कोरोना अपडेट: प्रदेश में हो रही है कोरोना की रफ़्तार कम आज 10144 ने जीती कोरोना से जंग, कुल 4888 नए मरीज मिले 144 मृत्यु भी, देखे जिलेवार आकड़े    |    आईसीएमआर अपडेट : राज्य में मिले 4166 कोरोना पॉजिटिव, 19 जिलों में सौ से अधिक मिले मरीज, देखे बाकी जिलों के आकड़े    |    उपभोक्‍ता कार्य, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय ने उचित मूल्य की दुकानों के खुला रखने को लेकर कही ये बात    |    पीएम मोदी ने दिए ऑडिट के आदेश, पढ़े पूरी खबर    |    कोरोना अपडेट: देश में 24 घंटे में 3.11 लाख लोग हुए संक्रमित, 4 हजार से ज्यादा मौत    |    कोरोना अपडेट: प्रदेश में हो रही है कोरोना की रफ़्तार कम आज 11475 ने जीती कोरोना से जंग, कुल 7664 नए मरीज मिले 129 मृत्यु भी, देखे जिलेवार आकड़े    |    आईसीएमआर अपडेट : राज्य में मिले 6918 कोरोना पॉजिटिव, आज रायगढ़ में सर्वाधिक, देखे बाकी जिलों के आकड़े    |    स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन की पहली खुराक देने में छत्तीसगढ़ बना नंबर वन, दूसरे नंबर पर ये प्रदेश    |    राहुल गांधी का पीएम पर तंज, कहा- आपने तो मां गंगा को रुला दिया    |    प्रधानमंत्री मोदी का राज्यों को सख्त आदेश, तुरंत इंस्टॉल किए जाएं स्टोरेज में पड़े वेंटिलेटर्स    |
एक्सिस बैंक ने व्हाट्सएप बैंकिंग लॉन्च की

एक्सिस बैंक ने व्हाट्सएप बैंकिंग लॉन्च की

एक्सिस बैंक ने 3 मार्च 2021 को अपने ग्राहकों की बैंकिंग जरूरतों को पूरा करने में मदद करने और संबोधित करने के उद्देश्य से व्हाट्सएप बैंकिंग शुरू की है। व्हाट्सएप बैंकिंग ग्राहक को कहीं भी और कभी भी चैटिंग एप्पपर बैंक का उपयोग करने में मदद करेगी। इस सेवा का लाभ कैसे उठाया जा सकता है? व्हाट्सएप बैंकिंग सेवाओं का लाभ उठाने के लिए, ग्राहकों को निर्दिष्ट एक्सिस बैंक नंबर के साथ चैट शुरू करना होगा और विवरण मांगना होगा। यह सेवा ग्राहकों को उनके खाते की शेष राशि, क्रेडिट कार्ड भुगतान, हालिया लेनदेन, सावधि और आवर्ती जमा विवरण के संबंध में जानकारी मांगने की अनुमति देगी।

एक्सिस बैंक व्हाट्सएप बैंकिंग
यह सेवा छुट्टियों के दिन सहित 24 × 7 उपलब्ध होगी। यह बैंक के गैर-ग्राहकों दोनों के लिए उपलब्ध होगा। एक्सिस बैंक ने कहा है कि यह सेवा सुरक्षित है क्योंकि यह एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन मोड पर काम करती है। यह सेवा बैंक द्वारा बैंक के “दिल से ओपन” विचारधारा के अनुरूप शुरू की गई है।

WhatsApp Payments
यह एक पीयर-टू-पीयर मनी ट्रांसफर सुविधा है। यह सुविधा वर्तमान में केवल भारत में उपलब्ध है। इस मैसेजिंग एप्लिकेशन को जुलाई 2017 में अपनी भुगतान सेवाओं को शुरू करने के लिए भारतीय बैंकों के साथ साझेदारी करने के लिए नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ़ इंडिया (NPCI) से अनुमति प्राप्त हुई थी। यह एप्प अब अपने उपयोगकर्ताओं को इन-ऐप भुगतान और मनी ट्रांसफर करने की अनुमति देता है। 

भारत में अप्रैल से दिसंबर के दौरान 67.54 अरब अमेरिकी डॉलर एफडीआई आया

भारत में अप्रैल से दिसंबर के दौरान 67.54 अरब अमेरिकी डॉलर एफडीआई आया

भारत के आर्थिक विकास में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) एक अहम भूमिका रही है। यह बिना कर्ज लिए पूंजी जुटाने का एक महत्वपूर्ण स्रोत है। सरकार का प्रयास रहा है कि वह एक सक्षम और निवेशक अनुकूल एफडीआई नीति लागू करे। एफडीआई नीति को निवेशकों के लिए और अधिक अनुकूल बनाने और निवेश के रास्ते में आने वाली नीतिगत अड़चनों को दूर करने के लिए लगातार कदम उठाए जा रहे हैं। पिछले साढ़े छह साल में इस दिशा में उठाए गए कदमों का परिणाम है कि देश में एफडीआई प्रवाह लगातार, रिकॉर्ड स्तर पर बढ़ता जा रहा है। एफडीआई क्षेत्र में लगातार उदारीकरण और सरलीकरण की नीति के तहत सरकार ने विभिन्न सेक्टर में एफडीआई से संबंधित सुधार किए हैं। सरकार द्वारा एफडीआई नीति में सुधार, निवेश प्रक्रिया सरल और बिजनेस करना आसान करने जैसे उठाए गए कदमों का ही परिणाम है कि देश में एफडीआई प्रवाह बढ़ गया है। प्रत्यक्ष विदेशी निवेश में निम्नलिखित रुझानों से साफ है कि भारत, वैश्विक निवेशकों के लिए निवेश का एक प्रमुख स्थान बन गया है: अप्रैल से दिसंबर, 2020 के दौरान, 67.54 अरब अमेरिकी डॉलर का एफडीआई देश में आया है। यह किसी वित्त वर्ष के पहले 9 महीनों में आया सबसे अधिक एफडीआई है। वित्त वर्ष 2019-20 की इसी अवधि की तुलना में एफडीआई 22 फीसदी बढ़ा है। इस दौरान 55.14 अरब डॉलर का एफडीआई आया था। वित्त वर्ष 2020-21 के पहले 9 महीनों के दौरान, इक्विटी के जरिए आने वाले एफडीआई में 40 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। जो कि इस अवधि में 51.47 अरब अमेरिकी डॉलर था। वित्त वर्ष 2019-20 की इसी अवधि में इक्विटी के जरिए 36.77 अरब अमेरिकी डॉलर एफडीआई आया था। अकेले वित्त वर्ष 2020-21 की तीसरी तिमाही में 26.16 अरब अमेरिकी डॉलर का एफडीआई आया है। जो कि 2019-20 में आए एफडीआई 19.09 अरब अमेरिकी डॉलर की तुलना में 37 फीसदी ज्यादा है। इसी तरह केवल दिसंबर 2020 में 9.22 अरब अमेरिकी डॉलर का एफडीआई आया है। जो कि दिसंबर 2019 के 7.46 अरब अमेरिकी डॉलर की तुलना में 24 फीसदी ज्यादा है।  

 वायदा बाजार में सोने में गिरावट बढ़ी, ऑल टाइम हाई से 11,500 रुपये नीचे आ चुके हैं भाव

वायदा बाजार में सोने में गिरावट बढ़ी, ऑल टाइम हाई से 11,500 रुपये नीचे आ चुके हैं भाव

नई दिल्ली। आज कारोबार के शुरुआत में एमसीएक्स पर सोना अप्रैल वायदा 0.4 फीसदी की गिरावट के साथ 10 महीने के निचले स्तर 44,768 प्रति 10 ग्राम पर कारोबार करता हुआ देखा गया, जबकि चांदी 0.8 फीसदी फिसलकर 67,473 प्रति किलोग्राम पर आ गई. पिछले सत्र में, सोने के भाव में 1.2 फीसदी यानी 600 रुपये प्रति 10 ग्राम की गिरावट दर्ज की गई थी. जबकि चांदी 1.6 फीसदी यानी 1,150 प्रति किलोग्राम फिसली थी.

2020 में आई मजबूती के बाद, इच्टिी बाजारों में बढ़ोतरी जारी है. इसके साथ अमेरिकी बॉन्ड यील्ड की बढ़त के बीच इस साल सोने पर दबाव देखा जा रहा है. इस साल की शुरुआत से सोना 5,000 रुपये से अधिक टूट चुका है. अगस्त 2020 के 56,200 रुपये के उच्च स्तर से यह 11,500 रुपये नीचे आ चुका है.

ग्लोबल मार्केट में, आज सोने का भाव 1,711 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार करता हुआ देखा गया. अन्य कीमती धातुओं में चांदी 0.4 फीसदी बढ़कर 26.18 डॉलर प्रति औंस हो गई. अमेरिका में बॉन्ड की यील्ड में मजबूती का असर सोने पर पड़ा है. अमेरिका में बेंचमार्क यूएस ट्रेजरी की यील्ड करीब 1.5 फीसदी के करीब पहुंच गई. उधर, दुनिया के सबसे बड़े गोल्ड एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड, एसपीडीआर गोल्ड ट्रस्ट की होल्डिंग बुधवार को 0.4 फीसदी गिरकर 1,082.38 टन रही.

अगर आप सोने में निवेश करना चाहते हैं तो आपके लिए यह सही समय है. केंद्र सरकार ने सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम की शुरुआत की है. सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की 12वीं सीरीज एक मार्च से शुरू हो गई है और पांच मार्च तक आप इसमें निवेश कर पाएंगे. यह स्कीम चालू वित्त वर्ष की आखिरी सीरीज है. इसमें सबसे खास बात यह है कि इस बार सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की कीमत दस महीने में सबसे कम है यानी 10 महीने के निचले स्तर पर है. भारतीय रिजर्व बैंक ने इस बार गोल्ड सब्सक्रिप्शन की कीमत 4,662 रुपये प्रति ग्राम तय की है.अगर आप ऑनलाइन आवेदन करेंगे तो आपको प्रति ग्राम पर 50 रुपये की छूट मिलेगी. इसका मतलब यह हुआ कि आप एक ग्राम सोने के लिए 4,612 रुपये खर्च करेंगे.
 व्हाट्सऐप वेब यूजर्स के लिए अब जल्द ही आने वाला है वॉयस कॉलिंग फीचर

व्हाट्सऐप वेब यूजर्स के लिए अब जल्द ही आने वाला है वॉयस कॉलिंग फीचर

नई दिल्ली। यूं तो यह चर्चा काफी लंबे समय से चल रही है कि व्हाट्सऐप वेब यूजर्स को वीडियो और वॉयस कॉलिंग फीचर मिलने वाला है। लेकिन अब यह फीचर जल्द रोलआउट होने वाला है इसकी उम्मीद दिखने लगी है।

रिपोर्ट के अनुसार डेस्कटॉप कॉलिंग सर्विस बीटा वर्जन से आउट हो गई है। जल्द ही 2.2104.10 वेब/डेस्कटॉप वर्जन यूज करने वाले व्हाट्सऐप यूजर्स इस सर्विस का फायदा उठा पाएंगे। दरअसल पिछले साल दिसंबर में व्हाट्सऐप ने चुनिंदा वेब और डेस्कटॉप यूजर्स को ऑडियो और वीडियो कॉलिंग सेवा उपलब्ध कराई थी। अब जल्द व्हाट्सऐप यह सुविधा अपने सभी यूजर्स के लिए रोलआउट करने की तैयारी कर रहा है। यदि यह सर्विस आपके लिए लाइव होगी तो आपको पर्सनल चैट स्क्रीन पर वीडियो और वॉयस कॉलिंग का आइकन सर्च बटन के साथ में दिखेगा। 

रिपोर्ट्स के मुताबिक जब भी आपके पास व्हाट्सऐप वेब पर कॉल आएगा तो एक अलग विंडो पॉप अप होगी, जिसके उपयोग से आप आने वाली कॉल को स्वीकार, अस्वीकार या अनदेखा कर सकते हैं।

बता दें कि अभी व्हाट्सऐप पर ऑडियो और वीडियो कॉल की सुविधा सिर्फ स्मार्टफोन से ही मुमकिन है। वीडियो और वॉयस कॉल का सपोर्ट चीज़ों को और भी सहज बनाने का काम करेगा, क्योंकि यूज़र्स को अपने डेस्कटॉप व लैपटॉप पर काम के बीच कॉल व वीडियो कॉल करने की सुविधा प्राप्त होगी। उन्हें कॉल करने के लिए डेस्कटॉप व लैपटॉप से फोन की तरफ स्विच करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। वॉट्सऐप वेब वर्जन पर पहले से मेसेंजर के लिए सपॉर्ट उपलब्ध है। विडियो और वॉइस कॉल ऑप्शन आने के साथ ही वॉट्सऐप वेब यूजर्स के लिए ये एक्सपीरियंस और बेहतर होगा। व्हाट्सएप ने अभी इस फीचर के बारे में कोई जानकारी साझा नहीं की है और न ही यह बताया है कि इसे पब्लिक के लिए कब उपलब्ध कराया जाएगा।
जय व्यापार पैनल को औषधी वाटिका, फुट वेयर मार्केट, किराना एवं अनाज मार्केट के व्यापारियों का जोरदार समर्थन मिला

जय व्यापार पैनल को औषधी वाटिका, फुट वेयर मार्केट, किराना एवं अनाज मार्केट के व्यापारियों का जोरदार समर्थन मिला

रायपुर । जय व्यापार पैनल के मुख्य चुनाव संचालक नरेन्द्र दुग्गड, चुनाव सह संचालक गारगी शंकर मिश्रा, चुनाव सह संचालक जितेन्द्र दोशी, छ.ग. चेम्बर ऑफ काॅमर्स एण्ड़ इंडस्ट्रीज के उपाध्यक्ष राजेन्द्र जग्गी, दीपक बल्लेवार, विजय शर्मा चुनाव सह संचालक मगेलाल मालू, चुनाव सह संचालक विक्रम सिंहदेव एवं परमानन्द जैन ने बताया कि छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्रीज चुनाव 2021 के तहत जय व्यापार पैनल की टीम ने आज डुमरतरई क्षेत्र का दौरा किया। पैनल से प्रदेश अध्यक्ष अमर पारवानी के नेतृत्व में आज स्थानीय उपाध्यक्ष एवं मंत्री प्रत्याशियों ने डुमरतराई क्षेत्र के व्यापारियों से भेंटकर समर्थन मांगा। इस दौरान सभी व्यापारियों ने हर्ष व्यक्त करते हुए पैनल को अपना समर्थन देने का ऐलान किया।

व्यापारियों ने इस बात पर खुशी जताई कि अमर पारवानी के नेतृत्व में पूर्व में व्यापारियों का व्यवस्थापन कर डुमरतरई में उन्हें व्यापार करने हेतु सर्वसुविधायुक्त दुकानें दिलाई गई थीं। सभी व्यापारियों ने कहा कि अमर पारवानी एवं उनकी टीम सदैव ही व्यापारी हित के कार्यों के लिए समर्पित रही है और हम सभी व्यापारी उनके साथ खड़े हैं।
जय व्यापार पैनल के प्रदेश चुनाव संचालक नरेंद्र दुग्गड़ ने जानकारी देते हुए जय व्यापार पैनल की टीम ने आज प्रदेश अध्यक्ष प्रत्याशी अमर पारवानी के नेतृत्व में डुमरतरई क्षेत्र के औषधि वाटिका, फुटवेयर मार्केट, किराना एवं अनाज मार्केट का दौरा कर व्यापारियों से समर्थन मांगा।

उन्होंने बताया कि सभी व्यापारियों ने कोरोनाकाल में अमर पारवानी एवं उनकी टीम द्वारा किये गये कार्यों की सराहना करते हुए उन्हें अपना समर्थन देने का ऐलान किया। व्यापारियों ने इस बात पर हर्ष जताया कि अब उन्हें ऐसे सशक्त प्रत्याशी को प्रदेश चेम्बर की बागडोर सौंपने का अवसर मिला है जिन्होंने हमेशा ही मुश्किल हालात में व्यापारियों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर उनकी समस्याओं का निराकरण करने का प्रयास किया। इस दौरान सभी व्यापारियों ने डुमरतरई में व्यापारियों के सफल व्यवस्थापन के लिए भी अमर पारवानी को धन्यवाद दिया। व्यापारियों ने कहा कि श्री पारवानी ने चेम्बर के अपने अध्यक्षीय कार्यकाल में शहर के बाजारों में व्याप्त समस्याओं के हल के लिए सराहनीय प्रयास करते हुए उनका निराकरण किया था।

इस दौरान श्री पारवानी ने कहा कि हम सभी व्यापारी हैं और हमारे लिए व्यापारी हित से बढ़कर कुछ भी नहीं। आप सभी व्यापारी साथियों की एकता ही हमारी असली ताकत है और इसी के दम पर हमने व्यापार जगत के सामने आई बड़ी से बड़ी मुश्किलों का डटकर सामना कर जीत हासिल की है। उन्होंने सभी व्यापारियों से आव्हान किया कि वे इस चुनाव में अपने मत का प्रयोग अवश्य करें और सही का चुनाव कर उसे संगठन की कमान सौंपे। उन्होंने कहा कि हम सदैव व्यापारी हित के लिए कार्य करते रहेंगे क्योंकि हम बिना किसी स्वार्थ के लिए चुनाव में आप सभी के बीच हैं। आप सभी का सहयोग ही हमारी प्रेरणा और हमारी ताकत है। श्री पारवानी ने कहा कि पूर्व में चेम्बर के अध्यक्ष रहते हुए रायपुर शहर के बाजारों में व्याप्त समस्याओं के लिए हमने बहुत प्रयास किये थे। जिसके फलस्वरूप हमने डुमरतरई में व्यवस्थापन कराई और यहां एक सुव्यवस्थित थोक बाजार का निर्माण कराया।

इस अवसर पर मुख्य रूप से उपस्थित रहे:- अमर पारवानी, अजय भसीन, उत्तम गोलछा,
अमृत लाल पटेल, हीरा माखीजा, कन्हैया लाल गुप्ता, महेश दरयानी, मनोज कुमार जैन, नरेन्द्र हरचंदानी, प्रृथ्वी पाल सिंह छाबड़ा, टी.श्रीनिवास रेड्डी, दिनेश पटेल, जितेन्द्र गोलछा जैन, लोकेश साहू, निलेश मुंदड़ा, प्रशांत गुप्ता, राजेन्द्र खटवानी, राकेश वाधवानी, शंकर बजाज, जितेन्द्र दोशी, अर्जुन दास ओचवानी, भरत अजवानी, राम मंधान, राकेश ओचवानी, वासु माखीजा, सुरिन्दर सिंह, प्रेम पाहुजा, रतनलाल अग्रवाल, कान्ती पटेल, रजत छाबड़ा, कपिल दोशी, सफीक अमन, जयंत मोहता, रूपेश वाधवानी, प्रकाश दरयानी, राजेश अग्रवाल, अमरलाल सचदेव, सुरेश अग्रवाल, पवन अल्वा, अमित चिमनानी, महेश चंदवानी, अशोक छेतिजा, सुनील मलानी, हीरालाल जैन, गुरूमुख दास आहुजा नवीन विज, लोक नारायण पटेल, विनय कृपलानी, देवराज गुरनानी, जयराम मंधानी, सुमीत, अंकित, वैभव श्रीवास्तव, वरूण चिमनानी, सुखदेव मुजवानी, सुरेश दासवानी, पंकज जैन,जय पंजवानी एवं व्यापारीगण उपस्थित रहे। 

रिकॉर्ड स्तर से 11,000 रुपये नीचे आए सोने के दाम

रिकॉर्ड स्तर से 11,000 रुपये नीचे आए सोने के दाम

नई दिल्ली। ग्लोबल मार्केट से मिले कमजोर संकेतों से बुधवार को सोने की कीमतें को 10 महीने के निचले स्तर के करीब पहुंच गई हैं. रिकॉर्ड ऊंचाई से सोने के दाम करीब 11 हजार रुपये रुपये प्रति दस ग्राम टूट चुके हैं. बता दें, अगस्त 2020 में सोने की कीमतें 56,200 रुपये प्रति दस ग्राम के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई थीं.

बुधवार को एमसीएक्स पर, सोने का वायदा 0.11 फीसदी की गिरावट के साथ 45,500 प्रति 10 ग्राम पर कारोबार करता हुआ नजर आया. पिछले सात सत्रों में से 6 कारोबारी सत्रों में सोने के दामों में गिरावट आते हुए देखी गई है. वहीं आज चांदी मई वायदा 396 रुपये की गिरावट के साथ 69,216 प्रति किलोग्राम पर कारोबार करता हुआ नजर आया.

वैश्विक बाजारों में, सोने की कीमतें आज गिर गई हैं. अमेरिकी ट्रेजरी की यील्ड में मजबूती की वजह से सोने पर दबाव बढ़ गया है. हाजिर सोना 0.2 फीसदी गिरकर 1,734.16 डॉलर प्रति औंस पर बोला गया. वहीं, चांदी 0.3 फीसदी फिसलकर 26.67 डॉलर प्रति औंस पर आ गई|
बड़ी खबर: नाम वापसी के पश्चात दोनों पैनल के प्रत्याशियों ने दिया जय व्यापार पैनल को समर्थन

बड़ी खबर: नाम वापसी के पश्चात दोनों पैनल के प्रत्याशियों ने दिया जय व्यापार पैनल को समर्थन

रायपुर । जय व्यापार पैनल के मुख्य चुनाव संचालक नरेन्द्र दुग्गड, चुनाव सह संचालक गारगी शंकर मिश्रा, चुनाव सह संचालक जितेन्द्र दोशी, छ.ग. चेम्बर ऑफ काॅमर्स एण्ड़ इंडस्ट्रीज के उपाध्यक्ष राजेन्द्र जग्गी, दीपक बल्लेवार, विजय शर्मा चुनाव सह संचालक विक्रम सिंहदेव एवं परमानन्द जैन ने बताया कि छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्रीज चुनाव 2021 के नजदीक आने के साथ ही जय व्यापार पैनल की ताकत और बढ़ गई है। पैनल का प्रचार- प्रसार अभियान इन दिनों जोरों पर है, इसी कड़ी में बेमेतरा जिले से आज एक खुशखबरी सामने आई। जिसके तहत जिले के दोनों पैनल के प्रत्याशियों ने नाम वापसी के पश्चात जय व्यापार पैनल को अपना समर्थन देने का ऐलान किया है। दोनों ही प्रमुख पैनल के प्रत्याशियों द्वारा अब जय व्यापार पैनल के पक्ष में प्रचार कर समर्थन की अपील की जाएगी।

पैनल से प्रदेश मुख्य चुनाव संचालक नरेंद्र दुग्गड़ ने जानकारी देते हुए बताया कि जय व्यापार पैनल इस चुनाव में पूरी मजबूती के साथ मैदान में खड़ा हुआ है और प्रदेश के सभी व्यापारियों का हमें जोरदार समर्थन मिल रहा है। वहीं बेमेतरा जिले से जय व्यापार पैनल एवं व्यापारी एकता पैनल के प्रत्याशियों द्वारा निजी कारणों से नाम वापसी कर ली गई थी, जिसके पश्चात आज सभी प्रत्याशियों ने लिखित रूप से जय व्यापार पैनल को अपना समर्थन देने का ऐलान करते हुए पैनल के पक्ष में प्रचार करने की घोषणा की। श्री दुग्गड़ ने बताया कि नामांकन प्रक्रिया के दौरान जय व्यापार पैनल से उपाध्यक्ष प्रत्याशी हेतु केशवदास मोटवानी एवं मंत्री प्रत्याशी हेतु अजय ठाकुर के नामों की घोषणा की गई थी। वहीं व्यापारी एकता पैनल से चंदन सोनी ने उपाध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल किया था। एवं सहयोगी बंटी अरोरा एवं संजय गुप्ता इन सभी प्रत्याशियों ने निजी कारणों के चलते चुनाव से नाम वापस ले लिया था। जिसके बाद आज सभी प्रत्याशियों ने जय व्यापार पैनल के कार्यालय में आकर जय व्यापार पैनल को अपना समर्थन देने की घोषणा करते हुए पैनल के पक्ष में प्रचार करने का ऐलान किया। 

 सोने-चांदी की कीमतों में आई भारी गिरावट, जाने आखिर कितने रूपये की आई गिरावट

सोने-चांदी की कीमतों में आई भारी गिरावट, जाने आखिर कितने रूपये की आई गिरावट

नई दिल्‍ली। राष्ट्रीय राजधानी के सर्राफा बाजार में मंगलवार को सोने का भाव 679 रुपए की गिरावट के साथ 44,760 रुपए प्रति 10 ग्राम रह गया। पिछले कारोबारी सत्र में सोना 45,439 रुपए प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। वहीं, चांदी भी 1,847 रुपए लुढ़ककर 67,073 रुपए प्रति किलो ग्राम रह गयी जो पिछले कारोबारी सत्र में 68,920 रुपए प्रति किलो ग्राम पर बंद हुआ था।

सोने-चांदी की कीमतों को देखें तो 7 अगस्‍त 2020 को गोल्‍ड की कीमत 57,008 रुपए प्रति 10 ग्राम थी। तब से इस कीमती पीली धातु के दामों में शुक्रवार 26 फरवरी 2021 तक 11,409 रुपए की गिरावट दर्ज की जा चुकी है।

वहीं, चांदी 7 अगस्‍त 2020 को 77,840 रुपए प्रति किग्रा पर थी, जो बीते शुक्रवार को 10,421 रुपए कम होकर 67,419 रुपए पर पहुंच गई है। अब हालांकि, अब हर दिन गिरती कीमतों के कारण ज्‍यादातर निवेशक इस ऊहापोह में हैं कि उन्‍हें गोल्‍ड में निवेश करना चाहिए या कुछ और इंतजार करना चाहिए। वहीं, कुछ निवेशक अपने पास मौजूद गोल्‍ड को बेचने या रोक कर रखने को लेकर उलझन में हैं।
जे.एस.पी.एल. में राष्ट्रीय सुरक्षा सप्ताह का हुआ शुभारंभ, आयोजित होंगी अनेक प्रतियोगिताएं

जे.एस.पी.एल. में राष्ट्रीय सुरक्षा सप्ताह का हुआ शुभारंभ, आयोजित होंगी अनेक प्रतियोगिताएं

रायपुरजिन्दल स्टील एंड पावर लिमिटेड (जेएसपीएल) मशीनरी डिवीजन के यूनिट हेड अरविंद तगई ने आज कहा कि सुरक्षा हमारी प्राथमिकता ही नहीं बल्कि हमारा मूल्य है।

पढ़ें : जब संकरी गली में नहीं जा पाई कार तो मंत्री डॉ. डहरिया स्कूटी चलाते पंहुचें लोगों के द्वार

स्वस्थ और खुशहाल जीवन के लिए प्लांट के साथ-साथ गृह और सड़क सुरक्षा भी हमारी नीतियों का महत्वपूर्ण हिस्सा है। जेएसपीएल कर्मचारियों के साथ-साथ सामुदायिक सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। अरविंद तगई आज राष्ट्रीय सुरक्षा सप्ताह के तहत आयोजित कार्यक्रमों के शुभारंभ के अवसर पर अपने विचार प्रकट कर रहे थे।

पढ़ें : चुनाव जो ना करवाए वो कम है, अब प्रियंका गाँधी ने किया ये काम... 


जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में श्री तगई ने कहा कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य हमारे जीवन में जागरूकता न होने या ध्यान न देने के कारण होने वाली दुर्घटनाओं को रोकना है। लोगों को सुरक्षा के प्रति जागरूक करना है। प्रत्येक वर्ष 4 मार्च को राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस मनाया जाता है। इसी कार्यक्रम को विस्तार देते हुए जेएसपीएल 1 से 8 मार्च तक अनेक कार्यक्रमों का आयोजन करेगा। इसके तहत मुख्य रूप से औद्योगिक दुर्घटनाओं से बचाव के तौर-तरीकों से लोगों को अवगत कराया जाएगा।

पढ़ें : BIG BREAKING : राजधानी में 5 अप्रैल तक लागू हुआ धारा 144, देर रात्रि प्रशासन ने जारी किया आदेश 


श्री तगई ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा सप्ताह के तहत हम उन सेनानियों का भी अभिनंदन करते हैं। जिनके कारण हमारे देश की सीमाएं सुरक्षित हैं। यह उन बलिदानियों को समर्पित है। जिन्होंने अपना रक्त देकर देश की सुरक्षा की। पुलिस और अन्य सुरक्षा बलों को भी हम धन्यवाद देते हैं, जिनकी वजह से हम सुरक्षित जीवन जी रहे हैं। 4 मार्च 1966 को नेशनल सेफ्टी काउंसिल की स्थापना के बाद से ही हमारा देश राष्ट्रीय सुरक्षा दिवस मना रहा है और जीवन के विभिन्न पहलुओं को ध्यान में रखते हुए जेएसपीएल राष्ट्रीय सुरक्षा सप्ताह मना रहा है।

पढ़ें : बड़ी खबर: ईटा भट्टा गिरने से एक महिला और बच्चे की दर्दनाक मौत 


इस सप्ताह जेएसपीएल सुरक्षा नारा लेखन, सुरक्षा पोस्टर चित्रांकन प्रतियोगिता, प्रश्नोत्तरी, स्वच्छता, शून्य क्षति प्रबंधन, नुक्कड़ नाटक जैसे कार्यक्रमों का आयोजन करेगा। नुक्कड़ नाटक का आयोजन 8 मार्च की शाम जेएसपीएल प्रांगण में स्थित हेरिटेज पार्क में होगा। इन कार्यक्रमों का आयोजन अरविंद तगई के नेतृत्व में गठित एक कमेटी की देखरेख में होगा। जिसमें मुकेश तिवारी, सुनील गुप्ता, सूर्योदय दुबे और शैलेंद्र कुमार प्रसाद सदस्य बनाए गए हैं। इन प्रतियोगिताओं में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले व्यक्तियों को पुरस्कृत भी किया जाएगा।

 देश में जल्द सस्ता होगा पेट्रोल-डीजल, 15 मार्च तक टैक्स घटाने की तैयारी में मोदी सरकार

देश में जल्द सस्ता होगा पेट्रोल-डीजल, 15 मार्च तक टैक्स घटाने की तैयारी में मोदी सरकार

नई दिल्ली। देश में इस समय पेट्रोल और डीजल की कीमतें आसमान छू रही हैं। पेट्रोल-डीज़ल की बढ़ती कीमतों के बीच अब वित्त मंत्रालय एक्साइज़ ड्यूटी कम करने के विकल्प पर विचार कर रहा है। इससे आम आदमी को आसमान छूती कीमतों से फौरी राहत मिल सकेगी। 15 मार्च तक तेल पर टैक्स घटाने के बारे में फैसला लिया जा सकता है। इस मामले में राज्यों, तेल कंपनियों और तेल मंत्रालय बातचीत कर रहे हैं। इसमें तेल कंपनियों से सहमति मिलने की उम्मीद है। कुछ राज्यों में कई वजहों से पेट्रोल की कीमत अब 100 रुपये प्रति लीटर तक पहुंच गई है। आम लोग और विपक्ष इसका विरोध कर रहे हैं। लगातार ईंधन की कीमतें बढऩे से ट्रांसपोर्टेशन खर्च भी बढ़ रहा है, इसका असर सब्जियों के दाम समेत कई और चीजों पर भी पड़ रहा है। आम जनता महंगाई से परेशान है। जबकि सरकार ईंधन की बढ़ती कीमतों की वजह अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑयल प्राइस में उछाल को बता रही है। 
मार्च में 11 दिन बैंकों में नहीं होगा कामकाज, यहां देखिए बैंक हॉलीडे की पूरी लिस्ट

मार्च में 11 दिन बैंकों में नहीं होगा कामकाज, यहां देखिए बैंक हॉलीडे की पूरी लिस्ट

अगर आप मार्च के महीने में अपने बैंक से संबंधित कार्यो को निपटाने के बारे में सोच रहे हैं तो यह खबर आपके लिए है. दरअसल इस महीने 11 दिनों तक बैंक बंद रहेंगे. दरअसल मार्च महीने में महाशिवरात्री और होली के त्योहार भी हैं इस वजह से भी बैंक बंद रहेंगे. आइए एक नजर डालते हैं मार्च महीने में किस-किस दिन बैंकों में हॉलीडे रहेगी.


मार्च के महीने में इन तारीखों पर रहेगी बैंकों में छुट्टी


5 मार्च 2021- इस दिन चापचर कुट की वजह से मिजोरम में बैंकों का अवकाश रहेगा.


7 मार्च 2021- इस दिन रविवार होने की वजह से बैंकों में हॉलीडे रहेगी.


11 मार्च 2021- महाशिवरात्री की वजह से इस दिन गुजरात, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, ओड़िशा, पंजाब, उत्तराखंड, तेलंगाना, राजस्थान, जम्मू, उत्तर प्रदेश, केरल, महाराष्ट्र, छतीसगढ़, झारखंड, कश्मीर और हिमाचल प्रदेश राज्यों में बैंकों में हॉलीडे रहेगी.


13 मार्च 2021- दूसरा शनिवार होने की वजह से देश भर के बैंक बंद रहेंगे.


14 मार्च 2021- इस दिन रविवार होने के कारण देश भर के बैंकों में हॉलीडे रहेगी.


21 मार्च 2021- इस दिन रविवार होने की वजह से बैंकों में अवकाश रहेगा.


22 मार्च 2021- इस दिन बिहार दिवस है. इस वजह से केवल बिहार राज्य में ही बैंकों में हॉलीडे रहेगी.


27 मार्च 2021- महीने का चौथा शनिवार होने की वजह से इस दिन बैंकों में छुट्टी रहेगी.


28 मार्च 2021- इस दिन रविवार होने की वजह से देश भर के बैंक बंद रहेंगे.


29 मार्च 2021- इस दिन होली का त्योहार है. इस वजह से देश के कई राज्यों में बैंक बंद रहेंगे.


30 मार्च 2021- बिहार राज्य में होली की वजह से इस दिन भी बैंक बंद रहेंगे.


15 मार्च से दो दिन की बैंकों में हो सकती है हड़ताल


मार्च महीने में 11 दिनों तक बैंकों में काम काज नहीं होगा. ऐसे में अगर आप अपने बैंक के काम करना चाह रहे हैं तो इन तारीखों पर बैंक न जाएं. वरना आपको वापस लौटना पड़ेगा. वहीं बता दें कि बैंक कर्मचारियों के 9 संगठनों का शीर्ष निकाय यूएफबीयू ने सार्वजनिक क्षेत्र के दो बैंकों के प्रस्तावित निजीकरण के खिलाफ 15 मार्च से दो दिन की हड़ताल की भी घोषणा की है. ऐसे में अगर हड़ताल होती है तो 13 मार्च से 16 मार्च तक बैंक बंद रह सकते हैं. 13 और 14 मार्च को दूसरा शनिवार और रविवार पड़ रहा है. इस कारण दो छुट्टी के बाद दो दिन हड़ताल होने से लगातार 4 दिन बैंक बंद रह सकते हैं.

 

जय व्यापार पैनल को जांजगीर-चांपा के व्यापारियों से मिला जबरदस्त समर्थन

जय व्यापार पैनल को जांजगीर-चांपा के व्यापारियों से मिला जबरदस्त समर्थन

रायपुर | जय व्यापार पैनल के मुख्य चुनाव संचालक नरेन्द्र दुग्गड, चुनाव सह संचालक गारगी शंकर मिश्रा, चुनाव सह संचालक जितेन्द्र दोशी, छ.ग. चेम्बर ऑफ काॅमर्स एण्ड़ इंडस्ट्रीज के उपाध्यक्ष राजेन्द्र जग्गी, दीपक बल्लेवार, विजय शर्मा एवं चुनाव सह संचालक विक्रम सिंहदेव ने बताया कि छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्रीज चुनाव 2021 के प्रचार अभियान के तहत आज जय व्यापार पैनल ने जांजगीर- चांपा का दौरा कर व्यापारियो से भेंट की। इस दौरान स्थानीय व्यापारियों एवं विभिन्न व्यापारिक संगठनों ने सभी प्रत्याशियों का जोरदार स्वागत करते हुए श्इस बार- जय व्यापारश् के नारे लगाए।


 व्यापारियों द्वारा भव्य एवं जोशीले स्वागत पर सभी प्रत्याशियों ने उनका अभिवादन करते हुए उनका आभार जताया। इस कड़ी में एक बैठक का आयोजन किया गया जिसमें सभी व्यापारियों ने इस बार चुनाव में जय व्यापार पैनल को अपना समर्थन देने  का ऐलान किया। सभी व्यापारियों ने कहा कि आज प्रदेश चेम्बर अपनी साख बचाने के लिए संघर्ष कर रहा है इसलिए हम सभी को अब सशक्त प्रत्याशी का चुनाव कर उन्हें संगठन की बागडोर सौंपनी होगी। 
पैनल के प्रदेश मुख्य चुनाव संचालक नरेंद्र दुग्गड़ ने जानकारी देते हुए बताया कि चेम्बर चुनाव के प्रचार अभियान के क्रम में आज हमारी टीम जांजगीर- चांपा पहुंची। जहां व्यापारियों द्वारा किये गये जोशीले स्वागत से हम सभी अभिभूत रहे। उन्होंने बताया कि बैठक में सभी व्यापारियों ने कोरोनाकाल में अमर पारवानी एवं उनकी टीम द्वारा किये गये कार्यों की सराहना करते हुए उन्हें अपना समर्थन देने का ऐलान किया। व्यापारियों ने इस बात पर हर्ष जताया कि अब उन्हें ऐसे सशक्त प्रत्याशी को प्रदेश चेम्बर की बागडोर सौंपने का अवसर मिला है जिन्होंने हमेशा ही मुश्किल हालात में व्यापारियों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर उनकी समस्याओं का निराकरण करने का प्रयास किया। 
बैठक को संबोधित करते हुए श्री पारवानी ने कहा कि हम सभी व्यापारी हैं और हमारे लिए व्यापारी हित से बढ़कर कुछ भी नहीं। आप सभी व्यापारी साथियों की एकता ही हमारी असली ताकत है और इसी के दम पर हमने व्यापार जगत के सामने आई बड़ी से बड़ी मुश्किलों का डटकर सामना कर जीत हासिल की है। उन्होंने सभी व्यापारियों से आव्हान किया कि वे इस चुनाव में अपने मत का प्रयोग अवश्य करें और सही का चुनाव कर उसे संगठन की कमान सौंपे।

उन्होंने कहा कि हम सदैव व्यापारी हित के लिए कार्य करते रहेंगे क्योंकि हम बिना किसी स्वार्थ के लिए चुनाव में आप सभी के बीच हैं। आप सभी का सहयोग ही हमारी प्रेरणा और हमारी ताकत है। बैठक को महामंत्री प्रत्याशी अजय भसीन और कोषाध्यक्ष प्रत्याशी उत्तम गोलछा ने भी संबोधित किया। 

इस दौरान मुख्य रूप से प्रकाश अग्रवाल, सुनील साधवानी, विशाल केडिया, सतीश केडिया, अनिल मनवानी, सुनील मनवानी, किशोर मनवानी, तौसीफ मेमन, अमीन मेमन, अली भाई, विनय अग्रवाल, नागंद गुप्ता, मनोज मित्तल, राम खुबवानी, अनिल गुप्ता, कृष्णा देवांगन, राजेंद्र गुप्ता, हरीश वाधवानी, रौनक गुप्ता, राजू चंदानी, सुमित थवानी, मन्नू जेठानी, दिलीप मीरचंदानी, रघु सोनी, सत्यनारायण सोनी, संतोष सोनी, कैलाश सोनी, पंकज गुप्ता, रमेश जालान, अनिल गुलबानी, जितेंद्र शिवानी, अनिल सोनी, संजय अग्रवाल, संजय उपहार, अनिल गुप्ता, केतन पटेल, प्रमोद खुबचंदानी, सालप केडिया, विनोद तिवारी, नन्ना शर्मा, कुलवंत सलूजा, राजीव मिश्रा, राजा चश्मा, पीसी धमेचा, अजु वीरानी, राज अग्रवाल, मन्नू विरानी, ऋषि तहलनि, ऋषि अग्रवाल, गोपाल बजाज, मुरली गुरनानी,  अमन बजाज, अमित जैन, विकेश भोपाल पुरिया, रमेश अग्रवाल, मोनू बजाज, पवन पालीवाल, शरद पालीवाल, प्रमोद सिंघानिया, दीपक सिंघानिया, विक्की बजाज, अशोक बजाज, कमल गुरनानी, आनंद अग्रवाल, पंकज अग्रवाल, अशोक अग्रवाल, धनराज अग्रवाल, नीलेश अग्रवाल, पवन अग्रवाल, रवि सितलानी सहित बड़ी संख्या में व्यापारीगण उपस्थित थे।
सोने और चांदी की कीमतों में फिर आई तेजी, जाने कितना बढ़ा सोना

सोने और चांदी की कीमतों में फिर आई तेजी, जाने कितना बढ़ा सोना

नई दिल्ली | आज सिर्फ शेयर बाजार में ही तेजी नहीं देखी जा रही है, बल्कि सोने और चांदी की कीमतों में भी तेजी देखने को मिल रही है। पिछले सत्र में 45,736 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बंद हुआ सोना आज 264 रुपये की तेजी के साथ 46,000 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर खुला है। शुरुआती कारोबार में ही सोने ने 46,139 रुपये का उच्चतम स्तर भी छू लिया, वहीं सोना 46,000 के स्तर के नीचे नहीं गया। वहीं दूसरी ओर पिछले सत्र में 67,261 रुपये प्रति किलो के स्तर पर बंद हुई चांदी आज 1314 रुपये की तेजी के साथ 68,575 रुपये प्रति किलो के स्तर पर खुली है। शुरुआती कारोबार में ही चांदी ने 68,575 रुपये का उच्चतम स्तर और 67,924 रुपये का न्यूनतम स्तर छू लिया।

 

 
  Jio यूजर्स के लिए खुशखबरी: अब बिना SIM डाले आप किसी को भी कर सकेंगे कॉल

Jio यूजर्स के लिए खुशखबरी: अब बिना SIM डाले आप किसी को भी कर सकेंगे कॉल

Reliance Jio के यूजर्स के लिए एक खुशखबरी है। की भारतीय मार्केट की टेलिकॉम कंपनियां अपने ग्राहकों को डिवाइसेज में eSIM सपोर्ट उपलब्ध करा रही हैं। eSIM या इंबेडेड सब्सक्राइबर आइडेंटिटी मॉड्यूल को सीधे फोन में एम्बेड किया जाता है। अगर इस तरह की सिम फोन में दी जाती है तो इससे फोन का स्पेस तो बचता ही है साथ ही अलग से सिम ट्रे बनाने की जरुरत भी नहीं पड़ती है। यह किसी भी मोबाइल डिवाइस के रिमोट सिम प्रोविजनिंग को इनेबल करती है। यानी की eSIM के यूजर फ़ोन में बिना सिम डाले भी टेलिकॉम सर्विसेज यूज कर सकते हैं। आजकल कई फ़ोनों में ईसिम का चलन चल रहा है। ऐसे में अगर आप Reliance Jio के यूजर्स हैं तो आप यह सिम किसी भी पास के जियो स्टोर से ले सकते हैं। साथ ही हम आपको यह भी बता रहे हैं की आप किस तरह फोन्स में ईसिम को एक्टिवेट कर सकते हैं।

यदि आप Reliance Jio eSIM के फायदों का आनंद लेना चाहते हैं, तो आपको एक नया कनेक्शन लेने के लिए पास के Reliance Digital या Jio स्टोर पर जाना होगा। फिर आपको कनेक्शन पाने के लिए अपनी फोटो और आईडी प्रूफ देना होगा। यदि आप पास के Jio स्टोर का पता नहीं लगा पा रहा हैं तो टेल्को द्वारा दिए गए टूल का उपयोग करें, जो आपको नजदीकी टेलीकॉम स्टोर खोजने में मदद करेगा। नए Jio eSIM कनेक्शन को एक्टिवेट करने के लिए आपको अपने स्मार्टफोन में एक फीचर डाउनलोड करना होगा। वहीं eSIM के कम्पेटिबल डिवाइस ऑटोमेटिकली इस सिम को कॉन्फ़िगर कर लेते हैं। यदि आप गलती से डाउनलोड किए गए eSIM को हटा देते हैं, तो आपको दोबारा निकटतम रिलायंस डिजिटल और Jio स्टोर जा कर उसे दोबारा एक्टिवेट कराना होगा। इसके लिए ग्राहक को फिर से फोटो और आईडी प्रूफ की कॉपी देनी होगी।

अब आप सोच रहे होंगे कि क्या आपका फिजिकल सिम कार्ड eSIM में बदल सकता है? इसका जवाब है हाँ। आप अपने Reliance Jio फिजिकल सिम कार्ड को उस डिवाइस से एक SMS भेजकर eSIM में चेंज कर सकते हैं जिसमें Jio कनेक्शन एक्टिव है और सिम कॉन्फ़िगरेशन भी हो चुका है। आप इसी प्रोसेस को यूज करके अपने Jio eSIM को भी नार्मल सिम में ट्रान्सफर कर सकते हैं। हालांकि, उपयोगकर्ताओं को Jio eSIM सेवाओं आनंद उठाने के यह जरूर देखना होगा की उनका फ़ोन eSIM को सपोर्ट करता है या नहीं।
 
 आम आदमी को बड़ा झटका: एक बार फिर महंगा हुआ रसोई गैस सिलेंडर

आम आदमी को बड़ा झटका: एक बार फिर महंगा हुआ रसोई गैस सिलेंडर

नई दिल्ली। मार्च के पहले दिन फिर से एलपीजी गैस सिलिंडर की कीमत में 25 रुपए का इजाफा हुआ है। फरवरी के महीने में गैस सिलिंडर की कीमत में 100 रुपए का उछाल आया था। इससे पहले 25 फरवरी को कीमत में उछाल आया था। पहले, 4 फरवरी को 25 रुपए, 14 फरवरी को 50 रुपए की बढ़ोतरी हुई थी। वहीं, 25 फरवरी को इसमें 25 रुपए का इजाफा हुआ था। फरवरी महीने में रसोई गैस का दाम 100 रुपए बढ़ गया। पिछले एक महीने में कीमत में चौथी बार तेजी आई है और अब तक 125 रुपए बढ़ गए हैं। इसी के साथ कीमत में बढ़ोतरी के बाद अब दिल्ली में घरेलू गैस का रेट 794 से बढ़कर 819 रुपए हो गया है।

 दिल्ली में नई कीमत 819 रुपए
- मुंबई में नई कीमत 819 रुपए
- कोलकाता में 845.50 रुपए
- चेन्नई में 835 रुपए हो गई है 

19 किलोग्राम वाले सिलिंडर का रेट-
वैसे हर महीने की पहली तरीख को एलपीजी के दाम में बदलाव होते हैं। 19 किलोग्राम वाले कमर्शियल गैस सिलेंडर के दाम में 90.50 रुपए का उछाल आया है। अब दिल्ली में इस सिलिंडर की कीमत 1614 रुपए हो गई है। उसी तरह मुंबई का रेट अब 1563.50 रुपए प्रति सिलिंडर हो गया है। कोलकाता में यह कीमत 1681.50 रुपए और चेन्नई का रेट 1730.5 रुपए हो गया है। इससे पहले राजधानी में 19 किलो वाले सिलेंडर का भाव 1533.00 रुपये, कोलकाता में 1598.50 रुपये, मुंबई में 1482.50 रुपये और चेन्नई में 1649.00 रुपये थी।
अकलतरा के व्यापारियों ने एक स्वर में दिया, जय व्यापार पैनल को समर्थन, व्यापारियों ने कहा इस बार-जय व्यापार

अकलतरा के व्यापारियों ने एक स्वर में दिया, जय व्यापार पैनल को समर्थन, व्यापारियों ने कहा इस बार-जय व्यापार

रायपुर | जय व्यापार पैनल के मुख्य चुनाव संचालक नरेन्द्र दुग्गड, चुनाव सह संचालक गारगी शंकर मिश्रा, चुनाव सह संचालक जितेन्द्र दोशी, छ.ग. चेम्बर ऑफ काॅमर्स एण्ड़ इंडस्ट्रीज के उपाध्यक्ष राजेन्द्र जग्गी, दीपके बल्लेवार, चुनाव सह संचालक विक्रम सिंहदेव एवं परमानन्द जैन ने बताया कि छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्रीज चुनाव 2021 के प्रचार अभियान की कड़ी में जय व्यापार पैनल की टीम आज अकलतरा पहुंची। जहां विभिन्न व्यापारिक संगठनों द्वारा प्रदेश अध्यक्ष प्रत्याशी अमर पारवानी, महामंत्री प्रत्याशी अजय भसीन एवं कोषाध्यक्ष प्रत्याशी उत्तम गोलछा सहित पूरी टीम का भव्य स्वागत किया गया। इस दौरान गल्ला किराना व्यापारी संघ, सराफा एसोसिएशन, राइस मिल एसोसिएशन, अकलतरा चेम्बर ऑफ कॉमर्स सहित स्थानीय व्यापारियों ने एक स्वर में जय व्यापार पैनल को अपना पूर्ण समर्थन देने का वादा किया। 


पैनल के प्रदेश मुख्य चुनाव संचालक नरेंद्र दुग्गड़ ने जानकारी देते हुए बताया कि जय व्यापार पैनल के प्रत्याशियों एवं पदाधिकारियों द्वारा अकलतरा का दौरा कर व्यापारियों से भेंट की गई। जिसके तहत विभिन्न व्यापारिक संगठनों सहित स्थानीय व्यापारियों के साथ बैठक का आयोजन हुआ जिसमें सभी विभिन्न व्यापारी संगठनों से सदस्यों ने अमर पारवानी एवं उनकी टीम के द्वारा किये गये कार्यों की प्रशंसा करते हुए कहा कि उन्होंने सदैव व्यापारी हित में कार्य किये हैं और हमेशा ही व्यापारियों की समस्याओं को सुनकर उसके निराकरण का पूरा प्रयास किया है। इस दौरान सभी उपस्थितजनों ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि इस चुनाव में सभी व्यापारी साथी जय व्यापार पैनल के साथ है। 

बैठक को संबोधित करते हुए श्री पारवानी ने कहा कि आप सभी व्यापारी साथियों की एकता ही जय व्यापार पैनल की असली ताकत है और यही हमारी जीत का सूत्र है। हमने सदैव व्यापारी हित को प्राथमिकता दी है और उसके लिए सदैव प्रयासरत रहे हैं। व्यापारी हित में हमने जो भी उपलब्धियां हासिल की, वो आप सभी के सहयोग से ही हो पाया है। अब इस चुनाव में भी हम सभी को अपनी संगठन क्षमता का परिचय देते हुए चेम्बर को फिर से उसकी खोई हुई प्रतिष्ठा वापस दिलानी है। बैठक को संबोधित करते हुए पैनल के प्रदेश महामंत्री प्रत्याशी अजय भसीन ने कहा कि हम सभी ने सदैव अपने व्यापारी साथियों के हित के लिए प्रयास किया है,जिसमें आप सभी ने हमेशा ही हमें अपना सहयोग दिया। इस बार भी हम केवल अपने व्यापारी साथियों के हित के लिए बगैर स्वार्थ के चुनाव लड़ रहे हैं। इसलिए व्यापारी साथियों को भी यह सुनिश्चित करना होगा कि कौन उनके हित के लिए लड़ रहा है और उन्हें किसका साथ देना चाहिए। 

पैनल के प्रदेश कोषाध्यक्ष प्रत्याशी उत्तम गोलछा ने इस दौरान उपस्थित सभी व्यापारी साथियों एवं विभिन्न व्यापारिक संगठनों का आभार जताया। उन्होंने कहा कि सभी व्यापारी साथी जिस प्रकार से व्यापारी हित के प्रति समर्पण भाव से कार्य कर रहे हैं वह प्रशंसनीय है। जय व्यापार पैनल के प्रति सभी व्यापारी साथियों की निष्ठा और उनके समर्पण भाव के लिए मैं सभी साथियों का धन्यवाद देता हूं। श्री गोलछा ने कहा कि  निश्चित ही हमारी एकता इस चुनाव में हमारी जीत का मार्ग प्रशस्त करेगी।

बैठक को संबोधित करते हुए अकलतरा चेम्बर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष विजय केड़िया ने सभी उपस्थित व्यापारी साथियों से आव्हान किया कि वे इस बार व्यापारी हित में समर्पित जय व्यापार पैनल को अपना समर्थन दें और प्रदेश में व्यापारियों की आवाज को बुलंद करें। गल्ला किराना व्यापारी संघ के अध्यक्ष लखन ने कहा कि हम सभी व्यापारियों के पास यह सुनहरा अवसर है जब हम हमारे सुखदुख के अपने साथियों को छत्तीसगढ़ चेम्बर का प्रतिनिधित्व सौंपने जा रहे हैं। हम सभी को इस सुनहरे अवसर का निश्चित ही लाभ उठाना चाहिए और नया इतिहास लिखना चाहिए। 

इस दौरान मुख्य रूप से प्रकाश वाधवा, जुगल लिख्वानीय, बिहारी ताम्रकार, नानक रोहरा, अजय ढेरी, संजय गुप्ता, रजनीश गुप्ता, अजय गुप्ता, नवल केडिया, कमल केडिया, सुशील जैन, नरेश, ओम प्रकाश अग्रवाल, सत्येंद्र जैन, पंकज दोषी,अशोक राठी, अनिल शादिजा, राजेश अग्रवाल, अशोक मलाक्षा, पिंटू, अमित सिंघई, गोलू पत्रकार, अमरीश पत्रकार, अंकुश गुप्ता सहित बड़ी संख्या में सम्मानित व्यापारीगण उपस्थित थे।
जय व्यापार पैनल के सम्पर्क अभियान में व्यापारियों ने दिखाया उत्साह,टीम का बिलासपुर-चकरभाठा में दौरा, मिला जोरदार समर्थन

जय व्यापार पैनल के सम्पर्क अभियान में व्यापारियों ने दिखाया उत्साह,टीम का बिलासपुर-चकरभाठा में दौरा, मिला जोरदार समर्थन

रायपुर | जय व्यापार पैनल के मुख्य चुनाव संचालक नरेन्द्र दुग्गड, चुनाव सह संचालक गारगी शंकर मिश्रा, चुनाव सह संचालक जितेन्द्र दोशी एवं चुनाव सह संचालक विक्रम सिंहदेव ने बताया कि छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्रीज चुनाव 2021 की तैयारियों के क्रम में जय व्यापार पैनल की टीम आज बिलासपुर का दौरा कर व्यापारी से मुलाकात किया। जय व्यापार पैनल के टीम में प्रदेश अध्यक्ष प्रत्याशी अमर पारवानी, महामंत्री प्रत्याशी अजय भसीन, कोषाध्यक्ष प्रत्याशी उत्तम गोलछा सहित चुनाव संचालक मंडल के सदस्य शामिल थे।

जय व्यापार पैनल के प्रत्याशी व सदस्य चकरभाठा में व्यापारियों के साथ बैठक कर जय व्यापार पैनल के प्रत्याशियों को विजयी बनाने की अपील की। पैनल के प्रत्याशी व सदस्य संत साई जी से मुलाकात कर आशीर्वाद प्राप्त किया। संत साई जी ने जीत की शुभकामनाओं के संग सभी को बधाई दी।


पैनल से प्रदेश चुनाव संचालक नरेंद्र दुग्गड़ ने जानकारी देते हुए बताया कि नामांकन प्रक्रिया के साथ ही अब जय व्यापार पैनल के संपर्क अभियान ने तेजी पकड़ ली है। जिसके तहत आज हमारी टीम बिलासपुर जिले में व्यापारियों से भेंट करते हुए जय व्यापार पैनल के लिए समर्थन मांगा। आनंद इंपीरियल व्यापार विहार बिलासपुर में आयोजित व्यापारिक मिलन समारोह में शामिल होकर उपस्थित व्यापारियों को भी संबोधित किया। जहां बड़ी संख्या में उपस्थित व्यापारी साथियों ने जय व्यापार पैनल के पक्ष में अपना वोट देने का वादा किया।

व्यापारियों ने यह स्वीकारा कि लॉकडाउन के दौर में जब पूरा व्यापार जगत मुश्किलों का सामना कर रहा था, उस वक्त श्री पारवानी एवं उनकी टीम ने व्यापारी हित में लगातार प्रयास जारी रखा। जिसके चलते व्यापारियों को व्यापार करने में बहुत मदद मिली।

बैठक को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष प्रत्याशी अमर पारवानी ने कहा कि प्रदेश के व्यापारी साथी हमें अपना पूरा समर्थन दे रहे हैं। व्यापारियों का यह समर्थन इस बात का प्रतीक है कि सभी चेम्बर में परिवर्तन चाहते हैं। सभी व्यापारी साथी व्यापारी हित में कार्य करने करने वाले प्रत्याशियों को चेम्बर की कमान सौंपना चाहते हैं। उन्होंने आगे कहा कि जय व्यापार पैनल के साथियों ने कोरोनाकाल व लॉकडाउन के समय में 24 घंटे व्यापारियों की समस्याओं के समाधान में जुटा रहा। हम निःस्वार्थ भाव से चुनाव लड़ रहे हैं। इसलिए व्यापारी साथियों को भी यह सुनिश्चित करना होगा कि कौन उनके हित के लिए लड़ रहा है और कौन अपने हित के लिए मैदान में है। यह चुनाव व्यापारियों का व्यापारियों के लिए व्यापारी चुनने का चुनाव है।

जिला महामंत्री प्रत्याशी अजय भसीन व कोषाध्यक्ष प्रत्याशी उत्तम गोलछा ने व्यापारियों को संबोधित करते हुए कहा कि आप हमें ऐसे ही वोट न दे आप हमारे द्वारा किए गए कार्यो को देखे, उस पर सोचे, विचारे उसके बाद हमें वोट दे। हम सभी आपकी सेवा करने के लिए आपका बहुमूल्य मत का आशीर्वाद मांग रहे है। आपका एक वोट व्यपारियों के उन्नति, विकास और प्रगति का नव आयाम गढ़ेगा। जिला उपाध्यक्ष प्रत्याशी नवदीप सिंह अरोरा, जिला मंत्री प्रत्याशी अनिल एल वाधवानी ने भी उपस्थित व्यापारियों को संबोधित कर जय व्यापार पैनल के सभी प्रत्याशियों को प्रचंड मतों से विजयी बनाने की अपील की। इस अवसर पर उपस्थित व्यापारियों ने इस बार जय व्यापार के गगनचुंबी नारो के साथ जय व्यापार पैनल के सभी प्रत्याशियों को प्रचंड मतों से विजय बनाने का संकल्प लिया।


इस अवसर पर प्रमुख रूप से उपस्थित रहे:- अमर पारवानी, अजय भसीन, उत्तम गोलछा, नवदीप अरोरा, अनिल वाधवानी, राकेश ओचवानी, देवीदास वाधवानी, किशोर पंजवानी, भोजराज मधवानी, विजय वर्मा, राम आर्या, अशोक मंगलानी, कुशल पाण्ड़ेय, कृष्ण कुमार कौशिक, संजय सिंह राजपूत, मनोज मधवानी, ंअजय नत्थानी, प्रताप मोहलानी, अनिल फोटानी, सियराम रोचनाली, हरीश कुकरेजा, राजकुमार कुलवानी, देवानन्द कुकरेजा, प्रमोद कुमार रोचनानी, मोतीलाल जगवानी, विनोद चाॅवला, मनीष शर्मा, प्रकाश कुकरेजा, जीतू मधवानी, सेवाराम रोचवानी, किशोर अडवानी, अशोक नत्थानी एवं नारायण पंजवानी आदि।

 फिर हुई पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी, जानिए कितने बढ़े दाम

फिर हुई पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी, जानिए कितने बढ़े दाम

रायपुर। हर दिन पेट्रोल की कीमतों में हो रहे बदलाव के चलते में आज रायपुर में पेट्रोल के दाम 89.64 रूपए प्रति लीटर पहुंच गए हैं। 27 फरवरी को पेट्रोल की कीमतों में +0.23 रुपए की बढ़ोतरी देखी गई। वहीँ डीजल में +0.16 रुपए की बढ़ोतरी के बाद दाम 88.26 रूपए प्रति लीटर है। 

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की बात करें तो शनिवार को पेट्रोल की कीमत में 24 पैसे की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई, जिससे यह बढ़कर 91.17 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गई है। वहीं, दिल्ली में डीजल का भाव 15 पैसे बढ़कर 81.47 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया है। इसी तरह मुंबई में शनिवार को पेट्रोल की कीमत बढ़त के साथ 97.57 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गई है। वहीं, यहां डीजल का भाव तेजी के साथ 88.60 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया है।

चेन्नई की बात करें, तो यहां शनिवार को पेट्रोल 93.11 रुपये प्रति लीटर पर और डीजल 86.45 रुपये प्रति लीटर पर मिल रहा है। पटना की बात करें, तो यहां शनिवार को पेट्रोल का भाव 93.48 रुपये प्रति लीटर पर है और डीजल 86.73 रुपये प्रति लीटर पर मिल रहा है।

इसके अलावा उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में पेट्रोल शनिवार को 89.31 रुपये प्रति लीटर पर मिल रहा है और डीजल 81.85 रुपये प्रति लीटर पर मिल रहा है। वहीं, चंडीगढ़ में शनिवार को पेट्रोल 87.73 रुपये प्रति लीटर पर और डीजल 81.17 रुपये प्रति लीटर पर बिक रहा है।
नोएडा की बात करें, तो यहां शनिवार को पेट्रोल 89.38 रुपये प्रति लीटर पर मिल रहा है और डीजल 81.91 रुपये प्रति लीटर पर मिल रहा है। इसके अलावा गुरुग्राम में शनिवार को पेट्रोल 89.11 रुपये प्रति लीटर पर और डीजल 82.05 रुपये प्रति लीटर पर मिल रहा है।

वहीं, कोलकाता में शनिवार को पेट्रोल 91.35 रुपये प्रति लीटर पर और डीजल 84.35 रुपये प्रति लीटर पर मिल रहा है। दक्षिण 24 परगना की बात करें, तो यहां शनिवार को पेट्रोल 91.60 रुपये प्रति लीटर पर और डीजल 84.58 रुपये प्रति लीटर पर मिल रहा है। इसके अलाना हावड़ा में शनिवार को पेट्रोल 91.35 रुपये प्रति लीटर पर और डीजल 84.35 रुपये प्रति लीटर पर मिल रहा है।
 10 हजार रुपये सस्ता हो चुका है सोना, और कितना गिरेगा!

10 हजार रुपये सस्ता हो चुका है सोना, और कितना गिरेगा!

मुंबई। सोना आज 99 रुपये की गिरावट के साथ खुला। दिन चढऩे के साथ इसमें और गिरावट आई। सुबह साढ़े 11 बजे यह 195 रुपये की गिरावट साथ 46046 रुपये प्रति 10 ग्राम पर ट्रेड कर रहा था। सुबह के सत्र में इसने 46340 रुपये का उच्चतम और 45972 रुपये का न्यूनतम स्तर छू लिया। जून डिलीवरी वाला सोना भी 121 रुपये की गिरावट के साथ 46274 रुपये पर चल रहा था। इसी तरह मार्च डिलीवरी वाली चांदी 787 रुपये की गिरावट के साथ 68489 रुपये प्रति किलो के भाव पर ट्रेड कर रही थी।दिल्ली के सर्राफा बाजार में गुरुवार को सोने का भाव 358 रुपये की गिरावट के साथ 46 हजार रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर के भी नीचे चला गया। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के अनुसार अब सोना 45,959 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया। पिछले कारोबारी सत्र में सोना 46,313 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। चांदी की कीमत भी 151 रुपये बढ़कर 69,159 रुपये प्रति किलो रह गयी जिसका पिछला बंद भाव 69,008 रुपये किलो था।
प्रदेश के सभी व्यापारियों का भारत बंद को अभूतपूर्व समर्थन, एकजुट होकर कर रहे GST के नए प्रावधानों का विरोध,केंद्र सरकार को दिखेगी व्यापारी एकता की ताकत

प्रदेश के सभी व्यापारियों का भारत बंद को अभूतपूर्व समर्थन, एकजुट होकर कर रहे GST के नए प्रावधानों का विरोध,केंद्र सरकार को दिखेगी व्यापारी एकता की ताकत

रायपुर, कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के प्रदेश अध्यक्ष अमर परवानी, कार्यकारी अध्यक्ष मंगेलाल मालू, विक्रम सिंहदेव, महामंत्री जितेंद्र दोषी, कार्यकारी महामंत्री परमानंद जैन, कोषाध्यक्ष अजय अग्रवाल एवं प्रदेश मीडिया प्रभारी संजय चैबे ने बताया कि केंद्र सरकार द्वारा जीएसटी के अंतर्गत नए प्रावधान किये गये हैं, जिससे यह अब और भी जटिल हो गया है। जिसके चलते व्यापारियों को अब और ज्यादा दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। सरकार द्वारा ई वे बिल सहित छोटे व्यापारियों के लिए ई इनवाइस जैसे प्रावधान किये गये हैं, जो व्यापारियों के लिए सर का दर्द बन गया है। इसके विरोध में कैट द्वारा भारत बंद का आव्हान किया गया है। जिसे पूरे देश के व्यापारियों का पूरा समर्थन मिल रहा है।
इस संबंध में कैट के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अमर पारवानी ने खुलकर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि कोरोनाकाल के बाद से व्यापार जगत कई दिक्कतों का सामना कर रहा है, इस मुश्किल हालात में केंद्र सरकार द्वारा एक बार फिर व्यापारियों के उपर जीएसटी के नए प्रावधानों का बोझ लाद दिया गया। श्री पारवानी ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा जीएसटी में जो नए प्रावधान किये गये हैं उसके तहत अब किसी भी ट्रांसपोर्टर को ई वे बिल के तहत रोजाना 200 किमी ट्रांसपोर्टेशन करना अनिवार्य हो गया है यदि किसी कारणवश वह ऐसा नहीं कर पाया तो उसका ई वे बिल निरस्त हो जाएगा साथ ही उस पर कर का 200 प्रतिशत पेनाल्टी भी लगाई जाएगी। इतना ही नहीं सरकार ने छोटे व्यवसायियों के लिए बी टू बी के लिए ई इनवायस अनिवार्य कर दिया है। यदि इसमें किसी भी प्रकार की छोटी सी चूक होती है तो विभाग द्वारा बिना किसी नोटिस व्यापारी का जीएसटी नंबर तक कैंसल कर दिया जाएगा। यह किसी भी प्रकार से जायज नहीं है।
श्री पारवानी ने कहा कि केंद्र सरकार ईमानदारी से जीएसटी चुकाने वाले व्यापारियों को भी चोर की नजर से देख रही है जो कि पूरी तरह गलत है। सरकार द्वारा जबर्दस्ती ऐसे प्रावधान किये जा रहे हैं जिससे व्यापारियों पर अनावश्यक बोझ बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार कुछ लोगों की गलतियों की सजा बाकी सभी लोगों पर थोप रही है जो कि बिल्कुल गलत है और इसका हम सभी पुरजोर विरोध करते हैं। श्री पारवानी ने कहा कि इस मुश्किल हालात में भी यदि हम सभी व्यापारी साथी एक होकर इसके खिलाफ आवाज नहीं उठा पाए तो सरकार इसी तरह दबावपूर्वक हम पर बोझ बनाती रहेगी। यह समय हम सभी के संगठित होकर इसका विरोध कर सरकार को हमारी एकता की ताकत दिखाने का है।
इन बिंदुओं से समझिए क्यों जरूरी है भारत बंद -
◆ सेक्शन 83
आयकर की धारा 281ठ और ब्ळैज् की धारा 83 (1) में कहा गया है कि फर्जी बिल, गैर-मौजूद विक्रेता, सर्कुलर ट्रेडिंग आदि के कारण कर चोरी के मामलों में, कर अधिकारी को अब बैंक खाते तथा संपत्ति को जब्त करने का अधिकार होगा ! इसके अलावा कर अधिकारी अस्थायी रूप से कंपनी निदेशकों, भागीदारों, कंपनी सचिव, कर्मचारियों, प्रबंधकों, सीए, सीएस, अकाउंटेंट, चार्टर्ड अकाउंटेंट, टैक्स कंसलटेंट, टैक्स एडवोकेट या किसी अन्य व्यक्ति की संपत्ति और बैंक खातों को भी जब्त कर सकता है जिनकी सहभागिता से कोई फर्जी लेनदेन किया गया हो।
◆रिटर्न्स में मिस-मैच टैक्स वसूला जाना ध् जीएसटी रजिस्ट्रेशन नंबर कैंसल किया जाना-सेक्शन 75
◆ इनपुट क्रेडिट तभी मिलेगा जब जीएसटीआर-२ ए में दिखाया गया हो- सेक्शन 16
◆ छोटी से गलती की बड़ी सजा
◆ यदि किसी व्यक्ति का माल विभाग द्वारा जब्त किया जाता है और यदि वो टैक्सेबल माल हैं तो अब 100 प्रतिशत के स्थान पर 200 प्रतिशत जुर्माना देना होगा और माल जब तक नहीं मिलेगा जब तक इस प्रकार के मामले का निर्णय व्यापारी ध्ट्रांसपोटर के पक्ष में नहीं आता।
◆ अगर आप 2 महीने का जीएसटीआर-3 बी फाइल नहीं करते हैं तो आप ई वे बिल नहीं जनरेट कर पाएंगे।
◆ ई वे बिल की वैलिडिटी प्रतिदिन 200 किलोमीटर कर दी गई है जो की संभव नहीं है।
◆ ई वे बिल में अगर कुछ भी गलती हो तो टैक्स के अमाउंट का 200ः पेनाल्टी लगाई जाएगी और यह अमाउंट आपको आपके इलेक्ट्रॉनिक कैश लेजर से भुगतान करना पड़ेगा और अगर आप यह अमाउंट नहीं भर पाते हैं तो आपका माल जब्त कर लिया जाएगा। अगर आपको इस जब्ती के खिलाफ अपील करनी है तो 25 पर्सेंट पेनल्टी भर कर अपील कर सकते हैं पर जब तक अपील पर आपके हक में फैसला नहीं आ जाता तब तक माल जब्त रहेगा।
◆ अगर आप जीएसटीआर-3 बी दो महीने का फाइल नहीं करते हैं तो आप जीएसटीआर -1 फाइल नहीं कर पाएंगे और अगर जीएसटीआर -1 फाइल नहीं कर पाएंगे तो आपको इनपुट क्रेडिट नहीं मिलेगा।
◆ अगर आप किसी भी कारण से रिटर्न फाइल नहीं कर पाते हैं तो डिपार्टमेंट सेक्शन 73 के अंदर आप को नोटिस दे सकता है उसमें आपके इलेक्ट्रॉनिक क्रेडिट लेजर में जो क्रेडिट पड़ा है उसका क्रेडिट आपको नहीं मिलेगा बल्कि पूरी देय राशि पर आपको ब्याज देना होगा।
◆ 100 करोड़ से ऊपर टर्नओवर वालों को ई -इनवॉइस मैंडेटरी हो गया है अगर वह इनवॉइस नहीं इशू करते तो आपको उसका क्रेडिट नहीं मिलेगा।
◆ अगर आप में पदअवपबपदह की कैटेगरी में आते हैं तो आप को इनवॉइस इश्यू करने के 72 घंटे के अंदर मूंल इपसस हमदमतंजम करना होगा नहीं तो आपकी वो इनवॉइस को कैंसल कर दूसरी इनवॉइस बनानी पड़ेगी।
◆ यदि आपने गलती से कोई गलत इनपुट क्रेडिट ले लिया है तो आपका बैंक खाता सीज हो जाएगा।
◆ यदि किसी गलती से आपने अधिक इनपुट क्रेडिट ले लिया है तो आपके लिए पोर्टल लॉक हो जाएगा।
◆ अधिकारी अपने खुद के विवेक के आधार पर किसी का भी सर्वे या ऑडिट कर सकते हैं।
◆ एक ही प्रोडक्ट का क्लासिफिकेशन अलग-अलग राज्य में एडवांस रूलिंग के तहत अलग-अलग किया जा रहा है इसके लिए नेशनल एडवांस रूलिंग अथॉरिटी अभी तक गठन नहीं की गई है जिसकी वजह से बहुत परेशानी हो रही है।
◆ 4 साल हो गए हैं पर अभी तक अपीलेट ट्रिब्यूनल गठित नहीं हुआ है जिसकी वजह से हर छोटे केस के लिए व्यापारी को हाई कोर्ट जाना पड़ रहा है।
◆ अगर आपकी रिटर्न लेट भरी गई जो और बेशक निल रिटर्न हो तो भी लेट फी लगाई जायेगी । टैक्स से ज्यादा लेट फी लगाई जाती है।
◆ जब तक जीएसटीआर - 3 बी ना भरा जाए तब तक ब्याज लगता रहता है चाहे क्रेडिट और कैश लेजर में बैलेंस हो तो भी।
◆ जीएसटी कॉउन्सिल अपने नियमों में अब तक चार साल में 950 के करीब संशोधन कर चुकी है लेकिन बेहद अफसोस है की व्यापारियों को अपनी रिटर्न में संशोधन एक बार भी करने का अधिकार नहीं है। क्या किसी व्यापारी से कोई गलती नहीं हो सकती है ?