कोरोना अपडेट : छत्तीसगढ़ में जारी है कोरोना से मौत का तांडव, प्रदेश में आज 15 हजार के करीब मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से मिले सर्वाधिक मरीज    |    बंगाल चुनाव: EC की नई गाइडलाइंस जारी, प्रचार का समय कम करने से लेकर आपराधिक मामला दर्ज करने तक का आदेश    |    BIG BREAKING : केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर भी आये कोरोना की चपेट में, सोशल मीडिया में दी जानकारी    |    ICMR कोरोना अपडेट: राज्य में आज शाम तक 12079 कोरोना मरीजो की हुई पुष्टि, अकेले रायपुर से 2921 समेत बाकी इन जिलो से...    |    इस राज्य में सरकार ने लागू किया वीकेंड लॉकडाउन, मास्क नहीं पहनने पर लगेगा बड़ा जुर्माना    |    BIG BREAKING : नहीं होगी ऑक्सीजन की कमी, पीएम केयर्स फंड से अस्पतालों में लगेंगे प्लांट    |    कोरोना की चपेट में सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस शाह का पूरा स्टाफ...    |    कोरोना अपडेट : देश में 24 घंटे में सामने आए 2.16 लाख मामले, 1184 मौतें    |    BIG BREAKING : प्रदेश में कोरोना से मौत ने लगाई शतक, प्रदेश में आज 15 हजार से अधिक नए मरीजों की हुई पहचान, राजधानी से इतने    |    कोरोना अपडेट: ICMR के मुताबिक आज प्रदेश में शाम तक 11819 मरीज मिले, अकेले रायपुर जिले से 2870 समेत बाकी इन जिलो से    |
मानहानि मामला: कांग्रेस के इस दिग्गज नेता खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी

मानहानि मामला: कांग्रेस के इस दिग्गज नेता खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी

हैदराबाद की एक अदालत ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह के खिलाफ मानहानि के एक मामले में उसके समक्ष उपस्थित नहीं होने को लेकर सोमवार को गैर जमानती वारंट जारी किया। यह मामला उनके खिलाफ 2017 में दायर किया गया था।
सांसदों/विधायकों के खिलाफ मामलों पर सुनवाई के लिए गठित विशेष अदालत ने दिग्विजय सिंह के उसके समक्ष उपस्थित होने में विफल रहने के बाद यह गैर जमानती वारंट जारी किया है।
सिंह के खिलाफ मानहानि का यह मामला एआईएमआईएम नेता एस ए हुसैन अनवर ने दायर किया था। उन्होंने आरोप लगाया था कि सिंह ने यह कहकर एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की मानहानि की कि हैदराबाद के सांसद की पार्टी वित्तीय लाभों के लिए दूसरे राज्यों में चुनाव लड़ रही है।
याचिकाकर्ता के वकील, मोहम्मद आसिफ अमजद ने कहा कि उन्होंने दिग्विजय सिंह और लेख प्रकाशित करने वाले एक उर्दू दैनिक के संपादक दोनों को कानूनी नोटिस भेजे थे और माफी मांगने को कहा था। हालांकि दोनों ने नोटिस का जवाब नहीं दिया जिसके बाद अमजद ने अदालत का रुख किया था।
सुनवाई की पिछली तारीख के दौरान अदालत ने निर्देश दिया था कि दिग्विजय सिंह और संपादक 22 फरवरी को उसके समक्ष उपस्थित हों। अमजद ने बताया कि संपादक ने ऐसा किया, लेकिन सिंह अदालत में पेश नहीं हुए।
अमजद ने कहा कि दिग्विजय सिंह के वकील ने एक याचिका दायर करके चिकित्सा आधार पर उपस्थिति से छूट की मांग की थी, लेकिन अदालत ने इसे खारिज कर दिया और गैर जमानती वारंट जारी किया।
अदालत ने मामले की अगली सुनवाई आठ मार्च को तय की है। सिंह के वकील ने कहा कि उन्होंने कार्यवाही को रद्द करने के लिए उच्च न्यायालय के समक्ष पहले ही रोक को बढ़ाने के लिए याचिका दायर कर दी है।
 

पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की महंगी दाम से त्रस्त महिलाओं को अब प्याज भी रूलाने लगी: वंदना राजपूत

पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की महंगी दाम से त्रस्त महिलाओं को अब प्याज भी रूलाने लगी: वंदना राजपूत

रायपुर। केन्द्र सरकार की गलती की सजा महिलाएं भुगत रही है। छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रवक्ता वंदना राजपूत ने मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुये कहा कि महंगाई नियंत्रण में करने में असफल मोदी सरकार को महिलाओं से माफी मांगे एवं तुरंत इस्तीफ़ा देना चाहिये। केन्द्र की भाजपा सरकार में महंगाई कम करने की क्षमता नहीं। पहले से ही पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस में दाम में आग लगी है, ऊपर से केंद्र सरकार रोज-रोज कीमतें बढ़ा-बढ़ाकर इस आग में पेट्रोल, डीजल छिड़क रही है। महंगाई से महिलाएं त्रस्त है और अब प्याज 60-70 रूपये प्रति किलो, खाद्य तेल 200 रुपये लीटर से पार हो गया है। दाल, बेसन जैसे अनगिनत आवश्यक  वस्तुओं के बढ़ती दामों ने महिलाओं के घर का पूरा बजट ही बिगाड़ दिया है। घर के रसोई गैस से लेकर दाल, बेसन, फल्ली तेल इत्यादि गायब। प्रदेश प्रवक्ता वंदना राजपूत ने कहा कि मोदीजी  ने सात साल में देश के अर्थव्यवस्था को बिगाड़ दिया। मोदी जी, महिलाएं समझ गई है कि महंगाई को काबू में करना आपके बस की बात नही है। बढ़ती महंगाई को नियंत्रण करने के लिये कोई भी कारागार कदम नहीं उठाये तो महंगाई को तो आप सात जन्म में भी कम नहीं कर पाओगे। राज्यसभा सांसद सरोज पांडे जी एवं अन्य भाजपा नेत्रियों को वास्तविकता में महिलाओं की फिक्र है तो बेलगाम महंगाई पर जुबान बंद क्यों? 15 साल तक दमनकारी सरकार में अनगिनत महिलाओं पर हुए अत्याचार, बलात्कार, अनाचार पर भाजपा महिलाओं पर दबाव था इसलिये  बोल नहीं पाई।भूपेश बघेल सरकार ने दो वर्षों में छत्तीसगढ़ में बहुमुखी विकास व महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा दिया। छत्तीसगढ़ में महिला सशक्तिकरण मिसाल बना रही है इसलिये भाजपा नेत्रियां निर्भय होकर अपनी बात रख रही है। भाजपा नेत्रियां चाह रही है कि आने वाले चुनाव में छत्तीसगढ़ की तरह  केन्द्र में भी यूपीए की सरकार काबिज हो ताकि महिलाओं के मुद्दों पर बोल  सके। भाजपा में महिलाओं की आवाज़ को दबाया जाता है। बेलगाम महंगाई को नियंत्रण व कम करने में असफल मोदी सरकार में थोड़ी बहुत भी लज्जा बाकी है तो तुरंत इस्तीफ़ा दे।

भाजपा के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बड़ी बैठक आज ,प्रधानमंत्री करेंगे संबोधित ...हो सकती है इन मुद्दों पर चर्चा

भाजपा के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बड़ी बैठक आज ,प्रधानमंत्री करेंगे संबोधित ...हो सकती है इन मुद्दों पर चर्चा

नई दिल्ली । आज भाजपा के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की एक बड़ी बैठक होने वाली है। इस बैठक को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संबोधित करेंगे। यह बैठक दिल्ली के एनडीएमसी कन्वेंशन सेंटर में सुबह 10 बजे से शाम पांच बजे के बीच होगी। पीएम मोदी इस बैठक का उद्घाटन करेंगे जबकि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा इस बैठक की अध्यक्षता करेंगे। इस बैठक में भाजपा के राष्ट्रीय पदाधिकारियों के अलावा राज्य प्रभारी और सह प्रभारी के साथ ही प्रदेश इकाई के प्रमुख भी शामिल होंगे।
जेपी नड्डा ने की अहम बैठक
इससे पहले शनिवार को भाजपा मुख्यालय में पार्टी के संगठन महासचिवों की बैठक हुई। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सभी राज्यों के महासचिवों की इस बैठक की अध्यक्षता की। इस दौरान सभी महासचिवों ने नड्डा को अपने-अपने राज्यों में दी गई जिम्मेदारी निभाने के संबंध में जानकारी दी। बैठक से पहले भाजपा के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने कहा, बैठक का मकसद इस बात का जायजा लेना है कि विभिन्न राज्यों में विधानसभा चुनाव के लिए हमारी तैयारी कैसी है?


चुनावी राज्यों को लेकर रणनीति पर जोर
बंगाल, केरल, तमिलनाडु, असम और पुडुचेरी में कुछ महीनों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। भाजपा इन राज्यों में अपना जनाधार बढ़ाने की कोशिश कर रही है। समझा जा रहा है कि महासचिवों के साथ बैठक के बाद भाजपा अध्यक्ष इन राज्यों के विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी की रणनीति को और धार देंगे।

इस अहम बैठक में राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक के एजेंडे, राज्य की इकाइयों द्वारा चलाए जा रहे कार्यक्रमों और चुनावी राज्यों की तैयारियों को लेकर मंथन किया गया।यह बैठक ऐसे समय में हो रही है जब तीन कृषि कानूनों को लेकर पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के किसान राजधानी दिल्ली की विभिन्न सीमाओं पर पिछले लगभग तीन महीने से आंदोलन कर रहे हैं। आंदोलन कर रहे किसान संगठन आंदोलन को देशव्यापी बनाने की कोशिशों में हैं और लगातार पीएम मोदी पर हमलवार हैं। 

फूलोदेवी नेताम ने भाजपा नेत्रियो से पूछा सवाल, झलियामारी, मीना खल्को, गर्भाशय कांड जैसी दुर्दम घटनाओं में आपकी संवेदनाएं कहां सोई पड़ी थी?

फूलोदेवी नेताम ने भाजपा नेत्रियो से पूछा सवाल, झलियामारी, मीना खल्को, गर्भाशय कांड जैसी दुर्दम घटनाओं में आपकी संवेदनाएं कहां सोई पड़ी थी?

रायपुर, राज्यसभा सांसद एवं प्रदेश महिला कांग्रेस अध्यक्ष फूलोदेवी नेताम ने कहा आज प्रदेश में अच्छा काम चल रहा है सुख शांति का वातावरण है महिलाएं सुरक्षित है और ऐसे समय में भाजपा के इन नेत्रियों को आंदोलन की याद आ रही है। भाजपा के 15 साल के शासन काल में महिलाओं पर अत्याचार की इंतहा हो गई तब नसबंदी कांड में माताएं मारी गई, झलियामारी कांड में सरकारी कन्या आश्रम मे नाबालिग बच्चियों के साथ अनाचार हुआ, गर्भाशय कांड, मीना खल्को के साथ घृणित अपराध हुआ, मड़कम हिडमे कांड, सारकेगुडा कांड, पेद्दागेल्लूर जैसे अनगिनत कांड भाजपा सरकार में हुए।

राज्यसभा सांसद एवं प्रदेश महिला कांग्रेस अध्यक्ष फूलोदेवी नेताम ने कहा भाजपा नेत्री आरोपी को संरक्षण देने का काम करती है, भाजपा नेत्री मानव तस्करी में लिप्त पाई गई और राजनीति रोटी सेंकने के लिये महिला सुरक्षा की बात किस मुंह से करते है? छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में एक महिला आरक्षक के साथ बलात्कार की घटना हुई। पूर्व मुख्यमंत्री के ओएसडी रहे ओ.पी.गुप्ता के द्वारा नाबालिग बच्ची के साथ बलात्कार करके फरार हो जाता है। धमधा के पास शराब कोचियों के दल ने अपने पति के साथ मोटरसाइकिल में जा रही महिला को जबरन उतारकर बलात्कार किया, ऐसी दुर्दम घटनाएं भाजपा के 15 साल के शासन काल में होती रही तब भाजपा के नेत्रियों की संवेदना और नारी के प्रति सहनूभूति कहां सोई पड़ी थी ?
 

पश्चिम बंगाल में  विस चुनाव की घोषणा जल्द चुनाव आयोग इनकी कर सकती है तैनाती

पश्चिम बंगाल में विस चुनाव की घोषणा जल्द चुनाव आयोग इनकी कर सकती है तैनाती

कोलकाता । पश्चिम बंगाल में सभी राजनीतिक पार्टियां जोर शोर से चुनाव प्रचार में जुटी हुई हैं। इसी बीच चुनाव को लेकर बड़ी खबर सामने आ रही है। राज्य में अगले सप्ताह विधानसभा चुनाव की घोषणा हो सकती हैं। राज्य में अप्रैल-मई के दौरान चुनाव कराए जा सकते हैं। क्योंकि बंगाल विधानसभा का वर्तमान कार्यकाल 30 मई 2021 को खत्म हो रहा है। चुनाव तारीखों की घोषणा के तुरंत बाद ही चुनाव आयोग केंद्रीय बलों की 800 से ज्यादा कंपनियां चुनाव ड्यूटी के लिए तैनात कर सकता है। 

छत्तीसगढ़ के साथ केंद्र सरकार कर रहा सौतेला व्यवहार : संसदीय सचिव चंद्राकर

छत्तीसगढ़ के साथ केंद्र सरकार कर रहा सौतेला व्यवहार : संसदीय सचिव चंद्राकर

महासमुंद । संसदीय सचिव व विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर ने केंद्र सरकार पर छत्तीसगढ़ के साथ सौतेला व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए कहा कि 60 लाख मैट्रिक टन धान खरीदने का वादा करके अब सिर्फ 24 लाख मैट्रिक धान खरीदने की बात कर रही है। इससे प्रदेश सरकार को करीब 2500 करोड़ का अतिरिक्त भार पड़ेगा। संसदीय सचिव चंद्राकर ने कहा कि कोरोना संकटकाल के बाद भी भूपेश बघेल के नेतृत्व वाली छग सरकार ने विधानसभा चुनाव के दौरान किए गए वादे को पूरा कर रही है। समर्थन मूल्य में धान खरीदने के साथ ही किसानों की कर्जमाफी की। प्रदेश सरकार की आर्थिक नीतियों की प्रशंसा रिजर्व बैंक आफ इंडिया भी कर चुकी है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के समय में छग में 50 लाख मीट्रिक टन धान खरीदी की जाती थी, वहीं कांग्रेस सरकार ने 2019 में 80 लाख, 2020 में 83 लाख और 2021 में 93 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी हो चुकी है। संसदीय सचिव चंद्राकर ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना में भी छत्तीसगढ़ राज्य की उपेक्षा की गई जबकि कोरोना महामारी के समय मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के अथक मेहनत और प्रयासों के बाद पांच लाख से अधिक श्रमिक छत्तीसगढ़ राज्य में वापस लौटे। किसान सम्मान निधि योजना का लाभ भी छत्तीसगढ़ राज्य को नहीं दिया जा रहा है। अन्य योजनाओं और टैक्स से लेकर अनुदान तक देने में भेदभाव किया जा रहा है। जीएसटी की क्षतिपूर्ति में भी छत्तीसगढ़ राज्य की अनदेखी की गई है, राज्य को 9 हजार करोड़ रुपए मिलने से लेकिन इस वर्ष मात्र 350 करोड़ ही जारी किए गए हैं। जबकि कोरोना महामारी के समय जीएसटी संकलन में छत्तीसगढ़ राज्य पूरे देश में दूसरे स्थान पर रहा है।
 संसदीय सचिव के प्रयास से 20 लाख की स्वीकृति
संसदीय सचिव चंद्राकर के प्रयास से विकास कार्यों के लिए 20 लाख रूपए की स्वीकृति मिली है। मध्य क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण मद के तहत स्वीकृत इस राशि से सामुदायिक भवन व सीसी रोड का निर्माण कराया जाएगा। जिसमें पांच लाख की लागत से ग्राम अचानकपुर, चार-चार लाख की लागत से ग्राम जोगीडीपा, ग्राम बोड़रा व गब्राम बनसिवनी में सामुदायिक भवन निर्माण तथा तीन लाख की लागत से ग्राम रायकेरा में गली कांक्रीटीकरण का कार्य शामिल हैं।

कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विकास तिवारी ने कसा तंज, प्रदेश भाजपा आज भी पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के जेब मे है , जाने ऐसा क्यों

कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विकास तिवारी ने कसा तंज, प्रदेश भाजपा आज भी पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के जेब मे है , जाने ऐसा क्यों

रायपुर। छत्तीसगढ़ कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता एवं सचिव विकास तिवारी ने प्रदेश भाजयुमो में कोई नियुक्ति घोटाले के बाद भाजपा आलाकमान के द्वारा नियुक्त किये गये उम्रदराज पदाधिकारियों के बर्थ सर्टिफिकेट और हाई स्कूल के मार्कशीट को तलब करने पर तंज कसते हुए कहा कि जहां एक और भाजपा यह दावा करती है कि उनकी पार्टी कैंडल बेस पार्टी है और यहां वंशवाद और धन कुबेरो के लिये कोई जगह है जबकि इसके उलट प्रदेश भाजयुमो में कोई नियुक्तियों पर कमीशनखोरी हुई है जिससे हताश और परेशान होकर भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने आत्महत्या तक की धमकी दे डाली और हद तो तब हो गई जब उम्रदराज नेताओं को कमीशन लेकर पद दे दिया गया और भाजयुमो के कर्मठ कार्यकर्ता हाशिये पर चले गये।

कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा कि भाजयुमो पदाधिकारियों की बर्थ सर्टिफिकेट और हाईस्कूल के मार्कसीट को आलाकमान ने तलब किया है यह अपने आप में एक हास्यास्पद बात है की भाजपा के आला नेताओं को अपने ही नियुक्त किये गये कार्यकर्ताओं की उम्र और शिक्षा पर भरोसा नहीं रह गया इस कारण वह अपने युवा नेताओं की जन्मकुंडली खंगाले में लगे हैं अमूमन सरकारी विभाग में नियुक्ति घोटाला सुनने में आता था लेकिन प्रदेश भाजयुमो में हुवे नियुक्ति घोटाले ने प्रदेश भाजपा संगठन में हुवे कमीशनखोरी और खरीद-फरोख्त के उजागर होने से सभी अचंभित है,जिससे भाजपा की साख में बट्टा लगा है। सोशल मीडिया में भाजयुमो के युवा कार्यकर्ता खुलेआम अपने शीर्ष नेतृत्व को भ्रष्टाचारी और खरीद-फरोख्त करने वाला तक कह रहे हैं भाजपा नेताओं का कहना है कि जिन्होंने संघर्ष किया उन्हें पद नहीं दिया गया और जिन्हें कोई भाजपा में जानता नहीं उन्हें पैसों के बल पर पद दिया गया है।

कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा कि प्रदेश भाजपा में गुटबाजी और पद बेचने के लिये कमीशनखोरी अब खुलकर सामने आने लगी है पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह का धड़ा आज भी प्रदेश भाजपा को अपने जेब में लेकर चल रहा है और अपने मन मुताबिक नियुक्तियां करवा रहा है जिसके कारण भाजपा के कर्मठ कार्यकर्ता हाशिये पर चले गये हैं और कैडर बेस्ट पार्टी होने का दम भरने वाली भाजपा की पोल पट्टी खुलने लगी है पूर्व भाजपा सरकार में नियुक्ति घोटाला करने वाले भाजपा के आला नेता अब प्रदेश भाजपा के नियुक्ति में भी घोटाला कर रहे हैं और आलाकमान द्वारा नियुक्त किये गये भाजयुमो नेताओं की बर्थ सर्टिफिकेट और हाईस्कूल की मार्कशीट को मंगवाना यह साबित करता है कि प्रदेश भाजपा में सब कुछ ठीक-ठाक नहीं चल रहा है गुटबाजी अब सतही स्तर पर आ चुकी है भाजपा के प्रदेश इकाई में धनकुबेर ओ का वर्चस्व है जिसके कारण मूल कार्यकर्ता मानसिक अवसाद से ग्रसित हो रहे हैं और आत्महत्या करने को भी मजबूर हो रहे हैं।
 

गुलाम नबी आजाद के बाद इस कांग्रेस नेता को मिला राज्यसभा में विपक्ष के नेता का दर्जा

गुलाम नबी आजाद के बाद इस कांग्रेस नेता को मिला राज्यसभा में विपक्ष के नेता का दर्जा

नई दिल्ली, कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे को राज्यसभा में प्रतिपक्ष के नेता का दर्जा दिया गया है. राज्यसभा चेयरमेन ने मंगलवार को उन्हें प्रतिपक्ष के नेता के तौर पर मान्यता दी. यह आज तत्काल प्रभाव से लागू हो गया. इससे पहले कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद राज्यसभा में विपक्ष का नेता थे और उनका राज्यसभा सदस्य के तौर पर कार्यकाल 15 फरवरी को खत्म हो गया.


कर्नाटक से ताल्लुक रखने वाले दलित नेता खड़गे 2014 से 2019 के बीच लोकसभा में कांग्रेस के नेता रह चुके हैं. बड़ी बात यह है कि खड़गे साल 2019 का लोकसभा चुनाव हार गए थे. इसके बाद पार्टी ने उन्हें राज्यसभा भेज दिया था. वह हाल ही में राज्यसभा के सदस्य के तौर पर चुनकर आए हैं.

 

भाजपा छत्तीसगढ़ में किसानों मजदूरों, युवाओं, महिलाओं की सरकार को अपराधी बोलकर कर रही है इनका अपमान, माफी मांगे भाजपा- धनंजय सिंह ठाकुर

भाजपा छत्तीसगढ़ में किसानों मजदूरों, युवाओं, महिलाओं की सरकार को अपराधी बोलकर कर रही है इनका अपमान, माफी मांगे भाजपा- धनंजय सिंह ठाकुर

रायपुर, भाजपा सांसद सुनील सोनी के बयान की कांग्रेस ने कड़ी निंदा की प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि भाजपा सांसद सुनील सोनी ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व वाली सरकार को अपराधियों की सरकार बोलकर छत्तीसगढ़ के ढाई करोड़ जनता का अपमान किया है, जनमत का अपमान किया है। लगातार भाजपा के नेता सांसद विधायक के द्वारा जनता को अपमानित करने वाले भाषा का ही उपयोग किया जा हैं। भाजपा सांसद सुनील सोनी के बयान से भाजपा की गिरी हुई नकारात्मक अहंकारी सोच प्रदर्शित हो रही हैं। भाजपा नेताओं की मानसिक दशा ठीक नहीं है। इसके पहले मुख्यमंत्री रहते डॉ रमन सिंह ने तत्कालीन कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष, वर्तमान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को छोटा आदमी कहकर अपमानित किया था। सुनील सोनी ने कोरोना काल के दौरान एम्स में इलाज करा रहे एक विशेष समुदाय के लोगों के खिलाफ भावना भड़काने वाला बयान बाजी किया था जिसका एम्स ने खंडन किया था। राजनांदगांव सांसद संतोष पांडेय ने किसान आंदोलन में शामिल किसानों को नक्सली बताकर किसानों का अपमान किया था।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा है कि राज्य के सरकार को अपराधियों के सरकार बताने वाले भाजपा सांसद सुनील सोनी को आत्म अवलोकन करना चाहिए कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार बनने के बाद एनसीआरबी की रिपोर्ट के अनुसार छत्तीसगढ़ में अपराधिक घटनाओं में कमी आई है, हत्या, बलात्कार, लूट अपराध जैसे मामलों में पूर्ववर्ती रमन सरकार के तुलना में 60 फ़ीसदी की कमी आई है। संगठित अपराधो में भी 72 फिसदी की कमी आयी है। नक्सल मामलों में 57.64 फ़ीसदी की कमी आई है। बीते दो साल में छत्तीसगढ़ में अपराध कम हो हुए हैं। उसके बाद भी भाजपा सांसद सुनील सोनी को छत्तीसगढ़ में अपराध बढ़ता दिख रहा है, तो सुनील सोनी को अपना नेत्र परीक्षण कराने की आवश्यकता है।

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार किसानों मजदूरों महिलाओं युवाओं की सरकार है और सरकार इनके हित के लिए काम कर रही है छत्तीसगढ़ में किसान खुशहाल हो रहे किसानों की कर्ज माफी हुआ है बिजली बिल हाफ, धान की कीमत 2500 रु. क्विंटल, 14580 पदों पर शिक्षकों की भर्ती, शिक्षा कर्मियों का संविलियन, आदिवासियों की जमीन लौटाना, तेंदूपत्ता का मानक दर 2500 रूपये से बढ़ाकर 4000 रूपये प्रति मानक बोरा ,जाति प्रमाण पत्र बनाने का सरलीकरण, व्यापारियों को लाइफटाइम गुमास्ता की सुविधा, मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लीनिक मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना, स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल खूबचंद बघेल स्वास्थ्य योजना, यूनिवर्सल हेल्थ स्कीम, 65लाख राशन कार्ड, सहित अनेक जनकल्याणकारी निर्णय लेकर छत्तीसगढ़ सरकार ने छत्तीसगढ़ के जनमानस को खुशहाल करने काम किया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार के 2 साल के कार्यकाल के बाद भाजपा मुद्दाविहीन हो चुकी है मुद्दों के दिवालियापन के दौर से गुजर रही है।
 

मैनपाट महोत्सव को लेकर मंत्री भगत का बयान धार्मिक आस्था का मखौल उड़ाने वाला कृत्य : अनुराग

मैनपाट महोत्सव को लेकर मंत्री भगत का बयान धार्मिक आस्था का मखौल उड़ाने वाला कृत्य : अनुराग

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता अनुराग सिंहदेव ने प्रदेश सरकार के एक मंत्री अमरजीत भगत के मैनपाट महोत्सव के संबंध में दिए गए बयान को धार्मिक आस्था का मखौल उड़ाने वाला कृत्य बताया है। श्री सिंहदेव ने कहा कि कांग्रेस को प्रदेश की सत्ता हज़म नहीं हो रही है और उसके नेता-मंत्री सत्ता के मद में इतनी बहकी-बहकी बातें कर रहे हैं कि प्रदेश का सिर शर्म से गड़ा जा रहा है। ऐसा प्रतीत हो रहा है कि कांग्रेस और उसकी प्रदेश सरकार के लोगों में इस बात की होड़ मची है कि कौन कितना और कुछ भी अनाप-शनाप बोल सकता है?

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता श्री सिंहदेव ने कहा कि सांस्कृतिक परंपराओं और धार्मिक आस्थाओं के ढोल पीट रही प्रदेश की कांग्रेस सरकार तो अब अपनी सोच और व्यवहार में ऐसी हो चली है कि उसे न तो उत्सवों के आयोजन की गरिमा का ध्यान रह गया है और न ही उन कार्यक्रमों के प्रति सम्मान की चिंता है। श्री सिंहदेव ने कहा कि शराब की कोचियागिरी में लपलपाती प्रदेश सरकार इस क़दर मशगूल हो चली है कि उसे अब हर ज़गह शराब बेचना उसकी फ़ितरत होती जा रही है और इसके लिए किस स्तर तक जाकर प्रदेश की संस्कृति, गरिमा और परंपराओं का मखौल उड़ाने में कोई गुरेज़ नहीं है। श्री सिंहदेव ने कहा कि मैनपाट छत्तीसगढ़ का विख्यात पर्यटन स्थल ही नहीं, अपितु प्रदेश में बौद्ध संस्कृति का एक प्रमुख धार्मिक और सांस्कृतिक केंद्र भी है। उस स्थान पर सरकारी उत्सव आयोजित करके प्रदेश सरकार उसके सांस्कृतिक महत्व को रेखांकित करने के बजाय क्या करने की बदनीयती रखती है, यह उसके मंत्री अमरजीत भगत की सोच की से झलक चुकी है। श्री सिंहदेव ने कहा कि मैनपाट महोत्सव को महज़ मौज़-मस्ती का आयोजन बताकर मंत्री भगत ने कांग्रेस की राजनीतिक-अपसंस्कृति का शर्मनाक परिचय तो दिया ही है, साथ ही सत्य़नारायण की कथा को लेकर हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं का मखौल उड़ाकर अपने निकृष्ट सत्तावादी अहंकार व राजनीतिक आचरण से प्रदेश को शर्मिंदा करने में कोई क़सर बाकी नहीं रखी है। श्री सिंहदेव ने कहा कि कांग्रेस में वैचारिक अधोपतन का यह नज़ारा केंद्रीय नेतृत्व से लेकर वार्ड-मोहल्ले तक के जनप्रतिनिधि-नेता पेश कर रहे हैं।
 

 इस नवगठित नगर पालिक निगम में महापौर पद का आरक्षण अन्य पिछड़ा वर्ग (महिला) के नाम जाने कहा

इस नवगठित नगर पालिक निगम में महापौर पद का आरक्षण अन्य पिछड़ा वर्ग (महिला) के नाम जाने कहा

रायपुर। दुर्ग जिले अंतर्गत नवगठित नगर पालिक निगम रिसाली के महापौर पद के निर्वाचन के लिए आरक्षण की कार्यवाही की गई। नगर निगम रिसाली के महापौर पद को अन्य पिछड़ा वर्ग (महिला) के रूप में आरक्षण की घोषणा विहित प्राधिकारी द्वारा की गई। आरक्षण की कार्यवाही आज इंद्रावती भवन, नवा रायपुर में विहित प्राधिकारी आर. एक्का ने कराई। नगरीय निकाय के अधिकारियों ने बताया कि प्रदेश के 14 नगर पालिक निगमों में से 13 नगर निगमों का आरक्षण पूर्व में किया जा चुका था। वर्तमान में केवल नगर पालिक निगम रिसाली का आरक्षण किया जाना था। अतः पूर्व में किए गए आरक्षण के आधार पर आरक्षण की कार्यवाही की गई, जिसमें अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्ग का आरक्षण किया जा चुका था। आरक्षण नियम अनुसार अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 14 नगर निगमों में 04 पद आरक्षित किया जाना है, परन्तु पूर्व में 03 पद आरक्षित किए गए थे। अतः शेष 01 पद के लिए नगर निगम रिसाली को अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए घोषित किया गया। इसी प्रकार नगर निगमों में नियमानुसार 33 प्रतिशत आरक्षण महिलाओं के लिए प्रावधानित है। पूर्व में महिला वर्ग के 04 पदों पर आरक्षण दिया जा चुका है। शेष 01 पद के लिए नगर निगम रिसाली के महापौर पद को अन्य पिछड़ा वर्ग (महिला) के रूप में आरक्षण की घोषणा विहित प्राधिकारी द्वारा की गई। 

विभिन्न मोर्चों में नियुक्ति पर मुख्यमंत्री की टिप्पणी पर डी पुरंदेश्वरी ने दी प्रतिक्रिया, कहा – ये हमारे घर का मसला है

विभिन्न मोर्चों में नियुक्ति पर मुख्यमंत्री की टिप्पणी पर डी पुरंदेश्वरी ने दी प्रतिक्रिया, कहा – ये हमारे घर का मसला है

रायपुर, भाजपा के विभिन्न मोर्चे में नियुक्तियों में विवाद के मसले प्रदेश प्रभारी डी पुरंदेश्वरी ने कहा कि अगर कुछ कमी है भी तो पार्टी के भीतर ही बात करेंगे और उसी तरह बात हुई भी है, नियुक्तियों पर अलग-अलग लोगों की अलग-अलग राय दिखी उसे लेकर बात हुई। हमारे घर का मसला है हम बात करंगे, इस पर सीएम को टिपण्णी करने की जरूरत नहीं है।
प्रदेश भाजपा की लगातार 2 दिनों से बैठक चल रही है। पार्टी के प्रदेश कार्यालय कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में सभी जिलों के प्रभारी और जिला अध्यक्षों के साथ प्रदेश प्रभारी डी पुरंदेश्वरी और सह प्रभारी नितिन नबीन ने बैठक ली। बैठक के बाद मीडिया से चर्चा में प्रदेश प्रभारी डी पुरंदेश्वरी ने बताया कि जो कार्ययोजना पहले बनी थी, उसकी समीक्षा हुई है। आगामी रणनीति बनी है। उन्होंने प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जिस उम्मीद से लोगों ने कांग्रेस को वोट दिया था, वो उम्मीद टूटी है। सदन के बाद सड़क की लड़ाई भी सरकार के खिलाफ होगी।
 

भाजपा प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी व सहप्रभारी नितिन नबीन ने ली सभी मोर्चा प्रकोष्ठों के साथ वन टू वन और कोर ग्रुप की बैठक

भाजपा प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी व सहप्रभारी नितिन नबीन ने ली सभी मोर्चा प्रकोष्ठों के साथ वन टू वन और कोर ग्रुप की बैठक

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी व सहप्रभारी नितिन नबीन अपने दो दिवसीय प्रवास पर शनिवार को राजधानी रायपुर पहुंचे। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यालय कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में संगठनात्मक दृष्टि से भाजपा प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी व सहप्रभारी नितिन नबीन ने भाजपा जिला प्रभारियों की बैठक ली जिसमे संगठन को मजबूती प्रदान करने और जिला स्तर पर संगठन की गतिविधियों के साथ साथ आगामी कार्ययोजना को ले कर चर्चा हुई। भाजपा जिला प्रभारियों की बैठक के उपरांत भाजपा प्रदेश प्रभारी व सहप्रभारी ने संगठन की बैठक ली, जिसमें संगठन महामंत्री पवन साय, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय, भाजपा महामंत्री भूपेंद्र सवन्नी, नारायण चंदेल मौजूद रहे। भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय वर्चुअल माध्यम से उक्त बैठक में शामिल रहे। संगठन की बैठक में संगठन की आगामी कार्ययोजना, प्रदेश सरकार की विफलता और जनहित से जुड़े विषयों को ले कर जनता के बीच जाने के संबंध में रणनीति बनी साथ ही संगठन को मजबूती देते हुए प्रदेश से जिला और मंडल स्तर से बूथों तक कार्ययोजना बना कर मजबूती के साथ क्रियान्वयन को ले कर विस्तार से चर्चा हुई।

बैठक के दौरान सभी मोर्चा प्रकोष्ठों के पदाधिकारियों, जिला प्रभारियों व भाजपा नेताओं ने भाजपा प्रदेश प्रभारी डी पुरंदेश्वरी व सहप्रभारी नितिन नबीन के सामने प्रदेश सरकार की नाकामियों को रखते हुए सरकार के खिलाफ किये गए धरना प्रदर्शन की जानकारियां दी। भाजपा नेताओं ने पिछले दिनों कांकेर में भाजपा कार्यकर्ता के साथ मारपीट की घटना को गंभीरता से रखा साथ ही छत्तीसगढ़ में पहाड़ी कोरवा जनजाति के साथ हो रही ज्याददतियों से भी प्रभारी व सहप्रभारी को अवगत करवाया गया। शराब के मामले में अन्य प्रदेश की अवैध शराब सहित महिला के साथ बढ़ते अपराध सहित सरकार की नाकामियों को प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी व सहप्रभारी नितिन नबीन के समक्ष रखा गया। बैठक में सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने व विभिन्न विषयों पर सरकार को घेरने की रणनीति बनी।

भाजपा प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी व सहप्रभारी नितिन नबीन ने सभी मोर्चा प्रकोष्ठों की भी बैठक ली बैठक में सभी मोर्चा प्रकोष्ठों के पदाधिकारियों से वन टू वन चर्चा हुई जिसमें मोर्चा प्रकोष्ठों के नवनियुक्त पदाधिकारियों से परिचयात्मक भेंट के साथ साथ संगठनात्मक विषयों पर चर्चा हुई। शनिवार के अपने प्रवास के प्रथम दिन संगठनात्मक बैठकों के भाजपा प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी व सहप्रभारी नितिन नबीन ने कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में भाजपा कोर ग्रुप की बैठक ली। बैठक में डॉ रमन सिंह, बृजमोहन अग्रवाल,धरम लाल कौशिक, विक्रम उसेंडी, रामविचार नेताम, पवन साय, पुन्नूलाल मोहिले, वर्चुवल माध्यम से प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय जी उपस्थित थे। कोर ग्रुप की बैठक के पूर्व भाजपा कोर ग्रुप के सदस्यों ने प्रदेश सहप्रभारी नितिन नबीन जी को पुष्प गुच्छ भेंट कर कर पथ निर्माण मंत्री बनने पर बधाई दी ।
 

छत्तीसगढ़: भाजपा महिला नेत्री ने अपनी टीम के साथ थामा आम आदमी पार्टी का साथ

छत्तीसगढ़: भाजपा महिला नेत्री ने अपनी टीम के साथ थामा आम आदमी पार्टी का साथ

बालोद, आम आदमी पार्टी का छत्तीसगढ़ में बढ़ते जनाधार के मद्देनजर आज बालोद में जिला कार्यालय का उदघाटन के अवसर पर पार्टी प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेंडी व प्रदेश के वरिष्ट पदाधिकारी की मौजूदगी में भाजपा महिला नेत्री डॉली साहू ने अपनी टीम के साथ आज आम आदमी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की, जिसे लेकर जिला बालोद के कार्यकर्ताओं में काफी उत्साह देखा गया ।
आज के इस कार्यालय उदघाटन कार्यक्रम में सभी पदाधिकारी व कार्यकर्ता उत्साहित नजर आए और प्रदेश अध्यक्ष कोमल हुपेंडी ने सम्बोधित करते हुए कहा कि निश्चित रूप से हम 2023 में छत्तीसगढ़ में सरकार बनाने की ओर अग्रसर है पिछली चुनाव में हमने जो मेहनत की थी उसे प्रदेश की जनता ने सराहा है भले हम सरकार बनाने में सफल नही रहे परंतु 2023 में जनता हमसे उम्मीद लगाए हमारी ओर देख रही है क्योंकि जिस प्रकार 15 साल भाजपा की सरकार रही व 2 साल से वर्तमान कांग्रेस की सरकार का कार्यकाल देख रहे है , वर्तमान भूपेश सरकार हर मोर्चे में विफल साबित हुई है भूपेश सरकार की किये चुनावी सभी वायदे झूठे साबित हो रहे है आज इनसे जनता त्रस्त है एवं आनेवाले समय मे छत्तीसगढ़ की जनता को आम आदमी पार्टी के एक विकल्प रूप में दिख रही है आज इसी की शुरुआत हमने बालोद जिले से कर रहे है ।
कोमल हुपेंडी ने कहा आज हम छत्तीसगढ़ के सभी जिलों में अपन पार्टी कार्यालय का उदघाटन कर रहे है लेकिन वो दिन दूर नही जब हम इसी प्रकार हमारी सरकार बनते ही हर जिले हर कस्बे में एक सर्वसुविधायुक्त हॉस्पिटल व स्कूल खोलेंगे ।


12/2/2021 दिन शुक्रवार को आम आदमी पार्टी बालोद जिला कार्यालय का शुभारंभ किया गया जिसमें बढ़ चढ़ के हिस्सा लेने पूरे प्रदेश से पदाधिकारी उपस्थित हुए आज का कार्यक्रम कुछ इस प्रकार रहा सुबह 8.30 बजे माँ गंगा मैया जी की पूजा अर्चना कर झलमला से बालोद तक जितने भी महान पुरुषों की मूर्तिया हैं उनकी पूजा कर माल्यार्पण किया गया, 11.30 बजे पंडित जी द्वारा ऑफिस में विधिवत पूजा अर्चना की गई एवं मुख्यअतिथियो के करकमलों द्वारा फीता काटकर पार्टी कार्यालय का शुभराभ किया गया 2 बजे से मुख्यअतिथियो के द्वारा कार्यकर्ताओ को सम्बोधित किया तद्पश्चात बालोद जिला टीम के द्वारा बालोद के वृद्धाश्रम के बुजुर्गों को साल , श्री फल, एवं भोजन रूपी प्रसाद का वितरण किया गया।
कार्यालय उद्घाटन समारोह के दौरान पार्टी में शामिल हुए नए सदस्यों को मुख्यअतिथि के द्वारा पार्टी की टोपी पहना कर विधिवत पार्टी की सदस्यता ग्रहण करवाया गया।
आज के कर्यक्रम में विशेष रूप से उपस्थित रहे प्रदेश सह संयोजक सूरज उपाध्याय ,प्रदेश संगठन मंत्री प्रफुल्ल बैस , सह संगठन मंत्री दुर्गा झा , प्रदेश उपाध्यक्ष घनश्याम चन्द्राकर, सह संगठन मंत्री देवलाल नरेटी, बस्तर जिला अध्यक्ष तरुणा बेदरकर, नारायण पुर जिला अध्यक्ष नरेंद्र नाग, नंदगांव जिला अध्यक्ष खेमराज वर्मा, कवर्धा जिला अध्यक्ष पवन चंद्रवंशी, बालोद जिला अध्यक्ष दीपक आरदे, जिला सचिव कामता प्रसाद भंडारी, जिला उपाध्यक्ष संतोष देवांगन, संगठन मंत्री नारायण रॉव, कोषध्यक्ष महेंद्र साहू, जिला युवा प्रकोष्ट अध्यक्ष बसन्त निषाद, किसान प्रकोष्ट बालक साहू, देवेंद्र देशमुख, अमित भास्कर, विशेश्वर सिन्हा, देवल साहू , श्री राम निषाद, डॉली साहू, शशि चन्द्राकर, पूजा गावड़े , गुमान साहू, ताम्रजल साहू, मधुसूदन साहू कुशल कलिहारी हुमन सिंह झरिया भीष्मपितामह साहू शकर बंजारे राकेश साहू मनीराम शिसूपाल देव देवांगन केवल भरतदुव्ज एवं तमाम कार्यकर्ता व प्रदेश मीडिया सहप्रभारी अज़ीम खान उपस्थित रहे ।
 

केन्द्र की भाजपा सरकार तो सिर्फ जुमलों की सरकार है जो पानी में ही पकौड़ा तलता है, छत्तीसगढ़ सरकार जो कहती है वो करती है - वंदना राजपूत

केन्द्र की भाजपा सरकार तो सिर्फ जुमलों की सरकार है जो पानी में ही पकौड़ा तलता है, छत्तीसगढ़ सरकार जो कहती है वो करती है - वंदना राजपूत

रायपुर। छत्तीसगढ सरकार की महत्त्वकांक्षी योजना गोधन न्याय योजना के ऐतिहासिक निर्णय से छत्तीसगढ़ मुस्कुरा रहा है। छत्तीसगढ़ सरकार ने गोधन न्याय योजना के तहत अब तक 74.48 करोड़ का गोबर खरीदा है। देश में पहली राज्य सरकार है जो इतनी बड़ी मात्रा में गोबर की खरीदी कर रही है। सरकार पशुपालकों से 2 रुपए किलो गोबर खरीदती है। कोई सोच भी नहीं पाये थे लेकिन वह कार्य कांग्रेस सरकार ने कर दिखाया। छत्तीसगढ़ सरकार के दूरदर्शिता निर्णय के कारण गढबों नवा छत्तीसगढ़ का निर्माण हो रहा है। प्रदेश में महिलाएं आत्मनिर्भर बन रही है। कांग्रेस के सरकार जो कहती है वो वादा पूरा करती है। केन्द्र की भाजपा सरकार तो सिर्फ जुमलों की सरकार है जो पानी में ही पकौड़ा तलता है।

गोधन न्याय योजना छत्तीसगढ़ के लिये बना वरदान
प्रदेश प्रवक्ता वंदना राजपूत ने कहा कि गोठान में ही खरीदे गए गोबर का वर्मी कंपोस्ट बनाया जाता है। इसके साथ ही इसके मार्केटिंग का भी प्रबंध किया जा रहा है, ताकि इसका लाभ राज्य के किसानों को मिल सके। वर्मी कम्पोस्ट के उपयोग से भूमि की उर्वरा शक्ति और उत्पादन में बढ़ोतरी के साथ-साथ उत्पादित खाद्यान्न की पौष्टिकता भी अच्छी होती है। गोधन न्याय योजना के तहत गौठानों में खरीदे जा रहे गोबर से बड़ी मात्रा में वर्मी कम्पोस्ट खाद का निर्माण जारी है।
प्रदेश प्रवक्ता वंदना राजपूत ने कहा कि “यह एक ऐसी योजना है जिससे राज्य के किसानों, पशुपालकों और मजदूरों को लाभ होने वाला है। छत्तीसगढ़ की 90 प्रतिशत जनसंख्या अपनी आजीविका के लिए खेती पर निर्भर करती है। गोधन न्याय योजना इन लोगों के लिये वरदान बन गया लेकिन भारतीय जनता पार्टी के नेता इसका विरोध कर रहे थे?
प्रदेश प्रवक्ता वंदना राजपूत ने कहा कि गोबर खरीदी को समझना भाजपा के बस की बात नहीं। दरअसल भूपेश बघेल की सरकार ने गोबर खरीदी की जो पहल की है उससे भाजपा के पाँवों के नीचे से जमीन खिसक गयी है। छत्तीसगढ़ के भोली-भाली जनता के प्रति केन्द्र सरकार तो सतौला व्यवहार का रवैया तो था, अब प्रदेश के भाजपा नेता भी नरेन्द्र मोदी के सूर में सूर मिला रहे है। यह बीजेपी की नकारात्मक और छत्तीसगढ़ विरोधी मानसिकता को दर्शाता है।“
 

जशपुर की रुला देने वाली घटना, "क्या यही हैं कांग्रेस राज में न्याय"- शालिनी राजपूत

जशपुर की रुला देने वाली घटना, "क्या यही हैं कांग्रेस राज में न्याय"- शालिनी राजपूत

रायपुर। जशपुर जिले में रुला देनी वाली घटना पर, भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष शालिनी राजपूत ने प्रदेश सरकार से पूछा हैं कि क्या यही न्याय हो रहा हैं कांग्रेस सरकार के राज में जहाँ छत्तीसगढ़ की बेटी को एक नहीं दो नहीं बल्कि सात सात बार बेचा जाता हैं और अब होगा न्याय का नारा देने वाली संवेदनहीन भूपेश बघेल की सरकार हाथ पर हाथ धरी बैठी रहती हैं। उन्होंने कहा कि जब महिला के गुम होने की शिकायत की गयी थी 6 महीने पहले पीड़िता के पिता द्वारा जब गुहार लगाया जा रहा था तब क्या न्याय की बात करने वाली छत्तीसगढ़ की सरकार नींद में थी क्या?
भारतीय जनता महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष शालिनीं राजपूत ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से सवाल करते हुए कहा कि आपके मंत्री मंडल के मंत्री शिवकुमार डहरिया का बयान जिसमे उन्होंने बलात्कार की घटना को छोटी घटना बताया था और राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष किरणमयी नायक द्वारा कहा जाता है कि महिलाएं अपनी मर्जी से संबंध बनाती है । यह महिलाओं के प्रति आपकी सरकार की सोच बताती है। इन घटनाओ को याद दिलाते हुए पूछा हैं कि जशपुर की हृदयविदारक रुला देने वाली घटना पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को जवाब देना चाहिए और बताना चाहिए कि चूक और लापरवाही कहां हुई हैं और क्या उनके मंत्री की ही तरह छत्तीसगढ़ में महिलाओं के विरुद्ध लगातार हो रहे अपराध को देखने और महिलाओं की सुरक्षा की दृष्टि से प्रदेश सरकार का रुख स्पष्ठ करना चाहिए।
उन्होंने प्रदेश सरकार से पीड़ित परिवार को हर संभव मदद उपलब्ध करवाने एवं शीघ्र अतिशीघ्र न्याय दिलाने एवं इस पूरे मामले में प्रशासनिक स्तर पर लापरवाही के लिए जिम्मेदारों पर कार्यवाही की मांग की हैं। भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती शालिनी राजपूत ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से तत्काल उन पुलिस कर्मियों जिन्होंने 6 महीने तक इस हृदयविदारक घटना में कोई कार्रवाई नहीं की को सस्पेंड करने व कड़ी से कड़ी कार्रवाई कर भविष्य के लिए आदर्श प्रस्तुत करने की मांग की है।
 

प्रदेश में चल रहा अवैध शराब का अलग मंत्रालय: कौशिक

प्रदेश में चल रहा अवैध शराब का अलग मंत्रालय: कौशिक

रायपुर। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि पूरे प्रदेश में अवैध शराब की बिक्री चरम पर है। इसे रोकने में प्रदेश की कांग्रेस सरकार पूरी तरह से नाकाम है। लेकिन जब अवैध शराब के विरोध में जनमानस और समाज मुखर हो रहा है तो प्रदेश की सरकार पुलिसिया दमन का सहारा ले रही है। उन्होंने कहा कि अब लगने लगा है कि प्रदेश में अवैध शराब की बिक्री को लेकर अलग से मंत्रालय ही चल रहा है। जिसके माध्यम से ही पूरे प्रदेश में अवैध शराब की बिक्री को लेकर शराब तस्करों के तरफ से एक लक्ष्य निर्धारित किया गया है जिसके आगे आबकारी विभाग मौन है जो कई सवालों को जन्म देता है।
नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि महासमुंद जिले के कोमाखान थाना के अंतर्गत ग्राम नर्रा में अवैध शराब की बिक्री को लेकर आंदोलन कर रहे ग्रामीणों की बात सुनने के बजाय उन्हें बल पूर्वक गिरफ्तार कर लिया गया है जो अलोकतांत्रिक घटना है। अवैध शराब के खिलाफ ग्रामीण सत्याग्रह चला रहे हैं तो वहीं प्रदेश की सरकार असत्यता को आधार मानकर आंदोलन को कुचलने में लगी है जिसका हम निंदा करते है। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में कमोबेश एक ही स्थिति है। गांव, गली, कूचे में अवैध शराब सहजता से उपलब्ध है और यही प्रदेश की सरकार है जो शराबबंदी के नाम पर सत्ता पर आयी है लेकिन अब सत्ता में आने के बाद अवैध शराब की बिक्री को प्रोत्साहित कर रही है।
नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने नर्रा गांव में गिरफ्तार किए गए ग्रामीणों के संबंध में महासमुंद के एसपी को जनहित में काम करने के साथ ही बेवजह किसी को परेशान नहीं करने की बात कही है। नर्रा में गिरफ्तार ग्रामीणों के समर्थन में स्थानीय लोगों में आक्रोश है जिसे लेकर ज्ञापन भी सौंपा गया है साथ ही न्याय नहीं मिलने पर उग्र प्रदर्शन की बात कही गई है।
 

 किसानों की 11000 करोड़ की कर्जमाफी भूपेश बघेल की कांग्रेस सरकार ने की: शैलेष नितिन त्रिवेदी

किसानों की 11000 करोड़ की कर्जमाफी भूपेश बघेल की कांग्रेस सरकार ने की: शैलेष नितिन त्रिवेदी

रायपुर। गंगाजल को लेकर दिए विवादित बयान की कांग्रेस ने कड़ी निंदा की। प्रदेश कांग्रेस संचार प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि राजनीतिक हताशा के दौर से गुजर रहे भाजपा के पूर्व मंत्री और नेता गंगाजल को लेकर गलतबयानी कर रहे हैं। छत्तीसगढ़ में मुद्दाविहीन हो चुकी भाजपा ने लगातार छत्तीसगढ़ के तीज त्यौहार परंपरा संस्कृति का ही विरोध कर किया। कांग्रेस नेताओं ने  गंगाजल नहीं  नाली का पानी लिया था कहकर गंगाजल को अपमानित कर धार्मिक आस्था को ठेस पहुंचाने का काम भी किया है जिसका कांग्रेस कड़ी निंदा करती है। 

प्रदेश कांग्रेस संचार प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि गंगाजल हाथ में लेकर तो कांग्रेस की 15 नवंबर 2018 को ली गयी पत्रकारवार्ता में कर्जमाफी का वादा किया गया था। छत्तीसगढ़ के 20 लाख किसान परिवारों की 11 हजार करोड़ का कर्जमाफी का लाभ मिला है। भाजपा और भाजपा के नेताओं को कांग्रेस की जन कल्याणकारी सरकार के मुखिया भूपेश बघेल के विरोध में बोलने का अवसर नहीं मिल रहा है। मुद्दाविहीन हो चुकी भाजपा और भाजपा के नेता विरोध की मर्यादा को भूलकर अमर्यादित बयानबाजी में लगे हैं जो छत्तीसगढ़ की संस्कृति परंपरा और संस्कार के विपरीत धार्मिक आस्था को चोट पहुंचाने वाला है। 

कांग्रेस संचार प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि जिन जिन स्थानों पर भाजपा नेताओं ने  गंगाजल की तुलना नाली के पानी से कर गंगाजल का अपमान किया है, वहां वंहा पर गंगाजल छिड़क कर शुद्धीकरण किया जाना चाहिए और भाजपा के नेताओं को भी अपने तन मन के शुद्धिकरण के लिये गंगाजल ग्रहण करना चाहिए ताकि उनके मन में बैठे घृणा की भावना, कटुता, किसानों का विरोध, युवाओं का विरोध की र्दुभावना का नाश हो और छत्तीसगढ़ की खुशहाली उन्नति तरक्की के लिए भाजपा जिम्मेदार विपक्ष की भूमिका निभा सके।

कांग्रेस संचार प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि गंगाजल हाथ में लेकर किसानों की कर्जमाफी के समयबद्ध वायदे का न केवल कांग्रेस सरकार ने निश्चित समय से पहले पूरा किया हैं बल्कि घोषणापत्र के अन्य वादों को भी पूरा किया है। किसानों के धान का 2500 रु. दाम दिया गया और भाजपा की केन्द्र सरकार के द्वारा डाली गयी बाधाओं के बावजूद किसानों को लाभ पंहुचाने के लिये राजीव गांधी न्याय योजना जैसी मजबूत योजना बनाई गयी है, बिजली बिल हाफ, छोटे प्लाटों की रजिस्ट्री से प्रतिबंध हटाना, आदिवासियों की ज़मीन लौटाना,  तेंदूपत्ता का मानक दर 2500 से बढ़ाकर 4000 रू. प्रति बोरा करना, जाति प्रमाण पत्र का सरलीकरण सहित 36 बिंदुओं में किए गए वादों में से अधिकांश वादों को बिंदुवार पूरा करने का ऐतिहासिक काम सवा 2 साल में  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की कांग्रेस सरकार ने किया है।
 भाजपा और उनके मंत्रियों को बुद्धिजीवियों की जगह आम जनता के बीच जाना चाहिए: पुनिया

भाजपा और उनके मंत्रियों को बुद्धिजीवियों की जगह आम जनता के बीच जाना चाहिए: पुनिया

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस प्रभारी ने केंद्रीय मंत्री के बजट पर बुद्धिजीवियों से चर्चा पर चुटकी ली है। पीएल पुनिया ने कहा कहा कि भाजपा और उनके मंत्रियों को बुद्धिजीवियों की जगह आम जनता के बीच जाना चाहिए, जिनके लिए बजट होता है।

उन्होंने कहा कि आख़िर केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी बजट के बारे में क्या चर्चा करेंगे, इस बजट में ऐसी कोई चीज़ नहीं जिस पर बुद्धिजीवियों से रायशुमारी करेंगे। उन्होंने कहा कि केंद्रीय मंत्री केवल गुमराह करने के लिए बुद्धिजीवियों से चर्चा कर रहे हैं। 

पुनिया ने कहा कि यह सरकार दिन-ब-दिन पेट्रोल डीजल और गैस के दाम में बढ़ोतरी कर रही है और देश के गिने चुने अपने पूंजी पतियों को फायदा पहुंचाने के लिए नीति बना रही है पीएल पुनिया ने सत्ता और संगठन में बेहतर सामंजस्य के लिए जिला स्तर पर बैठक आयोजित करने की बात कही है। उन्होंने यह भी कहा है कि कांग्रेस के पदाधिकारी पंपलेट और फ्लेक्स जैसे अन्य माध्यमों से सरकार की योजनाओं का प्रचार प्रसार कर आमजनों के बीच जाएंगे।
भाजपा नेताओं ने कसा तंज कहा महापौर द्वारा जारी ' तुंहर सरकार तुंहर द्वार ' कार्यक्रम के नाम पर हो रहा है ढकोसला

भाजपा नेताओं ने कसा तंज कहा महापौर द्वारा जारी ' तुंहर सरकार तुंहर द्वार ' कार्यक्रम के नाम पर हो रहा है ढकोसला

रायपुर, कांग्रेस के महापौर द्वारा जारी 'तुंहर सरकार तुंहर द्वार' कार्यक्रम के नाम पर हो रहे ढकोसला के बारे में जनता को जागरूक करने व इसकी सच्चाई जनता के सामने लाने के लिए, आज भारतीय जनता पार्टी, जिला कार्यालय, एकात्म परिसर में रायपुर नगर निगम के भाजपा के पार्षद गण , पार्षद पदप्रत्याशी, मंडल अध्यक्ष, जिला पदाधिकारियों की बैठक हुई।
बैठक में सभी ने एक स्वर में कल भाजपा के पूर्व पार्षद व वरिष्ठ नेता प्रफुल्ल विश्वकर्मा को लोकतांत्रिक तरीके से विरोध दर्ज कराने से रोकने की कोशिश व पुलिस प्रशासन को आगे कर भाजपाइयों को डराने के प्रयास की निंदा की गई। व तय किया गया कि अब जिन जिन वार्डों में यह कार्यक्रम होगा वहां भाजपा के पार्षद, पार्षद प्रत्याशी व कार्यकर्ता गण जनता की आवाज को लेकर कार्यक्रम स्थल पर पहुंचेंगे और अपना विरोध दर्ज कराएंगे।
जनता का कार्य नहीं रुकना चाहिए। परंतु यह कार्य करने का जो ढोंग कर रहे है , उसकी भी पोल खोलनी चाहिए - बृजमोहन 
भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि कांग्रेस अपने घोषणा पत्र में किए संपत्ति कर आधा किए जाने के वादे को अभी तक पूरा नहीं कर पाई है। भाजपा शासन में शहर को यातायात जाम की समस्या से निजात दिलाने के लिए रावण-भाठा में अंतरराजयीय बस स्टैंड का निर्माण कर दिया गया था उसे 2 साल बीतने के बाद चालू भी नहीं करा पाई है। अमृत मिशन के तहत 12 साल पहले पूर्व महापौर सुनील सोनी के कार्यकाल में जो टंकियां बनी थी। उससे आज भी पाइप लाइन से जोड़कर पूरे शहर में पानी की व्यवस्था सुचारू रूप से नहीं कर पाई है । सरकार जो कार्य अपन दुआर में बैठकर कर सकती है वह तो कर नहीं पा रही है और लोगों के घर तक पहुंचने का नाटक कर रही है।


संगठित होकर जनता के मुद्दे हर जगह पुरजोर तरीके से उठाने की जरूरत है- खूबचंद पारख
भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष व रायपुर प्रभारी श्री खूबचंद पारख ने उपस्थित कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा संगठित होकर संगठन को साथ लेकर जनता के मुद्दे हर जरूरी जगह उठानी चाहिए , यह हमारा दायित्व ही नहीं बल्कि विपक्ष के नाते कर्तव्य भी है।


अच्छे काम की नकल करने के लिए भी अकल की जरूरत होती है। और जनता तो सदैव सर्वोपरि होती है- श्रीचन्द
भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीचंद सुंदरानी ने कहा कि महापौर एजाज ढेबर भाजपा शासन में किए गए कार्यक्रमों की नकल कर रही है। परंतुअच्छे काम की नकल करने के लिए भी अकल की जरूरत होती है। आज जब महापौर जनता के बीच जा रहे हैं तो वहां उन्हें जो विरोध का सामना करना पड़ रहा है उससे उन्हें पता लग गया कि सिर्फ इवेंट कंपनी को सामने रखकर कार्यक्रम कराना महत्वपूर्ण नहीं होता महत्वपूर्ण होता है जनता के कार्य को अपना कार्य समझ कर करना। और लोकतंत्र में तो जनता सदैव सर्वोपरि होती है आज प्रधानमंत्री आवास योजना लगभग बंद से हो गए हैं। राशन कार्ड श्रमिक कार्ड विधवा पेंशन कार्ड आयुष्मान कार्ड ऐसी बहुत सी योजनाएं हैं जिनके लिए जनता दर-दर भटक रही है साथ ही उन्होंने महापौर को चेतावनी देते हुए कहा कि लोकतंत्र में शांतिपूर्ण विरोध करना विपक्ष का अधिकार होता है फिर भी अगर कल पूर्व पार्षद के खिलाफ जो घटना हुई है उसकी पुनरावृत्ति होती है तो भाजपा उग्र प्रदर्शन करेगी।


बैठक का संयोजन भाजपा महामंत्री ओंकार बैस ने व संचालन भाजपा महामंत्री रमेश सिंह ठाकुर ने किया आभार प्रदर्शन भाजपा जिला उपाध्यक्ष अमरजीत सिंह छाबड़ा ने किया।


भाजपा मीडिया प्रभारी अनुराग अग्रवाल ने बताया कि बैठक में रायपुर ग्रामीण के पूर्व विधायक नंदे साहू, छगन मूंदड़ा , संजय श्रीवास्तव, अशोक पांडे, प्रफुल्ल विश्वकर्मा , सूर्यकांत राठौर, महिला मोर्चा की नवनियुक्त प्रदेश उपाध्यक्ष मीनल चौबे , जिला अध्यक्ष सीमा संतोष साहू, भाजपा जिला कोषाध्यक्ष योगी अग्रवाल , उपाध्यक्ष सत्यम दुबे, बजरंग खंडेलवाल, आशू चंद्रवंशी , मुरली शर्मा, मंत्री अकबर अली , हरीश ठाकुर , मनीषा चंद्राकर, वरिष्ठ पार्षद मृत्युंजय दुबे , मनोज वर्मा, सरिता वर्मा, मंडल अध्यक्ष अनूप खेलकर सालिक सिंह ठाकुर महेश शर्मा गोरेलाल जी , ज्ञानचंद, वंदना राठौर , उत्कर्ष त्रिवेदी उपस्थित थे।