कोरोना अपडेट 18 मई : छत्तीसगढ़ में बढ़ने लगे कोरोना के मामले, मिले इतने मरीज, देखे जिलेवार आकड़ें...    |    कोरोना अपडेट 17 मई : छत्तीसगढ़ में आज मिले इतने कोरोना संक्रमित मरीज, देखे जिलेवार आकड़ें...    |    कोरोना अपडेट 16 मई : छत्तीसगढ़ में आज मिले इतने कोरोना संक्रमित मरीज , देखे जिलेवार आकड़ें...    |    कोरोना अपडेट 15 मई : प्रदेश में आज 08 मरीजों ने जीती कोरोना से जंग, अब एक्टिव केस हुए इतने    |    कोरोना अपडेट 14 मई : प्रदेश में एक्टिव कोरोना मरीजों की संख्या पहुंची इतनी, आज प्रदेश में इतने नए मरीज की हुई पहचान, देखें आंकड़े    |    कोरोना अपडेट 13 मई : छत्तीसगढ़ में आज मिले इतने कोरोना संक्रमित मरीज , देखे जिलेवार आकड़ें...    |    कोरोना अपडेट 12 मई : प्रदेश के इस जिले में मिलने लगे ज्यादा मरीज, अब एक्टिव मरीज हुए इतने, देखे जिलेवार आकड़ें...    |    कोरोना अपडेट 11 मई : छत्तीसगढ़ में आज मिले इतने कोरोना संक्रमित मरीज , देखे जिलेवार आकड़ें...    |    कोरोना अपडेट 10 मई : छत्तीसगढ़ में आज मिले इतने कोरोना संक्रमित मरीज , देखे जिलेवार आकड़ें...    |    कोरोना अपडेट 09 मई : छत्तीसगढ़ में मिले कोरोना के इतने मरीज, देखे कुल एक्टिव मरीजो की संख्या...    |
सोने और चाँदी की कीमतों में आया बड़ा उछाल, देखे आज के भाव....

सोने और चाँदी की कीमतों में आया बड़ा उछाल, देखे आज के भाव....

मुंबई : अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कीमती धातुओं में रही तेजी के बल पर आज घरेलू स्तर पर भी सोना और चाँदी में तेजी रही। सोना 540 रुपये प्रति 10 ग्राम और चाँदी 820 रुपये प्रति किलोग्राम उछल गयी।


अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सोना हाजिर 0.83 प्रतिशत चढ़कर 2008.10 डॉलर प्रति औंस पर और अमेरिकी सोना वायदा 1.14 डॉलर प्रतिशत बढ़कर 2008.50 डॉलर प्रति औंस पर रहा। इस दौरान चाँदी 0.61 प्रतिशत चढ़कर 25.89 डॉलर प्रति औंस पर रही।


देश के सबसे बड़े वायदा बाजार एमसीएक्स में सोना 540 रुपये चढ़कर 53270 रुपये प्रति दस ग्राम पर और सोना मिनी 535 रुपये बढ़कर 53229 रुपये प्रति दस ग्राम पर रहा। चाँदी 820 रुपये बढ़कर 70403 रुपये प्रति किलोग्राम और चाँदी मिनी 753 रुपये उठकर 70440 रुपये प्रति किलोग्राम पर रही।
 

Today Petrol-Diesel Price : घरेलू स्तर पर पेट्रोल, डीजल के दाम 126वें दिन भी स्थिर

Today Petrol-Diesel Price : घरेलू स्तर पर पेट्रोल, डीजल के दाम 126वें दिन भी स्थिर

नई दिल्ली : रूस यूक्रेन संकट से अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में लगातार चल रहे उतार-चढ़ाव बावजूद घरेलू स्तर पर आज लगातार 126वें दिन भी पेट्रोल और डीजल के दाम स्थिर रहे। कच्चे तेल की कीमतों में उछाल रूस यूक्रेन संकट के बाद ही शुरू हो गया था।
अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत 114.36 डॉलर प्रति बैरल हुयी, जो बुधवार को 131.27 डॉलर प्रति बैरल की कीमत पर थी।

केंद्र सरकार द्वारा पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में क्रमश: पांच और 10 रुपये घटाने की घोषणा के बाद 04 नवंबर 2021 को ईंधन की कीमतों में तेजी से कमी आई थी। इसके बाद राज्य सरकार के मूल्य वर्धित कर (वैट) कम करने के फैसले के बाद राजधानी दिल्ली में भी वैट को कम करने का निर्णय लिया गया। इसके बाद राजधानी में 02 दिसंबर 2021 को पेट्रोल लगभग आठ रुपये सस्ता हुआ था। डीजल की भी कीमतें हालांकि जस की तस बनी रहीं।

केंद्र द्वारा उत्पाद शुल्क में कटौती के बाद अधिकांश राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों ने भी पेट्रोल और डीजल पर मूल्य वर्धित कर (वैट) कम कर दिया था, जिससे आम आदमी को काफी राहत मिली थी

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर न्यूयार्क में ब्रेंट क्रूड में कीमत 2.90 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ 114.36 डॉलर प्रति बैरल पर थी, जबकि अमेरिकी क्रूड 1.66 प्रतिशत बढ़कर 110.50 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच गया था।

पट्रोल-डीजल के मूल्यों की नित्य प्रतिदिन समीक्षा होती है और उसके आधार पर प्रतिदिन सुबह छह बजे से नयी कीमतें लागू की जाती हैं।

देश के चार बड़े महानगरों में आज पेट्रोल और डीजल के दाम इस प्रकार रहे:
महानगर............पेट्रोल.............डीजल (रुपए प्रति लीटर)
दिल्ली..............95.41........ 86.67
कोलकाता ......104.67........89.79
मुंबई ..............109.98.........94.14
चेन्नई...............101.40..........91.43

 

इस सस्ती SUV की बाजार में जबरदस्त डिमांड, 2 महीने से कम समय में मिली 50000 बुकिंग, देखें डिटेल्स

इस सस्ती SUV की बाजार में जबरदस्त डिमांड, 2 महीने से कम समय में मिली 50000 बुकिंग, देखें डिटेल्स

किआ कैरेंस ने 14 जनवरी के बाद से 2 महीने से भी कम समय में 50000 बुकिंग हासिल कर ली है। Kia ने भारतीय बाजार में अपनी इस चौथी कार Carens को इस साल 15 फरवरी को लॉन्च किया गया था। दक्षिण कोरियाई कार कंपनी ने इस कार की बुकिंग को लेकर बताया कि इसकी 42 फीसदी बुकिंग टियर 3 शहरों से हुई है। इस कार के लग्जरी और लक्जरी प्लस वैरिएंट हमारे ग्राहकों के लिए फेवरेट ऑप्शन रहें। इसमें उनका बुकिंग योगदान 43 फीसदी है।

Carens के पेट्रोल और डीजल वेरिएंट की मांग बराबर रही है, पेट्रोल के साथ लगभग 50 प्रतिशत ग्राहकों ने Carens के डीजल वेरिएंट को बुक किया है। इसके अलावा, कार के ऑटोमेटिक वैरिएंट  ने लगभग 30 प्रतिशत ग्राहकों को आकर्षित किया। पिछले महीने, कंपनी ने लॉन्च के केवल 13 दिनों में सेमीकंडक्टर की कमी के बीच कैरेंस की 5300 यूनिट बेचीं है।

Kia Carens की शुरुआती कीमत 8.99 लाख (एक्स-शोरूम) रखी गई है। इसके टॉप वेरिएंट की कीमत 16.99 लाख (एक्स-शोरूम) है। यह पांच ट्रिम्स प्रीमियम, प्रेस्टीज, प्रेस्टीज प्लस, लग्जरी और लग्जरी प्लस के साथ कई पावरट्रेन और सीटिंग ऑप्शन के साथ आती है।

किआ इंडिया के चीफ सेल्स ऑफिसर मायुंग-सिक सोहन ने कहा कि कैरेन्स के लिए इस प्रतिक्रिया से काफी खुश है। और यह उस उत्साह से मेल खाता है जो ग्राहकों ने हमारी अन्य एसयूवी दिखाया है, और यह बहुत उत्साहजनक है।

किआ कैरेंस में दो पेट्रोल और एक डीजल इंजन का ऑप्शन मिलता है। इसमें 1.5-लीटर नैचुरली एस्पिरेटेड पेट्रोल इंजन 115hp की पॉवर और 144Nm का टॉर्क जेनरेट करता है, वहीं दूसरा 1.4 टर्बो पेट्रोल इंजन दिया गया है, जिसे केवल 6-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स के साथ पेश किया जाएगा। यह इंजन 140hp की पॉवर और 242Nm का टॉर्क जेनरेट करता है। इसमें 1.5-लीटर डीजल इंजन ऑप्शन भी दिया गया।

किआ कैरेंस 7DCT और 6AT सहित कई ट्रांसमिशन ऑप्शन के साथ आती है। किआ का दावा है कि कैरेंस का पेट्रोल इंजन 16.5 किमी/लीटर तक माइलेज देता है, जबकि डीजल मोटर लगभग 21.3 किमी/लीटर प्रति लीटर का माइलेज देगी।

 

Stock Market : चुनावी परिणामों के चलते बाजार में बहार , सेंसेक्स 1200 अंक उछला, निफ्टी में भी तेजी

Stock Market : चुनावी परिणामों के चलते बाजार में बहार , सेंसेक्स 1200 अंक उछला, निफ्टी में भी तेजी

मुंबई : गुरुवार को देश के पांच राज्यों में चुनाव परिणामों की प्रक्रिया के बीच सेंसेक्स भी गुलजार नलर आया और दोनों इंडेक्स जबरदस्त तेजी के साथ हरे निशान पर खुले। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 1200 अंक उछलकर खुला, वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी सूचकांक ने भी 300 अंकों की उछाल के साथ कारोबार शुरू किया।

गौरतलब है कि बीते कारोबार दिन बुधवार को शेयर बाजार बढ़त के साथ बंद हुआ था। बीएसई का सेंसेक्स कारोबार के अंत में 1223 अंक की तेजी लेते हुए 54,647 के स्तर पर बंद हुआ था, जबकि निफ्टी 332 अंकों की उछाल भरकर 16,325 के स्तर पर बंद हुआ था। आज ऑटो, बैंक, रियल्टी, पीएसयू बैंक इंडेक्स के साथ सभी सेक्टोरल इंडेक्स 2 से 3 फीसदी की तेजी के साथ हरे निशान में कारोबार कर रहे हैं। वहीं बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप इंडेक्स में 1-1 फीसदी की तेजी आई है।

सेंसेक्स के सभी 30 शेयर बढ़त में कारोबार कर रहे हैं। इस बीच सबसे ज्यादा तेजी बैंकिंग शेयरों में देखने को मिल रही है। 30 शेयरों में से बढ़ने वाले प्रमुख एशियन पेंट्स, हिंदुस्तान यूनिलीवर और एक्सिस बैंक प्रमुख है और इन सभी में चार फीसदी का उछाल आया है। इसके अलावा एसबीआई, आईसीआईसीआई बैंक, इंडसइंड बैंक, बजाज फाइनेंस, बजाज फिनसर्व, मारुति और एचडीएफसी के शेयरों में 3-3 फीसदी की तेजी आई है। इसके विपरीत अल्ट्राटेक, महिंद्रा एंड महिंद्रा, एचडीएफसी बैंक, लार्सन एंड टुब्रो, टाइटन, कोटक बैंक भी 3 फीसदी तक की बढ़त में कारोबार कर रहे हैं।

एक ओर देश के पांच राज्यों में संपन्न हुए चुनावों के परिणाम आज आने वाले हैं और इसका प्रभाव घरेलू बाजार पर दिख रहा है, वहीं दूसरी ओर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में बड़ी गिरावट का असर भी निवेशकों की धारणाओं पर पड़ा है। कीमतों पर नियंत्रण के लिये यूएई के तेल उत्पादन बढ़ाने के पक्ष में होने की खबरों के बीच तेल की कीमतों में 17 फीसदी तक की गिरावट देखने को मिली है और ब्रेंट क्रूड 113 डॉलर प्रति बैरल के स्तर से नीचे आ गया है। बता दें कि इसी हफ्ते ब्रेंट क्रूड 2008 के बाद अपने 14 सालों के शिखर पर 139 डॉलर प्रति बैरल के स्तर के करीब पहुंच गया था।
 

GOOD NEWS : जल्द ही ई श्रम कार्ड धारकों के खाते में आयेगा इतने रुपये

GOOD NEWS : जल्द ही ई श्रम कार्ड धारकों के खाते में आयेगा इतने रुपये

नई दिल्ली : केद्र और राज्य सरकार द्वारा असंगठित वर्ग के लोगों की मदद के लिये दिनों आगे आ रही हैं। सरकारों का मकसद किसी तरह से लोगों को आर्थिक रूप से सशक्त बनाना है। इस बीच अगर अगर आपका नाम ई-श्रम कार्ड योजना में है तो फिर किस्मत जागने वाली है। असंगठित वर्ग से जड़े श्रमिकों अब अगली किस्त का इंतजार खत्म होने ही वाला है।

अब जल्द ही 500 रुपये की अगली किस्त खाते में ट्रांसफर होने जा रही है। देश में केंद्र सरकार की ओर से कई सारी योजनाएं चलाई जाती हैं। बात करें यूपी की, तो प्रदेश सरकार की ओर से मजदूर वर्ग को आर्थिक सहायता देने के लिए यह योजना चलाई जा रही है। दूसरे दिन भी जारी ई-श्रम योजना भी एक ऐसी योजना है, जिसमें लोगों को आर्थिक मदद समेत कई अन्य तरह के फायदे दिए जा रहे हैं।

ऐसे में सरकार की ओर से पहली किस्त जारी कर दी गई है। कयास लगाए जा रहे हैं कि इसी महीने 500 रुपये जल्द ही श्रमिकों के बैंक खाते में ट्रांसफर कर दिए जाएंगे। बता दें, ई-श्रम में किस्त के साथ-साथ इसमें कई तरह की सुविधाएं जैसे, किस्तों में आर्थिक फायदे, 2 लाख रुपये का बीमा कवर, घर बनाने के लिए आर्थिक मदद, कई कल्याणकारी योजनाओं का लाभ आदि श्रम विभाग की स्किम्स के तहत दिए जाएंगे।

इसके अलावा फरवरी महीने के साथ ही मार्च की 500 रुपये की किस्त का भुगतान भी दो मार्च तक करने का निर्देश दिया गया है। सबसे बड़ी बात है कि ई-श्रम पोर्टल पर अब तक 25 करोड़ असंगठित कामगार अपना रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं। आप सीधे e-SHRAM पोर्टल के माध्यम से भी पंजीकरण कर सकते हैं। पंजीकरण करते वक्त अपने जरूरी डॉक्यूमेंट्स का ध्यान जरूर रखें

रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच आज सोने चांदी के मूल्यों में आया भारी गिरावट, देखे आज के भाव...

रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच आज सोने चांदी के मूल्यों में आया भारी गिरावट, देखे आज के भाव...

नई दिल्ली : रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच आज सोने-चांदी के रेट में कमी आई है। आज विश्व महिला दिवस के दिन सोना अपने ऑल टाइम हाई से 2716 रुपये प्रति 10 ग्राम सस्ता बिक रहा है। जबकि, चांदी दो साल पहले के अपने उच्चतम रेट से 5651 रुपये किलो सस्ती है। आज यानी मंगलवार को सर्राफा बाजारों में भी 24 कैरेट शुद्ध सोना 185 रुपये गिरकर खुला, जबकि चांदी के रेट में 231 रुपये की कमी दर्ज की गई है।

बता दें डॉलर के मुकाबले रुपये में आने वाले एक रुपये के बदलाव से सोने की 10 ग्राम की कीमत में 250-300 रुपये का अंतर आता है। कच्चे तेल की कीमतों में मामूली गिरावट और डॉलर के कमजोर होने के बीच रुपया मंगलवार को शुरुआती कारोबार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 20 पैसे बढ़कर 76.73 पर पहुंच गया।


इंडिया बुलियंस एसोसिएशन द्वारा मंगलवार को जारी हाजिर रेट के मुताबिक आज 24 कैरेट शुद्ध सोना 53410 रुपये प्रति 10 ग्राम के रेट से खुला । इस पर 3 फीसद जीएसटी जोड़ लिया जाय तो यह करीब 55012 रुपये बैठ रही है। वहीं चांदी पर जीएसटी जोडऩे के बाद यह 72459 रुपये प्रति किलो मिलेगी। आज चांदी 70349 रुपये प्रति किलो की दर से खुली।
 

शेयर बाजार गिरावट के साथ खुला, सेंसेक्स-निफ्टी लाल निशान पर

शेयर बाजार गिरावट के साथ खुला, सेंसेक्स-निफ्टी लाल निशान पर

मुंबई : रूस-यूक्रेन के बीच बढ़ते तनाव और कमजोर वैश्विक रुझानों के चलते प्रमुख शेयर सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी में मंगलवार को लगातार 5वें कारोबारी सत्र में गिरावट हुई। तेल की कीमतों में तेजी और विदेशी संस्थागत निवेशकों की लगातार बिकवाली के चलते 30 शेयरों वाला बीएसई सेंसेक्स कमजोर रुख के साथ खुला और खबर लिखे जाने तक 432.36 अंक या 0.81 प्रतिशत की गिरावट के साथ 52,410.39 पर आ गया।

इसी तरह व्यापक एनएसई निफ्टी शुरुआती कारोबार में 115.75 अंक या 0.72 प्रतिशत की गिरावट के साथ 15,747.40 पर था। इससे पहले सोमवार को सेंसेक्स 1,491.06 अंक या 2.74 प्रतिशत की गिरावट के साथ 52,842.75 पर बंद हुआ था, जबकि निफ्टी 382.20 अंक या 2.35 प्रतिशत टूटकर 15,863.15 पर आ गया।

सेंसेक्स में मारुति सुजुकी इंडिया, टाटा स्टील, एचडीएफसी बैंक, एक्सिस बैंक और एशियन पेंट्स गिरने वाले प्रमुख शेयरों में शामिल थे। दूसरी ओर पावर ग्रिड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया, एनटीपीसी, टीसीएस और टेक महिंद्रा में बढ़त देखने को मिली। इस बीच अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 2.50 फीसदी उछलकर 126.1 डॉलर प्रति बैरल के भाव पर पहुंच गया। शेयर बाजार के अस्थाई आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों ने सोमवार को शुद्ध रूप से 7,482.08 करोड़ रुपये के शेयर बेचे।

 

छप्परफाड़ कमाई के लिए इन 15 दमदार शेयरों में लगा सकते हैं दांव...

छप्परफाड़ कमाई के लिए इन 15 दमदार शेयरों में लगा सकते हैं दांव...

नई दिल्ली : अगर आप शेयर बाजार से कमाई के मौके तलाश रहे हैं तो यह खबर आपके काम की हो सकती है। दरअसल, इन दिनों रूस-यूक्रेन संकट के चलते बाजार में भारी उठा पटक का माहौल है, लेकिन बाजार जानकारों की मानें तो ज्यादा दिन बाजार में गिरावट नहीं रहने वाले हैं और बाजार रिकवर करेगा। इस बीच ब्रोकरेज एक्सिस सिक्योरिटीज ने एक नोट में कहा कि रूस-यूक्रेन जंग थमने के बाद, बाजार में तेजी आएगी और शेयरों में खरीदारी बढ़ेगी।


इन 15 शेयरों पर ब्रोकरेज हाउस फिदा
ब्रोकरेज हाउस ने मार्च महीने के लिए अपने टॉप स्टॉक पिक्स की एक नोट शेयर की है। इसके मुताबिक, टॉप पिक्स पोर्टफोलियो में कुछ बदलाव किए गए हैं। एक्सिस सिक्योरिटीज के टॉप स्टॉक में आईसीआईसीआई बैंक शामिल हैं।
आईसीआईसीआई बैंक, बजाज ऑटो, टेक महिंद्रा, मारुति सुजुकी, भारतीय स्टेट बैंक, हिंडाल्को इंडस्ट्रीज ,भारती एयरटेल, फेडरल बैंक, वरुण बेवरेजेज, अशोक लीलैंड ,नेशनल एल्युमीनियम कंपनी ,बाटा इंडिया, कृष्णा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, इक्विटास स्मॉल फाइनेंस बैंक ,प्राज इंडस्ट्रीज।
 

Today Petrol and Diesel Price : पेट्रोल-डीजल के दाम में कभी भी हो सकती है बढोतरी , जाने यहाँ आज क्या है कीमत

Today Petrol and Diesel Price : पेट्रोल-डीजल के दाम में कभी भी हो सकती है बढोतरी , जाने यहाँ आज क्या है कीमत

नई दिल्ली : देश में  करीब 120 दिन के ब्रेक के बाद अब आम लोगों को कभी भी झटका लग सकता है। एक ओर ग्लोबल मार्केट में क्रूड ऑयल 14 साल के रिकॉर्ड हाई लेवल पर पहुंच गया है, तो दूसरी ओर 5 राज्यों का विधानसभा चुनाव आज अंतिम पड़ाव में आ चुका है। पिछले कुछ सालों के ट्रेंड को देखें तो इस बात की आशंका है कि सरकारी तेल कंपनियां डीजल-पेट्रोल के दाम बढ़ाने की शुरुआत अब किसी भी समय कर सकती है।  में 

पिछले साल नवंबर में देश के कई राज्यों में डीजल-पेट्रोल के दाम 100 रुपये प्रति लीटर से ऊपर निकल गए थे। इसके बाद केंद्र सरकार ने एक्साइज घटाकर लोगों को मंहगाई से बड़ी राहत दी थी। उसके बाद से अभी तक डीजल-पेट्रोल के दाम नहीं बढ़ाए गए हैं। बाद में राज्य सरकारों ने वैट (VAT) घटाया तो इनके दाम कम ही हुए। जब नवंबर में केंद्र सरकार ने एक्साइज में कटौती की थी, तब क्रूड ऑयल 82 डॉलर प्रति बैरल के आस-पास था। क्रूड ऑयल ग्लोबल मार्केट मेंअभी 2008 के बाद के उच्च स्तर पर पहुंच चुका है।

रिपोर्ट के अनुसार, ब्रेंट क्रूड (Brent Crude) रविवार के कारोबार में 11.67 डॉलर यानी करीब 10 फीसदी चढ़कर 129.78 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया. इसी तरह वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट (WTI) भी 10.83 डॉलर यानी 9.4 फीसदी उछलकर 126.51 डॉलर प्रति बैरल पर जा पहुंचा. यह क्रूड ऑयल और वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट दोनों के लिए जुलाई 2008 के बाद का सबसे ऊंचा स्तर है. नवंबर से तुलना करें तो अभी क्रूड ऑयल 58 फीसदी से ज्यादा ऊपर निकल चुका है।

मौजूदा पॉलिसी के तहत सरकारी तेल विपणन कंपनियां हर रोज सुबह में डीजल-पेट्रोल के दाम की समीक्षा करती हैं। ग्लोबल मार्केट में क्रूड का जो ट्रेंड रहता है। उसी के हिसाब से घरेलू बाजार में डीजल और पेट्रोल के खुदरा मूल्य घटाए-बढ़ाए जाते हैं। इस तरह अभी के हिसाब से डीजल-पेट्रोल के दाम 50 फीसदी से ज्यादा बढ़ा बढ़ाए जा सकते हैं। सरकार के ऊपर ऐसे आरोप लगते रहे हैं कि उत्तर प्रदेश और पंजाब समेत 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव के चलते डीजल-पेट्रोल के दाम करीब 4 महीने से नहीं बढ़े हैं।

ऐसा पहले भी हुआ है, जब चुनाव नजदीक आने पर क्रूड के दाम बढ़ने के बाद भी डीजल-पेट्रोल के दाम नहीं बढ़ाए गए हैं। कांग्रेस नेता गांधी ने भी 2 दिन पहले इस बात को लेकर सरकार को निशाने पर लिया था। उन्होंने Tweet किया था, ‘फटाफट पेट्रोल टैंक फुल करवा लीजिए। मोदी सरकार का चुनावी ऑफर खत्म होने जा रहा है। 

Today Gold-Silver Price : सोना ऑल टाइम हाई से अब केवल 2700 रुपये ही सस्ता, आज चांदी 70000 के पार

Today Gold-Silver Price : सोना ऑल टाइम हाई से अब केवल 2700 रुपये ही सस्ता, आज चांदी 70000 के पार

नई दिल्ली : यूक्रेन संकट के बीच भारतीय बाजारों में आज सोने की कीमतों में जोरदार उछाल आया। एमसीएक्स पर सोना वायदा 1.8प्रतिशत बढ़कर 53,500 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया है। यह अपने ऑल टाइम हाई से केवल 2700 रुपये प्रति 10 ग्राम ही अब सस्ता रह गया है। अगस्त 2020 में सोना भारतीय बाजारों में 56,200 रुपये के रिकॉर्ड उच्च स्तर पर पहुंच गया था।

अब वैश्विक बाजारों में सोने का हाजिर भाव 1.5प्रतिशत बढ़कर 1,998.37 डॉलर प्रति औंस हो गया है। वहीं अगर चांदी की बात करें तो एमसीएक्स पर चांदी का आज वायदा भाव 1.5प्रतिशत उछलकर 70173 रुपये प्रति किलोग्राम पर पहुंच गया। हाजिर चांदी 1.7प्रतिशत बढ़कर 26.09 डॉलर प्रति औंस हो गई, जबकि प्लैटिनम 2.3त्न उछलकर 1,147.19 डॉलर हो गया।

रूस-यूक्रेन संकट ने इच्टिी बाजारों को पस्त कर दिया है और तेल की कीमतों को लगभग 14 साल के उच्च स्तर पर भेज दिया है, जिससे पहले से ही उच्च मुद्रास्फीति पर और दबाव बढ़ गया है। बता दें यूक्रेन में युद्ध थमने का कोई संकेत नहीं दिख रहा। रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने गंभीर पश्चिमी प्रतिबंधों और व्यापक अंतरराष्ट्रीय निंदा के बावजूद, कीव के आत्मसमर्पण करने तक हमले को आगे बढ़ाने की कसम खाई है।

कोटक सिक्योरिटीज ने एक नोट में कहा है, रूस-यूक्रेन तनाव ने जोखिम वाली संपत्तियों से सुरक्षित निवेश में स्थानांतरित कर दिया है और इससे सोना, बांड, अमेरिकी डॉलर इत्यादि को फायदा हुआ है। इस बीच, वस्तुओं की आपूर्ति चिंताओं पर बढ़ गई है क्योंकि रूस एक प्रमुख उत्पादक है। जबकि, अमेरिका और अन्य देशों ने अब तक सीधे रूसी निर्यात को टारगेट नहीं किया है। बैंकिंग और शिपिंग पर प्रतिबंध व्यापार को मुश्किल बना रहे हैं, जबकि कंपनियां आपूर्ति की चिंताओं को बढ़ावा देने वाली रूसी संपत्तियों में जोखिम कम कर रही हैं।

 

आज मिली राहत : पेट्रोल और डीजल की कीमतों में आई भारी गिरावट, जानिये कितने रुपये हुआ सस्ता....

आज मिली राहत : पेट्रोल और डीजल की कीमतों में आई भारी गिरावट, जानिये कितने रुपये हुआ सस्ता....

नई दिल्ली : पेट्रोलियम कंपनियों ने आज रविवार (6 मार्च) के लिए पेट्रोल-डीजल के नए रेट जारी कर दिए हैं। आज भी पेट्रोल और डीजल के रेट स्थिर हैं, जबकि कच्चे तेल के भाव आसमान पर है। घरेलू स्तर पर लगातार तीन महीने से पेट्रोल और डीजल के दाम जस के तस है। आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज की रिपोर्ट में कहा गया है कि उत्तर प्रदेश समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने के कारण बीते चार महीने से ईंधन के दाम नहीं बढ़े हैं। हालांकि, अब अगले 11 दिन में पेट्रोल और डीजल के दाम में 12 रुपए तक की बढ़ोतरी हो सकती है।


महानगरों में पेट्रोल डीजल के दाम
आज देश की राजधानी दिल्ली में एक लीटर पेट्रोल की कीमत 95.41 रुपये बनी हुई है, जबकि डीजल की कीमत 86.67 रुपये है। वहीं मुंबई में पेट्रोल 109.98 रुपये प्रति लीटर की दर से बिक रहा है, जबकि डीजल 94.14 रुपये पर है। कोलकाता में एक लीटर पेट्रोल 104.67 रुपये और डीजल 89.79 रुपये लीटर मिल रहा है। चेन्नई में पेट्रोल डीजल क्रमश: 101.40 रुपये और 91.43 रुपये के हिसाब के बिक रहा है।


नए रेट के मुताबिक, आज भी देश में सबसे सस्ता पेट्रोल 82.96 रुपये लीटर के हिसाब से पोर्ट ब्लेयर में बिक रहा है तो डीजल भी यहां 77.13 रुपये प्रति लीटर है। वहीं, महानगरों में मुंबई में पेट्रोल सबसे महंगा 109.98 रुपये लीटर और दिल्ली में सबसे सस्ता 95.41 रुपये है। वहीं, पेट्रोल भापेाल, जयपुर, पटना, कोलकाता, चेन्नई और बेंगलुरु में 100 के पार है।
 

Today Petrol and Diesel Price : 121वें दिन भी स्थिर रहे पेट्रोल और डीजल के दाम, अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेजी

Today Petrol and Diesel Price : 121वें दिन भी स्थिर रहे पेट्रोल और डीजल के दाम, अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेजी

नई दिल्ली : रूस यूक्रेन संकट से अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में लगातार चल रहे उतार-चढ़ाव बावजूद घरेलू स्तर पर आज लगातार 121वें दिन भी पेट्रोल और डीजल के दाम स्थिर रहे। कच्चे तेल की कीमतों में उछाल रूस यूक्रेन संकट के बाद ही शुरू हो गया था। जो 118.11 बैरल प्रति डॉलर की कीमत पर पहुंच चुका है।

केंद्र सरकार द्वारा पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में क्रमश: पांच और 10 रुपये घटाने की घोषणा के बाद 04 नवंबर 2021 को ईंधन की कीमतों में तेजी से कमी आई थी। इसके बाद राज्य सरकार के मूल्य वर्धित कर (वैट) कम करने के फैसले के बाद राजधानी दिल्ली में भी वैट को कम करने का निर्णय लिया गया। इसके बाद राजधानी में 02 दिसंबर 2021 को पेट्रोल लगभग आठ रुपये सस्ता हुआ था। डीजल की भी कीमतें हालांकि जस की तस बनी रहीं।

केंद्र द्वारा उत्पाद शुल्क में कटौती के बाद अधिकांश राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों ने भी पेट्रोल और डीजल पर मूल्य वर्धित कर (वैट) कम कर दिया था, जिससे आम आदमी को काफी राहत मिली थी। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर न्यूयार्क में ब्रेंट क्रूड में कीमत 118.11 डॉलर प्रति बैरल पर थी, जबकि अमेरिकी क्रूड 6.81 प्रतिशत बढ़कर 115.00 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच गया था। पेट्रोल-डीजल के मूल्यों की नित्य प्रतिदिन समीक्षा होती है और उसके आधार पर प्रतिदिन सुबह छह बजे से नयी कीमतें लागू की जाती हैं।

देश के चार बड़े महानगरों में आज पेट्रोल और डीजल के दाम इस प्रकार रहे

महानगर............पेट्रोल.............डीजल (रुपए प्रति लीटर)
दिल्ली..............95.41........ 86.67
कोलकाता ......104.67........89.79
मुंबई ..............109.98.........94.14
चेन्नई...............101.40..........91.43

 

Today Gold-Silver Price : आज भी सोना-चांदी की कीमतों में बढोतरी, जाने यहाँ क्या है आज का  भाव

Today Gold-Silver Price : आज भी सोना-चांदी की कीमतों में बढोतरी, जाने यहाँ क्या है आज का भाव

मुंबई : अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कीमती धातुओं में जारी तेजी के बल पर घरेलू स्तर पर भी इनकी कीमतों में बढोतरी का रूख आज भी बना रहा। सोना 291 रुपये प्रति दस ग्राम और चाँदी 479 रुपये प्रति किलोग्राम चमक गयी।

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सोना हाजिर 0.55 प्रतिशत बढ़कर 1945.90 डॉलर प्रति औंस पर और अमेरिकी सोना वायदा 0.06 प्रतिशत चढ़कर 1935.60 डॉलर प्रति औंस पर रहा। चाँदी 0.36 प्रतिशत बढ़कर 25.25 डॉलर प्रति औंस पर रही

घरेलू स्तर पर सबसे बड़े वायदा बाजार एमसीएक्स में सोना 291 रुपये की बढ़त के साथ 52057 रुपये प्रति दस ग्राम और सोना मिनी 289 रुपये की बढ़त लेकर 52043 रुपये प्रति दस ग्राम पर रहा। इस दौरान चाँदी 479 रुपये चमककर 68383 रुपये प्रति किलोग्राम और चाँदी मिनी 483 रुपये की तेजी लेकर 68530 रुपये प्रति किलोग्राम बोली गयी।

 

ऑडी ने भारत में कारों के दाम बढ़ाए , 01 अप्रैल 2022 से लागू

ऑडी ने भारत में कारों के दाम बढ़ाए , 01 अप्रैल 2022 से लागू

मुंबई : जर्मन लग्जरी कार विनिर्माता ऑडी ने भारत में अपने कारों के सभी मॉडलों के दामों में 03 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी की घोषणा की है। कंपनी ने यह फैसला बढ़ते हुए लागत खर्च के कारण किया है, जो 01 अप्रैल 2022 से लागू होंगे।

ऑडी इंडिया के मुख्य बलबीर सिंह ढिल्लों ने कहा ऑडी इंडिया में, हम एक स्थायी व्यापार प्रणाली के संचालन के लिए प्रतिबद्ध हैं। लागत खर्च के बढऩे और विदेशी मुद्रा में बदलाव से हमें अपने सभी मॉडलों में 3 फीसदी  तक की कीमतों में बढ़ोतरी करने की आवश्यकता है।

 

Petrol-Diesel Price Today : 120वें दिन भी स्थिर रहे पेट्रोल और डीजल के दाम, अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेजी

Petrol-Diesel Price Today : 120वें दिन भी स्थिर रहे पेट्रोल और डीजल के दाम, अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेजी

नई दिल्ली : रूस यूक्रेन संकट से अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में लगातार चल रहे उतार-चढ़ाव बावजूद घरेलू स्तर पर आज लगातार 120वें दिन भी पेट्रोल और डीजल के दाम स्थिर रहे। कच्चे तेल की कीमतों में उछाल रूस यूक्रेन संकट के बाद ही शुरू हो गया था। जो 110 बैरल प्रति डॉलर की कीमत को पार कर चुका है।

केंद्र सरकार द्वारा पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में क्रमश: पांच और 10 रुपये घटाने की घोषणा के बाद 04 नवंबर 2021 को ईंधन की कीमतों में तेजी से कमी आई थी। इसके बाद राज्य सरकार के मूल्य वर्धित कर (वैट) कम करने के फैसले के बाद राजधानी दिल्ली में भी वैट को कम करने का निर्णय लिया गया। इसके बाद राजधानी में 02 दिसंबर 2021 को पेट्रोल लगभग आठ रुपये सस्ता हुआ था। डीजल की भी कीमतें हालांकि जस की तस बनी रहीं।

केंद्र द्वारा उत्पाद शुल्क में कटौती के बाद अधिकांश राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों ने भी पेट्रोल और डीजल पर मूल्य वर्धित कर (वैट) कम कर दिया था, जिससे आम आदमी को काफी राहत मिली थी। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर न्यूयार्क में ब्रेंट क्रूड में कीमत 0.94 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 111.50 डॉलर प्रति बैरल पर थी, जबकि अमेरिकी क्रूड 1.23 प्रतिशत बढ़कर 108.99 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच गया था।पेट्रोल-डीजल के मूल्यों की नित्य प्रतिदिन समीक्षा होती है और उसके आधार पर प्रतिदिन सुबह छह बजे से नयी कीमतें लागू की जाती हैं।

 

Today Gold-Silver Price : सोना-चांदी के कीमतों में तेजी जारी,  जानें यहाँ  आज क्या है भाव

Today Gold-Silver Price : सोना-चांदी के कीमतों में तेजी जारी, जानें यहाँ आज क्या है भाव

मुंबई : रूस यूक्रेन संकट का समाधान तत्काल नहीं होने और कच्चे तेल में जारी तेजी के बीच शेयर बाजार में गिरावट के दबाव में आज घरेलू स्तर पर कीमती धातुओं में तेजी रही। इस दौरान सोना 484 रुपये और चाँदी 778 रुपये चमक गयी।

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सोना हाजिर 0/39 प्रतिशत बढ़कर 1933/60 डॉलर प्रति औंस पर और अमेरिकी सोना वायदा 0/55 प्रतिशत चढ़कर 1931/50 डॉलर प्रति औंस पर रहा। चाँदी हाजिर 0/32 प्रतिशत चढ़कर 25/33 डॉलर प्रति औंस बोली गयी।

देश के सबसे बड़े वायदा बाजार एमसीएक्स में सोना 484 रुपये बढ़कर 51778 रुपये प्रति दस ग्राम और सोना मिनी 455 रुपये चढ़कर 51759 रुपये प्रति दस ग्राम पर रहा। इस दौरान चाँदी 778 रुपये चमककर 68445 रुपये प्रति किलोग्राम और चाँदी मिनी 757 रुपये की बढ़त लेकर 68588 रुपये प्रति किलोग्राम बोली गयी।

 

युद्ध ने बढ़ाई मुसीबत, बढ़ सकते हैं गैस सिलेंडर की कीमतें...

युद्ध ने बढ़ाई मुसीबत, बढ़ सकते हैं गैस सिलेंडर की कीमतें...

घरेलू रसोई गैस सिलेंडर की कीमतें लोगों को बड़ा झटका देने वाली हैं. लगातार हो रहे घाटे को देखते हुए तेल कंपनियां पांच राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनावों के बाद एलपीजी की कीमतें बढ़ा सकती हैं. सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियों ने रसोई गैस की कीमतों में वृद्धि की है. कमर्शियल गैस सिलेंडर की कीमतों में 105 रुपये का इजाफा हुआ है.


दरअसल, रूस-यूक्रेन युद्ध के बाद कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों को देखते हुए तेल कंपनियां कमर्शियल गैस सिलेंडर के बाद अब घरेलू रसोई गैस सिलेंडर के दाम भी बढ़ा सकते हैं. अभी पांच किलो के रसोई गैस सिलेंडर छोटू के दाम भी 27 रुपये बढ़ गए. ऐसे में माना जा रहा है कि पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के बाद घरेलू गैस सिलेंडर के साथ पेट्रोल-डीजल के दाम भी बढ़ सकते हैं.

एक मार्च से हुई बढ़ोतरी के बाद राजधानी दिल्ली में कमर्शियल सिलेंडर की कीमत 1907 से बढ़कर 2012 रुपये प्रति सिलेंडर हो गई है. पांच किलोग्राम वाले छोटे गैस सिलेंडर के दाम 27 रुपये बढ़कर 569.5 रुपये हो गए हैं. कंपनियों ने घरेलू गैस सिलेंडर की कीमतों में फिलहाल कोई बदलाव नहीं है. घरेलू गैस सिलेंडर की कीमत छह अक्टूबर 2021 के बाद स्थिर हैं. ऐसे में चुनाव के बाद दाम बढ़ सकते हैं।


119 दिनों में नहीं बढ़ीं पेट्रोल-डीजल की कीमतें
पेट्रोल और डीजल की कीमतों में भी पिछले 119 दिनों से कोई बदलाव नहीं हुआ है. केंद्र सरकार ने 3 नवंबर 2021 को पेट्रोल पर पांच और डीजल पर 10 रुपये प्रति लीटर उत्पाद शुल्क में कटौती की थी. इसके बाद कई राज्य सरकारों ने भी अपना टैक्स कम किया था. उस वक्त अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम औसतन 82 डॉलर प्रति बैरल थे. रूस और यूक्रेन की लड़ाई में कच्चे तेल 104 डॉलर के पार पहुंच गया है.


जानें आपके शहर में कितना है मूल्य

दिल्ली 899.50 रुपये
बिहार 979.50 रुपये
मुंबई 899.50 रुपये
मध्यप्रदेश 905.50 रुपये
राजस्थान 903.50 रुपये
पंजाब 933.00 रुपये
उत्तर प्रदेश 897.50 रुपये
उत्तराखंड 918.50 रुपये
झारखंड 957.00 रुपये
छत्तीसगढ़ 971.00 रुपये
 

पेट्रोल-डीजल फिर लगाएगा शतक, इतने रुपए तक बढ़ सकते हैं दाम...

पेट्रोल-डीजल फिर लगाएगा शतक, इतने रुपए तक बढ़ सकते हैं दाम...

नई दिल्ली : अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में लगातार तेजी जारी है। रूस पर यूक्रेन के हमले के बाद क्रूड ऑयल ने 2014 के बाद पहली बार 100 डॉलर प्रति बैरल का स्तर पार किया था, लेकिन इतने पर भी इसका उबाल ठंडा नहीं पड़ा है। कई देशों ने इससे बचने के लिए स्ट्रेटजिक रिजर्व का सहारा लिया, बावजूद क्रूड ऑयल चढ़ता जा रहा है। बुधवार को ग्लोबल मार्केट में ब्रेंट क्रूड 110 डॉलर प्रति बैरल के भी पार निकल गया। इसके चलते भारत में जल्दी ही डीजल और पेट्रोल की कीमतों का बढऩा लगभग तय हो चुका है। आंकड़ों पर गौर करें तो पेट्रोल की कीमतों में आने वाले दिनों में 30 रुपये प्रति लीटर से ज्यादा की बढ़ोतरी संभव है।


यूक्रेन संकट के चलते पिछले दिनों क्रूड ऑयल की कीमतों में भारी तेजी देखने को मिली है। क्रूड ऑयल 02 दिसंबर 2021 को 70 डॉलर के आस-पास था, लेकिन अभी यह 110 डॉलर प्रति बैरल के पार निकल चुका है। दिल्ली में डीजल-पेट्रोल के दाम में 02 दिसंबर के बाद कोई बदलाव नहीं हुआ है। दिल्ली सरकार ने एक दिसंबर को डीजल और पेट्रोल पर वैट में कटौती की थी। उसके बाद से दिल्ली में डीजल और पेट्रोल के दाम में कोई बदलाव नहीं हुआ है। तब से अब तक क्रूड 57 फीसदी से ज्यादा महंगा हो चुका है। इसके बाद भी घरेलू बाजार में डीजल और पेट्रोल के दाम नहीं बदले गए हैं।


जिस हिसाब से क्रूड ऑयल के दाम दिसंबर के बाद से बढ़े हैं, अगर सरकारी तेल कंपनियों ने पेट्रोल के दाम उसी तरह बढ़ाए तो जल्दी ही इसमें 30 रुपये से ज्यादा की तेजी आ सकती है। अभी पेट्रोल का दाम दिल्ली में 02 दिसंबर से 95.41 रुपये है। जब नवंबर में केंद्र सरकार ने एक्साइज में कटौती की थी, तब क्रूड ऑयल 82 डॉलर प्रति बैरल के आस-पास था। इस तरह नवंबर की तुलना में अभी क्रूड ऑयल करीब 35 फीसदी महंगा हो चुका है। इस हिसाब से तेल कंपनियों ने डीजल और पेट्रोल के दाम बढ़ाए तो जल्दी ही इनकी खुदरा कीमतें नया रिकॉर्ड बना सकती हैं।


ब्रोकरेज फर्म जेपी मॉर्गन की एक रिपोर्ट की मानें तो तेल कंपनियां डीजल और पेट्रोल के दाम इतना ज्यादा नहीं बढ़ाने वाली हैं। फर्म ने रिपोर्ट में कहा है कि अगले सप्ताह तक पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव पूरे हो जाएंगे। इसके बाद डीजल-पेट्रोल के दाम फिर से हर रोज बढ़ाए जा सकते हैं। जेपी मॉर्गन के हिसाब से अभी सरकारी तेल कंपनियों को डीजल-पेट्रोल पर प्रति लीटर 5.7 रुपये का घाटा हो रहा है। जब यह रिपोर्ट आई, उसके बाद से क्रूड ऑयल 5 फीसदी से ज्यादा चढ़ चुका है। इस तरह देखें तो सरकारी तेल कंपनियों को घाटे की भरपाई के लिए डीजल-पेट्रोल के दाम 9-10 रुपये बढ़ाने की जरूरत है।
 

Holi से पहले Maruti लॉन्च करेगी ये 2 नई गाड़ियां! मिलेंगे ये जबरदस्त फीचर्स

Holi से पहले Maruti लॉन्च करेगी ये 2 नई गाड़ियां! मिलेंगे ये जबरदस्त फीचर्स

मारुति ने हाल 2022 में दो नई गाड़ियों को लॉन्च किया है, इसमें बलेनो और नई वैगनआर शामिल है। अब कंपनी होली से पहले अपनी 2 और पॉपुलर गाड़ियों को बाजार में उतार सकती हैं जिसमें अर्टिगा और ब्रिजा के नए मॉडल होंगे। इन दोनों गाड़ियों के अपडेटिड वर्जन का ग्राहक काफी समय से इंतजार कर रहे है। आइए आपको इसके अपडेट वर्जन के बारे में जानकारी देते है।
नई ब्रेजा
मारुति सुजुकी विटारा ब्रेजा को एक बड़ा अपडेट देगी। कंपनी "विटारा" नाम को छोड़ देगी, और सब-4-मीटर एसयूवी को मारुति सुजुकी ब्रेजा कहा जाएगा। 2022 मारुति ब्रेजा पेट्रोल वर्जन के साथ-साथ सीएनजी में भी पेश किए जाने की संभावना है। नई जनरेशन ब्रेजा के साथ कंपनी नए अलॉय व्हील्स, चौकोर व्हील आर्च्स, मोटी बॉडी क्लैडिंग, काली डोर मोल्डिंग, टर्ने इंडिकेटर वाले रियर व्यू मिरर्स और कलर्ड डोर हैंडल्स दिए गए हैं। नई ब्रेजा का पिछला हिस्सा भी काफी बदल गया है जिसमें रैपअराउंड टेललैंप्स और चौड़ी क्रोम की पट्टी पर ब्रेजा लिखा है।
नई अर्टिगा
नई अर्टिगा फेसलिफ्ट के इंटीरियर जानकारी फिलहाल अभी नहीं मिली है, लेकिन बाहरी बदलावों की तर्ज पर कार के इंटीरियर में भी मामूली बदलाव देखने को मिल सकते हैं। फेसलिफ्ट मॉडल के लिए कंपनी इसकी कीमतों में मामूली बढ़ोतरी कर सकती है, फिलहाल इस MPV की शुरुआती एक्सशोरूम कीमत 7.97 लाख रुपये है। रिपोर्ट के मुताबिक नई अर्टिगा के केबिन में नए रंग की अपहोल्स्ट्री और 8-इंच का टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम दिया जा सकता है जिससे इंटीरियर को एक ताजा लुक दिया जा सके।
इसके अलावा मारुति सुजुकी नई MPV के पहले जैसे फीचर्स देने वाली है जिनमें वायरलेस फोन चार्जर, एप्पल कारप्ले के साथ एंड्रॉइड ऑटो, ऑटोमैटिक क्लाइमेट कंट्रोल, कलर्ड मल्टी-इंफो डिस्प्ले, कीलेस एंट्री के साथ पुश बटन स्टार्ट और क्रूज कंट्रोल शामिल हैं। यहां दो एयरबैग्स, एबीएस के साथ ईबीडी और रियर पार्किंग सेंसर्स जैसे सेफ्टी फीचर्स भी मिलने वाले हैं।

 

फिर बढ़ेंगे पेट्रोल-डीजल के दाम, इस दिन के बाद कीमतों में लगेगी आग

फिर बढ़ेंगे पेट्रोल-डीजल के दाम, इस दिन के बाद कीमतों में लगेगी आग

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑइल की कीमतें बढ़ने के बाद भारत में भी पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने की आशंका जताई जा रही है। एक्सपर्ट्स कह रहे हैं कि यूपी, पंजाब समेत 5 राज्यों में चल रहे विधानसभा चुनावों के बाद पेट्रोल-डीजल की कीमत में आग लग सकती है।
पिछले कई सालों से केंद्र सरकार के बजाय सरकारी तेल कंपनियां पेट्रोल-डीजल के भाव्स को तय करती हैं। यूपी में अभी 2 चरणों की वोटिंग बाकी है। 7 मार्च को जहां आखिरी चरण का मतदान है तो वहीं 10 मार्च को चुनावी नतीजे आ जाएंगे।
पेट्रोल-डीजल के दामों पर नजर रखने वाले एक्सपर्ट्स का भी मानना है कि दरअसल विधानसभा चुनावों की वजह से ही तेल के दामों में कोई बढ़ोतरी नहीं हो रही है। हालांकि यूं तो कहा जाता है कि तेल कंपनियां अंतरराष्ट्रीय बाजार के हिसाब से तेल के भाव तय करती हैं, लेकिन पिछले कुछ सालों में देखा गया है कि जब किसी राज्य के चुनाव चल रहे होते हैं तो आमतौर पर पेट्रोल-डीजल के भाव नहीं बढ़ते। चुनाव के बाद फिर से कीमतों में बदलाव होने लगता है। ऐसे में एक्सपर्ट्स आशंका जता रहे हैं कि इस बार भी चुनावी नतीजों के बाद पेट्रोल-डीजल के भाव बढ़ सकते हैं।