कोरोना अपडेट : छत्तीसगढ़ में जारी है कोरोना से मौत का तांडव, प्रदेश में आज 15 हजार के करीब मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से मिले सर्वाधिक मरीज    |    बंगाल चुनाव: EC की नई गाइडलाइंस जारी, प्रचार का समय कम करने से लेकर आपराधिक मामला दर्ज करने तक का आदेश    |    BIG BREAKING : केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर भी आये कोरोना की चपेट में, सोशल मीडिया में दी जानकारी    |    ICMR कोरोना अपडेट: राज्य में आज शाम तक 12079 कोरोना मरीजो की हुई पुष्टि, अकेले रायपुर से 2921 समेत बाकी इन जिलो से...    |    इस राज्य में सरकार ने लागू किया वीकेंड लॉकडाउन, मास्क नहीं पहनने पर लगेगा बड़ा जुर्माना    |    BIG BREAKING : नहीं होगी ऑक्सीजन की कमी, पीएम केयर्स फंड से अस्पतालों में लगेंगे प्लांट    |    कोरोना की चपेट में सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस शाह का पूरा स्टाफ...    |    कोरोना अपडेट : देश में 24 घंटे में सामने आए 2.16 लाख मामले, 1184 मौतें    |    BIG BREAKING : प्रदेश में कोरोना से मौत ने लगाई शतक, प्रदेश में आज 15 हजार से अधिक नए मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से इतने    |    कोरोना अपडेट: ICMR के मुताबिक आज प्रदेश में शाम तक 11819 मरीज मिले, अकेले रायपुर जिले से 2870 समेत बाकी इन जिलो से    |
राजभवन में एक नवम्बर को ओपन हाउस आप भी मिल सकते है छत्तीसगढ़ की राज्यपाल से...

राजभवन में एक नवम्बर को ओपन हाउस आप भी मिल सकते है छत्तीसगढ़ की राज्यपाल से...

रायपुर  राजभवन में एक नवम्बर को राज्य स्थापना दिवस और दीपावली के उपलक्ष्य पर सुबह 11 से दोपहर 1 बजे तक ओपन हाउस का आयोजन किया गया है। इस अवसर पर राज्यपाल सुश्री अनुसूईया उइके आमजनों से मुलाकात करेंगी। 

जम्मू-कश्मीर में 31 अक्टूबर को बड़े आतंकी हमले का अलर्ट जारी

जम्मू-कश्मीर में 31 अक्टूबर को बड़े आतंकी हमले का अलर्ट जारी

जम्मू-कश्मीर और दिल्ली में आतंकवादी बड़े हमले की फिराक में हैं। राज्य से केंद्र शासित प्रदेश बनने जा रहे जम्मू-कश्मीर में 31 अक्टूबर को बड़े आतंकी हमले का अलर्ट जारी किया गया है। नोटिफिकेशन जारी होने से पहले आतंकी जम्मू-कश्मीर में बड़ी वारदात को अंजाम देना चाहते हैं।


खबरों के मुताबिक, सुरक्षा एजेंसियों को मिली खुफिया जानकारी के अनुसार, आतंकी दिल्ली और जम्मू-कश्मीर के किसी सरकारी कार्यालय को निशाना बना सकते हैं। गौरतलब है कि 31 अक्टूबर को ही जम्मू-कश्मीर व लद्दाख आधिकारिक तौर पर राज्य से केंद्र शासित प्रदेश बनेगा और इसी को लेकर राज्य में पहले से ही हाई अलर्ट है। आतंकियों को उनके आकाओं ने मरो या मारो का आदेश दिया है। आतंकियों के निशाने पर जम्मू-कश्मीर और दिल्ली के कई बड़े सरकारी दफ्तर हैं। सीमा पार के कई आतंकी संगठन जम्मू कश्मीर में बड़ी आतंकी वारदात को अंजाम देने की फिराक में हैं।

इससे पहले पुलवामा में सीआरपीएफ की एक पेट्रोल पार्टी पर आतंकियों ने हमला कर दिया। यह हमला एक एग्जाम सेंटर के पास हुआ था जिसमें 5 स्टूडेंट्स भी फंस गए थे। ये आतंकी आने वाले दिनों में दुनिया का ध्यान कश्मीर की तरफ खींचने के लिए अहम व्यक्तियों को बंधक भी बना सकते हैं। जैश-ए-मोहम्मद, लश्कर-ए-तैयबा और हिज्बुल मुजाहिदीन ने श्रीनगर जिले के जोनकार, रैनावाड़ी और सफकदल में आतंकी हमले की योजना बनाई है। खुफिया एजेंसियों ने सुरक्षाबलों के कार्यालयों पर ग्रेनेड हमले की आशंका भी जताई। आतंकी इस हमले के जरिए सरकारी अधिकारियों और आम लोगों में खौफ पैदा करना चाहते हैं। आतंकी संगठन कश्मीर घाटी के कई हिस्सों में धमकी भरे पोस्टर भी लगा रहे हैं, जिनमें स्थानीय दुकानदारों से घाटी में बंद का समर्थन करने को कहा गया है। पाकिस्तान की तरफ से जम्मू-कश्मीर में आतंकी घुसपैठ की कोशिश की जा रही है।

गौरतलब है कि 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से अनुच्‍छेद 370 हटा दिया गया था और जम्मू-कश्मीर व लद्दाख को 2 अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश घोषित किया गया था।
जानिए कब और कहाँ हो रही है,आलिया भट्ट और रणबीर कपूर की शादी

जानिए कब और कहाँ हो रही है,आलिया भट्ट और रणबीर कपूर की शादी

आलिया भट्ट और रणबीर कपूर ने जबसे मीडिया के सामने अपने रिश्ते को कबूला है, तब से इनकी शादी को लेकर अफवाहों का बाजार गर्म है। कुछ दिन पहले ही आलिया-रणबीर की शादी का फेक कार्ड भी खूब वायरल हुआ। जिसपर आलिया की मां सोनी राजदान ने अपनी सफाई भी दी। अब खबर आ रही है कि आलिया और रणबीर नवंबर में शादी के बंधन में बंधने जा रहे हैं। खबर के मुताबिक, तो आलिया और रणबीर दो हफ्तों में शादी के बंधन में बंधने जा रहे हैं। कपल फ्रांस में शादी करेगा। 


उनकी शादी के लिए शेफ रितु डालमिया को केटरिंग के अरेंजमेंट के लिए अप्रोच किया गया है। बता दें कि अनुष्का-विराट की शादी में भी रितु ने ही केटरिंग सर्विस दी थी। हालांकि इस पर दोनों के परिवार से कोई आधिकारिक बयान नहीं मिल पाया है। आपको बता दें, दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह ने भी बीते साल नवंबर में ही शादी की थी। हालांकि दीपिका-रणवीर ने सोशल मीडिया पर अपनी शादी की कार्ड बकायदा पोस्ट कर फैंस को इसकी जानकारी दी थी। आलिया-रणबीर की फिल्मों की बात करें, तो आलिया इन दिनों अपनी पापा महेश भट्ट की फिल्म सड़क की शूटिंग में व्यस्त हैं वहीं रणबीर ने भी शमशेरा की शूटिंग शुरू कर दी है। हाल ही में एक ऐड में नजर आया यह कपल आगामी फिल्म ब्रह्मास्त्र में साथ सिल्वर स्क्रीन शेयर करने जा रहा है। वहीं बीते दिनों उनकी शादी का फेक कार्ड भी वायरल हो चुका है जिसके बारे में आलिया ने कहा था कि उड़ती-उड़ती खबर है, उड़ती रहेगी।
 
रायपुर iskcon में आज संपन्न हुई गोवर्धन पूजा

रायपुर iskcon में आज संपन्न हुई गोवर्धन पूजा

रायपुर ,इस्कॉन मंदिर अध्यक्ष श्री एचएस सिद्धार्थ स्वामी जी ने अपने प्रवचन में बताया की,गोवर्धन पर्वत चाहे वृंदावन में हो या और कही भी उसकी परिक्रमा करने से किसी भी प्रकार के जहरीले जीव जंतु से भय नहीं होता एवं सुख शांति मिलती है,

इसके साथ साथ उन्होंने अन्नकूट की महत्ता भी बताई और ५६ भोग क्यों लगाना  चाहिए बताया, नियत समय पर मंदिर में भोग के सामान से गोवर्धन पर्वत बना कर पूजा पाठ किया गया एवं सभी भक्तजन हरि नाम संकीर्तन करते हुए गोवर्धन पर्वत का बड़े ही हर्ष उल्लास और नाचते गाते झूमते हुए के 5 चक्कर लगाए,भगवान बाके बिहारी जी के आरती के पश्चात 56 भोग छप्पन भोग का प्रसाद भक्तों में वितरण किया गया उपरोक्त जानकारी समिति के राजेंद्र पारख एवं दिलीप केडिया जी ने दी.

 

दिवाली मनाने गया युवक ट्रेलर को आते देख बाइक से कूदा, मौके पर ही मौत

दिवाली मनाने गया युवक ट्रेलर को आते देख बाइक से कूदा, मौके पर ही मौत

अंबिकापुर. छत्तीसगढ़ के अम्बिकापुर- रामानुजगंज को जोड़ने वाली सड़क पर दर्दनाक हादसा हुआ। मंगलवार की सुबह हुई इस घटना में मौके पर ही एक युवक की मौत हो गई। मृतक परिवार के पास दिवाली मनाने जा रहा था। अब उसके परिवार में त्योहार की खुशी नहीं बल्कि मौत का मातम है। दरअसल जिले के औराझरिया घाट के यह घटना हुई। पिपरौल निवासी सुभाष सोनी नाम के युवक की इस हादसे में मौत हो गई। इस घटना में उसका एक साथी ओमप्रकाश बुरी तरह से जख्मी हो गया। 

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक घटना स्थल पर पीछे से तेज रफ्तार ट्रेलर को आता देख सुभाष डर गया। वह बाइक पर पीछे बैठा था। उसे लगा कि ट्रेलर उन्हें रौंद देगा। वह चलती बाइक से अपनी जान बचाने कूद गया। सड़क पर गिरने के बाद उसे संभलने का मौका नहीं मिला और भारी वाहन से उसे कुचल दिया। बाइक चला रहा ओमप्रकाश भी गिरकर घायल हो गया। अन्य घटना में सोमवार की शाम बलरामपुर में गौरवपथ के डिवाइडर से टकराकर बाइक सवार भवानीपुर निवासी रूपनाथ की भी मौत हो गई।

 

बचत के साथ खरीददारी का मजा भी, ऑनलाइन शॉपिंग के लिए ये 7 रूल्स करें फॉलो

बचत के साथ खरीददारी का मजा भी, ऑनलाइन शॉपिंग के लिए ये 7 रूल्स करें फॉलो

 जकल समय की कमी और काम के दवाब के चलते हम अपने बहुत सारे पसंदीदा कामों के लिए समय नहीं निकाल पाते हैं। शॉपिंग भी इनमें से एक है। इसलिए अब ज्यादातर समय हम चीजें ऑनलाइन मंगाना ही पसंद करते हैं। यहां जानिए, उन जरूरी बातों के बारे में, जो ऑनलाइन शॉपिंग के आपके अनुभव को मजेदार बना देंगी।

पहला रूल- लिस्ट बनाएं

जब आप खुद बाजार शॉपिंग करने जाती हैं तो पहले से लिस्ट तैयार कर लेती हैं कि क्या-क्या खरीदना है। ऑनलाइन शॉपिंग करते समय भी ऐसा ही करें ताकि अपनी पसंद का सामान सर्च करते वक्त आप चीजें भूलें ना। साथ ही मिल रहे ऑफर्स और कॉम्बो पैक्स का पूरा लाभ ले सकें।

दूसरा रूल- ऐसे बचाएं पैसे

कई बार एक लिमिट तक के पेमेंट पर शॉपिंग साइट्स ग्राहकों को पेमेंट में छूट या गिफ्ट वाउचर देते हैं। कई बार कैशबैक का ऑफर भी होता है। ऐसे में आप अगर लिस्ट बनाकर शॉपिंग करती हैं तो आपको उस अमाउंट तक शॉपिंग करने में मदद भी मिलती है और फालतू की चीजें भी नहीं खरीदीं जाती।

तीसरा रूल- मेजरमेंट करके बैठें

ऑनलाइन शॉपिंग में कपड़े खरीदते वक्त अपना साइज मेजर करके बैठें। सही मेजमेंट जानने के लिए आप किसी फैमिली मेंबर की मदद भी ले सकती हैं। पहले से सोचकर रखें कि आपको टाइट फिट कपड़े चाहिए या लूज, जो आपको कंफर्ट फिट दे सकें।

चौथा रूल- फिल्टर्स की मदद लें

शॉपिंग करते समय आपके लैपटॉप, मोबाइल या कंप्यूटर की स्क्रीन पर जो भी टैब्स साइड में दिखाई दे रहे हों, उन सभी पर क्लिक करके दिए जा रहे ऑफर की जानकारी लें। साथ ही प्राइज चेक करें। इससे आपको पैसे सेव करने में मदद मिलेगी।

पांचवा रूल- विश लिस्ट में भेजें पहले

कोई भी आइटम पसंद आने के बाद उसके लिए तुरंत पे न करें। उसे साइट पर दिए गए विश लिस्ट के ऑप्शन में ऐड करें और जब पूरी शॉपिंग कर लें तो एक बार विश लिस्ट को चेक करें कि क्या खरीदना जरूरी है और क्या नहीं।

छठा रूल- रिव्यू और रिटर्न पॉलिसी चेक करें

किसी भी साइट से शॉपिंग करते वक्त इस बात का ध्यान रखें कि जो प्रॉडक्ट आपने पसंद किया है, उस पर कस्टमर के रिव्यूज कैसे हैं, ये जरूर चेक करें। इसकी रिटर्न पॉलिसी क्या है, इस पर भी नजर डालें।

सातवां रूल- पेमेंट के लिए रेडी रहना

कई बार कैश ऑन डिलिवरी लेने पर एक्स्ट्रा पेमेंट करना होता है। यह फिक्स नहीं है कि कोई साइट आपसे कितना पैसा लेगी। सबकी फी अलग होती है। ऐसे में कैश ऑन डिलिवरी का ऑप्शन चुनते समय यह जरूर चेक करें कि इस पर कितने पैसे एक्स्ट्रा पे करने होंगे। जबकि तुरंत ऑनलाइन पेमेंट करने पर कोई ऑफर तो नहीं है, यह भी चेक करें।

ब्रेस्ट साइज़ बढ़ाने की सर्जरी कराने के बाद एक महिला की जान चली गई. वजह जानकर हैरान रह जाएंगे आप

ब्रेस्ट साइज़ बढ़ाने की सर्जरी कराने के बाद एक महिला की जान चली गई. वजह जानकर हैरान रह जाएंगे आप

 लंदन: ब्रेस्ट एन्लार्जमेंट सर्जरी कराने की वजह से एक महिला की जान चली गई है. दरअसल डॉक्टरों को उसे परिवार की ब्लड क्लॉटिंग का इतिहास नहीं पता था और यही उस महिला के मौत का कारण बना.इंग्लैंड की रहने वाली लुइस हार्वे लंदन की ट्रांसफॉर्म कॉस्मेटिक सर्जरी क्लिनिक में पेट की चर्बी घटाने और ब्रेस्ट एन्लार्जमेंट करवाने गई थी. लुइस हार्वे ने को जब पता चला कि दोनों सर्जरी साथ करवाने से सस्ता पड़ेगा तो वह मान गईं.

सर्जरी के दो दिन बाद उन्हें घर भेज दिया गया जिसके बाद उनकी मौत हो गई. पोस्टमार्टम में पता चला कि लुइस हार्वे की मौत फेफड़ों में खून जमने की वजह से हुई. दरअसल लुइस हार्वे की मां लिंडा हार्बे ने बताया कि उन्हें सर्जरी के बाद बिना ब्लड थिनर के ही घर भेज दिया गया. जिसके बाद लुइस के शरीर के अंगों ने काम करना बंद कर दिया. उसके दिल और फेफड़े में खून जमने लगा और फिर उसने दम तोड़ दिया.

बता दें कि लुइस हार्वे के तीन बच्चे हैं. उनके परिवार के सदस्यों को पहले भी ब्लड क्लॉटिंग की समस्या हो चुकी थी. ऐसे में अगर लुइस हार्वे की फैमली हिस्ट्री के बारे में डॉक्टरों को पता होता तो उन्हें बचाया जा सकता था.

 

अब कलेक्टर का निवास भी नहीं रहा सुरक्षित वहा भी हो गयी चोरी तो आम जनता कैसे रहेगी सुरक्षित ,जाने क्या है मामला

अब कलेक्टर का निवास भी नहीं रहा सुरक्षित वहा भी हो गयी चोरी तो आम जनता कैसे रहेगी सुरक्षित ,जाने क्या है मामला

रायपुर ,बेमेतरा में पदस्थ कलेक्टर शिखा राजपूत के शांति नगर स्थित घर में रविवार रात को चोरी हो गई है। उनके आवास से लाखों के गहने और नकदी लेकर चोर फरार हो गए।

बताया जा रहा की शांति नगर स्थित सरकारी आवास पर  चोरो ने धावा बोला और नगद, सोने व चांदी के जेवर और मोबाइल समेत करीब 6 लाख रूपयों का माल उड़ाकर फरार हो गए। कलेक्टर ने सिविल लाइन थाने में केस दर्ज कराया है।

जस्टिस शरद अरविन्द बोबडे होंगे अगले मुख्य न्यायाधीश, 18 नवंबर को ले सकते है शपथ.. जानिये उनके उनके बारे में..

जस्टिस शरद अरविन्द बोबडे होंगे अगले मुख्य न्यायाधीश, 18 नवंबर को ले सकते है शपथ.. जानिये उनके उनके बारे में..

ई दिल्ली। जस्टिस शरद अरविंद (एसए) बोबडे भारत के 47वें मुख्य न्यायाधीश होंगे। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उनकी नियुक्ति को मंजूरी दे दी है। जस्टिस बोबडे मुख्य न्यायाधीय जस्टिस रंजन गोगाई की जगह लेंगे। 17 नवंबर को जस्टिस गोगोई के रिटायर होने के बाद 18 नवंबर को जस्टिस एसए बोबडे मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ लेंगे. उनका कार्यकाल 18 महीने का होगा।

§  बीते 18 अक्टूबर को मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने केंद्र सरकार को एक पत्र लिखकर सुप्रीम कोर्ट में अपने बाद वरिष्ठतम न्यायाधीश एसए बोबडे को अपना उत्तराधिकारी बनाने की सिफारिश की थी।

§  मुख्य न्यायाधीश गोगोई ने परंपरा के अनुसार अपने उत्तराधिकारी के रूप में अपने बाद अगले वरिष्ठतम न्यायाधीश के नाम की सिफारिश की थी।

§  एनसीएलएटीजस्टिस गोगोई ने तीन अक्टूबर 2018 को देश के 46वें चीफ जस्टिस के तौर पर शपथ ग्रहण किया था। वह आने वाले 17 नवंबर को सेवानिवृत्त हो जाएंगे।

§  एसए बोबडे मध्य प्रदेश हाईकोर्ट के पूर्व चीफ जस्टिस रह चुके हैं। वह कई महत्वपूर्ण पीठों का हिस्सा रहे हैं। इसके अलावा मुंबई में महाराष्ट्र नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी और नागपुर में महाराष्ट्र नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी के वह चांसलर भी हैं।

§  जस्टिस बोबडे ने नागपुर विश्वविद्यालय से बीए और एलएलबी डिग्री ली है। वह अतिरिक्त न्यायाधीश के रूप में 29 मार्च 2000 को बॉम्बे हाईकोर्ट की खंडपीठ का हिस्सा बने थे।

§  उन्होंने 16 अक्टूबर 2012 को मध्य प्रदेश हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ली थी। वह 12 अप्रैल 2013 को सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश के रूप में पदोन्नत हुए थे।

§  जस्टिस बोबडे का जन्म 24 अप्रैल 1956 को नागपुर में हुआ था। वह 23 अप्रैल 2021 को रिटायर होने वाले हैं। वह सुप्रीम कोर्ट में चल रहे अयोध्या विवाद, बीसीसीआई और पटाखों के खिलाफ चल रहे मामलों का हिस्सा रह चुके हैं।

 

 दीपावली त्यौहार पर पुरानी बस्ती समेत कई जगह सजा जुआ का फड, हत्थे चढ़े पुलिस के

दीपावली त्यौहार पर पुरानी बस्ती समेत कई जगह सजा जुआ का फड, हत्थे चढ़े पुलिस के

रायपुर, लक्ष्मी-पूजा व दीवापली के दिन जुआ खेलते पुलिस ने 45 जुआरियों को गिरफ्तार कर उनके पास से हजारों रूपए नगदी व ताश की 52 पत्ती जब्त किया है।मिली जानकारी के अनुसार पुरानी बस्ती थानाक्षेत्र में जुआ खेलने की सूचना पर पुलिस ने छापामार कर भाठागांव पुरानी बस्ती में कल्याण साहू 30 वर्ष पिता डहराराम साहू एवं अन्य दो जुआरियों को जुआ खेलते पाए जाने पर गिरफ्तार कर उनके पास से नगदी 25 हजार रूपए एवं ताश की 52 पत्ती जब्त किया है व कुशालपुर पुरानी बस्ती में दीपक निर्मलकर 35 वर्ष पिता भारत निर्मलकर एवं दो अन्य जुआरियों को गिरफ्तार कर उनके पास से 8 सौ 50 रूपए जब्त किया गया है। वहीं भाठागांव पुरानी बस्ती में यशवंत सोनकर 29 वर्ष पिता विशाल सोनकर एवं अन्य तीन जुआरियों को गिरफ्तार उनके पास से नगदी 1 हजार 6 सौ 80 रूपए एवं ताश की 52 पत्ती जब्त किया गया है। भाठागांव में जुआ खेलते पाए जाने पर मनोज साहू 32 वर्ष पिता सुखदेव साहू एवं अन्य कुल तीन जुआरियों को गिरफ्तार कर उनके पास से 1 हजार 6 सौ रूपए जब्त किया गया है। टिकरापारा थानाक्षेत्र में मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने छापामार कर भगत सिंह चौक के पास जुआ खेलते पाए जाने पर रजत तांडी, पिता परमेश्वर तांडी एवं अन्य तीन जुआरियों को गिरफ्तार कर उनके पास से 1 हजार 2 सौ रूपए व ताश की 52 पत्ती जब्त किया है व नुतन स्कूल के पास मठपारा में जुआ खेलने की सूचना पर रंजीत जांगड़े पिता बाबूराव जांगड़े एवं अन्य दो जुआरियों को पुलिस ने 1 हजार 2 सौ 20 रूपए जब्त किया है, बकरा मार्केट संजय नगर में जुआ खेलने की सूचना पर पुलिस ने छापामार कर पुष्पराज सिंह पिता सर्वजीत सिंह एवं अन्य 9 जुआरियों को गिरफ्तार कर उनके पास से 6 हजार 8 सौ रूपए जब्त किया है। इसी तहर उरला थानाक्षेत्र में जुआ खेलने की सूचना पर पुलिस ने छापामार कर जुए के फड़ पर सरोरा उरला में धर्मेन्द्र मरावी 33 वर्ष पिता साय मरावी एवं 4 जुआरियों को गिरफ्तार कर उनके पास से 3 हजार 4 सौ रूपए जब्त किया गया है। सभी जुआरियों के खिलाफ जुआ एक्ट की धारा 13 के तहत कार्यवाही किया गया है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पड़े 6 सोटे फिर भी मुस्कुराते रहे जानिए ऐसा क्या हुआ

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पड़े 6 सोटे फिर भी मुस्कुराते रहे जानिए ऐसा क्या हुआ

रायपुर. दीपावली का चौथा दिन आज अन्नकूट और गौरा-गौरी पूजन के रूप में मनाया जा रहा है. इसे मनाने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज जांजगिरी पहुंचे जहां अपार जनसमूह ने उनका स्वागत किया. भव्य जुलूस के रूप में पूजा का समापन कुम्हारी और जजंगिरी में हुआ.

इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गौरा-गौरी पूजन के दौरान अपने अदभुत साहस का परिचय दिया. हजारों लोगों के बीच नगाड़ा बज रहा था और मुख्यमंत्री को रस्सी का सोंटा खाने की चुनौती एक ग्वाला ने दी. अपनी देशी छबि के अनुरूप मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मुस्काते हुए राजी हो गए. फिर क्या था. नगाड़ा बजने लगे. जयकार होने लगी. मुख्यमंत्री ने मुस्कुराते हुए मुटठी बंद की और अपना दायां हाथ सामने कर दिया. इधर ग्वाला रस्सी से बने चाबुक को लेकर तैयार हो गया. सबसे पहले उसने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के हाथ को प्रणाम किया और फिर सोटा बरसाने लगा.

सोटे पड़ने लगे. आश्चर्य के साथ लोग देखते रहे. एक..दो..तीन. चार. पांच और छह. पूरे छह सोटे मुख्यमंत्री ने अपने हाथों में पड़ने दिए. उसकी आवाज चट से गूंजती तो कान दहल उठते पर मुख्यमंत्री बघेल मुस्कुराते रहे. मानो वे संदेश दे रहे थे कि अपन माटी से जुड़ा तन—मन किसी भी दर्द को सह सकता है. फिर यह दर्द तो ढाई करोड़ लोगों की विपत्ति दूर करने के लिए सहा गया था. अन्यथा बहुत से लोग एक दो सोटा खाकर मैदान छोड़ देते पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी ने पूरे छह सोटे अपने हाथ में पड़ने दिए.

आज के दिन ग्रामों में यह रिवाज है कि रस्सी के सोटा को हाथ में मारते हैं. यह प्रतीक है कि कितनी भी विपत्ति आए, उसे हंस हंसकर सह लेगें. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने हंसते हंसते सोटे खाए और फिर सोटा मारने वाले ग्वाला की पीठ थपथपाकर चल दिए.  

पावर ग्रिड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड में निकली है वैकेंसी जानिए किन पदों पर होनी है भर्ती

पावर ग्रिड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड में निकली है वैकेंसी जानिए किन पदों पर होनी है भर्ती

PGCIL: पावर ग्रिड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (Power Grid Corporation of India- PGCIL) ने फील्ड इंजीनियर (इलेक्ट्रिकल) और फील्ड इंजीनियर (सिविल) के लिए आवेदन मांगे हैं. एलिजिबल कैंडीडेट्स इलेक्ट्रिकल और सिविल इंजीनियर पदों के लिए PGCIL की आधिकारिक वेबसाइट  http://powergrid.in/ के जरिए 31 अक्टूबर 2019 तक या उससे पहले अप्लाई कर दें.


PGCIL की ओर से निकाली वैकेंसी में फील्ड इंजीनियर इलेक्ट्रिकल के लिए कुल 22 पद हैं.फील्ड इंजीनियर सिविल के लिए 06 पद हैं. दोनों पदों के लिए अप्लाई करने वाले कैंडीडे्स की उम्र अधिकतम 29 साल है.


फील्ड इंजीनियर (इलेक्ट्रिकल) के लिए अप्लाई करने वाले कैंडीडेट्स इलेक्ट्रिकल discipline में न्यूनतम 55% अंकों के साथ बीई/बीटेक /बीएससी (इंजीनियर) पास हो.

रूरल इलेक्ट्रिफिकेशन /डिस्ट्रीब्यूशन मैनेजमेंट सिस्टम /सब -ट्रांसमिशन लाइन्स (टीएलएस)/सब -स्टेशन आदि में डिज़ाइन /इंजीनियरिंग /कंस्ट्रक्शन /टेस्टिंग &कमीशनिंग /इलेक्ट्रिकल वर्क्स आदि का एक्सपीरियंस हो.

फील्ड इंजीनियर (सिविल) के लिए अप्लाई करने वाले कैंडीडट्स मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय / संस्थान से न्यूनतम 55% अंकों के साथ सिविल इंजीनियरिंग में बी.ई. /बीटेक /बी.एस.सी पास हो.

PSU/
पॉवर सेक्टर से लिस्टेड कंपनियों में काम के तजुर्बे वाले कैंडीडेट्स को प्राथमिकता दी जाएगी.दोनों पदों के लिए सेलेक्शन इंटरव्यू में कैंडीडेट्स के परफॉर्मेंस के आधार पर होगा.

 

उच्चतम न्यायालय के आदेश की अवहेलना करते हुए लोगों ने देर रात तक पटाखे फोड़े,पूरा शहर हुआ धुँआ धुँआ

उच्चतम न्यायालय के आदेश की अवहेलना करते हुए लोगों ने देर रात तक पटाखे फोड़े,पूरा शहर हुआ धुँआ धुँआ

रायपुर। दीपावली में हुई आतिशबाजी की वजह से दिल्ली सहित कई राज्यों में प्रदूषण खतरनाक स्तर पर रहा. सुप्रीम कोर्ट के आदेश का भी पालन नहीं किया गया. उच्चतम न्यायालय के आदेश की अवहेलना करते हुए लोगों ने देर रात तक पटाखे फोड़े. कोर्ट ने आतिशबाजी के लिए दो घंटे की समय सीमा तय की थी.लेकिन देर रात तक पटाखे फोड़ने की वजह से हर तरफ धुएं के साथ ही पटाखे की गंध और बारुद के कण तैरते मिले. रायपुर के तेलीबांधा तालाब सहित कई स्थानों में युवाओ ने टोली बना कर में देर रात तक जमकर आतिशबाजी की जिसकी वजह से विजिबिलिटी बेहद कम हो गई. बारुद का धुआं भरने से सड़क 20 मीटर तक ही नजर आ रही थी. हालांकि प्रदेश में प्रदूषण का स्तर क्या रहा, इसके आंकड़े अभी नहीं आए हैं.

रायपुर स्थित इस्कॉन मंदिर में गोवर्धन पूजा  मनाया जायेगा कल

रायपुर स्थित इस्कॉन मंदिर में गोवर्धन पूजा मनाया जायेगा कल

इस्कॉन मंदिर अध्यक्ष श्री एचएस सिद्धार्थ स्वामी जी ने बताया की दिनांक  29/10/ मंगलवार को सुबह 10:00 बजे गौ माता की पूजा अर्चना की जाएगी , तत्पश्चात मंदिर के सेवक सेविकाओं के द्वारा बनाए गए छप्पन भोग से विशाल गोवर्धन पर्वत का निर्माण किया जाएगा, एवं सभी पधारे भक्त जनों के द्वारा हरि नाम का कीर्तन करते हुए गोवर्धन पर्वत की परिक्रमा कर, गोवर्धन भगवान को प्रसन्न करने के लिए पूजा अर्चना किए जाएगा साथ ही  छप्पन भोग का प्रसाद भक्तों में वितरण किया जाएगा इस भव्य समारोह में आयोजन समिति के दिलीप केडिया,राजेंद्र पारख जी ने समस्त भक्तजनों को सादर आमंत्रित किया हैं,

अमेरिकी सेना की बड़ी कार्यवाही मारा गया बगदादी,आतंक के 'प्रोफेसर' करदश को मिली ISIS की कमान

अमेरिकी सेना की बड़ी कार्यवाही मारा गया बगदादी,आतंक के 'प्रोफेसर' करदश को मिली ISIS की कमान

अमेरिकी सेना ने आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) के आका अबु बकर-अल बगदादी को मार दिया है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रविवार को इस बात की पुष्टी की है. डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि बगदादी सुरंग में छुपा हुआ था जो अमेरिकी सेना के हमले में मारा गया. अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि बगदादी के साथ उसके तीन बच्चे भी मारे गए हैं.डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, "वह किसी कायर की तरह मारा गया. अब दुनिया और भी सुरक्षित हो गई है. गॉड-ब्लेस अमेरिका. अबु बकर अल बगदादी मारा गया." ट्रंप ने कहा कि बगदादी रोता-बिलखता हुआ मरा. उसने सुरंग के जरिए भागने की कोशिश की और वहीं पर मारा गया.

ट्रम्प ने बताया की बगदादी अपने बच्चो के साथ सुरंग के जरिए भागने की कोशिश कर रहा था लेकिन कामयाब नहीं हो पाया. खुद को फंसता हुआ देख बगदादी ने अपनी सुसाइड वेस्ट जला ली और अपने तीन बच्चों समेत मारा गया. डोनाल्ड ट्रम्प ने बगदादी और उसके सपोर्टर को लूजर बताया. ट्रंप ने कहा, "बगदादी एक बीमार और बुरा आदमी था लेकिन अब वो नहीं है. वह हिंसक था और हिंसा में ही मारा गया." डोनाल्ड ट्रंप ने रूस, तुर्की, सीरिया, इराक और सीरियाई कुर्दों के सपोर्ट के लिए उन्हें धन्यवाद भी दिया. इसके अलावा डोनाल्ड ट्रंप ने अपने देश की इंटेलिजेंस और सेना को भी धन्यवाद दिया.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, ऐसा माना जाता है कि सद्दाम हुसैन की सेना के पूर्व अधिकारी अब्दुल्ला करदश को इस आतंकी संगठन का नया प्रमुख बनाया गया है. करदश के बारे में अब तक बेहद कम जानकारी ही सामने आ पाई है. माना जाता है कि हाजी अब्दुल्ला अल अफारी या प्रोफेसर के नाम से मशहूर करदश को बगदादी ने आईएसआईएस के कथित 'मुस्लिम मामलों' का विभाग चलाने के लिए  खुद चुना था. न्यूज़ वीक की खबर के मुताबिक, बगदादी की मौत के बाद प्रोफेसर को आईएसआईएस की कमान मिली है.

आचार्य सम्राट देवेंद्र मुनि जी महाराज साहब की 89 जन्म जयंती पर पारिवारिक जाप अनुष्ठान कराया गया

आचार्य सम्राट देवेंद्र मुनि जी महाराज साहब की 89 जन्म जयंती पर पारिवारिक जाप अनुष्ठान कराया गया

महा साध्वी श्री प्रिय दर्शना श्रीजी के पावन सानिध्य में आनंद मधुकर रतन भवन के आनंद पुष्कर दरबार में पारिवारिक जाप अनुष्ठान आयोजित हुआ जिसमें प्रत्येक परिवार के सदस्य अपने घर से जाप अनुष्ठान करने अपने साथ दरी गलीचा साथ लाए थे और परिवार के सभी सदस्य एक साथ इस जाप अनुष्ठान में हिस्सा लिए साध्वी रत्न ज्योति जी महाराज ने कहा परिवार परमात्मा से मिलने की ट्रेनिंग स्कूल है जो परिवार में रहना सीख लेता है वह परमात्मा से मिल लेता है परिवार हो प्रसन्न ऐसा हो हमारा वर्तन परिवार को प्रभु का मेहमान मानना चाहिए इस चिंतन से प्रेम देने में आपको अभूतपूर्व आनंद आएगा आप सुगमता से अपने कर्तव्य को निभाते निभाने में सफल हो सकते हैं प्रेम एवं शांति परिवार का प्राण है जिस प्रकार जीवित रहने के लिए हवा पानी भोजन आवश्यक है वैसे ही परिवार में प्रेम शांति की आवश्यकता है परिवार के सभी सदस्यों के प्रति हमेशा सद्भावना रखनी चाहिए साध्वी विचक्षण श्री ने सामूहिक परिवारिक जाप अनुष्ठान करवाया जिसमें विविध प्रकार के मंत्रोच्चारण के साथ जप कराया गया वर्धमान स्वामी गौतम स्वामी पारस प्रभु नवकार महामंत्र श्रीधारा सिद्धि चक्र स्वास्तिक एवं आचार्य श्री घासी लाल जी महाराज का नवस्मरण का जाप कराया गया
बड़ी संख्या में श्रमण संघ परिवार के लोग उपस्थित रहे श्रद्धा भक्ति के साथ भक्तजनों ने जाप कर के आनंद की अनुभूति प्राप्त की
आज रात्रि 11:00 बजे से 12:00 बजे तक दीपावली के पावन प्रसंग पर संवत्सरण जाप समवशरण की प्रतिकृति को मध्य रखकर पचरंगी जाप किया गया 

आज दीपावली पूजा के शुभ मुहूर्त और पूजा विधि को जाने

आज दीपावली पूजा के शुभ मुहूर्त और पूजा विधि को जाने

 

हिंदू कैलेंडर के कार्तिक महीने की अमावस्या को लक्ष्मी के प्राकट्य दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन माता लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए घर को साफ और पवित्र किया जाता है और दीपक जलाए जाते हैं। दीपकों की पंक्ति बनने के कारण ही इस महापर्व को दीपावली कहा गया है। इस साल दीपावली 27 अक्टूबर रविवार यानी आज कार्तिक माह की अमावस्या पर तुला राशि और चित्रा नक्षत्र में मनाई जाएगी। आज पद्म योग बन रहा है। इस योग में लक्ष्मी जी की पूजा का दोगुना फल प्राप्त होता है।

·         खरीदारी और पूजा के मुहूर्त

सुबह 08:10 से 11:55 तक

दोपहर 01:35 से 02:50 तक

शाम 05:40 से रात 10:20 तक

निशिता मुहूर्त -  रात 11:40 से 12:25

वृष लग्न -  शाम 06:45 से रात 08:25 तक

सिंह लग्न - रात 01:15 से 03:20 तक सिंह लग्न

·         लक्ष्मी-गणेश पूजा के लिए स्थापना

1.   पूजा के स्थान पर लक्ष्मीजी और गणेशजी की मूर्तियां स्थापित करें। ये मूर्तियां इस तरह रखें कि उनका मुख पूर्व या पश्चिम में रहे।

2.   कलश को लक्ष्मीजी के पास चावल पर रखें। नारियल को लाल वस्त्र में इस प्रकार लपेटें कि नारियल का आगे का भाग दिखाई दे और इसे कलश पर रखें। यह कलश वरुणदेव का प्रतीक है।

3.   अब दो बड़े दीपक रखें। एक में घी और दूसरे में तेल का दीपक लगाएं। एक दीपक चौकी के दाहिनी ओर रखें और दूसरी मूर्तियों के चरणों में।

4.   इनके अतिरिक्त एक दीपक गणेशजी के पास रखें।

पूजा की थाली

1.   पूजा की थाली के संबंध में शास्त्रों में उल्लेख किया गया है कि लक्ष्मी पूजन में तीन थालियां सजानी चाहिए।

2.   पहली थाली में 11 दीपक समान दूरी पर रख कर सजाएं। दूसरी थाली में पूजन सामग्री इस क्रम से सजाएं- सबसे पहले धानी (खील), बताशे, मिठाई, वस्त्र, आभूषण, चंदन का लेप, सिंदूर कुमकुम, सुपारी और थाली के बीच में पान रखें।

3.   तीसरी थाली में इस क्रम में सामग्री सजाएं- सबसे पहले फूल, दूर्वा, चावल, लौंग, इलाइची, केसर-कपूर, सुगंधित पदार्थ, धूप, अगरबत्ती, एक दीपक। 

4.   इस तरह थाली सजा कर लक्ष्मी पूजन करें।

देवी लक्ष्मी और श्रीगणेश पूजा

1.   घर को साफ कर पूजा-स्थान को भी पवित्र कर लें और स्वयं भी स्नान आदि कर श्रद्धा-भक्तिपूर्वक शाम के समय शुभ मुहूर्त में महालक्ष्मी और भगवान श्रीगणेश की पूजा करें।

2.   दिवाली पूजन के लिए किसी चौकी या कपड़े के पवित्र आसन पर गणेशजी के दाहिने भाग में महालक्ष्मी की मूर्ति स्थापित करें।

3.   श्रीमहालक्ष्मीजी की मूर्ति के पास ही एक साफ बर्तन में केसरयुक्त चंदन से अष्टदल कमल बनाकर उस पर कुछ रुपए रखें, एक साथ ही दोनों की पूजा करें। 

4.   सर्वप्रथम भगवान श्रीगणेश की पूजा करें। इसके बाद कलश पूजन तथा षोडशमातृका (सोलह देवियों का) पूजन करें।

5.   इसके बाद प्रधान पूजा में मंत्रों से पूजा की सभी सामग्री द्वारा महालक्ष्मी का पूजन करें।

6.   लक्ष्मी पूजा के समय आभूषण, सोना और चांदी के सिक्कों की पूजा करें। इसके साथ ही तिजोरी और घर में स्थिति मंदिर में हल्दी और केसर घोलकर उस पानी से स्वास्तिक चिन्ह बनाएं। उस स्वास्तिक पर लक्ष्मीजी को स्थापित कर के पूजा करें।

7.   लक्ष्मी पूजा करते समय नीचे लिखे मंत्र बोलते जाएं और पूजा की सामग्री देवी लक्ष्मी पर चढ़ाते जाएं।

लक्ष्मी पूजा के मंत्र

1. ॐ श्रीं श्रीयै नम:

2. ॐ ह्रीं श्रीं लक्ष्मीभ्यो नमः॥ 

3. ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं महालक्ष्मयै नम:॥

समर्पण - पूजा के आखिर में कृतोनानेन पूजनेन भगवती महालक्ष्मीदेवी प्रीयताम्, न मम। यह बोलकर सभी पूजन कर्म भगवती महालक्ष्मी को समर्पित करें और जल छोड़ें।

इसके बाद देहलीविनायक (श्रीगणेश), कलम, माता सरस्वती, भगवान कुबेर और दीपक की पूजा की जाती है।

·         देहलीविनायक पूजन

दुकान या ऑफिस में दीवारों पर ॐ श्रीगणेशाय नम:, स्वस्तिक चिह्न, शुभ-लाभ सिंदूर से लिखे जाते हैं। इन्हीं शब्दों पर ॐ देहलीविनायकाय नम: इस नाममंत्र द्वारा गंध-पुष्पादि से पूजा करें।

·         श्रीमहाकाली (दवात) पूजन

स्याहीयुक्त दवात (स्याही की बोतल) को महालक्ष्मी के सामने फूल और चावल के ऊपर रखकर उस पर सिंदूर से स्वास्तिक बना दें और मौली लपेट दें। फिर  श्रीमहाकाल्यै नम: ये मंत्र बोलते हुए पूजा की सुगंधित वस्तुएं, फूल और अन्य चीजों से दवात एवं भगवती महाकाली की पूजा करें और आखिर में प्रार्थनापूर्वक प्रणाम करें।

·         लेखनी पूजन

लेखनी (कलम) पर मौली बांधकर सामने रख लें और  लेखनीस्थायै देव्यै नम: मंत्र द्वारा गंध, फूल, चावल आदि से पूजा कर के प्रणाम करें।

  

·         बहीखाता पूजन

बहीखाता पर रोली या केसर युक्त चंदन से स्वास्तिक का चिह्न बनाएं और पांच हल्दी की गांठें, धनिया, कमलगट्टा, चावल, दूर्वा एवं कुछ रुपए रखकर  वीणापुस्तकधारिण्यै श्रीसरस्वत्यै नम: मंत्र बोलकर गंध, फूल, चावल आदि चढ़ाते हुए सरस्वती माता का पूजन करें। 

·         कुबेर पूजन

तिजोरी या रुपए रखे जाने वाले संदूक के ऊपर स्वस्तिक का चिह्न बनाएं और फिर कुबेर का आह्वान करें। आह्वान के बाद ॐ कुबेराय नम: इस मंत्र से गंध, फूल आदि से पूजन कर अंत में इस प्रकार प्रार्थना करें। प्रार्थना करने के बाद हल्दी, धनिया, कमलगट्टा, रुपए, दूर्वादि से युक्त थैली तिजोरी मे रखें। पूजा होने के बाद कुबेर से धन लाभ के लिए प्रार्थना करें।

·         कुबेर प्रार्थना मंत्र

धनदाय नमस्तुभ्यं निधिपद्माधिपाय च।

भगवान् त्वत्प्रसादेन धनधान्यादिसम्पद:।।

·         दीपमालिका (दीपक) पूजन

एक थाली में 11, 21 या उससे अधिक दीपक जलाकर महालक्ष्मी के पास रखें। फिर एक फूल और कुछ पत्तियां हाथ में लें। फिर उसके साथ सभी प्रकार की पूजन साम्रगी भी लें। इसके बाद ॐ दीपावल्यै नम: इस मंत्र बोलते हुए फूल पत्तियों को सभी दीपकों पर चढ़ाएं और दीपमालिकाओं की पूजा करें। दीपकों की पूजा कर संतरा, ईख, धान इत्यादि पदार्थ चढ़ाएं। धान का लावा (खील) गणेश, महालक्ष्मी तथा अन्य सभी देवी-देवताओं को भी अर्पित करें।

इस तरह पूजा करने के बाद लक्ष्मीजी की आरती करें। नैवेद्य लगाएं और सभी में प्रसाद बांट दें।

ईवीएम से चुनाव कराने हेतु भाजपा ने सौपा  राज्यपाल को ज्ञापन

ईवीएम से चुनाव कराने हेतु भाजपा ने सौपा राज्यपाल को ज्ञापन

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी का प्रतिनिधि मंडल आज प्रदेश की महामहिम राज्यपाल महोदया से भेंट कर नगरीय निकाय चुनाव ईवीएम के माध्यम से ही कराए जाने का निर्देश राज्य सरकार को दिए जाने का आग्रह किया। मंत्रिमंडल द्वारा ईवीएम की जगह मतपत्रों के माध्यम से चुनाव निष्पादित कराए जाने पर भारतीय जनता पार्टी ने गहरा षड्यंत्र होने का अंदेशा व्यक्त किया है। कहीं न कहीं सरकार की मंशा पर सवाल उठता है। जो सरकार ईवीएम के माध्यम से चुनाव जीतकर बनी हो और छत्तीसगढ़ में अभी वर्तमान में हुए दो उपचुनावों में भी ईवीएम के माध्यम से चुनाव हुए और परिणाम भी उनके पक्ष में रहा फिर भी नगरीय निकाय चुनाव में मतपत्रों का इस्तेमाल ये सरकार क्यों कर रही हैं यह समझ से परे हैं। कहीं न कहीं दाल में कुछ काला है या पूरी दाल की काली है। यह चिंतनीय विषय है।
सांसद सुनील सोनी ने महामहिम राज्यपाल से कहा कि नगरीय निकाय चुनाव में पार्षदों के जीतने का अंतर बहुत कम होता है और मतपत्रों के माध्यम से चुनाव कराने पर काफी सारे मत अवैध घोषित हो जाते है जिसका चुनाव परिणामों पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है कई बार तो ऐसा होता है कि जीतने वाले प्रत्याशी का मतांतर अवैध घोषित मतपत्रों से काफी कम होता है ऐसे समय चुनाव परिणाम की वैधता भी संदिग्धता की दायरे में आती है और स्वच्छ और स्पष्ट जनादेश प्राप्त करने में भी इसका प्रभाव पड़ता है। जबकि ईवीएम के माध्यम से चुनाव कराने पर एक भी मत अवैध नहीं होते हैं। इससे स्वच्छ एवं पारदर्शी निर्वाचन प्रक्रिया संपन्न होती है।
पूर्व मंत्री एवं विधायक अजय चंद्राकर ने कहा कि जहां एक ओर भारत वैश्विक स्तर पर आगे बढ़ रहा है वहीं छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार प्रदेश को वापस 20-25 वर्ष पीछे ले जा रही है। देश में रोज नए टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल हो रहा है और प्रदेश सरकार छत्तीसगढ़ को लगातार पीछे ले जा रही है। ईवीएम की जगह मतपत्रों से चुनाव कराने पर भी ऐसा ही प्रतीत हो रहा है। जबकि ईवीएम से चुनाव कराने पर जहां एक ओर समय, श्रम और खर्च की बचत होती है वहीं तत्वरित चुनाव प्रक्रिया भी सम्पन्न होती है। वर्तमान सरकार जो स्वयं ईवीएम से चुनकर आयी है और दो उपचुनाव भी जीती है उसके द्वारा ऐसा निर्णय लिया जाना दुर्भाग्यपूर्ण हैं। कहीं न कहीं सरकार की मतपत्रों के माध्यम से चुनाव कराने की मंशा पर संदेह होता है।
पूर्व मंत्री राजेश मूणत ने महामहिम महोदया से आग्रह किया कि वे निष्पक्ष एवं पारदर्शी चुनाव प्रक्रिया में राज्य सरकार को निर्देश करे कि सरकार नगरीय निकायों के चुनाव भी ईवीएम के माध्यम से ही सम्पन्न कराएं ताकि समय और पैसे दोनों की बचत हो और चुनाव परिणाम निष्पक्ष हो, तथा अवैध मतपत्रों के कारण किसी भी मतदाता का मत अवैध घोषित न हो और एक जनप्रतिनिधि को चुनने में प्रत्येक मतदाता की भूमिका सुनिश्चित हो। इस आशय का निर्देश राज्य शासन को दें ताकि नगरीय निकाय के चुनाव भी बाकी सभी चुनावों की तरह ही ईवीएम से सम्पन्न हो सकें।
ज्ञापन देने वालों में प्रमुख रूप से पूर्व विधायक देवजी भाई पटेल, सच्चिदानंद उपासने, संजय श्रीवास्तव, राजीव कुमार अग्रवाल, प्रफुल्ल विश्वकर्मा, नरेशचंद्र गुप्ता, रमाकांत मिश्रा, दीपक म्हस्के, सत्यम दुवा उपस्थित रहे। 

 उधारी में सिगरेट ना देना दुकान दार को पड़ा भारी,युवक ने कर दी पिटाई

उधारी में सिगरेट ना देना दुकान दार को पड़ा भारी,युवक ने कर दी पिटाई

पान ठेला संचालक ने उधारी में सिगरेट देने से मना कर दिया, तब युवकों ने उसकी जमकर पिटाई कर दी। इस दौरान तोड़फोड़ भी की। मामले की रिपोर्ट पर पुलिस ने अपराध दर्ज कर लिया है।
 
सकरी निवासी निर्मल मसीह लोखंडी फाटक के पास पान ठेला चलाता है। गुरुवार की दोपहर सरीफ पटेल ठेले में आया। उसे सज्जन मसीह ने सिगरेट के लिए भेजा था। लेकिन, युवक ने उधारी में सिगरेट देने की मांग की। निर्मल ने उसे उधार देने से मना कर दिया। इस पर सरीफ पटेल हंगामा मचाने लगा। इस मामले की शिकायत सकरी थाने में की गई। फिर शाम को सज्जन उसकी दुकान में रज्जन को लेकर पहुंच गया। इस दौरान दोनों भाई मिलकर हंगामा मचाते हुए तोड़फोड़ करने लगे। उसके साथ जमकर मारपीट भी की गई। दुकानदार की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ धारा 294323, 327, 506(बी), 427, 34 के तहत अपराध दर्ज कर लिया है।
 28 को रहेगा राज्य के सभी कोषालयों-बैंकों में अवकाश

28 को रहेगा राज्य के सभी कोषालयों-बैंकों में अवकाश

राज्य सरकार द्वारा दीपावली के दूसरे दिन याने 28 अक्टूबर को गोवर्धन पूजा के दिन पूरे प्रदेश में सिर्फ कोषालयों एवं बैंकों के लिए सार्वजनिक अवकाश घोषित कर दिया है। इस दिन प्रदेश भर के कोषालय और बैंकों में पूर्ण अवकाश रहेगा। 

छत्तीसगढ़ शासन के सामान्य प्रशासन विभाग की सचिव रीता शांडिल्य के हस्ताक्षर से जारी अधिसूचना में कहा गया है कि यह अवकाश केवल छत्तीसगढ़ प्रदेश के कोषालयों व बैंकों के लिए लागू होगा और 28 अक्टूबर को प्रदेश के समस्त कोषालयों व बैंकों में सार्वजनिक अवकाश रहेगा।