कोरोना अपडेट 17 जनवरी : प्रदेश में आज रायपुर जिले में मिले सर्वाधिक कोरोना मरीज, लापरवाही पढ़ रही है भारी, देखें जिलेवार आंकड़े    |    कोरोना अपडेट 16 जनवरी: प्रदेश में आज थोडा कम हुआ कोरोना का कहर मिले इतने लेकिन रायपुर अभी भी बना हुआ है हॉटस्पॉट, 7 लोगो की हुई मृत्यु, देखे जिलेवार आकड़े    |    क्या देश में आ चुका है कोरोना की तीसरी लहर का पीक? 24 घंटे में मिले 2.71 लाख केस    |    कोरोना अपडेट 15 जनवरी: प्रदेश में आज कोरोना से मौत ने मचाया कहर इतने लोगो की हुई मृत्यु, रायपुर अभी भी बना हुआ है हॉटस्पॉट, 5525 मिले नए मरीज, देखे जिलेवार आकड़े    |    BIG BREAKING : राजधानी में आज मिले 20 हजार से अधिक नए कोरोना मरीज, कोरोना ने ढाया कहर, पॉजिटिविटी रेट पहुंची 30.64 प्रतिशत    |    BIG BREAKING : राजधानी के इस अस्पताल में 1 माह के बच्चे ने दिया कोरोना को मात, डिस्चार्ज के समय भावुक हुआ हॉस्पिटल स्टाफ    |    CDS बिपिन रावत हेलिकॉप्टर हादसे का हुआ खुलासा, वायुसेना ने हादसे की बताई ये वजह, पढ़ें पूरी खबर    |    कोरोना अपडेट 14 जनवरी: प्रदेश में आज भी रायपुर समेत ये जिले बने हुए है हॉटस्पॉट, 6 हजार से अधिक कोरोना मरीजों की हुई पहचान 5 की मृत्यु, देखे जिलेवार आकड़े    |    कोरोना अपडेट 13 जनवरी: प्रदेश में आज 6 हजार से ज्यादा कोरोना मरीजों की हुई पहचान, वही 4636 ने जीती कोरोना से जंग 7 की मृत्यु, देखे जिलेवार आकड़े    |    Train Accident: 12 बोगियां पटरी उतरीं; 4 यात्रियों की मौत, 20 घायल    |
IPO पर इन्वेस्ट करने वाले हो जाए अलर्ट : इस महीने आने वाला है कई बड़ी कंपनियों का आईपीओ, मिलेगा शानदार कमाई का मौका

IPO पर इन्वेस्ट करने वाले हो जाए अलर्ट : इस महीने आने वाला है कई बड़ी कंपनियों का आईपीओ, मिलेगा शानदार कमाई का मौका

नई दिल्ली | बीता साल आईपीओ से गुलजार रहा. कुछ ऐसे आईपीओ रहे, जिन्होंने अपने निवेशकों को जबरदस्त कमाई कराई है. हालांकि कई आईपीओ ऐसे रहे जिन्होंने निवेशकों की कमाई ही लुटा दी. लेकिन कुल आईपीओ रिटर्न का औसत देखा जाए तो पिछला साल कमाई वाला ही साबित रहा. इस साल भी स्टॉक मार्केट आईपीओ से गुलजार रहेगा. इस साल कई बड़ी कंपनियों के आईपीओ पाइप लाइन में हैं. कंपनियों को बीते साल की तेजी के बाद इस साल में भी अच्छी रकम जुटाने की उम्मीद है.

इस महीने देश के दिग्गज कारोबारी गौतम अडानी की कंपनी अडानी विल्मर, बाबा रामदेव की कंपनी रुचि सोया (Ruchi Soya IPO) के आईपीओ आने वाले हैं. इनके अलावा गो एयरलाइन्स और एलआईसी जैसे बड़े आईपीओ भी आएंगे. मोबिक्विक का आईपीओ भी इसी महीने आने की उम्मीद है. ईएसएएफ स्मॉल फाइनेंस बैंक लिमिटेड और ट्रैक्सन टेक्नोलॉजीज़ का आईपीओ भी जल्द ही आएगा.

अडानी विल्मर आईपीओ (Adani Wilmar IPO)
इसी महीने अडानी विल्मर का आईपीओ आने वाला है, जो करीब 4500 करोड़ रुपये का होगा. अडानी विल्मर, अडानी ग्रुप की सातवीं कंपनी होगी जो बाजार में लिस्ट होगी. Adani Wilmar IPO पूरी तरह फ्रेश इश्यू होगा. कंपनी आईपीओ से जुटाये जाने वाले पैसों का इस्तेमाल कर्ज वापस करने और कारोबार को विस्तार देने में करेगी.

अडानी विल्मर कंपनी
Adani Wilmar खाद्य तेल का मशहूर ब्रांड फॉर्च्यून बनाती है. यह कंपनी चावल, सोयाबिन, बेसन, दाल, वनस्पति, खिचड़ी, साबुन, आटा, चीनी समेत दर्जनों सामान तैयार करती है. ज्यादातर सामान Fortune ब्रांच नाम से आते हैं. अडानी विल्मर कंपनी की स्थापना अडानी ग्रुप और सिंगापुर की कंपनी Wilmar कंपनी के साथ ज्वॉइंट वेंचर के तौर पर 1999 में हुई थी. दोनों कंपनियों की हिस्सेदारी 50-50 प्रतिशत की है.

अडानी विल्मर का खाद्य तेल बाजार में देश में इसका सबसे बड़ा डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क है. इस कंपनी के पूरे देश में 85 स्टॉक प्वाइंट और 5000 डिस्ट्रीब्यूटर्स हैं. रिटेल मार्केट में इसकी हिस्सेदारी करीब 10 फीसदी है. पूरे देश के करीब 15 लाख रिटेल आउटलेट पर इसका प्रोडक्ट उपलब्ध होता है. अडानी विल्मर का सालाना टर्नओवर 30 हजार करोड़ रुपये से अधिक का है जिसमें 24 हजार करोड़ रुपये खाद्य तेल बिजनेस से हैं.

सिर्फ 1122 रुपये की शुरुआती कीमत में करें हवाई सफर, 5 जनवरी तक मिला मौका

सिर्फ 1122 रुपये की शुरुआती कीमत में करें हवाई सफर, 5 जनवरी तक मिला मौका

अगर आप हवाई सफर की योजना बना रहे हैं तो स्पाइसजेट के Wow Winter Sale ऑफर का फायदा उठा सकते हैं। इस सेल ऑफर के तहत सिर्फ 1122 रुपये की शुरुआती कीमत में एयर टिकट बुक कराने का मौका मिलेगा। अहम बात ये है कि इस ऑफर की अवधि 5 जनवरी तक है। मतबल ये कि आप 5 जनवरी तक ऑफर के तहत कम कीमत में टिकट बुक करा सकते हैं।
कब से कब तक सफर का मौका:
इस ऑफर के तहत टिकट बुकिंग के बाद ट्रैवल पीरियड 15 जनवरी से 15 अप्रैल 2022 तक के लिए है। अगर आप ट्रैवल प्लान में बदलाव करते हैं तो इसके लिए अतिरिक्त शुल्क देने की जरूरत नहीं होगी। आप पहली बार फ्री में बदलाव कर सकते हैं।
इसके साथ ही अगली यात्रा के लिए पैसेंजर को 500 रुपये का फ्री फ्लाइट वाउचर भी मिलेगा। यह 30 सितंबर, 2022 तक की यात्रा अवधि के लिए वैलिड है। इसका लाभ लेने के लिए डिपार्चर डेट से कम से कम 15 दिन पहले बुकिंग करनी होगी।
 

BIG NEWS : इन वस्तुओ के दामो में होगी वृद्धि, यहाँ देखे....

BIG NEWS : इन वस्तुओ के दामो में होगी वृद्धि, यहाँ देखे....

नई दिल्ली : एक जनवरी खाने-पीने का सामान ऑनलाइन मंगाना नए साल की शुरुआत यानी आज से महंगा होने जा रहा है। खाने-पीने के सामान की ऑनलाइन डिलिवरी करने वाली स्विगी और जोमैटो जैसी कंपनियों को अब ग्राहकों से पांच प्रतिशत कर जुटाना होगा और उसे सरकार के पास जमा करना होगा। ऐसे फूड वेंडर जो अभी माल एवं सेवा कर (जीएसटी) के दायरे से बाहर हैं, यदि वे ग्राहकों को ऑनलाइन ऑर्डर के जरिये आपूर्ति करते हैं तो उन्हें जीएसटी देना होगा। अभी जीएसटी के तहत पंजीकृत रेस्तरां ग्राहकों से कर वसूलते हैं और सरकार के पास जमा कराते हैं। इसके अलावा शनिवार से ही ऐप आधारित कैब सेवा कंपनियों मसलन उबर और ओला को भी दोपहिया और तिपहिया वाहनों की बुकिंग पर पांच प्रतिशत जीएसटी का संग्रह करना होगा। वहीं आज ही से सभी जूते-चप्पलों (फुटवियर) पर 12 प्रतिशत जीएसटी लगेगा। यानी सभी दाम के फुटवियर पर 12 प्रतिशत की जीएसटी दर लागू होगी।


नए साल की शुरुआत से जीएसटी में ये बदलाव लागू हो रहे हैं। इसके अलावा कर अपवंचना रोकने के लिए जीएसटी कानून में संशोधन किया गया है। इसके तहत इनपुट कर क्रेडिट (आईटीसी) अब सिर्फ एक बार मिलेगा। करदाता के जीएसटीआर 2बी (खरीद रिटर्न) में 'क्रेडिटÓ दर्ज होने के बाद इसे दिया जाएगा। जीएसटी नियमों के तहत पहले पांच प्रतिशत का 'अस्थायीÓ क्रेडिट दिया जाता था। एक जनवरी, 2022 से इसकी अनुमति नहीं होगी।


ईवाई इंडिया के कर भागीदार विपिन सपरा ने कहा, ''इस बदलाव का करदाताओं की कार्यशील पूंजी पर तत्काल प्रभाव पड़ेगा, जो अभी तक 105 प्रतिशत के 'क्रेडिटÓ का लाभ ले रहे थे। इस बदलाव से अब उद्योग के लिए भी यह जरूरी हो जाएगा कि वे सही और अनुपालन वाले वेंडरों से खरीद करें। नए साल से कर अपवंचना रोकने के उपायों के तहत जीएसटी रिफंड के लिए आधार सत्यापन को भी अनिवार्य किया गया है। इसमें ऐसी इकाइयां जिन्होंने कर का भुगतान नहीं किया है और पिछले महीने के लिए जीएसटीआर-3बी जमा कराया है, उन्हें जीएसटीआर-1 दाखिल करने की सुविधा नहीं होगी।


अभी तक जीएसटी कानून के तहत यदि कंपनियां या इकाइयां पिछले दो माह का जीएसटीआर-3बी जमा कराने में विफल रहती हैं, तो उन्हें बाहरी आपूर्ति के लिए रिटर्न या जीएसटीआर-1 दाखिल करने की अनुमति नहीं होती थी।
इसके अलावा जीएसटी कानून में संशोधन कर जीएसटी अधिकारियों के अधिकार बढ़ाए गए हैं। जीएसटी अधिकारी बिना किसी कारण बताओ नोटिस के जीएसटीआर-3बी के जरिये कम बिक्री दिखाकर कर का भुगतान करने वाली इकाइयों के परिसर में जाकर बकाया कर की वसूली कर सकते हैं। सपरा ने कहा कि इस कदम से जाली बिलों पर रोक लगेगी। अभी तक विक्रेता खरीदार को ऊंचे आईटीसी का लाभ देने के लिए ऊंची बिक्री दिखाते थे और कम जीएसटी देनदारी को जीएसटीआर-3बी में बिक्री को कम कर दिखाते थे।
 

खुशखबरी.. खुशखबरी.. खुशखबरी : नए साल में इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ने गैस सिलेंडर के कीमतों में की 102.50 रुपए की कटौती

खुशखबरी.. खुशखबरी.. खुशखबरी : नए साल में इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ने गैस सिलेंडर के कीमतों में की 102.50 रुपए की कटौती

नई दिल्ली | नए साल पर एलपीजी ग्राहकों के लिए एक राहत वाली खबर आई है | इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ने 19 किलोग्राम वाले कमर्शियल गैस सिलेंडर की कीमतों में 102.50 रुपए की कटौती की है | नई कीमतें 1 जनवरी 2022 से प्रभावी होंगी | हालांकि घरेलू रसोई गैस की कीमतों में किसी भी तरह का कोई बदलाव नहीं किया गया है | पिछले महीने 1 दिसंबर को 19 किलोग्राम वाली कमर्शियल गैस सिलेंडर की कीमतों में 103.50 रुपये प्रति सिलेंडर तक की बढ़ोतरी की गई थी |

कमर्शियल गैस सिलेंडर की नई कीमतें
IOC के मुताबिक 1 जनवरी 2022 को दिल्ली में कमर्शियल गैस सिलेंडर का दाम 102.50 रुपये घट कर 1,998.5 रुपये हो गया है | मुंबई में 19 किलोग्राम एलपीजी सिलेंडर 102.50 रुपये घटकर 1,948.5 रुपये, कोलकाता में 101 रुपये घटकर 2,076 रुपये और चेन्नई में 103.50 रुपये सस्ता होकर 2,131 रुपये हो गया है |

घरेलू रसोई गैस में कोई बदलाव नहीं
ऑयल मार्केटिंग कंपनियों ने बगैर सब्सिडी वाली 14.2 किलोग्राम की रसोई गैस सिलेंडर के दाम में किसी भी तरह का कोई बदलाव नहीं किया गया है | राजधानी दिल्ली में बगैर सब्सिडी वाले 14.2 किलोग्राम LPG सिलेंडर 899.5 रुपये, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई में रसोई गैस क्रमश: 899.5 रुपये, 926 रुपये और 915.5 रुपये के भाव पर मिल रहा है |

1 जनवरी से लोंगो को कपड़े और फुटवेयर खरीदना होगा महंगा, जानिये क्या है वजह ...

1 जनवरी से लोंगो को कपड़े और फुटवेयर खरीदना होगा महंगा, जानिये क्या है वजह ...

नया साल के अवसर पर कुछ बदलाव होने वाले हैं। इन बदलावों में आम आदमी से लेकर कारोबारी तक प्रभावित होंगे। 1 जनवरी 2022 से कई चीजों पर टैक्स बढ़ रहा है। लिहाजा कपड़े व जूते चप्पल खरीदने से लेकर कैब की ऑनलाइन बुकिंग तक आपको महंगी पड़ने वाली है।


कपड़े और फुटवेयर होंगे  महंगे 
1 जनवरी से कपड़े और फुटवेयर पर 12% GST लगेगा। भारत सरकार ने कपड़ा, रेडीमेड और फुटवेयर पर 7% GST बढ़ा दी है। 1 जनवरी से रेडीमेड गारमेंट्स पर GST की दर 5% से बढ़कर 12% हो जाएगी। इससे रेडीमेड गारमेंट्स की कीमतें बढ़ेंगी। ऐसे में नए साल से रेडीमेट गारमेंट्स खरीदने के लिए ग्राहकों को अधिक पैसे चुकाने पड़ जाएंगे।


कैब बुक या ऑटो रिक्शा करना पड़ेगा महंगा
इसके अलावा ऑनलाइन तरीके से ऑटो रिक्शा या कैब बुकिंग पर 5% GST लगेगा। यानी ओला, उबर जैसे ऐप बेस्ड कैब सर्विस प्रोवाइडर प्लेटफॉर्म से ऑटो रिक्शा बुक करना अब महंगा हो जाएगा। हालांकि ऑफलाइन तरीके से ऑटो रिक्शा के किराए में कोई बदलाव नहीं होगा। उसे टैक्स से बाहर रखा गया है।

ऑनलाइन फूडिंग भी पड़ेगी महंगी
नए साल से फूड डिलीवरी ऐप्स जैसे जोमैटो और स्विगी पर भी 5% GST लगेगा। हालांकि यूजर्स पर इसका कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है क्योंकि यह पहले ही क्लियर किया जा चुका है कि सरकार यह टैक्स ग्राहकों से नहीं, बल्कि ऐप कंपनियों से वसूलेगी।
हालांकि ऐसा देखा जाता है कि अगर सरकार की ओर से किसी कंपनी पर कोई टैक्स लगाया जाता है तो ऐप कंपनियां किसी ना किसी तरीके से उसे ग्राहकों से ही वसूलती हैं। ऐसे में नए साल में ऑनलाइन फूड ऑर्डर करना महंगा हो सकता है।


टैक्स चोरी रोकने के लिए उठाए गये है कदम

टैक्स चोरी रोकने के लिए नए साल में कुछ और कदम उठाए जाएंगे। इनमें GST रिफंड पाने के लिए आधार वैरिफिकेशन अनिवार्य करना, जिन व्यवसायों ने टैक्स अदा नहीं किए हैं, उनकी GSTR-1 फाइलिंग सुविधा पर रोक लगाना आदि शामिल है।

 

 

सोना हुआ महंगा, चांदी के भाव में आया गिरवाट, जानिये कितने रुपये हुआ सस्ता....

सोना हुआ महंगा, चांदी के भाव में आया गिरवाट, जानिये कितने रुपये हुआ सस्ता....

नई दिल्ली : सर्राफा बाजारों में आज सोने-चांदी के रेट में बदलाव देखने को मिल रहा है। सोना जहां महंगा हुआ है, वहीं चांदी सस्ती। इस बदलाव के बाद अब 24 कैरेट शुद्ध सोना अपने ऑल टाइम हाई रेट 56126 रुपये से केवल 79464 रुपये प्रति 10 ग्राम सस्ता और चांदी पिछले साल के अधिकतम रेट 76004 रुपये से 14511 रुपये प्रति किलो ही सस्ती रह गई है।


इंडिया बुलियंस एसोसिएशन द्वारा जारी हाजिर रेट के मुताबिक आज सर्राफा बाजारों में 24 कैरेट शुद्ध सोने का भाव शुक्रवार के बंद रेट के मुकाबले महज 44 रुपये चढ़कर होकर 48308 रुपये पर खुला। वहीं, आज 22 कैरेट सोने का भाव 44250 रुपये प्रति 10 ग्राम पर खुला। जबकि, 18 कैरेट गोल्ड की कीमत अब 36231 रुपये है। वहीं, 14 कैरेट सोने का भाव 28260 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया है। इन पर 3 फीसद जीएसटी और मेकिंग चार्ज अलग से है। अगर चांदी की बात करें तो यह आज 386 रुपये प्रति किलो सस्ती होकर 61497 रुपये पर आ गई है।
 

1 जनवरी से ATM से कैश निकालना पड़ेगा महंगा, जानिए प्रति ट्रांजेक्शन कितना लगेगा चार्ज?

1 जनवरी से ATM से कैश निकालना पड़ेगा महंगा, जानिए प्रति ट्रांजेक्शन कितना लगेगा चार्ज?

1 जनवरी से ATM से कैश निकालना और जमा करना महंगा पड़ने वाला है। बैंक ग्राहक एटीएम से कैश ट्रांजेक्शन (ATM cash withdrawal limit per transaction) के लिए पहले जितना भुगतान कर रहे थे, अब उससे अधिक भुगतान करना होगा। एक जनवरी 2022 से ग्राहकों को फ्री एटीएम ट्रांजैक्शन लिमिट पार करने पर ज्यादा भुगतान करना होगा। जून में ही भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने बैंकों को 1 जनवरी 2022 से मुफ्त मासिक सीमा से अधिक नकद और गैर-नकद एटीएम लेनदेन के लिए शुल्क बढ़ाने की अनुमति दी थी। एक्सिस बैंक ने कहा, “RBI के दिशानिर्देशों के अनुसार, एक्सिस बैंक या अन्य बैंक के एटीएम में 01-01-22 से मुफ्त सीमा से ऊपर का वित्तीय लेनदेन शुल्क ₹21 + GST  होगा। 

कितना लगेगा चार्ज?
वर्तमान में बैंक ATM या कैश रिसाइक्लिर मशीन से कैश और नॉन-कैश ट्रांजेक्शन करने पर महीने में पहले 5 वित्तीय ट्रांजेक्शन फ्री होते हैं। इसके बाद 20 रुपये प्रति वित्तीय ट्रांजेक्शन का चार्ज लगता है। लेकिन 1 जनवरी 2022 से यह चार्ज 21 रुपये प्रति वित्तीय ट्रांजेक्शन होगा। उन्हें मेट्रो शहरों में दूसरे बैंक के एटीएम से 3 ट्रांजेक्शन और नॉन-मेट्रो शहरों में दूसरे बैंक के एटीएम से 5 ट्रांजेक्शन अभी की तरह मुफ्त मिलती रहेंगी। ग्राहक अपने स्वयं के बैंक एटीएम से हर महीने पांच मुफ्त लेनदेन (वित्तीय और गैर-वित्तीय लेनदेन सहित) के लिए पात्र बने रहेंगे। वे मेट्रो सिटी में अन्य बैंक के एटीएम से तीन और गैर-मेट्रो केंद्रों में पांच मुफ्त लेनदेन भी कर सकेंगे।

1 जनवरी से लागू होंगी नई दरें
बता दें कि भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) ने बैंकों को ATM के जरिए तय मुफ्त मंथली लिमिट से ज्यादा बार रकम निकालने या अन्य लेन-देन करने पर ज्यादा चार्ज वसूल की इजाजत दे दी थी। अब 1 जनवरी 2022 से एटीएम से पैसा निकालने या जमा करने की फ्री सीमा के बाद ज्यादा चार्ज वसूल किया जाएगा। 

 

जनवरी में 14 दिन बैंकों में नहीं होगा कामकाज, आरबीआई ने जारी की छुट्टियों की पूरी लिस्ट...

जनवरी में 14 दिन बैंकों में नहीं होगा कामकाज, आरबीआई ने जारी की छुट्टियों की पूरी लिस्ट...

नई दिल्ली, साल 2022 आने में महज चंद दिन ही बाकी है। लोग नए साल का इंतजार बेसब्री से कर रहे हैं। अगले शनिवार से जनवरी 2022 का आगाज हो रहा है, लेकिन बैंक से जुड़े कोई जरूरी काम है तो आपको यह खबर जरूर पढ़नी चाहिए, क्योंकि जनवरी महीने में 14 दिन बैंकों में छुट्टी रहेगी। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने जनवरी 2022 के लिए बैंकों की छुट्टियों की लिस्ट जारी कर दी है।
इस लिस्ट के मुताबिक जनवरी 2022 में बैंक कुल 14 दिन बंद रहेंगे। इस दौरान इनमें कोई कामकाज नहीं होगा। छह दिन तो शनिवार और रविवार की वजह से बैंक बंद रहेंगे। वहीं, एक दिन गणतंत्र दिवस को लेकर बैंकों में छुट्टी रहेगी। इसके अलावा सात दिन अन्य कारणों से भी बैंकों में कामकाज नहीं होंगे। अगर आप इस दौरान बिना छुट्टी की लिस्ट देखे घर से बाहर निकल रहे हैं तो आपको निराश होकर वापस लौटना पड़ेगा। बता दें कि दिसंबर में 12 दिन बैंक बंद रहे हैं। इस दौरान आम लोगों बैंकों से जुड़ा कोई काम नहीं हो सका है। नए साल की शुरुआत शनिवार को हो रही है और साल का पहला दिन होने की वजह से इस दिन बैंकों में छुट्टी रहेगी। साथ ही 2 जनवरी को रविवार है, जिसकी वजह से बैंक बंद रहेंगे।
1 जनवरी शनिवार पहले हफ्ते का साप्तहिक अवकाश एवं नए साल का दिन
2 जनवरी रविवार देश भर में सप्ताह का अवकाश
3 जनवरी सोमवार सिक्किम में नए साल और लासूंग की छुट्टी रहेगी
4 जनवरी मंगलवार सिक्किम में लासूंग पर्व की छुट्टी रहेगी
9 जनवरी रविवार गुरु गोबिंद सिंह जयंती पूरे देश में, पूरे देश में वीक ऑफ
11 जनवरी मंगलवार मिशनरी दिवस मिजोरम
12 जनवरी बुधवार स्वामी विवेकानंद जयंती पर अवकाश रहेगा
14 जनवरी शुक्रवार मकर संक्रांति कई राज्य
15 जनवरी शनिवार पोंगल आंध्र प्रदेश, पुडुचेरी, तमिलनाडु
16 जनवरी रविवार देश भर में सप्ताह का अवकाश
23 जनवरी रविवार नेताजी सुभाष चंद्र बोस जयंती, पूरे देश में वीक ऑफ
25 जनवरी मंगलवार राज्य स्थापना दिवस हिमाचल प्रदेश
26 जनवरी बुधवार गणतंत्र दिवस
31 जनवरी सोमवार असम में कार्यक्रम
इसमें राष्ट्रीय, सार्वजनिक और क्षेत्रीय अवकाश भी शामिल हैं।
 

ग्राहकों की बल्ले-बल्ले: Jio Happy New Year 2022 प्लान लॉन्च, एक रिजार्च में सालभर मिलेंगे ये सारे फायदे

ग्राहकों की बल्ले-बल्ले: Jio Happy New Year 2022 प्लान लॉन्च, एक रिजार्च में सालभर मिलेंगे ये सारे फायदे

नया साल 2022 आ रहा है और सेलिब्रेशन से पहले ही जियो ने अपने ग्राहकों को एक शानदार तोहफा दिया है। दरअसल, जियो ने अपने ग्राहकों के लिए एक नया प्रीपेड प्लान पेश किया है। नए पेश किए गए प्रीपेड प्लान को जियो हैप्पी न्यू ईयर 2022 ऑफर कहा जा रहा है। क्या है इस प्लान में खास, कितनी है कीमत और क्या-क्या फायदे मिलेंगे, जानिए सबकुछ....
ग्राहकों को मिलेंगी ये सारी सुविधाएं
- दरअसल, जियो हैप्पी न्यू ईयर 2022 ऑफर पेश कर दिया है, जिसकी कीमत 2545 रुपये है। यह 365 दिनों की वैधता के साथ आता है, जिसमें ग्राहकों को डेली 1.5GB डेटा मिलेगा।
- यानी जो ग्राहक इस प्लान को चुनते हैं, उन्हें एक साल में कुल 547.5GB डेटा मिलेगा। हालांकि, एक बार 1.5GB डेटा की डेली लिमिट समाप्त होने के बाद, इंटरनेट की स्पीड 64KBps हो जाएगी।
- इसके अलावा, जियो हैप्पी न्यू ईयर 2022 प्लान में अनलिमिटेड वॉयस कॉल, डेली 100 एसएमएस और Jio ऐप्स का फ्री सब्सक्रिप्शन मिलता है, जिसमें Jio TV, Jio Cinema, JioSecurity और JioCloud शामिल हैं।
गौर करने वाली बात है कि, फिलहाल यह ऑफर सिर्फ रिलायंस जियो के माय जियो ऐप में ही दिख रहा है। यह प्लान पुराने डिटेल के साथ Jio की आधिकारिक वेबसाइट पर लिस्टेड है, जिसमें 504GB डेटा और 336 दिनों की वैधता की पेशकश शामिल है। हालांकि, Jio का कहना है कि प्लान अब 29 दिन की अतिरिक्त वैधता प्रदान करता है, जिसे लिस्टेड प्लान के टॉप पर एक छोटे मैसेज द्वारा बताया गया है।
कंपनी पिछले साल भी लाई थी ऐसा ऑफर
गौर करने वाली बात है कि यह पहली बार नहीं है जब जियो ने अपने प्रीपेड सब्सक्राइबर्स के लिए न्यू ईयर ऑफर पेश किया है। 2020 में भी, रिलायंस जियो ने अपने प्रीपेड ग्राहकों और JioPhone ग्राहकों के लिए '2020 हैप्पी न्यू ईयर' ऑफर शुरू किया था। इस प्लान में प्रतिदिन 1.5GB डेटा के साथ अनलिमिटेड वॉयस कॉल, डेली 100 एसएमएस और Jio ऐप्स का फ्री सब्सक्रिप्शन मिलता है। उस वक्त यह प्लान 365 दिनों की वैलिडिटी के साथ आया था। कुल मिलाकर, इसने एक साल में ग्राहकों को 547.5GB डेटा की पेशकश की, जो कि कंपनी द्वारा अपने हैप्पी न्यू ईयर 2022 ऑफर के हिस्से के रूप में पेश किया गया है।
 

कंपनियां 6 महीने के भीतर फ्लेक्स इंजन वाले वाहन बाज़ार में लाएं : गडकरी

कंपनियां 6 महीने के भीतर फ्लेक्स इंजन वाले वाहन बाज़ार में लाएं : गडकरी

नई दिल्ली : पेट्रोल-डीजल पर निर्भरता घटाने के लिए वाहन कंपनियां जल्द दोहरे इंजन वाली गाड़ियां बाजार में लाएंगी। केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने गुरुवार को बताया कि सभी वाहन निर्माताओं को फ्लेक्स इंजन वाली गाड़ियां उतारने का निर्देश जारी किया जा चुका है और इसे छह महीने के भीतर लागू करना होगा।

गडकरी ने कहा, बुधवार को ही मैंने फ्लेक्सी इंजन की एडवाइजरी पर हस्ताक्षर किए हैं और कंपनियों के पास इसे लागू करने के लिए छह महीने का समय है। सरकार वाहनों में वैकल्पिक ईंधन को बढ़ावा देने के लिए फ्लेक्सी इंजन वाली गाड़ियों पर जोर दे रही है। ऐसे वाहन एक से अधिक ईंधन पर चल सकते हैं। फ्लेक्स फ्यूल पेट्रोल और मेथनॉल या एथनॉल का मिश्रण होता है, जो कम प्रदूषण के साथ कच्चे तेल पर निर्भरता घटाने में मददगार होगा।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जल्द ही चार पहिया वाहनों को 100 फीसदी एथनॉल पर चलाने का लक्ष्य है। तब हमें पेट्रोल की जरूरत नहीं होगी और वैकल्पिक ईंधन से हमारा लाखों करोड़ रुपया बचेगा। टीवीएस मोटर व बजाज ऑटो जैसी कंपनियों ने फ्लेक्स इंजन वाले दोपहिया और तिपहिया बनाने शुरू भी कर दिए हैं।
 

2022 में आने वाली हैं ये बाइक, देखे लिस्ट ...

2022 में आने वाली हैं ये बाइक, देखे लिस्ट ...

जिस तरह भारत में इलेक्ट्रिक वाहनों को लेकर माँग बढ़ रहा है। इस साल में कई इलेक्ट्रिक वाहन लाया गया, जिससे लोगों को अपनी ओर आकर्षित किया। खासकर टू- व्ही लर में इलेक्ट्रिक स्कूतटर और बाइक को ज्यापदा पसंद किया गया है। अब 2022 में भी कुछ शानदार व नए फीचर के साथ ऐसे ही इलेक्ट्रिक वाहन आने वाले हैं, अगर आप एक टॉप स्पीहड के साथ शानदार लुक वाली इलेक्ट्रिक बाइक लेने का प्लालन बना रहे हैं तो आपको यह खबर जरुर पढ़नी चाहिए।


2022 में लॉन्चट होने वाले इन स्कूहटर्स में बढ़ी हुई रेंज के साथ बेहतर सुविधाएं और खास तकनीक दी जाएगी। इसमें से कुछ उच्च प्रदर्शन और स्पोर्टी इलेक्ट्रिक बाइक हैं। यह बाइक्सस आपको एक बार चार्ज करने पर 100 से 250 किलोमीटर की रेंज देंगी। इसमें लिथियम आयन बैट्री के साथ ही आपको ड्रम और डिस्क् ब्रेक की सुविधा दी जाएगी। आइए जानते हैं इन आने वाले इलेक्ट्रिक बाइकों के बारे में।
हीरो इलेक्ट्रिक एई-47


हीरो ब्रांड की पहली इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल होगी। जो 4,000 W इलेक्ट्रिक मोटर द्वारा संचालित किया जाएगा, जिसकी अधिकतम गति 85 किमी प्रति घंटे से अधिक होगी। AE-47 में हल्की पोर्टेबल लिथियम आयन 48V/3.5 kWh बैटरी है, और इसे चार घंटे में पूरी तरह चार्ज किया जा सकता है। AE-47 के दो मोड पावर दिए गए हैं, जो एक बार फुल चार्ज करने में 85 किमी से 100 किमी तक जाने का दावा करते हैं। हालाकि इको मोड में, सिंगल चार्ज पर अनुमानित रेंज 160 किमी है।

 

Ultraviolette F77


इस इलेक्ट्रिक बाइक को 2022 के पहले छमाही में लॉन्चइ किया जाना है, जिसका परीक्षण अंतिम चरण में चल रहा है। Ultraviolette F77 एक उच्च प्रदर्शन वाली इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल है, जो 140 किमी प्रति घंटे की शीर्ष गति का दावा करता है। इस इलेक्ट्रिक स्कूसटर में 150 किमी की रेंज का दावा किया जा रहा है। F77 में रिमोट डायग्नोस्टिक्स, ओवर-द-एयर (OTA) अपडेट, रीजनरेटिव ब्रेकिंग, मल्टीपल राइड मोड, बाइक ट्रैकिंग, राइड डायग्नोस्टिक्स और कई अन्य सुविधा दी जाती है।

 

ओकिनावा Oki100 इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल


Oki100 इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल के 2022 की पहली तिमाही में लॉन्च होने की संभावना जताई जा रही है। एक हाई-स्पीड इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल होगी, जो 100-120 किमी प्रति घंटे की अधिकतम गति पर लगभग 200 किमी की अधिकतम रेंज देगी। यह इलेक्ट्रिक बाइक रिमूवेबल लिथियम-आयन बैट्री और एक फास्ट चार्जर का ऑप्शहन देगी।

कोमाकी रेंजर इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल


कोमाकी इलेक्ट्रिक वाहन जनवरी 2022 में अपनी पहली इलेक्ट्रिक क्रूजर मोटरसाइकिल लॉन्च करने वली है। कोमाकी रेंजर, जैसा कि इसे कहा जाएगा, इसमें 4 किलोवाट बैट्री पैक के साथ एक बार चार्ज करने पर 250 किमी की दूरी की देने का दावा करता है। कंपनी ने घोषणा की है कि कोमाकी रेंजर 5,000 वॉट की मोटर के साथ आएगी जो बहुत अच्छा प्रदर्शन करेगी। इसके अलावा, कोमाकी रेंजर में क्रूज कंट्रोल, रिपेयर स्विच, रिवर्स स्विच के साथ-साथ ब्लूटूथ कनेक्टिविटी जैसे फीचर्स मिलेंगे।

Prevail इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल की 350 किमी की रेंज


प्रीवेल इलेक्ट्रिक गुरुग्राम स्थित एक नया इलेक्ट्रिक वाहन स्टार्ट-अप कंपनी है, जो नए साल पर नई इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल पर काम कर रही है। इस इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल की अधिकतम रेंज 350 किमी होने का दावा किया जा रहा है। नई हाई-परफॉर्मेंस इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल वेरियंट में आएगी। पहले वेरियंट में 120KMPH की टॉप स्पीइड मिलेगी तो वहीं दूसरे वेरियंट में आपको 180KMPH की टॉप स्पीड दी जाएगी।
 

GOOD NEWS : हरे निशान पर खुला मार्केट , इन सेक्टर्स में हो रही ट्रेडिंग  ....

GOOD NEWS : हरे निशान पर खुला मार्केट , इन सेक्टर्स में हो रही ट्रेडिंग ....

मुंबई : मजबूत वैश्विक संकेतों से बुधवार को सप्ताह के तीसरे कारोबारी दिन शेयर बाजार हरे निशान पर खुला। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स सेंसेक्स 449.23 अंकों की बढ़त के साथ 56,768.24 के स्तर पर खुला।

वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 134.95 अंकों की तेजी के साथ 16,905.80 के स्तर पर खुला। आज मेटल, ऑटो और रियलटी के साथ बैंकिंग शेयरों में बढ़त के साथ ट्रेडिंग हो रही है और इन्हीं के दाम पर बाजार में तेजी देखी जा रही है और निवेशक जमकर खरीदारी कर रहे हैं।
 

 सस्ते हुये Apple के फोन, जानिये PRICE...

सस्ते हुये Apple के फोन, जानिये PRICE...

अगर आप अपने लिए नये फोन खरीदने का सोच रहे हैं, तो आपके  लिए एक अच्छा मौका है। फ्लिपकार्ट पर चल रही बिग सेविंग्स डे सेल के तहत आप iPhone 13 Mini और iPhone 13 Pro Max को मार्केट से बेहद कम दाम में खरीद सकते हैं। फ्लिपकार्ट की इस सेल में आपको इन दोनों स्मार्टफोन पर बेस्ट डील ऑफर की जा रही है, जिसमें आप 15,450 रुपये तक की छूट और अनलिमिटेड कैशबैक के साथ अपना पसंदीदा आईफोन 13 खरीद सकते हैं।

आइए जानते हैं डीटेल।


एक्सचेंज और कैशबैक में खरीदें iPhone 13 Pro Max
इन दोनों आईफोन पर मिलने वाली टॉप डील्स का फायदा फ्लिपकार्ट पर ऑफर किए जा रहे एक्सचेंज और बैंक ऑफर के साथ उठाया जा सकता है। फ्लिपकार्ट पर आईफोन 13 प्रो मैक्स की कीमत 1,29,900 रुपये है, लेकिन अगर आप इसे एक्सचेंज ऑफर के साथ खरीदते हैं, तो आपको 15,450 रुपये तक की छूट मिल सकती है। ऐसे में इस फोन की कीमत 1,14,450 रुपये हो जाती है।
आपके शहर में एक्सचेंज ऑफर उपलब्ध है कि नहीं इसे आप फ्लिपकार्ट पर पिनकोड एंटर करके चेक कर सकते हैं। एक्सचेंज ऑफर में मिलने वाला डिस्काउंट आपके पुराने फोन की हालत पर निर्भर करेगा। एक्सचेंज के अलावा अगर आप फ्लिपकार्ट ऐक्सिस बैंक क्रेडिट कार्ड से आईफोन 13 प्रो मैक्स खरीदते हैं, तो आपको 5 पर्सेंट अनलिमिटेड कैशबैक का भी फायदा होगा।


आईफोन 13 मिनी पर 14,250 रुपये तक का कैशबैक
आईफोन 13 मिनी की बात करें तो इस फोन की कीमत 69,900 रुपये है, लेकिन एक्सचेंज ऑफर के तहत खरीदने पर आपको यह 14,250 रुपये तक सस्ता पड़ सकता है। इसके अलावा फोन पर 5 पर्सेंट का अनलिमिटेड कैशबैक भी मिलेगा। अनलिमिटेड कैशबैक पाने के लिए आपको फ्लिपकार्ट ऐक्सिस बैंक के क्रेडिट कार्ड से पेमेंट करना होगा।


आईफोन 13 पर 15,450 रुपये तक का फायदा
आईफोन 13 की बात करें तो फ्लिपकार्ट पर यह 79,900 रुपये के प्राइसटैग के साथ लिस्ट है। फ्लिपकार्ट ऐक्सिस बैंक के क्रेडिट कार्ड से पेमेंट करने पर इस फोन पर भी आपको 5 पर्सेंट का डिस्काउंट मिलेगा। वहीं, एक्सचेंज ऑफर में फोन लेने पर आपको 15,450 रुपये तक का और फायदा हो सकता है।


आईफोन 12 प्रो मैक्स पर भी जबर्दस्त डील
अगर आप iPhone 12 Pro Max खरीदने की सोच रहे हैं, तो यह फोन आपको फ्लिपकार्ट पर 1,19,900 रुपये का मिलेगा। अगर आप SBI क्रेडिट कार्ड से पेमेंट करेंगे तो आपको इस फोन की कीमत पर 1 हजार रुपये तक की छूट मिल सकती है। वहीं, फ्लिपकार्ट ऐक्सिस बैंक से पेमेंट करने पर आपको 5 पर्सेंट अनलिमिटेड कैशबैक का भी फायदा हो सकता है। एक्सचेंज ऑफर की बात करें तो यूजर्स को एक्सचेंज के बदले फोन 15,450 रुपये तक सस्ता मिल सकता है।
 

सप्ताह की शुरुआत गिरावट के साथ , सेंसेक्स और निफ्टी दोनों लुडके, जाने विस्तार से ...

सप्ताह की शुरुआत गिरावट के साथ , सेंसेक्स और निफ्टी दोनों लुडके, जाने विस्तार से ...

मुंबई : भारतीय शेयर बाजार पर सप्ताह के पहले दिन ही कमजोर ग्लोबल संकेत और ओमिक्रॉन का सीधा-सीधा असर दिखा। सोमवार को भारतीय शेयर बाजार बड़ी गिरावट के साथ शुरू हुआ। सेसेंक्स 664.78 अंक यानी 1.17 फीसदी की गिरावट के साथ 56,346.96 के स्तर पर खुला, जबकि निफ्टी 198.80 अंक यानी 1.12 फीसदी टूटकर 16795.70 के स्तर पर पहुंच गया ।

थोड़ी देर बाद सेंसेक्स 848 अंक टूटकर 56,163.68 पर पहुंच गया । वहीं, निफ्टी 16,824 के स्तर पर कारोबार कर रहा था। सुबह 10 बजे के करीब सेंसेक्स 1035.86 अंक यानी 1.82 फीसदी गिरकर 55,975.88 अंक पर कारोबार पर पहुंच गया, जबकि एनएसई निफ्टी 323 अंक यानी 1.90 फीसदी गिरकर 16,662.20 अंक पर कारोबार कर रहा। मार्केट एक्सपर्टों की मानें तो ग्लोबल संकेतों और कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के कारण बाजार पर दबाव बना रहेगा।

बीएसई 30 में से 29 शेयर गिरावट के साथ ही खुले। वहीं, निफ्टी के 50 में से 47 शेयरों में बिकवाली हावी है। बैंक निफ्टी के सभी 12 शेयरों में बिकवाली देखने को मिली है। प्री-ओपन सेशन में बीएसई सेंसेक्स 500 अंक से अधिक टूटकर 56,500 के स्तर पर पहुंच गया। जैसे ही बाजार खुला सेंसेक्स 675 अंक से अधिक यानी 1.19 फीसदी लुढ़कर 56,335 अंक के पास आ गया। वहीं, एनएसई निफ्टी 218.10 अंक यानी 1.28 फीसदी गिरकर 16,765 अंक पर पहुंच गया। कुछ ही मिनटों के कारोबार में यह गिरावट और तेज हो गई।

बता दें कि पिछले सप्ताह बाजार में बड़ी गिरावट दर्ज की गई थी। ग्लोबल संकेतों (एफपीआई की लगातार बिकवाली) और ओमिक्रॉन वैरिएंट के हावी होने से बाजार नीचे पहुंच गया था । सेंसेक्स 1,774.93 अंक यानी 3 फीसदी गिरकर 57,011.74 अंक पर बंद हुआ था। वहीं निफ्टी 50 में भी 526.1 अंक की गिरावट रही थी और यह 16,985.2 अंक पर बाजार बंद हुआ था।
 

गैस सिलेंडर उपभोक्ताओ को गैस हादसे में मिलता है इतने का इंश्योरेंस जानिये....

गैस सिलेंडर उपभोक्ताओ को गैस हादसे में मिलता है इतने का इंश्योरेंस जानिये....

नई दिल्ली : हादसे में आर्थिक रूप से नुकसान तो होता ही है रसोई गैस सिलेंडर के उपयोग करने के दौरान सतर्कता बरतने के बाद भी कई बार हादसे हो जाते है।, इसके साथ ही कई लोगों की जान भी चली जाती है। ऐसे समय में पीड़ित ग्राहकों को मुआवजा दिया जाता है। दरअसल, सिलेंडर खरीदते वक्त ही ग्राहकों का इन्श्योरेंस हो जाता है। 50 लाख रुपए तक होने वाले यह इंश्योरेंस सिलेंडर की एक्सपायरी से जुड़ा होता है। अक्सर लोग सिलेंडर की एक्सपायरी डेट चेक किए बिना ही इसे खरीद लेते हैं। गैस कनेक्शन लेते ही उपभोक्ता का 40 लाख रुपए तक का दुर्घटना बीमा हो जाता है। गैस सिलेंडर से हादसा होने पर पीड़ित इन्श्योरेंस क्लेम कर सकता है। साथ ही, सामूहिक दुर्घटना होने पर 50 लाख रुपए तक देने का प्रावधान है।

नियम के अनुसार, डीलर की तरफ से डिलिवरी से पहले सिलेंडर को अच्छी तरह चेक किया जाता है कि गैस बिल्कुल ठीक है या नहीं. ग्राहक के घर पर एलपीजी सिलेंडर की वजह से हादसे में हुए जान-माल के नुकसान के लिए पर्सनल एक्सीडेंट कवर देना होता है। हादसे में ग्राहक की प्रॉपर्टी/घर को नुकसान पहुंचता है तो प्रति एक्सीडेंट 2 लाख रुपये तक का इंश्योरेंस क्लेम मिलता है।

जाने कैसे करना होगा क्लेम : -
1. एक दुर्घटना पर अधिकतम 50 लाख रुपये तक का मुआवजा मिल सकता है. दुर्घटना से पीड़ित प्रत्येक व्यक्ति को अधिकतम 10 लाख रुपये की क्षतिपूर्ति दी जा सकती है।


2. LPG सिलेंडर के बीमा कवर पाने के लिए ग्राहक को दुर्घटना होने की तुरंत सूचना नजदीकी पुलिस स्टेशन और अपने एलपीजी वितरक को देनी होती है।

3. PSU ऑयल विपणन कंपनियां जैसे इंडियन ऑयल, एचपीसी तथा बीपीसी के वितरकों को व्यक्तियों और संपत्तियों के लिए तीसरी पार्टी बीमा कवर सहित दुर्घटनाओं के लिए बीमा पॉलिसी लेनी होती है।

4. ये किसी व्यक्तिगत ग्राहक के नाम से नहीं होतीं बल्कि हर ग्राहक इस पॉलिसी में कवर होता है। इसके लिए उसे कोई प्रीमियम भी नहीं देना होता।
 

शुभ संकेत के साथ शुरुआत , लेकिन कुछ देर में लुढ़का बाजार ...

शुभ संकेत के साथ शुरुआत , लेकिन कुछ देर में लुढ़का बाजार ...

मुंबई : सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन शुक्रवार को शेयर बाजार की शुरुआत तेजी के साथ हुई। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स जहां हरे निशान पर खुला, वहीं एनएसई के निफ्टी ने भी बढ़त के साथ कारोबार की शुरुआत की। सेंसेक्स 120.49 अंक या 0.21 फीसदी की बढ़त के साथ 58,021.63 के स्तर पर खुला।

एनएसई का निफ्टी भी 27.60 अंक या 0.16 फीसदी की तेजी लेकर 17,276 के स्तर पर खुला। लेकिन कारोबार शुरू होने के कुछ ही मिनट में पासा पलट गया और दोनों सूचकांक धराशाई हो गए। फिलहाल, सेंसेक्स 700 अंक टूटकर 57,215 पर पहुंच गया है। टाइटन का शेयर 4 फीसदी के करीब टूटा है जबकि रिलायंस, इंडसइंड बैंक कोटक महिंद्रा बैंक के शेयर 3 फीसदी तक फिसल गए हैं।

गौरतलब है कि शेयर बाजार में लगातार जारी गिरावट पर गुरुवार को ब्रेक लगा था और कारोबार के अंत में सेंसेक्स-निफ्टी बढ़त के साथ बंद हुए था। हरे निशान पर कारोबार की शुरुआत करने के बाद गुरुवार को बीएसई का सेंसेक्स 113.11 अंक या 0.20 फीसदी की बढ़त के साथ 57,901.14 के स्तर पर पर बंद हुआ था। इसी तरह एनएसई का निफ्टी भी 29 अंक या 0.16 फीसदी की तेजी लेकर 17,248.40 के स्तर पर बंद हुआ था।
 

बढ़त के साथ शुरू हुआ बाजार  , जाने विस्तार से

बढ़त के साथ शुरू हुआ बाजार , जाने विस्तार से

मुंबई : सप्ताह के चौथे कारोबारी दिन गुरुवार को शेयर बाजार की शुरुआत तेजी के साथ हुई। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स जहां हरे निशान पर खुला, वहीं एनएसई के निफ्टी ने भी बढ़त के साथ कारोबार की शुरुआत की। सेंसेक्स 455.40 अंक या 0.79 फीसदी की बढ़त के साथ 58,243.43 के स्तर पर खुला। जबकि निफ्टी सूचकांक ने 151.60 अंक या 0.88 फीसदी की तेजी लेकर 17,373 के स्तर पर कारोबार की शुरुआत की।

सेंसेक्स के 30 शेययरें में से पांच में गिरावट, जबकि 25 शेयर बढ़त में कारोबार कर रहे हैं। बढ़त वाले शेयरों में टाटा स्टील, इंडसइंड बैंक, रिलायंस इंडस्ट्रीज और एक्सिस बैंक प्रमुख हैं। वहीं सेंसेक्स के गिरावट वाले शेयर की अगर बात करें तो इनमें बजाज ऑटो, एशियन पेंट्स, मारुति और सन फार्मा शामिल हैं।

इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के के 50 शेयरों में 37 बढ़त में कारोबार कर रहे हैं जबकि 11 गिरावट में हैं। बढ़ने वाले प्रमुख शेयरों में इंफोसिस, बजाज फाइनेंस, विप्रो और टेक महिंद्रा हैं। वहीं गिरने वाले शेयरों में सन फार्मा, टाटा कंज्यूमर, हिंदुस्तान यूनिलीवर शामिल हैं।

गौरतलब है कि बीते कारोबारी दिन बुधवार को लगातार तीसरे दिन शेयर बाजार गिरावट के साथ बंद हुआ था। बाजार ने सुस्ती के साथ शुरुआत की थी और दिन भर के उतार-चढ़ाव के बाद अंत में लाल निशान पर बंद हुआ था।

कारोबार के खत्म होने पर बीएसई का सेंसेक्स 329 अंक टूटकर 58 हजार के स्तर के नीचे आकर 57,788 के स्तर पर बंद हुआ था। इसी तरह एनएसई के निफ्टी भी 103 अंक फिसलकर 17,221 के स्तर पर बंद हुआ था।
 

बैंकों ने ग्राहकों को किया अलर्ट: कल से 9 लाख कर्मचारी करेंगे हड़ताल

बैंकों ने ग्राहकों को किया अलर्ट: कल से 9 लाख कर्मचारी करेंगे हड़ताल

अगले दो दिन- 16 और 17 दिसंबर को देशभर के बैंकों में कामकाज प्रभावित रहने की आशंका है। दरअसल, यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) ने 16 और 17 दिसंबर को दो दिवसीय हड़ताल का आह्वान किया था। 

आपको बता दें कि यूएफबीयू नौ यूनियनों का एकछत्र निकाय है, जिसमें अखिल भारतीय बैंक अधिकारी परिसंघ (AIBOC),अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संघ (AIBEA) और राष्ट्रीय बैंक कर्मचारी संगठन (NOBW) शामिल हैं। इस यूनियन के अधीन 9 लाख कर्मचारी हैं। 

क्या है हड़ताल की वजह: 

ये हड़ताल निजीकरण के विरोध में हो रहा है। इस वजह से बैंकों में कामकाज प्रभावित रह सकता है। यही वजह है कि भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) सहित अधिकांश बैंकों ने अपने ग्राहकों को अलर्ट मैसेज भेज दिया है। बैंकों ने अपने ग्राहकों को चेक क्लीयरेंस और फंड ट्रांसफर जैसे बैंकिंग कार्यों पर प्रभाव के बारे में आगाह किया है।

19 दिसंबर तक दिक्कत: 

वैसे तो हड़ताल 16 और 17 दिसंबर तक को है और वहीं, 18 दिसंबर को शिलॉन्ग में बैंकों में कामकाज नहीं होगा। इस दिन यू सोसो थाम की पुण्यतिथि है। इसके अलावा 19 दिसंबर को रविवार का दिन है। कहने का मतलब ये है कि 19 दिसंबर तक देश के अलग-अलग हिस्सों में बैंकों में कामकाज प्रभावित रहेगा। ऐसे में सुचारू ढंग से कामकाज के लिए 20 दिसंबर का इंतजार करना होगा। 

 

 सेंसेक्स और निफ्टी के भाव में गिरावट से शुरु हुआ मार्केट , जाने विस्तार से

सेंसेक्स और निफ्टी के भाव में गिरावट से शुरु हुआ मार्केट , जाने विस्तार से

मुंबई : सप्ताह के दूसरे कारोबारी दिन मंगलवार को शेयर बाजार की शुरुआत तेज गिरावट के साथ लाल निशान पर हुई। बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 233.66 अंक या 0.38 फीसदी की कमजोरी के साथ 58,059.76 के स्तर पर खुला। वहीं एनएसई का निफ्टी ने 85.05 अंक या 0.49 फीसदी फिसलकर 17,283.20 के स्तर पर कारोबार की शुरुआत की।

बीते कारोबारी सत्र में सोमवार को शेयर बाजार ने बढ़त के साथ कारोबार की शुरुआत की थी। लेकिन कारोबार के अंत में बीएसई का सेंसेक्स 503.25 अंक या 0.86 फीसदी की गिरावट के साथ 58,283.42 के स्तर पर बंद हुआ था।

इसी तरह एनएसई का निफ्टी भी 143.05 अंक या 0.82 अंक फिसलकर 17,368.25 के स्तर पर बंद हुआ था। बजाज फाइनेंस, बजाज फिनसर्व, टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स, रिलायंस इंडस्ट्रीज और एमएंडएम निफ्टी के शीर्ष गिरावट वाले शेयरों में शामिल थे।

जबकि टेक महिंद्रा, एक्सिस बैंक, मारुति सुजुकी, विप्रो और एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस के श्मिशेयर लाभ में रहे थे। सेक्टरों में निफ्टी आईटी को छोड़कर अन्य सभी सेक्टोरल इंडेक्स लाल निशान में बंद हुए।
 

ज़रुरी खबर - अब किसी जमाकर्ता का पैसा नहीं डूबेगा : नरेंद्र मोदी

ज़रुरी खबर - अब किसी जमाकर्ता का पैसा नहीं डूबेगा : नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को दिल्ली के विज्ञान भवन में बैंक डिपॉजिट इंश्योरेंस प्रोग्राम में शामिल हुए। उन्होंने `डिपॉजिट फर्स्ट: पांच लाख रुपये तक के समयबद्ध जमा राशि बीमा भुगतान की गारंटी` विषय पर आधारित समारोह में कहा कि हम जानते हैं कि बैंक डूबने पर कई दिनों तक खबरें चलती रहती हैं। आज देश ने बहुत बड़ा बदलाव किया, बहुत बड़ी मजबूत व्यवस्था शुरू की है, जिसमें जमाकर्ताओं को उनका पैसा वापस दिलाया जा रहा है। इसकी भी इतनी ही चर्चा मीडिया में हो।

इससे देश के जमाकर्ताओं में विश्वास पैदा होगा। हो सकता है भविष्य में बैंक डूबेगा, लेकिन जमाकर्ताओं का पैसा नहीं डूबेगा। बैँकिंग व्यवस्था पर भरोसा पैदा होगा। उन्होंने कहा कि आज की तारीख में कोई भी बैंक संकट में आता है तो जमाकर्ता को पांच लाख रुपये तक जरूर वापस मिलेंगे। इस व्यवस्था से 98 प्रतिशत लोग कवर हो चुके हैं।

सिर्फ पैसा नहीं पूरी जिंदगी फंस जाती थी  

एक समय था जब कोई बैंक संकट में आ जाता था, तब जमाकर्ताओं को अपना ही पैसा पाने में नाकोदम निकल जाता था और चारों तरफ हाहाकार मच जाता था। कोई भी व्यक्ति बहुत विश्वास के साथ बैंक में पैसा जमा कराता है। खासकर फिक्स सैलरी वाले लोग हैं। लेकिन गलत नीतियों के कारण जब बैंक डूबता है तब इन परिवारों का सिर्फ पैसा नहीं पूरी जिंदगी ही फंस जाती थी। लेकिन अब तीन महीने के अंदर जमाकर्ता को पैसा मिलेगा। यह कानून के दायरे में आ चुका है।

इस योजना के तहत राज्यों व केंद्र शासित प्रदशों के सभी सहकारी बैंकों के जमा खाते भी आते हैं। इसमें डिपॉजिट इंश्योरेंस के तहत जमा खाते, फिक्सड डिपॉजिट, चालू खाते और रेकरिंग डिपॉजिट भी आते हैं।

पांच लाख किया गया बैंक डिपॉजिट इंश्योरेंस कवर

बैंक सुधार की दिशा में एक कदम आगे बढ़ाते हुए बैँक डिपॉजिट इंश्योरेंस कवर को पांच लाख रुपये कर दिया गया है। पहले यह एक लाख रुपये ही था। इसके तहत बैंक के डूबने पर अब पांच लाख रुपये मिलते हैं। पिछले वित्तीय वर्ष की समाप्ति पर पूर्ण रूप से संरक्षित खातों की संख्या 98.1 प्रतिशत पहुंच गई थी।