्रेडिट कार्ड भुगतान, हालिया लेनदेन, सावधि और आवर्ती जमा विवरण के संबंध में जानकारी मांगने की अनुमति देगी।

एक्सिस बैंक व्हाट्सएप बैंकिंग
यह सेवा छुट्टियों के दिन सहित 24 × 7 उपलब्ध होगी। यह बैंक के गैर-ग्राहकों दोनों के लिए उपलब्ध होगा। एक्सिस बैंक ने कहा है कि यह सेवा सुरक्षित है क्योंकि यह एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन मोड पर काम करती है। यह सेवा बैंक द्वारा बैंक के “दिल से ओपन” विचारधारा के अनुरूप शुरू की गई है।

WhatsApp Payments
यह एक पीयर-टू-पीयर मनी ट्रांसफर सुविधा है। यह सुविधा वर्तमान में केवल भारत में उपलब्ध है। इस मैसेजिंग एप्लिकेशन को जुलाई 2017 में अपनी भुगतान सेवाओं को शुरू करने के लिए भारतीय बैंकों के साथ साझेदारी करने के लिए नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ़ इंडिया (NPCI) से अनुमति प्राप्त हुई थी। यह एप्प अब अपने उपयोगकर्ताओं को इन-ऐप भुगतान और मनी ट्रांसफर करने की अनुमति देता है। 

भारत में अप्रैल से दिसंबर के दौरान 67.54 अरब अमेरिकी डॉलर एफडीआई आया

भारत में अप्रैल से दिसंबर के दौरान 67.54 अरब अमेरिकी डॉलर एफडीआई आया

भारत के आर्थिक विकास में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) एक अहम भूमिका रही है। यह बिना कर्ज लिए पूंजी जुटाने का एक महत्वपूर्ण स्रोत है। सरकार का प्रयास रहा है कि वह एक सक्षम और निवेशक अनुकूल एफडीआई नीति लागू करे। एफडीआई नीति को निवेशकों के लिए और अधिक अनुकूल बनाने और निवेश के रास्ते में आने वाली नीतिगत अड़चनों को दूर करने के लिए लगातार कदम उठाए जा रहे हैं। पिछले साढ़े छह साल में इस दिशा में उठाए गए कदमों का परिणाम है कि देश में एफडीआई प्रवाह लगातार, रिकॉर्ड स्तर पर बढ़ता जा रहा है। एफडीआई क्षेत्र में लगातार उदारीकरण और सरलीकरण की नीति के तहत सरकार ने विभिन्न सेक्टर में एफडीआई से संबंधित सुधार किए हैं। सरकार द्वारा एफडीआई नीति में सुधार, निवेश प्रक्रिया सरल और बिजनेस करना आसान करने जैसे उठाए गए कदमों का ही परिणाम है कि देश में एफडीआई प्रवाह बढ़ गया है। प्रत्यक्ष विदेशी निवेश में निम्नलिखित रुझानों से साफ है कि भारत, वैश्विक निवेशकों के लिए निवेश का एक प्रमुख स्थान बन गया है: अप्रैल से दिसंबर, 2020 के दौरान, 67.54 अरब अमेरिकी डॉलर का एफडीआई देश में आया है। यह किसी वित्त वर्ष के पहले 9 महीनों में आया सबसे अधिक एफडीआई है। वित्त वर्ष 2019-20 की इसी अवधि की तुलना में एफडीआई 22 फीसदी बढ़ा है। इस दौरान 55.14 अरब डॉलर का एफडीआई आया था। वित्त वर्ष 2020-21 के पहले 9 महीनों के दौरान, इक्विटी के जरिए आने वाले एफडीआई में 40 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। जो कि इस अवधि में 51.47 अरब अमेरिकी डॉलर था। वित्त वर्ष 2019-20 की इसी अवधि में इक्विटी के जरिए 36.77 अरब अमेरिकी डॉलर एफडीआई आया था। अकेले वित्त वर्ष 2020-21 की तीसरी तिमाही में 26.16 अरब अमेरिकी डॉलर का एफडीआई आया है। जो कि 2019-20 में आए एफडीआई 19.09 अरब अमेरिकी डॉलर की तुलना में 37 फीसदी ज्यादा है। इसी तरह केवल दिसंबर 2020 में 9.22 अरब अमेरिकी डॉलर का एफडीआई आया है। जो कि दिसंबर 2019 के 7.46 अरब अमेरिकी डॉलर की तुलना में 24 फीसदी ज्यादा है।  

 वायदा बाजार में सोने में गिरावट बढ़ी, ऑल टाइम हाई से 11,500 रुपये नीचे आ चुके हैं भाव

वायदा बाजार में सोने में गिरावट बढ़ी, ऑल टाइम हाई से 11,500 रुपये नीचे आ चुके हैं भाव

नई दिल्ली। आज कारोबार के शुरुआत में एमसीएक्स पर सोना अप्रैल वायदा 0.4 फीसदी की गिरावट के साथ 10 महीने के निचले स्तर 44,768 प्रति 10 ग्राम पर कारोबार करता हुआ देखा गया, जबकि चांदी 0.8 फीसदी फिसलकर 67,473 प्रति किलोग्राम पर आ गई. पिछले सत्र में, सोने के भाव में 1.2 फीसदी यानी 600 रुपये प्रति 10 ग्राम की गिरावट दर्ज की गई थी. जबकि चांदी 1.6 फीसदी यानी 1,150 प्रति किलोग्राम फिसली थी.

2020 में आई मजबूती के बाद, इच्टिी बाजारों में बढ़ोतरी जारी है. इसके साथ अमेरिकी बॉन्ड यील्ड की बढ़त के बीच इस साल सोने पर दबाव देखा जा रहा है. इस साल की शुरुआत से सोना 5,000 रुपये से अधिक टूट चुका है. अगस्त 2020 के 56,200 रुपये के उच्च स्तर से यह 11,500 रुपये नीचे आ चुका है.

ग्लोबल मार्केट में, आज सोने का भाव 1,711 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार करता हुआ देखा गया. अन्य कीमती धातुओं में चांदी 0.4 फीसदी बढ़कर 26.18 डॉलर प्रति औंस हो गई. अमेरिका में बॉन्ड की यील्ड में मजबूती का असर सोने पर पड़ा है. अमेरिका में बेंचमार्क यूएस ट्रेजरी की यील्ड करीब 1.5 फीसदी के करीब पहुंच गई. उधर, दुनिया के सबसे बड़े गोल्ड एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड, एसपीडीआर गोल्ड ट्रस्ट की होल्डिंग बुधवार को 0.4 फीसदी गिरकर 1,082.38 टन रही.

अगर आप सोने में निवेश करना चाहते हैं तो आपके लिए यह सही समय है. केंद्र सरकार ने सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम की शुरुआत की है. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की 12वीं सीरीज एक मार्च से शुरू हो गई है और पांच मार्च तक आप इसमें निवेश कर पाएंगे. यह स्कीम चालू वित्त वर्ष की आखिरी सीरीज है. इसमें सबसे खास बात यह है कि इस बार सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की कीमत दस महीने में सबसे कम है यानी 10 महीने के निचले स्तर पर है. भारतीय रिजर्व बैंक ने इस बार गोल्ड सब्सक्रिप्शन की कीमत 4,662 रुपये प्रति ग्राम तय की है.अगर आप ऑनलाइन आवेदन करेंगे तो आपको प्रति ग्राम पर 50 रुपये की छूट मिलेगी. इसका मतलब यह हुआ कि आप एक ग्राम सोने के लिए 4,612 रुपये खर्च करेंगे.
 व्हाट्सऐप वेब यूजर्स के लिए अब जल्द ही आने वाला है वॉयस कॉलिंग फीचर

व्हाट्सऐप वेब यूजर्स के लिए अब जल्द ही आने वाला है वॉयस कॉलिंग फीचर

नई दिल्ली। यूं तो यह चर्चा काफी लंबे समय से चल रही है कि व्हाट्सऐप वेब यूजर्स को वीडियो और वॉयस कॉलिंग फीचर मिलने वाला है। लेकिन अब यह फीचर जल्द रोलआउट होने वाला है इसकी उम्मीद दिखने लगी है।

रिपोर्ट के अनुसार डेस्कटॉप कॉलिंग सर्विस बीटा वर्जन से आउट हो गई है। जल्द ही 2.2104.10 वेब/डेस्कटॉप वर्जन यूज करने वाले व्हाट्सऐप यूजर्स इस सर्विस का फायदा उठा पाएंगे। दरअसल पिछले साल दिसंबर में व्हाट्सऐप ने चुनिंदा वेब और डेस्कटॉप यूजर्स को ऑडियो और वीडियो कॉलिंग सेवा उपलब्ध कराई थी। अब जल्द व्हाट्सऐप यह सुविधा अपने सभी यूजर्स के लिए रोलआउट करने की तैयारी कर रहा है। यदि यह सर्विस आपके लिए लाइव होगी तो आपको पर्सनल चैट स्क्रीन पर वीडियो और वॉयस कॉलिंग का आइकन सर्च बटन के साथ में दिखेगा। 

रिपोर्ट्स के मुताबिक जब भी आपके पास व्हाट्सऐप वेब पर कॉल आएगा तो एक अलग विंडो पॉप अप होगी, जिसके उपयोग से आप आने वाली कॉल को स्वीकार, अस्वीकार या अनदेखा कर सकते हैं।

बता दें कि अभी व्हाट्सऐप पर ऑडियो और वीडियो कॉल की सुविधा सिर्फ स्मार्टफोन से ही मुमकिन है। वीडियो और वॉयस कॉल का सपोर्ट चीज़ों को और भी सहज बनाने का काम करेगा, क्योंकि यूज़र्स को अपने डेस्कटॉप व लैपटॉप पर काम के बीच कॉल व वीडियो कॉल करने की सुविधा प्राप्त होगी। उन्हें कॉल करने के लिए डेस्कटॉप व लैपटॉप से फोन की तरफ स्विच करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। वॉट्सऐप वेब वर्जन पर पहले से मेसेंजर के लिए सपॉर्ट उपलब्ध है। विडियो और वॉइस कॉल ऑप्शन आने के साथ ही वॉट्सऐप वेब यूजर्स के लिए ये एक्सपीरियंस और बेहतर होगा। व्हाट्सएप ने अभी इस फीचर के बारे में कोई जानकारी साझा नहीं की है और न ही यह बताया है कि इसे पब्लिक के लिए कब उपलब्ध कराया जाएगा।