कोरोना अपडेट: प्रदेश में आज 12665 ने जीती कोरोना से जंग, कुल 6577 नए मरीज मिले 149 मृत्यु भी, देखे जिलेवार आकड़े    |    लॉन्च हुई 2डीजी दवा, कोरोना संक्रमण से जंग में कैसे करेगी मदद? जानिए सब कुछ    |    आईसीएमआर अपडेट : राज्य में मिले 5294 कोरोना पॉजिटिव, 21 जिलों में सौ से अधिक मिले मरीज, देखे जिलेवार आकड़े    |    सेक्स रैकेट : पुलिस ने छापा मारकर देह व्यपार का किया खुलासा, मौके से दो युवक और दो युवती गिरफ्तार    |    दो पक्षों के बीच विवाद में गोली लगने से एक महिला की मौत, तीन अन्य घायल    |    चक्रवाती तूफान तौकते हुआ विनाशकारी, 5 राज्यों में अब तक 11 लोगों की मौत    |    बड़ी खबर: जानिए आखिर किस मामले में सीबीआई ने 4 नेताओं को किया गिरफ्तार    |    ममता बनर्जी के मंत्रियों-नेताओं पर सीबीआई ने कसा शिंकजा, यहां जानें क्या है मामला    |    रक्षा मंत्री व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने लॉन्च की कोरोना की स्वदेशी दवा 2DG    |    कोरोना अपडेट: देश में 24 घंटों में 2 लाख 81 हजार नए मामले आए, 4106 लोगों की हुई मौत    |
 सेंसेक्स ने लगाई जबर्दस्त छलांग, नजारा की शानदार लिस्टिंकग

सेंसेक्स ने लगाई जबर्दस्त छलांग, नजारा की शानदार लिस्टिंकग

मुंबई। कोरोना के मामले बढ़ते जाने के बावजूद एश‍ियाई बाजारों से मिले अच्छे संकेत की वजह से आज भारतीय शेयर बाजार में अच्छी तेजी देखी जा रही है। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) का सेंसेक्स 323 अंकों की तेजी के साथ 49,331.68 पर खुला। सुबह 10.30 बजे के आसपास सेंसेक्स 818 अंकों की तेजी के साथ 49,827.06 तक पहुंच गया। नजारा टेक्नोलॉजी के आईपीओ की शानदार लिस्टिं8ग हुई है।

इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 121 अंकों की तेजी के साथ 14,628 पर खुला और बढ़ते हुए 14,764.65 तक पहुंच गया। सभी सेक्टोरल सूचकांक हरे निशान में दिख रहे थे। मेटल इंडेक्स में 2 फीसदी से ज्यादा की बढ़त हुई है, जबकि FMCG और फार्मा इंडाइसेज में 1-1 फीसदी की बढ़त हुई है। शुरुआती कारोबार में करीब 1042 शेयरों में तेजी और 261 शेयरों में गिरावट आई है. एशियाई बाजारों से अच्छे संकेत मिले हैं।

नजारा टेक्नोलॉजीज की आज दोनों स्टॉक एक्सचेंजों पर शानदार लिस्टिंशग हुई है। बीएसई पर इसके शेयर 1971 रुपये पर खुले. एनएसई पर यह 1990 रुपये में खुला। इसके आईपीओ का प्राइस बैंड 1100-1101 रुपये रखा गया था। यही नहीं कारोबार के दौरान बढ़ते हुए इसके शेयर 2026.90 रुपये तक पहुंच गए।

संस्थागत निवेशकों की अच्छी मांग से इसके आईपीओ को 175.46 गुना सब्सक्रिप्शन मिला था। इस आईपीओ में रिटेल इनवेस्टर्स ने भी बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया था।

लगातार दो दिन तक भारी गिरावट का सामना करने के बाद पिछले हफ्ते के अंतिम कारोबारी दिन शेयर बाजार में अच्छी तेजी देखी गई। कारोबार की शुरुआत में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स 529 अंकों की तेजी के साथ 48,969.25 पर खुला। कारोबार के अंत में सेंसेक्स 568.38 अंकों की तेजी के साथ 49,008.50 पर बंद हुआ।

इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 182 अंकों की तेजी के साथ 14,506 पर खुला। कारोबार के अंत में निफ्टी 182.40 अंकों की तेजी के साथ 14,507.30 पर बंद हुआ। सभी सेक्टोरल सूचकांक हरे निशान में रहे. निफ्टी मेटल इंडेक्स में 3.6 फीसदी की तेजी आई।
 
 फिर से सस्ता हुआ पेट्रोल-डीज़ल, जानिए अपके शहर में क्या हैं कीमतें

फिर से सस्ता हुआ पेट्रोल-डीज़ल, जानिए अपके शहर में क्या हैं कीमतें

रायपुर। देश में चार दिन बाद एक बार फिर से पेट्रोल डीजल सस्ता हुआ है। पेट्रोल की कीमतों में लगभग 22 पैसे जबकि डीजल की कीमतों में 23 पैसे की कटौती की गई। राजधानी रायपुर में पेट्रोल की कीमतों में करीब 21 पैसे की कटौती हुई है, जिसके बाद इसकी कीमत 89.06 रूपए प्रति लीटर है। इसी प्रकार डीजल 24 पैसों की कटौती के बाद 87.62 रूपए प्रति लीटर चल रहा है। 

राष्ट्रीय राजधानी नई दिल्ली में पेट्रोल के दाम में 22 पैसे और डीजल की कीमतों में 23 पैसे की कटौती की गई। कटौती के बाद दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 90.56 रुपये प्रति लीटर पर आ गया। वहीं, डीजल के दाम गिरकर 80.87 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गया। कीमतों में कटौती के बाद मुंबई में पेट्रोल की कीमत 96.98 रुपये और डीजल की कीमत 87.96 रुपये प्रति लीटर हो गया। वहीं अगर कोलकाता में कीमतों की बात करें तो पेट्रोल के दाम 90.77 रुपये प्रति लीटर जबकि डीजल की कीमत 83.75 रुपये हो गया। चेन्नई में पेट्रोल 92.58 रुपये तो डीजल की कीमत 85.88 रुपये प्रति लीटर हो गया।
 
अभी नहीं खरीदा सोना, तो बाद में पड़ सकता है रोना

अभी नहीं खरीदा सोना, तो बाद में पड़ सकता है रोना

मुंबई , सोने की कीमत में ऑल टाइम हाई से करीब 12 हजार रुपये तक की गिरावट आ चुकी है। पिछले साल अगस्त में सोना 56,310 रुपये के ऑल टाइम हाई स्तर पर पहुंचा था लेकिन उसके बाद से इसमें लगातार गिरावट आई है। फिलहाल सोना 44 हजार रुपये के दायरे में घूम रहा है। सोना ही नहीं चांदी में भी करीब 10 हजार रुपये तक की गिरावट देखने को मिली है। ऐसे में अगर आप इस होली पर सोना खरीदना चाहते हैं तो आपके लिए अच्छी खबर है। गुड रिटर्न बेवसाइट्स के मुताबिक, दिल्ली में 22 कैरेट सोने की कीमत 43,850 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गई है। चेन्नई में यह 42,160 रुपये पर कारोबार कर रहा है। मुंबई में 43,760 रुपये में बेची जा रही है। जानकारों की मानें तो सोने की कीमत अभी 44,400 रुपये से 45,200 रुपये के बीच है। अप्रैल डिलीवरी वाला सोना 45 रुपये की गिरावट के साथ 44650 रुपये पर बंद हुआ। लेकिन जल्द ही 46,000 रुपये प्रति 10 ग्राम होगा। अगले दो महीनों में सोने की कीमत 48,000 रुपये तक जाने की उम्मीद है। इसी तरह दो महीने में चांदी भी 70,000 रुपये से लेकर 72,000 रुपये तक पहुंच सकती है। कमोडिटी विशेषज्ञों के अनुसार, सोना और चांदी दोनों को लेकर सेंटिमेंट्स सकारात्मक हैं। सोने की कीमत 48,000 रुपये प्रति 10 ग्राम तक जाने की उम्मीद है, जबकि चांदी की कीमत 72,000 रुपये पर पहुंचने की संभावना है। 

नगद लोन देने वाले ऐप्स के खिलाफ देशभर से मिल रही शिकायतों के बाद अब सरकार उठाने जा रही ये कदम

नगद लोन देने वाले ऐप्स के खिलाफ देशभर से मिल रही शिकायतों के बाद अब सरकार उठाने जा रही ये कदम

केंद्र सरकार जल्द ही नगद लोन की पेशकश करने वाले ऐप्स पर कार्रवाई कर सकती है. इसको लेकर सरकार की ओर से योजना बनाई जा रही है. साथ ही नए नियम बनाने के बारे में भी एक्सपर्ट्स से सलाह ले रही है. नगद लोन देने वाले ऐप्स के खिलाफ देशभर से शिकायतें मिल रही है और अब सरकार ने नियमों में बदलाव करने का फैसला लिया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, अब ऐसे ऐप्स सरकार को स्किम से संबंधित ब्यौरा देना होगा. इसके बाद ही सरकार से अनुमति मिल सकेगी. रिपोर्ट्स के मुताबिक, ऐसी कंपनियां गोपनीयता, डेटा सुरक्षा को नुकसान पहुंचाती हैं, जो कस्टमर्स के लिए चिंता का विषय है. इस मामले पर बात करते हुए भारतीय रिजर्व बैंक के एक अधिकारी ने बताया, "ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि सरकार 15 अप्रैल तक मौजूदा कानून में बदलाव कर सकती है या नया कानून लागू कर सकती है". उन्होंने आगे कहा, "उपभोक्ताओं की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए ऐसा कदम उठाना बेहद जरूरी है. हम किसी निजी कंपनी को उपभोक्ताओं का डेटा नहीं दे सकते."


सरकार जल्द बना सकती है नया कानून


एक अधिकारी ने बताया कि ऐसी कंपनियां लोन देने के बाद 300 फीसदी सालाना इंटरेस्ट रेट वसूलती है, जो मान्य नहीं है. उन्होंने कहा, "ऐसी कंपनियां पहले लोगों को ऑफर देती है और फिर उनका शोषण करने लगती है." निजी लोन कंपनियां कस्टमर्स पर दवाब डालती है और फिर लोन समय पर ना चुका पाने की स्थिति में उन्हें सुसाइड करने पर मजबूर करती है." उन्होंने कहा कि सरकार को इस ओर ध्यान देने की जरूरत है ताकि लोग इस तरह अपनी जान जोखिम ना डालें. साथ ही ऐसी लोन कंपनियां ज्यादा लाभ कमाने के चक्कर में कस्टमर्स की प्रॉपर्टी पर भी अपना कब्जा जमाना चाहती है." बता दें कि साल 2020 में लोन कंपनी के दवाब में आकर 12 लोगों ने आत्महत्या की है. 

RTGS को भारत के बाहर भी विस्तारित किया जा सकता है : RBI

RTGS को भारत के बाहर भी विस्तारित किया जा सकता है : RBI

भारतीय रिज़र्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने भारत आर्थिक कॉन्क्लेव (India Economic Conclave) के 7वें संस्करण में बोलते हुए, प्रभावी नियमन का आह्वान किया है जो फिनटेक स्पेस में नवाचार में मदद करे। RBI गवर्नर के अनुसार, रियल-टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (Real-Time Gross Settlement – RTGS) में बहु-मुद्रा क्षमताएं हैं। इसलिए, यह पता लगाने की आवश्यकता है कि क्या इसे भारत के बाहर विस्तारित किया जा सकता है। उन्होंने उस विशाल भूमिका को भी रेखांकित किया जो तकनीक और नवाचार ने उपभोक्ताओं की सेवा में निभाई है। उनके अनुसार, कोविड-19 महामारी के दौरान, RBI ने लोगों को प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण प्रदान करने के लिए 274 करोड़ डिजिटल लेनदेन की प्रोसेसिंग की। डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने के लिए, RBI ने रियल-टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (RTGS) के माध्यम से धन के हस्तांतरण की अनुमति दी।

Real-Time Gross Settlement (RTGS)
रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट सिस्टम विशेषज्ञ फंड ट्रांसफर सिस्टम हैं जिसमें धन या प्रतिभूतियों का हस्तांतरण एक बैंक से दूसरे बैंक में “वास्तविक समय” और “सकल” आधार पर किया जाता है। यह बैंकिंग चैनल के बीच सबसे तेज धन हस्तांतरण प्रणाली है। रियल-टाइम सेटलमेंट का मतलब है कि भुगतान लेनदेन ‘प्रतीक्षा अवधि’ के अधीन नहीं है। इस तरह की प्रणाली में, लेन-देन का निपटान तब किया जाता है जब वे संसाधित होते हैं। आरटीजीएस सिस्टम का उपयोग उच्च-मूल्य के लेनदेन के लिए किया जाता है। 

सोने के कीमतों में आई फिर गिरावट, जानिए कितना सस्ता हुआ सोना

सोने के कीमतों में आई फिर गिरावट, जानिए कितना सस्ता हुआ सोना

मुंबई। शुक्रवार को सोने की कीमत में एक बार फिर गिरावट का रुख दिख रहा है। अप्रैल डिलीवरी वाला सोना आज 60 रुपये की गिरावट के साथ खुला और दिन चढऩे के साथ इसमे गिरावट बढ़ती गई। सुबह 11 बजे यह 163 रुपये की गिरावट के साथ 44532 रुपये पर ट्रेड कर रहा था। सुबह के सत्र में इसने 44523 रुपये का न्यूनतम और 44635 रुपये का अधिकतम स्तर छू लिया। जून डिलीवरी वाला सोना भी 153 रुपये की गिरावट के साथ 44949 रुपये पर ट्रेड कर रहा था। मई डिलीवरी वाली चांदी 314 रुपये की तेजी के साथ 65183 रुपये प्रति किलो पर ट्रेड कर रही थी। इससे पहले गुरुवार को सोने की कीमत में मामूली बढ़त दर्ज की गई जबकि चांदी की कीमतों में भारी गिरावट आई है। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के अनुसार गुरुवार को दिल्ली के सर्राफा बाजार में सोना 44 रुपये बढ़कर 44,347 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बंद हुआ। पिछले सत्र में सोना 44,303 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बंद हुआ था। वहीं दूसरी ओर चांदी की कीमत 637 रुपये गिर कर 64,110 रुपये प्रति किलो हो गई है। पिछले सत्र में चांदी 64,747 रुपये प्रति किलो के स्तर पर थी।
फिच रेटिंग्स में भारत के विकास का अनुमान 11% संशोधित कर 12.8% किया, आखिर क्या है इसकी वजह

फिच रेटिंग्स में भारत के विकास का अनुमान 11% संशोधित कर 12.8% किया, आखिर क्या है इसकी वजह

अमेरिकी क्रेडिट रेटिंग एजेंसी फिच ने अपना ‘ग्लोबल इकोनॉमिक आउटलुक (GEO)’ प्रकाशित किया है। फिच ने वित्त वर्ष 2021-2022 के लिए भारत के जीडीपी विकास अनुमान को 11% संशोधित कर 12.8% कर दिया है। यह रेटिंग ढीले राजकोषीय रुख, मजबूत कैरीओवर प्रभाव और बेहतर वायरस रोकथाम की पृष्ठभूमि में संशोधित की गई है। रेटिंग एजेंसी ने पाया कि भारत की जीडीपी का स्तर अपने पूर्व-महामारी पूर्वानुमान अनुमान से काफी नीचे रहेगा। यह बताता है कि वित्त वर्ष 2023 में सकल घरेलू उत्पाद की वृद्धि दर 5.8% तक कम हो जाएगी। अपनी रिपोर्ट में, फिच ने यह भी बताया कि 2020 की दूसरी तिमाही में “लॉकडाउन-प्रेरित मंदी” से भारत की रिकवरी उम्मीद से अधिक तेज रही है। वित्त वर्ष 2020-2021 की चौथी तिमाही में जीडीपी अपने पूर्व महामारी स्तर से आगे निकल गयी है। विनिर्माण क्रय प्रबंधक सूचकांक पीएमआई फरवरी, 2021 में ऊंचा रहा।

फिच रेटिंग्स
यह प्रमुख रेटिंग एजेंसियों मूडीज और स्टैंडर्ड एंड पूअर्स के साथ एक अमेरिकी क्रेडिट रेटिंग एजेंसी है। फिच तीन राष्ट्रीय मान्यता प्राप्त सांख्यिकीय रेटिंग संगठनों (NRSRO) में से एक है जिसे 1975 में अमेरिकी प्रतिभूति और विनिमय आयोग द्वारा नामित किया गया था। इसका मुख्यालय न्यूयॉर्क और लंदन में है। इसकी स्थापना जॉन नोल्स फिच ने 1914 में न्यूयॉर्क में फिच पब्लिशिंग कंपनी के रूप में की थी। 

 पेट्रोल और डीजल लगातार दूसरे दिन हुआ सस्ता

पेट्रोल और डीजल लगातार दूसरे दिन हुआ सस्ता

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में भारी कमी आने से आज घरेलू स्तर पर लगातार दूसरे दिन पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कमी आई । दिल्ली में पेट्रोल 21पैसे प्रति लीटर और डीजल 20 पैसे प्रति लीटर सस्ता हो गया। तेल विपणन करने वाली कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्परेशनके अनुसार गुरुवार को दिल्ली के बाजार में पेट्रोल 90.78 रुपये और डीजल 81.10 रुपये प्रति लीटर पर आ गया।

इससे पहले लगातार 24वें दिन तक इनमें कोई बदलाव नहीं हुआ। पिछले महीने लगातार 16 दिनों तक पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी हुई थी, जिससे लगभग हर शहर में दोनों ईधनों के दाम सार्वकालिक रिकार्ड स्तर पर पहुंच गए थे।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल का भाव 16 दिन में करीब 15 फीसदी गिर चुका है। यूरोप में कोरोना की तीसरी लहर के चलते वहां ईंधन की मांग घटने की संभावना जताई जा रही है। इसके चलते कच्चे तेल की कीमत घटकर 60 डॉलर प्रति बैरल पर आ चुकी है।

आमतौर पर जब कुछ राज्यों में विधानसभा चुनाव होने पर तेल की कीमतों में बदलाव नहीं किया जाता था लेकिन इसबार ऐसा नहीं हुआ है। बिहार विधानसभा चुनाव के समय तेल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया गया था, लेकिन अभी पश्चिम बंगाल, केरल, तमिलनाडु, असम और केंद्र शासित प्रदेश पुद्दुचेरी में हो रहे विधानसभा चुनावों के बीच तेल की कीमतों में कमी की गई है।
देश के चार महानगरों में पेट्रोल और डीजल की कीमत इस प्रकार है:
शहर का नाम   पेट्रोल रुपये/लीटर   डीजल रुपये/लीटर
दिल्ली             90.78                   81.10
मुंबई               97.19                   88.20
चेन्नै               92.77                   86.10
कोलकाता        90.98                   83.98
सोने की कीमतों में फिर आई गिरावट, जाने क्या है आज के भाव

सोने की कीमतों में फिर आई गिरावट, जाने क्या है आज के भाव

मुंबई। सोने की कीमत में एक बार फिर गिरावट का रुख दिख रहा है। अप्रैल डिलीवरी वाला सोना 32 रुपये की तेजी के साथ खुला। लेकिन सुबह 11 बजे यह 15 रुपये की गिरावट के साथ 44845 रुपये पर ट्रेड कर रहा था। सुबह के सत्र में इसने 44809 रुपये का न्यूनतम और 44897 रुपये का अधिकतम स्तर छू लिया। जून डिलीवरी वाला सोना भी 9 रुपये की गिरावट के साथ 45267 रुपये पर ट्रेड कर रहा था। मई डिलीवरी वाली चांदी 197 रुपये की गिरावट के साथ 65048 रुपये प्रति किलो पर ट्रेड कर रही थी।

इससे पहले बुधवार को फिर से सोने-चांदी की कीमतों में गिरावट देखने को मिली। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के अनुसार सोना 149 रुपये गिरकर 44,350 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर पहुंच गया। पिछले सत्र में सोना 44,499 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बंद हुआ था। वहीं दूसरी ओर चांदी की कीमतें भी 866 रुपये घटी, जिसके बाद चांदी 64,607 रुपये प्रति किलो के स्तर पर जा पहुंची। पिछले सत्र में चांदी 65,473 रुपये प्रति किलो के स्तर पर बंद हुई थी।
सोने-चांदी की कीमत में आया बदलाव, जाने क्या है आज की कीमत

सोने-चांदी की कीमत में आया बदलाव, जाने क्या है आज की कीमत

नई दिल्ली , वैश्विक बाजारों में बहुमूल्य धातुओं की कीमतों में कल रात आई तेजी को दर्शाता दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 116 रुपये की तेजी के साथ 44,374 रुपये प्रति दस ग्राम हो गया। यह जानकारी एचडीएफसी सिक्यूरिटीज ने दी। पिछला बंद भाव 44,258 रुपये प्रति 10 ग्राम था। हालांकि, चांदी की कीमत प्रति किलोग्राम 117 रुपये की गिरावट के साथ 65,299 रुपये प्रति किग्रा पर थमी। पिछले कारोबारी सत्र का बंद भाव 65,416 रुपये प्रति किलोग्राम था। एचडीएफसी सिक्योरिटीज के वरिष्ठ विश्लेषक (जिंस) तपन पटेल ने कहा, ''रुपये के मूल्य में सुधार के बावजूद कल रात वैश्विक बाजार में बहुमूल्य धातुओं की कीमतों में सुधार को दर्शाता, दिल्ली में 24 कैरेट सोने के हाजिर भाव में 116 रुपये की तेजी रही।ÓÓ सुबह के आरंभिक कारोबार में रुपया तीन पैसे की तेजी के साथ 72.34 रुपये प्रति डॉलर हो गया। अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने और चांदी दोनों के ही भाव क्रमश: 1,738 डॉलर प्रति औंस और 25.53 डॉलर प्रति औंस पर लगभग अपरिवर्तित बने रहे। उन्होंने कहा कि किसी बाजार उत्प्रेरक ताजा खबर के बगैर सोने कारोबार की मात्रा कम रही। 

सोना-चांदी और सस्ते हुए, जानें आज कहां जा पहुंची हैं कीमतें

सोना-चांदी और सस्ते हुए, जानें आज कहां जा पहुंची हैं कीमतें

डॉलर की कीमतों के बढ़ने और दुनिया के प्रमुख शेयर बाजारों में शेयरों की कीमत में इजाफे की वजह से गोल्ड की कीमतें घट गईं. ग्लोबल मार्केट में स्पॉट गोल्ड 0.3 फीसदी गिर कर 1733.69 डॉलर प्रति औंस पर आ गया. वहीं यूएस गोल्ड फ्यूचर 0.1 फीसदी घट कर 1736.20 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया. पिछले कुछ सेशन में डॉलर में गिरावट के बाद इसमें तेजी देखी और यह चार महीने के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया. यूरोप में कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर चल रही है. इससे गोल्ड की कीमतों में इजाफे की संभावना है क्योंकि लॉकडाउन या पाबंदियों कि स्थिति में आर्थिक गतिविधियां धीमी होंगी और निवेशक सुरक्षित निवेश के तौर पर गोल्ड को अपनाएंगे.
एमसीएक्स में गोल्ड में दूसरे दिन गिरावट
इस बीच, घरेलू मार्केट में एमसीएक्स में गोल्ड लगातार दूसरे दिन गिर गया. मंगलवार ( 23 मार्च, 2021) को गोल्ड 0.24 फीसदी गिर कर 44,795 रुपये प्रति दस ग्राम पर पहुंच गया. वहीं चांदी में 0.5 फीसदी की गिरावट आई और यह 66, 013 प्रति किलो पर पहुंच गई. पिछले दो सप्ताह से गोल्ड 44,500 से लेकर 45,300 के संकीर्ण दायरे में कारोबार करता रहा. पिछले साल अगस्त में गोल्ड 56 हजार के टॉप लेवल पर पहुंच गया था. 

 इस साल 11 महीनों में सोने का आयात 3.3 फीसदी घटा, पहुंच गया 26.11 अरब डॉलर पर

इस साल 11 महीनों में सोने का आयात 3.3 फीसदी घटा, पहुंच गया 26.11 अरब डॉलर पर

नई दिल्ली। सोने का आयात चालू वित्त वर्ष 2020-21 के पहले 11 महीनों (अप्रैल-फरवरी) में 3.3 प्रतिशत घटकर 26.11 अरब डॉलर रह गया। वाणिज्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों से यह जानकारी मिली है। उल्लेखनीय है कि सोने का आयात देश के चालू खाते के घाटे (कैड) को प्रभावित करता है। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में पीली धातु का आयात 27 अरब डॉलर रहा था।
 
आंकड़ों के अनुसार सोने के आयात में कमी से देश के व्यापार घाटे को कम करने में मदद मिली है। चालू वित्त वर्ष के पहले 11 माह में व्यापार घाटा कम होकर 84.62 अरब डॉलर रह गया, जो एक साल पहले इसी अवधि में 151.37 अरब डॉलर रहा था। भारत दुनिया का सबसे बड़ा सोने का आयातक देश है। मुख्य रूप से आभूषण उद्योग की मांग को पूरा करने के लिए सोने का आयात किया जाता है। मात्रा के हिसाब से भारत सालाना 800 से 900 टन सोने का आयात करता है।आभूषण निर्यात को प्रोत्साहन के लिए सरकार ने बजट में इस पर आयात शुल्क घटाकर 7.5 प्रतिशत कर दिया है। हालांकि, साथ ही इस पर 2.5 प्रतिशत का कृषि संरचना और विकास उपकर लगाया गया है। चालू वित्त वर्ष के पहले 11 माह में रत्न एवं आभूषणों का निर्यात 33.86 प्रतिशत घटकर 22.40 अरब डॉलर रह गया।

फरवरी में हालांकि सोने का आयात बढ़कर 5.3 अरब डॉलर पर पहुंच गया, जो पिछले साल समान महीने में 2.36 अरब डॉलर था। अप्रैल-फरवरी के दौरान चांदी का आयात भी 70.3 प्रतिशत घटकर 78.07 करोड़ डॉलर पर आ गया।
बेनेली ने भारत में लॉन्च की एडवेंचर-टूरिंग बाइक TRK 502X ADV, जानें कीमत और फीचर्स

बेनेली ने भारत में लॉन्च की एडवेंचर-टूरिंग बाइक TRK 502X ADV, जानें कीमत और फीचर्स

 नई दिल्ली। बेनेली इंडिया ने हाल ही में TRK 502 ADV को लॉन्च किया था। अब कंपनी ने ज्यादा एडवेंचर की चाह रखनेवालों के लिए TRK 502X बाइक को लॉन्च किया है। यह बेनेली इंडिया की TRK रेंज में दूसरा मॉडल है। कंपनी ने TRK 502X ADV बाइक को ज्यादा डेडिकेटेड ऑफ-रोड किट के साथ पेश किया है। बाइक की बुकिंग शुरू हो गई है। जानें इस बाइक की सारी डिटेल्स...


00
रंग और कीमत
TRK 502X ADV
को तीन रंगों के साथ पेश किया गया है। इसमें मेटालिक डार्क ग्रे, रेड और प्योर व्हाइट शामिल हैं। मेटालिक डार्क ग्रे बाइक का बेस कलर है जिसकी एक्स-शोरूम कीमत 5,19,900 रुपये है। जबकि रेड और प्योर व्हाइट के लिए थोड़ी ज्यादा रकम चुकानी पड़ेगी। इसकी एक्स-शोरूम कीमत 5,29,900 रुपये है। 
00
बुकिंग राशि
कंपनी ने कहा है कि यह बाइक की इंट्रोडक्ट्री कीमत है। भविष्य में जल्द ही बाइक की कीमत में बढ़ोतरी की जाएगी। कंपनी ने Benelli TRK 502X मोटरसाइकिल की बुकिंग शुरू कर दी है। इस बाइक को कंपनी के अधिकृत डीलरशिपर पर 10,000 रुपये की रकम जमा कर की जा सकती है। भारत में बेनेली इंडिया के 41 अधिकृत डीलरशिप है जहां इस बाइक की बुकिंग चालू है। 


00
नया इंजन और पावर
नई TRK 502X में 500 cc पैरलल-ट्विन मोटर दिया गया है। अब यह इंजन नए बीएस-6 ईंधन उत्सर्जन मानकों के मुताबिक है। यह 8500 rpm पर 47.5 PS का अधिकतम पावर और 6000 rpm पर 46 Nm का पीक टॉर्क जेनरेट करता है। इस इंजन के साथ 6-स्पीड गियरबॉक्स का ट्रांसमिशन मिलता है।


यह कंपनी की TRK रेंज में दूसरा मॉडल है। कंपनी ने इस बाइक को ज्यादा डेडिकेटेड ऑफ-रोड किट के साथ पेश किया है। 


00
कंपनी की उम्मीदें
बाइक की लॉन्चिंग पर बेनेली इंडिया के प्रबंध निदेशक विकास झाबख ने कहा, `हमें भारत में TRK 502X को BS-6 ईंधन उत्सर्जन मानकों के साथ पेश करते हुए खुशी हो रही है। हाल ही में लॉन्च हुए ग्रैंड टूअरर TRK 502  पर आधारित 502X को एडवेंचर राइडिंग पर ज्यादा फोकस के साथ तैयार किया गया है। इसमें हाई ग्राउंड क्लीयरेंस और इसमें मिलने वाले उपकरण ऑफ-रोड राइडिंग परिस्थितियों से निपटने के लिए ज्यादा मुफीद हैं। यह बेजोड़ एर्गोनॉमिक्स, बेहतर फीचर्स और क्वालिटी के साथ आती है।


विकास झाबख ने कहा, `हमें विश्वास है कि एंट्री-लेवल बीएस-6 TRK रेंज एडवेंचर-टूरिंग सेगमेंट में हमारे मौजूदगी को और मजबूत करती रहेगी।`

फिर आई सोने में गिरावट, 45000 रुपये से नीचे आया सोना

फिर आई सोने में गिरावट, 45000 रुपये से नीचे आया सोना

मुंबई। यूएस ट्रेजरी यील्ड में तेजी और डॉलर के मजबूत होने से एक बार फिर सोने की कीमतों पर दबाव देखने के मिल रहा है। सोने की कीमतों में कई दिन के तेजी के बाद आज फिर गिरावट आई। अप्रैल डिलीवरी वाला सोना आज 23 रुपये की गिरावट के साथ खुला। सुबह साढ़े 10 बजे यह 67 रुपये की गिरावट के साथ 44884 रुपये पर ट्रेड कर रहा था। सुबह के सत्र में इसने 44830 रुपये का न्यूनतम और 44961 रुपये का अधिकतम स्तर छू लिया। जून डिलीवरी वाला सोना भी 96 रुपये की गिरावट के साथ 45213 रुपये पर ट्रेड कर रहा था। मई डिलीवरी वाली चांदी 501 रुपये की गिरावट के साथ 67246 रुपये प्रति किलो पर ट्रेड कर रही थी। दिल्ली सर्राफा बाजार में बृहस्पतिवार को सोना 105 रुपये सुधर कर 44,509 रुपये प्रति दस ग्राम के भाव पर पहुंच गया। यह जानकारी एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने दी। सोने का पिछला बंद भाव 44,404 रुपये प्रति 10 ग्राम था। चांदी भी 1,073 रुपये की तेजी के साथ 67,364 रुपये प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई। पिछले दिन चांदी का बंद भाव 66,291 रुपये प्रति किलोग्राम था।
 सोने की कीमतों में आई गिरावट, 45000 रुपये से नीचे आया सोना

सोने की कीमतों में आई गिरावट, 45000 रुपये से नीचे आया सोना

मुंबई। यूएस ट्रेजरी यील्ड में तेजी और डॉलर के मजबूत होने से एक बार फिर सोने की कीमतों पर दबाव देखने के मिल रहा है। सोने की कीमतों में कई दिन के तेजी के बाद आज फिर गिरावट आई। अप्रैल डिलीवरी वाला सोना आज 23 रुपये की गिरावट के साथ खुला। सुबह साढ़े 10 बजे यह 67 रुपये की गिरावट के साथ 44884 रुपये पर ट्रेड कर रहा था। सुबह के सत्र में इसने 44830 रुपये का न्यूनतम और 44961 रुपये का अधिकतम स्तर छू लिया। जून डिलीवरी वाला सोना भी 96 रुपये की गिरावट के साथ 45213 रुपये पर ट्रेड कर रहा था। मई डिलीवरी वाली चांदी 501 रुपये की गिरावट के साथ 67246 रुपये प्रति किलो पर ट्रेड कर रही थी। दिल्ली सर्राफा बाजार में बृहस्पतिवार को सोना 105 रुपये सुधर कर 44,509 रुपये प्रति दस ग्राम के भाव पर पहुंच गया। यह जानकारी एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने दी। सोने का पिछला बंद भाव 44,404 रुपये प्रति 10 ग्राम था। चांदी भी 1,073 रुपये की तेजी के साथ 67,364 रुपये प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई। पिछले दिन चांदी का बंद भाव 66,291 रुपये प्रति किलोग्राम था।
RBI ने SBI पर लगाया 2 करोड़ का जुर्माना

RBI ने SBI पर लगाया 2 करोड़ का जुर्माना

भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) ने 16 मार्च, 2021 को घोषणा की है कि उसने अपने कमीशन के माध्यम से कर्मचारियों को पारिश्रमिक के भुगतान में विनियमों का पालन करने में विफल रहने के बाद भारत के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) पर 2 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है। भारतीय रिजर्व बैंक ने 15 मार्च, 2021 को जारी एक आदेश में एसबीआई पर 2 करोड़ रुपये का मौद्रिक जुर्माना लगाया। इसने बैंकिंग विनियमन के धारा 10 (1) (बी) (ii) के प्रावधानों के उल्लंघन के लिए एसबीआई पर जुर्माना लगाया है। RBI ने कमीशन के रूप में अपने कर्मचारियों को पारिश्रमिक के भुगतान पर बैंक को विशिष्ट निर्देश भी जारी किए। आरबीआई ने 2019 में एसबीआई पर 7 करोड़ रुपये का जुर्माना भी लगाया था क्योंकि उसने गैर-निष्पादित परिसंपत्तियों (NPA) और धोखाधड़ी जोखिम प्रबंधन से संबंधित मानदंडों का उल्लंघन किया था।

भारतीय स्टेट बैंक (SBI)
यह एक भारतीय बहुराष्ट्रीय, सार्वजनिक क्षेत्र का बैंकिंग और वित्तीय सेवा वैधानिक निकाय है। इसका मुख्यालय मुंबई में है। यह बैंक दुनिया भर में 43वां सबसे बड़ा बैंक है। वर्ष 2020 में, यह “दुनिया के सबसे बड़े कारपोरेशन” की फॉर्च्यून ग्लोबल 500 सूची में 221वें स्थान पर रहा। यह एकमात्र भारतीय बैंक है जिसने फॉर्च्यून ग्लोबल सूची में अपना स्थान हासिल किया है। यह एक राष्ट्रीयकृत बैंक और भारत का सबसे बड़ा बैंक है। 

 सोने के भाव में आई तेजी तो चांदी के दाम लुढ़के

सोने के भाव में आई तेजी तो चांदी के दाम लुढ़के

नई दिल्ली। डॉलर के मुकाबले रुपये की विनिमय दर में गिरावट और वैश्विक स्तर पर बहुमूल्य धातुओं की कीमतों में मजबूती के समर्थन से दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 60 रुपये सुधर कर 44,519 रुपये प्रति दस ग्राम के भाव पर पहुंच गया। यह जानकारी एचडीएफसी सिक्यूरिटीज ने दी। पिछला बंद भाव 44,459 रुपये प्रति 10 ग्राम था। इसके विपरीत, चांदी का भाव प्रति किलोग्राम 200 रुपये की गिरावट के साथ 66,536 रुपये प्रति किग्रा रह गया। पिछले दिन का बंद भाव 66,736 रुपये प्रति किलोग्राम था। एचडीएफसी सिक्यूरिटीज के वरिष्ठ विश्लेषक (जिंस बाजार) तपन पटेल ने कहा, ' वैश्विक बाजार में सोने की कीमत में मजबूती तथा रुपये के मूल्य में गिरावट के कारण दिल्ली में 24 कैरट सोने के भाव में 60 रुपये की तेज रही। अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने का भाव लाभ के साथ 1,735 डॉलर प्रति औंस हो गया जबकि चांदी का भाव 26 डॉलर प्रति औंस पर लगभग स्थिर रहा। उन्होंने कहा, ''अमेरिकी फेडरल ओपेन मार्केट कम्रटी (एफओएमसी) की बैठक से पहले सप्ताह के दौरान तीसरे दिन भी सोने की कीमतों में तेजी रही।
इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के ग्राहक हो जाएं अलर्ट, 1 अप्रैल से पैसा जमा करने और निकालने पर देना होगा चार्ज

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के ग्राहक हो जाएं अलर्ट, 1 अप्रैल से पैसा जमा करने और निकालने पर देना होगा चार्ज

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (IPPB) के ग्राहको को 1 अप्रैल 2021 से नगद जमा, नकद निकासी और आधार इनेबल्ड पेमेंट सिस्टम (AEPS) के जरिए ट्रांजेक्शन पर अब चार्ज देना होगा. IPPB ने इस बारे में एक सर्कुलर जारी कर दिया है. नकद जमा और नकद निकासी पर शुल्क तब देना होगा जब महीने में तय फ्री ट्रांजेक्शन लिमिट खत्म हो जाएगी.


बेसिक सेविंग्स अकाउंट
• मूल बचत खाते से एक महीने में 4 बार कैश निकासी फ्री हैं.
• 1 अप्रैल से महीने में 5वें कैश निकासी पर मिनिमम 25 रुपये प्रति ट्रांजेक्शन चार्ज लगेगा.
• मूल बचत खाते में नकद जमा के मामले में कोई लिमिट नहीं है.
• ग्राहक चाहें जितनी बार कैश डिपॉजिट कर सकते हैं. कोई शुल्क नहीं देना होगा.
करंट खाता व अन्य खाता
• IPPB के करंट खाते से एक महीने में 25,000 हजार रुपये तक नकद निकासी फ्री है.
• इस लिमिट के बाद मिनिमम 25 रुपये प्रति ट्रांजेक्शन चार्ज देना होगा.
• सेविंग्स (मूल बचत खाते के अलावा) और करंट अकाउंट में हर महीने 10,000 रुपये तक नकद जमा फ्री है.
• इस लिमिट के बाद न्यूनतम 25 रुपये प्रति ट्रांजैक्शन शुल्क लगेगा.
AEPS ट्रांजेक्शन
• AEPS ट्रांजेक्शन के मामले में IPPB के नेटवर्क पर कितने भी ट्रांजेक्शन किए जा सकते हैं, कोई शुल्क नहीं लगेगा.
• नॉन IPPB नेटवर्क पर एक महीने में तीन ट्रांजेक्शन फ्री होंगे, इसके बाद शुल्क देना होगा. इन ट्रांजेक्शन में एईपीएस के जरिए कैश जमा करना, कैश निकासी और मिनी स्टेटमेंट शामिल है.
• फ्री लिमिट खत्म होने के बाद एईपीएस के जरिए कैश जमा करने और कैश निकासी पर 20 रुपये प्रति ट्रांजेक्शन शुल्क लगेगा.
• वहीं मिनी स्टेटमेंट के मामले में फ्री लिमिट खत्म होने के बाद शुल्क 5 रुपये प्रति ट्रांजेक्शन, फंड ट्रांसफर के मामले में शुल्क 1 रुपये से लेकर मैक्सिमम 20 रुपये प्रति ट्रांजेक्शन होगा. इन शुल्कों में जीएसटी/सेस शामिल नहीं है.

 

सरकार ने पंजाब से 202.82 लाख मीट्रिक टन धान खरीदा, जो कुल खरीद का 29.79 प्रतिशत है, पढ़े पूरी खबर

सरकार ने पंजाब से 202.82 लाख मीट्रिक टन धान खरीदा, जो कुल खरीद का 29.79 प्रतिशत है, पढ़े पूरी खबर

नईदिल्ली।  सरकार द्वारा किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीफ फसलों की खरीद प्रक्रिया खरीफ विपणन सत्र (केएमएस) 2020-21 के दौरान अपनी मौजूदा एमएसपी योजनाओं के अनुसार ही जारी है, जिस प्रकार से विगत सत्रों में होती रही है। खरीफ 2020-21 के लिए धान की खरीद सुचारु रूप से चल रही है। पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, तेलंगाना, उत्तराखंड, तमिलनाडु, चंडीगढ़, जम्मू और कश्मीर, केरल, गुजरात, आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़, ओडिशा, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, बिहार, झारखंड, असम, कर्नाटक, पश्चिम बंगाल और त्रिपुरा से धान की खरीद की जा रही है। 15 मार्च, 2021 तक इन राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों के किसानों से 680.68 लाख मीट्रिक टन से अधिक धान की खरीद की जा चुकी है, जबकि इसी समान अवधि में पिछले वर्ष केवल 597.18 लाख मीट्रिक टन धान की खरीद हो पाई थी। पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान की गई खरीद से यह 13.98 प्रतिशत अधिक है। कुल 680.68 लाख मीट्रिक टन धान की खरीद में से अकेले पंजाब की हिस्सेदारी 202.82 लाख मीट्रिक टन है, जो कि कुल खरीद का 29.79 प्रतिशत है। लगभग 99.88 लाख किसानों को अब तक खरीदे गए धान के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य पर 1,28,512.84 करोड़ रुपये का भुगतान किया जा चुका है। इसके अलावा, प्रदेशों से मिले प्रस्ताव के आधार पर तमिलनाडु, कर्नाटक, महाराष्ट्र, तेलंगाना, गुजरात, हरियाणा, मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश, ओडिशा, राजस्थान और आंध्र प्रदेश जैसे राज्यों से खरीफ विपणन सत्र 2020-21 और रबी विपणन सत्र 2021 के लिए मूल्य समर्थन योजना (पीएसएस) के तहत 106.62 लाख मीट्रिक टन दलहन और तिलहन की खरीद को भी मंजूरी प्रदान की गई है। आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु और केरल राज्यों से 1.23 लाख मीट्रिक टन कोपरा (बारहमासी फसल) की खरीद के लिए भी स्वीकृति दी गई है। इसके अलावा, यदि अधिसूचित फ़सल अवधि के दौरान संबंधित राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में बाजार की दरें एमएसपी से नीचे चली जाती हैं, तो राज्य की नामित ख़रीद एजेंसियों के माध्यम से केंद्रीय नोडल एजेंसियों द्वारा इन राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों को मूल्य समर्थन योजना (पीएसएस) के अंतर्गत दलहन, तिलहन और कोपरा फसल की खरीद के प्रस्तावों की प्राप्ति पर भी मंजूरी दी जाएगी, ताकि पंजीकृत किसानों से वर्ष 2020-21 के लिए अधिसूचित किये गए न्यूनतम समर्थन मूल्य पर सीधे इन फसलों के एफएक्यू ग्रेड की खरीद की जा सके। मौजूदा खरीफ सत्र में 15 मार्च, 2021 तक सरकार ने अपनी नोडल एजेंसियों के माध्यम से 3,30,476.61 मीट्रिक टन मूंग, उड़द, तुअर, चना, मूंगफली की फली और सोयाबीन की खरीद एमएसपी मूल्यों पर की है। इस खरीद से खरीफ सत्र 2020-21 और रबी सत्र 2021 में तमिलनाडु, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और राजस्थान के 1,89,399 किसानों को 1,773.83 करोड़ रुपये की आय हुई है। इसी तरह से 5,089 मीट्रिक टन कोपरा (बारहमासी फसल) की खरीद कर्नाटक और तमिलनाडु राज्यों से की गई है। इस दौरान 3,961 किसानों को लाभान्वित करते हुए 15 मार्च, 2021 तक न्यूनतम समर्थन मूल्य पर 52.40 करोड़ रुपये की अदायगी की गई है। इनसे संबंधित राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की सरकारें खरीफ दलहन तथा तिलहन फसलों के आवक के आधार पर संबंधित राज्यों द्वारा तय तिथि से खरीद शुरू करने के लिए आवश्यक इंतज़ाम कर रही हैं। न्यूनतम समर्थन मूल्य योजना के तहत ही पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, ओडिशा और कर्नाटक राज्यों से कपास की खरीद का कार्य भी सुचारु रूप से जारी है। दिनांक 15 मार्च, 2021 तक 18,97,005 किसानों से 26,719.51 करोड़ रुपये के एमएसपी मूल्य पर कपास की 91,86,803 गांठों की खरीद की जा चुकी है।

फिर बढ़ा सोने का रेट, चांदी में दर्ज हुई गिरावट, देखे क्या है आज के भाव

फिर बढ़ा सोने का रेट, चांदी में दर्ज हुई गिरावट, देखे क्या है आज के भाव

मुंबई, सोने की कीमतों में आज फिर तेजी देखी जा रही है। अप्रैल डिलीवरी वाला सोना आज 50 रुपये की तेजी के साथ खुला और दिन चढऩे के साथ उसमें तेजी आई। दोपहर 12 बजे यह 81 रुपये की तेजी के साथ 44981 रुपये पर ट्रेड कर रहा था। सुबह के सत्र में इसने 44950 रुपये का न्यूनतम और 45047 रुपये का अधिकतम स्तर छू लिया। जून डिलीवरी वाला सोना भी 68 रुपये की तेजी के साथ 45365 रुपये पर ट्रेड कर रहा था। मई डिलीवरी वाली चांदी 67 रुपये की गिरावट के साथ 67600 रुपये प्रति किलो पर ट्रेड कर रही थी।सोने की कीमत में ऑल टाइम हाई से 11 हजार रुपये से भी अधिक की गिरावट आ चुकी है। 2020 में सोना 28 फीसदी तक चढ़ा था और अब 11 हजार रुपये से भी अधिक गिर चुका है। इतना ही नहीं, चांदी में भी 10 हजार रुपये तक की गिरावट देखने को मिली है। अगस्त में सोने ने 56,310 रुपये का ऑल टाइम हाई छुआ था और अब सोना 45,000 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर पहुंच चुका है।